गुरुवार, 12 अगस्त 2021

मुद्दे पर चर्चा करने का उपयुक्त स्थान नहीं: चीन

नई दिल्ली/ वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। भारत की अध्यक्षता में बीते सोमवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक हुई थी। इस बैठक में भारत ने दक्षिण चीन सागर मुद्दे पर चर्चा कराई थी। जिसे लेकर अब चीन आगबबूला हो गया है। बुधवार को चीन ने कहा कि विश्व निकाय की उच्चाधिकार प्राप्त इकाई यानी सुरक्षा परिषद विवादास्पद मुद्दे पर चर्चा करने का उपयुक्त स्थान नहीं है। इतना ही नहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हुई संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूनएनएससी) की खुली चर्चा के बाद भारत के अध्यक्षीय वक्तव्य में चीन को कड़ा संदेश देने वाला बयान भी एनयएससी के सदस्यों ने स्वीकार किया था। 

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में समुद्री सुरक्षा पर हुई उच्चस्तरीय खुली परिचर्चा में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन, केन्या के राष्ट्रपति उहरु केन्यात्ता और वियतनाम के प्रधानमंत्री फाम मिन्ह चीन्ह तथा अन्य वर्चुअल रूप से शामिल हुए थे। बैठक में अमेरिका और चीन दक्षिण चीन सागर मुद्दे पर आपस में भिड़ गए थे। इसमें समुद्री सुरक्षा चुनौतियों से निपटने के लिए अंतरराष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय सहयोग बढ़ाने को मान्यता देने वाले अध्यक्षीय बयान को सर्वसम्मति से स्वीकार किया गया था। सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्यों में से एक चीन ने प्रस्ताव का समर्थन किया था। 

राज कुंद्रा की कंपनी में डायरेक्टर को अरेस्ट किया

कविता गर्ग          

मुंबई। पोर्नोग्राफी मामले में राज कुंद्रा की मुसीबतें लगातार बढ़ते ही जा रही है। जहां एक ओर कोर्ट लगातार उनकी जमानत याचिका को खारिज कर रही है तो वहीं दूसरी ओर कानून के लंबे हाथ एक के बाद एक इस बिजनेस से जुड़े उनके कई सहयोगियों तक पहुंच रहे हैं। इसी बीच खबर आ रही है कि पुलिस ने राज कुंद्रा की कंपनी के डायरेक्टर को गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार मुंबई क्राइम ब्रांच प्रॉपर्टी सेल ने कारोबारी राज कुंद्रा की कंपनी में डायरेक्टर अभिजीत भोम्बले को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि एक एक्ट्रेस ने कुंद्रा की कंपनी के 4 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया था। इसमें भोम्बले के अलावा गहना वशिष्ठ, अजय श्रीमंत और प्रिंस कश्यप आरोपी हैं।

छत्तीसगढ़: 14 को स्वतंत्रता दौड़ का होगा आयोजन

कोरबा। हर वर्ष की तरह इस बार भी कोरबा जिले में 14 अगस्त को स्वतंत्रता दौड़ का आयोजन किया जाएगा। संचालनालय खेल एवं युवा कल्याण के निर्देशानुसार स्वतंत्रता दौड़ सुबह 7 बजे कोरबा शहर के घंटाघर से प्रारंभ होगी और निहारिका, सुभाष चौक, विद्युत गृह स्कूल, अंधरी कछार मोड, बुधवारी, महाराणा प्रताप चौक होते हुए घंटाघर में समाप्त होगी। स्वतंत्रता दौड़ में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सोशल एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा। दौड़ में जिले के स्कूल कॉलेज के छात्र-छात्राएं, खेल संघों के खिलाड़ी तथा आमजन शामिल हो सकते हैं।

कौशाम्बी में लाशों के मिलने का सिलसिला जारी

कौशाम्बी। जनपद में अज्ञात लाशों का मिलने का सिलसिला जारी है। इसी क्रम में आज दिनांक 12 अगस्त को चरवा थाना क्षेत्र के महंगांव चौकी से लगभग पांच सौ मीटर की दूरी पर हाइवे से कुछ कदम की दूरी पर खेत में एक अज्ञात युवक की ताजी लाश पड़ी हुई मिली है। कड़ी मशक्कत के बाद भी युवक की शिनाख्त नहीं हो पाई है। अज्ञात युवक की लाश मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई और इसकी चर्चा चाहूं ओर होने लगी। अज्ञात युवक की लाश मिलने पर कौशाम्बी पुलिस अधीक्षक एवं क्षेत्राधिकारी चायल को सूचना देने के बाद घटनास्थल पर क्षेत्राधिकारी चायल शयामकांत सहित स्थानीय पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर लिखा - पढ़ी कर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर अज्ञात हत्यारों की खोज में स्थानीय पुलिस लग गई है। अब देखना यह है कि चरवा पुलिस कितने दिनों के बाद अज्ञात हत्यारों का खुलासा कर पाती है। 
युवक के दोनों हांथ पीछे की ओर घूमाकर एक कपड़े से बांधा हुआ था और गले में एक सफेद रुमाल कसा हुआ था। जिससे यह प्रतीत हो रहा है कि हत्यारों ने कहीं और युवक का कपड़े से गला घोट कर हत्या की और मौका मिलते ही महंगांव चौकी के निकट लाश फेककर फरार हो गए। महंगांव चौकी क्षेत्र में लाश मिलने पर एक घंटे के बाद घटनास्थल पर पहुंची स्थानीय पुलिस पर लोगों ने सवालिया निशान लगाना शुरू कर दिया। आखिर पांच सौ मीटर की दूरी पर तैनात चौकी का औचित्य ही क्या रह गया। जब घटना की जानकारी होने के घंटों बाद पहुंचे पुलिस।
राजकुमार पत्रकार 

हापुड़: घायल युवकों को अस्पताल में भर्ती कराया

अतुल त्यागी         
हापुड़। मामला जनपद हापुड़ के थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के गांव छपकोली का है। जहां गांव के बाहर बने सरकारी स्कूल के पास कुश्ती के दौरान जरा-सी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इस दौरान दोनों पक्षों के आधा दर्जन से भी ज्यादा लोगों में मार पिटाई हो गई।
कई लोगों को आई चोट सूत्रों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार, घायल युवकों को पास के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। तस्वीरों में साफ दिखाई दे रहा है दोनों तरफ से लोगों में जमकर हो रही है मारपीट। बड़ा सवाल तो यह है, इतने लोगों को कुश्ती का अखाड़ा बनाने की अनुमति किस ने दे दी और बिना प्रशासन की नजरों के चल रहा है। कुश्ती का अखाड़ा जिसमें सैकड़ों लोग हुए शामिल बाबूगढ़ क्षेत्र में यह पहला मामला नहीं है। मार पिटाई के मामले अक्सर सामनेआते रहते हैं। फिर भी नहीं सबक अगर कोई बड़ा हादसा ग्रामीणों के बीच हो जाता तो कौन होता जिम्मेदार।

मार्केटिंग ने भूमि की जांच करवाने का लक्ष्य रखा

राणा ओबरॉय           

सिरसा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि आगामी तीन वर्षों में कृषि विभाग व मार्केटिंग बोर्ड ने प्रदेश की 75 लाख एकड़ भूमि की मृदा की जांच करवाने का लक्ष्य रखा हैं। वर्ष 2021-22 में प्रदेश की 25 लाख एकड़ भूमि की मृदा जांच की जाएगी।

