उत्तर प्रदेश लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
उत्तर प्रदेश लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शनिवार, 12 जून 2021

जनप्रतिनिधियों के माध्यम से करें, सुविधा व वितरण

हरिओम उपाध्याय  
लखनऊ। दो दिवसीय ​दिल्ली प्रवास के बाद वापस राजधानी लखनऊ पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जनप्र​तिनिधयों का ख्याल आया है। उन्होंने अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं। उन्होंने आपदा राहत हो अथवा राज्य सरकार द्वारा आम आदमी को दी जाने वाली अन्य किसी प्रकार की सहायता राशि, उन सभी का वितरण स्थानीय जनप्रतिनिधियों के माध्यम से ही कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इन कार्यक्रमों में स्थानीय सांसद-विधायकों की उपस्थिति हो। राहत व सहायता वितरण उन्हीं के द्वारा कराया जाए।
टीम के साथ कोविड प्रबंधन पर आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्तमान में औसतन 04 लाख लोगों को हर दिन वैक्सीनेट किया जा रहा है। इस क्षमता को अगले माह तक 10 से 12 लाख प्रतिदिन तक बढ़ाये जाने की दिशा में काम किया जाएं। वहीं, मुख्यमंत्री ने ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण के फायदों और जरूरतों के बारे में व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। 
टीम-09 ने कोविड प्रबंधन की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को कुछ जानकारियां दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपर मुख्य सचिव, सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि बीते 24 घंटे में कोरोना के 524 केस दर्ज हुए हैं। रिकवरी दर बेहतर होकर 98.1 प्रतिशत हो गई है। जबकि 1 हजार, 757 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। राज्य में कुल एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या 9 हजार, 806 रह गई है।  
सहगल ने बताया कि बीते 24 घंटों में 02 लाख, 74 हजार 811 टेस्ट हुए हैं। 04 लाख, 61 हजार 412 लोगों ने वैक्सीन कवर प्राप्त किया है। अब तक यहां 05 करोड़, 30 लाख ,55 हजार, 495 सैम्पल की टेस्टिंग हुई है। अब तक 02 करोड़, 25 लाख, 08 हजार 802 कुल वैक्सीन डोज दिए जा चुके हैं। इनमें, 01 करोड़, 87 लाख 45 हजार 171 लोगों ने पहली डोज ली है, जबकि 37 लाख, 63 हजार, 631 लोग वैक्सीन के दोनों डोज प्राप्त कर चुके हैं। बता दें कि राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि प्रदेश भर में रुठे जनप्रतिनिधियों व भाजपा नेताओं को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री को विधायकों, सांसदों को भरोसे में लेने की सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि सबके साथ संवाद करना होगा। उनके क्षेत्र की समस्याओं का त्वरित निदान करना होगा।

मात्र 619 नये मामले दर्ज, टिकाकरण अभियान तेज

संदीप मिश्र  
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना के संक्रमण में तेजी से कमी आ रही है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश से मात्र 619 नये मामले दर्ज हुये हैं। वहीं, प्रदेश में टीकाकरण का अभियान तेजी से बढ़ रहा है। अब तक प्रदेश में करीब 2.20 करोड़ लोगों को कोरोना से बचाव की वैक्सीन लगाई जा चुकी है। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने शुक्रवार को यहां बताया कि बीते 24 घंटों में 07 जनपदों में शून्य, 23 जनपदों में दो डिजिट तथा 45 जनपदों में सिंगल डिजिट में कोरोना के नये मामले आये हैं। गत एक दिन में कुल 02 लाख 76 हजार से अधिक सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में अब तक कुल 05 करोड़ 27 लाख से अधिक सैम्पल की जांच की गयी है। कोविड-19 के टेस्ट में आधे से ज्यादा आरटीपीसीआर के माध्यम किए जा रहे हैं। 
3टी अभियान से संक्रमण नियंत्रण में मिल रही सफलता 
अपर मुख्य सचिव ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की 3टी नीति के तहत प्रदेश भर में ट्रेस, ट्रैक और ट्रीट का अभियान चलाया जा रहा है। 3टी अभियान के तहत वृहद टीकाकरण किया जा रहा है। प्रदेश में कोविड संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए आंशिक कोरोना कर्फ्यू लागू किया गया था। इस कोरोना कर्फ्यू के दौरान औद्योगिक गतिविधियां चालू रखी गई थीं, जिसमें जीवन और जीविका दोनों को बचाया गया। 
मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के लिए चलाये जा रहे अभियान की जमीनी हकीकत की समीक्षा एवं निरीक्षण 40 जनपदों तथा 18 मण्डलों का भ्रमण करके किया गया है। मुख्यमंत्री ने द्वारा भ्रमण के दौरान कोविड-19 की समीक्षा की गई है, ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमित लोगों से उनका हालचाल लिया गया है तथा बनाये गये कैन्टेनमेन्ट जोन का निरीक्षण भी किया गया है। 
उन्होंने बताया कि आज प्रदेश में 11,127 एक्टिव मामले हैं, जो 30 अप्रैल के 3 लाख, 10 हजार,783 एक्टिव मामलों से लगभग 96 प्रतिशत कम है। सर्विलांस के माध्यम से निगरानी समितियों द्वारा ट्रेसिंग के तहत घर-घर जाकर संक्रमण की जानकारी ली जा रही है। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में एक विशेष अभियान चलाकर, जिसमें लगभग 80 हजार से अधिक निगरानी समितियों द्वारा घर-घर जाकर उन लोगों का जिनमें किसी प्रकार के संक्रमण के लक्षण होने पर उनका एन्टीजन टेस्ट भी कराया जा रहा है। अगर एन्टीजन टेस्ट निगेटिव आ रहा है और लक्षण हैं तो उनका आरटीपीसीआर टेस्ट भी कराया जा रहा है। 
बताया कि सर्विलांस के माध्यम से सरकारी मशीनरी द्वारा उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनसंख्या में से अब तक 18 करोड़ लोगों से उनका हालचाल जाना गया है। प्रदेश में संक्रमण कम होने पर भी कोविड-19 के टेस्टों की संख्या में निरन्तर बढ़ोत्तरी की जा रही है, ताकि संक्रमित व्यक्ति की पहचान करके इलाज किया जा सके। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक टेस्ट कराये जा रहे हैं। 31 मार्च से अब तक 65 प्रतिशत टेस्ट ग्रामीण क्षेत्रों में किये गये है।
सहगल ने बताया कि प्रदेश के सभी जनपदों में कोविड के एक्टिव केसों की संख्या 600 से कम होने पर जनपदों में आंशिक कोरोना कर्फ्यू हटाकर पूर्व की तरह साप्ताहिक बंदी एवं रात्रिकालीन कर्फ्यू लागू रहेगा। साप्ताहिक बंदी के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों व शहरी क्षेत्रों में फोगिंग, सैनेटाइजेशन व साफ-सफाई का अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में ग्रामीण क्षेत्रों तथा शहरी क्षेत्रों में 1.60 लाख कर्मचारी लगाये गये हैं।
अब तक 2.20 करोड़ लोगों का हुआ टीकाकरण 
उन्होंने बताया कि टीकाकरण अभियान के तहत अब तक करीब 02 करोड़ 20 लाख लोगों का टीकाकरण किया गया है, जिसमें 40 लाख अधिक 18-44 वर्ष के लोगों का टीकाकरण किया गया है। 01 करोड़ 82 लाख 45 वर्ष से अधिक लोगों का टीकाकरण की डोज दी गई है। 37 लाख लोगों को कोविड-19 की दूसरी डोज दी गई है। कल एक दिन में 04 लाख 28 हजार से अधिक लोगों का टीकाकरण किया गया है, जो कि अन्य प्रदेशों में किए जा रहे एक दिन के टीकाकरण से अधिक है। मुख्यमंत्री द्वारा प्रतिदिन किए जा रहे टीकाकरण को 06 लाख करते हुए इसे 10 लाख तक बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। माह जून में 01 करोड़ टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। अगले माह से प्रतिदिन 10 लाख से अधिक टीके लगाने का लक्ष्य रखा गया है। तीन महीनों में 10 करोड़ टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोग अपना पंजीकरण कराकर सीएचसी अथवा पीएचसी में जाकर अपना टीकाकरण अवश्य करवायें। उन्होंने लोगों से कहा कि टीकाकरण के संबंध में किसी प्रकार के अफवाह में न आयें। 
बढ़ाई जा रही अवस्थापना सुविधाएं 
सहगल ने बताया कि कोविड-19 के दृष्टिगत प्रदेश में अवस्थापना सुविधा बढ़ाई जा रही है, जिसके तहत लगभग 80 हजार बेड बढ़ाए गये हैं। उन्होंने बताया कि 04 सालों में 39 मेडिकल कालेज बनाये गये हैं। प्रदेश में ऑक्सीजन समुचित मात्रा में उपलब्ध है। भविष्य में ऑक्सीजन की प्रदेश में कोई समस्या न हो इसके लिए 428 ऑक्सीजन प्लाण्ट अस्पतालों में लगाये जा रहे हैं, जिसमें से 72 प्लाण्ट क्रियाशील हो गए हैं। 
प्रदेश में कल लगभग 350 मी0टन ऑक्सीजन की सप्लाई की गयी है। उन्होंने बताया कि संभावित कोविड की तीसरी लहर के तहत सभी मेडिकल कालेज में 100-100 बेड पीआईसीयू, हर जिला अस्पताल में 20-20 बेड पीआईसीयू के और कम से कम दो सीएससी में पीकू व नीकू के बेड बढ़ाये जा रहे हैं। इसके साथ-साथ सभी सीएचसी में 20-20 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध कराये जा रहे हैं। इसके साथ ही रेहड़ी, पटरी आदि लोगों को 1000 रुपये भत्ता देने हेतु पात्र व्यक्तियों का सत्यापन किया जा रहा है।

