मंगलवार, 9 नवंबर 2021

नदी में छठ पूजन करने को मजबूर परिवार

नदी में छठ पूजन करने को मजबूर परिवार

अश्वनी उपाध्याय      गाज़ियाबाद। जनपद में सैंकड़ों पूर्वाञ्चालि परिवार मजबूरी में उस हिंडन नदी में छठ पूजन करने को मजबूर हैं। जिसका पानी अब किसी गंदे नाले से भी खराब हो चुका है। विभिन्न सोसायटियों और रेसिडेंट वेल्फेयर एसोसिएशनों की ओर से स्विमिंग पूल आदि में छठ पूजन की व्यवस्था की गई है। मगर हर परिवार इन  सोसायटियों में जाकर पूजन नहीं कर सकता है।  हालांकि गाज़ियाबाद नगर निगम द्वारा हिंडन तट पर वृतियों के लिए साफ पानी की व्यवस्था की गई है। किन्तु परंपरागत तरीके से छठ पूजन नदी के पानी में ही किया जाता है।

पर्व के तीसरे दिन बुधवार शाम को अस्ताचलगामी सूर्य को जिले के विभिन्न घाटों पर लाखों व्रती महिलाएं अ‌र्घ्य देंगी। हिंडन नदी की सफाई का स्थायी समाधान निकालने में नाकाम दो बार के सांसद व केंद्रीय राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह इन वृतियों के सम्मान में हेलिकॉप्टर से पुष्प वर्षा करेंगे। प्राप्त सूचना के अनुसार हेलिकॉप्टर द्वारा हरनंदी घाट, करहैड़ा गोल चक्कर पार्क, जनकपुरी स्थित डबल टंकी पार्क, डीएलएफ, कोयल एन्क्लेव, विवेकानंद नगर, बलरामपुर, खोड़ा, वसुंधरा, वैशाली, इंदिरापुरम, झंडापुर, बृज विहार समेत अन्य छठ घाटों पर फूल की वर्षा की जाएगी।


यूपी: भाजपा के 3 सदस्यों ने नामांकन किया
 बृजेश केसरवानी       प्रयागराज। माननीय महापौर अभिलाषा गुप्ता नन्दी की अध्यक्षता में प्रयागराज विकास प्राधिकरण के 4 सदस्यों के निर्वाचन हेतु नगर निगम में होने वाले निर्वाचन में भारतीय जनता पार्टी के 3 सदस्यों ने नामांकन किया। जिनके नाम क्रमशः शहर दक्षिणी विधानसभा से पार्षद साहिल अरोरा, शहर पश्चिमी विधानसभा से पार्षद दीपक कुशवाहा, शहर उत्तरी विधानसभा से आनन्द अग्रवाल रहे। इस दौरान मंत्री उ.प्र सरकार नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी व सिदार्थनाथ सिंह, महापौर अभिलाषा गुप्ता नन्दी, विधायक ई. हर्षवर्धन वाजपेयी, सांसद  केशरी देवी पटेल व रीता बहुगुणा जोशी, एमएलसी सुरेश त्रिपाठी, एमएलसी बासुदेव यादव समेत समस्त जनप्रतिनिधिगण व पार्षदगणों ने वोट डाले। 
भारतीय जनता पार्टी के 2 प्रत्याशी  साहिल अरोरा 21 वोट ,  दीपक कुशवाहा 16 वोट, समाजवादी के 2 प्रत्याशी  मो.आज़म 16 वोट व मंजीत कुमार 16 वोट पाकर विजयी हुए एवं  आनन्द अग्रवाल 13 वोट पाकर पिछड़ गए। इस अवसर पर पार्षद ओम प्रकाश द्विवेदी, अखिलेश सिंह, मिथिलेश सिंह, नंदलाल, आकाश सोनकर, सुनीता श्रीवास्तव, कुसुमलता, नीलम यादव, रिंकी यादव, सबीना सिद्दीकी, सरस्वती देवी, आनंद सोनकर, मनोज कुशवाहा, अनूप मिश्रा, अमरजीत सिंह, आनंद सोनकर, जगमोहन गुप्ता, सविता भारती, राजेश कुमार निषाद, फसाहत हुसैन, भाजपा महानगर अध्यक्ष गणेश केसरवानी, महामंत्री रमेश पासी व कुंज बिहारी मिश्रा, उपाध्यक्ष राजू पाठक, प्रयाग व्यापार मंडल अध्यक्ष विजय अरोरा, क्षेत्रीय सदस्य काशीक्षेत्र हर्ष केसरी, मण्डल अध्यक्ष दिलीप केसरवानी, शिर्वाचन पांडेय आदि लोग उपस्थित रहे।

