शनिवार, 28 दिसंबर 2019

शीतलहर लहर के कारण हुई कड़ाके की ठंड

बिलासपुर। शीतल लहर के कारण तीन- चार दिनों से हो रही कड़ाके की ठंड को देखते हुए सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों के समय में बदलाव कर दिया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक़ बिलासपुर जिला शिक्षाधिकारी ने 30 दिसंबर से 10 जनवरी तक के लिए जारी आदेश में दो पालियों में संचालित विद्यालयों में से कनिष्ठ विद्यालयों में सुबह साढ़े 8 बजे से दोपहर साढ़े 12 बजे तक और वरिष्ठ विद्यालयों में दोपहर 12.45 से सायं 5 बजे तक कक्षाएं चलाने के निर्देश दिए है।वहीं एक पाली में संचालित स्कूलों की टाइमिंग पूर्व की भांति रखी गयी है। सुबह 10 बजे से 4 बजे तक स्कूल में कक्षाएं लगा करेगी। ये आदेश बिलासपुर जिले के सभी शासकीय, अशासकीय व अनुदान प्राप्त स्कूलों के लिए लागू होगा।बच्चों की परेशानियों को देखते हुए स्कूलों का संचालन सुबह दस बजे से करने का निर्देश दिया गया है। मालूम हो की जिले  के कई निजी स्कूलों का संचालन सामान्य दिनों में सुबह सात- आठ बजे से हो रहा था।ठंड बढ़ने के बाद से छोटे- छोटे बच्चों के लिए सुबह स्कूल जाना मुश्किल हो रहा था। इसी परेशानी को देखते हुए स्कूलों के समय में बदलाव किया गया है।


सीतारमण ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस किया

नई दिल्ली। वित्त वर्ष 2020-21 के लिए बजट पेश करने से ठीक पहले केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेस किया। इस दौरान उन्होंने जानकारी दी कि मर्चेंट डिस्काउंट रेट फीस का खर्च सरकार उठाएगी। इस दौरान उन्होंने कहा कि जनवरी के बाद से 50 करोड़ रुपये से अधिक के टर्नओवर वाली कंपनियों को रुपे डेबिट कार्ड और UPI QR के जरिए पेमेंट की सुविधा देना होगा। उन्होंने यह भी साफ किया कि इसके लिए ये कंपनियां एमडीआर फीस नहीं वसूलेंगी। 
क्या होता है MDR डेबिट कार्ड पर MDR वो चार्ज होता है जो मर्चेंट अपने सर्विस प्रोवाइडर को देता है। यह PoS टर्मिनल पर हर बार कार्ड स्वाइप करने के​ लिए चार्ज किया जाता है। यह ऑनलाइन और QR कोड के जरिए लेनदेन के लिए चार्ज किया जाता है। मर्चेन्ट द्वारा दिया जाने वाला यह चार्ज तीन स्टेकहोल्डर में बांटा जाता है। इसमें लेनदेन की सुविधा ​देने वाला बैंक, PoS इंस्टॉल करने वाला वेंडर और कार्ड नेटवर्क सर्विस प्रोवाइडर शामिल है। क्रेडिट पर स्वाइप के दौरान लगने वाला यह चार्ज 2 फीसदी तक हो सकता है। बजट 2019 में वित्त मंत्री ने किया था ये ऐलान बता दें कि जुलाई 2019 में पेश किए गए अपने पहले बजट में वित्त मंत्री ने कहा था कि 50 करोड़ रुपये व उससे अधिक टर्नओवर वाले बिजनेस को डिजिटल पेमेंट के दौरान अपने चार्ज को कम करना चाहिए। इस दौरान उन्होंने कहा था कि इस खर्च का वहन आरबीआई को उठाना चाहिए। 1 फरवरी 2020 को वित्त मंत्री मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का दूसरा बजट पेश करेंगी। वित्त मंत्री ने सरकारी बैंकों के वित्तीय प्रदर्शन तथा उनके कारोबार की वृद्धि की समीक्षा करने के लिये इन बैंकों के प्रबंध निदेशकों और मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ आज बैठक कीं। प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि बैंक के खिलाफ केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो यानी CBI सीधी कार्रवाई नहीं कर सकती है। उन्होंने कहा कि किसी भी फ्रॉड के मामले में बैंक ही CBI को केस देंगे। बैंक की मंजूरी के बगैर कोई भी केस CBI को नहीं दिया जाएगा।


प्रियंका गाधीं वाड्रा, स्थापना दिवस मे स्थापना पढी

लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने लखनऊ दौरे पर स्थापना दिवस समारोह में संविधान की स्थापना पढ़ी और कांर्यकर्ताओं को शपथ दिलाई। कांग्रेस का आज 135वां स्थापना दिवस है। राजधानी लखनऊ स्थित कांग्रेस मुख्यालय पर आयोजित स्थापना दिवस समारोह में प्रियंका गांधी रणनीतिक और कार्ययोजना कमेटी के साथ बैठक कर रही हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि संविधान पर हमला करने वालो ंका विरोध करेंगे। प्रियंका गांधी ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी पर हमला किया। उन्होंने कहा कि दूसरी पार्टियां सरकार से डर रही हैं, वह कुछ नहीं कह रही हैं। कांग्रेस को संघर्ष की चुनौती स्वीकार है। दमनकारी विचारधारा से टक्कर है। कार्यकर्ताओं के दिल में भय और हिंसा नहीं। उन्होंने कोई बलिदान नहीं दिया। प्रियंका गांधी ने संबोधित करते हुए कहा कि आज देशभक्ति के नाम पर लोगों को डराया जा रहा है। सीएए और एनआरसी से डराया जा रहा है। लड़कियों में आज डर का माहौल है। आज देश में संकट में हैं। सरकार आज छात्रों की आवाज को दबा रही है। डराने वाला मुंह बंद करने की कोशिश करता है। प्रियंका गांधी ने कहा कि हमारे दिन में अहिंसा और करुणा हैं। कायर की पहचान हिंसा है। झूठ से देश ऊब चुका है। कायरता को देश पहचान रहा है। आवाज उठाने पर बच्चों को मार रहे हैं। पहले देश में एनआरसी की बात फैलाई, अब कह रहे हैं कि एनआरसी की चर्चा नहीं। 
इससे पहले प्रियंका गांधी एनआरसी और नागरिकता कानून पर संघर्ष की अगली रणनीति तैयार करने के लिए शुक्रवार शाम सात बजे लखनऊ पहुंचीं थीं।  एयरपोर्ट से सीधे गोखले मार्ग स्थित आवास पर पहुंची। यहां प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के अलावा कुछ प्रमुख नेताओं से मिलीं।


उर्दू शायरी पर लिखी किताब का विमोचन

कवि ससम्मेलन व उर्दू शायरी पर लिखी किताब का विमोचन आज


प्रयागराज। पूर्व स्टैण्डिल कॉउन्सिल इलाहाबाद हाईकोर्ट डॉ लियाक़त अली सिद्दीक़ी द्बारा लिखी गई "बीसवीं सदी की उर्दू एहतेजाजी शायरी" नामक किताब का विमोचन व प्रख्यात शायरों का कवि सम्मेलन तथा विभीन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वालों का सम्मान समारोह दिनांक २९ दिसम्बर रविवार को साँय ५:३०बजे करैली के सिटी गेस्ट हाउस में होगा।सै०मो०अस्करी ने बताया की उक्त कार्यक्रम की अध्यक्षता आसिफ उसमानी व जज़्बी फाखरी करेंगे।कार्यक्रम का संचालन निज़ाम हसनपुरी व मनोज (घायल गाज़ीपुरी) संयुक्त रुप से करेंगे।कवि सम्मेलन व शायराना महफिल में शायर असलम इलाहाबादी,अख्तर अज़ीज़,डॉ राजकुमार श्रीवास्तव,परवेज़ अख्तर अन्सारी,कुशवाहा ग़ाज़ीपुरी,फरमूद,रुस्तम,अब्दुल वदूद बनारसी,सागर फूलपुरी,आमिर शहज़ाद,लोकेश शुक्ल आदि अपनी कविता और नग़मों से महफिल को गुलज़ार करेंगे।कार्यक्रम आयोजक शेख तौक़ीर अहमद "नजमी" अध्यक्ष (इलाहाबाद बॉडी बिल्डिंग एण्ड वोमेन फिटनेस स्पोर्ट) के मुताबिक़ विभिन्न क्षेत्रों व समाजिक कार्यों में अपने क़लम, हुनर और अपने अविष्कार से देश प्रदेश का नाम रौशन करने वालों को सम्मानित भी किया जायगा।


बृजेश केसरवानी


गांधीधाम में प्रजापति समाज का मिलन समारोह

गांधीधाम में प्रजापति समाज का वार्षिकोत्सव व स्नेह मिलन समारोह संपन्न


गांधीधाम।अखिल प्रजापति कुम्भकार समाज व संलग्न उत्तर भारतीय प्रजापति समाज के वार्षिक स्नेह मिलन और सरस्वती सम्मान कार्यक्रम में देश के दूरदराज क्षेत्रों से आए अतिथि गण जिसमें अखिल प्रजापति कुम्भकार समाज के राष्ट्रीय मुख्यमहासचिव रमेश प्रजापति एवं उनका शिष्टमंडल से उत्तरशक्ति हिंदी दैनिक के संपादक ओमप्रकाश प्रजापति, विजय बहादुर प्रजापति, संजय कुमार प्रजापति, दिलीप कुमार, महेंद्र कुमार, महेंद्र , राजेश व महेंद्र प्रजापति मुख्य रूप से अतिथि विशेष जिन्होंने अपना कीमती समय देकर उत्तर भारतीय प्रजापति समाज गांधीधाम की शोभा बढ़ाई। हरिशंकर प्रजापति अध्यक्ष ने अपनी पूरी टीम के साथ आए सभी अतिथियों का स्वागत किया।
 समाज के अन्य सहयोगियों में संयोजक श्याम बिहारी प्रजापति, उत्तर भारतीय प्रजापति समाज का विशेष आभार प्रकट किया। इसके साथ अतिथि के रूप में अपना दल के वरिष्ठ नेता समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष के साथ-साथ अन्य राजनीतिक दलों के अतिथि गण मौजूद रहे।
सभी अतिथियों ने प्रजापति समाज के संगठन पर अपना अपना विचार व्यक्त किया और प्रजापति समाज को हरसंभव सहयोग करने का आश्वासन दिया।


कार्यक्रम में मुख्य रूप से गांधीधाम के होनहार बच्चे जो खेल मनोरंजन व शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन कर रहे है उन्हें ट्रोफी व सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया। जिसमे अखिल प्रजापति कुम्भकार समाज के  गुजरात राज्य के -प्रदेश अध्यक्ष -अनिल प्रजापति  प्रदेश उपाध्यक्ष -आर पी प्रजापति प्रदेश सचिव हरिशंकर प्रजापति
प्रदेश उपसचिव 
प्रदेश कोषाध्यक्ष रामशंकर प्रजापति
प्रदेश उप कोषाध्यक्ष जीतू प्रजापति व कल्याण प्रजापति,  सुनील,  उदयवीर,  हरिशंकर, हेमंत, धर्मेंद्र, विजय, रोहित, सुनील, बंटी, मनीष, दिनेश पंडित सहित तमाम प्रजापति समाज के पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।


