सोमवार, 4 अप्रैल 2022

अराजकता-लोकतंत्र 'संपादकीय'

अराजकता-लोकतंत्र      'संपादकीय' 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता का दुरुपयोग के भिन्न युग का शुभारंभ हो गया है। इस युग का कोई नामकरण तो नहीं किया गया हैं‌। परंतु, यदि इस युग की प्रवाह पर नियंत्रण नहीं किया गया, तो भाजपा के पतन का बीज अंकुरित होने से कोई नहीं रोक पाएगा।
दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत गणराज्य के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राष्ट्र प्रगतिशीलता के मार्ग पर आगे बढ़ रहा है। लोकसभा में प्रति विधेयक पारित होने से पूर्व राष्ट्र और जनहित की कसौटी पर परखा जाता है। यह दूर दृष्टिकोण राष्ट्र प्रगति का आधार स्तंभ है। खामी इंसान का स्वाभाविक गुण है, लेकिन सुधार का नजरिया गलती शेष रहने का आभास खत्म कर देता है। भाजपा दल के दोनों शीर्ष नेता (मोदी-योगी) जनकल्याण और राष्ट्र निर्माण के प्रति समर्पित भाव से सेवारत हैं। इसी मगन शीलता के चलते इसके विपरीत भाजपा के जनप्रतिनिधियों ने संयम का तर्पण कर दिया है। निरंकुश विचार बुद्धि पर हावी हो गए हैं। संवैधानिक और लोकतंत्र के चीर हरण करने पर आमादा हो गए हैं। इसमें नौकरशाही भी संविधान और गणराज्य की मर्यादा लांघकर सहयोग की भावना से साथ-साथ कदम ताल ठोक रहे हैं। उदासीनता का इससे बड़ा कोई दूसरा उदाहरण नहीं है। गाजियाबाद के जनप्रतिनिधियों के पत्रों, व पत्रों में अंकित आदेश स्पष्ट रूप से रूढ़िवादिता के पक्षकार है। शिक्षित समाज का यह भी एक घिनौना चेहरा है। 21वीं शताब्दी में भारतीयों ने किसी प्रकार छुआछूत से तो छुटकारा पा लिया है। लेकिन भेदभाव का जहर अधिक विषाक्तता बनता जा रहा है। मौलिक अधिकारों का दमन किया जा रहा है। सामाजिक सौहार्द और आपसी भाईचारे के विरुद्ध दरार और गहरी करने का प्रयास किया जा रहा है। प्रभावित सहयोगी सरकारी अधिकारी अकारण ही मुंछो पर ताव दे रहे है। तलवे चाटने की कहावत सिद्ध करने से क्या लाभ ? जनता सब कुछ जानती है। समय रहते ही विभागीय सहायक आयुक्त ने नियंत्रणात्मक प्रक्रिया का उपयोग किया। 
परंतु तानाशाही का यह मंजर तो और भी खौफनाक लगता है। भ्रष्टाचार की परत खोलने पर बलिया के जिलाधिकारी ने सूचना प्रदान करने वाले पत्रकारों को कारागार भिजवा दिया। वैसे तो पत्रकार समाज को अधिकारियों से सहयोग की अपेक्षा नहीं करनी चाहिए। यदि अपेक्षा रखोगे तो खामियाजा भुगतना पड़ेगा। इसके विपरीत संबंधित अधिकारी की लापरवाही व हिस्सेदारी को जनता में उजागर करने का प्रयास करना चाहिए। न्याय की अपेक्षा भी बेईमानी होगी। दलालों के लिए सुविधाएं होती होगी, कलमकारों के लिए नहीं होती हैं। पत्रकारिता का वास्तविक स्वरूप संघर्ष हैं, जहां समाज और राष्ट्र में व्याप्त बुराईयों के खिलाफ जंग लड़नी होती हैं। 
हाल ही में घटने वाली घटनाएं गणराज्य की नींव में दीमक के समान है। उत्तर प्रदेश में प्रशासन की लापरवाही स्पष्ट रूप से देखी जा सकती है। लापरवाह प्रशासनिक अधिकारी और अपराधी जनता के साथ खुलेआम लूट-खसौट पर उतर आए हैं। जिम्मेदार जनप्रतिनिधि अपेक्षाकृत प्रक्रिया में संलिप्त हो गए हैं। गणराज्य की गरिमा को तार-तार करने की शुरुआत, प्रतीत हो रहा है उत्तर प्रदेश से ही होगी। न्यायपालिका को उत्तर प्रदेश की संवेदनशीलता पर स्वत: संज्ञान लेने की आवश्यकता है।
राधेश्याम    'निर्भयपुत्र'

भ्रष्टाचार के कारण औरैया के डीएम को निलंबित किया

भ्रष्टाचार के कारण औरैया के डीएम को निलंबित किया  

हरिओम उपाध्याय                   
लखनऊ। भ्रष्टाचार में लिप्त होने के साथ उसके खिलाफ आंख बंद करना तथा सरकारी कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बर्दाश्त नहीं है। मुख्यमंत्री के रूप में अपनी दूसरी पारी शुरू करने वाले योगी आदित्यनाथ ने बीते बुधवार को सोनभद्र के जिलाधिकारी टीके शिबू तथा गाजियाबाद के एसएसपी पवन कुमार को निलंबित किया था। सोमवार को उनके निर्देश पर 2013 बैच के आईएएस अफसर औरैया के डीएम सुनील कुमार वर्मा को निलंबित कर दिया गया है।
औरैया के जिलाधिकारी सुनील कुमार वर्मा को भ्रष्टाचार और जनता की शिकायतें न सुनने के कारण निलंबित किया गया है। अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया है कि जिलाधिकारी के खिलाफ विजिलेंस जांच का निर्देश भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिया है। सुनील कुमार वर्मा के खिलाफ कई मामले मिलने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर शासन ने सोमवार को बड़ी कार्रवाई की है। 
औरैया के डीएम सुनील कुमार को निलंबित करने के साथ ही उनकी संपत्तियों की विजिलेंस जांच कराने का भी निर्देश दिया गया है। उनके खिलाफ भ्रष्टाचार से जुड़ी कई शिकायतें सीएम कार्यालय को मिली थीं। उनके खिलाफ भ्रष्टाचार तथा काम में लापरवाही की भी शिकायत मिली हैं। औरैया के डीएम 2013 बैच के आइएएस अफसर सुनील कुमार वर्मा को सस्पेंड करने के बाद उनके खिलाफ जांच के आदेश भी दिए गए हैं। रायबरेली के निवासी सुनील कुमार वर्मा की विजिलेंस जांच होगी।

सीएम ने 'स्कूल चलो' अभियान का आगाज किया

सीएम ने 'स्कूल चलो' अभियान का आगाज किया  

सुनील पुरी           
फतेहपुर/श्रावस्ती। चार अप्रैल से तीस अप्रैल तक सभी परिषदीय विद्यालयों में वृहद स्तर पर आयोजित होने वाले 'स्कूल चलो' अभियान का सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्रावस्ती जनपद से आगाज किया। जिसका सजीव प्रसारण जिले के 2,128 परीषदीय विद्यालयों में विधायकों, जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में बच्चों व शिक्षकों ने देखा। विकास भवन में भी कार्यक्रम का आयोजन हुआ। उसके तत्पश्चात डीएम ने बाइक रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
विकास भवन सभागार में जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे की उपस्थिति में सजीव प्रसारण देखा व सुना गया। इसके पश्चात जनपद स्तरीय स्कूल चलो अभियान कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर माल्यापर्ण व दीप प्रज्जवलित करके किया। बच्चों ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के दिए गए निर्देशों का शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। शिक्षक अपने दायित्वों का निर्वहन ईमानदारी से करें। परिषदीय विद्यालयों में बच्चों का नामांकन कार्य तत्तपरता के साथ करें। शिक्षा सभी का मौलिक अधिकार है। इससे कोई भी बच्चा वंचित न रहने पाए। बच्चों का नामांकन का शत-प्रतिशत करने के लिए कार्य योजना बनाकर अभिभावकों को शिक्षा के प्रति जागरूक करते हुए नामंकन कराया जाए। स्कूल चलो अभियान की बाइक रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। जिलाधिकारी ने जनपद में आज नामांकन करने वाले पांच बच्चों करन कक्षा 01, विकास खंड तेलियानी के प्राथमिक विद्यालय त्रिलोकीपुर, सुमन देवी कक्षा 06 उच्च प्राथमिक विद्यालय बिलन्दा, कु. कल्पना देवी कक्षा 06 उच्च प्राथमिक विद्यालय (कंपोजिट) अवधेशनगर, आयुष कुमार कक्षा 01 प्राथमिक विद्यालय कांधी, कु. शिवकुमारी कक्षा 01 प्राथमिक विद्यालय नरायनपुर (कम्पोजिट) को मॉडल के रूप रोली टीका, फूल, शिक्षा की किट देकर पढ़ने के लिए बच्चों का हौसला बढ़ाया। वर्ष 2021-22 के वार्षिक परीक्षा परिणाम में विकास खंड में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाले बच्चों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। परिषदीय विद्यालयों में सर्वाधिक नामांकन करने वाले पांच प्रधानाध्यापकों को प्रशस्ति पत्र व अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर प्रशिक्षु आईएएस/जिला पंचायत राज अधिकारी निधि बंसल, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सहित खंड शिक्षा अधिकारी एवं अध्यापकगण उपस्थित रहे।

