गुरुवार, 10 सितंबर 2020

चीनी 'ड्रैगन' पर ट्रंप ने किया तगड़ा वार

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन औऱ अमेरिका के बीच छि़ड़े ट्रेड वार और वर्ड वार के बीच अब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आदेश के तहत 1000 चीनी नागरिकों का यूएस वीजा रद्द कर दिया गया है। बुधवार को विदेश विभाग के प्रवक्ता ने बयान जारी कर बताया कि 29 मई के राष्ट्रपति पद की घोषणा के तहत 1000 से अधिक चीनी नागरिकों के अमेरिकन वीजा को रद्द कर दिए गए हैं। बताया गया है कि यह कदम सुरक्षा को खतरे के मद्दनेजर उठाया गया है।


महीनों पुराने प्रस्ताव पर विचार करते हुए यह फैसला लिया गया हैः अमेरिका
अमेरिकी गृह विभाग के कार्यवाहक मंत्री चेड वोल्ड ने मामले पर कहा कि अमेरिका चीन के खुफिया विभाग अथवा पीपुल्स लिबरेशन आर्मी से संबद्ध चीन के शैक्षणिक संस्थानों से जुड़े स्नातक छात्रों और शोधार्थियों के वीजा रद्द करने के महीनों पुराने प्रस्ताव पर विचार करते हुए यह फैसला लिया है, क्योंकि वो जासूसी या बौद्धिक संपदा की चोरी जैसे खतरा पैदा कर सकते हैं। चेड वोल्फ ने चीन पर अन्यायपूर्ण व्यापार व्यवहार, औद्योगिक जासूसी और कोरोना रिसर्च चुराने का आरोप लगाते हुए कहा कि यह चीन-अमेरिका द्वारा छात्रों को दिए जा रहे वीजा का दुरुपयोग कर रहा है।


चीनी छात्रों और शोधार्थियों की चीनी सेना के साथ मिलीभगत हैः अमेरिका
1000 से अधिक चीनी छात्रों के वीजा रद्द करने की कार्रवाई पर अमेरिकी विदेश विभाग की ओर से कहा गया है कि उक्त फैसला राष्ट्रपति ट्रंप की 29 जुलाई की घोषणा के तहत किया गया है, ताकि उन्हें अनुसंधान से जुड़ी जानकारियों को चुराने से रोका जा सके। चीनी छात्रों और शोधार्थियों पर यह आरोप भी लगाया गया है कि उनकी चीनी सेना के साथ मिलीभगत है।           


यूरोपीय देशों ने रूस को चेतावनी दी

मास्को। रूस के विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी पर हमले को लेकर यूरोपीय देशों ने रूस को चेतावनी दी है। रूस के नेता नवलनी को जहर देने के मामले में व्लादिमीर पुतिन की मुसीबतें बढ़ती ही जा रही हैं। इस मामले को लेकर यूरोप के कई देश पुतिन के खिलाफ सीधे तौर पर सामने आकर उनकी आलोचना कर रहे हैं। वहीं जर्मनी रूस पर कुछ प्रतिबंध लगाने की सोच रहा है। जर्मनी फिलहाल यूरोपीय यूनियन का प्रमुख है। जर्मनी के विदेश मंत्री हीको मास ने इस मामले पर साफ कहा है कि मॉस्को की ओर से इस बारे में कोई स्पष्टीकरण नहीं आता है तो हम जर्मनी पर कुछ प्रतिबंध लगाने का विचार करेंगे। जिसमें जर्मन-रूसी गैस पाइपलाइन परियोजना पर पुनर्विचार कर सकता है।  नवालनी के मामले में जर्मनी  डॉक्टर न कहा है कि इनको मारने में नोविचोक नर्व एजेंट जैसा रासायनिक पदार्थ उपयोग किया जा सकता है। फिर यूरोपीय यूनियन ने पिछले सप्ताह रासायनिक हथियार के इस्तेमाल की कड़ी निंदा की थी। और इसको अंतरराष्ट्रीय नियम का गंभीर उल्लंघन बताया था।


एक राजनायिक ने बताया कि यूरोपीय यूनियन ने जिन प्रतिबंधात्मक उपायों की बात कर रहा है इसका मतलब कुछ व्यक्तियों पर प्रतिबंध से है। अगर इसे लागू किया गया तो इन लोगों पर ईयू यात्रा पर रोक लगा दी जाएगी साथ ही क्षेत्र में उनकी किसी भी संपत्ति को जब्त कर लिया जाएगा।               


फ्रांस ने भारत को सामरिक साझेदार बताया

नई दिल्ली/ पेरिस। फ्रांंस ने बुधवार को भारत को एशिया में अपना ‘‘अग्रणी'' सामरिक साझेदार करार देते हुए कहा है कि उनकी रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ली की आसन्न यात्रा का मकसद भारत के साथ ‘दूरगामी' प्रभाव वाले रक्षा सहयोग को और मजबूत बनाना है।


पार्ली गुरुवार को भारत आ रही हैं जहां वह अंबाला में एक समारोह में हिस्सा लेंगी जिसमें पांच राफेल विमान के पहले दस्ते को भारतीय वायु सेना में शामिल किया जाएगा। फ्रांस की रक्षा मंत्री अपने भारतीय समकक्ष राजनाथ सिंह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ वार्ता भी करेंगी।             


अमेरिका में 'राष्ट्रपति चुनाव' आए करीब

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव अब करीब है, प्रचार और बयानबाजी चरम पर है। संपूर्ण विश्व का आकर्षण भी इस चुनाव में निहित समझें तो गलत नहीं होगा, क्योंकि विश्व जानता है कि अमेरिका के नेतृत्व परिवर्तन से विश्व के कई निर्णयों में परिवर्तन भी संभव है। जहां वर्तमान राष्ट्रपति ट्रंप अपनी ताकत बढ़ाने में लगे हैं और इसके लिए वे हर पक्ष और समूह से संपर्क में हैं, उसी तरह डेमोक्रेटिक पार्टी के बाइडेन भी अपनी दावेदारी मजबूत कर रहे हैं।


हाल ही में विस्कॉन्सिन प्रांत की केनशा में हुए एक कार्यक्रम में बाइडेन ने तिब्बत के विषय में स्पष्ट मत रखते हुए यह कहा कि अगर वे सत्ता में आए तो तिब्बत में चीनी अधिकारियों द्वारा मानवाधिकार के उल्लंघन पर प्रतिबंध लगाने का प्रयास करेंगे। साथ ही एक नया विशेष समन्वयक नियुक्त करेंगे जो इस बात पर जोर देगा कि चीनी सरकार अमेरिकी राजनयिकों, पत्रकारों और अमेरिकी नागरिकों को तिब्बत पहुंचने में कोई समस्या खड़ी न करे, ताकि तिब्बत के स्थानीय नागरिकों के मानवाधिकारों की रक्षा हो सके और उनकी मूल संस्कृति और परंपराओं पर कोई चीनी प्रतिबंध न रहे। यह बयान तब विशेष महत्व रखता है जबकि भारत व चीन सीमाओं पर आमने सामने है, कई स्तर की बातचीत, रक्षामंत्रियों की वार्ता, सैन्य अधिकारियों की वार्ता के बाद भी चीन की मानसिकता में कोई सुधार नहीं आया।


इतिहास के घटनाक्रम को देखें तो समझ मे आएगा कि अतिक्रमण चीन का चरित्र रहा है। वर्तमान में हम चीन देख रहे है, वह तिब्बत, मंगोलिया, हांगकांग आदि कई देश व द्वीपों पर जबरन अतिक्रमण के बाद बना है। ऐसी स्थिति में किसी अमेरिकी प्रतिनिधि द्वारा तिब्बत के विषय में उठाया गया यह व्यापक विचार ही माना जाएगा। हालांकि इसे भारतीय मूल के मतदाताओं को आकर्षित करने की योजना भी माना जा सकता है। यों विश्व जानता है कि चीन ने अपने आसपास के कई देशों में अतिक्रमण किया और उनके भूभाग पर कब्जा किया है। लेकिन अब स्थितियां बदल रही हैं। पिछले कुछ समय से सीमा पर चले आ रहे विवादों में भी भारतीय सेना ने विपरीत परिस्थिति और भौगोलिक चुनौतियों के बावजूद चीनी सैनिक घुसपैठियों को कई बार पटखनी दी। बहरहाल, अमेरिका में चुनावों के बाद नेतृत्व जो भी आए, अब अमेरिका भारत के सहयोगी के रूप में खड़ा रहेगा, ऐसी उम्मीद है।           


मुकाबले में धोनी ने मेरा मनोबल बढ़ाया

दुबई। टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने अपने पदार्पण मुकाबले को याद करते हुए कहा कि उस मैच में टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने उनका मनोबल बढ़ाया था। बुमराह ने 2016 में भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था। भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच मैचों की वनडे सीरीज के शुरु के चार मुकाबले हार चुकी थी और सिडनी में खेले गए पांचवें मुकाबले में बुमराह को खेलाया गया। इस मुकाबले में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया हराया।


बुमराह ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, “अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला धोनी का निजी निर्णय था और सभी इसका सम्मान करते हैं। लेकिन निजी तौर पर मैंने 2016 में उनके नेतृत्व में पदार्पण किया था और उन्होंने मेरा मनोबल काफी बढ़ाया था। कई लोगों को इस बात की जानकारी नहीं होगी कि धोनी ने इससे पहले तक मुझे किसी स्तर में गेंदबाजी करते नहीं देखा था।” उन्होंने कहा, “मेरे पदार्पण मुकाबले में जब मैं डेथ ओवर में गेंदबाजी करने गया तो मैंने धोनी से पूछा कि क्या में यार्कर फेंक सकता हूं। उन्होंने मुझसे कहा नहीं, आप यार्कर नहीं करेंगे। धोनी को उस वक्त लगा कि यह कठिन डिलेवरी है और मैं ऐसा नहीं कर पाऊंगा।” तेज गेंदबाज ने कहा, “मैं धोनी से कहा कि डेथ ओवरों में मुझे यार्कर के सिवाए अन्य गेंदबाजी के बारे में नहीं पता है। इसके बाद मैंने यार्कर ही फेंकी और धोनी मेरे पास आए और उन्होंने कहा कि तुम्हें पहले टीम में आना चाहिए था, हम सीरीज जीत सकते थे। एक तरफ जहां मैं पदार्पण के कारण काफी बैचेन था वहीं दूसरी ओर कप्तान का मुझे ऐसा कहना मेरे लिए सुखद था। उन्होंने मुझे खुलकर गेंदबाजी की इजाजत दी।”


आईपीएल में मुंबई इंडियंस की ओर से खेलने को लेकर उन्होंने कहा, “जब आप सफल फ्रेंचाइजी के लिए खेलते हैं तो उम्मीदें भी रहती हैं। हमारी टीम बेहद अच्छी है। ट्रेंट बोल्ट के टीम में शामिल होने से मुझे उनके साथ गेंदबाजी का अवसर मिलेगा। मुंबई इंडियंस के हौसले काफी बुलंद हैं।” इस साल के अंत में होने वाले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर बुमराह ने कहा, “जब हम पिछली बार ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गए थे तो यह काफी चुनौतीपूर्ण दौरा था लेकिन इसके नतीजे से हमें काफी खुशी हुई और यह हम सभी के लिए विशेष था। हर क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया दौरे पर इसलिए भी जाना चाहता है क्योंकि उसे पता होता है कि वहां चीजें आसान नहीं होंगी।”               


रेप के बाद जलाई गई 'हजारों महिलाएं'

यंगून। म्यांमार की सेना छोड़कर भागे दो सैनिकों ने अल्पसंख्यक रोहिंग्या के खिलाफ रखाइन प्रांत में हुए नरसंहार की बात कबूल की है। दो सैनिकों ने एक वीडियो में कबूल किया है कि अगस्त 2017 में उन्हें आदेश मिले थे कि जिन भी गांवों में अल्पसंख्यक रोहिंग्या रहते हैं, वहां 'जितने भी दिखें या जिनके बारे में पता चले उन सभी को गोलियां चला कर मार डालो।' इसके अलावा रोहिंग्या औरतों के रेप और जलाकर मारने जैसे वीभत्स जुर्म भी कबूल किये गए है।
न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक इन दो सैनिकों ने एक वीडियो गवाही में रखाइन प्रांत में रोहिंग्या मुसलमानों को फांसी देने, सामूहिक तौर पर दफनाने, गांवों को तबाह करने और बलात्कार की बात स्वीकार की है।         


पाकिस्तानियों की किडनी चुरा रहा 'चीन'

