शनिवार, 23 अक्तूबर 2021

यूपी में 14 आईपीएस अधिकारियों का तबादला

यूपी में 14 आईपीएस अधिकारियों का तबादला   

संदीप मिश्रा   

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने अभी थोड़ी देर पहले प्रदेश के 14 आईपीएस अधिकारियों का तबादला किया है।  इसी क्रम में एक दर्जन जिलों के पुलिस कप्तान भी बदले गए हैं। प्रभावित अधिकारियों की लिस्ट इस प्रकार है –2009 बैच के आईपीएस सुधीर कुमार सिंह को आजमगढ़ से आगरा का वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बनाया गया है। बरेली के पुलिस अधीक्षक (क्षेत्रीय अभिसूचना) व 2013 बैच के आईपीएस अधिकारी अनुराग आर्य को पुलिस अधीक्षक आजमगढ़ बनाया गया है। वर्तमान पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय पुलिस महानिदेशक, लखनऊ) व 2013 के टॉपर रहे आकाश तोमर को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहारनपुर बना के भेजा गया है। वर्तमान सेनानायक, 9वीं वाहिनी – पीएसी मुरादाबाद अनुराग वत्स कोपुलिस अधीक्षक बाराबंकी बनाया गया है। अनुराग 2013 बैच के अधिकारी हैं। वर्तमान पुलिस अधीक्षक, पीएसी मुख्यालय -लखनऊ अंकुर अग्रवाल को पुलिस अधीक्षक चंदौली बनाया गया है। अंकुर 2016 बैच के अधिकारी है। अपर पुलिस अधीक्षक (एटीएस) लखनऊ जय प्रकाश सिंह को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इटावा बनाया गया है। जय प्रकाश 2016 बैच के आईपीएस हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक – आगरा मुनिराज जी को चुनाव सेल – मुख्यालय लखनऊ में पुलिस अधीक्षक बनाया गया है। वे 2009 बैच के अधिकारी हैं। पुलिस अधीक्षक पीएसी मुख्यालय लखनऊ दिनेश त्रिपाठी को पुलिस अधीक्षक उन्नाव बनाया गया है। वे 2000 बैच के आईपीएस हैं। वर्तमान में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक – सहारनपुर पद पर नियुक्त एस चेनप्पा को पुलिस अधीक्षक (वीआईपी सुरक्षा) लखनऊ बनाया गया है। वे 2009 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक – इटावा,बृजेश कुमार सिंह को पुलिस अधीक्षक एसटीएस बनाया गया है। वे 2000 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। पुलिस अधीक्षक – उन्नाव, अविनाश पाण्डेय को सेनानायक 38वीं वाहिनी पीएसी – अलीगढ़ बनाया गया है। वे 2015 बैच के अधिकारी हैं। पुलिस अधीक्षक बाराबंकी यमुना प्रसाद को पुलिस अधीक्षक क्षेत्रीय अभिसूचना (बरेली) बनाया गया है। वे 2012 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। पुलिस अधीक्षक चंदौली अमित कुमार (द्वितीय) को पुलिस उपायुक्त – पुलिस कमिशनरेट गौतमबुद्ध नगर बनाया गया है। वे 2015 बैच के अधिकारी हैं। सेनानायक 38वीं वाहिनी पीएएस अलीगढ़ का ट्रांसफर निरस्त कर डॉ अखिलेश कुमार निगम को पुलिस अधीक्षक कोओपेरेटिव सेल लखनऊ पर ही यथावत रखा गया है।

माफिया से मुक्त जमीन पर बनेंगे सरकारी आवास 

अश्वनी उपाध्याय/बृजेश केसरवानी  

लखनऊ/गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश सरकार कर्मचारियों को सस्ते आवास का तोहफा देने जा रही है। मुख्तार, अतीक और बदन सिंह बद्दो जैसे तमाम माफियाओं के कब्जे से मुक्त कराई गई भूमि पर योगी सरकार कर्मचारियों के लिए आवास बनाने की तैयारी कर रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आवास विभाग को योजना का प्रस्ताव तैयार करने का निर्देश दिया है।

माफियाओं की ध्वस्त की गई अवैध हवेलियों पर गरीबों के आशियाने बनाने की तैयारी भी तेज कर दी गई है। शुक्रवार को अधिकारियों के साथ हुई उच्चस्तरीय बैठक में सीएम ने योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने प्रदेश में माफियाओं से खाली कराई गई जमीन पर गरीबों के आशियाने जल्द तैयार करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आवास मूलभूत आवश्यकता है। हर परिवार को आवास मिलना ही चाहिए।

समूह ‘ग’ व ‘घ’ श्रेणी के कर्मचारियों को मिलेंगे मकान

माफियाओं के कब्जे से मुक्त कराई गई जमीन पर गरीबों के लिए सरकार आवास बनाएगी। समूह ‘ग’ और ‘घ’ के कर्मचारियों के लिए भी सरकार मुक्त कराई गई भूमि पर सस्ते मकान बनाएगी। मुक्त हुई भूमि पर पत्रकारों और वकीलों के लिए भी सस्ते आवास तैयार किए जाने की योजना है। सीएम ने आवास विभाग को जल्द प्रस्ताव बना कर भेजने के निर्देश दिए हैं।

धान क्रय केंद्रों को अपर जिलाधिकारी की हिदायत 
शैलेंद्र श्रीवास्तव   
आजमगढ़। अपर जिलाधिकारी आज़ाद भगत सिंह की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभागार में खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 की समीक्षा बैठक/कार्यशाला आयोजित की गयी।
कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 ने कहा कि खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 मे क्रय नीति का हर हाल में पालन सुनिश्चित किया जाए। उन्होने सभी क्रय एजेन्सियों को निर्देश दिया कि किसी भी शिकायत को गम्भीरता से लेकर उसका तत्काल निस्तारण सुनिश्चित किया जाय। उन्होने कहा कि आगामी 01 नवम्बर से प्रारम्भ हो रहे धान क्रय के लिए सभी क्रय केन्द्र प्रातः 9ः00 बजे तक अपने निर्धारित समय पर खुल जाने चाहिए।
अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 ने सभी क्रय एजेन्सियों को निर्देश दिया कि यह सुनिश्चित करें कि सभी क्रय केन्द्र समय से खुले तथा क्रय केन्द्रों पर बैनर प्रदर्शित होना चाहिए एवं बैनर में एमएसपी एवं टोल फ्री नम्बर का प्रदर्शन स्पष्ट रूप से होना चाहिए। क्रय केन्द्र की दीवार पर आवश्यक सूचनाओं के साथ वॉल पेन्टिंग सुनिश्चित होनी चाहिए। उन्होने कहा कि वर्षा से धान की सुरक्षा हेतु पर्याप्त संख्या में केन्द्र पर क्रेट्स/त्रिपाल की व्यवस्था सुनिश्चित करें। इसी के साथ ही क्रय केन्द्र पर धान की सफाई हेतु पॉवर डस्टर तथा विनोईंग फैन, दो जाली का छलना, दो इलेक्ट्रानिक कांटा एवं नमी मापक यंत्र की उपलब्धता सुनिश्चित होनी चाहिए। साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि क्रय केन्द्र पर बांटमाप विभाग से अद्यतन मुद्रांकित/सत्यापित इलेक्ट्रानिक कांटा होना चाहिए तथा क्रय केन्द्र पर धान का मानक नमूना प्रदर्शित होना चाहिए। उन्होने कहा कि क्रय केन्द्र पर खरीद हेतु पर्याप्त संख्या में बोरे उपलब्धता होनी चाहिए। धान से भरे बोरों पर निर्धारित कोड का अंकन होना चाहिए। ई-पॉप मशीन से बॉयोमैट्रिक प्रमाणीकरण द्वारा खरीद होनी चाहिए। उन्होने कहा कि क्रय केन्द्र पर जिन किसानों ने धान बिक्री किया है, उनको नियमित भुगतान करना सुनिश्चित करकें।
अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 ने निर्देश दिया कि क्रय केन्द्र प्रभारियों द्वारा किसानों के पंजीकरण प्रपत्र/आधार कार्ड/खतौनी/बैंक पासबुक की स्वप्रमाणित छायाप्रतियां एवं किसानों का मोबाइल नम्बर संरक्षित कराना सुनिश्चित करें। क्रय केन्द्र पर घटतौली या कम भुगतान की शिकायत होने पर शिकायत की जॉच कराकर शिकायत की पुष्टि होने के उपरान्त दोषी केन्द्र प्रभारी के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाये। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा0 ने निर्देश दिया कि कोविड-19 के गाइड लाइन का अनुपालन हर हाल में सुनिश्चित किया जायेगा। उन्होने कहा कि प्रत्येक क्रय सेन्टर पर सेनेटाइजर/साबुन उपलब्ध होना चाहिए। इस अवसर पर जिला खाद्य विपणन अधिकारी गोविन्द कुमार उपाध्याय, सभी क्रय एजेन्सियों के प्रभारी सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।
फैजाबाद रेलवे स्टेशन का नाम होगा अयोध्या कैंट
विशाल दत्त शर्मा   
अयोध्या/लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने आज (शनिवार को) एक और बड़ा फैसला लिया है। कैबिनेट फैसले के अनुसार फैजाबाद रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर अयोध्या कैंट करने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। इससे पहले 2018 में कुम्भ मेले के आयोजन से पहले योगी सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया था।दरअसल, सीएम योगी आदित्यनाथ ने 2018 में घोषणा की थी कि फैजाबाद को अयोध्या जनपद के नाम से जाना जाएगा। इसके बाद 6 नवंबर 2018 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या करने और जिले के प्रशासनिक मुख्यालय को अयोध्या शहर में स्थानांतरित करने को मंजूरी दी। 
उसके बाद राज्य सरकार ने पूरे अयोध्या जिले में मांस और शराब की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया था। वहीं उससे पहले अयोध्या के पांच किलोमीटर के दायरे में मांस और शराब प्रतिबंधित था। उसी साल अक्टूबर में इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया था। इसी तरह जून 2018 में 100 साल से अधिक पुराने मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन के नाम पर रखा गया था।

