शनिवार, 17 सितंबर 2022

'विश्वकर्मा जयंती’ का कार्यक्रम आयोजित: शामली 

'विश्वकर्मा जयंती’ का कार्यक्रम आयोजित: शामली 


‘‘विश्वकर्मा जयन्ती का कार्यक्रम आयोजित’’

भानु प्रताप उपाध्याय 

शामली। अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान से संबंधित सरस्वती विद्या मन्दिर इण्टर कॉलेज, शामली के सभागार में ‘‘विश्वकर्मा जयंती’’ का कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के प्रधानाचार्य आनन्द प्रसाद शर्मा ने की। कार्यक्रम का संचालन ब्रिजेश सैनी ने किया। कार्यक्रम का शुभारम्भ सरस्वती वन्दना एवं भगवान विश्वकर्मा के चित्र के सम्मुख पुष्पार्चन से हुआ। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए आचार्य अक्षय कुमार ने कहा कि विश्वकर्मा पूजा दिवस भारत के अनेक प्रदेशों में आमतौर पर हर वर्ष 17 सितम्बर को मनाया जाता है।

यह उत्सव प्रायः कारखानों एवं औद्योगिक क्षेत्रों में मनाया जाता है। विश्वकर्मा भगवान को विश्व का निर्माता और देवताओं का वास्तुकार माना गया है। भगवान विश्वकर्मा ने द्वारका रूपी पवित्र नगर का निर्माण किया, जहाँ कृष्ण ने शासन किया। रावण की सोने की लंका भी भगवान विश्वकर्मा द्वारा निर्मित की गयी थी। इस दिन विश्वकर्मा जी की प्रतिमाएँ भी कार्यस्थल व कारखानों में स्थापित की जाती है। इसी दिन श्रमिक भी कारखानों में विभिन्न मशीनों के सुचारू संचालन के लिए भी प्रार्थना करते है। भगवान विश्वकर्मा नव निर्माण की ओर प्रेरित करते है, आओ मिलकर उन्हें नमन करें और भावी राष्ट्र निर्माण के लिए कार्य करें।

संस्था के प्रधानाचार्य आनन्द प्रसाद शर्मा ने भी अपने सम्बोधन में सभी छात्रों को भगवान विश्वकर्मा जयन्ती की शुभकामनाएं दी और उनके भांति नव निर्माण व नव सर्जनात्मक विचारों को अपने अन्दर समाहित करने का आवाह्न किया। इस अवसर पर मुख्य रूप से संस्था के उपप्रधानाचार्य मलूक चन्द, आचार्य अशोक सोम, पवन कुमार, नीटू कश्यप, पुष्पेन्द्र शर्मा, सुभाषचन्द, अरविन्द कुमार, योगेन्द्र कुमार, सोमदत्त आर्य, बिजेन्द्र कुमार, अंकित भार्गव, प्रमोद कुमार, मोहित कुमार, मुदित गर्ग, मधुबन शर्मा, आदि उपस्थित रहे।

4 अल्ट्रासाउंड सेंटरों के विरुद्ध परिवाद दाखिल, निर्देश

4 अल्ट्रासाउंड सेंटरों के विरुद्ध परिवाद दाखिल, निर्देश

हरिशंकर त्रिपाठी 

देवरिया। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने जनपद में संचालित चार अल्ट्रासाउंड सेंटरों के विरुद्ध न्यायालय में परिवाद दाखिल करने का निर्देश दिया है। इन चारों अल्ट्रासाउंड सेंटरों पर निरीक्षण के दौरान बिना किसी योग्य डॉक्टर एवं स्टाफ की उपास्थिति के अल्ट्रासाउंड मशीन एक्टिव मिली थी, जो कि पीसीपीएनडीटी एक्ट-1994 के प्रावधानों का उल्लंघन हैं। इन केंद्रों पर भ्रूण का लिंग जांच होने का अंदेशा है। जिलाधिकारी ने इन सभी केंद्रों का पंजीकरण भी रद्द करने का निर्देश दिया है।जिलाधिकारी के निर्देश पर जुलाई माह में विभिन्न अल्ट्रासाउंड केंद्रों पर सघन जांच अभियान चलाया गया था, जिसमें सिविल लाइन स्थित सौरभ डायग्नोस्टिक सेंटर, न्यू कॉलोनी स्थित डॉक्टर्स स्कैन सेंटर, भाटपाररानी का ऋषि डायग्नोस्टिक सेंटर तथा महावीर सेंटर में निरीक्षण के दौरान डॉक्टर की अनुपस्थिति में अल्ट्रासाउंड मशीन एक्टिव मोड में मिले और मौके पर अप्रशिक्षित स्टाफ द्वारा अल्ट्रासाउंड किया जा रहा था, जिसे मौके पर ही सील कर दिया गया और उपलब्ध अभिलेखों को जब्त कर लिया गया था।

