उत्तर प्रदेश लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
उत्तर प्रदेश लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शनिवार, 26 नवंबर 2022

नए पुलिस कमिश्नरेट का पहला आयुक्त कौन होगा ?

नए पुलिस कमिश्नरेट का पहला आयुक्त कौन होगा ?

संदीप मिश्र 
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में तीन जिलों में पुलिस आयुक्त प्रणाली लागू होने के बाद अब यहां का पहला पुलिस आयुक्त कौन होगा, इसे लेकर सरगर्मियां बढ़ गई है। लोग अपने-अपने हिसाब से अंदाजा लगा रहे हैं कि नए पुलिस कमिश्नरेट का पहला आयुक्त किसे बनाया जाएगा। जानकार बता रहे हैं कि नए गठित तीनों पुलिस कमिश्नरेट पूर्व के चार पुलिस कमिश्नरेट से छोटे बनाए गए हैं। जहां लखनऊ में संयुक्त पुलिस आयुक्त के दो पद, कानपुर, वाराणसी और नोएडा में अपर पुलिस आयुक्त के दो-दो पद सृजित हैं, वहीं नई कमिश्नरेट के लिए एक-एक ही अपर पुलिस आयुक्त के पद सृजन का प्रस्ताव है। नए कमिश्नरेट में 3-3 जोन होंगे। यहां डीसीपी की भी संख्या 3-3 ही रहेगी।
पूर्व में गठित पुलिस कमिश्नरेट में जोन के अतिरिक्त यातायात, महिला सुरक्षा और प्रोटोकाल जैसे पदों के लिए अलग-अलग डीसीपी के पदों का सृजन किया गया था। मौजूदा समय में पहले से ही एसपी रैंक के चार अधिकारी तैनात हैं।
कमिश्नरेट के गठन के बाद इनकी संख्या पांच हो जाएगी। गाजियाबाद में जो चार आईपीएस अधिकारी तैनात हैं उसमें 2009 बैच के एसएसपी मुनिराज, 2017 बैच की दीक्षा शर्मा, निपुन अग्रवाल और इराज राजा सहायक पुलिस अधीक्षक के रूप में तैनात हैं। लखनऊ में इसी 2017 बैच के दो अफसर एसएम कासिम आब्दी और प्राची सिंह पुलिस उपायुक्त के पद पर तैनात हैं।
इसी तरह आगरा में भी एसपी रैंक के चार अफसर मौजूदा समय में तैनात हैं। इसमें 2010 बैच के आईपीएस प्रभाकर चौधरी बतौर एसएसपी तैनात हैं। जबकि सहायक पुलिस अधीक्षक के रूप में सत्यजीत गुप्ता, विकास कुमार और सोमेंद्र मीना की तैनाती है। वहीं, प्रयागराज में मौजूदा समय में एसपी रैंक के तीन अफसरों की तैनाती है। इसमें 2011 बैच के शैलेश कुमार पांडेय एसएसपी के रूप में और सौरभ दीक्षित और अभिषेक कुमार अग्रवाल सहायक पुलिस अधीक्षक के रूप में तैनात हैं। 

डीसीपी के पद पर 2015, 2016 और 2017 के अफसरों की हो सकती है तैनाती

नई कमिश्नरेट में डीसीपी के 9 पद सृजित किए जा रहे हैं। इन पदों पर 2015, 2016 और 2017 बैच के अफसरों की तैनाती की जा सकती है। इसके पीछे की वजह यह बताई जा रही है कि यहां अपर पुलिस आयुक्त का पद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक का होगा। ऐसे में उससे जूनियर अफसरों को ही डीसीपी के रूप में तैनाती दी जाएगी।

क्या इनको भी मिलेगी तैनाती

मौजूदा समय में 10 आईपीएस अफसर प्रतीक्षारत हैं। इसमें एडीजी रैंक के चार अफसर शामिल हैं। कानपुर पुलिस आयुक्त के पद से हटाए गए विजय सिंह मीणा, लखनऊ पुलिस आयुक्त के पद से हटे ध्रुवकांत ठाकुर, केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटे मुथा अशोक जैन और छुट्टी से लौटे जीके गोस्वामी प्रतीक्षारत हैं। इसके अलावा निलंबन के बाद बहाल किए गए डीआईजी अनंत देव, एसपी पवन कुमार, उन्नाव से हटाए गए दिनेश त्रिपाठी, गाजीपुर से हटाए गए रोहन बोत्रे और मुरादाबाद से हटाए गए हेमंत कुटियाल का नाम शामिल है। कयास लगाए जा रहे हैं कि इन अफसरों की तैनाती भी इसी सूची में हो सकती है।

बुधवार, 23 नवंबर 2022

एकता की अलख जगाने के लिए निकलें शंकराचार्य 

एकता की अलख जगाने के लिए निकलें शंकराचार्य 

संदीप मिश्र 

मथुरा। आदि शंकराचार्य की तरह देश-दुनिया में भावात्मक एकता की अलख जगाने के लिए गोवर्धन पीठाधीश्वर शंकराचार्य अधोक्षजानन्द देव तीर्थ महराज एक बार फिर से निकल पड़े है। दूसरे चरण की उनकी यह या़त्रा श्रीलंका से गुरूवार से शुरू होगी। यात्रा उन शक्ति पीठों में जायेगी जो भारत के बाहर स्थित हैं। 19 नवंबर 2021 को शंकराचार्य ने अपनी यात्रा कान्हा की ब्रज भूमि गोवर्धन से शुरू की थी उस समय देश कोरोना महामारी से बुरी तरह ग्रसित था। उस समय उन्होंने यह यात्रा यद्यपि भावात्मक एकता स्थापित करने के लिए शुरू की थी लेकिन उस समय उदेश्य हजारों लोगों के जीवन को बचाना था इसलिए उन्होंने 12 ज्योतिर्लिंग एव देश के विभिन्न भागों में स्थित 30 शक्ति पीठ में आराधना कर देवी से इस महामारी को भारत से समाप्त करने की प्रार्थना की थी।

शंकराचार्य ने मंगलवार देर शाम शाम गोवर्धन में पत्रकारों को बताया कि उन्हें प्रसन्नता है कि देवी ने उनकी आराधना को स्वीकार किया और भारत को कोरोना महामारी से एक प्रकार से मुक्त सा कर दिया। यात्रा के दूसरे चरण में वे उन शक्ति पीठों में प्रार्थना , आराधना एवं अर्चन करेंगे जो भारत से बाहर स्थित हैं। उन्होंने श्रीलंका में स्थित शक्ति पीठ इन्द्राक्शी देवी की आराधना से शुरू करने का निश्चय किया है और इसी श्रंखला में वे गुरूवार से चार दिन तक श्रीलंका में देवी की आराधना करेंगे।