'स्मार्ट फोन वितरण' कार्यक्रम का शुभारंभ किया

'स्मार्ट फोन वितरण' कार्यक्रम का शुभारंभ किया      

विजय कुमार                     
कौशाम्बी‌‌। मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप अपर जिलाधिकारी जयचन्द्र पाण्डेय द्वारा महामाया राजकीय महाविद्यालय, ओसा में आयोजित स्मार्ट फोन वितरण कार्यक्रम का द्वीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया गया तथा स्मार्ट फोन वितरण योजना के प्रथम चरण में सोमवार को महाविद्यालय के स्नातक अन्तिम वर्ष के 48 छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन वितरित किया गया। अपर जिलाधिकारी ने छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा युवा तकनीकी सशक्तिकरण हेतु टैबलेट/स्मार्ट फोन छात्र-छात्राओं को दिये जाने का सराहनीय निर्णय लिया गया है। उन्होंने छात्र-छात्राओं से कहा कि आप लोग अपने अध्ययन में इसका सदुपयोग कर लाभ उठायें इस अवसर पर प्राचार्य ने भी छात्र-छात्राओं को सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन स्मार्ट फोन नोडल अधिकारी डॉ. अजय कुमार द्वारा किया गया। कार्यक्रम में डॉ. अरविन्द कुमार, डॉ. अनिल कुमार, डॉ. नीलम वाजपेयी, डॉ. भावना केसरवानी, डॉ. रीता दयाल, डॉ. पवन कुमार, डॉ. रमेश कुमार, डॉ. संतोष कुमार एंव डॉ. शैलेश कुमार आदि उपस्थित रहें।

नवरात्रि का चौथा दिन, माता कूष्मांडा को समर्पित

नवरात्रि का चौथा दिन, माता कूष्मांडा को समर्पित    

सरस्वती उपाध्याय          
मंगलवार को चैत्र नवरात्रि का चौथा दिन है‌। इन नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा की जाती है। नवरात्रि के चौथे दिन माता कूष्मांडा को समर्पित है। इस दिन मां की पूजा-अर्चना और उपासना की जाती है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन साधक का मन 'अनाहत' चक्र में स्थित होता है। इसलिए बहुत ही पवित्र मन से कूष्माण्डा देवी के स्वरुप का ध्यान करके पूजा करनी चाहिए।
मां कूष्मांडा आठ भुजाओं वाली हैं, जो कि भक्तों की भक्ति से प्रसन्न होतर उनके दुखों और कष्टों का नाश करती हैं। धार्मिक मान्यता है कि मां को प्रसन्न करने के लिए नवरात्रि के दिनों में उनकी पूजा के बाद ये आरती अवश्य करें। मां प्रसन्न होकर भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं।
साथ ही, कूष्माण्डा माता को आठ भुजा धारी भी माना जाता और इसलिए उनका नाम अष्टभुजा भी है। मान्यतानुसार, माता कूष्माण्डा के आठ हाथों में धनुष, चक्र, कमंडल, कलश, गदा, बाण, पुष्प और जप माला है। मां कूष्माण्डा को प्रसन्न करने के लिए नीले रंग के वस्त्र धारण करने की विशेष मान्यता है‌। भक्त इस दिन पूरे चाव से इस रंग के कपड़े पहनकर माता की पूजा करते हैं।
नवरात्रि के चौथे दिन मां कूष्माण्डा की पूजा करने के लिए श्रद्धाभाव से नहा-धोकर चौकी सजाई जाती है‌। इसके बाद जिस तरह अन्य देवियों की पूजा होती है। वैसे ही मां कूष्माण्डा को भी पूजा जाता है। कूष्माण्डा माता को भोग में मालपूए चढ़ाने की मान्यता है। कहते हैं कि मां कूष्माण्डा को प्रसन्न करना बेहद आसान है, वे कम से कम सेवा से भी खुश हो जाती हैं। वहीं, उनके मंत्र का जाप करना भी शुभ माना जाता है। 

कूष्माण्डा माता का मंत्र...

सुरासंपूर्णकलशं रुधिराप्लुतमेव च | 
दधाना हस्तपद्माभ्यां कूष्माण्डा शुभदास्तु मे ||


ध्यान मंत्र...

वन्दे वांछित कामर्थे चन्द्रार्घकृत शेखराम्।

सिंहरूढ़ा अष्टभुजा कूष्माण्डा यशस्वनीम् ।।

भास्वर भानु निभां अनाहत स्थितां चतुर्थ दुर्गा त्रिनेत्राम्।

कमण्डलु, चाप, बाण, पदमसुधाकलश, चक्र, गदा, जपवटीधराम् ।।

पटाम्बर परिधानां कमनीयां मृदुहास्या नानालंकार भूषिताम्।

मंजीर, हार, केयूर, किंकिणि रत्नकुण्डल, मण्डिताम् ।।

प्रफुल्ल वदनांचारू चिबुकां कांत कपोलां तुंग कुचाम्।

कोमलांगी स्मेरमुखी श्रीकंटि निम्ननाभि नितम्बनीम् ।।

स्तोत्र पाठ...

दुर्गतिनाशिनी त्वंहि दरिद्रादि विनाशनीम्।

जयंदा धनदा कूष्माण्डे प्रणमाम्यहम् ।।

जगतमाता जगतकत्री जगदाधार रूपणीम्।

चराचरेश्वरी कूष्माण्डे प्रणमाम्यहम् ।।

त्रैलोक्यसुन्दरी त्वंहिदुःख शोक निवारिणीम्।

परमानन्दमयी, कूष्माण्डे प्रणमाभ्यहम् ।।

'एलओसी' पार करने का प्रयास, आतंकी मारा गया

'एलओसी' पार करने का प्रयास, आतंकी मारा गया 

इकबाल अंसारी          
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में सोमवार को सेना के सतर्क जवानों ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार करने का प्रयास कर रहे एक आतंकवादी को मार गिराया और घुसपैठ की कोशिश नाकाम कर दी।
रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने यहां बताया कि सेना ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी आतंकवादियों की घुसपैठ की कोशिश विफल कर दी। उन्होंने बताया कि हथियार और गोला-बारूद के साथ एक आतंकवादी का शव बरामद किया गया है। क्षेत्र में सेना का अभियान अभी जारी है।

वरिष्ठ नेता व पार्षद की मौंत, जांच कराने का आदेश

वरिष्ठ नेता व पार्षद की मौंत, जांच कराने का आदेश    

मिनाक्षी लोढी       
कोलकाता। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने सोमवार को पुरुलिया जिले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और झालदा नगर पालिका के पार्षद तपन कुंडू की मौंत की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) जांच कराने का आदेश दिया है। उच्च न्यायालय ने यह आदेश मृतक की पत्नी पूर्णिमा कुंडू की प्रार्थना के बाद दिया। न्यायमूर्ति राजशेखर महंता ने इस मामले में जांच एजेंसी को 45 दिन के अंदर जांच रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिया है। चार दफा पार्षद रह चुके तपन कुंडू की 13 मार्च की शाम को गोली मारकर हत्या कर दी गई है। कुछ अज्ञात हमलावरों ने इस घटना को तब अंजाम दिया, जिस वक्त वह अपनी पत्नी के साथ टहल रहे थे। न्यायालय ने राज्य की पुलिस को तपन कुंडू हत्याकांड की जांच से जुड़े सभी दस्तावेज सौंपने का भी निर्देश दिया है। न्यायालय ने राज्य की पुलिस द्वारा इस पर की जा रही जांच की प्रगति पर भी असंतोष जताया है।
पुलिस ने मामले में आरोपियों में से एक झालदा थाना प्रभारी संजीव घोष को क्लीन चिट दे दिया है। मृतक की पत्नी पूर्णिमा ने अपने पति की हत्या में आईसी पर सांठगांठ का आरोप लगाया है। पुरुलिया जिले के पुलिस प्रमुख एस. सेल्वामुरुगन ने रविवार को संवाददाता सम्मेलन में नवनिर्वाचित पार्षद पूर्णिमा कंडू और उनके कुछ रिश्तेदारों द्वारा संजीव घोष के खिलाफ तपन को तृणमूल में शामिल होने और झालदा में नागरिक बोर्ड बनाने में सत्ताधारी पार्टी की मदद करने के लिए डराने-धमकाने के आरोप से इनकार किया।
अदालत ने कहा कि किसी ठोस नतीजे पर पहुंचने से पहले ही पुलिस कैसे किसी को क्लीन चिट दे सकती है। अदालत ने इस बात का भी जिक्र किया कि संजीव घोष अब भी अपनी ड्यूटी पर तैनात हैं और जांच के संबंध में उनसे पूछताछ भी की गई है।

