रविवार, 2 फ़रवरी 2020

माइनॉरिटी को सालों से 'दलों ने ठगा'

माइनारिटी के लोगों को तीस सालों से क्षेत्रीय पार्टियों ने ठगा:तमजीद अहमद



कौशाम्बी। आज कांग्रेस के माइनारिटी डिपार्टमेंट के जिला चेयरमैन तमजीद अहमद कि अगुवाई में माईनारटी डिपार्टमेंट के प्रदेश अध्यक्ष शाहनवाज आलम का सन्देश कई गाँव तक पहुचाया। उन्होंने कहा जिस तरह से भाजपा कि बांटो और राज करो कि राजनीति में संविधान कि रक्षा के लिए प्रियंका गांधी के अगुवाई में  कांग्रेस पार्टी ने सड़क से सांसद तक लड़ाई लड़ी और इस लड़ाई से जिस तरह से क्षेत्रीय दलों ने खुद को अलग किया उससे खासतौर पे माइनारिटी के लोग खुद को ठगा महसूस कर रहे। उन्होंने लोगों से अपील कि वक्त आ गया है कि फिरकापरस्त ताकतों को हराने के लिए कांग्रेस पार्टी कि तरफ सर्वसमाज के साथ साथ अकलियत समाज के लोगों को लामबंद होना चाहिए। भरवारी, रोही, सिंहोरी, कोखराज, गनपा, जलालपुर सहित कई गाँवो का दौरा कर उन्होंने पार्टी को मजबूत करने कि अपील की इस अवसर पर वरिष्ठ उपाध्यक्ष शाहिद सिद्दीकी, मक़सूद कुरैशी,नदीम अहमद, फुरकान,आलम अहमद, विपिन, अब्बान, लवकुश, अदनान सहित काफी संख्या में लोग मौजूद रहे।


जैगम अब्बास


'महिला एवं बाल विकास विभाग' की समीक्षा

मुंगेली। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नुपूर राशि पन्ना ने कलेक्ट्रेट कंपाउंड स्थित मनियारी सभाकक्ष में मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के संबंध में महिला एवं बाल विकास विभाग के मुंगेली विकासखण्ड की दोनों बाल विकास परियोजनाओं की समीक्षा बैठक ली। बैठक में डीएमएफ फंड अंतर्गत स्वीकृत आंगनबाड़ी केंद्रों में 0 से 5 वर्ष के कुपोषित बच्चों को अंडा एवं केला वितरण एवं बच्चों के पोषण स्तर में परिवर्तन तथा जिला प्रशासन से एकत्रित स्वेच्छिक दान फंड अंतर्गत स्वीकृत आंगनबाड़ी केंद्रों में एनीमिया पीड़ित महिलाओं की पौष्टिक थाली तथा उनके वजन के प्रगति की समीक्षा की गई। साथ ही गर्भवती महिलाओं को महतारी जतन योजना से शत-प्रतिशत लाभांवित किये जाने की समीक्षा भी की गई।


जिला पंचायत सीईओ द्वारा स्वच्छता, साफ-सफाई, आंगनबाड़ी केंद्रों में उपलब्ध आकस्मिक व्यय की राशि से बच्चों की व्यक्तिगत स्वच्छता संबंधी सामग्री की उपलब्धता, शौचालय पेयजल उपलब्धता, पंजियों के रखरखाव, समय अनुसार केंद्र संचालन इत्यादि की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए गए। ग्रामीण महिलाओं एवं किशोरी बालिकाओं के द्वारा सेनेटरी पेड के उपयोग के संबंध में जानकारी लेते हुए संक्रमण से बचाव के निर्देश दिए गए। बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी राजेंद्र कश्यप, दोनों परियोजनाओं की परियोजना अधिकारी तथा पर्यवेक्षक तथा संबंधित आंगनबाड़ी केंद्रों की कार्यकर्ता एवं समूह की महिलाएं उपस्थित थी।


आदित्यनाथ ने की 'आरोग्य योजना' की शुरुआत

चंदौली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को चंदौली से ‘मुख्यमंत्री आरोग्य योजना’ की शुरूआत की। साथ ही मुख्यमंत्री ने नौगढ़ के देवखत गांव स्थित महर्षि वाल्मीकि सेवा संस्थान परिसर में महर्षि वाल्मीकि की प्रतिमा का अनावरण भी किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि मुझे प्रसन्नता है कि हम दुनिया के अंदर सबसे बड़ी सामूहिक स्वास्थ्य की योजना का प्रदेश के 4200 से अधिक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में एक साथ प्रारंभ कर रहे हैं।


उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति को स्वस्थ रहने का अधिकार है और शासन का यह दायित्व बनता है कि वह इस प्रकार की स्वास्थ्य सुविधा उन लोगों तक पहुंचाए। यह पहली बार हो रहा है कि हर सप्ताह प्रत्येक रविवार प्रातः 10 बजे से लेकर दो बजे तक हर पीएचसी में ‘मुख्यमंत्री आरोग्य मेला’ का आयोजन होगा जिसमें मरीज को बिना भेदभाव आरोग्यता से संबंधित परामर्श और दवा भी उपलब्ध कराई जाएगी।


मुख्यमंत्री ने कहा कि आज से एक वर्ष पहले प्रधानमंत्री मोदी ने देश में दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना ‘आयुष्मान भारत’ प्रारंभ की थी, जिससे उत्तर प्रदेश के 06 करोड़ लोग आच्छादित हो रहे हैं। प्रत्येक व्यक्ति की आरोग्यता के लिए बिना भेदभाव के और समाज के प्रत्येक तबके को स्वास्थ्य की बेहतर सुविधा उपलब्ध हो सके इस दृष्टि से आज हम सब ‘मुख्यमंत्री आरोग्य मेला’ प्रारंभ कर रहे हैं। इस दौरान दो बच्चों का अन्नप्राशन और गर्भवती महिलाओं की गोदभराई भी की। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय ग्रामीण अजीविका मिशन के लिए 2 करोड़ 51 लाख 47 हज़ार 820 रुपए का चेक प्रदान किया


उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सक पात्रता के अनुसार हर व्यक्ति को यह दवाएं उपलब्ध कराने एवं शासन की योजनाओं का लाभ प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाने में योगदान दें। हर सप्ताह, हर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में ‘आयुष्मान भारत’ एवं ‘मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना’ के गोल्डन कार्ड बनने व वितरण की व्यवस्था होगी। मिशन इंद्रधनुष व स्वास्थ्य संबंधी सभी योजनाओं से आच्छादित करने की व्यवस्था उपलब्ध रहेगी। मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले में सभी केंद्र पर कम से कम 4 डॉक्टर रहेंगे। साथ ही इलाके के मेडिकल कॉलेज के छात्र-छात्राओं को भी इसमें शामिल किया जाएगा। इससे उनको चिकित्सा का अनुभव मिलेगा। मेले में एक आयुष चिकित्सक और मोबाइल यूनिट भी तैनात होगी।


उन्होंने जन आरोग्य मेले में नवजात एवं शिशु स्वास्थ्य सुरक्षा परामर्श एवं सेवाएं, बच्चों में डायरिया व निमोनिया की रोकथाम, बचाव व इलाज की जानकारी व संबंधित सेवाएं उपलब्ध होंगी। उन्होंने कहा कि आज से हर रविवार दस बजे से दोपहर 2:00 बजे तक सभी 4200 से अधिक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर कैंप लगा कर उपचार किया जायेगा।


2 हफ्ते भी नहीं चली जॉन की पांचवी शादी

मुंबई। हॉलीवुड प्रोड्यूसर जॉन पीटर्स के साथ पांचवी बार शादी रचाकर सुर्खियों में आईं एक्ट्रेस और पूर्व बिग बॉस कंटेस्टेंट पामेला एंडरसन का ये विवाह दो हफ्ते भी नहीं चल पाया।पामेला ने 12 दिनों के बाद जॉन से अलग होने का फैसला किया है। उन्होंने एक आधिकारिक बयान के जरिए ये जानकारी दी। उन्होंने कहा, मैं जॉन और अपने यूनियन को मिले रिसेप्शन से बेहद खुश हूं। हम बेहद शुक्रगुजार होंगे अगर आप हमारे फैसले का एक बार फिर समर्थन करें। हम देखना चाहते हैं कि दो इंडीविजुएल के तौर पर हम अपनी जिंदगी में और एक दूसरे से क्या ख्वाहिशें रखते हैं और इसे लेकर आत्मविश्लेषण करना चाहते हैं। लाइफ एक यात्रा है और प्यार एक प्रोसेस है। इस यूनिवर्सल सच्चाई को ध्यान में रखते हुए हम दोनों ने अपने मैरिज सर्टीफिकेट को आधिकारिक ना करने का फैसला किया है। आपका बेहद शुक्रिया हमारी प्राइवेसी को रिस्पेक्ट करने के लिए।


रेलबोगी में 50 लाख रुपए कैश बरामद

रांची। हटिया रेलवे स्टेशन से जीआरपी ने 50 लाख रुपए कैश बरामद किया है। जिस यात्री के पास से यह कैश बरामद हुआ है उससे पुलिस पूछताछ कर रही है। आयकर विभाग जांच में जुटी
एक साथ इतना कैश देखकर जवान भी चौंक गए और तुरंत आयकर विभाग के अधिकारियों को इसकी सूचना दी।आयकर विभाग के अधिकारी इसके बारे में जांच कर रहे हैं।बरामद पैसे को गिरने में अधिकारियों को घंटे लग गए। 


