बुधवार, 15 जनवरी 2020

महिला जागृति के लिए किए जा रहे हैं प्रयास

नंगल में लड़कियो को खेलों के प्रति जागरूक करने के मकसद से पहली बार में कराए जा रहे हैं बॉडीबिल्डिंग कंपटीशन। मिस्टर इंडिया विनीत मरवाहा विशेष रूप से होंगे शामिल।


अमित शर्मा


नंगल। पंजाब में लगातार खेलों का ग्राफ गिरता जा रहा है जिसको लेकर युवा काफी चिंतित दिखाई दे रहे हैं। खासकर अगर हम बात लड़कियों की करे तो नंगल में लड़कियों को खेलों के प्रति जागरूक करने के लिए कोई भी संसाधन नहीं है। इसके लिए पहल करते हुए नंगल में पहली बार लड़कियों के लिए बॉडीबिल्डिंग कंपटीशन करवाए जा रहे हैं। जिसकी जानकारी देते हुए आयोजक सोनू ने बताया कि 18 जनवरी दिन शनिवार को साईं 4:00 बजे यह मुकाबले शुरू करवाए जाएंगे जिसमें लड़कों के साथ साथ लड़कियों को भी  बॉडीबिल्डिंग कंपटीशन करवा कर उनको हरियाणा की लड़कियों की तरह खेलों में रुझान डालने की कोशिश की जाएगी ताकि आगे चलकर ये पंजाब का नाम रोशन कर सकें। आयोजकों की मानें तो इस मुकाबले के बाद जिला लेबल के मुकाबले उसके बाद स्टेट लेवल और उसके बाद नेशनल और उसके बाद  नेशनल मुकाबलो तक लड़कियों को तैयार किया जाएगा और देश का नाम रोशन किया जाएगा। आयोजकों ने कहा कि नंगल शहर में पहली बार इस तरह के मुकाबले करवाए जा रहे हैं जिसको लेकर युवाओं में काफी जोश देखने को मिल रहा है।
इन मुकाबलों में विशेष तौर से मिस्टर पंजाब रहे विनीत मरवाहा आएंगे और युवाओं का मार्गदर्शन करेंगे । बॉडीबिल्डिंग मुकाबलों में विनीत मिस्टर वर्ल्ड में दसवें नंबर पर रहकर देश का नाम रोशन कर चुके हैं।


श्रद्धालुओं ने लगाई 'आस्था की डुबकी'

बृजेश केसरवानी
मकर संक्रांति के द्वितीय स्नान पर्व पर 60 लाख श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी
जिलाधिकारी एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने मेला क्षेत्र स्नान घाटों का किया भ्रम


प्रयागराज। माघ मेला 2019-20 का द्वितीय मुख्य स्नान पर्व मकर संक्रांति सकुशल एवं निर्विघ्न सम्पन्न हुआ। प्रयागराज मेला प्राधिकरण द्वारा की गई व्यवस्थाओं के कारण भोर से ही स्नान प्रारम्भ हो गया था। 60 लाख स्नानार्थियों/श्रद्धालुओं ने गंगा/यमुना एवं अदृश्य सरस्वती के पवित्र संगम तट तथा गंगा जी के विभिन्न तटों पर स्नान कर पुण्य लाभ अर्जित किया। प्रभारी मेलाधिकारी ने बताया कि सुबह 05ः00 बजे से ही श्रद्धालुओं की काफी भीड़ थी। श्रद्धालुओं को मेले में भटकना न पड़े, इसके लिए मार्ग प्रदर्शित करते हुए बोर्ड रास्तों पर लगाये गये है। किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना प्रकाश में नहीं आयी। माघ मेला में सुरक्षा के दृष्टिगत आर0ए0एफ0, पी0ए0सी, एनडीआरएफ एवं जल पुलिस भी बराबर चैकसी करते रहे। जिलाधिकारी भानुचंद्र गोस्वामी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रयागराज द्वारा स्नान घाटों का भ्रमण कर साधु-संतों एवं तीर्थयात्रियों/स्नानार्थियों से व्यक्तिगत रूप से मिलकर मेला व्यवस्था के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करने पर सभी के द्वारा मेला प्राधिकरण की व्यवस्था जैसे संगम स्नान घाट, गंगा जल की शुद्धता एवं मात्रा तथा सुरक्षा व्यवस्था और मेले में की गई अन्य व्यवस्थाओं पर संतोष व्यक्त किया। अपर जिलाधिकारी अशोक कुमार कनौजिया, श्री रजनीश कुमार मिश्र, पुलिस अधीक्षक माघ मेला व अन्य मजिस्टेªट तथा पुलिस अधिकारीगण मेला क्षेत्र का भ्रमण कर शान्ति एवं सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने हेतु स्नान घाटों पर सतत् निगाह रखे रहे। आज मकर संक्रांति स्नान पर्व को सकुशल एवं निर्विघ्न सम्पन्न कराने में सभी का धन्यवाद दिया। मेला क्षेत्र में 45 महिला-पुरूष व 04 भूले-भटके बच्चों को उनके स्वजनों से मिलाया गया। द्वितीय स्नान पर्व के सकुशल आयोजन पर जिलाधिकारी/मेलाधिकारी ने मेला क्षेत्र में ड्यूटी पर लगे पूरी टीम को बधाई दी।


विकसित सुरक्षा एप्लीकेशन किया लांच

अमित शर्मा


डीजीपी ने सीआईडी द्वारा विकसित सुरक्षा एप्लिकेशन की लॉन्च


चंडीगढ़। हरियाणा गुप्तचर विभाग (सीआईडी) द्वारा टेक-सेवी पुलिसिंग की तरफ एक और कदम बढाते हुए राज्य मे पोजीशनल और नोन-पोजीशनल सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों की प्रभावी ऑडिट सुनिश्चित करने के लिए “एचएपीएसएपी” (हरियाणा पुलिस सिक्यिोरिटी एप्लीकेशन) विकसित की गई है। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) मनोज यादव द्वारा पुलिस मुख्यालय में इस एप्लीकेशन को लांच किया गया। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक सीआईडी,  अनिल कुमार राव के कुशल मार्गदर्शन में सीआईडी द्वारा विकसित की गई इस एप्लीकेशन की लांचिग अवसर पर डीजीपी अपराध, पी.के. अग्रवाल, एडीजीपी आईटी श्री ए.एस. चावला, एडीजीपी सीएडब्ल्यू  अजय सिंघल, एडीजीपी आधुनिकीकरण एवं कल्याण श्रीकांत जाधव, आईजी सुरक्षा सौरभ सिंह, आईजी सीएमएफएस  राजिंदर कुमार, डीआईजी राकेश कुमार आर्य,  सतेन्द्र गुप्ता,  मनीष चाौधरी और अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।
एप्लीकेशन बारे जानकारी देते हुए, आईजी सुरक्षा,  सौरभ सिंह ने बताया कि इस प्रणाली से पोजीशनल और नोन-पोजीशनल सुरक्षा में तैनात कर्मियों का डेटाबेस व अन्य विवरण प्राप्त करने में आसानी होगी। यह एप्लीकेशन सुरक्षा अधिकारियों के साथ-साथ प्रोटक्टीज़ के डेटाबेस डिजिटलीकरण के लिए एक प्रभावी निगरानी उपकरण के रूप में भी कार्य करेगा। इसके अतिरिक्त, इसका उद्देश्य प्रोटक्टीज़ के साथ सुरक्षाकर्मियों की तैनाती का प्रभावी ढंग से पता लगाने के लिए एक व्यापक और एकीकृत प्रणाली को विकसित करना है। इससे राज्य पुलिस लाभान्वित होगी क्योंकि एक क्लिक के माध्यम से पुलिसकर्मियों की तैनाती से संबंधित जानकारी उपलब्ध हो सकेगी। सीआईडी वेल्फेयर कमेटी की बैठक का आयोजन
इससे पहले सीआईडी वेल्फेयर कमेटी की एक बैठक आयोजित की गई थी जिसकी अध्यक्षता सीआईडी प्रमुख अनिल कुमार राव ने की। विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा, सभी सीआईडी इकाइयों और जिलों के प्रतिनिधियों ने बैठक में भाग लिया और विभिन्न कल्याण उपायों की शुरूआत और मजबूती के लिए अपने विचार और सुझाव रखे। सीआईडी प्रमुख  अनिल कुमार राव ने कहा कि बैठक में लिए गए निर्णय पुलिस कर्मियों को और अधिक सहायता प्रदान करने में सहायक हो सकेगें। सीआईडी में तैनात पुलिस कर्मियों के तीन मेधावी छात्रों को सम्मानित करने का निर्णय लिया गया। इनमें 2018 में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान परीक्षा में 110वां रैंक हासिल करने वाली ईएएसआई जयपाल (सीआईडी रेवाड़ी) की पु़त्री आरती, 2018 में एम्स परीक्षा में 8 वां रैंक प्राप्त करने वाली ईएएसआई सुरेंद्र सिंह (सीआईडी नारनौल) की पुत्री उषा और 2018-19 में सीबीएसई द्वारा आयोजित 10 वीं की परीक्षा में 97.6 प्रतिशत अंक हासिल करने वाली सिपाही संजयपाल की पुत्री तमन्ना जडवाल शामिल हैं। यह भी निर्णय लिया गया कि पुलिस कर्मियों को रोडवेज बसों में राज्य से बाहर मुफ्त यात्रा की सुविधा प्रदान करने के संबंध में परिवहन विभाग के उच्च अधिकारियों के साथ बातचीत की जाएगी। वेल्फेयर कमेटी ने कैंटीन स्टोर डिपार्टमेंट (सीएसडी) की तर्ज पर पुलिसकर्मियों को पुलिस कैंटीन में सुविधा प्रदान करने के लिए सिद्धांत रूप में सहमति व्यक्त की। इस आशय बारे राज्य सरकार से अनुरोध किया जाएगा। इस अवसर पर एसपी लॉ एंड ऑर्डर दीपक गहलावत, एसपी सुरक्षा, हामिद अख्तर और  पंकज नैन, एआईजी वेलफेयर विनोद कुमार, एसपी धीरज सेतिया और डीएसपी सीआईडी मुख्यालय श्रीमती पूर्णिमा सिंह भी उपस्थित थे।


मंच पर सीएम ने किया असहज महसूस

बेंगलुरु। बीच सभा में ही मंच पर कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्‍पा को असहज स्थिती का सामना करना पड़ा और सीएम ने कहा कि अगर मेरी बात नहीं मानी गई तो मैं इस्तीफा दे दूंगा।दरअसल मंगलवार को हावेरी में येदियुरप्‍पा की सभा थी। इसी वक्त जब वे मंच पर उपस्थित थे तभी पंचमसाली मठ के पीठाधीश्‍वर वचानंद स्‍वामी ने मुरुगेश निरानी को मंत्री बनाये जाने की मांग कर दी। उन्होंने कहा कि अगर मुरुगेश निरानी मंत्री नहीं बनाए गए तो सीएम पंचमसाली लिंगायत समुदाय का समर्थन खो देंगे। तभी इस पर बीएस येदियुरप्‍पा ने कहा कि '17 विधायकों ने मुझे मुख्‍यमंत्री बनाने के लिए अपनी विधायकी से इस्‍तीफा दे दिया। यह उनके त्‍याग और पंचमसाली मठ का आशीर्वाद है, जिसकी बदौलत मैं मुख्‍यमंत्री बना। आप मुझे यह सलाह दे सकते हैं, कि अगले तीन वर्षों तक मुझे किस तरह सरकार चलानी है, लेकिन यदि आप मेरा यह आग्रह स्‍वीकार नहीं कर सकते हैं, तो मैं पद छोड़कर घर जाने को तैयार हूं।' इसके बाद सीएम ने मीडिया से कहा कि अभी  मंत्रिमंडल में शामिल करने के बारे में अभी कोई बात नहीं हुई है।


ठेकेदार पर लगाया '6 लाख का हर्जाना'

दुर्ग। उपभोक्ता से मकान निर्माण की रकम लेने के बाद आधा अधूरा निर्माण करके काम बंद करने को व्यवसायिक कदाचरण एवं सेवा में निम्नता की श्रेणी में आने वाला कृत्य करार देते हुए जिला उपभोक्ता फोरम ने ठेकेदार पर रुपए 6 लाख रुपए हर्जाना लगाया। न्यू आदर्श नगर दुर्ग निवासी संतोष प्रसाद शर्मा ने अपने मकान में प्रथम तल पर 1665 वर्गफुट में निर्माण कार्य करने हेतु चौबे कॉलोनी रायपुर निवासी ठेकेदार प्रतीक शर्मा को सामग्री सहित 800 रुपये प्रति वर्गफुट की दर से दिनांक 25.03.2016 को ठेका दिया था. जिसके लिए ठेकेदार ने अलग-अलग तिथियों में परिवादी से कुल 1469000 रुपये प्राप्त किए किंतु दीपावली 2017 के समय काम बंद कर दिया। परिवादी द्वारा निवेदन करने पर भी कार्य प्रारंभ नहीं किया। आर्किटेक्ट से मूल्यांकन कराने पर पता चला कि अनावेदक ठेकेदार ने केवल 900000 रुपये का ही काम किया था, जिसके बाद परिवादी ने अन्य दूसरे ठेकेदार से अपने मकान के प्रथम तल का निर्माण कार्य पूरा कराया। अनावेदक ठेकेदार प्रतीक शर्मा ने प्रकरण में कोई जवाब पेश नहीं किया।


