मंगलवार, 15 मार्च 2022

9 अप्रैल को मतदान, 12 को मतगणना: अधिकारी

9 अप्रैल को मतदान, 12 को मतगणना: अधिकारी     

अश्वनी उपाध्याय/सत्येंद्र पंवार        
मेरठ/गाजियाबाद। मेरठ सहायक रिटर्निंग आफिसर 34-मेरठ, गाजियाबाद स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र/उप जिला निर्वाचन अधिकारी मेरठ सत्य प्रकाश सिंह ने 34-मेरठ, गाजियाबाद स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र में सम्मिलित मेरठ, बागपत, गाजियाबाद एवं हापुड, जिलों के समस्त नागरिको को सूचित करते हुये बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा उ.प्र विधान परिषद स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्रो के निर्वाचन हेतु, जिनका कार्यकाल 07 मार्च 2022 को समाप्त हो चुका है। द्विवार्षिक निर्वाचन हेतु कार्यक्रम दिनांक 28 जनवरी 2022 को घोषित किया गया था। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा उक्त कार्यक्रम को संशोधित करते हुये चरणवार कार्यक्रम निर्धारित किया गया है।
उन्होने बताया कि नामांकन पुनः प्रारंभ करने की तिथि 15 मार्च 2022, नाम निर्देशन हेतु अंतिम तिथि 19 मार्च 2022, नामांकन समय प्रातः 11.00 बजे से अपरान्ह 03.00 बजे तक, नाम निर्देशनों की संवीक्षा हेतु दिनांक 21 मार्च 2022, नाम वापसी हेतु अंतिम दिनांक 23 मार्च 2022, मतदान का दिनांक 09 अप्रैल 2022, मतदान का समय पूर्वान्ह 08.00 बजे से अपरान्ह 04.00 बजे तक, मतगणना का दिनांक 12 अप्रैल 2022 है तथा 16 अप्रैल 2022 से पूर्व निर्वाचन पूर्ण कर लिया जायेगा। उन्होने बताया कि उल्लिखित किसी भी निर्वाचन क्षेत्र के संबंध में जो भी नाम-निर्देशन पत्र 04 और 05 फरवरी 2022 को भरे गये होंगे, उन पर भी ऐसे अन्य नाम-निर्देशन पत्रों के साथ विचार किया जायेगा जो दिनांक 15 मार्च 2022 से 19 मार्च 2022 तक भरे जा सकते है। उन्होने बताया कि उक्त संशोधन के अतिरिक्त उ0प्र0 विधान परिषद स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन-2022 निर्वाचन क्षेत्र 34-मेरठ, गाजियाबाद की प्रक्रिया एवं व्यवस्था पूर्ववत रहेगी।

गर्भवती करने के केस में 10 वर्ष का कारावास, अर्थदंड

गर्भवती करने के केस में 10 वर्ष का कारावास, अर्थदंड      

दुष्यंत टीकम             

दुर्ग। किशोरी के साथ लगातार शारीरिक संबंध बनाकर उसे गर्भवती किए जाने के मामले में अदालत द्वारा फैसला सुनाया गया है। अभियुक्त को अदालत ने 10 वर्ष का कारावास व एक हजार रुपए के अर्थदण्ड से दंडित किए जाने का फैसला दिया है। यह फैसला विशेष न्यायाधीश नीरू सिंह की अदालत में  मंगलवार को सुनाया गया है। अदालत ने मामले की पीड़िता को पुनर्वास के लिए प्रतिकर के रुप में 4 लाख रूपए प्रदान किए जाने का निर्देश भी दिया है। मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से विशेष लोक अभियोजक राजेश कुमार साहू ने पैरवी की थी।

घटना दुर्ग थाना क्षेत्र की है। पीड़ित और आरोपी एक ही मोहल्ला के निवासी है और आरोपी अनिल गुप्ता (29 वर्ष) नारियल पानी बेचने का व्यवसाय करता था। साथ ही आरोपी विवाहित भी है। आरोपी को दुकान और घर पर पीड़ित 15 वर्षीय किशोरी का आना-जाना था। इसी दरम्यान युवक ने किशोरी को बहला-फुसलाकर कर शारीरिक संबंध बनाना प्रारंभ कर दिया। किशोरी के घर में अकेले होने पर भी युवक उसके घर में जाकर जबरिया शारीरिक संबंध बनाता था। जिससे किशोरी गर्भवती हो गई। परिजनों द्वारा डाक्टर से जांच कराए जाने पर इसका खुलासा हुआ। जिसके बाद 29 नवंबर 2018 को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई थी। शिकायत तथा किशोरी के चिकित्सकीय परीक्षण के बाद पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी को जेल भेज दिया था। विवेचना पश्चात प्रकरण को विचारण के लिए अदालत के समक्ष पेश किया गया था। प्रकरण पर विचारण पश्चात अभियुक्त अनिल गुप्ता (29 वर्ष) को दफा 376(2)(ढ) के तहत दोषी करार देते हुए 10 वर्ष के कारावास व एक हजार रुपए के अर्थदण्ड से दंडित किए जाने का फैसला अदालत ने दिया है।

राष्ट्रपति का बयान, नाटो में शामिल नहीं होगा यूक्रेन

राष्ट्रपति का बयान, नाटो में शामिल नहीं होगा यूक्रेन  

अखिलेश पांडेय       

मास्को/कीव। रूस के साथ छिड़ी जंग के बीद यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की की तरफ से बड़ा बयान दिया गया है‌। जेलेंस्की ने कहा है कि यूक्रेन नाटो में शामिल नहीं होगा। रूस की न्यूज एजेंसी के मुताबिक, जेलेंस्की का कहना है कि यूक्रेन को इस तथ्य को स्वीकार करना चाहिए कि वह नाटो में शामिल नहीं होगा। वहीं, दूसरी ओर यूक्रेन और रूस के एक और दौर की वार्ता करने की योजना से कूटनीतिक बातचीत का रास्ता खुला हुआ है। वहीं, रूसी सेना का यूक्रेन के कई शहरों पर आक्रमण जारी है। जिससे मानवीय संकट गहरा गया है। मंगलवार को सूरज निकलने से कुछ देर पहले कीव बड़े धमाकों से दहल गया और रूस ने कई मोर्चो पर अपनी बढ़त बना ली। दूसरी ओर रूसी सेना की घेराबंदी वाले शहर मारियुपोल से 160 नागरिकों की कारों का काफिला निर्धारित मानवीय गलियारे से रवाना हुआ।

दोनों देशों के बीच नयी वार्ता वीडियो कांफ्रेंस के जरिए हुई और यह उच्च स्तर के अधिकारियों की चौथे दौर की वार्ता है। हाल ही में यूक्रेन के राष्ट्रपति ने रूसी नेताओं से कहा है कि उनके देश द्वारा यूक्रेन पर किया गया हमला उन्हें उलटा पड़ेगा और आर्थिक पाबंदियों की वजह से उनके लोग उनसे नफरत करेंगे।वोलोदिमीर जेलेंस्की ने एक वीडियो में कहा था, " आप पर (रूसी पर) युद्ध अपराध में संलिप्तता के लिए निश्चित रूप से मुकदमा चलाया जाएगा‌‌।
यूक्रेन के नेता ने कहा कि पश्चिम ने हमले की वजह से रूस पर कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाएं हैं‌। जिसके नतीजे रूस के सभी लोगों को महसूस होंगे। उन्होंने कहा कि रूस के नेताओं से वहां के नागरिक ही नफरत करेंगे, जिन्हें वे कई सालों से रोजाना ठग रहे हैं। जेलेंस्की ने कहा "जब उन्हें आपके झूठ का अहसास अपनी जेब, कम होती संभावनाओं पर होगा और रूस के बच्चों का भविष्य अंधकार में जाने का अहसास होगा तो वे आप से नफरत करेंगे।

