सोमवार, 2 अगस्त 2021

लामबंदी अभियान का समर्थन, आग्रह किया: गनी

काबुल। अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने देश में बढ़ती हुई हिंसा के लिए अमेरिकी सैनिकों की तेजी से हो रही वापसी को जिम्मेदार ठहराते हुए सोमवार को कहा कि उनकी सरकार अब तालिबान के बढ़ते हुए प्रभाव से प्रांतीय राजधानियों के अलावा प्रमुख शहरी क्षेत्रों की सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित करेगी। गनी ने पिछले कुछ महीनों से तालिबान और अफगान सरकारी बलों के बीच जारी संघर्ष के मद्देनजर सांसदों से तालिबान के खिलाफ राष्ट्रीय स्तर पर एकजुट होने तथा लामबंदी अभियान का समर्थन करने का आग्रह किया है। अमेरिकी और उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के सैनिकों की वापसी के मद्देनजर गनी का यह बयान काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

गनी ने संसद को संबोधित करते हुए कहा, “ तालिबान के साथ शांति प्रक्रिया वार्ता से कोई लाभ नहीं हुआ बल्कि इससे अफगानिस्तान के लोगों में संदेह और संशय की स्थिति पैदा हो गयी है।” अफगान राष्ट्रपति ने कहा, “ तालिबान शांति में विश्वास नहीं करता है। अगले छह महीनों में अभूतपूर्व बदलाव होंगे और तालिबान को पीछे धकेल दिया जाएगा।“ उन्होंने कहा कि अफगान सुरक्षाबलों को एक जिम्मेदारी सौंपी गयी है और उनमें आतंकवादियों को हराने की क्षमता है।


धनखड़ हत्याकांड में 170 पेज की चार्जशीट दाखिल

अकांशु उपाध्याय           

नई दिल्ली। दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में दिल्ली पुलिस ने तीन महीने की छानबीन के बाद चार्जशीट दाखिल कर दी है। दिल्ली पुलिस की तरफ से 170 पेज की चार्जशीट दाखिल की है। जिसमें ओलंपियन सुशील कुमार को मुख्य आरोपी बनाया है। इस मामले में सुशील कुमार सहित कुल 20 आरोपी शामिल हैं। जिसमें से अब तक दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच स्पेशल सेल ने कुल 15 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। ये 15 गिरफ्तारी दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा से हुईं।

इस मामले में 5 आरोपी अभी भी फरार हैं। जिसमें 3 इनामी बदमाश हैं। सागर हत्याकांड मामले में इनामी बदमाश प्रवीण उर्फ चोटी आसौदा गांव, जोगेंद्र काला आसौदा गांव और राहुल मोस्ट वॉन्टेड हैं। आपको बता दें कि 4-5 मई की रात को दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ की बेरहमी से हुई हत्या को लेकर दिल्ली पुलिस ने सोमवार यानी की आज 170 पेज की चार्जशीट दाखिल की दी है। इस केस में सुशील कुमार को मुख्य आरोपी माना गया है।

अब इस पूरे मामले में 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और चार्जशीट में कई और लोगों का नाम भी शामिल किया गया है। जिनकी दिल्ली पुलिस लगातार तलाश कर रही है। हाल ही में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जिस काला जठेड़ी को गिरफ्तार किया था, उससे क्राइम ब्रांच जल्द ही पूछताछ करेगी।

जयंती मनाएं जाने के विषय पर विचार-विमर्श हुआ

कौशाम्बी। समाजवादी युवजन सभा की एक बैठक काजीपुर कार्यालय में युवजन सभा जिला अध्यक्ष चंद्रजीत यादव की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई इस बैठक में युवजन सभा के समस्त पदाधिकारी की मौजूदगी में जयंती मनाए जाने के विषय पर विचार-विमर्श हुआ है।आगामी 5 अगस्त को सपा के वरिष्ठ नेता जनेश्वर मिश्र की जयंती समारोह धूमधाम से मनाये जाने का निर्णय सपा नेताओं ने लिया है। ज्ञानेश्वर मिश्रा की जयंती के अवसर पर सपा नेताओं द्वारा जिले में साइकिल यात्रा निकालकर पार्टी के योजनाओं का जहां प्रचार प्रसार किया जाएगा।
वहीं ज्ञानेश्वर मिश्रा के योगदान के बारे में लोगों को अवगत कराया जाएगा। बैठक में विकास यादव जिला उपाध्यक्ष, मोहम्मद साकिब शेख जिला महासचिव, खालिद फराज विधानसभा अध्यक्ष, अमन यादव जिला सचिव, अमरीश कुमार जिला सचिव, शैलेंद्र यादव कोषाध्यक्ष, वीरेंद्र यादव जिला उपाध्यक्ष, वीरेंद्र यादव ब्लॉक अध्यक्ष, जगजीत सिंह जिला सचिव, समर सिंह ब्लॉक अध्यक्ष, मनीष यादव जिला सचिव, बृजेश कुमार नगर अध्यक्ष, पंडित अमित कुमार मिश्र जिला सचिव, सौरभ भारती जिला सचिव, औसाफ अहमद विधान सभा सचिव सहित तमाम समाजवादी पार्टी के नेता मौजूद रहे उक्त जानकारी कपूर यादव जिला मीडिया प्रभारी समाजवादी युवजन सभा कौशाम्बी ने दी है।
बृजेंद्र केसरवानी 

मासूम की मौत के बाद मां को फंदे पर लटकाया

अतुल त्यागी           
हापुड़। थाना सिंभावली क्षेत्र में गांव भोवापुर में 22 वर्षीय रिंकी और उसकी 11 माह की मासूम बच्ची सहित संदिग्ध परिस्थितियों में मौत होने से हड़कंप मच गया।परिजनों ने आरोप लगाया, कि मासूम को मौत के घाट उतारने के बाद उसकी मां को भी घर मे फांसी के फंदे पर लटका दिया गया। फंदे पर लटकी मृतका के पैर भी बंधे हुए मिले। मृतका के परिजनों ने लगाया लड़के पक्ष पर दहेज के लिए हत्या करने का आरोप। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज कर मामले की जांच में जुट गई पुलिस। पूरा मामला थाना सिंभावली क्षेत्र के गांव भोवापुर का है।

सपा संस्थापक मुलायम ने लालू से मुलाकात की

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को दिल्ली में मुलाकात की। मुलायम सिंह यादव के बेटे अखिलेश यादव भी बैठक के दौरान मौजूद थे। लालू ने एक ट्वीट में कहा, ”देश के वरिष्ठतम समाजवादी साथी आदरणीय मुलायम सिंह जी से मुलाकात कर उनका कुशलक्षेम जाना। खेत-खलिहान, गैर-बराबरी, अशिक्षा,किसानों, गरीबों और बेरोजगारों के लिए हमारी साझा चिंताएं और लड़ाई है। आज देश को पूंजीवाद और सम्प्रदायवाद नहीं बल्कि लोकसमता एवं समाजवाद की अत्यंत आवश्यकता है।” लालू ने बैठक की तस्वीरें भी साझा कीं। अखिलेश यादव ने भी बैठक की तस्वीरों को ट्वीट किया है। दोनों दलों के सूत्रों ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में यह बैठक हुई। इससे पहले अखिलेश लोकसभा की कार्यवाही में हिस्सा लेने गए थे।

चिकित्सीय तरीके से गर्भ गिराने की इजाजत दीं

अकांशु उपाध्याय          

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने एक महिला को चिकित्सीय तरीके से 22 हफ्ते का गर्भ गिराने की इजाजत दे दी। क्योंकि भ्रूण में गंभीर विकृतियां थीं और जन्म के बाद बच्चे की जीवित रहने की संभावना कम थी। न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने एम्स के चिकित्सा बोर्ड की रिपोर्ट पर विचार किया। जो विकृतियों की वजह से गर्भपात कराने के दंपति के फैसले से सहमत था।न्यायाधीश ने कहा, “विशेषज्ञों की रिपोर्ट के अवलोकन के बाद, मेरा विचार है कि याचिका को स्वीकार कर लिया जाए। याचिकाकर्ता (महिला) को गर्भ समाप्त करने की इजाजत दी जाती है।” 

