रविवार, 19 फ़रवरी 2023

जंतर-मंतर: ईसाई समुदाय के लोगों का विरोध-प्रदर्शन 

जंतर-मंतर: ईसाई समुदाय के लोगों का विरोध-प्रदर्शन 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। देश के विभिन्न हिस्सों में गिरजाघरों पर कथित हमले, हिंसा और गिरफ्तारी के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर पर एकत्र होकर ईसाई समुदाय के लोगों ने विरोध-प्रदर्शन किया। उत्तर प्रदेश से आये स्टीवन ने कहा, हमें लोगों को जबरन ईसाई धर्म अपनाने के लिए मजबूर करने का आरोपी बनाया जा रहा है। गिरजाघरों पर हमले किये जा रहे हैं, हमारे लोगों की पिटाई करके उन्हें गिरफ्तार किया गया। समुदाय के लोग लगातार डर के माहौल में जी रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि देशभर में समुदाय के सदस्यों के खिलाफ वर्ष 2021 में उत्पीड़न के 525 मामले सामने आए जो बढ़कर 2022 में 600 हो गये।

उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में ये मामले वर्ष 2020 में 70 थे जो बढ़कर वर्ष 2022 में 183 हो गये। उत्तर प्रदेश के फतेहपुर निवासी शिवपाल ने आरोप लगाया कि राज्य पुलिस लोगों को जबरन धर्म परिवर्तन कराने के आरोप में गिरफ्तार कर रही है। दिल्ली के पंजाबी बाग इलाके से आईं पूनम ने कहा, छत्तीसगढ़, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों में गिरजाघरों पर हमले किये जा रहे हैं और हमारे समुदाय का उत्पीड़न किया जा रहा है। झूठे आरोपों के आधार पर उनके खिलाफ मामले दर्ज किये जा रहे हैं। हम यहां अपने भाइयों-बहनों के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए एकत्र हुए हैं।

खराब मौसम के कारण 'राष्ट्रपति' का दौरा रद्द 

खराब मौसम के कारण 'राष्ट्रपति' का दौरा रद्द 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/चेन्नई। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का तमिलनाडु के पहाड़ी नीलगिरी जिले में स्थित कुन्नूर में वेलिंगटन में रक्षा सेवा स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी) का रविवार का प्रस्तावित दौरा खराब मौसम के कारण रद्द कर दिया गया। इसके बाद वह नई दिल्ली के लिए रवाना हो गईं। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि राष्ट्रपति तमिलनाडु में दो दिन के प्रवास पर थीं और आज उनका हेलीकॉप्टर से डीएसएससी जाकर वेलिंगटन में युद्ध स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित करने और रक्षा कर्मचारियों को संबोधित करने का कार्यक्रम था। सूत्रों ने बताया कि भारी धुंध और कोहरे की वजह से खराब दृश्यता के कारण राष्ट्रपति का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया।

बाद में वह कोयंबटूर से नयी दिल्ली के लिए रवाना हो गईं। हवाई अड्डे पर तमिलनाडु के राज्यपाल आर.एन.रवि, आईटी और डिजिटल सेवा मंत्री टी. मनो थंगराज, जिला कलेक्टर और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने उन्हें विदाई दी। राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार श्रीमती मुर्मू दो दिवसीय दौरे पर कल तमिलनाडु के मदुरै पहुंचीं थी और प्रसिद्ध मीनाक्षी अम्मन मंदिर गयी थीं। 

हेल्थ के लिए नुकसानदायक हो सकता है 'कॉर्नफ्लेक्स'

हेल्थ के लिए नुकसानदायक हो सकता है 'कॉर्नफ्लेक्स'

सरस्वती उपाध्याय 

भागदौड़-भरी लाइफ में हम अपने खान-पान का ठीक से ध्यान नहीं रख पाते हैं। जिसका असर हमारी सेहत पर पड़ता है। आज के दौर में ये देखा गया है कि लोगों के पास नाश्ता या तीन टाइम का खाना बनाने तक का समय नहीं होता है। आजकल के लोग बाजार की चीजों पर ज्यादा डिपेंड रहते हैं। ऐसे में लोगों को ब्रेकफास्ट में कॉर्नफ्लेक्स खाना बहुत ज्यादा पसंद होता हैं। कुछ लोग इसमें दूध मिलाकर खाते हैं।

वहीं, ऐसा कहा जाता है कि कॉर्नफ्लेक्स सिर्फ मक्के के आटे से बनाया जाता है। लेकिन, आपको जानकर हैरानी होगी कि यह हेल्थ के लिए बेहद नुकसानदायक साबित हो सकता है। बता दें बेक्रफास्ट में कॉर्नफ्लेक्स को और हेल्दी बनाने के लिए इसमें ज्यादातर लोग स्ट्रॉबेरी, मिक्सड फ्रूट, बादाम और ऑर्गेनिक शहद मिलाया जाता है। कॉर्नफ्लेक्स में मिलने वाली एडेड शुगर और सॉल्ट मिलाया जाता है। इसे प्रोसेस्ड किया जाता है। जिसकी वजह से ये आपकी सेहत के लिए काफी ज्यादा खराब हो सकता है। 

रिपोर्ट के मुताबिक, कॉर्नफ्लेक्स में उतना न्यूट्रिशियन नहीं होता जितनी की हमारे शरीर को जरूरत होती है। साथ ही उसमें फाइबर भी कम होता है। आपने अक्सर देखा होगा कि कॉर्नफ्लेक्स खाने के बाद लोगों को जल्दी भूख लग जाती है। हेल्थशॉटकी खबर में न्यूट्रिशनिस्ट कविता देवगन कहती हैं कि कॉर्नफ्लेक्स में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है। 

डायबिटीज मरीजों के लिए कॉर्नफ्लेक्स खाना नुकसानदायक...