उसके बाद वे नेपाल की तीन शक्तिपीठ, भूटान, बांग्लादेश की तीन शक्ति पीठ और करांची में स्थित शक्ति पीठ आदि में पूजन अर्चन करेंगे। गोवर्धन पीठाधीश्वर ने बताया कि उन्होंने काम्याख्या पीठ,मीनाक्शी मन्दिर,काली मन्दिर,ज्वालादेवी,विन्ध्यवासिनी देवी समेत 30 शक्ति पीठों में पूजन अर्चन के दौरान पाया कि दक्षिण के लोग उत्तर और पूरब के लोग पश्चिम में अपनी संस्कृति को फैलाना चाह रहे हैं।

मथुरा,अयोध्या और काशी आने के इच्छुक लोगों की बहुत अधिक संख्या है। शंकराचार्य ने कहा कि आज देश के सामने आतंकवाद, टूटते परिवार को रोकने की बहुत बड़ी चुनौती है।आदि शंकराचार्य ने जिस समय अपनी यात्रा शुरू की थी उस समय में और आज के समय में बहुत अन्तर आ गया है।’’सर्वे भवन्तु सुखिनः’’ का संदेश देने वाले देश में दरकते परिवारों को रोकने की आज सबसे बड़ी चुनौती है।

यह एक सतत चलनेवाला कार्य है इसलिए शंकराचार्यों और धर्माचार्यों को अपने मठ एवं आश्रमों से निकलकर इस खतरे को रोकने का प्रयास जगह जगह प्रवचन देकर करना चाहिए। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा हाल में काशी में काशी तामिल संगमम आयोजित करने की प्रशंसा की और उम्मीद जताई कि अन्य राजनैतिक दलों के लोग भी इस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित कर भावात्मक एकता को मजबूत बनाने की पहल करेंगे।

शंकराचार्य ने अंत में कहा कि उन्हें प्रथम चरण की यात्रा में देश के विभिन्न भागों में पूरा सहयेाग और स्नेह मिला।उन्हें जब यह पता चला कि कोई शंकराचार्य उनके क्षेत्र में शक्तिपीठ की आराधना करने आए हैं तथा उनका यह कार्य कोरोना जैसी महामारी को भगाने के लिए है तो उन्होंने पलक पांवड़े जिस प्रकार से बिछा दिये उससे ही प्रभावित होकर वे उन्होंने देश के बाहर स्थित शक्ति पीठों में पूजन अर्चन करने का कार्य चुना है। वे श्री लंका में चार दिन रूकेंगे तथा देवी से आराधना करेंगे कि वे उन्हें उनके मिशन में उसी प्रकार का आशीर्वाद दें जैसा उन्होंने यात्रा के प्रथम चरण में दिया था।

शनिवार, 19 नवंबर 2022

सस्पेंड करा देना, मैं चेकिंग पॉइंट से नहीं हटूंगा: दरोगा

सस्पेंड करा देना, मैं चेकिंग पॉइंट से नहीं हटूंगा: दरोगा

संदीप मिश्र 

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम को लेकर तैयार किए गए सुरक्षा घेरे को तोड़कर जब बीजेपी के एमएलए ने चेकिंग पॉइंट से अंदर जाने की कोशिश की, तो दरोगा के रोके जाने पर बीजेपी एमएलए उनके साथ भिड गए। दरोगा ने दो टूक कहा कि भले ही मुझे सस्पेंड करा देना, लेकिन मैं चेकिंग पॉइंट से नहीं हटूंगा। दरअसल शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाराणसी दौरे के मद्देनजर हमीरपुर में तैनात दरोगा शेषमणि त्रिपाठी की ड्यूटी चेकिंग पॉइंट पर लगाई गई थी। इस दौरान हुए एक घटनाक्रम के अंतर्गत वाराणसी के कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव जब अपने लाव लश्कर के साथ चेकिंग पॉइंट से भीतर घुसने लगे तो वहां पर तैनात दरोगा ने बीजेपी एमएलए को रोक लिया।

दरोगा के रोकते ही एमएलए बुरी तरह से विफर गये। जिसके चलते दोनों के बीच घर आकर गरमा गरम बहस शुरू हो गई। भाजपा विधायक के वहीं से जाने की जिद करने पर दरोगा ने विधायक से दो टूक कहा कि भले ही मुझे सस्पेंड करा देना, लेकिन मैं चेकिंग पॉइंट से नहीं हटूंगा। उल्लेखनीय है कि वाराणसी के काशी हिंदू विश्वविद्यालय में महीने भर चलने वाले काशी-तमिल समागम का उद्घाटन करने के लिये वाराणसी के दौरे पर पहुंचे थे। यह आयोजन ज्ञान के सदियों पुराने बंधन और उत्तर और दक्षिण के बीच प्राचीन सभ्यतागत जुड़ाव को फिर से खोजने का मार्ग प्रशस्त करेगा।

राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार पवित्र शहर वाराणसी में श्काशी-तमिल समागमश् का भव्य आयोजन करने और द्रविड़ संस्कृति के साथ-साथ तमिल संस्कृति, व्यंजन और संगीत की झलक दिखाने के लिए हरकत में आ गई है। सोशल मीडिया पर अब बीजेपी एमएलए और दरोगा की गरमा गरम बहस का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। इसे देखकर जहां भाजपाई एमएलए का पक्ष लेते हुए दिखाई दे रहे हैं, वहीं आम जनमानस सुरक्षा को लेकर दरोगा के साथ खड़े नजर आ रहे हैं।

रविवार, 13 नवंबर 2022

भगवान 'श्रीकृष्ण' की बाल लीला का वर्णन किया

भगवान 'श्रीकृष्ण' की बाल लीला का वर्णन किया

उमर सिंह 

अयोध्या। नगर निगम परिसर स्थित लेडीज क्लब में चल रही श्रीमद्भागवत कथा के पांचवें दिन भागवताचार्य हितेंद्र कृष्ण महाराज (श्रीधाम वृन्दावन) ने भगवान श्रीकृष्ण की बाल लीला का वर्णन किया। महाराज श्री ने कहा कि व्यक्ति को हमेशा धर्म के मार्ग पर चलकर समाज सेवा में आगे आना चाहिए। मानव जब इस संसार में जन्म लेता है तो चार व्याधि उत्पन्न होती हैं। रोग, शोक, वृद्धापन और मौत मानव इन्हीं चार व्याधियों से धीर कर इस मायारूपी संसार से विदा लेता है। सांसारिक बंधन में जितना बंधोगे उतना ही पाप के नजदीक पहुंचेगा। इसलिए सांसारिक बंधन से मुक्त होकर परमात्मा की शरण में जाओ तभी जीवन रूपी नैय्या पार होगी। आज के दौर में परेशानी और अविश्वास बढ़ता जा रहा है। 