बताया जा रहा है कि संदिग्ध यात्री तपस्विनी एक्सप्रेस में सवार था। इस दौरान ही चेकिंग के दौरान जीआरपी ने जब बैग चेक किया तो कैश रखा हुआ था। पूछताछ में बताया है कि वह उड़ीसा से कैश लेकर रांची आ रहा था। यह पैसा कारोबार का है। लेकिन पुलिस को भरोसा नहीं है। क्योंकि कारोबार करने वाला कोई भी इतना एक साथ कैश लेकर नहीं चल सकता है। जरूर कोई गलत काम का पैसा होगा. फिलहाल जांच जारी है।
मनीष कुमार


बिहार में प्रतिदिन 50 लोगों की हत्या

पटना। बिहार में बेलगाम अपराध को लेकर तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर एक बार फिर से जोरदार हमला बोला है। तेजस्वी ने दावा किया है कि बिहार में हर दिन औसतन 50 मर्डर की घटनाएं हो रही हैं। बिहार में कानून नाम की कोई चीज नहीं बची और सड़क पर बलात्कार, लूट, गोलीबारी और बमबारी का दौर जारी है। तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर सीधा हमला बोलते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहते हैं कि बिहार में अपराध और भ्रष्टाचार को कोई रोक नहीं सकता है जबकि सच्चाई यह है कि नीतीश कुमार ने अपराधियों के सामने सरेंडर बोल दिया है। तेजस्वी ने कहा है कि बिहार में कथित सुशासन राज की हकीकत सबके सामने आ चुकी है। बिहार में इन दिनों लॉ एंड आर्डर की स्थिति ख़राब है।रविवार को भी राजधानी पटना में हथियार के बल पर लूट हुई। अरवल में एक दलित महिला के साथ गैंगरेप की वारदात हुई। छपरा जिले में भी अपराधियों ने एक बिजनेसमैन को गोली मार दी। इन तमाम अपराधीक घटनाओं को रोकने में सूबे की पुलिस नाकाम साबित हो रही है।


22 वेंं दिन भी डटे रही महिला आंदोलनकारी

दिन भर आता रहा जुलूस,भीड़ से गदगद नज़र आए आन्दोलनकारी प्रोटेस्ट के २२ वें दिन भी डटी रही महिलाएँँ
बार बार पुलिस के आने से लोगों में पुलिस की कार्यप्रणाली पर शक


प्रयागराज। मंसूर अली पार्क में एनआरसी,एनपीआर और सीएए के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन के २२वें दिन भी महिलाओं ने ज़ोरदार हुंकार भरी।वहीं चकिया से साठ फिट रोड होते हुए बड़ी संख्या में महिलाओं ने तिरंगा लेकर प्रोटेस्ट मार्च करते हुए मंसछर अली पार्क पहोँचीं।वहीं दायरा शाह अजमल,कोलहन टोला,हसन मंज़िल,अकबरपुर,रसूलपुर,बैदनटोला आदि क्षेत्रों से भी कई जुलूस निकले।हाँथों मे तिरंगा और एनपीआर ,एनआरसी और सीएए के खिलाफ स्लोगन लिखी तखतियाँ हाँथों मे लेकर महिलाओं ने मंसूर अली पार्क का रुख करते हुए जमकर नारेबाज़ी की।वहीं प्रोग्रेसिव राईटर्स एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रोफेसर अली जावेद भी दिल्ली से चल कर समर्थन को पहोँचे।मंसूर अली पार्क में चल रहे धरना को सम्बोधित करते हुए उनहोने सीएए एनपीआर और एनआरसी को देश की आम जनता के लिए काला क़ानून बताते हुए कहा की यह देश अम्बेडकर के संविधान और गांधी के अहिंसा की सोच से चलेगा न की गोडसे की विचारधारा से। इस मिट्टी को हमारे पुरखों ने खून देकर सींचा है।उनहोने काले क़ानून की वापसी न होने तक इस हक़ की लड़ाई को जारी रखने का आहवाहन किया।वहीं सामाजिक एक्टिविस्ट उत्पला शुक्ला ,अल्कारिया यासमीन ने भी महिलाओं में जोश भरा।धरना प्रदर्शन के बाईसवें दिन भी तमाम राजनीतिक दलों के लोगों के साथ ओलमा और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भी महिलाओं के जज़बे को सलाम करते हुए उनके साथ हमेशा खड़ा रहने की बात कही।सबीहा मोहानी,नेहा यादव,सायरा अहमद,ज़िशान, सै०इफ्तेखार हुसैन,इरशाद उल्ला,सै०मो०अस्करी,तारिक खान,अफसर महमूद,अब्दुल्ला तेहामी,नफीस अनवर,अरशद अली,मुशीर अहमद,आक़िब जावेद खान,शाकेब,नवाब आलम,अकिलूर्रहमान,शोएब अन्सारी,रमीज़ अहसन,मोईन हबीबी,मशहद अली खाँ सहित हज़ारों लोग उपस्थित रहकर काले क़ानून की वापसी तक आन्दोलन को जारी रखने का संकल्प लिया।


बृजेश केसरवानी


देश के कोने-कोने से पहुंचे प्रचारक

नई दिल्ली। हिमाचल बीजेपी नेता दिल्ली में बीजेपी प्रत्याशियों के पक्ष में चुनाव प्रचार कर रहे हैं। रविवार को बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने ओखला और बदरपुर विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार किया और सभाओं को संबोधित किया। सभाओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि लंबे समय के बाद देश को पीएम नरेंद्र मोदी जैसा सशक्त नेता मिला है, जिसका लोहा पूरी दुनिया ने माना है। उन्होंने कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक लोगों में एक विश्वास पैदा किया है कि भारत दुनिया की सबसे बड़ी ताकत बनेगा।डॉ. राजीव बिंदल ने कहा नेतृत्व में बीजेपी ने पूरा देश जीता और दिल्ली के लोकसभा चुनावों में सभी सातों सीटों पर बीजेपी ने जीत का परचम लहराया। बिंदल ने कहा पिछले 22 सालों में दिल्ली में जो भी सरकार बनी उसने दिल्ली की जनता के साथ छलावा किया है। पिछले 22 सालों में भारत बदल गया पर दिल्ली नहीं बदली। अब दिल्ली के लोग विकास चाहते हैं। बिंदल ने कहा कि देश में जहंा भी बीजेपी की सरकार बनी वहां चैतरफा विकास हुआ है। आज पूरा देश पीएम नरेंद्र मोदी के साथ खड़ा है। बिंदल ने दिल्ली वासियों से अपील की है।


कोरोना वायरस से चीनी नागरिकों के लिए रोक

नई दिल्ली। भारत ने रविवार को चीन से आने वाले चीनी एवं अन्य विदेशी यात्रियों के लिए ई-वीजा की सुविधा अस्थायी रूप से स्थगित कर दी। भारत ने यह कदम चीन में कोरोना वायरस के संक्रमण से 300 से अधिक लोगों की मौत, 14,562 लोगों के संक्रमित होने और भारत, अमेरिका, ब्रिटेन सहित 25 देशों में इसके प्रसार के मद्देनजर उठाया है।
भारतीय दूतावास ने यहां घोषणा की, ‘‘हाल की गतिविधियों के मद्देनजर तत्काल प्रभाव से ई-वीजा के माध्यम से भारत की यात्रा पर रोक लगाई जाती है। दूतावास ने कहा कि यह फैसला चीनी पासपोर्ट धारकों और अन्य देशों के उन आवेदकों पर लागू होगा जो चीन की मुख्य भूमि में रहते हैं। इसी प्रकार से जिन लोगों को पहले ही ई-वीजा जारी किया जा चुका है वे ध्यान दें कि अब उनका ई-वीजा वैध नहीं है।
भारतीय दूतावास ने आदेश में कहा कि जिन लोगों के लिए भारत की यात्रा अपरिहार्य है वे बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास और शंघाई एवं ग्वांगझोउ स्थित महा वाणिज्य दूतावास और इन शहरों में स्थित भारतीय वीजा आवेदन केंद्रों से संपर्क कर सकते हैं। इस बीच, भारत ने दूसरी पाली में कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित वुहान में फंसे 323 भारतीय और मालदीव के सात नागरिकों को रविवार को निकाला। इस प्रकार भारत ने दो विमानों से 654 लोगों को वुहान से निकाला है।


पार्टी निर्माण की ओर, डगर नहीं आसान

राणा ओबराय

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर नई पार्टी बंनाने की और अग्रसर,परन्तु डगर नही आसान!