उन्होंने आज यहां कहा कि अन्न उत्पादन में हमें क्वांटिटी के साथ-साथ क्वालिटी का भी ध्यान रखना है और भूमि परीक्षण प्रयोगशालाएं। इसमें बहुत कारगर साबित होगी। कृषि विभाग प्रत्येक स्तर पर निरंतर अपने कदम आगे बढ़ा रहा है। मुख्यमंत्री ने आज वीडियो कॉफ्रेंसिंग के माध्यम से हर खेत-स्वस्थ खेत अभियान के तहत प्रदेश के चौदह जिलों में 40 नई भूमि परीक्षण प्रयोगशालाओं के उद्घाटन किया।

वृद्धि को गति, कदम उठाने को तैयार हैं सरकार

अकांशु उपाध्याय          

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बृहस्पतिवार को उद्योग जगत को आश्वस्त किया कि सरकार आर्थिक वृद्धि को गति देने के लिये हर जरूरी कदम उठाने को तैयार है। सीतारमण ने उद्योग मंडल सीआईआई की सालाना बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी की रोकथाम के लिये लगायी गयी पाबंदियों को हटाये जाने के बाद से अर्थव्यवस्था में तेजी और पुनरूद्धार के संकेत हैं। उन्होंने कहा कि चालू वित्त वर्ष में अब तक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) में 37 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। वहीं विदेशी मुद्रा भंडार जुलाई में बढ़कर 620 अरब डॉलर पर पहुंच गया।

वित्त मंत्री ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार सुधारों को लेकर प्रतिबद्ध है। यहां तक कि महामारी के दौरान भी सरकार ने सुधारों को आगे बढ़ाया गया। पिछले साल केंद्र ने कृषि कानूनों और श्रम सुधारों को आगे बढ़ाया। उन्होंने उद्योग जगत को आगे आने और अर्थव्यवस्था में निवेश बढ़ाने का आह्वान किया।


1 रिसोर्ट के निकट लगीं आग से 8 श्रमिक झुलसें

राजकोट। गुजरात में राजकोट तालुका क्षेत्र में एक रिसोर्ट के निकट कमरे में लगी आग से गुरुवार को आठ श्रमिक झुलस गए। पुलिस ने बताया कि कालावाड रोड़ पर निराली रिसोर्ट में काम करने वाले मजदूरों के कमरे में आज तड़के अचानक आग लग गयी।
स्थानीय लोगों ने आग पर काबू पा लिया लेकिन आग में आठ मजदूर झुलस गए। झुलसी हालत में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। सभी रिसोर्ट में वेटर का काम करने वाले संविदा कर्मी थे। अग्निशमन विभाग के कर्मी ने बताया कि निराली रिसोर्ट की ओर से पास के कमरे में लगी आग की सूचना उनके कंट्रोल रूम को नहीं मिली थी।
फिर भी जैसे ही कंट्रोल रूम को पता चला दमकल कर्मी मौके पर पहुंच गए और कमरे में देखा तो आग बुझ चुकी थी और वहां का सामान जला हुआ था। पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

देश के विभिन्न हिस्सों में किसानों को लाभ होगा

अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। केंद्र के तीन कृषि कानूनों को लेकर राजधानी दिल्ली सहित देश के विभिन्न हिस्सों में जारी प्रदर्शनों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि इन कृषि सुधारों से देश के किसानों को तो लाभ होगा ही। इसमें स्वयं सहायता समूहों के लिए भी असीम संभावनाएं हैं।
आत्मनिर्भर नारी-शक्ति से संवाद” नाम से आयोजित एक कार्यक्रम में दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़े महिला स्वयं-सहायता समूहों की महिला सदस्यों के साथ संवाद के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने यह बात कही। उन्होंने कहा, ”जो नए कृषि सुधार हैं उनसे देश की कृषि हमारे किसानों को तो लाभ होगा ही, इसमें स्वयं सहायता समूहों के लिए भी असीम संभावनाएं बन रही हैं।”
प्रधानमंत्री ने कहा, ”अब आप सीधे किसानों से खेत पर ही साझेदारी कर, अनाज और दाल जैसी उपज की सीधी होम डिलिवरी कर सकती हैं। कोरोना काल में हमने कई जगह ऐसा होते देखा भी है।” उन्होंने कहा कि अब किसानों के पास भंडारण की सुविधा जुटाने का प्रावधान है और भंडारण को लेकर कोई बंदिश भी नहीं है।
प्रधानमंत्री ने कहा, ”आप चाहें तो खेत से सीधे उपज बेचें या खाद्य प्रसंस्करण इकाई लगाकर बढ़िया पैकेजिंग करके बेचें, हर विकल्प आपके पास है। ऑनलाइन भी आजकल एक बड़ा माध्यम बन रहा है, जिसका उपयोग आपको ज्यादा से ज्यादा करना चाहिए। आप ऑनलाइन कंपनियों के साथ तालमेल कर, बढ़िया पैकेजिंग कर, आसानी से शहरों में अपने उत्पाद बेच सकती हैं।” मोदी ने कहा कि इतना ही नहीं, उत्पादों को भारत सरकार के जीईएम (जेम) पोर्टल पर जाकर भी बेचा जा सकता है।
उन्होंने कहा, ”सरकार को जो चीजें खरीदनी हैं और वह आपके पास हैं, तो आप सीधे सरकार को भी बेच सकते हैं।” प्रधानमंत्री ने कहा कि कृषि और कृषि आधारित उद्योग वह क्षेत्र हैं, जहां महिला स्वयं सहायता समूहों के लिए अनंत संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा, ”गांव में भंडारण और कोल्ड चेन की सुविधा शुरू करनी हो, खेती की मशीनें लगानी हों, दूध, फल, सब्जी को बर्बाद होने से रोकने के लिए कोई संयंत्र लगाना हो,ऐसे अनेक काम के लिए विशेष कोष बनाया गया है। इस कोष से मदद लेकर स्वयं सहायता समूह भी यह सुविधाएं तैयार कर सकते हैं।” उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार महिला किसानों को विशेष प्रशिक्षण देने के साथ साथ जागरूकता को भी निरंतर बढ़ावा दे रही हैं और इससे अभी तक लगभग सवा करोड़ किसान और पशुपालक बहनें लाभान्वित हो चुकी हैं।
ज्ञात हो कि कृषि कानूनों के खिलाफ कई किसान संगठन, खासकर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसान संगठन राजधानी दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर पिछले साल से प्रदर्शन कर रहे हैं। संसद के मानसून सत्र में भी विपक्षी दलों ने अन्य मुद्दों के साथ कृषि कानूनों पर हंगामा किया और दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित की।

27 को सिनेमाघरों में प्रदर्शित होगी फिल्म 'चेहरे'

कविता गर्ग                  
मुंबई। अमिताभ बच्चन और इमरान हाशमी अभिनीत फिल्म ‘चेहरे’ 27 अगस्त को सिनेमाघरों में प्रदर्शित होगी। फिल्म निर्माताओं ने बृहस्पतिवार को यह घोषणा की। फिल्म का निर्देशन रूमी जाफरी ने किया है और इसका निर्माण ‘आनंद पंडित मोशन पिक्चर्स’ और ‘सरस्वती एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड’ के बैनर तले किया गया है।
पंडित ने एक बयान में कहा, ” फिल्म ‘चेहरे’ जुलाई 2020 में रिलीज होने वाली थी, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इसकी रिलीज आगे बढ़ा दी गई। इसके बाद 30 अप्रैल को इसे रिलीज होना था, लेकिन कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण एक बार फिर रिलीज टाल दी गई। टीम ने काफी मेहनत की है और हम हमेशा चाहते थे कि फिल्म सिनेमाघर में ही रिलीज है।  मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, गुजरात, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना सहित देश के अधिकांश हिस्सों में सिनेमाघर खुल गए हैं। महाराष्ट्र और कुछ अन्य राज्यों में सिनेमाघरों को फिर से खोलने के लिए अभी तक मंजूरी नहीं मिली है। फिल्म में अन्नू कपूर, क्रिस्टल डिसूजा, धृतिमान चक्रवर्ती, रघुबीर यादव, सिद्धांत कपूर और रिया चक्रवर्ती ने भी अभिनय किया है।