सभी बिजली बिल जमा करें, दर करेंगे कम: मंत्री

संदीप मिश्र   
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने राज्य के बिजली अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए स्पष्ट किया है कि पावर कारपोरेशन का मुख्यस्तंभ उपभोक्ता है और उनका उत्पीड़न किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अगर कहीं से भी ऐसी कोई शिकायत सामने आयेगी तो पावर कारपोरेशन अधिकारियों पर कार्यवाही होना तय है। यह बात ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने शुक्रवार को सपा प्रमुख अखिलेश यादव के गांव सैफई में पावर स्टेशन का निरीक्षण करने के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए कही। ऊर्जा मंत्री पूर्वांचल के दौरे के बाद आज इटावा, मैनपुरी और मथुरा के दौरे पर हैं और शनिवार को पश्चिमांचल के दौरे पर रहेंगे।  
उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में 18 घंटे और शहरी इलाके में 24 घंटे को रोस्टर तैयार किया गया है, इसमें कोई भी गड़बड़ी नहीं होनी चाहिए। अगर कोई फाल्ट आता है तो फिर त्वरित ढंग से फाल्ट को ठीक कर पावर सप्लाई को चालू करें। सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक बिजली कटौती न की जाए। उन्होंने कहा कि किसी भी बिजली उपभोक्ताओं का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। सभी विद्युत अधिकारी कर्मचारी उपभोक्ताओं के फोन रिसीव करें। शिकायत मिलने पर बिजली अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही तय मानी जायेगी। बिना राजनैतिक भेदभाव के बिजली अधिकारी उपभोक्ताओं से वार्ता करें। 
ऊर्जा मंत्री अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार शुक्रवार की दोपहर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के गांव सैफई स्थित पाॅवर स्टेशन का निरीक्षण करने पहुंचे। उन्होंने सबसे पहले विद्युत विभाग के चीफ एवं एसई,एक्सईएन एसडीओ,जेई,लाइनमैन को जनता के बीच बुलाकर एक-एक करके जानकारी ली। उसके बाद वहां मौजूद लोगों से भी बिजली कटौती ट्रांसफार्मर खराब होने पर बदलने में कितना समय लग रहा है। इन सभी बिंदुओं पर जानकारी हासिल की। इस बीच उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बिजली अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली कटौती न की जाए।  
उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्र में 24 घंटे और तहसील क्षेत्र में 20 से 22 घंटे व ग्रामीण क्षेत्र में 18 घंटे तक बिजली की आपूर्ति की जाए, इसमें कोई कोताही नहीं होनी चाहिए। सभी विद्युत अधिकारी कर्मचारी उपभोक्ताओं के फोन रिसीव करें। शिकायत मिलने पर बिजली अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही तय किया जायेगा।
 
इसी बीच जिले से पहुंचे भाजपा के जिलाध्यक्ष अजय धाकऱे, प्रशांत राव चौबे अपने अन्य पदाधिकारियों के साथ वहां उन्होंने बिजली कटौती को लेकर ऊर्जा मंत्री को लिखित में शिकायत दी और सदर पाॅवर कारपोरेशन के एक्सईएन राहुल बाबू कटियार की ऊर्जा मंत्री से शिकायत की। मंत्री ने एक्सईएन राहुल बाबू की शिकायत एमडी को जांच सौंपी और कहा जांच के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि पिछले 3 साल से हमारी सरकार ने कोई दर नहीं बढ़ाई है हम तो सस्ता करने के प्रयास कर रहे हैं अगर सभी लोग सहभागी हों और समय पर बिल जमा करें तो आने वाले समय में बिजली की दरें हम कम करेंगे।
 