पूर्व में इन केंद्रों पर भ्रूण का लिंग परीक्षण होने की शिकायत भी मिली थी। सभी चार अल्ट्रासाउंड सेंटरों के संचालकों को इस संबन्ध में नोटिस दी गई, जिसका जवाब भी इनके द्वारा दिया गया, जिसे जिलाधिकारी की अध्यक्षता वाली पीसीपीएनडीटी की जिला सलाहकार समिति के समक्ष रखा गया। पीसीपीएनडीटी सलाहकार समिति ने अधिनियम 1994 के धारा 20(2) में निहित प्रावधानों व उपलब्ध साक्ष्यों एवं तथ्यों के आधार पर इन चारों अल्ट्रासाउंड सेंटरों का पंजीकरण रद्द करते हुए इनके विरुद्ध परिवाद दाखिल करने की संस्तुति की है।

जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि भ्रूण का लिंग परीक्षण पर प्रभावी नियंत्रण लगाना इस अधिनियम का मुख्य उद्देश्य है। इस संबन्ध में माननीय उच्च न्यायालय एवं शासन के स्पष्ट दिशा निर्देश हैं। उन्हीं के अनुपालन के क्रम में जनपद के चार अल्ट्रासाउंड सेंटरों का पंजीकरण रद्द करने और उनके विरुद्ध परिवाद दाखिल करने का निर्देश दिया गया है। भ्रूण का लिंग परीक्षण करने और कराने वालों को किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा।

सीएम के दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त, तैनाती 

सीएम के दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त, तैनाती 

राणा ओबरॉय 

सिरसा। हरियाणा के सिरसा में रविवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। हरियाणा पुलिस, होमगार्ड और एसपीओ के तीन हजार जवानों की तैनाती की गई है। वहीं दूसरी ओर आम आदमी पार्टी (आप) ने जिला में बढ़ती नशा तस्करी ओर भ्रष्टाचार को लेकर विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया हुआ है। आप पदाधिकारियों ने शनिवार को बैठक कर आंदोलन की रुपरेखा तय की। पुलिस अधीक्षक डॉ. अर्पित जैन ने बताया कि ड्यूटी में तैनात किये गए सभी पुलिस अधिकारियों की बैठक लेकर किए गए सुरक्षा प्रबंधों की समीक्षा की और आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

उन्होंने बताया कि सुरक्षा के दृष्टिगत एक अतिरिक्त पुलिस अधीक्ष, 11 डीएसपी की अगुवाई में तीन हजार हरियाणा पुलिस के जवान, होगार्ड और एसपीओ को तैनात किया गया है। पुलिस लाइन स्थित प्रशासनिक कक्ष में आयोजित पुलिस अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए जिला के पुलिस अधीक्षक डॉ. जैन ने सभी पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपनी ड्यूटी के दौरान पूरी सावधानी और सतर्कता बरतें। उन्होंने कहा कि आम आदमी के साथ मैत्रीपूर्ण व्यवहार कर उनका सहयोग लिया जाए तथा असामाजिक और संदिग्ध लोगों पर पैनी नजर रखी जाए। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मुख्यमंत्री लोगों की समस्याओं को सुनेंगे और इसके अलावा जिला भर में और भी कार्यक्रम है, जिस को लेकर जिला पुलिस पूरी तरह से चौकस है।

पुलिस अधिकारियों की बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से किसी प्रकार की चूक बर्दाशत नहीं कि जाएगी, जब तक मुख्यमंत्री जिला सिरसा में रुकेंगे तब तक सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह अलर्ट पर रहेगी । इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डॉ. अर्पित जैन ने सभी थाना प्रभारियों से कहा कि अपनी ड्यूटी के दौरान चप्पे-चप्पे की जांच करें और आसाजिक और संदिग्ध लोगों पर पैनी नजर बनाए रखें।

‘बांटने और रौब जमाने’ की कोशिश कर रहे हैं, गृहमंत्री 

‘बांटने और रौब जमाने’ की कोशिश कर रहे हैं, गृहमंत्री 

अकांशु उपाध्याय/विमलेश यादव 

नई दिल्ली/हैदराबाद। तेलांगना के सूचना प्रौद्योगिकी एवं उद्योग मंत्री के टी रामाराव ने शनिवार को यह कहते हुए केंद्रीय गृहमंत्री पर निशाना साधा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल ने राज्य के लोगों का भारतीय संघ में एकीकरण एवं विलय किया जबकि वर्तमान केंद्रीय गृहमंत्री ‘बांटने और रौब जमाने’ की कोशिश कर रहे हैं। रामाराव ने ट्वीट किया, ‘‘ 74 साल पहले एक केंद्रीय गृहमंत्री (सरदार वल्लभभाई पटेल) तेलंगाना के लोगों का भारतीय संघ में एकीकरण एवं विलय के लिए आये थे।

आज एक केंद्रीय गृहमंत्री तेलंगाना के लोगों एवं उनकी सरकार को बांटने एवं उन पर रौब जताने के लिए आये हैं, इसलिए मैं कहता हूं कि भारत को विभाजनकारी राजनीति नहीं बल्कि निर्णायक नीतियों की जरूरत है।’’ केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने केंद्र सरकार के ‘हैदराबाद मुक्ति दिवस’ आधिकारिक कार्यक्रम के मौके पर यहां परेड ग्राउंड में राष्ट्रध्वज फहराया। निजाम शासन के अंतर्गत आने वाले तत्कालीन हैदराबाद राज्य का 17 सितंबर, 1948 में भारतीय संघ में विलय हुआ था। शाह ने कार्यक्रम में देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ पटेल को हैदराबाद की मुक्ति का श्रेय दिया है। गृहमंत्री ने कहा है कि यदि सरदार पटेल नहीं होते, तो हैदराबाद को मुक्त कराने में कई और साल लग जाते।

