टेक्नोलॉजी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
टेक्नोलॉजी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

सोमवार, 31 जुलाई 2023

स्मार्टफोन बना मुसीबत, लोकेशन हैक कर सकते हैं

स्मार्टफोन बना मुसीबत, लोकेशन हैक कर सकते हैं      

इकबाल अंसारी 

आज के दौर में हर दूसरा इंसान स्मार्टफोन यूज कर रहा है। वहीं स्मार्टफोन यूजर की बढ़ती संख्या के साथ ही आज के दौर में साइबर अपराध भी अपने पैर पसार रहा है। यूजर के साथ हर समय रहने वाला उसका स्मार्टफोन कब उसके लिए किसी बड़ी परेशानी की वजह बन जाए, कुछ कहा नहीं जा सकता है। ऐसे में अगर आप भी एंड्रॉइड फोन का इस्तेमाल करते हैं तो ये खबर आपके लिए भी बहुत जरूरी हो जाती है।

दरअसल, मीडिया रिपोर्ट्स की ओर से दावा किया जा रहा है कि एंड्रॉइड ऑपरेटिंग सिस्टम में एक खामी की वजह से हैकर्स यूजर की लोकेशन ट्रैक कर सकते हैं। बता दें शोधकर्ताओं ने स्मार्टफोन से जुड़ी एक बड़ी खामी को पाया है। स्मार्टफोन से जुड़ी यह खामी टेक्स्ट मैसेजिंग से जुड़ी है। वहीं बताया जा रहा है कि हैकर्स एसएमएस सिस्टम के डेटा में मशीन लर्निंग प्रोग्राम की मदद से लोकेशन ट्रैक कर सकते हैं। इसके लिए हैकर को यूजर के कॉन्टेक्ट नंबर की जानकारी होना मात्र ही पर्याप्त होगा।

परेशानी वाली बात ये है कि कम्युनिकेशन एनक्रिप्टेड होने के बावजूद भी इस तरह खामी की वजह से लोकेशन की जानकारी नहीं बचाई जा सकती है। दरअसल, एसएमएस सिक्योरिटी को लेकर लंबे समय से कोई सुधार नहीं हो पाया है। यही वजह है कि हैकर एसएमएस सिस्टम की खामियों का इस्तेमाल अपने फायदे के लिए कर सकते हैं।

किसी यूजर को एसएमएस भेजने पर सेंडर को मैसेज डिलिवरी का रिप्लाई स्क्रीन पर नजर आता है। इसी ऑटो फीचर की आड़ में हैकर टारगेटेड यूजर को बार-बार मैसेज सेंड कर डिलिवरी रिप्लाई की टाइमिंग को एनालाइज कर सकते हैं। इसी के साथ हैकर यूजर की पिन-पॉइन्ट लोकेशन की जानकारी भी ले सकते हैं। बता दें, इस तरह की घटना का अभी तक कोई एक्टिव केस सामने नहीं आया है, लेकिन यूजर को ऐसे खतरों के लिए सतर्क रहने की सलाह दी जाती है।

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...