शुक्रवार, 9 अगस्त 2019

दो बहनों के साथ किया गैंगरेप:जौनपुर

जौनपुर । इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला यूपी के जौनपुर से सामने आय है। यहाँ दो सगी बहनों से साथ सामूहिक बलात्कार की घटना से  पूरे इलाके में दहशत का माहौल है। जानकारी के मुताबिक बताते चले   पीड़ित छात्राओं का आरोप है कि उनके ही क्लास में पढ़ने वाले दो छात्रों ने प्रैक्टिकल की बुक वापस करने के बहाने उन्हें अपने घर बुलाया और फिर दोनों के साथ बारी-बारी बलात्कार किया। इस दौरान आरोपियों ने उनका वीडियो भी बना लिया और घटना के बारे में किसी को बताने पर वीडियो वायरल करने की धमकी भी दी। पीड़ित छात्राओं ने अब मड़ियाहूं थानें में तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है।


सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, ये दिल दहला देने वाला मामला यूपी जौनपुर जिले के नेवढ़िया थाना क्षेत्र का है। जहाँ पीड़ित छात्राओं ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि वह एक कॉलेज में इंटर की छात्रा है। उनका आरोप है कि छात्राओं के साथ पढ़ाई करने वाले मड़ियाहूं थाना क्षेत्र के मईडीह गांव निवासी जितेंद्र शर्मा उर्फ प्रधान ने छात्राओं से उनकी प्रैक्टिकल बुक मांगी। इस पर छात्राओं ने उसे प्रैक्टिकल बुक दे दी। चार-पांच दिन बीत जाने पर जब प्रैक्टिकल बुक युवक द्वारा नहीं लौटाया गया तो छात्राओं ने उन्हें फोन किया। अब युवक को छात्राओं का फोन नंबर मिल गया तो वह उनसे बातचीत करने लगा। एक दिन वह दोनों बहनों को बहला-फुसलाकर नगर के मोहल्ला निवासी अपने दोस्त आकाश जायसवाल के घर ले गया। वहीं पर युवक ने अपने दोस्त के साथ मिलकर दोनों बहनों के साथ बलात्कार किया फिर उनका विडियो भी मोबाइल पर रिकॉर्ड किया।


पीड़ित छात्राओं ने आगे पुलिस को बताया की दोनों दरिंदो ने उनका अश्लील वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। यही नहीं आरोपी छात्र ने उनसे  पैसे की मांग भी की। परेशान होकर छात्राओं ने मडियाहूं कोतवाली में बुधवार शाम को तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई। तहरीर के आधार पर पुलिस ने जितेंद्र शर्मा व नगर के मिर्दहा निवासी आकाश जायसवाल पुत्र महेंद्र जायसवाल के विरुद्ध दुराचार व पॉस्को एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दोनों छात्राओं को महिला पुलिस की अभिरक्षा में मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया।


भारत-विंडीज का मैच चढ़ा बारिश की भेंट

जॉर्जटाउन-गयाना। आईसीसी विश्व कप के बाद पहली बार वनडे मुकाबले के लिए मैदान पर उतरे भारत और वेस्टइंडीज का मैच गुरुवार (8 अगस्त) को बारिश की भेंट चढ़ गया। दोनों ही टीमें विश्व कप के बाद बदलाव के दौर से गुजर रही हैं। भारतीय टीम में श्रेयस अय्यर जैसे युवाओं की एंट्री हो गई है, तो वेस्टइंडीज के क्रिस गेल विदाई सीरीज खेल रहे हैं। इस कारण क्रिकेटप्रेमियों की इस मुकाबले पर नजरें लगी हुई थीं। लेकिन बारिश ने एक-दो बार नहीं, पूरे तीन बार खेल बिगाड़ा और तभी थमी, जब यह तय हो गया कि अब खेल हो पाना संभव नहीं है।यह मैच भारत और विंडीज वनडे सीरीज का पहला मुकाबला था. प्रोविडेंस स्टेडियम में खेले गए इस मैच में महज 13 ओवर ही खेल चल सका और भारी बारिश की भेंट चढ़ गया। तीसरी बार जब बारिश आई तब वेस्टइंडीज ने एक विकेट के नुकसान पर 54 रन बना लिए थे।एविन लुईस 40 और शाई होप छह रन बनाकर खेल रहे थे। भारत और विंडीज के बीच अब दूसरा वनडे मुकाबला रविवार (11 अगस्त) को खेला जाएगा। मैच पर सिलसिलेवार नजर डालें तो तो खेल शुरू होने के पहले से ही बारिश हो रही थी। इस कारण टॉस में भी देरी हुई। बारिश रुकने के बाद थोड़ी देर मैदान को सुखाया गया। इसके बाद टॉस हुआ, जिसे भारत ने जीता. भारत ने विंडीज को बल्लेबाजी के लिए बुलाया। मैच 43-43 ओवर का पारी कर दिया गया।


बारिश ने ओवर घटाने को मजबूर किया: अभी 5.4 ओवर का खेल ही हुआ था कि दोबारा बारिश आई गई। मैच रोकना पड़ा। जब मैच रोका गया तब विंडीज का स्कोर नौ रन था। क्रिस गेल तीन और एविन लुईस 9 रन पर नाबाद थे।करीब एक घंटे बाद बारिश रुकी और मैच दोबारा शुरू हुआ।बारिश ने एक बार फिर खेल बिगाड़ दिया था और एक बार फिर ओवर में कटौती कर दी गई। सतर्क शुरुआत की कोशिश में रन कम बनाए थे। दूसरी बार एविन लुईस ने रनरेट बढ़ाने की जिम्मेदारी संभाली। उन्होंने खलील अहमद की गेंद पर दो और भुवनेश्वर की गेंद पर एक छक्का लगाकर अपने इरादे जता दिए। हालांकि, क्रिस गेल लय में नजर नहीं आए।


बसपा की नीतियों का किया प्रचार

संवाददाता : विवेक चौबे


गढ़वा । जिले के कांडी प्रखंड में गुरुवार को  ज्ञान दर्शन कोचिंग सेंटर हॉल में बहुजन समाज पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओं द्वारा अहम बैठक की गई! इस बैठक में प्रखंड कमिटि व सेक्टर का गठन करना मुख्य उद्देश्य था।बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में बसपा प्रदेश प्रभारी हरेंद्र गौतम उपस्थित थे! बैठक की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष श्रवण कुमार व मंच संचालन नंदू मेहता के द्वारा की गई! उक्त सभी लोगों ने बाबा भीमराव अंबेडकर के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम को प्रारंभ किया! बिश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र के पूर्व प्रत्याशी बसपा नेता राजन मेहता ने बैठक में उपस्थित सैकड़ों लोगों को जानकारी देते हुए बताया कि हम लोगों को जागरूक होने की आवश्यकता है। पंचायत वार अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, कोषाध्यक्ष पद का चयन कर लोगों को जागरूक करें ! उन्होंने कहा कि बीजेपी की सरकार आज भी लोगों तक सरकारी लाभ नहीं पहुंचा पा रही है बिचौलिए के माध्यम से गरीब-पात्रो से पैसे की वसूली कर प्रखंड में कार्य कराया जा रहा है ! जो भारतीय जनता पार्टी की सरकार के लिए अति निंदनीय विषय है। हमारी सरकार बहुजन समाज पार्टी की सरकार कभी पैसे वसूली का कार्य नहीं करती है! इसलिए मेरा सभी लोगों से कहना है कि आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर सभी लोग सजग रहें! बैठक में अमरेंद्र कुमार राम, लक्ष्मण प्रसाद मेहता ,नागेंद्र मेहता, रामप्यारे मेहता, लोकेश कुमार, राजन राम, जमीला खातून, बबलू खलीफा ,रफीक खलीफा ,सलीम अंसारी ,सुल्तान अंसारी सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित थे!


जेटली को मिलने,अस्पताल गये मोदी

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व वित्तमंत्री अरूण जेटली को सांस की तकलीफ के बाद अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष व गृहमंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन व लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने एम्स जाकर उनके स्वास्थ्य औऱ इलाज की जानकारी ली।बताया जा रहा कि जेटली को शुक्रवार दिन में 11 बजे एम्स में भर्ती कराया गया।काफी समय से बीमार चल रहे पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (66) को एम्स में न्यूरो कार्डियक सेंटर में भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों की एक टीम जेटली की निगरानी कर रही है, जिसमें एंडोक्रिनोलॉजिस्ट्स, कार्डियोलॉजिस्ट्स और नेफ्रोलॉजिस्ट्स भी शामिल हैं।


जेटली पिछले करीब 2 साल से बीमार चल रहे हैं। वह सॉफ्ट टिशू कैंसर से पीड़ित हैं। किडनी संबंधी बीमारी के बाद बीते वर्ष मई में उनकी किडनी प्रत्यारोपित की गई थी। लेकिन किडनी की बीमारी के साथ-साथ जेटली कैंसर से भी जूझ रहे हैं। बताया जा रहा कि उनके बायें पैर में सॉफ्ट टिशू कैंसर हो गया है जिसकी सर्जरी के लिए जेटली इसी साल जनवरी में अमेरिका भी गए थे।अरुण जेटली ने पिछली मोदी सरकार में वित्त मंत्रालय के साथ-साथ कुछ समय के लिए रक्षा मंत्रालय की भी जिम्मेदारी संभाली थी। बीमारी की वजह से इस बार वह मोदी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं हुए।


परिवर्तन के सापेक्ष (संपादकीय)