अदालत ने दंपति को उनकी पसंद के लेडी हार्डिंग अस्पताल में गर्भपात कराने की इजाजत दे दी और कहा कि संबंधित प्रसूति रोग विशेषज्ञ को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि यह प्रक्रिया जल्द से जल्द पूरी की जाए। अदालत ने 32 वर्षीय महिला की याचिका को स्वीकार किया था। महिला की गर्भावस्था के 22 हफ्ते हो चुके थे और उसने इस आधार पर चिकित्सीय तरीके से गर्भपात कराने की इजाजत मांगी थी कि भ्रूण विभिन्न विकृतियों से ग्रस्त है।

संवेदनशील मुद्दे पर राजनीति कर रही है 'कांग्रेस'

अकांशु उपाध्याय        

नई दिल्ली। हाल ही में असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद को लेकर पैदा हुए तनाव के मद्देनजर पूर्वोत्तर के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसदों के एक प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और आरोप लगाया कि कांग्रेस इस संवेदनशील मुद्दे पर राजनीति कर रही है। मुलाकात के बाद पत्रकारों से चर्चा में केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने आरोप लगाया कि विदेशी ताकतें उकसाने वाले बयानों और सामग्रियों को तोड़मरोड़ कर बढ़ावा दे रही हैं और ऐसा करके क्षेत्र में आग को हवा देने का काम रही हैं। रिजिजू ने बताया कि प्रधानमंत्री ने सांसदों से कहा कि पूर्वोत्तर उनके दिल के बेहद करीब है, इसलिए क्षेत्र के प्रति उनका प्यार भी स्वाभाविक है।

रिजिजू के मुताबिक प्रधानमंत्री ने कहा कि वह इस क्षेत्र को राजनीति के चश्मे से नहीं देखते। इस मुलाकात के दौरान सांसदों के प्रतिनिधमंडल ने प्रधानमंत्री को एक ज्ञापन भी सौंपा और कहा कि जो भी तत्व असम-मिजोरम मामले को भारत में अव्यवस्था फैलाने के एक माध्यम के रूप में देख रहे हैं। उन्हें वह कहना चाहते हैं कि उनकी शरारत काम नहीं करने वाली है। ज्ञापन में सांसदों ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार ने ”पूर्वोत्तर में विकास के ऐतिहासिक और बेमिसाल काम” किए हैं। इस प्रतिनिधमंडल में पूर्वोत्तर के 16 सांसद मौजूद थे। इनमें 12 असम से, दो अरुणाचल प्रदेश और एक-एक मणिपुर और त्रिपुरा से थे।

भाजपा: अध्यक्ष, महामंत्री व कोषाध्यक्ष का इस्तीफा

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। भाजपा कार्यकर्ता से लेकर मंत्री तब सब एक ही बयान देतेे है। पार्टी में सब ठीक चल रहा है। कुछ बदलने वाला नहीं है। ये सिर्फ कोरी अफवाह है। लेकिन अगले ही दिन मुख्यमंत्री बदल जाते है। फिर भी बयान वहीं आता है, देखिये ये मीडिया और विपक्षी पार्टियों द्वारा बनाई गई बातें है। अब स्थिति ऐसी हो गई कि पार्टी के अंदर की सुबगुुबाहट बाहर आने लगी है। अभी हाल ही में हल्द्वानी उत्तरी से अध्यक्ष, महामंत्री और कोषाध्यक्ष ने इस्तीफा दे दिया। इसके बाद महिला मोर्चा सेे भी इस्तीफे आ गये। अब आप भी बतायेंगेे भाजपा में सब कैसे ठीक चल रहा है। कहने से कुछ नहीं होता। जो हो रहा है वह दिख रहा है।
नाराजगी केवल छोटे कार्यकर्ताओं में ही नहीं बड़े स्तर पर भी हो रही है। सत्ता में आते ही त्रिवेन्द्र्र रावत के मुख्यमंत्री बनने के बाद मंत्रियों और विधायकों में मनमुटाव था। इसके बाद तीरथ आये तो यह मनमुटाव बढ़ता गया। केवल तीन महीनें में तीरथ की विदाई कर दी गई। उनके बाद आये धामी। धामी के मुख्यमंत्री बनने के बाद गुटबाजी खुलकर आने लगी है। इसका ताजा मामला आया है। चाहे भाजपा लीपापोती करती रही लेकिन सब दिख रहा है।
ताजा मामला यह है कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी हर दिन राज्य में प्रकाशित होने वाले प्रमुख दैनिक अखबारों विज्ञापन छप रहे है। लेकिन इन विज्ञापनों में देखने वाली बात यह है कि विभागीय मंत्रियों के चेहरे को जगह नहीं दी जा रही है। विज्ञापन में केेवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी तस्वीर और मुख्यमंत्री पुष्कर धामी की छोटी तस्वीर ही प्रकाशित की जा रही है। जो चर्चा का विषय बनी है। ऐसा नहीं कि यह केवल के मंत्री के साथ किया जा रहा है। चाहे वन विभाग के विज्ञापन हो या फिर महिला एवं बाल विकास, सिंचाई, स्वास्थ्य विभाग के विज्ञापन। इन विभागों के मंत्रियों के चेहरों को पहले पन्ने के विज्ञापनों में जगह नहीं दी जा रही है। आज महिला एवं बाल विकास की महत्वपूर्ण योजना मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना का शुभारंभ होना है। यह विभाग मंत्री रेखा आर्य के पास है। ऐसे में पिछले दिनोंं विभागीय विज्ञापनों में तस्वरी नहीं छपने पर रविवार को मंत्री रेखा आर्य ने इस योजना के उद्घाटन का विज्ञापन अलग से जारी करवाया।अब देखिये आश्यर्च की बात यह हैे कि सीएम धामी के नक्शे कदम पर चलते हुए मंत्री रेखा आर्य ने भी पूरे विज्ञापन में सिर्फ अपनी तस्वीर छपवाई जबकि कार्यक्रम मुख्यमंत्री द्वारा आयोजित होना था और मुख्यमंत्री आवास में ही आयोजन होना है। लेकिन इसके बावजूद मंत्री रेखा आर्य ने पूरे विज्ञापन में मुख्यमंत्री को जगह नहीं दी।
आज सूचना एवं लोक संपर्क विभाग की ओर जारी उद्घाटन के संबंध में पहले पन्ने का पूरा विज्ञापन जारी किया गया। लेकिन हालात वहीं है। यहां भी प्रधानमंत्री मोदी और सीएम धामी के अलावा न विभागीय मंत्री रेखा आर्य की तस्वीर को जगह दी गई न ही कार्यक्रम की अध्यक्षता करने वाले मंत्री गणेश जोशी की तस्वीर छापी गई। अब बतायेंगे भाजपा मेंं सब ठीक कैसे चल रहा है। चुनावी साल में मंत्री अपनी फोटो छपा रहेे है और सीएम अपनी।

19 अगस्त को रिलीज होगी फिल्म ‘बेलबॉटम’