गोरखपुर में सीएम योजनाओं के प्रति गंभीर

गोरखपुर। इन योजनाओं का शिलान्यास सीएम ने किया : बांसगांव मालहन पार दशरथपुर मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य लागत करीब 14 .73 करोड़ राज्य सड़क निधि योजना के अंतर्गत नई बाजार बोहावर मार्ग के चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य राज्य सड़क निधि योजना अंतर्गत मुलीला से सोहसा घोड़ा देउर सम्पर्क मार्ग का निर्माण कार्य वीवीपैट के भंडारण हेतु वेयर हाउस का निर्माण
संकेत राजकीय मुक बधिर विद्यालय भवन एवं आवासीय भवन का निर्माण कार्य स्पर्श राजकीय दृष्टिबाधित बालक इंटर कॉलेज के नवीन विद्यालय भवन के छात्रावास एवं कार्मिक आवास का निर्माण कार्य।


इसके अलावा इन कार्यक्रमों का लोकार्पण किये*
राज्य सड़क निधि परियोजना अंतर्गत कुसमी पिपराइच मार्ग के चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य राज्य सड़क निधि योजना अंतर्गत पिपराइच बरगदही मार्ग का चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण का कार्य केंद्रीय मार्ग निधि योजना अंतर्गत सोनबरसा पिपराइच मार्ग का चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण का कार्य पीपीगंज से मखनहा मछरिहा घाट सरहरी होते हुए महाराजगंज चौराहे तक निर्माण कार्य राजकीय जुबली इंटर कॉलेज परिसर के मुख्य विद्यालय के भवन के निर्माण छात्रावास स्टॉप आवास विज्ञान भवन समेत अन्य समस्त मरम्मत कार्य बेतियाहाता हनुमान मंदिर से महेवा चुंगी तक नाला निर्माण कार्य नवीन साकेत राजकीय मुक बधिर बालिका इंटर कॉलेज दौलतपुन इसके अलावा तमाम बड़ी परियोजनाओं का लोकार्पण सीएम योगी आदित्यनाथ किये।


गोरखपुर ।इन योजनाओं का शिलान्यास सीएम ने किया : बांसगांव मालहन पार दशरथपुर मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य लागत करीब 14 .73 करोड़ राज्य सड़क निधि योजना के अंतर्गत नई बाजार बोहावर मार्ग के चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य राज्य सड़क निधि योजना अंतर्गत मुलीला से सोहसा घोड़ा देउर सम्पर्क मार्ग का निर्माण कार्य वीवीपैट के भंडारण हेतु वेयर हाउस का निर्माण
संकेत राजकीय मुक बधिर विद्यालय भवन एवं आवासीय भवन का निर्माण कार्य स्पर्श राजकीय दृष्टिबाधित बालक इंटर कॉलेज के नवीन विद्यालय भवन के छात्रावास एवं कार्मिक आवास का निर्माण कार्य।


*इसके अलावा इन कार्यक्रमों का लोकार्पण किये*
राज्य सड़क निधि परियोजना अंतर्गत कुसमी पिपराइच मार्ग के चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य राज्य सड़क निधि योजना अंतर्गत पिपराइच बरगदही मार्ग का चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण का कार्य केंद्रीय मार्ग निधि योजना अंतर्गत सोनबरसा पिपराइच मार्ग का चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण का कार्य पीपीगंज से मखनहा मछरिहा घाट सरहरी होते हुए महाराजगंज चौराहे तक निर्माण कार्य राजकीय जुबली इंटर कॉलेज परिसर के मुख्य विद्यालय के भवन के निर्माण छात्रावास स्टॉप आवास विज्ञान भवन समेत अन्य समस्त मरम्मत कार्य बेतियाहाता हनुमान मंदिर से महेवा चुंगी तक नाला निर्माण कार्य नवीन साकेत राजकीय मुक बधिर बालिका इंटर कॉलेज दौलतपुन इसके अलावा तमाम बड़ी परियोजनाओं का लोकार्पण सीएम योगी आदित्यनाथ किये।


डॉ अशद निज़ामी


मोदी-योगी विकास कार्य को कर रहे पूर्ण

सुल्तानपुर। भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं सांसद मेनका संजय गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने मिलकर जिले के विकास कार्य को पूरा करा रहे है।


सुल्तानपुर के चार दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को यहां पहुंची मेनका गांधी और प्रदेश के विद्युत राज्यमंत्री रमाशंकर पटेल ने आज इसौली विधानसभा के सरकौड़ा गांव के लोगों को एक विद्युत उपकेंद्र की सौगात दी है। 


दोनो ने ऊंचगांव में राजेश कुमार दूबे के संयोजन मे उनके पिता स्व. देवराज दूबे की छठीं पुण्य तिथि के अवसर पर 1000 निराश्रित लोगों को कंबल भी वितरण किये। 


इस मौके पर मेनका गांधी ने कहा कि इस विद्युत उपकेन्द्र की स्थापना से क्षेत्र के 35 गांवो में विद्युत आपूर्ति में फायदा होगा। उन्होंने कहा कि जिले में जर्जर तारों और गांव के ट्रांसफार्मर की क्षमता बढाने के लिए तेजी से काम किया जा रहा है। 


उन्होंने बताया कि जिले में एक नये 132 के. वी .विद्युत केन्द्र की स्थापना की मांग विद्युत राज्य मंत्री रमा शंकर पटेल से की है।   


उन्होंने मार्च तक उनकी मांग को पूर्ण करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने आगे कहा क्षेत्रवासियों को जल्द ही नया पुलिस थाना बंधुआ कला व धनपतगंज के रूप में मिलेगा। 


उन्होंने कहा गन्ना किसानों के हित में सहकारी चीनी मिल के विस्तारीकरण का कार्य कराने के लिए प्रयासरत हैं। इस दौरान विद्युत राज्यमंत्री रमाशंकर पटेल ने कहा कि प्रदेश में केन्द्र व प्रदेश सरकार की 137 योजनाओं के माध्यम से प्रदेश सरकार जनहित का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद विद्युत आपूर्ति में चमत्कारिक सुधार हुआ है। 


आज गांव में 18 घंटे तहसील में 20-23 घंटे तो जिला मुख्यालयों पर 23- 24 घंटे की विद्युत आपूर्ति हो रही है भाजपा सरकार ने अपने कार्यकाल में 613 विद्युत उपकेंद्र की क्षमता बढ़ाने व 446 नए विद्युत उप केंद्रों की स्थापना करने का कार्य किया है।


आरबीआई की चेतावनी, बढ़ सकता है लोन

आरबीआई ने दी चेतावनी, फिर बढ़ सकता है बैंकों का बैड लोन
मनोज सिंह ठाकुर
    


मुंबई। अर्थव्यवस्था में लंबे समय से बरकरार भारी सुस्ती के बीच भारतीय रिजर्व बैंक ने चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि अगले नौ महीने में बैंकों के फंसे कर्ज में और वृद्धि हो सकती है। केंद्रीय बैंक ने कहा है कि इसका कारण अर्थव्यवस्था में सुस्ती, लोन का भुगतान करने में नाकामी तथा क्रेडिट ग्रोथ में कमी है। साल में दो बार जून तथा दिसंबर में प्रकाशित होने वाले आरबीआई के फाइनैंशल स्टैबिलिटी रिपोर्ट (स्नस्क्र) में मध्यम रेटिंग वाली कंपनियों द्वारा रेटिंग शॉपिंग (पसंद की रेटिंग पाने के लिए मनचाही एजेंसियों की सेवा लेना) के प्रति भी ध्यान दिलाया है।
आरबीआई ने कहा है कि बड़ी कॉर्पोरेट कंपनियों के पास फिलहाल नकदी की कोई कमी नहीं है, जिसके कारण उन्हें लोन की कोई जरूरत नहीं है, जो मौजूदा स्थिति में क्रेडिट ग्रोथ की रेट में कमी का एक बड़ा कारण है। रिपोर्ट के मुताबिक, सितंबर 2019 तक सरकारी बैंकों की क्रेडिट ग्रोथ घटकर 8.7 प्रतिशत पर रही, जबकि प्राइवेट बैंकों के लिए यह आंकड़ा 16.5 प्रतिशत रहा था।
आरबीआई ने चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार द्वारा सरकारी बैंकों के पुनर्पूंजीकरण के बाद बैंकों का पूंजी पर्याप्तता अनुपात सितंबर 2019 में उल्लेखनीय रूप से बढ़कर 15.1 प्रतिशत पर पहुंच गया है। प्रोविजन कवरिंग रेशियो भी बढ़कर 61.5 प्रतिशत पर पहुंच गया है, जो एक साल पहले की समान अवधि में 60.5 प्रतिशत था।


सीमा पर डोपिंग के चलते 4 साल का बैन

नई दिल्ली। भारत की राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप की रजत पदकधारी वेटलिफ्टर सीमा पर डोपिंग उल्लघंन के लिए चार साल का प्रतिबंध लगाया गया। राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी ने कहा कि सीमा के डोप नमूने इस साल विशाखापत्तनम में 34वीं महिला राष्ट्रीय भारोत्तोलक चैंपियनशिप के दौरान एकत्रित किए गए थे। 
बयान के अनुसार, चैंपियनशिप के दौरान लिए गए नमूने में प्रतिबंधित पदार्थ पाए गए, जो प्रदर्शन को सुधारने के लिए किए गए थे। यह पूरी तरह से धोखाधड़ी और राष्ट्रीय डोपिंग रोधी नियमों का सीधा उल्लघंन था।
इसके मुताबिक, उनके नमूने में हाइड्रोक्सी 4 मिथॉक्सी टेमोक्सीफेन, सलेक्टिव एस्ट्रोजन रिसेप्टर मॉड्यूलर मेटेनोलोन, एनाबोलिक स्टेरॉयड ओस्टारीन, सलेक्टिव एंड्रोजन रिसेप्टर मॉड्यूलर मौजूद थे। 


वाडा की 2019 प्रतिबंधित पदार्थों की सूची में ये सभी गैर-निर्दिष्ट पदार्थ हैं। उन्हें नाडा के डोपिंग रोधी अनुशासनात्मक पैनल ने सुनवाई के बाद 4 साल के लिए निलंबित किया है। सीमा ने 2017 राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था और वह 2018 गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ खेलों में महिला 75 किग्रा वर्ग में छठे स्थान पर रही थीं।


