सोमवार, 19 अप्रैल 2021

सेना वापसी के बाद सुरक्षा से पल्ला झाड़ा: अमेरिका

वाशिंगटन डीसी। वर्षो तक अफगानिस्तान की सुरक्षा में लगे रहे अमेरिका ने अब सेना वापसी के बाद की सुरक्षा से अपना पल्ला झाड़ लिया है। अमेरिका ने कहा है कि सेना वापसी के बाद अफगानिस्तान की सुरक्षा की कोई गारंटी नहीं ले सकता है। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) जैक सुलीवान से फॉक्स न्यूज के कार्यक्रम में यह सवाल किया गया कि 2011 में जब इराक से अमेरिकी सेना वापसी के बाद इस्लामिक स्टेट (आइएस) ने कब्जा कर लिया था। तब राष्ट्रपति बराक ओबामा ने दोबारा सेना भेजी थी। अफगानिस्तान में सेना वापसी के बाद ऐसी परिस्थितियों पर अमेरिका क्या करेगा। एनएसए जैक सुलीवान ने कहा कि राष्ट्रपति जो बाइडन की दोबारा सेना भेजने की कोई मंशा नहीं है। कोई भी सेना वापसी के बाद सुरक्षा की गारंटी नहीं ले सकता। हमने अफगानिस्तान को सक्षम बनाने में पूरी तरह मदद की है। उनके सुरक्षा बलों को ताकत बढ़ाने के लिए संसाधन उपलब्ध कराए हैं। उपकरण देकर क्षमता में वृद्धि की है, प्रशिक्षण भी दिया है। यह समय अब सुरक्षा बलों की वापसी का है। यहां के लोगों को अपनी सुरक्षा के बारे में खुद कदम बढ़ाने होंगे। अफगानी राष्ट्रपति अशरफ गनी ने कहा है कि अफगानिस्तान अपनी सुरक्षा करने में सक्षम है।


भाजपा के टिकट पर चुनाव, फिर कांग्रेस में वापसी

राणा ओबराय           
सिरसा। जिलें में कांग्रेस का कुनबा बढ़ सकता है। वर्ष 2014 में पूर्व मंत्री जगदीश नेहरा कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। उन्होंने 2014 का विधानसभा चुनाव रानियां विधानसभा से भाजपा के टिकट पर लड़ा था। पूर्व मंत्री जगदीश नेहरा के पुत्र सुरेंद्र नेहरा एक बार फिर कांग्रेस में घर वापसी करने जा रहे हैं।
निजी सुत्रो के अनुसार, मंगलवार को गुरुग्राम में कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा और प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल की मौजूदगी में सुरेंद्र नेहरा कांग्रेस का दामन थामेंगे।
स्मरण रहे जगदीश नेहरा हरियाणा के कद्दावर नेता रहे हैं और कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकारों में शिक्षा और सिंचाई मंत्रालय का कार्यभार संभाल चुके हैं।

मंगल पर पहली नियंत्रित उड़ान, उपलब्धि हासिल की

वाशिंगटन डीसी। नासा के प्रायोगिक मार्स (मंगल) हेलीकॉप्टर ने सोमवार को धूलभरी लाल सतह से उड़ान भरी और किसी अन्य ग्रह पर पहली नियंत्रित उड़ान की उपलब्धि हासिल की। इस घटनाक्रम की तुलना राइट ब्रदर्स के प्रयोग से की जा रही है। इन्जेनुइटी नाम के 4 पाउंड (1.8 किलोग्राम) वजनी हल्के हेलीकॉप्टर ने 1903 के राइट फ्लायर के सरीखे विंग फैब्रिक के साथ उड़ान भरी। राइट फ्लायर ने उत्तर कैरोलिना के किटी हॉक में ऐसा ही इतिहास रचा था। परियोजना प्रबंधक मिमि आंग ने अपनी टीम के लिए घोषणा की, ”अब हम कह सकते हैं कि मनुष्य ने एक दूसरे ग्रह पर रोटरक्राफ्ट उड़ाया है।” कैलीफोर्निया में उड़ान नियंत्रकों ने पर्सिवरेंस रोवर से डाटा मिलने के बाद इन्जेनुइटी की संक्षिप्त उड़ान की पुष्टि की। उसे 200 फुट (65 मीटर) से अधिक ऊंचाई तक उड़ते देखा गया। इन्जेनुइटी ने फरवरी में पर्सिवरेंस पर मंगल के लिए उड़ान भरी थी। 8.5 करोड़ डॉलर की लागत वाले हेलीकॉप्टर के इस प्रयोग को अति जोखिम वाला, साथ ही अत्यंत उपलब्धि वाला माना गया था।

विश्व में कोरोना से 30.19 लाख लोगों की मौंत हुई

नई दिल्ली/ वाशिंगटन डीसी। दुनिया में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी ने विकराल रूप ले लिया है और अभी तक वायरस के संक्रमण से 30.19 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि, 14.14 करोड़ से ज्यादा लोग इस वायरस से प्रभावित हो चुके हैं। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र (सीएसएसई) की ओर से जारी ताजा आँकड़ों के अनुसार दुनिया के 192 देशों एवं क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 14,14,04,847 तक पहुंच गयी है, जबकि अभी तक इस संक्रमण से 30,19,330 लोगों की मौत हो चुकी है। वैश्विक महाशक्ति माने जाने वाले अमेरिका में कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है तथा यहां संक्रमितों की संख्या तीन करोड़ 16 लाख के पार हो गई है। जबकि पांच लाख 67 हजार 217 मरीजों की मौत हो चुकी है। दुनिया में कोरोना संक्रमितों के मामले में भारत दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। यहां संक्रमितों की कुल संख्या 1,50,61,919 तक पहुंच गयी है। इस महामारी के संक्रमण से अभी तक 1,78,769 लोगों की मौत हो चुकी है। ब्राजील संक्रमितों के मामले में अब तीसरे स्थान पर है।

कालाबजारी रोकने के लिए उठाएं जाएंगे सख्त कदम

लखनऊ। यूपी में कोरोना संक्रमण के बढते मामलो को देखते हुए राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने भी मोर्चा संभाल लिया है। उन्होंने इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आज फोन पर बात करते हुए प्रदेश के हालात पर चर्चा की और इस दौरान कोरोना से निपटने के लिए स्पेशल टीम का गठन साथ में दवाओं की कालाबजारी रोकने के लिए सख्त कदम उठाये जाने की बात कही। राज्यपाल ने कहा एक ऐसी स्पेशल टीम का गठन किया जाये जो कोरोना से जुड़ी हर​ स्थिति पर नजर रखे साथ में कोविड 19 की गाइडलाइन का पालन कराया जा सके। उन्होंने चर्चा के दौरान कहा प्रदेश में कोविड दवाओं और आक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी को लेकर कई शिकायतें आ रही हैं। इस पर प्रभावी ढंग से लगामा लगायी जाये। साथ दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाये।

महामारी के लिए कांग्रेस शासित राज्य जिम्मेदार ?

नई दिल्ली। कोविड-19 प्रबंधन को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखने वाले वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मनमोहन सिंह पर पलटवार करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने सोमवार को आरोप लगाया कि वैश्विक महामारी की दूसरी लहर के लिए कांग्रेस शासित राज्य जिम्मेदार हैं। जो कथित रूप से लोगों के टीकाकरण के बजाए टीकों पर संदेह जताने में व्यस्त थे।
उल्लेखनीय है कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने देश में कोविड-19 के हालात से निपटने के लिए रविवार को पांच उपाय सुझाते हुए प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी को पत्र लिखा था और इस बात पर जोर दिया था कि महामारी से मुकाबले के लिए टीकाकरण तथा दवाओं की आपूर्ति बढ़ाना महत्वपूर्ण होगा।

डीएम पांडेय ने सभी रेस्टोरेंट्स पर लगाया प्रतिबंध

अश्वनी उपाध्याय        
गाजियाबाद। जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय ने आज सोमवार को एक आदेश जारी कर गाज़ियाबाद में सभी रेस्टोरेंट्स और ओपन रेस्टोरेंट्स पर खाने-पीने की व्यवस्था पर प्रतिबंध लगा दिया है। सरल हिन्दी में इसका मतलब ये हुआ कि अब आप रेस्टोरेन्ट में बैठ कर भोजन का आनंद नहीं उठा पाएंगे। हालांकि, ज़ोमेटो और स्वीगी समेत सभी रेस्टोरेंट्स की होम डिलिवरी और टेक अवे सर्विस जारी रहे। इस प्रतिबंध के दायरे में सड़क के किनारे रेहड़ी-पटरी पर खाने पीने का सामान बेचने वाले भी आ गए हैं। प्रतिबंध अगले आदेश तक जारी रहेगा।

गाजियाबाद: 24 घंटों में मिलें 827 नए संक्रमित

अश्वनी उपाध्याय           

गाजियाबाद। नए मरीजों की संख्या सत्य के कुछ नजदीक लग रही है। बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घंटों की अवधि में गाज़ियाबाद में 827 नए संक्रमितों की पहचान हुई। जोकि, जिले के लिए एक नया रेकॉर्ड है। इस अवधि में 145 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है और अब सक्रिय संक्रमितों की संख्या 3275 हो गई है। आधिकारिक रेकॉर्ड में 2 संक्रमितों की मृत्यु भी दर्शाई गई है। उत्तर प्रदेश में आज 28287 नए संक्रमित मिले और 10978 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। प्रदेश में अब 208523 सक्रिय संक्रमित हैं। पिछले 24 घंटों में 167 मरीजों की मृत्यु दर्ज की गई है। गौतम बुद्ध नगर में आज 425 नए मरीज, मेरठ में 911 मरीज तथा बुलंदशहर में 267 नए मरीज मिले हैं। इसके बाद सक्रिय मरीजों की संख्या क्रमशः 3386, 5037 और 1158 हो गई है।

