सोमवार, 23 नवंबर 2020

सभी राज्यों से मांगी 'कोरोना' रिपोर्ट

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने दिल्ली सहित देश के विभिन्न राज्यों में कोरोना वायरस महामारी की भयावह होती स्थिति पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए सोमवार को सभी राज्यों से स्थिति रिपोर्ट तलब की। न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति एम आर शाह की खंडपीठ ने कोरोना पर स्वत: संज्ञान वाले मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि देश भर से कोरोना के मामले ने तीव्र वृद्धि की खबर आ रही है। पिछले दो सप्ताह में दिल्ली में स्थिति भयावह हुई है।                                 


'राष्ट्रपिता' गांधी के पर-पोते का निधन हुआ

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। राष्ट्र पिता महात्मा गांधी के परपोते सतीश धुपेलिया का कोरोना वायरस से निधन हो गया। वह 66 वर्ष के थे। गौरतलब है कि सतीश धुपेलिया ने तीन दिन पहले ही अपना जन्मदिन मनाया था। उनके परिवार के सदस्यों ने यह जानकारी दी। धुपेलिया की बहन उमा धुपेलिया ने इस बात की पुष्टि की कि उनके भाई की कोरोना  संबंधित जटिलताओं से मौत हो गई है। उन्होंने बताया कि उनके भाई को निमोनिया हो गया था और उसके उपचार के लिए वह एक माह अस्पताल में थे और वहीं वह संक्रमण की चपेट में आ गए। उन्होंने सोशल मीडिया पोस्ट में कहा, निमोनिया से एक माह पीड़ित रहने के बाद मेरे प्यारे भाई का निधन हो गया। अस्पताल में उपचार के दौरान वह कोरोना की चपेट में आ गए थे।                                       

दुनिया भर में 7,375 लोगों की मौत हुई

वाशिंगटन डीसी। दुनिया भर में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। पिछले 24 घंटे के भीतर दुनिया भर में 4 लाख 87 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए। वहीं 7,375 लोगों की मौत हुई। कोरोना संक्रमण का आंकड़ा बढ़कर 5 करोड़ 89 लाख 68 हजार हो चुका है। वहीं 4 करोड़ 7 लाख से ज्यादा लोग इस खतरनाक वायरस को मात देकर ठीक हो चुके हैं। जबकि 13 लाख 93 हजार लोग जिंदगी और मौत की ये जंग हार चुके हैं। वर्तमान में 1 करोड़ 68 लाख 19 हजार एक्टिव केस हैं, जिनका अस्पतालों में इलाज चल रहा है। कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की सूची में अमेरिका प्रथम स्थान पर है। यहां अभी भी संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। पिछले 24 घंटे में यहां सवाल लाख से ज्यादा नए केस सामने आए हैं। सूची में दूसरे स्थान पर भारत है। भारत में अब तक 91 लाख लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। यहां पिछले 24 घंटे में 44 नए केस सामने आए हैं। वहीं सबसे प्रभावित देशों की सूची में ब्राजील का नंबर तीसरा है। यहां पिछले 24 घंटों में 18 हजार नए मामलें आए।                                   


पृथ्वी पर खतरनाक चीजें फेंक रहा 'जूपिटर'

