रविवार, 7 मई 2023

समारोह में 3-3 टॉपर्स विद्यार्थियों को सम्मानित किया 

समारोह में 3-3 टॉपर्स विद्यार्थियों को सम्मानित किया 

गोपीचंद 

बागपत/छपरौली। क्षेत्र के गाँव ककौर कला में स्थित श्री शिव मन्दिर जूनियर हाईस्कूल में आयोजित ग्राम सेवा संगठन द्वारा प्रतिभा सम्मान समारोह में 3-3 टॉपर्स विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया। इण्टरमीडिएट की सुलेमा, पंकज कश्यप, श्रीकांत शर्मा व हाईस्कूल की दिशा चौधरी, जुबेर खान, आरुषि सरोहा का उत्साहवर्धन करते हुए उन्हें स्मृति चिन्ह व पौधा देकर सम्मानित किया गया तथा बच्चों  को पर्यावरण के प्रति जागरूक करते हुए पवित्र अवसरों पर पौधा रोपण करने का संकल्प दिलाया गया।

समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में आमन्त्रित जनता वैदिक कॉलेज के पूर्व प्राचार्य डॉक्टर जय कुमार सरोहा ने कहा इस प्रकार के आयोजन बच्चों में नई ऊर्जा का संचार करते है। बच्चों के मानिक व आत्मिक विकास के लिए शीघ्र ग्राम सेवा संगठन के सहयोग से आधुनिक पुस्तकालय का निर्माण कराया जाएगा। संगठन के प्रेरणा स्रोत समाजसेवी आर.आर.डी.उपाध्याय ने कहा विद्यार्थी व युवा देश का भविष्य है। संस्कारों से परिपूर्ण शिक्षा ही समाज, राष्ट्र और व्यक्ति का निर्माण कर सकती है। ग्राम सेवा संगठन इन पवित्र कार्यो के लिए संकल्पबद्ध है।

इस अवसर पर योगेन्द्र सरोहा, अमित कुमार हुड्डा, अंकित कुमार, एडवोकेट रविकुमार, मा. रणबीर सिंह, फिरोज़ खान, पूर्व प्रधानाचार्य बालकिशन शर्मा, डॉक्टर यशवीर सिंह, धर्मपाल,रवि कुमार उपाध्याय, बिरसेन हुड्डा, रामफल उपाध्याय, प्रदीप उपाध्याय, नौशाद अली, सुलेमान, अशोक कश्यप आदि उपस्थित रहे।

राष्ट्रीय अध्यक्षा के निवास पर बैठक का आयोजन 

राष्ट्रीय अध्यक्षा के निवास पर बैठक का आयोजन 


राष्ट्रीय महिला गुलाबी संगठन ट्रस्ट ने पीड़ित कोमल सैनी बागपत की समस्या को लेकर बैठक की 

भानु प्रताप उपाध्याय 

शामली। रविवार को शामली लाजपतराय पर मधु सैनी राष्ट्रीय अध्यक्षा के निवास पर बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें में मधु सैनी राष्ट्रीय अध्यक्षा ने कहा, कि आज भी महिलाओ को पीड़ित किया जा रहा है। दहेज प्रथा बंद होने का नाम नहीं ले रही है। 1 वर्ष शादी होने के बाद लड़की को उसके घर छोड़ दिया जाता है। लड़की के माता-पिता से दहेज लेने का सौदा होता है। संगीत वर्मा राष्ट्रीय सचिव ने कहा, कि लड़की के माता-पिता लड़के वालों की डिमांड पुरी नहीं कर पाते, तो लड़की को अपने माता-पिता का सहारा लेना पड़ता है।

फिर लड़की महिला थाने की मदद लेने की कोशिश करती है।फिर महिला थाने में तारीखों का दौर शुरू होता हैं। महिला थाने में बैठी अधिकारी प्रयास बहुत करती है कि आपसी शान्तिपुणॅ सहमति बन जाए। लड़की अपने ससुराल वापिस पहुंचे। मगर कुछ लोग सहमति नहीं होने में विघन पैदा करने में आगे रहते हैं। लेकिन ऐसे लोगों पर महिला थाने की अधिकारी महोदया को ध्यान देना चाहिए। ऐसा ही मामला प्रकाश में आया है। शामली जनपद के गड़ी पुख्ता का कोमल बागपत का जो बिना किसी कारण अपने माता-पिता के घर पर ही रहकर ही अपने ससुराल जाने का इंतजार कर रही है। कोमल बागपत की शादी मात्र 1 महीना ही हुआ था।