एचसी ने याचिका पर सुनवाई करने से इनकार किया

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने बृहस्पतिवार को उस याचिका पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया।जिसमें केन्द्र को गृह मंत्रालय के अधीन बलों के लिए भी रक्षा मंत्रालय के अधीन आने वाले सशस्त्र बलों की तरह पेंशन योजना लागू करने का निर्देश देने का अनुरोध किया गया था।
मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और न्यायमूर्ति राजीव सहाय एंडला की पीठ ने ‘हमारा देश हमारे जवान ट्रस्ट’ की ओर से दायर जनहित याचिका पर गौर करते हुए कहा कि पीड़ित कर्मियों द्वारा कई याचिकाएं पहले से ही निर्णय के लिए लंबित हैं। न्यायमूर्ति एंडला ने कहा कि इससे प्रभावित लोग पहले ही अदालत का रुख कर चुके हैं। मामले पर सुनवाई पहले ही जारी है। इस संबंध में कई याचिकाएं हैं। उन्होंने कहा कि लंबित याचिकाओं पर जो फैसला आएगा। वे इस तरह की सभी संबंधित याचिकाओं पर लागू होगा।
न्यायमूर्ति ने ट्रस्ट के वकील अजय के. अग्रवाल से कहा कि हरेक व्यक्ति को उपस्थिति दर्ज कराने की जरूरत नहीं है। जो मुद्दा आप उठा रहे हैं, वह इससे प्रभावित लोग पहले ही उठा चुके हैं। मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल ने कहा कि एक ही मामले पर कई याचिकाएं दायर करने की जरूरत नहीं है और साथ ही उन्होंने याचिकाकर्ता से लंबित कार्यवाही का हिस्सा बनने को कहा।
मुख्य न्यायाधीश ने वकील से कहा कि आप वहां जाए और सीएम (आवेदन) दायर करें।” अदालत ने ट्रस्ट को अन्य कानूनी उपायों का इस्तेमाल करने या लंबित कार्यवाही में शामिल होने की स्वतंत्रता देने के साथ अपनी याचिका वापस लेने की अनुमति दे दी।

यूपी में 5 लाख से अधिक आबादी बाढ़ से प्रभावित

हरिओम उपाध्याय                   
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के 23 जिलों के 1200 गांवों की पांच लाख से अधिक आबादी बाढ़ से प्रभावित है। जहां बचाव और राहत अभियान जारी है। राहत आयुक्त कार्यालय की एक रिपोर्ट में कहा गया है। “23 जिलों के 1243 गांवों में 5,46,049 की आबादी बाढ़ से प्रभावित है।”
रिपोर्ट के मुताबिक प्रयागराज, चित्रकूट, कौशांबी, प्रतापगढ़, बस्ती, गोंडा, सुल्तानपुर, श्रावस्ती, लखनऊ, रायबरेली और फतेहपुर सहित 11 जिलों में पिछले 24 घंटे में 25 मिमी या उससे अधिक बारिश हुई है। सिंचाई विभाग की रिपोर्ट के अनुसार बदायूं, प्रयागराज, मिर्जापुर, वाराणसी, गाजीपुर और बलिया में गंगा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है जबकि औरैया, जालौन, हमीरपुर, बांदा और प्रयागराज जिलों में यमुना नदी लाल निशान के करीब है।
इसी तरह, बेतवा नदी हमीपुर में और शारदा नदी पलिया कलां (खीरी) में और चंद्रदीप घाट (गोंडा) में क्वानो नदी खतरे के निशान से ऊपर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर बाढ़ प्रभावित जिलों में राहत एवं बचाव कार्य जारी है। बाढ़ प्रभावित लोगों के बीच अब तक 20,768 राशन किट और 167213 खाने के पैकेट बांटे जा चुके हैं। लोगों की मदद के लिए जिलों में एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और राज्य पीएसी को तैनात किया गया है।

बसपा: अध्यक्ष मायावती ने दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया

हरिओम उपाध्याय                
लखनऊ। संसद में सत्ता तथा विपक्ष के बीच गतिरोध को बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने बृहस्पतिवार को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया। मायावती ने एक ट्वीट में कहा, ” देश की संसद तथा इसके उच्च सदन राज्यसभा में गत दिनों में सत्ता व विपक्ष के बीच गतिरोध में जो कुछ हुआ वह अति दुर्भाग्यपूर्ण है।
देश की संसद व इसके उच्च सदन राज्यसभा में गत दिनों सत्ता व विपक्ष के बीच गतिरोध में जो कुछ हुआ वह अति दुर्भाग्यपूर्ण। मैंने अपने लम्बे संसदीय जीवन में बहुत बार सत्ता व विपक्ष के बीच तीखी तकरार, तनाव व तीव्र विरोध आदि देखे हैं किन्तु संसद में अब जैसा दृश्य कभी नहीं देखा है।
मैंने अपने लंबे संसदीय जीवन में बहुत बार सत्ता व विपक्ष के बीच तीखी तकरार, तनाव व तीव्र विरोध आदि देखे हैं, किन्तु संसद में अब जैसा दृश्य कभी नहीं देखा।  गौरतलब है कि संसद का 19 जुलाई से शुरू हुआ मानसून सत्र अपने पूर्व निर्धारित समय से दो दिन पहले ही बुधवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया। पेगासस जासूसी मामले और तीन कृषि कानूनों सहित विभिन्न मुद्दों पर विपक्षी दलों के हंगामे के कारण लोकसभा में जहां मात्र 22 प्रतिशत, वहीं राज्यसभा में महज 28 प्रतिशत ही कामकाज हो पाया।

ओफ्थैल्मिक इमल्शन के विपणन की मंजूरी मिलीं

अकांशु उपाध्याय                      
नई दिल्ली। दवा कंपनी सिप्ला ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसे अमेरिकी स्वास्थ्य नियामक से अमेरिकी बाजार में, आंख के ऑपरेशन से जुड़ी सूजन और दर्द के इलाज में इस्तेमाल होने वाले डिफ्लुप्रेडनेट ओफ्थैल्मिक इमल्शन के विपणन की मंजूरी मिल गई है। सिप्ला ने एक बयान में कहा कि कंपनी को अपने उत्पाद के विपणन के लिए अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन (यूएसएफडीए) से अंतिम मंजूरी मिल गई है।
उसका यह उत्पाद नोवार्टिस फार्मास्युटिकल कॉरपोरेशन की दवा ड्यूरेजोल का एक जेनेरिक संस्करण है। आईक्यूवीआईए (आईएमएस हेल्थ) की एक रिपोर्ट के मुताबिक जून 2021 को समाप्त 12 महीने की अवधि में अमेरिका में ड्यूरेजोल की लगभग 10.6 करोड़ डॉलर की बिक्री हुई थी। सिप्ला ने बताया कि उसका उत्पाद निर्यात के लिए जल्द ही उपलब्ध होगा।