खतरनाक चीजें फेंक रहा जूपिटर


वाशिंगटन डीसी। धरती को विनाशकारी हमलों से बचाने वाला बृहस्पति ग्रह (जूपिटर) अब उसे नुकसान पहुंचा सकता है। ताजा रिसर्च में बताया गया है, कि बृहस्पति ग्रह सौरमंडल के भीतर लगातार कुछ खतरनाक चीजें फेंक रहा है। जो कि पृथ्वी को नुकसान पहुंचा सकती हैं। सौरमंडल का सबसे बड़ा और सबसे भारी ग्रह बृहस्पति हमेशा से पृथ्वी को धूमकेतु और क्षुद्रग्रहों से बचाता आया है। लेकिन हालिया रिसर्च के मुताबिक यह अब ठीक इसके विपरीत कर सकता है।
आपको बता दें कि बृहस्पति की कोई जमीन यानी सरफेस नहीं है। बल्कि ये मूल रूप से गैस से बना ग्रह है। पॉपुलर जुपिटर शील्ड थ्योरी के मुताबिक यह ग्रह सौरमंडल में एक जायंट स्पेस शील्ड (बड़े आकार वाला अंतरिक्ष कवच) के तौर पर काम करता है। भारी द्रव्यमान के चलते यह खतरनाक मलबे को या तो अपने अंदर समा लेता है। या फिर उसे डिफलेक्ट कर देता है।
मशहूर स्पेस एक्सपर्ट केविन ग्रेजियर की माने तो उनके मुताबिक जूपिटर शील्ड थ्योरी अब धीरे धीरे फीकी पड़ती जा रही है। उन्होंने ऐसे कई रिसर्च पेपर प्रकाशित किए हैं। जिसमें उन्होंने कहा है। कि बृहस्पति एक कवच नहीं बल्कि निशानेबाज या हमलावर है। उन्होंने अपने अध्ययन में स्पष्ट किया है। कि वह ऐसा क्यों मानते हैं। ग्रेजियर की रिसर्च ने सौरमंडल में जूपिटर शील्ड थ्योरी पर प्रश्न चिह्न लगाते हुए उसे खतरे में बता दिया है। उन्होंने गिजमोडो से कहा, असल में मैं इस थ्योरी को कोई संकट की स्थिति में नहीं कहूंगा, मैं कहूंगा कि इसका कोई अब मतलब नहीं रह गया है। उन्होंने कहा कि बृहस्पति पृथ्वी की तरफ धूमकेतुओं को धकेल सकता है।                                 


शताब्दी दिवस समारोह में भाग लेगें 'पीएम'

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को लखनऊ विश्वविद्यालय की स्थापना के शताब्दी दिवस समारोह में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से शामिल होंगे। इस अवसर पर वह एक स्मारक डाक टिकट भी जारी करेंगे। लखनऊ विश्वविद्यालय की स्थापना 1920 में हुई थी। इस साल लखनऊ विश्वविद्यालय अपने 100 साल पूरे कर रहा है। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि मोदी 25 नवंबर को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से शताब्दी दिवस समारोह में शामिल होंगे। इस अवसर पर प्रधानमंत्री विश्वविद्यालय के 100 साल पूरा होने पर एक स्मारक सिक्का भी जारी करेंगे। इस दौरान वह एक स्मारक डाक टिकट भी जारी करेंगे। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस समारोह में शिरकत करेंगे।                                 


चित्रकला के माध्यम से जागरूकता अभियान

यातायात विषय पर चित्रकला के माध्यम से किया गया जागरूक


कौशाम्बी। यातायात माह नवंबर के जारुकता कार्यक्रम के अंतर्गत यातायात प्रभारी रविंद्र त्रिपाठी के नेतृत्व में यातायात विषय पर चित्रकला का आयोजन किया गया। राजकीय हाई स्कूल महेवा घाट में यातायात जागरूकता कार्यक्रम के तहत कक्षा 9 और 10 के छात्र छात्राओं द्वारा प्रतियोगिता कराई गई। जिसमें प्रथम स्थान पर आने वाले खुशी देवी कक्षा 10 तथा द्वितीय स्थान मंजेश कुमार कक्षा 9 और तृतीय स्थान सोनाक्षी मिश्रा ने प्राप्त किया, जिन्हें पुरस्कृत किया गया। प्रधानाचार्य दीपमाला सोनकर एवं स्कूल स्टाफ के साथ छात्र छात्राओं को जागरूक किया गया तथा यातायात के विषयक पंपलेट आवश्यक जानकारी के पर्चे वितरित कर यातायात का प्रशिक्षण दिया गया तथा सड़क पर बरती जाने वाली सावधानियों से अवगत कराया गया। इस अवसर विद्यालय का समस्त स्टाफ सहित छात्र छात्राएं मौजूद रहे।


