शुक्रवार, 17 दिसंबर 2021

अपने रिश्तों को लेकर चर्चा में बनीं रही एक्ट्रेस फतेही

अपने रिश्तों को लेकर चर्चा में बनीं रही एक्ट्रेस फतेही
कविता गर्ग      
मुबंई। कॉनमैन सुकेश चंद्रशेखर संग अपने रिश्तों को लेकर बॉलीवुड एक्ट्रेस नोरा फतेही चर्चा में बनी हुई हैं। नोरा पर सुकेश से महंगे तोहफे लेने का आरोप है। सुकशे से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी कई बार नोरा फतेही से पूछताछ कर चुकी है। ईडी ने सुकेश चंद्रशेखर और नोरा फतेही को आमने सामने बैठाकर भी पूछताछ की। 
मनी लॉन्ड्रिंग के एंगल पर हुई ये पूछताछ चार्जशीट का भी हिस्सा है। आजतक की खबर के मुताबिक ईडी के नोरा और सुकेश से पूछे गए सवालों और उनके जवाबों की डिटेल है।

अभिनेत्री शिल्पा ने मजेदार वीडियो शेयर किया: मुंबई  

कविता गर्ग        मुंबई। सोशल मीडिया पर अनोखे फोटो और वीडियो देखने को मिलते रहते है। ऐसे ही बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी ने एक मजेदार वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में शिल्पा शेट्टी स्पाइडर मैन के साथ में एक्टिंग करती नजर आ रही हैं। स्पाइडर मैन नो वे होम मूवी जमकर लाइमलाइट में बनी हुई है। मार्वल मूवीज को लोग बहुत पसंद करते हैं, ऐसे ही बॉलीवुड के सितारे भी मार्वल मूवीज के शौकीन है। इस फिल्म को लेकर लोग बहुत उत्साहित। 

बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी ने इस वीडियो को अपने सोशल मीडिया इंस्टाग्राम एकाउंट पर शेयर किया है। शिल्पा शेट्टी स्पाइडर मैन से स्पाइडर मैन नो वे होम के टिकट के लिए परेशान नजर आ रही है। इस वीडियो में शिल्पा जैसे ही अपने कमरे में घुसती हैं उन्हें स्पाइडर मैन उनके कमरे में बेठे हुए नजर आते हैं, तो वो कहती हैं कि 'ओएमजी' और फिर उनसे उनकी फिल्म की टिकट मांगती हैं। शिल्पा शेट्टी स्पाइडर मैन से कहती हैं कि में आपको डांस सिखाती हूं तो आप मुझे फिर टिकट देना और फिर वह गाना गाती हैं, चुरा के दिल मेरा स्पाइडर मैन चला। डांस पूरा होने के बाद शिल्पा ने स्पाइडर मैन से टिकट मांगती हैं, लेकिन स्पाइडर मैन मना कर देते हैं और शिल्पा शेट्टी टिकट को लेकर बहुत उतावली नजर आती है। 

इस वीडियो को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा कि 'बड़ी ताकत के साथ बड़ी जिम्मेदारी आती है, स्पाइडी! और, यह आपकी जिम्मेदारी है कि आप मुझे टिकट दें, कहीं ऐसा न हो कि मेरे लिए कोई घर नहीं है क्योंकि मैं उन्हें वेब पर नहीं ढूंढ सका'। अब तक इस वीडियो पर लाइक्स की संख्य 12 लाख के पार पहुंच गए है। अगर कमेंट की बात करें तो एक फेन कमेंट किया हैं कि 'ओवर एक्टिंग की दुकान', वहीं दूसरे ने लिखा कि 'बकवास स्क्रिप्ट' और इमोजी की तो फैंस ने बारिश कर दी है।

₹20 हजार के 3 इनामी आरोपियों को अरेस्ट किया

राइफल शूटर खिलाड़ी कोनिका ने आत्महत्या की   

मिनाक्षी लोढी        कोलकाता। नेशनल राइफल शूटर खिलाड़ी कोनिका लायक ने आत्महत्या कर ली है। यह वहीं खिलाड़ी हैं जिन्हें मशहूर बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने राइफल गिफ्ट की थी। 26 साल की कोनिका लायक झारखंड के धनबाद की रहने वाली थी। इस उभरती खिलाड़ी की मौत ने खेल जगद को सदमे में डाल दिया है। बताया जा रहा है कि किका पूर्व ओलंपियन और अर्जुन अवॉर्ड विजेता जयदीप कमार्कार के साथ कोलकाता में प्रशिक्षण ले रही थीं। रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने अपने हॉस्टल के कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या की है। कोनिका लायक पहले पुरानी राइफल का इस्तेमाल करती थीं। यह राइफल उनके कोच या किसी दोस्त का हुआ करता था।

हैरानी की बात है कि खिलाड़ियों के सुसाइड करने का यह सिलसिला थम नहीं रहा। पिछले हफ्ते युवा पिस्टल शूटर खुशशीरत कौर संधू ने आत्महत्या कर ली थी। संधू ने अक्टूबर महीने में स्टेट-लेवल के शूटर हुनरदीप सिंह सोहल ने सुसाइड की थी, इससे पहले सितंबर में मोहाली के नमनवीर सिंह बरार ने भी अपनी जान ले ली थी। बरार ने वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में ब्रोन्ज मेडल भी जीता था।

4 साल से फरार आरोपी को गिरफ्तार किया, शिकंजा

दुष्यंत टीकम      बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में पैसे डबल करने या ज्यादा ब्याज का झांसा देकर ठगने वाले चिटफंड कंपनियों पर शासन का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। रायपुर, राजनांदगांव, बिलासपुर, बलादौबाजार, दुर्ग, धमतरी में लगातार कार्रवाई की जा रही है। बुधवार को बिलासपुर पुलिस ने चार साल से फरार चल रहे आरोपी को महाराष्ट्र के गोंदिया से गिरफ्तार किया है। आरोपी अपना नाम बदलकर छुपा हुआ था लेकिन उसकी सिंगर बेटी के इंस्टाग्राम के जरिये पुलिस उस तक पहुँच पाई। आरोपी जीएन गोल्ड चिटफंड कंपनी का मार्केटिंग हेड था, जिसने हजारों लोगों से धोखाधड़ी की है। कंपनी संचालकों के साथ मिलकर आरोपी ने बिलासपुर जिले में करीब 5 करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी को अंजाम दिया है।

बिलासपुर एसपी पारूल माथुर ने बताया कि शासन के निर्देश पर चिटफंड कंपनी के डायरेक्टर व अन्य आरोपियों की पतासाजी की जा रही है। सूचना पर जीएन गोल्ड के फरार आरोपियों को गिरफ्तार करने महाराष्ट्र टीम भेजी गई थी। गोंदिया में चिटफंड कंपनी के मार्केटिंग हेड खेमेंद्र बोपचे (36) को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एसपी ने बताया कि आरोपी पर प्रदेश के अलग-अलग थानों में कुल 16 मामले दर्ज हैं। आरोपी हजारों लोगों को ठगने का मास्टर माइंट है। उन्होंने बताया कि कंपनी के डायरेक्टरों ने मिलकर निवेशकों को रुपए जमा करने पर 6 साल में दोगुना करने का झांसा दिया था। आरोपियों की बातों में आकर हजारों निवेशकों ने कंपनी में रुपए जमा किए। इसके बाद बड़ी राशि लेकर निवेशकों ने दफ्तर बंद कर दिया और फरार हो गए।