दोषियों की 'क्यूरेटिव पिटिशन' की खारिज

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले में दोषियों को मिली मौत की सजा के खिलाफ दो क्यूरेटिव पेटिशन पर सुनवाई करते हुुए सुप्रीम कोर्ट ने उसकी याचिका खारिज कर दी। यह सुनवाई 2012 गैंगरेप और हत्या के दोषी विनय और मुकश की याचिका पर जस्टिस एनवी रमन्ना की अगुवाई वाली पांच सदस्यीय सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने की। इस बेंच में जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस आरएफ नरीमन, जस्टिस आर भानुमती और जस्टिस अशोक भूषण शामिल थे। गौरतलब है कि, पिछले मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत ने मुकेश (32), पवन गुप्ता (25), विनय कुमार शर्मा (26) और अक्षय कुमार सिंह (31) के खिलाफ डेथ वारंट जारी किया और कहा कि, उन्हें 22 जनवरी को सुबह 7 बजे तिहाड़ जेल में फांसी दी जाएगी। दोषी मुकेश और विनय की क्यूरेटिव याचिका पर 14 जनवरी को दोपहर एक बजकर 45 मिनट पर सुप्रीम कोर्ट में इन-चैम्बर सुनवाई।आज की सुनवाई पर निर्भया की मां आशा देवी ने कहा है कि, यह बस मामले को लटकाने की कोशिश है। मुझे पूरी उम्मीद है कि, उनकी याचिका खारिज कर दी जाएगी। निर्भया के दोषियों को 22 जनवरी को फांसी दी जाएगी और मेरी बेटी को नौकरी मिलेगी। निर्भया की मां ने पटियाला हाउस कोर्ट में एक याचिका दायर कर दोषियों के डेथ वारंट की मांग की थी, जिस पर कोर्ट ने निर्भया की मां के हक में फैसला सुनाया और 22 जनवरी फांसी की तारीख के तौर पर मुकर्रर कर दी। गौरतलब है कि, दिल्ली में सात साल पहले 16 दिसंबर की रात को एक नाबालिग समेत छह लोगों ने एक चलती बस में 23 वर्षीय निर्भया का सामूहिक बलात्कार किया था और उसे बस से बाहर सड़क के किनारे फेंक दिया था। इस घटना की निर्ममता के बारे में जिसने भी पढ़ा-सुना उसके रोंगटे खड़े हो गए। इस घटना के बाद पूरे देश में व्यापक प्रदर्शन हुए और महिला सुरक्षा सुनिश्चित करने को लेकर आंदोलन शुरू हो गया था। इस मामले के चार दोषियों विनय शर्मा, मुकेश सिंह, पवन गुप्ता और अक्षय कुमार सिंह को मृत्युदंड सुनाया गया। एक अन्य दोषी राम सिंह ने 2015 में तिहाड़ जेल में कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी और नाबालिग दोषी को सुधार गृह में तीन साल की सजा काटने के बाद 2015 में रिहा कर दिया गया था। क्यूरेटिव पिटिशन (क्यूरेटिव याचिका) तब दायर किया जाता है। जब किसी मामले के दोषी की राष्ट्रपति के पास भेजी गई दया याचिका और सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी जाती है। ऐसे में क्यूरेटिव पिटिशन ही उस दोषी के पास मौजूद अंतिम मौका होता है। जिसके जरिए वह अपने लिए पहले से तय की गई सजा में नरमी की गुहार लगा सकता है। खास बात है कि, क्यूरेटिव पिटिशन किसी भी मामले में अभियोग की अंतिम कड़ी होता है। क्यूरेटिव पिटिशन पर सुनवाई होने के बाद दोषी के लिए कानून के सारे रास्ते बंद हो जाते हैं।


पीएसीएल के भविष्य के बारे में जवाब दें।

पी.ए.सी.एल. के भविष्य के बारे में राणा के.पी. सिंह अपना जवाब दें :- डॉक्टर परमिंदर शर्मा


नंगल। पी.ए.सी.एल. की यूनिट नंबर 1 को बंद करने की चर्चाओं के बारे में सरकार व मैनेजमेंट अपना स्टैंड स्पष्ट करें। स्पीकर राणा के.पी. सिंह व पी.ए.सी.एल. के डी.जी.एम. रविंद्र जसवाल के बयानों में अंतर है। इन शब्दों का प्रगटावा भाजपा प्रदेश सचिव डॉक्टर परमिंदर शर्मा ने जारी किए गए बयान में किया।
उन्होंने कहाकि डी.जी.एम. रविंद्र जसवाल के मुताबिक यूनिट नंबर एक पर प्रतिमाह एक करोड़ का घाटा है और उसपर मैनेजमेंट हर प्रावधान पर गौर कर रही है जोकि एक तरह से यूनिट 1 के बंद होने की ओर संकेत करता है और दूसरी तरफ राणा के.पी. सिंह बोल रहे हैं कि कोई यूनिट बंद नहीं होगा। उन्होंने कहा पी.ए.सी.एल. के निजीकरण की चर्चा सरकार द्वारा छेड़ कर कर्मचारियों को भयभीत किया जा रहा है। उन्होंने कहाकि यदि सरकार या मैनेजमेंट ने यूनिट नंबर 1 को बंद करने का फैसला किया तो भाजपा इसके विरुद्ध जन आंदोलन शुरू करेगी। उन्होंने कहा पी.ए.सी.एल. से संबंधित कर्मचारी और ट्रांसपोर्टर लगातार हमारे संपर्क में है और भाजपा कर्मचारियों व ट्रांसपोर्टर भाइयों के हितों की रक्षा के लिए हमेशा खड़ी है और आगे भी खड़ी रहेगी।
उन्होंने राणा के.पी. सिंह से मांग करते हुए कहाकि वह पी.ए.सी.एल. की वर्तमान स्थिति स्पष्ट करें कि इसमें मैनेजमेंट सही है या वह आप सही हैं। उन्होंने कहाकि गोलमोल जवाब से बात नहीं बनेगी नंगल की जागरूक जनता को पी.ए.सी.एल. के भविष्य के बारे में राणा के.पी. सिंह अपना जवाब दें।


आज बिहार दौरे पर आ रहे हैं गृहमंत्री

पटना। केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह गुरुवार को बिहार दौरे पर आ रहे हैं। अमित शाह वैशाली में सीएए के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करेंगे। बिहार बीजेपी के अध्यक्ष सांसद संजय जायसवाल ने दावा किया है कि अमित शाह की सभा में भारी तादाद में लोग शामिल होंगे। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जयसवाल ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह की कल वैशाली में आयोजित होने वाली जनसभा को लेकर बिहार के लोगों की उत्सुकता और उत्साह साफ़ देखा जा सकता है। फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप जैसे सोशल मीडिया माध्यमों पर लोग खुद से श्री शाह की इस जनसभा का प्रचार कर रहे हैं। जिस जनसभा के प्रचार की कमान स्वयं जनता ने थाम रखी हो, उसकी सफलता का अंदाजा स्वयं लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि दरअसल सरदार पटेल के बाद पहली बार लोगों ने किसी गृहमंत्री को देश के प्रति इतना गंभीर और सजग देखा है। मोदी 2.0 में देशहित में एक के बाद एक लिए गये ऐतिहासिक फैसलों ने लोगों के मन में सरकार के प्रति विश्वास को और अधिक मजबूत कर दिया है। संजय जायसवाल ने कहा कि अमित शाह के प्रति लोगों का यह विश्वास कल वैशाली में जनसैलाब बन कर उमड़ने वाला है। मुझे पूर्ण विश्वास है कि अमित शाह की कल आयोजित होने वाली जनसभा निश्चय ही सफलता के नये कीर्तिमान स्थापित करेगी। डॉ जायसवाल ने कहा कि ज्ञान और धर्म की धरती वैशाली को लोकतंत्र की जननी भी कहा जाता है। जब पूरे विश्व में लोग लोकतंत्र के नाम तक से परिचित नहीं तब यहाँ दुनिया का प्रथम गणराज्य पूरी गति से चल रहा था। वैशाली के इसी महत्व को देखते हुए यह जनसभा आयोजित की गयी है। उन्होंने कहा कि कल अमित शाह लोकतंत्र की इसी धरती से विपक्ष के अलोकतांत्रिक रवैए के बारे में पूरे देश को अवगत कराएंगे। सीएए के खिलाफ फैलाए गये उनके एक एक झूठ का पर्दाफाश इस जनसभा से किया जाएगा।


आम आदमी पार्टी की उम्मीदवारों की घोषणा

राणा ओबराय

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आप पार्टी ने 70 उम्मीदवारों की करी घोषणा

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर आप पार्टी ने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है। आप पार्टी ने 46 मौजूदा विधायको को टिकट दी है और 15 विधायको की टिकट काट दी है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल खुद नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगे।


जेजेपी में अभय के आते ही होगें एक

राणा ओबराय

ओपी चौटाला व अभय चौटाला जेजेपी में आते हैं तो परिवारिक व राजनीतिक तौर पर हो सकते एक: दुष्यंत

चण्डीगढ़। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा यदि दादा ओमप्रकाश चौटाला, चाचा अभय सिंह चौटाला जेजेपी में आ जाएं तो राजनीतिक और पारिवारिक तौर पर एक हो सकते हैं। उन्होंने यह भी दावा किया कि विधायक रामकुमार गौतम का मामला सुलट गया है।


छल-कपट से विधायक 7500 करोड़ का आदमी

राणा ओबराय

महम विधायक बलराज कुंडु पर उनके पूर्व पार्टनर ने लगाए धोखाधड़ी के आरोप, कहा मुझे कुंडु से जान का खतरा

रोहतक। चर्चित महम विधायक बलराज कुंडु पर उनके पूर्व पार्टनर रमेश धनखड़ ने प्रेसवार्ता के दौरान गम्भीर आरोप लगाये। धनखड़ ने कहा छल-कपट के द्वारा विधायक बलराज कुंडू 7500 करोड़ रूपये का आदमी हो गया और हम सडक़ों पर मारे-मारे फिर रहे हैं। यह आरोप आज स्थानीय मैना पर्यटक केंद्र पर रमेश धनखड़ ने लगाते हुए कहा कि हमारे जीवन भर की जमा पूंजी बलराज कुंडू लूट ले गया और वे बैंकों के कर्जे भरते-भरते नीलाम हो गये। रमेश धनखड़ ने बताया कि उनकी एक कंस्ट्रक्शन कंपनी थी। जिसके तहत वो निर्माण के सरकारी ठेके लेकर अच्छा काम कर रहे थे। बलराज कुंडू ने उन्हें अपनी कंपनी केसीसी के नाम से ठेके लेकर उनकी कंपनी को सब अलॉट कर दिये। जिससे हम सडक़ निर्माण सहित कई परियोजनाओं में काम करते रहे तथा हमारा 2012 में 10.5 करोड़ रूपये बलराज कुंडू की कंपनी की तरफ बकाया रह गया। जिसे बार-बार मांगने पर भी उसने नहीं लौटाया तो इस सम्बन्ध में कई बार बड़े स्तर की पंचायतें भी हुई। जिसमें बलराज कुंडू को दोषी माना गया तथा रूपये लौटाने के आदेश दिये गये। रमेश धनखड़ ने बताया कि इतना सब हो जाने के बावजूद भी बलराज कुंडू टस से मस नहीं हुआ और उल्टे उन पर झूठे मुकदमें दर्ज करवा दिये। हमने पुलिस अधीक्षक सहित सी.एम. विंडो आदि पर अपनी शिकायतें लगाई लेकिन बलराज कुंडू ने वहां झूठे शपथपत्र लगाकर उन शिकायतों को रफा-दफा करवा दिया। जिस पर हमारा परिवार लगातार कर्जदार होता गया तथा बैंकों द्वारा हमारे मकान, दुकान, प्रोपर्टी आदि को कुर्क कर लिया गया।
उन्होंने बताया कि आज हालत यह है कि शहर में हजारों लेनदार मौजूद हैं तथा यहां रहने में भी डर का सामना करना पड़ रहा है। परिवार में बच्चों की पढ़ाई छूट गई है और वो चाय की दुकानों पर काम करने को मजबूर हैं। वहीं बलराज कुंडू यह कहते हुए बिल्कुल नहीं शर्माता कि वो थोड़े दिनों में 700 से 7500 करोड़ रूपये का आदमी बन गया है। रमेश धनखड़ ने कहा कि उन्हें व उनके परिवार को बलराज कुंडू व उसके भाईयों से जान का खतरा भी है। वो कभी भी सुपारी देकर हमारी हत्या करवा सकता है। रमेश धनखड़ ने कहा कि वे एक बार फिर न्याय की आस में जिला प्रशासन तथा पुलिस अधीक्षक को गुहार लगा रहे हैं कि वो इस मामले में विधायक बलराज कुंडू के खिलाफ तुरन्त धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर जांच करवायें तो दूध का दूध और पानी का पानी हो सकता है। इसके अलावा वे मुख्यमंत्री मनोहर लाल व गृह मंत्री अनिल विज से मिलकर बलराज कुंडू की उच्च स्तरीय जांच करवाने की मांग भी करेंगे।