उन्होंने कहा कि पटेल जानते थे कि जब तक निजाम के रजाकारों को नहीं हराया जाता, तब तक अखंड भारत का सपना साकार नहीं होगा। मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने तेलंगाना राष्ट्रीय एकीकरण दिवस मनाने के लिए यहां एक कार्यक्रम में ध्वजारोहण किया।

अमानतुल्लाह के घर से 'एसीबी' को कुछ नहीं मिला

अमानतुल्लाह के घर से 'एसीबी' को कुछ नहीं मिला 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) ने शनिवार को कहा कि विधायक अमानतुल्लाह खान के घर से भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) को कुछ नहीं मिला है, इसलिए अब तरह-तरह का झूठ फैलाया जा रहा है। ‘आप’ के वरिष्ठ नेता एवं विधायक सौरभ भारद्वाज ने संवाददाता सम्मेलन में आज कहा, खान के दोनों घरों पर से न कोई पैसा मिला, न कोई कारतूस और ना ही कोई अन्य गैर-कानूनी चीज नहीं मिली। इसके बावजूद केंद्र सरकार ने शोर मचा रखा है कि उनके घर से बंदूक या पैसा मिला है। यदि ऐसा कुछ मिला है तो क्या आपने कोई एफआईआर दर्ज की? मैंने इस संबंध में एसीबी से बात की। उन्होंने कहा कि दो अलग-अलग लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।? एक प्राथमिकी हामिद अली खान नाम के व्यक्ति पर दर्ज की गई है और दूसरी कौशर इमाम सिद्दीकी पर दर्ज की गई है। क्रिमिनल लॉ के तहत आप किसी व्यक्ति के घर पर छापेमारी कर चाहे कुछ भी ढूंढ लीजिए, लेकिन आप उसे किसी दूसरे व्यक्ति के साथ कैसे एसोसिएट कर सकते हैं। जब व्यक्ति बिजनेस नहीं कर रहा है तो कैसे उसका बिजनेस पार्टनर किसी को भी बना सकते है? अमानतुल्लाह खान का कोई बिजनेस नहीं है। इसके बावजूद कह रहे हो कि उनके बिजनेस पार्टनर के घर ये चीजें मिली हैं।

उन्होंने कहा,यदि कोई बिजनेस पार्टनर है तो भी क्या आप किसी बिजनेस पार्टनर के क्रिमिनल एक्ट को आप किसी दूसरे से जोड़ सकते हो? पति और पत्नी के बीच भी यदि पति ने कोई अपराध किया है तो उसमें पत्नी तक को भी नहीं जोड़ सकते हो। सिर्फ हताशा और अवसाद के चलते यह सब किया जा रहा है। जिस अमानतुल्लाह के घर पर एसीबी ने छापा मारा है वो कोई नया मामला नहीं है। यह दो साल नौ महीने पुरानी एफआईआर है, जो जनवरी 2020 में दर्ज हुई थी। इस एफआईआर के चलते आप किसी को पूछताछ के लिए बुलाते हो और पीछे से कई जगहों पर छापे मार देते हो।अमानतुल्लाह के घर छापेमारी में कुछ नहीं मिला, फिर भी भाजपा एसीबी के माध्यम से खबर प्लांट करती है कि अमानतुल्लाह के करीबी लोगों व एसोसिएट्स के पास मिला है। जांच एजेंसियां केवल भारतीय जनता पार्टी की बैटिंग कर रही है। भाजपा के झूठ को चला सके और पैसे की गड्डी और बंदूक के साथ आम आदमी पार्टी को बदनाम कर सके, इसकी तैयारी एसीबी कर रही है। यही काम प्रवर्तन निदेशालय औऱ केंद्रीय जांच ब्यूरो भी करती है। भारद्वाज ने कहा पिछले कई महीनों से केंद्र सरकार और भाजपा खास तरीके से जांच एजेंसियों का इस्तेमाल करके झूठ पर पूरी इमारत बनाने की कोशिश में लगी है।

इन्होंने स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन सहित कई लोगों के घर छापा मारा। पहले दिन ईडी खबर फैलाती है कि जिनपर छापा मारा, उनसे साढ़े तीन करोड़ रुपये की रिकवरी बताई, लेकिन उनका जैन से क्या लेने देना था? ये ईडी ने नहीं बताया। कुछ दिनों बाद जैन और एसोसिएट्स के नाम पर खबर चलाने लगे। एसोसिएट वह होता है जिससे कोई लेनादेना होता है। कई बार भाजपा के प्रवक्ता से बहस हुई कि आप मुझे ये बता दीजिए कि जिसके घर पैसा मिला वह सत्येंद्र जैन का कौन-सा रिश्तेदार था? अगर बिजनेस पार्टनर था तो बता दो कि कौन से बिजनेस में पार्टनरशिप थी। लेकिन ईडी के पास इस बात का कोई जवाब नहीं था। केवल झूठ पर ही पूरी इमारत खड़ी की गई। अब कोर्ट में भी यही हो रहा है।

