गुरुवार, 25 अगस्त 2022

फर्जी दस्तावेज तैयार कर नौकरी करने का मामला 

फर्जी दस्तावेज तैयार कर नौकरी करने का मामला 

हरिशंकर त्रिपाठी 

देवरिया। जनपद देवरिया के अंतर्गत आने वाले रुद्रपुर क्षेत्र में एक व्यक्ति द्वारा फर्जी दस्तावेज तैयार कर अध्यापक की नौकरी करने का मामला प्रकाश में आया है। रुद्रपुर के खंड शिक्षा अधिकारी गोपाल शरण मिश्र की तहरीर पर गुलाब चंद्र पुत्र योगी प्रसाद निवासी तालडीहा थाना खुखुन्दू जनपद देवरिया को रुद्रपुर अंतर्गत आने वाले एकौना थाना क्षेत्र के जगत माझा मोड़ पर थाना एकौना पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तारी की विषय में प्राप्त जानकारी के अनुसार, गुलाबचंद पुत्र योगी प्रसाद निवासी तालडीहा थाना खुखुन्दू जनपद देवरिया जो कि फर्जी दस्तावेज तैयार कर सहायक अध्यापक की नौकरी करता था। जिसके विषय में खंड शिक्षा अधिकारी रुद्रपुर गोपाल शरण मिश्र द्वारा पुलिस को तहरीर दिया गया था। जिसे इकौना पुलिस ने जगत माझा मोड़ से गिरफ्तार पर विधिक कार्यवाही करते हुए भेज दिया।

कोविड-19, मंकीपॉक्स व एचआईवी का टेस्ट पॉजिटिव 

कोविड-19, मंकीपॉक्स व एचआईवी का टेस्ट पॉजिटिव 

डॉक्टर सुभाषचंद्र गहलोत 

रोम। कैटेनिया यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के अनुसार, इटली के एक 36-वर्षीय शख्स के स्पेन से लौटने के बाद उसका कोविड-19, मंकीपॉक्स और एचआईवी का टेस्ट पॉजिटिव आया है। रिपोर्ट के अनुसार, उसने स्पेन में असुरक्षित सेक्स किया था। यह ऐसा पहला ज्ञात मामला है, जब किसी व्यक्ति का एक ही समय पर मंकीपॉक्स, कोविड-19 और एचआईवी का टेस्ट पॉज़िटिव आया हो। इटली में शोधकर्ताओं को एक अजीबोगरीब मामला देखने को मिला है। यहां एक शख्स मंकीपॉक्स, कोरोना वायरस और HIV से एक ही समय में संक्रमित हुआ है। जानकारी के मुताबिक तीनों वायरस नए हैं और स्पेन की एक यात्रा के बाद वह संक्रमित हुआ है। रोगी 36 साल का एक इटैलियन नागरिक है। 

स्पेन से 5 दिनों की यात्रा से लौटने के 9 दिन बाद उसे बुखार, गले में खराश, थकान, सिरदर्द और कमर में सूजन की समस्या देखे को मिली। उसने एक पुरुष के साथ बिना कंडोम के संबंध बनाए थे। जर्नल ऑफ इनफेक्शन में छपी रिपोर्ट के मुताबिक लक्षणों के तीन दिनों बाद ही वह कोरोना वायरस से संक्रमित मिला है। जनवरी में ये शख्स वैक्सीन लगवाने के कुछ दिन बाद ही कोरोना संक्रमित हुआ था। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कुछ घंटों के बाद उसके बाएं हाथ में एक दाना दिखाई दिया और कुछ दिनों में ही उसके शरीर पर छाले ही छाले फैल गए। इसके बाद उसे सिसिली के पूर्वी तट के कैटेनिया शहर के एक अस्पताल के इमरजेंसी में भर्ती कराया गया।

