नई दिल्ली लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
नई दिल्ली लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 4 अगस्त 2023

दिल्ली: 29 व्यावसायिक प्रतिष्ठान 24 घंटे खुलेंगे

दिल्ली: 29 व्यावसायिक प्रतिष्ठान 24 घंटे खुलेंगे   
इकबाल अंसारी  
नई दिल्ली। दिल्ली में 29 और दुकानों एवं व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को 24 घंटे खोलने की अनुमति दे दी गई है। श्रम मंत्रालय की ओर से मिले इस प्रस्ताव को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंजूरी दे दी। अब इसे उपराज्यपाल को भेज दिया गया है। सरकार का मानना है कि इससे दिल्ली की अर्थव्यवस्था बढ़ेगी और रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। जिन 29 प्रतिष्ठानों को यह मंजूरी दी गई, उनमें दुकान, रेस्टोरेंट, रिटेल ट्रेड और अन्य व्यापार शामिल हैं।
दरअसल, दिल्ली शॉप एंड इस्टेब्लिशमेंट्स एक्ट 1954 के तहत दिल्ली के श्रम मंत्रालय के पास 24 घंटे दुकानों का संचालन करने के इच्छुक 35 लोगों ने ऑनलाइन आवेदन किया था। श्रम मंत्रालय ने आवेदन पत्रों और दस्तावेजों की जांच की। इसमें पाया गया कि 35 आवेदनों में से तीन आवेदन अधूरे थे, जबकि तीन आवेदन दो बार किए गए थे। उन्हें खारिज करते हुए बाकी 29 लोगों के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई। दिल्ली में बीते दो साल में 552 दुकानों को अनुमति दी जा चुकी है।
दिल्ली सरकार ने प्रमुख रूप से चार श्रेणी की दुकानों और व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को 24 घंटे खोलने की मंजूरी दी है। शाप श्रेणी में कम्यूनिटी सेंटर, कड़कड़डूमा, ओल्ड राजेंद्र नगर, आउटर रिंग रोड, चाणक्यपुरी, डिस्ट्रिक्ट सेंटर लक्ष्मी नगर, एंबिएंस माल, वसंत कुंज, शकरपुर, रानीबाग,मेट्रो स्टेशन, सरिता विहार, मेन मार्केट राजौर गार्डेन, लक्ष्मी नगर कमर्शियल काम्प्लेक्स, टर्मिनल तीन और खान मार्केट में पैकर्स एंड मूवर्स, रेडिमेट गारमेंट, प्रोविजन स्टोर, डेयरी प्रोडक्ट की दुकानें 24 घंटे खुलेंगी।
कमर्शियल श्रेणी में डिप्लोमेटिक एन्क्लेव, उत्तम नगर आइजीआइ एयरपोर्ट पर होटल एवं रेस्तरां लाजिस्टिक्स एवं वेयर हाउस के प्रतिष्ठान खुलेंगे। रेस्तरां श्रेणी में उत्तम नगर, पश्चिम विहार और उर्दू बाजार, जामा मस्जिद में खाद्य उत्पादों की दुकान खुलेंगी। इसी तरह, रिटेल ट्रेड श्रेणी में द्वारका, प्रशांत विहार, विकासपुरी, पंजाबी बाग, कोटला मुबारकपुर, हौज खास और द्वारका सेक्टर 19 में एफएमसीजी ग्रासरी की दुकान खुलेगी।

शुक्रवार, 28 जुलाई 2023

जेल में छापेमारी, मोबाइल और चाकू बरामद

जेल में छापेमारी, मोबाइल और चाकू बरामद

आसिफ   

नई दिल्ली। दिल्ली के अति सुरक्षित माने जाने वाले तिहाड़ और मंडोली जेल में पिछले दिनों तलाशी अभियान चलाया गया, जिसमें जमीन में दबे हुए मोबाइल फोन और चाकू बरामद हुए हैं। तिहाड़ जेल में सर्च ऑपरेशन के दौरान अधिकारियों को तीन स्मार्टफोन और दो कीपैड वाले फोन मिले हैं। तिहाड़ जेल के अतिरिक्त राष्ट्रीय राजधानी के मंडोली जेल में भी तलाशी अभियान चलाया गया, जहां से मोबाइल और दम भरने के लिए बनाई गई हैंडमेड सिगरेट बरामद की गई।

तिहाड़ जेल प्रशासन के मुताबिक 25 जुलाई को जेल में एक खुफिया जानकारी के आधार पर सेंट्रल जेल नंबर 3 (तिहाड़) में तलाशी ली गई। गहन तलाशी अभियान के दौरान खुफिया सूचनाओं के आधार पर कई स्थानों पर जमीन में लगभग 2 से 3 फीट खुदाई करने के बाद मोबाइल फोन और दूसरी प्रतिबंधित वस्तुओं की बरामदगी की गई। इसमें तीन स्मार्ट मोबाइल फोन, दो कीपैड मोबाइल फोन, दो डेटा केबल, एक एडॉप्टर, एक चाकू और एक सुआ शामिल है।