सपा के पक्ष मे वोट करने पर आभार जताया
बृजेश केसरवानी       प्रयागराज। नगर निगम प्रयागराज मे एडीए सदस्य के चुनाव मे समाजवादी पार्टी से अधिग्रहित प्रत्याशी मो. आज़म और मंजीत कुमार को मिली जीत पर सपा महानगर अध्यक्ष सै. इफ्तेखार हुसैन ने भाजपा के पतन की ओर इशारा करते हुए इसे भाजपा के ताबूत मे पहली कील बताया। कहा, कि यह जीत 2022 के विधान सभा चुनाव मे सपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनने की ओर इशारा है। महासचिव रवीन्द्र यादव रवि ने सपा के दोनो प्रत्याशीयों को मिली अभूतपूर्व जीत पर जहाँ मो. आज़म और मंजीत कुमार को बधाई दी वहीं कांग्रेसी पार्षदों के सपा के पक्ष मे वोट करने पर आभार जताया। महानगर प्रवक्ता सै.मो. अस्करी के अनुसार वार्ड नं. 22 के पार्षद मो. आज़म को 17 पार्षदों का वोट हासिल हुआ। उसमे से एक वोट अवैध घोषित होने पर 16 वोट मिले। वहीं वार्ड 12 के पार्षद मंजीत कुमार को 16 वोट मिले। जो पुरे के परे वैध रहे। भाजपा ने तीन प्रत्याशीयों को मैदान में उतारा था। जिनमे दो को जीत तो एक को हार मिली।कांग्रेस पार्टी ने अपने कोई भी प्रत्याशी को मैदान मे न उतारते हुए सपा को समर्थन दिया। सभी पार्षदों ने एकजुटता का परिचय दिया। वहीं, कांग्रेस के सहयोग के प्रति आभार व्यक्त किया। 
हार से बौखलाई भाजपा के खेमे मे एक प्रत्याशी की हार से सन्नाटा पसरा रहा न तो मोदी योगी के नारे लगे और न ही जयश्रीराम का उद्धघोष हुआ। दो बजे से चुनाव की प्रकृया प्रारम्भ हुई पाँच बजे मतो की गणना के बाद जैसे ही जीत का ऐलान हुआ। सपा खेमे मे अखिलेश यादव ज़िन्दाबाद के नारे लगने शुरु हो गए। महानगर अध्यक्ष सै. इफ्तेखार हुसैन व महासचिव रवीन्द्र यादव को सपा कार्यकर्ताओं ने काँधे पर बैठा कर जीत का जश्न मनाया। पार्षदगण अतहर रज़ा लाडले ,अजय यादव ,अब्दुल समद,अनीस अहमद, ज़फर अहमद डव्वा ,नेम यादव, अमरजीत यादव ,फज़ल खान ,रमीज़ अहसन, विनोद सोनकर ,रंजीव निषाद, सोनू पटेल ,तारिक सईद अज्जू ,मोइन हबीबी ,ओ पी यादव ,शाहिद प्रधान ,ज़ामिन हसन ,अब्दुल्ला तेहामी, जयभारत यादव ,रोहित यादव ,इरशाद अहमद, मो.रफी, साने आलम ,सै.मो.अस्करी आदि ने नवनिर्वाचित पीडीए सदस्यों को फूल माला पहनाकर स्वागत किया गया।

सीएम ने सभी जिलो को सख्त निर्देश जारी किएं

सीएम ने सभी जिलो को सख्त निर्देश जारी किएं

अविनाश श्रीवास्तव       बक्सर। जहरीली शराब के कारण राज्य में हुई मौतों के बाद मुख्यमंत्री ने सभी जिलो को सख्त निर्देश जारी किए है। बक्सर उत्तर प्रदेश की सीमा से लगा हुआ जिला है। इस लिए यहां विशेष चौकसी बरतने का निर्देश दिया गया है। सोमवार को इसकी समीक्षा के लिए शाहाबाद प्रक्षेत्र के डीआईजी पी कन्नन ने डुमरांव में बैठक की। इस दौरान उन्होंने एसपी नीरज कुमार सिंह, ए एसपी राज, मुख्यालय व सदर डीएसपी गोरख राम को आवश्यक निर्देश दिए।

हालांकि, पिछले तीन-चार दिनों से जिले में अवैध शराब का निर्माण करने वालों के खिलाफ विशेष अभियान चल रहा है। जिसमें हुई बरामदगी पर उन्होंने संतोष जताया। बैठक की जानकारी देते हुए एसपी नीरज कुमार सिंह ने मीडिया को बताया कि जिले में चल रही कार्रवाई, शराब की बरामदगी और गिरफ्तारी के अलावा उन्होंने लंबित कांड़ों के उद्भेदन के बारे में विस्तृत चर्चा की। साथ ही पंचायत चुनाव को शांति पूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए आवश्यक निर्देश दिए। लगे हाथ एसपी श्री सिंह ने भी अपराध समीक्षा बैठक की। जिसमें जिले के सभी थानाध्यक्ष व तीनों एसडीपीओ मौजूद रहे।