जुम्मे की नमाज के बाद सुकून रहा जम्मू कश्मीर में। 
ईद पर और ढील दी जाएगी।

सभी आशंकाओं को परे ढकेलते हुए,केन्द्र शासित जम्मू कश्मीर में जुम्मे की नमाज के बाद सुकून बना रहा। आतंकग्रस्त माने जाने वाले कश्मीर घाटी के जिलों में हालात सामान्य बने रहे। किसी भी स्थान से पत्थरबाजी या पाकिस्तान के झंडे लहराए जाने की जानकारी नहीं मिली। जुम्मे की नमाज को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने 9 अगस्त की सुबह से ही सुरक्षा इंतजामों में ढील देना शुरू कर दिया था। लोग अपने वाहनों से इधर-उधर आ जा रहे थे। सुरक्षा बलों ने मस्जिदों पर विशेष निगरानी रखी ताकि अप्रिय घटना होने पर निपटा जा सके। पूर्व में जिन मस्जिदों से भड़काऊ भाषण सुनने को मिलते थे, उन मस्जिदों से 9 अगस्त को जुम्मे की नमाज से पहले शांति बनाए रखने की अपीलें सुनाई दी गई। अधिकांश मस्जिदों  में माइक के जरिए अपीले की गई। प्रशासन के सूत्रों के अनुसार जम्मू क्षेत्र में आशंका के तौर पर इंटरनेट की सेवाएं बहाल कर दी गई है तथा स्कूल कॉलेज भी खोले जा रहे हैं। जम्मू और लद्दाख में बड़ी संख्या में अपने घरों से निकल कर बाजारों में खरीददारी कर रहे हैं। 9 अगस्त की स्थितियों को देखते हुए जम्मू कश्मीर प्रशासन बेहद उत्साहित है। प्रशासन के बड़े अधिकारियों का कहना है कि अब 12 अगस्त को ईद के मौके पर और ढील दी जाएगी। लोग एक दूसरे को ईद की मुबारक बाद दे सके और मस्जिदों, ईदगाहों में ईद की नमाज पढ़ सके इसके विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं। 8 अगस्त की रात को राष्ट्र के नाम संबोधन में भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि ईद के मौके पर जम्मू कश्मीर के सुरक्षा इंतजामों में ढील दे दी जाएगी। असल में पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर को केन्द्र शासित प्रदेश बनाने और अनुच्छेद 370 में बदलाव करने के बाद 9 अगस्त को पहला अवसर रहा, जब जुम्मे की नमाज अदा की गई। ऐसे में सुरक्षा बलों को भी गड़बड़ी की आशंका थी, लेकिन इसे जम्मू कश्मीर  के लोगों की बदलती मानसिकता ही कहा जाएगा कि अब अधिकांश लोग शांति चाहते हैं। जम्मू कश्मीर के नागरिकों के सामने यह बात साफ हो गई है कि अनुच्छेद 370 के प्रावधानों की वजह से केन्द्र सरकार के सौ से भी ज्यादा कानून जम्मू कश्मीर पर लागू नहीं हो रहे थे, लेकिन अब पांच अगस्त के बाद से ही केन्द्र सरकार के सभी कानूनों और सुविधाओं का लाभ जम्मू कश्मीर के नागरिकों को मिलने लगेगा। आज जम्मू कश्मीर में सबसे बड़ी समस्या रोजगार और विकास की है। चूंकि अनुच्छेद 370 की वजह से ये दोनों ही सुविधाएं जम्मू कश्मीर के लोगों को नहीं मिल रही थी, इसलिए भुखमरी के हालात हो गए। महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला जैसे नेता अपने स्वार्थों की वजह से जम्मू कश्मीर के लोगों को गुमराह करते रहे। लेकिन अब जब अनुच्छेद 370 में बदलाव हो गया है तब जम्मू कश्मीर के लोग एक नए वातावरण का अहसास कर रहे हैं। 9 अगस्त को हालात सामान्य रहने पर सुरक्षा बलों ने भी राहत की सांस ली है। 
वामपंथियों को हिरासत में लिया:
वामपंथी नेता डी राजा और सीताराम येचुरी को 9 अगस्त को श्रीनगर के एयरपोर्ट पर हिरासत में ले लिया गया। ये दोनों नेता जुम्मे की नमाज के मौके पर जम्मू कश्मीर के हालात बिगाडऩे के लिए आए थे। लेकिन प्रशासन ने दोनों नेताओं को एयरपोर्ट से बाहर नहीं निकलने दिया। बाद में दोनों नेताओं को वापस हवाई जहाज से दिल्ली भेज दिया गया। 8 अगस्त को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और जम्मू कश्मीर  के पूर्व सीएम गुलाम नबी आजाद ने भी ऐसा ही कृत्य किया था। लेकिन प्रशासन ने आजाद को भी वापस दिल्ली रवाना कर दिया। प्रशासन का मानना है कि ऐसे नेता जम्मू कश्मीर के माहौल को बिगाड़ेंगे। जम्मू कश्मीर में अभी भी धारा 144 लागू है। 
एस.पी.मित्तल


भूपेंद्र को बनाया महाराष्ट्र चुनाव प्रभारी

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेन्द्र यादव को अब महाराष्ट्र का चुनाव प्रभरी बनाया गया।  जम्मू कश्मीर के ऑपरेशन में भी रही महत्वपूर्ण भूमिका।

देश के चार राज्यों में इसी वर्ष चुनाव होने हैं उनमें आज भाजपा ने प्रभारियों की नियुक्ति की है। इसमें भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेन्द्र यादव को महाराष्ट्र जैसे बड़े और महत्वपूर्ण राज्य का प्रभारी बनाया गया है। यादव अजमेर के निवासी हैं और राजस्थान से राज्य सभा के सांसद हैं। यादव के साथ ओम प्रकाश माथुार को झारखंड, प्रकाश जावड़ेकर को दिल्ली तथा नरेन्द्र सिंह तोमर को हरियाणा का प्रभारी बनाया गया है। असल में महाराष्ट्र का प्रभारी बनाना चुनौतीपूर्ण कार्य है। हालांकि महाराष्ट्र में कांग्रेस और उसकी सहयोगी एनसीपी बुरे दौर से गुजर रही है। लोकसभा चुनाव में जिस प्रकार भाजपा- शिवसेना के गठबंधन ने सफलता प्राप्त की उससे कांग्रेस और एनसीपी में भगदड़ मची हुई है। भाजपा को अपने सहयोगी दल शिवसेना के साथ ही तालमेल बैठाना है। हालांकि अभी भाजपा के देवेन्द्र फडऩवीस मुख्यमंत्री है, लेकिन लोकसभा चुनाव में मिली सफलता से उत्साहित शिवसेना ने मुख्यमंत्री पद पर दावा जता दिया है। यानि भाजपा को शिवसेना के साथ ही तालमेल बैठाने की चुनौती है। यूं भूपेन्द्र यादव राजस्थान, गुजरात आदि राज्यों के प्रभारी रहे हैं, लेकिन गत बार बिहार के प्रभारी थे। बिहार में भी भाजपा का गठबंधन मुख्यमंत्री नीतिश कुमार की पार्टी जेडीयू के साथ है। गठबंधन के धर्म को निभाने में यादव की महत्वपूर्ण भूमिका रही। आपसी तालमेल का ही परिणाम रहा कि लोकसभा चुनाव में बिहार से कांग्रेस, राजद और वामपंथी दलों का सूपड़ा साफ हो गया। केन्द्रीय मंत्री गिरीराज सिंह का क्षेत्र बदलने से थोड़ी नाराजगी सामने आई थी, लेकिन इसे यादव की राजनीतिक सूझबूझ ही कहा जाएगा कि गिरीराज सिंह ने कन्हैया कुमार जैसे नेता को हरा दिया। सूत्रों की माने तो बिहार के अनुभवों का ध्यान में रखते हुए ही भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमितशाह ने यादव को महाराष्ट्र का प्रभारी बनाया है। यादव की सबसे बड़ी खासियत यह है कि उन्हें कभी गुस्सा नहीं आता। विपरीत परिस्थितियों में भी यादव बेहद कूल बने रहते हैं। अपनी मेहनत और वफादारी की वजह से ही यादव ने आज भाजपा में अपना  शीर्ष स्थान बनाया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमितशाह को भी पता है कि शिवसेना के नेताओं की नाक पर गुस्सा रहता है। ऐसे में सीटों के बंटवारे में भूपेन्द्र यादव का शांत व्यवहार काम आएगा। वैसे भी अब यदाव चुनावी राजनीति के माहिर खिलाड़ी हो गए हैं। 
जम्मू कश्मीर के ऑपरेशन में भूमिका:
भूपेन्द्र यादव सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठ वकील भी है। अनुच्छेद 370 में बदलाव को लेकर केन्द्र सरकार की ओर से जो राजनीतिक ऑपरेशन किया गया, उसमें यादव की महत्वपूर्ण भूमिका रही। यादव उस टीम में शामिल रहे जिसने राज्यसभा में इस प्रस्ताव को भारी मतों से स्वीकृत करवाया। चूंकि राज्यसभा में भाजपा के पास बहुमत नहीं है, इसलिए इस प्रस्ताव को स्वीकृत करवाना चुनौती पूर्ण कार्य था। कांग्रेस सहित प्रमुख विपक्षी दलों के सांसद मत विभाजन के समय अनुपस्थित रहे तथा कई सांसदों ने पूर्व में ही राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा तक दे दिया। प्रस्ताव को कनूनी अमली जामा पहनाने में भी यादव की महत्वपूर्ण भूमिका रही। 
एस.पी.मित्तल


नागौर की राजनीति में बड़े बदलाव के संकेत

नागौर की राजनीति में बड़े बदलाव के संकेत। जिला क्रिकेट संघ का अध्यक्ष बनने के बाद रामेश्वर डूडी खींवसर से हो सकते हैं कांग्रेस के उम्मीदवार। सांसद बेनीवाल से हैं अच्छे संबंध।

जयपुर । राजस्थान में जाट समुदाय के दिग्गज नेता रामेश्वर डूडी नागौर जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष तो बन गए हैं और अब उनकी नजर नागौर के खींवसर विधानसभा उपचुनाव पर है। खींवसर के विधायक हनुमान बेनीवाल के सांसद बन जाने पर उपचुनाव होने हैं। हालांकि अब हनुमान बेनीवाल और उनकी आरएलपी भाजपा को समर्थन दे रही है, लेकिन डूडी और बेनीवाल के बीच मधुर संबंध हैं। डूडी ने गत विधानसभा का चुनाव बीकानेर से लड़ा था, लेकिन कांग्रेस की आपसी गुटबाजी की वजह से डूडी को हार का सामना करना पड़ा। असल में विधानसभा चुनाव के समय उम्मीदवारों के चयन को लेकर डूडी और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट के बीच विवाद हो गया था। जब डूडी बीकानेर से चुनाव हार गए, तब खींवसर के विधायक हनुमान बेनीवाल ने कहा था कि यदि कांग्रेस जाट के तौर पर रामेश्वर डूडी को मुख्यमंत्री बनाती है, तो खींवसर से इस्तीफा दे दूंगा। डूडी खींवसर से विधायक बन सकते हैं। सूत्रों की माने तो फुलेरा विधानसभा क्षेत्र डूडी जिस उम्मीदवार की पैरवी कर रहे थे, उसे पायलट ने टिकिट नहीं लेने दिया। बाद में इसी उम्मीदवार ने हनुमान बेनीवाल को राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा। चूंकि अब बेनीवाल नागौर के सांसद हैं, इसलिए जिला क्रिकेट संघ पर भी दबदबा हैै। इसे डूडी और बेनीवाल की रणनीति ही कहा जाएगा कि डूडी के अध्यक्ष बनने की पहले किसी को भी जानकारी नहीं हुई। 8 अगस्त को चुनाव सम्पन्न हो जाने के बाद मीडिया को बताया गया। डूडी खींवसर से उपचुनाव भी बेनीवाल की रणनीति के तहत लड़ेंगे। सूत्रों की माने तो आने वाले दिनों में हनुमान बेनीवाल राजस्थान की राजनीति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। नागौर का खींवसर विधानसभा क्षेत्र जाट बहुल्य है, ऐसे में ये उपचुनाव में डूडी की जीत आसान मानी जा रही है। डूडी गत बार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता थे। हार के बाद भी कांग्रेस में डूडी का महत्व बना हुआ है। 
एस.पी.मित्तल


अमेरिका गड़ाए हुए हैं नजर:भारत-पाक

नई दिल्ली। धारा 370 हटने के बाद पाकिस्तान में बौखलाहट है। एक तरफा कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान ने कूटनीतिक रिश्तों, व्यापारिक संबंधों के साथ साथ समझौता एक्सप्रेस के संचालन को बंद कर दिया है। इसके साथ ही उसने कश्मीर मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र में उठाने का भी फैसला किया है। लेकिन अमेरिका ने साफ कर दिया है कि कश्मीर मुद्दे पर वो अपनी पुरानी नीति पर कायम है। 


अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मॉर्गन आर्टगस ने कहा कि उनका देश भारत और पाकिस्तान के संबंधों को पटरी पर लाने के लिए निगाह लगाए हुए है। अमेरिका ने साफ कर दिया है कि कश्मीर मुद्दे को द्विपक्षीय बातचीत के जरिए ही सुलझाना चाहिए। यह अमेरिका के उस बयान से उलट है जिसमें राष्ट्रपति ट्रंप ने मध्यस्थता की पेशकश की थी। मार्गन आर्टगस का कहना है कि बैंकॉक में आसियान देशों के सम्मेलन में भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर से कई दफा बातचीत हुई। वो अमेरिकी विदेश मंत्री के संपर्क में लगातार थे। उन्होंने कहा कि जुलाई के महीने में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान अमेरिका में थे। लेकिन दोनों देशों के बीच बातचीत के एजेंडे में कश्मीर नहीं था। अमेरिका का मानना है दक्षिण-पूर्व एशिया में शांति की स्थापना में दोनों देशों के बीच संबंध सामान्य होने चाहिए। उन्होंने कहा कि अमेरिका का मानना रहा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच किसी भी विवादित विषय पर बातचीत करने का आधारशिला शिमला समझौता ही है। 