सीबीआई के आवेदन पर लालू को नोटिस: एससी

सीबीआई के आवेदन पर लालू को नोटिस: एससी 

अविनाश श्रीवास्तव        
पटना। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले के मामले में दोषी करार पाए गए थे। जिसके बाद चारा घोटाले के 2 मामलों में उन्हें जमानत मिल गई है। सीबीआई ने इस जमानत को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। सीबीआई ने झारखंड हाई कोर्ट के उस आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दाखिल की है, जिसमें लालू प्रसाद यादव को जमानत पर रिहा करने को हरी झंडी दी गई थी। सीबीआई के इस आवेदन पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने लालू प्रसाद यादव को नोटिस जारी किया है। इस मामले में 4 हफ्ते के बाद सुनवाई की जाएगी। लालू प्रसाद यादव को झारखंड हाई कोर्ट ने दुमका और चाईबासा कोषागार मामले में जमानत पर रिहा करने के आदेश दे दिए थे। लेकिन चारा घोटाले के अन्य मामले में दोषी करार दिए जाने के कारण लालू फिलहाल जेल में है। अब जमानत मिल जाने के बाद इस मामले में सीबीआई ने झारखंड सरकार के साथ मिलकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। दरअसल सीबीआई ने इस घोटाले में जांच करने के बाद लालू प्रसाद यादव और अन्य आरोपियों को सजा दिलवाई थी। लेकिन सजा काट रहे आरोपी झारखंड सरकार की न्यायिक हिरासत में हैं। इसलिए झारखंड सरकार भी इसमें पक्षकार है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में नोटिस जारी कर लालू प्रसाद यादव से जवाब तलब किया है।
सुनवाई के दौरान झारखंड सरकार के माध्यम से सीबीआई ने कहा कि लालू प्रसाद यादव को दी गई जमानत का आधार गलत है। क्योंकि अपराधी लालू प्रसाद यादव ने अपेक्षित समय जेल में नहीं बताया है। सीबीआई ने सर्वोच्च न्यायालय में कहा है कि झारखंड उच्च न्यायालय ने लालू की जमानत याचिका मंजूर कर अपना फैसला सुनाते हुए कहा था कि लालू पहले ही जेल में सजा का आधा हिस्सा काट चुके हैं, जबकि यह सत्य नहीं है।
हमारी नजर में आम आदमी की आवाज जब होती है बेअसर तभी बनती है बड़ी खबर। पूरब हो या पश्चिम, उत्तर हो या दक्षिण सियासत का गलियारा हो या गांव गलियों का चौबारा हो सारी दिशाओं की हर बड़ी खबर, खबर के पीछे की खबर और एक्सक्लूसवि विश्लेषण का ठिकाना है TheRuralPress सटीक सूचना के साथ उसके सभी आयामों से अवगत कराना ही हमारा लक्ष्य है। ग्लैमर दुनिया, जुर्म की गली हो या खेल गांव, टेकनोलॉजी हो या किसी मुद्दे पर बेबाक राय सब कुछ इसी प्लेटफॉर्म पर। हम बताएंगे इतिहास के कुछ ऐसे किस्से जिनसे आप हिल जाएंगे। TRP के इरादे हैं आपको खबर के हर उस पहलू से रू-ब-रू कराने के, जो आपके लिए जरूरी हैं।

शरीर को हाइड्रेट रखना बेहद जरूरी, जानिए

शरीर को हाइड्रेट रखना बेहद जरूरी, जानिए    

सरस्वती उपाध्याय          
चैत्र नवरात्रि के 9 दिन भक्तजन माता को प्रसन्न करने के लिए पूरे विधि विधान से पूजा करते हैं और अपनी सभी मनोकामनाओं को पूरा करने के लिए श्रद्धा पूर्वक व्रत भी रखते हैं। व्रत के दौरान शरीर को हाइड्रेट रखना बेहद जरूरी है। अक्सर लोग व्रत रखने के दौरान कम मात्रा में पानी का सेवन करते हैं, जिसके कारण शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है। ऐसे में कुछ ड्रिंक्स के सेवन से शरीर को हाइड्रेट रखा जा सकता है। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपनी इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि नवरात्रों में व्रत के दौरान किन ड्रिंक्स का सेवन कर सकते हैं।
नींबू से बने ड्रिंक के सेवन से शरीर को हाइड्रेट रखा जा सकता है। ऐसे में आप एक गिलास पानी में नींबू को अच्छे से निचोड़ें और अगर आप चाहें तो इसमें आधा चम्मच सेंधा नमक भी मिला सकते हैं, अब बने मिश्रण का सेवन करें। ऐसा करने से शरीर हाइड्रेट रह सकता है।
नारियल पानी के सेवन से शरीर को हाइड्रेट रखा जा सकता है। ऐसे में आप सुबह और शाम दोनों टाइम नारियल पानी का सेवन कर सकते हैं इससे शरीर की कमजोरी भी दूर हो सकती है।
तरबूज के सेवन से भी शरीर को हाइड्रेट रखा जा सकता है। ऐसे में आप दो टाइम तरबूद के जूस का सेवन कर सकते हैं। इसके अंदर विटामिन, बीटा कैरोटीन और लाइकोपीन भी पाया जाता है जो पानी की कमी को दूर करने में आपके काम आ सकता है।
खीरे के पानी के सेवन से भी शरीर में पानी की कमी को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप दो टाइम खीरे के पानी के सेवन करें इसके अंदर पाई जाने वाली एंटी इंफ्लामेटरी प्रॉपर्टीज शरीर को व्रत के दौरान कमजोरी से दूर रखने में मदद करेंगी।

यशवंत को 6 साल के लिए पार्टी से निष्‍कासित किया

यशवंत को 6 साल के लिए पार्टी से निष्‍कासित किया   

संदीप मिश्र            
आजमगढ़। उत्तर प्रदेश विधानसभा में प्रचंड जीत के बाद भाजपा का पूरा फोकस विधान परिषद चुनावों पर है। दरअसल, 9 अप्रैल को यूपी विधान परिषद की 36 सीटों के लिए मतदान होना है। हालांकि इसमें से भाजपा ने 9 सीटों पर निर्विरोध जीत हासिल कर ली है और बाकी 27 सीटों के लिए उसने अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है। वहीं, इस दौरान पार्टी को आजमगढ़-मऊ सीट पर अपने ही एमएलसी के कारण चुनौती का सामना करना पड़ रहा है। इस वजह से भाजपा ने एमएलसी यशवंत सिंह को छ: साल के लिए पार्टी से निष्‍कासित कर दिया है।
बता दें कि यूपी विधान परिषद चुनाव में आजमगढ़-मऊ सीट से भाजपा ने अपने पूर्व विधायक अरुणकांत यादव को मैदान में उतारा है।‌ वहीं, पार्टी के एमएलसी यशवंत सिंह के बेटे विक्रांत सिंह भी बागी होकर मैदान में कूद गए हैं। इसके बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्‍वतंत्र देव सिंह के निर्देश पर सिंह के खिलाफ निष्कासन की कार्रवाई की गयी है। अरुणकांत यादव सपा विधायक और बाहुबली रमाकांत यादव के बेटे हैं।
एमएलसी यशवंत सिंह पर लगा ये आरोप।
इसके अलावा भाजपा ने एमएलसी यशवंत सिंह पार्टी के प्रत्याशी के खिलाफ प्रचार करने का आरोप लगाया है। दरअसल सिंह अपने बेटे और निर्दलीय प्रत्याशी विक्रांत सिंह के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं। वहीं, 2017 में यशवंत सिंह सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे।
वैसे विक्रांत सिंह ने एमएलसी के लिए नामांकन करने के बाद कहा था कि वह पिछले काफी दिनों से चुनाव की लगातार मेहनत कर रहे थे, लेकिन जिला पंचायत अध्यक्ष और एमएलसी का टिकट सिर्फ इस वजह से काट दिया गया, क्‍योंकि मेरे पिता एमएलसी हैं। इसलिए मैंने जनता के आर्शिवाद से निर्दलीय ही नामांकन दाखिल किया है। इसके साथ विक्रांत सिंह ने कहा कि मैं जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ा था और 10 हजार वोटों से जीता था।

सीएम ममता ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना

सीएम ममता ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना      


मिनाक्षी लोढी                 

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ईंधन की आसमान छूती कीमतों को लेकर सोमवार को भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने मौजूदा आर्थिक समस्याओं के समाधान के उपाय तलाशने के लिए केंद्र से एक सर्वदलीय बैठक बुलाने की मांग भी की। ममता ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार ने गैर-भाजपा शासित राज्यों में भगवा दल द्वारा किए जा रहे ‘अत्याचारों’ से ध्यान भटकाने के लिए पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि की है।

राज्य सचिवालय में संवाददाताओं से बातचीत में तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि ईंधन की कीमतों में वृद्धि से निपटने के लिए केंद्र के पास कोई योजना नहीं है। इस संकट के लिए भाजपा जिम्मेदार है। यह उत्तर प्रदेश चुनाव में जीत के बाद देश के लिए उसका रिटर्न गिफ्ट है। साथ कहा कि विरोधी दलों के खिलाफ सीबीआई और ईडी जैसी जांच एजेंसियों का इस्तेमाल करने के बजाय केंद्र को मौजूदा आर्थिक समस्याओं का हल तलाशने के लिए एक सर्वदलीय बैठक बुलानी चाहिए।