आज मेट्रो की येलो लाइन पर नहीं कर सकेंगे सफर  
मोहम्मद रियाज  
नई दिल्ली। दिल्ली मेट्रो की येलो लाइन से यात्रा करने वाले यात्रियों को रविवार को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। दिल्‍ली मेट्रो की ओर से दी गई जानकारी में कहा गया है कि मेट्रो की पीली लाइन पर बने मॉडल टाउन से लेकर विश्‍वविद्यालय मेट्रो स्‍टेशन तक मेट्रो में सफर नहीं कर पाएंगे। दिल्‍ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन की ओर से जारी एक ट्वीट में बताया गया कि दिल्‍ली मेट्रो की पीली लाइन पर पहले से तय किए गए मरम्‍मत कार्य के चलते मेट्रो यात्रियों को असुविधा हो सकती है। 
मेट्रो ने रविवार सुबह साढ़े 7 बजे तक यात्री सेवाओं को बंद करने का फैसला किया गया है। हालांकि इसके बाद ट्रेनें पहले की भांति चलेंगी। इतना ही नहीं जीटीबी नगर स्‍टेशन भी इस अवधि में बंद रहेगा और यहां यात्रियों को मेट्रो में सफर करने के लिए प्रवेश नहीं मिलेगा। दिल्‍ली मेट्रो की ओर से कहा गया है कि मेट्रो रेल नेटवर्क के बाकी बचे स्‍टेशनों और लाइनों पर ट्रेनों की सेवाएं सुचारू रूप से चलेंगी।

संस्था ने पेंसिल, मिष्ठान, चोकलेट का वितरण किया
बृजेश केसरवानी        
प्रयागराज। शनिवार को स्वदेश सेवा संस्थान प्रयागराज की शाखा बड़ा बघाड़ा में बच्चों के बीच रियल कॉन्सेप्ट के ओनर विनय मिश्रा ने अपना जन्मदिन मनाया। स्वदेश सेवा संस्थान के बच्चों को कॉपी, पेन, पेंसिल, मिष्ठान और चॉकलेट का वितरण किया गया और बच्चो ने बहुत ही प्रशन्नता से जन्मदिन को मनाया।
विनय ने समाज के युवाओं को संदेश दिया कि हमे भी अपने खुशियों को दूसरों के साथ बाँटना चाहिए। कार्यक्रम को सफल बनाने में एवरग्रीन एकेडमी के सोमेश सर , सूरज, तुषार, सचिन , हरिओम , प्रखर व हर्ष तोमर के उपस्तिथि में कार्यक्रम सफल हुआ।

यूपी: विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया 
विजय कुमार 
कौशाम्बी। जनपद न्यायाधीश के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में शनिवार को आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत 58 ग्राम सभा में डोर टू डोर कैम्पेन व विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया है।
सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सौजन्य से 58 ग्राम सभाओं में घर-घर जाकर विधिक साक्षरता एवं सहायता हेतू जागरूक किया गया एवं बाल विकास केन्द्र परियोजना चायल में सीडीपीओ सुदीप्ता जायसवाल, मुख्य सेविका पुष्पा, मीरा मिश्रा और आंगनबाड़ी कार्यकत्री द्वारा विधिक साक्षरता एवं जागरूकता रैली निकाली गयी।

बिहार में छठ पर्व को लेकर तैयारियां प्रारंभ हुईं
अविनाश श्रीवास्तव        
पटना। बिहार में छठ पर्व को लेकर तैयारियां प्रारंभ हो गई हैं। नगर विकास एवं आवास विभाग की कोशिश है कि व्रतियों को भगवान भास्कर को अघ्र्य देने में कोई दिक्कत नहीं हो। इसके लिए तैयारियां अभी से ही प्रारंभ कर दी गई हैं। नगर विकास एवं आवास विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि छठ महापर्व को लेकर तैयारी शुरू कर दी गई हैं। उन्होंने कहा कि पटना के पार्कों में स्थित स्थायी तालाबों को चिह्न्ति कर लिया गया है तथा अस्थायी तालाबों के निर्माण स्थलों की पहचान की जा रही है। उन्होंने बताया कि गंगा घाटों के अलावा पटना के 45 पार्कों तालाबों को चिन्हित किया गया है।

विभाग के मुताबिक राज्य के सभी नगर निकायों में मिलाकर करीब 1400 नदी घाट व तीन हजार तालाबों को साफ-सफाई कर सु²ढ़ करने के निर्देश दिए गए हैं। उनके संपर्क पथों को भी ठीक करने की कवायद प्रारंभ कर दी गई है, जिससे छठव्रतियों को आने-जाने में कष्ट नहीं हो। सभी नगर निकायों के अधिकारियों को दीपावली तक छठ घाटों तालाबों, पोखरों की अच्छे से साफ-सफाई कराने के निर्देश दिए गए हैं।

उन्होंने बताया कि नवंबर के दूसरे सप्ताह में छठ पर्व को देखते हुए दीपावली से लेकर छठ पर्व तक शहरी निकायों में विशेष साफ-सफाई अभियान चलाया जाएगा। इधर, पटना नगर निगम क्षेत्र के सभी अंचल के कार्यपालक अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे चिह्न्ति पार्कों अस्थायी तालाबों को आठ नवंबर तक किसी भी हाल में महापर्व के लिए तैयार कर लें। इन स्थायी अस्थायी तालाबों में गंगा जल डाला जाएगा।

राज्य के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने बताया कि छठ महापर्व में किसी प्रकार की दिक्कत व्रतियों को नहीं हो इसके मद्देनजर तैयारी प्रारंभ कर दी गई है। उन्होंने कहा कि सड़कों सहित नदी घाटों, तालाबों को दुरूस्त कराया जा रहा है। इसके अलावे साफ-सफाई की भी व्यवस्था भी की जा रही है। यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है। इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है। ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी।

थाना दिवस पर फरियादियों की शिकायतें सुनी

बृजेश केसरवानी

प्रयागराज। मेजा कोतवाल थाना समाधान दिवस पर आज शनिवार को एसडीएम रेनु सिंह व तहसीलदार गजराज सिंह यादव द्वारा आए फरियादियों की शिकायतों को सुना गया। इस दौरान अधिकारीगणो ने आये हुए शिकायतों को बारी बारी से सुने और निष्पक्षता से निस्तारण के लिए संबंधित को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। पुलिस से सम्बन्धित पत्रों का मौके पर ही निपटाया गया और शेष प्रकरणों में राजस्व व पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर गुणवत्ता पूर्वक निस्तारण करने के निर्देश दिए गये अधिकांश शिकायते राजस्व से जुड़े थी।वहींं अधिकारियो ने कहा कि आप सभी शिकायतोकर्ता को भी मामले की कार्यवाही से अवगत करायेगे। वहींं पुलिस मामले की शिकायतो थाना प्रभारी पंकज त्रिपाठी द्वारा सुनकर सम्बन्धित पुलिस अधिकारीगणो को त्वरित निस्तारित करने हेतु निर्देश दिए गये। शिकायतो के निस्तारण में चौकी प्रभारी जेवनिया आशीष चौबे कोहड़ार जितेन्द्र कुमार राजपूत,एसआई अतुल मिश्र एसआई संजय कुमार का. अरविन्द चौबे कानूनगो मंसूरअली,राजकुमार, लेखपाल राजकरन संदीप अन्य राजस्व एवं पुलिस प्रशासन द्वारा सहयोग किया गया।