25 करोड़ आबादी बुनियादी परिभाषा के नीचे हैं

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने बृहस्पतिवार को कहा कि कम से कम 15 करोड़ बच्चे एवं युवा देश की औपचारिक शिक्षा व्यवस्था से बाहर हैं और करीब 25 करोड़ आबादी साक्षरता की बुनियादी परिभाषा के नीचे है। प्रधान ने भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) द्वारा आयोजित वार्षिक सम्मेलन के दौरान ‘रोजगार सृजन एवं उद्यमिता’ विषय पर अपने संबोधन में यह बात कही। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा, ” अगर हम सरकारी, निजी एवं धर्मार्थ स्कूलों, आंगनवाड़ी, उच्च शिक्षण संस्थानों एवं कौशल से जुड़ी पूरी व्यवस्था में 3 से 22 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों एवं युवाओं की संख्या पर नजर डालें तब यह संख्या 35 करोड़ होती है। जबकि देश में इस आयु वर्ग की आबादी 50 करोड़ है।”
उन्होंने कहा कि इसका अर्थ यह हुआ कि कम से कम 15 करोड़ बच्चे एवं युवा देश की औपचारिक शिक्षा व्यवस्था से बाहर हैं। प्रधान ने कहा कि आजादी के बाद करायी गई जनगणनना में यह पाया गया कि आबादी का 19 प्रतिशत हिस्सा साक्षर है। उन्होंने कहा कि आजादी के 75 वर्ष के आंकड़ों के अनुसार देश में साक्षरता दर 80 प्रतिशत पहुंच गई है। इसका अर्थ यह हुआ कि 20 प्रतिशत आबादी या करीब 25 करोड़ आबादी साक्षरता की बुनियादी परिभाषा के नीचे है।
इस दिशा में नयी राष्ट्रीय शिक्षा नीति के महत्व को रेखांकित करते हुए प्रधान ने कहा कि यह केवल एक दस्तावेज नहीं है। बल्कि अगले 25 वर्षो में उन लक्ष्यों को हासिल करने का खाका है। जब हम आबादी के 100 वर्ष पूरे करेंगे। उन्होंने कहा कि पहली बार हमारी सरकार ने शिक्षा के साथ कौशल को जोड़ा है और यह आजीविका की दिशा में नयी पहल को रेखांकित करता है।

ज्वालामुखी के निकट स्थित झील में दुर्घटनाग्रस्त हुआ

मॉस्को। पर्यटकों को ले जा रहा एक हेलीकॉप्टर बृहस्पतिवार को रूस के सुदूर पूर्व में कामचटका प्रायद्वीप पर एक ज्वालामुखी के निकट स्थित झील में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। बचाव दल हेलीकॉप्टर में सवार आठ लोगों की झील में तलाश कर रहे हैं। वहीं कम से कम आठ अन्य लोग हादसे में कथित तौर पर बच गए हैं। हेलीकॉप्टर क्रोनोटस्की नेचर रिजर्व में नीचे की ओर चला गया था। क्षेत्रीय प्रशासन ने बताया कि कार्यकर्ता कुरील झील में जीवित बचे लोगों की तलाश कर रहे हैं। यह झील ज्वालामुखी फटने के बाद बनी है। सरकारी समाचार एजेंसी ‘आरआईए नोवोस्ती’ के अनुसार, रूस के आपात मामलों संबंधी मंत्रालय ने बताया कि ‘एमआई-8’ हेलीकॉप्टर में 13 यात्री और चालक दल के तीन सदस्य सवार थे।
इनमें से आठ लोग बच गए हैं। जिनमें से दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं। वहीं, समाचार एजेंसी ‘द इंटरफैक्स’ ने अधिकारियों के हवाले से बताया कि हादसे के समय हेलीकॉप्टर में 14 यात्री और चालक दल के तीन सदस्य सवार थे। दो पायलट सहित नौ लोग बच गए हैं और अन्य लोग लापता है, जिनके मारे जाने की आशंका है। क्षेत्रीय अभियोजक उड़ान सुरक्षा नियमों के संभावित उल्लंघन की जांच कर रहे हैं।

गरीबी को दूर करने के लिए आगे का आह्वान किया

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने युवाओं से जातिवाद, लैंगिक भेदभाव जैसी सामाजिक रुढ़ियों को तोड़ने और समाज से भ्रष्टाचार, अशिक्षा, गरीबी को दूर करने के लिए आगे आने का आह्वान किया है।
नायडू ने गुरूवार को अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस की शुभकामनायें देते हुए यहां कहा कि भविष्य का समाज युवाओं के पुरूषार्थ से ही बनेगा। नायडू ने कहा, “अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस पर युवा साथियों को हार्दिक शुभकामनाएं! नया समाज, भविष्य के लिए आपके नई दृष्टि और आपके असीम पुरुषार्थ से ही बनेगा। जातिवाद, लैंगिक भेदभाव जैसी सामाजिक रुढ़ियों को तोड़ें, समाज से भ्रष्टाचार, अशिक्षा, गरीबी को दूर करने के लिए आगे आएं।”
उन्होंने कहा, “खेल और अध्ययन दोनों क्षेत्रों में उपलब्धियां हासिल करें, स्वस्थ रहें, जीवन में योग अपनाएं, ‘सेवा और सद्भाव’ भारत के उदार सनातन जीवन दर्शन को अपनाएं, जीवन के हर क्षेत्र में भारतीयता को अपनाएं, राष्ट्र की एकता, अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करें, पर्यावरण की प्रदूषण से रक्षा करें।

ईओएस-03 कक्षा में स्थापित, विफल रहा रॉकेट

अमरावती। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) का जीएसएलवी रॉकेट भू-अवलोकन सैटेलाइट ईओएस-03 को कक्षा में स्थापित करने में बृहस्पतिवार को विफल रहा। रॉकेट के ‘कम तापमान बनाकर रखने संबंधी क्रायोजेनिक चरण’ में खराबी आने के कारण यह मिशन पूरी तरह संपन्न नहीं हो पाया।
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने बताया कि पहले और दूसरे चरण में रॉकेट का प्रदर्शन सामान्य रहा था। इसरो की ओर से जारी एक अधिसूचना के अनुसार, 51.70 मीटर लंबे सैटेलाइट जीएसएलवी-एफ10/ईओएस-03 ने 26 घंटे की उलटी गिनती के समाप्त होने के तुरंत बाद सुबह पांच बजकर 43 मिनट पर श्रीहरिकोटा के दूसरे लॉन्च पैड (प्रक्षेपण स्थल) से सफलतापूर्वक उड़ान भरी थी।
पहले और दूसरे चरण में रॉकेट का प्रदर्शन सामान्य रहा था। ‘क्रायोजेनिक अपर स्टेज’ तकनीकी खराबी के कारण पूर्ण नहीं हो पाई। जैसी उम्मीद थी उस तरह मिशन सम्पन्न नहीं हो पाया। इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने कहा कि मिशन मुख्य रूप से क्रायोजेनिक चरण में एक तकनीकी विसंगति के कारण पूरी तरह से सम्पन्न नहीं किया जा सका।
यह प्रक्षेपण इस साल अप्रैल या मई में होना था लेकिन कोविड-19 वैश्विक महामारी की दूसरी लहर के चलते इसे टाल दिया गया था। फरवरी में ब्राजील के भू-अवलोकन सैटेलाइट एमेजोनिया-1 और 18 अन्य छोटे उपग्रहों के प्रक्षेपण के बाद 2021 में इसरो का यह दूसरा मिशन था। ‘मिशन कंट्रोल सेंटर’ के वैज्ञानिकों ने इससे पहले बताया था कि उड़ान भरने से पहले, ‘लॉन्च ऑथराइजेशन बोर्ड’ ने योजना के अनुसार सामान्य उड़ान भरने के लिए मंजूरी दी थी।
पहले और दूसरे चरण में रॉकेट का प्रदर्शन सामान्य रहा। कुछ मिनटों बाद हालांकि, वैज्ञानिकों को चर्चा करते देखा गया और रेंज ऑपरेशन्स निदेशक द्वारा मिशन कंट्रोल सेंटर में घोषणा की गई कि कुछ खराबी के कारण मिशन पूरी तरह से सम्पन्न नहीं हो सका। ‘मिशन कंट्रोल सेंटर’ में रेंज ऑपरेशन्स निदेशक की घोषणा की, ” क्रायोजेनिक चरण में, प्रदर्शन में विसंगति देखी गई। मिशन पूरी तरह से सम्पन्न नहीं हो सका।
इस अभियान का उद्देश्य नियमित अंतराल पर बड़े क्षेत्र की वास्तविक समय पर तस्वीरें उपलब्ध कराना, प्राकृतिक आपदाओं की त्वरित निगरानी करना और कृषि, वनीकरण, जल संसाधनों तथा आपदा चेतावनी प्रदान करना, चक्रवात की निगरानी करना, बादल फटने आदि के बारे में जानकारी प्राप्त करना था।
इसरो मिशन का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है। 
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के जीएसएलवी रॉकेट के भू-अवलोकन उपग्रह ईओएस-03 को कक्षा में स्थापित करने में बृहस्पतिवार को विफल रहने के बाद केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि इस उपग्रह के प्रक्षेपण का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है।
प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) में राज्यमंत्री और अंतरिक्ष विभाग के प्रभारी सिंह ने कहा कि उन्होंने इसरो अध्यक्ष के. सिवन से मिशन को लेकर विस्तार से चर्चा की है। उन्होंने कहा कि प्रक्षेपण के पहले दो स्तर ठीक रहे लेकिन उसके बाद क्रायोजेनिक के ”अपर स्टेज” में तकनीकी खामी आ गयी।
सिंह ने ट्वीट किया, ”इसरो अध्यक्ष डॉ. के. सिवन से बात की और विस्तार से चर्चा की। पहले दो चरण ठीक रहे, लेकिन उसके बाद क्रायोजेनिक अपर स्टेज में दिक्कत आ गयी। मिशन का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है। गौरतलब है कि बृहस्पतिवार को सुबह प्रक्षेपित किया गया जीएसएलवी रॉकेट देश के नए पृथ्वी अवलोकन उपग्रह ईओएस-03 को अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित करने में नाकाम रहा। इसके बाद इसरो को यह घोषणा करनी पड़ी कि मिशन संपन्न नहीं हो सका।