कविता गर्ग               
मुंबई। बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार ने सोमवार को घोषणा की कि उनकी आगामी फिल्म ‘बेलबॉटम’ 19 अगस्त को 2डी और 3डी प्रारूप में सिनेमाघरों में ही रिलीज होगी। रंजीत एम तिवारी द्वारा निर्देशित ‘बेलबॉटम’ जासूसी पर बनी एक थ्रिलर फिल्म है। जिसमें अभिनेत्री वाणी कपूर, लारा दत्ता और हुमा कुरैशी भी अहम भूमिका में दिखाई देंगी।अक्षय ने सोमवार को टि्वटर पर इस बात की जानकारी देते हुए एक वीडियो साझा किया। 
53 वर्षीय दिग्गज अभिनेता ने टि्वटर पर लिखा कि 19 अगस्त को रोमांच का पूरा अनुभव लें। बेलबॉटम 3डी में भी रिलीज हो रही है। ‘बेलबॉटम’ का निर्माण वाशु भगनानी, जैकी भगनानी, दीपशिखा देशमुख, मोनिशा आडवाणी, मधु भोजवानी और निखिल आडवाणी ने मिलकर किया है। फिल्म की कहानी असीम अरोड़ा और परवेज शेख ने मिलकर लिखी है।
बेलबॉटम की कहानी 1980 के दशक की है। बेलबॉटम पहले अप्रैल में रिलीज होने वाली थी, लेकिन कोविड-19 महामारी की दूसरी भयावह लहर के कारण इसकी रिलीज की तारीख को टाल दिया गया था। महामारी के बीच सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली यह पहली बड़ी हिन्दी फिल्म होगी।

मुफ्त: दिल्ली सीएम राजधानी पर राज कर रहे हों

पंकज कपूर                  
देहरादून। भले ही दिल्ली में बिजली, पानी एवं अन्य जरूर सुविधाएं मुफ्त में देकर आम आदमी पार्टी के मुखिया एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री राष्ट्रीय राजधानी पर राज कर रहे हों। मगर उत्तराखंड में 70 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने के ऐलान और उसके बाद प्रत्येक उत्तराखंड वासी को 300 यूनिट बिजली मुफ्त में देने का वादा कितना कारगर सिद्ध हो पाएगा। यह तो आने वाले चुनाव परिणामों में ही सिद्ध हो पाएगा। लेकिन, उत्तराखंड की बात करें तो यहां के वाशिंदे मेहनतकश के रूप में जाने जाते हैं। 
साक्षर राज्य होने के साथ ही उत्तराखंड एक संपन्न राज्य भी है यदि तराई और बाबर एवं राजधानी के कुछ भाग छोड़ दें तो अधिकांश लोग संपन्न मिल जाएंगे ऐसे में 300 यूनिट बिजली मुफ्त में देने की बात करने वाली आम आदमी पार्टी अपने इस लुभावने वादे से जनता को कितना रिझा पाएगी यह तो सभी जानते हैं। फिलहाल उत्तराखंड की बात करें तो पलायन, बेरोजगारी, स्वास्थ्य सुविधाएं यहां सबसे बड़ी समस्या है। राज्य बनने के बाद से लेकर अभी तक इन महत्वपूर्ण मुद्दों पर कोई ठोस रणनीति ना तो कांग्रेस की सरकार बना पाई और ना ही भाजपा की। तीसरे विकल्प के रूप में प्रदेश में उत्तराखंड क्रांति दल एक मजबूत स्तंभ थी मगर समय की धारा के साथ-साथ उत्तराखंड क्रांति दल भी कहीं गुम सी हो गई और अब आम आदमी पार्टी प्रदेश में अपने आप को स्थापित करने की तैयारी कर रही है ऐसा माना जाने लगा है कि भाजपा और कांग्रेस के बाद अब तीसरे विकल्प के रूप में आम आदमी पार्टी उभर रही है। जनता की मांग प्रदेश में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं, पलायन रोकने और बेरोजगारी खत्म करने की है इस पर सभी पार्टियां बड़े-बड़े दावे और वादे करती रहीं हैं मगर आज तक हो कुछ नहीं पाया। 
रोजगार के अभाव में पहाड़ से युवा पलायन कर के अन्य राज्यों में जाने को मजबूर है तो वही बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की पोल कोरोना काल में खुलकर सामने आ चुकी है,।कभी पहाड़ो पर डोलियों की मदद से बुजुर्गों, गर्भवती महिलाओं को अस्पतालों तक पहुंचाना पड़ता है तो वहीं जिले के छोटे अस्पताल हो या फिर सुशीला तिवारी जैसे बड़े अस्पताल बेहतर इलाज के अभाव में अक्सर लोक दम तोड़ देते हैं, कस्बों और ग्रामीण क्षेत्रों में बने अस्पताल सिर्फ प्राथमिक उपचार के बाद रेफर सेंटर के रूप में अपना काम बखूबी निभाते हैं। नजदीकी बरेली में स्थित राममूर्ति चिकित्सालय इसका जीता जागता उदाहरण है कि इस अस्पताल में उत्तराखंड के अलावा नेपाल से भी लोग इलाज कराने पहुंचते हैं अंदाजा लगाया जा सकता है कि उत्तराखंड के की हालत स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर कैसी है। राज्य गठन से लेकर अब तक की बात करें तो मुख्यमंत्री जरूर बदले गए मगर जिन महत्वपूर्ण समस्याओं एवं जरूरी मांगों को लेकर पहाड़ के लोगों ने पहाड़ जैसी जटिल समस्याओं से निपटने के लिए आस लगाई थी वह आज और उम्मीद आज आज भी बरकरार है।
ऐसे में आम आदमी पार्टी का प्रदेशवासियों को सिर्फ 300 यूनिट बिजली मुफ्त में देने का वादा कितना कारगर सिद्ध होगा इसका आकलन प्रदेश की जनता स्वयं कर सकती है।

विपक्षी नेताओं को नाश्ते पर आमंत्रित किया: राहुल

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। पेगासस जासूसी मामले पर चर्चा की मांग कर रहे विपक्षी दलों के हंगामे के कारण संसद में बने गतिरोध के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को विपक्ष के नेताओं को नाश्ते पर आमंत्रित किया है। सूत्रों के मुताबिक, राहुल गांधी ने कांस्टीट्यूशन क्लब में सबुह 9.45 बजे विपक्षी नेताओं को नाश्ते पर आमंत्रित किया है। ताकि पेगासस मामले पर सरकार को आगे घेरने और दबाव बनाने की रणनीति पर चर्चा की जा सके।
सूत्रों ने बताया कि इसमें द्रमुक, शिवसेना, राजद, वाम दलों, तृणमूल कांग्रेस और कई अन्य विपक्षी दलों के नेताओं को आमंत्रित किया गया है। इसमें दोनों सदनों के विपक्षी दलों के नेता और सांसद शामिल हो सकते हैं। राहुल गांधी ने विपक्षी नेताओं को ऐसे समय नाश्ते पर बुलाया है। जब पेगासस और कुछ अन्य मुद्दों को लेकर पिछले कई दिनों से संसद के दोनों सदनों में गतिरोध बना हुआ है।
उन्नीस जुलाई से मॉनसून सत्र आरंभ हुआ था, लेकिन अब तक दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित रही है। विपक्षी दलों का कहना है कि पेगासस जासूसी मुद्दे पर पहले चर्चा कराने के लिए सरकार के तैयार होने के बाद ही संसद में गतिरोध खत्म होगा। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने विपक्ष की मांग को खारिज करते हुए शुक्रवार को लोकसभा में कहा कि यह कोई मुद्दा ही नहीं है।

विस्तार की कवायद में 1 सप्ताह का समय नहीं

बेगंलुरू। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई अपने मंत्रिमंडल के विस्तार पर भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के साथ विचार-विमर्श करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में हैं। सूत्रों ने सोमवार को बताया कि मुख्यमंत्री रविवार को राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे और उनका भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलने का कार्यक्रम है।
रविवार को, दिल्ली के लिए रवाना होने से पहले, बोम्मई ने कहा था कि कैबिनेट विस्तार की कवायद में एक सप्ताह का समय नहीं लगेगा और नेतृत्व की ओर से सोमवार तक निर्देश आने की संभावना है। बोम्मई ने 28 जुलाई को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी और 26 जुलाई को उनके पूर्ववर्ती बी एस येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। इस बीच, मंत्री बनने के इच्छुक कई विधायकों ने बोम्मई से मुलाकात की है।