अस्पताल में उसके ऊपर कई टेस्ट किए गए, जिसमें वह मंकीपॉक्स, COVID-19 और HIV पॉजिटिव मिला। HIV की डिटेल जांच करने पर पता चला कि हाल ही में वह संक्रमित हुआ है। लगभग एक सप्ताह बाद कोरोना और मंकीपॉक्स से ठीक होने के बाद उसे अस्पताल से छुट्टी मिल गई। कैटेनिया यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं का कहना है कि ये मामला दिखाता है कि कोरोना और मंकीपॉक्स के वायरस के लक्षण किस तरह एक दूसरे पर हावी हो सकते हैं। शोधकर्ताओं ने कहा कि ये इकलौता ऐसा मामला है, जिसमें मंकीपॉक्स, कोरोना वायरस और HIV तीनों संक्रमण एक साथ मिले हैं। उन्होंने कहा कि इस बात के कोई भी पर्याप्त सबूत नहीं है, जो ये दिखाएं कि तीनों वायरस का एक साथ होना गंभीर स्थिति पैदा करता है। हालांकि शोधकर्ता कहते हैं कि जिस हिसाब से मंकीपॉक्स के मामले बढ़ रहे हैं ऐसे में पूरी दुनिया को इसके बारे में जानना चाहिए।

उद्योगपतियों के साथ बैठक कर आवश्यक निर्देश दिए

उद्योगपतियों के साथ बैठक कर आवश्यक निर्देश दिए 

भानु प्रताप उपाध्याय 

मुजफ्फरनगर। हिण्डन नदी को स्वच्छ एवं अविरल बनाये जाने के सम्बन्ध में जिलाधिकारी द्वारा उद्योगपतियों के साथ बैठक कर आवश्यक निर्देश दिए गए। हिण्डन एवं उसकी सहायक नदियों को प्रदूषण मुक्त किये जाने एवं अविरल बनाये जाने हेतु हिण्डन एवं उसकी सहायक नदियों के कैचमेन्ट एरिया में स्थापित/संचालित वृहद् जल प्रदूषणकारी उद्योगों के प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार, मुजफ्फरनगर में आयोजित की गयी। बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र बहादुर सिंह, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) अरविन्द कुमार मिश्रा एवं क्षेत्रीय अधिकारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड उपस्थित रहे। बैठक में नदियों को प्रदूषण मुक्त किये जाने के सम्बन्ध में चर्चा की गयी।

जिलाधिकारी द्वारा उद्योग प्रतिनिधियों को निर्देश दिये गये कि उद्योगों में स्थापित उत्प्रवाह शुद्धिकरण संयंत्र का संचालन एवं रखरखाव समुचित रूप से किया जाये। किसी भी दशा में अशुद्धिकृत उत्प्रवाह को किसी नदी अथवा नाले में प्रवाहित न किया जाये। उद्योगों में वायु प्रदूषण संयंत्रों को भी समुचित रूप से संचालित किया जाये तथा ईंधन के रूप में किसी भी प्रकार का प्रतिबंधित ईंधन का प्रयोग न किया जाएं। जिलाधिकारी द्वारा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को भी निर्देश दिए गए, कि उद्योगों के निरन्तर निरीक्षण किये जाये तथा निरीक्षण में दोषी पाये जाने वाले उद्योगों के विरूद्ध अधिनियमों के अन्तर्गत कार्यवाही की जाये। क्षेत्रीय अधिकारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा औद्योगिक नालों की स्थिति के बारे में अवगत कराया गया। उन्होंने उपस्थित उद्योग प्रतिनिधियों को निर्देशित करते हुए कहा कि नाले में शुद्धिकृत उत्प्रवाह का निस्तारण मानकों के अनुरूप ही किया जाये तथा समय-समय पर नाले में जमा सिल्ट की सफाई कराई जाएं।