हार्वर्ड टीएच चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ डॉ फ्रांक हू के मुताबिक कॉर्नफ्लेक्स में शुगर और नमक के कारण हाई ब्लड प्रेशर और इंफ्लामेशन, डायबिटीज और फैटी लिवर, मोटापा का खतरा बना रहता है। इससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बना रहता है। 

बता दें कॉर्नफ्लेक्स को कॉर्न यानी मक्का के टोस्टिंग फ्लेक्स से बनाया जाता है। कॉर्नफ्लैक्स एक पैकेज फूड जिसे लोग अक्सर दूध और चीनी के साथ खाया जाता है। इंग्लैंड के मैनचेस्टर में ट्रैफर्ड पार्क फैक्टरी में सबसे ज्यादा कॉर्नफ्लैक्स का प्रोडक्शन सबसे ज्यादा होता है। 

न्यूट्रिशन...

कॉर्नफ्लेक्स खाने से डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है। इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स एक मेजरमेंट है। जिससे हमें पता चलता है कि फूड में कितनी मात्रा में शुगर लेवल है।

एमपी के पश्चिमी हिस्से में भूकंप के झटके, नुकसान नहीं

एमपी के पश्चिमी हिस्से में भूकंप के झटके, नुकसान नहीं 

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। मध्य-प्रदेश के पश्चिमी हिस्से में रविवार दोपहर भूकंप के झटके आए। हालांकि यह महसूस नहीं किया गया और न ही इससे जानमाल का कोई नुकसान हुआ। मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के वैज्ञानिकों ने बताया कि रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 3़ 0 रही। भूकंप दोपहर 12़ 54 बजे आया।

इसका केन्द्र धार जिले में बताया जा रहा है, जो जमीन से 10 किलोमीटर की गहरायी में था। भूकंप से प्रदेश के पश्चिमी हिस्से के छह जिले धार, बड़वानी, अलीराजपुर, इंदौर, झाबुआ और खरगोन प्रभावित हुए। इसकी तीव्रता कम होने के चलते इन जिलों में झटके महसूस नहीं किए गए और न ही किसी प्रकार के जानमाल का नुकसान हुआ है।

विपक्षी एकजुटता के संदर्भ में चर्चा की जाएगी: कांग्रेस 

विपक्षी एकजुटता के संदर्भ में चर्चा की जाएगी: कांग्रेस 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस ने रविवार को कहा कि 24 फरवरी से शुरू हो रहे इसके तीन दिवसीय पूर्ण अधिवेशन में अगले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर विपक्षी एकजुटता के संदर्भ में चर्चा की जाएगी एवं आगे का रुख तय किया जाएगा। हालांकि, उसने इस बात पर भी जोर दिया कि उसकी मौजूदगी के बिना देश में विपक्षी एकता की कोई भी कवायद सफल नहीं हो सकती।

पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बयान का स्वागत किया और कहा कि जनता दल (यूनाइटेड) के शीर्ष नेता ने कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के प्रभाव को स्वीकार किया है। नीतीश कुमार ने शनिवार को कहा था कि कांग्रेस को 'भारत जोड़ो यात्रा' से बने माहौल का लाभ उठाते हुए भाजपा विरोधी दलों को एकजुट कर गठबंधन बनाना चाहिए और अगर ऐसा हो गया तो 2024 के लोकसभा चुनाव में अभी 300 से ज्यादा सीट वाली भारतीय जनता पार्टी को 100 से भी कम सीट पर समेटा जा सकेगा।

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, रमेश और पार्टी के कुछ अन्य वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी के अधिवेशन के बारे में कुछ ब्योरा सामने रखा। वेणुगोपाल ने कहा कि कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्ल्यूसी) के चुनाव के संदर्भ में 24 फरवरी को पार्टी की संचालन समिति की बैठक में फैसला होगा। नीतीश कुमार के बयान के संदर्भ में वेणुगोपाल ने कहा, ‘‘हमने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान समान विचार वाले दलों को आमंत्रित किया। ज्यादातर दल आए।

संसद के सत्र के दौरान अडाणी समूह के मामले में विपक्षी दलों को साथ लिया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अधिवेशन एक ऐसा मंच होगा जहां इस पर चर्चा होगी। निश्चित तौर पर इस बारे में (नेतृत्व) का निर्देश आएगा।’’ रमेश ने कहा, ‘‘हम मानते हैं कि विपक्ष की एकता जरूरी है। लेकिन विपक्ष की एकता के लिए यात्रा नहीं निकाली गई थी, यह इसका परिणाम हो सकता है। अधिवेशन में इस पर विचार होगा।