उन्होंने कहा, ईडी ने दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर और उनके गांव समेत 30 अन्य जगहों पर भी छापा मारा। उनका लॉकर से कुछ नहीं मिला। एक रुपया गैर-कानूनी नहीं मिला और न ही गैर-कानूनी संपत्ति के कागजात मिले। अब केवल यह समझा जा रहा है कि अभी नहीं मिला, लेकिन मिलेगा। पिछले दो सप्ताह में ईडी की ओर से आबकारी नीति के मामले में करीब 100 जगहों पर छापे मारे जा चुके है, लेकिन अभी तक इन्हें कुछ नहीं मिला। भारद्वाज ने कहा, ईडी और सीबीआई इतनी हताश हो चुकी है कि अब वे पूरी दिल्ली में छापे मार रही हैं ताकि किसी के यहां तो कुछ मिलेगा। जिस किसी के यहां भी कुछ मिलेगा तो वो कह देंगे कि ये सिसोदिया का है। किसी के यहां पर भी चाहे नकद, बंदूक मिल जाए, वह मनीष सिसोदिया जी का हो जाएगा।

युवाओं को पढ़ाई के साथ-साथ कुशल बनाना जरूरी

युवाओं को पढ़ाई के साथ-साथ कुशल बनाना जरूरी

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि इस सदी को भारत की सदी बनाने के लिए युवाओं को पढ़ाई के साथ-साथ कुशल बनाना भी उतना ही जरूरी है‌। मोदी ने शनिवार को यहां विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों आईटीआई के कौशल दीक्षांत समारोह को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संबोधित करते हुए कहा कि सरकार ने बीते आठ वर्षों में भगवान विश्वकर्मा की प्रेरणा से अनेक नई योजनाएँ शुरू की हैं जो, ‘श्रम एव जयते’ की हमारी परंपरा को पुनर्जीवित करने के लिए प्रयास है।

उन्होंने कहा कि इसके लिए कौशल और कौशल विकास पर अत्यधिक ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा,“इस सदी को भारत की सदी बनाने के लिए बहुत जरूरी है कि भारत के युवा पढ़ाई के साथ ही कौशल में भी उतने ही दक्ष हों। इसी सोच के साथ हमारी सरकार ने युवाओं के कौशल विकास और नए संस्थानों के निर्माण को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है। सरकार के 8 वर्षों में देश में करीब-करीब 5 हजार नए आईटीआई बनाए गए हैं और इनमें चार लाख से ज्यादा नई सीटें भी जोड़ी गई हैं।

इसके अलावा देशभर में राष्ट्रीय कौशल प्रशिक्षण संस्थान, भारतीय कौशल संस्थान और हजारों कौशल विकास केंद्र भी खोले गए हैं। स्कूल स्तर पर कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए सरकार, पांच हजार से ज्यादा कौशल हब भी खोलने जा रही है। साथ ही नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में भी अनुभव आधारित शिक्षण को बढ़ावा दिया जा रहा है तथा स्कूलों में कौशल पाठ्यक्रम शुरू किए जा रहे हैं।” प्रधानमंत्री ने कहा कि चौथी औद्योगिक क्रांति, ‘इंडस्ट्री 4.0’ के इस दौर में, भारत की सफलता में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों- आईटीआई की भी बड़ी भूमिका है।

बदलते हुए समय में नौकरियों का स्वरूप भी बदल रहा है इसलिए, सरकार ने इस बात का विशेष ध्यान रखा है कि छात्रों को हर आधुनिक कोर्स की सुविधा भी मिले। मोदी ने युवाओं से कहा,“जिस तरह आपके जीवन के अगले 25 वर्ष बहुत महत्वपूर्ण हैं, वैसे ही देश के लिए भी अमृतकाल के 25 वर्ष उतने ही महत्वपूर्ण हैं। आप सभी युवा, मेक इन इंडिया और वोकल फॉर लोकल अभियान के कर्णधार हैं। आप भारत के उद्योग जगत की रीढ़ की तरह हैं और इसलिए विकसित भारत के संकल्प को पूरा करने में, आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा करने में, आपकी बहुत बड़ी भूमिका है।”

रविवार से मिस्र की 3 दिवसीय यात्रा करेंगे, रक्षामंत्री 

रविवार से मिस्र की 3 दिवसीय यात्रा करेंगे, रक्षामंत्री 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रविवार से मिस्र की तीन दिवसीय यात्रा करेंगे। इस दौरान वह द्विपक्षीय रक्षा संबंधों को प्रगाढ़ करने को लेकर वहां के अपने समकक्ष मंत्री के साथ चर्चा करेंगे। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि सिंह की यात्रा के दौरान भारत और मिस्र के बीच रक्षा सहयोग बढ़ाने के लिए एक सहमति पत्र पर भी हस्ताक्षर किए जाएंगे। उन्होंने ट्वीट किया कि मिस्र की तीन दिवसीय यात्रा पर मैं कल, 18 सितंबर को काहिरा में रहूंगा। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग को और मजबूत करने के लिए अपने समकक्ष जनरल मोहम्मद अहमद जाकी के साथ चर्चा करने को लेकर आशान्वित हूं।