दो डायरेक्टर हरियाणा से पहले पकड़े जा चुके एसपी माथुर ने बताया कि कंपनी के डायरेक्टर सतनाम सिंह रंधावा को पुलिस ने इससे पहले हरियाण से गिरफ्तार किया था। इसके कुछ दिन पहले एक अन्य डायरेक्टर नरेंद्र सिंह को भी पुलिस ने हरियाणा में दबिश देकर पकड़ा था। प्रकरण में एक आरोपी शैलेंद्र गोस्वामी फरार है, जिसकी संपत्ति कुर्क करने के लिए धमतरी कलेक्टर को पत्र लिखा गया है। एसपी ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार चिटफंड कंपनियों से ठगी के शिकार हुए लोगों से आवेदन लिया गया है, जिन्हें रकम वापसी की जानी है। जिले में चिटफंड कंपनियों की संपत्ति की जानकारी जुटाई जा रही है।


हंसिनी मथान ने 'चैलेंज टेबल टेनिस' टूर्नामेंट जीता

हंसिनी मथान ने 'चैलेंज टेबल टेनिस' टूर्नामेंट जीता

मोमीन मलिक         नई दिल्ली। भारत की हंसिनी मथान राजन ने सीरिया की हेंड जाजा को हराकर अम्मान में चल रहा आईटीटीएफ होप्स एंड चैलेंज टेबल टेनिस टूर्नामेंट जीत लिया। हेंड तोक्यो ओलंपिक में सबसे युवा खिलाड़ी थी। अंडर 12 वर्ग में खेलते हुए मौजूदा कैडेट राष्ट्रीय चैम्पियन हंसिनी ने 11 . 6, 11 . 8, 6 . 11, 11 . 6 से जीत दर्ज की।

लड़कों के एकल वर्ग में भारत के पार्थ प्रभाकर ने भाग लिया। इसमें ईरान के कोमेल एन दिवशाली विजयी रहे। एशियाई टेबल टेनिस संघ के शिविर में भाग लेने के लिये अम्मान में ही रूक गई हंसिनी ने फाइनल को टूर्नामेंट का सबसे कठिन मैच बताया। उन्होंने कहा कि मेरी प्रतिद्वंद्वी ने इस साल ओलंपिक खेला था। लेकिन मैचे उसके बारे में नहीं सोचा।


औषधीय गुणों से भरपूर हैं लौंग की चाय, जानिए
मो. रियाज        औषधीय गुणों से भरपूर लौंग एक ऐसा मसाला है। जो हमारे खाने का स्वाद बढ़ाती है। लौंग का इस्तेमाल ना सिर्फ खाना पकाने में किया जाता है। बल्कि कई बीमारियों का उपचार करने में भी किया जाता है।एंटीऑक्सीडेंट्स गुणों से भरपूर लौंग सुपर हेल्दी मसाला है। जिसमें एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-माइक्रोबियल, एंटी-वायरल और एनाल्जेसिक विटामिन, मिनरल्स और अन्य पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं, जो बॉडी के लिए बेहद फायदेमंद हैं। लौंग में विटामिन ई और विटामिन के पाया जाता है जो बैक्टीरियल संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं। लौंग शरीर से हानिकारक टॉक्सिन्स को निकालती है और स्किन की समस्याओं का उपचार करती है। लौंग का इस्तेमाल उसकी चाय बनाकर किया जाए तो उसके दोगुने फायदे होते हैं। लौंग की चाय स्किन के घाव और फंगल संक्रमण से बचाव करती है।
लौंग की चाय का रोजाना सेवन करने से वज़न कंट्रोल रहता है, साथ ही दांतों के दर्द से छुटकारा मिलता है। आइए जानते हैं कि लौंग की चाय पीने से सेहत को कौन-कौन से फायदे होते हैं और उसे कैसे तैयार करें।
लौंग की चाय पीने के फायदे।
इम्यूनिटी इम्प्रूव करती है: सर्दियों में लौंग की चाय इम्यूनिटी को इम्प्रूव करती है। लौंग में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण शरीर से फ्री रेडिकल्स को नष्ट करने में मदद करते हैं, जिससे इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। सर्दी-खांसी का असरदार इलाज है: ठंड में सर्दी खांसी बेहद परेशान करती है ऐसे में लौंग की चाय इस परेशानी का बेहतरीन इलाज है। लौंग में एंटीसेप्टिक, एंटी-वायरल और एंटीमाइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं जो सर्दी- जुकाम और खांसी को दूर करने में मदद करते हैं। दांत के दर्द का असरदार इलाज है: दांतों के दर्द में लौंग बेहद असरदार साबित होती है। दांत का दर्द दूर करने के लिए लौंग का तेल बेहद उपयोगी होता है। लौंग में सूजन-रोधी गुण मौजूद होते हैं, जो दांतों के दर्द से निजात दिलाते हैं। लौंग की चाय बनाकर पीने से दांतों के दर्द और मसूड़ों की सूजन को आराम मिलता है। पाचन ठीक रहता है: लौंग की चाय का सेवन करने से पाचन दुरुस्त रहता है। अगर आपको पाचन संबंधी परेशानी है तो आप लौंग की चाय का सेवन करें। 
मेटाबॉलिज्म बूस्ट करती है: रोजाना सुबह लौंग की चाय पीने से मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है, इसका सेवन करने से वज़न कम करने में मदद मिलती है। 
आइए जानते हैं कि लौंग की चाय कैसे तैयार करें।
1 चम्मच साबुत लौंग 1 और पानी।
लौंग की चाय बनाने के लिए पैन में एक पानी लें और उसमें 4-5 लौंगों को डालकर गैस पर पकने दें। 5 से 7 मिनट तक पकने के बाद गैस को बंद कर दें और पानी को छान लें। चाय में एक चम्मच शहद मिलाएं और उसका सेवन करें। 

आपत्तिजनक टिप्पणी, कार्रवाई करने की मांग की

आपत्तिजनक टिप्पणी, कार्रवाई करने की मांग की      

अकांशु उपाध्याय          नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने केरल की वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) सरकार को आड़े हाथों लेते हुए शुक्रवार को आरोप लगाया कि वह देश के लिए कुर्बानी देने वालों के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी करने वालों को प्रोत्साहित कर रही है। भाजपा मुख्यालय में आयोजित एक पत्रकार वार्ता को संयुक्त रूप से संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन, राजीव चंद्रशेखर और राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने पिछले दिनों तमिलनाडु में हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मारे गए प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत के खिलाफ सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। इस दुर्घटना में जनरल रावत की पत्नी और अन्य 13 सैन्यकर्मियों की भी मौत हो गई थी।

चंद्रशेखर ने कहा, ”भारतीय सपूतों का अपमान करने की एक अजीब सी राजनीतिक संस्कृति को कुछ राजनीतिक दल प्रोत्साहित कर रहे हैं।” उन्होंने कहा कि केरल में वामपंथी विचारधारा वाले राजनीतिक कार्यकर्ताओं ने जनरल रावत, उनकी पत्नी और 12 अन्य वीर जवानों की दुखद हेलीकॉप्टर हादसे में मौत का अपमान कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ”यह बेहद आपत्तिजनक है कि राज्य की सत्ता में बैठी एक राजनीतिक पार्टी देश के बहादुरों का अपमान कर रही है।”