इससे समाज में खींचतान, स्वार्थ, लोभ, दुख. पतन, विकृतियों का अम्बार लगा हुआ है। ऐसे में समाज को युग के अनुरूप दिशा चिंतन, व्यवहार, परमार्थ के लिए श्रीमद्भागवत जरूरी है। साथ ही महाराज जी ने बताया की श्रीकृष्ण हमे शिक्षा देते हैं की जीवन जीना केसे है।

गुरुवार, 10 नवंबर 2022

तेज रफ्तार डंपर की चपेट में आया छात्र, मौंत

तेज रफ्तार डंपर की चपेट में आया छात्र, मौंत

संदीप मिश्र 

फिरोजाबाद। साइकिल पर सवार होकर स्कूल में पढ़ने जा रही कक्षा-6 की छात्रा की तेज रफ्तार डंपर की चपेट में आकर मौंत हो जाने के बाद इकट्ठा हुई भीड़ का गुस्सा बुरी तरह से भड़क गया। सूचना पर पहुंची पुलिस द्वारा डंडे फटकारने से भीड़ ने पथराव करते हुए उसे दौड़ा लिया। पुलिस पर पथराव किए जाने से मौके पर भगदड़ मच गई। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए कई उपद्रवियों को हिरासत में ले लिया है। सूचना पर पहुंचे एसपी सिटी, सीओ सिटी एवं अन्य अफसरों ने परिजनों को समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया और मृतक छात्रा के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है।

बृहस्पतिवार को थाना रामगढ़ क्षेत्र के गांव नगला धनी निवासी सोनवीर की 12 वर्षीय बेटी दिव्या साइकिल पर सवार होकर रागी इंटर कॉलेज में शिक्षा ग्रहण करने के लिए जा रही थी। इसी दौरान तेजी से आए डंपर ने साइकिल सवार छात्रा को अपनी चपेट में लेकर उसे टक्कर मार दी। गंभीर रूप से घायल हुई छात्रा को आनन-फानन में सरकारी ट्रामा सेंटर पर ले जाया गया, जहां पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। छात्रा की मौत की जानकारी मिलते ही परिजन बुरी तरह से उत्तेजित हो गए। उधर कालेज की छात्राओं ने स्कूल के बाहर धरने पर बैठकर जाम लगा दिया।

सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस ने जब लोगों को रास्ते से हटाने का प्रयास किया तो मौके पर बवाल हो गया। गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस के ऊपर पथराव कर दिया जिसकी चपेट में पुलिस की जीप भी आ गई। थाना प्रभारी रामगढ़ हरविंद्र मिश्रा पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे, जब उन्होंने लाठियां फटकारते हुए लोगों को हटाने का प्रयास किया तो मौके पर भगदड़ के हालात बन गए। पुलिस के आलाधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों के साथ परिजनों को समझा-बुझाकर शांत किया। इसके बाद पुलिस ने छात्रा के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

बुधवार, 9 नवंबर 2022

शिक्षा विभाग में फेरबदल, निदेशक तिवारी को हटाया 

शिक्षा विभाग में फेरबदल, निदेशक तिवारी को हटाया 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। शासन ने माध्यमिक शिक्षा विभाग में बड़ा फेरबदल करते हुए, निदेशक सरिता तिवारी को हटा दिया है। अब उनकी जगह पर डॉक्टर महेंद्र देव को अग्रिम आदेश तक निदेशक बनाया गया है। प्रमुख सचिव माध्यमिक दीपक कुमार ने बताया डॉ महेंद्र देव मौजूदा समय में प्रयागराज में अपर शिक्षा निदेशक के पद पर तैनात हैं। उनको निदेशक का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। इसके एवज में उनको अलग से कोई भत्ता नहीं दिया जाएगा।

बता दे बीते अप्रैल माह में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा निदेशक विनय कुमार पांडे को भ्रष्टाचार के आरोप में हटाया गया था, उनकी जगह पर डॉक्टर सरिता तिवारी को माध्यमिक शिक्षा निदेशक का अतिरिक्त प्रभार दिया गया था।

शनिवार, 5 नवंबर 2022

15,785 आयुष्मान कार्ड बनाकर 15वीं रैंक हासिल की 

15,785 आयुष्मान कार्ड बनाकर 15वीं रैंक हासिल की 

संदीप मिश्र 

मुरादाबाद। आयुष्मान कार्ड बनाने में अक्टूबर में मुरादाबाद की स्थिति प्रदेश में पहले से काफी सुधरी है। जिले के आयुष्मान मित्रों ने अक्टूबर में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के 15,785 कार्ड बनाकर प्रदेश में 15वीं रैंक हासिल की है। वहीं मंडल में अपने बेहतर प्रदर्शन से मुरादाबाद पहली रैंक पर है।

नोडल अधिकारी डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य पोर्टल पर अक्टूबर में मुरादाबाद से 23512 आयुष्मान कार्ड बनाए गए। बिजनौर से 20383, संभल से 9980, रामपुर से 6788 और अमरोहा से 6165 कार्ड बनाए गए। उन्होंने कहा कि जिले के सीएचओ, आशा, वीएलई ने इस माह काफी अच्छा काम किया है। उन्होंने बताया कि अक्टूबर में कुंदरकी ब्लॉक से सबसे अधिक आयुष्मान कार्ड बनाए गए। अन्य ब्लॉक में मूढ़ापाण्डे, बिलारी, डिलारी का प्रदर्शन अच्छा रहा।

योजना के जिला कार्यक्रम समन्वयक डॉ पीतांबर सिंह ने कहा कि सीएचओ, आशा, वीएलई, सीएससी से लगातार संपर्क साधकर अधिक संख्या में लोगों के गोल्डन कार्ड बनाने के लिए कहा जा रहा है। अक्टूबर में इन लोगों ने बेहतर प्रदर्शन भी किया। इसके चलते प्रदेश में मुरादाबाद 15वें स्थान पर पहुंच पाया। उम्मीद है आगे और भी बेहतर प्रदर्शन कर प्रदेश में पहली रैंक हासिल करें। योजना के अंतर्गत कार्ड धारक और उसके परिवार के नामित सदस्यों के गंभीर बीमारियों का मुफ्त इलाज पांच लाख रूपये की सीमा तक हर साल मिलती है।

शुक्रवार, 4 नवंबर 2022

'द अर्थशॉट' पुरस्कार के अंतिम 15 में जगह बनाई 

'द अर्थशॉट' पुरस्कार के अंतिम 15 में जगह बनाई 

संदीप मिश्र 

कानपुर। शहर के फ्लेदर का डंका दुनिया भर में बज रहा है। अपनी पर्यावरण के अनुकूल खूबियों के चलते इसने पर्यावरण के सबसे बड़े 'द अर्थशॉट' पुरस्कार के अंतिम 15 में जगह बनाई है। इसका फाइनल बोस्टन में दो दिसंबर को होगा, जिसमें से पांच स्टार्टअप को एक मिलियन पाउंड का इनाम दिया जाएगा। इस उपलब्धि से शहर के साथ ही देश के लोगों को खुशी है।