भजन गायक की शौकसभा में हुए सम्मिलित

भानु प्रताप


शामली। पंजाबी कालोनी निवासी अंतर्राष्ट्रीय भजन गायक अजय पाठक व उनके परिवार की रस्म तेहरवीं पर आयोजित शोकसभा में हजारों लोगों ने अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित कर गहरा शोक व्यक्त किया। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा, सांसद प्रदीप चैधरी, विधायक तेजेंद्र निर्वाल समेत विभिन्न राजनीतिक दलों के दिग्गज नेताओं ने घटना पर शोक संवेदानाएं प्रकट कर परिवार के लोगों को सांत्वना दी। इस दौरान परिजनों ने हत्याकांड की उच्चस्तरीय जांच कराने एवं दोषी को कठोर सजा दिलाने की मांग की। गुरुवार को पंजाबी कालोनी स्थित श्री रघुनाथ मंदिर में भजन गायक स्व. अजय पाठक व उनके परिवार के सदस्यों की रस्म तेहरवीं का आयोजन किया गया। उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा ने शोकसभा में पहुंचकर श्रद्धांजलि अर्पित कर शोक संवेदानाएं प्रकट की। कैराना लोकसभा सांसद प्रदीप चौधरी, शामली विधायक तेजेन्द्र निर्वाल, भाजपा नेत्री मृगांका सिंह, भाजपा प्रदेश महामंत्री देवेन्द्र चैधरी,  भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष चैधरी नरेश टिकैत, रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह भी श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए।इनके अलावा भाजपा जिलाध्यक्ष सतेन्द्र तोमर, हरबीर मलिक,  महिपाल सिंह मेहता पूर्व उद्योग मंत्री हरियाणा, पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक, पूर्व मंत्री विरेंद्र सिंह, पूर्व विधायक राजेश्वर बंसल, पूर्व मंत्री किरणपाल कश्यप, पूर्व जिपं अध्यक्ष मनीष चैहान, पूर्व चेयरमैन अरविंद संगल, कांगे्रस जिलाध्यक्ष दीपक सैनी, भाजपा नगराध्यक्ष मीनू संगल, घनश्याम दास गर्ग, अंकित गोयल, डा. विपिन कौशिक, जेके जैन, चेतन मुंजाल, डा. अनुराग शर्मा, राजन बत्रा, वैद्य उपेंद्र द्विवेदी, शशि अरोरा भी मौजूद रहे। इस दौरान परिवार के सूरज पाठक, विजय पाठक, दिनेश पाठक, डा. हरिओम पाठक, कपिल पाठक, रवि पाठक, निशांत पाठक, चेतन पाठक आदि समेत हजारों लोग उपस्थित रहे।


धारा 144 के बावजूद किया धरना-प्रदर्शन

इलाहाबाद। रौशन बाग के मंसूर पार्क में धारा 144 होने के बावजूद धरना प्रदर्शन करने पर पुलिस ने करेली के शाह आलम,  कीडगंज के अदनान, मुट्ठीगंज के मो. मासूक, कीडगंज के लड्डन, शाहगंज के मंसूर अली, दरियाबाद के मो. जाहिर व नवी अहमद,  करेली के  नसीउद्दीन, कोतवाली के जिन्ना, दारागंज के सादिक खां, रोशन बाग के एआईएम के जिशान,  गौसनगर उमर खालिद, रसूलपुर के फराज उस्मानी और मंजू पाठक, ऋचा सिंह व आदिल हजमा का नाम शामिल है। जबकि 227 अन्य अज्ञात पर धारा 144 हनन का मुकदमा हुआ है।


बृजेश केसरवानी


विधायक शर्मा से रेणु जोगी ने की मुलाकात

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे) की विधायक रेणु जोगी आज कांग्रेस विधायक सत्यनारायण शर्मा मिलने उनके घर पहुँची। विधायक शर्मा से रेणु जोगी ने मुलाकात कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। रेणु जोगी ने उन्हें शीध्र स्वस्थ होने की शुभकामना दी। इस दौरान अन्य कई विषयों पर भी विधायकों के बीच चर्चा हुई। आपको बता दे कि कंधे में चोट की वजह से सत्यनारायण शर्मा अस्वस्थ चल रहे हैं। बीते दिनों कांग्रेस भवन में सीढ़ियों से वे फिसलकर गिर पड़े थे। इसमें उनके कंधे के पास चोट लग गई थी।फिलहाल वे पहले से बेहतर हैं। वहीं वे अपने कार्यक्षेत्र में सक्रिय भी हैं।


मैनेजर की हत्या कर, लूटी गई कार बरामद

मैनेजर की हत्या कर लूटी गई कार बरामद


नोएडा। एएनएस नोएडा के थाना फेस-3 क्षेत्र में छह जनवरी को गुरुग्राम की एक कंपनी के मैनेजर गौरव चंदेल की हुई हत्या के मामले में उनकी लूटी गई कार बुधवार को जनपद गाजियाबाद के मसूरी थाना क्षेत्र से बरामद हुई।नोएडा पुलिस ने कार को कब्जे में ले लिया और फॉरेंसिक टीम से इसकी जांच करा रही है। थाना मसूरी के प्रभारी नरेश कुमार ने बताया कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि अज्ञात बदमाशों ने देर रात कार यहां खड़ी की है। कार पर धूल जमी है तथा उसकी आगे-पीछे की नंबर प्लेटें उतार ली गई हैं। कार में कुछ सामान भी मिला है।नोएडा पुलिस घटना के दिन से ही कार की तलाश कर रही थी, लेकिन बुधवार को किसी व्यक्ति ने पुलिस को सूचना दी कि मसूरी गांव में एक कार लावारिस अवस्था में खड़ी है।गौरव चंदेल की उस समय हत्या कर दी गई थी, जब वह गुरुग्राम स्थित अपनी कंपनी से ग्रेटर नोएडा के गौर सिटी स्थित अपने घर लौट रहे थे। बदमाश उनकी कार, लैपटॉप, मोबाइल फोन आदि लूट ले गए थे।


भ्रष्टाचार में आरोपी इंस्पेक्टर किया बहाल

जिसे होना था बर्खास्त कर दिया उसे बहाल


माफियाओं से सांठगांठ के आरोप में निलंबित हुए स्पेक्टर को कैसे मिली कोतवाली 


कौशांबी। कोखराज थाना में इंस्पेक्टर रहे, उदयवीर सिंह पर पशु तस्करों से सांठगांठ कर गोवंश की तस्करी कराए जाने का आरोप लगा था जिस पर शिकायत की सत्यता जानने के बाद तत्कालीन एडीजी के निर्देश पर पुलिस कप्तान कौशांबी ने एडीजी के निर्देश पर  कोतवाल उदयवीर सिंह को  कोखराज से निलंबित  कर दिया था, जिसकी अंतिम जांच लंबित थी बाद में उदयवीर सिंह को मंझनपुर कोतवाली का दायित्व सौंप दिया गया उदयवीर सिंह को माफियाओं से सांठगांठ के आरोप में बर्खास्त किया जाना था, लेकिन तत्कालीन पुलिस कप्तान ने कोखराज के निलंबित इंस्पेक्टर उदयवीर सिंह को क्लीन चिट दे दी, यह बड़ा सवाल है। पशु तस्करों से सांठगांठ का आरोप लगा हो और विभागीय जांच के दौरान आरोपी को निलंबित किया गया हो आरोपों की पुष्टि के लिए जब जांच अधिकारी नियुक्त किया गया तो पहले की गई। कार्यवाही का उन्होंने बिना संज्ञान लिए निलंबित इंस्पेक्टर को कैसे क्लीन चिट दे दी है। यह बड़ा सवाल है और उदयवीर सिंह के निलंबन और पुनः बहाली के प्रकरण की पत्रावली की यदि उच्चाधिकारियों ने जांच कराई तो इंस्पेक्टर उदयवीर सिंह के साथ-साथ जांच करने वाले अधिकारी पर भी शासन की गाज गिरना तय है, लेकिन क्या योगीराज में मनमानी करने वाले पुलिस अधिकारियों के कार्यों पर निष्पक्ष जांच हो पाएगी। यह व्यवस्था पर बड़ा सवाल है, लेकिन उदय वीर सिंह के मामले में लगे आरोपों की पुनः जांच कराई गई तो जहां इंस्पेक्टर उदयवीर सिंह पर गाज गिरना तय है, वहीं इन्हें क्लीनचिट देने वाले अधिकारी पर भी गाज गिर सकती है।


सुशील केशरवानी


चील-कौवे की जांच में लगाए सरकारी कर्मचारी

विकास कार्यों को छोड़कर चील कौवों की जांच में लगा दिए गए सरकारी कर्मचारी


योगी सरकार के फरमान पर जिसने आंकड़े जुटाने में की लापरवाही उसे मिलेगा कठोर दण्ड


कौशांबी। उत्तर प्रदेश की भाजपा की योगी सरकार द्वारा नित नए आदेश जारी किए जा रहे हैं। सरकार के आदेशों को लेकर सरकारी नुमाइंदों के साथ-साथ आम जनता भी जहां  परेशान होती दिख रही  है, वही आमजनता को सरकार के निर्णय पर हंसी आ रही है। योगी सरकार ने प्रदेश के सभी जिलों को चील कौवों चींटी मटा कीड़े मकोड़ो की गिनती करने का आदेश भेजा है, इस आदेश के मुताबिक विकास विभाग के अधिकारी कर्मचारियों को लगाकर गांव गांव में पक्षियों की प्रजाति और पक्षियों की संख्या का आंकड़ा और कीड़े मकोड़ो की गिनती कर शासन को 1 सप्ताह में आंकड़े भेजना है। इतना ही नहीं कोबरा सर्प नाग चींटी मटा चील कौवा तोता गिलहरी सहित विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों कीड़ो मकोड़ो की गिनती करने का जिम्मा भी शासन ने कर्मचारियों को सौंपा है। सरकार के इस फैसले पर कार्य करना टेढ़ी खीर है। कीड़े मकोड़े बिभिन्न प्रजाति के पक्षियों की गिनती करना सरकारी कर्मचारियों के बस की बात नहीं है। अब बिल में छुपे साँप को बिल से निकाल कर गिनती करने का आदेश सरकार का है, तो उनको बिल से बाहर निकालकर गिनती करने का साहस किस कर्मचारी अधिकारी और नेता में  है, योगी सरकार का निर्देश है। और कर्मचारी अपनी गर्दन बचाने के लिए चींटी मटा कीड़े मकोड़े पक्षियों की गिनती का किसी तरह आंकड़ा बनाकर सरकार को भेजने में जुट गए हैं। उत्तर प्रदेश सरकार के इस फरमान से विकास कार्य पूरी तरह से बाधित हो चुका है और योजनाएं जहां की तहां रुक गई है। गांव-गांव नालियां शौचालय निर्माण आवास निर्माण सहित विभिन्न कार्य योजनाओं को रोककर पक्षियों चील कौओं तोता मैना गिलहरी आदि  की जांच कराए जाने आकड़ो जुटाए जाने का क्या मकसद है। और इस पर आंकड़े एकत्र करने के बाद सरकार इन आंकड़ों की आड़ में आम जनता को क्या लाभ दे सकेगी यह भी बड़ा सवाल है लेकिन सरकार का निर्देश है, तो जी हुजूरी कर्मचारियों को करना ही होगा जिस कर्मचारी ने सरकार के इस आदेश की अनदेखी की उसका निलंबित होना भी तय होगा। योगी सरकार के चींटी मटा पक्षियों की गिनती कराए जाने के फैसले और निर्देश पर गांव की जनता को हंसी आ रही है।


सुशील केशरवानी


'लोकतंत्र को खतरा' 'विचार'

हम सब एक स्वस्थ लोकतंत्र की कामना करते हैं और ये ही चाहते हैं कि हमारे देश का लोकतंत्र मजबूत और प्रभावशाली हो और होना भी चाहिए। लेकिन आज जो कुछ भी चल रहा है, क्या वो एक स्वस्थ लोकतंत्र का परिचायक कहा जा सकता है ? लोकतंत्र में सभी को संवैधानिक तरीके से अपनी बात कहने का हक है। लेकिन संवैधानिक तरीका कैसा हो, जब देश में संविधान का ही मजाक बनाया जा रहा हो। लोकतंत्र सही मायनों में उसे कहते हैं जिसके अन्दर की जीवन-शैली तीन स्तम्भों पर निर्भर करती है। जिनमें आजादी, समाज के सभी वर्गों या व्यक्तियों में आर्थिक और सामाजिक स्तर पर बराबरी का हक हो, इसके साथ बन्धुत्व की भावना हो। ये बात साफ हो चुकी कि लोकतंत्र शासक के हाथों की कठपुतली है, वो उसे जिधर नचायेगी, उधर नाचेगी। जिसे नहीं नाचना वहीं शोर तो होना ही है। मैं जब दसवीं क्लास में पढ़ता था, तब भी लोगों के मुह सुना था कि लोकतंत्र खतरे में हैं। सही मायनों में मुझे ये समझ नहीं आया कि लोकतंत्र किससे खतरे में हैं। ये दौर स्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी का था। जिन्हें लोगों ने तानाशाह की संज्ञा दी थी।