मेडिकल कॉलेज के स्टाफ ने प्रदर्शन किया

आनंद राजपूत        दुर्ग। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अधिग्रहित किए गए चंदूलाल चंद्राकर मेडिकल कॉलेज में कार्यरत स्टाफ को अब अपनी नौकरी पर खतरा मंडराता नजर आ रहा है। इसी मुद्दे को लेकर आज मेडिकल कालेज के स्टाफ ने प्रदर्शन कर धरना दिया। धरना शामिल कर्मचारी अधिग्रहण के पश्चात कालेज में अपने पदों पर नियमितिकरण की मांग कर रहे थे। प्रदर्शन में कालेज के मेडिकल स्टाफ के साथ अन्य कर्मचारी शामिल हुए। बता दें कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर भिलाई के ग्राम कचांदूर में संचालित चंदूलाल चंद्राकर मेडिकल कॉलेज के अधिग्रहण का निर्णय सरकार द्वारा लिया गया है। इस निर्णय के पश्चात अधिग्रहण प्रक्रिया के दौरान ही कालेज प्रबंधन द्वारा स्टाफ की बिना नोटिस दिए ही अघोषित छटनी प्रारंभ कर दी थी। कर्मचारियों को जबरिया छुट्टी पर भेजा जाने लगा था। जिसके विरोध में कर्मचारियों ने प्रदर्शन कर श्रम आयुक्त से शिकायत की थी। इसके बाद स्वास्थ्य मंत्री के कालेज अवलोकन के दौरान कालेज मेनेजमेंट ने उन्हें कालेज में किसी भी स्टाफ के काम नहीं करने की जानकारी दी। जिसके बाद कालेज में कार्यरत कर्मचारी अपनी नौकरी को लेकर आशंकित है। इसी स्थिति के मद्देनजर आज कर्मचारियों ने यह प्रदर्शन किया और अपनी नियमितिकरण की मांग की। कर्मचारियों का कहना है कि उन्हें माह सितंबर तक का वेतन प्रदान किया गया है। जिसमें नियमानुसार सभी कटौती की गई हैं। इसके बावजूद प्रबंधन सरकार के सामने भ्रम की स्थिति निर्मित कर रहा है। वर्तमान में 101 कर्मचारियों का स्टाफ कालेज में अपनी सेवाएं प्रदान कर रहा है। इन सभी कर्मचारियों को कालेज में नियमित किए जाने की मांग उन्होंने की है।


कार्यक्रमों को पूरा करने की रणनीति पर काम शुरू 
राणा ओबराय          चंडीगढ़। भाजपा की प्रदेश इकाई ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बनाए कार्यक्रमों को जल्द पूरा करने की रणनीति पर काम शुरू कर दिया है। राष्ट्रीय कार्यकारिणी के दूसरे दिन प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने सोमवार को चंडीगढ़ में मीडिया से बातचीत में कहा कि केंद्रीय नेतृत्व की तरफ से मिले काम को हम निश्चित समय में पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि मई 2022 तक देश के हर बूथ पर पार्टी कार्यकर्ताओं और बूथ के विशिष्ट लोगों के साथ मिलकर ‘मन की बात’ कार्यक्रम सुनने की व्यवस्था की जाएगी और ‘हर घर दस्तक’ कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग करने के लिए प्रदेश में हजारों हेल्थ वालंटियर लगाएं जाएंगे। धनखड़ ने कहा कि भाजपा की सरकारें जनकल्याण की बेहतर योजना बनाकर कार्य कर रही हैं। भाजपा का हर कार्यकर्ता भी संगठित होकर लगातार समाजहित के काम में जुटा हुआ। केंद्रीय नेतृत्व ने देश में मई-2022 तक लाखों बूथों पर प्रधानमंत्री के ‘मन की बात’ कार्यक्रम को स्थानीय विशिष्ट लोगों के साथ बैठकर देखने की व्यवस्था करने का निर्णय लिया है। धनखड़ ने कहा कि ‘हर घर दस्तक’ के लिए भी हर शहर में हेल्थ वालंटियर तैयार किए जाएंगे। ऐलनाबाद उपचुनाव को लेकर उन्होंने कहा कि इस उपचुनाव ने यह बताया है कि किसान भाजपा की जनकल्याणकारी नीतियों के साथ हैं। धनखड़ ने हरियाणा सरकार द्वारा किसान के मुआवजे में की गई बढ़ोतरी को ऐतिहासिक बताया।