बीजिंग/इस्लामाबाद। जिस चीन को पाकिस्तान अपना सबसे बड़ा हमदर्द बताता है, वो पाकिस्तान के ही लोगों के अंगों का कारोबार कर रहा है। चीन के बाजार में पाकिस्तान के लोगों की किडनी और लीवर सरेआम बिक रहे हैं। इमरान सरकार की कंगाली का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि दो जून की रोटी के लिए वो गधों और घोड़ों तक का सौदा कर चुकी है। मगर अब बात इससे भी दो कदम आगे बढ़ चुकी है।


दरअसल, पाकिस्तान को उम्मीद थी कि चीन की सरकार उसे इस कंगाली से उबरने में मदद करेगी। मगर ड्रैगन ने उसे ऐसा दगा दिया कि जिसकी उम्मीद पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम ने सपने में भी नहीं की होगी। मदद करने के बजाए चीन पाकिस्तान के लोगों की किडनी निकालने में जुटा है।             


भरपाई मुश्किल, टीम मजबूत हैः वाटसन

अबु धाबी। चेन्नई सुपर किंग्स के अनुभवी ऑलराउंडर शेन वाटसन का कहना है कि टीम को साथी खिलाड़ी सुरेश रैना की कमी खलेगी और उनकी भरपाई कर पाना मुश्किल होगा लेकिन उनकी टीम मजबूत है। चेन्नई के ऑलराउंडर रैना निजी कारणों के चलते संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक होने वाले आईपीएल के 13वें सत्र से हट गए थे। रैना हालांकि गत 21 अगस्त को टीम के साथ यूएई आए थे लेकिन कुछ दिनों बाद वह निजी कारणों का हवाला देकर स्वदेश लौट गए थे।  रैना के बाद टीम के ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने भी निजी कारणों के चलते आईपीएल के इस सत्र से हटने का फैसला किया था।


वाटसन ने नबील हाशमी के यूट्यूब कार्यक्रम में कहा, “हमें रैना और हरभजन की अनुपस्थिति से पार पाना होगा। लेकिन चेन्नई के लिए राहत भी बात यह है कि वह भी अन्य टीमों की तरह मजबूत है। रैना की भरपाई करना मुश्किल है, आप ऐसा नहीं कर सकते।” उन्होंने कहा, “वह आईपीएल के ऐसे दूसरे खिलाड़ी हैं जिन्होंने टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाए हैं। आईपीएल के इतिहास में रैना ने सबसे ज्यादा मुकाबले खेले हैं। रैना की कमी वाकई खलेगी। यूएई का वातावरण गर्म है और ऐसे में पिच काफी सूखी होगी जहां गेंद टर्न होगी। रैना स्पिन को बेहतर तरीके से खेलना जानते हैं।”


वाटसन का कहना है कि इसमें कोई शक नहीं कि टीम में रैना की कमी खलेगी लेकिन उनकी अनुपस्थिति में मुरली विजय और पीयूष चावला जैसे बेहतरीन खिलाड़ियों को ज्यादा अवसर मिलेंगे। वाटसन ने कहा, “इसमें कोई शक नहीं कि रैना का टूर्नामेंट से हटना हमारे लिए काफी नुकसान भरा है लेकिन हमारे पास टीम में मुरली विजय हैं जो बेहतरीन खिलाड़ी हैं। पिछले कुछ वर्षों में उन्हें टी-20 में ज्यादा अवसर नहीं मिले हैं लेकिन वह वाकई एक अच्छे बल्लेबाज हैं। मुरली को इस साल ज्यादा अवसर मिलने की उम्मीद है।”           


चीनी सैनिकों ने फिर भारत में घुसपैठ की

बीजिंग/ नई दिल्ली। चीन ने लगातार दूसरे दिन लद्दाख में भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की। 8 सितंबर को चीनी सैनिकों ने मोटरबोट्स पर सवार होकर पेंगोंग झील के पश्चिमी किनारे के रास्ते भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की, लेकिन भारतीय सैनिकों को देखकर वापस लौट गए। इससे एक दिन पहले चुशूल की मुखपरी पहाड़ी पर कब्जा करने के लिए चीनी सैनिक आए थे लेकिन भारतीय सैनिकों ने उन्हें वापस खदेड़ दिया। सूत्रों के मुताबिक 8 सितंबर को शाम करीब 5 बजे दो मोटरबोट्स पर चीनी सैनिकों ने फिंगर 4 से आगे बढ़ने की कोशिश की। बता दें कि फिंगर 4 पर चीनी सैनिकों ने मई से कब्जा किया हुआ है। इन बोट्स में करीब 40 चीनी सैनिक थे।             


31 संक्रमित मिलने से जिले में मचा हड़कंप

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


31 कोरोना मरीज मिलने से मचा हड़कंप


हापुड़। जनपद में बृहस्पतिवार को 31 मरीज मिलनें से हड़कंप मच गया। सभी को आईसोलेट कर क्षेत्रों को सैनाटाइज किया जा रहा है।
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार बृहस्पतिवार को जनपद में शाम को रजनी विहार पिलखुवा 4, शफीक कालोनी हापुड़ 1, अम्बेडकर नगर हापुड़ 1, पुलिस लाईन हापुड़ 1, आजमपुर 1, मानक चैंक 1, गढ़ रिफ्यूजी कालोनी 1, जमालपुर सिम्भावली 1, आवास विकास कालोनी 1, चमरी 1, उबारपुर 5, बक्सर सिम्भावली 1, शिवपुरी 2, अल्का कालोनी 1, चण्डी मंदिर पिलखुवा 1, सिरोधन 1, दोपहर तक हापुड़ के रेलवे रोड़ पर एक,श्रीनगर में एक,अशोक कालोनी में दो,शिवपुरी में एक,गढ़ के अल्लाबख्शपुर में एक मरीज मिलें है। सभी को आईसोलेट कर क्षेत्रों को सैनाटाइज किया जा रहा हैं।                 


शिकायत निस्तारण में 'प्रदेश' में पहला स्थान

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


शिकायतों के निस्तारण में प्रदेश में आया प्रथम स्थान,


हापुड़ एक बार फिर


हापुड़। जनपद को आइजीआरएस पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों के निस्तारण में प्रदेश में प्रथम स्थान मिला हैं। डीएम ने सभी अधिकारियों को दी बधाई, इसी कार्य कुशलता के साथ आगे भी कार्य करने के लिए निर्देशित किया। आई जी आर एस में माह अगस्त 2020 में भी पूरे प्रदेश में समस्याओं के निस्तारण करने में शत-प्रतिशत अंक हासिल करते हुए प्रथम स्थान प्राप्त किया है, जिसके लिए जिलाधिकारी अदिति सिंह ने समस्त अधिकारी व कर्मचारियों को बधाई देते हुए कहा है कि यह सरकार का बहुत ही महत्वपूर्ण शिकायती पोर्टल हैं। जिस पर प्राप्त होने वाली शिकायतों के निस्तारण में गुणवत्ता परक कार्य करने हेतु समस्त जनपद स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित भी किया, ताकि सरकार के इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम का हापुड़ की जनता को निरंतर रूप से समयबद्धता के साथ लाभ प्राप्त होता रहे।               


युवतियों ने दरोगा की लाइसेंसी पिस्टल उड़ाई

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


दारोगा की लाईसेंसी पिस्टल युवतियों ने उड़ाई


हापुड़। अपनी पत्नी के साथ ईं- रिक्शा में बैठकर लौट रहे एक बीएसएफ के एएसआई के बैग से दो युवतियों व एक महिला पर लाइसेंसी पिस्टल निकालनें का आरोप लगाया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं। जानकारी के अनुसार त्रिपुरा में बीएसएफ में तैनात एएसआई मुनीष कुमार हापुड़ के प्रीत विहार में रहते हैं। छुट्टियों में वे तीन सितम्बर की शाम अपनी पत्नी के साथ बाबूगढ़ से ई रिक्शा में वापस अपनें घर लौट रहे थे। रिक्शा में दो युवती व महिला भी बैठी थी। पीड़ित दरोगा ने थानें में दी तहरीर में आरोप लगाया कि घर पहुंचे पर उनकी लाईसेंसी पिस्टल व मैनजीन गायब थी।जिसको उन युवतियों व महिला ने चोरी कर लिया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी।               


12 वर्षीय मासूम बच्ची को कैद कर किया रेप

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी
हापुड़। दो युवकों ने 12 साल की बच्चीं को खानें की चीज देनें के बहाने बहला फुसलाकर घर में ले जाकर किया रेप हुए फरार हो गए।
थाना प्रभारी निरीक्षक सुबोध कुमार सक्सेना ने बताया कि हापुड़ के एक गांव निवासी 12 वर्षीय बच्चीं को गांव के ही दो युवक गौरव व राजू ने बच्चीं को चीज दिलानें के बहानें अपने घर ले जाकर रेप किया और बच्चीं को रास्ते में छोड़ फरार हो गए। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरु कर दी हैं।                


वाहन चोर गिरोह के 3 सदस्य गिरफ्तार

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


दुकानों को टारगेट कर चोरी करनें वालें गैंग के तीन सदस्य गिरफ्तार, हथियार बरामद


हापुड़। दुकान व घरों को टारगेट बनाकर तालें तोड़कर चोरी करनें वालें गैंग के तीन सदस्यों को पुलि ने गिरफ्तार कर लिया, जबकि एक फरार हो गया। पुलिस ने बदमाशों से हथियार व उपकरण बरामद किए हैं। शहर कोतवाल सुबोध सक्सेना ने बताया कि बीती रात्रि मोदीनगर रोड़ पर गश्त के दौरान पुलिस ने रेलवे के एक खंड़हर में चोरी की योजना बनाते तीन बदमाशों हिमांशु, हरि,नीतिन को गिरफ्तार कर तंमचें व उपकरण बरामद किए। उन्होंने बताया कि आरोपी दुकानों, घरों व अन्य को टारगेट बनाकर ताले तोड़कर चोरी करते थे।               


22 घंटे में बालक से कुशल बरामद किया

अतीश त्रिवेदी 


लखीमपुर खीरी। थाना कोतवाली सदर पुलिस एवं क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम द्वारा गुमशुदा बालक सूर्यप्रताप सिंह (उम्र 10 वर्ष) को 22 घंटे के अंदर सुकुशल बरामद किया गया। पुलिस अधीक्षक महोदय खीरी के कुशल निर्देशन एवं मार्गदर्शन में तथा अपर पुलिस अधीक्षक महोदय के निकट पर्यवेक्षण में एवं क्षेत्राधिकारी सदर के नेतृत्व में आज दिनांक 10.10.20 को थाना कोतवाली सदर पुलिस एवं क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम द्वारा कल दिनांक 09.09.20 को गुमशुदा हुये। बालक सूर्यप्रताप सिंह उर्फ फन्टू (उम्र करीब 10 वर्ष) पुत्र अशोक सिंह भदौरिया निवासी मो0 अग्निहोत्री नगर, चूना भट्ठी के सामने, गढ़ी रोड थाना को0सदर खीरी को 22 घंटे के अंदर ग्राम पनगी खुर्द, रामापुर से सकुशल बरामद किया गया है। बच्चे की सकुशल बरामदगी होने पर पुलिस अधीक्षक महोदय खीरी द्वारा पुलिस टीम के उत्साहवर्धन हेतु 10,000 रू0 के पुरस्कार की घोषणा की गयी है। उक्त घटना के संबंध में कल दिनांक 09.09.20 को थाना कोतवाली सदर पर मु0अ0सं0 988/20 धारा 363 भादवि पंजीकृत किया गया था। प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा क्षेत्राधिकारी सदर के नेतृत्व में 4 टीमों का गठन किया गया था। साथ ही सादे वस्त्रों में भी पुलिसकर्मियों को विभिन्न स्थानों पर नियुक्त किया गया था। गुमशुदा बच्चे के निवास स्थान की गूगल मैपिंग कर तकनीकी रूप से संशाधनों को प्रयोग किया जा रहा था। जिसके परिणामस्वरूप 22 घंटे के अंदर आज दिनांक 10.10.20 को गुमशुदा बच्चे की सकुशल बरामदगी की गयी।


2 साल पहले प्रस्ताव पास, नहीं कोई निर्माण

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। ट्रांस हिंडन क्षेत्र के वसुंधरा सेक्टर 10-12 की मुख्य सड़क के निर्माण को लेकर वार्ड 36 के पार्षद अरविंद चौधरी ने नगर निगम से 2 वर्ष पहले ही प्रस्ताव पास करा लिया था। परंतु, निर्माण विभाग के निरीक्षण में उस मार्ग पर पानी के पाइपलाइन की लीकेज पाई गई, जिसको लेकर जलकल विभाग को सूचना दे दी गई थी। जलकल विभाग द्वारा पार्षद से हुई वार्ता में अधिकारियों ने मौखिक तौर पर इस समस्या के निवारण की बात कही गयी, लेकिन लिखित तौर पर न मिल पाने के कारण पाइपलाइन रिपेयर का काम दो साल से लंबित है। इस कारण स्थानीय निवासियों में नगर निगम और पार्षद को लेकर काफी रोष है।  स्थानीय निवासियों का कहना है कि 2 वर्षों से इस सड़क की हालत ऐसी ही दयनीय स्थिति में है। हर बरसात में ये सड़क नदियों में तब्दील हो जाती है और कई बार दुर्घटना भी हो चुकी है।


वही इस मामले में पार्षद अरविंद चौधरी ने बताया की हमने अनेक बार इस मामले को नगर निगम के वरिष्ठ अधिकारियों के सामने रखा , लेकिन हर बार ये मामला ठंडे बस्ते में चला जाता है । जनता का रोष बिल्कुल जायज़ है , नगर निगम का सुस्त रवैया और खासकर जलकल विभाग सिर्फ एक पत्र को देने में इतने दिनों का समय ले रहा है ।


पार्षद अरविंद चौधरी कहा कि  अब हम इस मामले को आगामी बोर्ड मीटिंग में महापौर व नगर आयुक्त के सामने रखेंगे और जल्द से जल्द इसे कराने की मांग करेंगे । वही इस मामले में नगर निगम ने अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।                


क्या ऐसे चुनाव जीत पाएगी कांग्रेस पार्टी

मधुकर कहिन


 क्या ऐसे जीतेगी आने वाले चुनावों में कांग्रेस पार्टी ?