सलीम रजा


यूपी के पहले पुलिस-कमिश्नर ने चार्ज लिया

लखनऊ। पहले पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने चार्ज संभाला; बोले- स्मार्ट पुलिसिंग हमारी पहली प्राथमिकता l आईपीएस सुजीत पांडेय ने बुधवार को लखनऊ पुलिस कमिश्नर का पदभार संभाल लिया। उन्हें जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया, पांडेय लखनऊ के पहले पुलिसकमिश्नर हैं।सोमवार को योगी सरकार ने लखनऊ और गौतमबुद्धनगर में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू की है। सुजीत को लखनऊ,आईपीएस आलोक सिंह को गौतमबुद्धनगर की जिम्मेदारी दी गई है। पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय लखनऊ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) कार्यालय में बैठेंगे। पदभार संभालने के बाद पांडेय ने कहा- मैं मुख्यमंत्री योगी का धन्यवाद करना चाहता हूं। उन्होंने मुझ पर भरोसा दिखाया है। मैं और मेरी टीम पूरी ईमानदारी के साथ काम करेगी। बेहतर पुलिसिंग स्मार्ट पुलिसिंग की सेवाएं हमारी प्राथमिकताएं हैं। 24 घंटे किसी न किसी रैंक का अधिकारी यहां मौजूद रहेगा। पब्लिक के साथ मिलकर काम करेंगे। अपराधियों पर जितनी कठोर कार्रवाई हो सकती है करेंगे।महिलाओं से संबंधित अपराधों पर हम और अधिक संवेदनशील होंगे। सभी अधिकारी अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाएं।हम व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए समय-समय पर ट्रेनिंग भी देंगे। पुलिस कमिश्नर सिस्टम लागू होने के बाद लखनऊ और गौतमबुद्धनगर में थाने से लेकर जोन तक की व्यवस्थाएं नए सिरे से होंगी। डीजीपी ओपी सिंह ने मंगलवार को दोनों जिलों के पुलिस कमिश्ननरों के साथ बैठक की थी और निर्देश दिए थे कि बुधवार तक अपने अफसरों के कार्यक्षेत्रों का बंटवारा कर दें।


ठोस अपशिष्ट प्रबंधन पर डीएम की बैठक

कलेक्ट्रेट के सभागार में जिलाधिकारी के द्वारा जनपद में ठोस अपशिष्ट प्रबन्धन के संबंध में कल की गयी समीक्षा बैठक।


गौतमबुद्धनगर। जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर बीएन सिंह ने कलेक्ट्रेट के सभागार में जनपद में ठोस अपशिष्ट प्रबन्धन सेे संबंधित अधिकारियों/कर्मचारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए ठोस अपशिष्ट के निपटान में आ रही समस्याओं का अनुश्रवण किया, जिसमें मुख्य समस्या डूब क्षेत्र एवं अनअथाॅराइज्ड काॅलोनी का ठोस अपशिष्ट निस्तारण मानकों के अनुसार नहीं होना पाया गया, जिसका मूल्यांकन अध्ययनों के आधार पर प्रशासनिक तथा तकनीकि दोषों के बारें में समीक्षा करते हुए सुधारात्मक कार्यवाही करतेे हुए सम्बन्धित अधिकारियों/कर्मचारियों को दिशा निर्देश प्रदान कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ठोस अपशिष्ट निपटान के लिए संबंधित अधिकारी के द्वारा जवाबदेही सूचीबद्ध करके ससमय प्रशासन को उपलब्ध करा दी जाये, जिससे संबन्धित विभागों से मुल्यांकन, अध्ययनों व मानकों के अनुसार संस्तुति होने के उपरान्त रिर्पोट शासन को उपलब्ध कराई जा सके और ठोस अपशिष्ट के निपटान में आ रही समस्या का निराकरण हो सके। श्री सिंह के द्वारा दादरी, जेवर, सदर, नोएडा प्राधिकरण, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण, यमुना प्राधिकरण, रबुपुरा, बिलासपुर, जहाॅगीरपुरी से संबंधित अधिकारियों से ठोस अपशिष्ट के निपटान की जानकारी ली गयी और समस्या का निराकरण के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए गए। इस महत्वपूर्ण बैठक में अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 मुनीन्द्र नाथ उपाध्याय, जिला वन अधिकारी, संबंधित अधिकारियों/कर्मचारियों के द्वारा भाग लिया गया-जिला सूचनाधिकारी गौतमबुद्धनगर।


प्रभारी शिक्षा मंत्री का फूल-मालाओं से स्वागत

अतुल त्यागी जिला प्रभारी
प्रवीण कुमार रिपोर्टर पिलखुआ
रिंकू सैनी 
हापुड़। प्रभारी शिक्षा मंत्री संदीप सिंह का बीजेपी कार्यकर्ताओं ने किया फूल मालाओं से जोरदार स्वागत।आपको बता दें पिलखुवा के छिजारसी टोल टैक्स पर प्रभारी शिक्षा मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार संदीप सिंह का बीजेपी कार्यकर्ताओं ने फूल माला उसे जोरदार स्वागत किया इसके अलावा पिलखुवा क्षेत्र में अलग-अलग स्थान पर हापुड़ जाते हुए कई जगह कार्यकर्ताओं ने किया जोरदार स्वागत। इसके बाद हापुड़ में डाक बंगला गेस्ट हाउस में कार्यकर्ताओं से प्रभारी शिक्षा मंत्री संदीप सिंह कार्यकर्ताओं से मिलकर सुनेंगे समस्याएं उसके बाद जिले के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे। इस मौके पर भाजपा जिला अध्यक्ष उमेश राणा वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष यशपाल सिंह सिसोदिया ललित गर्ग मोदी अध्यक्ष नवीन तोमर धौलाना मंडल अध्यक्ष सोनू ठाकुर पिलखुवा नगर अध्यक्ष हरीश अग्रवाल प्रवीण मित्तल सहित काफी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता रहे मौजूद।


कोहरे में 40 छात्रों सहित, बस पलटी

बड़ा हादसा: धुंध के कारण 40 बच्चों से भरी स्कूल बस पलटी


सुल्तानपुर लोधी। सुल्तानपुर लोधी में धुंध के कारण बच्चों से भरी एक स्कूल बस पलट गई। हादसे के समय बस में 40 से ज्यादा बच्चे सवार थे। जिनमें से कुछ बच्चों को मामूली चोटें आई हैं। गनीमत यह रही कि कोई जानी नुक्सान नहीं हुआ और बस चालक की समझदारी से सभी बच्चे सुरक्षित बचा लिए गए। जानकारी के अनुसार अकाल एकेडमी स्कूल की बस बच्चे लेकर सुल्तानपुर लोधी जा रही थी। बताया जा रहा है कि बूसोवाल रोड पर आगे से एक ट्रक रोंग साइड पर आ रहा था। ट्रक को अचानक देखते ही बस चालक ने बस सड़क से नीचे उतार दी। चालक की समझदारी से भयानक हादसा होने से तो बच गया, लेकिन बस पलट गई। बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाला गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।


जागरूकता कार्यक्रम किए गए आयोजित

मनाली और शलीण में बताई सरकारी योजनाएं
 
मनाली। हिमाचल प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाओं और सरकार के दो वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियों को आम जनता तक पहुंचाने के लिए सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की ओर से आरंभ किए गए विशेष अभियान के तहत बुधवार को मनाली और शलीण मंे जागरुकता कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए।
 इन कार्यक्रमों के दौरान सूचना एवं जनसंपर्क विभाग से संबद्ध अनुषिका कला मंच के लोक कलाकारों ने गीत-संगीत और नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन, आयुष्मान भारत, हिम केयर, सहारा योजना, हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना, मुख्यमंत्री हेल्पलाइन, गुड़िया हेल्पलाइन, शक्ति ऐप, अटल आशीर्वाद योजना, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना, आवास योजना और कई अन्य कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी।
 इन लोक कलाकारों ने लोगों को नशे के दुष्प्रभावों से भी अवगत करवाया तथा अपने आस-पास नशे का कड़ा विरोध करने का संदेश दिया। अनुषिका कला मंच के लीडर सुनील शर्मा, कलाकार वीना, डिंपल, वरुण, दीपक, जीवन, रमेश, आर्यन और रमेश कुमार ने लोकगीतों से लोगों का भरपूर मनोरंजन भी किया। ग्राम पंचायत मनाली में आयोजित कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों के अलावा सचिव कर्म चंद, ग्राम पंचायत शलीण में पंचायत सदस्य युवराज और अन्य गणमान्य लोग भी मौजूद रहे।


बीजेपी का जन-जागरण अभियान संपन्न

नई दिल्ली। सीएए को लेकर बीजेपी का जन जागरण अभियान संपन्न
शिमला-भाजपा जिला शिमला ने बुधवार को नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 को लेकर कसुम्पटी ढ़ली और शोघी बाजार में बड़ी रैलियों का आयोजन किया गया । यह बड़ी रैलियां जन जागरण अभियान के तहत निकाली गई जिसमें भाजपा जिला शिमला के सभी नेतागण एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे । इस मौके पर जिला अध्यक्ष रवि मेहता ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी पूरे देश भर में 1 जनवरी से 15 जनवरी तक नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 को लेकर जन जागरण अभियान चला रही थी जिसका आज समापन कार्यक्रम शिमला जिला के विभिन्न स्थानों पर हुआ जिसमें बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। उन्होंने कहा कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने गांव गांव जाकर आम जनता को इस अधिनियम के बारे में अवगत करवाया सड़कों पर बूथों पर और शहरों में भी एक जागरण को लेकर जनता को इस संशोधन अधिनियम के प्रति बारीकियों में समझाया गया। उन्होंने कहा की बीजेपी ने पत्रक के माध्यम से संगोष्ठियों के माध्यम से जनता जनता तक नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 की वास्तविकता को पहुंचाया।रवि मेहता ने बताया की बड़ी संख्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पोस्ट कार्ड द्वारा नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 के प्रति समर्थन पत्र भी भेजे गए। ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने स्वामी विवेकानंद की जयंती के अवसर पर पूरे प्रदेश में 7723 बूथों पर जन जागरण अभियान चलाया। इन रैलियों में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता गण उपस्थित रहे और भारत के झंडे भी लहराए गए नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 के समर्थन के नारे भी लगाए गए।


भारतीय रेलवे ने नई तकनीक की विकसित

ट्रेन में पानी खत्म होने पर खुद डिब्बा ही कर देगा सबको अलर्ट


नई दिल्ली। रेलवे ने ऐसी तकनीक विकसित की है जिसमें कोच खुद बताएगा कि पानी समाप्त होने वाला है और पानी भरने की सुविधा वाले अगले स्टेशन पर प्रभारी तक संदेश पहुँच जाएगा। रेलवे बोर्ड के सदस्य (चल परिसंपत्ति) राजेश अग्रवाल ने बुधवार को बताया कि इस साल के अंत तक सभी यात्री ट्रेनों के कोचों में वाटर सेंसिंग उपकरण लगाया जाएगा। जैसे ही टंकी में पानी आधे से कम रह जाएगा यह सेंसर पानी भरने की सुविधा वाले अगले स्टेशन पर पानी भरने के लिए जिम्मेदार प्रभारी को संदेश भेज देगा। टंकी खाली हो जाने पर उसके खाली होने का संदेश भी जाएगा। अग्रवाल ने बताया कि पिछले साल इस परियोजना की शुरुआत की गई थी और पाँच प्रतिशत से अधिक कोचों में सेंसर लग चुके हैं। इस साल अन्य ट्रेनों में भी सेंसर लगाने का काम पूरा हो जाएगा। उन्होंने बताया कि हर ट्रेन के ठहराव के हिसाब से उसमें पानी भरने के लिए नियत स्टेशन अलग-अलग होते हैं। वाटर सेंसिंग उपकरण को पता होता है कि आने वाले किस स्टेशन पर पानी भरा जा सकता है। सिर्फ उसी स्टेशन के प्रभारी के पास पानी भरने का संदेश जाएगा। इसके अलावा आने वाले समय में एसी कोच के अंदर का तापमान एवं आर्द्रता का नियंत्रण भी स्वचालित करने की योजना है जिसकी किसी भी स्थान से निगरानी की जा सकेगी। अग्रवाल ने बताया कि इसके लिए तौर-तरीके एवं डिजाइनिंग आदि तैयार करने का काम पूरा हो चुका है। अभी एसी कोच में तापमान नियंत्रित करने के लिए कर्मचारी होते हैं। कई बार ऐसा होता है कि ट्रेन शाम के समय एक जगह से चलकर सुबह जब दूसरी जगह पहुँचती है तो मौसम में जमीन आसमान का फर्क होता है। ऐसे में स्वचालित तापमान नियंत्रण प्रणाली से कोच के अंदर का तापमान अपने-आप एक जैसा बना रहेगा। कोच के अंदर लगे सेंसर तापमान के साथ नमी तथा विभिन्न गैसों की मात्रा भी पढ़ सकेंगे और उसके आधार पर यह तय करेंगे कि अंदर कितनी ठंडक या गर्मी की जरूरत है।