ट्विटर अकाउंट पर ब्लॉक करने की निंदा की: कांग्रेस

मिनाक्षी लोढी                      
कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने कांग्रेस का आधिकारिक ट्विटर अकाउंट कथित तौर पर ब्लॉक करने की बृहस्पतिवार को निंदा करते हुए सवाल किया कि क्या इसका संबंध भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राजनीति और नीतियों का विरोध करने से है। कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि उसके और उसके कई नेताओं के ट्विटर अकाउंट को इस माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने लॉक कर दिया है।
टीएमसी के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ’ब्रायन ने ट्वीट किया, ”ट्विटर और ट्विटर इंडिया, क्या चल रहा है? हम कांग्रेस और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के अकाउंट को ब्लॉक करने की कड़ी निंदा करते हैं।” टीएमसी की पश्चिम बंगाल इकाई के सचिव कुणाल घोष ने कहा कि यह खतरनाक प्रवृत्ति है।
उन्होंने कहा, ”इसका मतलब है कि अब से भाजपा सोशल मीडिया मंचों को भी नियंत्रित करेगी। वे यह भी तय करेंगे कि कौन ट्वीट कर सकता है और कौन नहीं। यह देखना होगा कि क्या कांग्रेस के ट्विटर हैंडल को ब्लॉक करने का संबंध भाजपा की राजनीति और उसकी नीतियों के उसके विरोध से है।”
कांग्रेस के सोशल मीडिया विभाग के प्रमुख रोहन गुप्ता ने कहा कि पार्टी के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट और उसके शीर्ष नेताओं तथा कार्यकर्ताओं के करीब 5,000 अकाउंट इस माइक्रोब्लॉगिंग साइट ने ब्लॉक कर दिए हैं। कांग्रेस का कहना है कि उसके संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, महासचिव अजय माकन, जितेंद्र सिंह, सांसद मणिकम टैगोर, महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव और कई अन्य नेताओं के ट्विटर अकाउंट लॉक किये गए हैं।
गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही दिल्ली में कथित दुष्कर्म एवं हत्या की पीड़िता नौ वर्षीय बच्ची के माता-पिता से मुलाकात की तस्वीर साझा करने को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का ट्विटर अकाउंट लॉक किया गया था।

सुरक्षा कंपनी में वैन को लेकर फरार हुआ चालक

कराची। कराची में एक व्यक्ति कथित तौर पर उस वैन को लेकर फरार हो गया। जिसमें 20 करोड़ रुपये नकद थे। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस में दर्ज प्राथमिकी के अनुसार, वैन का सुरक्षा गार्ड जब नकद जमा करने की प्रक्रिया शुरू करने के लिए चुंदरीगर रोड पर ‘स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान’ की इमारत के अंदर गया तो सुरक्षा कंपनी में कार्यरत वाहन चालक हुसैन शाह वैन लेकर फरार हो गया।
‘कैश ट्रांजेक्शन कंपनी’ के क्षेत्रीय संचालन प्रबंधक ने मामले में शिकायत दर्ज कराई है। चुंदरीगर रोड पाकिस्तान का वित्तीय केन्द्र है, जहां केन्द्रीय बैंक और अन्य कई बैंक स्थित हैं। मामले की जांच कर रहे पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ” यह एक असमान्य मामला है। यह घटना नौ अगस्त को दिन-दहाड़े हुई। हम सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच कर रह हैं, क्योंकि ऐसी घटना पहले कभी नहीं हुई।”
विशेष जांच अधिकारी (एसआईओ) चौधरी तारिक ने कहा कि मामले में कोई ठोस प्रगति नहीं हुई है और चालक को भी अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। तारिक ने कहा, ” सुरक्षा कम्पनी की एक वैन में केन्द्रीय बैंक की नकदी ले जाई जा रही थी और सुरक्षा गार्ड मुहम्मद सलीम के अनुसार, वह नकदी हस्तांतरण की प्रक्रिया शुरू करने के लिए बैंक के अंदर गया था। जब वह बाहर आया तो उसने देखा कि वैन वहां नहीं थी।
उसने चालक को फोन किया तो उसने कहा कि वह थोड़ी देर में लौट आएगा, क्योंकि वह किसी जरूरी काम से गया है।” उन्होंने बताया कि गार्ड के दोबारा फोन करने पर चालक का फोन बंद आया। वैन कुछ किलोमीटर दूर बरामद हुई, लेकिन उसमें नकद नहीं था। नकद के अलावा वैन से हथियार, एक कैमरा और डीवीआर भी गायब है।

डीजल के बिना चंडीगढ़ की सड़कों पर दौड़ेगी बसें

राणा ओबराय                        
चंडीगढ़। डीज़ल बसों के बजाय चंडीगढ़ की सड़कों पर अब इलेक्ट्रिक बसें दौड़ेंगी।
चंडीगढ़ यूटी के प्रशासक वीपी सिंह बदनोर ने आज राज भवन से एक इलेक्ट्रिक बस को हरी झंडी दिखाई। परीक्षण के दौरान बस पीजीआई-मनीमाजरा वाया मध्य मार्ग रूट पर चलेगी। आम लोेगों के लिए सितंबर के प्रथम सप्ताह में यह बस चलेगी।
दो महीनों में बसों की संख्या बढ़कर 40 हो जाएगी। जबकि 40 और बसें अगले वर्ष खरीद ली जाएंगी क्योंकि भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उद्योग मंत्रालय ने फेम इंडिया स्कीम के दूसरे चरण में 80 बसों की मंजूरी दी हुई है। पहली 40 बसों के लिए मेसर्स अशोक ले लैंड से दस वर्षों के लिए करार किया जा चुका है। करार में बसों की चार्जिंग के लिए पर्याप्त मात्रा में चार्जर समेत ट्रांसफार्मर, बसों की देखरेख, चालक मुहैया कराने समेत अन्य बातें शामिल हैं।
वातानुकूलित बसों में 35 यात्री बैठकर और 20 यात्री खड़े होकर यात्रा कर सकेंगे। हर सीट पर मोबाईल चार्जिंग प्वाइंट की सुविधा होगी।
परिवहन विभाग की योजना चंडीगढ़ की 358 डीजल बसों को 2027-28 तक इलेक्ट्रिक बसों में तब्दील करने की योजना है।