जंतर-मंतर पर सत्याग्रह धरना शुरू करेंगे कर्मचारी

हरिओम उपाध्याय                 
लखनऊ। केंद्र सरकार द्वारा संसद में बिजली (संशोधन) विधेयक 2021 रखे जाने की तैयारी के बीच बिजली कर्मचारी इसके विरोध में तीन अगस्त से दिल्ली के जंतर-मंतर पर चार दिवसीय सत्याग्रह धरना शुरू करेंगे।नेशनल कोऑर्डिनेशन कमेटी ऑफ इलेक्ट्रिसिटी इम्प्लाइज एंड इंजीनियर्स’ (एनसीसीओईई) के आवाहन पर देशभर के बिजली कर्मचारी और इंजीनियर तीन से छह अगस्त तक जंतर मंतर पर सत्याग्रह कर बिजली (संशोधन) विधेयक के विरोध में केंद्र सरकार का ध्यानाकर्षण करेंगे।
कमेटी में शामिल ‘ऑल इंडिया पॉवर इंजीनियर्स फेडरेशन’ के चेयरमैन शैलेंद्र दुबे ने सोमवार को बताया कि तीन अगस्त को उत्तर भारत, चार अगस्त को पूर्व एवं पूर्वोत्तर भारत, पांच अगस्त को पश्चिमी भारत और छह अगस्त को दक्षिण भारत के विभिन्न प्रांतों के बिजली कर्मचारी, जूनियर इंजीनियर और अभियंता जंतर मंतर पर सत्याग्रह कर बिजली (संशोधन) विधेयक वापस लेने की मांग करेंगे।
उत्तर प्रदेश के बिजलीकर्मी चारों दिन सत्याग्रह में सम्मिलित होंगे। उन्होंने बताया कि सत्याग्रह कार्यक्रम के बाद अगले कदम के रूप में 10 अगस्त को देशभर के 15 लाख बिजली कर्मचारी व इंजीनियर एक दिन हड़ताल करेंगे। अगर केंद्र सरकार इस विधेयक को पारित कराने के लिए कोई एक तरफा कार्यवाही करती है और 10 अगस्त के पहले यह बिल संसद में रखा जाता है तो बिजली कर्मी उसी दिन हड़ताल करेंगे।
दुबे ने मांग की कि बिजली (संशोधन) विधेयक को जल्दबाजी में संसद से पारित कराने के बजाय इसे बिजली मामलों की स्थाई समिति को भेजा जाना चाहिए। बिजली क्षेत्र के सबसे प्रमुख हितधारकों यानी बिजली उपभोक्ताओं और बिजली कर्मचारियों को इस समिति के सामने अपना पक्ष प्रस्तुत करने का पूरा अवसर दिया जाना चाहिए।

अगस्त-सितंबर में अधिक बारिश होने की संभावना

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। भारत मौसम विभाग (आईएमडी) ने सोमवार को कहा कि अगस्त-सितंबर में सामान्य से अधिक बारिश होने की संभावना है। जो चार महीने के मासूनस का दूसरा उत्तरार्द्ध है।आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने अगस्त के लिए जारी अनुमान में बताया कि इस महीने में भी मानसून के सामान्य रहने की संभावना है। उन्होंने कहा कि उत्तर और मध्य भारत के कई हिस्सों में मानूस की बरसात सामान्य से कम रहने की संभावना है।

आक्रामक कृत्य: अफगान के खिलाफ आरोप लगाया

ओटावा। कनाडा के पूर्व मंत्री एवं राजनयिक क्रिस एलेक्जेंडर ने पाकिस्तान पर “छद्म युद्ध और युद्ध अपराधों” में संलिप्त होने तथा पड़ोसी अफगानिस्तान के खिलाफ “आक्रामक कृत्य” में शामिल होने का आरोप लगाया है। एलेक्जेंडर 2013 से 2015 तक कनाडा के नागरिकता एवं आव्रजन मंत्री रहे और उन्होंने रविवार को एक ट्वीट में कहा, “तालिबान लड़ाके पाकिस्तान से अफगानिस्तान सीमा पार करने के लिये इंतजार कर रहे हैं।
कोई अब भी इनकार कर रहा है कि पाकिस्तान अफगानिस्तान के खिलाफ ‘आक्रामक कृत्य’ में संलिप्त है और छद्म युद्ध व युद्ध अपराधों में शामिल है।”
एलेक्जेंडर के ट्वीट पर नाराजगी जाहिर करते हुए पाकिस्तानी विदेश कार्यालय ने वरिष्ठ कनाडाई राजनेता की टिप्पणी पर कड़ी आपत्ति जाहिर की और उनके बयान को जमीनी हकीकत व तथ्यों से अनभिज्ञता के आधार पर किया गया “भ्रामक दावा” करार दिया। अफगानिस्तान सरकार के अधिकारी पाकिस्तान पर तालिबान को कथित तौर पर मदद देने का आरोप लगाते रहे हैं।
लेकिन किसी विदेशी शख्सियत का इसे इंगित करने का यह अपनी तरह का दुर्लभ मामला है।
भारत भी पूर्व में बार-बार पाकिस्तान से सीमा-पार आतंकवाद को समर्थन बंद करने और आतंकी समूहों को पनाहगाह उपलब्ध न कराने को कहा चुका है। अमेरिकी सेना की करीब 20 सालों बाद अफगानिस्तान से वापसी के अंतिम चरण के बीच एलेक्जेंडर का यह ट्वीट आया है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने कहा कि अफगानिस्तान से 95 प्रतिशत अमेरिकी सैनिक रवाना हो चुके हैं और तालिबान ने देश के एक बड़े हिस्सा पर अपनी मौजूदगी का विस्तार किया है।
पाकिस्तानी विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा, “हम कनाडा के पूर्व मंत्री क्रिस एलेक्जेंडर की अनावश्यक टिप्पणी की कड़ी आलोचना करते हैं।
 जिसमें अफगान शांति प्रक्रिया को लेकर पाकिस्तान की भूमिका के बारे में निराधार व भ्रामक दावे किए गए हैं। इस तरह की टिप्पणियां मुद्दे को लेकर समझ के पूर्ण आभाव व जमीनी हकीकत व तथ्यों की अज्ञानता को दर्शाती हैं।”
विदेश कार्यालय ने कहा कि पाकिस्तान सरकार ने यह मामला कनाडा की सरकार के साथ उठाया है। बयान के मुताबिक, “कनाडाई पक्ष के साथ मामला उठाया गया है। हमनें कनाडाई अधिकारियों से इस प्रेरित और दुर्भावनापूर्ण अभियान के खिलाफ कदम उठाने को कहा है।”विदेश कार्यालय ने कहा कि पाकिस्तान सरकार ने यह मामला कनाडा की सरकार के साथ उठाया है। बयान के मुताबिक, “कनाडाई पक्ष के साथ मामला उठाया गया है। हमनें कनाडाई अधिकारियों से इस प्रेरित और दुर्भावनापूर्ण अभियान के खिलाफ कदम उठाने को कहा है।

मुंबई: राज कुंद्रा की गिरफ्तारी पर बयान जारी किया

कविता गर्ग           
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी ने अश्लील फिल्म मामले में पति राज कुंद्रा की गिरफ्तारी पर सोमवार को एक बयान जारी कर कहा कि उन्हें मुंबई पुलिस और देश की न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। शिल्पा ने इस मामले को लेकर मीडिया ट्रायल नहीं करने की अपील करते हुए लोगों से उनके परिवार विशेष रूप से बच्चों की निजता का सम्मान करने का अनुरोध किया है।
शिल्पा ने सोशल मीडिया ऐप इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट लिखकर अपना रुख स्पष्ट किया। शिल्पा ने पोस्ट में लिखा कि एक परिवार के तौर पर हम उपलब्ध कानूनी मदद ले रहे हैं। 
लेकिन, एक मां होने के नाते मैं आप सभी लोगों से अनुरोध करती हूं कि हमारी और विशेष रूप से मेरे बच्चों की निजता का सम्मान करें। तथ्यों की पुष्टि किए बिना आधी-अधूरी बातों पर विश्वास नहीं करें।