मुरलीधरन ने आरोप लगाया कि शहादत का अपमान करने वालों के खिलाफ कार्रवाई ना करके केरल की वामपंथी सरकार उनका समर्थन कर रही है। उन्होंने कहा कि जहां हेलीकॉप्टर दुर्घटना हुई थी वहां से केरल बहुत दूर नहीं है और मुख्यमंत्री पिनराई विजयन यदि चाहते तो वह वहां सबसे पहले पहुंच सकते थे।

उन्होंने कहा, ”लेकिन उन्हें समय नहीं मिला, उन्होंने नजरअंदाज करना बेहतर समझा।” राठौर ने कहा कि सत्ता के लालच में कुछ राजनीतिक दल यहां तक गिर गए हैं कि वह बहादुर सैनिकों को भी नहीं बख्श रहे हैं। उन्होंने कहा, ”बलिदानियों का मजाक उड़ाने से भद्दी बात और क्या हो सकती है। हंसा नहीं जाता उन्हें सलाम किया जाता है।” उन्होंने कहा कि पिछले दिनों राजस्थान में कांग्रेस के एक विधायक ने भी सेना के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी लेकिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोई कार्रवाई नहीं की।


राजस्थान: 1.6 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया 

नरेश राघानी          जयपुर। हिमालय से आने वाली उत्तरी सर्द हवाओं ने राजस्थान को अपनी चपेट में ले लिया है जहां बीती रात फतेहपुर में पारा शून्य से नीचे दर्ज किया गया। विभाग ने अगले कुछ दिनों में राज्य के अनेक इलाकों में पाला पड़ने व अति शीतलहर चलने की चेतावनी दी है। मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान के अधिकांश हिस्सों में कड़ाके की सर्दी शुरू हो गई है। जहां बीते चौबीस घंटे में सीकर के फतेहपुर में न्यूनतम तापमान शून्य से 1.6 डिग्री सेल्सियस के नीचे दर्ज किया गया।

वहीं न्यूनतम तापमान राज्य के पिलानी में 1.1 डिग्री, नागौर में 3.3 डिग्री, सीकर में 5.5 डिग्री, बीकानेर 6.0 डिग्री, संगरिया में 6.0 डिग्री, गंगानगर में 6.5 डिग्री व ऐरनपुरा में 6.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राजधानी जयपुर में मंगलवार रात न्यूनतम तापमान 12.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इस दौरान राजस्थान के अधिकांश स्थानों पर अधिकतम तापमान 18.0 से 26.9 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने राज्य में 17 से 20 दिसंबर के बीच शीतलहर चलने की चेतावनी दी है और शुक्रवार से न्यूनतम एवं अधिकतम तापमान में दो से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज होने की प्रबल संभावना है।

इसके अनुसार 17 से 20 दिसंबर के बीच राज्य के अलवर, सीकर, झुंझुनू, बीकानेर, चूरू, हनुमानगढ़, जैसलमेर,श्रीगंगानगर एवं नागौर जिले में कुछ स्थानों पर शीतलहर चलने की संभावना है। वहीं 18-19 दिसंबर में बीकानेर, हनुमानगढ़, झुंझुनू, सीकर व चूरू जिलों में कहीं-कहीं पर पाला पड़ने के साथ अति शीतलहर भी चलने की संभावना है।

राष्ट्रपति ने श्री रमना काली मंदिर का उद्घाटन किया

ढाका। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ऐतिहासिक श्री रमणा काली मंदिर का यहां शुक्रवार को उद्घाटन किया और उसे भारत तथा बांग्लादेश के लोगों के बीच सांस्कृतिक एवं आध्यात्मिक बंधन का प्रतीक बताया। वर्ष 1971 में पाकिस्तानी सेना ने इस मंदिर को ध्वस्त कर दिया था। मंदिर का जीर्णोद्धार किया गया है।

कोविंद बांग्लादेश के राष्ट्रपति एम. अब्दुल हामिद के निमंत्रण पर अपनी पहली आधिकारिक यात्रा पर ढाका आए हैं। वह 1971 में पाकिस्तान से बांग्लादेश की आजादी की स्वर्ण जयंती समारोह में हिस्सा ले रहे हैं। राष्ट्रपति और प्रथम महिला सविता कोविंद ने जीर्णोद्धार किए गए मंदिर में पूजा-अर्चना भी की। ‘ऑपरेशन सर्चलाइट’ के तहत 1971 में पाकिस्तानी सेना ने मंदिर को पूरी तरह से तोड़ दिया था। कुछ खबरों के अनुसार, मंदिर को आग लगा दी गयी थी और इस घटना में श्रद्धालुओं तथा मंदिर में रहने वाले तमाम लोग मारे गए थे।

मंदिर का उद्धाटन करने के बाद भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कोविंद ने कहा कि वह इसे ”मां काली के आर्शीवाद के तौर पर देखते हैं।” उन्होंने कहा,” आज सुबह, मैं ऐतिहासिक श्री रमणा काली मंदिर गया, जहां मुझे उसका उद्धाटन करने का सौभाग्य मिला। मैं इसे मां काली के आर्शीवाद के तौर पर देखता हूं।” कोविंद ने कहा, ” मुझे बताया गया है भारत और बांग्लादेश की सरकारों तथा लोगों ने इस मंदिर के जीर्णोद्धार में मदद की, जिसे पाकिस्तानी सेना ने मुक्ति संग्राम में ध्वस्त कर दिया था।” उन्होंने कहा कि उस दौरान कई लोग मारे गए थे। राष्ट्रपति ने कहा कि यह मंदिर भारत और बांग्लादेश के लोगों के बीच सांस्कृतिक एवं आध्यात्मिक बंधन का प्रतीक है। ” यह मेरी बांग्लादेश यात्रा के शुभ समापन का प्रतीक है।” भारत ने मंदिर के जीर्णोद्धार में मदद की। मुस्लिम बहुल बांग्लादेश में 10 प्रतिशत आबादी हिन्दुओं की है। देश की कुल आबादी 16.9 करोड़ है।

सरकारी एजेंसियों को पेगासस का लाइसेंस दिया

कविता गर्ग     मुंबई। एलगार परिषद मामले में कार्यकर्ता रोना विल्सन की गिरफ्तारी के एक साल पहले उनके स्मार्टफोन में एनएसओ ग्रुप के पेगासस स्पाइवेयर मौजूद था। नए फोरेंसिक विश्लेषण में यह जानकारी सामने आयी है। विश्लेषण के अनुसार कैदियों के अधिकार संबंधी कार्यकर्ता विल्सन जून 2018 में अपनी गिरफ्तारी से करीब एक साल पहले “निगरानी और आपत्तिजनक दस्तावेज़ आपूर्ति” का शिकार थे।

डिजिटल फोरेंसिक कंपनी आर्सेनल कंसल्टिंग ने कहा कि विल्सन के एप्पल फोन को न केवल इज़राइली एनएसओ ग्रुप के एक ग्राहक द्वारा निगरानी के लिए चुना गया था, बल्कि कई मौकों पर समझौता भी किया गया था। विश्लेषण से पता चला है कि विल्सन के आईफोन 6एस के दो बैकअप में डिजिटल निशान थे जो पेगासस निगरानी औजार से प्रभावित दिख रहे थे।