होंडा की नई कार खरीदने का प्लान, मिलेगी छूट

होंडा की नई कार खरीदने का प्लान, मिलेगी छूट   

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। होंडा मोटर्स, इस महीने अपने ग्राहकों को भारी छूट दे रही है। अगर आप भी होंडा की नई कार खरीदने का प्लान बना रहे हैं, तो ये समय बेहतर होगा। क्योंकि, कंपनी अपने कुछ चुनिंदा मॉडल्स पर 33,158 रुपये तक की डिस्काउंट दे रही है। हालांकि, कंपनी ये ऑफर केवल 30 अप्रैल 2022 तक ही ऑफर कर रही है। आइये जानते किसपर कितनी मिलेगी छूट।
अगर आप होंडा जैज की कार खरीदने जाएंगे तो, इस महीने होंडा जैज को 12,147 रुपये मुफ्त एक्सेसरीज सहित 12,158 रुपये तक की छूट के साथ खरीदा जा सकता है। होंडा जैज में क्रोम से घिरा ग्रिल, सनरूफ, LED हेडलैंप और रियर स्पॉयलर दिया गया है, वहीं आधुनिक फीचर्स की बात करें तो कार में 7.0-इंच इंफोटेनमेंट कंसोल और दो एयरबैग के साथ बड़ा 5-सीटर केबिन दिया गया है। इसमें 1.2-लीटर पेट्रोल इंजन दिया गया है, जो 88.5hp की मैक्सिस पावर और 110Nm की पीक टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। कीमत की बात करें तो इसकी शुरूआती कीमत 7.65 लाख रुपये है।
होंडा अपनी अमेज कार पर 6,000 रुपये के एक्सचेंज और 5,000 रुपये के लॉयलिटी बोनस सहित 15,000 रुपये तक के ऑफर दे रही है। इस सेडान में स्लोपिंग रूफ, LED हेडलाइट्स और 15-इंच के मिक्स्ड मेटल के अलॉय व्हील दिए गए हैं, वहीं केबिन में दो एयरबैग, पांच सीटें और 7.0 इंच का इंफोटेनमेंट पैनल दिया गया है। इसके इंजन की बात करें तो 1.5-लीटर डीजल इंजन दिया गया है, जो 79.12hp की मैक्सिमम पॉवर 160Nm की पीक टॉर्क जेनरेट करने में सक्षम है। इस गाड़ी की कीमत 6.32 लाख से शुरू है।
होंडा अपनी WR-V SUV पर 10,000 रुपये के एक्सचेंज बोनस सहित कुल 26,000 रुपये तक का लाभ दे रही है। केबिन में दो एयरबैग, एक 7.0 इंच का इंफोटेनमेंट पैनल और एक USB चार्जर भी उपलब्ध है। इसमें क्रोम ग्रिल, रूफ रेल, रियर स्पॉइलर और LED हेडलाइट्स दिए गए हैं। इसमें दो इंजनों का विकल्प दिया गया है। पहला 1.2-लीटर पेट्रोल इंजन जो, 88.5hp की मैक्सिमम पॉवर और 110Nm की पीक टॉर्क पैदा करता है, वहीं दूसरा 1.5-लीटर डीजल इंजन जो 98hp/200Nm ऑउटपुट देता है। इस गाड़ी की कीमत 8.76 लाख रुपये से शुरू है।
होंडा सिटी पर कंपनी सबसे ज्यादा डिस्काउंट दे रही है। पांचवी जनरेशन की होंडा सिटी पर 5,000 रुपये तक के नकद छूट, 8,000 रुपये के कॉर्पोरेट डिस्काउंट सहित 30,396 रुपये तक के ऑफर दिए जा रहे हैं। इसके अलावा, चौथी जनरेशन की होंडा सिटी कार पर भी कंपनी 5,000 रुपये नगद छूट और 6,000 रुपये कॉर्पोरेट डिस्काउंट सहित 20,000 रुपये तक के छूट दे रही है। कीमत की बात करें तो इसकी शुरूआती कीमत 11.16 लाख रुपये से शुरू है।

श्रीलंका की सहायता के लिए खड़ा हुआ 'भारत'

श्रीलंका की सहायता के लिए खड़ा हुआ 'भारत' 

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। भारत, आर्थिक संकट से गुजर रहे श्रीलंका के लिए संकटमोचक बनकर सामने आया है। श्रीलंका में भारत के उच्चायुक्त गोपाल बागले ने कहा कि इस वर्ष भारत, जनवरी 2022 से अब तक श्रीलंका को 250 करोड़ डॉलर मतलब करीब 19 हजार करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता भेज चुका है। उन्होंने कहा कि भारत, श्रीलंका की सहायता के लिए मुस्तैदी से खड़ा हुआ है।
भारत की तरफ से इस प्रकार की यह चौथी सहायता है। गोपाल बागले ने कहा कि इन 4 खेपों में 150,000 मीट्रिक टन से अधिक जेट फ्यूल, डीजल तथा पेट्रोल श्रीलंका पहुंचाया गया है।
बता दें कि भारत ने श्रीलंका को 1 अरब डॉलर की क्रेडिट लाइन मतलब ऋण सहायता देने पर मंजूरी व्यक्त की है। इससे श्रीलंका को अनिवार्य सामानों की कमी को पूरा करने में सहायता प्राप्त होगी। भारत दुनिया का सबसे बड़ा चावल निर्यातक देश है। ऐसे में भारत से चावल की खेप श्रीलंका पहुंचने के पश्चात वहां चावल के दामों में कमी आने की उम्मीद है जो पिछले 1 वर्ष में दोगुना बढ़ चुकी हैं। आर्थिक खतरे को दूर करने के लिए श्रीलंका की अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) के साथ भी बातचीत कर रहा है। इस बीच लंदन के मौलिक अधिकारों की मानिटरिंग करने वाले एमनेस्टी वाचडाग ने श्रीलंकाई सरकार को चेताया कि लोगों की सुरक्षा के नाम पर देश में आपातकाल का ऐलान मानवीय अधिकारों के उल्लंघन का बहाना नहीं बनना चाहिए। बता दे कि श्रीलंका में देशव्यापी कर्फ्यू की घोषणा की गई है, जो सोमवार प्रातः 6 बजे तक रहेगा। श्रीलंका में गंभीर बिजली संकट के साथ महंगाई चरम पर है।

भारत में 'फ्रेंच रिवॉल्यूशन' जैसा न हो जाए: बच्चन

भारत में 'फ्रेंच रिवॉल्यूशन' जैसा न हो जाए: बच्चन  

कविता गर्ग           
मुंबई। देश में पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। ऐसे में सोमवार को संसद में भी यह मुद्दा काफी छाया रहा। विपक्ष ने पेट्रोल-डीजल और महंगाई के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा।
सपा से राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने कहा कि मुझे तो डर ये लग रहा है कि कहीं बेरोजगार और गरीब लोग सड़कों पर न उतर आएं और भारत में फ्रेंच रिवॉल्यूशन (फ्रांसीसी क्रांति) जैसा न हो जाए।
वहीं, सपा सांसद रामगोपाल यादव ने कहा कि थोड़े दिन में यहां भी हालत जैसे हो जाएंगे। दरअसल, श्रीलंका इन दिनों आर्थिक संकट का सामना कर रहा है।
जया बच्चन ने देश महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर सरकार को घेरा। उन्होंने कहा, मनोज कुमार की फिल्म में एक गाना था कि महंगाई मार गई, जो भी कुछ बचा था महंगाई मार गई। आज मुझे वो याद आ रहा है। सरकार को अब गरीबों और बेरोजगारों के लिए कुछ करना चाहिए।
जया बच्चन ने कहा, मुझे तो डर ये लग रहा है कि कहीं ये बेरोजगार युवक और जो गरीब लोग कहीं सड़क पर ना उतार आएं। कहीं  की तरह ना हो जाए। जया बच्चन ने कहा, सरकार सदन में चर्चा नहीं करने देती है। सरकार के पास इतना पैसा है, थोड़ा लोगों को दे दें और लोगों को नौकरी दें।
देश में पिछले 2 हफ्तों से तेजी से पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं। पिछले 2 हफ्तों में 12 बार ईंधन के दाम बढ़े हैं। पेट्रोल-डीजल और सीएनजी के दामों में वृद्धि के मुद्दे पर विपक्ष ने सदन में चर्चा की मांग की। इस दौरान सदन में जमकर हंगामा हुआ। विपक्ष के हंगामे के चलते दो बार सदन को स्थगित भी करना पड़ा।