सन्तलाल मौर्य


कौशाम्बीः वृक्ष पूजन परिक्रमा के बाद, भोजन

आंवले के वृक्ष का पूजन परिक्रमा कर महिलाओं ने किया भोजन


कौशाम्बी। कार्तिक माह के दूसरे पक्ष आवंला नवमी के अवसर पर नगर पंचायत अझुवा की तमाम महिलाओं सहित लड़किया परिवार के साथ पंचम लाल उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में स्थित आंवला के तमाम वृक्षो की पूजा अर्चना कर परिक्रमा किया है। विभिन्न प्रकार के पकवान बनाकर आंवले के वृक्ष के नीचे भोजन गृहण किया है। धार्मिक मान्यता के अनुसार इस दिन आंवला के वृक्ष की पूजा करने से महिलाओं की सभी इच्छाएं पूर्ण होती हैं एवं व्यक्ति को सभी पापों से मुक्ति मिलकर धन धान्य की पूर्ति होती है। कार्तिक शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को आंवला नवमी य अक्षय नवमी के रूप में मनाया जाता है। साहित्याचार्य पंडित आलोक मिश्रा ने बताया इस दिन आंवले की पूजा करने का विधान है। अक्षय नवमी के दिन सबसे पहले माता लक्ष्मी ने आंवले के वृक्ष की पूजा और इसके वृक्ष के नीचे भोजन किया था। एक बार माता लक्ष्मी पृथ्वी भ्रमण करने आई रास्ते में भगवान विष्णु और शिव की पूजा एक साथ करने की इच्छा हुई। लक्ष्मी मां ने विचार किया एक साथ भी पूजा कैसे हो सकती है। तभी उन्हें ख्याल आया तुलसी व बेल का गुण एक साथ आंवले में पाया जाता है। बेल भगवान शिव और तुलसी भगवान विष्णु के प्रिय है। तभी से इस तिथि को महिलाये याद कर पूजा अर्चना और विभिन्न प्रकार के पकवान बनाकर आंवले के वृक्ष के नीचे भोजन करती हैं।


सन्तलाल मौर्य


1 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन

तकनीकी सहायकों की तकनीकी दक्षता बढ़ाने के उद्देश्य से एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का किया गया आयोजन


बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। स्टाफ आफिसर, कार्यालय संयुक्त विकास आयुक्त ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से बताया है कि सोमवार को संयुक्त विकास आयुक्त, प्रयागराज मण्डल, प्रयागराज की अध्यक्षता में प्रयागराज मण्डल के जनपद कौशाम्बी, प्रतापगढ़ एवं फतेहपुर के समस्त तकनीकी सहायकों की तकनीकी दक्षता बढ़ाने के उद्देश्य से कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम कार्यालय जिला पंचायत सभागार, प्रयागराज में आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ उपायुक्त, श्रम रोजगार प्रयागराज कपिल कुमार के उद्बोधन से हुआ। तत्पश्चात् ग्राम्य विकास, उ0प्र0 लखनऊ से आये प्रशिक्षक जमाल अहमद सहायक अभियन्ता एवं मानिक चन्द्र राज्य गुणवत्ता मानीटर द्वारा मनरेगा से संबंधित समस्त कार्यों के निर्माण के समय रखी जाने वाली सावधानी एवं मानकों पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला गया। मण्डलीय प्राविधिक परीक्षक, टी0ए0सी0, ग्राम्य विकास, प्रयागराज मण्डल, सुनील कुमार गिरि द्वारा भी तकनीकी सहायकों को कार्य प्रक्रिया एवं इसमें आने वाली त्रुटियों के विषय में विस्तार से बताया गया। साथ ही तकनीकी सहायकों के प्रश्नों का अक्षरशः समाधान किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में बबिता सिंह, स्टाफ माफिसर, कार्यालय संयुक्त विकास आयुक्त, प्रयागराज मण्डल, उपायुक्त श्रम रोजगार, फतेहपुर पुतान सिंह, लक्ष्मण प्रसाद परियोजना निदेशक, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण/उपायुक्त श्रम रोजगार कौशाम्बी व अजय पाण्डेय आदि अधिकारीगण उपस्थित रहे।                                               