शादी को करीब आज 2 वर्ष बीत चुके है। कोमल सैनी गांव खिदोडा अमीननगर सराय ज़िला बागपत की शादी 9/5/2021 को बड़ी धूमधाम से संपन्न हुई थी। मगर लड़की को  लड़के ने ओर उसके रिश्तेदारो मारपीट कर जान से मारने का प्लान कर रहे थे। तभी मोहल्ले वासियों ने लड़की के माता-पिता को इस घटना की जानकारी दी। तभी माता-पिता कोमल के ससुराल गड़ी पुख्ता पहुंचे तभी आपने साथ लेकर आएं, तब से आज तक अपने माता-पिता के साथ रह रही है।

लड़की की जान बचा कर अपने साथ ले गए। उल्टा लड़की पर कोर्ट में केस दर्ज कर डाला। लड़की के साथ लड़के वालों ने एक झुठ छिपाकर रखा लड़के की यह दूसरी शादी है, पहली वाली पत्नी को भी बहुत दुखी रखा गया था। इसकी जानकारी कोमल बागपत को शादी होने के बाद पता चला। ऐसे लड़कों पर  कानुन को भी सख्त होना चाहिए।

समाज को खोखला करने का काम कर रहे हैं, ऐसे लड़के। राष्ट्रीय महिला गुलाबी संगठन ट्रस्ट कोमल सैनी बागपत की मदद करने के लिए आगे आएगी। रेखा सैनी राष्ट्रीय उपसचिव  ने कहा की राष्ट्रीय महिला गुलाबी संगठन ट्रस्ट एक और योजना महिला रोजगार की चलाई जा रही है।महिलाएं घर पर ही रोज़गार कर सके। जैसे सिलाई,कढ़ाई,ब्यूटी पार्लर, खाने पापड़, पैकिंग का सामान, धागे खोलना, अन्य सामग्री जिसकी मार्किट में अच्छी खासी शेल हो । सभी महिलाओं पदाधिकारियों ने समाजहित के लिए अपने विचारो से अवगत कराया।

बैठक में मधु सैनी राष्ट्रीय अध्यक्षा, संगीता पाल राष्ट्रीय महासचिव, वर्मा राष्ट्रीय सचिव, रेखा सैनी राष्ट्रीय सचिव, पुजा कौशिक जिलाध्यक्ष, अंजली बंसल ज़िला उपाध्यक्ष, रेशमा जिला महामंत्री, हेमा सैनी ज़िला सचिव, बेबी कश्यप  प्रमुख समाजसेवी, सोनिया पांचाल ज़िला सचिव, सुदेश पांचाल वरिष्ठ महिला, वर्षा सैनी, रेखा शर्मा वरिष्ठ महिला,  सीमा सैनी ,कोमल बाल्मिकी शामली, मुनेश सैनी, लता सैनी आदि मौजूद रहीं।

वास्तविक मुद्दों का हल करने में नाकाम रही 'भाजपा'

वास्तविक मुद्दों का हल करने में नाकाम रही 'भाजपा'

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/बेंगलुरु। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने रविवार को कहा कि भ्रष्टाचार, लूट-खसोट, महंगाई और बेरोजगारी कर्नाटक में आज असली ‘आतंकवाद’ है तथा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सत्ता में रहने के दौरान लोगों के वास्तविक मुद्दों का हल करने में नाकाम रही। यहां दक्षिण कन्नड़ जिले में मूदबिद्री में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित भाजपा के नेता चुनाव नजदीक आने पर हमेशा चरमपंथ और राष्ट्रीय सुरक्षा की बात करते हैं। प्रियंका ने कहा, ‘‘वे आपके (लोगों के) वास्तविक मुद्दों के बारे में बात नहीं करते। मैं भाजपा नेताओं से कहना चाहती हूं कि महंगाई, बेरोजगारी और भाजपा सरकार का 40 प्रतिशत भ्रष्टाचार (कमीशन) असली चरमपंथ है।’’

उन्होंने कहा कि भाजपा चुनावों के समय वादे करती है, लेकिन लोगों को इस आधार पर वोट देना चाहिए कि उसने (भाजपा ने) कर्नाटक में पिछले तीन वर्षों में क्या काम किये हैं। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘धर्म, राष्ट्रीय सुरक्षा और आतंकवाद के बारे में बात करते हुए भाजपा नेता यह नहीं देखते कि उनके शासन के तहत कर्नाटक में हजारों किसानों ने आत्महत्या की है। एक हजार से अधिक बेरोजगार युवाओं ने आत्महत्या कर ली।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार ने अपने शासन के दौरान छह लाख करोड़ रुपये की लूट-खसोट की है। उन्होंने दावा किया कि नोटबंदी के बाद और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के गलत क्रियान्वयन के कारण राज्य में लघु एवं मध्यम उद्योगों को भारी नुकसान पहुंचा, जिसके चलते हजारों युवा बेरोजगार हो गए।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के चार बैंक-सिंडीकेट बैंक, विजया बैंक, कॉरपोरेशन बैंक और केनरा बैंक- का विलय कर बैंकों के राष्ट्रीयकरण के उद्देश्य को नष्ट कर दिया। प्रियंका ने कहा कि देश में सभी हवाई अड्डे और नये मंगलोर बंदरगाह सहित समुद्री बंदरगाह धनकुबेरों को बेचे जा रहे हैं, जो केंद्र की भाजपा सरकार के मित्र हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह हजारों स्थानीय लोगों को रोजगार से वंचित किया जा रहा है। कांग्रेस महासचिव ने आरोप लगाया कि भाजपा अब गुजरात आधारित अमूल के साथ कर्नाटक मिल्क फेडरेशन के नंदिनी दुग्ध ब्रांड का विलय कर इसे (नंदिनी ब्रांड को) नष्ट करने की कोशिश कर रही है।