ठग बाबा गिरोह के 4 अंतर्राज्यीय सदस्य अरेस्ट किए

ठग बाबा गिरोह के 4 अंतर्राज्यीय सदस्य अरेस्ट किए  

दुष्यंत टीकम            
रायपुर। पुलिस ने ठगी करने वाले ठग बाबा गिरोह के 4 अंतर्राज्यीय सदस्यों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक प्रार्थिया लक्ष्मी गुप्ता ने थाना गोलबाजार में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह दिनांक 01.04.2022 को शारदा चौक पास स्थित भागीरथी होटल से जलेबी खरीदकर अपने डियूट स्कुटर वाहन की डिक्की में रख रही थी। उसी समय प्रातः करीबन 08.30 बजे एक लडका प्रार्थिया के पास आकर देवी हास्पिटल का पता पूछा प्रार्थिया द्वारा जानकारी न होने के कारण उसने मना कर दी। 
इसी दौरान एक अन्य लडका प्रार्थिया के पास आ गया तथा पहले लडके ने दूसरे लडके से भी देवी हास्पिटल का पता पूछा तब पहला लड़का कुछ मंत्र सा पढ़ने लगा तब दूसरा लडका अपनी परेशानी उसे बतलाने लगा और प्रार्थिया को किनारे चलने बोले जिससे वह आगे किनारे चली गई और वहां से अपने गाडी की तरफ जाने की कोशिश कर रही थी तो दूसरा लड़का प्रार्थिया को दो मिनट रूको आन्टी कहकर रोका और बोला कि यह लडका बहुत अच्छा बता रहा हैं, आप भी इसे अपनी परेशानी बता दो तब तक पहले वाला लडका अपने आप ही मुझसे कहने लगा कि आपके लडके के उपर भारी विपत्ति आने वाली है। तब प्रार्थिया उस लडके से पूछी कि मेरे लडके को क्या विपत्ति आने वाली है, तब उसने कहा कि आप अपने शरीर में पहने हुए गोल्ड उतारकर अपने पर्स में रख लो पर्स आपके पास ही रहेगा, किन्तु जेवर सहित पर्स को वह अपने पास ही रख लिये इसी दौरान प्रार्थिया अपने वाहन को लेने गयी तथा मुड़ कर देखी तो वो दोनो लडके वहां से फरार हो गये। जिस पर अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध थाना गोलबाजार में अपराध क्रमांक 73/22 धारा 420, 34 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।
जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट तथा थाना गोलबाजार की संयुक्त टीम द्वारा प्रार्थिया से घटना व आरोपियों के हुलियों के संबंध में विस्तृत पूछताछ करने के साथ ही घटना के संबंध में आसपास के लोगों से भी पूछताछ किया गया। तरीका वारदात के आधार पर उक्त ठगी की घटना को किसी बाहरी गिरोह द्वारा अंजाम देना प्रतीत हो रहा था। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा तंत्र-मंत्र के नाम पर ठगी करने वाले बाहरी गिरोह को फोकस करते हुए कार्य करना प्रारंभ किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा घटना स्थल व उसके आसपास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन करते हुए उनके आने-जाने वाले मार्गो को चिन्हांकित कर कई सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन किया गया। कैमरों के फुटेजों के अवलोकन में पाया गया कि अज्ञात आरोपियों की संख्या 08 है जो घटना स्थल के आसपास उपस्थित थे तथा घटना कारित पश्चात् सभी एक स्थान में एकत्र होकर मिले जो अपने पास 04 नग दोपहिया वाहन रखें है तथा प्रत्येक वाहन में 02-02 आरोपी सवार होकर घुम रहे थे। फुटेज में अज्ञात आरोपियों के संबंध में महत्वपूर्ण सुराग प्राप्त हुए। इसके साथ ही अज्ञात आरोपियों के संबंध में तकनीकी विश्लेषण भी किया गया, जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा फुटेज एवं तकनीकी विश्लेषण दोनों का मिलान करते हुए अंततः आरोपियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने में सफलता मिलीं तथा एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट तथा थाना गोलबाजार पुलिस की 07 सदस्यीय टीम को आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु रवाना किया गया। टीम के सदस्य राजनांदगांव - महाराष्ट्र की सीमा जहां आरोपियों की उपस्थिति थी, उक्त स्थान में पहुंचकर आरोपियों को पकड़ने की तैयारी कर रहे थे। इसी दौरान कुल 08 आरोपी 04 मोटर सायकल में सवार होकर फरार होने की तैयारी कर रहे थे, कि टीम के सदस्य 02 मोटर सायकल में सवार 04 आरोपियों को पकड़े तथा शेष 02 मोटर सायकल में सवार 04 आरोपी फरार होने में सफल हो गये।

एक्ट्रेस श्वेता ने इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर किया

एक्ट्रेस श्वेता ने इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर किया   

कविता गर्ग      
मुंबई। बॉलीवुड टीवी की पॉपुलर एक्ट्रेस श्वेता तिवारी खूबसूरती के मामले में न्यू कमर्स को भी टक्कर देती हुई नजर आती हैं‌। 41 साल की उम्र में भी श्वेता की खूबसूरती दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है। श्वेता तिवारी ने एकता कपूर के सीरियल कसौटी जिंदगी से घर-घर में प्रेरणा के नाम से अपनी पहचान बना ली थी। श्वेता के चाहने वालों की लिस्ट वक्त के साथ और भी तगड़ी हो चुकी है। इस बीच एक्ट्रेस का एक वीडियो सामने आया है, जो कि काफी वायरल हो रहा है।
दरअसल, श्वेता तिवारी उन एक्ट्रेस में से एक हैं, जिनकी खूबसूरती और फिटनेस वक्त के साथ और भी निखरती ही जा रही हैं। 
वहीं, श्वेता भी खुद को लेकर फैन्स के बीच क्रेज बरकरार रखने का एक भी मौका नहीं छोड़ती हैं। श्वेता ने इंस्टाग्राम पर हाल ही में एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में श्वेता हार्डी संधू के गाने 'कुड़ियां लाहौर दियां' पर डांस कर रही हैं।
वीडियो में श्वेता के साथ एक शख्स भी डांस कर रहा है। वी़डियो में डांस करते हुए श्वेता तिवारी का ये बबली अंदाज़ देख फैन्स की धड़कनें भी बढ़ सकती हैं। यही वजह है कि देखते ही देखते एक्ट्रेस का ये वीडियो इंटरनेट पर आग की तरह फैल रहा है। श्वेता तिवारी का ये अंदाज फैन्स के दिलों की धड़कनें बढ़ा रहा है।

विधानसभा सचिव ने अपना कार्यभार ग्रहण किया

विधानसभा सचिव ने अपना कार्यभार ग्रहण किया   

दुष्यंत टीकम           
रायपुर। विधानसभा सचिव दिनेश शर्मा ने सोमवार को पूर्वान्ह विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. चरणदास महंत के कक्ष में उनके समक्ष अपना कार्यभार ग्रहण किया। विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. महंत ने उन्हें नये पदीय दायित्व के कुशलतापूर्वक निर्वहन के लिए अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की।
सचिवालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी सचिव श्री दिनेश शर्मा को नये दायित्वों के निर्वहन के लिए अपनी बधाई एवं शुभकामनाएं दी। विधान सभा सचिव श्री दिनेश शर्मा ने डाॅ. महंत को आश्वस्त किया कि वे विधान सभा सचिवालय की गरिमा एवं प्रतिष्ठा में निरंतर अभिवृद्धि हो इस बात हेतु सदैव प्रयासरत रहेंगे।
इसके पूर्व विधान सभा सचिव श्री दिनेश शर्मा ने विधान सभा सचिवालय स्थित अपने नये कक्ष में पूजा-अर्चना कर प्रवेश किया।

दिल्ली यूनिवर्सिटी में नौकरी करने का सुनहरा अवसर

दिल्ली यूनिवर्सिटी में नौकरी करने का सुनहरा अवसर  

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। अगर आपका सपना दिल्ली यूनिवर्सिटी में नौकरी करने का है तो यह आपके लिए एक सुनहरा अवसर हो सकता है। दरअसल, दिल्ली यूनिवर्सिटी के तहत आने वाले गार्गी कॉलेज में नॉन-टीचिंग स्टाफ के कई पदों पर वैकेंसी निकली हैं। इन पदों पर आवेदन करने की प्रक्रिया एक अप्रैल से शुरू हो चुकी है। इच्छुक उम्मीदवार इन पदों के लिए 23 अप्रैल 2022 तक आवेदन कर सकते हैं। इस भर्ती अभियान के द्वारा 23 पदों को भरा जाएगा।
सीनियर पर्सनल असिस्टेंट के पद के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी को ग्रेजुएट होने के साथ-साथ तीन साल का अनुभव होना आवश्यक है। साथ ही अंग्रेजी में डिटेक्शन, ट्रांसक्रिप्शन और कंप्यूटर प्रोफिसिएंसी भी जरूरी है। वहीं लैब असिस्टेंट/अटेंडेंट के लिए साइंस स्ट्रीम के साथ 12वीं पास होना आवश्यक है। जूनियर असिस्टेंट के लिए साइंस स्ट्रीम के साथ 12वीं पास होना चाहिए। साथ ही अंग्रेजी में 35 शब्द प्रति मिनट या हिंदी में 30 शब्द प्रति मिनट की टाइपिंग स्पीड होनी जरूरी है। वहीं लाइब्रेरी अटेंडेंट के लिए 10वीं पास होने के साथ लाइब्रेरी साइंस / लाइब्रेरी एंड इंफॉर्मेशन साइंस में सर्टिफिकेट होना चाहिए।
जो उम्मीदवार लैब असिस्टेंट/लैब अटेंडेंट/लाइब्रेरी अटेंडेंट पद के लिए आवेदन करना चाहते हैं उनके लिए आयु सीमा 30 वर्ष है। वहीं, सीनियर पर्सनल असिस्टेंट पद के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों के लिए आयु सीमा 35 साल और जूनियर असिस्टेंट पद के लिए 27 साल तय की गई है। अधिक जानकारी के लिए उम्मीदवार आधिकारिक साइट gargicollege.in की मदद ले सकते हैं।

