शनिवार, 29 जून 2024

अभियान एंव दस्तक अभियान की बैठक की गई

अभियान एंव दस्तक अभियान की बैठक की गई 

विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान एंव दस्तक अभियान की बैठक सम्पन्न

कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी डॉ. रवि किशोर त्रिवेदी द्वारा मुख्य चिकित्साधिकारी सभागार में विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान एंव दस्तक अभियान के सफल संचालन के लिए द्वितीय जनपद स्तरीय अन्तर्विभागीय बैठक की गई।  
मुख्य विकास अधिकारी ने विशेष संचारी रोग नियन्त्रण एंव दस्तक अभियान के सफल संचालन के लिए अब तक की गई तैयारियों/कार्यवाहियों की जानकारी प्राप्त करते हुए कहा कि विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान शासन की महत्वपूर्ण कार्यक्रम हैं तथा मा. मुख्यमंत्री जी की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में है। जिला पंचायतराज अधिकारी को झाड़ियां की कटाई एवं ग्रामीण क्षेत्रों में नालियों की सफाई कराने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी अधिशासी अधिकारियों से कहा कि नगरीय क्षेत्रों के जिन वार्डों के नालियों की साफ-सफाई अभी तक नहीं हुई है, उनकी साफ-सफाई करा लिया जाएं। वर्षा के दृष्टिगत कहीं भी जल-जमाव न होने पाये, जल-जमाव होने से अनेक बीमारियॉ फैलती हैं। उन्हांने प्रभारी चिकित्साधिकारियों से कहा कि आशा एवं ऑगनबाड़ी कार्यकत्रियों के साथ बैठक एवं कार्यशाला आयोजित कर विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान से सम्बन्धित विधिवत जानकारी प्रदान किया जाय, जिससे वे अपने कार्यों को सफलतापूर्वक सम्पादित कर सकें। उन्होंने कहा कि वर्षा के समय सर्प काटने की घटनायें अधिक आती हैं, इस सम्बन्ध में लोगों को जागरूक किया जाय कि सर्प काटने पर झाड़-फूंक न कराकर पीड़ित व्यक्ति को अपने नजदीकी अस्पताल में शीघ्र ही लेकर जायें। उन्होंने कहा कि सभी सीएचसी/पीएचसी में एन्टी स्नेक वेनम इंजेक्शन की उपलब्धता सुनिश्चित रखी जाय। उन्होंने सभी अधिशासी अधिकारियों एवं जिला पंचायतराज अधिकारी को साफ-सफाई की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित रखने के साथ ही एण्टीलार्वा का छिड़काव एवं फागिंग कराने के भी निर्देश दियें।बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सुष्पेन्द्र कुमार सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहें।
गणेश साहू

'वाइल्ड कार्ड' खिलाड़ी के रूप में नामित किए पंत

'वाइल्ड कार्ड' खिलाड़ी के रूप में नामित किए पंत

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। भारत के पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी-20 विश्व कप फाइनल में रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टीम के लिए विराट कोहली और जसप्रित बुमराह से आगे ऋषभ पंत को "वाइल्ड कार्ड" खिलाड़ी के रूप में नामित किया।
यह कई लोगों के लिए प्रेरणा की यात्रा रही है क्योंकि दिसंबर 2022 में एक जानलेवा कार दुर्घटना के बाद पंत ने क्रिकेट में वापसी की है।
बाएं हाथ के इस धुआंधार विकेटकीपर बल्लेबाज ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल 2024) में दिल्ली कैपिटल्स का नेतृत्व करने के लिए क्रिकेट के मैदान पर वापसी की। उनके प्रभावशाली प्रदर्शन ने उन्हें इस प्रमुख आयोजन के लिए भारत की 15-खिलाड़ियों की टीम में शामिल होने में मदद की।
आयरलैंड के खिलाफ भारत के अभियान के शुरूआती मैच में खेल खत्म करने के लिए गेंद को विकेटकीपर के सिर के ऊपर से भेजने के लिए उनके रिवर्स स्कूप ने उनकी क्लास दिखाई।
फाइनल से पहले, मांजरेकर ने शनिवार को केंसिंग्टन ओवल बारबाडोस में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पंत को देखने वाले खिलाड़ी के रूप में नामित किया। मांजरेकर ने डिज्नी+हॉटस्टार पर 'कॉट एंड बोल्ड' शो में एक विशेषज्ञ के रूप में, एएनआई को बताया, "मुझे लगता है कि ये होगा, मुझे लगता है कि हमें इस बारे में एक अच्छा विचार मिल जाएगा कि बड़े मैच का खिलाड़ी कौन है। मैं वाइल्डकार्ड के साथ जा रहा हूं और कहूंगा कि ऋषभ पंत वह खिलाड़ी होंगे, जिन पर नजर रहेगी।"
विराट कोहली के कप्तान रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग स्लॉट में जाने से, पंत को नंबर तीन स्थान पर पदोन्नति मिली। पंत अपनी नई भूमिका में सफल रहे हैं और उन्होंने सात मैचों में 28.50 की औसत और 129.54 की स्ट्राइक रेट से 171 रन बनाए हैं। पंत भारतीय टीम की किस्मत बदलने के लिए उत्सुक होंगे क्योंकि लगभग एक साल में मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और रोहित की जोड़ी आईसीसी टूर्नामेंट का अपना तीसरा फाइनल खेलेगी। भारत अभी भी विश्व कप ट्रॉफी का सूखा खत्म करने की कोशिश में है।
वनडे वर्ल्ड कप और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में ऑस्ट्रेलिया ने करोड़ों भारतीय फैंस को दिल दहला दिया। लेकिन इस बार, चूंकि वे सही अंत की तलाश में हैं, ऑस्ट्रेलिया पार्टी को खराब करने के लिए वहां नहीं होगा। रोहित की 92 रनों की तूफानी पारी और गेंदबाजों के प्रभावशाली स्पैल से प्रेरित होकर, भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हार के कगार पर भेज दिया। भारत के खिलाफ अपनी हार से पहले, अफगानिस्तान ने क्रिकेट दिग्गजों में से एक पर अपनी पहली जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया को दंग कर दिया।
संजय मांजरेकर का मानना है कि पूरे टूर्नामेंट में ऑस्ट्रेलिया और भारत सर्वश्रेष्ठ टीमें थीं, लेकिन मिशेल मार्श की टीम को अफगानिस्तान के खिलाफ हार की कीमत चुकानी पड़ी।
मांजरेकर ने कहा, "अफगानिस्तान से हारना जब बहुत कठिन प्रारूप में आपका दिन खराब होता है, तो आप इसकी कीमत चुकाते हैं। यह भारत जितनी अच्छी टीम थी। टूर्नामेंट में दो सर्वश्रेष्ठ टीमें भारत और ऑस्ट्रेलिया थीं।" सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका से पूरी तरह से हार जाने के बाद अफगानिस्तान अंततः टूर्नामेंट से बाहर हो गया। फाइनल में केंसिंग्टन ओवल में दक्षिण अफ्रीका का मुकाबला भारत से होगा। यदि बारिश के कारण खेल नहीं हो पाता है, तो रिजर्व डे भी रखा गया है।