15.13 ग्राम स्मैक के साथ आरोपी गिरफ्तार

15.13 ग्राम स्मैक के साथ आरोपी गिरफ्तार 
हरिओम उपाध्याय        
अल्मोड़ा। उनि श्याम सिंह बोरा व एसओजी अल्मोड़ा की टीम ने गत रात्रि यहां करबला तिराहे के पास एक व्यक्ति को 1 लाख 51 हजार 300 रूपये की 15.13 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार किया है।
उल्लेखनीय है कि एसएसपी पंकज भट्ट द्वारा सभी थाना प्रभारियों एवं एसओजी टीम को नशे के अवैध कारोबार के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश जारी किये हैं। जिसके अनुपालन में नशे के सौदागरों पर अल्मोड़ा पुलिस की कार्यवाही लगातार जारी है। गत दिवस उनि श्याम सिंह बोरा व एसओजी अल्मोड़ा की संयुक्त टीम द्वारा रात्रि चैकिंग के दौरान करबला तिराहे के पास एक व्यक्ति प्रदीप बिष्ट पुत्र नारायण सिंह बिष्ट निवासी ऑफिसर्स कॉलोनी, अल्मोड़ा उम्र 31 वर्ष को संदिग्ध प्रतीत होने पर चैक किया गया। इस दौरान उसके पास से 15.13 ग्राम स्मैक कीमत 151,300 रुपये व एक इलैक्ट्रानिक तराजू बरामद हुआ। जिस पर उसे गिरफ्तार कर कोतवाली अल्मोड़ा में धारा- 8/21 एनडीपीएस एक्ट में अभियोग पंजीकृत कर आवश्यक कार्यवाही की गयी।

यूके: शादी करने का झांसा देकर दुष्कर्म किया
पंकज कपूर     
काशीपुर। आईटीआई थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली युवती ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि लगभग 6 महीने पहले वह अपनी नानी के घर एक शादी समारोह में शामिल होने गई थी। जहां उसकी मुलाकात एक युवक से हुई। जिसके अपना नाम सोनू बताया। दोनों की मुलाकात प्रेम प्रसंग में बदल गई। इस दौरान युवक ने उसे शादी करने का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया। उसके कुछ कहीने बाद युवक ने उसे बताया कि उसका नाम सोनू नहीं बल्कि भूरा पुत्र इदरीश है और वह गोधन, दलपतपुर जिला मुरादाबाद का रहने वाला है। उसकी हकीकत पता चलने के बाद युवती ने उससे बातचीत करना बंद कर दिया। लेकिन कल युवक उसके गांव पहुंच गया। युवती काशीपुर से खरीदारी कर वापस अपने घर आ रही थी।
आरोपी सोनू उर्फ भूरा ने उसे जबरदस्ती अपनी बाइक पर बैठा लिया और अपने साथ ले जाने लगा। जिस पर युवती ने शोर मचाया तो मौके पर ग्रामीण एकत्र हो गये और उन्होंने युवक को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया।
आईटीआई थानाध्यक्ष विद्यादत्त जोशी ने बताया कि युवती की तहरीर के आधार पर आरोपी भूरा के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
सीएम हरीश रावत कल करेगें मौन उपवास और पदयात्रा- पढ़िए पूरा कार्यक्रम लालकुआं- पूर्व सीएम हरीश रावत कल करेगें मौन उपवास और पदयात्रा- पढ़िए पूरा कार्यक्रम  हल्द्वानी- राज्य स्थापना दिवस 10 नवंबर कार्यक्रम , पढ़िए यातायात और पार्किंग व्यवस्था प्लान हचान छुपाकर युवती से दुष्कर्म और अगवा करने का प्रयास ,आरोपी गिरफ्तार।

कंगना को पद्मश्री पुरस्कार से किया सम्मानित

कंगना को पद्मश्री पुरस्कार से किया सम्मानित 
कविता गर्ग     
मुंबई। अभिनेत्री कंगना रनौत पद्मश्री पुरस्कार मिलने पर बेहद उत्साहित है। कंगना रनौत को पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। पुरस्कार प्राप्त करने के बाद, कंगना ने अपने फैंस और फालोअर्स के लिए अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक वीडियो मैसेज शेयर किया है। वीडिया में कंगना ने कहा, "मै कृतज्ञ हूँ जब मैंने अपना करियर छोटी उम्र में शुरू किया था, तो मुझे सफलता का स्वाद चखने में 8-10 साल लग गए, लेकिन जब मैं आखिरकार सफल हो गई, तो मुझे इसमें मजा नहीं आया। मैंने फेयरनेस प्रोडक्ट्स, आइटम नंबर्स, फेमस मेल लीड एक्टर्स और प्रोडक्शन हाउस के साथ फिल्मों में काम करना छोड़ दिया। मैंने जितना पैसा कमाया उससे ज्यादा दुश्मन बन गए हैं।
कंगना ने कहा, "मैं अक्सर सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर अपनी राय देती हूं और अभी भी मेरे खिलाफ कई कानूनी मामले दर्ज हैं। लोग अक्सर मुझसे पूछते हैं कि मुझे यह सब करने से क्या मिलता है? मैं यह सब क्यों करती हूँ? यह आपका काम नहीं है। तो यह पुरस्कार उनके लिए मेरा जवाब है। पद्म श्री के रूप में जो मुझे सम्मान मिला है ये बहुत लोगों के मुह बंद करेगा।