इंटरनेट सेवाओ को शुरू करने का किया फैसला

श्रीनगर। जम्मू और कश्मीर में कार्यरत ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवाएं
जम्मू और कश्मीर- कश्मीर घाटी ने होटल, शैक्षणिक संस्थानों जैसी आवश्यक सेवाओं के लिए ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवाओं को शुरू करने का फैसला किया है। जम्मू में 2 जी मोबाइल इंटरनेट सेवा शुरू की जा रही है। जम्मू ब्रॉडबैंड और मोबाइल एसएमएस पहली से शुरू। यह निर्णय जम्मू और कश्मीर के उप राज्यपाल के साथ एक बैठक में लिया गया है।


नाबालिक ताइक्वांडो के साथ कोच ने किया दुष्कर्म

11 साल की नाबालिग ताइक्वांडो प्लेयर के साथ कोच ने किया दुष्कर्म


पंचकूला। 11 साल की नाबालिग ताइक्वांडो प्लेयर के साथ कोच द्वारा दुष्कर्म करने का मामला सामने आया हैं। आरोपी ने नाबालिगा के साथ सिरसा में दुष्कर्म किया था । पंचकूला पुलिस ने नाबालिगा के बयान पर जीरो एफआईआर दर्ज की हैं। महिला थाना पुलिस को सेक्टर-6 स्थित सामान्य अस्पताल से सूचना मिली थी की एक बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ हैं। सूचना मिलने के बाद पुलिस अस्पताल में पहुंची और बच्ची के बयान दर्ज किये। पुलिस जांच अधिकारी ने बतायाकि बच्ची उम्र 11 साल है। पुलिस को बताया वह पहले अपने माता पिता के साथ सिरसा में रहती थी। सिरसा में ही वह एक कॉचिंग सेंटर ताइक्वांडो प्रैक्टिस करती थी। वहीं के कोच ने उसके साथ दुष्कर्म किया। जिसके बाद बच्ची डर गई और उसने यह बात किसी को नही बताई।


मोदी-योगी की चिट्ठी, 12 हजार घरों से लोटी

मैनपुरी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से आयुष्मान के लाभार्थियों को भेजी गई चिट्ठी 12 हजार घरों से लौट गई है। इसकी वजह है चिट्ठी पर जो पते लिखे थे, वहां आयुष्मान योजना के लाभार्थी मिले ही नहीं। बड़ी संख्या में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के पत्र वापस लौटने पर स्वास्थ्य विभाग ने लाभार्थी परिवारों की तलाश शुरू कर दी है। सत्यापन की जिम्मेदारी आशा कार्यकर्ताओं को सौंपी गई है। सत्यापन के बाद भी इन परिवारों को योजना का लाभ मिल पाएगा। आयुष्मान भारत के तहत लाभार्थी परिवारों का चयन सोशियो ईकोनॉमिक कास्ट सेंसस 2011 (एसईसीसी) सूची के आधार पर किया गया था। जिले में करीब एक लाख 10 हजार 546 लाभार्थी परिवारों को प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की ओर से पत्र जारी किए।


तानाजी: रिलीज के बाद, धमाकेदार प्रदर्शन

नई दिल्ली। अजय देवगन और सैफ अली खान की फिल्म ‘तान्हाजी: द अनसंग वॉरियर’ रिलीज के बाद से ही धमाकेदार प्रदर्शन कर रही है। सोमवार को भी अजय देवगन की फिल्म का जलवा बॉक्स ऑफिस पर कायम रहा तो वहीं मंगलवार को फिल्म के कलेक्शन में भारी उछाल हुआ। बॉक्स ऑफिस इंडिया डॉट कॉम वेबसाइट के मुताबिक अजय देवगन, काजोल और सैफ अली खान की फिल्म ने पांचवें दिन धांसू कमाई करते हुए 16 करोड़ रुपये का कलेक्शन किया है। इस हिसाब से ‘तान्हाजी: द अनसंग वॉरियर’ ने पांच दिनों में 89 से 90 करोड़ रुपये का कलेक्शन कर लिया है। दीपिका की ‘छपाक’ ने 5वें दिन भी किया धमा


बर्फबारी इलाकों में है 'हिम स्खलन' खतरा

नई दिल्‍ली। उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में भीषण बर्फबारी से लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। कई इलाकों में सड़कें बंद जिससे पर्यटक जहां तहां फंस गए हैं। उत्तराखंड में बर्फबारी के चलते केदारनगरी के सभी निर्माण कार्य रुक गए हैं। मौसम विभाग ने जम्‍मू-कशमीर लद्दाख हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड  के कई इलाकों में भारी बर्फबारी का अलर्ट जारी किया है। वहीं उत्‍तर भारत में कोहरा भी लोगों की मुश्किलें बढ़ा रहा है। दिल्‍ली से होकर आने जाने वाली नार्दर्न रेलवे रिजन की 18 ट्रेंने कोहरे की वजह से देर से चल रही हैं। उत्‍तराखंड प्रसिद्ध तीर्थस्‍थल केदारनाथ में छह से सात फीट बर्फ की चादर पसरी हुई है। पिथौरागढ़ और अल्मोड़ा के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी दर्ज की गई है। स्‍थानीय मौसम विभाग के मुताबिक इस हफ्ते में शुक्रवार तक सूबे में मौसम में कोई बदलाव नहीं होने वाला है। कश्‍मीर घाटी में जबरदस्त बर्फबारी के बाद मौसम में तो सुधार हुआ है लेकिन लोगों की मुश्किलें बरकरार हैं। वादी के सैकड़ों इलाके अभी भी जिला मुख्यालयों से कटे हुए हैं जबकि अधिकांश इलाकों में बिजली-पानी की आपूर्ति ठप है। मौसम विभाग की मानें तो कल यानी बृहस्‍पतिवार से पश्चिमी विक्षोभ के चलते मौसम का मिजाज और तल्‍ख हो जाएगा। आज भी जम्‍मू-कश्‍मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड के कुछ इलाकों में भारी बर्फबारी दर्ज की जा सकती है। वहीं कई पहाड़ी इलाकों खासकर जम्‍मू-कश्‍मीर के उच्च पवर्तीय इलाकों कुपवाड़ा, गांदरबल, शोपियां, बारामुला, अनंतनाग और बडगाम में हिमस्खलन का खतरा बना हुआ है। प्रशासन ने इन इलाकों के लोगों को सावधानी बरतने की सलाह दी है। हिमाचल में बारिश और बर्फबारी के बाद शीतलहर तेज हो गई है। मौसम का पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी एजेंसी स्‍काइमेट वेदर के मुताबिक, पंजाब और हरियाणा के उत्तरी जिलों और हिमाचल प्रदेश में एक दो स्थानों पर बारिश हो सकती है। यही नहीं पूर्वी असम और अरुणाचल प्रदेश में एक-दो जगहों पर हल्की बारिश की संभावना है। वहीं समाचार एजेंसी . ने मौसम विभाग के हवाले से बताया है कि पंजाब में 15 से 17 जनवरी तक जबकि मध्‍य प्रदेश और राजस्‍थान में 15-16 जनवरी को मौसम की बेरुखी देखी जाएगी। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, राजस्‍थान और उत्‍तर प्रदेश में कुछ जगहों पर 15 और 16 जनवरी को गरज चमक के साथ बारिश या ओलावृष्‍टि हो सकती है।


देसी-कट्टे से युवक ने कर ली 'आत्महत्या'

ग्वालियर। एक युवक ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली सिर में  गोली लगने से युवक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस का कहना है, कि देशी कट्टे से युवक ने खुद को गोली मारी है, घटनास्थल से 315 बोर का देसी कट्टा और कारतूस खोखा भी बरामद हुआ है। थाना बहोड़ापुर क्षेत्र के आनंद नगर के रहने वाले 23 वर्षीय अमन सिंह तोमर ने मंगलवार देर शाम अपने घर के कमरे में देशी कट्टे से खुद की गोली मारकर आत्महत्या करली,सूचना मिलने पर थाना बहोड़ापुर पुलिस फॉरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंची।पुलिस को मृतक अमन सिंह तोमर के शव के पास 315 बोर का देसी कट्टा और कारतूस खोखा मिला है पुलिस और मृतक के परिजनों का कहना है। मृतक अमन सिंह  ने आत्महत्याा क्यों की यह अज्ञात बना हुआ है। पुलिस ने मृतक अमन सिंह के शव को पोस्टमार्टम केेेे लिए भिजवा दिया है आत्महत्या केे कारणों की जानकारी जुटा रही।


भाभी से की थी शादी, बांके से काटी गर्दन

बाराबंकी में तीन माह पहले रचाई भाभी से शादी, बांके से गर्दन काट उतारा मौत के घाट


बाराबंकी। बाराबंकी में एक देवर ने पहले अपनी भाभी से विवाह रचाया। तीन माह बीतने के बाद बांके से उसकी गर्दन पर कई वार मौत के घाट उतार दिया। घटना को अंजाम देकर हत्यारोपित खून से लथपथ बांका लेकर भाग गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतका के बेटे की तहरीर पर आरोपित पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और आरोपित की तलाश की जा रही है। हत्यारोपित बीस साल पहले हुई एक हत्या के मामले में अभियुक्त है, जो एक साल पहले की रिहा हुआ है।मामला कुर्सी थानाक्षेत्र के मदारपुर का है। यहां के निवासी राधा रावत (45) के पति राधे की करीब छह साल पहले मौत हो चुकी है। उसकी सात संतानें हैं, जिसमें से तीन का विवाह हो चुका है। राधा का देवर मोहन 26 जनवरी 2019 को जेल से छूटा। मोहन (48) ने 1999 में जहांगीराबाद थाना क्षेत्र में एक हत्या कर दी थी, जिसमें उसे अदालत ने सजा सुनाई थी। सजा के दौरान उसकी पत्नी भी चली गई। वापस लौटने के बाद उसने अपनी भाभी राधा से अक्टूबर 2019 में मंदिर में विवाह कर लिया था, लेकिन बच्चों के साथ रहने की इच्छा जताने वाली राधा का मोहन से मनमुटाव होता रहता था। पांच दिन पहले ही राधा चंद कदम की दूरी पर अपने पुराने घर बच्चों के पास आकर रहने लगी थी। पुलिस ने बताया कि 14 जनवरी को करीब साढ़े दस बजे मोहन राधा के घर पहुंचा और उसकी बांके से हत्या कर दी। एसपी और एएसपी आरएस गौतम ने घटना स्थल का जायजा लिया। मृतका के पुत्र पवन की तहरीर पर पुलिस ने मोहन रावत पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है, पर आरोपित को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।
पुलिस अधीक्षक डॉ. अरविंद चतुर्वेदी ने बताया कि मोहन हत्या का अभियुक्त है, जो एक साल पहले ही रिहा हुआ है। उसने अपनी भाभी राधा से मंदिर में शादी की थी। मनमुटाव के कारण उसने बांके से राधा की हत्या कर दी है। मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और आरोपित की तलाश की जा रही है।मृतका की सबसे बड़ी पुत्री सुमन (30), पुत्र पवन (25), कांति (22) की शादी हो चुकी है। वारदात के समय पवन अपनी पत्नी को मायके भेजने गया और अन्य बच्चे श्रवण (19), सुनील (15), अनामिका (12) और अनूपा (9) स्कूल गए हुए थे। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेजा है।


सिपाहियों का होगा नियुक्त प्राधिकारी डीसीपी

पुलिस आयुक्त प्रणाली को लेकर कुछ अन्य महत्वपूर्ण बिंदु


 पुलिस आयुक्त प्रणाली लागू होने से आईपीएस के तौर पर सिपाहियों का नियुक्ति प्राधिकारी डीसीपी होगा।