फाइनल के लिए मुकाबले में यूएसए, हांगकांग, केन्या, इंग्लैंड, पुर्तगाल, नीदरलैंड, ओमान आदि देशों के स्टार्टअप हैं। आर्यनगर के अंकित अग्रवाल ने आईआईटी कानपुर स्टार्टअप एंड इन्क्यूबेशन सेंटर से उद्यमिता विकास किया। उन्होंने कानपुर समेत आसपास के मंदिरों से निकलने वाले फूल और अन्य पूजन सामग्री से अगरबत्ती, धूपबत्ती, पैकिंग मैटेरियल, बॉक्स आदि तैयार कराए। वह और उनकी टीम में शामिल विशेषज्ञों ने फूलों से कृत्रिम चमड़ा विकसित किया, जिसको फ्लेदर नाम दिया गया।

फ्लेदर की खूबियों के चलते कंपनी को पहले ही कई पुरस्कार हासिल हो चुके हैं। कई फैशन इंडस्ट्रीज इसकी सेल चालू कर दी है। फ्लेदर को द अर्थशॉट प्राइज के लिए भेजा गया, जिसका पर्यावरण को सुरक्षित, संरक्षित और साफ सुथरा रखने में सहयोगी स्टार्टअप से तैयार अन्य उत्पादों से मुकाबला हुआ। अंकित अग्रवाल के मुताबिक फ्लेदर का प्रदर्शन काफी शानदार रहा। यह वेस्ट फ्री वर्ड कैटेगरी में चयनित हुआ है।

10 हजार स्क्वायर फिट फ्लेदर बनाने का लक्ष्य

अंकित अग्रवाल ने बताया कि अभी उनके यहां हर दिन 90 स्क्वायर फिट फ्लेदर बन रहा है। इसको बढ़ाकर 10 हजार स्क्वायर फिट निर्माण प्रतिदिन करना है।

बुधवार, 2 नवंबर 2022

आरोप: कई लोगों ने 'सपा' की सदस्यता ग्रहण की

आरोप: कई लोगों ने 'सपा' की सदस्यता ग्रहण की

संदीप मिश्र 

मुरादाबाद। समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय पर बुधवार को कई लोगों ने भाजपा में उपेक्षित होने का आरोप लगाकर सपा की सदस्यता ग्रहण की। निवर्तमान जिलाध्यक्ष डीपी यादव का कहना है कि 1000 नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भाजपा की दोहरी नीति से त्रस्त होकर सपा की नीतियों में आस्था जताई है।

निवर्तमान जिलाध्यक्ष ने कहा कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के लोकहितकारी नेतृत्व और सपा की जन कल्याणकारी और सभी वर्गों को साथ लेकर सम्मान से चलने की नीतियों से प्रभावित होकर जाटव और भिन्न-भिन्न सामाजिक क्षेत्रों के 1000 लोगों ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। उन्होंने कहा कि बीजेपी से आए सभी लोगों का समाजवादी पार्टी में पूरा सम्मान हैं।

यही एकमात्र एक ऐसी पार्टी है जो कि कभी भेदभाव की राजनीति नहीं करती है। हमेशा दलित, पिछड़े शोषितों और वंचितों की राजनीति की है। पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने वालों में नन्हे सिंह जाटव एडवोकेट, सुरेश कुमार जाटव, आसाराम जाटव, जुगनू सिंह जाटव, महेंद्र सिंह जाटव, जितेंद्र कुमार जाटव, दिनेश कुमार जाटव, राजकुमार जाटव ,भगवत सिंह जाटव, प्रेमचंद मुंशी , अशोक कुमार, राधेश्याम, नीतू कुमारी, प्रदीप कुमार, जयप्रकाश जाटव, करण पाल सिंह जाटव, कुलदीप, रचित, परमजीत सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल रहे।

इस दौरान निवर्तमान महानगर अध्यक्ष शाने अली शानू, पूर्व जिलाध्यक्ष अथहर हुसैन अंसारी, वसीम कुरैशी, अनीशुददीन कातिव, वेद प्रकाश सैनी, महेंद्र सिंह, फरीद मलिक, फाजिल मालिक, रईस मास्टर, जहीर अंसारी आदि उपस्थित रहे।

शुक्रवार, 28 अक्तूबर 2022

लखनऊ में 110 स्‍थानों पर छठ पर्व का आयोजन

लखनऊ में 110 स्‍थानों पर छठ पर्व का आयोजन 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। छठ पूजा कार्तिक माह की शुक्ल-पक्ष को की जाती है, इस बार छठ पूजा 30 अक्टूबर को है। लखनऊ इसके लिए सज कर तैयार हो चुका है। लखनऊ में छठ पूजा का सबसे बड़ा आयोजन लक्ष्मण मेला मैदान पर होता है। यही वजह है कि इन दिनों लक्ष्मण मेला मैदान पर तैयारियां जोरों पर हैं। लोग अपने नाम से पिंडिया बनवा रहे हैं और उस पर अपना नाम लिखवा रहे हैं। कई लोग पिंडियों की बुकिंग भी कर रहे हैं। बता दें कि लखनऊ में 110 स्‍थानों पर छठ पर्व का आयोजन होगा। इस दौरान सीएम योगी भी लक्ष्मण मेला मैदान में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे।

शुक्रवार से नहाए खाए के साथ छठ पूजा का महापर्व शुरू हो गया है, जिसमें पूरे परिवार के साथ स्नान करने के बाद शुद्ध शाकाहारी भोजन खाया जाता है। इसके बाद 29 तारीख को खरना होगा, जिसमें प्रसाद बनाया जाता है और व्रत शुरू किया जाता है। जबकि 30 तारीख को संध्या अर्घ्य होगा। इस दौरान डूबते हुए सूरज को अर्घ्य दिया जाता है और रात भर गोमती नदी के किनारे यानी लक्ष्मण मेला मैदान पर अपनी अपनी पिंडियों के पास परिवार समेत लोग बैठ कर रात भर छठी मईया के गीत गाते हैं। वहीं, 31 तारीख को उगते हुए सूर्य को जल देकर इस पूरे व्रत का समापन किया जाता है‌ इसमें महिलाएं 36 घंटे का व्रत रखती हैं और कमर तक के पानी में उतर कर सूर्य देवता को अर्घ्य देती हैं।

लखनऊ में 110 जगहों पर होगा आयोजन...
अखिल भारतीय भोजपुरी समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रभुनाथ राय ने बताया कि 30 तारीख को दोपहर 2 बजे से सांस्कृतिक कार्यक्रम लक्ष्मण मेला पार्क पर शुरू हो जाएंगे। इस बार मुंबई से गायक सुरेश शुक्ला आ रहे हैं, जो कि छठी मईया के गीत गाएंगे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। लखनऊ में 110 जगहों पर इस पूजा का आयोजन किया जाएगा और लखनऊ में करीब 10 लाख लोग इस पूजा में शामिल होंगे। लक्ष्मण मेला पार्क में उन्होंने 1984 में पहली बार इस पूजा की लखनऊ में नींव रखी थी और इसी के बाद यह कारवां बढ़ता चला गया। उन्होंने बताया कि इसे महापर्व इसीलिए कहा जाता है। क्योंकि इसमें 36 घंटे का व्रत होता है और यह लगभग 4 दिन तक लगातार चलता है।