दबंग कोतवाल ने पत्रकार को पीटकर कपड़ें फाड़ें

भदोही। आखिर प्रदेश सरकार के दावे पर पत्रकारों को सुरक्षा व ऐसे ही कोतवाली में तैनात कोतवाल पत्रकारों के साथ अभद्रता करते रहेंगे तो भारत का चौथा स्तंभ कैसे सलामत रहेगा ? इस घटना को लेकर क्षेत्र में पत्रकारों में खाते आक्रोश फैला हुआ है। जो आए दिन पत्रकारों या आम नागरिकों से अभद्रता भदोही कोतवाली में तैनात कोतवाल या सिपाही करते रहते हैं। लेकिन, कप्तान साहब को इस बात पर भनक तक नहीं होती और लेकिन जब एक दैनिक अखबार के ब्यूरो जोकि, सोमवार को भदोही की तरफ से अपने घर को जा रहा थे। उनको रास्ते में अपने मित्र पत्रकार के यहां रुक कर दवा लेना भारी पड़ गया था। क्योंकि, जब दैनिक अखबार के ब्यूरो मोढ़ ग्राम डुढवा धरम पूरी अपने मित्र पत्रकार के यहां रुक कर दवा ले रहे थे तो  कोतवाल सदानंद अपने हमराहीयों के साथ आ पहुंचे  और पत्रकारों से पूछताछ करने लगे जब पत्रकारों ने अपना परिचय दिया कि मैं पत्रकार हूं। इतने में भदोही कोतवाल पत्रकार के मुंह से पत्रकार नाम सुनते ही आग बबूला हो गए और दबंग कोतवाल ने अपने हमराहीओं के साथ मिलकर पत्रकार को गाली-गलौज देते हुए लात-घुसो से पीटते हुए कपड़े भी फाड़ दिये। जिससे मारपीट के दौरान पत्रकार को काफी गंभीर चोटें भी आई थी। जिसकी शिकायत पत्रकार ने पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह को लिखित प्रार्थना पत्र देकर के दबंग कोतवाल व उनके हमराहिओ के ऊपर वैधानिक कार्यवाही करने की मांग की थी। लेकिन, घटना के  5 दिन बीत जाने के बाद भी उस दबंग कोतवाल वह उनके हमराहियों के खिलाफ कोई ठोस कार्यवाही नहीं हुई। बल्कि, भदोही पुलिस मामले में लीपापोती करने में भी लग गई है। जो कि पुलिस ट्विटर के माध्यम से पत्रकार को ही दोषी बता रही है और 12 /13 लोगों के साथ खड़े होकर पत्रकार को भीड़ का हिस्सा दिखाकर पूछताछ की बातें कह रही है।
जबकि, सीएम योगी का कहना है कि पत्रकारों को परेशानी होने पर तुरंत संपर्क कर सहायता प्रदान करें और पत्रकारों से मान सम्मान से बात करें। वरना आप को पड़ेगा महंगा। इतना ही नहीं बदसुलूकी करने वाले पुलिस कर्मियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज होगी, नहीं तो एसएसपी पर होगी कार्यवाही पत्रकार नही है भीड़ का हिस्सा। पत्रकारों के साथ बढ़ती ज्यादती और पुलिस के अनुचित व्यवहार के चलते कई बार पत्रकार आजादी के साथ अपना काम नही कर पाते है। उसी को ध्यान में रखते हुए बीते दिनों भारतीय प्रेस काउंसिल के अध्यक्ष मार्कण्डेय काटजू ने राज्य सरकारों को चेतावनी देते हुए निर्देश भी दिया था कि पुलिस आदि पत्रकारों के साथ बदसलूकी ना करे। किसी स्थान पर हिंसा या बवाल होने की स्थिति में पत्रकारों को उनके काम करने में पुलिस व्यवधान नही पहुँचा सकती। पुलिस जैसे भीड़ को हटाती है। वैसा व्यवहार पत्रकारों के साथ नहीं कर सकती। ऐसा होने की स्थिति में बदसलूकी करने वाले पुलिसवालों या अधिकारियों के विरुद्ध आपराधिक मामला दर्ज किया जायेगा। काटजू ने यहां तक कहा था  कि जिस तरह कोर्ट में एक अधिवक्ता अपने मुवक्किल का हत्या का केस लड़ता है पर वह हत्यारा नहीं हो जाता। उसी प्रकार किसी सावर्जनिक स्थान पर पत्रकार अपना काम करते हैं पर वे भीड़ का हिस्सा नही होते। इसलिए पत्रकारों को उनके काम से रोकना मिडिया की स्वतंत्रता का हनन करना है। सरकारें ये सुनिश्चित करे की पत्रकारों के साथ ऐसी कोई कार्यवाही कहीं न हो। पुलिस की पत्रकारों के साथ की गयी हिंसा मिडिया की स्वतन्त्रता के अधिकार का हनन माना जायेगा। जो उसे संविधान की धारा 19 एक ए में दी गयी है और इस संविधान की धारा के तहत बदसलूकी करने वाले पुलिसकर्मी या अधिकारी पर आपराधिक मामला दर्ज होगा। वही अब पत्रकार एकत्रित हो गए है और उनका कहना है, कि जिन पुलिस कर्मियों पर अपराधियों पर अंकुश की जिम्मेदारी होती। यदि, वे ही गुंडई पर उतारू हो जायें तो फिर सुरक्षा की उम्मीद किस से की जाए।

कौशाम्बी: कन्ट्रोल रूम का डीएम ने किया निरीक्षण

कौशाम्बी। जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह ने “कोरोना वायरस” के संक्रमण से बचाव एवं प्रभावी रोकथाम तथा लोगों की समस्याओं को तत्परता से निस्तारित करने हेतु कलेक्ट्रेट परिसर में बनाये गये कन्ट्रोल रूम का सोमवार को निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कन्ट्रोल रूम में तैनात किये गये कर्मचारी अभय कुमार, कार्यालय जिला विकास अधिकारी भीमसेन यादव, वरिष्ठ सहायक कार्यालय प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान विनोद कुमार, कनिष्ठ सहायक कार्यालय प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान राहुल, कनिष्ठ सहायक कार्यालय प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के अनुपस्थित पाये जाने पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी कर्मचारियों का वेतन रोकने एवं एफआईआर दर्ज कराये जाने का निर्देश दिया है। इस अवसर पर विनय कुमार गुप्ता सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।
सुशील केशरवानी 

पीएम की लोकप्रियता 'संपादकीय'

पीएम की लोकप्रियता 'संपादकीय'
 
संपूर्ण विश्व में भारत की विशिष्ट पहचान बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को विश्व सदियों तक याद रखेगा। प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी का यह दूसरा कार्यकाल चल रहा है। मानवीय, सामाजिक, ढांचागत विकास और रचनात्मक प्रयासों से कई बार देश की जनता को हतप्रभ किया है। धर्मवाद की नीति के साथ-साथ सभी वर्गों के विकास का प्रयास किया है। इसी कारण निरंतर नरेंद्र मोदी की लहर जारी है। इस लहर को यदि लोकप्रियता से परिभाषित किया जाए तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी।
परंतु इस बात से भी गुरेज नहीं करना चाहिए कि जिस प्रकार देश में सोशल मीडिया के माध्यम से वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना-विवेचना के साथ, गाली-गलौज, कम्बख़त और पनौती आदि शब्दों का उपयोग किया जा रहा है। आप सभी लोग इसको कैसे देखते हैं, इसके अलैदा इसे लोकप्रियता नहीं तो क्या कहेंगे? सोमवार को पश्चिम बंगाल में एक चुनावी रैली में भारी-भरकम भीड़ भी इसका पुष्ट प्रमाण है। यही नहीं पश्चिम बंगाल में भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार का गठन भी होगा। यह भीड़ इसका संकेत भी है और सूचक भी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा भाजपा में कोई दूसरा इसका श्रेय लेने योग्य राजनेता भी नहीं है।
 मगर यह बात क्यों भूल गए हैं कि जिस हड्डी को कुत्ता घंटों तक चाटता रहता है। उससे कुछ नहीं निकलता है। कुत्ते के मसूड़े छीलने से हड्डी पर खून लग जाता है। कुत्ता अपने ही खून को चाटता रहता है। साधारण सी बात है परिश्रम करने की एक ठोस वजह है। लेकिन राजनीतिक प्रारब्ध, स्वार्थ और सत्ता की भूख ने आंखों पर ऐसी पट्टी चढ़ा दी है।  जिसके कारण वास्तविकता को देखने-समझने का औचित्य ही नहीं हैं। एक तरफ देश की जनता महामारी का दंश झेल रही है और देश का प्रधान सेवक लाशों के ढेर पर राजनीति कर रहा है। देश की जनता के लिए इससे बड़ा दुर्भाग्य क्या होगा? बंगाल की जनता शायद पीएम के मोह में अप्रत्यक्ष जोखिम से अनजान है। मासूम और भोली जनता का इससे आसान शिकार क्या होगा? देश की जनता किस हालत से गुजर रही है, इसकी प्रधान सेवक को जरा भी परवाह नहीं है। सत्ता की भूख के सामने एड़िया रगड़ कर दम तोड़ने वालों की परवाह नहीं है, उनकी जिंदगी का कोई मोल नहीं हैं। जो बाकी बचेंगे उन पर राज करेंगे या विपक्ष में बैठ जाएंगे। लोकतंत्र में यह सोच लोकतंत्र की जडें कुतरने वाली है। जो लोग इसके जिम्मेदार है शायद उनके पास अब आखिरी मौका है।
 राधेश्याम 'निर्भयपुत्र'