लोगों को लालच, सोना तस्करी का धंधा चालू किया

हरिओम उपाध्याय                  
मुज़फ्फरनगर। जनपद में कई ऐसे गैंग सक्रिय है जो बेरोजगार युवकों को विजिट वीजा पर अरब देशों में भेज कर सोने की तस्करी करते थे। लेकिन अब कोविड-19 काल में इन सोना तस्करों ने विजिट वीजा नहीं मिलने पर इन देशों से नोकरी कर दो साल बाद वापस अपने मुल्क आ रहे लोगों को थोड़ा लालच देकर सोना तस्करी का धंधा फिर से चालू कर दिया है। इसमें भी सोना तस्करों ने खेला होबे का काम शुरू कर दिया। इसमें मुज़फ्फरनगर , शामली , बिजनौर के लोग शामिल होकर तस्करी का धंधा कर रहे है। यह सोना तस्कर क्या खेला होबे कर रहे हैं। 
पढ़िए खोजी न्यूज की आज की स्पेशल स्टोरी।
अरब जगत के मुल्कों से कोविड काल से पहले विजिट वीज़ा पर बेरोजगार युवकों को विदेश भेजकर सोना तस्करी का कारोबार करने वाले लोगों पर कोविड-19 के चलते फ्लाइट बंद होने के कारण रोक लग गई थी लेकिन जैसे ही कुछ शर्तों के साथ फ्लाइटों का आवागमन अरब देशों के साथ इंडिया में शुरू हुआ, ऐसे ही सोना तस्करों के गैंग फिर से सक्रिय हो गये और इन्होंने नया फार्मूला निकाला। विजिट वीजा पर बेरोजगार युवकों का जाना जब इन देशों में बंद हो गया तो इन सोना तस्करों ने नया फार्मूला ईजाद कर लिया है। अब यह गैंग बेरोजगार युवकों को ना भेज कर अरब जगत में नौकरी कर वापस अपने देश लौट रहे हैं लोगो को 1000 दिरहम या रियाल का लालच देकर सोने के बिस्कुट मंगवा रहे हैं। इसमें सबसे बड़ा खेला इस बार यह हो रहा है कि कोई युवक जो अरब देश से वापस आ रहा है।
अगर वह एयरपोर्ट पर पकड़ा जाता है तो अगले सोना लाने वाले युवक के साथ यह गैंग पहले सोने का बिस्कुट देकर फिर उससे धोखाधड़ी कर वापस ले रहा है। जब इस उम्मीद के साथ वो युवक एयरपोर्ट से बाहर निकलते है कि अपने वतन आने के बाद वो सोने के बिस्कुट लेकर एयरपोर्ट से बाहर आ गए है कि अब उनको इंडियन करेंसी के 20 हजार रुपये का मुनाफा हो गया है। मगर जब वो एयरपोर्ट से बाहर निकलता है तो उसके बैग से सोने के बिस्कुट गायब मिलते है।

कोरोना की लहर, स्कूलों को खोलने का फैसला लिया

हरिओम उपाध्याय              
लखनऊ। कोरोना वायरस की दूसरी लहर की रफ्तार अत्यंत धीमी होते हुए देखकर सरकार की ओर से छात्र-छात्राओं की 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ स्कूलों को खोलने का फैसला लिया गया है। उत्तर प्रदेश के स्कूल भी अब 16 अगस्त से कोविड-19 प्रोटोकॉल के साथ खुलेंगे। स्कूल खोलने को लेकर लोकभवन में सीएम योगी के साथ बैठक हो चुकी है। 2.30 बजे से विभाग में डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा अधिकारियों के साथ बैठक लेंगे।
सोमवार को उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से राज्य के सभी स्कूलों को आगामी 16 अगस्त से कोविड-19 प्रोटोकॉल के साथ खोले जाने का फैसला ले लिया गया है। उत्तर प्रदेश के सभी स्कूल कोविड-19 प्रोटोकॉल के साथ खोले जाएंगे। इस दौरान छात्र-छात्राओं को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ अनिवार्य रूप से मास्क पहनना पड़ेगा। छात्रों को स्कूल आने के लिए अपने अभिभावकों की लिखित सहमति जरूर देनी होगी। बगैर सहमति पत्र के छात्र छात्राओं को स्कूलों में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। गौरतलब है कि देश के विभिन्न राज्यों में लंबे समय से बंद पड़े प्राइवेट और सरकारी स्कूल खोल दिए गए हैं। पंजाब में प्राइमरी से लेकर सेकेंडरी तक की कक्षाओं के स्कूल आज सोमवार से खुल गए हैं। उत्तराखंड और झारखंड में भी स्कूल कॉलेजों की घंटी फिर से बजने लगी है। स्कूलों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन छात्र-छात्राओं द्वारा किया जा रहा है। टीचिंग स्टाफ से लेकर छात्र छात्राएं सभी मास्क पहने हुए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ स्कूलों में दिखाई दिए हैं। सरकार के आदेशों के अनुरूप स्कूलों को सैनिटाइज किया गया है।

पोजीशन के फाइनल में जगह, नाकाम रहें संजीव

टोक्यो। ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और संजीव राजपूत सोमवार को यहां पुरुष 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन के फाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहे। जिससे रियो ओलंपिक के बाद टोक्यो ओलंपिक से भी भारतीय निशानेबाजों का खाली हाथ लौटना तय हो गया।
ऐश्वर्य असाका निशानेबाजी रेंज में नीलिंग में 397, प्रोन में 391 और स्टैंडिंग में 379 अंक से कुल 1167 अंक जुटाकर 21वें स्थान पर रहते हुए फाइनल में जगह बनाने की दौड़ से बाहर हो गए। अनुभवी निशानेबाज राजपूत ने भी निराश किया और नीलिंग में 387, प्रोन में 393 तथा स्टैंडिंग में 377 अंक से कुल 1157 अंक जुटाए। वह 39 निशानेबाजों के बीच 32वें स्थान पर रहते हुए क्वालीफिकेशन से ही बाहर हो गए। पचास मीटर राइफल थ्री पोजीशन में नीलिंग, प्रोन और स्टैंडिंग तीनों वर्ग की 10-10 निशानों की चार-चार सीरीज होती है।
निशानेबाज प्रत्येक सीरीज में अधिकतम 100 अंक हासिल कर सकता है। क्वालीफिकेशन के बाद शीर्ष आठ निशानेबाज फाइनल में जगह बनाते हैं। इसके साथ ही भारतीय निशानेबाजों का तोक्यो ओलंपिक से बिना पदक जीते लौटना भी तय हो गया।
भारतीय निशानेबाज पांच साल पहले रियो ओलंपिक में भी एक भी पदक नहीं जीत पाए थे। भारत ने लंदन 2012 ओलंपिक में विजय कुमार के रजत और गगन नारंग के कांस्य पदक के रूप में दो पदक जीते थे।