आज का दिन अजमेर की कांग्रेस हुड़दंग के हवाले हो गई। आप पूछेंगे कैसा हुड़दंग भाई ? तो साहब बिल्कुल वैसा ही जैसा सचिन पायलट और उनके समर्थकों ने कुछ समय पूर्व ,कभी जयपुर तो कभी दिल्ली और कभी हरियाणा के होटल में बैठकर मचाया था। बिल्कुल उसी तर्ज पर जब आज अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राजस्थान प्रभारी अजय माकन अजमेर आये , तो माकन के सामने अपना वर्चस्व साबित करने के लिए, सैकड़ों ऐसे चेहरे जो कांग्रेस में कभी दिखाई ही नहीं दिए। हाथों में झंडे लिए डॉ रघु शर्मा और अशोक गहलोत विरोधी नारे लगाते हुए दिखाई दिए।  देख कर लग रहा था कि ये लोग कांग्रेसी है भी या नहीं ?
ये गुमनाम चेहरे अशोक गहलोत मुर्दाबाद और रघु शर्मा मुर्दाबाद के साथ सचिन पायलट जिंदाबाद के नारे लगाते हुए दिखाई दिए। इन्हीं लोगों ने क्षेत्र में एक भी होर्डिंग या पोस्टर बैनर ऐसा नहीं बख्शा , जिस पर अशोक गहलोत और रघु शर्मा की तस्वीर लगी हो । वह तस्वीर चाहे डॉ श्रीगोपाल बाहेती ने लगाई हो चाहे डॉ राजकुमार जयपाल ने। जहाँ भी गहलोत और डॉ शर्मा की तस्वीर दिखाई दी , उसको उतार फेंका गया। कई जगह इस भीड़ ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच धक्का-मुक्की भी की। जिसके फलस्वरूप परेशान होकर पुलिस को कुछ लोगों को खदेड़ कर गिरफ्तार भी करना पड़ा।हैरत की बात देखिए। अशोक गहलोत और रघु शर्मा की तस्वीरें लगी होर्डिंग और पोस्टर फाड़ने और उधम मचाने वाले लोगों को, जब पुलिस उठाकर ले गई तो उन्हें छुड़ाने भी कौन पहुंचा ? छुड़ाने पहुंचे कांग्रेस पार्टी के ही विधायक और पायलट समर्थक राकेश पारीक और अजमेर दक्षिण से चुनाव हारे हुए कांग्रेस प्रत्याशी हेमंत भाटी।
       यह सब देख कर मेरे पास हाल ही में, बतौर स्क्रिप्ट राइटर ज्वाइन किए एक नए ट्रेनी ने पूछा - भैया, यह कांग्रेसी होकर कांग्रेस के पोस्टर क्यूँ फाड़ रहे हैं? इन लोगों को ऐसा करते हुए शर्म नहीं आती क्या ? देखने वाले आम लोग क्या सोचेंगे ? उनमें क्या संदेश जाएगा ?
उस नए के सादे और सरल दिमाग की यह बात सुनकर मां कसम खोपड़े में छेद हो गया!
आम आदमी यकीनन ऐसा ही सोचता होगा , जब कांग्रेस का झंडा हाथ में लिए कोई व्यक्ति कांग्रेस का ही पोस्टर या होर्डिंग लाठी और डंडों से छीलते हुए देख कर। वाकई यह बात सोचने लायक है ,कि सचिन पायलट और उनके समर्थक सत्ता के लोभवश जब पूरे राजस्थान भर में तमाशा करके दिल्ली तक मूँह की खाकर वापस आ गए। उसके बाद जब पायलट खुद की सबकुछ स्वीकार कर अशोक गहलोत के साथ वापस आकर बैठ गए , और समझौता कर लिया । ऐसे में उनके समर्थकों को इस तरह से उधम मचाने की आवश्यकता क्या है ? मैंने मेरे पिछले ब्लॉग में लिखा था कि यह सब खेल राजस्थान के नए कांग्रेस प्रभारी अजय माकन को दिखाने के लिए खेला जाएग। ताकि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी से आए पर्यवेक्षकों को भ्रमित किया जा सके और दर्शाया जा सके कि अजमेर आज भी सचिन पायलट का गढ़ है। जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं है ।
अक्सर देखा गया है कि बात जब भी सचिन पायलट के वर्चस्व की आती है, तब ऐसे कई अनजान चेहरे सड़कों पर हाथ में कांग्रेस का झंडा लिए दिखाई देते हैं , जिनका कांग्रेस से कोई लेना देना नहीं है। इस किराए की भीड़ के आगे वही पायलट गुट के गिने-चुने दो-चार चेहरे आकर खड़े हो जाते हैं । ताकि भीड़ का भ्रम पैदा किया जा सके। अब देखना यह है कि ऐसा छदम भ्रम अजय माकन पकड़ पाते है या नहीं ? या फिर यह धोखा पायलट समर्थक केंद्र से आए पर्यवेक्षक को दे रहे हैं , या अपने आप को ?
खैर, आज के इस नाटक ने यह बात साफ कर दी है कि, कम से कम अजमेर में अब आने वाले सालों साल कांग्रेस का कोई भविष्य नहीं है। और आने वाले निगम चुनावों में भी कांग्रेस की हार तय है। क्योंकि साहब ! यहां तो कांग्रेस को चुनाव भाजपा या किसी अन्य पार्टी के सामने नहीं बल्कि अपने ही लोगों के सामने ही लड़ना है ।


 नरेश राघानी


कंगना के समर्थन में जंतर-मंतर पर प्रदर्शन

ऋचा वशिष्ठ ने कंगना रनौत के समर्थन में जंतर मंतर पर किया प्रदर्शन


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। पिछले कुछ दिनों से सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या मामले में नए नए मोड़ सामने आ रहे हैं। हर दिन कोई नई खबर देखने को मिल रही है। लेकिन जिस तरह से इस मामले के साइड इफेक्ट्स हो रहे हैं, ये तय है कि महाराष्ट्र सरकार अब बैकफुट पर आ गई है। पिछले दो दिनों में कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के सबसे अहम पहिए शिवसेना के बीच जो तकरार देखने को मिला उससे ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि मामला गड़बड़-गड़बड़ है। पहले तो शिवसेना ने कंगना को मुंबई में आने का चैलेंज किया और इसके बाद जब कंगना 9 सितंबर को मुंबई पहुंच गई तो शिवसेना ने अपनी गुंडागर्दी दिखाते हुए मुंबई के पाली हिल्स स्तिथ कंगना के घर और दफ्तर में तोड़फोड़ मचाई। गृहमंत्रालय ने हानि की आशंका से पहले ही कंगना को वाई प्लस सुरक्षा मुहैया करवाई हुई है, लेकिन फिल्मी अंदाज में दो दिनों के अंदर घटे घटनाक्रम ने शिवसेना सरकार की पोल खोल दी है। देश भर में कंगना रनौत के फैंस में भारी गुस्सा देखने को मिल रहा है। सिर्फ इतना ही नहीं कई सामाजिक संगठन और राजनैतिक पार्टियां भी कंगना के समर्थन में मैदान में कूद पड़े हैं। इस कड़ी में दिल्ली के जंतर मंतर पर भी प्रदर्शन हुआ। प्रदर्शन की अगुवाई राधा रानी सेवा समिति की अध्यक्ष समाजसेवी ऋचा वशिष्ठ के नेतृत्व में हुआ, जिन्हें साथ मिला आल इंडिया ह्यूमन राइट्स हरियाणा की अध्यक्ष अभिलाषा पटनायक, आल इंडिया ह्यूमन राइट्स हरियाणा की महासचिव निधि शर्मा, समाजसेवी सोनिया सिंह, समाजसेवी उषा उपाध्याय और समाजसेवी सोनिया रस्तोगी का। ऋचा वशिष्ठ का कहना था कि महाराष्ट्र में शिवसेना सरकार का आतंक चरम पर है, जिस तरह से शिवसेना के खिलाफ बोलने पर पूरी शिवसेना एक अकेली महिला के पीछे हाथ धोकर पड़ गई है, उससे तो यही लग रहा है कि शिवसेना एक आत्मनिर्भर महिला से डर के मारे कांप रही है। ऋचा वशिष्ठ ने दो टूक शब्दों में कहा कि वो कंगना के साथ हर मोड़ पर खड़ी है और शिवसेना की नापाक हरकत का विरोध और बहिष्कार करती है। ऋचा वशिष्ठ के साथ मौजूद अन्य समाजसेवकों ने भी काले झंडे और पोस्टर दिखाकर एक स्वर में शिवसेना की शर्मनाक हरकतों का विरोध किया।                 


विधायक ने भूमि कटान का किया निरीक्षण

अतीस त्रिवेदी 


भाजपा विधायक अरविंद गिरी ने किया कटान का निरीक्षण


लखीमपुर खीरी। गोला तहसील के अंतर्गत विकासखंड बिजूआ के तराई क्षेत्र में पडने वाले ग्राम चक पुरवा जोकि कटान की चपेट पूरी तरीके से जा चुका है आज ग्रामीणों की समस्या शारदा नदी के कटान को लेकर प्रशासन ने लिया संज्ञान।
आज गुरुवार को क्षेत्रीय विधायक अरविंद गिरी गोला एसडीएम अखिलेश यादव तहसीलदार विपिन कुमार द्विवेदी लेखपाल पंकज कुमार सिंचाई विभाग के अधिकारी राकेश कुमार एसडीओ सत्यवान वर्मा कुंदन लाल इंजीनियर सिंचाई विभाग विधायक प्रतिनिधि जवाहर लाल वर्मा आदि लोग कटान का निरीक्षण किया। क्षेत्रीय विधायक अरविंद गिरी ने कहा मैं छोटी नदी को मुख्यधारा की ओर मोडना अति आवश्यक है।                     


गन्ना भुगतान को लेकर एसडीएम को ज्ञापन

अतीश त्रिवेदी 


गन्ना भुगतान को लेकर राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन ने पुन: एसडीएम को सौंपा ज्ञापन   