पीएम व मंत्री के बीच हाईलेवल मीटिंग बुलाई

पीएम व मंत्री के बीच हाईलेवल मीटिंग बुलाई   


अखिलेश पांडेय             

नई दिल्ली/ इस्लामाबाद। इन दिनों पड़ोसी देश पाकिस्तान और श्रीलंका में हालात ठीक नहीं चल रहे हैं। वहीं, पीएम मोदी और विदेश मंत्री एस. जयशंकर के बीच एक हाईलेवल मीटिंग बुलाई गई है। इस मीटिंग में पड़ोसी देश पाकिस्तान और श्रीलंका में मचे उथल-पुथल को लेकर बने हालात पर चर्चा हो सकती है। बता दें एक तरफ जहां पाकिस्तान संसद भंग करने का एलान किया गया और उसके बाद अब सभी को सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार है, तो वहीं दूसरी तरफ श्रीलंका में पीएम को छोड़कर पूरी कैबिनेट ने ही अपना इस्तीफा दे दिया है।


अन्य दवाओं की 5 से 12% जीएसटी दर पर बिक्री

अन्य दवाओं की 5 से 12% जीएसटी दर पर बिक्री   

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। सरकार ने सोमवार को लोकसभा को बताया कि महामारी शुरू होने के बाद से कोविड-19 रोधी दवाएं एवं उपकरण 5 प्रतिशत जीएसटी की दर पर बेचे जा रहे हैं। जबकि अन्य दवाओं की 5 से 12 प्रतिशत जीएसटी दर पर बिक्री हो रही है। लोकसभा में बेनी बेहनन के पूरक प्रश्न के उत्तर में वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने यह जानकारी दी।
चौधरी ने कहा कि देश में 66 प्रतिशत सरकार प्रायोजित बीमा योजना केंद्र सरकार द्वारा चलायी जा रही हैं। वित्त राज्य मंत्री ने कहा कि जब कोविड-19 महामारी प्रारंभ हुई तब यह निर्णय किया गया कि सभी दवाओं को 5 से 12 प्रतिशत जीएसटी दर पर बेचा जायेगा तथा कोविड-19 से जुड़ी दवाओं एवं उपकरणों को 5 प्रतिशत जीएसटी की दर पर बेचा जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य बीमा के लिये जीएसटी दर 18 प्रतिशत है जो अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप है।

टिकटों की कालाबाजारी, हेल्पलाइन नंबर जारी

टिकटों की कालाबाजारी, हेल्पलाइन नंबर जारी   

पंकज कपूर 
देहरादून। केदारनाथ यात्रा के लिए हेली सेवा की बुकिंग आज से हो जाएगी। इसके लिए उत्तराखंड सिविल एसोसिएशन डेवलपमेंट ने सभी तैयारियां कर ली हैं। UCADA ने टिकटों की कालाबाजारी को रोकने के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है। गढ़वाल मंडल विकास निगम (GMVN) को ऑनलाइन टिकटों की बुकिंग करने की जिम्मेदारी दी गई है। केदारनाथ धाम के कपाट 6 मई को खुलने जा रहे हैं।
रिपोर्ट के मुताबिक, केदारनाथ धाम के लिए गुप्तकाशी, सिरसी और फाटा से संचालित होने वाली हेली सेवा के लिए आज से ऑनलाइन टिकटों की बुकिंग शुरू होगी। उत्तराखंड टूरिज्म डेवलप बोर्ड के सेक्रेटरी दिलीप जावलकर ने बताया कि देश-दुनिया से आने वाले तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए GMVN की वेबसाइट https://heliservices.uk.gov.in/ पर हेली सेवा का टिकट उपलब्ध होगा। उन्होंने केदारनाथ आने वाले तीर्थयात्रियों से GMVN की आधिकारिक वेबसाइट से ही हेली सेवा के टिकट बुक करने का आग्रह किया है। हेली सेवा का दो तरफ का किराया करीब 5000 रुपये पड़ेगा। तीर्थियात्रियों को पहले से ही सब चीजों का इंतजाम रखना होगा। आपको ठहरने के लिए होटल और खान-पान की व्यवस्था को लेकर तैयारियां अभी से करनी होंगी। GMVN की वेबसाइट पर आप किफायती दाम पर होटल, फूड और एक्टिविटीज की बुकिंग कर सकते हैं।
केदारनाथ धाम के अलावा, गढ़वाल हिमालय के चारधाम के नाम से मशहूर चमोली जिले में स्थित बदरीनाथ धाम के कपाट भी 8 मई से खुलने वाले हैं। गढ़वाल हिमालय की पहाड़ियों पर स्थित चारों धाम, बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री, सर्दियों में भारी बर्फवारी की वजह से हर साल अक्टूबर-नवंबर में बंद कर दिए जाते हैं। जो अप्रैल-मई में दोबारा खोल दिए जाते हैं।

2 गुटों के बीच हिंसक वारदात, 4 लोगों की मौंत

2 गुटों के बीच हिंसक वारदात, 4 लोगों की मौंत 

अमित शर्मा          

गुरदासपुर। पंजाब के गुरदासपुर जिले में भैनी मोया खान पुलिस थानान्तर्गत जमीनी विवाद के कारण दो गुटों के बीच हिंसक वारदात में गोली लगने से चार लोगों की मौत हो गई है। पुलिस ने सोमवार को यहां बताया कि दसूहा के एक व्यक्ति निर्मल सिंह ने फुल्लडा गांव में जमीन पर कब्जा करने की मंशा से बड़ी संख्या में अपने साथियों के साथ घटना स्थल पहुंच गया। गांव के सरपंच सुखराज सिंह उर्फ सुख्खा ने इन लोगों का विरोध किया तो कब्जा करने के इरादे से आए लोगों ने उन पर गोली चली दी।

जिसमें सुखराज सहित निशान सिंह, जैमल सिंह और अमरेन्द्र सिंह(मजदूर) की गोली लगने से मौत हो गई । घायल मजदूर अमरिंदर को हरचोवाल अस्पताल लाया गया लेकिन डाक्टरों ने उसे भी मृत घोषित कर दिया। मजदूर सरपंच के खेतों पर काम करने गया था। विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा है।

कॉमेडियन भारती ने बेटे को दिया जन्म, फोटोशूट

कॉमेडियन भारती ने बेटे को दिया जन्म, फोटोशूट   

कविता गर्ग               
मुंबई। मशहूर कॉमेडियन भारती सिंह और हर्ष लिम्बाचिया के घर खुशखबरी आई है। भारती ने सोमवार को बेटे को जन्म दिया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करके इस बात की जानकारी दी है। भारती और हर्ष को इस दिन का बेसब्री से इंतजार था। भारती ने हर्ष के साथ एक फोटो शेयर की है। उन्होंने फोटो शेयर करते हुए लिखा- लड़का हुआ है। भारती ने अपने मैटरनिटी फोटोशूट की तस्वीर शेयर की है। जिसके बाद से सभी सोशल मीडिया पर इस क्यूट कपल को बधाई दे रहे हैं।
 लिखा-आखिरकार। आप दोनों को बधाई। वहीं अदिति भाटिया ने लिखा- ओएमजी मुबारक हो। बहुत खुश हूं। छोटे बेबी को देखने का इंतजार नहीं हो रहा है। राहुल वैद्य ने कमेंट किया- ओएमजी…। 
बेबी को देखने का इंतजार नहीं हो रहा है। मुबारकबाद, अमृता खानविल्कर ने लिखा, ओमाईगॉड बहुत बहुत शुभकामनाएं।
आपको बता दें भारती सिंह ने अपने प्रेग्नेंसी फेज में काम किया है।‌ वह रियलिटी शो हुनरबाज पति हर्ष लिम्बाचिया के साथ होस्ट कर रही थीं। उसके बाद वह अपने शो खतर खतरा खतरा का दूसरा सीजन लेकर आईं हैं। जिसमें सेलेब्स के साथ हर्ष और भारती ढेर सारी मस्ती करते हैं। अजीब-अजीब गेम खेले जाते हैं जिसे देखकर दर्शकों की हंसी नहीं रुकती है।
भारती सिंह और हर्ष लिम्बाचिया सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। बीते साल ही उन्होंने अपना यूट्यूब चैनल शुरू किया था। जिसमें वह कभी अपने डेली रुटीन के बारे फैंस को बताते थे तो कभी बच्चे से जुड़ी खबर देते थे। कुछ समय पहले भारती ने अपने व्लॉग में फैंस को एक काम दिया था। उन्होंने फैंस से कहा था कि उन्होंने बच्चे का नाम नहीं सोचा है तो फैंस उन्हें ढेर सारे नाम सोचकर भेजे। वह उनमें से कोई एक नाम चुनेंगी और फैंस को भी इस बारे में बताएंगी।