नामांकन: सपा ने विजय को प्रत्‍याशी घोषित किया

नामांकन: सपा ने विजय को प्रत्‍याशी घोषित किया    

संदीप मिश्र      
प्रतापगढ़। यूपी विधान परिषद सदस्य पद के लिए राजनीतिक दलों की ओर से नामों की घोषणा को लेकर लोगों में उत्‍सुकता बनी है। कौन पार्टी किसे उम्‍मीदवार बनाएगी, इसकी कयास भी लगाई जा रही है। इसी बीच मंगलवार को समाजवादी पार्टी ने प्रतापगढ़ में उम्‍मीदवारों के कयास पर विराम लगाया। सपा ने विजय यादव को प्रत्‍याशी घोषित किया है। इसकी पुष्टि सपा के जिला अध्यक्ष छविनाथ यादव ने की। विजय यादव इस समय जिला पंचायत सदस्य हैं। एलएलसी के नामांकन की प्रक्रिया मंगलवार से शुरू हुई है। यूपी एमएलसी चुनाव 2022 के कार्यक्रम की अधिसूचना जारी हुई थी। प्रतापगढ़ में जनसत्ता दल लोकतांत्रिक से अक्षय प्रताप सिंह ने नामांकन किया था। 
सपा, भाजपा में प्रत्याशियों के नाम को लेकर मंथन चल रहा था। भाजपा में अभी प्रत्याशी के चयन को लेकर मंथन चल रहा है। भाजपा जिला अध्यक्ष हरिओम मिश्रा ने बताया कि आज शाम तक प्रत्याशी की घोषणा हो सकती है। उधर सपा के प्रतापगढ़ जिला अध्‍यक्ष छविनाथ यादव ने बताया कि विजय यादव को पार्टी नेतृत्व ने यहां का प्रत्याशी घोषित किया है। विधान परिषद सदस्य के चुनाव की बेला आ गई है। भले ही यह चुनाव आम वोटर के वोट से नहीं होगा, पर पंचायत प्रतिनिधियों की मजबूत सहभागिता होने से लोगों से जुड़ा जरूर है। यह भी जनरुचि का चुनाव है। प्रतापगढ़ में चुनाव का माहौल धीरे-धीरे गरमाने लगा है। सपा के सामने अपनी कामयाबी की यात्रा को जारी रखने की चुनौती है। उसमें भी उम्मीदवारों की रैंकिंग हो रही है। कांग्रेस व बसपा का रुख अभी कुछ पता नहीं चला है कि वह क्या करती हैं। बाकी दलों में उम्मीदवारों के नाम के पैनल बन रहे हैं। एक नाम पर मुहर लगनी है। 
वह नाम किसका होगा, इस पर सब टकटकी लगाए हैं। भाजपा के कई नेता, पूर्व विधायक, हारे हुए उम्मीदवार स्तर के लोग संगठन के रास्ते टिकट तक पहुंचने में लगे हैं। इधर एक बार फिर से प्रशासन के सामने चुनाव की चुनौती आ गई है। हैं। वोटर चिह्नित होने से इसमें प्रशासन की रणनीति भी कुछ अलग होगी। उसे आचार संहिता का पालन भी कराना है। इसके लिए सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किए जाने की तैयारी है। प्रतापढ़ के एडीएम मुकेश चंद्रा का कहना है कि एमएलसी की एक सीट के लिए चुनाव कराया जाना है। इसके लिए संबंधित अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। सभी ब्लाकों में व जिला पंचायत में मतदान कराने की तैयारी शुरू कर दी गई है। कोविड गाइडलाइन का भी पालन किया जाएगा।

उप डीएम की मौजूदगी में पीस कमेटी की बैठक

उप डीएम की मौजूदगी में पीस कमेटी की बैठक       

अरविंद कुमार मौर्य       
कौशाम्बी। होली और शब-ए-बारात के त्यौहार को सकुशल संपन्न कराने के उद्देश्य से करारी थाने में उप जिलाधिकारी प्रखर उत्तम और क्षेत्राधिकारी की मौजूदगी में पीस कमेटी की बैठक आयोजित की गई है। बैठक में उप जिलाधिकारी ने स्पष्ट तौर से कहा है कि होली और सब्बेरात का त्यौहार भाईचारे अमन चैन से मनाए। किसी प्रकार का विवाद उत्पन्न ना करें उन्होंने कहा कि परंपरागत तरीके से जहाँ होलिका दहन होता है। वही, होलिका दहन होगा।
इस मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए एसडीएम ने कहा कि उत्पात मचाने वालों कठोर कार्रवाई की जाएगी। ग्राम प्रधान सभासद करारी कस्बे के मौलाना व मौलवी को शब-ए-बारात व होली के त्यौहार शांतिपूर्वक मनाने का निर्देश दिया। इस मौके पर थाना प्रभारी सुभाष कुमार यादव, ग्राम प्रधान रमेश मौर्य अदिलपुर, सुघर यादव पारा, हसनपुर सभासद सुएब अजलम, गुलाम मुस्तफ़ा, इमरान मौलाना, अजी, उबैस मौलाना सहित क्षेत्र के तमाम गणमान्य लोग मौजूद रहे।

सोनिया ने 5 चुनावी सूबों के प्रमुखों से इस्तीफा मांगा

सोनिया ने चुनावी सूबों के प्रमुखों से इस्तीफा मांगा   

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। पांच चुनावी सूबों में कांग्रेस की शर्मनाक हार के बाद पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी एक्शन में आ गई हैं। मंगलवार को एक घटनाक्रम के तहत सोनिया ने पांचों चुनावी सूबों के प्रमुखों से इस्तीफा देने को कहा है। उनका कहना है कि पार्टी को इनमें नए सिरे से खड़ा करना होगा। इसके लिए संगठन में आमूलचूल परिवर्तन किए जाने की बेहद ज्यादा जरूरत है।
कांग्रेस महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने अपने ट्वीट में इसकी जानकारी देते हुए कहा कि पार्टी नेतृत्व हार को बेहद गंभीरता से ले रहा है। 
कांग्रेस का एक समृद्ध इतिहास रहा है। ऐसे में पार्टी लड़ाई से भी बाहर हो जाए, ये बात समझ से परे है। उनका कहना था कि सीडब्ल्यूसी की मीटिंग में भी इस बात पर चर्चा हुई थी कि पार्टी को फिर से ताकतवर बनाने के लिए क्या किया जाए। सभी का कहना था कि सख्त फैसले लेने होंगे।