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘यह भ्रष्टाचार का आतंकवाद देश में शासन कर रहा है।’’ प्रियंका ने आरोप लगाया कि भाजपा राष्ट्र की संपत्ति लूटने में व्यस्त है और महिलाओं के विकास, किसानों की समस्याएं, महंगाई तथा युवाओं की बेरोजगारी के मुद्दे का हल करने के लिए उसके पास समय नहीं है।उन्होंने कहा, ‘‘वे सत्ता में रहने के दौरान लोगों के लिए काम नहीं करते और धर्म, आतंकवाद तथा सुरक्षा पर उपदेश देने के लिए चुनावों के समय उनके पास जाते हैं।’’ प्रियंका ने कहा कि राज्य में पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार की किफायती इंदिरा कैंटीन सहित सभी जन हितैषी योजनाओं को फिर से लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि गारंटी कार्ड में किये गये हर वादे को पूरा किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने पांच ‘गारंटी’ की घोषणा की है।

प्रियंका ने कहा कि छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस सरकारों ने किसानों और पेंशनभोगियों से अपने चुनावी घोषणापत्रों में किये गये वादों को पूरा किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मछुआरों के लिए 10 लाख रुपये की बीमा योजना और महिला मछुआरों के लिए ‘स्टैंड विद मोगावीरा’ के तहत ब्याज मुक्त एक लाख रुपये देने की योजना भी लाएगी। राज्य में 10 मई को मतदान होना है। चुनाव नतीजे 13 मई को घोषित किए जाएंगे।

शराब की हर बोतल पर ‘अवैध रूप' से धन एकत्रित 

शराब की हर बोतल पर ‘अवैध रूप' से धन एकत्रित 

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रविवार को आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ में बेची गई शराब की ‘‘हर बोतल’’ पर ‘‘अवैध रूप’’ से धन एकत्रित किया गया और रायपुर महापौर एजाज ढेबर के बड़े भाई अनवर ढेबर की अगुवाई वाले शराब सिंडिकेट द्वारा दो हजार करोड़ रुपये के ‘‘अभूतपूर्व’’ भ्रष्टाचार और धनशोधन के सबूत एकत्रित किए गए हैं।एजेंसी ने एक बयान में कहा कि अनवर ढेबर को संघीय एजेंसी ने धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) की आपराधिक धाराओं के तहत शनिवार तड़के रायपुर के एक होटल से तब गिरफ्तार किया, जब वह ‘‘पिछले दरवाजे से भागने’’ की कोशिश कर रहे थे।

विशेष पीएमएलए अदालत ने बाद में उन्हें चार दिन के लिए ईडी की हिरासत में भेज दिया जबकि उनके वकील ने आरोप लगाया कि उनके मुवक्किल के खिलाफ कार्रवाई ‘‘राजनीति से प्रेरित’’ प्रतीत होती है और वे इसके खिलाफ उच्चतम न्यायालय का रुख करेंगे। एजेंसी ने कहा कि अनवर ढेबर सात बार तलब किए जाने के बावजूद मामले की जांच में शामिल नहीं हुए और आरोप लगाया कि वह ‘‘लगातार बेनामी सिम कार्ड और इंटरनेट डोंगल का उपयोग कर रहे थे, और अपना ठिकाना बदल रहे थे।’’

एजाज ढेबर छत्तीसगढ़ में सत्तारूढ़ कांग्रेस के एक प्रभावशाली नेता माने जाने जाते हैं। ईडी ने आरोप लगाया है, ‘‘जांच में पाया गया कि अनवर ढेबर के नेतृत्व में एक संगठित आपराधिक सिंडिकेट छत्तीसगढ़ में काम कर रहा था। अनवर ढेबर एक आम नागरिक हैं लेकिन वह उच्च-स्तरीय राजनीतिक प्राधिकारियों और वरिष्ठ नौकरशाहों की ओर से पैसे लेते थे।’’