बता दें कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 के हटने के बाद पाकिस्तान की सियासत में गुस्से का आलम ये है कि उसकी तरफ से जंग छेड़ने तक की धमकी आ गई। हालांकि भारत ने साफ कर दिया कि धारा 370 का हटाया जाना उसका आंतरिक मामला है। भारतीय संविधान में प्रदत्त शक्तियों के जरिए ही 370 को हटाया गया। अगर पाकिस्तान को लगता है कि वो इस धारा 370 को यूएन में उठाकर कामयाबी हासिल कर लेगा तो वो उसकी भूल है। पाकिस्तान को समझना चाहिए कोई भी संप्रभु राष्ट्र अपने संविधान के तहत फैसला ले सकता है।


हिंदू बने संजू राणा ने ज्‍वाइन की शिवसेना

अकाक्षुं उपाध्याय


शामली। मस्लिम धर्म त्यागकर हिन्दू धर्म अपनाने वाले संजू राणा ने शिवसेना की सदस्यता ग्रहण कर ली है। गुरुवार को शिवसेना कार्यालय पर संजू राणा का जोरदार स्वागत करते हुए उन्हें पटका पहनाकर सम्मानित किया गया। जानकारी के अनुसार करीब 9 माह पूर्व मुस्लिम समुदाय के युवक संजू राणा ने अपने धर्म को त्यागकर हिन्दू धर्म अपना लिया था। गुरुवार को संजू राणा ने शिवसेना की नीतियां से प्रभावित होकर शिवसेना की सदस्यता ग्रहण कर ली। इस अवसर पर शिवसेना कार्यालय पर संजू राणा का जोरदार स्वागत किया गया। जिला प्रमुख जितेन्द्र निर्वाल ने उन्हें पटका पहनाकर सम्मानित किया। शिवसेना नेता मनोज सैनी ने कहा कि संजू राणा जैसे योद्धा समाज के लिए एक प्रेरणास्रोत है जिन्होंने मुस्लिम समाज के विरोध के बावजूद अपने सनातन धर्म में वापसी की। आज भी कुछ गौहत्या में लिप्त रहने वाले कट्टरपंथी संजू राणा पर मुस्लिम धर्म में वापसी का दबाव बना रहे हैं लेकिन शिवसेना उनके मंसूबे कामयाब नहीं होने देगी। इस मौके पर संजू राणा ने कहा कि शिवसेना प्रमुख स्व. बाला साहब ठाकरे देश के सच्चे महानायक थे। जो हमेशा राट्रहित में अपनी आवाज बुलंद रखते थे। इस अवसर पर रोहित लायल, वीशू चौधरी, संदीप जैन, आशु पंडित, गौरव भार्गव, दीपक मुंडेट, प्रशांत कुमार आदि भी मौजूद रहे।


छात्रों के बीच चली लाठी-डंडे और बेल्ट

अश्वनी उपाध्याय


सरेआम छात्रों के बीच में चली लाठी-डंडे और बैल्टें
सोहनलाल
 
शामली । नगर के धीमानपुरा में कोचिंग के लिए आए छात्रों के दो गुटों के बीच जमकर मारपीट से अफरा तफरी मच गई। एक गुट ने दूसरे गुट के छात्र को पिटाई करते हुए ले जाकर सुभाष चौक पर पुलिस को सौंप दिया, जबकि कई अन्य फरार हो गए। नगर के धीमानपुरा में पुराने डाकखाने वाली गली में एक कोचिंग सेंटर पर गुरुवार शाम छात्रों के दो गुटों के बीच विवाद हो गया, जिस पर एक गुट ने दूसरे गुट पर डंडों व बैल्ट से हमला बोल दिया, जिससे उनमें भगदड़ मच गयी। छात्रों ने कुछ हमलावर छात्रों को दबोच लिया और उनकी पिटाई करते हुए सुभाष चौंक पर तैनात पुलिस पिकेट को सौंप दिया। इस दौरान भारी संख्या में भीड़ एकत्रित हो गयी। बाद में पुलिस पकड़े गए छात्रों को लेकर कोतवाली चली गई। आपसी मारपीट का कारण लड़कियों को लेकर विवाद बताया जा रहा है। समाचार लिखे जाने तक कोतवाली परिसर में लोगों का जमावड़ा लगा हुआ था।


धरी रही,अधिकारियों से की गई सांठगांठ

सचिन विसौरिया


धरी रह गई लोनी के अधिकारियों से सांठगांठ


गाजियाबाद । लोनी में भारत सिटी बिल्डर पर प्रशासन की बड़ी कार्रवाई हुआ मुकदमा दर्ज भारत सिटी के बिल्डर्स सोमपाल सिंह व भरत सिंह पर पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। आपको बताते चलें कि अधिकारियों की सांठगांठ से सोमपाल सिंह पिछले काफी समय से बचते चलें आ रहे थे। लेकिन पीड़ितों को मिला इंसाफ भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष सचिन शर्मा, विधायक नन्द किशोर गुर्जर समेत अन्य कई सामाजिक लोगों की मेहनत के चलते पुलिस प्रशासन को आखिर में सच्चाई का साथ देना ही पड़ा। जबकि सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार लोनी के कई वरिष्ठ अधिकारी सोमपाल सिंह को बचाने के लिए उसके समर्थन में खड़े थे।जो उस पर कानूनी कार्रवाई नहीं होने देना चाहते थे। जबकि पीड़ितों ने तो खुलकर लोनी उपजिलाधिकारी पर आरोप भी लगाया था कि उन्होंने पीड़ितों को गुमराह कर झूठ बोल कर जबरन पांच ₹5 लाख के चेक थमा दिए थे। पीड़ितों ने बताया था कि एक कोरे कागज पर उनके हस्ताक्षर लेकर उपजिलाधिकारी समझौता करना चाहते थे। लेकिन भगवान के यहां देर है अंधेर नहीं। आखिर में सच्चाई पर से पर्दा उठा और दोषियों पर कानूनी कार्रवाई हुई।


बच्ची:रेप के बाद टुकड़े कर के फेंका

पौडी । उत्तराखण्ड के पौड़ी जिले के कोटद्वार में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। एक 10 साल की बच्ची को 2 नेपालियों ने समोसे का लसलच दे कर बुलाया फिर ब्लात्कार के बाद हत्या कर बच्ची के टुकड़े कर पन्नी में भर कर फेंक दिया। जिसे कुत्तों ने खा लिया। बच्ची के सिर्फ कंकाल ही मील पाए हैं। कोटद्वार की जनता आज सुबह से ही सड़कों पर है। कोटद्वार के झण्डाचौक पर जनता ने जाम लगा दिया है। बलात्कारियों को फांसी की मांग की जा रही है।


बता दें कि कोटद्वार रेलवे स्टेशन परिसर में दो दरिंदों ने दस वर्ष की मासूम बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी। हत्यारे की निशानदेही पर बुधवार शाम पुलिस ने रेलवे स्टेशन परिसर में पुराने मालगोदाम के पीछे झाड़ियों से बच्ची का क्षत-विक्षत शव बरामद कर दिया। पुलिस ने मामले में दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर दिया है।


सोमवार सुबह झूलाबस्ती निवासी एक व्यक्ति ने अपनी दस वर्षीय पुत्री की गुमशुदगी कोतवाली में दर्ज कराई। उनका कहना था कि सोमवार शाम उनकी बेटी घर के समीप दुकान में सामान खरीदने गई थी। सामान घर में देने के बाद वह अपने दोस्तों के साथ पड़ोस में खेलने की बात कहकर चली गई थी, लेकिन देर रात तक घर वापस नहीं लौटी। पुलिस ने बच्ची की गुमशुदगी दर्ज कर बच्ची की खोजबीन शुरू कर दी। बुधवार सुबह पुलिस ने संदेह के आधार पर पुलिस ने बच्ची के पड़ोस में रहने वाले पदम थापा को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। शुरूआत में पदम ने जानकारी न होने की बात कही, लेकिन सख्ती से पूछताछ करने के बाद उसने बच्ची की हत्या करने की बात स्वीकारी। पुलिस ने पदम की निशानदेही पर रेलवे स्टेशन परिसर में पुराने मालगोदाम के पीछे झाड़ियों से बच्ची का क्षत-विक्षत शव बरामद कर दिया। 


अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप कुमार राय ने बताया कि पुलिस पूछताछ के दौरान पदम थापा ने अपने साथी झूला बस्ती निवासी अशोक के साथ मिलकर बच्ची से दुष्कर्म किया व उसके बाद शव को मालगोदाम के पीछ़े झाड़ियों में फेंक दिया। पुलिस पूछताछ में पदम ने बताया कि वह बच्ची को समोसा दिलाने के बहाने सोमवार देर शाम अपने साथ पुराने मालगोदाम शेड की ओर लाया और रात्रि करीब आठ बजे यहीं पर दुष्कर्म कीघटना को अंजाम देकर शव को झाड़ियों में फेंक दिया। एएसपी राय ने बताया कि कुत्तों ने झाड़ियों में पड़े शव को खा दिया था, जिस कारण मौके से बच्ची का कंकाल बरामद हुआ। बताया कि मौके पर बच्ची की सेंडिल भी बरामद हुई है।


सपा:सरकार के खिलाफ दिया धरना

गाजियाबाद । जिला मुख्यालय पर आयोजित धरने मे साहिबाबाद विधान सभा समाजवादी पार्टी अध्यक्ष मनमोहन झा गामा के नेतृत्व मे शामिल होने जाते। जिला कोषाध्यक्ष शिवचरण चौहान शाहबूदीन सैफी ताहिर अंसारी  मीडिया प्रभारी जब्बार मलिक महासचिव कमलेश यादव सचिव मुज्जू चौधरी उपाध्यक्ष साबिर चौधरी कोषाध्यक्ष रंजत पोरवाल रवि यादव  ट्रांस हिन्डन अध्यक्ष मजदूर सभा मोनू सैफी ट्रांस हिन्डन अध्यक्ष अजय कुमार, सचिव मुदसिर खान रिजवान सैफी, वाड॔ अध्यक्ष अदीब कमाल मिर्ज़ा ,फईम कस्सार पाष॔द प्रतिनिधि गुलशन मन्सूरी, शालू खान ,नीरज, चौहान धनपाल यादव ,वसीम इदरीशी, विक्की, विशाल, शकील इदरीशी, कोशल ,शालू खान ,विपिन मिश्रा, अब्दुल, भाई शब्बीर, खान फईम मंसूरी, कुलदीप सिंह आदि लोग उपस्थिति थे।


शहर में भारी वाहनों की रहेगी नो एंट्री

सोमवार तक शहर में भारी वाहनों की रहेगी नो एंट्री


मुरादाबाद । कांवड़ियों के मद्देनजर पुलिस ने डायवर्जन प्लान लागू किया है। शुक्रवार से सोमवार दोपहर बाद तक शहर में भारी वाहनों की नो एंट्री रहेगी। बाईपास से वाहनों को गुजारा जाएगा। एसपी ट्रैफिक सतीश चंद्र ने इस बाबत निर्देश जारी किए। उन्होंने यातायात पुलिस कर्मियों को ड्यूटी में लापरवाही नहीं किए जाने की हिदायत दी है। बरेली से दिल्ली की ओर जाने वाले वाहन वाया रामपुर, शाहबाद,बिलारी, चंदौसी, नरोरा,डिवाई, शिकारपुर,बुलन्दशहर, हापुड़,गाजियाबाद होकर दिल्ली पहुंचेंगे तथा इसी मार्ग से वापसी में दिल्ली से बरेली पहुंचेंगे। रामपुर से मुरादाबाद की ओर आने वाले वाहन शाहाबाद, बिलारी,कुन्दरकी होते हुए अस्थाई बस स्टैण्ड पंडित नंगला बाईपास कटघर पहुचेंगे तथा इसी मार्ग से वापस रामपुर जाएंगे। मुरादाबाद से दिल्ली की ओर जाने वाले वाहन अस्थाई बस स्टैण्ड पंडित नंगला बाईपास कटघर से बिलारी, चंदौसी,बहजोई, नरौरा, डिवाई, शिकारपुर, बुलन्दशहर,हापुड़, गाजियाबाद होकर दिल्ली जाएंगे। इसी मार्ग से वापस आएंगे। अमरोहा से रामपुर/बरेली की ओर जाने वाले वाहन कैलशा, बागड़पुर,डींगरपुर तिराहा पाकबड़ा से डींगपुर, कुन्दरकी, बिलारी, शाहाबाद होकर रामपुर जाएंगे। इसी मार्ग से वापस आएंगें। मुरादाबाद से बिजनौर, हरिद्वार जाने वाले भारी वाहन, बसें काशीपुर तिराहा से ठाकुरद्वारा, जसपुर (उत्तराखण्ड),अफजलगढ़, धामपुर होते हुए बिजनौर व हरिद्वार जाएंगे। इसी मार्ग से वापस आएंगे। यात्री बसों को छोड़कर अन्य भारी वाहनों को सिरसवां दोराहा तक ही आने दिया जाएगा। बिजनौर रोड से बरेली, रामपुर जाने वाले हल्के वाहन कोठीवाल डेन्टल कालेज कट से ठाकुरद्वारा बाईपास होकर भोजपुर होते हुए काशीपुर तिराहा होते हुए रामपुर, बरेली जाएंगे।