लखीमपुर खीरी। गोला गोकर्णनाथ खीरी स्थित बजाज चीनी मिल गोला किसानों का अरबों रुपये दबाये बैठी, राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन ने 31 अगस्त 2020 को एसडीएम गोला अखिलेश यादव को दिये गए ज्ञापन मे अनुरोध कर लिखे गए। 15 सितंबर तक  किसानों का बकाया भुगतान दिलाया जाये। चीनी मिल की मंसा भुगतान न करने की स्थिति को देखते हुए संगठन के जिला अध्यक्ष पटेल श्रीकृष्ण वर्मा , जिला उपाध्यक्ष शिवदयाल वर्मा ने 8 सितंबर को पुनः एसडीएम अखिलेश यादव से मिलकर 15 सितंबर 2020 तक किसानों को सम्पूर्ण बकाया भुगतान अथवा 16 सितंबर के लिए भुगतान के विरोध में धरना प्रदर्शन करने के लिए जगह मांगी । एस डी एम ने कहा कोरोना के चलते धरना प्रदर्शन के लिए हम जगह नहीं दे सकते ।किसानों का न तो बकाया भुगतान मिलने की उम्मीद है और न ही धरना प्रदर्शन के लिए जगह दी जा रही है , जब कि संविधान में लिखा और सुप्रीम कोर्ट के किए गए आदेश जो समाचार पत्रों में प्रकाशित है कि अपनी मांगों को लेकर शांति पूर्ण धरना प्रदर्शन करना मौलिक अधिकार है ।-------------------- ◆ अब संगठन ने भी कमर कस लिया है , 16 सितंबर को गोला मे होगा धरना प्रदर्शन , कैसे करना है , क्या करना है 24 घंटे शेष रहने पर बनायेंगे रणनीति ,◆ " कल 11 सितंबर " से गांव गांव काफिला निकाल कर किसानों को जागरूक कर ,  चीनी मिल से मिलीभगत कर किसानों के बकाया भुगतान मे रोडा डालने वाले गन्ना विभाग के अधिकारियों को सबक सिखायेगा , संगठन और किसान । ----------------–--  साथ ही संगठन ने ऐसे किसान नेताओं की घोर निंदा की है , जो किसानों के बकाया भुगतान और अन्य समस्याओं मे कभी आगे नहीं आये , और चीनी मिल से मिलीभगत कर किसानों की बात करने वाले व धरना प्रदर्शन करने वाले किसानों के ऊपर पीछे बार किया है और इस समय किसानों के बकाया भुगतान की संकट की घड़ी में वह  यह कहकर कि किसानों के भुगतान की अभियान ट्विटर पर ट्वीट कर चलाया जा रहा है । ऐसे चाटुकार नेताओं को भी किसान सबक सिखाने के लिए अब तैयार हैं । ज्ञात हो कि ज्ञापन में उल्लिखित कर एस डी एम , डीएम ,  उप गन्ना आयुक्त , गन्ना आयुक्त और मुख्यमंत्री को बताया जा चुका है कि गन्ना समितियों के कुछ संचालकों , व गन्ना माफियाओं , दलालों आदि के 90 - 95 फीसदी का भुगतान बजाज चीनी मिलों ने कर दिया है । अन्य किसानों का उ०प्र० गन्ना अधिनियम व मा० हाईकोर्ट के आदेश पर भी नहीं किया जा रहा है , आखिर क्यों  ? यह भी बताया गया है कि बजाज चीनी मिलों के पास चीनी नहीं रह गई है , गोदामे खाली हो रही हैं , किसानों का भुगतान होगा कहां से  ?            


पंजाब में कोरोना वायरस का कहर जारी

राणा ओबरॉय


चंडीगढ़। पंजाब में कोरोना के कहर के चलते पिछले चौबीस घंटों में रिकार्ड 71 लोगों की मौत हो गयी तथा 74 मरीजों की हालत गंभीर बनी हुई है । स्वास्थ्य विभाग की ओर से आज यहां जारी बुलेटिन के अनुसार राज्य में अब कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर मरने वालाें की संख्या दो हजार से अधिक हो गयी है । हालांकि राज्य में कोरोना को फैलने से रोकने के लिये हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं लेकिन स्वास्थ्यकर्मी ,पुलिसकर्मी ,डाक्टर ,विधायक और अधिकारियों सहित समाज में तेजी से फैल रहा है। अब तक 12 लाख 69 से अधिक संदिग्धों के सेंपल लिये जा चुके हैं तथा पचास हजार से अधिक लोग स्वस्थ हुये हैं। बुलेटिन के अनुसार राज्य में आज 2137 नये पाजिटिव मामले सामने आये हैं। इसके साथ कुल पाजिटिव मामलों की संख्या 69 हजार से अधिक हो गयी और सक्रिय मरीज सत्रह हजार से ज्यादा हो गये हैं।               


संयोजक हुए संक्रमित, संगठन में हड़कंप

भानु प्रताप उपाध्याय


शामली। हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली के जिला संयोजक समाज सेवा में लगन शील रहते हुए करोना संक्रमित हो गए जिसे संगठन में हड़कंप मच गया।
हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली के कई पदाधिकारी  करोना कि इस महामारी में समाज सेवा में लगन शील थे चौधरी रविंदर सिंह कालखंडे जिला संयोजक अपने आप को कई दिन से अस्वस्थ महसूस कर रहे थे। जब डॉक्टर द्वारा उनकी जांच की गई तो जांच के दौरान वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए। उक्त सूचना से हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली के संगठन में हड़कंप मच गया प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा  गांव लिलोन में स्थित उनके आवास पर ही होम होम कॉन्टिन कर दिया  गया हिंदू युवा वाहिनी के जिला प्रभारी बिट्टू कुमार ने संगठन के सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं से अपील की जो व्यक्ति चौधरी रविंदर सिंह कॉलखंडे जिला संयोजक के समाज सेवा के दौरान या संपर्क में रहे वह अपने आप को होम कॉन्टिन कर डॉक्टर से इलाज कराएं। क्योंकि कोरोना महामारी एक जानलेवा बीमारी है जो प्राणघातक है इसलिए इसका बचाव बहुत जरूरी है। इसलिए बहुत सावधानियां बरतें हुए कहीं इकट्ठा ना हो मुंह पर मार्क्स लगाएं बार-बार हैंड वास करें खाने पीने में विशेष सावधानियां  बरतें हैं सफाई का विशेष ध्यान रखें l  वहीं अजय संगल (जिला संरक्षक), बिट्टू कुमार( जिला प्रभारी ),अरविंद कौशिक (जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष), सुधीर राणा, प्रदीप निरवाल, अनुज गोयल, अमित गर्ग( जिला उपाध्यक्ष), अनुराग गोयल (जिला मंत्री), निशांत  सरोहा (जिला मीडिया), प्रभारी पंकज गुप्ता (नगर प्रभारी), उपेंद्र द्विवेदी (नगर संयोजक ),मनोज रोहिल्ला (नगर अध्यक्ष), राजेश गुप्ता (नगर वरिष्ठ उपाध्यक्ष), अमरीश शर्मा (नगर उपाध्यक्ष ),महेश गोयल (नगर महा मंत्री), अनिल कौशिक, भानु प्रताप उपाध्याय, सन्नी गर्ग  (कैराना ब्लॉक अध्यक) , विनय कौशिक ऊन ब्लॉक प्रभारी , अमरपाल ब्लॉक अध्यक्ष ,अरविंद बंजारा ब्लॉक उपाध्यक्ष ,सुनील   बंजारा ब्लॉक महामंत्री, आदि पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने परम पिता परमेश्वर से प्रार्थना की की श्री रवीन्द्र काल खंडे जी का स्वास्थ्य शीघ्र अच्छा हो और उनकी उम्र लंबी की कामना की।               


पत्ता गोभी का खाना हो सकता है खतरनाक

पत्तागोभी खाना हो सकता है खतरनाक,खाने वाले हो जाये सावधान
भानु प्रताप उपाध्याय


शामली/थानाभवन/खानपुर। एक और जहां कोरोना महामारी को दुरुस्त करने के उद्देश्य से सरकार लोगों का बेहतर स्वास्थ्य के लिए कदम उठा रही है वहीं दूसरी ओर ग्राम  खानपुर रोड पर एक किसान लोगों की जान से खिलवाड़ कर रहा है और सरकार के नियमों को पलीता लगा रहा है खानपुर  रोड पर एक किसान ने अपने खेत में पत्ता गोभी की फसल लगाई हुई  है जिसमें पत्ता गोभी सड़ जाने के कारण उसमें कीड़े हो गए है। अधिक समय गोभीयो का स्टॉक रुकने के कारण सड़ गई है।खराब हुए गोभी को साफ करके मंडियों में सप्लाई किया जा रहा है। बचपन से सुनते आए हैं, सब्जियां सेहत का खजाना होती हैं। पत्तेदार सब्जियों से दिमाग तेज होता है।आंखों की रोशनी बढ़ती है, लेकिन जिन सब्जियों को आप सेहत का राजा मानते आए हैं, वही आपकी सेहत खराब भी कर सकती है। अब सावधान हो जाएं, जिन सब्जियों को आप सेहत का खजाना मान कर खाते आए हैं, वह आपके शरीर को ऐसी तमाम बीमारियों का घर बना सकती हैं, जिससे उबरना मुमकिन नहीं होगा।                 


अधिकारियों को अभियान की जिम्मेदारी सौंपी

भानु प्रताप उपाध्याय 


शामली। समाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संचालित नशा मुक्त भारत अभियान को लेकर कलेक्ट्रेट के सभागार में जिलाधिकारी जसजीत कौर की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय समिति की बैठक आयोजित की गई।आयोजित बैठक में नशा मुक्त भारत अभियान के अन्तर्गत किये जाने वाले प्रभावी कार्यों को लेकर  समिति के सदस्यों को जिलाधिकारी द्वारा नशा मुक्त अभियान को सफल बनाने हेतु विभिन्न दायित्व सौंपे गये।उन्होंने  जिला विद्यालय निरीक्षक को नशा मुक्त अभियान के तहत स्कूलों/काॅलेजों के छात्रों/शिक्षकों एवं अध्यापकों व छात्राओं के माता पिता को जागरूकता एवं/ उन्मुक्ता पैदा करने वाले कार्यक्रमों का संचालन कराने तथा काॅलेजों में छात्रों के मध्य स्टुडेंट कल्ब का गठन करना ताकि वे नशें सम्बन्धी दूष्प्रभाव पर चर्चा करें एवं नशें के दूष्प्रभावों के प्रति जागरूक कर सकें।इसके अलावा उन्होंने जिले के किसी भी शिक्षण संस्थान के 100 मीटर के दायरे के अन्तर्गत सिंगरेट/तम्बाकू इत्यादि की ब्रिकी पर दृढता से रोक भी प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए।इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने जनपद में नशीलें पदार्थों की ब्रिकी तथा उन पर की गई कार्यवाही से अवगत कराने के निर्देश भी संबंधित अधिकारी को दिए।साथ ही जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारी को तहसील/विकास खण्डों/जनपद स्तर पर नशा मुक्ति अभियान के क्षेत्र में कार्य करने वाले स्वयं सेवकों के प्रशिक्षण हेतु कार्यशालाओं का भी आयोजन कराये जाने के निर्देश दिए।बैठक के अन्त में जिलाधिकारी ने नशा मुक्ति अभियान को लेकर जनपद स्तरीय समिति के सुझावों को सुनते हुए नशा मुक्त भारत अभियान को सफल बनाने एवं अधिक-अधिक प्रचार-प्रसार करते हुए इस अभियान को सफल बनाने के निर्देश दिये। बैठक में समाज कल्याण अधिकारी द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया कि नशा मुक्त भारत अभियान 2020-21 की थीम 15 अगस्त, से 31 मार्च, 2021 तक है।इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार श्रीवास्तव, सेवानिवृत्त आईजी विजय गर्ग, समाज कल्याण अधिकारी सहित समिति के सदस्य आदि उपस्थित रहे।                          


किसानों की समस्याओं पर डीएम की बैठक

भानु प्रताप उपाध्याय


 प्रेस विज्ञप्ति
शामली। कलेक्ट्रेट के सभागार में जिलाधिकारी जसजीत कौर की अध्यक्षता में आज किसानों के गन्ना मूल्य भुगतान को लेकर बैठक आयोजित की गई।आयोजित बैठक में जिलाधिकारी ने प्रत्येक चीनी मिल वार किसानों के देय भुगतान की स्थिति जाने गई।जिसमें जिला गन्ना अधिकारी ने किसानों के गन्ना मूल्य भुगतान के संबंध में जिलाधिकारी को अवगत कराया कि शामली चीनी मिल द्वारा 338.54 करोड़ के सापेक्ष 195.23 करोड का भुगतान किया है।इसके अलावा ऊन चीनी मिल द्वारा 337.22 करोड के सापेक्ष 176.66 करोड का भुगतान किया है।इसके अतिरिक्त थानाभवन चीनी मिल द्वारा 490.82 करोड़ भुगतान के सापेक्ष 243.84 करोड का भुगतान किया है।बैठक में जिलाधिकारी ने किसानों के गन्ना मूल्य भुगतान की स्थिति संतोषजनक ने पाए जाने को लेकर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए चीनी मिलों के प्रतिनिधियों को शत प्रतिशत गन्ना मूल्य भुगतान करने के निर्देश दिए। साथ ही जिलाधिकारी ने पेराई सत्र 2019-20 का भुगतान पूर्ण कराने को लेकर चीनी मिल थानाभवन को  प्रत्येक माह लगभग रू.50 करोड एवं चीनी मिल शामली को द्वारा प्रत्येक माह लगभग रू. 40 करोड का भुगतान करने कठोर निर्देश दिए। वही बैठक में चीनी मिल ऊन के प्रतिनिधि श्री अनिल कुमार अहलावत महा-प्रबन्धक गन्ना द्वारा अवगत कराया गया है कि उनकी चीनी मिल द्वारा पेराई सत्र 2019-20 का भुगतान दिनांक 15.12.2020 तक पूर्ण कर लिया जायेगा।इसके अलावा जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देशित करते हुए कहा कि किसानों के गन्ना मूल्य भुगतान में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।इस अवसर पर जिला गन्ना अधिकारी,श्री विजय बहादुर सिंह, जिला गन्ना अधिकारी, शामली एवं चीनी मिल शामली से श्री आर.बी. खोखर यूनिट हेड, श्री कुलदीप पिलानिया, महा प्रबन्ध गन्ना एवं श्री विजित जैन एकाउन्ट हेड चीनी मिल थानाभवन से श्री वीर पाल सिंह, यूनिट हेड, श्री जे.बी.तोमर, महा प्रबन्धक गन्ना एवं श्री सुभाष बहुगुणा, एकाउन्ट हेड एवं चीनी मिल ऊन से श्री अनिल कुमार अहलावत, महा प्रबन्धक गन्ना एवं श्री विक्रम, एकाउन्ट हेड उक्त से अतिरिक्त श्री कुलदीप पंवार, प्रदेश प्रवक्ता भारतीय किसान यूनियन एवं श्री कपिल खाटियान, जिलाध्यक्ष,भारतीय किसान यूनियन द्वारा प्रतिभाग किया गया है।                 