'राष्ट्रीय सुरक्षा' को खतरे में डाल रहीं सरकार: राहुल

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को आरोप लगाया कि सरकार देश की राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डाल रही है और चीन के साथ उसकी बातचीत ‘निरर्थक’ रही है। उन्होंने ट्वीट किया, ”गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स और देपसांग में चीन का कब्जा दौलत बेग ओल्डी हवाई पट्टी समेत भारत के सामरिक हितों के लिए सीधा खतरा है।” कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया, ”भारत सरकार ने (चीन के साथ) निरर्थक बातचीत करके राष्ट्रीय सुरक्षा को बड़े पैमाने पर खतरे में डाल दिया है।”
राहुल गांधी ने यह टिप्प्णी उस वक्त की है जब ऐसी खबरें आई हैं कि पूर्वी लद्दाख गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स और देपसांग से अपने सैनिक पीछे हटाने से मना कर दिया है। भारतीय सेना ने पिछले दिनों एक बयान में कहा था कि दोनों देशों ने पूर्वी लद्दाख में तनाव वाले शेष हिस्सों हॉट स्प्रिंग्स, गोगरा और देपसांग से सैनिकों की वापसी को लेकर विस्तृत चर्चा की और संयुक्त रूप से जमीन पर स्थायित्व कायम करने, नए विवादों से बचने और शेष मुद्दों के शीघ्र निपटारे पर सहमति जतायी है।

कोरोना के कारण पीएम जॉनसन का भारत दौरा रद्द

नई दिल्ली/ लंदन। कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन अगले सप्ताह भारत यात्रा पर नहीं आयेंगे। विदेश मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि यह फैसला दोनों पक्षों ने आपसी सहमति से किया है। उन्होंने कहा, ”कोविड-19 की वर्तमान स्थिति को देखते हुए आपसी सहमति से यह निर्णय किया गया है कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री अगले सप्ताह भारत यात्रा पर नहीं आयेंगे।” विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि दोनों पक्ष आने वाले दिनों में डिजिटल बैठक आयोजित करेंगे, जिसमें भारत-ब्रिटेन संबंधों के लिये योजनाएं पेश की जायेंगी। लंदन में डाउनिंग स्ट्रीट ने भी सोमवार को जानकारी दी, कि जॉनसन का दौरा रद्द कर दिया गया है। हालांकि, जॉनसन भविष्य की ब्रिटेन-भारत साझेदारी के लिए अपनी योजनाओं की शुरुआत के लिहाज से इस महीने के आखिर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करेंगे। उनकी आमने-सामने मुलाकात इस साल के आखिर में होने की संभावना है। डाउनिंग स्ट्रीट ने ब्रिटिश और भारतीय सरकारों की ओर से एक संयुक्त वक्तव्य में कहा, ”कोरोना वायरस के मौजूदा हालात की वजह से प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन अगले सप्ताह भारत यात्रा नहीं कर सकेंगे।”
बयान में कहा गया, ”प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जॉनसन ब्रिटेन और भारत के बीच भविष्य की साझेदारी के लिहाज से अपनी महत्वाकांक्षी योजनाओं पर सहमति बनाने और उन्हें शुरू करने के लिए इस महीने के आखिर में बातचीत करेंगे।” भारत में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच जॉनसन पर अपनी यात्रा को रद्द करने का दबाव था। इस सप्ताहांत में ब्रिटेन की विपक्षी लेबर पार्टी ने उनसे आग्रह किया था कि वह यात्रा स्थगित करें और जूम से डिजिटल तरीके से चर्चा करें।

केकेआर को 38 रन से हार का सामना करना पड़ा

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। पिछले कुछ समय में लय हासिल करने की कोशिश कर रहे बायें हाथ के स्पिनर कुलदीप यादव को उम्मीद है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में वह जल्द ही अपनी टीम कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के लिए मैदान में उतर कर अच्छा प्रदर्शन करेंगे। केकेआर को रविवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ 38 रन से हार का सामना करना पड़ा। तीन मैचों में टीम की दूसरी हार के बाद मुख्य कोच ब्रेंडन मैकुलम ने भी अंतिम 11 में बदलाव करने के संकेत दिये। आईपीएल में 45 मैचों में 40 विकेट लेने वाले कलाई के इस वामहस्त स्पिनर ने कहा , ‘‘अभी सिर्फ तीन मैच हुए है। मुझे उम्मीद है कि जल्द ही टीम (अंतिम-11) में मौका मिलेगा और मैं अच्छा प्रदर्शन करूंगा। ’’ कुलदीप ने कहा कि टीम से अनुभवी स्पिनर हरभजन सिंह के जुड़ने से उन्हें निजी तौर पर काफी फायदा हुआ और वह मानसिक रूप से मजबूत हुए है।

जगन्नाथ के दर्शन से पहले करानी होगी कोरोना जांच

भुवनेश्वर। ओड़िशा की राजधानी भुनेश्वर स्थित प्रसिद्ध लिंगराज मंदिर को कई सेवादारों की कोरोना पॉजिटिव आने से आम श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया गया था। इस पर निकाय ने कहा कि भगवान अशोकष्टमी रथयात्रा मंदिर प्रशासन की ओर से कोविड-19 नियमों के तहत फिर से संपन्न कराई जाएगी। इस बीच रविवार को प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर को सैनिटाइज किया गया। मंदिर प्रशासन ने बताया कि मंदिर में प्रवेश के लिए नए मानक परिचालन प्रक्रिया एसओपी सोमवार से लागू हो जाएगी। नई एसओपी के अनुसार बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश करने के लिए आरटी-पीसीआर जांच में संक्रमण मुक्त होने या टीकाकरण पूर्ण होने का प्रमाण पत्र देना होगा और यह भी शर्त है कि आरटी-पीसीआर रिपोर्ट 4 दिन से अधिक पुराना नहीं होना चाहिए।

फ्यूचर-रिलायंस सौदे के मामले की सुनवाईं पर रोक

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने फ्यूचर-रिलायंस सौदे के मामले पर दिल्ली हाईकोर्ट में चल रही सुनवाई पर रोक लगा दी है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट ही फैसला करेगा। मामले की अगली सुनवाई मई के पहले सप्ताह में होगी।
 हाईकोर्ट की सिंगल बेंच ने पिछले 18 मार्च को फ्यूचर-रिलायंस सौदे के खिलाफ पारित इमरजेंसी अवार्ड को बरकरार रखते हुए फ्यूचर ग्रुप पर 20 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था। जस्टिस जेआर मिडा की बेंच ने जुर्माने की ये रकम प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करने का आदेश दिया है। सिंगल बेंच ने कहा था कि फ्यूचर रिटेल, फ्यूचर कूपन, किशोर बियानी और अन्य लोगों ने इमरजेंसी अवार्ड का उल्लंघन किया। कोर्ट ने किशार बियानी को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए पूछा था कि उन्हें जेल क्यों नहीं भेजा जाए? सिंगल बेंच ने बियानी की संपत्तियों को कुर्क करने का आदेश देते हुए बियानी से अपनी संपत्ति का विवरण हलफनामा में देने का निर्देश दिया था। सिंगल बेंच के फैसले पर दिल्ली हाईकोर्ट की डिवीजन बेंच ने रोक लगा दी थी।

दिल्ली: 75 आइसोलेशन कोच मुहैया कराने का ऐलान

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। कोरोना वायरस की दूसरी लहर से पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है। राजधानी दिल्ली और देश की आर्थिक राजधानी मुंबई दोनों ही बड़े शहरों में कोरोना वायरस काफी तेजी से लोगों को संक्रमित कर रहा है। इस संक्रमण काल में दिल्ली सरकार की मांग पर रेलवे ने दिल्ली में 75 आइसोलेशन कोच मुहैया कराने का ऐलान किया है। 
 उत्तर रेलवे की ओर से जारी आधिकारिक बयान में बताया गया है कि राजधानी दिल्ली के आनंद विहार टर्मिलन और शकूर बस्ती स्टेशन पर कोरोना मरीजों के लिए कुल 75 आइसोलेशन कोच उपलब्ध कराए जाएंगे। रेलवे स्टेशन पर कोविड केयर सेंटर के रूप में रखे जाने वाली रेल की बोगियों में 1200 बेड होंगे। रेलवे की ओर से जानकारी दी गई है कि फिलहाल कोरोना के मामूली लक्षण वाले मरीजों के लिए दिल्ली के शकूरबस्ती रेलवे स्टेशन पर 50 कोविड-19 आइसोलेशन कोच को तैयार कर दिया गया है। इन 50 कोचों में कोरोना मरीजों के लिए 800 बेड की सुविधा दी गई है। रेलवे के बयान में बताया गया है कि शकूरबस्ती रेलवे स्टेशन के अलावा आनंद विहार टर्मिनल पर कोरोना मरीजों के लिए 25 कोच उपलब्ध कराए जाएंगे। इन 25 कोचों में 400 कोरोना संक्रमित मरीजों को रखा जा सकेगा। 
 रेलवे ने ये भी साफ किया है कि अगर कोरोना का संक्रमण बढ़ा और जरूरत पड़ी तो इन दो स्टेशनों के अलावा दिल्ली की दूसरी जगहों पर भी आइसोलेशन कोच का इंतजाम किया जाएगा। आपको बता दें कि रविवार को ही दिल्ली सरकार ने इंडियन रेलवे से आनंद विहार टर्मिनल और शकूरबस्ती रेलवे स्टेशन पर कोविड केयर सेंटर के रूप में आइसोलेशन कोच की व्यवस्था करने का आग्रह किया था। 