हास्य कलाकार श्रीवास्तव को 15 दिन बाद होश आया 

हास्य कलाकार श्रीवास्तव को 15 दिन बाद होश आया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली‌। हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव की हालत में लगातार सुधार हो रहा है। राजू श्रीवास्तव के निजी सचिव गरवित नारंग ने आज जानकारी दी कि राजू श्रीवास्तव को आज करीब 15 दिन बाद होश आया है। उन्होंने कहा कि एम्स दिल्ली में डॉक्टरों द्वारा उनकी निगरानी की जा रही है। उनके स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार हो रहा है। आपको बता दें कि करीब 15 दिन पहले सीने में दर्द और जिम में वर्कआउट के दौरान गिरने के बाद उन्हें 10 अगस्त को यहां भर्ती कराया गया था। तब राजू ब्रेन डेड अवस्था में पहुंच गए थे।

राजू की गंभीर हालत को देखते हुए उनके सभी रिश्तेदार राजधानी दिल्ली पहुंच गए थे। बताय गया था कि सीटी स्कैन में दिमाग के एक हिस्से में सूजन मिली है। उनके लिए परिजन काशी और उज्जैन में महामृत्युंजय जाप करवा रहे थे। राजू श्रीवास्तव के मुख्य सलाहकार अजित सक्सेना ने बताया था कि राजू का ब्रेन ठीक से काम नहीं कर रहा थी और वह ब्रेन डेड की स्थिति में है। उनके दिल में भी दिक्कत है। राजू श्रीवास्तव का इलाज डॉक्टर नीतीश नाइक के नेतृत्व में चल रहा है। 10 अगस्त से राजू श्रीवास्तव वेंटिलेटर पर हैं। डॉक्टर्स के अनुसार उनके बीपी में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है। ब्रेन तो दिक्कत कर रहा था। अब उनका हार्ट भी ठीक से काम नहीं कर रहा था।

राजू श्रीवास्तव के स्वास्थ्य को लेकर उनके परिजन टेंशन में है। उनके रिश्तेदार दिल्ली पहुंच गए हैं। परिवार का कहना है कि हमें ईश्वर पर भरोसा है। बता दें राजू को दिल्ली में उस समय दिल का दौरा पड़ा था। जब वे जिम में एक्सरसाइज कर रहे थे। मेजर हार्ट अटैक आने के बाद उन्हें एम्स में एडमिट कराया गया था। तब से वह बेहोश हैं।

पीएम की सुरक्षा में चूक, एससी ने सख्त टिप्पणी की

पीएम की सुरक्षा में चूक, एससी ने सख्त टिप्पणी की 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। इस साल जनवरी में पंजाब यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक मामलें में सुप्रीम कोर्ट ने सख्त टिप्पणी की है। इस मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया ने कहा है कि फिरोजपुर एसएसपी कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए अपने कर्तव्य का निर्वहन करने में विफल रहे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि भले ही पीएम के यात्रा रूट के बारे में उन्हें 2 घंटे पहले सूचित किया गया। लेकिन पर्याप्त बल उपलब्ध होने के बावजूद वह अपने कर्तव्यों का पालन करने में विफल रहे। सीजेआई ने कहा कि इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए पीएम की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए कुछ उपाय सुझाए गए हैं। हम सरकार को रिपोर्ट भेजेंगे, ताकि कदम उठाए जा सकें।

सुप्रीम कोर्ट से जब वकील ने इस रिपोर्ट की कॉपी मांगी तो कोर्ट ने इसे देने से इनकार कर दिया। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने जस्टिस इंदु मल्होत्रा की अध्यक्षता में जांच कमेटी का गठन किया था। इस कमेटी ने अपनी रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंप दी। चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया ने इंदु मल्होत्रा की रिपोर्ट को पढ़ते हुए बताया कि फिरोजपुर के एसएसपी को दो घंटे पहले बताया गया था कि प्रधानमंत्री उस मार्ग में प्रवेश करेंगे, उसके बाद भी वह सुरक्षा देने में विफल रहे। इस कमेटी ने पीएम की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए कई सुझाव भी दिए हैं।