चण्डीगढ़। हरियाणा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर ने करनाल में एक प्रेस वार्ता में बताया कि वह आगामी 16 तारीख को जन्मदिन के अवसर पर नई पार्टी बनाएंगे। प्रदेश में तीसरा मोर्चा बनाने का प्रयास करेंगे। अशोक तंवर कांग्रेस छोड़ने के कारण बताते हुए कहा कांग्रेस के नेताओ ने एक सोची-समझी षड्यंत्र के तहत राहुल और उसकी टीम को फेल करने की कोशिश की। उन्होंने बताया इसी कारण से उन्होंने कांग्रेस पार्टी को अलविदा कह दिया था। अशोक तवर का एक नई पार्टी बनाने का प्रयास उनके हिसाब से अच्छा हो सकता है और हम कामना करते हैं कि वह कामयाब हो। परंतु राजनीतिक पार्टी बनाना और चलाना सरल बात नहीं है। इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री बंसीलाल, भजनलाल और उनके पुत्र कुलदीप बिश्नोई आदि भी अपनी पार्टी बना कर प्रदेश में सत्ता वापसी करने का प्रयास कर चुके हैं। परंतु इसमें सफल नहीं हुए अभी हाल ही में इनेलो पार्टी सबसे पुरानी पार्टियों में से एक मानी जाती है। परंतु वह भी संघर्ष करते हुए नजर आ रही है। इनेलो पार्टी में सिर्फ एक ही विधायक बना है औऱ वो भी खुद अभय सिंह चौटाला। इसलिए अशोक तंवर ने नई पार्टी बनाने का जो सपना सोचा है उसको बड़े ध्यान से और धैर्य पूर्वक सोच विचार करके ही पूरा करना चाहिये। वैसे तो विधानसभा चुनाव लगभग 5 वर्ष के बाद ही होने हैं। परंतु इन 5 वर्षों में अशोक तवर क्या ऐसी मजबूत पार्टी खड़ा कर पाएंगे कि जिससे वह सरकार बना सके। कहीं ऐसा ना हो कि उनका स्वपन भी बंसीलाल और भजनलाल व उनके पुत्र कुलदीप जैसा साबित ना हो।


आदित्यनाथ यूपी की सत्ता में हुए 'काबिज'

कानपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जब से उत्तर प्रदेश की सत्ता में काबिज हुए हैं तब से उन्होंने कानपुर शहर को जाम से निजात दिलाने को लेकर कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। शहर के महत्वपूर्ण चौराहों पर ऑफिस खुलने और बंद होने के पीक आवर में जाम लगना अब आम बात हो चली है। इसके अलावा अब तो हालात यहां तक आ पहुंचे हैं कि आपको कब, किस समय, किस चौराहे पर कितने भयानक जाम का सामना करना पड़ जाए, यह कह पाना काफी मुश्किल है। हालांकि इस यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने को लेकर कानपुर शहर के तकरीबन हर चौराहे पर सीसीटीवी से लेकर सिग्नल तक की व्यवस्था की गई है जिसमें हमारे और आपके करोड़ों रुपए पानी की तरह बहाए गए हैं। बावजूद इसके भी ई-चालान का खौफ कनपुरियों में कुछ खास नहीं दिखता है। जो थोड़ा बहुत डर बचता भी है तो कई रसूखदार अपने टाइट सिस्टम के जरिए कनपुरियों के इस डर पर अपनी मोहर लगाकर इस डर की सौदेबाजी कर लेते हैं। एक अनुमान के मुताबिक कानपुर शहर में फर्राटा मार रहे कमर्शियल वाहनों में करीब 80 फ़ीसदी वाहन यातायात नियमों समेत आरटीओ को ठेंगे पर रखते हुए शहर भर में दौड़ रहे हैं। इनमें ओवरलोडिंग की समस्या तो अब बहुत आम बात हो चली है जबकि कई वाहन तो ऐसे भी हैं जिनमें वाहन चालक के पास ड्राइविंग लाइसेंस, गाड़ी के कागज  समेत फिटनेस संबंधी मानकों पर ये वाहन खरे नहीं उतरते। और अब जबकि यातायात नियम संबंधित जुर्माने में कई फीसदी की बढ़ोतरी की जा चुकी है। तब भी इस बढ़ोतरी का सीधा लाभ सरकारी राजस्व में न पहुंचाकर इन रसूखदारों और सिस्टमबाजों की झोली में डालने पर पूरा जोर यातायात विभाग के ही कुछ लोगों द्वारा दिया जा रहा है। शहर के अंदर रसूखदारों और सिस्टमबाजों की दुकानें तो काफी लंबे वक्त से चल रही थी लेकिन अब जबकि यातायात नियमों के उल्लंघन से संबंधित जुर्माने में काफी बढ़ोतरी हो गई है। तब से आम जनमानस समेत इन कामर्शियल वाहन चालकों में नियम कानून समेत जुर्माने का ऐसा डर बसा कि नियम कानून मानने की बजाय इन्हें इन रसूखदारों और सिस्टमबाजों का संरक्षण लेना ही पड़ा।
ऐसे ही एक रसूखदार हैं शकील सिद्दीकी जो जे एस ऑटोलोडर एसोसिएशन के नाम से मानकों के विपरीत शहर में फर्राटा मार रहे सैकड़ों की तादाद में कॉमर्शियल वाहनों को न सिर्फ सदस्यता देते है बल्कि उनसे मासिक 100 रुपए का शुल्क लेकर उनके नियमों और मानकों पर पर्दा डालने का काम भी करते हैं। हालांकि इनके इस एसोसिएशन के रजिस्ट्रेशन, रिन्यूअल और मान्यता से संबंधित नियम कानून खुद संदेह के घेरे में बने हुए हैं। कुछ भी हो.... मतलब साफ है यदि आप किसी भी प्रकार से यातायात विभाग के नियमों और मानकों का उल्लंघन कर रहे हैं लेकिन आपके पास जे एस ऑटो लोडर एसोसिएशन की सदस्यता है तो आपके ऊपर किसी प्रकार की कोई कार्यवाही न करने को लेकर अन्ततः यातायात विभाग मजबूर हो जाएगा।
यातायात विभाग के एसपी ट्रैफिक सुशील कुमार के मुताबिक पूर्व में प्रकाशित हमारी खबर को संज्ञान में लेते हुए आए दिन शकील सिद्दीकी के जे एस ऑटो लोडर एसोसिएशन की सदस्यता से संबंधित कमर्शियल वाहनों के जुर्माने काटे जा रहे हैं। सूत्रों की मानें तो अब तक करीब 15 वाहनों से 5000 रुपए के हिसाब से जुर्माना वसूला गया है। लेकिन यह काफी नहीं है.... हमें इंतजार है कब यातायात नियमों का उल्लंघन करते हुए इन कॉमर्शियल वाहनों के चालानों की संख्या 150 पहुंचती है और फिर 1500 क्योंकि शहर में ऐसे कामर्शियल वाहनों की संख्या सैकड़ों से लेकर हजारों तक है जिनको शकील सिद्दीकी जैसे कई रसूखदार अपने उगाही तंत्र के माध्यम से संरक्षण देने का काम कर रहे हैं। हमारे अगले संस्करण में हम आपको ऐसे ही एक और रसूखदार के विषय में बताएंगे।


'समाजवादी पार्टी' कार्यकर्ताओं में उत्साह

समीर मिश्रा


कानपुर। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता ओम प्रकाश मिश्रा के जन्मदिन के अवसर पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं में विशेष उत्साह देखने को मिला और बारादेवी चौराहा, साइड नंबर वन चौराहा, किदवई नगर चौराहा, बर्रा, आनंदपुरी की तरह 21 जगहों समेत अपने कार्यालय पर केक काटकर सैकड़ों की तादाद में मौजूद कार्यकर्ताओं ने अपने प्रिय नेता का जन्मदिन मनाया। जन्मदिन के अवसर पर कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे ओम प्रकाश मिश्रा ने सभी युवाओं को नई ऊर्जा, नई किरण परोसी और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की प्रेरणा पर चलने को कहा। इस मौके पर पूर्व जिला अध्यक्ष समाजवादी पार्टी चंद्रेश सिंह हसन रूमी, पूर्व महासचिव समाजवादी पार्टी पूर्व नगर अध्यक्ष युवजन सभा प्रवीण कुमार, बंटी यादव,
 वीरेंद्र त्रिपाठी पूर्व प्रदेश सचिव लोहिया वाहिनी,
 बृजेंद्र यादव नगर सचिव समाजवादी पार्टी,
 सलमान खान सेवक समाजवादी पार्टी, सैफ वारसी युवा सपा नेता, एजाज मंसूरी युवा सपा नेता,  मनी मिश्रा, मोनू वर्मा, मिंटू यादव, आयुष मिश्रा समेत समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता मौजूद रहे।


पतित-पावन 'उपन्यास'