कोऑर्डिनेटर के पदों पर भर्ती करेंगी कांग्रेस

कोऑर्डिनेटर के पदों पर भर्ती करेंगी कांग्रेस
हरिओम उपाध्याय     
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की पुरजोर तरीके से तैयारियां कर रही कांग्रेस अब जिला प्रवक्ता एवं कोऑर्डिनेटर के पदों पर आम लोगों की भर्ती करेगी। जिसके चलते बने यूपी की आवाज कार्यक्रम सरकार की ओर से लांच किया गया है।
मंगलवार को उत्तर प्रदेश कांग्रेस की ओर से बने यूपी की आवाज कार्यक्रम की लांचिंग की गई। इस कार्यक्रम के माध्यम से आम लोग पार्टी से जुड़कर अपने जनपद की आवाज को बुलंद कर सकते हैं। पार्टी के मीडिया कोऑर्डिनेटर नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत करते हुए बताया है कि पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा संघर्ष करते हुए अन्याय एवं अत्याचार के खिलाफ लगातार सड़क से लेकर जेल तक अनवरत रूप से जनता की लड़ाई लड़ी जा रही है। उत्तर प्रदेश के विकास के लिए उनकी ओर से ली गई प्रतिज्ञाओं से प्रभावित होकर अब लोग तेजी के साथ कांग्रेस से जुड़ रहे हैं। कांग्रेस का मीडिया विभाग इन आवाजों को एक माध्यम उपलब्ध कराना चाहता है। जिसके लिए जनपद वार प्रवक्ता एवं कोऑर्डिनेटर्स नियुक्त करने के लिए आज बने यूपी की आवाज कार्यक्रम आरंभ किया गया है, जो लोग पार्टी से जुड़कर अपने जनपद की आवाज को बुलंद करना चाहते हैं वह इस अभियान के तहत निर्धारित किए गए मानकों को पूरा करते हुए पार्टी का प्रवक्ता बनकर अपनी आवाज को उठा सकते हैं। चयन का आधार योग्यता होगी। इसके लिए जिलावार परीक्षा एवं साक्षात्कार निर्धारित की गई तिथियों पर आयोजित किया जाएगा।

नवाब मलिक का अंडरवर्ल्ड के साथ सीधा संबंध 
कविता गर्ग    
मुंबई। पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने नया बम फोड़ते हुए एनसीपी नेता नवाब मलिक के ऊपर कई गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि नवाब मलिक का अंडरवर्ल्ड के साथ सीधा संबंध है। आर्थिक राजधानी मुंबई में नवाब मलिक और उनके रिश्तेदारों द्वारा खरीदी गई पांच जमीनों में से 4 में सीधे अंडरवर्ल्ड से संबंध है। पूर्व मुख्यमंत्री ने नवाब मलिक के ऊपर सवाल दागा है कि यदि उनका अंडरवर्ल्ड के साथ कोई संबंध नहीं है तो उन्होंने मुंबई में हुए धमाकों को अंजाम देने वाले लोगों से जमीन क्यों खरीदी है।
मंगलवार को देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में आयोजित की गई प्रेस वार्ता में मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत करते हुए महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि जो मैं बताने जा रहा हूं वह ना तो हिंदी फिल्मों के डायलॉग राइटर सलीम जावेद की स्टोरी है और ना हीं यह बात किसी फिल्म के इंटरवल के बाद की कहानी है। उन्होंने कहा है यह बहुत ही गंभीर और राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा हुआ मामला है। उन्होंने कहा है कि मैं दो करैक्टर के बारे में जानता हूं जिनमें एक है आतंकवादी शाह वली अली खान जो 1993 में हुए बम धमाकों का जिम्मेदार है। अदालत ने खान को उम्र कैद की सजा सुनाई है। दूसरा नायक सलीम पटेल है जो दाऊद के साथ फोटो के भीतर दिखाई देता है। यह हसीना पारकर का बॉडीगार्ड भी रह चुका है। पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सवाल किया है कि सलीम पटेल की पावर ऑफ अटॉर्नी वाली कुर्ला स्थित एकड़ जमीन सॉलिडस नाम की कंपनी को बेची गई है जो एनसीपी नेता और राज्य में कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक की कंपनी है। यह कंपनी शाह वली अली खान के माध्यम से खरीदी गई थी। उन्होंने कहा कि जिस समय वर्ष 2003 के दौरान जमीन का सौदा हुआ था, तब भी नवाब मलिक मंत्री थे। वर्ष 2019 में उन्होंने कंपनी से इस्तीफा दे दिया था।