पेगासस विकसित करने वाली इजराइली साइबर सुरक्षा कंपनी एनएसओ ग्रुप ने कहा है कि केवल सरकारी एजेंसियों को ही लाइसेंस दिया गया है। भारत सरकार ने न तो पुष्टि की है और न ही इस बात से इनकार किया है कि वह एनएसओ ग्रुप की ग्राहक है। पीपुल्स यूनियन फॉर सिविल लिबर्टीज (पीयूसीएल) के राष्ट्रीय महासचिव वी सुरेश ने कहा कि नए निष्कर्ष मामले में पुख्ता सबूत प्रकट करते हैं। उन्होंने कहा, “अब ठोस सबूत हैं। हम नए प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य के आधार पर इन निष्कर्षों को प्रमाणित करने के लिए सभी कानूनी संभावनाएं तलाश रहे हैं।”

तालुका में लगीं आग, दस्तावेज जलकर खाक हुए

तिरूवनंतपुरम। केरल के वाटकरा शहर में तालुका कार्यालय में शुक्रवार तड़के भीषण आग लगने से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज जलकर खाक हो गए। सरकार ने मामले की विस्तृत जांच के आदेश दिए हैं। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि नादपुरम, वाटकरा और पेराम्बरा से दमकल विभाग की तीन गाड़ियों को मौके पर भेजा गया और आग पर काबू पा लिया गया है, लेकिन उसे पूरी तरह बुझाने के प्रयास अब भी जारी हैं।

कार्यालय में कई फाइलें और रिकॉर्ड पड़े थे, जो पूरी तरह जलकर खाक हो गए। पुरानी इमारत की छत भी आग में गिर गई। छत की हाल ही में मरम्मत कराई गई थी। राजस्व मंत्री पी रंजन ने पत्रकारों को बताया कि ”बाहरी तत्वों के शामिल होने” सहित सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच की जाएगी।

उन्होंने कहा, ” घटना की प्राथमिक रिपोर्ट मिलते ही विस्तृत जांच करने के आदेश दिए गए हैं। बाहरी तत्वों के शामिल होने सहित सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच की जाएगी। ” जिला पुलिस प्रमुख श्रीनिवास ए. ने भी बाहरी तत्वों के शामिल होने की संभावना को खारिज नहीं किया। उन्होंने कहा, ” मैं अभी ना इसे स्वीकार कर रहा हूं और ना इससे इनकार। वाटकरा डीवायएसपी के नेतृत्व में एक विशेष दल मामले की जांच करेगा।” अधिकारी ने बताया कि विशेष शाखा को इस संबंध में कलेक्टर द्वारा मांगी गई प्रारंभिक जांच रिपोर्ट तैयार करने का काम सौंपा गया है और जल्द ही वैज्ञानिक साक्ष्य भी एकत्र किए जाएंगे। जिला प्रशासन ने यह स्पष्ट कर दिया है कि केवल पुराने रिकॉर्ड तथा फाइलें आग में खाक हुए हैं, क्योंकि 2019 के बाद से भी दस्तावेजों को ‘ई-फाइल’ के रूप में संरक्षित किया गया है।


'बिना समझे सोचे' की गई टिप्पणी, माफी मांगी

बेगंलूरू। कर्नाटक विधानसभा में ‘जब बलात्कार अपरिहार्य हो तो इसका आनंद लें’, कह कर विवाद पैदा करने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक एवं विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने ‘बिना सोचे समझे’ की गई अपनी टिप्पणी के लिए शुक्रवार को माफी मांगी। रमेश कुमार ने ट्वीट किया कि मैं आज विधानसभा में ‘बलात्कार’ को लेकर की गई अपनी असंवेदनशील और लापरवाहीपूर्ण टिप्पणी के लिए सभी से ईमानदारी से माफी मांगना चाहता हूं।

मेरा इरादा इस जघन्य अपराध को मामूली या हल्का बनाना नहीं था, बल्कि बिना सोचे समझे की गई टिप्पणी थी। मैं अब से अपने शब्दों को सावधानी से चुनूंगा। कर्नाटक विधानसभा में बृहस्पतिवार को बारिश और बाढ़ से हुए नुकसान पर चर्चा के दौरान कई विधायक अपने निर्वाचन क्षेत्रों में लोगों की दुर्दशा को उजागर करने के लिए बोलने का मौका चाहते थे। विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी ने खुद को मुश्किल में पाया क्योंकि वह जल्द से जल्द चर्चा को समाप्त करना चाहते थे जबकि विधायक समय बढ़ाने पर जोर दे रहे थे।

कागेरी ने हंसते हुए कहा कि मैं ऐसी स्थिति में हूं जहां मुझे आनंद लेना है और मुझे ‘हां, हां’ कहना है। इस समय मुझे ऐसा ही लगता है कि मुझे स्थिति को नियंत्रित करना छोड़ देना चाहिए और कार्यवाही को व्यवस्थित तरीके से चलने देना चाहिए और सभी से अपनी बात जारी रखने के लिए कहना चाहिए।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि उनकी एक ही शिकायत है कि सदन का कामकाज नहीं हो रहा है। इस पर रमेश कुमार ने हस्तक्षेप करते हुए कहा कि एक कहावत है – जब बलात्कार अपरिहार्य हो तो प्रतिरोध नहीं करो और आनंद लो। ठीक इसी स्थिति में आप हैं। पूर्व मंत्री अपने इस बयान के लिए अपनी ही पार्टी के विधायकों सहित विभिन्न वर्गों के निशाने पर आ गए। खानपुर से कांग्रेस की विधायक अंजलि निंबालकर ने इस पर कड़ा रुख अपनाया।

राहुल ने 'रोजगार खत्म करने' का आरोप लगाया

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। सरकार ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के प्रश्न के उत्तर में लोकसभा में बताया है कि देश में कोरोना वायरस महामारी के असर के चलते सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (एमएसएमई) क्षेत्र की नौ प्रतिशत इकाइयां बंद हो गईं। राहुल गांधी ने सरकार के जवाब को लेकर शुक्रवार को उस पर निशाना साधा और ट्वीट करके ‘अर्थव्यवस्था कमजोर होने’ तथा ‘रोजगार खत्म होने’ का आरोप लगाया।सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री नारायण राणे ने बृहस्पतिवार को निचले सदन में राहुल गांधी के प्रश्न के लिखित उत्तर में राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम लिमिटेड की ओर से कराए गए सर्वेक्षण का हवाला देते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने यह भी कहा कि साल 2020 में स्वरोजगार करने वाले 11,716 लोगों ने आत्महत्या की।

केरल के वायनाड से लोकसभा सदस्य राहुल गांधी ने तारांकित प्रश्न संख्या 262 के तहत मंत्री से एसएसएमई क्षेत्र पर कोरोना वायरस महामारी के असर और सरकार की ओर से उठाए गए कदमों के संदर्भ में जानकारी मांगी थी। उन्होंने सरकार से मुख्य रूप से यह सवाल किया था कि क्या सरकार ने खुदकुशी करने वाले छोटे कारोबारियों एवं दुकानदारों के परिवारों को मदद दी? क्या सरकार ने कोरोना महामारी के कारण एमएसएमई क्षेत्र पर पड़ने वाले असर का कोई अध्ययन कराया है?