इसके अलावा 26 जुलाई को सेंट्रल जेल नंबर 11 (मंडोली) में एक और तलाशी अभियान चलाया गया, जिसमें 3 सिम के साथ 3 कचौड़ा मोबाइल और दम के लिए हाथ से बने सिगरेट जैसे अन्य प्रतिबंधित सामान बरामद किए गए। मामले को आगे की जांच और कानून के अनुसार आवश्यक कार्रवाई के लिए भेज दिया गया है। अधिकारी ने बताया कि सहायक अधीक्षक सुजीत, अविश तोमर, राजेश दहिया, रविंदर यादव, राम निवास और केन्द्रीय कारागार संख्या-3 के त्वरित प्रतिक्रिया दल (क्यूआरटी) के कर्मचारी भी इस दौरान मौके पर तैनात थे।

तेजाब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध संभव नहीं

तेजाब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध संभव नहीं  

मोमिन अहमद  

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को शहर में तेजाब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने से इनकार कर दिया। उच्च न्यायालय ने कहा कि इससे उन कारोबारों तथा लोगों पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है जिन्हें वैध उद्देश्यों के लिए इसकी जरूरत पड़ती है।

उच्च न्यायालय ने दिल्ली सरकार को तेजाब की बिक्री के लिए मौजूदा नियमों तथा नियमनों को सख्ती से लागू करने तथा अपराध के लिए इसके दुरुपयोग को रोकने का निर्देश दिया। उच्च न्यायालय ने कहा कि नियमों का पालन न किए जाने या तेजाब की गैरकानूनी बिक्री के मामलों में प्राधिकारियों को अपराधियों के खिलाफ त्वरित तथा निर्णायक कार्रवाई करनी चाहिए। इसने कहा कि तेजाब की गैरकानूनी बिक्री या दुरुपयोग में शामिल पाए जाने वाले लोगों पर सख्त जुर्माना लगाकर राज्य प्राधिकारी प्रभावी तरीके से इससे निपट सकते हैं।

नियमों पर सख्ती से अमल जरूरी

दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि इस मुद्दे पर लगातार सतर्कता तथा प्रभावी कदम उठाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि एक नियामक तंत्र मौजूद है, लेकिन हमें लगता है कि और कदम उठाए जाने की आवश्यकता है। दिल्ली जहर कब्जा और बिक्री नियम 2015 में ऐसे प्रावधान हैं, जिसमें तेजाब की बिक्री ऐसे विक्रेताओं को करने की इजाजत दी गई है, जिन्हें प्राधिकरण ने लाइसेंस दिया है। लाइसेंस केवल उन आवेदकों को दिया जाता है जो निर्धारित प्रावधानों का अनुपालन करते हैं। दिल्ली हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश सतीश चंद्र शर्मा और न्यायमूर्ति संजीव नरुला की पीठ ने कहा, ‘‘इन प्रावधानों को सख्ती से लागू किया जाना चाहिए और राज्य को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि तेजाब अपराधियों के हाथों में न जाए। साल 2015 के नियमों को हटाने या पूर्ण प्रतिबंध लगाने का निर्देश देने के बजाय, हम दिल्ली सरकार को मौजूदा कानूनी रूपरेखा का उचित क्रियान्वयन सुनिश्चित करने का निर्देश देते हैं।’’

शनिवार, 15 जुलाई 2023

जहांगीरपुर में 3 बच्चों की डूबने से मौत हुई

जहांगीरपुर में 3 बच्चों की डूबने से मौत हुई

इकबाल अंसारी   

उत्तर दक्षिणी दिल्ली। दिल्ली के जहांगीरपुर में शुक्रवार को तीन बच्चों की डूबने से मौत हो गई है। तीनों एच ब्लॉक के पास नहाने गए थे। बताया जा रहा है कि घटनास्थल पर मेट्रो का काम चल रहा था, बारिश के कारण वहां झील बन गई थी। इसी में यह सभी नहाने गए थे।

पुलिस ने बताया कि तीनों दोपहर में नहाने गए थे। हमारे पास तीन बजे करीब इसकी सूचना पहुंची। मृत बच्चों की पहचान आशीष, निखिल और पीयूष के रूप में हुई है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही कि आखिर ये यहां कैसे पहुंचे और इनके साथ ये हादसा कैसे हुआ।

दूसरी तरफ बीते चार दिन से यमुना के जलस्तर में रिकॉर्डतोड़ बढ़ोतरी ने दिल्लीवालों की मुश्किलों को बढ़ा दिया है। भले ही जलस्तर अब कम हो रहा है। लेकिन संकट अभी भी बरकरार है। भारी बारिश के बाद दिल्ली में यमुना खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। नदी का उफान बरकरार है। यमुना का जलस्तर बढ़ने से कई इलाकों में हालात बिगड़ गए हैं। निचले इलाकों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है।

दिल्ली के उपराज्यपाल ने किया यमुना का दौरा

दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने आईटीओ सहित विभिन्न जगहों पर यमुना का दौरा किया। इस दौरान उपराज्यपाल ने बताया कि दिल्ली में बाढ़ के हालात से निपटने के लिए सेना, एनडीआरएफ, दिल्ली जल बोर्ड, सिंचाई एवं बाढ़ विभाग सहित दिल्ली सरकार के अन्य विभाग मिलकर युद्ध स्तर पर काम कर रहे हैं। आने वाले चार से पांच घंटे में इसका असर भी दिखने लगेगा।

गुरुवार, 13 जुलाई 2023

दिल्ली में जल आपूर्ति प्रभावित हो सकती है

दिल्ली में जल आपूर्ति प्रभावित हो सकती है

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को कहा कि यमुना के बढ़ते जल स्तर से वजीराबाद, चंद्रावल और ओखला के जल शोधन संयंत्रों के बंद होने से शहर के कुछ हिस्सों में जल आपूर्ति प्रभावित हो सकती है।