मंत्रालय ने कहा कि दोनों पक्ष द्विपक्षीय रक्षा संबंधों की समीक्षा करेंगे और दोनों देशों की सेनाओं के बीच संपर्क बढ़ाने के नए तरीके तलाशेंगे तथा दोनों देशों के रक्षा उद्योगों के बीच सहयोग प्रगाढ़ करने पर जोर देंगे। रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘रक्षा मंत्री मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल सीसी से भी मिलेंगे। सिंह की यात्रा का उद्देश्य रक्षा सहयोग तथा भारत और मिस्र के बीच विशेष मैत्री को और प्रगाढ़ करना है।’

सीबीआई की याचिका पर तेजस्‍वी को नोट‍िस जारी 

सीबीआई की याचिका पर तेजस्‍वी को नोट‍िस जारी 

अविनाश श्रीवास्तव 

पटना। बिहार के उप मुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव मुश्‍कि‍ल में पड़ सकते हैं। दिल्‍ली स्‍थ‍ित विशेष कोर्ट ने केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो की याचिका पर तेजस्‍वी को नोट‍िस जारी कर दिया है। अगर सीबीआई की याचिका मंजूर हो जाती है, तो तेजस्‍वी यादव को आईआरसीटीसी घोटाले के मामले में जेल जाना पड़ सकता है। जानकारी के मुताबिक दिल्‍ली स्‍थ‍ित सीबीआई कोर्ट की विशेष जज गीतांजलि गोयल  ने तेजस्‍वी यादव को नोटिस जारी की है।

जानकारी के मुताबिक आईआरसीटीसी घोटाले में उनकी जमानत को रद करने के लिए केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो यानी सीबीआई ने दिल्‍ली की विशेष अदालत में गुहार लगाई है। इस मामले में तेजस्‍वी यादव वर्ष 2018 से ही जमानत पर हैं। अगर कोर्ट इस मामले में तेजस्‍वी यादव की जमानत खारिज करता है, तो बिहार में उप मुख्‍यमंत्री की उनकी कुर्सी संकट में पड़ सकती है। आपको बता दें कि लालू यादव के रेलवे मंत्री रहते हुए इस घोटाले में उनके परिवार के कई सदस्‍य फंस रहे हैं। लालू के छोटे पुत्र तेजस्‍वी यादव भी इनमें शामिल हैं। तेजस्‍वी यादव सहित दूसरे आरोपितों के खिलाफ सीबीआई इस मामले में पहले ही आईपीसी की धारा 420, 120बी सह‍ित भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम की अन्‍य धाराओं के तहत आरोप पत्र कोर्ट में दाखिल कर चुकी है।

आपको बता दें कि यह मामला तब का है, मनमोहन सिंह के नेतृत्‍व वाली यूपीए सरकार में लालू प्रसाद यादव रेल मंत्री हुआ करते थे। इसी दौरान आईआरसीटीसी की ओर से पुरी और रांची के रेलवे होटल को रख-रखाव और सुधार के लिए निजी एजेंसी को दिया गया था। आरोप है कि लालू यादव ने अपने पद का गलत इस्‍तेमाल करते हुए नियमों को ताक पर रखकर यह काम विनय कोचर की कंपनी मेसर्स सुजाजा होटल्‍स को दिया था।

4 महीने से लापता 2 सैनिकों का नहीं मिला सुराग

4 महीने से लापता 2 सैनिकों का नहीं मिला सुराग

पंकज कपूर

देहरादून। विकासखण्ड ऊखीमठ की ग्राम पंचायत चिलौण्ड निवासी प्रकाश सिंह व खेड़ा तुलंगा निवासी हरेन्द्र सिंह नेगी का चार माह बाद भी कोई सुराग नहीं मिला है। 7 गढ़वाल राइफल्स में तैनात दोनों जवानों के चीन सीमा से लापता होने की खबर सेना के अधिकारियों द्वारा 28 मई को परिजनों को दी गयी थी। केदारनाथ विधायक शैलारानी रावत, प्रधान संगठन के पदाधिकारियों व दोनों जवानों के परिजनों ने राज्यपाल ले.ज.(सेवानिवृत्त) गुरमीत सिंह, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी व सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी से मुलाकात कर मदद की गुहार लगाई।

दरअसल अरुणाचल प्रदेश स्थित चीन सीमा में तैनात ऊखीमठ विकासखण्ड के चिलौण्ड निवासी प्रकाश सिंह व खेड़ा तुलंगा निवासी हरेन्द्र सिंह विगत 28 मई 2022 से लापता है। दोनों जवानों का अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है। उनकी खोज-बीन और सही जानकारी का पता लगाने के लिए जवानों के परिजनों ने केदारनाथ विधायक शैलारानी रावत के साथ राजभवन पहुंचे व राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल (से नि) गुरमीत सिंह, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी व सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी से मुलाकात की। केदारनाथ विधायक शैलारानी रावत, प्रधान संगठन पदाधिकारियों व परिजनों ने राज्यपाल, मुख्यमंत्री व सैनिक कल्याण मंत्री को अवगत कराया कि विगत 28 मई से दोनों जवान हरेन्द्र सिंह और प्रकाश सिंह के लापता होने की सूचना बटालियन द्वारा दी गयी थी। लेकिन अभी तक उनका कोई पता नहीं चल पाया है।