केंद्रीय मंत्रियों ने दी जेटली को श्रद्धांजलि

मनोज सिंह ठाकुर


नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली से सांसद गौतम गंभीर, हरसिमरत कौर सहित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं ने पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की जयंती पर शनिवार को श्रद्धांजलि अर्पित की। गौतम गंभीर ने ट्वीट कर कहा, मैं जेटली की 67 वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। वह मेरे लिए एक पिता की तरह थे। एक बड़ी प्रेरणा और प्रेरक होने के अलावा उन्होंने मेरे जीवन के प्रत्येक कदम में मेरा मार्गदर्शन और समर्थन भी किया। मैं हमेशा उनकी कमी खलती है।
अकाली नेता और केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट कर कहा, मैं अरुण जेटली जी को एक अद्भुत मार्गदर्शक और एक करिश्माई नेता के रूप में याद करती हूं। पंजाब के साथ उनका घनिष्ठ संबंध था और राज्य के लोगों को उनकी कमी हमेशा खलती रहेगी। उनकी जयंती पर, मैं उस व्यक्ति को श्रद्धांजलि अर्पित करती हूं जिसने अपनी निस्वार्थता और विनम्रता के साथ दिल जीता। भाजपा के राज्यसभा सांसद राजीव चंद्रशेखर ने ट्वीट कर कहा, अरुण जेटली जी बुद्धिमान सांसद थे और मुझे दो दशकों से अधिक समय तक उन्हें जानने और एक दूरसंचार उद्यमी के रूप में और फिर एक सांसद के रूप में काम करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। 
पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश प्रभु ने ट्वीट कर कहा, आज अरुण जेटली की जयंती पर अश्रुपूरित नेत्रों से उन्हें याद करता हूं। वह अब इस दुनिया में नहीं है। उनके उत्कृष्ट व्यक्तित्व कई छाप हैं जिन्हें आसानी से मिटाया नहीं जा सकता। केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह नेे ट्वीट कर कहा, आप हमेशा से थे और अपनी दिलचस्प टिप्पणियों के कारण दिन प्रतिदिन … सुलभ, उपलब्ध है। आज भी जब भी कोई मुद्दा सामने आता है तो मन जेटल के विचार उठने लगते है। इस पर जेटली के क्या विचार होगे।
पूर्व केन्द्रीय मंत्री डा. महेश शर्मा ने ट्वीट कर कहा, उस महान दूरदर्शी और तेजस्वी को अरुण जेटली को उनकी जयंती पर याद करते है जिन्होंने अपने अनन्य ज्ञान साथ देश की सेवा की। हमारे दिलों और दिमाग में देश के लिए उनका योगदान सर्वोपरि है और हमेशा रहेगा। उल्लेखनीय है कि इस वर्ष 24 अगस्त को जेटली का निधन हो गया था। उन्हें संसद में वाद-विवाद कौशल के लिए जाना जाता था और वह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में मंत्री रहे।


परिवर्तनः पार्टी को छोड़ कांग्रेस में हुए शामिल

रायपुर। आम आदमी पार्टी की नेत्री नम्रता सोनी ने पार्टी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गयी है। आज कांग्रेस स्थापना दिवस के मौके पर नम्रता सोनी ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में शीर्ष नेताओं की मौजूदगी में नम्रता सोनी ने कांग्रेस ज्वाइन किया।बालोद की नम्रता को विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने गुंडरदेही से प्रत्याशी बनाया था…लेकिन वो चुनाव हार गयी।


कांग्रेस में पीसीसी चीफ मोहन मरकाम, आबकारी मंत्री कवासी लखमा और बस्तर प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल की मौजूदगी में महिला कांग्रेस अध्यक्ष फुलोदेवी नेताम ने नम्रता को कांग्रेस ज्वाइन कराया। नम्रता सोनी पूर्व में आम आदमी पार्टी से जुड़ी थी । साथ ही वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी से सबसे कम उम्र की विधायक प्रत्याशी भी रह चुकी है। नम्रता सोनी न सिर्फ राजनीतिक तौर पे सक्रिय है, बल्कि समाजिक कार्यकर्ता के रूप में संपूर्ण छत्तीसगढ़ में महिला सुरक्षा, व महिलाओं के अधिकार के लिए निरंतर कार्य करती आई है।


उपराष्ट्रपति ने 102वेंं सम्मेलन का किया शुभारंभ

रायपुर। उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने आज यहां पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित तीन दिवसीय इंडियन इकोनॉमिक एसोसिएशन के 102वें वार्षिक सम्मेलन का शुभारंभ किया। इस सम्मेलन में राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके, मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक संघ के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर कौशिक बसु विशेष रूप से उपस्थित थे। कार्यक्रम में लाईफटाइम एचिवमेंट अवार्ड से प्रोफेसर अनिल कुमार ठाकुर और कौटिल्य अवार्ड से प्रोफेसर बी. रामा स्वामी को सम्मानित किया गया। 
इस अवसर पर उपराष्ट्रपति श्री नायडू ने कहा कि आज समय की यह आवश्यकता है कि प्रगति की प्रक्रिया को तेज किया जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रत्येक नागरिक समावेशी, दूरदर्शी और समृद्ध भारत के विकास की कहानी का हिस्सा बने। उन्होंने कहा कि हमें समाज के अंतिम पंक्ति के लोगों को मुख्यधारा में शामिल करने के लिए, उन तक विकास और सुशासन का परिणाम पहुंचाना चाहिए। जब लंबे समय से विकास से वंचित लोगों का सशक्तिकरण होगा, तभी हमारा भारत सही मायने में एक खुशहाल भारत बन पाएगा। श्री नायडू ने कहा कि समावेशी विकास की यह संकल्पना हमारे सभी कार्यक्रमों में दिखनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था को और अधिक लचीला बनाने के लिए सरकार द्वारा शुरू किए गए सुधारों में विमुद्रीकरण, क्रांतिकारी जी.एस.टी. की शुरूआत, एक राष्ट्र, एक कर के साथ ही काले धन पर अंकुश लगाने के कदम भी शामिल हैं। श्री नायडू ने कहा कि कर और कर्ज का अनुशासन अर्थव्यवस्था के लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि भारत में बैंकिंग में डिजिटलीकरण और वित्तीय क्षेत्रों में सुधार के साथ ही विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को पारदर्शी और समय पर भुगतान किया जा रहा है। यह कदम समावेशी विकास करने में मददगार साबित होगा। उन्होंने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार कृषि है। कृषि में नई तकनीकों और नये अनुसंधानों का उपयोग कर कृषि उत्पादकता को बढ़ाया जाना चाहिए। इसके साथ ही कृषि उत्पादों को बड़े बाजारों तक पहुंचाने में बुनियादी सुविधाएं और खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को बढ़ावा देने की भी आवश्यकता है। श्री नायडू ने कहा कि युवा पीढ़ी को कौशल प्रशिक्षण देकर उन्हें नौकरी तलाशने वाला नहीं बल्कि नौकरी देने वाला बनाना चाहिए। 
उपराष्ट्रपति श्री नायडू ने कहा कि खूबसूरत छत्तीसगढ़ राज्य में औद्योगिक विकास के लिए प्रचूर मात्रा में खनिज संपदा है। एक बड़ी आबादी पारंपरिक रूप से वनों पर निर्भर है, हमें विकास के लिए ऐसा संतुलन बनाना होगा जिससे प्रकृति का संरक्षण हो और उपलब्ध संसाधनों का सदुपयोग हो। उन्होंने कहा कि इस सम्मेलन के लिए चुना गया विषय बहुत महत्वपूर्ण है। इस तीन दिवसीय सम्मेलन में 'आर्थिक विकास, राजकोषीय संघवाद, आजीविका और पर्यावरण' पर विचार विमर्श कर बहुमूल्य नीतिगत सुझाव आएंगे, जो देश के आर्थिक विकास के लिए बहुपयोगी साबित होगी। 
राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने कहा कि हम राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में बात करें तो हमारे समक्ष सबसे बड़ी चुनौती ऐसा आर्थिक विकास करना हैं, जो समावेशी, टिकाऊ और पर्यावरण के अनुकूल हो। हमारे समक्ष ग्रामीण विकास महत्वपूर्ण मुद्दा है। ग्रामीण क्षेत्र में आजीविका के नए अवसर पैदा किए जाएं, ताकि शहरों पर दबाव कम हो। इसके लिए कृषि और उससे जुड़े उद्योगों को बढ़ावा देना होगा। खेती में नये तकनीक को अपनाने के साथ ही गौ पालन, मछलीपालन तथा मुर्गीपालन, बकरी पालन करें तो किसान अपने लाभांश बढ़ा पाएंगे। शहरी क्षेत्रों में भी सेवा क्षेत्र में बड़ी संभावनाएं हैं। हमारे पास अंग्रेजी और आई.टी. का अच्छा ज्ञान रखने वाले युवाओं की फौज है। उन्हें साथ लेकर काम करें तो बहुत अनुकूल परिणाम मिलेंगे। सिंगापुर जैसे देश कुछ नहीं उपजाते फिर भी सेवा क्षेत्र के बूते विश्व में शीर्ष पर है। हमारे देश ने दुनिया को कौटिल्य दिया है। अपनी उर्वर-समझ को हम अपने उद्यम के लिए प्रयोग करें तो दुनिया भारत की ओर देखेगी। 
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि राज्य गठन के समय छत्तीसगढ़ राज्य का बजट 6 हजार करोड़ रूपए था, अब यह बढ़कर करीब एक लाख करोड़ पहुंच गया है, लेकिन गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले लोगों की संख्या 36 प्रतिशत से बढ़कर 40 प्रतिशत हो गई है। श्री बघेल ने कहा कि गरीबी और अमीरी के बीच अंतर बढ़ना चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि एक देश, एक कर प्रणाली जी.एस.टी. लागू होने के बाद भी कर संग्रहण में अपेक्षाकृत बढ़ोत्तरी नहीं हो रही है, इसके साथ ही प्रदेश को इससे जो घाटा हुआ है, उसकी भरपाई नहीं हो पा रही है। इससे छत्तीसगढ़ जैसे उत्पादक राज्य प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस अवसर पर उपस्थित अर्थशास्त्रियों से आग्रह किया कि इस सम्मेलन में देश को विद्यमान मंदी के दौर से कैसे निकाला जाए, इस पर विचार किया जाए और आवश्यक सुझाव देवें। अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक संघ के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर कौशिक बसु ने अपने विचार व्यक्त किए और पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर केशरी लाल वर्मा ने स्वागत भाषण दिया। श्री वर्मा ने इस अवसर पर उपराष्ट्रपति श्री नायडू, राज्यपाल सुश्री उइके, मुख्यमंत्री श्री बघेल तथा विशिष्ट अतिथियों को शाल, श्रीफल और स्मृति चिन्ह भेंट किया।
इस अवसर पर अतिथियों ने इंडियन इकोनॉमिक एसोसिएशन के स्मारिका का विमोचान किया। कार्यक्रम में इंडियन इकोनॉमिक एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रोफेसर महेन्द्र देवे, सम्मेलन के अध्यक्ष प्रोफेसर जी. विश्वनाथन और देश के विभिन्न भागों से आए अर्थशास्त्री और शोधार्थी उपस्थित थे।


यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले सावधान

जनपद गौतम बुद्ध नगर में यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले हो जाएं सावधान


गोपनीय तरीके से यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों की कराई जा रही है फोटोग्राफी


परिवहन एक्ट के तहत की जाएगी कार्यवाही, भरना पड़ेगा शमन  शुल्क, बार-बार नियमों का उल्लंघन करने पर लाइसेंस भी होगा निलंबित।


गौतम बुध नगर। जनपद के यातायात को और अधिक सुदृढ़ एवं सुगम बनाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी बीएन सिंह के द्वारा जनपद वासियों के लिए यातायात एडवाइजरी जारी की गई है। जिलाधिकारी बीएन सिंह ने समस्त जनपद वासियों का आह्वान करते हुए उन्हें जानकारी दी है कि जनपद के यातायात को सुदृढ़ एवं सुगम बनाने में सभी वाहन चालकों की महत्वपूर्ण भूमिका है। अतः सभी वाहन चालक अपने वाहनों का संचालन करते हुए यातायात नियमों का कड़ाई के साथ पालन सुनिश्चित करें। अन्यथा की स्थिति में उन्हें दंड का भागी बनना पड़ेगा। जिलाधिकारी ने आम नागरिकों को जानकारी देते हुए आह्वान किया है कि जनपद में नियमित वाहन चेकिंग एवं ई-चालान के अतिरिक्त जिला प्रशासन की ओर से एक गोपनीय फोटोग्राफी टीम जनपद में कई स्थानों पर कार्य कर रही है, जिनके द्वारा गोपनीय तरीके से वाहन चालकों के द्वारा यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर फोटोग्राफी की जा रही है, जिसके आधार पर परिवहन विभाग संबंधित वाहन चालकों के विरुद्ध कार्यवाही सुनिश्चित कर रहा है, जिसमें शमन शुल्क के अलावा बार-बार वाहन चालकों के द्वारा उल्लंघन करने पर उनके ड्राइविंग लाइसेंस भी निलंबित करने की कार्रवाई सुनिश्चित की जा रही है। अतः सभी वाहन चालक जनपद में यातायात नियमों का पालन सुनिश्चित करें। अन्यथा कार्रवाई से कोई भी ऐसा वाहन चालक नहीं बच पाएगा जिनके द्वारा नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है। राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गौतम बुद्ध नगर।