प्रयागराजः माफियां मार्केट में चला बुलडोजर

माफिया दिलीप मिश्रा की नैनी स्थित मार्केट में चला बुलडोजर


बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। जमुना पार नैनी के मिर्जापुर रोड पर माफ़िया दिलीप मिश्रा की मार्किट पर कार्यवाही हुई। आरोप है, कि माफिया दिलीप मिश्रा अपने प्रभाव का इस्तेमाल करके बिना नक्शा पास कराए अवैध निर्माण किया। कार्यवाही के दैरान नवनीत मिश्रा नामक शख्स ने विरोध किया। पुलिस ने उसको हिरासत में लिया, पिस्टल भी बरामद किया।   


हापुड़ः पुलिस ने चलाया सघन चेकिंग अभियान

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी, प्रवीण कुमार


बाबूगढ़ पुलिस ने चलाया चेकिंग अभियान


हापुड़। जनपद के थाना बाबूगढ़ पुलिस ने सोमवार को वाहन चेकिंग अभियान चलाया। पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन के आदेश पर, चेकिंग के दौरान थाना बाबूगढ़ थाना प्रभारी निरीक्षक सोमवीर सिंह अपनी टीम एसआई महाराज सिंह, कांस्टेबल नवनीत ,एन पी सिंह,गया प्रसाद, विजेंद्र सिंह के साथ बाबूगढ़ छावनी में चेकिंग अभियान चलाया। कोविड-19 तथा दुपहिया वाहनों पर हेलमेट व फोरव्हीलर वाहन चालकों ने सीट बेल्ट न लगाने पर पुलिस ने चलाई अपनी चाबुक, चेकिंग अभियान के चलते वाहन चालकों में परेशानी व अफरा-तफरी, का माहौल बना रहा। एसआई महाराज सिंह ने बताया कि चेकिंग अभियान में वाहन चालकों के चेहरे पर मास्क हेलमेट और फोर व्हीलर में सीट बेल्ट को लेकर चलाया गया। चेकिंग अभियान जो आगे भी इसी तरह जारी रहेगा।अभियान में नगद 1400 रुपये समन शुल्क भी वसूला गया हैं।                                     


स्वास्थ्य विभागः 21 नए वायरस संक्रमित मिलें

अतुल त्यागी 


हापुड़। जनपद में अब कोरोना पॉजिटिव मरीज लगातार बढ़ने का सिलसिला जारी है। जनपद में सोमवार को 21 नए कोरोना मरीज मिले हैं। जिन की सूची स्वास्थ्य विभाग के अनुसार तारा मील में एक, पिलखुआ में एक, पक्का बाग में एक, रामा कैंपस में एक, चमरी में दो, कोठी गेट एक, कुराना में एक, देवलोक कॉलोनी एक, प्रीत विहार एक, भगवान पुरी एक, शमशेर अली ईदगाह एक, गौशाला गढ़ में एक, मदापुर में एक, दुहरी में एक, न्यू शिवपुरी में एक, बाबूगढ़ में एक, कंदोला में एक, हापुड़ कोतवाली आवासीय परिसर में एक, रघुवीर गंज में एक कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है।                                 


हापुड़ः शराब माफियाओं के खिलाफ, चाबुक

अतुल त्यागी 


बहादुरगढ़ पुलिस ने अवैध शराब माफियाओं पर जमकर चलाया चाबुक, 9 गिरफ्तार, 260 लीटर शराब बरामद