'हीरा मंडी' में काम करने के लिये तैयार हैं आलिया

कविता गर्ग                   
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट वेब सीरीज फिल्म 'हीरा मंडी' में फ्री में काम करने के लिये तैयार है।
संजय लीला भंसाली अपनी आने वाली वेब सीरीज 'हीरा मंडी' को लेकर काफी चर्चा में हैं। महिलाओं पर केंद्रित इस सीरीज में बॉलीवुड की कई अभिनेत्री काम करती नजर आयेंगी। 'हीरा मंडी' में सोनाक्षी सिन्हा और हुमा कुरैशी मुख्य भूमिका निभा रही हैं। इस वेब सीरीज में कुल सात एपिसोड हैं। इसके पहले एपिसोड का निर्देशन खुद भंसाली करेंगे और बाकी एपिसोड के निर्देशन की जिम्मेदारी विभु पुरी को दी गई है।
अब चर्चा है कि आलिया, भंसाली की इस सीरीज में फ्री में काम करने के लिए तैयार हैं। कहा जा रहा है कि आलिया ने भंसाली की वेब सीरीज 'हीरा मंडी' में काम करने की इच्छा जाहिर की थी। आलिया ने भंसाली से कहा था कि किरदार चाहे कोई भी हो, चलेगा। वे 'हीरा मंडी' में मुफ्त में काम करने को तैयार हैं। हालांकि, भंसाली ने आलिया के इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया और कहा कि उन्हें उनकी मार्केट वैल्यू के हिसाब से ही फीस दी जाएगी।आलिया भट्ट ने फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' में संजय लीला भंसाली के साथ काम किया है।



देश में पेट्रोल के दाम लगातार 26वें दिन स्थिर रहे

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतों में तेजी के बीच गुरुवार को देश में पेट्रोल के दाम लगातार 26 वें दिन स्थिर रहे। डीजल के मूल्य में भी लगातार 27 वें दिन कोई बदलाव नहीं किया गया।
तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, गुरुवार को दिल्ली में पेट्रोल 101.84 रुपये और डीजल 89.87 रुपये प्रति लीटर पर टिका रहा। देश के दूसरे शहरों में भी पेट्रोल-डीजल की कीमतें स्थिर रही है।
प्रति बैरल के पार चला गया। कल कारोबार बंद होते समय डब्ल्यूटीआई क्रूड एक दिन पहले के मुकाबले 0.96 डॉलर चढ़ कर 69.25 डॉलर और ब्रेंट क्रूड 0.81 डॉलर चढ़ कर 71.44 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ । पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की रोजाना समीक्षा होती है और उसके आधार पर हर दिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।

आधा दर्जन आईपीएस अधिकारियों के तबादले किएं

हरिओम उपाध्याय                    
लखनऊ। शासन की ओर से आधा दर्जन वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों के तबादले कर दिए गए हैं। स्थानांतरित किए गए आईपीएस अफसरों में 4 डीजी रैंक और दो एडीजी रैंक के अधिकारी शामिल हैं। मानवाधिकार में डीजी गोपाल लाल मीणा को सीबीसीआईडी डीजी बनाया गया है।
शासन की ओर से बुधवार की देर रात जारी की गई स्थानांतरण सूची में आईपीएस अफसर विश्वजीत महापात्रा को हटाए जाने के बाद से सीबीसीआईडी के डीजी का काम विजिलेंस के डीजी पीवी रामा शास्त्री देख रहे थे। डीजी जेल आनंद कुमार को फायर सर्विस का डीजी बनाया गया है। इसके अलावा उन्हें जेल विभाग का अतिरिक्त कार्यभार भी सौंपा गया है। ईओडब्लयू के डीजी राजेंद्र पाल सिंह को प्रशिक्षण निदेशालय का डीजी बनाया गया है। प्रशिक्षण निदेशालय के डीजी सूजानवीर सिंह 31 अगस्त को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। आईपीएस अधिकारी राजेंद्र पाल सिंह उनके बाद डीजी प्रशिक्षण की जिम्मेदारी संभालेंगे। उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड के अध्यक्ष राजकुमार विश्वकर्मा से फायर सर्विस का चार्ज वापस ले लिया गया है और उन्हें ईओडब्ल्यू का अतिरिक्त चार्ज सौंपा गया है। एडीजी स्तर के जिन दो अधिकारियों का तबादला किया गया है उसमें भर्ती बोर्ड में एडीजी आईपीएस है रेणुका मिश्रा को एसआईटी का एडीजी और सीबीसीआईडी में एडीजी आरके स्वर्णकार को भर्ती बोर्ड में एडीजी बनाया गया है।

अरहर दाल को तुअर की दाल के रूप में मानतें हैं

इकबाल अंसारी          
दालें भारतीय भोजन पकाने का एक खास हिस्सा हैं। जब दाल की बात आती है, तो अरहर की दाल अरहर दाल) सबसे लोकप्रिय पाई जाती है। क्योंकि वजन घटाने सहित स्वास्थ्य-लाभ गुणों से भरपूर है। अरहर दाल को तुअर की दाल के रूप में भी जाना जाता है। अरहर की दाल को अक्सर चावल के साथ परोसा जाता है। शाकाहारियों के लिए यह स्पेशल दाल, प्रोटीन और हेल्दी कार्ब्स का एक बड़ा सोर्स है। प्रोटीन समग्र स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है। क्योंकि हमारे शरीर को ऊतकों के निर्माण और मरम्मत के लिए इसकी आवश्यकता होती है।
प्रोटीन से भरपूर भोजन आपके पेट को लंबे समय तक भरा हुआ महसूस कराने में मदद कर सकता है। इससे फिटनेस फ्रीक और वजन कम करने की कोशिश करने वालों को फायदा हो सकता है। यहां हम आपको अरहर दाल के कई लाभ बता रहे हैं और इन्हें पढ़ने के बाद आप जानेंगे कि क्यों इसे रोजाना के आहार में शामिल करना जरूरी है।
अरहर की दाल पोटेशियम से भरपूर होती है। पोटेशियम, वैसोडिलेटर के रूप में कार्य करने के लिए जाना जाता है। जो ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मददगार होता है। यदि आप हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित हैं, तो आप हृदय रोगों की चपेट में आ सकते हैं। ऐसे में आपको अपनी डाइट में अरहर की दाल को शामिल करना काफी फायदेमंद हो सकता है।
​वजन घटाने में मददगार अरहर...
जब आप अपने आहार में प्रोटीन की अधिक मात्रा वाला भोजन शामिल करते हैं तो आप लंबे समय तक तृप्त रहते हैं। ऐसे में रोजाना डाइट में अरहर की दाल को शामिल करने से आपको अपने वजन को घटाने के लक्ष्यों को पूरा करने में काफी मदद मिल सकती है। ऐसे में आप वसायुक्त और ऑइली फूड यानी चिकनाई वाले खाद्य पदार्थों के सेवन से दूर रह सकते हैं, जो केवल कैलोरी को बढ़ाते हैं।
​पाचन स्वास्थ्य को बढ़ावा देती है तुअर...
अरहर दाल आहार फाइबर का एक समृद्ध स्रोत है, जो पाचन तंत्र को बढ़ाने में योगदान देती है। फाइबर, मल को ऊपर उठाने में एक उठाने में एक अहम रोल निभाता है। साथ ही कब्ज और ब्लोटिंग को कम करने में मदद करता है।
​इस तरह से करें अरहर का सेवन...
आप अरहर की दाल का प्रयोग दाल के अलावा खिचड़ी के रूप में भी कर सकते हैं। अरहर दाल की खिचड़ी एक हल्का और आरामदायक भोजन है जो पेट संबंधी समस्याओं के लिए बहुत ही फायदेमंद है। खास बात ये है कि अरहर की दाल और इसकी खिचड़ी दोनों ही आहार जल्दी ही खाने योग्य तैयार हो जाते हैं।
अरहर की दाल यह लगभग सभी भारतीय घरों में एक क्लासिक स्टेपल डिश है। इसे चावल और गर्म तली हुई सब्जियों के साथ मिलाकर खाएं और फिर आपका दिन भर का काम हो गया।