पैन कार्ड लिंक की 31 दिसंबर अंतिम तारीख

नई दिल्ली। भारतीय प्रवासियों ने अगर 31 दिसंबर तक अपना पैनकार्ड आधार कार्ड से लिंक नहीं कराया तो उनके पैनकार्ड को अमान्य करार दे दिया जाएगा। गल्फ न्यूज की शुक्रवार की रिपोर्ट के अनुसार, यहां एक सार्वजनिक सूचना जारी कर भारतीय प्रवासियों को 31 दिसंबर से पहले अपना पैन कार्ड अपने आधार से लिंक करने के लिए कहा गया है।


जहां अनिवासी भारतीय (एनआरआई) के लिए आधार कार्ड या पैन (परमानेंट अकाउंट नंबर) जरूरी नहीं है, वहीं अगर किसी पास ये दस्तावेज हैं तो उनके लिए इन्हें 31 दिसंबर से पहले लिंक कराना अनिवार्य है। भारत से वित्तीय लेनदेन करने वाले एनआरआई को पैनकार्ड और आधार दोनों रखने के लिए कहा गया है।


पैन को आधार से लिंक कराने की अंतिम तिथि पहले 31 सितंबर थी, जिसे अब बढ़ाकर 31 दिसंबर कर दिया गया है। भारत सरकार के नियमों के अनुसार, करयोग्य आमदनी वाले या भारत में निवेश के इच्छुक एनआरआई लोगों के लिए पैन कार्ड अनिवार्य है।


शीतलहर के कहर से कांंपा उत्तर-भारत

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली समेत पूरा उत्तर भारत इन दिनों कड़ाके की सर्दी और शीतलहर की चपेट में है। लगातार लुढ़कते पारे के साथ कंपकंपाने वाली ठंड पड़ रही है। हाड़ कंपा देने वाली सर्दी ने लोगों का जीना मुहाल कर रखा है। कई जगहों पारा लुढ़क कर शून्य से काफी नीचे चला गया है।


ठंड से ठिठुरा हिमाचल, पारा शून्य से नीचे
शिमला। हिमाचल प्रदेश में शुष्क मौसम के बावजूद शनिवार को शीतलहर जारी है। राज्य के ऊंचाई वाले पहाड़ी इलाकों में पारा शून्य से नीचे पहुंच गया है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने यहां आईएएनएस को बताया कि शिमला में न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जबकि शुक्रवार को यहां तापतान 3.8 डिग्री सेल्सियस था।


लाहौल एवं स्पीति जिले के केलांग और किन्नौर जिले के कल्पा में क्रमश: शून्य से 11.5 डिग्री सेल्सियस नीचे और शुन्य से 1.8 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज हुआ। चंबा जिले के डलहौजी में तापमान 5.1 डिग्री दर्ज किया गया, जबकि मनाली में यह 26 डिग्री सेल्सियस रहा। धर्मशाला में रात का तापमान 2.2 डिग्री सेल्सियस था। मौसम विभाग ने कहा कि 30 दिसंबर तक दिन में धूप रहेगी और मौसम शुष्क बना रहेगा। उसके बाद 31 दिसंबर से राज्य भर में बारिश और बर्फबारी की संभावना है।


पंजाब, हरियाणा में भीषण शीत लहर
चंडीगढ़। पंजाब और हरियाणा में भीषण शीत लहर का दौर शनिवार को भी जारी रहा। कुछ स्थानों पर आसमान में बादल छाने के कारण तापमान जमाव बिंदु के करीब तक पहुंच गया। मौसम विज्ञान विभाग के अधिकारियों के अनुसार, दोनों राज्यों में शीत लहर 31 दिसंबर तक जारी रह सकता है। इसके बाद कई क्षेत्रों में हल्की बारिश होने की भी संभावना है, जिसके बाद आसमान से बादल छंटेंगे।


हरियाणा के हिसार में तापमान 0.2 डिग्री और नारनौल में 0.5 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं रोहतक में 1.8 डिग्री और सिरसा में दो डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। हालांकि कई क्षेत्रों में घना कोहरा छंटने से लोगों को राहत मिली है। अधिकांश क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान 0.2 से 5.6 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। पंजाब के अमृतसर में न्यूनतम तापमान 4.7 डिग्री और लुधियाना में 5.6 डिग्री, जबकि बठिंडा में 2.3 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। चंडीगढ़ में शनिवार को न्यूनतम तापमान 5.1 डिग्री और अधिकतम तापमान 11.1 डिग्री दर्ज किया गया।


राजस्थान के 5 शहरों में पारा शून्य के नीचे पहुंचा
जयपुर। राजस्थान के पांच शहरों में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे चला गया। मौसम विभाग के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। शुक्रवार रात फतेहपुर में तापमान शून्य से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे, जोबनर में शून्य से दो डिग्री नीचे, आबू में शून्य से 1.5 डिग्री नीचे, सीकर में शून्य से 0.8 डिग्री नीचे और चुरू में शून्य से छह डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ।


अन्य शहर जहां पांच डिग्री से कम तापमान दर्ज हुआ उन शहरों में पिलानी (0.4), राजसमंद (1.4), गंगानगर (1.4), अलवर (2.0), उदयपुर (3.2), जयपुर (4.0), अजमेर (4.0) और रामगंजमंडी (4.0) रहे। चार डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ जयपुर पिछले पांच सालों में दिसंबर में सबसे ठंडा रहा, जबकि जोधपुर में 4.4 डिग्री दर्ज किया गया, जोकि 35 सालों में सबसे कम रहा। इस बीच, मौसम विभाग ने शनिवार तक राज्य के विभिन्न हिस्सों में शीतलहर की स्थिति रहने और घने कोहरे की चेतावनी दी है।


स्थापना दिवस पर कांग्रेसियो ने ली शपथ

लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा शनिवार को पार्टी के 135वें स्थापना दिवस समारोह में यहां शामिल हुईं। इस अवसर पर उन्होंने संविधान की प्रस्तावना पढ़ी और कार्यकर्ताओं को शपथ दिलाई। प्रियंका ने कांग्रेस नेताओं के बलिदान को याद करते हुए कहा कि कार्यकर्ताओं को पार्टी के महान नेताओं के पदचिह्नों पर चलने का संकल्प लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे संविधान पर हमला करने वालों का विरोध करेंगी।


प्रियंका गांधी इसके बाद रणनीतिक और कार्ययोजना कमेटी के साथ बैठक करेंगी।


इससे पहले उन्होंने ट्वीट किया, “हम अंतिम पायदान पर खड़े इंसान की आवाज हैं। हम किसान, नौजवान, मजदूर, महिलाएं और हर मजलूम की आवाज हैं। प्रेम, भाईचारा, शांति, सत्य का अंदाज हैं। हम कांग्रेस हैं। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 135वें स्थापना दिवस पर हम गर्व से अपनी पार्टी की अहिंसा और उदारता की विचारधारा के लिए पूर्ण समर्पण का संकल्प लेंगे।”


प्रियंका गांधी राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) और नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध की अगली रणनीति तैयार करने के लिए शुक्रवार शाम सात बजे लखनऊ पहुंचीं। गोखले मार्ग स्थित अपने आवास पर उन्होंने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और अन्य प्रमुख नेताओं से मुलाकात की थी।


'बढ़ती यौन हिंसा' से महिलाओं में तनाव

नई दिल्ली। बलात्कार और यौन हिंसा की बढ़ती घटनाओं के कारण महिलाओं में डिप्रेशन, एंग्जाइटी और पोस्ट ट्रामेटिक स्ट्रेस डिसआर्डर और यहां तक कि आत्महत्या की प्रवृत्ति जैसी मानसिक समस्याएं बढ़ रही हैं।


राजधानी के हैबिटाट सेंटर में इंडियन साइकिएट्रिक सोसायटी की ओर से महिलाओं के मानसिक स्वास्थ्य पर आयोजित तीसरी राष्ट्रीय संगोष्ठी में देश भर से आए मनोचिकित्सकों ने बताया कि पिछले कुछ समय के दौरान मनोचिकित्सकों के पास इलाज के लिए आने वाली उन महिलाओं की संख्या में 30 से 40 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है अतीत में बलात्कार, यौन हिंसा या यौन दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ा है।


इन विशेषज्ञों के अनुसार जिन महिलाओं के साथ यौन दुर्व्यवहार हुआ है उनमें रक्त चाप, हृदय रोग, अनिद्रा, डिप्रेशन और एंग्जाइटी होने का खतरा दो से तीन गुणा बढ़ जाता है। इस संगोष्ठी में देश भर के मनोचिकित्सकों एवं मानसिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। इस संगोष्ठी में महिलाओं के मानसिक स्वास्थ्य, आसपास के वातावरण, यौन हिंसा के मनोवैज्ञानिक प्रभाव, घरों और कार्यस्थलों पर हिंसा एवं मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित विभिन्न विषयों पर तकनीकी सत्र का आयोजन किया गया।


भोपाल की वरिष्ठ मनोचिकित्सक डा. रजनी चटर्जी ने कहा कि घर या बाहर होने वाले यौन दुर्व्यवहार एवं यौन हिंसा महिलाओं में डिप्रेशन एवं एंग्जाइटी जैसी मानसिक बीमारियों का मुख्य जोखिम कारक है और इस समस्या की रोकथाम के लिए महिलाओं की सुरक्षा में सुधार, शिक्षा एवं जागरूकता, त्वरित न्याय प्रक्रिया एवं महिला अनुकूल सामाजिक वातावरण जरूरी है।


वरिष्ठ मनोचिकित्सक एवं संगोष्ठी की आयोजक अध्यक्ष डा. नीना बोहरा कहती हैं कि महिलाओं के मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दे पर विचार करते समय हमें इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध का गहरा मानसिक प्रभाव पड़ता है। यौन हिंसा एवं अपराध की शिकार महिलाओं का मनोचिकित्सकीय मदद अवश्य मिलनी चाहिए अन्यथा इसके कारण उनमें ताउम्र के लिए मानसिक समस्याएं पैदा हो सकती हैं।


मुंबई की मनोचिकित्सक डा. रूकशीदा सइदा ने कहती हैं कि यह देखा गया है कि जो महिलाएं इलाज के लिए आती हैं उनमें पुरुषों की तुलना में बेहतर परिणाम देखने को मिलते हैं लेकिन कम महिलाएं ही मानसिक समस्याओं के उपचार के लिए सामने आती हैं।


कोलकाता की मनोचिकित्सक डा. शर्मिष्ठा चक्रवती ने कहा कि महिलाओं का मानसिक स्वास्थ्य पुरुषों से अलग होता है और वे पुरुषों की तुलना में सिजोफ्रेनिया और बाई पोलर डिसआर्डर से अधिक पीड़ित होती हैं। आज महिलाओं में मादक द्रव्यों का भी प्रयोग बढ़ रहा है।