इसी साल जनवरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंजाब के बठिंडा एयरपोर्ट से हुसैनीवाला शहीद स्मारक में एक रैली को संबोधित करने जा रहे थे। पीएम का काफिला एक फ्लाईओवर पर 20 मिनट तक फंसा रहा। इस कारण उन्हें वापस आना पड़ा। काफिले को रोकने की जिम्मेदारी एक किसान संगठन ने ली थी। वरिष्ठ वकील मनिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई चूक का मामला मुख्य न्यायाधीश एनवी रमन्ना की बेंच के सामने उठाया था।

यूपी: असामाजिक तत्वों ने चामुंडा मंदिर में लगाई आग 

यूपी: असामाजिक तत्वों ने चामुंडा मंदिर में लगाई आग 

संदीप मिश्र 

अमरोहा। असामाजिक तत्वों ने सड़क मार्ग पर स्थित चामुंडा मंदिर के भीतर आग लगाते हुए इलाके के माहौल को खराब करने का प्रयास किया है। रास्ते से गुजर रहे लोगों ने जब मंदिर के भीतर से धुआं उठता हुआ देखा तो उन्होंने अन्य लोगों को इस मामले की जानकारी दी। मंदिर में आग लगने की जानकारी मिलते मौके पर पहुंचे लोगों ने सामूहिक प्रयास करते हुए मंदिर में लगी आग पर काबू पा लिया।

जनपद अमरोहा के हसनपुर तहसील क्षेत्र के कस्बा उझारी में सूमाठेर रोड पर जब आज बृहस्पतिवार की सवेरे लोगों की आवाजाही शुरू हुई तो सड़क किनारे चामुंडा मंदिर के भीतर से उन्हें धुआं निकलता हुआ दिखाई दिया। मंदिर में आग लगने की जानकारी मिलते ही राहगीरो ने अन्य लोगों को इस मामले से अवगत कराया। मंदिर में आग लगने की जानकारी मिलते ही अनेक लोगों की भीड़ मौके पर जमा हो गई और उन्होंने सामूहिक प्रयास करते हुए मौके पर उपलब्ध संसाधनों के जरिए मंदिर में लगी आग पर काबू पा लिया। इसी बीच पुलिस को मामले की सूचना मिल गई और उसने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच पड़ताल की।

मंदिर के अंदर हनुमान जी की मूर्ति स्थापित है किसी शरारती तत्व ने मंदिर के अंदर के मूर्ति के नजदीक पड़ी हवन की लकडियों में आग लगा दी। गनीमत इस बात की रही कि मंदिर में आग लगने से किसी प्रकार का बड़ा नुकसान नहीं हुआ है। मंदिर में आग लगने की घटना पर ग्रामीणों ने गहरा रोष जताते हुए प्रदर्शन कर पुलिस से मामले में छानबीन आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है।

28 को ‘वीर बालक स्मारक’ का लोकार्पण करेंगे, पीएम 

28 को ‘वीर बालक स्मारक’ का लोकार्पण करेंगे, पीएम 

इकबाल अंसारी 

गांधीनगर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 28 अगस्त को गुजरात में कच्छ के अंजार में ‘वीर बालक स्मारक’ का लोकार्पण करेंगे। सरकारी सूत्रों के अनुसार 26 जनवरी 2001 को कच्छ और गुजरात सहित पूरा देश गणतंत्र दिवस की ख़ुशियाँ मना रहा था, लेकिन विनाशक भूकंप की तबाही ने देशभक्ति के महौल में रंगे कच्छ ज़िले के अंजार शहर में ख़ुशियों के माहौल को मातम में बदल दिया था।