यमुना नदी का जलस्तर बृहस्पतिवार सुबह बढ़कर 208.48 मीटर तक पहुंच गया जिससे आस-पास की सड़कें, सार्वजनिक और निजी बुनियादी ढांचे जलमग्न हो गए हैं। इस वजह से नदी के करीब रहने वाले लोगों को भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

पुराने रेलवे पुल पर यमुना नदी ने बुधवार की रात 208 मीटर के चिह्न को पार कर लिया और बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे तक जल स्तर 208.48 मीटर तक पहुंच गया। केंद्रीय जल आयोग ने जलस्तर के और बढ़ने का अनुमान जताया है। उसने इस स्थिति को ‘अत्यंत गंभीर’ बताया है।

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘यमुना नदी में जलस्तर बढ़ने से आज कई जल शोधन संयंत्र बंद करने पड़े हैं। यमुना किनारे बने वजीराबाद जल शोधन संयंत्र का आज मैंने खुद दौरा किया। जैसे ही स्थिति यहां सामान्य होगी हम इसे जल्द शुरू करेंगे।’’

उन्होंने कहा कि यमुना में बढ़ते जल स्तर की वजह से वजीराबाद, चन्द्रावल और ओखला जल शोधन संयंत्रों को बंद करने पड़ रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘इस वजह से दिल्ली के कुछ इलाकों में पानी की परेशानी होगी। जैसे ही यमुना का पानी कम होगा, इन्हें जल्द से जल्द चालू करने की कोशिश करेंगे।’’

वर्षा: पानी में डूबी दिल्ली, बाढ़ के हालात बनें 

वर्षा: पानी में डूबी दिल्ली, बाढ़ के हालात बनें 

इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली। इन दिनों उत्तर भारत में हो रही भारी बारिश ने कहर बरपा रखा है। वहीं, राजधानी दिल्ली में भी बारिश से हालात खराब होते जा रहे हैं। दिल्ली में बारिश और हथिनी कुंड बैराज से पानी छोड़े जाने की वजह से यमुना नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है।

बता दें, कि यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंचने के कारण ओल्ड यमुना ब्रिज, लोहा पुल के आसपास के इलाकों में पानी भर गया है।

इसके अलावा कश्मीरी गेट इलाके में भी यमुना का पानी घुस गया है। वहीं यमुना नदी से सटे निचले इलाकों में रहने वालों को सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा गया है। साथ ही दिल्ली के निगम बोध घाट, जैतपुर, रिंग रोड आईटीओ, लोहा पुल’ और सिविल लाइन्स इलाके में बाढ़ का पानी घुसना शुरू हो गया है। 

वहीं यमुना बैंक मेट्रो स्टेशन पर प्रवेश और निकास क अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है। इसके अलावा कई वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट बंद करने पड़े हैं। बता दें राजधानी में बाढ़ के हालत होने के बीच प्रगति मैदान टनल खुल गई है। इस टनल का रिंग रोड और मथुरा रोड, इंडिया गेट आने-जाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। दरअसल 3 दिन पहले प्रगति मैदान का पानी आने के कारण टनल को बंद कर दिया था इसके बाद टनल में आने वाले पानी को रोकने के लिए एलजी ने दौरा किया था टनल बनाने वाली कंपनी ने इसमें पानी छोड़ने वाली एक अन्य कंपनी खिलाफ पुलिस में शिकायत की थी। आइए राजधानी दिल्ली के कुछ इलाकों का हाल आपको बताते हैं। 

लाल किले के पास बाढ़ जैसे हालात 

दिल्ली के लाल किले के पास बाढ़ जैसे हालात बनते जा रहे हैं। यहां एक रिक्शा चालक सीने तक गहरे पानी में रिक्शा चलाता दिखाई दिया।

बाढ़ के हालात को देखते हुए दिल्ली मेट्रो का फैसला

बाढ़ के हालात के चलते यमुना नदी के ऊपर से गुजरते समय मेट्रो की स्पीड लिमिट 30km/घंटा से अधिक नहीं होगी। DMRC ने ट्वीट किया कि यमुना के बढ़ते जल स्तर की वजह से एहतियात के तौर पर ट्रेनें नदी पर बने सभी चार मेट्रो पुलों से 30 किमी प्रति घंटे की प्रतिबंधित गति से गुजर रही हैं।

चंदगीराम अखाड़ा के निचले इलाके में बाढ़

बता दें दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर बढ़ने के बाद चंदगीराम अखाड़ा के निचले इलाके में बाढ़ के हालात बन गए हैं। 

घर छोड़ने पर लोगों ने ली फ्लाइओवर ने नीचे शरण

दिल्ली में यमुना के बढ़ते जलस्तर के चलते मयूर विहार फेज 1 के निचले इलाकों में बाढ़ का पानी घुसने की वजह से कई लोगों को अपना घर छोड़ना पड़ा है। बता दे लोगों ने फ्लाइओवर के नीचे शरण ली है। जहां लोगों को खाना बांटा जा रहा है।