ईडी ने आरोप लगाया, ‘‘उन्होंने एक व्यापक साजिश रची और घोटाले को अंजाम देने के लिए व्यक्तियों/इकाइयों का एक व्यापक नेटवर्क तैयार किया ताकि छत्तीसगढ़ में बेची जाने वाली शराब की प्रत्येक बोतल से अवैध रूप से धन एकत्रित किया जा सके।’’ इसने कहा कि मार्च में रायपुर में अनवर ढेबर के आवासीय परिसरों सहित छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल और दिल्ली में 35 स्थानों पर छापे मारे गए थे और इस दौरान "2019-2022 के बीच दो हजार करोड़ रुपये के अभूतपूर्व भ्रष्टाचार और धनशोधन के सबूत’’ मिले।

ईडी ने आरोप लगाया कि अनवर ढेबर ‘‘इस पूरे अवैध धन संग्रह के लिए जिम्मेदार थे, लेकिन वह इस घोटाले के अंतिम लाभार्थी नहीं हैं।’’ उसने दावा किया, ‘‘यह बात सामने आयी कि एकत्रित राशि का कुछ हिस्सा अपने पास रखकर शेष राशि अपने राजनीतिक आकाओं को दे दिया करते थे।’’ एजेंसी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में राज्य शराब व्यापार के "सभी पहलुओं" पर सरकार का नियंत्रण है यानी शराब खरीद से लेकर खुदरा बिक्री तक सरकार के हाथ में है और किसी भी निजी दुकान की अनुमति नहीं है।

वहीं अनवर ढेबर की हिरासत के लिए शनिवार को रायपुर की विशेष पीएमएलए अदालत में दायर किए गए अपनी अर्जी में ईडी ने दावा किया कि एक सिंडिकेट द्वारा छत्तीसगढ़ में शराब घोटाला किया गया, जिसमें राज्य के उच्च स्तरीय सरकारी अधिकारी, निजी व्यक्ति और राजनीतिक हस्तियां भी शामिल हैं। ईडी ने आरोप लगाया है कि भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी अनिल टुटेजा शराब कारोबारी अनवर ढेबर के साथ छत्तीसगढ़ में अवैध शराब सिंडिकेट के “सरगना” हैं और भ्रष्टाचार से अर्जित रकम का इस्तेमाल चुनाव प्रचार में भी किया गया।

एजेंसी ने यह भी दावा किया कि उसकी जांच में यह भी सामने आया है कि 2019 से 2022 के बीच राज्य में बिकी कुल शराब में से 30 से 40 फीसदी शराब ‘अवैध’ थी और इस कृत्य से 1200-1500 करोड़ रुपये का अवैध लाभ उत्पन्न हुआ। प्रवर्तन निदेशालय ने आयकर विभाग की ओर से टुटेजा और अन्य के खिलाफ दिल्ली की एक अदालत में दायर आरोपपत्र के आधार पर धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएएल) के तहत मामले की जांच के लिए पिछले साल एक मामला दर्ज किया था।

ईडी ने दावा किया कि छत्तीसगढ़ में एक आपराधिक सिंडिकेट का संचालन किया जा रहा है, जो राज्य के आबकारी विभाग समेत अहम महकमों और सरकारी कंपनियों के उच्च स्तरीय प्रबंधन को नियंत्रित करके रिश्वत ले रहा था। ईडी ने आरोप लगाया कि अनवर इस सिंडिकेट के मुख्य संग्रह एजेंट हैं। उसने कहा कि अनवर की ओर से टुटेजा को 14.41 करोड़ रुपये स्थानांतरित किए जाने के डिजिटल साक्ष्य उपलब्ध हैं। एजेंसी के आवेदन में कहा गया है कि सिंडिकेट ने छत्तीसगढ़ में शराब की बिक्री से तीन अलग-अलग तरीके से अवैध धन एकत्रित किया।

‘झूठे’ आरोप लगाने के लिए माफी मांगे भाजपा

‘झूठे’ आरोप लगाने के लिए माफी मांगे भाजपा

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी ने आबकारी नीति मामले में अदालत द्वारा दो आरोपियों को जमानत दिए जाने के बाद रविवार को कहा कि इस मामले में पार्टी पर ‘‘झूठे’’ आरोप लगाने के लिए भाजपा माफी मांगे। ‘आप’ की वरिष्ठ नेता और कैबिनेट मंत्री आतिशी ने प्रेसवार्ता में कहा कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दो आरोप लगाए हैं कि शराब कारोबारियों से 100 करोड़ रुपये की रिश्वत ली गई और इस पैसे का इस्तेमाल गोवा चुनाव में किया गया।

वहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘अब अदालत ने भी कहा है कि रिश्वत लेन-देन या धन शोधन का कोई ठोस सबूत नहीं है। हम शुरू से ही कह रहे हैं कि पूरा आबकारी घोटाला फर्जी है और इसका मकसद केवल आम आदमी पार्टी को बदनाम करना है।’’ आतिशी ने दावा किया, ‘‘कल राउज एवेन्यू अदालत ने राजेश जोशी और गौतम मल्होत्रा को जमानत दे दी थी।