गणतंत्र दिवस के अवसर पर हाथों में तिरंगा लिए एक रैली में शामिल होने जा रहे अंजार के 185 स्कूली बच्चे और 20 शिक्षक भूकंप के कारण धराशायी हुई इमारतों के मलबे में दब गए थे। इस घटना से समूची दुनिया स्तब्ध रह गई थी। गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इन बच्चों की स्मृति में एक स्मारक बनाने की घोषणा की थी। अब यह स्मारक अंजार शहर के बाहरी क्षेत्र में बन कर तैयार हो गया है और 28 अगस्त रविवार को श्री मोदी इसका लोकार्पण करने जा रहे हैं। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के मार्गदर्शन में इस स्मारक के निर्माण कार्य को अंतिम रूप दिया गया है। दिवंगत बच्चों के परिवार के 100 सदस्यों को स्मारक के लोकार्पण अवसर पर उपस्थित रहने का आमंत्रण दिया गया है। दिवंगत बच्चों को समर्पित इस म्यूज़ियम को पाँच विभागों में बनाया गया है। पहले विभाग में दिवंगत बच्चों की तस्वीरों और अतीत के स्मरणों को प्रस्तुत किया गया है। उसके बाद विनाश विभाग में दर्शाये गए मलबे में मृत बच्चों के स्मृति चिह्न और उनकी प्रतिकृतियाँ प्रस्तुत की गई हैं। यहाँ से आगे जाने पर भूकंप का अनुभव कराने वाले एक विशेष कक्ष का निर्माण किया गया है।

यहाँ सिम्युलेटर तथा पर्दे पर वीडियो के साथ भूकंप की अनुभूति कराई जाएगी। इसके अलावा ज्ञान-विज्ञान विभाग में भूकंप आने की प्रक्रिया, उसके वैज्ञानिक कारणों और अन्य आवश्यक जानकारियों का समावेश किया गया है। समापन गैलरी में आगंतुकों से भूकंप के अनुभवों के बारे में सवाल पूछे गए हैं। मेमोरियल में बच्चों के नाम और श्रद्धांजलि के लिए प्रकाशपुंज म्यूज़ियम के बाहर मेमोरियल बनाया गया है। यहाँ भूकंप का शिकार बने मासूम बच्चों और शिक्षकों के नाम उनकी तस्वीरों के साथ दीवार पर लिखे गए हैं। उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए यहाँ एक शक्तिशाली प्रकाशपुंज बनाया गया है, जिससे निकलने वाला प्रकाश पूरे अंजार शहर में दिखाई देगा।

गोवा: सोनाली की मौंत मामलें में हत्या का केस दर्ज  

गोवा: सोनाली की मौंत मामलें में हत्या का केस दर्ज  

इकबाल अंसारी 

पणजी। बीजेपी की नेता और टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट की मौंत मामलें में गोवा पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने सोनाली के भाई की शिकायत पर केस में हत्या कि धारा जोड़ी है, जिसमें सोनाली के दो साथियों का नाम दर्ज किया गया है। हरियाणा के हिसार की रहने वाली फोगाट को संदिग्ध रूप से दिल का दौरा पड़ने पर उन्हें मंगलवार की सुबह नार्थ गोवा जिले के अंजुना में सेंट एंथनी अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में उन्हें मृत घोषित कर दिया गया था।

पुलिस ने अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज किया है। पोस्टमॉर्टम की प्रक्रिया बुधवार को गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच) में होने वाली थी, लेकिन फोगाट के भाई रिंकू ढाका ने बुधवार को दावा किया कि उसकी बहन के दो साथियों ने उसकी हत्या की है। उन्होंने कहा था कि परिवार पोस्टमॉर्टम की अनुमति तभी देगा जब गोवा पुलिस दोनों व्यक्तियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करेगी।