लखनऊ। अभी तक डीसीपी की जगह एडिशनल एसपी ही होते थे, जो प्रशासनिक अधिकारी नहीं थे, ये केवल रिपोर्टिंग अधिकारी थे। डीसीपी के नियुक्ति प्राधिकारी होने से अनुशासन बढ़ेगा और सभी की जवाबदेही भी बढ़ेगी। यही नहीं इससे डीसीपी अपनी टीम से बेतहर समन्वय स्थापित कर रणनीति बनाकर काम करेगा। एसएसपी को नोएडा और लखनऊ में नीति निर्धारण और फील्ड वर्क दोनों भूमिकाओं का निर्वहन करना होता था, इससे दोनों कार्यों के प्रति न्याय कर पाना बड़ी चुनौती थी। कमिश्नर ऑफ पुलिस का काम बेसिक पुलिसिंग यानी नीति निर्धारण और रणनीति बनाना होगा। उसके पालन, सहयोग या आपरेशन का काम डीसीपी करेंगे। आन्तरिक मामलों को कमिश्नर ऑफ पुलिस देखेगा। वहीं बाह्य मामलों की जिम्मेदारी डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस की होगी। सीपी स्तर पर अनुभवी, वरिष्ठ और परिपक्व अधिकारी होगा, जो क्राइसिस मैनेजमेंट से लेकर सारी चीजों को बेहतर तरीके से संभालेगा। लखनऊ और नोएडा जैसे महानगरों की चुनौतियां बाकी जनपदों से अलग होती है। पुलिस कमिश्नरी लागू होने से स्मार्ट पुलिसिंग को बढ़ावा मिलेगा। कमिश्नरी सिस्टम में बीट पुलिसिंग मॉर्डन पुलिसिंग में तब्दील हो जाएगी। थानों में बीट की संख्या बढ़ेंगी और उनकी कमान सिपाहियों के हाथ में होगी। बीट पुलिसिंग के लिए बने बीट ऐप को चलाने के लिए सिपाहियों को टैबलेट दिए जाएंगे। इसमें वे बीट की प्रमुख लोकेशन मार्क करने के साथ अन्य सूचनाएं भरेंगे। इसके साथ इलाके के हिस्ट्रीशीटर की रिपोर्ट, जेल से छूटने और जेल जाने वालों की रिपोर्ट भी ऐप में अपडेट कर सकेंगे। बीट सिपाही को अपने क्षेत्र के लोगों के पासपोर्ट सत्यापन, चरित्र सत्यापन व शस्त्र लाइसेंस के आवेदन पर रिपोर्ट लगाने समेत अन्य सभी प्रकार के कार्य दिए जाएंगे। पहली बार स्मार्ट एंड सेफ सिटी के रूप में लखनऊ और नोएडा को विकसित करने के तहत महिला सुरक्षा के लिए खासतौर पर महिला एसपी की तैनाती की जा रही है। एसपी लखनऊ व नोएडा से जुड़े महिला अपराधों पर अंकुश लगाने, समय पर विवेचना, चार्जशीट, अभियोजन करवाने का काम देखेंगी। एक महिला एएसपी भी तैनात की जाएंगी। जाहिर है इससे महिलाओं से जुड़े अपराधों पर प्रभावी अंकुश लगेगा। कमिश्नर प्रणाली से शहरी इलाकों में भी अतिक्रमण पर अंकुश लगेगा। अतिक्रमण अभियान चलाने का आदेश सीधे तौर पर कमिश्नर दे सकता है और नगर निगम को इस पर अमल करना होगा। ट्रैफिक में बाधा बनने वाले अतिक्रमण या सड़क के अवैध कब्जे पुलिस के आदेश पर हटाने ही होंगे। ट्रैफिक नियमों का पालन सख्ती से करवाया जाएगा, क्योंकि बार-बार ट्रैफिक नियम तोड़ने पर पुलिस ही ड्राइविंग लाइसेंस सस्पेंड कर सकेगी। वहीं CRPC की मजिस्ट्रियल पावर वाली कार्यवाही अब तक जिला प्रशासन के अफसरों के पास थी। वह अब पुलिस कमिश्नर को मिल जाएगी।


योगी वर्षों पुरानी परंपरा का निर्वहन करेंगे

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बतौर पीठाधीश्वर मकर संक्रांति (15 जनवरी) को गोरखपुर स्थित गोरखनाथ मंदिर में सदियों पुरानी परंपरा का निर्वहन करेंगे। तड़के तीन बजे मंदिर का कपाट खुलते ही विधिवत पूजन अर्चन के साथ वह बाबा गोरखनाथ पहली खिचड़ी चढ़ाएंगे। साथ ही देश एवं प्रदेश की सुख, समृद्धि और शांति की मन्नत भी मांगेगे। तुरंत बाद नेपाल के राजा की ओर से आयी खिचड़ी चढ़ेगी। इसके बाद तो लाखों की संख्या में आये श्रद्धालु बाबा की जयघोष के साथ खिचड़ी (चावल-दाल) की बरसात ही कर देंगे। इस दिन योगी का पूरा समय श्रद्धालुओं के बीच ही गुजरेगा। इस दौरान हर आने-जाने वाले से प्रसाद के रूप में लइया-तिल लेने का आग्रह किया जाता है और दोपहर बाद हजारों लोगों के साथ सहभोज होता है। उल्लेखनीय है कि गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने की परंपरा सदियों पुरानी है। किदंवतियों के अनुसार त्रेता युग में अवतारी और सिद्ध गुरु गोरक्षनाथ भिक्षाटन के दौरान हिमाचल के कांगड़ा जिले के प्रसिद्ध ज्वाला देवी मंदिर गये। देवी प्रकट हुईं और गुरु गोरक्षनाथ को भोजन का आमंत्रण दिया। वहां के तामसी भोजन को देखकर गोरक्षनाथ ने कहा मैं तो भिक्षाटन से मिले चावल-दाल को ही ग्रहण करता हूं। इस पर देवी ने कहा कि मैं चावल-दाल पकाने के लिए पानी गरम करती हूं। आप भिक्षाटन कर चावल-दाल लाएं।
यहां से हुई खिचड़ी चढ़ाने की परंपरा गुरु गोरक्षनाथ वहां से भिक्षाटन करते हुए हिमालय की तराई में स्थित गोरखपुर आ गये। वहां उन्होंने राप्ती और रोहिणी नदी के संगम पर एक मनोरम जगह पर अपना अक्षय भिक्षापात्र रखा और साधना में लीन हो गये। इस बीच खिचड़ी का पर्व आया एक तेजस्वी योगी को ध्यानमग्न देखकर लोग उसके भिक्षापात्र में चावल-दाल डालने लगे, पर वह तो अक्षय पात्र था। लिहाजा भरने से रहा। लोग इसे सिद्ध योगी का चमत्कार मानकर अभिभूत हो गये। तबसे गोरखपुर में बाबा गोरखनाथ को खिचड़ी चढ़ाने की परंपरा चली आ रही है। 


स्वच्छता के लिए सामूहिक रूप से करें प्रयास

स्वच्छता के लिए सामूहिक रूप से प्रयास करें – कमिश्नर डॉ. भार्गव


स्वच्छता के लिए कमिश्नर ने किया टीआरएस कॉलेज के विद्यार्थियों को प्रेरित


रीवा। अशोक कुमार भार्गव ने ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय रीवा में नगर पालिक निगम रीवा द्वारा आयोजित स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में छात्र-छात्राओं को स्वच्छता के लिए प्रेरित किया। उन्होंने रीवा शहर को स्वच्छ सर्वेक्षण में देश में नम्बर एक पर लाने की अपील की। उन्होंने शहर के नागरिकों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता फैलाने हेतु स्वच्छता की सवारी को रवाना किया। स्वच्छता की सवारी में लोगों को जागरूक करने के लिए एलईडी के माध्यम से स्वच्छता पर आधारित लघु फिल्में प्रदर्शित की जायेंगी।कार्यक्रम में स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में रीवा को देश में नम्बर एक स्थान पर लाने के लिए वोट करने हेतु एप डाउनलोड करने की प्रक्रिया भी समझाई गई।
कमिश्नर डॉ. भार्गव ने कहा कि दुनिया बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है। तरक्की की अनेकों मिशाइलें हमने कायम की हैं। इतनी तरक्की के बावजूद भी हमें स्वच्छता के प्रति लोगों में चेतना जागृत करने की आवश्यकता पड़ रही है। महात्मा गांधी की अहिंसक क्रांति के माध्यम से हमें आजादी का सूरज देखने को मिला। गांधी जी स्वच्छता के लिए हमेशा प्रयासरत रहे। वे हमेशा अपने भाषणों में स्वच्छता और सफाई अभियान की चर्चा करते थे। जहां गंदगी मिलती थी वहां वे स्वयं सफाई करना प्रारंभ कर देते थे। उन्होंने कहा कि सफाई करने का काम वर्ग विशेष का नहीं है बल्कि यह हम सबकी जिम्मेदारी है। हमारी संस्कृति में स्वच्छता और पवित्रता को सर्वोच्च स्थान दिया गया है। हम अपने स्वयं की सफाई पर ध्यान देते हैं लेकिन हमें अपनी स्वच्छता के साथ दूसरे की स्वच्छता पर भी जागरूक रहकर ध्यान देना चाहिए।
कमिश्नर डॉ. भार्गव ने कहा कि स्वच्छता अकेले व्यक्ति के वश की बात नहीं है। इसके लिए सामूहिक रूप से प्रयास करने की जरूरत है। जहां स्वच्छता होती है वहां पवित्रता होती है। हम दीपावली पर माँ लक्ष्मी की पूजा करते हैं लेकिन हमें कूड़ा-करकट इकट्ठा करके किसी दूसरे व्यक्ति या पड़ोसी के घर के सामने नहीं फेंकना चाहिए। हमारे देश की गंदगी और अस्वच्छता के प्रति कोई विदेशी व्यक्ति व्यंग्य न करे इसके लिए हमें मिलकर प्रयास करने की जरूरत है। यदि कहीं गंदगी दिखती है तो उसे दूर करने का प्रयास करें। आसपास का वातावरण स्वच्छ नहीं होगा तो हमारा विकास सही अर्थों में संभव नहीं है। गंदगी की वजह से कई लोग असमय मृत्यु के शिकार हो जाते हैं।
कमिश्नर डॉ. भार्गव ने कहा कि एक सर्वे के अनुसार हर व्यक्ति 165 किग्रा कचरा प्रतिवर्ष पैदा करता है। इस शहर से सबको आत्मीय लगाव होना चाहिए। यह आपकी जन्मभूमि और कर्मभूमि है। सफाई सिर्फ कानून, जुर्माना, चेतावनी से संभव नहीं है बल्कि आपके अंतस में स्वच्छता के प्रति चेतना से ही संभव है। उन्होंने कहा कि गंदगी के कारण हमारी अर्थव्यवस्था का बहुत बड़ा हिस्सा स्वास्थ्य सेवाओं पर खर्च हो जाता है। जनता की भागीदारी और चेतना से हमारे देश में बदलाव आ रहा है। उन्होंने कहा कि स्वच्छता रखने के लिए स्वयं पहल करना बहुत जरूरी है। कचरा यथा स्थान पर ही डालें। यदि हम सब ठान लें तो रीवा शहर भी देश में नम्बर एक स्थान पर आ सकता है। उन्होंने कहा कि हम सब यह प्रण लें कि स्वच्छता के प्रति कटिबद्ध और समर्पित रहें, न गंदगी फैलायेंगे और न ही फैलाने देंगे। उन्होंने महाविद्यालय परिसर को प्लास्टिक मुक्त घोषित किये जाने पर छात्र-छात्राओं को बधाई दी।
महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ. एसपी शुक्ल ने कहा कि स्वच्छता के लिए परिवर्तन लाने का श्रेय महाविद्यालय के छात्रों का भी है। महाविद्यालय के छात्र बहुत पहले से स्वच्छता के लिए अपनी भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं। स्वस्थ रहने के लिए स्वच्छता बहुत जरूरी है। स्वच्छता और स्वास्थ्य दोनों एक-दूसरे से जुड़े हैं। मानसिक और शारीरिक अनुशासन से स्वस्थ समाज का निर्माण होता है। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि महाविद्यालय की जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष दिवाकर द्विवेदी ने कहा कि सरकार के द्वारा स्वच्छता के लिए चलाई जा रही मुहिम की दिशा में टीआरएस कालेज अग्रणी भूमिका निभाने के लिए हमेशा तत्पर रहेगा। स्वच्छता हमारे जीवन की आधारभूत जरूरत है। कार्यक्रम में उपायुक्त नगर निगम अरूण मिश्रा, सहायक आयुक्त निधि राजपूत, महाविद्यालय के प्राध्यापकगण, छात्र-छात्रायें आदि उपस्थित थे।


डबल शिफ्ट में काम करने का किया विरोध

बैकुंठपुर। जिला अस्पताल में मंगलवार को डॉक्टरों के ओपीडी बहिष्कार का आंशिक असर देखने को मिला। अस्पताल में इमरजेंसी सहित अधिकांश ओपीडी खुली रहीं, हालांकि अंचल से आने वाले मरीजों को सिर्फ विशेषज्ञ की सेवाएं नहीं मिलीं। प्रथम पाली की ओपीडी में 290 मरीजों को इलाज सहित अन्य सुविधाएं मिलीं। छत्तीसगढ़ इनसर्विस डॉक्टर्स एसोसिएशन की रायपुर में आयोजित राज्य स्तरीय सम्मेलन में सुबह-शाम ओपीडी खोलने को लेकर विरोध करने का निर्णय लिया गया है। इससे जिला अस्पताल में कुछ डॉक्टर्स ने ओपीडी का बहिष्कार कर दिया। लेकिन कुछ ओपीडी खुली थी और प्रथम पाली में ग्रामीण अंचल से आने वाले 290 मरीजों को चिकित्सकीय लाभ मिला।


हालांकि कुछ मरीज विशेषज्ञ डॉक्टर्स से इलाज कराने काफी देर से इंतजार करते रहे, लेकिन डॉक्टरों के नहीं आने से मायूस होकर अपने-अपने घर लौट गए। वहीं दूसरी ओर एसोसिएशन के आधा दर्जन से अधिक डॉक्टर जिला अस्पताल के सामने ओपीडी का बहिष्कार किया और ड्राइंग सीट में नारे लिखकर विरोध जताया। डॉक्टर्स ने ड्राइंग सीट में ... हम भी इंसान हैं, न समझे शक्तिमान...पूर्ण ओपीडी का बहिष्कार... अनिश्चितकालीन हड़ताल लिखा था। डबल शिफ्ट ओपीडी का डॉक्टरों ने शुरु किया विरोध, लिखा- हम भी हैं इंसान, न समझे हमें शक्तिमान, ये हैं 10 मांगें
एसोसिएशन की यह 10 मांगें हैं।डबल ओपीडी को निरस्त किया जाए, आपातकालीन ड्यूटी रोस्टर की तरह तीन शिफ्ट में ओपीडी प्रारंभ किया जाए, इससे पहले डॉक्टर्स व मेडिकल स्टाफ की नियुक्ति करनी चाहिए। 
- ओपीडी, इमरजेंसी, पीएमवीआईपी, स्वास्थ्य शिविर में ड्यूटी करने वाले डॉक्टर व मेडिकल स्टाफ की सिर्फ ६ घंटे ड्यूटी लगाई जाए। इसमें रात्रिकालीन ड्यूटी करने वाले छोड़ दिया जाए।