'गंगा' की संरक्षा विषय पर संगोष्ठी का आयोजन

 बृजेश केसरवानी  

प्रयागराज। यंग लाॅयर्स एसोसिएशन, हाईकोर्ट द्वारा ‘‘मोक्षदायिनी मां गंगा की अविरल एवं निर्मल धारा व इसकी संरक्षा’’ विषय पर संगोष्ठी का आयोजन उत्तर मध्य सांस्कृतिक केन्द्र में किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में माननीय राज्यपाल, केरल श्री आरिफ मोहम्मद खान ने प्रतिभाग किया। मा. न्यायमूर्ती श्री सुधीर अग्रवाल, सदस्य नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की अध्यक्षता में कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मा. राज्यपाल केरल श्री आरिफ मोहम्मद खान ने अपने सम्बोधन में मोक्षदायिनी मां गंगा को अविरल एवं निर्मल बनाये रखने के लिए सभी लोगो से अपील की व सभी से इस कार्य में सहयोग का आह्वाहन किया। उन्होंने कहा कि विभिन्न तरीके से मां गंगा प्रदूषित हो रही है। जिसमें सिर्फ विकास ही एक कारक नहीं है। बल्कि हमारे-आपके द्वारा भी लगातार मां गंगा को प्रदूषित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हम सबको यह प्रण लेना चाहिए कि न तो हम मां गंगा को प्रदूषित करेंगे और न ही अपने सामने किसी और को प्रदूषित करने देंगे। हमें यह समझना होगा कि पृथ्वी से हमें उतना ही लेना चाहिए। जितना हम वापस कर सकें। मा.राज्यपाल जी ने कहा कि सिर्फ सरकार व एजेंसियों को कोसने से ही गंगा की सफाई नहीं हो जायेंगी बल्कि हमें खुद भी मां गंगा की अविरलता को बनाये रखने के लिए निःस्वार्थ भाव से गंगा जी की स्वच्छता के लिए कार्य करना होगा। उन्होंने गंगा के किनारों पर बसने वाली आबादी से मां गंगा को स्वच्छ, निर्मल बनाने में साथ आने के लिए कहा, तभी गंगा की सफाई के कार्य में शत-प्रतिशत सफलता मिल पायेंगी। इस अवसर पर मा. न्यायमूर्ती श्री सुधीर अग्रवाल, सदस्य नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने कहा कि जिस प्रकार लोग अपने घरों की साफ-सफाई निरंतर करते है। उसी प्रकार से हमें मोक्षदायिनी मां गंगा के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए निरंतर साफ-सफाई का कार्य करना है। उन्होंने कहा कि हमें इस पर विचार करना होगा कि पर्यावरण को नुकसान पहुंचाये बिना विकास के कार्य कैसे कराये जा सकते है। उन्होंने कहा कि यह हमारा देश है और हमारी ही गंगा है। इसलिए इसे हमकों और आपको ही बचाना होगा। आज हम सब को यह प्रण लेना होगा कि हफ्ते में एक बार मां गंगा ही नहीं, जो भी आपके आस-पास पानी के श्रोत हो। वहां पर साफ-सफाई करेंगे। इस अवसर पर श्री नरेश चन्द्र राजवंशी, वरिष्ठ अधिवक्ता इलाहाबाद हाइकोर्ट ने भी अपने विचार रखें। इस अवसर पर श्री संतोष कुमार त्रिपाठी, श्री जे.बी. सिंह, डाॅ. संतोष जैन, अधिवक्तागणों के अलावा अन्य लोग उपस्थित रहे।



एसआईटी ने 3 और आरोपियों को अरेस्ट किया

एसआईटी ने 3 और आरोपियों को अरेस्ट किया 

आदर्श श्रीवास्तव    

लखीमपुर खीरी। लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया क्षेत्र में तीन अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के मामले में विशेष जांच दल (एसआईटी) ने शनिवार को तीन और आरोपियों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस के अनुसार अबतक इस मामले में कुल 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान सिंगही कस्बे के मोहित त्रिवेदी, तिकुनिया कोतवाली क्षेत्र के रिंकू राणा और धर्मेंद्र सिंह के रूप में हुई है।

अधिकारी ने बताया कि लखीमपुर खीरी हिंसा में पुलिस हिरासत में लेकर अन्य आरोपियों से की गई पूछताछ के दौरान इनके नाम सामने आए, जिसके बाद इनकी गिरफ्तारी की गई। उन्होंने बताया कि तीनों आरोपियों को आज अदालत में पेश किया जाएगा और जांचकर्ता आगे की पूछताछ के लिए अदालत से उनकी 14 दिन की पुलिस हिरासत की मांग करेंगे। इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा ‘टेनी’ का पुत्र आशीष मिश्रा उर्फ मोनू मुख्य आरोपी है।आशीष मिश्रा उर्फ मोनू, जिसे नौ अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था, फिलहाल पुलिस हिरासत में है। 

इस मामले में अब तक गिरफ्तार किए गए अन्य आरोपियों में भाजपा वार्ड सदस्य सुमित जायसवाल, अंकित दास, लतीफ उर्फ काले, शेखर भारती, शिशु पाल, सत्य प्रकाश त्रिपाठी उर्फ सत्यम, नंदन सिंह बिष्ट, आशीष पांडे और लवकुश राणा शामिल हैं। आशीष पांडे और लवकुश राणा को छोड़कर अन्य सात आरोपियों को भी पूछताछ के लिए पुलिस ने अदालत की अनुमति के बाद अपनी हिरासत में लिया है। इनकी पुलिस हिरासत की अवधि रविवार शाम को समाप्त होगी।

अनन्या को एनसीबी की दो टूक, नसीहत दीं 
कविता गर्ग              
मुंबई। निर्धारित किए गए समय के तकरीबन 3 घंटे बाद एनसीबी के सामने पेश होने के लिए पहुंची चंकी पांडे की बेटी अनन्या पांडे को एनसीबी अधिकारी ने दो टूक नसीहत देते हुए कहा कि मैडम यह प्रोडक्शन हाउस नहीं है। यह केंद्रीय एजेंसी का कार्यालय है। समय पर पहुंचना संबंधित की जिम्मेदारी है।
क्रूज ड्रग्स मामले की जांच कर रही एनसीबी की ओर से फिल्म अभिनेता चंकी पांडे की एक्ट्रेस बेटी अनन्या पांडे को एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने कथित तौर पर देरी से पहुंचने पर कड़ी फटकार लगाई है। बालीवुड अभिनेत्री को मुंबई ड्रग्स मामले में एनसीबी की जांच के सिलसिले में शुक्रवार की सवेरे 11.00 बजे एजेंसी के सामने पेश होने के लिए बुलावा भेजा गया था। क्रूज ड्रग्स मामले में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को इस महीने की शुरुआत में ही गिरफ्तार किया गया था। एक्ट्रेस अनन्य पांडे बुलाये गये समय के बजाय तकरीबन तीन घंटे की देरी के साथ शुक्रवार की दोपहर 2.00 बजे एजेंसी के कार्यालय पहुंची।

आर्यन को जमानत नहीं मिली, आरती का सहारा
कविता गर्ग       
मुंबई। परेशानियां इंसान को भगवान की याद दिलाते हुए उसे उसकी शरण में पहुंचा ही देती है। क्रूज़ ड्रग्स मामले में बुरी तरह से फंसे हुए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को अब जेल से बाहर आने के लिये जमानत प्राप्ति हेतु भगवान की आरती का सहारा रह गया है। जिसके चलते वह आर्थर रोड जेल में होने वाली भगवान की आरती में हर दिन शामिल होते हैं। जब तक आरती समाप्त नहीं होती है तब तक आर्यन खान वहां से हिलते तक नहीं है। 
शारूख खान के बेटे आर्यन खान को अभी तक जमानत नहीं मिलने की वजह से जेल के भीतर एक-एक दिन गिनते हुए गुजारना पड़ रहा है। जिसके चलते अब उनकी दिनचर्या में भी बदलाव देखने को मिल रहा है। बार-बार जमानत की अर्जी निरस्त होने के बाद अब अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को अब केवल भगवान का सहारा रह गया है, जिसके चलते वह भगवान से जमानत की प्रार्थना करने के लिए हर दिन 7.00 बजे आर्थर रोड के जेल के मंदिर में शाम के समय होने वाली भगवान की आरती में शामिल होते हैं। आर्यन खान जिस बैरक में रखे गए हैं वहां पर एक छोटा सा मंदिर है। उस मंदिर में हर रोज शाम को 7.00 बजे भगवान की आरती होती है। आर्यन खान अपनी बैरक से निकलकर रोजाना मंदिर में पहुंचते हैं और वहां होने वाली आरती में शामिल होते हैं।