गुरुवार, 20 अक्तूबर 2022

पसमांदा मुस्लिम मंच का महासम्मेलन संपन्न: यूपी 

पसमांदा मुस्लिम मंच का महासम्मेलन संपन्न: यूपी 


अखिल भारतीय पसमांदा मुस्लिम मंच का महासम्मेलन

संदीप मिश्र 

लखनऊ। अखिल भारतीय पसमांदा मुस्लिम मंच का महासम्मेलन पसमांदा मुस्लिम जनप्रतिनिधि सम्मेलन मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष जावेद मलिक की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में उपस्तिथ उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने विश्वशवारेया सभागार को खचाखच भरा देखकर कहा कि पसमांदा मुस्लिम समाज के लोगों की मौजूदगी को देखकर सपा व बसपा के खेमे में खलबली मच जाएगी और साथ ही सपा बसपा को चुनौती दी कि वह यह साबित कर के दिखाए कि उन्होंने अपने शासन काल में पसमांदा मुस्लिम समाज के लिए कुछ किया है।

अब समय आ गया कि भाजपा और पसमांदा मुस्लिम समाज के बीच की दूरी खत्म हो जानी चाहिए। असली ताकत पसमांदा मुस्लिम समाज की है और कहा कि अगर पसमांदा मुस्लिम समाज का भाजपा की तरफ एक कदम बढ़ेगा तो भाजपा दस कदम आगे बढ़ाएगी। आपने सब पर बार-बार भरोसा किया है, एक बार हम पर भरोसा कर के देखो। केशव मौर्य ने कहा, कि भाजपा जो वादा करती है, उसको शत-प्रतिशत निभाती है। सफल कार्यक्रम के लिए केशव मौर्य जी ने जावेद मलिक की पीठ भी थप-थपाई। इस अवसर पर राज्यमंत्री जसवंत सैनी ने कहा, कि पसमांदा मुस्लिम समाज को सभी पार्टियों ने वोट बैंक के तौर पर इस्तेमाल किया है। लेकिन उनकी शिक्षा व रोजगार के लिए कुछ नही किया, भाजपा का डर दिखाकर उनका वोट लेते रहे, मोदी सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के आधार पर बिना भेदभाव के सभी को अपनी योजनाओं का लाभ दे रही है।

इस मौके पर राज्य सरकार में मंत्री दानिश आज़ाद ने कहा कि पसमांदा मुस्लिम समाज का यहां इतनी बड़ी संख्या में आना यह दिखता है कि पसमांदा मुस्लिम अब जागरूक हो गया है। अब सपा बसपा के बहकावे में आने वाला नही है। आज समाज के बच्चे उच्च शिक्षा हासिल कर देश और पसमांदा समाज का नाम रौशन कर रहे है। कार्यक्रम में मौजूद अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष अशफ़ाक़ सैफी ने आयोग द्वारा किये जा रहे कार्यों पर रौशनी डाली व मदरसा शिक्षा परिषद के चेयरमैन डॉ इफ़्तीखार ने मदरसा शिक्षा के लिए किये जा रहे प्रयासों को बताया। इस मौके पर अखिल भारतीय पसमांदा मुस्लिम मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष जावेद मलिक ने पसमांदा मुस्लिम समाज के 101 जनप्रतिनिधियों को समाजिक उत्थान के लिए किए जा रहे कल्याण कार्यों के लिए सम्मानित किया।

शक्तिस्वरूपा सीजन-0.2 सम्मान का आयोजन: यूपी 

शक्तिस्वरूपा सीजन-0.2 सम्मान का आयोजन: यूपी 


नव अंशिका शक्ति स्वरूपा सम्मान समारोह में सम्मानित हुई प्रदेश स्तर की शक्तिस्वरूपाएं

सुरभि सिंह के निर्देशन में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों का हुआ सशक्त प्रदर्शन

संदीप मिश्र 

लखनऊ। नव अंशिका फाउंडेशन की ओर से शक्तिस्वरूपा सीजन-0.2 सम्मान का आयोजन गत मंगलवार को गोमती नगर में उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के स्थित संत गाडगे महाराज ऑडिटोरियम, हद स्तर पर किया गया। इसमें प्रदेश स्तर पर सक्रीय महिलाओं को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर विशेष रूप से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कथक प्रससुरभि सिंह के निर्देशन में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों को सशक्त रूप में दर्शाया गया और कार्यक्रम का सफल संचालन विनिता जोहरी एवं प्रदीप कुमार शुक्ला के द्वारा किया गया।

सम्मान समारोह में कानपुर की निमिषा अवस्थी शाहजहांपुर की मास्टर शेफ शीरीन कादिर, बस्ती में संचालित रिदम डांस एकेडमी की निर्देशिका डॉ.श्रेया, रायबरेली की राष्ट्रीय किक बॉक्सिंग चैम्पियन डिंपी तिवारी, गोरखपुर की लोक गायिका इंदु गुप्ता, बहराइच में संचालित बाबू सुंदर सिंह ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस की वाइस चेयरपर्सन रीना सिंह, बलिया में संचालित सेवा सुगंधा जन सेवा संस्थान की प्रमुख रत्ना तिवारी, छत्तीसगढ़ के राम कृष्ण मंदिर की ओर से संचालित न्यू विज पब्लिक स्कूल की निदेशिका सुनीता साहू, बांदा की पखावज वादिका प्रियंका मणि, मुबई की दिव्या ज्योति डिजिटल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट एंड स्टूडियो की प्रमुख सबिता सर्वानंद मिश्र, जालौन की श्रंगाररस की कवयित्री प्रिया श्रीवास्तव 'दिव्यम्', मुंबई की अभिनेत्र श्रुति भट्टाचार्य, बिजनौर की गीताकर नैनी काज़मी ही नहीं लंदन चार्टड जियोलॉजिस्ट की एफजीएस डॉ. अभिलाषा वाल को सम्मानित किया गया।

इस क्रम में स्थानीय स्तर पर उत्तर प्रदेश की प्रथम महिला एवरेस्ट विजेता, पूर्व भारतीय वायु सेना अधिकारी स्क्वाड्रन लीडर तूलिका रानी, भातखंण्डे संस्कृति विश्वविद्यालय की कथक प्रवक्ता डॉ. मीरा दीक्षित, एंकर विनीता जोहरी, आई सपोर्ट फ़ाउंडेशन की निदेशिका दिव्यांग बॉबी रमानी, मॉडल रूचि सिंह राठौर, समर्थनारी समर्थ भारत की राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरा सिन्हा वर्षा, संजू किंग कंस्ट्रक्शन की संजना सिंह को शक्तिस्वरूपा सम्मान से अलंकृत किया गया।