- डॉक्टर्स सहित मेडिकल स्टाफ को अन्य विभाग के सरकारी कर्मचारी की तरह अवकाश की सुविधाएं दी जाए।
- 24 घंटे खुलने वाले अस्पताल में संपूर्ण, त्वरित दवाइयां, उपकरण-यंत्र, लैब टेस्ट, एंबुलेंस की सुविधाएं दी जाए।
-नर्सिंग होम एक्ट के तहत एक दिन में एक शिफ्ट में प्रत्येक वार्ड या 20 मरीजों के बीच एक रेसिडेंट डॉक्टर, एक नर्स, एक वार्ड ब्वाय, एक स्वीपर की नियुक्ति की जाए।



- चिकित्सा अधिकारियों की 794 पद, जिसे ग्रामीण चिकित्सा सहायक के लिए विलोपित किया गया है, उसे पुन: बहाल किया जाए।
-ग्रामीण क्षेत्र में विशेषज्ञ सेवा बढ़ाने के लिए स्नातकोत्तर प्रवेश परीक्षा में एमओ के लिए 50 फीसदी सीट आरक्षित किया जाए।
-चिकित्सा अधिकारी व विशेषज्ञ डॉक्टर्स को तत्काल पदोन्नति दी जाए।



- चिकित्सा अधिकारियों को अव्यवसायिक भत्ता का विकल्प व भत्ता बढ़ाकर बेसिक में 50 फीसदी जोड़ा जाए।
-चिकित्सा अधिकारियों की सेवावधि व वित्तीय लाभ प्रथम नियुक्ति तिथि से गिनती की जाए।



ओपीडी खुलने से डॉक्टरों और मरीजों को हो रही परेशानी
सरकारी अस्पतालों में सुबह-शाम ओपीडी खुलने से डॉक्टर्स सहित मरीजों को परेशानी हो रही है। उसी आदेश का निरस्त कराने सहित अन्य मांगों को लेकर ओपीडी बहिष्कार किया गया है। वहीं शासन स्तर से किसी प्रकार का निर्णय नहीं लेने पर १६ जनवरी से आपातकालीन सेवाएं ठप कर दी जाएंगीं। इससे पहले हमने शाम की ओपीडी का बहिष्कार कर शासन स्तर पर अपनी मांगों को लेकर अवगत कराया था।


एजेंसी ने डीएसपी के रिश्तेदारों के घर मारा छापा

श्रीनगर। सुरक्षा एजेंसियों ने डीएसपी देवेंद्र सिंह के रिश्तेदारों के घर छापा मारा है। रिपोर्ट के मुताबिक सुरक्षा एजेंसियों ने एक बैंक ऑफिसर, एक डॉक्टर के घर तलाशी ली है। इसके अलावा श्रीनगर के इंदिरा नगर में स्थित शिव मंदिर की तलाशी भी ली गई है। खुफिया सूत्रों ने कहा कि छापेमारी में सेना की 15वीं कोर का पूरा नक्शा, साढ़े सात लाख रुपये और बड़ी मात्रा में हथियार बरामद किया गया है। सुरक्षा एजेंसियों को शक है कि देवेंद्र सिंह ने अपने रिश्तेदारों के घर में पैसा छुपाकर रखा है। छापेमारी के दौरान पूरे इलाके का जायजा लेने के लिए ड्रोन कैमरे का भी इस्तेमाल किया गया।


डीएसपी देवेंद्र सिंह


दोषियों को फांसी की तारीख टल सकती है

नई दिल्ली। निर्भया केस में बड़ी खबर सामने आ रही है, मामले में चारों दोषियों की फांसी तय दिन 22 जनवरी को टल सकती है। दरअसल 22 जनवरी को दिल्ली की तिहाड़ जेल में चारों दोषियों को फांसी की सजा दी जानी थी, लेकिन दोषियों की दया याचिका विचाराधीन होने से फांसी टल सकती है। बता दें कि मामले में दोषी मुकेश सिंह के डेथ वारंट के खिलाफ दायर याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट में आज सुनवाई हुई। इस दौरान दिल्ली सरकार ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि दया याचिका विचाराधीन है, ऐसे में 22 जनवरी को फांसी नहीं दी जा सकती। तिहाड़ जेल प्रशासन की ओर से वकील राहुल मेहरा ने पक्ष रखते हुए कहा कि दया याचिका खारिज होने के 14 दिन बाद दोषियों को फांसी दी जा सकती है। दया याचिका खारिज होने के बाद फांसी से 14 दिन पहले नोटिस दिया जाता है। वह भी तब जब राष्ट्रपतिदया याचिका खारिज कर दें। वहीं दिल्ली और केंद्र सरकार दोनों की ओर से कोर्ट को बताया गया कि डेथ वारंट के खिलाफ याचिका अपरिपक्व है।


सुप्रीम कोर्ट ने देश में पहली बार दी चुनौती

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सुप्रीम कोर्ट में चैलेंज किया है। बता दें पूरे देश में पहली बार छत्तीसगढ़ सरकार ने एनआईए को सुप्रीम कोर्ट में चैलेंज किया है। पुलिस के अधिकारों में एनआईए दखल नही दे सकती है। सुप्रीम कोर्ट में पिटीशन दाखिल हुई है। छत्तीसगढ़ में किसी भी मामले की जांच करने का अधिकार एनआईए को नहीं मिलना चाहिए। एनआईए एक्ट को दी सुप्रीम कोर्ट में चुनौती एडवोकेट जनरल सतीश चंद्र वर्मा ने कहा कि देश में पहली बार एनआईए एक्ट को चुनौती दी जा रही है।


35 लाख की अवैध शराब की बरामद

जांजगीर-चांपा। जिले के सारागांव थाना क्षेत्र के ग्राम कोन्हापाठ के नवनिर्मित मकान में पुलिस ने दबिश देकर, 792 पेटी विदेशी शराब जब्त किया है, जब्त शराब की कीमत 35 लाख रूपये है, वही मौके से पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया  है, दो आरोपी भागने में सफल रहे जिनकी पुलिस तलाश कर रही है। पुलिस कब्जे में अवैध शराब मामले में पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि, जांजगीर-चांपा जिले में तीन चरणों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होना है, और इसी पंचायत चुनाव में इसे खपाए जाने की आशंका है, पुलिस ने इस मामले में राजू महन्त, समारू महन्त और मनीश सहिस नामक तीन युवकों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है, वहीं मौके से मुख्य आरोपी दीपक महन्त, व राजेश पटेल फरार हैं, जिनकी पुलिस तलाश कर रही है , पकड़े गए तीनों आरोपी के खिलाफ आबकारी एक्ट की धारा 34 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है, और उन्हें गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है।


आरोपी पति-पत्नी हुबली से किए गिरफ्तार

रायगढ़। रायगढ़ चक्रधर नगर थाना पुलिस आज बड़ी सफलता हाथ लगी हैं। 420 के आरोपी पति-पत्नी दोनों को पुलिस ने हुबली पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार का रायगढ़ लायी। आरोपी पति को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर ला चुकी थी। आज आरोपिया पत्नी को भी गिरफ्तार कर लिया गया। इस शातिर आरोपी दंपती ने एक स्टील प्लांट को लगभग 24 लाख का चूना लगया था और फरार हो गया था। आरोपी एक बी टेक इंजीनियर है। जो विदेशों में भी काम कर चुका है। इनके षड्यंत्र की पूरी कहानी सुनकर आपको फिल्म बंटी बबली की याद आ जाएगी।


फेसबुक दोस्ती कर छात्रा की अस्मत लुटी

भिलाई। फेसबुक पर दोस्ती करना 12वीं की छात्रा को जीवनभर के लिए दुख दे गया। युवक पर भरोसा कर छात्रा उसके साथ नेहरु नगर चली गई। दरिंदे अपने दोस्त के मकान में ले जाकर उसके साथ हैवानियत पर उतर आया। छात्रा की अस्मत लूट ली। इतना ही नहीं अश्लील फोटो खींचकर परिजन तक को ब्लैकमेल करने लगा। पीडि़ता ने इसकी रिपोर्ट पुलिस में की। पुलिस ने आरोपी विश्वरंजन प्रधान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं ब्लैकमेलिंग में उसका सहयोग करने वाले दोस्त विकास की तलाश पुलिस कर रही है। दरिंदे से पहचान फेसबुक के माध्यम से हुई। सुपेला टीआई गोपाल वैश्य ने बताया कि 9 जून 2019 की घटना है। पीडि़ता ने शिकायत में बताया कि दरिंदे से पहचान फेसबुक के माध्यम से हुई। सेक्टर-6 पॉवर जिम में पंजा कुश्ती स्पर्धा थी। दोनों देखने पहुंचे थे। वहीं पहली बार मुलाकात हुई। बीकॉम की पढ़ाई कर रहा दरिंदा विश्वरंजन बातचीत करने के बहाने उसे होटल ले जाना चाहता था। किशोरी ने उसे मना कर दिया। फिर उसे झांसा दिया कि नेहरू नगर में दोस्त का मकान है, वहीं चलते है। कहा कि नाश्ता भी करेंगे और बातें भी। झांसे में आकर किशोरी उसके साथ चली गई। कमरे में उसका कोई दोस्त नहीं था। अश्लील फोटो खींचकर जान से मारने की दी धमकी पुलिस ने बताया कि आरोपी विश्वरंजन ने दरिंदगी के बाद उसकी अश्लील फोटो बना लिया। किसी को भी घटना के बारे में बताने पर जान से मार देने की धमकी दी। किशोरी अपना दर्द दबाए रखी। पुलिस ने बताया कि किशोरी ने मोबाइल पर बातचीत करना बंद कर दिया। तब विश्वरंजन ने उसकी अश्लील फोटो को अपने दोस्त विकास के मोबाइल पर भेज दिया। फिर विकास ने उस अश्लील फोटो को पीडि़ता के परिजनों को भेज दिया। उनसे पैसे की मांग करते हुए ब्लैकमेल करने लगा। तब घटना की पूरी जानकारी पीडि़ता ने अपने परिजनों को दी। इसके बाद परिजनों के साथ थाना में शिकायत दर्ज कराई।


कांग्रेस विधायक का प्रत्याशी को समर्थन

तखतपुर। विधायक रश्मि सिंह एवं जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विजय केशरवानी की उपस्थिति में कांग्रेस कमेटी की बैठक जिला पंचायत चुनाव को लेकर गुरूनानक धर्मशाला में बैठक आयोजित की गई। जहां क्रमांक 6 के निर्दलीय प्रत्याशी गिरीश मयाराम कश्यप ने कांग्रेस प्रत्याशी जितेंद्र पाण्डेय के पक्ष में अपना समर्थन दिया है।
जिला पंचायत चुनाव को लेकर आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए विधायक श्रीमती रश्मि सिंह ने कहा कि पूरे क्षेत्र में कांग्रेस के पक्ष में वातावरण बना हुआ है और कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशीयों की जिला और जनपद में निश्चित रूप से जीत होगी। हम सभी को प्रत्येक मतदाता से मिलना है और कांग्रेस सरकार की उपलब्धियों को बताना है इसके साथ ही सरकार की आगामी योजना को भी बताना है एक वर्ष के कार्यकाल में  कांग्रेस की सरकार ने जितना काम किया है वह पिछले 15 वर्षो में नही हो पाया है। प्रदेश महामंत्री  अटल श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस  का हर पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता पूरी ऊर्जा के साथ चुनाव में जुट जाना है और हम सभी एक दूसरे के साथ कंधा से कंधा मिलकर काम करेंगे और निश्चित ही हमारे अधिकृत प्रत्याशी की ही जीत होगी। जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विजय केशरवानी ने कहा कि जिला एवं जनपद के लिए कांग्रेस ने अपना अधिकृत प्रत्याशी घोषित किया हुआ है और हर पदाधिकारी और कार्यकर्ता अधिकृत प्रत्याशी का ही प्रचार करेगे और अधिकृत प्रत्याशी ही पार्टी का झण्डा और बेनर का उपयोग कर सकता है यदि कोई भी कार्यकर्ता या पदाधिकारी अधिकृत प्रत्याशी को छोडकर अन्य प्रत्याशी के साथ प्रचार करते हुए जानकारी मिलती है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस सचिव आशीष सिंह ठाकुर जिला कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष प्रमोद नायक नगरपालिका अध्यक्ष पुष्पा मुन्ना श्रीवास जगजीत सिंह मक्कड संतोष कौशिक बिरझेराम सिंगरौल सुनील शुक्ला बाटू सिंह जितेंद्र पाण्डेय राजेश्वरी कौशिक दिनेश कौशिक घनश्याम शिवहरे शिवनाथ देवांगन शिवबालक कौशिक मुकीम अंसारी परमजीत कौर हूरा हरविंदर हूरा सुनील आहुजा कैलाश देवांगन टेकचंद कारडा अमित भारते अभिषेक पाण्डेय मोहित सिंह राजपूत विमला जांगडे चंद्रप्रकाश देवांगन नट्टू जायसी राजू सिंह ठाकुर राजेश देवांगन शिवेंद्र कौशिक बबलू गुप्ता साबिर जायसी अजय लूथर राहुल तिवारी सहित अन्य उपस्थित रहे।