महिलाओं को हार्मोन समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है। इसके अलावा उनके साथ घर एवं दफ्तर में यौन दुर्व्यवहार एवं यौन हिंसा होने का खतरा अधिक रहता है। इसके कारण आज महिलाओं के मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दे को अधिक महत्व दिए जाने की जरूरत है।


गुंडागर्दी का पर्याय बन गई राजनीति

कमल जगाती


नैनीताल। उत्तराखण्ड के नैनीताल में मुख्यमंन्त्री ने राज्य सिविल सेवा के नए बैच को कार्यालयों में महिलाओं के साथ दुराचार संबंधी विषय पर नैतिक मूल्यों का संदेश दिया और आम लोगों के साथ अच्छा व्यवहार बनाए रखने का निर्देश दिया ।आर.एस.टोलिया प्रशासनिक अकेडमी में 12 हफ्ते के नायब तहसीलदार ट्रेनियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम चल रहा है । कार्यालयों में महिला कर्मचारियों के साथ शारीरिक शोषण नामक सब्जेक्ट पर चल रहे इस महत्वपूर्ण कोर्स में 47 ट्रेनी अधिकारी शामिल हैं । आयुक्त और मुख्यमंन्त्री के सचिव राजीव रौतेला ने बताया कि पहले इस अकादमी में देशभर से प्रशिक्षु आते थे लेकिन कालांतर में इसे उत्तराखण्ड तक सीमित कर दिया गया । इन प्रशिक्षुओं की यहां और अल्मोड़ा में ट्रेनिंग चल रही है । प्रोफेसर, अधिकारी व अन्य लोगों को भी ट्रेनिंग कराई जा रही है । उन्होंने कहा कि सभी मुख्यमंन्त्री के विचार, निर्देश और दिशानिर्देशों को ध्यान से सुनकर जीवन मे क्रियान्वित करें । इस दौरान छात्र छात्राओं के लिए कुमाऊनी भाषा की पुस्तकों का भी अनावरण किया ।      मुख्यमंन्त्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बताया कि उन्हें लोक भाषाओं में विश्वास है और इसका व्यापक प्रचार प्रसार और संग्रहालय में संरक्षण होना चाहिए । उन्होंने कहा कि हमें अपनी लोक भाषा मे बोलना चाहिए, हमने बोलना छोड़ा, इसलिए ही हमारी भाषा कम होती जा रही है । उन्होंने कहा की आप अधिकारियों को गांव गांव में अच्छा व्यवहार और काम करना चाहिए । उन्होंने ये भी कहा कि इंसान के अंदर और बाहर का रंग एक जैसा होना चाहिए, अच्छा बनना चाहिए क्योंकि उनसे ही समाज चलता है । उन्होंने राज नेताओं पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राजनीति बदमाशी का पर्याय हो गयी है । नेताओं ने कुछ न कुछ तो बनना ही है । कर्मचारियों को तो डेली वेज में रखा जा सकता है लेकिन विधायक तो चुनना ही पड़ेगा । माता पिता ने अच्छे बच्चों को इस क्षेत्र में आने से रोकना नहीं चाहिए । मुख्यमंन्त्री ने ट्रेनीज को बताया कि आपका सामना अच्छे और गंदे लोगों के साथ पड़ेगा, आप लोग भी तो हमारे बीच से ही हो । जिम्मेदारी, नैतिक मूल्यों के लिए जगह होने के बाद आएगी । आप अपने काम को दायित्व समझकर करें । मैं मुख्यमंन्त्री कह रहा हूँ कि हर काम नहीं हो सकता, लेकिन आप मुस्कुराकर सामना करें । मुख्यमंन्त्री के साथ इस बीच उनके सचिव मेहरबान सिंह नेगी और सलाहकार रमेश भट्ट रहे । इसके अलावा आयुक्त राजीव रौतेला, डी.आई.जी.जगत राम जोशी, जिलाधिकारी सवीन बंसल, एस.एस.पी. सुनील कुमार मीणा समेत कई प्रशासनिक अधिकारी आदि मौजूद रहे ।


संप्रदायिकता में घोला जहर, भूले कसम

लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शनिवार को मेरठ के अफसरों के विवादित बोल का वीडियो जारी करके भाजपा पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि भाजपा ने देश में सांप्रदायिकता का जहर इस कदर घोला है कि अफसरों में संविधान की कसम की कोई कद्र ही नहीं है।


प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, “भारत का संविधान किसी भी नागरिक के साथ इस भाषा के इस्तेमाल की इजाजत नहीं देता और जब आप अहम पद पर बैठे अधिकारी हैं तब तो जिम्मेदारी और बढ़ जाती है। भाजपा ने संस्थाओं में इस कदर सांप्रदायिकता का जहर घोला है कि आज अफसरों को संविधान की कसम की कोई कद्र ही नहीं है।”


गौरतलब है कि नागरिकता संसोधन कानून (सीएए) को लेकर 20 दिसंबर को मेरठ शहर में हुए उपद्रव के बाद सोशल मीडिया पर एक अफसर का वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह अटपटे बोल बोलते हुए दिख रहे हैं। वीडियो एक मिनट 43 सेकेंड का है। अफसर के हाथ में डंडा और हेलमेट है। प्रोटेक्टर जैकेट पहनकर गली में जाते दिखाई पड़ रहे हैं। वह मोबाइल से वीडियो बनाते हुए गली में वापस मुड़ते हैं। एक समुदाय के लोगों से कहते हैं कि जो हो रहा है, वह ठीक नहीं है।


इस पर वहां खड़ा एक व्यक्ति कहता है कि जो लोग माहौल बिगाड़ रहे हैं, वे गलत हैं। इस पर अफसर कहते हैं कि उनको कह दो कि “वे दूसरे मुल्क चले जाएं। कोई गलत बात मंजूर नहीं होगी।”इस दौरान उन्होंने कहा कि “यह गली मुझे याद हो गई है। जो एक बार याद कर लेता हूं तो उसे भूलता नहीं हूं। एक-एक आदमी को जेल भेज दूंगा। सुन लिया न।” इसके बाद वह फोर्स के साथ चले जाते हैं।


अयोध्या में नई घटने दी कोई अप्रिय घटना

अयोध्या। अयोध्या में एक बार फिर दिखी गंगा जमुनी तहजीब चारों तरफ रहा शांति का माहौल जुमे की नमाज को लेकर प्रशासन के आला अधिकारी रहे सतर्क मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में संवेदनशील इलाकों में पुलिस ने गस्त भी लगाया और रूट मार्च किया। कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं प्राप्त हुई है। आज जुम्मे की नमाज को देखते हुए पुलिस प्रशासन अलर्ट पर थी ।
अनिल निषाद


हिंसा से सबक, चाक-चौबंद रहा प्रशासन

मेरठ। बीते शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद वेस्ट यूपी के कई जिलों में हुई हिंसा में सबक लेते हुए पुलिस प्रशासन पूरी तरह से चौकन्ना है। जगह-जगह भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया। कड़ी सुरक्षा के बीच सभी मस्जिदों में जुमे की नमाज अदा की गई। एडीजी प्रशांत कुमार, आईजी आलोक सिंह, डीएम अनिल ढींगरा, एसएसपी अजय साहनी, एसएसपी मेरठ अखिलेश नारायण सिंह ,सीओ कोतवाली दिनेश शुक्ला भारी फोर्स के साथ नमाज को शांतिपूर्वक संपन्न करने के मौके पर डटे रहे।


अरविंद शर्मा


 


एसडीएम की अध्यक्षता में व्यवस्था बैठक

एसडीएम की अध्यक्षता में पीस कमेटी की बैठक का हुआ आयोजन एसडीएम की अध्यक्षता में पीस कमेटी की बैठक का हुआ आयोजन


जसवन्त कुमार वर्मा
लखीमपुर खीरी। सिंगाही थाना परिसर में आयोजित पीस कमेटी की बैठक में एसडीएम ने लोगों को एनआरसी और सीएए से संबधित जानकारी देकर शांति बनाए रखने और अफवाहों से बचने की अपील की गई।
थाना परिसर में एसडीएम निघासन ओपी गुप्ता की अध्यक्षता में पीस कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें थाना क्षेत्र व कस्बे के संभ्रांत व्यक्तियों को बुलाया गया और क्षेत्र से आए ग्राम प्रधान व संभ्रांत व्यक्तियों से उनके क्षेत्र में होने वाली समस्याओं के बारे में जानकारी ली। लोगों से अपने अपने क्षेत्र में शांति बनाए रखने की अपील की। बैठक मे ओपी गुप्ता ने एन आर सी/सी ए बी के विरोध मे चल रहे विरोध प्रदर्शन को देखते हुए इस संबंध में बैठक में आए सभी संभ्रांत व्यक्तियों से बात चीत की और कहा कि यह एन आर सी किसी भी धर्म अथवा जाति विशेष के विरुद्ध नहीं है। क्षेत्राधिकारी प्रदीप कुमार वर्मा ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि इससे किसी भी नागरिक को घबराने की जरूरत नहीं है और इसमें कोई भी कार्य बाही बिना किसी जांच पड़ताल के नहीं की जाएगी। थानाध्यक्ष अजय कुमार रॉय ने शासन स्तर से भेजे गए पंपलेट ग्राम प्रधान व पीस कमेटी में सभी लोगों को वितरित किए।जिसमें एनआरसी/सीए बी के बारे में जो लोगों में भ्रम है उसे दूर करने के लिए पूरी जानकारी दी गई है।


शिवसेना से जलती है भाजपाः आदित्य

मुंबई। बीते महीने महाराष्ट्र में सत्ता का महासंग्राम थमा और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। विधानसभा चुनाव के नतीजों में सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद भारतीय जनता पार्टी महाराष्ट्र की सत्ता से बाहर हो गई। शिवसेना ने एनसीपी और कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाई। शिवसेना प्रमुख के बेटे आदित्य ठाकरे भी चुनावी मैदान में थे और वरली विधानसभा क्षेत्र से जीत दर्ज कर पहली बार MLA बने। आदित्य ने BJP पर तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी शिवसेना से जलती है क्योंकि अब वह सत्ता से बाहर है।
आदित्य ठाकरे ने कहा, 'सत्ता से बाहर होने पर वो (BJP) दुखी हैं और मैं उन्हें कभी 'बरनॉल' लगाने की सलाह नहीं दूंगा। हम उनका दर्द समझते हैं लेकिन हम अपने काम पर पूरा ध्यान दे रहे हैं। इसकी वजह है कि लोगों ने हम पर विश्वास जताया है। हमने जनता से किए अपने वादों को पूरा करना भी शुरू कर दिया है, जैसे कि कर्ज माफी, 10 रुपए में भोजन या फिर लोगों को घर मुहैया कराना हो।'


'गुरु गोविंद जयंती' पर अवकाश की घोषणा

रायपुर। राज्य के सिक्ख धर्मावलंबी आगामी दो जनवरी 2020 को गुरू गोविंद सिंह जी की जयंती धूम-धाम से मना सके इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ऐच्छिक अवकाश प्रदान करने की घोषणा की है। 
श्री बघेल इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश जारी किए हैं। गौरतलब है कि रायपुर उत्तर के विधायक कुलदीप सिंह जुनेजा और छत्तीसगढ़ राज्य अल्प संख्यक आयोग के अध्यक्ष महेन्द्र छाबड़ा के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ राज्य गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के पदाधिकारियों द्वारा मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से मुलाकात कर दो जनवरी 2020 को ऐच्छिक अवकाश प्रदान करने का आग्रह किया था, जिस पर मुख्यमंत्री ने सहमति प्रदान की है।