ग्राम पंचायतों के खुल रहे हैं घोटाले

लखीमपुर खीरी । ब्लाक कुंभी की ग्राम सभा मगदापुर में सरकारी राजस्व का जमकर प्रधान द्वारा किया जा रहा घोटाला


     आपको बताते चलें प्रधानों की प्रधानी का धीरे-धीरे समय पूरा हो रहा है। जिला अधिकारी खीरी द्वारा कई प्रधानों की जांच कराई जा रही है। तथा उन जांचों  में प्रधान व ग्राम पंचायत अधिकारी सरकारी धनराशि जो कार्य योजना हेतु आई थी। उसमें अच्छा खासा गमन किया जा रहा प्रधानों के कमाने के स्रोत जैसे आए हुए प्रधानमंत्री आवास में गरीब लाभार्थियों से लगभग 20 से ₹25000 उन से अवैध रूप से बसूली की जाती है। सरकार द्वारा जो कार्य करने के लिए धनराशि भेजी जाती है। उस धनराशि  को ग्राम पंचायत  के कार्यों में कम लगाते हुए सारी धनराशि प्रधानों के जेब में चली जाती है। ऐसा ही मामला ग्राम सभा मदनापुर का है जो धनराशि सरकार से ग्राम सभा के कार्य हेतु आई उस धनराशि से कार्य तो कराया गया। परंतु आधा अधूरा लेकिन कागजों पर पूरा कर दिखाया जाता है। इसी को मद्देनजर रखते हुए। जिला अधिकारी खीरी द्वारा पंचायतों में कार्य हुए हैं या नहीं इसकी जांच हेतु कई ग्राम सभाओं को जांच करने के लिए कहा ब्लाक कुंभी में कई ग्राम सभाएं ऐसी हैं। जिनमें सरकारी धनराशि तो आई। परंतु कार्य कहीं नहीं दिखाई पड़ रहा है। लेकिन कागजों की खानापूर्ति पूरी है। कागजों की मजबूती करने के बाद जनता के हित में जो सरकार द्वारा धनराशि भेजी जाती है। वह जनता तक पहुंचती जरूर है परंतु आधी अधूरी मिल पाती है योगी सरकार जनता को खुशहाल बनाने के लिए काफी योजनाएं लागू करती है परंतु जनता के ऊपर बैठे लुटेरे उसे लूट कर अपनी जेबें भरते हैं ।जनता से उन्हें क्या मतलब सरकारें जनता के लिए योजनाएं निकालती रहे परंतु अधिकारी और कर्मचारी जमकर आई हुई धनराशि से अपना पेट भरते रहे।
जुड़े रहे आशीष राठौर पत्रकार के साथ में आपको हर ग्राम सभा की जानकारी साक्ष्यों के साथ जनता तक पहुंचाते रहेंगे।


आशीष राठौर


राज्य चुनाव:भाजपा चुनाव प्रभारी नियुक्त

नई दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी ने 4 राज्यों में आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी है। शुक्रवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र, हरियाणा, झारखंड और दिल्ली में विधानसभाचुनावके लिए प्रभारियों और सह-प्रभारियों की नियुक्ति की। यह सभी नियुक्तियां तत्काल प्रभाव से लागू होंगी।हरियाणा और झारखंड में वर्तमान में भाजपा की सरकार है,जबकि महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन की सरकार है। दिल्ली में आम आदमी पार्टी सत्ता में है।


महाराष्ट्र: राष्ट्रीय महामंत्रीभूपेंद्र सिंह यादव को चुनाव प्रभारी नियुक्त किया है। वहीं, उत्तरप्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या और कर्नाटक के पूर्व विधायक लक्ष्मण सावदी को सह-प्रभारी बनाया गया।


दिल्ली: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को चुनाव काप्रभारी बनाया गया। केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और केंद्रीय राज्यमंत्री नित्यानंद राय को सह-प्रभारी नियुक्त किया।


झारखंड: राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओमप्रकाश माथुर को प्रभारी बनाया गया। वहीं, बिहार सरकार में मंत्री नंद किशोर यादव को सहप्रभारी नियुक्त किया गया।


हरियाणा: केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को चुनाव प्रभारी बनाया गया। उप्र सरकार में मंत्री भूपेंद्र सिंह को सह-प्रभारी नियुक्त किया गया।


नाबालिक:झांसे में लेकर जाने वाला गिरफ्तार

रायगढ़ । शादी के सुहाने सपने दिखाकर नाबालिग बालिका को लेकर उड़न छू होने वाला बीजू को सरिया पुलिस ने पहुंचाया हवालात।


पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बीजू प्रतिकार जो कि थाना अंबाभोना जिला बरगढ़ निवासी है। उसका सरिया में आना जाना था,इसी बीच आरोपी  सरिया के नाबालिक युवती को अपने प्रेम जाल में फंसाया और  शादी के सुहाने सपने दिखाते हुए अपने साथ भगा ले गया।,युवती  के अचानक गुम होने से परेशान परिजनों ने सरिया थाने में इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई। जिस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए सरिया थाना प्रभारी आशीष वासनिक ने उक्त नाबालिक बालिका को भगाने वाले आरोपी को महज 12 घंटे में ही धर दबोचा और उसे गिरफ्तार कर नाबालिक को बरामद किया। वहीं आरोपी को आईपीसी के विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है।


वृंदावन प्रेम मंदिर:बम से उड़ाने की धमकी

मथुरा । पुलिस प्रशासन के पास एक अज्ञात फोन आया था जिसमें वृंदावन के प्रेम मंदिर और मथुरा के कृष्ण जन्म स्थान मंदिर में बम धमाके की चेतावनी दी गई थी।


कॉल जिस मोबाइल नंबर से आया था पुलिस ने उसके मालिक को हिरासत में ले लिया है। ये फोन ऑटो रिक्शा चालक के नंबर से किया गया था। इस मामले में पुलिस ऑटो चालक से पूछताछ कर रही है।पुलिस के मुताबिक पूछताछ में ऑटो चालक ने कहा कि एक टूरिस्ट उसकी गाड़ी में बैठा था, उसके किसी को फोन लगाने के लिए उससे मोबाइल लिया था। वह इस घटना से पूरी तरह से अंजान था। ऑटो रिक्शा चालक मुन्ना से मिली जानकारी के बाद पुलिस द्वारा टूरिस्ट को गिरफ्तार करने के लिए 7 टीमें बनाई गई हैं।


ठग गिरोह के 7 शातिर गिरफ्तार:हापुड

राहुल श्रीवास्तव


हापुड । थाना पिलखुआ कोतवाली पुलिस और सर्विलांस टीम को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने एक ऐसे शातिर ठग गिरोह को गिरफ्तार किया है जोकि जनता से लोन इन्शुरन्स दिलाने के नाम पर लाखो रूपये की ठगी की वारदात को अंजाम दिया करता था पुलिस ने शातिर ठग गैंग के 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिनके पास से पुलिस ने डेढ़ लाख रूपये की नगदी और करीब 20 मोबाइलों को बरामद किया है पुलिस ने बताया की ये शातिर ठग गिरोह अब तक लाखो रूपये की ठगी की वारदात को अंजाम दे चूका है और ये शातिर भोली भाली जनता को लोन देने के नाम पर ठगी करते थे।


जिले में रोपे गए 10 हजार पौधे:नोएडा

वन विभाग के सौजन्य से गांधी उपवन वेटलैंड सूरजपुर में 10 हजार पौधों का किया गया रोपण। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे जय प्रताप सिंह


गौतमबुध नगर ।वृक्षारोपण महाकुंभ के कार्यक्रम ने लिया जन आंदोलन का रूप। सूरजपुर वेटलैंड में जनपद के प्रभारी मंत्री एवं उत्तर प्रदेश सरकार के आबकारी मंत्री जय प्रताप सिंह के द्वारा वेटलैंड गांधी उपवन में किया गया पौधारोपण। इस अवसर पर जिलाधिकारी  बीएन सिंह, माननीय विधायक दादरी तेजपाल नागर, जेवर धीरेंद्र प्रताप सिंह, मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह, डीएफओ पीके श्रीवास्तव आदि अधिकारियों के द्वारा गांधी उपवन में पौधारोपण किया गया। यहां पर अधिक से अधिक पौधारोपण करने के उद्देश्य से एक कार्यक्रम भी आयोजित किया गया, जिसमें अध्यक्षता करते हुए उत्तर प्रदेश के माननीय आबकारी मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा कि पूरे उत्तर प्रदेश को प्रदूषण से मुक्त कराने के उद्देश्य से माननीय मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार योगी आदित्यनाथ जी की प्रेरणा से पूरे प्रदेश में आज एक ही दिन में कार्यक्रम आयोजित करते हुए 22 करोड़ पौधों का रोपण किया जा रहा है, ताकि पूरे प्रदेश को अच्छा पर्यावरण मिल सके। उन्होंने कहा कि वर्तमान में जलवायु परिवर्तन हो रहा है। अतः इसे दृष्टिगत रखते हुए भारत के माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा जल शक्ति अभियान भी संचालित किया गया है ताकि ग्राउंड वाटर को बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि इन सभी कार्यक्रमों की बहुत ही गहरी महत्ता है, जिसको हमें अंगीकृत करना होगा और समाज के सभी नागरिकों को आगे आकर अधिक से अधिक पौधारोपण करना होगा तथा वर्षा के जल को संचयन करने के लिए छोटी-छोटी गतिविधियां समाज के सभी नागरिकों को करनी होगी ताकि हमारी आने वाली पीढ़ी को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सके और एक अच्छा सुंदर वातावरण मिल सके। आयोजित कार्यक्रम में अधिकारियों के अलावा स्कूली बच्चों के द्वारा भी प्रतिभाग किया गया। कार्यक्रम में माननीय विधायक जेवर धीरेंद्र प्रताप सिंह एवं दादरी तेजपाल नागर के द्वारा भी वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से अपने उद्गार व्यक्त किए गए। राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गौतम बुद्ध नगर।



सीएम का ऐलान:आदिवासियों का कर्ज माफ

सीएम कमलनाथ का ऐलान, साहूकारों से लिया आदिवासियों का कर्ज होगा माफ

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आदिवासी दिवस पर आदिवासियों का कर्ज माफ करने का ऐलान किया है।कर्ज आदिवासियों ने साहूकारों से लिया था। इसके साथ ही सरकार आदिवासियों को कार्ड देगी, जिससे जरूरत पढ़ने पर वो 10 हजार रुपए तक निकाल सकेंगे। सीएम कमलनाथ ने कहा कि आदिवासी महापुरुषों की याद में जबलपुर में संग्रहालय व स्मारक बनाएंगे। वनग्राम की परंपरा ख़त्म कर राजस्व ग्राम कहलाएगी। भोजन के लिये बर्तन भी उपलब्ध कराएंगे और हर हाट बाज़ार में ATM की सुविधा होगी। कमलनाथ ने आगे कहा कि साहूकारों के पास आदिवासियों के गिरवी जमीन, ज़ेवर व समान लौटाना होंगे। अब जनजातीय कार्य विभाग अब आदिवासी विकास विभाग होगा। इसके अलावा उन्होंने ऐलान किया कि आदिवासी क्षेत्रों में 7 नये खेल परिसर खोले जायेंगे।