पतित-पावन      'उपन्यास' 
गतांक से...
 अचानक दोनों एक दूसरे के सामने आकर ठहर जाती है। दोनों ही एक दूसरे से कुछ कहना चाहती है, लेकिन दोनों ही कुछ भी नहीं कह पाती है। कुछ समय दोनों एक दूसरे को विचार पूर्ण भाव से देखती रहती है। 
शांति को भंग करते हुए जया ने विचार पूर्ण ही कहा- तुम्हें तितलियों से डर नहीं लगता? क्या तुम्हें काटती नहीं है? इनके काटे का तुम्हें मंत्र याद है? कल्पना भाव विभोर-सी बोली-जी नहीं, मैं तितलियों के कांटे का मंत्र तो नहीं जानती, लेकिन इतना जरूर जानती हूं। तितलियों के काटने के लिए ना तो दांत होते हैं ना कोई डंक होता है। ये तो रंग-बिरंगी, मनचली तितलियां है। प्यारी-प्यारी नाजुक तितलियां। जया ने अनभिज्ञता से ही कहा- तुम कल्पना हो? 
कल्पना ने भी आश्चर्य से कहा- तुमको मेरा नाम पता है? 
जया ने विनम्रता से कहा- अभी मेरी मां ने बताया था। 
कल्पना हिचककर बोली- तुम जया हो, मैं जानती हूं। पर तुम तो कभी खेत में नहीं आती हो। आज कैसे आना हुआ? 
जया भावुकता से बोली- मुझे पता होता कि इतनी सारी खुशियां, इतना सुंदर खेल, इतना खुलापन, इतनी आजादी, इतनी मस्ती, तुम अकेले यह सब लूट रही हो। मैं कभी तुम्हें अकेले नहीं लूटने देती। यह सारी खुशियां अपने दामन में समेट लेती और हां कभी चूकती नहीं। खैर, अब तो हमें भी खबर हो गई है। लेकिन इन भंवरो को, तितलियों को और मधुमक्खियों को बता दो कि अब एक नहीं, दो लुटेरे आ पहुंचे।
 दोनों खिलखिला कर हंस पड़ी, बहुत सारी बातें होने के बाद अब दोनों एक दूसरे से चित परिचित हो गई थी और एक दूसरे को समझने का प्रयास भी कर रही थी। कुछ समय बाद कल्पना को उसके पिताजी ने बुला लिया। जया सरसों के पीले खेत में उस समय फूलों के साथ अटखेलियां करती रही। 
आज भी बड़ी जद्दोजहद के बाद आने दिया है। अब तो हम रोज पकाएंगे और खाएंगे। चलो दोनों तितलिया पकड़ते हैं।
 कल्पना संकोच से बोली- पहले बताओ ये सूट-सलवार कहां से लिया है और कितने का लिया है? कितनी अच्छी कढ़ाई है इस पर? जया दया भाव से बोली- तुम्हें पसंद आ गया है तो तुम पहन लो,कीमत से क्या मतलब है? तुम घर पर क्यों नहीं आती हो, घर पर भी आओ तुम्हें बहुत अच्छा लगेगा। वैसे ये सूट-सलवार मेरे पिताजी बता रहे थे ₹7 का आया है। 
कल्पना ने ख्यालों से बाहर आकर कहा- मेरे बाबू मेरे लिए भी लाएंगे,पर वो सुबह ही मुझे अपने साथ खेत में ले आता है। बहुत काम करवाता है। कभी घास कटवाता है, कभी बाड़ी के फूल बिनवाता है। मेरी कमर में भी कभी-कभी दर्द होने लगता है। मैंने तो कई बार कहा भी है सुनता कौन है? बापू कहते हैं पांच बहने है। मैं अकेला क्या करूं? मेरी मां भी तुम्हारे घर पर रोटी टुकड़े का काम करती है जो बचता है उसको बटौर ले आती है। मेरे बापू बहुत अच्छे हैं, मेरी मां मुझसे बहुत प्यार करती है। हम पांचों बहनें शाम को बैठकर बहुत सारी कहानियां सुनते हैं और खूब मजे करते हैं। तुम भी कुछ कहो, क्या मैं ही बोलती रहूंगी? 
जया ने गंभीरता से कहा- मैं क्या कहूं? 
कल्पना ने खीजकर कहा- बहुत बोलती हूं, सब कहते हैं। जानती हो हम गेहूं की रोटी नहीं खाते हैं। सुबह चने की रोटी हरी मिर्च की चटनी के साथ और दोपहर को भी चटनी रोटी खाते हैं। मेरी सारी बहनें मुझसे छोटी है, इसी कारण मुझ पर काम का भी बहुत ज्यादा दबाव रहता है। 
जया हमदर्दी से बोली- कल से तुम्हें फुर्सत ही फुर्सत होगी। कल से तुम्हें यह भारी काम नहीं करना पड़ेगा। तुम्हारा बापू कहां है? कल्पना ने हाथ से इशारा करते हुए घबराकर कहा- वह सामने मिट्टी खोदकर मेंढ़ बना रहा है ना हमे पढ़ाता है ना लिखाता है। मुझे पढ़ने का बहुत शौक है। लेकिन हम गरीब है इसलिए हम पढ़ नहीं सकते।
 जया गंभीर हो कर बोली- तुम्हारे बापू की अभी खबर लेती हूं।
 जय रतिराम के पास गई और गुस्से में बोली- तुम अपनी लड़कियों को पढ़ाते क्यों नहीं हो? रतिराम हड़बड़ा कर बोला- इतनी औकात कहां है। 12:00 बजे तक काम करने पर 5 शेर गोचनी मिलती है एक गुड़ की भेली और एक वक्त की रोटी मिलती है। इतने में क्या-क्या हो सकता है? दो शेर तो रोज घर में ही लग जाता है। 
जयापुर आश्चर्यचकित  होकर बोली-क्या दो शेर अनाज बस, इतनी मेहनत करके। यह तो मजदूरों के साथ ज्यादती की जा रही है। जय का लहजा़ सख्त हो चला था। कल से आपको दोगुना मेहनताना मिलेगा। अगर तुम्हें नहीं मिलता तो काम मत करना। एक-दो दिन भूखा रहना पडे तो रह लेना। अगर मिले तो काम करना और अपने सभी साथियों से भी कह दो। यदि कोई नहीं मानता है उसको मार-मार कर भरता बना दो। वैसे भी तुम जीते नहीं हो, दो शेर अनाज के लिए चार शेर पसीना बहाने के बाद तो दो शेर अनाज मिलता है। क्या तुम्हारी आत्मा तुम्हें धिक्कारती नहीं है। तुम्हें तुम्हारे होने का कोई एहसास नहीं है। यदि तुम्हारे एहसास मर चुके हैं तो फिर तुम्हारे जीवन जीने का कोई फायदा नही है।अपने परिवार का दायित्व पूर्ण रूप से नहीं निभा पा रहे हो तो तुम्हारे दायित्व का क्या अभिप्राय है। तुम्हारा होना, ना होना' इससे क्या फर्क पड़ता है? इस जीने से मर जाना बेहतर है।तुम्हारे बदन पर कपड़े हैं? और जो भी हैं। इससे तो कपड़े ना पहनो, यदि कोई कुछ कहेगा तो कहना कि मैं गरीब हूं ऐसे ही रहूंगा। अपने बच्चों को तुम पढ़ा नहीं सकते हो। फिर बच्चे पैदा क्यों करते हो? गलूरी के साथ माधुरी भी बातें चुपचाप सुन रहे थे। किसी ने चूं तक न की थी। जया बोलती जा रही थी- एक साबुन की टिक्की तुम ला नहीं सकते,बच्चे तुम पढ़ा नहीं सकते, घरों में तुम्हारा चूल्हा जलता नहीं है। कपड़े नहीं पहन सकते हो तो तुम्हारे होने का क्या आधार है? किस लिए जी रहे हो, तुम्हें जीने का कोई अधिकार नहीं है। तुम्हारे जीने का कोई महत्व ही नहीं है। जाओ यहां से चले जाओ और यहां जब आना तुम, जब तुम्हें उचित मजदूरी मिले। अगर तुम्हारी रोजमर्रा की जरूरत के सामान भी तुम्हें नहीं मिल पा रहे हैं तो इस मजदूरी का क्या फायदा? इस मेहनत का क्या फायदा है? तुम्हारा सब कुछ बेकार है।
 उसी क्रोधित मुद्रा में कल्पना को कहा- कल से तुम शाम को 4 बजे कोठी पर आना। कल से तुम्हारी पढ़ाई शुरू होगी। 
माधुरी क्रोध में बोली-  क्या कह रही हो जया? 
जया शालीनता से बोली-मां आपने जो साड़ी पहन रखी है 25 -30 रूपये की होगी। ये लोग रोज मजदूरी करते हैं खेतों में काम करके हमें सब कुछ दे रहे हैं। कहीं तो समानता होनी चाहिए। इंसान से इंसान इतना अलग, इतना अंतर रखता है। जानती हो ये लोग अपने पसीने से मिट्टी को गिली करके मेंढ़ बांधते है और आटा गूंथने के लिए इन्हें हमारे कुंए से पानी लाना पड़ता है। कैसा जीवन जी रहे हैं लोग?


कृतः- चंद्रमौलेश्वर शिवांशु 'निर्भय-पुत्र'


रेप पीड़ित पर एसिड अटैक, नहीं मानी

अतुल त्यागी जिला प्रभारी     


रेप पीड़िता पर दबंगों ने किया जानलेवा एसिड अटैक, 
हापुड़ के बाबूगढ़ थाना क्षेत्र के एक गांव की घटना
पीड़िता पर रेप केस में फैसले का दबाव बना रहे थे आरोपी 
फैसले से इनकार करने पर किया एसिड अटैक


हापुड़। उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले में दुष्कर्म पीड़िता पर एसिड अटैक का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है, कि कुछ दबंग रेप पीड़िता पर फैसला करने का दबाव बना रहे थे। पीड़िता ने फैसले से इनकार किया तो दबंगों ने युवती के परिजनों पर लाठी-डंडों से हमला करते हुए रेप पीड़िता पर एसिड अटैक कर दिया। घटना को अंजाम देकर आरोपी मौके से फरार हो गए। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हापुड़ के बाबूगढ़ थाना क्षेत्र के एक गांव में जून 2019 नाबालिग युवती से दुष्कर्म हुआ था। पीड़िता से गांव के ही रहने वाले दिलशाद नाम के आरोपी ने रेप किया था। इस मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। पीड़ित युवती व उसके परिजनों का आरोप है, कि आज यानी रविवार को आरोपी युवक के परिजनों ने उनके घर पर पहले तो रेप के मामले में फैसला करने का दबाव बनाया और जब उन्होंने फैसले से इनकार के दिया तो आरोपी युवक के दबंग परिजनों ने उन पर हमला कर दिया। इतना ही नहीं रेप पीड़िता के पैरों पर तेजाब से हमला कर दिया। बताया जा रहा है, कि इस हमले में पीड़ित युवती के पैर एसिड की चपेट में आने से झुलस गए हैं। पीड़िता को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस का कहना है। तहरीर मिलने पर आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस घटना के बाद से पीड़िता व उसके परिजन दहशत में हैं। घटना के संबंध में एएसपी हापुड़ सर्वेश मिश्रा ने बताया कि प्रथम दृष्टया कूड़ा डालने का विवाद सामने आया है। वहीं उनका यह भी कहना है कि दाेनों पक्षों के बीच पहले से विवाद चला आ रहा है। पूर्व में रेप का केस भी दर्ज कराया गया था। पुलिस पीड़िता पर एसिड अटैक की वारदात को गंभीरता से ले रही है। सभी बिंदुओं पर गंभीरता से जांच की जा रही है।