इटली, रोमानिया व जर्मनी से सैन्य सहायता मिलीं

इटली, रोमानिया व जर्मनी से सैन्य सहायता मिलीं

सुनील श्रीवास्तव 
कीव। रूस से जारी जंग के बीच यूक्रेन को इटली, रोमानिया और जर्मनी से बड़ी सैन्य सहायता मिलीं है। इटली यूक्रेन को SAMP/T प्रणाली, रोमानिया एक पैट्रियट मिसाइल डिफेंस सिस्टम और जर्मनी स्व-चालित विमान भेदी गन के साथ एक पैट्रियट प्रणाली देगा।
नीदरलैंड भी यूक्रेन के लिए क और पैट्रियट सिस्टम असेंबल कर रहा है, जो जल्द ही सौंप दिया जाएगा। ये जानकारी यूक्रेन के प्रधान मंत्री ने दी है।
यूक्रेन के प्रधानमंत्री ने खुलासा किया है कि संयुक्त राज्य अमेरिका पैट्रियट मिसाइलों और NASAMS विमान भेदी मिसाइल प्रणाली की आपूर्ति करेगा। इसके अलावा, जर्मनी, नीदरलैंड, डेनमार्क, स्पेन और नॉर्वे अतिरिक्त पैट्रियट मिसाइलें भेजेंगे। प्रधानमंत्री श्मीहल ने कहा कि स्वीडन ने भी यूक्रेन में दो रडार निगरानी विमान भेजने की प्रतिबद्धता जताई है।
जून की शुरुआत में यूक्रेनी राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने कहा था कि यूक्रेन ने अधिक वायु रक्षा प्रणालियाँ प्राप्त करने के लिए पश्चिमी देशों के साथ समझौते किए हैं। यूक्रेनी अधिकारी अक्सर वायु रक्षा प्रणालियों और मिसाइलों की कमी के बारे में चिंता व्यक्त करते हैं। रूसी हमले के लगातार खतरे को देखते हुए यूक्रेन अपने पश्चिमी सहयोगियों से मिसाइल डिफेंस सिस्टम की लगातार मांग कर रहा है।
दूसरी ओर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बार-बार इस बात पर जोर दिया है कि यूक्रेन को नए हथियार पहुंचाने से अग्रिम पंक्ति की स्थिति में कोई बदलाव नहीं आएगा, बल्कि संघर्ष बढ़ेगा।
रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा है कि कीव को हथियारों की किसी भी खेप को रूस द्वारा एक लक्ष्य माना जाएगा और इस पर हमला किया जा सकता है।
जून में संयुक्त राज्य अमेरिका ने दूसरे देशों को दिए जाने वाले पैट्रियट इंटरसेप्टर मिसाइलों की डिलीवरी रोकने का फैसला किया था। अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता जॉन किर्बी के अनुसार, यह कदम यूक्रेन को इन मिसाइलों की आपूर्ति की तत्काल आवश्यकता से प्रेरित था।
रूस के लगातार हमलों का मुकाबला करने के लिए यूक्रेन विमान-रोधी प्रणालियों की कमी का सामना कर रहा है। यूक्रेन अपने यूरोपीय सहयोगियों से पास के पोलैंड और रोमानिया में वायु रक्षा प्रणालियों को तैनात करके पश्चिम में नो-फ्लाई ज़ोन लागू करने का आग्रह कर रहा है। यूक्रेन का लक्ष्य पश्चिमी यूक्रेन में उद्योगों, ऊर्जा बुनियादी ढांचे और नागरिकों को हाल के रूसी हमलों के कारण हुए व्यापक विनाश से बचाने के लिए एक सुरक्षित क्षेत्र स्थापित करना है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-253, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. रविवार, जून 30, 2024

3. शक-1945, आषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि-नवमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 06:03, सूर्यास्त: 06:43।

5. न्‍यूनतम तापमान- 38 डी.सै., अधिकतम- 25+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...