कथक प्रस्तुति में शैली पुत्री का अंशिका त्यागी, ब्रह्मचारिणी अंकिता सिंह, चन्द्रघंटा संगीता कश्यप, कुष्मांडा श्रंजिनी सरकार, स्कंदमाता आयुषी त्रिपाठी, कात्यायनी मीशा रतन, कालरात्रि स्निग्धा सरकार, महागौरी आकांक्षा पाण्डेय, सिद्धिधात्री श्रंजिनी सरकार, राजा दक्ष महेश देवा, शिव पंकज, सूत्रधार हेमंत, कार्तिक रंजनी, महिषासुर विशाल, ताड़कासुर का किरदार आदर्श ने अदा किया। इस अवसर पर मुख्यअतिथि के रूप में मंत्री, पर्यटन एवं संस्कृति विभाग जयवीर सिंह जी नकुल दूबे पूर्व कैबनेट मंत्री,  मुरली अहुजा, अमित कंछल, राजेश जयसवाल, बाबू सुन्दर सिंह, डॉक्टर आभा श्रीवस्ताव, रूची खान, विशहरुख खान को आमंत्रित किया गया था।

मंगलवार, 18 अक्तूबर 2022

सीएनजी के साथ-साथ पीएनजी के दामों में बढ़ोतरी 

सीएनजी के साथ-साथ पीएनजी के दामों में बढ़ोतरी 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। सीएनजी गैस की आपूर्ति करने वाली इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड ने वाहन चालको को दीपावली से पहले महंगाई का तोहफा दिया है। सीएनजी के साथ-साथ पीएनजी के दामों में भी बढ़ोतरी कर दी गई है। सीएनजी के दामों में की गई बढ़ोतरी के बाद अब पर्यावरण के अनुकूल इंधन बताए जा रहे सीएनजी के दाम पेट्रोल से भी ऊपर चले गए हैं।

राजधानी लखनऊ में सीएनजी अब पेट्रोल से महंगी हो गई है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब सीएनजी के दामों ने पेट्रोल के रेट को पछाड़ा है। मौजूदा समय में पेट्रोल की कीमत 96 रुपए 57 पैसे है तो वही सीएनजी के दाम अब 97 रुपए प्रति किलो की दर पर पहुंच गए हैं। सीएनजी के दामों में कंपनी द्वारा 2 रूपये प्रति किलो तथा पीएनजी की कीमत में 3 रुपए 30 पैसे प्रति एससीएम की दर से बढ़ोतरी की गई है।

मंगलवार, 11 अक्तूबर 2022

पूर्व सीएम मुलायम का सम्मान के साथ अंतिम संस्कार 

पूर्व सीएम मुलायम का सम्मान के साथ अंतिम संस्कार 

संदीप मिश्र 

सैफई। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव का अंतिम संस्कार आज (मंगलवार) उनके पैतृक आवास इटावा के सैफई में राजकीय सम्मान के साथ किया गया। अंतिम संस्कार में रक्षा मंत्री, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, एक्टर अभिषेक बच्चन, बाबा रामदेव सहित कई राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हुए। इस दौरान ‘नेताजी अमर रहे’ के नारों से सैफई गूंज उठा। वहीं उनके अमतिम दर्शन के लिए लोगों का हुजूम उमड़ा।तेलुगु देशम पार्टी के अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने उत्तर प्रदेश के सैफई में पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह को अंतिम सम्मान दिया।

पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव का अंतिम संस्कार किया जाएगा। अखिलेश यादव ने अपनी पत्नी डिंपल यादव के साथ अंतिम संस्कार से पहले की विधियां की। मुलायम सिंह का सोमवार को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में 82 साल की उम्र में निधन हो गया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को सैफई जाकर सपा संरक्षक को श्रद्धांजलि अर्पित की। मुलायम सिंह के निधन पर उत्तर प्रदेश में तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है। देश के रक्षा मंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके मुलायम सिंह यादव के अंतिम संस्कार के लिए सैफई में कई हेलीपैड और वाटर प्रूफ पंडाल बनाए गए हैं। इसके अलावा, सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। देश के पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव के अंतिम संस्कार में पीएम मोदी के भी शामिल होने की संभावना है। हालांकि इस पर अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

माजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक और उत्तर के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव का अंतिम संस्कार मंगलवार को सैफई के मेला ग्राउंड में दोपहर बाद होगा। मंगलवार की सुबह उनके अंतिम दर्शन के लिए राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से नेताओं और कार्यकर्ताओं का हुजूम उमड़ पड़ा। यादव (82) का सोमवार की सुबह हरियाणा के गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में निधन हो गया और शाम को उनका पार्थिव शरीर मेदांता से करीब 311 किलोमीटर की दूरी तय करके यमुना एक्सप्रेसवे के रास्ते एक बड़े काफिले में उनके पैतृक गांव सैफई लाया गया। उनकी कोठी में देर रात तक श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालों का तांता लगा रहा।

परिवार के लोग मंगलवार की सुबह मुलायम सिंह यादव (नेता जी) के पार्थिव शरीर को उनके पैतृक आवास से मेला ग्राउंड के लिए एक रथ पर लेकर रवाना हुए। रथ पर मुलायम के पुत्र और सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव समेत परिवार के सदस्य सवार थे। रथ के मेला ग्राउंड में पहुंचने पर वहां माहौल गमगीन हो गया। इस बीच ‘‘नेता जी अमर रहें’’ और ‘‘जब तक सूरज चांद रहेगा, मुलायम तेरा नाम रहेगा’’ जैसे कई नारे गूंजते रहे।

सपा के एक प्रमुख नेता ने बताया कि मुलायम सिंह यादव को सैफई के मेला ग्राउंड में अपराह्न करीब तीन बजे मुखाग्नि दी जाएगी। यादव के अंतिम संस्‍कार में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई प्रमुख नेताओं के पहुंचने की संभावना है। लखनऊ में जारी एक सरकारी बयान के अनुसार, उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने सोमवार की शाम सैफई पहुंचकर पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के पार्थिव शरीर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल तथा उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। मेला ग्राउंड में यादव को अंतिम विदाई और श्रद्धांजलि देने के लिए एक मंच बनाया गया है।