'पूर्व सीएम' ने बहू का सामान मायके भेजा

पटना। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव और उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय के तलाक का मुकदमा चल रहा है। इसी बीच शुक्रवार को तेज प्रताप के घर से ऐश्वर्या का सामान उनके घर भिजवा दिया गया। हालांकि, तेज प्रताप के ससुर और आरजेडी विधायक चंद्रिका राय ने अपनी बेटी का सामान गाड़ी से उतरवाने से इस आशंका में मना कर दिया कि उनके परिवार को फंसाने के लिए उसमें कोई आपत्तिजनक चीज हो सकती है।


बताया गया कि चंद्रिका राय ने शास्त्री नगर पुलिस थाने में इस संबंध में एक शिकायत दर्ज भी दर्ज कराई है। चंद्रिका राय ने जोर देकर कहा, 'जो सामान मेरे घर भेजा गया, उसे हम तभी लेंगे जब वहां लालू प्रसाद के परिवार का कोई सदस्य और इसकी निगरानी के लिए कोई मैजिस्ट्रेट उपस्थित हों।'


पुलिस बोली-जरूरत पड़ी तो दर्ज करेंगे मुकदमा
गौरतलब है कि बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने अपनी बहू ऐश्वर्या को पिछले हफ्ते अपने घर से कथित रूप से निकाल दिया था। ऐश्वर्या का ससुराल और मायका कुछ सौ मीटर की दूरी पर स्थित है। शास्त्री नगर के एसएचओ विमलेंदु कुमार ने बताया कि चंद्रिका राय ने राबड़ी देवी के खिलाफ जो आरोप लगाए हैं, वह कोई संज्ञेय अपराध नहीं है इसलिए हमलोग प्रारंभिक जांच कर रहे हैं और बाद में अगर जरूरत पड़ती है तो हम संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज करेंगे।


यह हाई वोल्टेज ड्रामा गुरुवार देर रात शुरू हुआ, जब दो पिकअप वाहन ऐश्वर्या का सामान लेकर चंद्रिका राय के आवास पर पहुंचे जहां ऐश्वर्या एक हफ्ते से रह रही हैं। इन दोनों वाहनों में राबड़ी देवी के 10 सर्कुलर रोड स्थित बंगले से सामान लोड किया गया था। विधायक के सुरक्षा गार्डों ने जब उन्हें इसकी जानकारी दी तो वह नाराज हो गए।


'जरूरी सामान रखकर भेज दिया कूड़े का ढेर'
चंद्रिका राय ने मौके पर मौजूद संवाददाताओं से कहा, 'हमें इसकी जानकारी नहीं है कि इसमें क्या क्या सामान है। हमने केवल अपनी बेटी का मोबाइल फोन, आभूषण और उसके पास मौजूद कुछ नकदी की मांग की थी। मुझे लगता है कि उन्होंने उन सामान को अपने पास रखा है और हमारे पास कूड़े का यह ढेर भेज दिया है।'


उन्होंने कहा, 'हम मैजिस्ट्रेट की उपस्थिति के बिना इन सामान को उतरवाने की अनुमति नहीं दे सकते हैं। उनके (लालू प्रसाद के परिवार के) चरित्र को देखते हुए हो सकता है कि इसमें उन्होंने शराब की बोतलें अथवा कुछ अन्य अवैध सामान हमें फंसाने के लिए भेज दिया हो। उनके परिवार का कोई व्यक्ति यहां क्यों नहीं मौजूद है, जो कानूनी तौर पर जरूरी है।'


इस मामले पर लालू प्रसाद की बड़ी बेटी मीसा भारती ने कहा, 'उनका (राय का) यह आरोप घिनौना है कि हमने नकदी और आभूषण अपने पास रख लिए हैं, वह सामान उतारने की अनुमति क्यों नहीं देते हैं। वह उसकी विडियॉग्रफी करा सकते हैं।'


सीएमओ के ट्वीट से उपद्रवी हैरान

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में हिंसा के आरोपियों के खिलाफ हो रही कार्रवाई को सही ठहराया है। 'योगी आदित्यनाथ ऑफिस' नाम के ट्विटर हैंडल पर किए गए सिलसिलेवार ट्वीट्स में यह कहा गया है कि हर हिंसक गतिविधि अब रोएगी क्योंकि यूपी में योगी सरकार है। ट्वीट में यह भी कहा गया है कि हर दंगाई हतप्रभ है और हर उपद्रवी हैरान है।


आपको बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी के विरोध में हुए प्रदर्शनों में यूपी के कई जिलों में हिंसा हुई थी। हिंसा में शामिल लोगों के विडियो और फोटो के आधार पर उनको गिरफ्तार किया जा रहा है। अब तक एक हजार से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। सरकार या निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के मामले में लगभग 500 लोगों को नोटिस भी जारी किए गए हैं।


'उपद्रवियों से ही होगी नुकसान की भरपाई'
इस मामले में योगी सरकार सख्ती से कार्रवाई कर रही है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी कहा है कि उपद्रवियों की पहचान करके उनकी संपत्ति जब्त करके नुकसान की भरपाई की जाएगी। अब ट्विटर पर उनके ऑफिस ने ट्वीट किया है, 'यूपी को हिंसा में झोंकने के अरमान रखने वालों के मंसूबों पर योगी सरकार की सख्ती से तुषारापात। सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले उपद्रवियों से ही क्षतिपूर्ति के सिंहनाद में उपद्रवियों ने अपना संभावित अंजाम देख लिया। यूपी अब पूर्णतः शांत है।'


इसी हैंडल पर किए गए एक और ट्वीट में लिखा गया है, 'हर दंगाई हतप्रभ है। हर उपद्रवी हैरान है। देखकर योगी सरकार की सख्ती, मंसूबे सभी के शांत हैं। कुछ भी कर लो अब, क्षतिपूर्ति तो क्षति करने वाले से ही होगी, यह योगी जी का ऐलान है। हर हिंसक गतिविधि अब रोएगी क्योंकि यूपी में योगी सरकार है।'


कई जिलों में प्रभावित हुई इंटरनेट सेवा
गौरतलब है कि हिंसा के पहले और बाद में यूपी के कई जिलों में धारा 144 लागू की गई। दोबारा हिंसा की आशंका देखते हुए कई जिलों में इंटरनेट भी बंद किया गया। हालांकि, अब हिंसा की घटनाएं काबू में हैं और उत्तर प्रदेश सरकार उपद्रवियों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई कर रही है।


एएमयू के 1000 अज्ञात छात्रों पर मामला

अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में पुलिस ने 10,000 अज्ञात छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक 15 दिसंबर को कैंपस में प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के मामले में यह केस दर्ज किया गया है। बता दें कि 15 दिसंबर को कैंपस में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी के विरोध में काफी बवाल हुआ था। उधर, मुजफ्फरनगर में करीब एक हफ्ते बाद शनिवार को इंटरनेट से बैन हटा लिया गया।


एएमयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष सलमान इम्तियाज ने आरोप लगाया कि 15 तारीख को पुलिस ने छात्रों पर बर्बरता की थी जिसमें कई छात्र घायल हुए थे। बाद में यूपी पुलिस ने अपने ट्विटर हैंडल से एक विडियो ट्वीट किया। साथ ही लिखा, 'हम पहले से ही कहते आ रहे हैं कि एएमयू गेट को किसी सुरक्षा एजेंसी द्वारा नहीं तोड़ा गया था। यह विडियो इसकी पुष्टि करता है।'


गेट पर दिखे थे प्रदर्शनकारी
एएमयू कैंपस में 15 दिसंबर को हुई हिंसा के इस विडियो में सैकड़ों की तादाद में प्रदर्शनकारी यूनिवर्सिटी के गेट की तरफ दौड़ते हुए बढ़ते दिखे थे। गेट को जोर-जोर से हिलाकर तोड़ते हुए भी दिखे थे। यूनिवर्सिटी के सुरक्षाकर्मियों ने गेट को बंद कर दिया था लेकिन एएमयू के गेट पर खड़े प्रदर्शनकारी काफी उत्तेजित नजर आए।


विडियो में अलग कहानी
इस विडियो के बाद एसएसपी अलीगढ़ आकाश कुलहरी ने कहा था, 'विडियो में जो दिख रहा है वह सच्चाई बताता है। हमने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देकर कहा है कि एएमयू छात्र काफी आक्रोशित थे और जानबूझकर तनाव पैदा कर रहे थे। पुलिस ने आत्मरक्षा के लिए हल्का बल प्रयोग किया। मामला कोर्ट में है।' 15 दिसंबर को एएमयू में सीएए को लेकर काफी हंगामा हुआ था। कैंपस में आंसू गैस के गोले दागे गए थे। इस दौरान एक छात्र का हाथ कट गया था।


एएमयू में कैंडल मार्च के दौरान 1200 पर केस
पुलिस की कार्रवाई का शिकार हुए जामिया मिल्लिया इस्लामिया और एएमयू के छात्रों के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए 25 दिसंबर को कैंपस में कैंडल मार्च निकाला गया था। इस दौरान 1200 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया। पुलिस ने कहा कि निषेधात्मक आदेशों के उल्लंघन के आरोप में यह मामला दर्ज किया है।


जेल से छूटते ही 4 को मारा अब तक 17

हैदराबाद। उम्रकैद की सजा काट रहे एक सीरियल किलर को अच्छे व्यवहार के कारण जेल से रिहा कर दिया गया था। अब 4 लोगों की मौत के मामले में उसे फिर गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक ये चारों महिलाएं हैं। इससे पहले भी उसने दर्जनों महिलाओं की हत्या की है।
महबूबनगर पुलिस ने शुक्रवार को येरुकली श्रीनू को जेल से छूटने के बाद हत्या के चार मामलों में गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक श्रीनू हत्या के कम से कम 13 अन्य मामलों में एक अभियुक्त के रूप में नामित किया गया था। हालांकि, उसे 11 मामलों में एक ट्रायल कोर्ट ने बरी कर दिया था।


पुलिस अधिकारियों के मुताबिक 2017 में श्रीनू ने 5 महिलाओं की हत्या की थी। 2009 में एक मर्डर के मामले में कोर्ट ने उसे आजीवन करावास की सजा सुनाई। 2013 में उसके अच्छे व्यवहार को देखते हुए उसे जेल से छोड़ दिया गया।


जेल से छूटा और फिर करने लगा मर्डर
पुलिस का दावा है कि 2014 में श्रीनू ने फिर हत्याएं शुरू कर दीं। 2015 तक उसने करीब 15 महिलाओं की हत्या की। इसके बाद उसे एक अन्य हत्या के मामले में दोषी करार दिया गया। उसे तीन साल के लिए जेल की सजा हुई। 2018 में वह जेल से रिहा हुआ।


हत्या के अब कुल 17 मामले
श्रीनू पर अब हत्या के 17 मामले चल रहे हैं। अगर उसे दोषी ठहराया जाता है, तो वह देश के सबसे क्रूर सीरियल किलर में से एक होगा। इतना ही नहीं उसने अपने भाई की सास की भी हत्या की थी। वह मानता था कि उनके अवैध संबंध थे।