उनके सवालों के जवाब में नारायण राणे ने कहा कि राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो ने सूचित किया है कि साल 2019 में स्वरोजगार से जुड़े 9,052 लोगों ने आत्महत्या की और 2020 में 11,716 ऐसे लोगों ने खुदकुशी की। ब्यूरो की ओर से एमएसएमई उद्यमियों द्वारा आत्महत्या के आंकड़े को श्रेणीबद्ध नहीं किया गया है। मंत्री ने बताया कि एमएसएमई क्षेत्र के सहयोग के लिए ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ के तहत कई कदम उठाए गए हैं। एमएसएमई के लिए 20,000 करोड़ रुपये के अधीनस्थ ऋण दिए गए। एमएसएमई सहित व्यवसाय क्षेत्र के लिए 3 लाख करोड़ रुपये को ‘कोलेटरल मुक्त ऑटोमेटिक ऋण’ दिए गए। अब इसकी तीन लाख करोड़ रुपये की सीमा को बढ़ाकर साढ़े चार लाख करोड़ रुपये कर दिया गया है।

उन्होंने सरकार की ओर से उठाए गए कई अन्य कदमों का भी उल्लेख किया। राणे ने यह भी कहा कि राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम लिमिटेड की ओर से सर्वेक्षण किया गया जिसमें पाया गया कि 91 प्रतिशत एमएसएमई कार्यरत थीं और नौ प्रतिशत एमएसएमई कोविड के प्रभाव के कारण बंद हो गईं।उधर, राहुल गांधी ने अपने प्रश्नों के उत्तर में मंत्री की ओर से दी गई जानकारी के आधार पर शुक्रवार को ट्वीट करके सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि एमएसएमई पर मैंने सरकार से कुछ गंभीर प्रश्न किए थे जिनके जवाब में उन्होंने माना है कि कोविड काल में 9 प्रतिशत एमएसएमई बंद हो गयीं। यानी मित्रों का फ़ायदा, अर्थव्यवस्था कमज़ोर, रोज़गार ख़त्म।

पेगासस: गठित आयोग की जांच पर रोक लगाईं

कोलकाता। उच्चतम न्यायालय ने पेगासस जासूसी के आरोपों पर पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा सेवानिवृत्त न्यायाधीश एम बी लोकुर की अध्यक्षता में गठित आयोग की जांच पर शुक्रवार को रोक लगा दी। प्रधान न्यायाधीश एन वी रमण और न्यायमूर्ति सूर्यकांत तथा न्यायमूर्ति हिमा कोहली की पीठ ने उस याचिका पर संज्ञान लिया जिसमें कहा गया है कि पश्चिम बंगाल सरकार के आश्वासन के बावजूद आयोग ने अपना काम शुरू कर दिया है। राज्य सरकार ने आश्वासन दिया था कि लोकुर समिति जांच पर आगे कार्रवाई नहीं करेगी। उच्चतम न्यायालय ने भारत में कुछ लोगों की निगरानी के लिए इजराइल के जासूसी सॉफ्टवेयर पेगासस के कथित इस्तेमाल की जांच के लिए साइबर विशेषज्ञों की तीन सदस्यीय समिति 27 अक्टूबर को गठित की थी।

उसने कहा था कि प्रत्येक नागरिक को निजता उल्लंघन के खिलाफ सुरक्षा की आवश्यकता है और सरकार द्वारा महज राष्ट्रीय सुरक्षा का आह्वान करने से अदालत मूक दर्शक बनी नहीं रह सकती। उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश लोकुर और कलकत्ता उच्च न्यायालय के पूर्व प्रधान न्यायाधीश ज्योतिर्मय भट्टाचार्य जांच आयोग के सदस्य हैं। पश्चिम बंगाल सरकार ने पिछले महीने इस जांच आयोग के गठन की घोषणा की थी। अंतरराष्ट्रीय मीडिया संगठनों के एक संघ ने बताया कि 300 से अधिक सत्यापित भारतीय मोबाइल फोन नंबर पेगासस जासूसी सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर निगरानी के लिए संभावित लोगों की सूची में शामिल हैं।

12 सदस्यों के निलंबन का मुद्दा, आग्रह: लोकसभा

अकांशु उपाध्याय     नई दिल्ली। राज्यसभा के 12 सदस्यों के निलंबन के मुद्दे पर सरकार और विपक्ष के बीच शीतकालीन सत्र के पहले दिन से चले आ रहे गतिरोध को बातचीत के जरिए दूर करने का आग्रह करते हुए सभापति एम वेंकैया नायडू ने शुक्रवार को सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी। सुबह उच्च सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति नायडू ने आवश्यक दस्तावेज सदन के पटल पर रखवाए।

इसके बाद शून्यकाल आरंभ होने ही वाला था कि नायडू ने कहा कि आज मेरी सदन के नेता और विपक्ष के कुछ वरिष्ठ नेताओं से बात हुई। मैं आप सभी से अपील करना चाहता हूं कि गतिरोध को समाप्त करने के लिए आपस में सहमति बनाएं ताकि सदन की कार्यवाही सुचारू रूप से चल सके। आप लोग आपस में चर्चा करें, इसके लिए मैं सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह तक स्थगित करता हूं। उन्होंने 11 बज कर 20 मिनट पर सदन की बैठक दिन भर के लिए लिए स्थगित कर दी। ज्ञात हो कि संसद के शीतकालीन सत्र के पहले ही दिन राज्यसभा में कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों के 12 सदस्यों को, मॉनसून सत्र के दौरान ‘अशोभनीय आचरण’ करने के कारण, इस सत्र की शेष अवधि के लिए उच्च सदन से निलंबित कर दिया गया था।

इनमें मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के इलामारम करीम, कांग्रेस की फूलो देवी नेताम, छाया वर्मा, रिपुन बोरा, राजमणि पटेल, सैयद नासिर हुसैन, अखिलेश प्रताप सिंह, तृणमूल कांग्रेस की डोला सेन और शांता छेत्री, शिव सेना की प्रियंका चतुर्वेदी और अनिल देसाई तथा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के विनय विस्वम शामिल हैं। विपक्ष इन सदस्यों का निलंबन वापस लेने की मांग कर रहा है। जबकि सरकार अड़ी है कि जब तक ये सदस्य माफी नहीं मांगेंगे तब तक उनका निलंबन रद्द नहीं किया जाएगा। इसी वजह से सदन में सरकार और विपक्ष के बीच गतिरोध बना हुआ है और कार्यवाही बार-बार बाधित हो रही है।

आज सुबह सदन की बैठक आरंभ होने पर सभापति ने संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को) द्वारा पश्चिम बंगाल के दुर्गा पूजा उत्सव को विरासत का दर्जा दिए जाने के लिए देशवासियों को बधाई दी। सभापति ने दस्तावेज सदन के पटल पर रखे जाने के समय मंत्रियों की अनुपस्थिति का संज्ञान लेते हुए कहा कि विशेष परिस्थितियों में आसन की अनुमति से यह हो सकता है लेकिन यह चलन नहीं बनना चाहिए।