वजीराबाद के निचले इलाकों में बाढ़ जैसे हालात

बता दें दिल्ली में रिंग रोड पर बाढ़ का पानी आने से आईएसबीटी कश्मीरी गेट में हिमाचल, पंजाब, चंडीगढ़, हरियाणा और उत्तराखंड से आने-जाने वाली बसों का परिचालन प्रभावित हो गया है। यहां यात्रियों को बस अड्डे तक पहुंचने में काफी दिक्कत हो रही है। बता दें यमुना नदी का जलस्तर बढ़ने के बाद वज़ीराबाद के निचले इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है, जिसकी वजह से यातायात प्रभावित हुआ है।

दो ट्रकों की टक्कर में 4 की मौत, 15 घायल

दो ट्रकों की टक्कर में 4 की मौत, 15 घायल

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली के बाहरी उत्तरी जिले में जीटीके रोड पर दो ट्रकों की टक्कर में चार लोगों की मौत हो गई और 15 अन्य घायल हो गए। पुलिस ने गुरुवार को यह जानकारी दी। पुलिस के अनुसार उन्नीस घायलों को नरेला के सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल में भेजा गया, जहां उनमें से चार को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया, दो को इलाज के लिए बालाजी एक्शन सेंटर पश्चिम विहार के एक उच्च केंद्र में रेफर कर दिया गया और पांच घायल लोगों को जहांगीरपुरी के बाबू जगजीवन राम मेमोरियल अस्पताल भेजा गया। विधानसभा घेरने निकले भाजपा नेताओं पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज अलीपुर पुलिस स्टेशन में धारा 279/304ए के तहत मामला दर्ज किया गया है और आगे की जांच चल रही है। 

पुलिस ने कहा कि उन्हें सिरसपुर जीटीके रोड के पास दो वाहनों की दुर्घटना के संबंध में लगभग 12 : 44 बजे एक पीसीआर कॉल मिली। घटना की सूचना मिलते ही टीम मौके पर पहुंची जहां पुलिस ने पाया कि अपर जीटीके हाईवे (एनएच-44) पर दो ट्रकों की टक्कर हो गई थी, जिसमें एक ट्रक कांवर यात्रियों को हरिद्वार ले जा रहा था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि प्रारंभिक जांच में यह पता चला कि दिल्ली की ओर आ रहे ट्रकों में से एक ने जीटीके रोड के केंद्रीय डिवाइडर को पार कर लिया और कांवर यात्रियों के ट्रक को टक्कर मार दी, जिसमें लगभग 20-23 कांवर यात्री यात्रा कर रहे थे। पुलिस ने बताया कि ट्रक चालक अभी भी फरार है।

रविवार, 9 जुलाई 2023

बरसात के चलते अधिकारियों की छुट्टी रद्द की

बरसात के चलते अधिकारियों की छुट्टी रद्द की

अकाशुं उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली में भारी बारिश के मद्देनजर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी सरकारी अधिकारियों की छुट्टी रद्द कर दी और उन्हें प्रभावित क्षेत्रों में जाने का निर्देश दिया। केजरीवाल ने यह भी कहा कि दिल्ली कैबिनेट के मंत्री और महापौर शेली ओबराय भी राष्ट्रीय राजधानी में समस्याग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करेंगी।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, कल दिल्ली में 126 मिलीमीटर बारिश हुई। मानसून के मौसम में होने वाली कुल बारिश का 15 प्रतिशत पानी 12 घंटे में बरसा। लोग जलभराव से काफी परेशान हुए।

आज दिल्ली के सभी मंत्री और महापौर समस्याग्रस्त इलाकों का दौरा करेंगे। सभी विभाग के अधिकारियों की रविवार की छुट्टी रद्द करके उन्हें क्षेत्र में जाने के निर्देश दिए हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि रविवार सुबह साढ़े आठ बजे तक दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 153 मिलीमीटर बारिश हुई, जो 1982 के बाद से जुलाई के महीने में एक दिन में सबसे अधिक बारिश है।

पश्चिमी विक्षोभ और मानसूनी हवाओं के बीच परस्पर क्रिया के कारण दिल्ली समेत उत्तर-पश्चिम भारत में जबरदस्त बारिश हो रही है। इसी के कारण दिल्ली में इस मौसम की पहली बहुत भारी बारिश हुई।

आईएमडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दिल्ली के प्रमुख मौसम केंद्र सफदरजंग वेधशाला ने रविवार सुबह साढ़े आठ बजे समाप्त हुई 24 घंटे की अवधि में 153 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की। इससे पहले, 25 जुलाई 1982 को दिल्ली में 24 घंटे में सबसे अधिक 169.9 मिलीमीटर बारिश हुई थी।

राजधानी में 153 मिलीमीटर बारिश दर्ज की

राजधानी में 153 मिलीमीटर बारिश दर्ज की

इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में रविवार सुबह साढ़े आठ बजे समाप्त हुई 24 घंटे की अवधि में 153 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई, जो 1982 के बाद से यहां जुलाई में एक दिन में हुई सर्वाधिक बारिश है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी।

आईएमडी के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ और मानसूनी हवाओं के कारण उत्तर-पश्चिम भारत में भीषण बारिश हुई और दिल्ली में मौसम की पहली ‘बहेद भीषण बारिश’ दर्ज की गई। आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि सफदरजंग वेधशाला में रविवार सुबह साढ़े आठ बजे तक पिछले 24 घंटे में 153 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई, जो 25 जुलाई 1982 को एक दिन में दर्ज की गई 169.9 मिलीमीटर बारिश के बाद से सर्वाधिक है।