उन्होंने कहा कि सरकार निर्बाध आपूर्ति के लिए संकल्पित है। पूर्ववर्ती सरकार में जहां 16 हजार मेगावाट से ज्यादा की आपूर्ति नहीं हो पाती थी। ज्यादा डिमांड होने पर फीडरों को बंद करना पड़ता था। आज हम 23 हजार मेगावाट से ज्यादा की आपूर्ति निर्बाध रूप से कर रहे हैं। पूर्ववर्ती सरकारों से ज्यादा बेहतर आपूर्ति सुनिश्चित कर रहे हैं। उन्होंने अपील की कि उपभोक्ता विद्युत संबंधी समस्याओं के निदान के लिए 1912 पर शिकायत करें। साथ ही अधिकारियों को सोशल मीडिया पर आ रही शिकायतों का भी प्राथमिकता से निस्तारण करने के निर्देश दिए। वैक्सीनेशन पर ऊर्जा मंत्री ने बोलते हुए कहा कि हम सभी लोग मिलकर कोविड-19 को हराएंगे। इस महामारी में सबसे बड़ी दवा वैक्सीन है, लेकिन कुछ राजनीतिक दलों ने वैक्सीन को लेकर अलग-अलग पार्टियों से जोड़ दिया। यह एक शर्मनाक बात है। वैज्ञानिकों का अपमान करना अब उसी वैक्सीन की मांग कर रहे हैं। अगर भ्रम पैदा नहीं किया जाता तो बड़ी संख्या में लोग वैक्सीन लगवाते। हम अपील करते हैं महामारी पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। 

यूपी में कोरोना संक्रमितों की संख्या 10 हजार से कम

हरिओम उपाध्याय                   

लखनऊ। देश में घनी आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में वैश्विक महामारी कोविड-19 की दूसरी लहर का प्रभाव लगातार कम हाे रहा है। नतीजन, राज्य में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या दस हजार से कम हो गई है। अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने शनिवार को बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के कुल 524 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 1757 मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को लौट गए। राज्य में फिलहाल 9806 मरीजों का उपचार चल रहा है। उन्होने बताया कि राज्य में कोरोना का रिकवरी रेट 98.1 फीसदी हो चुका है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के दो लाख 74 हजार संदिग्ध मरीजों के नमूने लिये गए। अब तक राज्य में पांच करोड़ 30 लाख टेस्ट किए जा चुके हैं। जिसे करने वाला यूपी देश में इकलौता राज्य है। 

नवनीत सहगल ने बताया कि उत्तर प्रदेश में जितने कुल सक्रिय केस है। महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में इतने मामले रोज आ रहे हैं। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ट्रेस,टेस्ट और ट्रीट फार्मूले का असर है। जिससे कोरोना को पूरी तरह काबू किया गया है। करीब एक लाख गांवों में 70,000 से अधिक निगरानी समितियों ने घर घर जाकर की संक्रमितों की पहचान की है। इसी वजह से 25 करोड़ की सबसे ज्यादा आबादी के बाद भी यूपी में मृत्यु दर महाराष्ट्र दिल्ली जैसे बेहद कम आबादी वाले राज्यों से बेहद कम रही।

शुक्रवार, 11 जून 2021

हर शनिवार को मार्केट का सेनिटाइजेशन होगा, निर्णय

बृजेश केसरवानी              

प्रयागराज। जनपद में दवा की होलसेल मंडी लीडर रोड पर शुक्रवार को बंदी को लेके एक विशेष बैठक हुई।
जिसमें सभी के सभी व्यापारी की सहमत के साथ।निर्णय हुए की कोरोना महामारी और सरकारी निर्देश अनुसार, शनिवार की बंदी चोर महीने में रहेगी।
हर शनिवार को मार्केट का सेनिटाइजेशन होगा। अध्यक्ष बोले, हमे अभी और सावधनी से काम करना होगा। लॉकडाउन खुलने से कोरोना के नए केस अब भी आ रहे हैं। दो दिन के अवकाश से इससे बचा जा सकता हैं।अभी भी सोशल डिस्टेंसिंग से काम करना जरूरी हैं।सभी को मास्क पहनकर ही दवा लेने आना अनिवार्य होगा। सोशल डिस्टिंग का पालन सभी दुकानदारो पालन करे। बैठक में अनिल दुबे ,प्रेम अग्रवाल,राजू गांधी, रोहित (रिंकू),मनोज रस्तोगी, अचल अग्रवाल,रवि अग्रवाल,दीपू पुरवार,जीतू, आदि उपस्थित रहे।

हापुड़: वाहन चालकों को वैक्सीन लगाना प्राथमिकता

अतुल त्यागी                 
हापुड़। जनपद में 14 जून से रेहड़ी,पटरी ऑटो चालक,बस चालक हेवी वाहन चालकों को वैक्सीन लगाना प्रारंभ किया जाएगा। जिसके तहत आरटीओ ऑफिस पर एक सी.वी.सी कैंप लगाया जाएगा। जिसमें हैवी वाहनों के ड्राइवर, कंडक्टर तथा ऑटो चालक, ई रिक्शा चालको तथा अन्य कॉमर्शियल वाहन चलाने वाले चालकों व परिचालकों आदि को टीकाकरण किया जाएगा। इस दौरान 50-50 के 2 बुथ लगाए जाएंगे।जिसमें एक बूथ 45 साल से ऊपर के व्यक्ति का होगा तथा दूसरा 18 से 44 साल तक के व्यक्तियों के लिए होगा। 
प्रत्येक दिन 100 लोगों को यहां पर टीकाकरण किया जाएगा। प्रत्येक नगर पालिका क्षेत्र में नगरपालिका प्रांगण में रेहड़ी पटरी वालों के लिए भी इसी प्रकार एक सी.वी.सी बनाई जाएगी। जहां पर 45 से ऊपर के व्यक्तियों के लिए 50 तथा 18 से 44 की उम्र तक के व्यक्तियों के लिए 50 व्यक्तियों को टीकाकरण किया जाएगा।