जिस पर राज्यपाल, मुख्यमंत्री व सैनिक कल्याण मंत्री ने परिजनों को आश्वस्त किया कि संकट की इस घड़ी में वे परिवार के साथ हैं और इस सम्बन्ध में हर संभव सहायता की जाएगी। उन्होंने कहा कि लापता जवानों का पता लगाने के लिए सेना के उच्चाधिकारियों से वार्ता कर उनसे स्थिति की जानकारी प्राप्त की जाएगी। इसके अलावा राज्यपाल, मुख्यमंत्री व सैनिक कल्याण मंत्री ने अन्य सहायता के लिए भी परिजनों को आश्वस्त किया। इस मौके पर केदारनाथ विधायक शैलारानी रावत, प्रधान संगठन संरक्षक सन्दीप पुष्वाण, प्रकाश सिंह की पत्नी ममता देवी, हरेन्द्र की पत्नी पूनम देवी, माता हिमावन्ती देवी, भाई पंकज मौजूद थे।

मां के नहीं छुए पैर, लाखों माताओं ने दी शुभकामनाएं

मां के नहीं छुए पैर, लाखों माताओं ने दी शुभकामनाए

अकाशुं उपाध्याय   

भोपाल/श्योपुर। मध्यप्रदेश के श्योपुर जिले के कराहल के मॉडल स्कूल ग्राउंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विशेष पिछड़ी जनजाति समूह कौशल विकास प्रशिक्षण केन्द्रों शिवपुरी, मण्डला, शहडोल और तामिया का लोकार्पण किया। पीएम मोदी ने चीता मित्रों से चर्चा की। समूह की महिलाओं को सहायता राशि सौंपी। सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने प्रदेशवासियों को विश्वकर्मा पूजा की बधाई दी।

उन्होंने कहा कि अपने जन्मदिन पर मां के चरण छूकर आशीर्वाद लेता हूं, लेकिन मां के पास नहीं जाकर मप्र के आदिवासियों के पास आया हूं। लाखों माताएं मुझे आज आशीर्वाद दे रही हैं। यह दृश्य जब मेरी मां देखेगी, तो उनको जरूर संतोष होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि मेरे लिए देश की माताएं, बहनें, बेटियां मेरा सबसे बड़ा रक्षा कवच हैं। शक्ति का स्रोत हैं, मेरी प्रेरणा हैं। आज ये चीते आपके सुपुर्द इसलिए किए हैं कि आप पर हमारा भरोसा है। आप मुसीबत झेलेंगे, लेकिन चीतों पर मुसीबत नहीं आने देंगे। ये मेरा विश्वास है। इसी कारण आप सभी को 8 चीतों की जिम्मेदारी दे रहा हूं। इस देश के लोगों ने कभी मेरे भरोसे को तोड़ा नहीं। मध्यप्रदेश के लोगों ने कभी मेरे भरोसे पर आंच नहीं आने दी। मप्र में शिवराज की सरकार उत्पादों को बाजार तक पहुंचाने के लिए काम कर रही है।

5 जिलों में भारी बारिश का अनुमान, उत्तराखंड

5 जिलों में भारी बारिश का अनुमान, उत्तराखंड

 श्रीराम मौर्य   

देहरादून। उत्तराखंड में भारी बारिश का दौर जारी है , राज्य के कई जनपदों में पिछले 24 घंटे से मूसलाधार बारिश हो रही है। भारत मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून में शनिवार दोपहर में उत्तराखंड राज्य के के लिए 3 घंटे का तत्कालिक मौसम पूर्वानुमान जारी किया है। मौसम पूर्वानुमान के मुताबिक राज्य के 5 जनपदों नैनीताल अल्मोड़ा चंपावत उधम सिंह नगर और पौड़ी गढ़वाल जनपदों में अगले 3 घंटेेे भारी बरसात की संंभावना है जिसको लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा राज्य के सभी जनपदों के कुछ स्थानों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। 


बता दें कि पिछले 24 घंटे से नैनीताल उधम सिंह नगर चंपावत समेत आसपास के जनपदों में मूसलाधार बारिश का दौर जारी है मौसम विभाग द्वारा बनबसा टनकपुर हल्द्वानी चोरगलिया रुद्रपुर देहरादून पंतनगर समेत तमाम इलाकों में रिकॉर्ड बारिश दर्ज की गई।



पीएम के जन्मदिन पर नमो प्रदर्शनी का लोकार्पण

पीएम के जन्मदिन पर नमो प्रदर्शनी का लोकार्पण

संदीप मिश्र 

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 72वें जन्मदिन पर प्रदर्शनी का लोकार्पण किया। इस अवसर पर सीएम योगी ने पीएम मोदी को बधाई देते हुए कहा कि देश के सपने साकार हो रहे हैं। बता दें कि पीएम मोदी के बर्थडे पर देश के हर कोने में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। सीएम योगी ने नमो प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। यह प्रदर्शनी बहुत बड़ी कहानी बता रही है। प्रदर्शनी का उद्घाटन कर सीएम ने कहा कि पीएम ने काशी को नया रूप दिया, भारत का विकास हो रहा है, आत्मनिर्भर की परिकल्पना साकार होगी।