26 आईएएस व 1 एचसीएस के स्थानांतरण किएं

राणा ओबरॉय                 
चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने बड़ा प्रशासनिक फेरबदल करते हुये 26 आईएएस और एक एचसीएस अधिकारी के स्थानांतरण एवं नियुक्ति के आदेश जारी किए हैं।
एक आधिकारिक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि पंकज अग्रवाल को प्रशासनिक सुधार विभाग का आयुक्त एवं सचिव तथा श्रमायुक्त, हरियाणा एवं श्रम विभाग का सचिव, विकास गुप्ता को लघु, मध्यम एवं सूक्ष्म उद्योग का महानिदेशक और नागरिक संसाधन सूचना डिपॉजिटरी के लिए प्राधिकरण का मुख्य कार्यकारी अधिकारी(सीईओ), पंकज यादव को रोहतक मंडलायुक्त, टी. एल. सत्यप्रकाश को बिजली विभाग का सचिव, हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम लिमिटेड का प्रबंध निदेशक और ड्रोन इमेजिंग एंड इन्फॉर्मेशन सिस्टम हरियाणा लिमिटेड (दृश्या) का मुख्य कार्यकारी अधिकारी(सीईओ) लगाया गया है।
हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के मुख्य प्रशासक विनय सिंह को उनके वर्तमान कार्यभार के अलावा हैफेड के प्रबंध निदेशक का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है। पी. सी. मीणा को दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम लिमिटेड का प्रबंध निदेशक तथा हरियासा आवासायुक्त, हरियाणा भवन, नई दिल्ली लगाया गया है। हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ के प्रबंध निदेशक ए. श्रीनिवास को रजिस्ट्रार, सहकारी समितियां लगाया गया है। 
साथ ही उन्हें सहकारिता विभाग के सचिव का अतिरिक्त कार्यभार भी सौंपा गया है।
दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक बलकार सिंह को गृह-1 विभाग का सचिव, अनीता यादव को फरीदाबाद महानगरीय विकास प्राधिकरण, फरीदाबाद का अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी, अशोक कुमार मीणा को कार्मिक, प्रशिक्षण, विजिलेंस एवं संसदीय मामले विभागों के विशेष सचिव व निदेशक प्रशिक्षण (पदेन) और जांच अधिकारी, विजिलेंस, डी. के. बेहरा को शहरी स्थानीय निकाय विभाग का निदेशक एवं विशेष सचिव तथा मिशन निदेशक, राज्य शहरी आजीविका मिशन और राज्य शहरी विकास प्राधिकरण, रवि प्रकाश गुप्ता को कृषि एवं किसान कल्याण विभाग का विशेष सचिव, शरणदीप कौर बराड़ को कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण और रोजगार विभाग का निदेशक एवं विशेष सचिव तथा नागरिक संसाधन सूचना विभाग का निदेशक, अमरजीत सिंह मान को पर्यटन विभाग का निदेशक और विशेष सचिव, प्रदीप गोदारा को चरखी दादरी का उपायुक्त, राम सरूप वर्मा को निदेशक, पर्यावरण और पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग का विशेष सचिव तथा राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग का विशेष सचिव, जितेंद्र यादव को फरीदाबाद निगमायुक्त, नरेश कुमार को जींद का उपायुक्त, रहरि सिंह बांगड़ को रोहतक निगमायुक्त तथा साथ ही उन्हें जिला नगर आयुक्त, रोहतक का अतिरिक्त कार्यभार भी सौंपा गया है।
सरकार ने इसी तरह धर्मेंद्र सिंह को सोनीपत निगमायुक्त और जिला नगर आयुक्त, सिरसा की जिला नगर आयुक्त संगीता तेतरवाल को वित्त विभाग का अतिरिक्त सचिव, जसप्रीत कौर को हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, गुरुग्राम का प्रशासक और शहरी संपदा, गुरुग्राम का अतिरिक्त निदेशक, कृष्णा कुमार को पलवल जिला उपायुक्त, मोनिका गुप्ता को हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, फरीदाबाद का प्रशासक और शहरी संपदा, फरीदाबाद का अतिरिक्त निदेशक, जगदीश शर्मा को हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, पंचकूला का प्रशासक और शहरी संपदा, पंचकूला का अतिरिक्त निदेशक, प्रीति को रेवाड़ी का अतिरिक्त उपायुक्त और जिला संसाधन सूचना अधिकारी, रेवाड़ी लगाया गया है। एचसीएस अधिकारी अशोक कुमार बंसल सोनीपत के अतिरिक्त उपायुक्त होंगे।

कोरोना संक्रमण: जापान में आपातकाल लागू की

टोक्यो। जापान में हाल में कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर चार और प्रांतों में सोमवार को आपातकाल लागू कर दिया।
जापान सरकार ने जिन चार प्रांतो में 31 अगस्त तक आपातकाल लागू किया है उनमें चिबा, कानागावा, सैतामा और ओसाका शामिल हैं। इसके साथ ही टोक्यो और ओकिनावा में पहले से 22 अगस्त तक लागू की गयी आपातकाल की अवधि भी 31 अगस्त तक बढ़ा दी है।

हजारी कोर्ट ने सुनवाई करते हुए रिपोर्ट तलब की

हरिओम उपाध्याय              
उन्नाव। रेप कांड की पीड़िता की ओर से अपने निजी सुरक्षा अधिकारी पर लगाए गए प्रताड़ना के आरोपों को लेकर दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने सुनवाई करते हुए इस संबंध में रिपोर्ट तलब की है। जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने सीबीआई के जांच अधिकारी को कंपैक्ट एसेसमेंट रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया है।
सोमवार को दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने उन्नाव रेप पीड़िता की ओर से अपने निजी सुरक्षा अधिकारी पर लगाए गए प्रताड़ित करने के आरोप पर सुनवाई करते हुए रिपोर्ट तलब की है। जिला एवं सत्र न्यायाधीश धर्मेश शर्मा ने सीबीआई के जांच अधिकारी को इस बाबत कंपैक्ट एसेसमेंट रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया है। उन्नाव रेप कांड की पीड़िता ने आरोप लगाया है कि उच्चतम न्यायालय के आदेशों के बाद उसे सरकार की ओर से सुरक्षा मिली हुई है। 
याचिका में कहा गया है कि सुरक्षा अधिकारी उसके आवागमन को रोकते हैं। सुरक्षा अधिकारी की ओर से इस प्रकार से करना उसकी स्वतंत्रता को बाधित करने की कोशिश है। आवागमन को रोकने की वजह से वह अपना मुकदमा भी ठीक तरह से नहीं लड़ पा रही है। गौरतलब है कि 20 दिसंबर 2019 को पीड़िता से रेप के मामले में तीस हजारी कोर्ट ने तत्कालीन भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। कोर्ट ने उम्रकैद के साथ दोषी पर 25 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था। जुर्माने की इस रकम में से 10 लाख रुपये पीड़िता को देने का आदेश कोर्ट ने दिया था। तीस हजारी कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ कुलदीप सिंह सेंगर ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर की है।

बारिश के कारण 2 मकान ढहनें से 6 की मौंत हुईं

मनोज सिंह ठाकुर                      
भोपाल। मध्य प्रदेश में बारिश के कारण रविवार को दो मकान ढह गए। इसमें चार बच्चों सहित छह लोगों की मलवे में दबने से मौत हो गई। जबकि चार अन्य घायल हो गए। वहीं राजस्थान के कुछ इलाकों में भारी बारिश होने के बाद निचले इलाकों में जलभराव से बाढ़ जैसी स्थिति बन गई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने राजस्थान और मध्य प्रदेश के लिए 'रेड अलर्ट' जारी किया है। इसमें सोमवार को बहुत भारी से बेहद भारी बारिश का अनुमान जताया गया है।

प्रफुल्ल को 'रसायन विज्ञान का जनक' माना जाता है

दुष्यंत टीकम                          
रायपुर। प्रफुल्ल चंद्र राय का जन्म 2 अगस्त 1861 को पूर्वी बंगाल के खुलना जिले के राढुली गाँव में हुआ था। प्रफुल्ल चंद्र राय को 'रसायन विज्ञान का जनक' माना जाता है। प्रफुल्ल चंद्र राय को जुलाई 1889 में प्रेसिडेंसी कॉलेज में 250 रुपए मासिक वेतन पर रसायनविज्ञान के सहायक प्रोफेसर के पद पर नियुक्त किया गया। यहीं से उनके जीवन का एक नया अध्याय शुरू हुआ। 1911 में वे प्रोफेसर बने। 
उसी वर्ष ब्रिटिश सरकार ने उन्हें ‘नाइट’ की उपाधि से सम्मानित किया। 1916 में वे प्रेसिडेंसी कॉलेज से रसायन विज्ञान के विभागाध्यक्ष के पद से सेवानिवृत्त हुए। फिर 1916 से 1936 तक उसी जगह एमेरिटस प्रोफेसर के तौर पर कार्यरत रहे। 1933 में काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के संस्थापक पण्डित मदन मोहन मालवीय ने आचार्य प्रफुल्ल चंद्र राय को डी.एस-सी की मानद उपाधि से विभूषित किया। वे देश विदेश के अनेक विज्ञान संगठनों के सदस्य रहे।