हाईवे पर भिड़ंत, एसडीओ सहित 3 की मौत 

संदीप मिश्र  

पूरनपुर (पीलीभीत)। असम हाईवे पर वाहनों की तेज रफ्तार एक बार फिर एडीओ पंचायत समेत दो युवाओं का काल साबित हुई। शुक्रवार रात हुए हादसे में कार सवार खंड प्रेरक, जिला कार्यक्रम प्रबंधक के बाद एडीओ पंचायत मरौरी ने भी इलाज को बरेली ले जाते वक्त रास्ते में दम तोड़ दिया। तीनों के शवों का पोस्टमार्टम कराकर पुलिस ने उनके परिवार के सुपुर्द कर दिया। उसके बाद गमगीन माहौल में तीनों का अंतिम संस्कार किया गया। तेज रफ्तार ट्रक की टक्कर से कार के परखच्चे उड़ गए थे। कार की हालत देख लोग हादसे की भीषणता का अंदाजा लगाकर दंग रह गए। त्योहारी सीजन के बीच हुए हादसे में तीन परिवारों की खुशियां मातम में तब्दील हो गई। हादसे का असर सरकारी अमले में भी दिखा। प्रशासनिक अफसर, जिला पंचायत अध्यक्ष, शहर विधायक के अलावा अन्य जन प्रतिनिधि भी परिवार के दुख में शामिल हुए और पीड़ितों को धीरज बंधाया।कार और ट्रक के बीच यह भीषण हादसा शुक्रवार रात नौ बजे के बाद असम हाईवे पर गजरौला थाना क्षेत्र में सकरिया मोड़ पर हुआ था। इसमें कोतवाली पूरनपुर के गांव घुंघचाई निवासी रवि प्रकाश मिश्रा मरौरी ब्लॉक में एडीओ पंचायत के पद पर तैनात थे। जटपुरा निवासी रियाज स्वच्छता मिशन के खंड प्रेरक जबकि महुआ गुंदे गांव निवासी अभिषेक मिश्रा जिला कार्यक्रम प्रबंधक के पद पर थे। तीनों कार में सवार होकर रोज की तरह घर लौट रहे थे।

सकरिया मोडृ के पास पहुंचते ही ट्रक ने ने कार को टक्कर मार दी। कार सवार रियाज और अभिषेक मिश्रा को जिला अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। हालत गंभीर होने पर एडीओ पंचायत को इलाज को ले जाते वक्त मौत हो गई। टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। कार की की क्षतिग्रस्त हालत को देख हर कोई दंग रह गया। पोस्टमार्टम के बाद शनिवार दोपहर शव घर पहुंचे तो चीख पुकार मच गई। जिसने सुना वह गमगीन परिवार को ढांढस बंधाने में जुटा रहा।

भाजपा विधायक बाबूराम पासवान, सदर विधायक संजय सिंह गंगवार, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि गुरु भाग सिंह, सपा नेता अजय भारती, पूर्व डीपीआरओ प्रमोद कुमार यादव, संजय तामर समेत तमाम अफसर-कर्मचारी पोस्टमार्टम हाउस पर गए और शोक संवेदनाएं व्यक्त की। गमगीन माहौल में मृतकों का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

करवा चौथ से 48 घंटे पहले उजड़ गया मांग का सिंदूरः पति की दीघार्यु के लिए करवा चौथ के व्रत की तैयारियों में जुटी सरला और उपासना को तो असम हाईवे पर हुए हादसे ने जिंदगी भर का गम दे दिया है। करवा चौथ से दो दिन पहले ही उनकी मांग का सिंदूर उजड़ गया। रोज की तरह दोनों अपने-अपने पतियों का इंतजार कर रही थीं। मगर उन्हें क्या पता था कि उनका चांद (पति) हमेशा के लिए बादलों में छुप गया। मौत की खबर मिलते ही दोनों बेसुध हो गईं। परिवार वाले उन्हें संभालते में जुटे रहे। उनका रो-रोकर बुरा हाल रहा।

एडीओ पंचायत रवि प्रकाश मिश्रा, खंड प्रेरक रियाज और बीपीएम अभिषेक मिश्रा तीनों ही खुशमिजाज अंदाज के लिए पहचाने जाते थे। सभी हंसी-खुशी और सादगी भरा अंदाज था। रविवार को करवा चौथ है। पर्व की तैयारियां भी परिवार में चल रही थी। एडीओ पंचायत की पत्नी सुशीला देवी, बीपीएम अभिषेक मिश्र की पत्नी उपासना दोनों ही पति की दीघार्यु को करवा चौथ के व्रत की तैयारियां भी कर रहे थे। मगर, कुदरत को कुछ और ही मंजूर था।

दोनों अपने साथी कर्मचारी रियाज के साथ वापस घर जा रहे थे कि रास्ते में तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आकर मौत हो गई। घर पर पतियों का इंतजार कर रही महिलाओं को जब मौत की खबर मिली तो करवा चौथ से दो दिन पहले ही उन्हें जिंदगी भर का गम नसीब हो गया। वह बेसुध हो गई। बार-बार गश खाकर बेहोश होती रही। जैसे-तैसे दुखद घड़ी में परिवार वालों ने उन्हें संभालने का प्रयास किया। उधर, खंड प्रेरक रियाज की पत्नी सना बी का भी राेकर बुरा हाल रहा।

बिखर गई तीनों की गृहस्थीः हादसे तीनों की गृहस्थी को बिखेर कर रख दिया है। एडीओ पंचायत रवि प्रकाश मिश्रा के परिवार में पत्नी सुशीला के अलावा बेटा मयंक मिश्रा,मंजुल और मुकुंद मिश्रा है। खंड प्रेरक को कम समय पहले ही नौकरी मिली थ्यी।इसकी खुशी परिवार में थी। दो साल पहले ही सना बेगम के साथ निकाह हुआ। पत्नी वर्तमान में गर्भवती है। ऐसे में परिवार का खुशनुमा माहौल था। मगर, पति की मौत ने उसे झकझोर कर रख दिया।

सरल स्वभाव के थे तीनोंः बीपीएम अभिषेक मिश्रा का सरल स्वभाव उनकी अलग पहचान रखता था। बड़ा भाई अनादि मिश्र एफसीआई गोदाम पूरनपुर में कार्यरत है। छोटा भाई अनुराग मिश्रा की गिनती तेज तर्रार युवा भाजपा नेता के रुप में है। पिता चंद्र प्रकाश मिश्रा नायब तहसीलदार पद से सेवानिवृत्त हुए थे। पत्नी उपासना के अलावा उनका तीन साल का बेटा क्रिश है, जोकि सभी का लाडला है।

उसके सिर से पिता का साया उठ गया। मासूम को क्या पता कि रोज उसके साथ हंसने-खेलने वाले पिता अब दुनिया से दूर चले गए। उनके पहुंचने के बाद ही वह सोया करता था। इससे अनजान मासूम परिवार में हादसे के बाद मची चीख पुकार को लेकर हैरत में पड़ा रहा। कभी घबरा के मां की गोद में जा बैठता तो कभी रोने लगता। उसे देख हर कोई हादसे को कोसता नजर आया।

हाल ही में मरौरी में हुई थी तैनातीः मृतक एडीओ पंचायत रवि प्रकाश मिश्रा मरौरी से पहले पूरनपुर में ग्राम पंचायत अधिकारी पद पर तैनात रहे थे।उसके बाद एडीओ पंचायत के रूप में पहली तैनाती बिलसंडा ब्लॉक में रही। कुछ महीनों के बाद उनको अमरिया भेज दिया गया था। इससे पहले वह शाहजहांपुर जिले में भी कार्यरत रह चुके थे।

स्वास्थ्य सुविधाओं पर भी उठे सवालः हादसे में तीन लोगों की मौत के बाद शनिवार को पोस्टमार्टम हाउस पर भीड़ थी। हर कोई परिवार के साथ दुखद क्षणों में खड़ा था।वहीं, मृतकों के परिवार वालें ने जिला अस्पताल की स्वास्थ्य सुविधाओं पर भी सवाल खड़े किए। उनका कहना था कि हादसे के बाद वाहन में लादकर घायलों को जिला अस्पताल भेज दिया गया था।