महगांई: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया

अश्वनी उपाध्याय                 
गाजियाबाद। जिला एवं महानगर कांग्रेस कमेटी ने अध्यक्ष बिजेंद्र यादव-मनोज कौशिक के नेतृत्व में शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ रही कीमतों के विरोध में कार्यकर्ताओं ने पुराना बस अड्डा स्थित बजाज पेट्रोल पंप पर जोरदार प्रदर्शन किया। कांग्रेस के इस देशव्यापी प्रदर्शन के दौरान पार्टी के पदाधिकारियों ने जमकर सरकार की नीतियों के विरोध में नारे लगाए। जिलाध्यक्ष बिजेंद्र यादव ने कहा कि केंद्र सरकार कोरोना से जूझ रहे आम आदमी की जेब पर डाका डाल रही है।
पेट्रो उत्पादों की कीमत बढ़ाकर केंद्र सरकार आमजन का शोषण कर रही है। पेट्रो उत्पादों में हो रही बढ़ोतरी का सीधा असर महंगाई के रूप में सामने आ रहा है। महंगाई से आमजन की कमर टूट गई है, लेकिन केंद्र को इसकी कोई चिंता नहीं। कहा कि यदि केंद्र ने पेट्रो उत्पादों की कीमतों में हुई बढ़ोत्तरी वापस नहीं ली तो कांग्रेस जनआंदोलन शुरू करेगी। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने प्रचार के दौरान जनता से वायदा किया था कि डीजल के दाम तीस रुपये और पेट्रोल के दाम चालीस रुपये किए जाएंगे। 
सरकार बनने के बाद पेट्रोल और डीजल के दामों में बेतहाशा बढ़ोत्तरी हुई। आम आदमी महंगाई की चौतरफा मार झेलने को मजबूर है। उधर महानगर कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में हापुड़ तिराहा स्थित पेट्रोल पंप पर प्रदर्शन होना था। डीजल और पेट्रोल की लगातार बढ़ती कीमतों के विरोध में महानगर कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारी अध्यक्ष मनोज कौशिक के नेतृत्व में हापुड़ तिराहा पहुंचे। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल ने उन्हें घेर लिया। पुलिस फोर्स महानगर अध्यक्ष और उनकी टीम को हिरासत में लेकर पुलिस लाइन पहुंची। मनोज कौशिक ने कहा कि पुलिस प्रशासन नहीं चाहता कि वे देशहित में आवाज उठाएं। उन्होंने कहा कि पुलिस चाहे जितने भी जुल्म कांग्रेसियों पर कर ले, वे जनहित में आवाज उठाते रहेंगे। कांग्रेसियों ने किसान नेता राजेश पायलट को उनकी 21 वीं पुण्यतिथि पर श्रद्घासुमन भी अर्पित किए।
इस दौरान प्रदेश सचिव वीर सिंह चौधरी, नरेन्द्र राठी, अमोल वशिष्ठ, पार्षद जाकिर अली सैफी, सलीम सैफी, दिनेश शर्मा, रजनीकांत राजू, त्रिलोक सिंह, विजयपाल चौधरी, रवि चौधरी, मोह मद हनीफ चीनी, अशोक कुमार शर्मा एडवोकेट, केएन पांडेय, ओंकार सिंह, रुपेश त्यागी, दिनेश गौतम, संजय श्रीवास्तव, लक्ष्मीकांत झा, शिवदत्त अधाना, श्रीचंद दिवाकर, सोनू त्यागी, सुनीता उपाध्याय, रामप्रकाश कश्यप, एसएन राम आदि कांग्रेसी मौजूद रहे।

कीड़े-मकोड़ों से बचाव, रिचार्जेबल टॉर्च उपलब्ध किया

गणेश साहू                     
कौशाम्बी। भारतीय जनता पार्टी के विधायक चायल संजय कुमार गुप्ता ने मानसून के आगमन को देखते हुए अपने विधानसभा के ग्राम कोठिया व रहौनी में मेरी विधानसभा मेरा परिवार को चरितार्थ करते हुए सभी किसान भाइयों को बारिश से बचने के लिए एक-एक छाता व रात्रि के अंधेरे में कीड़े मकोड़ों से बचाव हेतु एक एक रिचार्जेबल टॉर्च उपलब्ध करवाया।
टार्च व छाता पाकर सभी किसान भाइयों ने उत्साह पूर्ण वातावरण में विधायक को दिल से आशीर्वाद देते हुए कहा कि स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद भारत के इतिहास में आपके अतिरिक्त ऐसा कोई विधायक क्षेत्र में नहीं हुआ।जो समय-समय पर अपने पारिवारिक सदस्यों की भांति क्षेत्र की जनता के सुख-दुख में अनवरत रहे। उनकी जरूरतों को बिना मांगे समस्याओं का पूरा करता रहे।

पानी में डुबने की वजह से 2 मासूम बच्चों ने दम तोड़ा

संदीप मिश्र       
बलिया। सड़क किनारे बने गड्ढे में नहाना उस समय महंगा पड गया। जब बच्चे नहाते समय अपने आप को नही संभाल पाये और डुबने की वजह से दो मासूम बच्चों ने दम तोड़ दिया। जैसे ही बच्चो के मरने की खबर गाॅव मे पता चली चारो ओर शोक की लहर फैल गयी।
मामला बलिया जनपद के मनियर थाना क्षेत्र के असना गांव में सड़क के किनारे बने गड्ढे में नहाते समय शुक्रवार की दोपहर में दो बच्चे डूब गये। ग्रामीणों ने दोनों बच्चों को पानी से निकालकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मनियर पहुंचाया, डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। घटना से गांव में कोहराम मच गया है। असना गांव के पास धनौती मार्ग के किनारे जेसीबी से मार्ग बनाने के लिए गड्ढे की खोदाई की गई थी। 
इसमें बरसात का पानी पानी भर गया था। इसमें गांव के कुछ छोटे-छोटे बच्चे स्नान करने गए थे। नहाते समय गौतम कुमार चैहान (7 ) पुत्र गणेश चौहान निवासी असना एवं कृष कुमार राजभर (8 ) पुत्र कृष्णा राजभर निवासी नारायणपुर थाना बांसडीह डूब गये।
कृष कुमार राजभर अपने नाना शुकर राजभर के यहां आया हुआ था। दोनों बच्चों के डूबते देख अन्य बच्चे भाग खड़े हुए। परिजन मौके पर पहुंच कर बच्चों को गड्ढे से बाहर निकाले एवं आनन-फानन में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मनियर ले गए। इससे गांव में शोक की लहर दौड़ गई है। 