आदिवासी परिवार में जन्म लेने पर 50 क्विंटल अनाज मिलेगा और 40 नये एकलव्य स्कूल खोले जायेंगे। इससे पहले सीएम कमलनाथ ने विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर आदिवासी समुदाय के लोगों को शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार आदिजन की नई पीढ़ी के विकास, उनकी संस्कृति बचाने में मदद के लिए, उनके उत्थान, भलाई और सर्वांगीण विकास के लिए वचनबद्ध है। कमलनाथ ने ट्विटर पर लिखा कि विश्व आदिवासी दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। आज का दिन आदिवासी समुदाय की भाषा, संस्कृति, परम्परा, इतिहास के संरक्षण और उनके विकास के लिये संकल्पबद्ध होने का है। हमारी सरकार आदिजन की नई पीढ़ी के विकास, उनकी संस्कृति बचाने में मदद के लिए, उनके उत्थान, भलाई व सर्वांगीण विकास के लिये वचनबद्ध है।


4 माह का भ्रूण कूड़ेदान मे फेंका:लखनऊ

लखनऊ । एंबुलेंस चालक और एक महिला ने महिला के चार माह के भ्रूण को कूड़ेदान में फेंक दिया अस्पताल के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगालने पर सच्चाई सामने आ गई। महिला आशा वर्कर मानी जा रही हैं, दो दिन पहले जिला महिला अस्पताल में भर्ती हुई एक महिला की रक्तस्राव से हालत बिगड़ने पर गर्भपात के बाद उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया। लेकिन एंबुलेंस चालक और एक महिला ने उसके चार माह के भ्रूण को कूड़ेदान में फेंक दिया। गुरुवार सुबह मामला खुलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और सीसीटीवी फुटेज खंगाला। इसके बाद एंबुलेंस चालक को हिरासत में लेकर पूछताछ की। साथी महिला के बारे में जानकारी लेने के बाद उसे छोड़ दिया गया। गुरुवार सुबह पुलिस को सूचना मिली कि डीसी रोड स्थित एक निजी अस्पताल के सामने रखे कूड़ेदान में चार महीने का भ्रूण पड़ा है। पूछताछ और अस्पताल के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगालने पर सच्चाई सामने आ गई।मैगलगंज के गांव हरनहा निवासी कल्लू की पत्नी गीता छह जुलाई को जिला महिला अस्पताल में भर्ती हुई थी। अधिक रक्तस्राव के कारण गर्भपात करके भ्रूण निकाल दिया गया था।डॉक्टर ने हालत गंभीर होने पर गुरुवार की रात ही उसे लखनऊ रेफर कर दिया था। एंबुलेंस चालक महिला को वहीं निजी अस्पताल लेकर पहुंचा। उसके साथ मौजूद महिला ने भ्रूण को अस्पताल के बाहर रखे डस्टबिन में फेंक दिया। यह महिला आशा वर्कर मानी जा रही है।


1.40 लाख कैमरे लगाने की अनुमति

इकबालअंसारी


नई दिल्ली । मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को हुई कैबिनेट की बैठक में दिल्ली में 1.40 लाख अतिरिक्त कैमरे लगाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई। मुख्यमंत्री ने बताया कि योजना के तहत हर विधानसभा क्षेत्रों में 2000 सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। इसको लेकर आम दिल्लीवालों की प्रतिक्रिया बेहतर रही है। वहीं, कई जगहों पर सीसीटीवी होने से चोरों को पकड़ा गया है। कई लोगों ने अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे लगाने की मांग की थी। इसको देखते हुए दिल्ली कैबिनेट न 1.40 लाख कैमरे लगाने के प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है। केजरीवाल ने बताया कि अब टेंडर आदि से जुड़ी प्रक्रियाएं पूरी होंगी। उन्होंने कहा कि अगले चार महीने में 1.40 लाख अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे लगाने का काम शुरू हो जाएगा। दोनों प्रोजेक्ट पूरे होने पर दिल्ली में 2.80 लाख सीसीटीवी कैमरे हो जाएंगे।
केजरीवाल ने दावा किया कि दिल्ली की कानून व्यवस्था बेहतर करने व महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के मकसद से दिल्ली सरकार के अधीन आने वाले इंतजाम पूरे किए जा रहे हैं। कैमरे लगने से दिल्ली में अपराध कम होने के साथ महिलाओं की सुरक्षा भी पुख्ता होगी। उन्होंने बताया कि सभी कैमरे वाई-फाई से जुड़े होते हैं। इसके लिए वहां राउटर लगाए जा रहे हैं। सरकार आने वाले वक्त में राउटर का इस्तेमाल हॉट स्पॉट के तौर पर कर सकती है। आप ने थपथपाई अपनी पीठ दिल्ली में मुफ्त वाई-फाई देने की सुविधा देने के एलान के बाद आम आदमी पार्टी ने अपनी पीठ थपथपाई है। पार्टी का दावा है कि बीते विधानसभा चुनाव में जनता के किए सभी वादे सरकार ने पूरे कर दिए हैं। आप प्रवक्ता आतिशी ने बताया कि मुफ्त वाई-फाई आप का आखिरी एजेंडा था। इससे पहले दिल्ली सरकार ने गरीबों के बिजली के बिल माफ कर दिया। पानी की सुविधा फ्री में दी। सरकारी स्कूलों में निजी स्कूलों जैसा माहौल दिया। मोहल्ला क्लीनिक तैयार किया गया। मुफ्त वाई- फाई की सुविधा मिलने से दिल्लीवालों के इंटरनेट का बिल भी बचेगा।


रक्षाबंधन पर बहने करेगी फ्री यात्रा

अली रजा


लकनऊ। यूपी राज्य सड़क परिवहन निगम ने रक्षाबंधन पर्व पर सिर्फ 15 अगस्त को लगभग 12 लाख महिलाओं को बस में मुफ्त सफर कराने की तैयारी की है। इसके लिए प्रदेश भर में अतिरिक्त रूप से साधारण सेवा की बसों का इंतजाम किया जा रहा है। प्रबंध निदेशक डॉ. राजशेख ने बताया कि निगम इस संबंध में जल्द ही आदेश जारी करेगा। संचालन इकाई के उच्च अफसर ने बताया कि प्रदेश भर में पिछले रक्षाबंधन पर 11 लाख महिलाों ने बस सफर किया था। उम्मीद है, कि इस साल एक लाख महिलाएं अधिक बस सफर करेंगी। इस संबंध में प्रदेश भर के क्षेत्रीय प्रबंधक, डिपो के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक एवं कार्यशाला के सेवा प्रबंधकों तैयारी करने के निर्देश दिए गये हैं। उधर, निगम के प्रवक्ता अनवर अंजार ने बताया कि रक्षाबंधन पर लखनऊ, दिल्ली एवं गाजियाबाद से पूर्वांचल वाराणसी, जौनपुर, इलाहाबाद, गाजीपुर, मऊ, आजमगढ़, देवरिया, गोरखपुर, बस्ती, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, बलरामपुर, बहराइच, गोंडा आदि की नॉन स्टाप सेवा की बसों का संचालन होगा। इसके लिए लखनऊ, कानपुर एवं गाजियाबाद से बसें दिल्ली जाएंगी। अफसर, कर्मचारी अवकाश निरस्त प्रबंध निदेशक ने रक्षाबंधन के मद्देनजर 13 से 18 अगस्त तक चलने वाली बसों के चलते अफसरों एवं कर्मियों के अवकाश को निरस्त कर दिए हैं। क्षेत्रीय प्रबंधक एवं सेवा प्रबंधक को भेजे गये आदेश में कहा गया कि अधिकारियों, पर्यवेक्षकों, चालकों, परिचालकों एवं अन्य कर्मचारियों को इस अवधि में कोई भी अवकाश, साप्ताहिक विश्राम अवकाश स्वीकृत नहीं किया जायेगा। यहीं नहीं, कोई अधिकारी अपना कार्य क्षेत्र इस अवधि में नही छोडे़गा। चालकों, परिचालकों, कार्यशाला व संचालन शाखा के कर्मचारियों व पर्यवेक्षकों का ड्यूटी रोस्टर तैयार कर उसे अवगत कराते हुए नोटिस बोर्ड पर चस्पा कर दिया जाये। इस अवधि में अनुबंधित बसों का शत-प्रतिशत संचालन सुनिश्चित किया जाये तथा कोई भी अवकाश स्वीकृत न किया जाये। चेकिंग दस्ते रूट पर सक्रिय रह कर बसों की जांच करेंगे।
प्रोत्साहन योजना लागू परिवहन निगम ने 13 से 18 अगस्त तक छह दिन निगम की बस का संचालन करने वाले चालकों, परिचालकों के लिए प्रोत्साहन योजना भी शुरू की है। ग्रामीण (अंतर्जनपदीय) छह दिन की अवधि में न्यूनतम 1800 किलोमीटर के संचालन पर 1200 रुपयें, उपनगरीय में छह दिन की अवधि में न्यूनतम 1500 किलोमीटर के संचालन पर 1200 रुपये और नोएडा, ग्रेटर नोएडा डिपो, नोएडा क्षेत्र में छह दिन की अवधि में न्यूनतम 1500 किलोमीटर के संचालन पर देय प्रोत्साहन की धनराशि 1200 रुपये प्रोत्साहन के रूप में दी जायेगी। इसके अलावा बस स्टेशनों पर रक्षाबंधन के पर्व पर तैनात किये गये कार्मिकों व पर्यवेक्षकों के लिये गाजियाबाद क्षेत्र को 15,000, मुरादाबाद, मेरठ, बरेली एवं लखनऊ को 10-10 हजार एवं सहारनपुर, आगरा, अलीगढ़, कानपुर, इटावा क्षेत्रों को 5-5 हजार की धनराशि बस स्टेशनों की संख्या के दृष्टिगत स्वीकृति प्रदान की जाती है।


प्रदेश में लगेंगे 22 करोड़ पौधे:योगी

अलीगढ । भारत छोड़ो आंदोलन 'अगस्त क्रांति' की 77वीं वर्षगांठ पर शुक्रवार को प्रदेश में 22 करोड़ पौधरोपण की तैयारियां पूरी कर लगी गई हैं। कांसगंज में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 'पौधरोपण महाकुंभ' का शुभारंभ करेंगे। राज्यपाल कासगंज के सोरो ब्लॉक के ग्राम चंदनपुर घदियारी में गंगा वन में और मुख्यमंत्री लखनऊ के जैतीखेड़ा में हरिशंकरी का पौधा रोपेंगे। इसके अलावा सीएम प्रयागराज में परेड ग्राउंड में एक ही स्थान से लगातार 8 घंटे तक सर्वाधिक पौधों का नि:शुल्क वितरण कर विश्व रिकॉर्ड बनाएंगे। रिकॉर्ड को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी शामिल कराने की तैयारी है। लोकभवन में गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में वन एवं पर्यावरण मंत्री दारा सिंह ने चौहान ने बताया कि पौधरोपण कार्यक्रम को प्रदेश के 822 ब्लॉक, 58924 ग्राम पंचायत व 652 नगर निकायों से जोड़ने के लिए 'माइक्रो प्लान' बनाया गया है। इसके तहत ग्रामीणों व किसानों और को उनकी रुचि व जरूरत के मुताबिक पौधों की प्रजाति उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने बताया कि पौधरोपण कार्यक्रम के लिए मुख्यमंत्री ने आकस्मिक निधि से 100 करोड़ रुपये उपलब्ध कराए हैं। पौधरोपण कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सभी विधायक व मंत्रियों को अपने-अपने क्षेत्र में सहयोग देने को कहा गया है। वन मंत्री ने बताया कि विभाग रोपे गए पौधों की 'प्लांटेशन मॉनिटरिंग सिस्टम', 'नर्सरी मैनेजमेंट सिस्टम' और 'मोबाइल एप' के जरिए की प्रगति देखी जाएगी। पौधों की जियो टैगिंग भी की जाएगी। प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पंजीकृत किसानों और विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को भी पौधरोपण अभियान के साथ जोड़ा जा रहा है। पौधों की सही देखभाल के लिए 'ट्री-गार्जियन' भी तैयार कराए गए हैं।