छत्तीसगढ़ में संक्रमण का खतरा एक बार फिर बढ़ा

दुष्यंत टीकम                           
रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण का खतरा एक बार फिर बढ़ गया है। रविवार को प्रदेश में 214 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। इनमें से आधे से अधिक मरीज दुर्ग, रायपुर और बिलासपुर जिलों में ही मिले हैं। शनिवार को प्रदेश में नए मरीजों की संख्या केवल 102 थी। एक दिन के अंतराल पर यह अंतर से दोगुने से अधिक हो चुका है। संक्रमण के इन आंकड़ों ने प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है। अधिकारियों ने कहा, अगर संक्रमण के यह आंकड़े एक-दो दिन स्थित रह गए तो गंभीर खतरे की बात हो सकती है।
स्वास्थ्य विभाग की ओर से देर रात जारी आंकड़ों के मुताबिक रविवार को कोरोना के 22,412 नमूनों की जांच हुई। इस बीच 214 लोगों में संक्रमण की पुष्ट हुई है। दुर्ग जिले में सबसे अधिक 70 मरीज मिले हैं। रायपुर में 39, बिलासपुर में 19, जांजगीर-चांपा में 12, रायगढ़ में 9 और कांकेर के 8 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। रविवार को आए आंकड़े पिछले एक सप्ताह के दौरान एक दिन में मरीजों की सर्वाधिक संख्या है। इससे पहले 22 जुलाई को 217 नए मरीज मिले थे। इसके बाद संक्रमण दर बढ़कर 0.9 प्रतिशत हो गई है। शनिवार को यह 0.2 प्रतिशत तक घट गई थी।
कोरोना की दूसरी लहर में भी दुर्ग जिला हॉट स्पॉट बना हुआ था। अब एक बार फिर जिले में तेजी से संक्रमण बढ़ने लगा है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि यह 4 दिन की पेंडिंग रिपोर्ट के कारण हुआ है। इसमें 29, 30 व 31 जुलाई और 1 अगस्त की रिपोर्ट शामिल है। आरटीपीसीआर रिपोर्ट देरी से जारी हुई है। इसलिए आंकड़ा अधिक दिख रहा है। जिले में अभी एक्टिव केस बढ़कर 148 हो गए हैं। वहीं तीन दिन से वैक्सीनेशन भी बंद है। इसके कारण चिंता और भी बढ़ गई है।
रायपुर के इन क्षेत्रों में मिले मरीज खम्हारडीह, संतोषी नगर, कटोरा तालाब, शिवानंद नगर सेक्टर-2, अग्रोहा कॉलोनी, धरमपुरा, आईआईआईटी, नवा रायपुर परिसर, सीआरपीएफ पुलिस लाइन, सीएएफ माना, जागृति नगर, काठाडीह, काली नगर पंडरी, नयापारा, श्याम प्लाजा के पीछे, मोवा, टाटीबंध, शंकर नगर, देवेंद्र नगर, टैगोर नगर, अवंति विहार, ओल्ड राजेंद्र नगर, ब्रह्मपुरी, सुंदरनगर, बिरगांव, कचना, आमासिवनी, तेलीबांधा और ऐश्वर्या किंगडम कचना।
बीते 24 घंटों में एक मरीज की मौत हुई इन आंकड़ों के बीच संतोषजनक यह है कि शनिवार रात से रविवार रात 8 बजे तक प्रदेश में केवल एक कोरोना मरीज की मौत दर्ज हुई है। यह रायगढ़ जिले का मामला है। इसको मिलाकर प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 13 हजार 525 हो गई है। पिछले एक सप्ताह में 11 लोगों की मौत हो चुकी है।
अब 1919 एक्टिव केस कोरोना संक्रमण शुरू होने से अब तक प्रदेश के 10 लाख 2 हजार 222 लोग महामारी की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 9 लाख 86 हजार 778 लोग ठीक हो चुके हैं। 157 लोगों को कल ही डिस्चार्ज किया गया। प्रदेश में अब एक्टिव मरीजों की संख्या 1 हजार 919 हो गई है। एक दिन पहले तक यह संख्या घटकर 1 हजार 863 रह गई थी।

पुरानी किताबों को पढ़तें हुए कोमा में पहुंचा शख्स

लंदन। अक्सर लोग अपनी किताबों और तस्वीरों को सजोकर किसी संदूक या अलमारी में रख देते हैं। जिससे कुछ समय बाद वो अपनी पुरानी यादों को देखकर खुश हो सकें और अपने बच्चों और नाती-पोतों को दिखा सकें। इन पुरानी यादों को संभाल कर रखने के लिए लोग किसी भी हद तक जाते हैं।
आपको बता दें कि कभी कभार ये किताबें और तस्वीरें लोग अपने संदूक में रखकर भूल जाते हैं। जिससे इनमें दीमक या फफूंद लग जाते हैं। क्योंकि इन किताबों में नमी आ जाती है। आज इस खबर में हम आपको उस शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं। जो इन पुरानी किताबों को पढ़ते हुए कोमा में चला गया।
दरअसल यह शख्स और कोई नहीं बल्कि इंग्लैंड के जाने माने लेखक मार्टिन ग्रीनवुड है। जो अपने दादा की किताब की वजह से कोमा में चले गए थे और उनकी हालत मरने जैसी हो गयी थी। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर इस किताब में ऐसा क्या था ? जिसकी वजह से मार्टिन कोमा में चले गए तो हम आपको बता दें कि जिस किताब को मार्टिन पढ़ रहे थे वो दरअसल उनके दादा ‘पर्सी मॉन्कमैन’ की किताब थी।
पर्सी मॉन्कमैन गुजरे जमाने के जाने माने एंटरटेनर हुआ करते थे और वो लोगों के बीच काफी लोकप्रिय भी हुआ करते थे। मार्टिन उनके पोते हैं और वो अपने दादा की किताब को पढ़ रहे थे तभी उन्होंने कुछ ऐसा कर दिया कि वो कोमा में चले गए। दरअसल यह किताब 100 साल से बंद थी।
जिसकी वजह से इसमें बीजाणु बन गए थे और फिर जैसे ही मार्टिन ने इन्हें सूंघा ये सीधे उनकी नाक से होते हुए उनके फेफड़ों में पहुंच गए जिससे वो मौत के करीब पहुंच गए थे हालांकि अब उनकी हालत सामान्य है और वो पूरी तरह से ठीक है साथ ही अब उन्हें अस्पताल से भी छुट्टी मिल चुकी है।

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 74.33 पर पहुंचा रुपया

कविता गर्ग                   
मुंबई। घरेलू शेयर बाजारों में मजबूती और कमजोर अमेरिकी मुद्रा के चलते रुपया सोमवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले नौ पैसे बढ़कर 74.33 पर पहुंच गया। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में घरेलू इकाई डॉलर के मुकाबले 74.38 पर खुली, और फिर बढ़त के साथ 74.33 पर पहुंच गई, जो पिछले बंद भाव के मुकाबले नौ पैसे की बढ़त दर्शाता है। रुपया शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 74.42 पर बंद हुआ था।
इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.10 प्रतिशत की गिरावट के साथ 92.08 पर कारोबार कर रहा था। वैश्विक तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड वायदा 1.05 प्रतिशत की गिरावट के साथ 74.62 डॉलर प्रति बैरल पर था।

कारोबार में 300 अंक से अधिक चढ़ा 'सेंसेक्स'