अदालत के आदेश में कहा गया है कि ईडी द्वारा रिश्वत के लिए नकदी का लेन-देन दिखाने वाला कोई सबूत पेश नहीं किया गया है। आदेश में कहा गया है कि ईडी ने गवाहों के कुछ अस्पष्ट बयान संलग्न किए हैं।’’ उन्होंने कहा कि ईडी ने दावा किया है कि जोशी ने चुनावों के लिए गोवा में 30 करोड़ रुपये पहुंचाना सुनिश्चित किया, लेकिन अदालती आदेश में कहा गया कि ‘‘इस तथ्य की पुष्टि करने के लिए कोई स्वतंत्र सबूत नहीं है।’’

आतिशी ने कहा, ‘‘इस आदेश से साबित होता है कि आम आदमी पार्टी सबसे ईमानदार पार्टी है। भाजपा प्रवक्ता चिल्ला रहे थे कि घोटाला हुआ है। लेकिन, क्या अब वे माफी मांगेंगे और स्वीकार करेंगे कि कोई घोटाला नहीं हुआ था?’’ 

100 से अधिक छात्रों को वापस लाने हेतु व्यवस्था की

100 से अधिक छात्रों को वापस लाने हेतु व्यवस्था की

इकबाल अंसारी 

अमरावती। आंध्र प्रदेश सरकार ने हिंसाग्रस्त मणिपुर में फंसे राज्य के 100 से अधिक छात्रों को वापस लाने के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सहयोग से एक विशेष उड़ान की व्यवस्था की है। हालांकि निर्धारित उड़ान का विवरण अभी सामने नहीं आया है। इस उड़ान का उद्देश्य छात्रों को सुरक्षित उनके गृह नगर वापस लाना है।

राज्य सरकार की तरफ से रविवार को साझा किए गए एक बयान में कहा गया है, “नागरिक उड्डयन मंत्रालय आंध्र प्रदेश के छात्रों को एक विशेष विमान से वापस लाने पर सहमत हो गया है और अधिकारियों ने कहा है कि वे समय और उड़ान के विवरण से अवगत कराएंगे।” दक्षिणी राज्य आंध्र प्रदेश ने अब तक 100 ऐसे छात्रों की पहचान की है, जो मणिपुर में एनआईटी, आईआईआईटी और केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय जैसे शैक्षणिक संस्थानों में पढ़ रहे हैं।

जेल से छूटकर आए बेटे को मौंत की नींद सुलाया 

जेल से छूटकर आए बेटे को मौंत की नींद सुलाया 

विजय भाटी 

गौतमबुद्ध नगर। हत्या के मामले में जेल से छूटकर आए बेटे को पिता ने ताबड़तोड़ 4 गोलियां मारकर हमेशा के लिए मौंत की नींद सुला दिया। अपने दूसरे बेटे के साथ हत्या की वारदात को पिता ने उस समय अंजाम दिया जब हत्यारोपी बेटा चारपाई पर सो रहा था। रविवार को उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा के बादलपुर गांव में दिल दहलाने वाली घटना को अंजाम देते हुए पिता ने चारपाई पर सो रहे बेटे को दनादन चार गोलियां मारकर मौत के घाट उतार दिया है।

दूसरे बेटे के साथ अंजाम दी गई हत्या की इस वारदात को लेकर मृृतक के मामा ने ही पुलिस को मामले की जानकारी दी थी और बताया कि तीन अज्ञात लोगों ने घर में घुसकर उसके भांजे को गोली मार दी है। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर जब आसपास लगे सीसीटीवी की फुटेज की जांच पड़ताल की तो पता चला कि मृतक के पिता और भाई ने ही हत्या की इस वारदात को अंजाम दिया है।

पुलिस अब हत्या करके फरार हुए बाप बेटे की तलाश में ताबड़तोड़ छापामार कार्यवाही कर रही है। पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की कई टीमें गठित की गई है।

शिंदे और फडणवीस की सरकार पर ठाकरे का प्रहार 

शिंदे और फडणवीस की सरकार पर ठाकरे का प्रहार 

कविता गर्ग 

मुंबई। पिछले कुछ महीनों से राज्य की राजनीति का माहौल गरमाया हुआ है। कभी राकांपा के वरिष्ठ नेता अजित पवार के भाजपा में जाने की, तो कभी राकांपा प्रमुख शरद पवार अध्यक्ष पद से इस्तीफा देना अब पूर्व पर्यटन मंत्री और युवासेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने राज्य की एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस की सरकार पर जमकर प्रहार किया।