शुक्रवार को हुआ गिरफ्तार
महबूबनगर के एसपी रेमा राजेश्वरी ने कहा कि श्रीनू को 53 वर्षीय महिला की हत्या के आरोप में शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया था। उसकी पत्नी सलम्मा को भी चोरी के गहने बरामद करने के बाद गिरफ्तार किया गया था। जांच के दौरान श्रीनू ने तीन और हत्याओं को कबूल किया जो पिछले वर्ष में किए गए थे।


जीएसटी 3 में विलंब से बढ़ेगी दुश्वारियां

नई दिल्ली। जीएसटी का रिटर्न भरने वालों के लिये सरकार के द्वारा कुछ सख्ती की जा रही है। जीएसटीआर 03बी का रिटर्न अगर 20 दिन विलंब से भरा तो करदाता की दुश्वारियां बढ़ सकती हैं। 
वित्त विभाग के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि केंद्र सरकार ने नया सर्कुलर नंबर 129 जारी कर दिया है, जिसमंे साफ कर दिया है कि विभाग के द्वारा जीएसटी भरने वाले सभी व्यापारियों को प्रत्येक महीने की 17 तारीख को सूचना दी जायेगी कि 20 तारीख पास आ गयी है, अपना – अपना रिटर्न भर दें।


सूत्रों ने आगे बताया कि अगर 20 तारीख को रिटर्न नहीं भरा गया तो 21 तारीख को एक मैसेज फिर आयेगा कि आपका रिटर्न नहीं भरा गया है। इसके बाद अगर 25 तारीख तक रिटर्न नहीं भरा गया तो सरकार के द्वारा 03 ए का नोटिस जारी कर 15 दिन के अंदर टैक्स भरने के लिये ताकीद किया जायेगा।


सूत्रों की मानें तो इस पंद्रह दिन की अवधि में भी अगर टैक्स नहीं भरा गया तो सरकार उस करदाता का उस माह का सेल्फ असिसमेंट कर मर्जी से टैक्स थोप देगी जो हर हाल में भरना टैक्स पेयर की बाध्यता होगी, अन्यथा सरकार के द्वारा उस करदाता का बैंक एकाउंट सीज करना, दुकान, फैक्ट्री का माल जप्त करना और जीएसटी नंबर निरस्त करने जैसी कार्यवाही को अंजाम दिया जा सकता है।


सूत्रों ने बताया कि इस मामले में सभी मैसेज और ईमेल ऑटोमेटिक जनरेटेड होंगे। सूत्रों ने इस बात का मशिवरा भी दिया है कि टैक्स पेयर को चाहिये कि वे अपना जीएसटीआर 01 हर हाल में 10 जनवरी तक भर दें अन्यथा इस पर दो सौ रूपये प्रतिदिन की पेनाल्टी लगायी जायेगी।


सर्दी में नारियल तेल लगाने के फायदे

नारियल तेल को बालों में लगाने के तो कई फायदे आप जानते ही होंगे, लेकिन क्या आपको पता हैं कि इसे आप मॉइश्चराइजर, बॉडी क्रीम या बॉडी लोशन की जगह पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यदि आप अपनी त्वचा की नमी बनाए रखने के लिए मेहंगे उत्पाद खरीदते हैं, तो अब से इनके विकल्प के रूप में आप नारियल तेल भी त्वचा पर नहाने के बाद लगा सकते है।
सर्द मौसम में नहाने के बाद नारियल तेल लगाना कही ज्यादा फायदेमंद होता है। आइए, जानते हैं सर्द मौसम में नहाने के तुरंत बाद नारियल तेल लगाने के कई फायदे –


1 नहाने के बाद अगर आपको महंगे मॉइश्चराइजर, बॉडी क्रीम या बॉडी लोशन प्रयोग करने की आदत है, तो आपके लिए यह काम नारियल तेल भी कर सकता है, वह भी कम दामों पर। नारियल तेल आपकी त्वचा को चिकनाई प्रदान करेगा।
2 अगर आपको शरीर के किसी अंग में इंफेक्शन या खुजली की समस्या है, तो नारियल तेल के साथ कपूर मिलाकर अपने बाथरूम में जरूर रखें। हर दिन नहाने के बाद संबंधित स्थान पर इसे लगाना आपको त्वचा की समस्याओं से निजात दिलाएगा।
3 यदि आप अंर्तवस्त्रों के कारण होने वाले निशान, जलन, सूजन फिर खुजली से परेशान हैं, तब भी नारियल तेल और कपूर का यह मिश्रण आपके लिए बेहद फायदेमंद चीज है।
4 चेहरे की सफाई, खास तौर से मेकअप साफ करने के लिए नारियल का तेल किसी भी क्लिंजिंग मिल्क से ज्यादा बेहतर है। रुई के फाहे में थोड़ा नारियल तेल लेकर चेहरे की सफाई करें या फिर पहले चेहरे पर तेल लगा लें फिर रुई से साफ कर लें।


5 हेयर रिमूविंग के लिए नारियल का तेल एक बढिय़ा विकल्प है। हेयर रिमूव करने से पहले नारियल तेल से मसाज करने पर आपकी त्वचा नर्म, मुलायम और चिकनी हो सकती है। लेकिन वैक्सिंग पर यह प्रयोग कारगर नहीं होगा।


बोरियत को खत्म कर देंगे प्रिंटेड ब्लेजर

स्टाइल को लेकर आप विंटर में भी बोरियत फील नहीं करेंगी। बस आपको जरूरत है अपने वार्डरोब में कुछ कलर्स ऐड करने की। अगर आपने अभी तक ऐसा नहीं किया है तो बिल्कुल देर ना करें। क्योंकि सर्दियों को बोरियत में कोई नहीं बिताना चाहता। तो अपने वार्डरोब के लिए सबसे सही आइडिया होगा कि इस सीजन में प्रिंटेड ब्लेजर खरीदे जाएं। ताकि आप इन्हें पैन्ट्स, ट्राउजर,डेनिम या लॉन्ग स्कर्ट्स के साथ कैरी कर सकें। 
प्रिंटेड ब्लेजर बहुत ही कूल और क्यूट लुक देते हैं। खासबात यह है कि ये ऐज को रियल ऐज से कहीं कम दिखाते हैं, मतलब आपको यंग दिखना है तो कलरफुल प्रिंटेड ब्लेजर खरीद लें। ये ब्लेजर आपको अलग-अलग प्राइज और वरायटी में ऑनलाइन और रिटेल आउटलेट्स पर मिल जाएंगे। हां, इनकी कीमत में इनकी क्वालिटी और ब्रैंड के हिसाब से काफी अंतर देखने को मिलेगा।
अगर आप कुछ दिनों की सर्दी मानकर अपना बजट नहीं बिगाडऩा चाहती हैं लेकिन प्रिंटेड ब्लेजर पहनना भी चाहती हैं तो इसका भी सलूशन है। आप ऑनलाइन सेल और डिसकाउंट में इसे खरीद सकती हैं। बस खरीदारी करते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि इसका कलर कॉम्बिनेशन ऐसा हो, जिसे आप अधिक से अधिक ड्रेसेज के साथ टीमअप कर सकें।


पंगा लेने से ना डरने वाली पंगागर्ल कंगना

मुंबई। अपने बेबाक बयानों, तेज-तर्रार हाजिर-जवाबी के साथ, किसी से भी पंगा लेने से न डरने वाली बॉलिवुड की पंगा गर्ल कंगना रनौत कहती हैं कि फिल्म इंडस्ट्री के लोग सामने से गले गलाकर किस करते हैं और पीछे पलटते ही अच्छी तरह वार करते हैं। सोमवार की शाम मुंबई में अभिनेत्री कंगना रनौत की फिल्म पंगा का ट्रेलर लॉन्च किया गया।


ट्रेलर लॉन्च के इस खास मौके पर फिल्म की डायरेक्टर अश्विनी अय्यर तिवारी ने कहा, कंगना के बारे में कोई अच्छी बात कहता ही नहीं है, कोई कुछ कहता है तो कोई कुछ और। मैं आज यहां एक बात साफ कर दूं कि कंगना को बहुत ज्यादा जज किया ज्यादा है, वह सेट पर आग नहीं लगाती है। 
कंगना की मानें तो उन्होंने जब भी कोई पंगा लिया है, उनके जीवन में कोई न कोई ग्रोथ जरूर हुआ है। पहली बार उन्होंने 15 साल की उम्र में अपने पिता से पंगा लिया और कई मुसीबतें एक साथ उनके सर पर आ गईं। वैसे कंगना मानती हैं कि अगर वह पिता से पंगा न लेती तो आज जिस जगह पर हैं, वहां नहीं होतीं। 


कंगना ने बताया कि पंगा लेने से पहले किन बातों की सावधानी बरतनी चाहिए। कंगना बताती हैं, पंगा लेने से पहले यही सावधानी बरतनी चाहिए कि आप जो भी कहें, फिर चाहे वह गलत हो या सही, सच कहें। देखिए पंगा लिया है तो रायता तो फैलने वाला ही है, लेकिन आप यह तय कर लें कि किसी भी मामले में झूठ नहीं बोलना है। लोग आप जैसे हैं, आपको अपना लेंगे, लेकिन वह आपके द्वारा कहा गया झूठ नहीं अपनाएंगे। मैंने हमेशा वही बात कही है, जिसका कोई मतलब है। मैंने कहीं पढ़ा था कि सच को साबित करने में थोड़ा टाइम जरूर लगता है, लेकिन सच को छुपाया नहीं जा सकता है।


कंगना की फिल्म पंगा 24 जनवरी को वरुण धवन और श्रद्धा कपूर की फिल्म स्ट्रीट डांसर के साथ देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज़ हो रही है। फिल्म में कंगना के अलावा रिचा चड्ढा, जस्सी गिल और नीना गुप्ता अहम भूमिकाओं में हैं। शाइनी अय्यर तिवारी ने फिल्म का डायरेक्शन किया है।


सलमान के जन्मदिन पर मिली डबल खुशी

मुंबई। बॉलिवुड के सुपरस्टार सलमान खान शुक्रवार यानी 27 दिसंबर को अपना जन्मदिन मनााया। वहीं, ऐक्टर को अपने जन्मदिन के मौके पर एक और खुशी मिली है। सलमान खान की बहन अर्पिता दूसरी बार मां बनी हैं। उन्होंने बेटी की जन्म दिया है। उधर, दीपिका पादुकोण ने सलमान खान के साथ काम करने को लेकर बात की है। फिलहाल ऐक्ट्रेस अपनी अपकमिंग फिल्म छपाक के प्रमोशन में व्यस्त है। 
दीपिका पादुकोण से हाल ही में एक बातचीत के दौरान सलमान खान के साथ काम करने को लेकर पूछा गया तो ऐक्ट्रेस ने कहा, मैं सलमान, आमिर, रितिक के साथ काम नहीं किया। इस तरह बहुत से ऐक्टर्स जिनके साथ मैंने काम नहीं किया है। और ये अभी पेंडिंग हैं, इसलिए देखते हैं कि ऐसा कब होता है।


कुछ सालों पहले ऐसी रिपोर्ट्स आई थीं कि दीपिका पादुकोण सलमान खान के साथ साजिद नाडियावाला किक में काम करेंगी लेकिन इस फिल्म में सलमान खान के साथ जैकलीन फर्नांडिस नजर आई थीं। वहीं, फिर ये खबरें आईं किक 2 में दीपिका पादुकोण नजर आएंगी लेकिन सलमान खान ने इस बात को खारिज किया था। उन्होंने कहा कि ऐक्ट्रेस के साथ काम करना पसंद करेंगे। 
वर्कफ्रंट की बात करें तो दीपिका पादुकोण मेघना गुलजार की फिल्म छपाक में नजर आएंगी। इस फिल्म में उनके साथ विक्रांत मेसी भी नजर आएंगी। यह फिल्म 10 जनवरी, 2020 को रिलीज होगी। इसके अलावा वह फिल्म में 83 में अपने पति रणवीर सिंह के साथ नजर आएंगी। वहीं, सलमान खान की फिल्म दबंग 3 हाल ही में रिलीज हुई है।