‘गतिशील’ कानूनी ढांचे की जरूरत पर बल दिया

‘गतिशील’ कानूनी ढांचे की जरूरत पर बल दिया   

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। केन्द्रीय सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सोमवार को एक नए ‘‘गतिशील’’ कानूनी ढांचे की जरूरत पर बल दिया। जो साइबर क्षेत्र में पेश होने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए निजता के अधिकार, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और विनियमों तथा नियंत्रण की मांगों में संतुलन कायम कर सके।
केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा ‘साइबर अपराध जांच एवं डिजिटल फोरेंसिक’ विषय पर आयोजित दूसरे राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए, मंत्री ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में प्रौद्योगिकी में बहुत अधिक बदलाव आए हैं, लेकिन साथ ही इससे लोगों के जीवन में घुसपैठ बढ़ गई है। यह मामूली भी हो सकती है, लेकिन ज्यादातर समय यह घातक होती है और इसका उद्देश्य गलत कृत्यों को अंजाम देना ही होता है।
उन्होंने बताया कि कानूनी रणनीति, प्रौद्योगिकी, संगठनों, क्षमता निर्माण और आपसी सहयोग से इस समस्या से निपटा जा सकता है। साइबर अपराधों का मुकाबला करने के लिए कानूनी रणनीति पर वैष्णव ने कहा कि देश के कानूनी ढांचे को बड़े पैमाने पर बदलने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि, मुझे नहीं लगता कि किसी भी क्रमिक बदलाव से मदद मिलेगी। परिवर्तन पर्याप्त, महत्वपूर्ण, मौलिक और संरचनात्मक होने चाहिए।
उन्होंने कहा कि पूरा संघर्ष निजता व अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार और ‘‘निजता के अधिकार की आड़ में धोखाधड़ी भरे कृत्यों को रोकने के लिए’’ अधिक विनियमन तथा नियंत्रण रखने की परस्पर विरोधी मांगों के बीच है। वैष्णव ने कहा कि समाज एक ओर कहता है कि निजता का अधिकार तथा अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता सबसे महत्वपूर्ण हैं और उसमें किसी का दखल बर्दाश्त नहीं किया जा सकता वहीं दूसरा वर्ग नियमों तथा नियंत्रण की मांग करता है और इन दोनों मांगों के बीच संतुलन कायम करना जरूरी है।
उन्होंने कहा कि कानूनी ढांचे को पूरी तरह से एक नया आकार देना चाहिए, जो गतिशील, समय के अनुरूप हो तथाहमारी हर पीढ़ी की आकांक्षाओं को पूरा करे, साथ ही लोगों को, उनके विचारों व सोशल मीडिया को जवाबदेह बनाए और उन लोगों को दूर रखे, जो मेहनत की कमाई को ठगना चाहते हैं। मंत्री ने समारोह में 12 सीबीआई अधिकारियों को सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक और दो सीबीआई अधिकारियों को असाधारण खुफिया पदक से भी सम्मानित किया।

एक्ट्रेस मल्ला ने बिकनी में कुछ नई फोटोज की

एक्ट्रेस मल्ला ने बिकनी में कुछ नई फोटोज की  

कविता गर्ग             
मुंबई। भोजपुरी एक्ट्रेस नम्रता मल्ला ने एक बार फिर सोशल मीडिया का टेम्प्रेचर हाई कर दिया है। ये लाइन पढ़ने के बाद मन में सवाल तो जरूर आ रहा होगा कि कैसे। अभी बता देते हैं, असल में नम्रता मल्ला ने बिकनी में कुछ नई फोटोज की हैं। जिसमें वो खतरनाक पोज देती दिख रही हैं। 
पिछले कुछ दिनों से खेसारी लाल यादव की एक्ट्रेस नम्रता मल्ला दुबई में वेकेशन एंजॉय कर रही हैं। अच्छी बात ये है कि वो दुबई में रहकर भी अपने फैंस को एंटरटेन करने का कोई मौका नहीं छोड़ रही हैं। नम्रता कभी फोटोज, तो कभी वीडियोज के जरिये फैंस से बराबर कनेक्शन बनाये हुए हैं। जैसे इस बार वो ब्लू बिकनी में कतई जहर पोज देती देखीं।
बिकनी पहनकर नम्रता गोरे-गोरे मुखड़े पर काला चश्मा लगाये दिख रही हैं। अब दुबई जैसी जगह पर बिकनी पहनकर नम्रता का टोन्ड फिगर फ्लॉन्ट करना बनता था। इसलिये वो फोटोज में खतरनाक पोज के साथ अपना टोन्ड फिगर फ्लॉन्ट करती दिख रही हैं‌। एक्ट्रेस के चेहरे पर एक खुशी है। उस लम्हा को यादगार बनाने की खुशी, जो लाइफ में कभी-कभी मिलता है।
अब ऐसा तो कभी हुआ नहीं कि नम्रता तस्वीरें पोस्ट करें और उस फैंस अपना प्यार ना लुटाए। एक्ट्रेस के फैंस उनके इस अंदाज को काफी पसंद कर रहे हैं। कमेंट में कोई नम्रता को लाजवाब बता रहा है, तो कोई। वैसे तो नम्रता का कैप्शन भी है। फोटोज शेयर करते हुए वो लिखती हैं, आप वही पाते हैं जो देते हैं। मतलब एक ही दिल है, नम्रता फोटोज और कैप्शन से कितनी बार जीतोगी।

आरोपी की जमानत के खिलाफ याचिका पर सुनवाई

आरोपी की जमानत के खिलाफ याचिका पर सुनवाई  

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे एवं लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की जमानत के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए इलाहबाद उच्च न्यायालय के आदेश का हवाला दिया और सवाल किया कि न्यायाधीश कैसे पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पर विस्तार से गौर कर सकते है? प्रधान न्यायाधीश एन. वी. रमण, न्यायमूर्ति सूर्यकांत और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की पीठ ने जमानत रद्द करने की मांग वाली याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया। 
पीठ ने कहा कि,  एक न्यायाधीश कैसे पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पर विस्तार से गौर कर सकते हैं? हम जमानत से जुड़े मामले पर सुनवाई कर रहे हैं, हम इसे लटकाना नहीं चाहते। इसके गुण-दोष आदि पर बात करना जमानत के लिए अनावश्यक है। किसानों की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता दुष्यंत दवे और प्रशांत भूषण ने जमानत रद्द करने की मांग करते हुए आरोप लगाया है कि उच्च न्यायालय ने जांच रिपोर्ट की अनदेखी की और आरोपी को राहत देने के लिए केवल प्राथमिकी पर गौर किया।
राज्य सरकार ने हालांकि अपराध को गंभीर करार दिया और कहा कि सभी गवाहों को सुरक्षा प्रदान की गई है। इलाहाबाद उच्च न्यायालय द्वारा जमानत दिए जाने के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका पर शीर्ष अदालत ने 16 मार्च को उत्तर प्रदेश सरकार को अपना रुख स्पष्ट करने का निर्देश दिया था। उसने 10 मार्च को राज्य सरकार को गवाहों को सुरक्षा प्रदान करने का भी निर्देश दिया था।
उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हिंसा में मारे गए किसानों के परिवारों के सदस्यों ने आशीष मिश्रा को जमानत देने के उच्च न्यायालय के आदेश को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी है। उच्च न्यायालय की एकल पीठ ने 10 फरवरी को मिश्रा को मामले में जमानत दे दी थी। इससे पहले वह चार महीने तक हिरासत में रहा था। इस हिंसा में चार किसानों सहित आठ लोग मारे गए थे।गौरतलब है कि किसानों का एक समूह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता केशव प्रसाद मौर्य के दौरे के खिलाफ पिछले साल तीन अक्टूबर को प्रदर्शन कर रहा था और तभी लखीमपुर खीरी में एक एसयूवी (कार) ने चार किसानों को कथित तौर पर कुचल दिया था। इससे गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने भाजपा के दो कार्यकर्ताओं और एक चालक को कथित तौर पर पीट-पीट कर मार डाला, जबकि हिंसा में एक स्थानीय पत्रकार की भी मौत हो गई थी। किसान नेताओं ने दावा किया है कि उस वाहन में आशीष मिश्रा थे, जिसने प्रदर्शनकारियों को कुचला था। हालांकि, मिश्रा ने आरोपों को खारिज किया है।

'पेंशन दृष्टा उपाधि' से सम्मानित होंगे सीएम बघेल

'पेंशन दृष्टा उपाधि' से सम्मानित होंगे सीएम बघेल 

दुष्यंत टीकम      
रायपुर। छत्तीसगढ़ में सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना लागू हो चुकी है। ऐसे में राज्य के सीएम भूपेश बघेल को धन्यवाद देने के लिए छत्तीसगढ़ कर्मचारी-अधिकारी फेडरेशन, सोमवार को सीएम भूपेश बघेल का सम्मान करेगा। बता दें यह कार्यक्रम नवा रायपुर स्थित इंद्रवती भवन में होगा। इसमें फेडरेशन की तरफ से बघेल को पेंशन दृष्टा उपाधि से सम्मानित किया जाएगा।
इस कार्यक्रम में प्रदेशभर से विभिन्न् कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारी शामिल होंगे। फेडरेशन के प्रांतीय संयोजक कमल वर्मा, महामंत्री आरके रिछारिया और सचिव राजेश चटर्जी ने बताया पुरानी पेंशन योजना लागू होने से अंशदायी पेंशन फंड के अंतर्गत 2,88,628 कर्मचारी व उनके परिवार के सदस्य खासे उत्साहित हैं। साथ ही 2004 के पहले नियुक्त कर्मचारी-अधिकारी भी अपनी भावी पीढ़ियों का भविष्य सुरक्षित हो जाने के कारण बेहद खुश हैं।
वहीं कर्मचारी नेताओं ने बताया कि फेडरेशन के 14 सूत्री मांगपत्र में शामिल मुद्दों पर शासन फैसला ले रहा है। अब उनका कहना है कि शासन को केंद्र के समान महंगाई भत्ता स्वीकृत करने का निर्णय लेना चाहिए। यह मुद्दा शासकीय सेवकों की भावना और उनके परिवार के हित से जुड़ा है।