255वाहन मालिकों को संभागीय नोटिस

रायबरेली । 255 वाहन मालिकों को नोटिस, होगी कार्रवाई महराजगंज। निर्धारित समय पूरा होने के बाद भी वाहन का टैक्स नहीं जमा करने वाले 255 वाहन मालिकों को उप संभागीय परिवहन कार्यालय ने नोटिस जारी कर 15 दिन में टैक्स जमा करने का निर्देश दिया है। एआरटीओ आरसी भारतीय ने बताया कि जिले में संचालित होने वाले 255 वाहन मालिकों पर करीब 35 लाख रुपये बकाया है। विभाग की ओर से बार-बार सूचना देने के बाद भी ये वाहन मालिक टैक्स जमा नहीं करा रहे हैं। ये वाहन मालिक 15 दिन में बकाया टैक्स जमा नहीं करते हैं तो विभागीय कार्रवाई करेगा।
एआरटीओ की वेबसाइट फेल, आवेदकों को हुई परेशानी
फोटो – विभाग का पोर्टल ने भी दिया साथ महराजगंज। एआरटीओ कार्यालय में विभागीय वेबसाइट गुरुवार को नहीं खुली, जिससे दूर-दराज से ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आए करीब 115 लोग निराश होकर लौट गए। जानकारी के अनुसार नियमित लाइसेंस बनवाने के लिए 125 से 150 लोग आते है। गुरुवार को इसके लिए 113 लोग पहुंचे थे जबकि फिटनेस के लिए 8 वाहन मालिकों ने आवेदन किया था। वहीं, 115 वाहनों का रजिस्टेशन किया जाना था। लेकिन सुबह से परिवहन विभाग की वेबसाइट नहंी खुली, जिससे इन जरूरतमंदों को परेशानी झेलनी पड़ी। कर्मचारियों ने बताया कि विभाग की साइट नहीं खुलने के कारण वाहन पोर्टल व सारर्थी पोर्टल पर काम नहीं हो सका। एआरटीओ कार्यालय पर नौतनवां क्षेत्र से लाइसेंस बनवाने आए राजेश सिंह व सौरभ चौधरी ने कहा कि पहले बीएसएनएल की सेवा खराब होने से समस्या आ रही थी। अब विभाग की की पोर्टल व वेबसाइट में खराबी है। एआरटीओ आरसी भारती ने कहा कि मुख्यालय स्तर से ही विभागीय बेवसाइट न चलने से कार्य प्रभावित हो रहा है। लाइसेंस, फिटनेस, वाहनों के रजिस्टेशन का कार्य नहीं किया जा सका है। लगातार संपर्क किया जा रहा है वेबसाइट संचालित होते ही कार्य शुरू होगा।


एमआरएफ के साथ व्यापारिक रिश्ते खत्म

नई दिल्ली । जम्मू कश्मीर में धारा 370 समाप्त करने के भारत सरकार के फैसले से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। इमरान खान संसद में अपनी हताशा पूरी दुनिया देख चुकी है। बतादें कि बौखलाहट में सोमवार को पाकिस्तान ने भारत के साथ अपने राजनयिक रिश्तों को कम करने तथा भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापार पर पूरी तरह से बंद करने का फैसला किया था। हालांकि पाकिस्तान के इस फैसले से भारत से अधिक उसी का नुकसान है। इस बीच कई लोगों की मन की बात सामने आ रही है। इसी बीच मशहूर अंतराष्ट्रीय पहलवान बबीता  ने पाकिस्तान के इस फैसले पर चुटकी ली है। उन्होंने ने ट्वीट करते हुए लिखा, एक और बडी खबर – पंक्चर वाले ने MRF के साथ व्यापारिक रिश्ते खत्म किए।


बबीता का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। खबर लिखे जाने तक इसे 10 हजार से अधिक  लोग रिट्वीट कर चुके हैं और 47 हजार से अधिक लोग लाइक कर चुके हैं। फोगाट के इस ट्वीट पर खबर लिखे जाने तक करीब डेढ़ हजार लोग कमेंट कर चुके हैं। एक ट्वीटर यूजर ने लिखा, 'फिर तो कैंची, पंक्चर चिपकाने वाली गोंद, पुरानी ट्यूब का बिजनेस भी डाउन हो जाएगा, अब पंक्चर का मल्टीस्टोरी मॉल बंद हो जायेगा, सऊदी वालो अब तो ऊंट भेज दो क्योंकि पंक्चर का बिजनेस तो जन्नत के रास्ते पर है।' एक अन्य ट्वीटर यूजर ने लिखा, 'छोरी धाकड़ है धाकड़ है छोरी धाकड़ है।


महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिले:मेनका

महिला समूहों द्वारा उत्पादित सामान को मलेगा बाजार।


सुलतानपुर। सांसद मेनका संजय गाँधी ने कहा कि महिला सशक्त होगी, तो परिवार सशक्त होगा। परिवार सशक्त होगा, तो समाज सशक्त होगा। इस अवधारणा को दृष्टिगत रखते हुए महिलाओं को प्रशिक्षित कर उन्हें सशक्त बनाया जायेगा। सांसद मेनका संजय गाँधी आज यहां ब्लाक जयसिंहपुर के ग्राम गूरेगांव में हीरो साइकिल एवं क्षितिज एजूकेशन रूरल डेवलपमेन्ट के तत्वावधान में आयोजित महिला स्वास्थ्य एवं सुरक्षा की एक पहल नामक कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित कर रही थी। उन्होंने क्षितिज एजूकेशन रूरल डेवलपमेन्ट सोसायटी द्वारा महिलाओं के विकास के लिये किये जा रहे कार्यों की प्रसंशा की तथा कहा कि उनके इस कार्य में शासन एवं प्रशासन का भरपूर सहयोग मिलेगा। सांसद ने हीरो साईकिल के एमडी पंकज गुंजाल के द्वारा ग्रामीण महिलाओं के लिये सिनेटरी नैपकिन तैयार करने वाली बड़ी मशीन का सहयोग क्षितिज संस्था को किये जाने के लिये सराहना की, कहा कि इससे सिनेटरी नैपकिन का उत्पादन 10 गुना बढ़ जायेगा, जिससे जहां एक और महिला समूहों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी वहीं दूसरी ओर दूर दराज की महिलाओं तक सिनेटरी नैपकिन की उपलब्धता सुनिश्चित होगी। जिससे उनके स्वास्थ्य एवं सुरक्षा की सम्भावना प्रबल होगी। कार्यक्रम को सम्बोधित करती हुई सांसद मेनका संजय गाँधी ने महिलाओं को प्रेरित किया कि वह अपने घर के पुरूषों को धान, गेहूं, गन्ना की खेती के साथ ही मेहन्दी, बाॅस, सेब, मशरूम आदि के उत्पादन पर जोर देने को कहा, ताकि उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो और उनका जीवन स्तर ऊंचा उठ सके। किसान सम्मान निधि के वितरण में जनपद का स्थान सर्वउत्कृष्ट आने पर तथा विद्युत कार्य में अमूल-चूल परिवर्तन लाने पर जिलाधिकारी की सराहना की।जिलाधिकारी सी इन्दुमती ने सांसद मेनका संजय गाँधी को आश्वस्त करते हुए कहा कि महिलाओं के सशक्तिकरण के लिये हर सम्भव प्रयास किये जायेंगे। महिला समूहों को एनआरएलएम के माध्यम से प्रशिक्षित कराया जायेगा। महिलाओं द्वारा तैयार सामान की बिक्री व्यवस्था हेतु एक बाजार भी मुहैया करायी जायेगी, ताकि उनके द्वारा तैयार सामान की बिक्री के लिये लखनऊ अथवा दिल्ली का सहारा न लेना पड़े। 


इस अवसर पर सांसद ने घातक विद्युत दुर्घटना में पीड़ित 08 परिवारों को क्षतिपूर्ति भी मुहैया करायी। कुशुम पत्नी स्व0 राकेश कुमार, निवासी ग्राम सैदपुर को 04 लाख, रसिला पत्नी स्व0 राम सुमेर, ग्राम भुलकी को 04 लाख, रसिला पत्नी स्व0 राम सुमेर, ग्राम भुलकी को 04 लाख, कीर्ती ग्राम बिही निदूरा को 03.5 लाख, मो0 जावेद ग्राम लोधेपुर को 05 लाख, राम तीरथ ग्राम महदेवा को 05 लाख, राम सुन्दर ग्राम चैकिया को 04.3 लाख, सोभावती ग्राम हनुमानगंज को 05 लाख छतिपूर्ति धनराशि के चेक प्रदान किये।


राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक

नई दिल्ली। कैबिनेट सचिव श्री पी. के. सिन्‍हा की अध्‍यक्षता में कल राष्‍ट्रीय संकट प्रबंधन समिति (एनसीएमसी) की बैठक हुई। इस बैठक में महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल और गुजरात में बाढ़ की स्थिति की समीक्षा की गई।कैबिनेट सचिव ने वर्तमान स्थिति, तैयारी, बचाव और राहत कार्यों का जायजा लिया और राज्‍यों को अविलंब सहायता देने का निर्देश दिया। इन राज्‍यों में एनडीआरएफ की 55 टीमें तैनात है और आज रात या कल सुबह तक 19 अतिरिक्‍त टीमें प्रभावित क्षेत्रों में पहुंच जाएंगी। सेना की 16 टीमों और नौसेना तथा तटरक्षक बल की 30 टीमों को तैनात किया गया है। राहत और बचाव कार्यों के लिए हेलिकाप्‍टरों, विमानों और नावों का संचालन किया जा रहा है। महाराष्‍ट्र और कर्नाटक में अतिरिक्‍त नावों की तैनाती की गई है।


भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने अगले दो दिनों में गुजरात, महाराष्‍ट्र और तटवर्ती कर्नाटक में भारी बारिश का अनुमान व्‍यक्‍त किया है। प्रभावित राज्‍यों को राज्‍य आपदा मोचन कोष से अग्रिम धनराशि देने का निर्देश दिया गया है। फसल बीमा के दांवों को निपटाने के लिए संबंधित एजेंसियों को तेजी से कार्य करने की सलाह दी गई है।इस बैठक में गृह मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय, जल संसाधन मंत्रालय, एनडीआरएफ, एनडीएमए तथा केंद्रीय जल आयोग के वरिष्‍ठ अधिकारी उपस्थित थे। राज्‍य सरकारों के मुख्‍य सचिवों तथा अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारियों ने वीडियो कांफ्रेस के जरिए इस बैठक में भाग लिया।