1 साल में 56 मर्डर में से 54 केस सुलझाए

राणा ओबरॉय


लुधियाना। महानगर में पुलिस कमिश्नरेट ने वर्ष 2019 में हत्या, लूटपाट और डकैती के मामलों को सुलझाने में बड़ी सफलता का दावा किया है। पुलिस ईयर एंडर में पेश रिकॉर्ड के अनुसार, वर्ष 2019 में 56 लोगों की हत्या हुई। इसमें से पुलिस ने 54 मामलों को सुलझा लिया है। दो अन्य मामलों में मृतकों की पहचान नहीं हो पाई है। वहीं इस साल 32 आपराधिक गैंग के 148 सदस्यों को पुलिस पकड़ चुकी है। इन अपराधियों के खिलाफ पहले से ही 120 मामले दर्ज हैं। गैंग के इन सदस्यों से पुलिस ने 26 पिस्तौल, 86 वाहन, 16 लैपटॉप, 13 एलईडी, 152 मोबाइल और 17 लाख रुपये बरामद किए हैं।


इस साल डकैती के 31 मामले दर्ज हुए। इनमें से 28 को ट्रेस कर लिया गया। पुलिस ने 21 डकैती के मामलों में आरोपितों के कब्जे से 46 लाख रुपये की केस प्रॉपर्टी जब्त की। आठ डकैती के मामलों में पुलिस ने 36.8 लाख रुपये बरामद किए। पुलिस ने इस साल में 397 झपटमारी की वारदातों में से 311 को और चोरी के 304 मामलों में 205 मामलों को सुलझाया है। पकड़े आरोपितों से 3.23 करोड़ रुपये बरामद किए। पुलिस ने लॉटरी बेचने वालों पर 376 मामले दर्ज कर 783 अपराधियों को गिरफ्तार किया। आरोपितों के कब्जे से 25 लाख रुपये बरामद किए।


733 नशा तस्कर पकड़े, 19 किलो हेरोइन बरामद


पुलिस ने ईयर एंडर में दावा किया है कि पूरे साल में पुलिस ने 555 मामलों में 733 नशा तस्करों को काबू किया है। इसमें पुलिस ने आरोपितों के कब्जे से 27 किलो अफीम, 645 किलो चूरापोस्त, 19 किलो हेरोइन, 209 किलो गांजा, 1.4 किलो चरस, 600 ग्राम स्मैक, पांच किलो नशीला पाउडर और 1.8 लाख नशीली गोलियां बरामद कीं। वहीं शराब तस्करी में 864 लोगों को गिरफ्तार किया। कुल 720 मामले दर्ज हुए। आरोपितों के कब्जे से 55 हजार 216 लीटर शराब बरामद की।


पुलिस की उपलब्धियां


ई-चालान सिस्टम किया शुरू


पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल ने 11 नवंबर को छह चौक में ई-चालान सिस्टम शुरू किया। पुलिस ने अब तक रेड लाइट जंप करने वाले 3600 वाहनों के ई-चालान किए। रात के समय महिलाओं को घर छोड़ने की मुहिम पुलिस ने महिलाओं को रात के समय घर छोड़ने के लिए हेल्पलाइन नंबर 112 शुरू किया। एक पीसीआर गाड़ी जगराओं पुल और एक शेरपुर पुल के पास खड़ी की गई। रात को 112 नंबर पर कोई महिला फोन करती है तो उसी समय पीसीआर पहुंच जाती है और फिर महिला को गाड़ी में घर छोड़ने जाती है।


शिकायतों का स्टेटस जानने के लिए सिंगल विंडो सिस्टम


लोगों के लिए उनकी शिकायतों का स्टेटस जानने के लिए नो युअर केस योजना के तहत सिंगल विंडो सिस्टम बनाया गया। हर शनिवार को थानों में अधिकारी लोगों की शिकायतों का निवारण करते हैं या उनकी कंप्लेंट के स्टेटस की जानकारी देते हैं।


सुरक्षा के लिए ये उठाए कदम


छेड़छाड़ करने वालों पर शिकंजा कसने के लिए स्पेशल टीम बनाई गई। सपा सेंटर की मैनेजमेंट को भी नियमों का पालन करने के निर्देश दिए गए। रात को 12 बजे सभी रेस्तरां को बंद करने के आदेश लागू किए। महिलाओं को खुद की सुरक्षा करने के लिए स्पेशल टीम के जरिए गुर सिखाए गए।


हेरोइन-अफीम के साथ पांच गिरफ्तार

राणा ओबरॉय


जालंधर। देहात पुलिस ने हेरोइन और अफीम की बड़ी खेप के साथ पांच नशा तस्करों को गिरफ्तार किया है। एसएससी नवजोत सिंह माहल ने बताया कि सीआइए स्टाफ देहाती और करतारपुर पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए गांवका हलवा के पास नाकाबंदी के दौरान शहीद बाबू लाभ सिंह नगर निवासी गौरव चौहान को डेढ़ किलो हेरोइन के साथ गिरफ्तार किया।


एसएससी माहल ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि गौरव और ग्रीन मॉडल टाउन निवासी संजीव कुमार हेरोइन तस्करी करते हैं। दोनों जेल में बैठे पुष्पिंदर नोनी और गुरजंट सिंह उर्फ भोलू की हेरोइन सप्लाई करते थे। संजीव कुमार और जेल में बैठे नोनी व भोलू के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया गया है।


इसी तरह गांव धालीवाल के पास गुप्त सूचना के आधार पर ट्रांसपोर्ट नगर निवासी संजय चौधरी और मेरठ निवासी बबलू कुमार को डेढ़ किलो अफीम के साथ गिरफ्तार किया। उधर भोगपुर के गांव मोगा के पास तीन किलो 50 ग्राम के साथ छत्तीसगढ़ निवासी हरदीप सिंह और कपूरथला निवासी सुरजीत सिंह को गिरफ्तार किया है।


8 जनवरी को राष्ट्रव्यापी हड़ताल की घोषणा

राणा ओबरॉय


चंडीगढ़। केंद्रीय यूनियनों के आह्वान पर 8 जनवरी को बुलाई राष्ट्रव्यापी 'हड़ताल' के दौरान चंडीगढ़ में एक रैली के आयोजन की घोषणा आज यूनियनों ने की। केंद्रीय यूनियनों एटक, सीटू, सीटीयू (पंजाब), इंटक और एक्टू के चंडीगढ़ प्रतिनिधियों की यहां हुई बैठक के बाद घोषणा की गई कि संगठनों के सदस्य हड़ताल में शामिल होंगे।


बता दें कि, बैंकों, पोस्ट ऑफिस, भरतीय जीवन बीमा, जल एवं बिजली व परिवहन विभाग के कर्मचारी भी हड़ताल में शामिल होंगे।


युवक को सड़क पर दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

अनामिका


नालंदा। हिलसा से क्रिकेट खेलने तेल्हाड़ा जा रहे एक युवक को बदमाशों ने सरेआम सड़क पर दौड़ा-दौड़ा कर पीटा और युवक अपनी रिहाई की भीख मांगता रहा। इतना ही नहीं बदमाशों ने पीटाई का वीडियो भी बनाया और उसे वायरल कर दिया।
वायरल वीडियो में दिख रहा युवक हिलसा थाना के कृष्णा विगहा गांव निवासी अनिल सिंह का बेटा आनन्द कुमार है। बताया जा रहा है कि आनंद शुक्रवार की शाम क्रिकेट खेलने तेल्हाड़ा जा रहा था, तभी हिलसा-एकंगरसराय मुख्य मार्ग में रामभवन के पास बाईक सवार बदमाशों ने उसे घेर लिया और सड़कों पर सरेआम दौड़ा-दौड़ा कर पीटने लगा।


कुछ बदमाश पिटाई कर रहा थे तो कुछ उसका वीडियो बना रहा था। वीडियो में आनंद हाथ जोड़कर छोड़ देने की भीख मांगता रहा और सदा के लिये हिलसा छोड़ देने की विनती कर रहा है। पर इसके बाबजूद भी बदमाश पीटाई करते रहे। काफी देर बाद जब आनंद सड़क पर गिर गया तो बदमाशों ने उसकी अंगूठी, लॉकेट सहित अन्य सामान लेकर चलते बने। 
जिसके बाद मौके पर पहुंचे आसपास के लोगों ने उसे अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।  फिलहाल थाने में इसकी कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है। डीएसपी मो. इम्तियाज अहमद ने कहा कि ऐसा कोई मामला मेरे संज्ञान में अभी तक नहीं आया है। फ़िलहाल मामले की जांच वायरल वीडियो के आधार पर होगी और बदमाशों पर कार्रवाई की जाएगी।


कांग्रेस नेता की हत्या, जमकर काटा बवाल

वैशाली। इस वक्त की बड़ी खबर वैशाली से आ रही है, जहां कांग्रेस नेता की हत्या के बाद गुस्साए लोगों ने जमकर बवाल काटा। आक्रोशित लोगों ने SP आवास पर पत्थराव भी किया है। गुस्साए लोग जमकर बवाल काट रहे हैं।
बता दें कि वैशाली के नगर थाना इलाके में शनिवार की सुबह अपराधियों ने मॉर्निंग वॉक पर निकले युवा कांग्रेस नेता राकेश यादव को बैक टू बैक चार गोली मारी और आसानी से मौके से फरार हो गए। गोली की आवाज सुन आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और राकेश यादव को अस्पताल ले गए, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। इसके बाद उनके समर्थक आक्रोशित हो गए और जमकर हंगामा कर रहे हैं। 


गाली गलौज पर उतरे बिहार के राजस्व मंत्री

बांका। बिहार के भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री रामनारायण मंडल का पारा उस वक्त सातवें आसमान पर पहुंच गया, जब लोग उनके पास अपनी समस्या लेकर पहुंचे। बांका से बीजेपी विधायक और बिहार सरकार के मंत्री रामनारायण मंडल बांका पहुंचे थे, जहां लोगों के सामने उन्होंने अपना आपा खो दिया।


दरअसल मंत्रीजी के पास अपनी समस्या को लेकर कुछ लोग आए थे। लोगों की समस्या सुनते ही मंत्रीजी का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया। रामनारायण मंडल ने लोगों के साथ घटिया सलूक तो किया ही साथ ही वो गाली-गलौज पर भी उतर गये।


भड़के रामनारायण मंडल ने कहा कि आप लोग बक-बक मत कीजिए, हमें वोट दिये थे, जो हम आपकी समस्या सुनें। गुस्साए रामनारायण मंडल गाली-गलौज करते हुए लोगों से बदसलूकी की और कहा कि आपलोगों ने हमें वोट नहीं दिया बावजूद इसके हम आपका काम करा रहे हैं।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


दिसंबर 29, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-144 (साल-01)
2. रविवार, दिसंबर 29, 2019
3. शक-1941, पौष - शुक्ल पक्ष, तिथि- दूज, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:15,सूर्यास्त 05:37
5. न्‍यूनतम तापमान -5 डी.सै.,अधिकतम-14+ डी.सै., शीत लहर के साथ बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...