'मीडिया वन' के प्रसारण को एससी ने हरी झंडी दिखाई

'मीडिया वन' के प्रसारण को एससी ने हरी झंडी दिखाई 

अकांशु उपाध्याय     

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने मलयालम समाचार चैनल ‘मीडिया वन’ को अंतरिम राहत देते हुए उसके प्रसारण को मंगलवार को हरी झंडी दिखा दी। 
शीर्ष अदालत ने केंद्र के फैसले को उचित ठहराने वाले केरल उच्च न्यायालय के फैसले पर अंतरिम रोक लगाते हुए चैनल का प्रसारण पहले की तरह सामान्य तरीके से जारी रखने की अनुमति दे दी। केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए 31 जनवरी को ‘मीडिया वन’ का लाइसेंस रद्द करने का फैसला लिया था। पीठ ने मंगलवार को ‘मीडिया वन’ को प्रसारण की अनुमति देने के साथ ही केंद्र सरकार से 26 मार्च तक जवाबी हलफनामा दायर करने का आदेश दिया। याचिकाकर्ता मलयालम समाचार चैनल ने केंद्र सरकार के फैसले को उचित ठहराने वाले उच्च न्यायालय के उस फैसले को शीर्ष अदालत में चुनौती दी थी।

'आयुष्मान योजना' के तहत उपचार से इनकार नहीं

'आयुष्मान योजना' के तहत उपचार से इनकार नहीं  

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। सरकार ने मंगलवार को कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत किसी भी लाभार्थी को धन की कमी के चलते उपचार से इनकार नहीं किया गया। साथ ही उसने ध्यान दिलाया कि योजना के संशोधित बजट में कम आवश्यकता या राज्यों की मांग में कमी के चलते कटौती की गई है‌‌। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री भारती पवार ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में राज्यसभा को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 2019-20, 2020-21 और 2021-22 में इस योजना का बजट अनुमान 6,400 करोड़ रूपये था जो संशोधित अनुमान में क्रमश: 3,200 करोड़ रूपये, 3,100 करोड़ रूपये एवं 3,199 करोड़ रूपये रहा।

पंजाब: 16 मार्च को सीएम पद की शपथ लेगें भगवंत

पंजाब: 16 मार्च को सीएम पद की शपथ लेगें भगवंत  

अमित शर्मा       
चंडीगढ़। पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बन गई है और अब भगवंत मान सीएम बनने जा रहे हैं। 16 मार्च को भगवंत मान सीएम पद की शपथ लेने वाले हैं। लेकिन इससे पहले पंजाब में कोरोना की पाबंदियों को लेकर बड़ा फैसला सामने आ गया है। 
मंगलवार को जारी एक आर्डर के अनुसार, पंजाब से कोरोना से संबंधित किसी भी प्रकार पाबंदी को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है‌। अब पंजाब में कोरोना से संबंधित किसी भी प्रकार पाबंदी नहीं रहेगी। हालांकि, लोगों से कोरोना के नियमों का पालन करने को कहा गया है।

गिरावट: 51,564 रुपये का हुआ 10 ग्राम सोना

गिरावट: 51,564 रुपये का हुआ 10 ग्राम सोना    

अकांशु उपाध्याय    

नई दिल्ली। भारतीय सर्राफा बाजार में मंगलवार को सोने-चांदी के दाम जारी कर दिए गए हैं। सोना और चांदी मंगलवार को फिर से सस्ता हो गया है। 999 प्योरिटी वाला 10 ग्राम सोना 51,564 रुपये का हो गया है‌। जबकि 999 प्योरिटी वाली एक किलो चांदी की कीमत घटकर 67,349 रुपये पर पहुंच गई है।

सोने-चांदी के रेट रोजाना दो बार जारी किए जाते हैं। एक बार सुबह और दूसरी बार शाम को। ibjarates.com के अनुसार, 995 प्योरिटी वाला 10 ग्राम सोना मंगलवार को 51358 रुपये का मिल रहा है। 916 शुद्धता के सोने के दाम कम होकर 47,233 रुपये पर आ गए हैं। इसके अलावा, 750 प्योरिटी वाला सोना मंगलवार को 38,673 रुपये में मिल रहा है। वहीं, 585 प्योरिटी वाले सोने की बात करें तो इसकी कीमत आज 30165 रुपये हो गई है। इसके अलावा, 999 प्योरिटी वाली चांदी 67349 रुपये में बिक रही है।

चीन: 24 घंटे में कोरोना के 3,507 नए मामलें मिलें

चीन: 24 घंटे में कोरोना के 3,507 नए मामलें मिलें     

सुनील श्रीवास्तव        
बीजिंग। चीन में एक दिन पहले के मुकाबले मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के दोगुने दैनिक मामले सामने आए। चीन, वैश्विक महामारी के शुरुआती दिनों के बाद से अब तक के सबसे बड़े प्रकोप का सामना कर रहा है।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 3,507 नए मामले सामने आए, जबकि उससे एक दिन पहले 1,337 दैनिक मामले सामने आए थे। चीन में कोरोना वायरस के अत्यधिक संक्रामक ‘स्टील्थ ओमीक्रोन’ स्वरूप के कारण संक्रमण के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं। पूर्वोत्तर चीन के जिलिन प्रांत में संक्रमण के सबसे अधिक 2,601 नए मामले सामने आए हैं।

फिल्म अटैक व बच्चन पांडे में नजर आएंगी जैकलीन

फिल्म अटैक व बच्चन पांडे में नजर आएंगी जैकलीन   

कविता गर्ग               
मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस जैकलीन फर्नांडीज किसी परिचय की मोहताज नहीं है। लेकिन अगर एक शब्द में उनका इंट्रो देना हो तो वो शब्द होगा- धमाका। जल्द ही जैकलीन फर्नांडीज फिल्म अटैक और फिल्म बच्चन पांडे में नजर आने वाली हैं। यानी जैकलीन इस बार डबल धमाल मचाती नजर आएंगी।
जैकलीन फर्नांडीज अपनी आने वाली फिल्म अटैक के प्रमोशन के लिए मल्टीकलर फ्लोरल प्रिंटेड ड्रेस में नजर आईं। इस दौरान जैकलीन बेहद स्टाइलिश और ग्लैमरस नजर आ रहीं थीं।जैकलीन फर्नांडीज की ये आउटफिट इंटरनेशनल क्लोदिंग लाइन फिलीप्प प्लेएन की है।जैकलीन ने अपने आउटफिट को लेदर फ्लोरल क्रॉप्ड बाइकर जैकेट के साथ जोड़ा, जिसकी कीमत 6,55,615 रुपए है।

बेंगलूरू में पूरे एक हफ्ते के लिए धारा-144 लागू

बेंगलूरू में पूरे एक हफ्ते के लिए धारा-144 लागू   

इकबाल अंसारी         
बेंगलुरू। कर्नाटक हाईकोर्ट ने मंगलवार को हिजाब विवाद पर अपना फैसला किया। कोर्ट के फैसले से पहले बेंगलुरू सहित प्रदेशभर में निषेधात्मक आदेश को लागू कर दिया गया है। जिससे कि किसी भी तरह का विरोध प्रदर्शन या लोगों की भीड़ इकट्ठा नहीं हो सके। बता दें कि कर्नाटक हाईकोर्ट ने मंगलवार को सुबह 10.30 बजे अपना फैसला सुनाया।
वहीं, बेंगलुरु में धारा-144 को लागू कर दिया गया है। बेंगलूरू में पूरे एक हफ्ते के लिए धारा-144 को लागू किया गया है। इस दौरान किसी भी तरह का विरोध प्रदर्शन या लोगों की भीड़ इकट्ठा नहीं हो सकती है।