माता-पिता की सालगिरह पर तस्वीर को साझा किया

मनोज सिंह ठाकुर         
मुंबई। कंगना रनौत सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहती हैं और अक्सर अपनी निजी जिंदगी से जुड़े किस्से भी फैंस के साथ साझा करती हैं। इस बार भी कंगना ने ऐसा ही कुछ किया है। सोमवार को कंगना ने अपने माता- पिता की शादी की सालगिरह पर उनकी एक थ्रोबैक तस्वीर को ट्विटर पर साझा किया है। ब्लैक एंड व्हाइट यह तस्वीर कंगना के पैरेंट्स की शादी की है। इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर फैंस के साथ साझा करने के साथ ही कंगना ने फैंस को अपने माता-पिता के बीच की दिलचस्प प्रेम कहानी भी सुनाई है। कंगना ने ट्वीट कर लिखा-'आज मेरे पैरंट्स की शादी की सालगिरह है। जब हम बड़े हो रहे थे तो हमसे झूठ बोला गया था कि यह एक पारंपरिक अरेंज मैरिज थी। काफी बाद में नानी ने हमें बताया कि इनके बीच में अफेयर था। पापा ने मम्मी को कॉलेज से वापस आते हुए बस स्टैंड पर देखा था। इसके बाद पापा रोजाना उसी बस में जाने लगे जब तक कि मम्मी ने उन्हें नोटिस नहीं किया। जब पापा ने शादी का रिश्ता भेजा तो नानाजी ने इसके लिए तुरंत इनकार कर दिया क्योंकि पापा की इमेज बहुत अच्छी नहीं थी जबकि नाना ने मां के लिए सरकारी नौकरी वाला दूल्हा ढूंढा था। मां नाना जी को बहुत प्यारी थीं और वह उन्हें प्यार से गुड्डी बुलाते थे। मगर मां इस शादी के लिए अड़ गईं और नाना को इस शादी के लिए मना लिया। इसके लिए शुक्रिया। शादी की सालगिरह की बधाई।

सरकार ने स्कूलों को बंद करने का आदेश जारी किया

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में भी कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ते देखकर राज्य सरकार ने सभी स्कूलों को बंद करने का आदेश जारी कर दिया है। माना जा रहा है कि जानलेवा कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए बंगाल एक बार फिर लॉकडाउन की ओर बढ़ रहा है। 
 सोमवार को राज्य सरकार ने प्रदेश के सभी स्कूलों को बंद करने का आदेश जारी कर दिया है। इस दौरान शिक्षकों को भी स्कूल नहीं आना होगा। राज्य शिक्षा विभाग ने इससे संबंधित गाइडलाइन में कहा गया है कि फिलहाल अनिश्चितकाल के लिए स्कूलों को बंद रखा जाएगा। हालांकि इसमें इस बात का जिक्र है कि गर्मी की छुट्टी कोविड-19 को देखते हुए पहले दी जा रही है। 
उल्लेखनीय है कि करीब एक साल बाद नवमी से 12वीं तक की पढ़ाई शुरू हो गई थीं। लेकिन तेजी से बढ़ते कोरोना के बीच एक बार फिर स्कूलों को बंद करने का निर्णय लंबे लॉकडाउन का संकेत हो सकता है। हालांकि पहले जिस तरह से ऑनलाइन क्लास चलती थीं, वैसे चलेंगी।

एमपी: 17 हजार 963 कोरोना संक्रमितों ने जंग जीतीं

भोपाल। प्रदेश में एक ओर कोरोना का कहर जारी है तो दूसरी तरफ लगातार अपनी दृढ़ इच्‍छा शक्‍ति एवं चिकित्‍सकों के परामर्श व देखभाल के कारण पिछले तीन दिनों में 17 हजार 963 कोरोना संक्रमित व्यक्ति कोरोना से जंग जीत कर घर वापस लौटे हैं। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरूवार 15 अप्रैल को 3970, शुक्रवार 16 अप्रैल को 7496 और 17 अप्रैल को 6497 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ हुए हैं। 
उल्‍लेखनीय है कि  प्रदेश के सभी जिलों में कोरोना की जांच एवं उपचार की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई हैं। आवश्यक दवाओं के साथ अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या भी बढ़ाई गई है। सभी जिलों मे कोविड केयर सेंटर भी प्रारंभ किये गये हैं। होम आइसोलेशन वाले व्यक्तियों के लिए इलाज की सुविधाएँ मुहैया करवाई जा रही है।
वहीं, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान का कहना है कि  मुख्य रूप से फेस मॉस्क का लगातार इस्तेमाल, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, सेनेटाइजर का इस्तेमाल और अपने हाथों को निश्चित अंतराल के बाद साबुन से धोना जैसे उपाय करते हुए ही कोरोना से बचा रहा जा सकता है । उन्होंने कहा कि वैक्सीन लगने के बाद भी यह नहीं माना जाता है कि संबंधित व्यक्ति को कोरोना नहीं होगा। बल्‍कि  वैक्सीन लगने के बाद कोरोना संक्रमित व्यक्ति को शरीर में नुकसान काफी कम होगा। इसके अलावा उनका कहना है  कि कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने पर सरकार के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती स्वास्थ्य सुविधाओं, खासतौर से अस्पताल में बेड्स की पर्याप्त संख्या सुनिश्चित करना है। इस चुनौती का हम लगातार सामना कर रहे हैं। किेंतु हर संभव सार्थक प्रयास जारी हैं। 

झारखंड में जेपीएससी सहित कई परीक्षाएं स्थगित

मनोज सिंह ठाकुर            
रांची। झारखंड सरकार ने कोरोना से बिगड़ती स्थिति को देखते हुए कई महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं। झारखंड पब्लिक सर्विस कॉमिशन (जेपीएससी) समेत कई परीक्षाओं को स्थगित करने के साथ ही स्कूल, कॉलेज, कोचिंग, तकनीकी शिक्षा संस्थान व आंगनबाड़ी केंद्रों को अगले आदेश तक बंद रखने का फैसला लिया गे है। शादी समारोह में 50 से अधिक लोगों के शामिल होने पर भी पाबंदी लगा दी गयी है। 
 झारखंड पब्लिक सर्विस कॉमिशन की दो मई को होने वाली परीक्षा में करीब पांच लाख अभ्यर्थी शामिल होने थे। कोरोना संक्रमण के और फैलने का खतरा देखते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने की अगुवाई में रविवार को हुई उच्चस्तरीय बैठक में जेपीएससी की परीक्षा स्थगित करने का फैसला लिया गया। इस परीक्षा रद्द करने के लिये झारखंड लोक सेवा आयोग पर दबाव बनाया जा रहा था। सरकार की ओर से कहा गया है कि राज्य में कोरोना का खतरा तेजी से बढ़ा है। इसे देखते हुए व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करते हुए काम किया जा रहा है। स्वास्थ्य सेवाएं बढ़ायी जा रही हैं। जीवनरक्षक दवाओं और जरूरी बेड की व्यवस्था की जा रही है। मेडिकल सेंटर में बेडों की संख्या बढ़ाने का भी काम चल रहा है। 
 मुख्यमंत्री हेमंत ने राज्य के लोगों से अपील करते हुए कहा है कि संक्रमण को रोकने में सबों की मदद चाहिये. इसे हल्के में ना लें। यह घातक रूप में सामने आ रहा है। नौजवान, बुजूर्ग और हर उम्र के लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। नौजवान वर्ग के लोग बेवजह मौज मस्ती करना और घूमना बंद करें।अगले को संक्रमित मानकर चलें। ऐसा नहीं करने पर आपके आपके परिजन भी चपेट में आ सकते हैं। बेवजह अभी कोई ना घूमें। जरूरी होने पर मास्क लगाकर ही निकले। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि संक्रमण के खतरे को रोकने के लिए और भी निर्णय लिये जा सकते हैं। इस महीने के बाद इसकी फिर से समीक्षा की जायेगी। बैठक में वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव, स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता और श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता सहित अन्य भी शामिल थे। 

नोएडा में कोरोना के 700 नए मरीजों की पुष्टि हुई

विजय भाटी   
गौतमबुद्ध नगर। कोरोना महामारी का दंश झेल रहे जिलें में रविवार को 700 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही जनपद में कुल सक्रिय मरीजों की संख्या 3327 हो गई है। सबसे ज्यादा मामले राजधानी लखनऊ में सामने आए हैं। जहां 5551 नए मरीज मिले हैं। इस वक्त राजधानी में सक्रिय मरीजों की संख्या 47700 हो गई है। गौतमबुद्ध नगर में संक्रमण की वजह से 3 मरीजों की मौत हो गई है। इसके साथ ही कुल मौतों का आंकड़ा 103 हो गया है।
गौतमबुद्ध नगर के जिला निगरानी अधिकारी डॉक्टर सुनील दोहरे ने बताया कि पिछले 24 घंटे में जनपद में 700 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। हालांकि इस दौरान 147 मरीज ठीक होकर अस्पताल से घर चले गए हैं। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण की वजह से जनपद में 3 लोगों की मौत हो गई है। इससे मृतकों की संख्या 103 हो गई है। अधिकारी ने बताया कि जनपद में फिलहाल 3327 मरीजों का विभिन्न अस्पतालों और होम आइसोलेशन में इलाज चल रहा है। नए मरीजों की संख्या के साथ ही जिले में अब तक कुल मामलों की संख्या 30530 हो गई है। कुल 27100 मरीज ठीक हो कर घर पर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं।