गढ़मुक्तेश्वर/ हापुड़। जिलाधिकारी अदीति सिंह एवं एसपी हापुड संजीव सुमन द्वारा अवैध शराब कारोबारियों पर कडा एक्सन लेने के अनुपालन में गढ़मुक्तेश्वर सीओ पवन कुमार के निर्देश में थाना बहादुरगढ़ पुलिस ने थाना क्षेत्र के अलग-अलग गांवों से 9 लोगों को हिरासत में लिया। जिनके पास से 260 लीटर अवैध कच्ची शराब बरामद कर कार्यवाही की गयी। थाना बहादुरगढ़ प्रभारी नीरज कुमार ने बताया कि 1.देवी उर्फ देवेन्द्र, 2.गंगाराम 3.बीरपाल, 4.कपिल,5. खैमचंद, 6.त्रिलोक, 7.बीरपाल, 8.अमरपाल, 9.कालीचरन, के पास से 260 लीटर अवैध कच्ची शराब बरामद की गयी है। जिनके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की गयी है। मानना यह है कि यह समय गंगा मेले का है। जिसके लिए शराब माफिया कच्ची शराब तैयार करते हैं और वर्तमान में चुनाव का दौर जारी है। जिसके चलते माफिया सक्रिय हैं।                                  


ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन तैयार हुई

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन को मिली 70 प्रतिशत सफलता


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली/लंदन। कोरोना वायरस के लिए तैयार किए जा रहे टीकों में से एक ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन एस्ट्राजेनेका, AZD1222, को कोरोना के खिलाफ 70 प्रतिशत प्रभावी बताया जा रहा है। वैज्ञानिकों का कहना है कि अभी तक किए गए अनुसंधान में यह वैक्सीन 70 प्रतिशत सफल रही है।  एस्ट्राजेनेका ने एक बयान में कहा है कि  “यूके और ब्राजील में AZD1222 के क्लीनिकल ट्रायल की आंतरिक एनालिसिस में पता चला है कि यह वैक्सीन कोविड-19 से लड़ने में प्रभावी है। जिन लोगों ने वैक्सीन लगवाई उन्हें कोविड-19 संबंधी परेशानियां नहीं हुईं और कोविड-19 के बहुत गंभीर केस भी सामने नहीं आए।”


विज्ञप्ति के अनुसार, जब AZD1222 का एक डोज रेजिमेन  (n=2,741) दिया गया तो वह 90 प्रतिशत प्रभावी था। उसके एक महीने बाद फुल डोज दिया गया और एक अन्य डोज (n=8,895) में 62 प्रतिशत प्रभावशीलता देखी गई। इसे एक महीने बाद इसे दो फुल डोजेज की तरह दिया गया था। दोनों डोजेज (n=11,636) के संयुक्त परिणाम के आधार पर इसे 70 प्रतिशत प्रभावी बताया जा रहा है।


ऑक्सफोर्ड वैक्सीन ट्रायल के चीफ इन्वेस्टीगेटर एंड्रू पोलार्ड ने कहा, “यह एनालिलिस बताती है कि हमारे पास एक प्रभावी वैक्सीन है जो बहुत सी जिंदगियों को बचा सकती है। खुशी की बात ये है कि हमें पता चला है कि एक डोज 90 प्रतिशत तक प्रभावी है। यदि इस डोजिंग रिजीम का पालन किया जाता है तो ज्यादा से ज्यादा लोगों को प्लैन्ड वैकसीन सप्लाई के माध्यम से टीके लगाए जा सकते हैं।”


एस्ट्राजेनेका अब यह डेटा दुनियाभर की उन अथॉरिटीज को भेजेगी जिनके पास वैक्सीन संबंधी अनुमोदन के अधिकार हैं। कंपनी के स्टेटमेंट के अनुसार, वह विश्व स्वास्थ संगठन से इमरजेंसी यूज लिस्टिंग की आज्ञा मांगेगी ताकि वह कम आय वाले देशों में वैक्सीन पहुंचा सके। इसके साथ ही आंतरिक परिणामों की पूरी एनालिसिस एक पिअर-रिव्यू जर्नल को सौंप दी गई है।                                     