अधिकारी के मुताबिक, शहर में 10 जुलाई 2003 को 133.4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी और 21 जुलाई 1958 को यहां अब तक की सर्वाधिक 266.2 मिलीमीटर बारिश हुई थी। मौसम विभाग ने दिल्ली में मध्यम बारिश का पूर्वानुमान लगाते हुए ‘येलो अलर्ट’ जारी किया है।

रिज, लोधी रोड और दिल्ली विश्वविद्यालय के मौसम केंद्रों पर क्रमशः 134.5 मिलीमीटर, 123.4 मिलीमीटर और 118 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। मौसम कार्यालय के अनुसार, 15 मिलीमीटर से कम बारिश ‘हल्की’, 15 मिलीमीटर से 64.5 मिलीमीटर ‘मध्यम’, 64.5 मिलीमीटर से 115.5 मिलीमीटर ‘भारी’ और 115.6 मिलीमीटर से 204.4 मिलीमीटर ‘बेहद भारी’ बारिश की श्रेणी में आती है।

वहीं, 204.4 मिलीमीटर से अधिक बारिश दर्ज होने पर इसे ‘बेहद भीषण’ बारिश की श्रेणी में रखा जाता है। भारी बारिश के कारण शहर के कई मैदानों, अंडरपास, बाजार और यहां तक कि अस्पताल परिसर में जलभराव हो गया और सड़कों पर भारी जाम लग गया।

सोशल मीडिया मंचों पर सड़कों पर घुटनों तक भरे पानी के बीच से गुजरते लोगों की तस्वीरें और वीडियो वायरल हो गए, जिसने शहर के जल निकासी बुनियादी ढांचे को लेकर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। तेज हवाओं और बारिश के कारण कई इलाकों में बिजली और इंटरनेट सेवाएं भी प्रभावित हुईं।

रविवार, 2 जुलाई 2023

अब्दुल हमीद के नाम से एक रेजिमेंट बनाएं

अब्दुल हमीद के नाम से एक रेजिमेंट बनाएं

शहीद वीर अब्दुल हमीद नाम से एक रेजिमेंट बनाए और मुस्लिम एट्रोसिटी एक्ट एससी, एसटी एक्ट की तरह से बनाए-गादरे

सत्येंद्र पवार

नई दिल्ली। परमवीर चक्र से सम्मानित शहीद वीर अब्दुल हमीद के 90 वीं जयंती समारोह कांस्टीट्यूशन क्लब दिल्ली में धूमधाम से मनाया गया।

90 वां यौमे पैदाइश एवं शहीद सम्मान समारोह का आयोजन रफी मार्ग कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में मनाया गया। जिसकी सदारत जनाब इकरार अहमद इदरीसी ने की और संचालन मो रफत आलम ने किया। संयोजक नसीर अहमद राष्ट्रीय अध्यक्ष युवा जन क्रान्ति पार्टी रहे।

बहुजन मुक्ति पार्टी के राजुद्दीन गादरे ने अपने वक्तव्य में कहा कि देश में आज देश में संविधान नाम मात्र के लिए है और न्याय व्यवस्था चरमरा गई है। देश की जीडीपी माइनस में है, लेकिन 2 से 3% की जनसंख्या वाला वर्ग सत्ता के चारों स्तंभों पर काबिज होकर एससी, एसटी, ओबीसी और अल्पसंख्यक मूलनिवासी समाज को हिंदू मुस्लिम की आग में झोंक कर सत्ता का मजा ले रहा है। जबकि मुस्लिम समाज ने पाखंडवाद ऊंच-नीच, काला गोरा, छोटा बड़ा का भेदभाव हटाने में अहम भूमिका अदा की है। 

पाकिस्तान मुस्लिम देश से भारत की लड़ाई मे लोहा मनवाया है। मुस्लिम समाज के परमवीर चक्र विजेता शहीद वीर अब्दुल हमीद ने अपने अंदर देश प्रेम की भावना से ओत-प्रोत देश के नाम कुर्बान हो गए। लेकिन अफसोस वर्तमान में खुद षड्यंत्रकारियों ने इनका ही नहीं बहुत से दिग्गजों का इतिहास से नाम ही हटा दिया। आज तक अनेको घोटाले हुए लेकिन इतिहास के घोटालों से समाज को गुमराह करने का काम किया जा रहा है। राजुद्दीन गादरे ने कहा कि बीजेपी सरकार 'सबका साथ सबका विकास' केवल एक ढोंग है। यदि वास्तव में वह मुस्लिमों के लिए कोई कानून बनाना चाहती है तो एससी-एसटी एक्ट की तरह मुस्लिम एट्रोसिटी एक्ट बनाए और आर्मी में वीर अब्दुल हमीद रेजिमेंट भी बनाएं। 

कार्यक्रम में जनाब साबिर अली पूर्व अल्पसंख्यक सांसद, जनाब जमील आलम पुत्र शहीद वीर अब्दुल हमीद, मेजर दानिश अली, श्याम जाजू पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उत्तराखंड, इकरार अहमद, समर, नसीब अहमद, इकरार अहमद, मोहम्मद जफर, एजाज अली, मोहम्मद सलाउद्दीन, कलीम आदि ने अपनी अपनी बात रखी।