‘कोवैक्सीन’ टीके को सूची में शामिल किया

‘कोवैक्सीन’ टीके को सूची में शामिल किया
लंदन। ब्रिटेन सरकार ने कहा कि भारत के ‘कोवैक्सीन’ टीके को अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए स्वीकृत कोविड-19 रोधी टीकों की सूची में 22 नवंबर को शामिल किया जाएगा। इसका अर्थ यह हुआ कि जिन लोगों ने भारत बायोटेक द्वारा निर्मित ‘कोवैक्सीन’ की दोनों खुराक ली हैं, उन्हें ब्रिटेन आने के बाद पृथक-वास में नहीं रहना होगा।
विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) , ‘कोवैक्सीन’ को आपात स्थिति में इस्तेमाल के लिए स्वीकृत टीकों की सूची (ईयूएल) में पहले ही शामिल कर चुका है, जिसके बाद ब्रिटेन ने यह कदम उठाया है। भारत में निर्मित ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के कोविड-19 रोधी टीके ‘कोविशील्ड’ को ब्रिटेन में स्वीकृत टीकों की सूची में पिछले महीने शामिल किया गया था। भारत के लिए ब्रितानी उच्चायुक्त एलेक्स एलिस ने सोमवार को ट्वीट किया, ”ब्रिटेन आने वाले भारतीय यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। कोवैक्सीन समेत डब्ल्यूएचओ की आपात सूची में शामिल कोविड-19 रोधी टीके लगवा चुके यात्रियों को 22 नंवबर से पृथक-वास में नहीं रहना होगा।” यह फैसला 22 नवंबर तड़के चार बजे से लागू होगा।
‘कोवैक्सीन’ के अलावा डब्ल्यूएचओ के ईयूएल में शामिल चीन के ‘सिनोवैक’ और ‘सिनोफार्म’ टीकों को भी ब्रिटेन सरकार के मान्यता प्राप्त टीकों की सूची में शामिल किया जाएगा। ब्रिटेन के परिवहन मंत्री ग्रांट शैप्स ने कहा, ” हम वैश्विक महामारी से उबर रहे हैं और मान्यता प्राप्त अंतरराष्ट्रीय टीकों की संख्या में विस्तार कर रहे हैं।
ऐसे में आज की घोषणा अंतरराष्ट्रीय यात्रा पुन: आरंभ करने की दिशा में अगला कदम है।” ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जावेद ने कहा, ”लाल सूची (रेड लिस्ट) और पृथक-वास प्रणाली हमारी सीमाओं की सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण है और जैसा कि हमने कहा है, यदि आवश्यकता हुई तो हम देशों को लाल सूची में शामिल डालने में संकोच नहीं करेंगे।
संघर्ष विराम समझौता करने पर सहमति बनाईं
इस्लामाबाद। पाकिस्तान सरकार और प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के बीच एक महीने के लिए संघर्ष विराम समझौता करने पर सहमति बन गई है। ताकि देश में दीर्घकालिक शांति के लिए वार्ता आगे बढ़ाई जा सके। टीटीपी के प्रवक्ता मोहम्मद खुरसानी ने एक बयान में कहा कि दोनों पक्ष इस संघर्ष विराम अवधि का सम्मान करेंगे, जो मंगलवार से शुरू हुई। इसे दोनों पक्षों की सहमति से और आगे बढ़ाया जा सकता है।
टीटीपी को पाकिस्तानी तालिबान भी कहा जाता है, जो अफगानिस्तान-पाकिस्तान सीमा पर सक्रिय एक प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन है। यह एक दशक से अधिक समय में पाकिस्तान में कई हमलों को अंजाम दे चुका है, जिनमें हजारों लोगों की मौत हुई है। यह कथित तौर पर अफगानिस्तान की सरजमीं का इस्तेमाल पाकिस्तान के खिलाफ आतंकवादी हमलों की साजिश रचने के लिए करता है। पाकिस्तान सरकार अब अफगानिस्तान के तालिबान के प्रभाव का इस्तेमाल टीटीपी के साथ शांति समझौता करने और हिंसा को रोकने की कोशिश करने के लिए कर रही है।
बयान में कहा गया कि टीटीपी एक इस्लामिक जिहादी अभियान है, जिसमें पाकिस्तान के लोग भी शामिल हैं और उसने देश के हित को हमेशा प्राथमिकता दी है। इसमें कहा गया है कि इस तथ्य को कोई खारिज नहीं कर सकता कि वार्ताएं, युद्ध का हिस्सा हैं। टीटीपी ने वार्ता दलों के गठन पर भी सहमति व्यक्त की, जो दोनों पक्षों की मांगों के आलोक में शांति प्रक्रिया को आगे बढ़ाएंगे।
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पिछले महीने एक साक्षात्कार में खुलासा किया था कि उनकी सरकार, अफगानिस्तान में तालिबान की मदद से ”सुलह” के लिए टीटीपी के साथ बातचीत कर रही है। इस बात को लेकर कई नेताओं और आतंकवाद का शिकार बने कई लोगों ने उनकी काफी आलोचना की थी। गृह मंत्री शेख रशीद ने सरकार के इस कदम का बचाव करते हुए कहा था कि वार्ता ”अच्छे तालिबान” के लिए है।