सर्वेश मिश्रा


उत्कृष्ट योगदान के लिए किए सम्मानित

अतुल त्यागी जिला प्रभारी


हापुड़- दो पुलिसकर्मियों का सम्मान


हापुड़। सोशल मीडिया सेल मे कार्यरत रहकर बेहतर कार्य करने वाले प्रदेशभर से चुने गए पुलिसकर्मियों को डीजीपी ने लखनऊ मुख्यालय पर सम्मानित किया। इस का कार्यक्रम डीजीपी ओपी सिंह के सेवानिवृत्त होने पर हुआ था।
हापुड़ जनपद से सोशल मीडिया सेल में कार्यरत साजुद्दीनव, हंसराज को जैकट देकर डीजीपी ने सम्मानित किया।
हापुड़ जनपद के दोनों पुलिसकर्मियों को बहुत बहुत बधाई हो।


तंजानिया के चर्च में भगदड़, 20 की मौत

किलिमंजारो। तंजानिया की एक चर्च में भगदड़ की सूचना है। मिली जानकारी के अनुसार इस भगदड़ में 20 लोगों की मौत होगई है। स्थानीय अधिकारी ने इस आशय की पुष्टि की है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, यहां किलिमंजारो पहाड़ की ढलान पर स्थित मोशी नामक शहर के करीब स्थित स्टेडियम में सैंकड़ों लोग इकट्ठा थे। इस दौरान 'पवित्र तेल' से अभिषेक लेने के लिए लोगों में होड़ दिखी, जिस कारण यहां भगदड़ मच गई। समाचार एजेंसी रायटर्स के अनुसार मोसी जिला कमिश्नर किप्पी वारिओबा ने बताया कि  घटना में 20 लोग मारे गए और 16 लोग घायल हैं। उन्होंने बताया कि  मारे गए लोगों में पांच बच्चे भी शामिल हैं।


वारिओबा ने कहा, पवित्र तेल लेने के लिए जब जा रहे लोग दौड़ने लगे इसी दौरान भगदड़ मची। अधिकारियों का मानना है कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। उन्होंने बताया कि यह घटना शनिवार देर रात हुई। माना जा रहा है कि कुछ और लोगों की मौत हो सकती है। प्रशासन फिलहाल स्थिति का आकलन कर रहा है। बता दें बीते कुछ सालों के भीतर तंजानिया में ऐसे मामले सामने आए हैं। जहां कुछ लोग जादुई तरीके से गरीबी दूर करने का दावा करते हैं और लोग लोग उनके झांसे में आ जाते हैं।


तेल को छूने के लिए दौड़ी भीड़
तंजानिया में ‘अराइज एंड शाइन’ मंत्रालय के लोकप्रिय धर्म प्रचारक बोनिफेस म्वामपोसा की अगुवाई में शनिवार दोपहर को हुई प्रार्थना सभा में यह भगदड़ मची। प्रत्यक्षदशियों ने बताया कि भगदड़ उस समय मची, जब म्वामपोसा ने प्रार्थना सभा के दौरान ‘पवित्र तेल’ जमीन पर डाला। ऐसा माना जाता है कि यह तेल बीमारियों का इलाज करता है। लोगों की भीड़ अपनी बीमारी के उपचार की उम्मीद में इस तेल को छूने के लिए दौड़ी।


प्रत्यक्षदर्शी जेनिफर तेमू ने बताया कि म्वामपोसा ने ‘पवित्र तेल’ जमीन पर डाला। अन्य प्रत्यक्षदर्शी पीटर किलेवो ने कहा, ‘तेल को छूने की कोशिश में दर्जनों लोग तत्काल गिर गए और भीड़ में कुचले जाने से कुछ लोगों की मौत हो गई। हमने 20 मृतकों की गिनती की है। कुछ लोग घायल भी हुए हैं।


भाजपा की उदारता का दंश झेलती जनता

अश्वनी उपाध्याय 


गाजियाबाद। नगर पालिका परिषद लोनी का बुरा हाल है। जागरूक लोग इसका पुरजोर विरोध कर रहे हैं। लेकिन भ्रष्ट नेता और अधिकारियों के कारण जनता की आवाज दब कर रह जाती है। आखिर जनता की समस्याओं के प्रति इस उदारता का क्या कारण है।


समाज सेवक आरपी पांडेय के अनुसार लोनी में कोई भी पार्टी भ्रष्टाचार के खिलाफ हल्ला नहीं बोल रही है। जमीनी स्तर पर विरोध की आवाज बुलंद नहीं हो पा रही है। जनप्रतिनिधि अपनी मर्जी से कार्य कर रहे है। जनता की समस्याओं को दरकिनार कर  अपने स्वार्थ पूर्ति के लिए उल-जलूल कार्य किए जा रहे हैं। जनता के विरोध को सड़क पर आने में आवाज बुलंद होने में आखिर कितना समय लगेगा? जनता मूक-बघिर बनकर इन समस्याओं के बीच जीवन यापन करती रहेगी। ऐसे कई सवाल स्थानीय लोगों के जेहन में हैं। विरोध है, लेकिन विरोध का प्रारूप उभर कर नहीं आ रहा है।
 डीएलएफ के जनता हंड्रेड परसेंट BJP सपोर्टर है।फिर भी विकास जीरो है। सीवर के पानी में लोग चलने को मजबूर है। पार्कों में डाला गया सीवर का पानी 'प्लाटों में जमा हो रहा है  जिसको चढ़ने के बाद बदबू देनेेेे लगने के बाद हटाया जााता हैै। भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है, भाजपा के कर्ता-धर्ता सब मौन, जनता जनार्दन भी मौन, आखिर कब तक?
सपा-बसपा, कांग्रेस आदि कोई भी पार्टियां लोनी में भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज नहीं उठा रही हैं। लानत है ऐसी राजनीतिक पार्टियों पर। आप सभी से निवेदन है कि अब किसी भी पार्टी को वोट ना दें। आपके जनहित को मुद्दों को लेकर कोई भी पार्टी अग्रसर नहीं है। विपक्ष का रोल कोई नहीं कर रहा है। अगर अब भाजपा ने विकास नहीं किया तो कभी नहीं कर सकती। बीजेपी विकास करना चाहती ही नहीं। अब कौन-सा पद चाहिए इनको जोकि विकास करेंगे। है कोई बहाना इनके पास, है कोई इनसे पूछने वाला ?


आईटीआई कॉलेज, छात्रावास की घोषणा

युवाओं के लिए आईटीआई कालेज खोलने व छात्रावास खोलने की घोषणा
आईटीआई कालेज में स्टील डेवलफमेन्ट सिखाया जायेगा
चकिया,


चंदौली। रविवार को सीएम योगी आदित्य नाथ ने नौगढ के देवखत गांव में सभा के दौरान वनांचल के लोगों को बडी सौगात दी । उन्होने घोषणा किया कि अब शहर ही नहीं वनांचल में भी खुलेखा इंजीनियर कालेज। वनांचल के लोगों अच्छी शिक्षा व हुनर मंद बनाने के लिए अनेक सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। वही घोषणा के दौरान जनपद में मीडिल कालेज खोलने को कहा। कालेज के साथ ही युवाओं को रहने के लिए छात्रावास भी बनाया जायेगा। क्षेत्र में इंजीनियर कालेज न होने के कारण यहां के युवा बडे-बडे शहरों की ओर जा रहे है। और वहा भारी भरकम फीस मांगे जाने के कारण गांव, देहात के युवा उन इंजीनियर कालेज में दाखिला नहीं कर पाते हैं।


बम धमाकों से दहला अयोध्या, फोर्स तैनात

तीन बम धमाकों से दहला अयोध्या भारी फोर्स मौके पर पहुंची


अयोध्या। कोतवाली के रायगंज चौकी क्षेत्र में परिक्रमा मार्ग पर स्थित कांशीराम कालोनी के ब्लॉक नंबर 52 में जय किशन उर्फ जालिम सिंह अपनी पत्नी के साथ रहता है। शनिवार की शाम करीब 6:00 बजे वह काम से जब घर लौटा तो घर में अपनी पत्नी के साथ मनोज यादव निवासी मदारिया कोतवाली अयोध्या को आपत्तिजनक स्थिति में देखा, याह देख उसने अपने आपको खो दिया और दोनों में बहस होने लगी, इसके बाद उसकी पत्नी और मनोज घर से निकलकर कॉलोनी के गेट पर आ गए, इस दौरान पति जालिम एक झोले में रखा हथगोला लेकर आया, और एक के बाद एक तीन हथ गोले उसने मनोज के ऊपर फेंके हथ गोले की चपेट में आकर मनोज यादव बुरी तरह घायल हो गया। जबकि जालिम की पत्नी भी  गंभीर रूप से घायल हो गई, इसकी सूचना पुलिस को दी गई कुछ ही मिनटों में एसपी सिटी विजयपाल सिंह सीओ अयोध्या अमर सिंह सीओ सिटी अरविंद चौरसिया एसपी सुरक्षा त्रिभुवन नाथ तिवारी तथा कई थानों की पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस के पहुंचने से पहले आरोपी जालिम सिंह मौके से फरार हो गया।


रिपोर्ट; दीपक कुमार


रेलवे के साथ मिलकर टाटा चलाएगी ट्रेन

नई दिल्ली। टाटा का नाम देश में भरोसे का सबब बन चुका है। अब देश की जानी मानी कंपनी रेलवे के साथ मिलकर ट्रेन चलाने जा रही है। इसकी घोषणा जल्द ही कर दी जाएगी।
दरअसल, भारतीय रेलवे अब निजी कंपनियों के साथ चर्चा कर रहा है कि किस तरह वह इन कंपनियों के साथ गठबंधन कर नई ट्रेन चला सकता है। रेलवे ने इस कड़ी में निजी कंपनियों जैसे टाटा, अडानी, एलस्टॉम, सीमेन्स, बॉम्बार्डियर के साथ मीटिंग की। जिसमें आगे साथ मिलकर ट्रेन चलाने की संभावनाओं पर चर्चा की गई।
रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि टाटा समूह उन कंपनियों में से एक है जिन्होंने हितधारकों की बैठक में भाग लिया। वित्त मंत्री बजट में घोषणा कर चुकी हैं कि तेजस एक्सप्रेस जैसी निजी ट्रेनों को और नए मार्गों पर चलाया जाएगा। माना जा रहा है इसी कड़ी में टाटा भी काम करेगा। निजी क्षेत्र को रेलवे में सम्मिलित करने से सरकार को कम से कम 22500 करोड़ रुपये के निवेश की उम्मीद है।