डॉक्टरों ने पीड़ित कामिनी को मृतक घोषित किया

गोपीचंद                
बागपत। थाना मवाना जिला मेरठ के मोहल्ला हीरा लाल निवासी तेजवीर ने अपने पुत्र राहुल का विवाह 6 वर्ष पूर्व ग्राम बालपुर जिला सहारनपुर निवासी नरेश सैनी की पुत्री कामिनी के साथ हिन्दू रीतिरिवाज के साथ की थी और प्रार्थी का पुत्र राहुल अपनी पत्नी कामिनी के साथ खेकड़ा जिला बागपत में खुशी-खुशी रह रहा था और राहुल ने अपनी पत्नी के उत्तम भविष्य को ध्यान में रखते हुये उसे जीएनएम का कोर्स भी कराया था। 
कामिनी काफी दिनों से ह्रदय की समस्या से पीड़ित थी। जिसका इलाज खेकड़ा के एक प्राइवेट अस्पताल में चल रहा था और दिनांक 31/05/2021 को उसकी हालत अचानक बिगड़ने पर उसको मेरठ शुभ भारती मैडिकल के लिये रैफर कर दिया गया। शुभ भारती मैडिकल पहुचने के कुछ समय बाद डॉक्टरों ने उसे मृतक घोषित कर दिया। कामिनी की मृत्यु की सूचना उसके पिता के घर दी और प्रार्थीगण मृतका कामिनी को अपने घर मवाना ले आये और कामिनी के माता पिता भी मौके पर पहुच गये और प्रार्थीगणों ने अन्य अन्य प्रकार की शंकाओं को ध्यान में रखते हुये मृतका कामिनी का पोस्टमॉस्टम करने की सहमति भी दी, परन्तु उन्होंने उसके लिये मन कर दिया। और उनकी सहमति से ही हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार कामिनी का अंतिम संस्कार किया गया। 
परन्तु दिनांक 06/06/2021 को तेरहवी के दिन कामिनी के माता पिता और भाईयों में अचानक बदलाव के कारण वह कहने लगे कि तुमने हमारी लड़की को लापरवाही कर जानबूझकर मारा है और अब जब हमारी लड़की ही नहीं रही तो हम उसका समान व उसका लड़का अपने साथ ले कर जायेंगे। जिसपर हमने समान पर अपनी सहमति दे दी। परन्तु लगके के लिये हमने मना कर दिया तो वह इसी बात को लेकर हमारे साथ गाली गलौच करते हुये हमारे घर में जबरन घुस कर समान इकट्ठा करने लगे और कामिनी से प्राप्त 10 महा के लड़के को जबरन उठाकर ले जाने लगे तो हम लोगो ने विरोध किया तो वह लाठी डंडे व सरिये उठाकर हमे मारने लगे और हमारे घर की कच्ची दीवार से ईंट उखाड़ कर हम पर बरसाने लगे। जिससे प्रार्थी गणों और अन्य रिस्तेदारों व आस-पास के लोगों को गहरी चोट आ गयी और प्रार्थी के पुत्र राहुल को जान से मारने की नीयत से मार-मार कर खून से लतपत कर दिया और उसका गला दबाकर जान से मारने का प्रयास करने लगे तो कुछ अन्य रिस्तेदारों ने गम्भीर और अधमरी हालत में मृतका के पति राहुल को बड़ी मुश्किलों से बचाया। 
जिसकारण बीच बचाव करने वाले भी गम्भीर रूप से घायल हो गये। पुलिस हेल्फ़ लाईन 112 पर घटना की सूचना दर्ज कराई। जिस पर कुछ समय बाद प्रार्थी गणों को थाने से बेक कॉल आई और प्रार्थीगणों को थाने में आकर ही बात करने के लिये कहा, जिस पर प्रार्थीगणों की और से मोहित सैनी थाने में बात करने गया तो थाना पुलिस ने उसे वही बंधक बना लिया। इस बात का पता लगते ही जब हम लोग लिखित तहरीर लेकर थाना पहुचें तो प्रार्थी के पुत्र राहुल की बिगति हालत को देख कर उसको तो मैडिकल के लिये भेज दिया और हमने अन्य घायल हुये व्यक्तियों का मैडिकल करने को कहा तो हमें थाना पुलिस ने थाने से भगा दिया और हमारी कोई बात नहीं सुनी। प्रार्थीगणों के परिवार के जान माल की बड़ी भारी हानि होने के बाद भी प्रार्थी अपनी दुखद स्थिति में बेबश व निसहाय और अकेले है। 
मवाना थाना की ओर से प्रार्थीगणों के साथ इस प्रकार का व्यवहार अमानवीय है। प्रार्थी पक्ष का राहुल जो कि मृतका का पति है। गम्भीर हालत में प्यारेलाल अस्पताल मेरठ में भर्ती है और मवाना थाना की और से विवाद की एक पक्षीय कार्यवाही प्रार्थीगणों के लिये लाचारी व बेबसी का कारण बनी हुई हैं और विपक्षी गणों की और से उनकी शर्तों को मान कर फैसला करने का दबाव अन्य प्रभावशील व्यक्तियों द्वारा बनाया जा रहा है। 

सीएम योगी ने पीएम से आवास पर मुलाकात की

अकांशु उपाध्याय            

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से 7 लोक कल्याण मार्ग स्थित उनके आधिकारिक आवास पर मुलाकात की। सवा घंटे से अधिक समय की मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री आवास से बाहर निकले मुख्यमंत्री योगी ने पत्रकारों से कोई संवाद नहीं किया और सीधे भाजपा अध्यक्ष उनके आवास की ओर निकल गए। फिलहाल, नड्डा की योगी से मुलाकात जारी है। इस बीच, योगी ने ट्वीट कर कहा, ”आज आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से नई दिल्ली में शिष्टाचार भेंट एवं मार्गदर्शन प्राप्ति का सौभाग्य प्राप्त हुआ। अपनी व्यस्ततम दिनचर्या से भेंट के लिए समय प्रदान करने व आत्मीय मार्गदर्शन करने हेतु आदरणीय प्रधानमंत्री जी का हृदयतल से आभार।”

दो दिवसीय दौरे पर दिल्ली आए योगी आदित्यनाथ ने बृहस्पतिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी और विभिन्न मुद्दों पर उनसे तकरीबन डेढ़ घंटे चर्चा की थी। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, नड्डा से मुलाकात के बाद योगी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे। शाह के साथ बैठक में योगी ने उन्हें ‘प्रवासी संकट समाधान’ रिपोर्ट की एक प्रति भी दी। अभी कुछ दिन पहले ही भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बी एल संतोष और पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह ने लखनऊ का दौरा किया था और अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी की तैयारियों की समीक्षा की थी। दोनों नेताओं ने इस दौरान राज्य सरकार के मंत्रियों, विधायकों और संगठन के प्रमुख पदाधिकारियों से अलग-अलग मुलाकात की थी। इसके बाद योगी आदित्यनाथ के अचानक दिल्ली पहुंचने और उनकी, पार्टी के शीर्ष नेताओं से इन मुलाकातों के दौर को भाजपा की, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारियों के रूप में देखा जा रहा है।