एक दिवसीय माथेरान दौरे पर गए आदित्य ठाकरे मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि देश के संविधान को बचाने के लिए महाविकास आघाड़ी बनी है। देश के संविधान की रक्षा करने के लिए हम राकांपा -कांग्रेस के साथ मिलकर महाविकास आघाडी की स्थापना की है। आदित्य ठाकरे ने कहा कि देश जहाँ -जहां तानाशाही  शुरू है। वहां -वहा उसके खिलाफ हमारी लड़ाई शुरू है और आगे जारी रहेगी।

बारसु में रिफाइनरी परियोजना पर सरकार को घेरते हुए युवासेना प्रमुख ने केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के बयान के सवाल के जवाब पर उन्होंने कहा कि ऐसे नेता को हम महत्व नहीं देते। बारसु में उद्धव ठाकरे के सभा को प्रशासन ने अनुमति नहीं दी इस सवाल पर आदित्य ठाकरे ने कहा कि  सभा के लिए अनुमति नहीं देना  सत्तावादी अत्याचार को दिखा रहा है, जो गैर-संवैधानिक सरकार अपने नागरिकों पर थोप रही है।

अगर इतनी अच्छी परियोजना है तो लाठीचार्ज और आंसू गैस की जरूरत क्यों है ? पालघर में आदिवासी महिलाओं को उनके घरों से निकाल दिया गया। बारसू में यही हो रहा है।राकांपा के वरिष्ठ नेता अजित पवार के मुख्यमंत्री बनने की चल रही चर्चा पर आदित्य ठाकरे ने कहा कि महाविकास आघाडी में अभी तक मुख्यमंत्री पद को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है। सत्ता के लिए गद्दारी कर लोग इक्क्ठा होने वाले लोगो में से हम नहीं है। महाविकास अघाड़ी सत्ता और कुर्सी के लिए नहीं बनी है।

कर्नाटक में चुनाव प्रचार करते नजर आएंगे शिंदे 

कर्नाटक में चुनाव प्रचार करते नजर आएंगे शिंदे 

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अंतिम चरण में पहुंच गया है। यही वजह है कि राजनीतिक पार्टियों में प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी है। इसी के तहत रविवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे भी भाजपा के लिए कर्नाटक में चुनाव प्रचार करते नजर आएंगे। वहीं पीएम मोदी भी कर्नाटक में लगातार रोड शो और जनसभाएं कर भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

एकनाथ शिंदे सोमवार को कर्नाटक पहुंचेंगे और भाजपा के दो रोड शो में शामिल होंगे। ये रोड शो कापु और उडुपी शहर में होंगे। उडुपी पहुंचने से पहले शिंदे श्री मंजूनाथ स्वामी मंदिर जाकर दर्शन करेंगे। इसके बाद वह धर्मस्थल मंदिर के धर्माधिकारी वीरेंद्र हेगड़े से मुलाकात करेंगे। मुख्यमंत्री शिंदे सोमवार को उडुपी के श्री कृष्णा मंदिर भी जाएंगे और शाम तक महाराष्ट्र लौट जाएंगे।  

प्रधानमंत्री मोदी रविवार को भी बेंगलुरु में रोड शो करेंगे। यह रोड शो 10 किलोमीटर लंबा होगा और ओल्ड एयरपोर्ट रोड से शुरू होगा। इसके बाद प्रधानमंत्री दो जनसभाओं को भी संबोधित करेंगे। एक जनसभा दोपहर दो बजे शिवमोगा और दूसरी जनसभा शाम पौन पांच बजे नंजानगुडु में होगी। शाम में प्रधानमंत्री नंजानगुडु में श्री श्रीकांतेश्वर स्वामी मंदिर में दर्शन करेंगे।  

सेबी के पास शुरुआती दस्तावेज दाखिल किए: काबेल

सेबी के पास शुरुआती दस्तावेज दाखिल किए: काबेल

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। पीटीजी कैपिटल समर्थित तार केबल विनिर्माता आरआर काबेल ने आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के माध्यम से कोष जुटाने के लिए भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास शुरुआती दस्तावेज दाखिल किए हैं।

दस्तावेजों (डीआरएचपी) के अनुसार, आईपीओ के तहत 225 करोड़ रुपये तक के नए इक्विटी शेयर जारी किए जाएंगे और प्रवर्तक और अन्य शेयरधारक 1.72 करोड़ से अधिक इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) लाएंगे। ओएफएस में शेयर बेचने वालों में महेंद्रकुमार रामेश्वरलाल काबरा, हेमंत महेंद्रकुमार काबरा, सुमीत महेंद्रकुमार काबरा, काबेल बिल्डकॉन सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड और राम रतन वायर्स लिमिटेड हैं।