विपक्ष ने ठेका फर्म पर कठोर कार्रवाई की मांग की

विपक्ष ने ठेका फर्म पर कठोर कार्रवाई की मांग की   

दुष्यंत टीकम       
रायपुर। विधानसभा में मंगलवार को सरकार ने आखिरकार स्वीकार किया कि 108 एम्बुलेंस सेवा से जुड़े ठेका फर्म ने शर्तों का उल्लंघन किया है। जिसके एवज में ठेका फर्म के ऊपर जुर्माना लगाया गया है। मगर, विपक्ष ने इसे पर्याप्त नहीं मानते हुए कठोर कार्रवाई की मांग की है। छत्तीसगढ़ में बीते एक दशक से संजीवनी एम्बुलेंस सेवा 108 का संचालन किया जा रहा है। बीते कुछ वर्षों में इस सेवा के टेंडर में गड़बड़ी के बाद अब यह सेवा मुहैया करा रहे फर्म के द्वारा सेवा शर्तो का उल्लंघन करने की अनेक शिकायतें की गईं। इस मुद्दे पर नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक ने बताया कि ग्रामीण चिकित्सा इकाई और 108 सेवा के अनुबंध के तहत एम्बुलेंस सेवा का टेंडर जय अम्बे इमरजेंसी सर्विसेस सम्मान फाउंडेशन को जारी किया गया हैं।
विधानसभा में ध्यानाकर्षण के माध्यम से उठाये गए इस मामले के संबंध में जानकारी देते हुए मंत्री ने बताया कि 108 की सेवाएं मुहैया करा रहे ठेका फर्म द्वारा नियमों का लगातार उल्लंघन किये जाने की शिकायत हुई जिसकी जांच में गड़बड़ी पायी गई, इसके एवज में फर्म के ऊपर पहले 52 लाख 15 हजार 440 रूपये की पेनाल्टी लगाई गयी। फिर उसके ऊपर पुनः 26 लाख 4 हजार और 27 लाख 72 हजार की पेनाल्टी लगाई गई।
नेता प्रतिपक्ष ने इस मामले में कहा कि केवल पेनाल्टी लगाना पर्याप्त नहीं है। 108 एम्बुलेंस सेवा में जिस तरह की सुविधाएँ होनी चाहिए अगर वो मुहैया नहीं हो रही है तो मरीजों पर इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। इसे ध्यान में रखते हुए संबंधित फर्म के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार को मरीजों की जान के साथ खिलवाड़ को बंद करना चाहिए। हालांकि मंत्री ने इस मामले में प्रावधानों को देखते हुए कार्रवाई करने की बात कही है। इस मामले की जानकारी देते हुए नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक ने कांग्रेस सरकार पर अपनों को संरक्षण देने का आरोप लगाया।

मेरे कहने पर सांसदों के बेटे-बेटियों के टिकट काटे गए

मेरे कहने पर सांसदों के बेटे-बेटियों के टिकट काटे गए  

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। भाजपा संसदीय दल की बैठक मंंगलवा को अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में हुई। बैठक को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने भाजपा सांसदों को परिवारवादी राजनीति पर सख्त संदेश दिया। उन्होंने कहा कि पार्टी में पारिवारिक राजनीति को अनुमति नहीं है और मेरे कहने पर आपके बेटे-बेटियों के टिकट काटे गए हैं। सूत्रों के अनुसार पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि अगर किसी भाजपा सांसद या मंत्री के बेटे या बेटी की उम्मीदवारी खारिज हुई तो इसके पीछे मैं जिम्मेदार हूं।
पार्टी में पारिवारिक राजनीति की अनुमति नहीं होगी। भाजपा अन्य पार्टियों में वंशवाद की राजनीति के खिलाफ लड़ेगी। उन्होंने कहा कि परिवारवादी पार्टियां देश को खोखला कर रही हैं। उन्होंने कहा कि वंशवाद की राजनीति लोकतंत्र के लिए खतरनाक है और इसके खिलाफ हमें लडऩा होगा। 
पीएम मोदी ने कहा कि मेरी वजह से ही कई सांसदों के बच्चों को हाल ही में संपन्न विधान सभा चुनावों में टिकट नहीं मिला। वंशवाद की राजनीति से लडऩे के लिए भाजपा को संगठन के भीतर इस तरह की प्रथाओं पर लगाम लगानी होगी। पीएम मोदी ने हाल ही में रिलीज हुई फिल्म द कश्मीर फाइल्स की भी सराहना की और सुझाव दिया कि ऐसी फिल्में अधिक बार बनाई जानी चाहिए। इससे पहले चार राज्यों में बड़ी जीत के लिए सभी सांसदों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का फूलों की माला पहनाकर स्वागत किया। बैठक शुरू होने से पहले स्वर कोकिला लता मंगेशकर को भी श्रद्धांजलि दी गई।
बैठक में मौजूद भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि पीएम मोदी ने सांसदों से कहा कि वे अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों में ऐसे 100 बूथों की पहचान करें जहां भाजपा को अपेक्षाकृत कम वोट मिले और इसके पीछे के कारणों की पहचान करें। हालांकि, उन्होंने पार्टी को समर्थन देने के लिए सांसदों को भी धन्यवाद दिया।

हिजाब प्रतिबंध बरकरार, फैसला अत्यंत निराशाजनक

हिजाब प्रतिबंध बरकरार, फैसला अत्यंत निराशाजनक  

इकबाल अंसारी     
श्रीनगर। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने हिजाब पर प्रतिबंध को बरकरार रखने के कर्नाटक उच्च न्यायालय के फैसले को ”बेहद निराशाजनक” बताते हुए मंगलवार को कहा कि यह केवल धर्म की बात नहीं है, बल्कि चयन की स्वतंत्रता की भी बात है। महबूबा ने ट्वीट किया, ”कर्नाटक उच्च न्यायालय का हिजाब प्रतिबंध को बरकरार रखने का फैसला अत्यंत निराशाजनक है। एक तरफ हम महिला सशक्तीकरण की बात करते हैं और दूसरी तरफ हम उन्हें एक सरल चयन का अधिकार भी देने से इनकार कर रहे हैं। यह केवल धर्म की बात नहीं है, बल्कि चयन की स्वतंत्रता की भी बात है।
कर्नाटक उच्च न्यायालय ने कक्षा में हिजाब पहनने की अनुमति देने का अनुरोध करने वाली उडुपी में ‘गवर्नमेंट प्री-यूनिवर्सिटी गर्ल्स कॉलेज’ की मुस्लिम छात्राओं के एक वर्ग की याचिकाएं मंगलवार को खारिज कर दी। अदालत ने कहा कि स्कूल की वर्दी का नियम एक उचित पाबंदी है और संवैधानिक रूप से स्वीकृत है, जिस पर छात्राएं आपत्ति नहीं उठा सकतीं।

गूगल की मदद से युवक के पते-ठिकाने की पहचान की

गूगल की मदद से युवक के पते-ठिकाने की पहचान की

मनोज सिंह ठाकुर      
इंदौर। मध्यप्रदेश से मालवाहक ट्रक में बैठकर मध्यप्रदेश के इंदौर पहुंचने के बाद बदहवास हालत में भटक रहे 18 वर्षीय युवक के पते-ठिकाने की स्थानीय पुलिस ने गूगल वॉइस ट्रांसलेटर की मदद से पहचान की और उसे मदुरै जिले स्थित उसके घर के लिए रवाना किया। पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। जूनी इंदौर पुलिस थाने के प्रभारी अभय नेमा ने बताया कि मदुरै जिले के ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाला युवक एक मालवाहक ट्रक में बैठकर हाल में इंदौर आया था। उन्होंने बताया कि उसके पास जो धन था, वह खर्च हो गया था, जिसके बाद वह शहर की लोहा मंडी में बदहवास हालत में भटक रहा था। उन्होंने बताया, यह युवक हिन्दी नहीं समझता। हमने हिन्दी में उससे उसका पता-ठिकाना पूछा, तो वह जवाब नहीं दे सका और तमिल बोलकर इशारों में अपनी बात समझाने की कोशिश करने लगा। उसके पास खुद का मोबाइल भी नहीं था।