श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्राली पलटने से 2 की मौत


अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। नवरात्र की सप्तमी पर जालौन देवी मंदिर से दर्शन करके लौट रहे श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्राली बीझलपुर अयाना मार्ग पर सडरापुर मोड़ के पास पलट गई। हादसे में दो महिलाओं की मौत हो गई। जबकि करीब 7 लोग घायल हुए हैं। घायलों में पांच की हालत बेहद गंभीर बताई जा रही है। उन्हें सैफई मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है। अयाना थाना पुलिस ने घायलों को नजदीकी अस्पतालों में भर्ती कराया है।
नवरात्र पर अयाना थाना क्षेत्र के नवादा ज्वाला प्रसाद गांव से तीन ट्रैक्टर ट्राली से करीब 20 परिवारों के लोग देवी दर्शन के लिए जालौन जिला गए थे। जालौन में देवी मंदिर से पूजन करके सभी गांव लौट रहे थे। सुबह करीब नौ बजे रास्ते में एक दूसरे को ओवरटेक करने में ट्रैक्टर अनियंत्रित होने से ट्राली खाईं में पलट गई। ट्राली सवार लोग उसके नीचे दब गए जिससे मौके पर चीख पुकार मच गई।     राहगीरों ने किसी तरह से उन्हें बाहर निकालकर उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। हादसे में आशा देवी पत्नी राजन सिंह और नीलम पत्नी लख्मी चंद्र निवासी ग्राम नवादा ज्वाला प्रसाद की मौत हो गई है। करीब 7 घायलों काे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एसएचओ नवीन कुमार ने बताया कि पांच लोगों की हालत ज्यादा गंभीर होने से उन्हें सैफई रेफर कर दिया गया है। बताया जाता है कि घायल व मृतक एक ही परिवार के हैं।

जमुई में कोरोना के 79 नए संक्रमितों की पहचान

अविनाश श्रीवास्तव             
जमुई। जिले में रविवार को 79 नए संक्रमितों की पहचान हुई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा रविवार को जारी रिपोर्ट में जमुई के 29, खैरा के 15, सोनो के 13, बरहट के तीन, चकाई के दो, गिद्धौर के पांच, अलीगंज के दो, लक्ष्मीपुर के सात तथा सिकंदरा के दो नए संक्रमितों की पहचान हुई। रविवार को बरहट के गुगुलडीह, खादीग्राम, मलयपुर में दो, कटौना सहित सदर के इंदपै, अभयपुर, खैरा के खुटौना, झुंडो, हरदीमोड़, मोहालीगढ़, नवडीहा, पूरना खैरा, लक्ष्मीपुर के बेला, मटिया, खिरया, हरला, सोनो के पेलवाजन, डूमरी, रजौन आदि गांवों में भी संक्रमित पाए जाने के अलावा सोनो प्रखंड कार्यालय, एसबीआइ लक्ष्मीपुर, पीएचसी खैरा, जीविका जमुई,एसएसबी पकरी, सिविल कोर्ट के कर्मी भी संक्रमित पाए गए हैं।
लखीसराय के भी एक संक्रमित पाए गए हैं। अनुश्रवण सह मूल्यांकन पदाधिकारी मुकेश कुमार ने बताया कि अब तक जिले में 3514 संक्रमित की पहचान हुई है।

वायरस मिल जाता तो फडणवीस के मुंह में डाल देतें

मनोज सिंह ठाकुर        
बुलढाणा। रेमडेसिविर का उत्पादन करने वाली एक दवा कंपनी के शीर्ष अधिकारी से दवा की कथित जमाखोरी को लेकर उठे विवाद के बीच शिवसेना के विधायक संजय गायकवाड ने कहा है कि यदि उन्हें कहीं कोरोना वायरस मिल जाता तो वह उसे भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस के मुंह में डाल देते। रेमडेसिविर का उत्पादन करने वाली एक दवा कंपनी के शीर्ष अधिकारी से दवा की कथित जमाखोरी को लेकर मुंबई पुलिस द्वारा पूछताछ करने के मामले में महाराष्ट्र के सत्तारूढ़ दल पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साध रहे हैं। यहां संवाददाताओं से बातचीत में बुलढाणा से विधायक गायकवाड़ से पूछा गया था कि महामारी के इस दौर में यदि फडणवीस मुख्यमंत्री होते तो वह क्या करते। इस पर उन्होंने कहा कि राज्य के मंत्रियों का समर्थन करने के बजाए भाजपा नेता उनका मजाक बना रहे हैं और सोच रहे हैं कि किस तरह प्रदेश सरकार को विफल किया जा सकता है। गायकवाड ने कहा, ”इसलिए, यदि मुझे कोरोना वायरस मिल जाता तो मैं उसे देवेंद्र फडणवीस के मुंह में डाल देता।

अभिनेता अर्जुन ने मीडिया पर वीडियो शेयर किया

मनोज सिंह ठाकुर       
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन कपूर अपनी फिल्म 2 स्टेट्स की रिलीज के सात साल पूरे होने पर भावुक हो गये और उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है। वर्ष 2014 में प्रदर्शित 2 स्टेट्स के प्रदर्शन के सात साल पूरे हो गये हैं। फिल्म 2 स्टेट्स में अर्जुन कपूर, आलिया भट्ट, अमृता सिंह, रेवती, रॉनित रॉय जैसे सितारे भी नजर आए थे। ‘2 स्टेट्स’ के सात साल पूरे होने पर अर्जुन कपूर ने इस फिल्म को याद किया है।अर्जुन कपूर ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो के बैकग्राउंड में गाना बज रहा है ‘लोचा ए उलफत’, इसके साथ फिल्म अलग- अलग सीन की तस्वीरों का कोलाज नजर आ रहा है। इसके साथ ही अमृता सिंह और रेवती का डायलॉग भी सुनाई दे रहा है। इस वीडियो को शेयर करते हुए अर्जुन कपूर ने कैप्शन में लिखा, ‘आपको सिर्फ प्यार चाहिए। खासकर आज के दिन।

देवरिया: दीवानी न्यायालय 20 अप्रैल तक रहेगा बंद

देवरिया। दीवानी न्यायालय में न्यायिक अधिकारी व कर्मी के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के दृष्टिगत कोविड प्रोटोकाल पालन एवं सैनिटाइजेशन कार्यों के लिये दीवानी न्यायालय कल 20 अप्रैल तक बन्द रहेगा। यह जानकारी जनपद न्यायाधीश रविनाथ ने देते हुए बताया है कि सम्पूर्ण न्यायालय परिसर को पूर्णतः सैनिटाईज कराने हेतु सीएमओ एवं अधिशासी अधिकारी नगरपालिका से अपेक्षा की गयी है कि वे सम्पूर्ण न्यायालय एवं परिसर का सैनिटाइजेशन त्वरित रुप में सुनिश्चित करायेगें।न्यायालय में कार्यरत अधिकारी एवं कर्मचारी कोरोना महामारी के बचाव हेतु राज्य व केन्द्र सरकार एवं न्यायालय द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करेगें। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट इन बन्दी के दिनो में रिमांड आदि के संबंध में आवश्यक कार्यवाही व्यवस्था सुनिश्चित करेगें।
देवरिया के नागरिकों से जिलाधिकारी की अपील
देवरिया जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने जनपद वासियों से अपील करते हुए कहा है कि यदि आपको संक्रमण हो रहा है तो घबराएं नहीं। जीवन के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण रखे। जिला प्रशासन सभी होम आइसोलेटेड रोगियों को घर पर ही जीवन रक्षक मेडिसिन किट पहुंचा रहा है, उसका सेवन करें।

5 वर्षीय बच्ची से बलात्कार, गला दबाकर हत्या की

बांदा। उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के मरका थाना क्षेत्र में बलात्कार के बाद पांच साल की बच्ची की गला दबाकर हत्या करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने इस सिलसिले में बच्ची के एक रिश्तेदार को सोमवार सुबह गिरफ्तार कर लिया है। बबेरू कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक (एसएचओ) भास्कर मिश्रा ने बताया कि बलात्कार के बाद पांच साल की बच्ची की हत्या कर शव धान के पुआल (पराली) में छिपाए जाने की घटना मरका गांव में रविवार देर शाम घटित हुई है।
उन्होंने बताया कि रविवार शाम बच्ची अपने घर के सामने खेल रही थी। तभी उसका 42 वर्षीय रिश्तेदार उसे बहाने से अपने घर ले गया और बलात्कार के बाद गला दबाकर उसकी हत्याकर शव धान के पुआल (पराली) में छिपा दिया। भास्कर मिश्रा ने बताया कि बच्ची के गायब होने की सूचना परिजनों ने पुलिस को रात में दी, जिसके बाद बच्ची की खोजबीन शुरू हुई और उसका शव घर से कुछ दूरी पर रखे धान के पुआल से सोमवार सुबह बरामद कर लिया गया। एसएचओ ने बताया कि मरका थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और उसने अपराध स्वीकार किया है।