साथ ही राज्य में मंत्रिमंडल विस्तार की संभावनाओं से भी इसे जोड़कर देखा जा रहा है। योगी की दिल्ली यात्रा से ठीक एक दिन पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने भाजपा का दामन थामा है। पूर्व प्रशासनिक अधिकारी और उत्तर प्रदेश में भाजपा के विधान परिषद के सदस्य ए. के. शर्मा भी पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में डेरा डाले हुए है तथा पार्टी के नेताओं से मुलाकातें कर रहे हैं। शर्मा को प्रधानमंत्री मोदी का विश्वस्त माना जाता है। हालांकि अभी तक उत्तर प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर कोई आधिकारिक सूचना नहीं है। लेकिन सूत्रों का कहना है कि राज्य के प्रतिष्ठित ब्राह्मण परिवार और राजनीतिक हलके से ताल्लुक रखने वाले जितिन प्रसाद को और शर्मा को इस संभावित विस्तार में शामिल किया जाएगा।

अयोध्या: 14 को सर्किट हाउस फैजाबाद में होगीं बैठक

उमय सिंह साहू          

अयोध्या। श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक 13 व 14 जून को सर्किट हाउस फैजाबाद में होगी। मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा बैठक में शामिल होने के लिए अयोध्या पहुंचकर निर्माण कार्य का निरीक्षण और भावी योजना पर चिंतन के लिए 13 और 14 जून को अयोध्या में ही रहेंगे। जानकारी के मुताबिक, जो सदस्य बैठक में किन्ही कारणों से नहीं आ सकते हैं। 

वह वीडियो के माध्यम से अपने स्थान से ही बैठक में सहभाग कर सकते हैं। वीडियो से जुड़ने के लिए लिंक उनको समय से पहले ही प्रेषित कर दिया जाएगा। रामजन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण के लिए 400 फुट लंबे और 300 फुट चौड़े स्थल पर 50 फुट गहरे की गई खुदाई को भरे जाने का कार्य हा रहा है। लगभग 5 फुट से अधिक इम्प्रूवमेंट का कार्य पूरा हो चुका है। इसके साथ मंदिर के लिए बेस प्लिंथ को बनाये जाने के साथ परकोटा निर्माण के लिए तैयारी की जा रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू को पुलिस ने गिरफ्तार किया

हरिओम उपाध्याय                   
लखनऊ। सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आज यूपी कांग्रेस पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ प्रदेशव्यापी प्रदर्शन कर रही है। प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू भी विधानसभा और पेट्रोल पंप पर जब समर्थकों के साथ प्रदर्शन करने जा रहे थे। इसी दौरान उन्हें उनके सरकारी आवास के बाहर तैनात लखनऊ पुलिस ने उन्हें समर्थकों के साथ गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले सुबह अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने लखनऊ के बहुखंडी आवास पर हाउस अरेस्ट कर लिया था। इसके विरोध में कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन शुरू कर दिया।
जिसके बाद उन्होंने ट्वीट कर कहा कि आज लखनऊ स्थित मेरे आवास पर फिर पुलिस के पहरे लगा दिए गए। हमें आंदोलन की आज़ादी नहीं है, लेकिन किसान से डीजल-पेट्रोल में, आम आदमी से सरसों तेल में इन्हें लूटने की पूरी आज़ादी है। लोकतंत्र अपने काले अध्यायों से गुज़र रहा है। कांग्रेस के पत्र में कहा गया है कि मंहगाई के इस दौर में प्रदेश की जनता कोरोना महामारी से त्रस्त है। कोरोना कर्फ्यू व लाकडाउन की वजह से देश एवं प्रदेश की जनता, व्यापार व्यवसाय के ठप हो जाने, आर्थिक रूप से पिछड़ जाने के बावजूद केंद्र व राज्य सरकार पेट्रोल व डीजल कीमतों को बढ़ाकर मुनाफा कमाने में लगी है। यह बढ़ोतरी ऐसे समय की गई है जब जनता केंद्र एवं प्रदेश सरकार से मदद की उम्मीद कर रही है। वहीं केंद्र सरकार ने दो लाख 94 हजार करोड़ रुपये का टैक्स लगाया है। जो सीधा जनता की जेब पर डाका डालने जैसा है।