आरोप है कि वहां पर किसी तरह की संतोषजनक स्वास्थ्य सुविधा नहीं मिली। खबर मिलने पर जब वह करीब एक घंटे बाद जिला अस्पताल पहुंचे तब भी दोनों इमरजेंसी के बाहर ही वाहन में थे। उन्हें किसी डॉक्टर या अन्य कर्मचारी ने देखने की जहमत तक नहीं उठाई थी।ये भी आरोप लगाया कि किसी तरह से बचाव को कदम नहीं उठाए गए। हालांकि किसी तरह शिकायत तो नहीं की। मगर, हादसों को देखते हुए व्यवस्था बेहतर बनाने कीमांग उठाई।

ट्रेनों न चलने को कोसते दिखे साथीः पूरनपुर रेलखंड पर साल 2018 से ट्रेनों का संचालन बंद है। पूरनपुर के अधिकांश लोग पीलीभीत आकर नौकरी करते हैं। प्रतिदिन उनका आना-जाना रहता है। लंबे समय से ट्रेनों का संचालन न होने से लोग निजी वाहनों से सफर कर रहे हैं। हाईवे पर मार्ग बड़े वाहनों की आवाजाही अधिक रहती है। इससे हादसे का डर बना रहता है। ये तीनों लोग भी पहले ट्रेन से ही सफर किया करते थे। मगर, ट्रेनें बंद हुई। बसों की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। ऐसे में निजी वाहनों से ही आवाजाही चल रही थी। हादसे के बाद ट्रेनों के संचालन बंद होने को लेकर भी नाराजगी जताते दिखे।

भतीजे दीपक ने कार में ली थी आखिरी सेल्फीः मृतक अभिषेक मिश्रा का भतीजा महुआ गुंदे गांव निवासी दीपक मिश्रा किशोर न्यायालय में लिपिक है। वह रोज चाचा अभिषेक के साथ आता-जाता था। शुक्रवार सुबह तीनों मृतक और दीपक साथ कार में सवार होकर आए थे। इस दौरान दीपक ने कार में बैठे हुए एक सेल्फी भी ली थी। देर शाम दीपक भी साथ में ही वापसी करने का इंतजार कर रहा था। मगर, चाचा अभिषेक ने एक काम में व्यस्त होने की बात कहकर दीपक को पहले ही अलग से वापस घर भिजवा दिया था। उसके बाद तीनों मृतक कार से वापस हो रहे थे। अब हादसे में तीनों की मौत के बाद हर कोई इसे लेकर चर्चा करता रहा। अगर दीपक को अलग से न भेजा गया होता तो वह भी सभी के साथ कार में सवार होता।

आह्वानः 28 को गोवा का दौरा करेंगी ममता

आह्वानः 28 को गोवा का दौरा करेंगी ममता
हरिओम उपाध्याय  
कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 28 अक्टूबर को गोवा का दौरा करेंगी।
सुश्री बनर्जी ने ट्वीट कर कहा, “28 अक्टूबर के अपने पहले गोवा दौरे की तैयारी करते हुए, मैं सभी व्यक्तियों, संगठनों और राजनीतिक दलों से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और उनके विभाजनकारी एजेंडे को हराने के लिए एकजुट होने का आह्वान करती हूं। गोवा के लोगों ने पिछले 10 वर्षों में बहुत कुछ झेला है।
उन्होंने कहा, “एक साथ, हम नयी सरकार बनाकर गोवा के लिए एक नयी सुबह की शुरुआत करेंगे जो वास्तव में गोवा के लोगों की सरकार होगी और उनकी आकांक्षाओं को साकार करने के लिए प्रतिबद्ध होगी।”
अगले वर्ष होने वाले राज्य विधानसभा के चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस की राज्य की सभी 40 सीटों पर चुनाव लड़ने की योजना है। तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने के बाद गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री लुइज़िन्हो फलेरियो कांग्रेस के कई नेताओं को पार्टी में शामिल करने सफल रहे हैं।
शहीद अधिकारी परवेज के परिजन से मुलाकात की
हरिओम उपाध्याय  
श्रीनगर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू कश्मीर पुलिस के शहीद अधिकारी परवेज अहमद के परिजन से शनिवार को मुलाकात की। शहर के नौगाम इलाके में इस साल जून में आतंकवादियों ने अहमद की हत्या कर दी थी। जम्मू कश्मीर के तीन दिवसीय दौरे पर आए शाह हवाई अड्डे से सीधा नौगाम गए।
गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, “गृह मंत्री जम्मू कश्मीर पुलिस के निरीक्षक परवेज के घर गए जिनकी आतंकवादियों ने हत्या कर दी थी।” अधिकारियों ने कहा कि शाह ने शहीद पुलिसकर्मी के परिजन को सांत्वना दी। शहीद पुलिस अधिकारी की विधवा फातिमा अख्तर को शाह ने अनुकंपा के आधार पर सरकारी नौकरी के दस्तावेज सौंपे। शाह ने ट्वीट किया, “आज मैं शहीद परवेज अहमद डार के परिजन से मिला और उन्हें सांत्वना दी। मुझे और राष्ट्र को उनकी बहादुरी पर गर्व है।
प्रधानमंत्री मोदी के नए जम्मू कश्मीर के सपने को सच करने के लिए हम सारे प्रयास कर रहे हैं।” अहमद 22 जून को नमाज पढ़कर लौट रहे थे, तभी नौगाम में उनके घर के पास आतंकवादियों ने उन्हें गोली मार दी थी। गृह मंत्री के साथ उप राज्यपाल मनोज सिन्हा, केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह और पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह मौजूद थे। पांच अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान निरस्त किये जाने के बाद शाह की यह पहली कश्मीर यात्रा है।
किसान, मंहगाई व सीमा पर सरकार को घेरा
अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों की समस्याएं, महंगाई और सीमा से जुड़े मुद्दों को लेकर शनिवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि केंद्र सरकार नाकाम थी, नाकाम है। उन्होंने ट्वीट किया, ”किसान परेशान है, महंगाई पहुंची आसमान है, सीमाओं पर घमासान है, भारत तो तब भी महान है, पर केंद्र सरकार नाकाम थी, नाकाम है।”
उधर, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने उत्तर प्रदेश के ललितपुर में खाद के लिए कतार में खड़े हुए किसान की मौत से जुड़ी खबर को लेकर प्रदेश की भाजपा पर निशाना साधा।
उन्होंने ट्वीट किया, ”धान खरीदारी में कुव्यवस्था के चलते लखीमपुर के एक किसान को मंडी में पड़े धान में आग लगानी पड़ी। खाद वितरण में कुव्यवस्था के चलते ललितपुर के एक किसान की लाइन में खड़े-खड़े मृत्यु हो गई। उप्र की भाजपा सरकार किसानों को प्रताड़ित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है।
आतंकवाद निपटारा, उठाए गये कदमों की समीक्षा
हरिओम उपाध्याय  
श्रीनगर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कश्मीर घाटी में आम नागरिकों खासकर गैर-स्थानीय श्रमिकों और अल्पसंख्यकों पर बढ़े हमलों के मद्देनजर शनिवार को घाटी में सुरक्षा हालात और आतंकवाद से निपटने के लिए उठाए गए कदमों की समीक्षा की। अधिकारियों ने बताया कि शाह ने यहां राजभवन में हुई बैठक में सुरक्षा हालात का जायजा लिया। इस बैठक में उप राज्यपाल मनोज सिन्हा प्रशासन के शीर्ष अधिकारी और सेना, सीआरपीएफ, पुलिस तथा अन्य एजेंसियों के वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी भी शामिल हुए।
उन्होंने बताया कि गृह मंत्री को जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद का सफाया करने के लिए उठाए गए कदमों और बलों द्वारा घुसपैठ रोकने के लिए किए गए उपायों के बारे में जानकारी दी गई। घाटी में इस अक्टूबर माह में 11 आम नागरिकों की हत्या कर दी गई। इसी पृष्ठभूमि में शाह कश्मीर दौरे पर पहुंचे हैं। मारे गए लोगों में से पांच बिहार के श्रमिक थे जबकि दो शिक्षकों समेत तीन लोग कश्मीर में अल्पसंख्यक समुदायों से थे।
पांच अगस्त, 2019 को अनुच्छेद 370 को अधिकतर प्रावधान निरस्त किए जाने और जम्मू कश्मीर राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के बाद शाह की यह पहली कश्मीर यात्रा है। शाह के घाटी दौरे से पहले पूरे कश्मीर में सुरक्षा कड़ी कर दी गई। अधिकारियों ने बताया कि घाटी में सुरक्षा बलों की अतिरिक्त तैनाती की गई है।
विशेष रूप से यहां शहर में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि हाल में आम नागरिकों की हत्याओं के मद्देनजर अतिरिक्त अर्द्धसैनिक बलों की 50 कंपनियों को घाटी में तैनात किया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि श्रीनगर के कई इलाकों के साथ कश्मीर घाटी के अन्य हिस्सों में केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल (सीआरपीएफ) के बंकर बनाए गए हैं।
बागी नेताओं की नहीं मिली जानकारीः भाजपा
नवीन सिंह   
देहरादून। राजनेता आजकल क्या कहते हैं, उसके अर्थ नहीं निहितार्थ निकालने पड़ते हैं। राज्य में कांग्रेस के बागी नेताओं के भाजपा से कांग्रेस में घर वापसी की चर्चाओं, गत दिनों पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल के छह बागी नेताओं के उनके संपर्क में होने के दावे और डॉ. हरक सिंह रावत द्वारा हरीश रावत की माफी मांगने की शर्त के बाद माफी मांगने के हालातों पर प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष व वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रीतम सिंह ने साफ तौर पर कहा कि कोई भी भाजपा नेता कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के लिए उनके संपर्क में नहीं है, और उन्हें किसी भी बागी नेता के कांग्रेस में शामिल होने की जानकारी भी नहीं है। अलबत्ता उन्होंने यह भी कहा कि राजनीति में कोई किसी के भी संपर्क में हो सकते हैं, पर उनके संपर्क में कोई नहीं है।
उल्लेखनीय है कि गत दिवस यशपाल आर्य व संजीव आर्य की भाजपा से कांग्रेस में वापसी के दौरान प्रीतम सिंह सबसे आगे रहे थे, बल्कि यह भी चर्चा थी कि उन्हीं के प्रयासों से यशपाल आर्य ने पुत्र सहित कांग्रेस में घर वापसी की है। इसके बाद प्रीतम कबीना मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत के घर पर भाजपा नेता उमेश शर्मा काऊ व कांग्रेस नेता ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी की मौजूदगी में मिलने और साथ दिल्ली जाने के लिए भी चर्चा में आए थे। 
लेकिन अब उनका किसी के कांग्रेस में शामिल होने से इंकार करने को 6 भाजपा विधायकों के संपर्क में होने की बात कहने वाले हरीश रावत गुट के गोविंद सिंह कुंजवाल को जवाब माना जा रहा है।आज पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने 2013 की आपदा में बेहतर तरीके से निपटने के लिए कांग्रेस हाईकमान का नाम लिया पर वह हरीश रावत का नाम लेने से बचते दिखे। उनके साथ मौजूद कांग्रेस के चार में से एक कार्यकारी अध्यक्ष रणजीत रावत ने भी पूरी वार्ता में एक बार भी हरीश रावत का नाम नहीं लिया। उन्होंने यह भी कहा कि राजनीति में सभी दलों के दरवाजे हमेशा खुले रहते हैं। संसदीय लोकतंत्र में सभी दलों के इन खुले दरवाजों से लोग आते भी और जाते भी रहते हैं। बहरहाल, किसी को कांग्रेस में शामिल करने पर राष्ट्रीय नेतृत्व निर्णय लेगा, और जो भी निर्णय लिया जाएगा वह सभी को मान्य होगा।
'आप' का मौन प्रदर्शन, सरकार की खोली पोल  
पंकज कपूर  
अल्मोड़ा। आशीष मिश्रा उर्फ मोनू, जिसे नौ अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था, फिलहाल पुलिस हिरासत में है। इस मामले में अब तक गिरफ्तार किए गए अन्य आरोपियों में भाजपा वार्ड सदस्य सुमित जायसवाल, अंकित दास, लतीफ उर्फ काले, शेखर भारती, शिशु पाल, सत्य प्रकाश त्रिपाठी उर्फ सत्यम, नंदन सिंह बिष्ट, आशीष पांडे और लवकुश राणा शामिल हैं। आशीष पांडे और लवकुश राणा को छोड़कर अन्य सात आरोपियों को भी पूछताछ के लिए पुलिस ने अदालत की अनुमति के बाद अपनी हिरासत में लिया है। इनकी पुलिस हिरासत की अवधि रविवार शाम को समाप्त होगी।
टिक्कू ने कहा कि आपदा शहर से लेकर पहाड़ तक लोग आपदा से पीडि़त है। सरकार के मंत्री हवाई दौरे कर रहे है। अभी तक कई जिलों लोगों को राहत का पैकेज नहीं मिला है। आज आपदा पीडि़त लोग अपने को ठगा हुआ महसूस कर रहे है। सरकार पीडि़तों का दर्द बांटने तक नहीं पहुंची है। आपदा पीडि़त क्षेत्र बिजली-पानी जैसे मूलभूल सुविधाओं के लिए तरस रहे है। सरकार हवा-हवाई बातें में दावे कर रही है।