हाइड्रोजन से चलने वाला पहला यात्री ट्रेन नेटवर्क लॉन्च 

हाइड्रोजन से चलने वाला पहला यात्री ट्रेन नेटवर्क लॉन्च 

अखिलेश पांडेय 

बर्लिन। हाइड्रोजन से चलने वाला दुनिया का पहला यात्री ट्रेन नेटवर्क जर्मनी के राज्य लोअर सैक्सोनी में लॉन्च कर दिया गया है। चार साल पहले इसका परीक्षण शुरू हुआ था। लोअर सैक्सोनी, एलएनवीजी के स्थानीय परिवहन प्राधिकरण के हवाले से कहा कि, फ्रांसीसी निर्माता एल्सटॉम की बनाई हाइड्रोजन ईंधन सेल ड्राइव वाली 14 ट्रेनें डीजल ट्रेनों की जगह लेंगी। नई ट्रेनों में से पांच पहले से ही परिचालन में हैं, जबकि अन्य इस साल के अंत तक चलने वाली हैं। लोअर सैक्सोनी के मंत्री स्टीफन वेइल ने कहा, यह परियोजना दुनिया भर में एक रोल मॉडल है। नवीकरणीय ऊर्जा की स्थिति के रूप में, हम इस प्रकार परिवहन क्षेत्र में जलवायु तटस्थता के मार्ग पर एक मील का पत्थर स्थापित कर रहे हैं। एलएनवीजी ने कहा कि, दो साल के परीक्षण संचालन के दौरान, दो प्री-सीरीज ट्रेनें बिना किसी समस्या के चलीं। परियोजना की कुल लागत लगभग 93 मिलियन यूरो है।

अलस्टॉम ने एक बयान में कहा कि कोराडिया आईिलंट उत्सर्जन मुक्त हाइड्रोजन ईंधन सेल ट्रेनों की रेंज 1,000 किमी है, जिससे वे हाइड्रोजन के सिर्फ एक टैंक पर दिन भर चलने में सक्षम हैं। एलएनवीजी के अनुसार, ट्रेनें 1.6 मिलियन लीटर डीजल की बचत करेंगी और इस तरह प्रति वर्ष सीओ2 उत्सर्जन में 4,400 टन की कमी करेंगी। ट्रेन की अधिकतम गति 140 किमी प्रति घंटा है। एलएनवीजी के प्रवक्ता डिर्क अल्टविग ने सिन्हुआ को बताया, हम भविष्य में और डीजल ट्रेनें नहीं खरीदेंगे।उन्होंने कहा कि उपयोग में आने वाली अन्य पुरानी डीजल ट्रेनों को बाद में बदला जाना चाहिए। कंपनी को अभी यह तय करना है कि हाइड्रोजन या बैटरी से चलने वाली ट्रेनों का संचालन किया जाए या नहीं। जर्मनी का लक्ष्य 1990 के स्तर की तुलना में 2030 तक ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को 65 प्रतिशत तक कम करना है।

शुद्ध कार्बन उत्सर्जन को घटाकर शून्य करने का लक्ष्य 

शुद्ध कार्बन उत्सर्जन को घटाकर शून्य करने का लक्ष्य 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) ने 2046 तक शुद्ध कार्बन उत्सर्जन को घटाकर शून्य करने का लक्ष्य तय किया है। कंपनी के चेयरमैन एस एम वैद्य ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इसके लिए दो लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि कंपनी के तेल शोधन और पेट्रोरसायन कारोबार में कुल 2.15 करोड़ टन कार्बन डाईऑक्साइड का उत्सर्जन होता है।

उन्होंने कहा कि कंपनी ऊर्जा दक्षता, विद्युतीकरण और ईंधन प्रतिस्थापन के जरिये रिफाइनरी और पेट्रोरसायन कारोबार के संचालन को कार्बन मुक्त करने की योजना बना रही है। वैद्य ने कहा, ‘‘आईओसी 2046 तक शुद्ध शून्य उत्सर्जन के लक्ष्य को हासिल करेगी, जब देश आजादी के 99वें वर्ष का जश्न मनाएगा।’’