6 लोगों सहित गंगनहर में गिरी कार

अविनाश श्रीवास्तव


गाजियाबाद। थाना मुरादनगर लगभग 23:45 बजे छात्रों की एक कार जो देहरादून से दिल्ली जा रही थी। जिसमें  6 छात्र सवार थे। डिडौली पुल के पास (थाना मुरादनगर) गंगनहर में गिर गई। 02 छात्र जिन्हें तैरना आता था निकल गए है, मोके पर एनडीआरएफ की टीम द्वारा बाकी छात्रों की तलाश जारी है। मौके पर पुलिस मौजूद है।
हर्षित पुत्र नरेंद्र कुमार निवासी गांव कोकड़ा मुजफ्फरनगर एवं अनमोल देशवाल पुत्र प्रदीप कुमार निवासी जाट कॉलोनी मुजफ्फरनगर यह दोनों बच गए हैं।
 निशांत चौधरी पुत्र नरेंद्र निवासी जाट कॉलोनी मुजफ्फरनगर हिमांशु चौधरी पुत्र सुखवीर सिंह निवासी बचन सिंह कॉलोनी मुजफ्फरनगर सृष्टि जोशी निवासी चंद्रबनी देहरादून एवं कनिका बिंदल निवासी शिमला बायपास देहरादून नहीं निकल पाए। जिनकी तलाश एनडीआरएफ द्वारा की जा रही है। निशांत चौधरी गाड़ी चला रहा था गााड़ी। निशांत कृषि विभाग में जॉब करताथा, सृष्टि जोशी एवं कनिका बिंदल उत्तरांचल यूनिवर्सिटी देहरादून की छात्राएं हैं। अनमोल देशवाल एवं हर्षित 12वीं के छात्र हैं जो मुजफ्फरनगर में पढ़ते हैं।
यह सब लोग दिल्ली घूमने जा रहे थे। थाना मुरादनगर क्षेत्र में डिडौली के सामने किसी अज्ञात वाहन से बचाने के चक्कर में कोहरे के कारण इनकी गाड़ी नहर में गिर गई।


गर्भवती-प्रसूता के मरने की सूचना पर इनाम

गर्भवती व प्रसूता की मौत हो जाने पर सूचना देने वाले व्यक्ति को मिलेगा इतना हजार


लखनऊ। स्वास्थ्य मंत्रालय ने गर्भवती व प्रसूता महिलाओं की मृत्यु रोकने के लिए नई रणनीति अपनाई है। अब गर्भवती महिला की पहले सूचना देने वाले को एक हजार रुपये प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसके लिए सुमन स्कीम लॉन्च की गई है। अब इस स्कीम को विस्तारित किया जा रहा है। यह कहना है स्वास्थ्य मंत्रालय के मातृत्व स्वास्थ्य सलाहकार डॉण् दिनेश बंशवाल का। वह शुक्रवार को एआईसीओजी 2020 में पहुंचे थे।
उन्होंने बताया कि मंत्रालय की ओर से पिछले साल 10 अक्तूबर को लॉन्च की गई सुमन स्कीम को विस्तारित किया जा रहा है। अब इसका पोर्टल विकसित किया गया है। यदि किसी सरकारी अस्पताल में गर्भवती को इलाज नहीं मिल रहा है तो वह इस पोर्टल पर सूचना दे सकती है। इसी तरह गर्भवती महिलाओं को सरकारी चिकित्सालय पर ले जाने के लिए कम्युनिटी वॉलंटियर भी नियुक्त किए जा रहे हैं।


10 अंकों का जारी होगा हेल्पलाइन नंबर
मंत्रालय की ओर से 2022 में प्रसूता मृत्युदर शून्य करने की योजना है। इसकेलिए जल्द ही हेल्प लाइन नंबर जारी किया जाएगा। यह 10 अंक का होगा। किसी मोहल्ले या गांव में गर्भवती अथवा प्रसूता की मौत होती है तो सबसे पहले सूचना देने वाले व्यक्ति को एक हजार रुपये प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इससे मौत के पुख्ता आंकड़े तैयार हो सकेंगे।
मौत की वजह की होगी पड़ताल
साथ ही मौत की वजह की पड़ताल की जाएगी। सूचना के आधार पर संबंधित जिले की टीम गांव में जाएगी और स्थिति की रिपोर्ट तैयार कर शासन को भेजेगी। इसके जरिए करीब 80 फीसदी मृत्यु दर को रोका जा सकेगा।


पैदल भारत आए 200 हिंदू परिवार

CAA: भारी-भरकम सामान के साथ पैदल वाघा बॉर्डर से भारत आए पाक के 200 हिंदू परिवार
 


नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा संसद में नागरिकता संशोधन कानून के पास कराने के बाद पाकिस्तान में रहने वाले कई परिवार अपने पूरे सामान के साथ वाघा बॉर्डर के रास्ते भारत आने लगे हैं। सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून के तहत सिटिजनशिप देने के लिए 31 दिसंबर 2014 के पहले भारत आने वालों को ही योग्य बताया है। लेकिन इसके बावजूद भी पाकिस्तान में रहने वाले करीब 200 हिंदू परिवार अब तक वाघा सीमा के जरिए टूरिस्ट वीजा पर भारत आ चुके हैं।
सुरक्षा एजेंसियों के सूत्रों के अनुसार, नए कानून के पास होने के बाद पाकिस्तान में रहने वाले जिन परिवारों के लोग वाघा सीमा के जरिए भारत में दाखिल हुए हैं, उन सभी को सरकार ने टूरिस्ट वीजा जारी किया है। हालांकि जिस तरह से यह लोग पैदल अपना सामान लेकर भारत में दाखिल हुए हैं, उससे यह माना जा रहा है कि यह सभी भारतीय नागरिकता के लिए अप्लाई कर सकते हैं। टूरिस्ट वीजा को अब तक उन लोगों को जारी किया जाता है, जो कि भारत में अपने रिश्तेदारों या अन्य लोगों से मिलने के लिए एक निश्चित अवधि के लिए यहां की यात्रा पर आते हैं।
'भारत में ऐसे प्रवेश सामान्य नहीं'
सूत्रों का कहना है कि अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि यह लोग भारत में बसने के लिए आए हैं, लेकिन इसकी आशंका जरूर है कि यह अपने वीजा की मियाद के आगे भी भारत में रह जाएं और नागरिकता के लिए अप्लाई करें। सूत्रों का कहना है कि अभी यह नहीं कहा जा सकता कि यह लोग सही में टूरिस्ट हैं या नहीं, लेकिन यह जरूर है कि इतने परिवारों का यहां आना सामान्य बात नहीं। आम तौर पर टूरिस्ट वीजा पर आने वाले लोग सूटकेस या किसी बैग के साथ भारत में दाखिल हो जाते हैं। हालांकि जिस तरह पाकिस्तान से आए इन परिवारों ने अपने भारी-भरकम बैगेज के साथ भारत में प्रवेश किया है, उससे यह माना जा रहा है कि यह सिर्फ कुछ दिनों की यात्रा पर भारत नहीं आए हैं। अनुराग गुप्ता



प्रेमी युगल ने ट्रेन से कटकर दी जान

वाराणसी में प्रेमी युगल ने ट्रेन से कटकर दी जान, मृत युवक की पहचान गाजीपुर के निवासी के तौर पर


चौबेपुर में सारनाथ-कादीपुर रेलवे स्टेशन के बीच खरगीपुर गांव के समीप रेलवे ट्रैक पर एक प्रेमी युगल ने शनिवार की भोर में ट्रेन से कटकर अपनी जिंदगी समाप्त कर दी।…


वाराणसी। चौबेपुर में सारनाथ-कादीपुर रेलवे स्टेशन के बीच खरगीपुर गांव के समीप रेलवे ट्रैक पर एक प्रेमी युगल ने शनिवार की भोर में ट्रेन से कटकर अपनी जिंदगी समाप्त कर दी। स्‍थानीय लोगों के अनुसार प्रेमी युगल घटना स्थल पर सुबह पैदल ही पहुंचे थे। घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों का शव चिरईगांव चौकी ले जाकर शिनाख्त का प्रयास किया। थानाध्यक्ष मनोज कुमार ने बताया कि युवक के जेब से आधार कार्ड मिला है जिसपर गुरुदयाल पुत्र रामराज धामपुर नन्दगंज करण्डा गाजीपुर लिखा है।


वहीं युवती की भी शिनाख्‍त किए जाने का प्रयास चल रहा है। बताया कि गाजीपुर पुलिस के माध्यम से परिजनों से संपर्क करने के साथ ही युवती का भी शिनाख्त किए जाने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं सुबह ट्रेन से दो लोगों द्वारा कटकर जान देने की जानकारी हाेते ही क्षेत्र में हड़कंप मच गया और लोगों ने पहुंचकर मृतकों की शिनाख्‍त करने की कोशिश की। वारदात के बाद लोगाें ने पुलिस को सूचना दी तो मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्‍जे में लेकर थाने ले गए। इसके बाद पोस्‍टमार्टम के लिए शव को भेजने की कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार परिजनों के अाने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।