महामारी: मुद्रा व नोटों की मांग में वृद्धि हुईं
अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। कोविड-19 महामारी के कारण अनिश्चितताओं की वजह से न केवल भारत में, बल्कि दुनिया भर में मुद्रा नोटों यानी नकदी की मांग में वृद्धि हुई है। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। सूत्रों ने हालांकि उस आलोचना को खारिज कर दिया कि नोटबंदी अर्थव्यवस्था में नकदी को कम करने में विफल रही है।
सरकारी सूत्रों ने कहा कि नोटबंदी के बाद डिजिटल भुगतान प्रणाली के विकास से अंततः नकदी पर निर्भरता पर अंकुश लगेगा। आधिकारिक आँकड़े प्लास्टिक कार्ड, नेट बैंकिंग और यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) सहित विभिन्न तरीकों से डिजिटल भुगतान में उछाल की ओर इशारा करता है।
भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) का यूपीआई प्रणाली देश में भुगतान के एक प्रमुख माध्यम के रूप में तेजी से उभर रहा है। यूपीआई को 2016 में लॉन्च किया गया था और इसके जरिये लेन-देन महीने-दर-महीने बढ़ रहा है। अक्टूबर 2021 में, मूल्य के संदर्भ में लेनदेन 7.71 लाख करोड़ रुपये या 100 अरब डॉलर से अधिक था।
अक्टूबर में यूपीआई के जरिए कुल 421 करोड़ लेनदेन किए गए। सूत्रों ने यह भी बताया कि अमेरिका में भी, कुल नकदी लेनदेन 2020 के अंत तक 2.07 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच गई, जो एक साल पहले की तुलना में 16 प्रतिशत अधिक है और यह 1945 के बाद से एक साल की सबसे बड़ी प्रतिशत वृद्धि भी है।
सूत्रों ने बताया कि आर्थिक अनिश्चितता की अवधि के दौरान नकदी की मांग हमेशा बढ़ती है और चूंकि नकदी संपत्ति का सबसे तरल रूप है, इसलिए भारी अनिश्चितता की अवधि के दौरान नकदी में वृद्धि की उम्मीद रहती है। महामारी के दौरान नकदी की मांग में वृद्धि एक विश्वव्यापी घटना रही है।

5जी स्मार्टफोन पेश किया, पहला ब्रांड बना लावा

5जी स्मार्टफोन पेश किया, पहला ब्रांड बना लावा
अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। घरेलू मोबाइल फोन कंपनी लावा इंटरनेशनल घरेलू उपभोक्ताओं के लिए 5जी स्मार्टफोन पेश करने वाला पहला भारतीय ब्रांड बन गया है। स्मार्टफोन को नामक ब्रांड के तहत लॉन्च किया गया है। स्मार्टफोन भारत में लावा द्वारा विकसित किया गया है और इसका निर्माण उत्तर प्रदेश के नोएडा में स्थित कंपनी के कारखाने में किया जा रहा है।
लावा इंटरनेशनल के अध्यक्ष और व्यापार प्रमुख सुनील रैना ने लॉन्च के मौके पर कहा कि अग्नि को लॉन्च करने का उद्देश्य भारतीय उपभोक्ताओं को एक भारतीय कंपनी द्वारा भारत में बने 5जी स्मार्टफोन का विकल्प देना है। हम लोगों के सामने यह साबित करना चाहते थे कि एक भारतीय ब्रांड हो सकता है जो प्रौद्योगिकी उन्मुख हो।
रैना ने कहा कि हम मीडियाटेक डाइमेंशिटी 810 चिपसेट पर 5जी स्मार्टफोन लॉन्च करने वाले दुनिया की दूसरी कंपनी है। अग्नि की कीमत 19,999 रुपये रखी गई है जो वर्तमान में भारतीय बाजार पर हावी चीनी ब्रांडों की तुलना में कम है।