उन्होंने कहा कि गौला पुल के टूटने से हजारों की संख्या में गौलापार समेत कई गांवों का आम रास्ता बंद हो चुका है। आखिर क्यों हर बार पुल बह रहे है। देवभूमि को भाजपा-कांग्रेस ने जमकर लूटा है इसका जवाब जनता आगामी विधानसभा चुनाव में उन्हेें देगी। जिस तरह से आपदा पीडि़त आज दर-दर भटक रहे है। इसका खामियाजा भाजपा सरकार को विधानसभा चुनाव 2022 में भुगतना पड़ेगा। इस दौरान प्रदर्शन में रामशरन वर्मा, कालाढूंगी विधानसभा से पवन पाण्डे, संतोष कबड़वाल, भुवन चन्द्र आर्य, देवेन्द्र लाल, सागर पाण्डे, दीपक पाण्डे, सुरेश जोशी, प्रकाश पाण्डे, सीएस पांडे ,संजय कश्यप व अब्दुल कादिर समेत कई लोग मौजूद रहे।

राज व कुंडा ठाकरे वायरस से संक्रमित मिले

मीनाक्षी चटर्जी   

मुंबई। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) अध्यक्ष राज ठाकरे और उनकी मां कुंडा ठाकरे जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। नगर निकाय के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। 

मुंंबई महानगरपालिका के अधिकारी ने बताया कि दोनों को हल्के लक्षण हैं और उन्हें दादर स्थित उनके घर में पृथक-वास में रहने को कहा गया है। ठाकरे के एक वरिष्ठ सहयोगी ने उनके संक्रमित होने की पुष्टि की है।ठाकरे (53) ने हाल में नासिक, पुणे और ठाणे का दौरा किया था तथा अगले साल होने वाले निकाय चुनाव से पहले मुंबई में पार्टी नेताओं से मुलाकात की थी।

जनता में बढ़ रहा आक्रोश भाजपा मना रही जश्न  

बृजेश केसरवानी   

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है, बेरोजगारी के रिकार्ड टूट रहे हैं। जनता में भारी आक्रोश है फिर भी भाजपा जश्न मनाने का रिकार्ड बना रही है। ऐसे में अब जनता का एक ही संकल्प है कि जले पर नमक छिड़क रही भाजपा को फिर सत्ता में नहीं आने देना है। प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री आत्ममुग्ध हैं कि 21 अक्तूबर 2021 को भारत ने 100 करोड़ वैक्सीन टीककरण से नया इतिहास रच दिया है। झूठ को सच बनाने के खेल में माहिर भाजपाई यह क्यों नहीं बताते कि अभी मात्र एक चैथाई आबादी को ही दूसरी डोज की वैक्सीन लगी है।

आधे-अधूरे कामों पर भी इतराने वाली भाजपा सरकार ने कोरोना में जिंदगी खोए हुए परिवारों की फिक्र नहीं की। डेंगू के फैलाव और उसमें हुई मौतों की भी याद नहीं की। ललितपुर में खाद न मिलने से लाइन में दो दिन से लगे किसान की मौत हो गई। दीपावली और भाई दूज जैसे त्योहारों की खुशी पर भी उसने पानी डाल दिया है। महंगाई और भ्रष्टाचार ने सबकी कमर तोड़ रखी है। सच पूछो तो अब जश्न मनाने का उत्साह ही नहीं रह गया है।आखिर त्योहार कौन मनाएं? किसान आंदोलित है। नौजवानों की जिंदगी में अंधेरा छाया है। महिलाएं अपमानित हो रही है। व्यापारी नोटबंदी और जीएसटी के शिकार हैं। डीजल-पेट्रोल-रसोई गैस के बढ़ते भावों से लोग त्रस्त हैं। भाजपा जब तक रहेगी जनता परेशान रहेगी। समाज का हर वर्ग दुःखी रहेगा। समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर ही खुशहाली और विकास का मार्ग प्रशस्त होगा। इस विश्वास के साथ सन् 2022 में मतदाता भाजपा को प्रदेश में दुबारा मौका नहीं देने वाले हैं।