प्रदर्शनकारियों के खिलाफ सड़क पर जनता

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में बयानबाजी का केंद्र बने शाहीन बाग में रविवार सुबह जोरदार हंगामा हो रहा है। अब सड़क खुलवाने के लिए लोग वहां उतर आए हैं। ये लोग सीएए-एनआरसी के खिलाफ पिछले 50 दिनों से धरना दे रहे लोगों के खिलाफ हैं। ज्यादातर लोग खुद को आसपास का ही बता रहे हैं, जिन्हें पिछले 50 दिनों से बंद सड़क की वजह से परेशानी उठानी पड़ रही है।


वहां मौजूद लोग वैसे तो खुद को किसी पार्टी से जुड़ा नहीं बता रहे। लेकिन वहां पहुंचे लोग विभिन्न संगठनों से जरूर जुड़े हैं। इसमें बजरंग अखाड़ा समिति, गौ रक्षा, बजरंग दल आदि के लोग शामिल हैं। पुलिस के समझाने पर सभी लोग फिलहाल वहीं धरने पर बैठ गए हैं और नारेबाजी कर रहे हैं। इलाके के डीसीपी चिन्मय बिस्वास भी फिलहाल मौके पर हैं।


मिली जानकारी के मुताबिक, ये लोग प्रदर्शनकारियों से 300 मीटर की दूरी पर हैं। आए लोग आसपास के साथ-साथ फरीदाबाद, बागपत, बल्लभगढ़ से भी हैं। इन लोगों का कहना है कि हमें प्रदर्शन से कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन सड़क खाली होनी चाहिए। चाहें तो ये लोग रामलीला मैदान, जंतर मंतर या कहीं और प्रदर्शन करें।


शख्स ने चलाई थीं गोलियां
शाहीन बाग में शनिवार शाम एक शख्स ने गोलियां चला दी थीं। दोनों गोलियां हवा में चलाई गई थीं। फायरिंग की आवाज सुन मौके पर अफरातफरी मच गई। हालांकि पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया। आसपास के लोगों ने बताया कि पुलिस जब उसे ले जा रही थी, तो वह ‘जय श्री राम’ के नारे लगा रहा था। जब लोगों ने उससे पूछा कि ऐसा क्यों किया, तो उसने कहा, ‘हमारे देश में किसी और की नहीं चलेगी। सिर्फ हिंदुओं की चलेगी।’


स्वस्थ लीवर के लिए करें योगाभ्यास

मनुष्य के शरीर में लिवर एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है। यह लोगों के खाए हुए खाने को पचाकर रस बनाता है। इसके अलावा लिवर आंतों के कीटाणुओं को भी मारता है। ऐसा माना जाता है कि अधिक अल्कोहल और स्मोकिंग करने से लिवर खराब होता है। हालांकि अधिक मात्रा में नमक या खट्टी चीजों का सेवन भी लिवर को नुकसान पहुंचा सकता है। लिवर को स्वस्थ रखने के लिए कुछ योगासन का नियमित अभ्यास करना चाहिए। ये योगासन लिवर को मजबूत बनाते हैं और पाचन शक्ति को भी बढ़ाते हैं। आइए जानते हैं इन योगासान के बारे में।
नौकासन
नौकासन एक ऐसा आसन है जिसमें शरीर नौका के आकार का हो जाता है। इस आसन के अभ्यास के लिए शवासन की मुद्रा में लेट जाएं और धीरे-धीरे एड़ी और पंजे को मिलाते हुए अपने दोनों हाथों को कमर से सटा लें। हथेली और गर्दन को जमीन पर सीधा रखें। अब अपने दोनों पैरों के साथ-साथ गर्दन और हाथों को ऊपर उठाएं। इस प्रक्रिया में अपने शरीर का पूरा वजन अपने हिप्स पर डाल दें। करीब 30 सेकंड तक इसी अवस्था में रहने के बाद धीरे-धारे शवासन की अवस्था में वापस आ जाएं।
कपालभाति प्राणायाम
कपालभाति करने वाले लोग पेट और लिवर की समस्याओं से दूर रहते हैं। इसे करने के लिए पहले वज्रासन, सिद्धासन या पद्मासन में बैठ जाएं। इसके बाद गहरी सांस लें और सांसों को पांच से दस सेकंड तक अंदर रखें. फिर धीरे-धीरे सांसों को नाक से छोड़ें। इस प्राणायाम को रोजाना दस से पंद्रह मिनट करने से लीवर की समस्या खत्म हो जाती है।
गोमुख आसन
इस आसन के लिए पहले पालथी मारकर बैठ जाएं। फिर दाहिने पैर को दाहिने तरफ मोड़कर तलवों को बांए हिप्स की तरफ ले जाएं। अब इसी तरह बाएं पैर को बांई तरफ मोड़कर तलवों को दाहिने हिप्स की तरफ ले जाएं। अब हथेलियों को पैरों पर रखकर हिप्स पर हल्का दबाव डालें और शरीर के ऊपरी हिस्से को सीधा रखें। फिर बाईं कोहनी को मोड़कर हाथों को पीछे ले जाएं और सांस को खींचते हुए दाएं हाथ को ऊपर उठाएं। अब दाहिना कोहनी को मोड़कर दाएं हाथ के पीछे ले जाएं और उंगलियों को आपस में जोड़ें। इस स्थिति में कम से कम दो मिनिट के लिए रुकें और फिर हाथ व पैर की स्थिति बदलकर दूसरी तरफ भी इस आसन को इसी तरह करें। दोनों तरफ से 4-4 बार इसे करें।


पुलिस अफसर बनना चाहते हैं रितिक

मुंबई। बॉलीवुड के माचो हीरो ऋतिक रोशन सिल्वर स्क्रीन पर पुलिस ऑफिसर का किरदार निभाना चाहते हैं। ऋ तिक रोशन ने हाल ही में उमंग 2020 इवेंट में शिरकत की थी जहां उन्होंने पुलिस ऑफिसर का किरदार निभाने की इच्छा जाहिर की है। ऋतिक रोशन ने अपने अब तक के करियर के दौरान विविधतापूर्ण किरदार निभाये हैं लेकिन उन्होंने अभी तक पुलिस ऑफिसर की भूमिका नहीं निभायी है। ऋतिक के फैन्स चाहते हैं कि वह उन्हें पर्दे पर पुलिस ऑफिसर की भूमिका में देखें। ऋ तिक रोशन ने फैन्स की बात का मान रखते हुए फिल्म निर्माताओं से निकट भविष्य में उनके लिए सिल्वर स्क्रीन पर निभाने के लिए एक शानदार पुलिस वाले की भूमिका लिखने के लिए कहा है।


ऋतिक ने कहा , मैंने अपने फिल्मी करियर में सभी प्रकार की भूमिकाएं निभाई हैं। हालांकि मुझे पुलिसवाले की भूमिका निभाने का मौका नहीं मिला। मैं फिल्म निर्माताओं से आग्रह करूंगा कि वे मेरे लिए एक पुलिस अफसर की भूमिका लिखें। यह मेरे जीवन की सबसे चुनौतीपूर्ण भूमिका होगी। मुझे विश्वास है कि मैं इसे अपने फि़ल्मी करियर की सर्वश्रेष्ठ भूमिका बनाऊंगा।


टाइगर-दिशा के संबंधों की चर्चा

मुंबई। फिल्म स्टार टाइगर श्रॉफ और दिशा पाटनी अपने रिलेशनशिप की खबरों को लेकर चर्चा में रहते हैं। सोशल मीडिया पर ऐक्टिव रहने वाले टाइगर श्रॉफ और दिशा पाटनी अक्सर एक साथ स्पॉट हो जाते हैं। वहीं, दोनों एक-दूसरे के पोस्ट पर कॉमेंट करने का मौका नहीं छोड़ते हैं। टाइगर ने अब दिशा के फिल्म मलंग के गाने हमराह की तारीफ की है।
दिशा पाटनी की फिल्म मलंग इसी महीने रिलीज होने वाली है। फिल्म का ट्रेलर आ चुका और लोगों ने इसे काफी पसंद किया है। अब फिल्ममेकर्स ने मलंग का एक और गाना हमराह रिलीज कर दिया है। दिशा पाटनी ने गाने को अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर किया है। उन्होंने कैप्शन दिया, लव+अडवेंचर=हमराह। दिशा पाटनी के इस पोस्ट पर टाइगर श्रॉफ ने कॉमेंट किया है। उन्होंने अपनी इंस्टाग्राम अकाउंट की स्टोरी में लिखा, गाना पसंद आया, इसके साथ ही टाइगर ने दिशा को टैग करते हुए फायर और हार्ट इमोजी बनाए।


डायरेक्टर मोहित सूरी की मलंग की इस फिल्म में दिशा पाटनी के अलावा आदित्य रॉय कपूर, कुनाल खेमू , अनिल कपूर, एली अवराम मुख्य भूमिका में हैं। यह फिल्म 7 फरवरी को रिलीज होगी।
वर्कफ्रंट की बात करें तो टाइगर श्रॉफ इस समय बागी 3 की शूटिंग कर रहे हैं। इस फिल्म में उनके साथ श्रद्धा कपूर नजर आएंगी। वहीं दिशा पाटनी मलंग के अलावा राधे: योर मोस्ट वॉन्टेड भाई में काम कर रही हैं। प्रभुदेवा के निर्देशन में बन रही इस फिल्म में सलमान खान लीड रोल में हैं।