कविता गर्ग                     
मुबंई। वैश्विक शेयर बाजारों में सकारात्मक रुख के बीच एचडीएफसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज और इंफोसिस जैसे प्रमुख शेयरों में बढ़त के चलते सेंसेक्स सोमवार को शुरुआती कारोबार में 300 अंक से अधिक चढ़ गया। इस दौरान 30 शेयरों वाला सूचकांक 333.69 अंक या 0.63 प्रतिशत बढ़कर 52,920.53 पर कारोबार कर रहा था, जबकि व्यापक एनएसई निफ्टी 101.65 अंक या 0.64 प्रतिशत बढ़कर 15,864.70 पर पहुंच गया।सेंसेक्स में सबसे अधिक दो प्रतिशत की तेजी टाइटन में हुई। 
इसके अलावा एक्सिस बैंक, भारती एयरटेल, एचडीएफसी, मारुति, बजाज फिनसर्व, इंफोसिस और रिलायंस इंडस्ट्रीज भी बढ़त दर्ज करने वाले प्रमुख शेयरों में शामिल थे। दूसरी ओर टेक महिंद्रा, सन फार्मा, एनटीपीसी, पावरग्रिड और डॉ रेड्डीज लाल निशान में कारोबार कर रहे थे।पिछले सत्र में, सेंसेक्स 66.23 अंक या 0.13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 52,586.84 पर बंद हुआ, जबकि व्यापक एनएसई निफ्टी 15.40 अंक या 0.10 प्रतिशत की गिरावट के साथ 15,763.05 पर बंद हुआ। विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने शुक्रवार को सकल आधार पर 3,848.31 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

देश में संक्रमितों की संख्या-3,16,95,958 हुईं

अकांशु उपाध्याय                      
नई दिल्ली। देश में बढ़ा कोरोना का खतरा, एक दिन में कोविड-19 के 40,134 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,16,95,958 हो गई। वहीं, लगातार छठे दिन उपचाराधीन मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण से 422 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,24,773 हो गई।
देश में बढ़ा उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी 4,13,718 हो गई, जो कुल मामलों का 1.31 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में कुल 2,766 बढ़ोतरी दर्ज की गई। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 97.35 प्रतिशत है। आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक कुल 46,96,45,494 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है, जिनमें से 14,28,984 नमूनों की जांच रविवार को की गई। नमूनों के संक्रमित आने की दैनिक दर 2.81 प्रतिशत है। वहीं, नमूनों के संक्रमित आने की साप्ताहिक दर 2.37 प्रतिशत है।
देश में अभी तक कुल 3,08,57,467 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और कोविड-19 से मृत्यु दर 1.34 प्रतिशत है। देश में अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की कुल 47.22 करोड़ खुराकें दी जा चुकी हैं। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी।
वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवम्बर को 90 लाख के पार हो गए। देश में 19 दिसम्बर को ये मामले एक करोड़ के पार, चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे।

देश के 10 राज्यों में बढ़ रहें हैं कोरोना के मामलें

पंकज कपूर                   
देहरादून। अनलॉक होने केे बाद लोग कोरोना की गाइडलाइन भूलते जा रहे है। ऐसें में माना जा रहा है कि तीसरी लहर भयानक रूप ले सकती है। सोशल डेवलेपमेंट फॉर कम्युनिटी फाउंडेशन ने राज्य सरकार और संबंधित एजेंसियों को संभलकर चलने की सलाह दी है। फाउंडेशन के संस्थापक अनूप नौटियाल ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि देश के 10 राज्यों केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, उड़ीसा, असम, मिजोरम, मेघालय, आंध्र प्रदेश और मणिपुर में कोरोना के मामले बढ़तेे जा रहे है। केन्द्र सरकार ने इन राज्यों को जरूरी सावधानियां बरतने के लिए भी कहा है।
एक बार फिर कोरोना के केस बढ़ रहे है। 71वें हफ्ते की तुलना में 72वें हफ्ते में 94 प्रतिशत केस बढ़ गये। अनूप ने कहा कि उत्तराखंड में फिलहाल स्थिति ऐसी नहीं है, लेकिन हमारे लिए भी यह चिन्ता की बात है। इसके लिए जरूरी कदम उठाये जाय। प्रदेश में कोविड संक्रमण के 72 हफ्ते 31 जुलाई को पूरे हो चुके हैं। 70 वें हफ्ते में राज्य में 296 नये कोविड केस आये थे। 71 वें हफ्ते में यह संख्या 240 थी जबकि 72 वें हफ्ते में संख्या बढक़र 466 हो गई। 
यानी कि 71वें हफ्ते की तुलना में 72वें हफ्ते में 94 प्रतिशत केस बढ़ गये।एसडीसी फाउंडेशन ने वैक्सीनेशन की रफ्तार को और तेज करने के साथ ही टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने को भी कहा है। राज्य सरकार ने हर दिन 40 हजार टेस्ट करने का लक्ष्य निर्धारित किया थाए लेकिन कुल टेस्टिंग पिछले डेढ महीने से साप्ताहिक आंकलन के आधार पर निर्धारित लक्ष्य से 35 से 43 प्रतिशत कम हो रही है। अगर धामी सरकार इस ओर ध्यान नहीं देती है तो तीसरी लहर को आने में देर नहीं लगेगी।

महिला हॉकी टीम ने ओलंपिक खेलों में इतिहास रचा

टोक्यो। गुरजीत कौर के गोल और रक्षापंक्ति के बेहतरीन प्रदर्शन से भारतीय महिला हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक खेलों में सोमवार को यहां आस्ट्रेलिया को 1-0 से हराकर इतिहास रचा। गुरजीत ने 22वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर यह महत्वपूर्ण गोल किया।
इसके बाद भारतीय टीम ने अपनी पूरी ताकत गोल बचाने में लगा दी जिसमें वह सफल भी रही। गोलकीपर सविता ने बेहतरीन खेल दिखाया और बाकी रक्षकों ने उनका अच्छा साथ दिया। भारतीय टीम मास्को ओलंपिक 1980 में चौथे स्थान पर रही थी लेकिन केवल छह टीमों ने हिस्सा लिया था और मैच राउंड रोबिन आधार पर खेले गये थे।
भारतीय हॉकी टीम अपने पूल में दक्षिण अफ्रीका और आयरलैंड को हराकर चौथे स्थान पर रही थी जबकि आस्ट्रेलिया अपने पूल में शीर्ष पर रहा था। भारतीय पुरुष टीम पहले ही सेमीफाइनल में जगह बना चुकी है।

अमिनातु ने तीसरा स्थान हासिल कर जगह बनाईं

टोक्यो। भारत की फर्राटा धाविका दुती चंद का निराशाजनक प्रदर्शन जारी रहा और वह टोक्यो ओलंपिक खेलों की एथलेटिक्स प्रतियोगिता में महिलाओं की 200 मीटर दौड़ में सातवें और अंतिम स्थान पर रहकर सेमीफाइनल के लिये क्वालीफाई नहीं कर पायी। दुती ने चौथी हीट में 23.85 सेकेंड का समय निकाला। जो उनका इस सत्र का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।लेकिन यह सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिये पर्याप्त नहीं था।
नामीबिया की क्रिस्टीन मबोमा ने 22.11 सेकेंड के साथ यह हीट जीती। उनके अलावा अमेरिका की गैब्रियली थामस (22.20) और नाइजर की अमिनातु सेयनी (22.72) ने दूसरा और तीसरा स्थान हासिल करके सेमीफाइनल में जगह बनायी। प्रत्येक सात हीट में से शीर्ष तीन पर रहने वाली एथलीटों और अगले तीन सर्वश्रेष्ठ समय निकालने वाली खिलाड़ियों ने सेमीफाइनल के लिये क्वालीफाई किया। दुती का सर्वश्रेष्ठ समय 23 सेकेंड का है। वह 41 प्रतिभागियों के बीच कुल 38वें स्थान पर रही।
इससे पहले शुक्रवार को दुती महिलाओं की 100 मीटर दौड़ में भी सेमीफाइनल में जगह नहीं बना पायी थी। वह अपनी हीट में 11.54 सेकेंड का समय लेकर सातवें स्थान पर रही थी।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-352 (साल-02)
2. मंगलवार, जुलाई 3, 2021
3. शक-1984,सावन, कृष्ण-पक्ष, तिथि- नवमीं, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -20 डी.सै., अधिकतम-38+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...