इनके अलावा अमेरिका की निजी इक्विटी फर्म टीपीजी कैपिटल भी ओएफएस के अंतर्गत कंपनी में अपनी आंशिक हिस्सेदारी बेचेगी। आरआर काबेल में टीपीजी कैपिटल की 21 प्रतिशत हिस्सेदारी है। कंपनी नए शेयरों से जुटाई गई 170 करोड़ रुपये की राशि का उपयोग बैंकों और वित्तीय संस्थानों के कर्ज को आंशिक या पूरी तरह कर्ज चुकाने में करेगी। आरआर ग्लोबल ग्रुप की इकाई आरआर काबेल ने वित्त वर्ष 2021-22 में 214 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ और 4,386 करोड़ रुपये का राजस्व कमाया। बीते वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तीन तिमाहियों के लिए कंपनी ने 125 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ और 4,083 करोड़ रुपये का राजस्व कमाया। 

दो लाख नौकरियां देने के वादे को झूठ करार दिया

दो लाख नौकरियां देने के वादे को झूठ करार दिया

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु/शिवमोगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को कर्नाटक में निजी क्षेत्र में हर साल दो लाख नौकरियां देने के कांग्रेस के वादे को उसका झूठ करार दिया। उन्होंने दावा किया कि राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा सरकार ने कोविड-19 महामारी के बावजूद पिछले साढ़े तीन वर्षों में हर साल राज्य में 13 लाख से ज्यादा लोगों को औपचारिक नौकरियां दी हैं।

आगामी 10 मई को विधानसभा चुनाव के तहत होने वाले मतदान से पहले शिवमोगा में एक रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने झूठ फैलाने के लिए एक तंत्र बनाया है, लेकिन वह चाहे जितना बड़ा गुब्बारा फुला ले, चुनावों में इसका कोई असर नहीं पड़ेगा। बजरंगबली की जय के नारे के साथ अपने भाषण की शुरुआत करते हुए मोदी ने कहा कि जिस कांग्रेस का लक्ष्य भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण हो, वह कभी नौजवानों का भविष्य नहीं बना सकती।

उन्होंने युवा मतदाताओं से कहा, आपके माता-पिता या दादा-दादी को जो मुसीबतें झेलनी पड़ीं, आपका मोदी आपको ऐसी मुसीबतों से गुजरने नहीं देना चाहता है। आपके माता-पिता या दादा-दादी को जो तकलीफें हुईं, उन्हें अब मोदी हटाना चाहता है, ताकि आप आगे बढ़ सकें। कांग्रेस को 85 प्रतिशत कमीशन वाली पार्टी करार देते हुए मोदी ने कहा कि विपक्षी पार्टी ने कभी देश के नौजवानों के बारे में नहीं सोचा और यह भाजपा की ही सरकार है, जिसके रहते पिछले नौ साल में देश में हर दो दिन में एक नया कॉलेज बना और हर सप्ताह एक नया विश्वविद्यालय बना।

उन्होंने कहा, कांग्रेस ने पांच साल में निजी क्षेत्र में 10 लाख नौकरियां देने का वादा किया है। यानी हर साल दो लाख नौकरियां। कांग्रेस का यह झूठ पकड़ लिया गया है। वह कैसे लोगों को धोखा दे रही है, इससे पता चलता है। प्रधानमंत्री ने दावा किया,कर्नाटक में भाजपा सरकार ने पिछले साढ़े तीन वर्षों में... ऐसा समय जब पूरी दुनिया महामारी के संकट से जूझ रही थी... हर साल 13 लाख से ज्यादा औपचारिक नौकरियां दीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की नीतियां जिस प्रकार की हैं, उससे निवेशक कर्नाटक से बाहर ही जाएंगे, क्योंकि निवेश बढ़ाने के लिए भाजपा सरकार ने जो व्यवस्थाएं की हैं, उसे कांग्रेस बंद करना चाहती है। मोदी ने आरोप लगाया, कांग्रेस निवेश को रोकने की साजिश रच रही है।

उन्होंने कहा, कांग्रेस ने अपना झूठ फैलाने के लिए जो इकोसिस्टम बनाया है, वो पिछले काफी समय से कर्नाटक में एक गुब्बारा फुला रहा था। इस गुब्बारे पर एक से बढ़कर एक, झूठी बातें लिखी हुई थीं। लेकिन कर्नाटक की जनता जानती थी कि कांग्रेस का इकोसिस्टम चाहे जितना बड़ा गुब्बारा फुला ले, कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

मोदी ने कहा कि कांग्रेस की सरकारों के दौरान देश का कृषि निर्यात बहुत सीमित था, लेकिन आज भारत कृषि निर्यात करने वाले दुनिया के शीर्ष 10 देशों में शुमार है। उन्होंने कहा, भारत ने रिकॉर्ड कृषि निर्यात किया है। इसका सीधा फायदा देश के किसानों को हुआ है। भाजपा सरकार बीज से लेकर बाजार तक, हर प्रकार की सुविधा किसानों को दे रही है। पिछले नौ वर्षों में हमने 2,000 से अधिक किस्म के बीज किसानों के लिए उपलब्ध कराए हैं, जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है। मोदी ने कहा कि रूस-यूक्रेन संकट के बावजूद उनकी सरकार ने खाद और रसायनों की कभी कोई कमी नहीं होने दी और किसानों पर इसका प्रभाव नहीं पड़ने दिया।