खाई में गिरी कार, 3 की मौत 1घायल

देहरादून। चमोली जिले के थराली क्षेत्र में नारायणबगड़-परखाल मोटरमार्ग पर एक वैगनआर कार के खाई में पलट जाने से तीन लोगों की मौत हो गई है। जबकि कार चालक को गंभीर हालत में चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।
हादसा कल देर रात हुआ। मिली जनकारी के अनुसार एक वैगनआर डीएल 2 सीए/0168 नम्बर की कार परखाल-डुंगरी मोटर मार्ग पर रैगॉंव से कुछ आगे अनियंत्रित होकर डेढ सौ मीटर गहरी खाई में जा गिरी। हादसे के वक्त कार में चार लोग सवार थे। इनमें से धुलेट गांव निवासी 32 वर्षीय धनी लाल, सिलकोटी निवासी 45 वर्षीय भगत लाल तथा यहीं के 42 वर्षीय हरि लाल की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि कार चालक धुलेट निवासी 22 वर्षीय देवेंद्र लाल को ग्रामीणों ने गंभीर अवस्था में खाई से निकाल कर चिकित्सालय में भर्ती कराया। पुलिस ने शवों का पंचनामा करके पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।             


रावल को 'राष्ट्रपति' ने दी बड़ी जिम्मेदारी

मुंबई। बॉलीवुड के शानदार एक्टर्स में से एक परेश रावल को एक नई जिम्मेदारी मिली है। परेश रावल को नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा का प्रमुख नियुक्त किया गया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुजरात से बीजेपी के पूर्व लोकसभा सांसद रावल को एनएसडी का अध्यक्ष नियुक्त किया है। परेश रावल ने अपने करियर के दौरान कई हिंदी फिल्मों में काम किया है।केंद्रीय संस्कृति राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने रावल को एनएसडी चीफ बनने पर शुभकामनाएं दी हैं।                 


आलू के बाद, अब प्याज हुआ महंगा

नई द‍िल्‍ली। आलू के बाद अब प्‍याज महंगा हुआ। त्योहारी सीजन में लोगों के आंसु निकालने के लिए प्याज एक बार फिर से तैयार है। बताया जा रहा है कि बारिश की वजह से प्याज की फसल पूरी तरह से खराब हो गई है। ज‍िस वजह से मंडी में ही प्याज की ऊंची कीमतें है।


आलू और प्‍याज के बाद अब सब्जियों की कीमतें भी सातवें आसमान पर पहुंच गई है। रिटेल में 15-20 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर बिकने वाली प्याज की कीमतें अब 35-45 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई है। वहीं कारोबारियों का कहना है कि आलू के बाद अब प्याज की कीमतों में तेजी आ रही है।             


1,000 चीनी छात्रों का किया वीजा रद्द

वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। मई के महीने में राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने कुछ चीनी छात्रों और शोधकर्ताओं की देश में एंट्री पर प्रतिबंध लगा दिया था, उसके बाद यह पहला आधिकारिक अनुमान है। चीन और अमेरिका के बीच पिछले कई महीनों से तनाव बना हुआ है। अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने बुधवार को घोषणा की कि 1,000 से अधिक चीनी छात्रों के वीजा रद्द कर दिए गए हैं। रद्द किए गए वीजा की यह संख्या इस हफ्ते तक की है।अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने मई के महीने में कुछ चीनी छात्रों और शोधकर्ताओं के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया था। उसके बाद अमेरिकी सरकार द्वारा दी गई यह पहली आधिकारिक संख्या है। उस समय चीनी छात्रों पर प्रतिबंध लगाते हुए ट्रंप ने कहा था कि उनका इस्तेमाल संवेदनशील अमेरिकी तकनीक और इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी को हासिल करने के लिए हो रहा है। अमेरिका चीन पर एक यूनिवर्सिटी की कोविड-19 की रिसर्च चुराने की कोशिश का आरोप भी लगा चुका है और उसका कहना है कि देश में चीनी सरकार द्वारा जासूसी के मामले भी बढ़े हैं। ट्रंप अपने चुनाव अभियान में भी चीन पर कई गंभीर आरोप लगाते आए हैं। वे कोरोना वायरस को रोकने में चीन की भूमिका पर गंभीर सवाल उठा चुके हैं। ट्रंप कई बार अपने भाषणों में कोरोना वायरस को "चीनी वायरस" तक कह चुके हैं।             


'लक्ष्मण रेखा' पार की तो, भारत करेगा रिव्यू

बीजिंग/ नई दिल्ली। भारत सरकार के एक आला अधिकारी ने बुधवार को कहा है कि पूर्वी लद्दाख में अगर चीन ने लक्ष्मण रेखा पार की भारत इसके जवाब में 'ज़रूरी कार्रवाई' करेगा। अधिकारी ने ये भी कहा है कि चीनी सेना के निर्माण कार्य से निपटने के लिए और ऊंचाई पर जाने की कोशिश से उन्हें रोकने के लिए भारत ने लाइन ऑफ़ एक्चुअल कंट्रोल के पास फॉर्वर्ड पोज़िशन पर सेना की तैनाती बढ़ा दी है।


अख़बार लिखता है कि गुरुवार को मॉस्को में भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर और चीनी विदेश मंत्री वांग यी की एक अहम बैठक होने वाली है उससे पहले सोमवार को पूर्वी लद्दाख के चुशुल सेक्टर के मखपुरी टॉप के नज़दीक चीनी सैनिकों की तरफ से गोलियां चलाई गई हैं। 45 साल में ये पहली बार है जब एलएसी पर गोलियां चलाई गई हैं।             


बाजार पूंजीकरण ₹14 लाख करोड़ के पार

मुंबई। एशिया के सबसे अमीर मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के शेयरों ने गुरुवार को शेयर बाजारों में कारोबार की शुरुआत से ही लंबी छंलाग भरी और कंपनी का बाजार पूंजीकरण 14 लाख करोड़ रुपये को पार कर गया। आज बाम्बे शेयर बाजार में कारोबार की शुरुआत में रिलायंस का शेयर गत दिवस के 2161.65 रुपये की तुलना में 2185 रुपये पर खुला।


ऊंचे में 2233.90 रुपये और नीचे में 2176.15 रुपये तक गिरने के बाद फिलहाल 2230 रुपये पर 68.75 रुपये ऊंचा है और कंपनी का बाजार पूंजीकरण 1414162.16 करोड़ रुपये है। इस वर्ष मार्च में रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 867.82 रुपये तक लुढ़का था। बुधवार को कारोबार की समाप्ति पर रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 13 लाख 70 हजार 103 करोड़ 80 लाख रुपये था। रिलायंस की खुदरा कारोबार अनुषंगी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड में अमेरिका की प्रौद्योगिकी क्षेत्र की अग्रणी निवेशक सिल्वर लेक ने बुधवार को 1.32 प्रतिशत इक्विटी के लिए साढ़े सात हजार करोड़ रुपये निवेश का ऐलान किया। रिलायंस रिटेल ने इसी माह खुदरा कारोबार के फ्यूचर समूह का 24713 करोड़ रुपये में अधिग्रहण किया है।           


'मत्स्य संपदा योजना' का हुआ शुभारंभ

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना का शुभारम्भ किया। प्रधानमंत्री के बटन दबाते ही बिहार सहित 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में इस योजना के तहत 1700 करोड़ रुपये के कार्यक्रम शुरू हो गए। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ई-गोपाला एप भी लॉन्च किया और कहा कि यह एप किसानों और पशुपालकों के बहुत काम आएगा। एप से पशुपालकों को तकनीकी जानकारी मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के पशुपालकों से बात भी की। प्रधानमंत्रीर मोदी ने इस दौरान बिहार में मछली पालन और पशुपालन क्षेत्रों में भी कई नई पहलों का भी शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केन्द्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री गिरिराज सिंह ने भी कार्यक्रम में हिस्सा लिया।


दरअसल, प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना मत्स्य क्षेत्र पर केंद्रित योजना है, जिसे आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत 2020-21 से वित्त वर्ष 2024-25 तक लागू किया जाना है। इस पर अनुमानित रूप से 20,050 करोड़ रुपये का निवेश होना है। मत्स्य सम्पदा योजना के तहत, 20,050 करोड़ रुपये का निवेश मत्स्य क्षेत्र में होने वाला सबसे ज्यादा निवेश है। इसमें से लगभग 12,340 करोड़ रुपये का निवेश समुद्री, अंतदेर्शीय मत्स्य पालन और जलीय कृषि में लाभार्थी केन्द्रित गतिविधियों पर तथा 7,710 करोड़ रुपये का निवेश फिशरीज इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए प्रस्तावित है।             


वैक्सीन आने तक जारी रखें सभी उपाय

गांधीनगर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज लोगों से कोरोना वायरस यानी कोविड-19 का टीका विकसित होने तक इससे बचाव के लिए सभी एहतियाती उपाय जारी रखने की अपील की। उन्होंने इस महामारी को एक अभूतपूर्व चुनौती बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इससे निपटने के लिए सुविचारित रणनीति के तहत काम हो रहा है जिसकी पूरी दुनिया में सराहना हुई है।


गृह-राज्य गुजरात में अपने लोकसभा क्षेत्र गांधीनगर में 130 करोड़ से अधिक के विकास कार्यों के ई-लोकार्पण और भूमिपूजन के मौके पर वीडियो कॉन्फ़्रेन्सिंग के जरिए सम्बोधन में शाह ने कहा की कोरोना के खिलाफ जंग में भारत के प्रयासों को पूरे विश्व ने मान्यता दी है। शाह ने कहा कि इस महामारी ने हालांकि गांधीनगर में विकास के कार्यों की गति को कुछ धीमा कर दिया है पर यह गुजरात या भारत को इस मामले में बहुत देर तक रोक नहीं पाएगा। ज्ञातव्य है कि शाह स्वयं कोरोना संक्रमण के बाद इससे जंग जीत चुके हैं। वैसे फिलहाल गुजरात में सत्तारूढ़ उनकी पार्टी भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष सी आर पाटिल, पार्टी प्रवक्ता भरत पंड्या और कई विधायक और सांसद इसकी चपेट में हैं।                 


महानगरपालिका में 536 संक्रमित हुए

प्रमोद कुमार


कल्याण। कल्याण डोम्बिवली महानगरपालिका में बुधवार को कुल 536 कोरोना संक्रमित मरीजो की पुष्टि की गई। जिंसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 32,929 तक जा पहुची है। इनमें 4390 मरीजो का उपचार चल रहा है, तो वही 27,840 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है। वही आज 8 लोगो की मौत हो गयी। इस आंकड़े के बाद मरनेवालों की संख्या बढ़कर 699 हो गयी है। 363 मरीज पिछले 24 घंटे के भीतर विभिन्न अस्पतालों व कोरंटाइन सेंटर से डिसचार्ज भी हुए है। मनपा क्षेत्र के कल्याण पूर्व में 70, कल्याण पश्चिम में 154, डोंबिवली पूर्व में 167, डोंबिवली पश्चिम में 90, मांडा टिटवाला में 42 तथा मोहना में 13 नए मरीज कोरोना संक्रमित पाये गये है।


वही मास्क ना पहनानेवालो के खिलाफ दंडात्मक कार्यवाई का आदेश जारी करने के बाद आज मनपा की तरफ से सख्ती से इसका पालन किया गया और मास्क ना पहनानेवालो पर कार्यवाई कर उनका चालान किया गया। अप्रैल से जारी मुहिम के तहत सभी प्रभाग क्षेत्रो में लोगो पर कार्यवाही करते हुए पाँच लाख का दंड वसूला जा चुका है। दूसरी तरफ मनपा द्वारा मालमत्ता कर भरने की अवधि को अब 30 सितंबर तक कर दिया गया है साथ भी निर्धारित समय पर कर भरने पर 5 प्रतिशत की छूट भी देने की बात कही गयी है, लेकिन निर्धारित समय पर कर ना भरनेवालो से 2 प्रतिशत ब्याज भी लगाने की बात कही गयी है जो ऑनलाइन कर ना भर पाये वे नजदीक के नागरी सुविधा केंद्र में भी जाकर अपनी राशि जमा कर सकते है।           