अभिनेत्री माधुरी ने लोगों से घर पर रहने की अपील की

मनोज सिंह ठाकुर                            
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री माधुरी दीक्षित कोरोना की बढ़ती दूसरी लहर से बेहद दुखी है और उन्होंने लोगों से घर पर रहने की अपील की है। माधुरी दीक्षित सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव है। वह अक्सर अपनी तस्वीरें और वीडियो शेयर करती है। माधुरी दीक्षित कोरोना की बढ़ती दूसरी लहर से बेहद दुखी है। उन्होंने सोशल मीडिया पर इस बारे में लिखकर अपनी चिंता व्यक्त की है। माधुरी दीक्षित ने कोरोना महामारी से लड़ाई लड़ रहे कोरोना योद्धाओं की भी सराहना की है। माधुरी दीक्षित ने ट्विटर पर लिखा है  यह बहुत दुख की बात है कि कोरोना महामारी एक बार फिर हमारे जीवन पर प्रभाव डाल रही है। हम एक दूसरे के समर्थन से ही इस महामारी से उबर सकते हैं। मैं आप सभी से निवेदन करती हूं कि नियमों का पालन करिए और अपने घरवालों का ध्यान रखिए। मैं कोरोना योद्धाओं को नमन करती हूं कि वह हमारी निस्वार्थ भाव से सेवा कर रहे हैं। घर पे रहो।

बंगाल: आज से स्कूलों में ग्रीष्मकालीन अवकाश

इकबाल अंसारी  
कोलकाता। पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से सोमवार को कहा गया कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर स्कूलों में ग्रीष्मकालीन अवकाश 20 अप्रैल से शुरू हो जाएंगे। आमतौर पर ग्रीष्मकालीन अवकाश मई के पहले हफ्ते से शुरू होते हैं।राज्य सरकार के एक मंत्री ने कहा, ”(सरकारी और वित्तपोषित स्कूलों में) नौवीं, दसवीं, ग्यारहवीं और बारहवीं की कक्षाएं मध्य फरवरी से आरंभ हुईं थी। लेकिन कोविड-19 संबंधी हालात को देखते हुए हम समय पूर्व ग्रीष्मकालीन अवकाश करने पर मजबूर हैं। शिक्षा विभाग इस बाबत आवश्यक अधिसूचना आज जारी करेगा।” उन्होंने कहा कि निजी स्कूलों से भी यही करने का अनुरोध किया जाएगा।

दिल्ली में सीएम अरविंद ने की लॉकडाउन की घोषणा

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में सोमवार रात 10 बजे से 26 अप्रैल की सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन की घोषणा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने की है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ हुई बैठक के बाद इसका ऐलान कर दिया है। उनका कहना है कि कोरोना के बढ़ते मामलों पर नियंत्रण के लिए यह फैसला लिया गया है। केजरीवाल ने कहा कि, दिल्ली में चैथी लहर आई है। तीसरी लहर में रोजाना साढ़े आठ हजार मामले आ रहे थे। दुनिया के कई बड़े शहरों में छह हजार मामलों में हेल्थ सिस्टम चरमरा गया था। अब चैथी लहर में दिल्ली में रोजाना 25 हजार केस आ रहे हैं, तो हमारा हेल्थ सिस्टम तनाव में आ गया है। यह अपनी सीमा पर पहुंच गया है। इसके बाद कठोर कदम नहीं उठाए गए तो सिस्टम चरमरा जाएगा। कल एक अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म हो गई। वहां बड़ा हादसा होते-होते बचा। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘उपराज्यपाल के साथ बैठक में इन मुद्दों पर चर्चा हुई। दिल्ली का हेल्थ सिस्टम अब बड़ी मात्रा में मरीजों को संभालने में सक्षम नहीं है। अगर अभी लॉकडाउन नहीं लगाया तो दिल्ली बुरी स्थिति में पहुंच जाएगी। आज रात 10 बजे से अगले सोमवार सुबह 5 बजे तक 6 दिन के लिए लॉकडाउन लगाया जा रहा है। जरूरी सेवाएं जारी रहेंगी। खाने-पीने और मेडिकल व्यवस्थाएं जारी रहेंगी। 50 लोगों के साथ शादियां हो सकेंगी। इसके लिए अलग से पास जारी होंगे। प्रवासी मजदूरों से मेरी गुजारिश है कि ये छोटा सा लॉकडाउन है। दिल्ली छोड़कर मत जाइएगा। आने-जाने में ही पूरा समय खर्च हो जाएगा। उम्मीद है यह लॉकडाउन छोटा रहेगा। सरकार आपका ख्याल रखेगी। मैं हूं ना, मुझ पर भरोसा कीजिए।
मरीजों का आंकड़ा डेढ़ करोड़ के पार
इस बीच, पूरे देश के लिए बेहद बुरी खबर है। भारत में कोरोना की चपेट में आने वालों का आंकड़ा रविवार को डेढ़ करोड़ के पार हो गया। अब तक 1 करोड़ 50 लाख 57 हजार 767 लोग संक्रमित हो चुके हैं। थोड़ी राहत की बात ये है कि इनमें 1 करोड़ 29 लाख 48 हजार 848 लोग ठीक भी हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 1 लाख 78 हजार 793 हो गई है। 19 लाख 23 हजार 877 मरीज ऐसे हैं। जिनका अभी इलाज चल रहा है। एक्टिव केस का ये आंकड़ा अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा है।
हालात का अंदाजा इसी से लगा सकते हैं कि हर दिन कोरोना के नए मरीजों का आंकड़ा नया रिकॉर्ड बना रहा है। पिछले 24 घंटे के अंदर देश में 2 लाख 74 हजार 944 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इस बीच 1 लाख 43 हजार 701 लोग रिकवर हुए, जबकि 1620 मरीजों ने दम तोड़ दिया।

प्रियंका ने पूर्व सीएम फडणवीस पर साधा निशाना

अकांशु उपाध्याय                    

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने महाराष्ट्र में एक फार्मा कंपनी के निदेशक से पूछताछ से जुड़े विवाद की पृष्ठभूमि में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि भाजपा नेता का रेमडेसिविर इंजेक्शन की जमाखोरी करना मानवता के खिलाफ अपराध है। उन्होंने फडणवीस के राज्य के एक थाने पहुंचने से जुड़ा वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘जब देश के कोने-कोने से लोग रेमडेसिविर उपलब्ध कराने की गुहार लगा रहे हैं और तमाम लोग जान बचाने के लिए किसी तरह एक शीशी रेमडेसिविर जुटाने की जद्दोजहद कर रहे हैं। उस समय जिम्मेदार पद पर रह चुके भाजपा नेता का रेमडेसिविर की जमाखोरी करने का कृत्य मानवता के खिलाफ अपराध है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस संक्रमण के उपचार में महत्वपूर्ण मानी जाने वाली रेमडेसिविर दवा की हजारों शीशियां देश से बाहर भेजने की तैयारी की खबर मिलने पर मुंबई पुलिस ने एक फार्मा कंपनी के निदेशक से पूछताछ की। पुलिस ने रविवार को कहा कि रेमडेसिविर के निर्यात पर पाबंदी है लेकिन सूचना मिली थी कि इसकी खेप मालवाहक विमान के जरिए विदेश भेजी जाने वाली है। पुलिस ने शनिवार की रात केंद्रशासित प्रदेश दमन आधारित ब्रुक फार्मा कंपनी के निदेशक राजेश डोकानिया से पूछताछ की थी। उनकी कंपनी रेमडेसिविर का उत्पादन करती है।
डोकानिया से पूछताछ किए जाने की खबर मिलने पर पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और राज्य भाजपा के अन्य नेता प्रवीण दारेकर पुलिस थाने पहुंच गए। फडणवीस ने कहा कि भाजपा की महाराष्ट्र इकाई ने रेमडेसिविर की कमी को देखते हुए विभिन्न दवा कंपनियों से संपर्क साधा था।

हिरानी के साथ रणबीर फिर फिल्मों में काम करेंगे

मनोज सिंह ठाकुर                
मुंबई। बॉलीवुड के रॉकस्टार रणबीर कपूर निर्देशक राजकुमार हिरानी के साथ फिर काम करते नजर आ सकते हैं। रणबीर कपूर ने राजकुमार हिरानी के साथ फिल्म पीके और संजू जैसी फिल्मों में काम किया है। इनके बाद अब दोनों ने फिर से साथ काम करने का फैसला किया है।बताया जा रहा है कि राजकुमार हिरानी ने रणबीर कपूर को ही ध्यान में रखकर एक स्क्रिप्ट लिखी है, जो उन्हें पसंद आई है। राजकुमार हिरानी इस फिल्म को संजू के तुरंत बाद शुरू करना चाहते थे लेकिन शाहरुख खान के लिए उन्होंने इसे होल्ड पर रख दिया था। राजकुमार हिरानी और शाहरुख खान जल्द ही एक फिल्म शुरू करने वाले हैं। जैसे ही वह खत्म होगी, राजकुमार हिरानी, रणबीर कपूर के साथ अपनी अगली फिल्म शुरू कर देंगे। राजकुमार हिरानी और रणबीर कपूर की इस फिल्म की घोषणा जल्द हो सकती है।