वरिष्ठ नेता द्वारा आपत्तिजनक टिप्पणी, निंदा की

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने बलात्कार के संदर्भ में कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता द्वारा की गई आपत्तिजनक टिप्पणी की निंदा करते हुए शुक्रवार को कहा कि ऐसे बयानों का बचाव नहीं किया जा सकता। प्रियंका ने ट्वीट किया, ”मैं के आर रमेश कुमार द्वारा दिए गए बयान की पूरी तरह निंदा करती हूं। यह समझ से परे है कि कोई कैसे इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल कर सकता है। इसका बचाव नहीं किया जा सकता है। बलात्कार एक जघन्य अपराध है। 

कर्नाटक विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक के आर रमेश कुमार ने बृहस्पतिवार को विधानसभा में अत्यंत विवादास्पद टिप्पणी करते हुए कहा था, ” जब बलात्कार अपरिहार्य है तो इसका आनंद लो।” विधानसभा में बारिश और बाढ़ से संबंधित नुकसान को लेकर चर्चा हो रही थी जिसमें कई विधायक अपने-अपने क्षेत्र के लोगों की दशा पर बात करना चाह रहे थे और इस दौरान रमेश कुमार ने विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी के साथ बातचीत करते हुए यह टिप्पणी की।

विवाद बढ़ने के बाद रमेश कुमार ने अपनी टिप्पणी के लिए शुक्रवार को माफी मांगी और कहा कि वह आगे से अपने शब्दों को लेकर सावधानी बरतेंगे।

मायावती के भांजे लिए औरों के लिए प्रचार कर रहे

संदीप मिश्र     

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश की पूर्व सीएम और बसपा प्रमुख मायावती के भांजे प्रबुद्ध कुमार समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष जयंत चौधरी के लिए प्रचार कर रहे हैं। 39 साल के प्रबुद्ध कुमार मायावती की बड़ी बहन सरस्वती देवी के बेटे हैं। हाल ही में मेरठ में हुई अखिलेश-जयंत की साझा रैली में प्रबुद्ध कुमार ने अपनी ‘भारतीय बहुजन परिवर्तन पार्टी’ का रालोद में विलय किया था। रालोद में शामिल होने के बाद प्रबुद्ध कुमार पार्टी के ‘बहुजन उदय अभियान’ के तहत पश्चिमी यूपी के 7-8 जिलों में अबतक गठबंधन के लिए प्रचार कर चुके हैं।

इस क्रम में गुरुवार को प्रबुद्ध कुमार पश्चिम यूपी के मुजफ्फरनगर की बुढ़ाना विधानसभा के हबीबपुर गांव में प्रचार करने पंहुचे। यहां उन्होंने जनसभा को संबोधित किया और जनसंपर्क अभियान में हिस्सा लिया। उन्होंने जयंत चौधरी को मजबूत करने और अखिलेश यादव को सीएम बनाने की अपील की।  जनसभा में कुमार ने कहा कि बहुजन समाज के हित गठबंधन में सुरक्षित हैं। आप यहां से गठबंधन के प्रत्याशी को विधानसभा में भेजकर अखिलेश यादव और जयंत चौधरी को मजबूत करने का काम करें।

गांव में जनसपंर्क करने निकले प्रबुद्ध कुमार ने न्यूज18 इंडिया से कहा कि मायावती जी मेरी मौसी हैं। मैं उनका सम्मान करता हूं। लेकिन बसपा में दलितों और वंचित/शोषितों की आवाज अब नहीं उठाई जा रही। बसपा मौजूदा राजनीतिक लड़ाई में कहीं दिखाई नहीं दे रही है। उत्तर प्रदेश में जयंत चौधरी के सहयोग से अखिलेश यादव सीएम बनने जा रहे हैं।

प्रबुद्ध कुमार के रालोद में शामिल होने के बाद पार्टी जगह-जगह उनकी जनसभाएं आयोजित करवा रही है। रालोद दलितों को पार्टी से जोड़ने के लिए ‘बहुजन उदय अभियान’ चला रही है। राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय सचिव राजपाल बालियान ने प्रबुद्ध कुमार के पार्टी से जुड़ने पर लाभ की उम्मीद जताई। रालोद के राष्ट्रीय सचिव राजपाल बालियान ने कहा, ‘हमें उम्मीद है कि इनके समझाने से हमारी पार्टी को लाभ होगा। दलित समाज की समझ में आएगा कि जहां उनकी सुरक्षा होती थी, वहां अब कमी आई है। इन्होंने अब रालोद और जयंत चौधरी में विश्वास जताया है। 

बता दें कि 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव होने हैं। यूपी में सपा और रालोद में गठबंधन से वेस्ट यूपी में सियासी लड़ाई रोचक हो गई है। हाल में अखिलेश-जयंत ने मेरठ में साझा रैली की थी। आने वाले दिनों में अखिलेश-जयंत कई और साझा रैली करने वाले हैं।

अतिरिक्त राफेल युद्धक विमान देने को तैयार 'फ्रांस'

अतिरिक्त राफेल युद्धक विमान देने को तैयार 'फ्रांस'
अखिलेश पांडेय          
पेरिस। फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले ने शुक्रवार को कहा कि उनका देश भारत को आवाश्यकता पड़ने पर अतिरिक्त राफेल युद्धक विमान देने को तैयार है। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि एक ही तरह का विमान रणनीतिक साझेदारों द्वारा उपयोग करना उनके संबंधों की ”वास्तविक परिसंपत्ति और मजबूती’ को दिखाता है। भारत की यात्रा पर आईं पार्ले ने यह टिप्पणी अपने भारतीय समकक्ष राजनाथ सिंह से विस्तृत मुद्दों पर होने वाली वार्ता से पहले थिंकटैंक में की।
फ्रांसीसी दूतावास ने बृहस्पतिवार को जानकारी दी थी कि कोविड-19 महामारी के बावजूद भारत को निर्धारित समय पर 33 राफेल लड़ाकू विमानों की आपूर्ति की जा चुकी है। भारत ने सितंबर 2016 में फ्रांस के साथ करीब 59 हजार करोड़ रुपये में 36 राफेल लड़ाकू विमानों के लिए अंतर सरकारी स्तर पर समझौता किया था।
पार्ले ने एक सवाल के जवाब में कहा कि मैं खुश हूं कि भारतीय वायुसेना राफेल विमानों से संतुष्ट है और हमें गर्व है कि कोविड-19 महामारी के बावजूद हमने करार के तहत समय पर 36 विमानों की आपूर्ति की…यह उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि एक ही तरह के विमान का उपयोग करना वास्तविक परिसंपत्ति और ताकत है। मैं निश्चिंत हूं कि नयी संभावनाओं की गुंजाइश है। यदि भारत की अतिरिक्त आवश्यकता व्यक्त की गयी तो हम उसका जवाब देने को तैयार हैं।
फ्रांसीसी रक्षामंत्री ने भारतीय नौसेना के बेड़े में दूसरे विमानवाहक पोत के शामिल करने की योजना को रेखांकित करते हुए संकेत दिया कि फ्रांस की पोत आधारित लड़ाकू जेट की आपूर्ति करने में रुचि है। उन्होंने कहा कि हम जानते है कि विमानवाहक पोत जल्द सेवा में होगा…उसके लिए विमानों की जरूरत होगी।
अगर भारत फैसला करता है तो हम कोई और राफेल (संस्करण) देने को तैयार हैं। गौरतलब है कि भारत के स्वदेश में निर्मित पहले विमान वाहक पोत विक्रांत को अगले साल अगस्त में भारतीय नौसना में शामिल करने की योजना है। फ्रांसीसी कंपनी दसाल्ट एविएशन द्वारा निर्मित राफेल विमानों की पहली खेप की आपूर्ति भारत को पिछले साल 29 जुलाई को की गई थी। माना जा रहा है कि फ्रांस भारत के साथ 36 और राफेल विमानों की खरीददारी के लिए वार्ता की इच्छा जता रहा है।