तमंचा फैक्ट्री में छापा, असलहा बरामद

कैराना। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने गांव नंगलाराई में एक मकान पर छापेमारी की। पुलिस ने मौके से दो आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए भारी मात्रा में अवैध असलहा बरामद किया है। पकड़े गए आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है।
    रविवार तड़के करीब साढ़े तीन बजे कोतवाली कैराना पुलिस ने निकटवर्ती गांव नंगलाराई में एक मकान पर छापेमारी की। यहां पुलिस को अवैध तमंचा फैक्ट्री के संचालित होने की सूचना मिली थी। पुलिस की छापेमारी के दौरान मकान से 8 तमंचे 315 बोर, दो राइफल, एक पौना बंदूक 12 बोर, 26 कारतूस के अलावा कुछ अधबने हथियार तथा उपकरण बरामद हुए। पुलिस की मानें तो मौके नाजिम व अफसरून नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, जो गांव के ही रहने वाले हैं और सगे भाई हैं। फिलहाल पुलिस आरोपियों से गहनता के साथ पूछताछ करने में जुटी हुई है।


दिल्ली में भाजपा का महाजनसंपर्क

नई दिल्ली। मतदान की तारीख जैसे-जैसे पास आ रही है, राजनीतिक पार्टियों के नेता लोगों तक पहुंचने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। रैलियों और नुक्कड़ सभा के बाद अब बीजेपी रविवार से महा जनसंपर्क अभियान शुरू कर रही है। दिल्ली कैंट विधानसभा क्षेत्र में इस अभियान की कमान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, ग्रेटर कैलाश में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और आदर्श नगर विधानसभा में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर संभालेंगे। दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि महा जनसंपर्क अभियान का मकसद है कि बीजेपी दिल्ली में अपने विकास मॉडल से लोगों को घर-घर जाकर रूबरू कराए।


इसबार कुल 1.46 करोड़ वोटर


इसबार कुल 1.46 करोड़ (1,46,92,136) वोटर्स हैं। इसमें 66.35 महिला और 80.55 लाख पुरुष वोटर हैं। 2 लाख 08 हजार 883 लोग ऐसे हैं जो पहली बार वोट डालेंगे।


70 में से 12 सीट 


रिजर्वरिजर्वः चुनाव आयोग ने बताया कि दिल्ली में कुल 70 सीटों में से 58 सीट जनरल, 12 सीट एससी के लिए रिजर्व हैं।


QR कोड स्कैन होगा, तभी डाल पाएंगे वोटः सभी वोटरों को QR कोड वाली पर्ची दी जाएगी। चुनाव कर्मी उसे स्कैन करके नंबर देंगे, तभी वोट डालने की अनुमति होगी। अगर कोई QR कोड वाली पर्ची लेकर नहीं आया होगा तो वह अपने मोबाइल पर वोटर हेल्पलाइन से डिजिटल क्यूआर कोड भी जनरेट कर सकेगा।


घर बैठे वोटिंग कर सकेंगे बुजुर्गः 80 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वोट डालने के लिए बूथ तक नहीं जाना होगा। वह इस बार घर बैठे पोस्टल बैलेट से मतदान कर सकेंगे। दिव्यांग मतदाताओं को भी यह सुविधा मिलेगी। इस अभियान के तहत बीजेपी के करीब एक लाख कार्यकर्ता और वरिष्ठ नेता 70 विधानसभा क्षेत्रों के करीब 13,750 पोलिंग स्टेशन के आसपास रहने वाले लोगों से संपर्क कर उन्हें विकास मॉडल की जानकारी देंगे। इसके अलावा केंद्र सरकार द्वारा किए गए जनकल्याण कार्यों के बारे में भी लोगों को बताया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी दिल्ली में विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है। बीजेपी ने शुक्रवार को जो संकल्प पत्र जारी किया है, उसके बारे में भी लोगों को विस्तृत जानकारी दी जाएगी। इसके अलावा पिछले पांच सालों में आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के लोगों से जो झूठ और फरेब की राजनीति की है, उसका पर्दाफाश किया जाएगा।


अंतर्राष्ट्रीय हिंदू महासभा अध्यक्ष की हत्या

लखनऊ। आज सुबह-सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले अंतर्राष्ट्रीय हिंदू महासभा के अध्यक्ष रंजीत बच्चन की गोली मारकर हत्या कर दी गई। उनके साथ घूम रहे उनके भाई भी घायल हुए हैं। जिन अस्पताल में भर्ती कराया गया इस हत्या से सनसनी फैल गई है। रंजीत बच्चन पहले समाजवादी नेता भी रहे हैं और उन्होंने खुद ही अपना हिंदूवादी संगठन बनाया था। हिंदूवादी नेता की ऐसे समय में हत्या बहुत गंभीर सवाल खड़े कर रही है और संभवत यह मामला अब राजनीतिक रंग लेता नजर आ रहा है। रंजीत बच्चन की हत्या उत्तर प्रदेश पुलिस भी सवालों के दायरे में आ गई है, लेकिन शाहीन बाग में गोली चलाने पर सारे देश को सर पर उठा लेने वाले लोग एक हिंदूवादी नेता की हत्या पर खामोश क्यों हैं? यह एक बड़ा सवाल है। इस पर अभी तक कथित धर्मनिरपेक्ष वादियों इनाम लौट आओ गैंग और असहिष्णु लोगों की प्रतिक्रिया आना बाकी है। बहरहाल शाहीन बाग के आंदोलन के दौर में हिंदूवादी नेता की हत्या बहुत गंभीर सवाल खड़े करती है।


तुरंत ऊर्जा प्रदान करता है संतरा

संतरा एक स्वास्थ्यवर्धक फल है। इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी होता है। लोहा और पोटेशियम भी काफी होता है। संतरे की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसमें विद्यमान फ्रुक्टोज, डेक्स्ट्रोज, खनिज एवं विटामिन शरीर में पहुंचते ही ऊर्जा देना प्रारंभ कर देते हैं। संतरे के सेवन से शरीर स्वस्थ रहता है, चुस्ती-फुर्ती बढ़ती है, त्वचा में निखार आता है तथा सौंदर्य में वृद्धि होती है। प्रस्तुत है इसके कुछ प्रयोग-


संतरे का एक गिलास रस तन-मन को शीतलता प्रदान कर थकान एवं तनाव दूर करता है, हृदय तथा मस्तिष्क को नई शक्ति व ताजगी से भर देता है।
पेचिश की शिकायत होने पर संतरे के रस में बकरी का दूध मिलाकर लेने से काफी फायदा मिलता है।
संतरे का नियमित सेवन करने से बवासीर की बीमारी में लाभ मिलता है। रक्तस्राव को रोकने की इसमें अद्भुत क्षमता है।
तेज बुखार में संतरे के रस का सेवन करने से तापमान कम हो जाता है। इसमें उपस्थित साइट्रिक अम्ल मूत्र रोगों और गुर्दा रोगों को दूर करता है।
दिल के मरीज को संतरे का रस शहद मिलाकर देने से आश्चर्यजनक लाभ मिलता है।
संतरे के सेवन से दाँतों और मसूड़ों के रोग भी दूर होते हैं।
छोटे बच्चों के लिए तो संतरे का रस अमृततुल्य है। उन्हें स्वस्थ व हृष्ट-पुष्ट बनाने के लिए दूध में चौथाई भाग मीठे संतरे का रस मिलाकर पिलाने से यह एक आदर्श टॉनिक का काम करता है।
जब बच्चों के दाँत निकलते हैं, तब उन्हें उल्टी होती है और हरे-पीले दस्त लगते हैं। उस समय संतरे का रस देने से उनकी बेचैनी दूर होती है तथा पाचन शक्ति भी बढ़ जाती है।
पेट में गैस, अपच, जोड़ों का दर्द, उच्च रक्तचाप, गठिया, बेरी-बेरी रोग में भी संतरे का सेवन बहुत कुछ लाभकारी होता है।
गर्भवती महिलाओं तथा यकृत रोग से ग्रसित महिलाओं के लिए संतरे का रस बहुत लाभकारी होता है। इसके सेवन से जहाँ प्रसव के समय होने वाली परेशानियों से मुक्ति मिलती है, वहीं प्रसव पीड़ा भी कम होती है। बच्चा स्वस्थ व हृष्ट-पुष्ट पैदा होता है।
संतरे का सेवन जहाँ जुकाम में राहत पहुँचाता है, वहीं सूखी खाँसी में भी फायदा करता है। यह कफ को पतला करके बाहर निकालता है।
संतरे के सूखे छिलकों का महीन चूर्ण गुलाब जल या कच्चे दूध में मिलाकर पीसकर आधे घंटे तक लेप लगाने से कुछ ही दिनों में चेहरा साफ, सुंदर और कांतिमान हो जाता है। कील मुँहासे-झाइयों व साँवलापन दूर होता है।
संतरे के ताजे फूल को पीसकर उसका रस सिर में लगाने से बालों की चमक बढ़ती है। बाल जल्दी बढ़ते हैं और उसका कालापन बढ़ता है।
संतरे के छिलकों से तेल निकाला जाता है। शरीर पर इस तेल की मालिश करने से मच्छर आदि नहीं काटते।
बच्चे, बूढ़े, रोगी और दुर्बल लोगों को अपनी दुर्बलता दूर करने के लिए संतरे का सेवन अवश्य करना चाहिए।
संतरे के मौसम में इसका नियमित सेवन करते रहने से मोटापा कम होता है और बिना डायटिंग किए ही आप अपना वजन कम कर सकते हैं।
इस तरह संतरा सेहत को ही नहीं, खूबसूरती को भी संवारता है। हमेशा पके व मीठे संतरे का ही सेवन करना चाहिए। गर्मियों में संतरे की फसल अपने पूरे जोर पर होती है।



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


फरवरी 03, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-177 (साल-01)
2. सोमवार, फरवरी 03, 2020
3. शक-1941, माघ - शुक्ल पक्ष, तिथि- नवमी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:07,सूर्यास्त 05:58
5. न्‍यूनतम तापमान 8+ डी.सै.,अधिकतम-21+ डी.सै., हल्की बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...