पंचायत चुनाव के दूसरे चरण का मतदान हुआ: यूपी

हरिओम उपाध्याय                
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में तीन चरणीय पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के तहत सोमवार सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया। जो शाम छह बजे तक चलेगा। राज्‍य निर्वाचन आयोग के मुताबिक, दूसरे चरण में राज्य के 20 जिलों में 2.23 लाख से अधिक पदों के लिए 3.48 लाख से अधिक उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला होगा। राज्‍य में तीन करोड़ 23 लाख से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे।यह चरण इसलिए महत्वपूर्ण है। क्योंकि इसमें उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और प्रधानमंत्री के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी में भी मतदान होगा। इनके अलावा दूसरे चरण में अमरोहा, आजमगढ़, इटावा, एटा, कन्नौज, गोंडा, गौतम बुद्ध नगर, चित्रकूट, प्रतापगढ़, बदायूं, बागपत, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, मैनपुरी, महराजगंज, लखीमपुर-खीरी, ललितपुर और सुल्तानपुर में भी मतदान होगा।

दुकान में सो रहे 2 लोगों को बेकाबू ट्रक ने रौंदा, मौत

कुशीनगर। जिले के हाटा कोतवाली के फोरलेन पर स्थित उपासपुर गांव के समीप पेट्रोल पंप के बगल में पंचर बनाने वाली दुकान में सो रहे दो लोगों को सोमवार की सुबह गोरखपुर से कसया की तरफ जा रहे बेकाबू ट्रक ने रौंद दिया। इस घटना में दुकान के परखच्चे उड़ गये तथा उसमें सो रहे दो लोगों की मौके पर मौत हो गई।बिहार के वैशाली निवासी सुकेश पासवान (उम्र 22 वर्ष) हाटा कोतवाली के फोरलेन पर स्थित उपासपुर गांव के समीप पेट्रोल पंप के बगल में पंचर बनाने का काम करता था। रविवार की रात खाना खाने के बाद सुकेश अपने पंचर बनाने की दुकान में सोया हुआ था।उसके साथ बगल के ढ़ाबे पर काम करने वाला मजदूर अभिमन्यु प्रसाद (उम्र 45 वर्ष) भी सोया हुआ थे। सोमवार की तड़के सुबह लगभग पांच बजे गोरखपुर से कसया को जा रही तेजगति से बेकाबू ट्रक ने हाइवे किनारें लगे पेड़ों को उखाड़ते हुए पंचर बनाने वाली दुकान को बुरी तरह से क्षतिग्रस्त करते हुए रौंद दिया।
इस हादसे में सो रहे सुकेश व अभिमन्यु की मौके पर मौत हो गई। घटना के बाद ट्रक का चालक घटना स्थल पर ट्रक को छोड़कर फरार हो गया। घटना की सूचना पर तत्काल पहुंचे चौकी प्रभारी सुकरौली सुरेन्द्र बहादुर सिंह ने दुकान में फंसें शवों को निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया तथा घटना स्थल पर मौजूद ट्रक को अपने कब्जे में लिया।

यूपी के पूर्व राज्यपाल नाईक मिलें कोरोना पॉजिटिव

हरिओम उपाध्याय              
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल राम नाईक कोरोना पॉजिटिव है। पूर्व राज्यपाल की ओर से जारी विज्ञप्ति मेें यह जानकारी दी गई की स्वयं को अपने निवास पर ही क्वारंटाईन किया है। हल्का बुखार आने पर राम नाईक ने जाँच करवाई। जिसमें उन्हें कोरोना का संक्रमण पाया गया। मुम्बई के मालाड, स्थित संजीवनी अस्पताल के डॉ.सुनिल अग्रवाल व डॉ. राजेश बिनयाला की निगरानी में अब नाईक का स्वास्थ्य सुधर रहा है।

देश में संक्रमण के 15.34 लाख से अधिक मामलें

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा और दिन प्रतिदिन विकराल रूप लेता जा रहा है। एक सप्ताह में देश में काेराेना के 15.34 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। जहां पिछले सोमवार को कोरोना संक्रमितों की संख्या 1.35 करोड़ से ज्यादा थी वहीं आज सुबह तक संक्रमितों की संख्या 1.50 करोड़ के पार पहुंच गयी है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान देश में 2,73,810 नये मामले दर्ज किए गए। इसके साथ ही संक्रमितों की संख्या एक करोड़ 50 लाख 16 हजार 919 हो गयी है। वहीं इस दाैरान रिकाॅर्ड 1,44,178 मरीज स्वस्थ होने के साथ इस महामारी से अभी तक 1,29,53,821 मरीज ठीक हो चुके हैं। देश में कोरोना के सक्रिय मामले 19 लाख को पार कर 19,29,329 हो गये हैं। इसी अवधि में 1619 और मरीजों की मौत के साथ इस बीमारी से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 1,78,769 हो गयी है। जबकि अभी तक 12,38,52,566 लोगों को कोरोना को टीका लग चुका है।

महाराष्ट्र में कोरोना के 68,631 नए मामलें सामने आएं

मनोज सिंह ठाकुर          
मुंबई। कोविड-19 के मामलों में तेज वृद्धि को रोकने के लिए संघर्ष कर रहे महाराष्ट्र ने अन्य स्थानों से ‘कोरोना वायरस के अन्य स्वरूपों की आमद’ रोकने के लिए दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) तथा पांच राज्यों को संवेदनशील घोषित किया है। महाराष्ट्र के मुख्य सचिव सीताराम कुंते के हस्ताक्षर वाले एक आदेश में केरल, गोवा, गुजरात, दिल्ली एवं राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, राजस्थान और उत्तराखंड को रविवार को संवेदनशील स्थान घोषित किया गया। आदेश के अनुसार, इन स्थानों से महाराष्ट्र आने वाले यात्रियों को ट्रेन में यात्रा करने से पहले 48 घंटे के भीतर कराई गई आरटी-पीसीआर जांच की रिपोर्ट दिखानी होगी। जिनमें उनके संक्रमित नहीं होने की पुष्टि हो। बयान में कहा गया कि महाराष्ट्र में कोविड-19 की रोकथाम और ‘अन्य स्थानों से महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के अन्य स्वरूपों दिल्ली में रविवार को संक्रमण के एक दिन के भीतर अब तक से सर्वाधिक 25,462 नए मामले सामने आए। संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित महाराष्ट्र में रविवार को संक्रमण के अब तक के सर्वाधिक 68,631 नए मामले सामने आए और 503 मरीजों की मौत हो गई। आमद को रोकने’ के लिए यह फैसला लिया गया है।

ऑक्सीजन पूर्ति, रक्षामंत्री ने यूपी में संभाला मोर्चा

हरिओम उपाध्याय      
लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में बढ़ते कोरोना संक्रमण के साथ मरने वालों की संख्या बढ़ रही है।अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी बनी हुई है। इसी बीच देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लखनऊ में मोर्चा संभाल लिया है। उन्होंने शहर के अस्पतालों के लिए जम्बो ऑक्सीजन सिलेंडर भेजने शुरू किए हैं। सिलेंडर की पहली खेप लखनंऊ पहुंच चुकी है।
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने डीआरडीओ को निर्देश दिए हैं कि ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी को अनदेखा न किया जाये, लोगों की जान बचाना पहली प्राथमिकता है। बता दें कि राजनाथ सिंह के लखनऊ में सेना के 250 और 300 बेड के कोविड अस्पताल बनाने के निर्देश पर अमल भी शुरू हो गया है।
पांच हजार लीटर है पहली खेप की क्षमता
अधिकारियों ने बताया ऑक्सीजन सिलेंडर की पहली खेप की पांच हजार लीटर की क्षमता है, जो अगले कुछ दिनों के लिए पर्याप्त है। अब डीआरडीओ इससे लखनऊ के अस्पतालों में डॉक्टरों की सूचना पर भेजेगा।
ऑक्सीजन न मिलने से अब तक कई मौतें
राजधानी के सरकारी अस्पतालो में ऑक्सीजन सिलेंडर की भारी कमी है, इस बात से डॉक्टर भी इनकार नहीं कर रहे हैं। ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनियां ऑक्सीजन की कमी को पूरा नहीं कर पा रही है। हालांकि एसजीपीजीआई में ऑक्सीजन प्लांट शुरू किया गया है, सरकार ने दस और प्लांट शुरू करने निर्देश दिए हैं।

राजस्थान में वीकेंड कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लागू की

नरेश राघानी                  
जयपुर। देश में कोरोना संक्रमण का कहर बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना को बढ़ते मामलों को देखते हुए राजस्थान सरकार ने वैश्विक महामारी कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए प्रदेश में आगामी तीन मई सुबह पांच बजे तक वीकेंड कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लागू रखने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में रविवार देर रात तक मुख्यमंत्री निवास पर चली उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया गया। जन अनुशासन पखवाड़े के तहत विभिन्न गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय किया गया है।गहलोत ने कहा कि इस दौरान सरकारी कार्यालय, बाजार, मॉल्स तथा कार्यस्थल बंद रहेंगे। लेकिन श्रमिकों के रोजगार से जुड़ी गतिविधियां जैसी फैक्ट्री तथा निर्माण कार्य पर रोक नहीं होगी। साथ ही ठेला एवं फेरी लगाकर जीवनयापन करने वाले लोगों को जीविकोपार्जन की छूट दी जाएगी।