राष्ट्रवादी पीएम ने आम चुनावों में जीत का दावा किया

राष्ट्रवादी पीएम ने आम चुनावों में जीत का दावा किया 

सुनील श्रीवास्तव        
बुडापेस्ट। हंगरी के राष्ट्रवादी प्रधानमंत्री विक्टर ओरबान ने आम चुनावों में जीत का दावा किया है। ओरबान ने यह दावा चुनाव परिणामों में उनकी फ़ाइड्ज़ पार्टी को बड़ी बढ़त मिलने के बाद किया। बीबीसी ने सोमवार को को अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी है। हंगरी में 94 प्रतिशत मतों की गिनती के साथ दक्षिणपंथी फाइड्ज पार्टी ने 53 प्रतिशत मत प्राप्त किए है। वहीं, श्री पीटर मार्की-जे के नेतृत्व वाले विपक्षी गठबंधन सिर्फ 35 प्रतिशत वोट मिले हैं।
ओरबान ने राजधानी बुडापेस्ट में समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा, "यह एक बहुत बड़ी जीत है।" इस दौरान उन्होंने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की को एक "प्रतिद्वंद्वी" बताया और जोर देकर कहा कि यूक्रेनी लोगों की मदद करेंगे, लेकिन यूक्रेन को हथियारों की आपूर्ति करने से इनकार कर दिया। उन्होंने यूक्रेन की ओर से हथियारों की मांग के बावजूद उसे (यूक्रेन) को हथियारों की आपूर्ति करने से इनकार दिया और हंगरी को युद्ध से दूर रखा।
उल्लेखनीय है कि यूक्रेन के साथ सीमा साझा करने वाला हंगरी में अब तक यूक्रेन से अब तक पांच लाख से अधिक शरणार्थी आए हैं। वर्ष 2010 के बाद से फ़ाइड्ज़ पार्टी की यह लगातार चौथी जीत है।
 ओरबान पिछले 12 साल से सत्ता में हैं। इनके शासनकाल में संविधान को फिर से लिखा गया है। शीर्ष अदालतों में नियुक्तियां पूरी कर दी गयी हैं। चुनावी प्रणाली को अपने लाभ के लिए बदल दिया है, लेकिन यूरोपीय संघ के साथ संबंध नाजुक है क्योंकि यूरोपीय संघ मानता है कि फाइड्ज पार्टी ने हंगरी के लोकतांत्रिक संस्था को कमजोर करने का काम किया है।

तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी की

तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी की 

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। देश में तेल विपणन करने वाली कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दामों में सोमवार को फिर बढ़ोतरी कर दी। बीते 14 दिनों में तेल कंपनियों ने 12वें दिन ईंधन के दाम बढ़ाए हैं।
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आज पेट्रोल-डीजल के दामों में 40-40 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गयी। इस वृद्धि के बाद दिल्ली में पेट्रोल 103.81 रुपये प्रति लीटर और डीजल के 95.07 रुपये प्रति लीटर के दाम से बिक रहा है।
वहीं, मुंबई में आज हुयी वृद्धि के साथ पेट्रोल की कीमत 118.83 रुपए प्रति लीटर और डीजल के दाम 103.07 रुपये प्रति लीटर पर है।
रूस के यूक्रेन पर हमला करने के कारण वैश्विक स्तर पर तेल और प्राकृतिक गैस की आपूर्ति बाधित होने की आशंका में इनकी कीमतों में उछाल आया है। वैश्विक स्तर पर भले ही कच्चे तेल के दाम 100 डालर प्रति बैरल के करीब आ गए हैं। लेकिन देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में उछाल जारी है।
देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतें 137 दिनों की स्थिरता के बाद 22 मार्च 2022 से बढ़नी शुरू हुई हैं। कंपनियों ने 24 मार्च और 01 अप्रैल को छोड़कर हर दिन पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाए हैं।
अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में लगातार उतार-चढाव देखने को मिल रहा है। लंदन ब्रेंट क्रूड आज 0.20 प्रतिशत से बढ़कर 104.60 डालर प्रति बैरल पर और अमेरिकी क्रूड 0.18 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 99.45 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा है।

शंघाई में कोविड-19 के मामलें बढ़ने से हालात बेकाबू

शंघाई में कोविड-19 के मामलें बढ़ने से हालात बेकाबू   

सुनील श्रीवास्तव          
बीजिंग। स्वयं को महाशक्ति कहने वाले देश चीन में कोविड-19 महामारी की चौथी लहर को लेकर चौतरफा हाहाकार मचा हुआ है। सबसे बड़े शहर शंघाई के भीतर कोविड-19 के बढ़ते मामलों को लेकर लगाए गए लॉकडाउन की वजह से लाखों लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं। हालातों को थामने के लिए अब सेना बुलानी पड़ी है, जिसके चलते स्वास्थ्य विभाग की ओर से घर-घर जाकर कोरोना टेस्टिंग की जा रही है।
सोमवार को चीन के सबसे बड़े शहर शंघाई में कोविड-19 के मामले बढ़ने से हालात बेकाबू हो गए हैं। कोविड-19 की रफ्तार को थामने के लिए लगाए गए लॉकडाउन की वजह से लाखों लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि पिछले 24 घंटे के भीतर संक्रमण के 438 नए मामलों की पुष्टि हुई है, साथ ही 7788 मामले ऐसे सामने आए हैं जिनमें संक्रमण के लक्षण नहीं है। दोनों तरह के मामले बीते दिन के मुकाबले आज काफी ज्यादा है।
शंघाई में हालात इतने खराब हो चुके हैं कि चीन प्रशासन की ओर से शंघाई के भीतर सेना को भेजना पड़ा है। शंघाई में पीएलए की ओर से तकरीबन 2000 मेडिकल पर्सनल की तैनाती की गई है। इसके अलावा अलग-अलग क्षेत्रों में हजारों की संख्या में स्वास्थ्य कर्मी तैनात किए गए हैं जो घर-घर जाकर लोगों की कोरोना टैस्टिंग कर रहे हैं।

'राष्ट्रीय संकट' का समाधान खोजने के लिए न्योता

'राष्ट्रीय संकट' का समाधान खोजने के लिए न्योता  


अखिलेश पांडेय 

कोलंबो। राष्ट्रपति राजपक्षे ने देश के सभी राजनैतिक दलों को श्रीलंका में आए राष्ट्रीय संकट का समाधान खोजने के लिए मंत्रालय में शामिल होने का न्योता भेजा है। महामहिम राष्ट्रपति ने देश के सभी राजनीतिक दलों से राष्ट्रीय संकट के समाधान को निकालने के लिए मिलकर काम करने का आह्वान किया है।

सोमवार को श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे की ओर से देश के सभी राजनीतिक दलों को न्योता भेजकर राष्ट्रीय संकट के रूप में आये आर्थिक संकट का समाधान को खोजने के लिए मंत्रालय में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है। महामहिम राजपति ने सभी राजनीतिक दलों से राष्ट्रीय संकट का समाधान निकालने को मिलकर काम करने का आह्वान किया है।बताया जा रहा है कि भीषण आर्थिक संकट का सामना कर रहे पड़ोसी राज्य श्रीलंका में लोगो के भीतर आए गुस्से को शांत करने के लिए सरकार की ओर से की जा रही कोशिशों के बीच आज नए मंत्रिमंडल को शपथ दिलाई जा सकती है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले रविवार को श्रीलंका के सभी 26 मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

शिक्षा मंत्री एवं सदन के नेता दिनेश गुणवर्धने ने पत्रकारों से कहा कि कैबिनेट मंत्रियों ने प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे को अपना इस्तीफा सौंप दिया है,हालांकि उन्होंने सामूहिक तौर पर इस्तीफे दिए जाने का कोई कारण नहीं बताया।

अधीक्षक द्वारा एटीएम की सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण

अधीक्षक द्वारा एटीएम की सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण 

संदीप मिश्र          

मुजफ्फरनगर। जिला मुजफ्फरनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव द्वारा सोमवार को नगर क्षेत्र में पड़ने वाले विभिन्न बैंक और एटीएम की सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण किया गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव द्वारा निरीक्षण के दौरान बैंक व बैंक परिसर के आस-पास मौजूद लोगों से पूछताछ की।

 वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने बैंक परिसर में सुरक्षा के दृष्टि से लगे सीसीटीवी कैमरे, अग्निशमन यन्त्र, सायरन आदि को चैक करते हुए शाखा प्रबंधक एवं अन्य कर्मचारी गणों एवं स्थानीय पुलिस से वार्ता कर सुरक्षा संबंधी उपकरणों के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-178, (वर्ष-05)
2. मंगलवार, अप्रैल 5, 2022
3. शक-1984, चैत्र, शुक्ल-पक्ष, तिथि-चतुर्थी, विक्रमी सवंत-2078।          
4. सूर्योदय प्रातः 07:04, सूर्यास्त: 06:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 23 डी.सै., अधिकतम-38+ डी सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
           (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...