52,297 रुपये प्रति 10 ग्राम पर सोना, चांदी में उछाल 

52,297 रुपये प्रति 10 ग्राम पर सोना, चांदी में उछाल 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। वैश्विक बाजारों में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में मजबूती के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में बृहस्पतिवार को सोने का भाव 402 रुपये चमक कर 52,297 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी। इससे पिछले कारोबारी सत्र में सोना 51,895 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। इसके साथ ही चांदी भी 711 रुपये उछलकर 56,191 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का भाव मजबूती के साथ 1,763 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा था। चांदी 19.35 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर रही। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा, ‘‘अमेरिका के कमजोर आर्थिक आंकड़ों और डॉलर में गिरावट से सोने की कीमतों में तेजी रही।

दूसरे संस्करण 'वेन्यू एन लाइन' के लिए बुकिंग शुरू 

दूसरे संस्करण 'वेन्यू एन लाइन' के लिए बुकिंग शुरू 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। वाहन कंपनी हुंडई मोटर इंडिया ने एन लाइन श्रृंखला के तहत अपने दूसरे संस्करण वेन्यू एन लाइन के लिए बुकिंग शुरू कर दी है। कंपनी ने बृहस्पतिवार को इसकी जानकारी दी। कंपनी ने कहा कि मॉडल के लिए बुकिंग ऑनलाइन या हुंडई सिग्नेचर आउटलेट्स पर 21,000 रुपये का भुगतान करके की जा सकती है। कंपनी ने कहा कि वह स्पोर्टी वाहन पसंद करने वाले ग्राहकों की मांग पर ध्यान दे रही है। कॉम्पैक्ट एसयूवी को स्पोर्टी स्टाइल देने के लिए इसकी बाहरी और आंतरिक साजसज्जा में बदलाव किए गए हैं। पिछले साल सितंबर में हुंडई ने देश में आई20 एन लाइन पेश की थी।

हुंडई मोटर इंडिया के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) उन्सू किम ने बयान में कहा कि हुंडई आई20 एन लाइन को 2021 में बाजार में आने के बाद से ही मजबूत प्रतिक्रिया मिली है। अब, हुंडई वेन्यू एन लाइन की शुरुआत के साथ, हम भारतीय ग्राहकों के लिए एसयूवी चलाने के अनुभव को और बेहतर बनाएंगे।

प्रदेश अध्यक्ष के रूप में साहा की जगह लेंगे, भट्टाचार्य

प्रदेश अध्यक्ष के रूप में साहा की जगह लेंगे, भट्टाचार्य

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बृहस्पतिवार को राजीव भट्टाचार्य को पार्टी की त्रिपुरा इकाई का अध्यक्ष नियुक्त किया। वह अभी तक प्रदेश इकाई में उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी निभा रहे थे। भट्टाचार्य प्रदेश अध्यक्ष के रूप में माणिक साहा की जगह लेंगे। वर्ष 2020 में भाजपा ने साहा को प्रदेश अध्यक्ष बनाया था। इसी साल मई महीने में विप्लब देब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद उन्हें राज्य का मुख्यमंत्री बनाया गया था। तब से वह मुख्यमंत्री के साथ ही प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी भी संभाल रहे थे।

पार्टी की ओर से जारी एक आधिकारिक बयान में भाजपा महासचिव अरुण सिंह ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने राजीव भट्टाचार्य को त्रिपुरा में पार्टी का अध्यक्ष नियुक्त किया है। भट्टाचार्य को उनके सांगठनिक कौशल के लिए जाना जाता है। वह प्रदेश इकाई में कोषाध्यक्ष और महासचिव के पद पर भी रह चुके हैं। उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री विप्लब देब का करीबी माना जाता है।