गिरावटः 171 अंक नीचें गिरा सेंसेक्स


मुंबई। आज के कारोबारी सत्र में फाइनेंशियल शेयरों में गिरावट की वजह से प्रमुख भारतीय सूचकांक लाल रंग के साथ बंद हुए। निफ्टी 0.35% या 39.35 अंकों की गिरावट के साथ 11,278 अंक पर बंद हुआ और 11,300 अंक से नीचे आ गया, जबकि एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स 0.45% या 171.43 अंक की गिरावट के साथ 38,193.92 पर बंद हुआ।


एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के प्रमुख सलाहकार अमर देव सिंह ने बताया के ज़ी एंटरटेनमेंट (3.06%), टाटा स्टील (3.57%), रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (2.68%), सिप्ला (2.73%), और ग्रासिम इंडस्ट्रीज (2.39%) निफ्टी के टॉप गेनर थे, जबकि एसबीआई (4.09%), गेल (3.38%), बजाज फिनसर्व (2.89%), एक्सिस बैंक (2.73%), और IOC (2.60%) निफ्टी में टॉप लूजर थे।


बीएसई मिडकैप और बीएसई स्मॉलकैप क्रमशः 0.28% और 0.94% की गिरावट के साथ बंद हुए। निफ्टी बैंक को 2% से अधिक का नुकसान हुआ, जबकि निफ्टी आईटी और निफ्टी एफएमसीजी में भी आधा प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई।


जी एंटरटेनमेंट: ज़ी एंटरटेनमेंट के स्टॉक्स में 3.06% की बढ़ोतरी हुई और ग्लोबल फाइनेंशियल फर्म की ओर से स्टॉक पर 'बाय' कॉल बनाए रखने के बाद इसने 202.30 रुपए पर कारोबार किया। स्टॉक की टारगेट प्राइज बढ़ाकर 275 रुपए प्रति शेयर किया है।


टाटा मोटर्स: टाटा मोटर्स के स्टॉक में 1.16% की गिरावट दर्ज की गई और ग्लोबल फर्म एचएसबीसी ने स्टॉक को अपग्रेड कर शेयरों के लिए 200 रुपए का टारगेट मूल्य बनाए रखा और इसके बाद उसने 140.65 रुपए पर कारोबार किया।


डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज: कंपनी ने कोविड-19 रोगियों के उपचार के लिए भारत में ब्रांड नाम 'रेडीएक्स' के तहत रेमेडिसविर लॉन्च करने की घोषणा की। कंपनी के शेयरों में 1.67% की तेजी आई और इसने 4,,421.50 रुपए पर कारोबार किया।


भारत डायनामिक्स: भारत डायनामिक्स के स्टॉक्स में 5.14% की गिरावट आई और उसने 314 रुपए पर कारोबार किया, जब कंपनी ने यह जानकारी दी कि सरकार अपनी कुल पेड-अप कैपिटल की 10% हिस्सेदारी या 18,338,125 इक्विटी शेयर बेचेगी।


रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड: निजी इक्विटी कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स ने 1.75% हिस्सेदारी के बदले में कंपनी की रिटेल यूनिट में 7,500 करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा की और इसके बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज के स्टॉक में 2.68% की बढ़ोतरी हुई और इसने 2,163.55 रुपए पर कारोबार किया।


भारतीय रुपया: अस्थिर घरेलू इक्विटी बाजारों के बीच अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया 73.53 रुपए पर बंद हुआ।


ग्लोबल मार्केट: ग्लोबल आर्थिक सुधार को लेकर बढ़ती चिंताओं के बीच एशियाई शेयरों में आज के सत्र में गिरावट दर्ज की गई जबकि दिन के दौरान यूरोपीय स्टॉक हरे रंग में बंद हुए। नैस्डैक, निक्केई 225, और हैंग सेंग में क्रमशः 4.11%, 1.04% और 0.63% की गिरावट आई, जबकि एफटीएसई 100 और एफटीएसई एमआईबी में 0.71% और 0.50% की वृद्धि हुई।         



12 साल की बच्ची को प्यार में मिला धोखा

फरीदाबाद। हरियाणा के फरीदाबाद से एक झकझोर कर रख देने वाली खबर सामने आई है। जहां एक 12 वर्षीय बच्ची ने मौत को गले लगा लिया। उसके पास से बरामद सुसाइड नोट से यह पता चला कि वो किसी के प्यार में धोखा खाने के बाद उसने यह कदम उठाया है। पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। यह मामला फरीदाबाद जिले का है। जहां एक 12 साल की बच्ची ने प्रेम में नाकाम होने के बाद आत्महत्या कर ली। यह बच्ची फरीदाबाद के बल्लभगढ़ इलाके में अपने माता पिता के साथ रहती थी, जिसे अपने ही पड़ोस में रहने वाले एक नाबालिग बच्चे से प्रेम हो गया। आठवीं कक्षा में पढ़ने वाली 12 वर्षीय एक छात्रा ने अपने घर में पंखे के सहारे फांसी लगाकर जान दे दी। बच्ची ने सुसाइड नोट में लिखा है कि वह पड़ोस में रहने वाले हमउम्र एक बच्चे से प्यार करती थी, मगर वह किसी और से प्यार करता था। उसने मुझ़े धोखा दिया है, इस कारण मैं अपनी जान दे रही हूं। अंत में उसने यह भी लिखा था कि मेरे मम्मी पापा मुझे माफ करना।


करीना कपूर को हॉट लगती है अन्नया

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर का कहना है कि उन्हें अनन्या पांडे बेहद हॉट लगती हैं। अनन्या पांडे इन दिनों अपनी अपकमिंग फिल्म ‘खाली पीली’ को लेकर काफी सुर्खियों में हैं। वह इशान खट्टर के साथ इस फिल्म में नजर आएंगी। हाल ही इसका एक सॉन्ग ‘बियोनसे शरमा जाएगा’ रिलीज हुआ है। जो करीना कपूर को बहुत अच्छा लगा।


इसे देखकर करीना ने सोशल मीडिया पर अनन्या के लिए लिखा, “तुम बहुत हॉट लगती हो, वेल डन” इसके जवाब में अनन्या ने लिखा, “बहुत धन्यवाद, आप मेरी फेवरेट हैं।” गौरतलब है कि फिल्म खाली पीली थियेटर में रिलीज होने वाली थी लेकिन सिनेमाघर बंद होने के कारण अब यह फिल्म ओटीटी प्लेटफॉर्म जी प्लेक्स पर 02 अक्टूबर को रिलीज होगी।                      


गूगल बताएगा, कौन कर रहा है कॉल ?

नई दिल्ली। आज के दौर में सभी लोग स्मार्ट फोन इस्तेमाल कर रहे हैं फोन पर तमाम कॉल्स भी आती हैं कई बार अवांछित कालें भी आती हैं जिनके बारे में हम जान नहीं पाते हैं। ऐसी स्थिति से बचने के लिए ट्रूकॉलर, जैसे एप पहले से ही हैं वहीं अब गूगल भी अब ऐसा ही एक नया फीचर लेकर आया है जिसकी मदद से आप ये जान सकेंगे कि कौन आपको कॉल कर रहा है, इस फीचर को Verified Calls फीचर कहा जा रहा है। भारत समेत दुनियाभर में फ्रॉड कॉल्स बड़ी समस्या है और अब Verified Calls फीचर के साथ ही यूजर्स को इनसे बचाया जा सकेगा, मीडिया रिपोर्टो के मुताबिक गूगल ने बताया है कि Verified Calls फीचर कॉलर की पहचान, वेरिफिकेशन सिंबल के साथ-साथ कॉल करने की वजह को भी बताएगा।


गूगल के मुताबिक, स्पैम व स्कैम कॉल्स लोगों को खासा नुकसान पहुंचाती हैं और उपभोक्ता पर कॉस्ट बढ़ाती हैं, यह कोशिश फोन फ्रॉड पर लगाम लगाने की दिशा में है वहीं TrueCaller ऐप भी ऐसा ही फंक्शन यूजर्स को ऑफर करता आ रहा है। गूगल का नया फीचर यूजर्स को यह भी बताएगा कि उन्हें बिजनेस कॉल किए जाने की वजह क्या है।


Google Phone ऐप में इस फीचर के आ जाने से यह फंक्शन ढेरों यूजर्स के डिवाइस का हिस्सा बन जाएगा मतलब अलग से कोई ऐप डाउनलोड करने की जरूरत नहीं होगी और गूगल Verified Calls ही TrueCaller ऐप जैसा काम कर देगा। यह फीचर भारत, स्पेन, ब्राजील, मेक्सिको और अमेरिका समेत दुनियाभर में रोलआउट किया जा रहा है यदि आपके फोन में Google Phone ऐप इंस्टॉल नहीं है तो गूगल प्ले स्टोर से भी इसे इंस्टॉल किया जा सकता है।             


बिना प्रिस्क्रिप्शन के कोविड-19 परीक्षण

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने कोविड के लिए “मांग पर परीक्षण” करने की सुविधा देने के भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के दिशा-निर्देशों को अपना लिया है। कोविड -19 परीक्षण कराने की इच्छा रखने वाले लोग अब पूरे उत्तर प्रदेश में किसी भी निजी पैथोलॉजी लैब में जाकर अपनी जांच करवा सकते हैं। इसके लिए उन्हें अब किसी प्रिस्क्रिप्शन की भी जरूरत नहीं होगी। हालांकि उन्हें परीक्षण कराने का कारण स्पष्ट करना होगा।


इसके अलावा पैथोलॉजी लैब को घरों से कोविड के नमूनों का कलेक्शन करने की भी अनुमति दी गई है। आईसीएमआर के अधिकारियों ने कहा था कि ऐसा करने का उद्देश्य विशेष रूप से घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के लिए परीक्षण को आसान बनाना था, जिन्हें हवाई अड्डों पर आसान स्क्रीनिंग के लिए कोविड -19 की नेगेटिव रिपोर्ट की आवश्यकता होती है।


इसकी एडवाइजरी में कहा गया, “मांग पर परीक्षण कराने की अनुमति उन सभी लोगों के लिए दी जानी चाहिए, जो स्वयं का परीक्षण करने की इच्छा रखते हैं। साथ ही अन्य राज्यों या देशों में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए जिन्हें प्रवेश द्वार पर निगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य है।”


उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य अधिकारियों की एक समिति ने भी स्वीकार किया कि इस “सिफारिश को अपनाने में कोई समस्या नहीं थी”। हालांकि इस संबंध में अभी तक कोई औपचारिक सरकारी आदेश जारी नहीं किया गया है। कोविड-19 परीक्षण के लिए घर से नमूने लेने की अनुमति से उन रोगियों को खासी राहत मिलेगी जिन्हें अन्य बीमारियों के इलाज को जारी रखने के लिए नेगेटिव रिपोर्ट की जरूरत होती है।


लखनऊ में एक पैथोलॉजी लैब के मालिक ने कहा, “इससे ऐसे लोगों को राहत मिलेगी, जो प्राइमरी या सेकेंडरी संपर्क के तहत न आने पर परीक्षण नहीं करा पाते थे, जिससे उन्हें अपनी नौकरी जॉइन करने, अन्य बीमारियों का इलाज कराने में परेशानी हो रही थी।”               


5 लड़ाकू विमान हुए वायु सेना में शामिल

अम्बाला। फ्रांस से खरीदा गया अत्याधुनिक लड़ाकू विमान राफेल गुरुवार को औपचारिक रूप से वायु सेना के लड़ाकू विमानों के बेड़े में शामिल हो गया। इस मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ खुद फ्रांसीसी रक्षा मंत्री फरोरेंस पार्ले भी मौजूद थे। हरियाणा के अंबाला स्थित वायु सेना स्टेशन में एक शानदार समाराेह में पांच विमान वायु सेना के गोल्डन एरो स्क्वाड्रन का हिस्सा बने। ये विमान गत 27 जुलाई को भारत आये थे। इससे पहले सर्वधर्म पूजा की गई और रफाल ने भारत के अन्य लड़ाकू विमानों के साथ अपनी ताकत और जौहर का आसमान में प्रदर्शन किया। समारोह में चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया, रक्षा सचिव डॉ. अजय कुमार, डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉ. जी सतीश रेड्डी, रक्षा मंत्रालय और सशस्त्र बलों के कई वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।        