पति ने पत्नी को डंडे से मार, उतारा मौत के घाट

रायगढ़। आज एक हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया। जिसमें एक पति ने अपनी पत्नी को डंडे से पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया और घटनास्थल से फरार हो गया। यह सनसनीखेज मामला चक्रधर नगर थाना क्षेत्र अंतर्गत नवागांव की है, जहाँ बीती रात को कोटवार हीरालाल चौहान ने नशे की हालत में डंडे से पीट-पीट कर अपनी ही पत्नी समारी बाई चौहान की हत्या कर दी और घटनास्थल से भाग गया। जब इस घटना की जानकारी गांव वालों को लगी तब गांव में दहशत का माहौल व्याप्त हो गया। जिसके बाद गांव के लोगों ने हत्या की सूचना तत्काल पुलिस को दी। जिसकी जानकारी मिलते ही चक्रधर नगर पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर हत्या के कारणों का व हत्यारे का पता पताशाजी में जुट गई। पुलिस अपनी मुस्तेदी दिखाते हुए, हत्या के आरोपी कोटावार जिसका नाम हीरालाल चौहान बताया जा रहा है को गिरफ्तार कर लिया है।


भूपेश बघेल अध्यक्षता में मंत्रीपरिषद की बैठक

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक आज शाम को मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में होने जा रही है। इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाने की संभावना है। 
इस बैठक में 16 जनवरी को छत्तीसगढ़ विधानसभा का होने वाला एक दिन के सत्र को लेकर भी चर्चा की जाएगी। बैठक में धान खरीदी की समीक्षा भी की जा सकती है।


नफरत बढ़ रही है, प्यार-संस्थान घट रहे

पटना। राजद प्रमुख लालू यादव ने सरकार पर बड़ा हमला बोला है। लालू यादव ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि देश में प्यार लगातार घट रही है। जबकि नफरत बढ़ रही है। राजद प्रमुख जो इन दिनों चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे हैं उन्होंने ट्वीटर पर एक कविता के जरिए मोदी सरकार पर निशाना साधा है। लालू यादव ने ट्वीटर पर लिखा है- प्यार घटा नफ़रत बढ़ी, संस्थान घटे समस्याएँ बढ़ीं, सुरक्षा घटी हत्याएँ बढ़ी, आज़ादी घटी तानाशाही बढ़ी, सच घटा झूठी वाहवाही बढ़ी, अच्छाई घटी बुराई बढ़ी, रिपोर्टिंग घटी दलाली बढ़ी, विकास घटा विनाश बढ़ा, ईमान घटा बेईमानी बढ़ी, काम घटा बेरोज़गारी बढ़ी।


माल दो वरना ठोक देंगे, 3 का अपहरण

पटना। बिहार में अपराधियों के मंसूबे एक बार फिर से बढ़ते दिख रहे हैं। अपराधियों ने पिछले कुछ घंटों में ही 3 लड़कों का अपहरण किया है और परिवार को फोन कर कहा है कि माल दो नहीं तो ठोक देंगे। एक छात्र का अपहरण मोकमा के घोसवरी थाना इलाके में हुआ है वहीं दो छात्रों का अपहरण पटना के रामकृष्णा नगर थाना इलाके से हुआ है। हालांकि पुलिस ने पटना से अपहृत छात्रों को नालंदा से बरामद कर लिया है।


माल दो नहीं तो ठोक देंगेः अपराधियों ने घोसवरी थाना इलाके के रामनगर गांव से एक छात्र का अपहरण कर लिया है। एफसीआई कर्मी के पोते का अपहरण अपराधियों ने तब किया जब वो शाम को खेल रहा था। रात में अपराधियों ने फोन कर रवि के परिवार वालों को कहा कि बेटा जिंदा चाहते हो तो 10 लाख तैयार रखो। इस मामले में एसएसपी ने कहा है कि अपहरण की सूचना मिली है छानबीन हो रही है।


पिछले 5 दिनों में अपहरण की चौथी घटना


आपको बता दें कि अपराधियों ने पिछले पांच दिनों में अपहरण की 5 वारदात को अंजाम दिया है। रामकृष्णा थाना इलाके से दो छात्रों का अपहरण बीते दिनो हुआ था। अपराधियों ने 40 लाख की डिमांड की थी। पुलिस की बढ़ती दबिश को देख अपराधियों ने तीन लाख लेकर दोनों छात्रों को नालंदा में छोड़ दिया। हालांकि पुलिस इसे बड़ी कामयाबी मान रही है लेकिन अभी तक अपराधी फरार हैं।


माहिरा-पारस में बढ़ रही है नज़दीकियां

मुंबई। बिग बॉस में इन दिनों माहिरा शर्मा और पारस छाबडा काफी सुर्खियों में हैं। दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ती जा रही है। हालांकि पहले माहिरा यही कहती थीं कि उनके परिवार में अफेयर के लिए पर्मिशन नहीं है। अगर कभी उनका बॉयफ्रेंड बना तो उनके घरवाले उनका घर से निकलना बंद कर देंगे। लेकिन घर में कुछ दिन रहने के बाद माहिरा और पारस की दोस्ती हुई और फिर दोनों धीरे-धीरे एक दूसरे के क्लोज आ गए।


अब फैमिली वीक पर सभी कंटेस्टेंट्स के घरवाले बिग बॉस के घर में आएंगे। माहिरा की मां भी घर में आएंगी और यहां आने के बाद वह पारस से भी बात करेंगी। शो का एक प्रोमो रिलीज हुआ है जिसमें माहिरा की मां घर में आती हैं। इस दौरान वह पारस से भी मिली और कहती हैं कि क्या वो उनपर चिल्लाएं। इसके बाद वह पारस की गर्लफ्रेंड के बारे में भी बात करती हैं। वह कहती हैं तुम्हारी गर्लफ्रेंड आकांक्षा कितनी खूबसूरत लड़की है। इसके तुरंत बाद वह फिर पारस से कहती हैं कि माहिरा को किस ना करें। इस दौरान माहिरा अपनी मां को देख रही होती हैं और पारस के चेहरे पर स्माइल होती है।


माहिरा ने किया था किस करने से मना तो पारस ने कहा, मजे पूरे लेती है…


अभी बीते एपिसोड में माहिरा, पारस को किस करने से मना करती हैं। पारस, लेकिन कहते हैं कि वो तभी उनके पास से जाएंगे जब वह उन्हें किस करने देंगी। माहिरा गुस्से में कहती हैं कि एक दिन पारस के लिप्स कट कर देंगी क्योंकि वह पारस के किसिंग हैबिट से परेशान हैं। इसके बाद पारस, माहिरा से कहते हैं कि वह खुद ही बता दें कि उन्हें उनके साथ कैसा बिहेव करना चाहिए। लेकिन इसी बीच पारस, माहिरा से कह देते हैं, ‘मजे पूरे लेती है’। पारस के इस स्टेटमेंट को सुनकर माहिरा को गुस्सा आ जाता है और वह पारस को कहती हैं कि वह उनसे रिस्पेक्ट से बात करे।


लाइफ पार्टनर को कैसे खुश रखे ?

क्या आप गर्लफ्रेंड को खुश करने के तरीके तलाशते रहते हैं या फिर अक्सर आपकी पार्टनर आपसे बेवजह की लड़ाई करती रहती है? अगर आपके साथ कुछ ऐसा ही आंकड़ा है, तो आपको एक रिसर्च में आई बातें जाननी चाहिए, दरअसल फिलाडेल्फिया की ड्रेक्सेल यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ पेनसिलवेनिया ने एक साझा स्टडी में यह निष्कर्ष निकाला कि जो महिलाएं प्रॉपर तरीके से खाती हैं वे रोमांस में ज्यादा इंट्रेस्टेड रहती हैं बजाय उनके जो भूखी रहती हैं।


कैसे हुई स्टडीः यह स्टडी काफी मजेदार तरीके से हुई थी। नॉर्मल वजन वाली फीमेल स्टूडेंट्स से 8 घंटे तक भूखे रहने को कहा गया और उनको कई तस्वीरें दिखाकर एमआरआई स्कैन किया गया। मजेदार बात यह थी कि जिन लोगों ने 8 घंटे से कुछ नहीं खाया था, उनका निर्जीव तस्वीरों जैसे (स्टैपल, पेड़, बॉलिंग बॉल) के लिए वही रिऐक्शन था, जो रोमांटिक तस्वीरों को लेकर। इन तस्वीरों में उन्हें हाथ पकड़े हुए कपल्स, कैंडल लाइट डिनर वगैरह की तस्वीरें दिखाई गई थीं। मजेदार बात यह थी कि जिन लोगों ने 8 घंटे से कुछ नहीं खाया, उनका निर्जीव तस्वीरों जैसे (स्टैपल, पेड़, बॉलिंग बॉल) के लिए वही रिऐक्शन था, जो रोमांटिक तस्वीरों को लेकर। इन तस्वीरों में उन्हें हाथ पकड़े हुए कपल्स, कैंडल लाइट डिनर वगैरह की तस्वीरें दिखाई गई थीं। शोधकर्ताओं ने यह नतीजा निकाला का भूखी महिलाओं का सबसे पहला फोकस खाना होता है। अगर वे भूखी नहीं हैं तभी किसी और चीज जैसे रोमांस पर ज्यादा ध्यान दे पाती हैं।


राजस्थान में बने सिस्टम से मौसम बदला

महेश रावलानी)


सिवनी (साई)। मौसम में बदलाव महसूस किया जाने लगा है। अब कड़ाके की सर्दी की बिदाई होती दिख रही है। मंगलवार को दिन में खासी धूप खिली रही। शाम को भी अपेक्षाकृत कम सर्दी ही महसूस हुई। मंगलवार को दिन में लोग गर्म कपड़े पहने कम ही नज़र आये।


मौसम विभाग के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि हवाओं की दिशा बदलने के साथ ही अब सर्दी का प्रकोप कम होने लगा है। सुबह और शाम सर्दी महसूस हो रही है तो दिन भर धूप की चुभन महसूस की जा रही है। दोपहर बाद अवश्य बादल छाने से हवाओं में सर्दी महसूस हुई।


सूत्रों ने बताया कि राजस्थान पर बने चक्रवात के कारण प्रदेश में कुछ स्थानों पर मौसम का मिजाज बदल गया है। अनेक जिलों में बादल छाये और मंगलवार को भोपाल और नौगाँव में बरसात भी हुई। वर्तमान में उत्तर भारत में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के कारण वहाँ के पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी हो रही है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण उत्तर – पश्चिम राजस्थान पर एक प्रेरक चक्रवात बन गया है। इससे प्रदेश में नमी आ रही है। नमी के कारण प्रदेश में बादल छा गये हैं और बरसात की संभावना बन गयी है।


सूत्रों के मुताबिक एक ऊपरी हवा का चक्रवात मराठवाड़ा पर भी बना हुआ है। हालांकि उसका अधिक प्रभाव प्रदेश के मौसम पर नहीं पड़ रहा है। राजस्थान पर बने सिस्टम के कारण भोपाल, ग्वालियर, सागर, चंबल संभाग के जिलों, धार, उज्जैन, इंदौर, रतलाम, देवास, खण्डवा, खरगौन एवं शाजापुर जिले में गरज – चमक के साथ बौछारें पड़ने के आसार हैं।


इसलिये बदला मौसम : सूत्रों ने आगे बताया कि अफगानिस्तान और आसपास के पाकिस्तान पर एक चक्रवाती संचलन के रूप में पश्चिमी विक्षोभ औसत समुद्र तल के ऊपर 1.5 और 3.1 किलोमीटर के बीच बना हुआ है। मध्य और ऊपरी ट्रोपोस्फ़ेरिक स्तर में द्रोणिका अब लगभग 65 डिग्री देशान्तर और उत्तर की ओर 18 डिग्री अक्षांश पर चलायमान है। इसके साथ का ऊपरी भाग में औसत समुद्र तल से 5.8 किलोमीटर ऊपर इसकी धुरी स्थित है।


पल-पल बदलते मौसम के पूर्वानुमान के हिसाब से सूत्रों ने बताया कि बुधवार को दिन में अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस तो रात में न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस के आसपास, बृहस्पतिवार को दिन में अधिकतम तापमान 26 एवं रात में न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है।


शराब: डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेंगा आस्ट्रेलिया

सिडनी/ बीजिंग। ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि वो उनके यहाँ बनी शराब पर चीन के शुल्क बढ़ाने के खिलाफ डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेगा। चीन ने पिछले...