तुर्की: ट्रक के टकराने से 6 की मौंत, 32 घायल 

तुर्की: ट्रक के टकराने से 6 की मौंत, 32 घायल 

अखिलेश पांडेय 

अंकारा/इस्तांबुल। तुर्की के हटे प्रांत में शनिवार को एक ट्रक के गैस स्टेशन पर लाइन में खड़े कई वाहनों से टकरा जाने से कम से कम छ: लोगों की मौंत हो गई और 32 अन्य घायल हो गए। तुर्की मीडिया ने यह जानकारी दी। डीएचए समाचार एजेंसी ने बताया कि ट्रक के खड़े वाहनों की कतार घुस जाने के बाद, गैस स्टेशन के पास दो मिनी बसों में आग लग गई। यह घटना तुर्की के दक्षिणी प्रांत हटे के बेलेन शहर के बाहर हुई। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, इस दुर्घटना में छ: लोगों की मौत हो गई और 32 अन्य घायल हो गए।

एजेंसी ने बताया कि आग बुझाने के लिए काफी संख्या में दमकलकर्मी मौके पर पहुंचे। ट्रक चालक की पहचान और उसके वाहन पर नियंत्रण खोने के कारणों का अभी तक पता नहीं चला।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-206, (वर्ष-06)

2. सोमवार, मई 8, 2023

3. शक-1944, बैशाख, कृष्ण-पक्ष, तिथि-तीज, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:40, सूर्यास्त: 06:23। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 19 डी.सै., अधिकतम- 24+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

वार्ड की बदहाली के खिलाफ है लड़ाई: जितेन्द्र 

वार्ड की बदहाली के खिलाफ है लड़ाई: जितेन्द्र 

दीपक राणा 

गाजियाबाद। नगर निकाय चुनाव में जहां मेयर और अध्यक्ष पदों पर चुनावी रण में पक्ष-विपक्ष एक-दूसरे पर हमलावर है। वही पार्षद और सभासदों के प्रत्याशियों में भी खूब खींचातानी चल रही है। नगर पालिका लोनी के वार्ड नंबर 27 नाईपुरा, सरस्वती विहार में चुनावी जंग का मुख्य कारण वार्ड की बदहाली है। 

आपको बता दें कि वार्ड नंबर 27 से शिक्षित युवा जितेन्द्र सैन बहुजन समाज पार्टी से प्रत्याशी है। जितेन्द्र सैन शिक्षित और जुझारू व्यक्तित्व का धनी है। उनसे बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि उनका परिवार राजनीति से जुड़ा रहा है। सो राजनीतिक गुणा भाग की बेहतर समझ होना स्वाभाविक है। उन्होंने बताया कि परिसीमन से पहले यह वार्ड नंबर 24 था और भाजपा सभासद ने जनता की मूलभूत सुविधाओं पर कोई ध्यान नहीं दिया। वार्ड में अधिकतर नागरिक गरीब और मजदूर है। जिन को शाम को लौटते वक्त कीचड़ भरे रास्तों से अंधेरे से गुजारना पड़ता है। सड़क, नाली बिजली के साथ-साथ शिक्षा और चिकित्सा पर कोई ध्यान नहीं दिया गया है। वार्ड की गरीब जनता 5 साल से खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है। 

उन्होंने बताया मैं चुनाव मैदान में जनसमस्याओं से अजीज आकर उतरा हूं। वार्ड के जिम्मेदार नागरिक और समस्या ग्रस्त जनता ने मुझे आगे किया है। रही बात विपक्ष की, विपक्ष हमारे लिए क्या होता है? यह भी आपको बता दूं। जिनका विरोध होता है उनका कोई विपक्ष होता है। हमारा पूरे वार्ड में कोई विरोध नहीं है। सभी समाज से भाईचारा है और वार्ड की जनता का अपार समर्थन प्राप्त है। मैं ज्यादा बोलने में विश्वास नहीं रखता हूं, काम करने में विश्वास रखता हूं।

वार्ड की जनता का पूरा-पूरा समर्थन मुझे मिल रहा है और मैं उम्मीद करता हूं। जिस प्रकार से लोग मेरा समर्थन कर रहे हैं। उस प्रकार से लोग मुझसे वार्ड का विकास भी चाहेंगे, जिसके लिए मैं अभी से तैयार हूं।

बीएएलएलबी-एलएलएम का कोर्स हिंदी में शुरू करें

बीएएलएलबी-एलएलएम का कोर्स हिंदी में शुरू करें  संदीप मिश्र  लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ ने कहा कि बीएएलएल...