यूपी: फर्जी डिग्री आरोपों की जांच का आदेश दिया

बृजेश केसवानी                        
प्रयागराज। प्रयागराज की अदालत ने डिप्‍टी सीएम केशव मौर्या के खिलाफ कथित फर्जी डिग्री आरोपों की प्रारंभिक जांच का आदेश दिया है। अतिरिक्‍त मुख्‍य न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट की अदालत ने कल बुधवार को पुलिस को निर्देश दिया कि वो इस मामले में प्रारम्भिक जांच करे। एसीजेएम प्रयागराज नम्रता सिंह ने प्रयागराज कैंट के प्रभारी को एक हफ्ते के अंदर बिंदुवार रिपोर्ट देने का आदेश दिया।
इसके साथ ही उन्‍होंने अगली सुनवाई के लिए 25 अगस्‍त की तारीख दे दी है|जिन बिंदुओं पर पुलिस को तहकीकात करनी है उनमें पहला है कि क्‍या हिंदी साहित्य सम्मेलन द्वारा डिप्‍टी सीएम को जारी मध्‍यमा द्वितीय वर्ष की डिग्री की प्रमाणिक है।
जांच का दूसरा बिंदु यह है कि क्‍या आरोपों के मुताबिक कथित फर्जी प्रमाण पत्रों का चुनावी शपथ पत्रों में इस्‍तेमाल किया गया है या नहीं। इसके साथ ही कोर्ट ने डिप्‍टी सीएम पर पेट्रोल पंप हासिल करने के लिए हाईस्‍कूल के फर्जी प्रमाण पत्र के इस्‍तेमाल के आरोप की भी जांच का निर्देश दिया है।
डिप्‍टी सीएम पर आरोप लगाया गया है कि उन्‍होंने इंडियन ऑयल का एक पेट्रोल पंप कथित रूप से फर्जी सर्टिफिकेट के आधार पर हासिल किया।एसीजेएम कोर्ट ने यह आदेश सुप्रीम कोर्ट द्वारा प्रियंका श्रीवास्‍तव बनाम स्‍टेट ऑफ यूपी मामले में दिए गए फैसले के आधार पर दिया है। 19 मार्च 2015 को सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस दीपक मिश्रा ने इस मामले में फैसला सुनाया था। डिप्‍टी सीएम केशव मौर्या के खिलाफ कथित फर्जी डिग्री केस में इसके पहले कोर्ट ने सात अगस्‍त को सुनवाई कर फैसला सुरक्षित रख लिया था।*
आरटीआई एक्टिविस्‍ट दिवाकर त्रिपाठी ने इस मामले में एक याचिका दाखिल कर डिप्‍टी सीएम केशव मौर्या के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए थे। उन्‍होंने पांच अलग-अलग चुनावों में फर्जी डिग्री के इस्‍तेमाल का आरोप लगाया, इसके अलावा कथित फर्जी डिग्री के आधार पर एक पेट्रोल पंप हासिल करने का भी आरोप लगाया।अपनी याचिका में एक्टिविस्‍ट ने डिप्‍टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या का चुनाव और पेट्रोल पंप का आवंटन खारिज करने की मांग की। याचिका में कहा गया है कि डिप्‍टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने 2007 का विधानसभा चुनाव शहर के पश्चिमी निर्वाचन क्षेत्र से लड़ा था। इसके बाद उन्‍होंने 2012 में सिराथू सीट से विधानसभा चुनाव लड़ा। 2014 में उन्‍होंने फूलपुर से लोकसभा चुनाव लड़ा था।
 

किन्नौर: तलाश व बचाव के लिए अभियान शुरू हुआ

श्रीराम मौर्य                      
शिमला। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में बुधवार को एक बस और अन्य वाहनों के भूस्खलन की चपेट में आने से मलबे में फंसे लोगों की तलाश एवं बचाव के लिए अभियान बृहस्पतिवार सुबह पुन: शुरू हुआ और इस दौरान तीन और शव मिले हैं। इस आपदा में मरने वालों की संख्या अब 13 हो गई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।
राज्य आपदा प्रबंधन निदेशक सुदेश कुमार मोख्ता ने बताया कि कुछ वाहनों के साथ ही मलबे में हिमाचल सड़क परिवहन निगम (एचआरटीसी) की एक बस भी दब गई थी। ये तीन शव बस में से ही मिले हैं। बस बुरी तरह क्षतिग्रस्त हालत में मिली है जबकि एक ‘बोलरो’ वाहन अब भी मलबे में दबा है।
राज्य आपदा प्रबंधन निदेशक सुदेश कुमार मोख्ता ने बताया कि बृहस्पतिवार सुबह छह बजे बचाव कार्य फिर से शुरू किया गया। स्थानीय पुलिस के सदस्य, होमगार्ड, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) संयुक्त रूप से बचाव अभियान चला रहे हैं।
अधिकारियों ने बुधवार रात करीब 10 बजे तलाश अभियान स्थगित कर दिया था। निचार तहसील के निगुलसारी क्षेत्र के चौरा गांव के पास राष्ट्रीय राजमार्ग पांच पर बुधवार दोपहर को भूस्खलन के बाद पहाड़ से गिरे पत्थरों की चपेट में हिमाचल सड़क परिवहन निगम (एचआरटीसी) की एक बस आ गई थी, जो रिकांग पियो से शिमला होते हुए हरिद्वार जा रही थी।
बुधवार को 10 लोगों के शव मिले थे तथा 13 घायलों को बचा लिया गया था, जबकि कई अन्य के मलबे में दबे होने की आशंका है। अधिकारी ने बुधवार को बताया था कि एक टाटा सूमो मिली है, जिसमें आठ लोग मृत पाए गए हैं। 