सीएम योगी ने कहा कि आज भारत की पहचान वैश्विक स्तर पर है, बीजेपी का सेवा पखवाड़ा 2 अक्टूबर तक चलेगा। मुख्यमंत्री योगी ने सरकार की योजनाओं को लेकर कहा कि सबके हित को ध्यान में रखकर योजना बन रही, अंतिम पायदान वाले हर व्यक्ति को योजनाओं का लाभ मिल रहा है। कोरोना में 80 करोड़ लोगों को राशन दिया गया जो एक बड़ी उपलब्धि है।



प्रधानमंत्री का जन्मदिन, लाखों लोगों ने दी शुभकामनाएं

प्रधानमंत्री का जन्मदिन, लाखों लोगों ने दी शुभकामनाएं 

अकाशुं उपाध्याय

नई दिल्ली। प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन भाजपा पूरे देश में जोर शोर से मना रही है। उत्तर प्रदेश में उनके जन्मदिवस पर सेवा पखवाड़ा आज से शुरू होकर गांधी जयंती यानी 2 अक्टूबर तक चलेगा। इस मौके पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव, ब्रजेश पाठक भाजपा अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी समेत लाखों करोड़ों कार्यकर्ता भी ट्वीट के माध्यम से पीएम को जन्मदिन की बधाई दे रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री मोदी को जन्मदिन की बधाई देते हुए कहा, “‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ के शिल्पी, ‘अंत्योदय’ हेतु राष्ट्र आराधना में सतत रत, यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई! प्रभु श्रीराम मां भारती के परम उपासक आदरणीय प्रधानमंत्री जी को दीघार्यु व उत्तम स्वास्थ्य प्रदान करें।”

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने पीएम मोदी को जन्मदिन की बधाई दी। केशव मौर्य ने ट्वीट कर कहा कि “गरीबों, पिछड़ों और वंचितों को सम्मान देकर सामाजिक न्याय की पटकथा के सबसे बड़े लेखक, विश्व के सबसे शक्तिशाली नेता, जनहित को सर्वोपरि रखने वाले, हम सभी के प्रेरणास्रोत व मार्गदर्शक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आपको जन्मदिन की हार्दिक बधाई व अनंत शुभकामनाएं।” डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने भी पीएम मोदी के जन्मदिन पर उन्हें एक वीडियो संदेश के जरिए शुभकामानाएं दीं। ब्रजेश पाठक ने ट्वीट कर कहा, “राष्ट्रहित और जनहित को हमेशा सर्वोपरि रखने वाले मां भारती के सच्चे सपूत, आधुनिक भारत के प्रवर्तक और देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं।”

यूपी भाजपा के अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने पीएम को शुभकामनाएं देते हुए लिखा कि “सनातन संस्कृति के संवाहक, आधुनिक भारत के शिल्पकार, राष्ट्र सेवा एवं जनहित को सदैव सर्वोपरि रखने वाले मां भारती के सपूत, भारतीय गौरव के प्रतिबिंब, प्रेरक, कर्मयोगी एवं देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके 72वें जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।


पीएनबी में 42 लाख रुपये के नोट भीग कर सड़ गए

पीएनबी में 42 लाख रुपये के नोट भीग कर सड़ गए

संदीप मिश्र   

कानपुर। हैरान कर देने वाली खबर कानपुर से आयी है, जहां पंजाब नेशनल बैंक के करेंसी चेस्ट में 42 लाख रुपये के नोट पानी में भींग कर सड़ गए। यह नोट लोहे के बॉक्स में चेस्ट की फर्श पर रखे थे। तीन महीने पहले नोट सड़ने का यह मामला बैंक अफसर दबाए रहे, लेकिन ऑडिट में मामला खुल गया। अंतत: बैंक प्रबंधन ने चेस्ट में रकम की कमी का हवाला देकर चार अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। किसी भी बैंक में ये अपनी तरह का अजीबो-गरीब मामला है। बैंक अफसर इस बाबत कुछ बोलने से बच रहे हैं, लेकिन रिजर्व बैंक की रिपोर्ट में नोट सड़ने का खुलासा कर दिया गया है।


बता दें कि पांडुनगर में पंजाब नेशनल बैंक की शाखा में ही मुख्य करेंसी चेस्ट है। बैंक सूत्रों के मुताबिक चेस्ट में क्षमता से दोगुनी ज्यादा रकम भरी है। इस वजह से कैश रखने के निर्धारित मापदंडों का पालन नहीं किया गया। करीब तीन महीने पहले फर्श में रखे बॉक्स में पानी चला गया और सीलन की वजह से नीचे रखे नोट सड़ गए।