इसी मंच पर ‘‘नेता जी’’ का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है। इस मंच पर अखिलेश यादव के अलावा उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव, प्रोफेसर राम गोपाल यादव समेत परिवार के कई सदस्य नजर आए। परिवार के सदस्यों ने सबसे पहले पुष्प चक्र अर्पित कर नेता जी को अंतिम विदाई दी। पूर्व सांसद डिंपल यादव समेत परिवार की महिलाएं भी मौजूद थीं। भाजपा सांसद रीता बहुगुणा जोशी, विधानसभा में पूर्व नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी, पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य समेत सपा के कई नेताओं ने भी यादव के अंतिम दर्शन कर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

अपने समर्थकों के बीच हमेशा ‘‘नेता जी’’ के नाम से मशहूर मुलायम सिंह यादव बीमार होने के बावजूद कभी सियासी फलक से ओझल नहीं हुए। उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के सैफई गांव में एक किसान परिवार में 22 नवंबर 1939 को जन्मे मुलायम सिंह यादव ने राज्य का सबसे प्रमुख सियासी कुनबा भी बनाया। यादव 10 बार विधायक रहे और सात बार सांसद भी चुने गए। वह तीन बार (वर्ष 1989-91,1993-95 और 2003-2007) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और 1996 से 98 तक देश के रक्षा मंत्री भी रहे। एक समय उन्हें प्रधानमंत्री पद के दावेदार के तौर पर भी देखा गया था। यादव के पुत्र और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी (2012-2017) तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं।

सोमवार, 10 अक्तूबर 2022

मुलायम का पार्थिव शरीर पैतृक गांव 'सैफई' पहुंचा

मुलायम का पार्थिव शरीर पैतृक गांव 'सैफई' पहुंचा

संदीप मिश्र 

सैफई। पूर्व रक्षा मंत्री और यूपी के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव के निधन पर उत्तर प्रदेश समेत देश के कई राज्यों में शोक की लहर है। मुलायम सिंह यादव का पार्थिव शरीर उत्तर प्रदेश में उनके पैतृक गांव सैफई पहुंच गया है‌। उनका अंतिम संस्कार कल 11 अक्टूबर को सैफई में होगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने पुष्प चक्र चढ़ाकर मुलायम सिंह को श्रद्धांजलि दी है। इस दौरान मुलायम सिंह का पूरा परिवार एक साथ दिखा।

समाजवादी पार्टी के संस्थापक उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव का निधन होने के बाद शोक संवेदनाओं का तांता लगा है। सोमवार शाम करीब साढ़े पांच बजे मुलायम का पार्थिव शरीर उनके गांव सैफई पहुंचा। शव पहुंचने के कुछ देर बाद ही सीएम योगी भी पहुंचे और पुष्प चक्र चढ़ाकर मुलायम सिंह यादव को श्रद्धांजलि अर्पित की। सीएम योगी के साथ जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी भी मुलायम सिंह यादव के निधन पर श्रद्धांजलि देने पहुंचे।

गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल से मुलायम सिंह यादव का पार्थिव शरीर यमुना एक्सप्रेस वे होते हुए सैफई के लिए ले जाया गया है। इस दौरान जब शव यात्रा मथुरा के मांट और बाजना से गुजरी तो वहां पहले से मौजूद लोगों की भीड़ ने अपने नेता को अंतिम विदाई दी। इसके बाद ये यात्रा आगरा के खंदौली टोल प्लाजा पर पहुंची। यहां पहले से ही बड़ी संख्या में सपा कार्यकर्ताओं और लोगों की भीड़ जमा हुई थी। शव यात्रा को देख लोगों की आंखें नम हो गईं। सैफई पहुंचते ही उनके अंतिम दर्शन को जन सैलाब उमड़ पड़ा।

शुक्रवार, 7 अक्तूबर 2022

अग्निवीर भर्ती देखने गया, हिंडन किनारे मिला शव

अग्निवीर भर्ती देखने गया, हिंडन किनारे मिला शव

अश्वनी उपाध्याय

गाजियाबाद/मुजफ्फरनगर। जहांगीरपुर क्षेत्र के गांव हसनपुर निवासी छात्र मुजफ्फरनगर में अग्निवीर सेना की भर्ती देखने गया था। उसके बाद उसकी संदिग्ध परिस्थितियों में छात्र का शव गाजियाबाद के हिंडन नदी के किनारे पड़ा मिला। छात्र की मौत के बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा। परिजनों ने हत्या की आशंका जताते हुए कोतवाली में तहरीर दी। गांव हसनपुर निवासी सुमित कुमार पुत्र सुखबीर सिंह एनआरईसी डिग्री कॉलेज में बीए द्वितीय वर्ष का छात्र है। चार अक्टूबर को छात्र अग्निवीर सेना की भर्ती देखने के लिए मुजफ्फरनगर गया था। बताया जाता है कि उसके बाद छात्र भर्ती देखने के बाद ट्रेन में बैठ कर अपने घर आ रहा था।

लेकिन तीन दिन तक छात्र के घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने चिंता जाहिर की। उसके बाद परिजनों ने छात्र की काफी खोजबीन की पर कहीं पता नहीं चल सका। गुरुवार को गाजियाबाद पुलिस द्वारा सूचना मिली की हिंडन नदी के निकट एक युवक का शव बरामद हुआ है। पुलिस की सूचना के बाद छात्र के परिजन गाजियाबाद पहुंचे जहां परिजनो ने शव की शिनाख्त सुमित के रूप में की। छात्र की मौत की जानकारी मिलने पर परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। ग्रामीणों ने बताया कि सुमित तीन बहनों में अकेला भाई था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। परिजनों ने गाजियाबाद पुलिस को छात्र की हत्या कर शव फेंके जाने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है।

मंत्री के सामने फूट-फूट कर रोए, दीपक हत्याकांड

मंत्री के सामने फूट-फूट कर रोए, दीपक हत्याकांड

सत्येंद्र पवार 

मेरठ। दीपक हत्याकांड का सही खुलासा व पांच मांगों को लेकर परिजन व ग्रामीण धरने पर बैठे हुए हैं। वहीं शुक्रवार को राज्यमंत्री सोमेंद्र तोमर और पूर्व जिला अध्यक्ष शिव कुमार राणा धरना स्थल पर पहुंचे। इस दौरान मृतक के पिता धीरेंद्र उर्फ भगतजी मंत्री के सामने अपनी मांगों को रखते हुए फूट-फूटकर रोने लगे। उन्होंने कहा कि मेरे बेटे दीपक की निर्मम हत्या की गई है।