थाना प्रभारी ने बताया कि चूंकि स्थानीय पुलिस कर्मी तमिल नहीं समझते हैं, इसलिए गूगल वॉइस ट्रांसलेटर की मदद से भाषा की दिक्कत दूर की गई और युवक से उसका मूल निवास स्थान पता किया गया। उन्होंने बताया, युवक एक पुलिस कर्मी के मोबाइल के माइक पर तमिल में आप बीती सुना रहा था और तुरंत इसका अनुवाद हिन्दी में हो रहा था। नेमा के मुताबिक, युवक की पहचान काली के रूप में हुई है और उसने पुलिस को बताया कि उसने दो दिन से खाना नहीं खाया था।

उन्होंने बताया कि जूनी इंदौर पुलिस थाने में काली को भोजन कराया गया और इसके बाद उसे ट्रेन के जरिये मदुरै जिले स्थित उसके घर के लिए सोमवार को रवाना कर दिया गया। थाना प्रभारी के मुताबिक, काली ने पुलिस को बताया कि उसके माता-पिता की मौत हो चुकी है और वह अपने दादा-दादी के साथ रहता है। उन्होंने बताया कि युवक का कहना है कि वह मालवाहक ट्रक से अपने एक रिश्तेदार के घर जा रहा था, लेकिन किसी विवाद के चलते ट्रक चालक उसे इंदौर में उतारकर आगे बढ़ गया था।‌‌‌‌

'ग्लांजा' का नया संस्करण भारतीय बाजार में उतारा

'ग्लांजा' का नया संस्करण भारतीय बाजार में उतारा 

अकांशु उपाध्याय       

नई दिल्ली। टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) ने प्रीमियम हैचबैक गाड़ी ग्लांजा का नया संस्करण भारतीय बाजार में उतारा है। जिसकी शुरुआती कीमत 6.39 लाख रुपये रखी गई है। इस मॉडल में 1197 सीसी का पेट्रोल इंजन है और यह मैनुअल तथा ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन विकल्प दोनों में उपलब्ध है। ग्लांजा के पांच स्पीड वाले मैनुअल संस्करण की कीमत 6.39 लाख रुपये से 9.19 लाख रुपये के बीच है जबकि ऑटोमैटिक संस्करण की कीमत 7.79 लाख रुपये से 9.69 लाख रुपये के बीच है। 

इसकी अन्य खासियतों में छह एयरबैग, एंटी-लॉक ब्रेकिंग सिस्टम, हिल होल्ड कंट्रोल, हेड-अप डिस्प्ले, 360 डिग्री कैमरा और नौ इंच का स्मार्ट प्ले कास्ट शामिल है। टीकेएम के कार्यकारी उपाध्यक्ष (बिक्री एवं ग्राहक सेवा) तदाशी असाजुमा ने कहा, ”यह विशेषतौर पर उन लोगों के लिए है जो स्टाइल और आधुनिक तकनीक वाली सुरक्षित तथा आरामदायक कार चाहते हैं।” टोयोटा ग्लांजा 2019 में बाजार में आई थी। अब तक कंपनी ने घरेलू बाजार में 66,000 से अधिक ग्लांजा कारें बेची हैं।

आरोपी की जमानत के खिलाफ याचिका पर सुनवाई

आरोपी की जमानत के खिलाफ याचिका पर सुनवाई 

आदर्श श्रीवास्तव       

लखीमपुर खीरी। उच्चतम न्यायालय ने लखीमपुर खीरी हिंसा मामले के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की जमानत के खिलाफ दायर याचिका पर अब बुधवार को सुनवाई की। मुख्य न्यायाधीश एन. वी. रमन की अध्यक्षता वाली पीठ ने मंगलवार को इस मामले को 16 मार्च के लिए सूचीबद्ध करने का निर्देश देते हुए कहा कि विशेष अनुमति याचिका पर कल सुनवाई की। शीर्ष अदालत ने 11 मार्च को कहा था कि 15 मार्च को उपयुक्त पीठ के समक्ष याचिका पर सुनवाई की। लेकिन इस मामले से संबंधित अन्य याचिकाओं पर सुनवाई कर चुकी पीठ में शामिल न्यायाधीश न्यायमूर्ति सूर्य कांत आज उपलब्ध नहीं थे। 

याचिकाकर्ताओं- मृतक किसानों के परिजनों के वकील प्रशांत भूषण ने आज भी याचिका को अति आवश्यक बताते हुए शीघ्र सुनवाई की गुहार लगाई। इससे पहले उन्होंने 11 और चार मार्च को भी शीघ्र सुनवाई की गुहार लगाई थी। श्री भूषण ने शीर्ष अदालत को बताया कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में एक गवाह पर गत गुरुवार रात को वहां हमला किया गया था। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि अभियुक्तों की ओर से धमकी दी जा रही है कि अब उनकी पार्टी राज्य की सत्ता में वापस आ गई है। श्री भूषण ने कहा कि ऐसे हालात में गवाहों और याचिकाकर्ताओं के लिए नई चुनौती खड़ी हो गई है। मुख्य आरोपी आशीष के अलावा अन्य आरोपी भी इलाहाबाद उच्च न्यायालय में जमानत लेने की कोशिश कर रहे हैं। केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के पुत्र आशीष को इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने 10 फरवरी को जमानत दी थी। किसानों के परिजनों की ओर से श्री भूषण ने आशीष की जमानत रद्द करने की मांग करते हुए उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ शीर्ष अदालत में याचिका दायर की।

श्री भूषण ने चार मार्च को भी शीघ्र सुनवाई की गुहार लगाई थी। तब मुख्य न्यायाधीश की अध्यक्षता वाली पीठ ने इस मामले पर 11 मार्च को उपयुक्त पीठ के समक्ष सुनवाई करने का निर्देश दिया था, लेकिन उस दिन याचिका सूचीबद्ध नहीं की गई थी। मुख्य न्यायाधीश ने चार मार्च को यह भी कहा था कि संबंधित मामले की सुनवाई करने वाली वही पीठ याचिका पर विचार करने के लिए उपलब्ध होनी चाहिए। मृतक किसानों के परिजनों का नेतृत्व कर रहे जगजीत सिंह की ओर से अधिवक्ता श्री भूषण ने फरवरी में विशेष अनुमति याचिका दायर की थी। याचिकाकर्ता ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय द्वारा आशीष को जमानत दिए जाने को कानूनी प्रक्रिया एवं न्याय की अनदेखी करार दिया है। श्री भूषण से कुछ दिन पहले, अधिवक्ता सी एस पांडा और शिव कुमार त्रिपाठी ने भी आशीष की जमानत के खिलाफ सर्वोच्च अदालत में विशेष अनुमति याचिका दायर की थी।