बुधवार, 28 जून 2023

दिल्ली की सातों सीटों पर चुनाव लड़ेगी आप 

दिल्ली की सातों सीटों पर चुनाव लड़ेगी आप  

अकाशुं उपाध्याय  

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) ने बुधवार को कहा कि वह 2024 के आम चुनाव में दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी और लोगों को यह बताने के लिए एक अभियान चलाएगी कि राजधानी में प्रशासनिक सेवाओं पर नियंत्रण संबंधी केंद्र का अध्यादेश उनके खिलाफ है।

दिल्ली और हरियाणा के आप नेताओं के साथ बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए आप के महासचिव (संगठन) संदीप पाठक ने विपक्षी दलों के भाजपा के खिलाफ एकजुट होने की जरूरत पर जोर दिया और कहा कि यह कांग्रेस के "रवैये" पर निर्भर करता है। केंद्र ने गत 19 मई को दिल्ली में ग्रुप ए अधिकारियों के तबादले और तैनाती के वास्ते राष्ट्रीय राजधानी सिविल सेवा प्राधिकरण बनाने के लिए एक अध्यादेश जारी किया था, जिसे आप सरकार ने सेवाओं के नियंत्रण पर उच्चतम न्यायालय के फैसले के साथ धोखा बताया था।

यह अध्यादेश उच्चतम न्यायालय द्वारा दिल्ली में निर्वाचित सरकार को पुलिस, सार्वजनिक व्यवस्था और भूमि से संबंधित मामलों को छोड़कर अन्य मामलों का नियंत्रण सौंपने के बाद लाया गया था। शीर्ष अदालत के 11 मई के फैसले से पहले दिल्ली सरकार के सभी अधिकारियों का स्थानांतरण और तैनाती उप राज्यपाल के कार्यकारी नियंत्रण में थी। आप इस मुद्दे पर कई गैर-भाजपा दलों का समर्थन हासिल करने में कामयाब रही है, वहीं कांग्रेस ने अभी तक अध्यादेश की निंदा नहीं की है। पाठक ने कहा कि आप 2024 के आम चुनाव में दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है।

सोमवार, 26 जून 2023

दिल्ली के प्रगति मैदान में दिनदहाड़े लूट की

दिल्ली के प्रगति मैदान में दिनदहाड़े लूट की

इस्तखार खां   

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली से एक लूट की बड़ी वारदात सामने आई है। जहां दिनदहाड़े प्रगति मैदान टनल में बदमाशों ने हथियारों के बल पर डिलीवरी एजेंट से दो लाख रुपये लूट लिए। बता दें वह कैश लेकर कैब से गुरुग्राम जा रहे थे। फिलहाल नई दिल्ली जिले की तिलक मार्ग थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर बदमाशों की तलाश तेज कर दी है। वहीं इस घटना का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है। पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी है।

शुक्रवार, 11 जून 2021

सड़क हादसे में एक परिवार के तीन लोगों की मौत

रवि चौहान   

नई दिल्ली। दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में शुक्रवार की सुबह तेज रफ्तार से जा रहे टेम्पो ने चार लोगों को टक्कर मार दी, जिससे उनकी मौत हो गई। मृतकों में से तीन एक ही परिवार के थे। पुलिस ने बताया कि मृतकों की पहचान अशोक (30), उनकी पत्नी किरण, बेटे इशांत और एक अन्य व्यक्ति जवाहर सिंह (93) के तौर पर हुई है। यह सभी नजफगढ़ के निवासी थे। हादसा सुबह करीब सवा पांच बजे हुआ, जब ये लोग सैर करने निकले थे।

पुलिस उपायुक्त (द्वारका) संतोष कुमार मीणा ने बताया, ” अशोक का दूसरा बेटा देव गंभीर रूप से घायल हो गया और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। टेम्पो चालक की पहचान राजेश (35) के तौर पर हुई है। जिसे मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया गया।” उन्होंने बताया कि चालक टेम्पो बेहद तेज गति से और लापरवाही से चला रहा था। उसकी चिकित्सकीय जांच की जा रही है। उसके खिलाफ भादंवि की धारा 279 और 304 के तहत मामला दर्ज किया गया है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए राव तुलाराम मेमोरियल अस्पताल भेजा गया है और मामले की जांच जारी है।

मंगलवार, 8 जून 2021

दिल्ली नगर निगम के उम्मीदवारों की घोषणा की

सत्येंद्र ठाकुर   

नई दिल्ली। दिल्ली के तीन नगर निगम के विभिन्न पदों के लिए मंगलवार को भाजपा ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा की। भाजपा को तीनों नगर निगम में बहुमत हासिल है। भाजपा के प्रदश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने उम्मीदावारों की सूची जारी की। इनमें राजा इकबाल सिंह, मुकेश सुर्यान और श्याम सुंदर अग्रवाल को क्रमश उत्तर, दक्षिण और पूर्वी दिल्ली के मेयर के पद के लिए नामित किया गया है।

दिल्ली में तीनों नगर निगम के विभिन्न पदों के लिए 16 जून को चुनाव होंगे। नामंकन दाखिल करने की आखिरी तारीक आठ जून है। भाजपा ने उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) के लिए अर्चना दिलीप सिंह को डिप्टी मेयर, जोगीराम जैन को अध्यक्ष, (स्थायी समिति), विजय कुमार भगत को उपाध्यक्ष (स्थायी समिति) और छैल बिहारी गिस्वामी को सदन के नेता के पद के लिए नामित किया है।दक्षिण दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) के लिए पवन शर्मा को डिप्टी मेयर, कर्नल (सेवानिवृत्त) बीके ओबेरॉय को अध्यक्ष, (स्थायी समिति), पुनम भाटी को उपाध्यक्ष, (स्थायी समिति) और इंद्रजीत सहरावत को सदन के नेता के पद के लिए नामित किया। वहीं, पूर्वी दिल्ली नगर निगम (ईडीएमसी) के लिए किरण व्याध को डिप्टी मेयर, वीर सिंह पवार को अध्यक्ष, (स्थायी समिति), दीपक मल्होत्रा को उपाध्यक्ष, (स्थायी समिति) और सत्यपाल सिंह को सदन के नेता के पद के लिए नामित किया है।