राफेल सौदे में कमीशन लेने का आरोप लगाया 
अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। राफेल लड़ाकू विमानों के सौदे मामले में फ्रांस की पत्रिका ‘मीडियापार्ट’ की ओर से हुए खुलासों को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस पर हमलावर होते हुए राफेल सौदे में कमीशन लेने का आरोप लगाया है। मंगलवार को यहाँ आयोजित संवाददाता सम्मेलन में भाजपा प्रवक्ता  संबित पात्रा ने ‘मीडियापार्ट’ की रिपोर्ट का हवाला देते हुए बिचौलिए सुषेन गुप्ता के नाम का जिक्र करते हुए कहा कि चौंकाने वाली बात यह है कि जिस बिचौलिए का नाम ‘अगस्ता वेस्टलैंड’ घोटाले में सामने आया था, उसी का नाम राफेल सौदे में भी आया है।
उन्होंने कहा, “राफेल का विषय कमीशन की कहानी थी, बहुत बड़े घोटाले की साजिश थी। यह पूरा मामला 2007 से 2012 के बीच हुआ। यह भ्रष्टाचार तत्कालीन कांग्रेस सरकार के कालखंड में हुआ। फ्रांस के एक मीडिया संस्थान ने कुछ वक्त पहले यह खुलासा किया कि राफेल में भ्रष्टाचार हुआ था।
पात्रा ने कहा, “2007 से 2012 के बीच में राफेल में ये कमीशनखोरी हुई है, जिसमें बिचौलिया कोई नया खिलाड़ी नहीं है। यह पुराना खिलाड़ी है, जिसे ‘अगस्ता वेस्टलैंड’ मामले का ‘किंगपिन’ माना जाता है। सुषेन गुप्ता अगस्ता वेस्टलैंड में बिचौलिया था, वह 2007 से 2012 के बीच राफेल सौदे के घूस में भी शामिल था, ऐसा इत्तेफाक हमेशा हकीकत होता है। उन्होंने कहा, “कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी शायद हिंदुस्तान में नहीं है। वह इटली में हैं।
इटली से वह इस भ्रष्टाचार के बारे में जवाब दें। कांग्रेस ने भ्रम फैलाकर 2019 के आम चुनावों से पहले देश को गुमराह करने की कोशिश की थी, लेकिन अब सच सबके सामने आ गया है इस सौदे में भ्रष्टाचार उन्ही की सरकार के कालखंड में हुआ।” भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि 10 ववर्षों तक भारतीय वायुसेना के पास लड़ाकू विमान नहीं थे।
इतने वर्षों तक सिर्फ समझौता किया गया और सौदे को
अटकाए रखा गया। यह समझौता सिर्फ कमीशन के लिए अटकाए रखा गया। ये समझौता विमान के लिए नहीं हो रहा था। बल्कि कमीशन के लिए हो रहा था। उन्होंने कहा, “कांग्रेस के कालखंड में ‘एग्रीमेंट ऑफ पर्चेज’ तो हमने देखा नहीं, लेकिन एक ‘एग्रीमेंट ऑफ कमीशन’ जरूर हमारे सामने आ गया। यह कमीशन कोई दो से चार फीसदी की नहीं थी। कांग्रेस ने विश्व में कमीशन के रिकॉर्ड को तोड़ा है। इस सौदे में 40 फीसदी की दर से कमीशन लिया गया।

भारत: संक्रमण के मामलें 3,43,77,113 हुएं
अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 10,126 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 3,43,77,113 हो गए। ये पिछले 266 दिन में सामने आए सबसे कम दैनिक मामले हैं। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या कम होकर 1,40,638 हो गई है, जो पिछले 263 दिन में सबसे कम है।
केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 332 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,61,389 हो गई। देश में लगातार 32 दिनों से कोविड-19 के दैनिक मामले 20 हजार से कम हैं और 135 दिन से 50 हजार से कम नए दैनिक मामले सामने आ रहे हैं। उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी घटकर 1,40,638 हो गई है, जो कुल मामलों का 0.41 प्रतिशत है। यह दर मार्च 2020 के बाद से सबसे कम है।
पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 2,188 की कमी दर्ज की गई है। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.25 प्रतिशत है, जो मार्च 2020 के बाद से सर्वाधिक है। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी।
वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, इस साल चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे।
3.15 लाख से अधिक लोगों पर लगाया जुर्माना 
अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। कोविड-19 संबंधी नियमों के उल्लंघन के लिए 19 अप्रैल से 8 नवंबर के बीच 3.15 लाख से अधिक लोगों पर जुर्माना लगाया गया। जिनमें से सबसे अधिक मामले मास्क नहीं पहनने से संबंधित थे। यह जानकारी पुलिस ने मंगलवार को दी। दिल्ली पुलिस द्वारा साझा किए गए ताजा आंकड़े के मुताबिक इस दौरान इस तरह के उल्लंघन के लिए 3,15,772 चालान किए गए। 
आंकड़े से पता चला है कि 2,79,198 लोगों पर मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना लगाया गया, इसके बाद 30,379 लोगों पर सामाजिक दूरी के मानदंड का पालन नहीं करने और 3,046 लोगों पर सार्वजनिक स्थानों पर शराब, पान और तंबाकू के सेवन के लिए जुर्माना लगाया गया।
आंकड़ों के अनुसार सार्वजनिक स्थानों पर थूकने के लिए 1,685 और बड़ी सार्वजनिक सभाओं के आयोजन के लिए 1,464 चालान किए गए। कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के मद्देनजर अप्रैल में दिल्ली में लॉकडाउन लगाया गया था। सरकार ने चरणबद्ध तरीके से ‘अनलॉक’ प्रक्रिया शुरू की थी और 31 मई से निर्माण और उत्पादन गतिविधियों की अनुमति दी गई थी। बाद के हफ्तों में, बाजारों, मॉल, मेट्रो ट्रेनों, रेस्तरां और बार और कई अन्य गतिविधियों की अनुमति दी गई।



सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-22 (वर्ष-05)
2. बुधवार, नवंबर 10, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-षष्ठी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:30, सूर्यास्त 05:48।
5. न्‍यूनतम तापमान -14 डी.सै., अधिकतम-28+ डी.सै.। 
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक शिवाशुं व राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की राजकुमार              कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा सम्राट उदयन सभागार में राजनैतिक...