अनजाने में मिसाइल के चलने को गंभीरता से लिया

अनजाने में मिसाइल के चलने को गंभीरता से लिया  

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि अनजाने में एक मिसाइल के चलने की घटने को सरकार ने गंभीरता से लिया है और इसके लिए एक औपचारिक उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं। जिससे दुर्घटना के सटीक कारणों से पता चल सके। श्री सिंह ने मंगलवार को राज्यसभा में नौ मार्च को दुर्घटनावश एक मिसाइल के चलने की घटना का उल्लेख करते हुए कहा कि ऑपेरशन, रखरखाव और निरीक्षण के लिए मानक संचालन प्रक्रिया की समीक्षा की जा रही है हम अपने हथियार प्रणाली की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हैं इस संबंध में यदि किसी प्रकार की त्रुटि पायी जाती है तो उसे तुरंत दूर किया जाएगा।उन्होंने कहा, “मैं सदन को आश्वस्त कर सकता हूं कि हमारा मिसाइल सिस्टम अत्यंत सुरक्षित और भरोसेमंद है। 
इसके अलावा हमारी सुरक्षा प्रक्रिया और प्रोटोकॉल उच्चस्तरीय हैं और समय-समय पर इसकी समीक्षा की जाती है। हमारी सशस्त्र सेनाएं पूरी तरह से प्रशिक्षित और अनुशासित हैं तथा इस प्रकार के सिस्टम को हैंडल करने का अच्छा अनुभव रखती है।श्री सिंह ने नौ मार्च की घटना का उल्लेख करते हुए कहा कि जांच के दौरान अनजाने में एक मिसाइल चल गई थी। मिसाइल यूनिट के रुटीन रखरखाव और निरीक्षण के दौरान शाम को लगभग सात बजे दुर्घटनावश एक मिसाइल चल गयी थी। बाद में पता हुआ कि यह मिसाइल पाकिस्तान के क्षेत्र में जा गिरी। यह घटना खेदजनक है परंतु राहत की बात है कि इस दुर्घटना से किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ है।

कारोबार: सेंसेक्स और निफ्टी में उतार-चढ़ाव दिखा

कारोबार: सेंसेक्स और निफ्टी में उतार-चढ़ाव दिखा    

कविता गर्ग          

मुंबई। एशियाई बाजारों में मिले जुले रूख और आईटी कंपनियों के शेयर में गिरावट के कारण मंगलवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स और निफ्टी में उतार-चढ़ाव देखने को मिला। तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स मजबूत रुख के साथ खुला थाा। लेकिन फिर 150 अंक की गिरावट आने के साथ यह 56,333.72 पर आ गया। इसी तरह एनएसई निफ्टी शुरुआती कारोबार में 28.50 अंक की गिरावट के साथ 16,842.80 पर था। सेंसेक्स में टाटा स्टील, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, एचसीएल टेक, टीसीएस और विप्रो के शेयर नुकसान में रहे।

वहीं दूसरी ओर मारुति सुजुकी इंडिया, महिंद्रा ऐंड महिंद्रा, अल्ट्राटेक सीमेंट, एशियन पेंट्स, भारती एयरटेल और एचडीएफसी के शेयर लाभ में रहे। पिछले सत्र में बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स कारोबार के अंत में 935.72 अंक यानी 1.68 प्रतिशत चढ़कर 56,486.02 अंक पर बंद हुआ था। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 240.85 अंक यानी 1.45 प्रतिशत की तेजी के साथ 16,871.30 अंक पर पहुंच गया। इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 3.73 प्रतिशत गिरकर 102.9 डॉलर प्रति बैरल हो गया। शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने सोमवार को सकल आधार पर 176.52 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

कांग्रेस विधायक ने अपनी ही सरकार पर सवाल उठाया

कांग्रेस विधायक ने अपनी ही सरकार पर सवाल उठाया

नरेश राघानी      
जयपुर। राजस्थान विधानसभा में मंगलवार को सत्तारुढ़ कांग्रेस विधायक रामनारायण मीणा ने अपनी ही सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि सरकार इतनी सुस्त क्यों चल रही है कि अधिकारी उसकी बात नहीं मान रहे और घोषणा के चार वर्ष बाद भी बूंदी में बूंदा मीणा का पैनोरमा नहीं बन सका ? 
मीणा ने प्रश्नकाल में “बूंदी में बूंदा मीणा का पैनोरमा” का प्रश्न उठाया और कला, साहित्य, संस्कृति एवं पुरातत्व मंत्री बी डी कल्ला जब इसका जवाब दे रहे थे तब उन्होंने पूरक प्रश्न करते हुए कहा कि वर्ष 2018 में बूंदा मीणा का पैनोरमा बनाने की घोषणा हुई और मंत्री ने कलेक्टर को पत्र लिखा लेकिन अब तक इस पर काम नहीं हुआ, सरकार इतनी सुस्त क्यों चल रही है कि अधिकारी उसकी बात नहीं मान रहे हैं।

रिम्स नियुक्ति प्रक्रिया में विलंब पर एचसी की नाराजगी

रिम्स नियुक्ति प्रक्रिया में विलंब पर एचसी की नाराजगी 

इकबाल अंसारी     

रांची। उच्च न्यायालय ने रिम्स नियुक्ति प्रक्रिया में विलंब पर एक बार फिर से नाराजगी जताईं हैं। वहीं रिम्स प्रबंधन की ओर से जल्द नियुक्ति प्रक्रिया पूरी कर लेने का भरोसा दिलाया हैं। हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति डॉ. रवि रंजन और न्यायमूर्ति सुजीत नारायण प्रसाद की खंडपीठ में रिम्स में चतुर्थवर्गीय नियुक्ति से संबंधित मामले की सुनवाई हुई।सुनवाई के दौरान अदालत ने सरकार को यह निर्देश दिया कि रिम्स गवर्निंग बॉडी की बैठक कर नियुक्ति से संबंधित नियमावली में रोस्टर के बिंदु में संशोधन किया जाए। सुनवाई के दौरान स्वास्थ्य सचिव और रिम्स निदेशक भी अदालत के समक्ष वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित हुए।अदालत ने रिम्स में विभिन्न पदों पर होने वाली नियुक्ति को लेकर रिम्स प्रशासन और सरकार के रवैये पर नाराजगी जाहिर की। जबकि रिम्स प्रबंधन की ओर से जल्द से जल्द नियुक्ति प्रक्रिया पूरी कर लेने का भरोसा दिलाया गया। मामले की अगली सुनवाई दो सप्ताह बाद होगी।

बताते चलें कि इससे पहले पिछली सुनवाई में भी हाईकोर्ट ने राज्य सरकार के कामकाज पर नाराजगी व्यक्त करते हुए मौखिक टिप्पणी की थी कि अगर रिम्स में रिम्स में स्थायी नियुक्ति सरकार नहीं कर रही, तो पहले से संविदा में कार्यरत कर्मी को ही स्थायी किया जा सकता हैं। वहीं रिम्स प्रबंधन पर अवमानना चलाने की बात भी कोर्ट ने कही हैं। गौरतलब है कि कोरोना महामारी के दौरान रिम्स की अव्यवस्था पर कोर्ट की ओर से लिये गये स्वतः संज्ञान पर सुनवाई हो रही हैं।