यह क्या रूप लेगा हम नहीं कह सकते।’’ उन्होंने कहा, ‘‘नीतीश कुमार जी का बयान के हम स्वागत करते हैं क्योंकि उन्होंने माना है कि ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का असर न सिर्फ कांग्रेस पर, बल्कि भारतीय राजनीति पर हुआ है। यह भारतीय राजनीति के लिए परिवर्तनकारी क्षण है, यह उन्होंने स्वीकारा है।’’ रमेश ने कहा, ‘‘हम अपनी भूमिका अच्छी तरह जानते हैं। कांग्रेस ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जिसने भाजपा के साथ कहीं भी समझौता नहीं किया है।’’

उन्होंने किसी पार्टी का नाम लिए बगैर कहा, ‘‘कई पार्टी हैं जो मल्लिकार्जुन खरगे जी के साथ बैठक में आती हैं, लेकिन उनकी क्रिया सत्तापक्ष के साथ नजर आती है। हमारे दो चेहरे नहीं हैं। हम चाहते हैं कि अडाणी के मामले पर जेपीसी की जांच हो।’’ कांग्रेस नेता ने इस बात पर जोर दिया, ‘‘हमें किसी के प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है। कांग्रेस के बिना कोई भी विपक्षी एकता असफल होगी...मजबूत कांग्रेस के बिना मजबूत विपक्षी एकता असंभव है।

चुनाव के पहले गठबंधन होना चाहिए, बाद में होना चाहिए, इस पर अधिवेशन में लोग अपना विचार रखेंगे।’’ उन्होंने कहा कि 2024 से पहले कई राज्यों में चुनाव हैं जिन पर पार्टी को ध्यान देना है। वेणुगोपाल ने कहा कि इस बार का यह पूर्ण अधिवेशन 2024 के लोकसभा चुनाव की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा।

जमीन उपलब्ध कराने जैसे प्रोत्साहन देने का प्रस्ताव 

जमीन उपलब्ध कराने जैसे प्रोत्साहन देने का प्रस्ताव 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारत में पंप स्टोरेज हाइड्रोपावर परियोजनाओं को बढ़ावा देने के लिए बिजली मंत्रालय ने कर छूट, सुगम पर्यावरण मंजूरी समेत रियायती दरों पर जमीन उपलब्ध कराने जैसे प्रोत्साहन देने का प्रस्ताव दिया है। मंत्रालय ने पंप स्टोरेज परियोजनाओं (पीएसपी) पर दिशानिर्देशों का मसौदा जारी करते हुए 15 दिन के अंदर दो मार्च, 2023 तक राज्यों के साथ-साथ सरकारी और निजी कंपनियों के विचार मांगे हैं।

मंत्रालय ने अपने दिशानिर्देशों में कहा कि ग्रिड स्थिरीकरण में पीएसपी की अत्यधिक उपयोगिता को देखते हुए और बिजली की चरम मांग को पूरा करने के लिए, पीएसपी को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एक स्वतंत्र दिशानिर्देश जारी करने की जरूरत महसूस हुई, जिससे इसके विकास के लिए निर्देश तय किए जाएं।

केंद्रीय बिजली प्राधिकरण (सीईओ) का अनुमान है कि भारत में नदी पर पंप भंडारण की क्षमता 103 गीगावॉट है। इसके अलावा, बड़ी संख्या में नदी से अलग पंप भंडारण की क्षमता भी उपलब्ध है। मंत्रालय के अनुसार, फिलहाल आठ परियोजनाएं (4,745.60 मेगावाट) संचालित हैं, चार परियोजनाएं (2,780 मेगावाट) निर्माणाधीन हैं और 24 परियोजनाएं (26,630 मेगावाट) राज्यों द्वारा आवंटित की गई हैं, जो विभिन्न चरणों में हैं।

पंप स्टोरेज हाइड्रोपावर (पीएसएच) यह बिजली स्टोर करने का संयंत्र होता है। इसमें पानी के दो (जलाशय) बनाए जाते हैं। एक नीचे और दूसरा ऊपर। इनके बीच एलिवेशन ऐसा रखते हैं कि निचले जलाशय की तरफ बहता पानी टर्बाइन से होकर निकलता है और उससे बिजली पैदा होती है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-130, (वर्ष-06)

2. सोमवार, फरवरी 20, 2023

3. शक-1944, फाल्गुन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-अमावस्या, विक्रमी सवंत-2079‌।

4. सूर्योदय प्रातः 07:09, सूर्यास्त: 06:01। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 14 डी.सै., अधिकतम- 24+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'पीएम' मोदी ने अभिनेत्री रश्मिका की तारीफ की

'पीएम' मोदी ने अभिनेत्री रश्मिका की तारीफ की अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। नेशनल क्रश रश्मिका मंदाना सिर्फ साउथ सिनेमा का ही नहीं, अब ...