अपनी गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं आतंकी: एंटनी

सुनील श्रीवास्तव      वाशिंगटन डीसी। भारत को निशाना बना रहे आतंकवादी समूहों ने पाकिस्तानी सरजमीं से अपनी गतिविधियों को अंजाम देना जारी रखा है। पाकिस्तान ने जैश-ए-मोहम्मद संस्थापक और संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित आतंकवादी मसूद अजहर तथा 2008 मुंबई हमले के ”प्रोजेक्ट मैनेजर” साजिद मीर समेत अन्य आतंकवादियों के खिलाफ भी कार्रवाई नहीं की है। अमेरिका के विदेश विभाग द्वारा आतंकवाद पर जारी एक नयी रिपोर्ट में यह बात कही गयी है। अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने बृहस्पतिवार को आतंकवाद पर जारी देश की रिपोर्ट 2020 में कहा कि क्षेत्रीय रूप से आतंकवादी समूह पाकिस्तान से अपनी गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं।

रिपोर्ट के अनुसार कि अफगान तालिबान और उससे जुड़े हक्कानी नेटवर्क समेत अफगानिस्तान को निशाना बना रहे समूहों के साथ ही भारत को निशाना बना रहे लश्कर-ए-तैयबा और उससे जुड़े संगठन तथा जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) समेत अन्य आतंकवादी समूहों ने पाकिस्तानी सरजमीं से अपना काम जारी रखा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान ने जेईएम संस्थापक और संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित आतंकवादी अजहर और 2008 मुंबई हमले के ‘प्रोजेक्ट मैनेजर’ मीर जैसे अन्य वांछित आतंकवादियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। ऐसा माना जाता है कि अजहर और मीर दोनों पाकिस्तान में निर्बाध घूम रहे हैं।

इसमें कहा गया है कि फरवरी और फिर नवंबर में लाहौर की एक आतंकवादी रोधी अदालत ने लैश्कर-ए-तैयबा संस्थापक हाफिज सईद को आतंकवाद के वित्त पोषण के कई आरोपों में दोषी ठहराया और उसे साढ़े पांच साल के कारावास की सजा सुनाई। रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान ने वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (एफएटीएफ) की कार्य योजना को पूरा करने की दिशा में 2020 में अतिरिक्त प्रगति की लेकिन कार्य योजना के सभी कामों को पूरा नहीं किया और वह एफटीएफ की ‘ग्रे सूची’ में बना हुआ है।

ओसाका: इमारत में लगीं आग, 27 लोगों की मौंत

अखिलेश पांडेय          टोक्यो। जापान के ओसाका शहर में एक इमारत में आग लगने से 27 लोगों के मारे जाने की आशंका है। दमकल विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। ओसाका शहर के दमकल विभाग के अधिकारी अकीरा किशिमोटो ने बताया कि बाजार में आठ मंजिला इमारत की चौथी या पांचवी मंजिल पर आग लग गई। घटना में 28 लोगों के हताहत होने की आशंका है, जिनमें से 27 लोगों को दिल को दौरा पड़ा है और अभी तक 23 लोगों को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया है। जापान के प्रसारक एनएचके ने बताया कि इमारत में एक क्लिनिक, एक अंग्रेजी भाषा का स्कूल और अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठान थे।

आग लगने के कारण का अभी पता नहीं चल पाया है। ओसाका की पुलिस मामले की जांच कर रही है। अधिकारियों ने बताया कि दमकल विभाग की 70 गाड़ियों को मौके पर भेजा गया और करीब 30 मिनट में आग पर काबू पा लिया गया।

पीएम मोदी को 'सर्वोच्च नागरिक' सम्मान देने की घोषणा

थिम्पू। भूटान ने शुक्रवार को अपने राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘नगदग पेल जी खोरलो’ भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देने की घोषणा की। भूटान के प्रधानमंत्री लोतेय शेरिंग ने सोशल मीडिया पर कहा कि उन्हें यह सुनकर बेहद खुशी हुई कि सर्वोच्च नागरिक अलंकरण ‘नगदग पेल जी खोरलो’ के लिए नरेंद्र मोदी जी के नाम की घोषणा की गई है।

शेरिंग ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने बिना किसी शर्त के मित्रता निभाई है और इन वर्षों में विशेष रूप से महामारी के दौरान काफी मदद की है। भूटान के प्रधानमंत्री कार्यालय ने फेसबुक पर एक बयान में कहा कि वह इस सम्मान के हकदार हैं।

28 नए संक्रमित मिले, ओमिक्रोन का संदेह बढ़ा

28 नए संक्रमित मिले, ओमिक्रोन का संदेह बढ़ा     

कविता देवी      चेन्नई। तमिलनाडु के मंत्री एम सुब्रमण्यम ने शुक्रवार को कहा कि ‘उच्च-जोखिम’ और ‘गैर-जोखिम’ दोनों तरह के देशों से आये 28 व्यक्ति कोविड-19 संक्रमित पाये गए और उनमें एस-जीन ड्रॉप है। जिससे उनके ओमीक्रोन से संक्रमित होने का संदेह बढ़ गया है। तमिलनाडु के चिकित्सा एवं परिवार कल्याण मंत्री सुब्रमण्यम ने कहा कि 28 यात्रियों के नमूने जीनोमिक अनुक्रमण विश्लेषण के लिए भेजे गए हैं।सुब्रमण्यम ने यहां संवाददाताओं से कहा कि वह ‘गैर-जोखिम’ वाले देशों से आने वाले यात्रियों की सात दिनों के घर पर पृथकवास की अवधि पूरी होने पर अनिवार्य आरटी-पीसीआर जांच कराने के लिए केंद्र की मंजूरी मांगेंगे। वर्तमान समय में ‘उच्च-जोखिम’ वाले देशों से आने वाले यात्रियों को अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर अनिवार्य आरटी-पीसीआर जांच से गुजरना पड़ता है, जबकि स्वास्थ्य विभाग ‘गैर-जोखिम’ वाले देशों से आने वाले 2 प्रतिशत यात्रियों के नमूने आरटीपीसीआर जांच के लिए लेता है।

सुब्रमण्यम ने कहा कि वह इस संबंध में केंद्र को एक पत्र लिखेंगे जिसमें कहा जाएगा कि यात्रियों को अनिवार्य रूप से घर पर पृथकवास की अवधि पूरी होने पर आरटी-पीसीआर जांच से गुजरना चाहिए और उसके बाद ही उन्हें सार्वजनिक रूप से बाहर जाने की अनुमति दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि अब तक 14,868 ऐसे लोगों की कोविड-19 जांच की गई है जो ‘उच्च-जोखिम’ और ‘गैर-जोखिम’ दोनों देशों से तमिलनाडु पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि इनमें से 70 व्यक्ति कोविड-19 से संक्रमित मिले और उनमें से 65 का इलाज चल रहा था जबकि पांच की जांच रिपोर्ट निगेटिव आ गई है।