प्रदेश अध्यक्ष गिरीश ने अपने पद से इस्तीफा दिया

प्रदेश अध्यक्ष गिरीश ने अपने पद से इस्तीफा दिया 

इकबाल अंसारी     

पणजी। गोवा विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी की करारी हार की जिम्मेदारी लेते हुए पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गिरीश चोडनकर ने मंगलवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। सूत्रों के मुताबिक चोडनकर ने अपना त्यागपत्र कांग्रेस हाईकमान को भेज दिया है। बताते चलें कि पार्टी ने विधानसभा चुनाव में गोवा फॉरवर्ड पार्टी(जीएफपी) के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा था, जिसमें कांग्रेस ने 11 सीटें हासिल की जबकि जीएफपी एक सीट पर विजयी हुई है। कांग्रेस 2017 के विधानसभा चुनाव में 17 सीट जीतकर सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी सरकार बनाने में नाकाम रही थी।

हलांकि सत्तारूढ़ भारताय जनता पार्टी सत्ता विरोधी लहर के कारण बहुमत नहीं हासिल कर सकी थी। कांग्रेस विधानसभा में बहुमत प्राप्त करने तथा अपने दम पर सरकार बनाने की उम्मीद कर रही थी, लेकिन भाजपा ने 40 विधानसभा सीटों में से 20 सीटें अपने पास होने का दावा कर सरकार बनाने में कामयाब रही। मतगणना के दिन चोडनकर ने कहा कि वह हार की नैतिक जिम्मेदारी लेकर इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं और समय आ गया है कि पार्टी राज्य में नया प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त करे। सुत्रों ने बताया कि संकल्प अमोनकर, एल्विस गोम्स, दिगंबर कामत और एलेक्स सेक्वेरा जैसे नेता अध्यक्ष पद की रेस में सबसे आगे हैं। संकल्प अमोनकर और दिगंबर कामत ने इस साल विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की है।


रूसी मिसाइल ने 9 मंजिला इमारत पर हमला किया

रूसी मिसाइल ने 9 मंजिला इमारत पर हमला किया   

सुनील श्रीवास्तव    
कीव/मास्को। यूक्रेन की राजधानी कीव पर रूस ने मंगलवार को बड़ा हमला किया। बता दें कि कीव में एक रूसी मिसाइल ने 9 मंजिला रिहायशी इमारत पर हमला किया।
हमले में बिल्डिंग तबाह हो गई। साथ ही 2 लोगों की मौत हो गई।  वहीं तीन लोग अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं। जबकि 63 लोगों को रेस्क्यू किया गया।
इस बीच रूस ने पश्चिम यूक्रेन स्थित टीवी टावर पर हमला किया है जिसमें 19 लोगों की मौत हो गई है।  स्थानीय प्रशासन ने यह जानकारी दी है।
रूस-यूक्रेन के बीच कई दिन से जंग जारी है। जहां रूस लगातार हमले कर रहा है, वहीं यूक्रेन का हौसला भी बरकरार है। यूक्रेन का कहना है कि डोनबास में रूस और यूक्रेन की सेना के बीच लड़ाई जारी है। यूक्रेन की सेना का दावा है कि उन्होंने रूस के 100 सैनिक मार गिराए और 6 सैन्य वाहनों को भी उड़ा दिया। यूक्रेन के मुताबिक रूसी सैनिकों ने डोनेत्स्क में यूक्रेन का सुरक्षा घेरा तोड़ने की कोशिश की, लेकिन वे कामयाब नहीं हो सके।

'हम साथ-साथ हैं' का सॉन्ग 'एबीसीडी रीक्रिएट किया

'हम साथ-साथ हैं' का सॉन्ग 'एबीसीडी रीक्रिएट किया 

कविता गर्ग      
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना और उनकी पत्नी ताहिरा कश्यप ने सुपरहिट फिल्म 'हम साथ-साथ हैं' का सॉन्ग 'एबीसीडी रीक्रिएट किया है। आयुष्मान खुराना और ताहिरा कश्यप अपनी एक्टिविटी को लेकर काफी चर्चा में रहते हैं। 
इसी बीच ताहिरा ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वो अपने दोस्तों के साथ मिलकर 'हम साथ साथ हैं' का सॉन्ग 'एबीसीडी गाते हुए नजर आ रहे हैं। ताहिरा कश्यप ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम पर राजस्थान स्थित नेशनल पार्क रणथोंबर वेकेशन का एक वीडियो साझा किया है। इस वीडियो में आयुष्मान खुराना और उनके दोस्त एक ओपन बस में बैठे हुए दिख रहे हैं और उन्होंने हम साथ साथ हैं के फेमस सॉन्ग एनबीएसीडी...... को फिर से रीक्रिएट किया है।इस वीडियो को इंस्टाग्राम पर शेयर कर आयुष्मान खुराना और दोस्तों को टैग करते हुए उन्होंने कैप्शन लिखा, रणथंबौर में हम लोगों को देख रहे हैं।

लगातार 131वें दिन भी पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर

लगातार 131वें दिन भी पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर   

अखिलेश पांडेय        

नई दिल्ली/कीव/मास्को। रूस यूक्रेन संकट से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पिछले कुछ दिन पहले 139 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंचे कच्चे तेल के दामों में गिरावट देखी जा रही है। बाजार में कच्चे तेल की कीमत 5.68 प्रतिशत की गिरावट के साथ मंगलवार को 100.83 डॉलर प्रति बैरल पर। कीमतों में लगातार हो रहे बदलाव के बावजूद घरेलू स्तर पर मंगलवार को लगातार 131वें दिन भी पेट्रोल और डीजल के दाम स्थिर रहे।

 केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में पांच और 10 रुपये घटाने की घोषणा के बाद 04 नवंबर 2021 को ईंधन की कीमतों में तेजी से कमी आई थी। इसके बाद राज्य सरकार के मूल्य वर्धित कर (वैट) कम करने के फैसले के बाद राजधानी दिल्ली में भी वैट को कम करने का निर्णय लिया गया। इसके बाद राजधानी में 02 दिसंबर 2021 को पेट्रोल लगभग आठ रुपये सस्ता हुआ था। डीजल की भी कीमतें हालांकि जस की तस बनी रहीं।


अंतरराष्ट्रीय स्तर पर न्यूयार्क में ब्रेंट क्रूड में 5.68 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी। जिससे कीमत 100.83 डॉलर प्रति बैरल पर थी, जबकि अमेरिकी क्रूड 5.78 प्रतिशत की गिरावट से 97.06 डॉलर प्रति बैरल पर था।पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की नित्य प्रतिदिन समीक्षा होती है और उसके आधार पर प्रतिदिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।

सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ में 1 आतंंकी मारा गया

सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ में 1 आतंंकी मारा गया

इकबाल अंसारी     

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मंगलवार को हुई मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने दक्षिण कश्मीर के अवंतीपुरा जिले के चारसू इलाके में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था।

उन्होंने बताया कि वहां छिपे आतंवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चला दीं,जिस पर जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई की और अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया। अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया। आतंकवादी और उसके संगठन की पहचान अभी नहीं हो पाई है।

सेना में सरकार से अहीर रेजिमेंट के गठन की मांग

सेना में सरकार से अहीर रेजिमेंट के गठन की मांग 

अकांशु उपाध्याय     

नई दिल्ली। कांग्रेस सदस्य दीपेन्द्र सिंह हुड्डा ने मंगलवार को राज्यसभा में सरकार से सेना में अहीर रेजिमेंट के गठन की मांग की। श्री हुड्डा ने सदन में शून्यकाल के दौरान अहीरों की सौर्यगाथा की चर्चा करते हुये कहा कि अहीरवाल क्षेत्र हरियाणा, राजस्थान समेत देश के अन्य हिस्सों में है। अहीरवालों का हल और हथियार से पुराना नाता रहा हैै और वे ‘ जय जवान जय किसान’ में विश्वास करते हैं। 