जारी गाइडलाइन का सख्ती से पालन करें

अखिलेश पांडेय


नई दिल्ली। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग एवं विशेषज्ञों के मुताबिक अनलॉक प्रक्रिया के बाद बाहर से रोजी-रोटी की तलाश में दिल्ली आ रहे लोगों और टेस्ट कराने में लापरवाही की वजह से दिल्ली में कोरोनावायरस के मामलों में इजाफा हुआ है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना संक्रमण को रोकने के संबंध में समीक्षा बैठक की। बुधवार को हुई इस समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, मुख्य सचिव, वरिष्ठ अधिकारियों, सभी सरकारी अस्पातलों के मेडिकल सुपरइंटेंडेंट शामिल हुए। सरकार अब मास्क न पहनने वालों पर सख्ती करेगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बैठक में मौजूद अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए जारी गाइडलाइन का सख्ती के साथ पालन कराया जाए। बाजार, भीड़-भाड़ वाले स्थानों और सार्वजनिक स्थलों पर सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराया जाए। साथ ही बिना मास्क घर से निकलने वालों पर भी सख्ती की जाए।मुख्यमंत्री ने कहा, केस थोड़े बढ़ रहे हैं, लेकिन किसी की मौत नहीं होनी चाहिए। खूब टेस्ट करने, अस्पतालों को हर तरह की मदद करने व अस्पतालों में बेड्स की कमी न होने देने के निर्देश दिए हैं। कोरोना की लड़ाई में दिल्ली मॉडल स्थापित हुआ है, इसे बरकरार रखना है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, मैंने सभी एमएस और संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए जो भी कदम उठाए जा सकते हैं, वो उठाए जाएं, सरकार अस्पतालों को हर तरह से मदद करेगी।इस अहम समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, यह बात सामने निकल कर आई कि कोरोना टेस्ट दोगुना होने के साथ-साथ देश के विभिन्न राज्यों से आकर दिल्ली में रोजी-रोटी तलाश करने वाले जो लोग लॉकडाउन के दौरान दिल्ली से वापस अपने गृह राज्य चले गए थे, वो अब अनलॉक प्रक्रिया के बाद दिल्ली वापस आ रहे हैं। अनलॉक की वजह से सभी तरह की गतिविधियां शुरू हो गई हैं, जिसके चलते भी संक्रमण थोड़ा बढ़ा है।अधिकारियों ने बताया कि कुछ लोग कोविड-19 जांच में देरी बरत रहे है, जिसके चलते वे अपने आसपास के लोगों को अनजाने में संक्रमित कर दे रहे हैं।मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अधिकारियों से कहा, जो भी लोग कोरोना संदिग्ध मिलें, उनकी तत्काल जांच कराई जाए। साथ ही लोगों से भी अपील की जाए कि वे जांच कराने में लापरवाही न बरतें, ताकि वो अपने आसपास के लोगों को संक्रमित न कर सकें।केजरीवाल ने कहा, हमने लोगों की सुविधा के मद्देनजर टेस्ट को दोगुना कर दिया है। पहले जहां 20 हजार के आसपास प्रतिदिन टेस्ट हो रहे थे, अब 40 हजार से अधिक टेस्ट प्रतिदिन हो रहे हैं। अब जांच कराने के लिए डॉक्टर का प्रिस्क्रिप्शन भी खत्म कर दिया गया है। पहले जांच कराने के लिए डॉक्टर का प्रिस्क्रिप्शन जरूरी था, लेकिन अब कोई भी बिना प्रिस्क्रिप्शन के अपनी जांच करा सकता है। इसके लिए ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक करने की जरूरत है, ताकि वे जांच कराने के लिए आगे आएं। सीएम खुद भी विभिन्न मीडिया माध्यम से लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक कर रहे हैं।सीएम अरविंद केजरीवाल ने अस्पतालों के एमएस को निर्देशित किया कि कोविड-19 मरीजों को अस्पताल पहुंचाने में एंबुलेंस की कमी आड़े नहीं आनी चाहिए। जितनी भी एंबुलेंस की जरूरत पड़ रही हो, उसकी तत्काल व्यवस्था की जाए, ताकि किसी मरीज को अस्पताल जाने के लिए देर तक इंतजार न करना पड़े। एंबुलेंस की किसी कॉल को मिस न किया जाए।               


राम मंदिर ट्रस्ट के खाते में हुई धोखाधड़ी

अयोध्या। अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के बैंक खाते से 6 लाख रुपये गलत तरीके से निकाले जाने का मामला सामने आया है। इस संबंध में अयोध्या कोतवाली पुलिस स्टेशन में एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। मामले की जांच के लिए साइबर विशेषज्ञों की एक टीम को भी कहा गया है। रिपोर्ट के अनुसार, चेक क्लोनिंग के जरिए लखनऊ में दो बैंकों से पैसे निकाले गए हैं। मामला तब सामने आया जब जालसाज ने बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा से 9.86 लाख रुपये निकालने का तीसरा प्रयास किया। बैंक प्रबंधक ने ट्रस्ट के सचिव चंपत राय को वेरिफिकेशन के लिए फोन किया, जिन्होंने इस तरह के किसी भी चेक को जारी करने से इनकार कर दिया।


पुलिस अधिकारी ने कहा, “आगे की पूछताछ में यह पाया गया कि पहले भी पैसों को निकाला गया है।” इस 1 सितंबर को बैंक से 2.5 लाख रुपये की राशि निकाली गई और उसके दो दिन बाद 3.5 लाख रुपये की राशि फिर निकाली गई। अयोध्या सर्कल के अधिकारी राजेश कुमार राय ने कहा कि एक मामला दर्ज किया गया है और जांच चल रही है। गौरतलब है कि राम मंदिर के लिए दान मांगने वाली एक फर्जी वेबसाइट कुछ दिनों पहले प्रकाश में आई थी और इस मामले की जांच की जा रही है।             


कोरोना ने 1 ही दिन में तोड़े सारे रिकॉर्ड

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 44 लाख 65 हजार 864 हो गया है। पिछले 24 घंटे के अंदर कोरोना के रिकॉर्ड 95 हजार 735 नए मरीज मिले हैं। अब तक एक दिन में मिले संक्रमितों का ये आंकड़ा सबसे ज्यादा है। इसके पहले 6 सितंबर को 93 हजार 723 नए मरीज मिले थे। देश में कोरोना से अब तक 75 हजार 62 मरीजों की मौत हो चुकी है। बुधवार को 1172 से ज्यादा मौतें हुईं। अच्छी खबर ये है कि भारत अब दुनिया का दूसरा देश हो गया है, जहां सबसे ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा अपडेट के मुताबिक, यहां अब तक 34 लाख 71 हजार 784 लोग रिकवर हो चुके हैं। रिकवरी के मामले में ब्राजील अब तीसरे नंबर पर पहुंच गया है।              


क्षेत्र किसानों की कब्रगाह में तब्दील किया

झांसी। उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि पूरे बुंदेलखंड को सरकार ने किसानों की कब्रगाह में तब्दील कर दिया है। सरकार की किसान विरोधी नीतियों के चलते किसान आत्महत्या करने पर मजबूर हैं। अजय कुमार लल्लू बुंदेलखण्ड के झांसी दौरे पर हैं। इस दौरान वह पार्टी द्वारा चलाए जा रहे सृजन अभियान की बैठकों में शामिल हो रहे हैं।


इसी क्रम में झांसी पहुंचे लल्लू ने किसानों से मुलाकात कर उनका दु:ख दर्द जाना। उन्होंने अपना बयान जारी किया जिसमें कहा कि, गरीब विरोधी नीतियों के चलते मजदूर आत्महत्या करने पर विवश हैं। युवा विरोधी नीतियों के चलते बेरोजगारी की मार खाए नौजवान आत्महत्या कर रहे हैं। बुंदेलखंड को सरकार ने किसानों की कब्रगाह में तब्दील कर दिया है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पीड़ित किसानों ने उन्हें बताया कि प्रधानमंत्री बीमा योजना के तहत किसानों को एक पैसा की भी बीमा राशि का भुगतान नहीं हुआ है। गलत नीतियों के कारण जानवरों का प्रकोप बहुत तेजी से बढ़ा है। किसान दिन-रात, दोपहरी चौकीदारी करने को मजबूर हैं।


लल्लू ने कहा कि कई पीड़ित किसानों ने उन्हें बताया कि बुंदेलखंड में निजी नलकूप लगाने पर सरकार द्वारा 63 हजार रुपए अनुदान देने का प्रावधान था। लेकिन एक साल बीत जाने के बाद भी एक भी किसान को फूटी कौड़ी नहीं मिली है।उन्होंने दर्जनों गांवों का भ्रमण किया। अजय कुमार लल्लू ने पहला उदाहरण देते हुए कहा कि बीते दिनों चिरगांव ब्लॉक के बेरबई ग्राम के किसान प्रेमनारायण रैकवार ने कर्ज के कारण मौत को गले लगा लिया था। पीड़ित परिजनों का कहना कि प्रेमनारायण लॉकडाउन में फरीदाबाद से पैदल गांव आये थे।


लल्लू ने कहा कि जनपद झांसी के गुरसराय ब्लॉक के ग्राम शहपुरा खुर्द के किसान स्व़ लोकेंद्र सिंह ने कर्ज के बोझ व सरकारी मशीनरी के दबाव के कारण बेबस हो गए थे। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि, यह है भाजपा सरकार की हकीकत। देश का अन्नदाता आत्महत्या कर रहा है और प्रधानमंत्री मोर के साथ वीडियो शूट करवा रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपने टीम 11 की फ र्जी बैठकों से फुर्सत तक नहीं है। दौरे पर साथ रहे प्रदीप आदित्य जैन ने कहा कि कांग्रेस की सरकार में राहुल गांधी की पहल पर बुंदेलखंड पैकेज दिया गया। जगह जगह मंडियां बनीं। फसलों की खरीद शुरू हुई। पानी के लिए कई तरह की योजनाओं की पहल हुई लेकिन आज पूरा बुंदेलखंड पलायन और पानी की मार से आंसू बहा रहा है। पलायन के कारण गांव के गांव खाली हो चुके हैं।           


सैनिकों को घुसपैठ बंद करने का आदेश

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। भारतीय सैनिकों ने पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर उन बिंदुओं पर कांटेदार तार लगा दिए हैं, जिन जगहों पर चीनी सैनिक अपनी पोजीशन से कुछ मीटर हटकर आगे आ गए थे।


इसके साथ ही भारतीय सैनिकों ने मध्ययुगीन हथियारों से लैस चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के सैनिकों को भारत के क्षेत्र में प्रवेश न करने की चेतावनी दी है। एलएसी पर चीनी सैनिकों को आगे बढ़ने से रोकने का इंतजाम करने के अलावा भारत ने चेतावनी दी है कि अगर चीनी सैनिकों ने घुसपैठ के प्रयास जारी रखे तो वह जवाबी कार्रवाई करेगा। सूत्रों ने बताया कि भारत और चीन के सैन्य प्रतिनिधियों ने बुधवार को पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर तनाव को कम करने के लिए मुलाकात की। हालांकि, बैठक “अनिर्णायक” रही और आगे भी बातचीत जारी रहेगी। बता दें कि सोमवार को पीएलए के सैनिकों ने एलएसी पर भारतीय सैनिकों को उनकी पोजीशन से हटाने का प्रयास किया था और चेतावनी देने के लिए कुछ राउंड फायर भी किए थे।


बैठक को लेकर सूत्रों ने यह भी कहा कि भारत ने स्पष्ट रूप से कह दिया है कि यदि चीनी सैनिक उकसाऊ सैन्य आंदोलन करेंगे तो भारतीय सैनिक जवाबी कार्रवाई करेंगे। भारत ने देखा था कि चीन ने पैंगोंग सो (झील) के उत्तर में नए सिरे से तैनाती शुरू की है। इतना ही नहीं मंगलवार की शाम से पीएलए सैनिकों की तैनाती भी बढ़ गई और वे ज्यादा मात्रा में रसद समेत अन्य वस्तुएं ला रहे हैं। अब दोनों पक्षों के सैनिक एक-दूसरे से बहुत कम दूरी पर हैं। एक सरकारी सूत्र ने कहा, “उन्हें स्पष्ट तौर पर देखा जा सकता है और भारतीय सैनिक चीन की गतिविधियों पर कड़ी नजर रख रहे हैं।”