आरबीआई ने हाल में इस चेस्ट का निरीक्षण किया तो नोट सड़े मिले। तभी से सड़ गए नोटों की वास्तविक संख्या जानने के लिए जांच चल रही थी। शुरुआती गिनती में बैंक को मामला दो-चार लाख का ही लगा, लेकिन गिनती खत्म होते-होते यह रकम 42 लाख तक पहुंच गई।यह उजागर होने पर हड़कंप मच गया और रिपोर्ट मुख्यालय भेजी गई। बैंक की जोनल ऑडिट और विजिलेंस टीम ने चेस्ट की जांच की। बैंक सूत्रों के मुताबिक मामला रफा-दफा करने के लिए अधिकारियों पर 42 लाख रुपये की भरपाई का दबाव डाला गया। इनकार करने पर बुधवार देर शाम करेंसी चेस्ट के वरिष्ठ प्रबंधक देवी शंकर, प्रबंधक आशाराम, चेस्ट आफिसर राकेश कुमार और वरिष्ठ प्रबंधक भास्कर कुमार भार्गव को सस्पेंड कर दिया गया। चार में से तीन अधिकारियों की तैनाती नोट भींगने के बाद चेस्ट में की गई थी। करेंसी चेस्ट के निरीक्षण के लिए आरबीआई ने नियम तय किए हैं। चेस्ट शाखा के चीफ मैनेजर को महीने में एक बार करेंसी चेस्ट का निरीक्षण करना अनिवार्य है। बैंक कर्मी सवाल उठा रहे हैं कि तत्कालीन चीफ मैनेजर सर्वेश सिंह पर कार्रवाई क्यों नहीं की गई? इसी तरह बैंक के सर्किल हेड की भी जिम्मेदारी है कि वह चेस्ट का तिमाही या छमाही निरीक्षण करें। उन पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई।

आरबीआई की करेंसी चेस्ट ऑडिट रिपोर्ट में 18 वें बिंदु पर नोट सड़ने और उनके अगणनीय होने का जिक्र किया गया है। पीएनबी के सर्किल हेड श्याम सुंदर ने ‘दैनिक भारत 24’ से इस बाबत कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है।

चंबल अंचल में दौड़ेंगे चीते, टाइगर मारेंगे दहाड़

चंबल अंचल में दौड़ेंगे चीते, टाइगर मारेंगे दहाड़

इकबाल अंसारी

ग्वालियर। चंबल-अंचल में चीतो की फुर्तीली दौड़ के बाद अब टाइगर भी दहाड़ मारेंगे। 17 सितंबर शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिवस पर श्योपुर जिले के कूनो सेंचुरी में चीतों की भारत में वापसी हुई है, तो अब बहुत जल्द ही शिवपुरी जिले के माधव नेशनल पार्क में टाइगर की दहाड़ सुनाई देगी।

यह बड़ा बयान केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिया है। टाइगर लाने को लेकर उन्होंने कहा है कि शिवपुरी के माधव नेशनल पार्क में अगले साल तक पांच टाइगर रिलीज किए जा सकते हैं। टाइगर लाने की मेरी सोच है और केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव जी से इस विषय को लेकर चर्चा भी हुई है। रणथंबोर में टाइगर है, कूनो पालपुर में चीता होगा। आगे पन्ना सेंचुरी है, उन्होंने कहा कि अगले साल तक पांच टाइगर रिलीज करने की वह कोशिश करेंगे।

यह पूरी पट्टी रणथंबोर, फिर कूनो पालपुर, फिर माधव नेशनल पार्क शिवपुरी, फिर पन्ना सेंचुरी के जरिए पूरा सर्किट तैयार होगा। राजस्थान के कोने से पन्ना तक वन्य प्राणियों का एक विशेष सर्किट होगा, जो सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र बनेगा।

युवती का सड़ा हुआ शव मिला, हत्या की आशंका

लखनऊ। प्रयागराज के मेजा की रहने वाले राजेंद्र गुप्ता की बेटी रुपा करीब एक साल पहले लखनऊ आई थी। यहां एक निजी कंपनी में काम करती थी। शुरूआती दिनों में पंडितखेड़ा में किराए के कमरे में रहती थी। वहीं के रहने वाले हर्षित शुक्ला से उसका प्रेम संबंध हो गया। हर्षित अक्सर उसके कमरे पर आता जाता था। जिस पर मकान मालिक ने आपत्ति जताई। इसके बाद रुपा ने मकान बदल दिया। दूसरे गंगाखेड़ा के पास उसने कमरा किराए पर लिया। जहां हर्षित भी साथ रहता था। वहां पर भी लोगों ने आपत्ति की तो गंगाखेड़ा के रहने वाले राम सिंह के गर्ल्स हास्टल में कमरा किराए पर लेकर रहने लगी।

लखनऊ में कृष्णानगर के रामदासखेड़ा गांव के बाग में लगे ट्यूबेल के पास गड्ढे में शुक्रवार को युवती का शव मिला। तीन दिन पुराना शव होने के कारण काफी दुर्गंध आ रही थी। स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को बाहर निकाला। शिनाख्त कराई तो युवती की पहचान प्रयागराज के मेजा स्थित बिसहिजन खुर्द की रहने वाली रूपा (24) के रूप में हुई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पुलिस के मुताबिक युवती की हत्या गला घोंटकर उसके प्रेमी ने की है। आशंका है कि हत्या तीन पहले की गई। इसी के बाद से प्रेमी फरार है। उसकी तलाश की जा रही है। दोनों एक साल से लिव-इन में रहते थे। पुलिस ने युवती के परिजनों को सूचना दे दी है। देर रात तक पहुंचने की संभावना हैं। फोरेंसिक टीम को भी मौके पर बुलाया गया था। पुलिस हत्यारोपी प्रेमी की तलाश कर रही है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-344, (वर्ष-05)

2. रविवार, सितंबर 18, 2022

3. शक-1944, आश्विन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-अष्ठमी, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 05:51, सूर्यास्त: 06:45। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 24 डी.सै., अधिकतम-33+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...