हरीश ने कैबिनेट मंत्री पर कुमाऊनी में कसा तंज

हरिओम उपाध्याय                  
लखनऊ। पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य पर कुमाऊनी बोली में तंज कसते नज़र आये, उन्होंने अपने फेसबुक वॉल पर कुछ इस तरह शेयर किया है।
मेरि प्यारी-प्यारी भूलि, दल बदलनक हैबेर पैलिक मैं त्वैंकें आपड़ि चेलि मानछी। जदिन विधानसभा में शक्ति परीक्षण छी, मैंकें अन्तिम दमतक यो भरोस छी कि सोमेश्वरक म्यरि चेलि, म्यर बगल में आबेर हाथ ठाड़ करैलि और कैलि कका चिंता नीं करो मैं छौ न, खैर हरी-हरी कागजों में बड़ि ताकत छ और आजिलै तुम भल काम करछा में खुशी हों।
जब मैल आपण उत्तराखण्डी वस्त्र-आभूषणों कें प्रोत्साहित करनक लीजि एक प्रतियोगिता आपुण फेसबुक पेज में ऑनलाइन आयोजित करि, विक बाद बेटा तुमौलि सरकारि तौर पर विक प्रकारक प्रतियोगिता आयोजित करी, तो म्यर मन बटि निकलो शाबाश बेटा, एलें तूमौल निराश्रित बच्चों कें अडॉप्ट करनेक जो योजना हम शुरू करछि, उकें अघिल बड़ा मकें भौत खुशी भैं, मगर टेक होम राशन वालाक टेंडर करबेर बेटा बै भूलि बनी रेखाज्यू यह महापाप हैगो। ज्याकलिजी मैंल टेक होम राशन वालमें आवाज उठैं और म्यर तुमकौं वादछ एक बेटे-बेटि क माध्यमल सारा उत्तराखण्ड कै म्यर वादछ यदि म्यर आंग में अवतार आग्यो तो मैं पांच सालक अन्दर हर महिला क हाथ में एक स्वरोजगार हौल, मैं उत्तराखण्ड क महिला आर्थिक सशक्तिकरण माॅडल बनौल, नौ जवानौक लिजी लै करूल, वो एक अलग विषय छ, लेकिन मैं मोहनरी दानी देवी क च्यल नै यदि मैल पांच साल क अन्दर में हर महिला क हाथ में एक स्वरोजगारी काम पकड़ाबेर उकैं घरैक आर्थिक शक्तिक केन्द्र बिन्दु न दियौ, बाकि चेलिक भगवान मालिक छ जी करल, मलिवाल क मर्जि जी हौलि, हौलो वी। लेकिन यौ म्यर मनक भाव छैं, तुम जथालै छा भल रैया, जतुक शक्ति हाथ में ऐंछ गलत झन करिया, जब गलत करला तो मैकें तकलीफ हौलि।

कई नेताओं के 'ट्विटर' अकाउंट को लॉक किया

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसके और उसके कई नेताओं के ट्विटर अकाउंट को इस माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने लॉक कर दिया है। गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही दिल्ली में कथित दुष्कर्म एवं हत्या की पीड़िता नौ वर्षीय बच्ची के माता-पिता से मुलाकात की तस्वीर साझा करने को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का ट्विटर अकाउंट लॉक किया गया था।
कांग्रेस ने अपने ट्विटर अकाउंट को लॉक किये जाने संबंधी संदेश का स्क्रीन शॉट फेसबुक पोस्ट में साझा किया। उसने कहा कि जब हमारे नेताओं को जेलों में बंद कर दिया गया, हम तब नहीं डरे तो अब ट्विटर अकाउंट बंद करने से क्या ख़ाक डरेंगे। हम कांग्रेस हैं, जनता का संदेश है, हम लड़ेंगे और लड़ते रहेंगे। पार्टी ने कहा कि अगर बलात्कार पीड़ित बच्ची को न्याय दिलाने के लिए आवाज उठाना अपराध है, तो यह अपराध हम सौ बार करेंगे। जय हिंद, सत्यमेव जयते।कांग्रेस के सोशल मीडिया विभाग के प्रमुख रोहन गुप्ता ने कहा कि पार्टी के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट और इसके नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के करीब 5000 अकाउंट को ब्लॉक किया गया है। 
उन्होंने आरोप लगाया कि ट्विटर सरकार के दबाव में आकर कांग्रेस नेताओं के खिलाफ काम कर रहा है। गुप्ता ने कहा कि ट्विटर निश्चित तौर पर सरकार के दबाव में है क्योंकि जब राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग की ओर से उन्हीं तस्वीरों को (बच्ची के माता-पिता की) साझा किया गया तो उन्हें नहीं हटाया गया।
कांग्रेस का कहना है कि उसके संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, महासचिव अजय माकन, जितेंद्र सिंह, सांसद मणिकम टैगोर, महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव और कई अन्य नेताओं के ट्विटर अकाउंट लॉक किये गए हैं।
 

देश में दूसरी लहर का कहर पूरी तरह से खत्म नहीं

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का कहर अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। तीसरी लहर ने दस्तक देना भी शुरू कर दिया है। देश के कई राज्यों में एक तरफ जहां पाबंदियों को खोलना जारी है, तो कुछ जगहों पर नए मामलों की बढ़ती संख्या चिंता बढ़ा रही है। सबसे अहम बात ये है कि अब स्कूल खुल जाने के कारण बच्चों पर खतरा मंडरा रहा है। कर्नाटक  के बेंगलुरु में ऐसा ही नतीजे दिखे हैं।
कोरोना वायरस की दूसरी लहर में मामले कम होने के बाद कई जगह स्कूल-कॉलेज खोल दिए गए थे। अब करीब 6 दिनों में 300 से अधिक बच्चे कोरोनी की चपेट में आ गए हैं। बेंगलुरु जैसे बड़े शहर का ये आंकड़ा राज्य में सबसे तेज़ी से बढ़ता हुआ है। बेंगलुरु प्रशासन द्वारा जो आंकड़े दिए गए हैं। उनमें 0 से 9 साल के करीब 127 और 10 से 19 साल के करीब 174 बच्चे कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं। यह आंकड़ा पांच अगस्त से दस अगस्त के बीच का है।

कारोबार में 150 अंकों की बढ़त हासिल की: सेंसेक्स

कविता गर्ग                         
मुंबई। वैश्विक बाजार में सकारात्मक रुख के बीच और आईटीसी, आईसीआईसीआई बैंक एवं रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में मजबूती के साथ बृहस्पतिवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स ने 150 अंकों से ज्यादा की बढ़त हासिल की। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 155.90 अंक या 0.29 प्रतिशत की बढ़त के साथ 54,681.83 अंक पर कारोबार कर रहा था। 
वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी शुरुआती कारोबार में 42.90 अंक या 0.26 प्रतिशत की बढ़त के साथ 16,325.15 अंक पर था। सेंसेक्स की कंपनियों में पावर ग्रिड का शेयर सबसे अधिक दो प्रतिशत से ज्यादा चढ़ गया। आईटीसी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, बजाज ऑटो, आईसीआईसीआई बैंक और टाटा स्टील के शेयर भी लाभ में थे।
वहीं दूसरी ओर कोटक बैंक, इंडसइंड बैंक, डॉ रेड्डीज, सन फार्मा और एशियन पेंट्स के शेयर नुकसान में कारोबार कर रहे थे। पिछले कारोबारी सत्र में सेंसेक्स 28.73 अंक या 0.05 प्रतिशत की गिरावट के साथ 54,525.93 अंक पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 2.15 अंक के लाभ या 0.01 प्रतिशत की बढ़त के साथ 16,282.25 अंक पर बंद हुआ था। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.04 प्रतिशत की बढ़त के साथ 71.47 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

कोरोना: विश्व में संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ीं

वाशिंगटन डीसी। विश्वभर में कोरोना वायरस महामारी के संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है तथा इसी क्रम में यह आंकड़ा 20.47 करोड़ के पार पहुंच गया हैं तथा इस बीमारी से मरने वालोें की संख्या बढ़कर 43.24 लाख से अधिक हो गई है। दुनिया में पिछले 28 दिनों में कोरेाना वायरस से जहां 1.63 करोड़ लोग संक्रमित हुए वहीं इस महामारी से 2.62 लाख लोग काल को ग्रास बन गए। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र (सीएसएसई) की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार दुनिया के 192 देशों एवं क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 20 करोड़ 47 लाख 38 हजार 271 हो गयी है। जबकि 43 लाख 24 हजार 625 लोग इस महामारी से जान गंवा चुके हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-362 (साल-02)
2. शुक्रवार, जुलाई 13, 2021
3. शक-1984,सावन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -21 डी.सै., अधिकतम-38+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...