उन्होंने कहा कि ऐसे हत्यारों को भी पुलिस बचा रही है। कहा कि जिस गड्ढे से पुलिस ने बेटे का सिर बरामद किया है, वह गड्ढा मात्र छह इंच का था।उन्होंने कहा कि सात दिनों से पुलिस आसपास के जंगलों में सिर की तलाश कर रही थी, अगर वहां सिर पहले से ही मौजूद होता तो डॉग स्क्वायड पहुंच जाते, जबकि उस जंगल में सैकड़ों जंगली कुत्ते व गीदड़ हैं। वे सिर को नोंच डालते। मृतक दीपक के पिता ने बताया कि हत्या के बाद गांव से कुछ लोग फरार हो गए थे। उन्होंने कहा कि मेरे बेटे पर लड़की का इल्जाम लगाकर हत्या को नया मोड़ दिया गया है। यह बात कहते हुए फूट-फूट कर रोने लगे। वहीं धीरेंद्र को रोता देख वहां मौजूद लोगों की आंखें भी नम हो गईं। धरने पर बैठे ग्रामीणों ने राज्यमंत्री सोमेंद्र तोमर से हत्या का सही खुलासा और दोषी पुलिसकर्मियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की। यही नहीं पूर्व कैबिनेट मंत्री शाहिद मंजूर व राज्यमंत्री दिनेश खटीक की कॉल डिटेल निकलवाने की भी मांग की।ग्रामीणों का कहना है कि अगर कॉल डिटेल निकाली जाए तो सही हत्यारों का पता चल सकता है। मंत्री सोमेंद्र तोमर ने दीपक हत्याकांड की जानकारी मुख्यमंत्री को देने का आश्वासन दिया है।

94 पब्लिक हेल्थ यूनिट भवन निर्माण को मंजूरी

94 पब्लिक हेल्थ यूनिट भवन निर्माण को मंजूरी 

हरिओम उपाध्याय 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की वेल्थ के साथ-साथ अब हेल्थ को और सुधारने के लिए प्रदेश सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। प्रदेश मे पहली बार ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट बनेंगी। नेशनल हेल्थ मिशन (NHM) ने स्वास्थ्य की इस बड़ी योजना को मंजूरी दी है।जल्द ही ग्रामीण व शहरी क्षेत्र मे स्वास्थ सेंटरों का निर्माण शुरू किया जाएगा। इस संबंध मे संयुक्त सचिव प्राणेश चन्द्र शुक्ल ने स्वास्थ्य विभाग की महानिदेशक डॉ. लिली सिंह को निर्देश जारी किए है।


सीएचसी के अधीन काम करेगे सेँटर।

ये केंद्र शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों मे बनाए जाएंगे, जो सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अंतर्गत काम करेंगे। 15वें वित्त आयोग के तहत के 75 जनपदो मे 94 ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट के भवन निर्माण को मंजूरी दी है। इसके लिए फंड भी जारी कर दिया है। प्रत्येक यूनिट के लिए 48.95 लाख की राशि स्वीकृत की गई है। सभी केंद्रों पर 4601.30 लाख रुपए के बजट को मंजूरी दी है। पहली किश्त 2300.18 लाख रुपए जारी कर दिए गए है। भवनों का निर्माण उप्र आवास विकास परिषद, उप्र प्रोजेक्ट्स कारपोरेशन, राज्य निर्माण एवं श्रम विकास सहकारी संघ करेंगी।ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट से गंभीर मरीजों को सीधे हायर सेंटर रेफर किया जा सकेगा। अब तक CHC-PHC से गंभीर मरीजों को जिला अस्पताल रेफर किया जाता था, जहां से जिला अस्पताल और फिर हायर सेंटर रेफर किया जाता है। इस प्रक्रिया मे अधिक समय लगता था।

डिप्टी सीएम और सूबे से हेल्थ मिनिस्टर बृजेश पाठक ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के प्रयास किए जा रहे है। बड़े व सुपर स्पेशलिटी अस्पतालों मे सामान्य बीमारी से पीड़ितों का दबाव कम करने की कवायद तेज की गई है। ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट मे मरीजों को प्राथमिक स्तर का इलाज मिल सकेगा। इसमे डॉक्टर से लेकर पैरामेडिकल स्टाफ होंगे। दवा, पैथोलॉजी व दूसरी जांच की सुविधा उपलब्ध होगी। इन सेंटरों में इलाज की सुविधा पूरी तरह से मुफ्त होगी।

सोमवार, 3 अक्तूबर 2022

अधीक्षक ने क्राइम ब्रांच प्रभारी को सस्पेंड किया 

अधीक्षक ने क्राइम ब्रांच प्रभारी को सस्पेंड किया 

भानु प्रताप उपाध्याय 

सहारनपुर। लापरवाह बने रहने वाले पुलिस अफसरों एवं कर्मचारियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्यवाही करने में लगे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने ड्यूटी से गैर हाजिर चल रहे क्राइम ब्रांच प्रभारी को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है। एसएसपी द्वारा की गई इस बड़ी कार्रवाई के बाद अपने काम में लापरवाही के लिए विख्यात पुलिस अफसरों एवं कर्मचारियों में हड़कंप मच गया है। सोमवार को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विपिन ताडा ने क्राइम ब्रांच के प्रभारी राजेंद्र नगर की लापरवाही को गंभीरता से लिया है।

पिछले काफी समय से अपनी ड्यूटी से गैरहाजिर चल रहे क्राइम ब्रांच प्रभारी राजेंद्र नागर के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने उन्हें तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा है कि कार्य के प्रति लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी और अपने काम के प्रति सजग नहीं रहने वाले पुलिस अफसरों एवं कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने थाना जनकपुरी प्रभारी से भी एक मामले में अब उनका स्पष्टीकरण मांगा है।

शनिवार, 1 अक्तूबर 2022

दिव्यांगों को बसों में निशुल्क यात्रा सुविधा मुहैया, कार्ड 

दिव्यांगों को बसों में निशुल्क यात्रा सुविधा मुहैया, कार्ड 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बसों में दिव्यांगों के लिए निशुल्क यात्रा के फर्जी पास बनवाने वालों पर नकेल कसने के लिए विभाग अब दिव्यांगों को स्मार्ट यात्रा कार्ड देगा। सूत्रों ने शनिवार को बताया कि दिव्यांगों को परिवहन निगम की बसों में निशुल्क यात्रा सुविधा मुहैया कराने के लिए स्मार्ट कार्ड दिया जाएगा। इसका मकसद रोडवेज बसों में फर्जी प्रमाण-पत्र के सहारे मुफ्त में सफर करने वालों पर नकेल कसना है।

एक अधिकारी ने बताया कि इस पहल के तहत परिवहन निगम पहले चरण में प्रदेश के 11 लाख दिव्यांग यात्रियों को निशुल्क स्मार्ट कार्ड देगा। परिवहन निगम ने दिव्यांग निदेशालय से पूरे प्रदेश में पंजीकृत दिव्यांग जनों का ब्योरा मांगा है। दिव्यांग निदेशालय में पंजीकृत दिव्यांगजनों को ही स्मार्ट बस यात्रा कार्ड मिलेगा।

नगर निगम चुनाव में हर तरह के हथकंडे अपनाए

नगर निगम चुनाव में हर तरह के हथकंडे अपनाए अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। नगर निगम चुनाव की मतगणना के नतीजों पर अपनी खुशी जताते हुए...