बरेली: 24 घंटों में मिलें कोरोना के 513 संक्रमित

संदीप मिश्र                  
बरेली। कोरोना संक्रमितों की संख्या ने रविवार को भी दहशत में ला दिया। 24 घंटे में 513 संक्रमित निकले। जबकि चार संक्रमितों की मौत हो गई। इतनी संख्या तब है। जब लॉकडाउन की वजह से लोग घरों में रहे और जांच कराने नहीं पहुंचे। संक्रमण की रफ्तार कम नहीं हो रही है। लॉकडाउन लगने के बावजूद संक्रमण तेजी से फैल रहा है। कोरोना संक्रमण से बचाव में की जाने वाली लापरवाही अनियंत्रित होती जा रही है। शनिवार को जहां कोविड-19 वायरस की चपेट में 838 लोग आए थे। रविवार को लाकडाउन होने के चलते कम ही लोग जांच कराने पहुंचे। हालांकि विभाग कुछ लोगों की रिपोर्ट अपडेट नहीं कर पाया।रिपोर्ट के अनुसार इफको अस्पताल के आठ लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। एसडीएम बहेड़ी कंपाउंड और डीएम आवास में भी संक्रमित निकले हैं। जिला सर्विलांस अधिकारी डा. रंजन गौतम के अनुसार रविवार को 513 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। स्थितिवार कोविड अस्पताल व होम आइसोलेशन में मरीजों को भर्ती किया गया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार जिले में निजी अस्पतालों में इलाज करा रहे चार संक्रमितों की मौत हो गई। जिसमें चुनाव ड्यूटी में तैनात फरीदपुर डायट के प्रोफेसर, मीरगंज निवासी एक महिला, कपड़ा व्यापारी व किला निवासी एक संक्रमित की मौत हुई है।
24 घंटे के अंदर बाला जी मंदिर, नवादा शेखान, इंद्रा पुरम, गंगा नगर, रामचंद्रपुरम, माधोबाड़ी, हरुनगला, गांधीपुरम, अशियाना रेजिडेंसी, लक्ष्मीपुरम, महावीर कुंज, भूड़, कोहारापीड़, कर्मचारी नगर, बिहारीपुर, महानगर कालोनी, मिनी बाईपास, अंबिका आवास, राजा विहार, शास्त्री नगर, गुलाब नगर, मेगा सिटी, जनकपुरी, स्वरुप नगर, कुसुम नगर, मिनी बाईपास, रामपुर, लोधीपुर, संत नगर, सैनिक कालोनी, हाइडिल कालोनी, नेकपुर, सिविल लाइंस, सीबीगंज, कानून गोयल, मंडल विहार, सदर, पुराना शहर, मढ़ीनाथ, बल्लिया, कृष्णा नगर, साहुकारा, केशवपुरम, एकता नगर, आलमगिरी, पटेल नगर, र्कीति नगर, राजेंद्र नगर, मानसरोवर गार्डन, नरकुलागंज, नकटिया, भोजीपुरा, इफ्को, भरतौल, ब्रहमपुरा, मुंशी नगर, विकास भवन, पंजाबपुरा, करगैना, आशीष रॉयल पार्क, आकाशपुरम में संक्रमित निकले हैं।

या देवी सर्वभू‍तेषु महागौरी रूपेण संस्थिता: नवरात्रि

माँ दुर्गाजी की आठवीं शक्ति का नाम महागौरी है। दुर्गापूजा के आठवें दिन महागौरी की उपासना का विधान है। इनकी शक्ति अमोघ और सद्यः फलदायिनी है। इनकी उपासना से भक्तों के सभी कल्मष धुल जाते हैं। पूर्वसंचित पाप भी विनष्ट हो जाते हैं। भविष्य में पाप-संताप, दैन्य-दुःख उसके पास कभी नहीं जाते। वह सभी प्रकार से पवित्र और अक्षय पुण्यों का अधिकारी हो जाता है।

स्वरूप

इनका वर्ण पूर्णतः गौर है। इस गौरता की उपमा शंख, चंद्र और कुंद के फूल से दी गई है। इनकी आयु आठ वर्ष की मानी गई है- 'अष्टवर्षा भवेद् गौरी।' इनके समस्त वस्त्र एवं आभूषण आदि भी श्वेत हैं। महागौरी की चार भुजाएँ हैं। इनका वाहन वृषभ है। इनके ऊपर के दाहिने हाथ में अभय मुद्रा और नीचे वाले दाहिने हाथ में त्रिशूल है। ऊपरवाले बाएँ हाथ में डमरू और नीचे के बाएँ हाथ में वर-मुद्रा हैं। इनकी मुद्रा अत्यंत शांत है।

कथा

माँ महागौरी ने देवी पार्वती रूप में भगवान शिव को पति-रूप में प्राप्त करने के लिए कठोर तपस्या की थी, एक बार भगवान भोलेनाथ ने पार्वती जी को देखकर कुछ कह देते हैं। जिससे देवी के मन का आहत होता है और पार्वती जी तपस्या में लीन हो जाती हैं। इस प्रकार वषों तक कठोर तपस्या करने पर जब पार्वती नहीं आती तो पार्वती को खोजते हुए भगवान शिव उनके पास पहुँचते हैं। वहां पहुंचे तो वहां पार्वती को देखकर आश्चर्य चकित रह जाते हैं। पार्वती जी का रंग अत्यंत ओजपूर्ण होता है। उनकी छटा चांदनी के सामन श्वेत और कुन्द के फूल के समान धवल दिखाई पड़ती है। उनके वस्त्र और आभूषण से प्रसन्न होकर देवी उमा को गौर वर्ण का वरदान देते हैं।

एक कथा अनुसार भगवान शिव को पति रूप में पाने के लिए देवी ने कठोर तपस्या की थी जिससे इनका शरीर काला पड़ जाता है। देवी की तपस्या से प्रसन्न होकर भगवान इन्हें स्वीकार करते हैं और शिव जी इनके शरीर को गंगा-जल से धोते हैं तब देवी विद्युत के समान अत्यंत कांतिमान गौर वर्ण की हो जाती हैं तथा तभी से इनका नाम गौरी पड़ा। महागौरी रूप में देवी करूणामयी, स्नेहमयी, शांत और मृदुल दिखती हैं। देवी के इस रूप की प्रार्थना करते हुए देव और ऋषिगण कहते हैं “सर्वमंगल मंग्ल्ये, शिवे सर्वार्थ साधिके. शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोस्तुते..”। महागौरी जी से संबंधित एक अन्य कथा भी प्रचलित है इसके जिसके अनुसार, एक सिंह काफी भूखा था। वह भोजन की तलाश में वहां पहुंचा जहां देवी उमा तपस्या कर रही होती हैं। देवी को देखकर सिंह की भूख बढ़ गयी परंतु वह देवी के तपस्या से उठने का इंतजार करते हुए वहीं बैठ गया। इस इंतजार में वह काफी कमज़ोर हो गया। देवी जब तप से उठी तो सिंह की दशा देखकर उन्हें उस पर बहुत दया आती है और माँ उसे अपना सवारी बना लेती हैं क्योंकि एक प्रकार से उसने भी तपस्या की थी। इसलिए देवी गौरी का वाहन बैल और सिंह दोनों ही हैं।

पूजन विधि

अष्टमी के दिन महिलाएं अपने सुहाग के लिए देवी मां को चुनरी भेंट करती हैं। देवी गौरी की पूजा का विधान भी पूर्ववत है अर्थात जिस प्रकार सप्तमी तिथि तक आपने मां की पूजा की है उसी प्रकार अष्टमी के दिन भी प्रत्येक दिन की तरह देवी की पंचोपचार सहित पूजा करते हैं।

महत्व

माँ महागौरी का ध्यान, स्मरण, पूजन-आराधना भक्तों के लिए सर्वविध कल्याणकारी है। हमें सदैव इनका ध्यान करना चाहिए। इनकी कृपा से अलौकिक सिद्धियों की प्राप्ति होती है। मन को अनन्य भाव से एकनिष्ठ कर मनुष्य को सदैव इनके ही पादारविन्दों का ध्यान करना चाहिए।

मां महागौरी भक्तों का कष्ट अवश्य ही दूर करती है। इसकी उपासना से अर्तजनों के असंभव कार्य भी संभव हो जाते हैं। अतः इसके चरणों की शरण पाने के लिए हमें सर्वविध प्रयत्न करना चाहिए। महागौरी के पूजन से सभी नौ देवियां प्रसन्न होती है।

उपासना

पुराणों में माँ महागौरी की महिमा का प्रचुर आख्यान किया गया है। ये मनुष्य की वृत्तियों को सत्‌ की ओर प्रेरित करके असत्‌ का विनाश करती हैं। हमें प्रपत्तिभाव से सदैव इनका शरणागत बनना चाहिए। 

या देवी सर्वभू‍तेषु महागौरी रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

अर्थ : हे माँ! सर्वत्र विराजमान और माँ गौरी के रूप में प्रसिद्ध अम्बे, आपको मेरा बार-बार प्रणाम है। हे माँ, मुझे सुख-समृद्धि प्रदान करो।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   
1. अंक-246 (साल-02)
2. मंगलवार, अप्रैल 20, 2021
3. शक-1984,चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि- अष्टमी, विक्रमी सवंत-2078। सातवां रोजा, सहरी 04:35, इफ्तार 06:47। 07 रमजान, हिजरी 1442।
4. सूर्योदय प्रातः 06:20, सूर्यास्त 06:50।
5. न्‍यूनतम तापमान -14 डी.सै., अधिकतम-38+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...