गुरुवार, 10 जून 2021

विपक्षी प्रत्याशियों को शिकस्त देने के लिए बधाई दी

बृजेश केसरवानी                
प्रयागराज। भारतीय जनता पार्टी की केन्द्र व प्रदेश की सरकार से जनता का मोह भंग हो चुका है। 2022 में समाजवादी पार्टी की सरकार अखिलेश यादव के नेत्रित्व मे पूर्ण बहुमत के साथ आ रही है। इस बात का आभास जनता जनार्दन के हावभाव से नज़र आने लगा है। उक्त बाते समाजवादी पार्टी के महानगर अध्यक्ष सै. इफ्तेखार हुसैन ने चौक महानगर कार्यालय पर लॉकडाऊन के बाद महानगर कार्यकारिणी की मासिक बैठक को सम्बोधित करते हुए कही। इफ्तेखार ने कार्यकर्ताओं को ज़िला पंचायत मे मिली सफलता का श्रेय देने के साथ उनकी अथक मेहनत और वरिष्ठ नेताओं के दिशा-निर्देशों पर चलकर विरोधी पार्टी के प्रत्याशियों को शिकस्त देने के लिए भी बधाई दी। कहा, जिस रणनीत के तहत हमारी पार्टी ने ज़िला पंचायत में विजय प्राप्त की। 
उसी रणनीत के साथ हम ज़िला परिषद व ब्लाक प्रमुख का भी चुनाव जीतेंगे। महासचिव रवीन्द्र यादव रवि के संचालन मे हुई मासिक बैठक मे संगठन विस्तार,संगठन को बूथ व सेक्टर स्तर तक प्रभावी बनाने के साथ 2022 मे होने वाले विधान सभा चुनाव मे समाजवादी पार्टी की सरकार कैसे बने इस बात पर भी चर्चा की गई। उपाध्यक्ष गण इसरार अन्जुम,महेन्द्र निषाद व मोइन हबीबी ने कहा अभी आगामी विधान सभा चुनाव मे छैः माह का समय बाक़ी है। लेकिन हमे इन बचे दिनो मे घर घर गली गली मे वरिष्ठ नेताओं को साथ लेकर दरवाज़े दरवाज़े दस्तक देनी है। रवीन्द्र यादव ने कहा, भाजपा का जहाज़ डूबने वाला है। जनता सपा की साईकिल की सवारी करने को आतुर है। हमारी पार्टी को हर जाति और धर्म का समर्थन है। समाजवादी पार्टी की सरकार मे बिना जाति व धर्म के सभी के विकास की योजनाएँ क्रियान्वित होती थीं।
लेकिन बाबा की सरकार किसी भी जाति की हमदर्द नहीं। योगी सरकार पूंजिपतियों के लिए योजनाए बनाती है। केन्द्र व प्रदेश की सरकार कारपोरेट घराने को खुश करने के लिए ग़रीबो पर महंगाई का बोझ लादे दे रही है।मासिक बैठक में शहर की तीनो विधान सभाओ मे क्रमशाः मो. गौस शहर दक्षिणी,अभिमन्यु पटेल शहर पश्चिमी व ओ पी यादव शहर उत्तरी विधान सभा अध्यक्षों के नेत्रित्व मे जल्द ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ घर घर दस्तक अभियान चलाकर लोगों की समस्याओं व कोरोना काल मे किस प्रकार की समस्याओं से जूझना पड़ा इसका पूरा ब्योरा इक्ठा कर राष्ट्रीय नेत्रित्व को सौंपा जाएंगा। बैठक मे सै. इफ्तेखार हुसैन, रवीन्द्र यादव रवि, इसरार अन्जुम, महेन्द्र निषाद, मोईन हबीबी, हरीषचन्द्र श्रीवास्तव, संतोष निषाद, अशोक मौर्या, महेश निषाद, शिवशंकर केसरवानी, एस पी यादव, राकेश वर्मा, मो. ग़ौस, अब्दुल समद, मो. अज़हर, मो. ज़ैद, औन ज़ैदी, राजेश कुमार (पप्पू पासी),आशीष पाल, सै. मो. हामिद, मो. सऊद, मो. हसीब, आसिफ अन्सारी, आसिफ हुसैन, ताहिर उमर, श्यामू यादव, रितेश प्रजापति, पंकज साहु, विकास यादव बालाजी, निखिल यादव, विशाल सिंह आदि उपस्थित रहे।
लॉकडाउन के बाद चौक नगर कार्यालय मे इक्ठा हुए समाजवादी महानगर के पदाधिकारीयों व नेताओं ने देश भर कोरोना से मृत लोगों के लिए दो मिनट का मौन धारण किया। वहीं जो लोग आज भी कोरोना से पीड़ित है। उनके जल्द स्वास्थ लाभ की कामना भी की गई।महानगर मीडिया प्रभारी सै. मो. अस्करी के अनुसार कोविड गाइडलाइन और कोरोना कर्फ्यू के कारण लगभग एक माह के बाद पार्टी कार्यालय बड़ी संख्या मे पदाधिकारीयों की उपस्थिति रही।

सभी नागरिकों को वैक्सीन लगाने की अपील की

अश्वनी उपाध्याय               

गाजियाबाद। लोहा विक्रेता मंडल के अध्यक्ष और टेक्निकल इंस्टीट्यूशंस फाउंडेशन ऑफ उत्तर प्रदेश के महासचिव डॉ. अतुल कुमार जैन ने सभी नागरिकों को कोरोनावायरस के बचाव हेतु उपलब्ध वैक्सीन को लगाने की अपील की है। उन्होंने बताया है कि अभी कोरोनावायरस का संकट पूरी तरह से टला नहीं है।इसलिए कोरोना से बचाव के अन्य साधन जैसे डबल मास्क का प्रयोग करना घर से बाहर अधिक ना निकलना केवल आवश्यक कार्य में ही निकलना और भौतिक दूरी बनाए रखना, हाथो को सैनिटाइज करते रहना या साबुन से हाथो को समय-समय पर धोना इत्यादि के अतिरिक्त वैक्सीन लगा कर के एक सुरक्षा कवच प्रदान किया जा सकता है।

मेडिकल साइंस और चिकित्सकों की टीम ने अनुसंधान के आधार पर जैसा कि विभिन्न समाचारों के माध्यम से चर्चाओं में यह बात बताई गई है कि वैक्सीन लगाने से कोई भी विपरीत प्रभाव स्वास्थ्य पर नहीं होता है। बल्कि यदि कोरोनावायरस का संक्रमण किसी व्यक्ति को हो जाता है तो काफी हल्का रहता है और गंभीर स्थिति नहीं बनती है। इसलिए सभी देशवासियों और नगर वासियों से यह अपील है कि अपने निकटतम स्वास्थ्य केंद्रों पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा केंद्र सरकार के नेतृत्व में यह वैक्सीनेशन का कार्यक्रम चल रहा है। अवश्य वैक्सीन लगवाएं इसमें कोई भी भ्रम ना रखें स्वास्थ्य के लिए यह है, जरूरी है। डॉ.अतुल कुमार जैन ने यह भी बताया कि मजदूरों, गरीबों और जो तकनीकी रूप से सक्षम नहीं है। उनके लिए जिला चिकित्सालय के माध्यम से वैक्सीनेशन के कैंप के लिए प्रयास किया जा रहा है। जिसमें संगठन की ओर से सभी के वैक्सीनेशन के कार्य में मदद की जाएगी।