उन्होंने अहीरवालों को देशभक्त बताते हुये कहा कि इस समुदाय से जुड़े लोगों ने तैमूर आक्रमणकारियों का मुकाबला किया था और 1857 की क्रांति में भी योगदान दिया था। उन्होंने कहा कि एक जमाने में अंग्रेजों ने अहीरों की भर्ती पर रोक लगायी थी।अहीरों ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस के साथ भी काम किया था। उन्होंने कहा कि सेना में अहीर समुदाय से जुड़े अनेक लोगों को परमवीर चक्र और दूसरे सम्मानों से सम्मानित किया जा चुका है। सरकार को सेना में अहीर रेजिमेंट बनाने पर विचार करना चाहिए।

धन-शोधन के मामलें में रिहाई पर आदेेश पारित

धन-शोधन के मामलें में रिहाई पर आदेेश पारित  

कविता गर्ग     

मुंबई। उच्च न्यायालय ने महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता नवाब मलिक को धन-शोधन के एक मामले में अंतरिम राहत देने और न्यायिक हिरासत में उनकी रिहाई पर आदेश पारित करने से मंगलवार को इनकार कर दिया। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भगोड़े गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम के सहायकों से कथित तौर पर जुड़े एक संपत्ति सौदे को लेकर धन-शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत इस साल 23 फरवरी को मलिक को गिरफ्तार किया था।वह अभी न्यायिक हिरासत में हैं। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने अपनी गिरफ्तारी को चुनौती दी थी और अंतरिम राहत के तौर पर हिरासत से तत्काल रिहा किए जाने का अनुरोध किया था। 

बेहरहाल, न्यायमूर्ति पी.बी. वराले और न्यायमूर्ति एस.एम. मोदक की पीठ ने मंगलवार को मलिक को ऐसी कोई राहत देने से इनकार कर दिया।पीठ ने कहा कि मंत्री की याचिका से कुछ विचारणीय मुद्दे उठे हैं और अदालत को कोई अंतिम आदेश देने से पहले दोनों पक्षों की दलीलों पर विस्तार से सुनवाई करने की आवश्यकता है। उच्च न्यायालय ने कहा कि कुछ विचारणीय मुद्दे उठाए गए हैं तो उन पर विस्तार से सुनवाई करने की आवश्यकता है। हम अंतरिम याचिका में किए गए अनुरोध को मंजूर नहीं करते।

अपनी गिरफ्तारी के बाद मलिक ने वरिष्ठ वकील अमित देसाई के जरिए बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर कर दावा किया था कि ईडी द्वारा उन्हें गिरफ्तार किया जाना और उसके बाद हिरासत में भेजा जाना गैरकानूनी है। उन्होंने अनुरोध किया था कि मामले में उनकी गिरफ्तारी रद्द की जाए और अंतरिम राहत देते हुए उन्हें फौरन हिरासत से रिहा किया जाए। ईडी ने मलिक पर मुंबई के कुर्ला इलाके में एक संपत्ति हड़पने के लिए कथित आपराधिक षड्यंत्र का हिस्सा होने का आरोप लगाया है। इस संपत्ति की बाजार में कीमत 300 करोड़ रुपये है।

अभिव्यक्ति की 'स्वतंत्रता' को लेकर सरकार गंभीर

अभिव्यक्ति की 'स्वतंत्रता' को लेकर सरकार गंभीर 

अकांशु उपाध्याय      

नई दिल्ली। सरकार ने लोकसभा में कहा है कि वह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को लेकर गंभीर है। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री एल मुरुगन ने प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवाल के जवाब में कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को लेकर उनकी सरकार गंंभीर है और इस प्रकार के सवाल करने वालों को 1975 के दौर को याद करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला सर्वोपरि है इसलिए किसी टीवी चैनल को मान्यता देने से पहले गृह मंत्रालय की तरफ़ से स्वीकृति ज़रूरी है। यह बेबुनियाद आरोप है कि राष्ट्रीय सुरक्षा का बहाना बनाकर किसी भी चैनल के साथ भेदभाव किया गया है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार ने टीवी चैनलों के खिलाफ 159 मामले शुरू किए हैं। सरकार नियम और प्रक्रियाओं का पालन करके ही चैनलों को रीन्यू करती है।

सूखा राहत का लाभ, किसानों को देने की मांग की

सूखा राहत का लाभ, किसानों को देने की मांग की    

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। कांग्रेस सदस्य नीरज डांगी ने सूखा राहत का लाभ भूमिहीन किसानों को भी दिये जाने की मांग की है। श्री डांगी ने मंगलवार को राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान कहा कि सूखा राहत का लाभ वर्तमान में लघु और सीमांत किसानो को ही मिलता है। भूमिहीन, दलित और आदिवासी किसान इस राहत से वंचित रह जाते है।
उन्होंने कहा कि सूखे से न केवल फसलें नष्ट हाे जाती है, बल्कि पशुचारे की भी समस्या हो जाती है। चारे की कमी के कारण किसान अपने पशुओं को खुले में छोड़ देते हैं। जिसे कुछ स्थानों पर गौशालाओं में शरण दिया जाता है। 
उन्होंने कहा कि सूखे राहत के प्रावधान को इस तरह से बनाया जाना चाहिए। जिससे भूमिहीन किसानों को भी इसका लाभ मिल सके।
मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के एलामारन करीम और बी शिवदासन ने आज आंगनबाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं को मामला उठाया और उन्हें न्यूनतम वेतन और सामाजिक सुरक्षा दिये जाने की मांग की। उन्होंने कि आंगनबाड़ी सेविकायें बच्चों के लिए मध्यान्ह भोजन तैयार करती हैं लेकिन उन्हें कोई सामाजिक सुरक्षा नहीं है।
साथ ही उन्होंने कहा कि इनके बजट आवंटन को भी घटा दिया गया है और आंगनबाड़ी और आशा से जुड़े लोग राजधानी में धरना दे रहें जिनकी मांगों पर तुरंत ध्यान दिये जाने की जरूरत है। एमडीएमके के वाईको ने तमिलनाडु के मछुआरों पर श्रीलंका के सुरक्षा बलों के हमलों के मामलों को उठाते हुये कहा कि सरकार को इसे गंभीरता से लेनी चाहिए।
राष्ट्रीय जनता दल के मनोज कुमार झा ने देश में महिला बड़ी श्रमिकों की समस्याओं को उठाते हुए कहा कि इन्हें सामाजिक सुरक्षा के दायरे में लाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश में करीब 50 लाख निबंधित महिला बीड़ी श्रमिक हैं जो कई बीमारियों से प्रभावित है। उन्होंने कहा कि क्षय रोग , आंखों की समस्या और कैंसर जैसी घातक बीमारियों से पीड़ित हैं। उन्होंने इन श्रमिकों के लिए स्व सहायता समूह बनाने की मांग की।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-158, (वर्ष-05)
2. बुधवार, मार्च 16, 2022
3. शक-1984, फाल्गुन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-त्रियोदशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:04, सूर्यास्त: 06:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 12 डी.सै., अधिकतम-34+ डी सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
               (सर्वाधिकार सुरक्षित)      

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...