मंत्री ने कहा कि नाइजीरिया से आया एक यात्री ओमीक्रॉन स्वरूप से संक्रमित पाया गया है, कांगो से आये एक यात्री सहित 28 यात्रियों में ‘एस-जीन ड्रॉप’ पाया गया है, जिससे उनके ओमीक्रोन से संक्रमित होने का संदेह बढ़ गया है। उन्होंने कहा, ”28 यात्रियों के नमूने जीनोमिक अनुक्रमण के लिए भेजे गए हैं। 10 लोगों की जांच रिपोर्ट घोषित की गई है जिनमें से आठ में डेल्टा स्वरूप, एक में ओमीक्रोन स्वरूप (15 दिसंबर) और दूसरा गैर-अनुक्रम पाया गया है। जिस यात्री का नमूना ‘गैर-अनुक्रम’ घोषित किया गया है, उसकी फिर से जांच की जाएगी।”

सुब्रमण्यम ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी 278 लोगों की आरटी-पीसीआर जांच करने की प्रक्रिया जारी है, जो उस यात्री के संपर्क में थे जिसके नाइजीरिया से आने पर तमिलनाडु में आने पर ओमीक्रोन स्वरूप से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

दिल्ली: 'ओमिक्रोन' के 10 नए मामलें सामने आए 

अकांशु उपाध्याय           नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को ओमिक्रोन के 10 नए मामले सामने आए है। अब इस वेरिएंट से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 20 हो गई। 

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि 20 में से 10 को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई है और 10 अभी भी एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती हैं। यहां ओमिक्रोन जैसे लक्षण वाले कुल 40 मरीज भर्ती हैं।

भारत: संक्रमितों की संख्या-3,47,26,049 हुईं

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 7,447 नए मामले सामने आने से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 3,47,26,049 हो गयी। जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या कम होकर 86,415 रह गयी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार सुबह आठ बजे तक अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, 391 मरीजों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 4,76,869 हो गयी है।

संक्रमण के दैनिक मामले पिछले 50 दिनों से 15,000 से कम बने हुए है। मंत्रालय ने बताया कि उपचाराधीन मरीजों की संख्या संक्रमण के कुल मामलों का 0.25 प्रतिशत है जो मार्च 2020 के बाद से सबसे कम है। जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.38 प्रतिशत दर्ज की गयी जो मार्च 2020 के बाद से सबसे अधिक है। कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या में पिछले 24 घंटों में 830 की कमी दर्ज की गयी।

देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, इस साल चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे।

भारतीय नौसेना में नौकरी, पदों पर निकलीं भर्ती

अकांशु उपाध्याय     नई दिल्ली। भारतीय नौसेना में नौकरी की इच्छा रखने वाले युवाओं के लिए बड़ा मौका है। स्पोर्ट्स कोटा के तहत नाविक के पद पर भर्ती निकली है। उम्मीदवार भारतीय नौसेना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करके आवेदन कर सकते हैं। आवेदन की आखिरी तारीख 25 दिसंबर, 2021 है।

भर्ती स्पोर्ट्स कोटा के तहत एथलेटिक्स, बास्केटबॉल, एक्वेटिक्स, क्रिकेट, बॉक्सिंग, कलात्मक जिमनास्टिक्स, फुटबॉल, हॉकी, हैंडबॉल, वॉलीबॉल, कबड्डी, कुश्ती, वेटलिफटिंग, फेंसिंग, स्क्वैश, टेनिस, गोल्फ, कयाकिंग और कैनोइंग, शूटिंग, रोइंग, सेलिंग और विंड सर्फिंग खेल चुके उम्मीदवार ही आवेदन करने के योग्य हैं, उत्तर पूर्व, अंडमान और निकोबार, जम्मू-कश्मीर, लक्षद्वीप और मिनिकॉय द्वीप के उम्मीदवारों के लिए आखिरी तारीख एक जनवरी 2022 है।

आवेदक का 12वीं पास होना भी जरूरी है। उम्मीदवारों की आयु कम से कम 17 वर्ष और अधिकतम 21 वर्ष होनी चाहिए। चयनित उम्मीदवारों को शुरुआती ट्रेनिंग पीरियड के दौरान 14,600 रुपये प्रतिमाह स्टाइपेंड मिलेगा। इसके बाद डिफेंस पे मैट्रिक्स लेवल-3 के तहत 21,700 रुपए से लेकर 43,100 रुपए तक प्रतिमाह वेतन मिलेगा और अन्य भत्ते मिलेंगे।

प्रदूषण: दिल्ली की वायु गुणवत्ता सूचकांक 342 श्रेणी 

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। दिल्ली एवं राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शुक्रवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 342 रहने से बेहद खराब श्रेणी में बरकरार है। इससे पहले गुरुवार को भी एक्यूआई 340 रहने से यह बेहद खराब श्रेणी में रहा। मौसम विभाग ने (आईएमडी) यह जानकारी दी। आईएमडी ने आज सुबह बुलेटिन में बताया कि दिल्ली-एनसीआर में वायु गुणवत्ता में मामूली सुधार होने के बावजूद यह आज भी बेहद खराब श्रेणी में है 18 और 19 दिसंबर को यह खराब श्रेणी में रह सकता है। वायु गुणवत्ता मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान प्रणाली (सफर) के मुताबिक, आज सुबह 10 बजे पीएम 2.5 तथा पीएम 10 क्रमशः बेहद खराब 171 तथा 283 खराब श्रेणी में दर्ज किया गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के जारी आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली के आसपास के इलाकों में भी एक्यूआई खराब से बेहद खराब श्रेणी में दर्ज की गयी है। फरीदाबाद में वायु गुणवत्ता सूचकांक 302, गाजियाबाद में 334, गुरुग्राम में 287 और नोएडा सेक्टर 62 में 331 दर्ज किया गया।

उल्लेखनीय है कि एक्यूआई को शून्य से 50 के बीच अच्छा, 51 से 100 के बीच संतोषजनक, 101 से 200 के बीच मध्यम, 201 से 300 के बीच खराब, 301 से 400 के बीच बेहद खराब और 401 से 500 के बीच गंभीर श्रेणी में माना जाता है। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग से दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए आम जनता और विशेषज्ञों से सुझाव मांगे हैं। इस बीच दिल्ली सरकार ने अगले आदेश तक गैर जरूरी ट्रकों के राजधानी में प्रवेश पर रोक लगाने का फैसला किया है। आईएमडी ने कहा राष्ट्रीय राजधानीवासियों में आज सुबह ठंड से दो-चार होना पड़ा। राजधानी में न्यूनतम तापमान 7.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1. अंक-60, (वर्ष-05)
2. शनिवार, दिसंबर 18, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पूर्णिमा, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:48, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान -7 डी.सै., अधिकतम-20+ डी.सै.।  
बर्फबारी व शीतलहर के साथ कहीं- कहीं तेज बारिश की संभावना।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवाशुं के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया  जे.एस.वी. किड्स एकेडमी में सारथी वेलफेयर फाउंडेशन ने मनाया अमृत महो...