डीएम की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक आयोजित की

कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में गुरूवार को कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने कार्यो को समयबद्धता एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये है। साथ ही साथ उन्होने कार्यो में लापरवाही या उदाशीनता बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने के भी निर्देश दिये है। बैठक में विद्युत विभाग के कार्यां की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को अपने-अपने विभागों के बकाया विद्युत बिल का भुगतान कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने खराब ट्रान्सफार्मरों को तत्काल ठीक कराये जाने के भी निर्देश दिये है। वन विभाग की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सरांय आकिल मार्ग सहित अन्य मार्गों के चौड़ीकरण के कार्य हेतु रोड में पड़ने वाले पेड़ों को कटवाये जाने का निर्देश दिया है। 
जिलाधिकारी ने गोवंशसंरक्षण केन्द्रों की समीक्षा करते हुए निराश्रित पशुओं को गोसंरक्षण केन्द्रों में संरक्षित करने एवं उनकी जियो टैगिंग भी कराये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने गोसंरक्षण केन्द्रों में पशुओं के लिए पर्याप्त मात्रा में चारा, पानी की व्यवस्था सुनिश्चित बनाये रखने का निर्देश दिया है। श्रम विभाग की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने गांव-गांव में कैम्प लागाकर सभी श्रमिकों का पंजीकरण कराये जाने का निर्देश श्रम प्रवर्तन अधिकारी को दिया है। कृषि विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत छूटे हुए पात्र लाभार्थियों का पंजीकरण कराये जाने एवं आधार फीडिंग कराये जाने का निर्देश दिया है। साथ ही साथ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत बीमित किसानों की क्षतिग्रस्त फसल की भरपाई करने का निर्देश बीमा कंपनी को दिया है। कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा करते हुए उन्होने स्कूलों में पढ़ने वाली छात्राओं को कन्या सुमंगला योजना से लाभान्वित कराये जाने का निर्देश जिला बेसिक शिक्षाधिकारी को दिया है।
आपरेशन कायाकल्प की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने शेष बचे हुए विद्यालयों में सौन्दर्यीकरण, शौचालय, टाइल्स, दिब्यांग शौचालय, रंगाई एवं पोताई सहित अन्य कार्यों को पूर्ण कराये जाने का निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी को दिया है। स्वास्थ्य विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने डॉक्टरों की उपलब्धता, आशाओं के मानदेय का भुगतान,आयुष्मान गोल्डेन कार्ड एवं प्रसूता महिलाओं को मिलने वालो इन्सेन्टिव सहित अन्य जानकारियां प्राप्त की। उन्होने आशाओं एवं प्रसूता महिलाओं को मिलने वाले इन्सेन्टिव का भुगतान तत्काल कराये जाने का निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिया है। उन्होंने जननी सुरक्षा, टीकाकरण एवं संस्थागत प्रसव सुनिश्चित कराये जाने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने वृद्धा, विधवा, विकलांग पेंशन, सामूहिक विवाह की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को लंबित आवेदन पत्रों को जांच कर उनको तत्काल फीड कराये जाने का निर्देश दिया है। सहकारिता विभाग के कार्यो की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने बकायेदारों से वसूली कराये जाने का निर्देश दिया है। 
आईजीआरएस की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने प्राप्त शिकायतों का निस्तारण समय से कराये जाने का निर्देश दिया है। एनआरएलएम की समीक्षा के दौरान उन्होंने महिलाओं के समूह गठित कराये जाने का निर्देश जिला विकास अधिकारी को दिया है। सिंचाई विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने 16 जून तक नहरों में टेल तक पानी पहुंचाये जाने का निर्देश दिया है। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शशिकान्त त्रिपाठी, जिला विकास अधिकारी विजय कुमार, अर्थ एवं संख्याधिकारी श्रवण कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. पीएन चतुर्वेदी, परियोजना निर्देशक सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।
सुशील केशरवानी 

कोरोना पीड़ितों की स्वस्थ्य होने की कामना की: डीएम

जिला अधिकारी ने दो मिनट का मौन रखकर कोविड महामारी में दिवंगत लोगो को दी श्रद्धांजलि...
बृजेश केसरवानी      
प्रयागराज। जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री ने गुरूवार को कोविड-19 महामारी में दिवंगत लोगो के प्रति श्रद्धांजलि हेतु सर्वधर्म प्रार्थना आयोजित कर दो मिनट का मौन धारण किया एवं साथ ही साथ कोरोना पीड़ितों की स्वस्थ्य होने की कामना की। इस अवसर पर एडीएम सिटी अशोक कुमार कनौजिया, सिटी मजिस्टेट रजनीश मिश्र मुख्य राजस्व अधिकारी सहित सभी अधिकारी एवं कर्मचारीगणों ने दो मिनट का मौन रखा।

दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए श्रद्धांजलि अर्पित

बृजेश केसरवानी                        
प्रयागराज। 10 जून, दिन बृहस्पतिवार को अपर पुलिस महानिदेशक प्रेम प्रकाश के द्वारा जोन कार्यालय पर सभी अधिकारियों/कर्मचारियों की उपस्थिति में कोरोना से बिछड़े लोगों व इस महामारी से लड़ रहे और स्वस्थ होकर घर लौटे लोगों के स्वास्थ्य के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। साथ ही कोरोना महामारी से अपनी जान गवाने वाले लोगों के लिए दो मिनट का मौन धारण कर उनकी दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर जोन कार्यालय पर कई पुलिस अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

हापुड़: स्वास्थ्य कर्मी की कार में लगे शीशों को तोड़ा

अतुल त्यागी             
हापुड़। छिजारसी चौकी इंचार्ज घटनाओं को रोकने में विफल हो रहे हैं। जिस का नजारा लगातार सामने आ रहा है। चार्ज संभालने के बाद कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं। मामला स्वास्थ्य कर्मी के साथ हुई चौकी के सामने निंदनीय घटना का है। स्वास्थ्य कर्मी मुरादाबाद की तरफ से अपनी पत्नी को कार से लेकर आ रहा था। जैसे ही छिजारसी चौकी के समीप पहुंचा। तभी एक व्यक्ति स्वास्थ्य कर्मी की गाड़ी के सामने आ गया। इस दौरान स्वास्थ्य कर्मी ने अपनी गाड़ी रोक ली। उसी दौरान दो व्यक्ति गाड़ी के पास आ गए। 
उन्होंने गाड़ी के लगे शीशे को तोड़ दिया और स्वास्थ्य कर्मी के साथ मारपीट करते हुए उसके गले में सोने की चैन को तोड़ ली। उसी दौरान राहगीरों को गाड़ी के पास आता देख तीनो लोग चेन छिनकर वहां से फरार हो गए। अब इसकी तहरीर स्वास्थ्य कर्मी ने छिजारसी चौकी पर दी है। बड़ा सवाल तो यह है, कि चौकी के पास इस तरीके की घटना होना बहुत ही निंदनीय है। चौकी के पास हुई घटना का पुलिस को पता तक नहीं चला अब पुलिस घटना को संदिग्ध बता रही है।

तबादलों का दौर जारी, 5 आईएएस के किए तबादले

संदीप मिश्र   

लखनऊ। शासन ने प्रशासनिक कार्यों को गति देने के लिए तबादला एक्सप्रेस चलाते हुए 5 आईएएस अफसरों को इधर से उधर किया है।

बृहस्पतिवार को शासन की ओर से किए गए आईएएस अफसरों के तबादले के तहत आईएएस आनंद कुमार को संस्कृति विभाग का विशेष सचिव बनाया गया है। आईएएस अफसर मनोज कुमार पर्यटन विभाग में विशेष सचिव बनाए गए हैं। आईएएस उदय भान त्रिपाठी का तबादला नगर विकास विभाग में विशेष सचिव के पद पर किया गया है। आईएएस अफसर यदु रस्तोगी को विशेष सचिव एसीपी की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इनके अलावा आईएएस नवनीत सहगल को रेशम और हथकरघा विभाग का अतिरिक्त चार्ज दिया गया है।

इंवेस्टिगेटिव पत्रकारिता के लिए 'पुलित्जर' पुरस्कार

अखिलेश पाण्डेय               न्यूयॉर्क। अशांत शिंजियांग प्रांत में लाखों मुसलमानों को हिरासत में रखने के लक्ष्य से चीन द्वारा गोपनीय तरीके स...