विपक्षी दल आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के पास सीटे काफी कम है और वे भाजपा के उम्मीदवारों के लिए कोई खतरा उत्पन्न नहीं कर रहीं। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण उत्पन्न हुई स्थितियों को देखते हुए चुनाव की तारीखों में बदलाव किया जा सकता है। कोविड-19 के कारण पिछले साल भी मेयर के चुनाव में देरी हुई थी। 2022 में नगर निकाय के मौजूदा कार्यकाल के लिए पूरा होने से पहले आखिरी बार इन पदों के लिए चुनाव हो रहे हैं।

सोमवार, 24 मई 2021

दिल्ली: एक दिन में संक्रमण के सबसे कम मामले

रवि चौहान  
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 1,550 नए मामले सामने आए, जो 27 मार्च के बाद एक दिन में संक्रमण के सबसे कम मामले हैं। इस दौरान 207 मरीजों की मौत हो गयी तथा यहां संक्रमण दर 2.52 फीसद रही। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को एक बुलेटिन जारी कर इस बात की जानकारी दी।
दिल्ली में सोमवार को लगातार दूसरे दिन संक्रमण के नये मामले 2000 के नीचे तथा 27 मार्च से सबसे कम रहे। शहर में 27 मार्च को कोविड-19 के 1,558 नए मामले सामने आए थे । नवीनतम स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार 207 और मरीजों की जान चले के बाद यहां अबतक 23,409 मरीज अपनी जान गंवा चुके हैं। रविवार को कोविड-19 के 1,649 नए मामले सामने आए थे जबकि 189 मरीजों की मौत हुई थी।
उस दिन संक्रमण दर घटकर 2.42 फीसद तक आ गयी थी। शहर में बुधवार को कोविड-19 के 3,846 नए मामले सामने आए थे जबकि 235 मरीजों की मौत हुई थी, बृहस्पतिवार को 3231 नये मामले सामने आये थे और 233 मरीजों ने जान गंवायी थी तथा शुक्रवार को 3009 नये मामले सामने आये थे जबकि 252 मरीजों ने दम तोड़ दिया था। शनिवार को नये मामले घटकर 2260 रह गये थे।

दिल्ली: बिना राशन कार्ड भी गरीबों को मिलेगा राशन

हरिओम उपाध्याय  

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की दूसरी लहर को थामने के लिए लगाए गए लाॅकडाउन की वजह से रोजाना कमाकर खाने वाले गरीब लोगों को भूखे पेट ना सोना पड़े। इसलिए सरकार ने राजधानी में ऐसे लोगों को भी राशन देने का फैसला लिया था। जिनके पास अभी तक राशन कार्ड नहीं है। ऐसे लोगों के लिए इस सप्ताह पंजीकरण शुरू कर दिए जाएंगे। इसके लिए दिल्ली सरकार की वेबसाइट पर लिंक दिया जाएगा। कुछ सरकारी तकनीकी मंजूरी मिलने के बाद पंजीकरण आरंभ कर दिए जाएंगे।

सोमवार को दिल्ली सरकार की ओर से कहा गया है कि गरीबी की रेखा के तहत राशन पाने के लिए किसी भी तरह के आय प्रमाण पत्र अथवा गरीबी रेखा का प्रमाण पत्र दिखाने की जरूरत नहीं होगी। खाद्यान्न प्राप्त करने के लिए सिर्फ ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा। इसके बाद लाभार्थी को एक ई-कूपन मिलेगा। जिसे दिखाने मात्र से ही संबंधित को राशन दे दिया जाएगा। सरकार की ओर से कहा गया है कि पंजीकरण कराने के बाद जो भी व्यक्ति यह ई-कूपन प्राप्त करेगा। उसे राशन दे दिया जाएगा। सरकार की मुफ्त खाद्यान्न योजना के तहत संबंधित व्यक्ति को 4 किलो गेहूं और 1 किलो चावल प्रति व्यक्ति के हिसाब से मिलेगा। दिये जाने वाले खाद्यान्न के बदले कोई पैसा नहीं लिया जाएगा। गौरतलब है कि 3 दिन पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गरीबों को मुफ्त खाद्यान्न दिए जाने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि राजधानी दिल्ली में 17.50 राशन कार्ड से लगभग 7200000 लोगों को हर महीने राशन प्राप्त होता है। परंतु दिल्ली में ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो बाहर से आकर रोजी रोटी कमा रहे हैं। रोजाना कमाकर खाने वाले लोगों की आमदनी पर गहरा असर पड़ा है। राशन कार्ड धारकों को भी राशन देने के लिए इसी सप्ताह पंजीकरण के लिए आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