अमेरिकी सचिव,भारत-भूटान यात्रा करेंगे

वाशिंगटन (एजेंसी)।  11 अगस्‍त से 17 अगस्‍त तक अमेरिकी विदेश उप सचिव जॉन जे सुलिवन भारत और भूटान की यात्रा पर होंगे। अमेरिकी विदेश विभाग ने अपने एक बयान में कहा है कि इस यात्रा का मकसद थिम्‍पू और नई दिल्‍ली के साथ संबंधों को और प्रगाढ़ बनाना और विस्‍तार के लिए नए आयामों की तलाश करना है।
अमेरिकी विदेश विभाग का कहना है कि व्‍यापाक और बहुआयामी अमेरिका-भारत रणनीतिक साझेदारी को आगे बढ़ाने के मकसद से नई दिल्‍ली की यात्रा करेंगे। यह दोनों देशों के बीच लोकतांत्रिक मूल्‍यों, आर्थिक विकास और कानून के शासन के लिए साझा प्रतिबद्धता पर अाधारित है। इस यात्रा के दौरान सुलविन नई दिल्‍ली में विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात करेंगे। वह एक अमरिका-भारत मंच को भी संबोधित भी करेंगे।
सुलिवन की यह आगामी यात्रा ऐसे वक्‍त हो रही है, जब भारत सरकार ने अनुच्‍छेद 370 को निरस्‍त करके जम्‍मू-कश्‍मीर को विशेष राज्‍य का दर्जा समाप्‍त कर दिया है। इससे पड़ोसी मुल्‍क पाकिस्‍तान से संबंध और तनावपूर्ण हो गए हैं। सीमावर्ती राज्‍य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित किया गया है। भारत के फैसले से बौखलाए पाकिस्‍तान ने इस कदम को ख‍ारिज कर दिया है। पाकिस्‍तान का कहना है कि वह इसके विरोध में सभी विकल्‍पों पर विचार करेगा। इसके साथ ही पाकिस्‍तान ने भारत के साथ सभी द्विपक्षीय व्‍यापार गतिविधियों को निलंबित कर दिया है।


बारिश की वजह से नहीं खेला गया मैच

नई दिल्ली। भारत व वेस्टइंडीज के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मुकाबला गयाना के प्रोवीडेंस स्टेडियम पर बारिश की वजह से पूरा नहीं खेला जा सका। बारिश की आंख-मिचौली के बीच इस मैच को आखिरकार रद कर दिया गया। इस मैच में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए वेस्टइंडीज की टीम ने 13 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 54 रन बनाए। इसके बाद बारिश की वजह से आगे का मैच पूरा नहीं हो पाया।


गयाना में बारिश की वजह से इस मैच को निर्धारित समय से दो घंटे की देरी से शुरू किया गया और मैच को 43-43 ओवर का कर दिया गया। मैच शुरू भी हुआ लेकिन 5.4 ओवर के बाद एक बार फिर से बारिश शुरू हो गई और मैच के ओवर को घटाकर 34-34 ओवर का कर दिया गया। इसके बाद 13 ओवर तक खेल जारी रहा, लेकिन फिर ऐसी बारिश हुई कि अंपायर और मैच रेफरी को इसे रद करने का फैसला करना पड़ा। भारत व वेस्टइंडीज के बीच वनडे सीरीज का दूसरा मुकाबला अब 11 अगस्त को खेला जाएगा।


सैनिक:प्रेमिका के लिए पत्नी की हत्या

रांची | दीपाटोली आर्मी कैंट में तैनात जवान देशपाल अठावले ने अपनी पत्नी मनीषा अठावले की हत्या अवैध संबंध का विरोध करने के कारण कर दी। यह आरोप मृतका के बड़े भाई शरद ने लगाया है। दूरभाष पर हुई बातचीत में शरद ने अपने जीजा देशपाल अठावले पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि उसके जीजा का चाल-चलन ठीक नहीं था। दूसरी युवती से उसका अवैध संबंध था। इस बात की जानकारी जब मनीषा को मिली तो उसने इसका विरोध किया। इस बात को लेकर दोनों के बीच झगड़े होते थे।


अधिवक्ता:खड़े रहकर पैरवी क्यों?

राणा ओबराय
कोर्ट में वकील को क्यों खड़े रहकर पैरवी करनी चाहिए!मुद्दा अधिवक्ता की गरिमा से है संबंधित!

नयी दिल्ली । कोर्ट में वकील को क्या खड़े रहकर पैरवी करनी चाहिए? BCI करेगी फैसला, जानिए पूरा मामला
ऐसा कोई कानून या नियम नहीं है कि कोर्ट की कार्यवाही या पैरवी के दौरान वकील खड़े ही रहेंगे। अदालत में पेश होने के लिए वकीलों के खड़े रहने के लिए कोई नियम नहीं है।
अदालतों में वकील अक्सर जज के सामने घंटों खड़े रहते हैं। अदालत के कामकाज के दौरान खड़े रहना वकीलों की आदत में शुमार हो गया है, लेकिन लुधियाना के एक वकील ने इस प्रथा के खिलाफ आवाज़ उठाई है।
लुधियाना में जिला अदालतों में प्रैक्टिस करने वाले अधिवक्ता हरिओम जिंदल ने इस प्रथा के खिलाफ राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का दरवाजा खटखटाया। वे यह लड़ाई महीनों से लड़ रहे हैं और अब जाकर बार काउंसिल ऑफ इंडिया (BCI) ने उन्हें पत्र लिखकर सूचित किया है कि यह मुद्दा बार की बैठक में उठाया जाएगा। ऐसा कोई कानून या नियम नहीं है कि कोर्ट में पैरवी के दौरान वकील खड़े ही रहेंगे। अदालत में पेश होने के लिए वकीलों के खड़े रहने के लिए कोई नियम नहीं है। एनएचआरसी (राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग) ने वकील की इस शिकायत को बार काउंसिल ऑफ इंडिया को भेज दिया और उचित कार्रवाई के लिए मामले को देखने को कहा।
अधिवक्ता हरिओम जिंदल की आरटीआई के सवाल के जवाब में बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने उन्हें पत्र दवारा सूचित किया है कि चूंकि यह नीतिगत मुद्दा है इसलिए इस मुद्दे पर बार काउंसिल में फुल हाउस में विचार किया जाएगा। पत्र में कहा गया है कि इस मामले को सामान्य परिषद के समक्ष रखा जाएगा।
जिंदल के अनुसार, न्यायाधीशों और अधिवक्ताओं की मूल योग्यता में कोई अंतर नहीं है। बीसीआई ने जिंदल की आरटीआई के सवाल के जवाब में बताया कि इस मुद्दे पर नियम खामोश हैं। एनएचआरसी के समक्ष अपनी शिकायत में उन्होंने कहा कि लोक सेवकों द्वारा अधिवक्ताओं के साथ व्यवहार करने के तरीकों में लगातार गिरावट आई है। न्यायाधीशों, अदालतों में और विभिन्न प्राधिकरणों के माध्यम से प्राप्त जानकारी से यह स्पष्ट है कि कोई नियम नहीं है। जिंदल के अनुसार यह मुद्दा हर अधिवक्ता की गरिमा और सम्मान से संबंधित है।


किसी परेशानी से छुटकारा मिलेगा:मिथुन

राशिफल


1-मेषराशि(Aries)आज का दिन अच्छा रहेगा। आय में वृद्धि होगी। परिचित व्यक्ति पर अधिक भरोसा ना करे धोखा दे सकता है।लड़ाई झगड़ा से निजात पाने की कोशिश करें।कोई अपका पुराना मित्र आपके कारोबार में तरक्की के लिए मदद करेगा।रोजाना अछि सेहत के लिये सुबह की सैर अवश्य करे।माता पिता की सेवा करके अच्छा फल प्राप्त करें।


2-वृषराशि(tauras)- परिवार के साथ समय अच्छा गुजरेंगा।बच्चो के भविष्य बारे उचित सोचे।गरीबों की मदद करके परमार्थ कमाइए।आज आपका कोई नजदीकी रिश्तेदार आपकी मदद करेगें।धनलक्ष्मी का योग बन रहा है।आज लम्बित पडी समस्या का समाधान होगा।यात्रा का योग नहीँ बन रहा हैं सावधानी बरतनी चाहिए।
3 -मिथुन राशि (gemini)-आपके विचार स्करातमक हो।आप कभी नकारात्मक ना सोचे।आज गरीबों की मदद करके परमार्थ कमाइए।अचानक अटका हुआ धन प्राप्त होगा।किसी परेशानी से छुटकारा मिले।क्रोध व इर्ष्या से निजात पाने की कोशिश करें। आज यात्रा का योग सुभ होगा।सुबह की सैर अवश्य करें।


4 -कर्क राशि ( cancer)-आज अचानक धनलाभ का योग है।छोटी छोटी बातों पर गौर करें व बिना बात किसी से लड़ाई झगड़ा ना करे।कोई पुराना मित्र आपके कारोबार मे आपकी मदद करेगा।आपकी पुत्री के लिये अच्छा रिश्ता आएगा।अहंकार से निजात पाने की कोशिश करें।माता पिता की सेवा करना आपका धर्म है इसे पूरी तरह से निभाए ।
5 -सिंह राशि(leo)- आज कुछ ऐसा होगा जिससे आपको सफलता प्राप्त होगी।धनलाभ का योग है।कोई उधारी वापिस मिल सकती है।अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।समय समय पर अपने डाक्टर से जांच करवाये।रोजाना सुबह की सैर अवश्य करें।क्रोध व लालच से निजात पाने की कोशिश करें।बुजुर्गो की सेवा करना आपका कर्तव्य है।दायित्व निभाए।
6 -कन्या राशि( virgo)-आज का दिन भाग्यशाली होगा।मनचाहा कार्य सफल होगा।अचानक अटका हुआ उधार वापस मिल सकतीं है।कोई रिस्तेदार आपके कारोबार में मदद करेगा।अपका व्यवहार अपका दर्पण है सबसे अच्छा व्यव्हार करे।आपके पुत्र को सरकारी नौकरी मिलने कायोगहै।योगा व सुबह की सैर अवश्य करें नियमितताअपनाए।


7–तुला राशि (libra)- किसी अनजान व्यक्ति से दुरी बनाएँ रखना उचित होगा।कोई अपका करीबी मित्र आपको धोखा देने की कोशिश करेगा।सावधानी बरते।अपने व्यवसाय की सफलता के राज अपने निजी व्यक्ति को ही बताए।अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।धनलाभ के योग है।क्रोध व अहंकार से निजात पाने की कोशिश करें। रोजाना कसरत या व्यायाम करना जरुरी है। 
8वृश्चिक राशि(scorpion)-आपका व्यवहार अन्य लोगों के लिये आदर्श साबित होगा।दूर स्थान की यात्रा लाभदायक सिद्ध होगी।धन लाभ का योग है।आज पुराने मित्रों से मुलाकत अच्छी-खासी लाभकारी होगी।छोटी छोटी बातों पर गौर करें व अपने क्रोध पर नियंत्रण रखें।गरीब रिश्तेदारों की मदद अवश्य करें।सुबह की सैर अवश्य करें।
9धनु राशि(Sagittarius)- अधूरे कार्य पूरे करे।रिश्तेदारों से अच्छा व्यवहार करे।कोशिश करें कि आप उन्हें नाराज ना करे।क्रोध व अहंकार को त्यागने की कोशिश करें।कोई रिस्तेदार आपकी मन से मदद करेगा।आज धन लाभ का योग है ।अपने ब्च्चॉ के भविष्य की चिंता अवश्य करे।आज यात्रा टालना आपके लिए हितकारी होगा।
10मकर राशि(capricon)-आपका व्यवहार सबके साथ मीठा और सौहार्दपूर्ण होना चाहिये।रेगुलर स्वास्थ्य की जांच अति आवश्यक है डाक्टर की सलाह की पालना अवश्य करें।सबको साथ लेकर चलने की आदत बनाये।योगा या व्यायाम करने से सेहत ठीक रखें।रोजाना सुबह की सैर अवश्य करें।
11कुम्भ राशि(Aquarius)-सबसे मीठा और अच्छा व्यवहार करे।धनलाभ का योग है।अटकी हुई उधार वापस मिल सकतीं है। नया कार्य शुरू करने से पहले विचार विमर्श करे।अनुभवी व्यक्तियों की सलाह अनुसार कार्य करे।योग व सुबह की सैर अवश्य करें।सेहत के लिए सावधानी बरतनी चाहिए।
12-मीन राशि ( pisces)-अपने माता-पिता की सेवा करना अपका दायित्व है।कोई करीबी आपकी मदद की कोशिश करेगा।अपने ब्च्चॉ के भविष्य बारे कदम उठायें।आज कारोबारी यात्रा लाभदायक होगी। आपकी बेटी के लिये अच्छा वर योग है।विवाह की तैयारियाँ शीघ्र करे।क्रोध व अहंकार त्यागने की कोशिश करें। धनलाभ का योग है।