कामत को 'डीआरडीओ' का अध्यक्ष नियुक्त किया 

कामत को 'डीआरडीओ' का अध्यक्ष नियुक्त किया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रतिष्ठित वैज्ञानिक समीर वी. कामत को बृहस्पतिवार को रक्षा अनुसंधान और विकास विभाग का सचिव तथा रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) का अध्यक्ष नियुक्त किया गया। कार्मिक मंत्रालय की ओर से जारी एक आदेश में यह जानकारी दी गई।

कामत, वर्तमान में डीआरडीओ के ‘नेवल सिस्टम्स एंड मैटेरियल्स’ प्रभाग के महानिदेशक हैं और वह जी. सतीश रेड्डी का स्थान लेंगे, जिन्हें रक्षा मंत्री का वैज्ञानिक सलाहकार नियुक्त किया गया है। कामत 60 वर्ष की आयु पूर्ण करने या अगले आदेश तक पद पर रहेंगे।

विद्रोही गुट के विधायकों पर तीखा हमला: ठाकरे 

विद्रोही गुट के विधायकों पर तीखा हमला: ठाकरे 

कविता गर्ग 

मुंबई। शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने गुरुवार को मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले विद्रोही गुट के विधायकों पर उस समय तीखा हमला बोला, जब विधायकों ने बैनर दिखाकर उनका मजाक उडाया। आदित्य ठाकरे ने विधानसभा में कहा, “मंत्री पद पाने को लेकर नेताओं को प्रभावित करने के लिए मेरा बैनर दिखा जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘जो विरोध हो रहा हैं, उनके लिए मुझे खेद है। मैं उनके चेहरे पर तनाव देख सकता हूं। वे ऐसी स्थिति में हैं क्योंकि शिवसेना का समर्थन बढ़ रहा है।‘ विधानसभा सत्र के आखिरी दिन शिंदे गुट के विधायकों ने श्री ठाकरे को एक बैनर दिखाते हुए निशाना साधा, जिसमें उन्हें घोड़े की पीठ पर पीछे की ओर बैठा दिखाया गया।

ठाकरे ने कहा, ‘आप उनके चेहरों पर भय और निराशा दोनों देख सकते हैं।‘ उन्होंने कहा, ‘यह सब मंत्री पद पाने के लिए किया जा रहा है, मैं समझता हूं। ये लोग आम आदमी की पीठ में छुरा घोंप रहे हैं।‘ उन्होंने कहा कि शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार को ‘बेशर्मी और विश्वासघात से हटाया गया है। हर गली का बच्चा-बच्चा यह भी जानता है कि 50 बक्से का मतलब क्या होता है ?

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 10,725 नए मामलें 

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 10,725 नए मामलें 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 10,725 नए मामलें सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 4,43,78,920 हो गई, जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 94,047 रह गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण (Covid-19 Update) से 36 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या बढ़कर 5,27,488 हो गई। इन 36 मामलों में वे पांच लोग भी शामिल हैं, जिनके नाम संक्रमण से मौत के आंकड़ों (Covid-19 Update) का पुन: मिलान करते हुए केरल ने संक्रमण से जान गंवाने वालों की सूची में डाले हैं।

देश में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 94,047 रह गई है, जो कुल मामलों का 0.21 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 2,395 मामलों की कमी दर्ज की गई। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर बढ़कर 98.60 प्रतिशत हो गई। गौरतलब है कि देश में सात अगस्त 2020 को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और पांच सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले एक करोड़ से अधिक हो गए थे। पिछले साल चार मई को संक्रमितों की संख्या दो करोड़ और 23 जून 2021 को तीन करोड़ के पार पहुंच गई थी। इस साल 25 जनवरी को संक्रमण के मामले चार करोड़ के पार हो गए थे।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 









प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-321, (वर्ष-05)

2. शुक्रवार, अगस्त 26, 2022

3.शक-1944, भाद्रपद, कृष्ण-पक्ष, तिथि-चतुर्दशी, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 05:51, सूर्यास्त: 06:56। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 27 डी.सै., अधिकतम-34+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक कासहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...