रविवार, 23 मई 2021

1,649 नए संक्रमित, 189 मरीजों की मौत: दिल्ली

सत्येंद्र ठाकुर  

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 1,649 नए मामले सामने आए हैं, जोकि 30 मार्च के बाद एक दिन में संक्रमण के सबसे कम मामले हैं। इस दौरान 189 मरीजों की मौत हो गयी। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को एक बुलेटिन जारी कर इस बात की जानकारी दी।

राजधानी में कोरोना संक्रमण की दर में भी लगातार गिरावट देखी जा रही है, जोकि अब घटकर 2.42 प्रतिशत हो गयी है। इससे पहले दिल्ली में शनिवार को कोविड-19 के 2,260 नए मामले सामने आए थे जबकि 182 मरीजों की मौत हुई थी।

शनिवार, 22 मई 2021

रविवार से युवाओं को नहीं लगेगी वैक्सीन: दिल्ली

हरिओम उपाध्याय   

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में टीके खत्म होने के कारण 18-44 आयु वर्ग के लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण केंद्रों को बंद किया जा रहा है तथा उन्होंने केंद्र से और टीके उपलब्ध कराने की अपील की।उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि रविवार से दिल्ली में युवाओं के लिए सभी टीकाकरण केंद्रों को बंद कर दिया जाएगा क्योंकि टीकों का भंडार खत्म हो गया है।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को अपने युवाओं को टीका लगाने के लिए एक महीने में 80 लाख टीकों की जरूरत है लेकिन उसे मई में केवल 16 लाख टीके मिले। दिल्ली का कोटा और कम करते हुए केंद्र जून में आठ लाख टीके ही मुहैया कराएगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी को सभी वयस्कों को टीके लगाने के लिए 2.5 करोड़ टीकों की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने केंद्र से दिल्ली का कोटा बढ़ाने और टीकों की आपूर्ति करने का अनुरोध किया।केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले कम हुए हैं। उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में करीब 2,200 मामले सामने आए और संक्रमण दर 3.5 प्रतिशत रही। मुख्यमंत्री ने देश में टीकों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए केंद्र को चार सुझाव दिए। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को 24 घंटे के भीतर देश में सभी सक्षम कंपनियों को कोवैक्सीन का उत्पादन शुरू करने का निर्देश देना चाहिए

क्योंकि भारत बायोटेक इसका फार्मूला साझा करने पर सहमत हो गई है। केजरीवाल ने कहा कि विदेशों में बने टीकों का भारत में इस्तेमाल किया जाना चाहिए और केंद्र को राज्यों की तरफ से टीके खरीदने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि विदेशी कंपनियों को भारत में टीकों के उत्पादन की अनुमति दी जानी चाहिए और केंद्र को ऐसे देशों से टीके लेने की कोशिश करनी चाहिए जिनके पास जरूरत से ज्यादा खुराक हैं।

गुरुवार, 20 मई 2021

दिल्ली में संक्रमण से मौतों की संख्या 22,579 हुईं

रवि चौहान   
नई दिल्ली। दिल्ली में एक दिन में कोविड-19 के 3,231 नए मामले सामने आए हैं। वहीं, संक्रमण से 233 और लोगों की मौत के बाद शहर में इससे जान गंवाने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 22,579 हो गई। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शहर में नमूनों के संक्रमित मिलने की दर अब 5.5 प्रतिशत है। अद्यतन स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, दिल्ली में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 3,231 नए मामले सामने आए, शहर में लगातार दूसरे दिन संक्रमण के चार हजार से कम नए मामले सामने आए हैं। चिकित्सा विशेषज्ञों का कहना है कि वैश्विक महामारी की दूसरी लहर के बीच लगा लॉकडाउन मामलों में कमी का एक बड़ा कारण है। दिल्ली में बुधवार को कोविड-19 के 3,846 नए मामले सामने आए थे और इससे 235 और लोगों की मौत हुई थी।

जहां भी दवा उपलब्ध हो वहीं से लेकर आए: एचसी

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने बुधवार को केंद्र से कहा कि वह उन कदमों की जानकारी दे जो ब्लैक फंगस के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा के आयात के लिए उठाए जा रहे हैं। बता दें कि कोविड-19 के ठीक हो रहे कई मरीजों में ब्लैक फंगस का संक्रमण देखने को मिला है और इसके इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा की देश में कमी है।
अदालत ने केंद्र सरकार से कहा कि वह, दवा की मौजूदा उत्पादन क्षमता, इसके उत्पादन के लिए लाइसेंस प्राप्त विनिर्माताओं की विस्तृत जानकारी, इस दवा के उत्पादन की क्षमता में वृद्धि और कब तक बढ़ा हुआ उत्पादन शुरू होगा, यह जानकारी मुहैया कराए। न्यायमूर्ति विपिन सांघी और न्यायमूर्ति जसमीत सिंह ने कहा कि केंद्र को अब एम्फोटेरिसिन बी दवा को, दुनिया में जहां भी उपलब्ध है, वहां से लाने के लिए कदम उठाने चाहिए। अदालत को बताया गया कि इस समय दिल्ली में म्यूकरमाइकोसिस (ब्लैक फंगस) के करीब 200 मामले हैं।

शुगर को कंट्रोल करने में फायदेमंद है 'सेब का सिरका'

शुगर को कंट्रोल करने में फायदेमंद है 'सेब का सिरका' सरस्वती उपाध्याय  खराब जीवनशैली और खानपान का नतीजा आज के समय मे अधिकतर लोग डायबि...