प्राकृतिक-चिकित्सा, चिकित्सा-दर्शन

प्राकृतिक चिकित्सा (नेचुरोपैथी) एक चिकित्सा-दर्शन है। प्राकृतिक चिकित्सा के अन्तर्गत रोगों का उपचार व स्वास्थ्य-लाभ का आधार है। जिसमें किसी प्रकार की औषधि अथवा दवाई की आवश्यकता नहीं पड़ती है। यह हमारे रोजमर्रा के आहार और खान पान पर ही निर्भर रहता है। 'रोगाणुओं से लड़ने की शरीर की स्वाभाविक शक्ति' होती है जिसको सद्दड़ और अधिक प्रभावशाली बनाने के प्रयास किए जाते हैं। प्राकृतिक चिकित्सा के अन्तर्गत अनेक पद्धतियां हैं जैसे - जल चिकित्सा, होमियोपैथी, सूर्य चिकित्सा, एक्यूपंक्चर, एक्यूप्रेशर, मृदा चिकित्सा आदि। यह सभी चिकित्सा पद्धति औषधि मुक्त है। इसमें प्राकृतिक अवयवों को ही आधार मानकर उन्हीं के आधारभूत रोग अथवा समस्या को समझा जाता है। उसके समाधान के लिए प्राकृतिक उपकरण, आहार अथवा क्रियाओं को उपयोग में लाया जाता है। प्राकृतिक चिकित्सा के प्रचलन में विश्व की कई चिकित्सा पद्धतियों का योगदान है; जैसे भारत का आयुर्वेद तथा यूरोप का 'नेचर क्योर'।


प्राकृतिक चिकित्सा प्रणाली चिकित्सा की एक रचनात्मक विधि है। जिसका लक्ष्य प्रकृति में प्रचुर मात्रा में उपलब्ध तत्त्वों के उचित इस्तेमाल द्वारा रोग का मूल कारण समाप्त करना है। यह न केवल एक चिकित्सा पद्धति है बल्कि मानव शरीर में उपस्थित आंतरिक महत्त्वपूर्ण शक्तियों या प्राकृतिक तत्त्वों के अनुरूप एक जीवन-शैली है। यह जीवन कला तथा विज्ञान में एक संपूर्ण क्रांति है। भारतीय पुस्तक आयुर्वेद में इस प्रकार के कई विवरणों का उल्लेख है जिसमें प्राकृतिक विधाओं के द्वारा उपचार और चिकित्सा संभव की जाती है।


इस प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति में प्राकृतिक भोजन, विशेषकर ताजे फल तथा कच्ची व हलकी पकी सब्जियाँ, अनाज, तेल ,तिलहन ,खांडसारी और विभिन्न प्रकार की वनस्पतियों के द्वारा नाड़ी तंत्र, इंद्री तंत्र ,ज्ञान इंद्री तंत्र अथवा कर्म इंद्रियों के द्वारा रोग को समझा जाता है और उसके अनुरूप ही प्राकृतिक संसाधनों के द्वारा रोग का निवारण किया जाता है। विभिन्न बीमारियों के इलाज में निर्णायक भूमिका निभाती हैं। प्राकृतिक चिकित्सा निर्धन व्यक्तियों एवं गरीब देशों के लिये विशेष रूप से वरदान है। जो व्यक्ति पहले से ही किसी रोग से ग्रसित है उसके लिए यह विशेष रूप से लाभकारी है जीवन उपयोगी है। जो व्यक्ति शल्य चिकित्सा अथवा अन्य किसी चिकित्सा पद्धति में विश्वास नहीं रखता है उसके लिए प्राकृतिक चिकित्सा सर्वश्रेष्ठ है।


महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग की कथा

मल्लिकार्जुन और महाकाल ज्योतिर्लिंगों की कथा
सूत जी कहते हैं,  मैं मल्लिकार्जुन के प्रादुर्भाव का प्रसंग सुनाता हूं। जिसे सुनकर बुद्धिमान पुरुष सब पापों से मुक्त हो जाता है। जब महाबली तारक शत्रु शिवा पुत्र कुमार कार्तिकेय सारी पृथ्वी की परिक्रमा करके फिर कैलाश पर्वत पर आए और गणेश के विवाह आदि की बात सुनकर क्रौंच पर्वत पर चले गए। पार्वती और शिव जी के वहां जाकर अनुरोध करने पर भी नहीं लौटे तथा वहां से भी 12 कोस दूर आगे चले गए। तब शिव और पार्वती ज्योतिर्मय स्वरूप धारण करके वहां प्रतिष्ठित हो गए। वे दोनों पुत्र स्‍नेह से ऐसे आतुर हो पर्व के दिन अपने पुत्र कुमार को देखने के लिए उनके पास जाया करते हैं। अमावस्या के दिन भगवान शंकर स्‍वं वहा जाते हैं और पूर्णमासी के दिन पार्वती जी निश्चय ही वहां पर रुप प्रकट करती है। उसी दिन से लेकर भगवान शिव का मल्लिकार्जुन नामक एक लिंग तीनों लोकों में प्रसिद्ध हुआ। उसमें पार्वती और शिव दोनों की शक्तियां प्रतिष्ठित है । मल्लिका का अर्थ पार्वती है और अर्जुन शब्द शिव का वाचक है। मल्लिका अर्जुन नाम के इस शिवलिंग का जो दर्शन करता है। वह समस्त पापों से मुक्त हो जाता है और संपूर्ण अभिष्‍टो को प्राप्त कर लेता है। इसमें संयश नहीं है। इस प्रकार मल्लिकार्जुन नामक द्वितीय ज्योतिर्लिंग का वर्णन किया गया। जो दर्शन मात्र से लोगों के लिए सब प्रकार का सुख देने वाला बताया गया है। ऋषि यों ने कहा प्रभु अब आप विशेष कृपा करके तीसरे ज्योतिर्लिंग का वर्णन कीजिए। सूतजी ने कहा, ब्राह्मण,जो आप श्रीमानो का संग मुझे प्राप्त हुआ। साधु पुरुषों का संघ निश्चय ही धन्य है। अतः मैं अपना सौभाग्य समझकर पापनाशिनी प्रमुख पावनी दिव्य कथा का वर्णन करता हूं। तुम लोग आदर पूर्वक सुने। अवंती नाम से प्रसिद्ध एक रमणीय नगरी है। जो समस्त देहदारियो को मोक्ष प्रदान करने वाली है। वह भगवान शिव को बहुत ही प्रिय है। परंतु उनमें और लोकपावनी है। उस पुरी में एक श्रेष्ठ ब्राह्मण रहते थे। जो शुभ कर्म परायण वेदों के अध्याय में संलग्न तथा वैदिक कर्मों के अनुष्ठान में सदा तत्पर रहने वाले थे।  घर में अग्नि की स्थापना करके प्रतिदिन अग्निहोत्र करते और शिव की पूजा में सदा तत्पर रहते थे। वह ब्राह्मण देवता प्रतिदिन पार्थिव शिवलिंग बनाकर उसकी पूजा किया करते थे। वेद प्रिय नामक ब्राह्मण देवता ज्ञान अर्जन में लगे रहते थे। इसलिए उन्होंने संपूर्ण कर्म का फल प्राप्त कर लिया। जो संतों को ही सुलभ होती है। उनके चार तेजस्वी पुत्र थे, जो पिता-माता से सद्गुणों में कम नहीं थे। उनके नाम थे देवप्रिय प्रियमेधा आदि उसके सुखदायक पुत्र भी वहां सदा ध्‍यान मे लगे रहते थे।उनके कारण वह भूमि तेज से परिपूर्ण हो गई थी। उसी समय रत्न माल पर्वत पर दूषण नामक एक धर्म विशेष में ब्रह्मा जी से वर  पाकर वेद धर्म तथा धर्मआत्माओं पर आक्रमण किया। अंत में उसने सेना लेकर उज्जैन में ब्राह्मणों पर भी चढ़ाई कर दी। उसके चार रुप प्रकट हो गए। परंतु जब उन्होंने उनको आश्वासन देते हुए कहा आप लोग भक्तवत्सल भगवान पर भरोसा रखें शिवलिंग का पूजन करके भगवान शिव का ध्यान करने लगे। इतने में ही सेना सहित दूसरे ने आकर उन्हें मार डालो वेद,बांध लो कहा,पर उन्‍होने कोई ध्यान नहीं दिया ।क्योंकि भगवान शंभू के मार्ग में स्थित है। उस दुष्ट आत्मा नहीं उनको मारने का प्रयास किया  तभी, उनके द्वारा शिवलिंग के स्थान में बड़ी भारी आवाज के साथ एक गड्ढा प्रकट हो गया। उस गड्ढे से तत्काल विकट रूप धारी भगवान शिव प्रकट हो गए। जो महाकाल नाम से विख्यात हुए। वे दुष्टों के विनाश तथा सत पुरुषों के आश्रय दाता है। उन्होंने उसे कहा अरे खल मैं तुझ जैसे दुष्टों के लिए महाकाल प्रकट हुआ हूं। तुम इन ब्राह्मणों के निकट से दूर भाग जाओ। ऐसा कहकर महाकाल शंकर ने सेना सहित दूसरों असुरो को अपनी हुंकार मात्र से तत्काल भस्म कर दिया। कुछ सेना उनके द्वारा मारी गई और कुछ भाग खड़ी हुई। परमात्मा ने दूषण का वध कर डाला। जैसे सूर्य को देखकर संपूर्ण अंधकार नष्ट हो जाता है ठीक उसी प्रकार भगवान शिव को देखकर उसकी सारी सेना अदृश्य हो गई। देवताओं की दुबिंया बजने लग गई,और आकाश से फूलों की वर्षा होने लगी। ब्राह्मणों को आश्वासन हुए स्वयं महाकाल महेश्वर शिव ने उनसे कहा मैं तुमसे अत्यंत प्रसन्न हूं वर मागो ।उनकी बात सुनकर ब्राह्मण हाथ जोड़ भक्ति भाव से भलीभांति प्रणाम करके बोले, महाकाल महादेव, दुष्टों को दंड देने वाले प्रभु आप हमें संसार सागर से मोक्ष प्रदान करें। शिव आप जनसाधारण की रक्षा के लिए सदा यही रहे। प्रभु, अपना दर्शन करने वाले मनुष्य का उद्धार करें। सूत जी कहते हैं, उनके ऐसा कहने पर उन्हें सद्गति दे भगवान शिव अपने भक्तों की रक्षा के लिए उस परम सुंदर गड्ढे में स्थित हो गए और वहां चारों ओर भूमि भगवान शिव पर महाकालेश्वर के नाम से विख्यात हुई। ब्राह्मणों का दर्शन करने से कोई दुख नहीं होता ,जिस कामना को लेकर कोई उस स्‍थान की उपासना करता है। उसे प्राप्त हो जाता है ,तथा मिल जाता है।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1.अंक-07(साल-01)
2.शनिवार,10अगस्‍त 2019
3.शक-1941,श्रावन शुक्‍लपक्ष दशवीं,विक्रमी संवत 2076
4. सूर्योदय प्रातः 5:46,सूर्यास्त 7:08
5.न्‍यूनतम तापमान 29 डी.सै.,अधिकतम-35+ डी.सै., हवा में आद्रता रहेगी!
6. समाचार पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है! सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा!
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार लोनी गाजियाबाद 201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी गाजियाबाद 201102
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275


दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...