मंगलवार को करीब 40-50 चीनी सैनिक बंदूक के अलावा धारदार हथियारों के साथ रेजांग ला के उत्तर में ऊंचाई पर भारतीय सेना से कुछ ही मीटर की दूरी तक पहुंच गए थे। ऐसा लगता है कि वे फिर से नई कोशिश करने के लिए तैयार हैं। ऐसा 7 सितंबर को दक्षिणी बैंक में हुई झड़प के चलते हुआ है जहां भारतीय सेना प्रमुख स्थितियों पर है। बता दें कि भारतीय सेना ने पैंगोंग झील के दक्षिणी तट के आसपास के क्षेत्रों में महत्वपूर्ण ऊंचाइयों पर कब्जा कर लिया है और चीनियों ने इन जगहों को हथियाने के लिए कई प्रयास किए हैं। दरअसल, भारतीय सेना की सबसे महत्वपूर्ण ऊंचाइयों में से एक है रेचिन ला, जिसका चीनी विरोध कर रहे हैं। यहां से भारतीय सेना न केवल पैंगोंग झील के दक्षिणी तट पर चीनी सैन्य ठिकानों पर आसानी से नजर रख सकती है, बल्कि झील के उत्तर में फिंगर 4 क्षेत्र भी इसकी रेंज में आ सकते हैं।


गौरतलब है कि भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर चार महीने से गतिरोध जारी है। कई स्तरों पर संवाद होने के बावजूद अब तक कोई सफलता नहीं मिली है।               


9 मिनट अंधकार, सरकार का विरोध किया

बृजेश केसरवानी


लखनऊ। देश में तेज़ी से बढ़ती मंहगाई व बेरोजगारी तथा खराब अर्थव्यवस्था के खिलाफ बुधवार की रात्रि अंधेरा कर मोमबत्तियां व मसालें जला कर विरोध प्रकट किया गया। बेरोजगार युवाओं के साथ कदम।से कदम मिलाकर खड़ी कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी आदि राजनीतिक पार्टियों ने सत्ता पक्ष को घेरने में कू कोर कसर नहीं छोड़ा। उत्तर प्रदेश में डूबती कांग्रेस को तो मानों बहुत बड़ा राजमितिक सहारा मिल गया है और इसी लिए पार्टी के आह्वान पर प्रत्येक जनपद में कांग्रेसियों ने भी 09 सितंबर की रात्रि 09 बजे 09 मिनट के लिए अंधेरा कर मोमबत्ती व मसालें जलाई। कांग्रेस ने जहां बेरोजगार युवाओं को अपनी ढाल बनाया है वहीं समाजवादी पार्टी भी तनिक पीछे नहीं है। समजवाड़ाओ पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व उनकी पत्नी पूर्व सांसद डिम्पल यादव ने स्वयं अंधेरे में मोमबत्ती जला बेरोजगार कर युवाओं के साथ खड़े होने का एहसास दिलाया। सपा के धर्मेन्द्र यादव सहित वरिष्ठ नेता मोहम्मद एबाद ने भी अपने सहयोगियों के साथ मोमबत्ती जलाई। बहुजन समाज पार्टी का गढ़ माना जाने वाला जनपद अम्बेडकरनगर में भी कांग्रेस व समाजवादी पार्टी के लोगों ने बीती रात्रि अंधेरा कर मोमबत्तियां व मसालें जला कर मंहगाई, बेरोजगारों व खराब अर्थव्यवस्था पर सरकार को आइना दिखाने का काम किया।
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने फेसबुक वॉल पर डिम्पल यादव के साथ मोमबत्ती जलाने की तश्वीर शेयर करते हुए लिखा कि “आज आनेवाले कल के बदलाव का इतिहास लिख दिया, सियासत के आसमान पर रोशनी से इंक़लाब लिख दिया” उन्होंने आगे लिखा कि आज युवाओं ने भाजपा के शासनकाल की उल्टी गिनती की शुरूआत कर दी है, हमने नौजवानों की ख़ातिर मोमबत्तियाँ जलाकर हमेशा की तरह आज भी उनका साथ दिया है और देते रहेंगे। श्री अखिलेश ने अगली पोस्ट में बाद सवाल उठाते हुए लिखा कि “समझ नहीं आता भाजपा सरकार चला रही है या देश के साधनों और संसाधनों का बाज़ार लगा रही है. इन्होंने प्रदेश देश में टोल, मंडी, सरकारी मॉल, आईटीआई, पॉलीटेक्निक, हवाई अड्डा, रेल के साथ साथ बीमा कंपनी और निजीकरण से युवाओं के रोज़गार के अवसरों तक को बेच डाला है।                  


संस्थानों पर हमलों को रोकने की अपील

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने स्कूलों और विश्वविद्यालय समेत अन्य शैक्षणिक संस्थानों पर हो रहे हमलों को रोकने के लिए विश्व समुदाय से इस दिशा में प्रयास करने की अपील की है। गुटेरेस ने शैक्षणिक संस्थानों को हमलों से बचाने के अंतरराष्ट्रीय दिवस के अवसर पर आयोजित एक वर्चुअल कार्यक्रम में कहा, “ स्कूलों और विश्वविद्यालयों को सुरक्षित स्थान माना जाता है जहां बच्चे और युवा जाकर सीखते हैं और अपना मानसिक तथा बौद्धिक विकास करने के अलावा सशक्त भी होते हैं।”


संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने सभी सदस्य देशों से शिक्षा के अधिकार पर हो रहे हमलों को रोकने के लिए मौजूदा अंतररराष्ट्रीय समझौतों के तहत अपनी प्रतिबद्धताओं का सम्मान करने की अपील की है। इसके अलावा स्कूलों और विश्वविद्यालयों का उपयोग सैन्य गतिविधियों और उद्देश्यों की पूर्ति के लिए भी नहीं होना चाहिए। गुटेरेस ने शैक्षणिक संस्थानों की सुरक्षा के लिए कई सदस्य देशों की ओर से उठाए गए कदमों का स्वागत भी किया। गुटेरेस ने समाज के वंचित तबकों समेत सभी के लिए शिक्षा के समान अवसर की उपलब्धता पर बल देते हुए कहा, “मैं संयुक्त राष्ट्र के सभी सदस्य देशों से आग्रह करता हूं कि सभी के लिए शिक्षा की व्यवस्था सुनिश्चित करें, विशेष रूप से समाज के वंचित तबकों तथा शरणार्थियों के लिए।”


उन्होंने कहा, “कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी ने हमारे समाज में मौजूद कई कमजोर पहलुओं पर प्रकाश डाला है। इनमें से एक है, शिक्षा तक लोगों की असमान पहुंच। आने वाले दशक में सतत विकास के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि कोई भी पीछे न रहे। उसके लिए, सभी के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और छात्रों के पढ़ने एवं सीखने के लिए सुरक्षित स्थानों की आवश्यकता है।”          


12 सितंबर से कई ट्रेनों का संचालन होगा

लखनऊ। रेलवे प्रशासन यात्रियों की सुविधा के लिए अनलॉक-04 में राजधानी से लखनऊ-नई दिल्ली एसी एक्सप्रेस और लखनऊ-नई दिल्ली स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस सहित कई स्पेशल ट्रेनों का संचालन 12 सितम्बर से करने जा रहा है। इन स्पेशल ट्रेनों के लिए आज से बुकिंग शुरू हो गई है।


लखनऊ मंडल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि रेलवे प्रशासन अनलॉक-04 में 12 सितम्बर से 80 और स्पेशल ट्रेनें चलाने जा रहा है। इसमें राजधानी लखनऊ से चलने और गुजरने वाली अप -डाउन ट्रेनों में 02429/30 लखनऊ -नई दिल्ली एसी एक्सप्रेस, 02003/04 लखनऊ- नई दिल्ली स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस, 05007/08 वाराणसी सिटी- लखनऊ जंक्शन कृषक एक्सप्रेस, 02591/92 गोरखपुर- यशवंत एक्सप्रेस वाया लखनऊ, 05909/10 डिब्रूगढ़,- लालगढ़ अवध असम एक्सप्रेस, 03307/08 धनबाद फिरोजपुर गंगा सतलज एक्सप्रेस और 05933/34 डिब्रूगढ़-अमृतसर एक्सप्रेस शामिल हैं। इन स्पेशल ट्रेनों में आज से बुकिंग शुरू हो गई है।


उन्होंने बताया कि यह सभी स्पेशल ट्रेनें गत 22 मार्च से ही बंद हैं। रेलवे ने पूरे देश में कोरोना महामारी को देखते हुए पहले से ही 230 स्पेशल ट्रेनें चला रखी हैं। अब 80 और ट्रेनों का संचालन शुरू होने से उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में ट्रेनों की संख्या 310 हो जाएगी। इन सभी स्पेशल ट्रेनों में यात्रा करने के लिए कंफर्म टिकट अनिवार्य है। स्पेशल ट्रेनों में सिर्फ रिजर्व सीटों की व्यवस्था की गई है। किसी भी स्पेशल ट्रेन में जनरल डिब्बे नहीं लगेंगे।               


'पेट्रोल-डीजल' के दाम आई कुछ नरमी

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में आई हालिया गिरावट के बाद तेल विपणन कंपनियों ने गुरुवार को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में मामूली कटौती की। पेट्रोल के दाम में आठ से नौ पैसे जबकि डीजल के दाम में 10 से 12 पैसे प्रति लीटर की कटौती की गई है। उधर, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में बीते सत्र में कच्चे तेल में आई रिकवरी के दाम फिर नरमी बनी हुई है। कोरोना महामारी का प्रकोप गहराने से तेल की मांग में कमी आने की आशंकाओं से कीमतों में नरमी आई है।


इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल की कीमतें घटकर क्रमश: 81.99 रुपये, 83.49 रुपये, 88.64 रुपये और 84.96 रुपये प्रति लीटर हो गई हैं। वहीं, डीजल की कीमतें घटकर 73.05 रुपये, 76.55 रुपये, 79.57 रुपये और 78.38 रुपये प्रति लीटर हो गई हैं। अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटर कांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर ब्रेंट क्रूड के नवंबर डिलीवरी अनुबंध में गुरुवार को पिछले सत्र के मुकाबले 0.37 फीसदी की गिरावट के साथ 40.64 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। बीते सत्र में ब्रेंट क्रूड के दाम में दो फीसदी से ज्यादा की रिकवरी आई।


वहीं, डब्ल्यूटीआई के अक्टूबर डिलीवरी वायदा अनुबंध में पिछले सत्र के मुकाबले .0.55 फीसदी गिरावट के साथ 37.84 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। कमोडिटी बाजार विशेषज्ञ बताते हैं कि तेल की वैश्विक मांग में नरमी रहने की आशंका है जिससे कीमतों पर दबाव है।


गड़बड़ और खामियां क्षमा नहीं की जाएगी

श्रावस्ती। जनपद के विभिन्न विभागों एवं कार्यदायी संस्थाओं द्वारा जो भी विकास परख निर्माण कराये जा रहे हैं उन्हे पूरे गुणवत्ता के साथ समय से पूरी किये जाये। यदि औचक निरीक्षणों में किसी भी निर्माणाधीन कार्यों में गुणवत्ता की कमी मिली तो निश्चित ही सम्बन्धित कार्यदायी संस्था के साथ-साथ विभाग के जिला स्तरीय अधिकारियों को जिम्मेदार मानते हुए उनके ऊपर कड़ी कार्यवायी सुनिश्चित होगी।
उक्त निर्देश कलेक्ट्रेट सभागार में विकास कार्यों की गहन समीक्षा बैठक के दौरान जिलाधिकारी टीके शिबु ने दिया है। सड़कों एवं निर्माणाधीन पुलों की समीक्षा के दौरान सभी सम्बन्धित विभागों से सडकों का नाम, लम्बाई, कुल लागत, अवमुक्त धनराशि अब तक खर्च की गयी धनराशि एवं कार्य के प्रगति का पूरा विवरण तलब किया है, समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने दोनों नगर पालिका/नगर पंचायत के अधिशाषी अधिकारियों को जिन-जिन स्थानों पर भूमि उपलब्ध हो गयी है अपशिष्ट प्रबन्धन हेतु कार्यवाही करने का निर्देश दिया। पशुपालन विभाग की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिया है शत प्रतिशत पशुओं का टीकाकरण सुनिश्चित कराया जाए और जिले में संचालित गोवा स्थलों में भी सभी पशुओं का टीकाकरण सुनिश्चित किया जाए। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत नगर निकाय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में कैंप लगाकर अक्टूबर माह तक पात्रों को गोल्डन कार्ड प्रत्येक दशा में मुहैया कराया जाए। जिले में संचालित 108 एवं 102 एम्बुलेंस ऐसे स्थान जो फोन आने पर भी अटेंड नहीं किए जा सके हैं उनकी सूची कारण सहित मुहैया कराया जाए।                   


अमेरिकी एक्सचेंज नैसडैक पर शानदार एंट्री की

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। बिजनेस सॉफ्टवेयर फर्म फ्रेशवर्क्स इंक ने बुधवार को अमेरिकी एक्सचेंज नैसडैक पर शानदार एंट्री की है। अपने शानद...