टीका निर्माता कंपनियों से मुलाकात करेंगे पीएम

टीका निर्माता कंपनियों से मुलाकात करेंगे पीएम
अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को कोविड-19 रोधी टीके बनाने वाली सात भारतीय कंपनियों के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेंगे। यह मुलाकात ऐसे समय में हो रही है, जब भारत ने अपने नागरिकों को टीकों की 100 करोड़ खुराक देने की उपलब्धि हासिल की है। आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री से इस मुलाकात में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, भारत बायोटेक, डा. रेड्डीज लेबोरेटरीज, जाइडस कैडिला, बॉयोलॉजिकल ई, जेन्नोवा बायोफार्मा और पेनेसिया बायोटेक के प्रतिनिधि मौजूद रहेंगे।
एक आधिकारिक सूत्र ने बताया कि प्रधानमंत्री इस दौरान भारत की सभी पात्र आबादी का जल्द से जल्द टीकाकरण करने और ‘सभी के लिए टीका’ मंत्र के तहत अन्य देशों की मदद करने पर बल दे सकते हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक भारत में अब तक टीकों की 101.30 करोड़ खुराक दी जा चुकी है। भारत ने 21 अक्टूबर को महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान के तहत एक अरब खुराक का आंकड़ा पार कर ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की थी जिसके लिए दुनियाभर से देश को बधाई मिलने का सिलसिला जारी है।
देश में टीकाकरण के पात्र वयस्कों में से 75 प्रतिशत से अधिक लोगों को कम से कम एक खुराक लग चुकी है, जबकि करीब 31 प्रतिशत लोगों को टीके की दोनों खुराक लग चुकी हैं। नौ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में सभी पात्र लोगों को टीकों की पहली खुराक दी जा चुकी है। टीकाकरण मुहिम की शुरुआत 16 जनवरी को हुई थी और इसके पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को टीके लगाए गए थे।

इसके बाद दो फरवरी से अग्रिम मोर्चे के कर्मियों का टीकाकरण आरंभ हुआ था। टीकाकरण मुहिम का अगला चरण एक मार्च से आरंभ हुआ, जिसमें 60 साल से अधिक आयु के सभी लोगों और गंभीर बीमारियों से ग्रस्त 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को टीके लगाने शुरू किए गए। देश में 45 साल से अधिक आयु के सभी लोगों का टीकाकरण एक अप्रैल से आरंभ हुआ था और 18 साल से अधिक आयु के सभी लोगों का टीकाकरण एक मई से शुरू हुआ।

35-35 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल
अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में तेजी जारी रहने के कारण शनिवार को घरेलू स्तर पर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार चौथे दिन बढोतरी की गयी। शनिवार को राजधानी दिल्ली में पेट्रोल और डीजल फिर से 35-35 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया। आज की बढ़त के बाद राजधानी दिल्ली मेंं पेट्रोल 107.24 रुपये प्रति लीटर और डीजल 95.97 रुपये प्रति लीटर के सर्वकालिक रिकार्ड स्तर पर पहुंच गया।
बुधवार को इन दोनों की कीमतों में 35-35 पैसे प्रति लीटर की बढोतरी की गयी थी। आज की बढोतरी के बाद मुंबई में पेट्रोल 113.12 रुपये और डीजल 104 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पेट्रोल सबसे महंगा 115.90 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल 105.27 रुपये प्रति लीटर पर, पटना में पेट्रोल 110.84 रुपये और डीजल 102.57 रुपये प्रति लीटर, बेंगलुरू में पेट्रोल 110.98 रुपये और डीजल 101.86 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है। राँची में पेट्रोल के साथ ही डीजल भी शतक लगा चुका है। पेट्रोल 101.56 रुपये और डीजल 101.27 रूपये प्रति लीटर पर है। दिल्ली एनसीआर के नोएडा में पेट्रोल 104.42 रुपये और डीजल 96.62 रुपये प्रति लीटर पर है। अभी देश के अधिकांश प्रमुख बड़े शहरों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर से अधिक हो गयी है और देश के अधिकांश बड़े शहरों में डीजल भी शतक लगाने की ओर बढ़ रहा है। कुछ शहरों में डीजल 100 रुपये के पार पहुंच चुका है।
इस महीने में अब तक 23 दिनों में से 18 दिन इन दोनों की कीमतों में बढोतरी हुयी है। इस महीने में अब तक पेट्रोल 5.60 रुपये प्रति लीटर और डीजल 6.20 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल अभी भी ऊंचे स्तर पर बना हुआ। सप्ताहांत पर कल अमेरिकी बाजार में तेजी रही। ब्रेंट क्रूड 0.92 डॉलर की बढ़त के साथ 85.53 डॉलर प्रति बैरल पर और अमेरिकी क्रूड 1.09 डॉलर चढ़कर 82.50 डॉलर प्रति बैरल पर रहा। 
पिछले सप्ताह भी इन दोनों में करीब तीन फीसदी की तेजी देखी गयी थी। तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, दिल्ली में पेट्रोल 107.24 रुपये प्रति लीटर और डीजल 95.97 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की रोजाना समीक्षा होती है और उसके आधार पर हर दिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।

नीरा को व्हाइट हाउस की सेक्रेटरी नामित किया
अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन की विश्वस्त सहयोगी मानी जाने वाली भारतीय अमेरिकी नीति विशेषज्ञ नीरा टंडन को व्हाइट हाउस की स्टाफ सेक्रेटरी नामित किया गया है। आठ माह पहले रिपब्लिकन पार्टी के सांसदों ने एक अन्य अहम पद पर उनके नामांकन के प्रयासों को सफल नहीं होने दिया था।
बाइडन की वरिष्ठ सलाहकार टंडन (51) को इस पद पर शुक्रवार सुबह नामित किया गया। इस पद पर आसीन व्यक्ति को इस इमारत में सबसे शक्तिशाली व्यक्ति माना जाता है। इस नियुक्ति के लिए सीनेट की ओर से पुष्टि करने की आवश्यकता नहीं होती है। व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने कहा, ”टंडन को नीति और प्रबंधन के क्षेत्र में दो दशक से भी अधिक समय का अनुभव है, ये उनकी इस भूमिका के लिए महत्वपूर्ण कारक हैं।
घरेलू, आर्थिक और राष्ट्रीय सुरक्षा नीति के क्षेत्र में उनका अनुभव इस नई भूमिका में लाभदायक साबित होगा।” आठ महीने पहले टंडन ने व्हाइट हाउस ऑफिस ऑफ मैनेजमेंट ऐंड बजट के निदेशक पद के लिए अपना नामांकन रिपब्लिकन सीनेटरों के कड़े विरोध के कारण वापस ले लिया था।

हिंद-प्रशांत क्षेत्र रणनीति का महत्वपूर्ण हिस्सा

हिंद-प्रशांत क्षेत्र रणनीति का महत्वपूर्ण हिस्सा 
अखिलेश पाण्डेय  
लंदन। ब्रिटेन की विदेश मंत्री लिज ट्रस ने शनिवार को भारत में कहा कि विमानवाहक पोत एचएमएस क्वीन एलिजाबेथ के नेतृत्व वाले कैरियर स्ट्राइक ग्रुप की मुंबई में प्रमुख बंदरगाह की यात्रा ब्रिटेन के हिंद-प्रशांत क्षेत्र को लेकर झुकाव को प्रदर्शित करती है। नई दिल्ली से मुंबई पहुंची मंत्री ने कहा कि उनकी यात्रा का उद्देश्य ब्रिटेन की हिंद-प्रशांत रणनीति के एक महत्वपूर्ण हिस्से के रूप में दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत के साथ मजबूत सुरक्षा और रक्षा संबंध बनाना है। 
विदेश, राष्ट्रमंडल और विकास कार्यालय (एफसीडीओ) ने कहा कि मंत्री एक स्वतंत्र, खुला, समावेशी और समृद्ध हिंद-प्रशांत सुनिश्चित करने के लिए भारत को ‘आवश्यक’ सहयोगी के रूप में देखती हैं। ट्रस ने कहा कि ब्रिटेन और भारत के बीच घनिष्ठ रक्षा और सुरक्षा साझेदारी गहरे आर्थिक संबंधों को रेखांकित करती है और दोनों देशों के साथ-साथ व्यापक क्षेत्र को भी सुरक्षित बनाती है।” विदेश मंत्री ने कहा कि हमें अपने समुद्री और व्यापार मार्गों की रक्षा करने की जरूरत है और मजबूती से अपने हितों की रक्षा करने तथा अनुचित प्रथाओं को चुनौती देने में कठोर होना चाहिए।

फुटबॉल लीग में शीर्ष पर पहुंचने से चूका स्पेनिश

सुनील श्रीवास्तव   

बार्सिलोना। ग्रेनाडा के स्थानापन्न खिलाड़ी एंजेल मोंटोरो के 90वें मिनट में किये गये गोल से ओसासुना स्पेनिश फुटबॉल लीग ला लिगा में शीर्ष पर पहुंचने से चूक गया। मोंटोरो के गोल की मदद से ग्रेनाडा ने यह मैच 1-1 से ड्रा करवाया। ओसासुना को अंतिम 15 मिनटों में 10 खिलाड़ियों के साथ खेलना पड़ रहा था।

ओसासुना को लीग में शीर्ष पर चल रहे रीयाल सोसिडाड की बराबरी पर पहुंचने के लिये जीत की जरूरत थी लेकिन मोंटोरो के गोल से वह लगातार चौथी जीत दर्ज नहीं कर पाया। ओसासुना को अर्जेंटीना के फारवर्ड चिमी अविला ने मध्यांतर से ठीक पहले बढ़त दिलायी थी। ओसासुना के 10 मैचों में 18 अंक हैं और वह सोसिडाड (नौ मैचों में 20 अंक) के बाद दूसरे स्थान पर है। रीयाल मैड्रिड, सेविला और एटलेटिको मैड्रिड तीनों के आठ मैचों में समान 17 अंक हैं।

ऑस्ट्रेलिया को हराकर भारत शानदार लय मे  

निहाल अहमद  

लंदन। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन का मानना है कि वैकल्पिक योजना की कमी और खेल के सबसे छोटे प्रारूप में अनिश्चितता की स्थिति के कारण आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) टी20 विश्व कप के नॉकआउट चरण में ‘कोई भी टीम भारत को हरा सकती है’। अभ्यास मैचों में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को हराकर भारत टूर्नामेंट से पहले शानदार लय में दिख रहा है। आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) के कारण टीम के खिलाड़ियों के पास आवश्यक मैच अभ्यास भी है। 

हुसैन ने ‘स्काई क्रिकेट’ से कहा, ” वे खिताब जीतने के दावेदार है। मैं उन्हें हालांकि प्रबल दावेदार नहीं मानूंगा क्योंकि यह प्रारूप अनिश्चितता वाला है।”उन्होंने कहा, ” इस प्रारूप में किसी एक खिलाड़ी की 70 या 80 रन की पारी या महज तीन गेंदों में मैच का रुख पलट सकता है। इसलिए कोई भी नॉकआउट मैच में भारत को परेशान कर सकता है।” हुसैन ने हाल के आईसीसी प्रतियोगिताओं के नॉकआउट चरणों में भारत के खराब रिकॉर्ड का भी जिक्र किया। 

भारत ने अपना आखिरी आईसीसी खिताब 2013 में एमएस धोनी के नेतृत्व में चैम्पियंस ट्रॉफी फाइनल में इंग्लैंड को हराकर हासिल किया था। भारतीय टीम इसके बाद  2015 विश्व कप, 2016 टी 20 विश्व कप और 2019 विश्व कप में सेमीफाइनल से बाहर हो गयी थी, जबकि 2017 चैंपियंस ट्रॉफी और इस साल की शुरुआत में  विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में उपविजेता रही है। उन्होंने कहा , ” भारत का आईसीसी टूर्नामेंटों में पिछले कुछ वर्षों में  रिकॉर्ड अच्छा नहीं है और यह कुछ ऐसा है जिससे उन्हें निपटना होगा । जब वे नॉकआउट में खेलते है तो भारतीय दर्शकों और प्रशंसकों की उम्मीदों का दबाव और बढ़ जाता है।”

इंस्टेंट रेसिपी बनाएं, चॉकलेट का मीठा पेड़ा

इंस्टेंट रेसिपी बनाएं, चॉकलेट से मीठा पेड़ा 
चॉकलेट खाना तो ज्यादातर लोगों को पसंद आता ही है। चाहे वह चॉकलेट आइसक्रीम हो, चॉकलेट केक हो या चॉकलेट से बनी कोई भी चीज हो। लोग बहुत शौक से चॉकलेट खाना पसंद करते हैं। ज्यादातर लोग अपने फ्रिज में मिठाई और चॉकलेट रखना पसंद करते हैं।ताकि जब भी मन करे तो तुरंत निकालकर इसे खा लें।मिठाई वैसे घर में भी बनाई जा सकती है और इसमें मिलावट का भी कोई डर नहीं रहता। वहीं अगर आप कुछ इंस्टेंट रेसिपी बनाना चाहते हैं तो चॉकलेट से पेड़ा बना सकते है। चॉकलेट पेड़ा बनाने के लिए अधिक चीजों की आवश्यकता नहीं है। इसे सीमित चीजों से भी घर पर आसानी से बनाया जा सकता है। फेस्टिवल में अगर आप कोई मिठाई बनाना चाहते हैं तो चॉको ब्रैड पेड़ा आपके लिए परफेक्ट ऑप्शन है। चॉको ब्रैड पेड़ा एक आसान रेसिपी है। जिसे आप आसानी से कभी भी घर में बना सकते है। ये टेस्टी के साथ-साथ हेल्दी है।जिसे आप अपनी फैमिली और फ्रेंड्स को भी फेस्टिवल में खिला सकते हैं।
सर्दी के मौसम में बेहद फायदेमंद है अमरूद
सर्दी के मौसम में पाया जाने वाल अमरूद सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है। इस समय में बाजार में नए सीजन के अमरूद बिकने लगे हैं। अमरूद खट्टा-मीठा ऐसा फल है जो खाने में स्वादिष्ट तो होता ही है बल्कि सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इसमें कैलोरी कम और फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है। यह वज़न को कंट्रोल करने में बेहद मददगार है। यह फल शुगर के मरीज़ों के लिए बेहतरीन इलाज है। इसका सेवन करने से शुगर कंट्रोल रहती है।

अमरूद न्यूट्रिएंट्स का भंडार है, जिसमें विटामिन सी, लाइकोपीन और एंटीऑक्सिडेंट अधिक मात्रा में मौजूद होता है। जो सेहत को कई बीमारियों से बचाने में मदद करता हैं। अमरूद के साथ ही उसके पत्तें भी औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं। अमरूद का सेवन सर्दी में बेहद फायदेमंद होता है। बॉडी में खून की कमी को पूरा करता है, साथ ही सर्दी में होने वाली सर्दी-खांसी से भी निजात दिलाता है। सर्दी में अमरूद ठंड से बचाता है। जानिए इतने उपयोगी अमरूद से कौन-कौन से फायदे हो सकते हैं।

इम्यूनिटी इम्प्रूव करता है अमरूद: बदलते मौसम में इम्यूनिटी कमजोर होती है ऐसे मौसम में अमरूद का सेवन बेहद फायदेमंद होता है। अमरूद इम्यूनिटी को बूस्ट करेगा, साथ ही आपको एनर्जी भी देगा।

पाचन ठीक रखेगा: अमरूद में दूसरे फलों की तुलना में सबसे अधिक फाइबर मौजूद होता है जो कब्ज की समस्या से निजात दिलाता है। अमरूद के बीज गैस और अपच की समस्या को दूर करने में मदद करता हैं।

दिल की सेहत का ध्यान रखता है: दिल को सेहतमंद रखने में अमरूद बेहद असरदार है। अमरूद में एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन और कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो दिल की सेहत को दुरुस्त रखने में मदद करते हैं। 

डायबिटीज़ कंट्रोल रखता है: अमरूद में मौजूद फाइबर कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स के कारण डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद करता है। अमरूद में नेचुरल शुगर पाई जाती है जो डायबिटीज के मरीज़ों के लिए भी फायदेमंद हो सकती है।  

स्किन का ध्यान रखता है: अमरूद को स्किन के लिए फायदेमंद माना जाता है। अमरूद में विटामिन्स और मिनरल्स भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो स्किन को हेल्दी रखने में मददगार हो सकते हैं। डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-4 (साल-05)
2.रविवार, अक्टूबर 24, 2021
3. शक-1984,अश्विन, कृष्ण-पक्ष, तिथि- चतुर्थी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:30, सूर्यास्त 05:48।
5. न्‍यूनतम तापमान -20 डी.सै., अधिकतम-31+ डी.सै.। 
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक शिवाशुं व राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की राजकुमार              कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा सम्राट उदयन सभागार में राजनैतिक...