आशा बहुओं ने अवैध वसूली का आरोप लगाया

आशा बहुओं ने प्रार्थना पत्र देकर लगाया अवैध वसूली का आरोप


सुनील पुरी


सीतापुर। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हरगांव सीतापुर की लगभग आधा दर्जन आशा बहुओं ने स्वास्थ्य मंत्री को प्रार्थना पत्र भेज केंद्र प्रभारी अवैध वसूली का आरोप लगाया।
अपने दिए गए प्रार्थना पत्र से उन्होंने कहा मार्च से अभी तक डिलीवरी एचबीएन सी पोलियो नसबंदी कोरोना सर्वस फलेरिया खसरा बूस्टर नियमित अंतराल का अभी तक पैसा नहीं दिया गया है जो पैसा आता भी है उसमें अवैध वसूली करते हैं बीसीपीएम द्वारा लिया जाता है बीसीबीएम कहते हैं की उच्च अधिकारी जब हम से पैसे लेते हैं तो हम आप लोगों से वसूली करते हैं अधिक शराब पीकर बैठते हैं आशा बहुओं से अभद्रता का व्यवहार करते हैं एवं पैसा देने से मना कर देते हैं सब कहते हैं ठीक पैसा वापस कर देंगे पर तुमको नहीं देंगे अभी तक कुछ आशा बहुओं ने शिकायती पत्र दिया उसके समाधान के लिए जिलाधिकारी बीसीपीएम आशा बहुओं की नौकरी से धमकी देकर सादे कागज पर शिकायतों पर हस्ताक्षर करवा लेते हैं।
तथा साथ वाला पैसा बढ़ा हुआ आशा बहनों को अभी तक कोई पसंद नहीं मिला है अप्रैल  महीने में 2000 रुपए बीसीपीएम लिया  और कहा था कि 9 हजार मिलेंगे और यह कहते हैं कि हमें सीएम ऑफिस में जमा करना पड़ता है तब मिलेंगे ना 9 हजार रुपये मिले और 2000 चला भी गया
वही हर माह की रिपोर्ट पर 1500 रुपए मिल जाता है तभी पूरा पैसा नहीं मिलता जो हम लोग काम करते हैं तब पैसों के बारे में पूछते हैं तो कहते हैं कि हमारा झाड़ू पोछा किया तो पैसे मांग रहे हैं हम लोग पूछते हैं तो कहते हैं बजट नहीं है हम क्या अपनी जेब से दें हम लोग काफी परेशान क्या मजबूर है
अतः श्रीमान जी से प्रार्थना है की प्रार्थना पत्र की जांच करते हुए उक्त समस्या का अवलोकन कर कार्रवाई करने की कृपा करें
प्रार्थना पत्र देने वालों के नाम, सुमन देवी, पूनम शुक्ला, आशा देवी, पूनम सिंह, शिव प्यारी, गीता देवी, मनीषा आदि मौजूद थी।                               


नौकरी दिलाना होगी प्राथमिकताः एमएलसी प्रत्याशी

नौकरी भत्ता दिलाना होगा प्रथम प्राथमिकता – एमएलसी प्रत्याशी सुरेन्द्र पाल सिंह


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। इन दिनों एमएलसी चुनावों के लिए प्रचार अपने चरम पर है। जहां दूसरे प्रत्याशी ऑनलाइन प्रचार पर ज्यादा ज़ोर दे रहे हैं वहीं जमीन से जुड़े एमएलसी स्नातक मेरठ खंड से चुनाव लड़ रहे सुरेन्द्र पाल सिंह ऑनलाइन प्रचार के साथ-साथ लोगों के बीच में जाकर भी उनसे लगातार संपर्क कर रहे हैं।  एडवोकेट सुरेन्द्र पाल सिंह को जिला बार संघ – मुजफ्फरनगर, सिविल बार संघ मुजफ्फरनगर और ऑल इंडिया लॉयर्स यूनियन का समर्थन भी प्राप्त है।    


जनपद बुलंदशहर के सुनहरा गांव में प्रचार करते हुए एडवोकेट सुरेंद्र पाल सिंह एडवोकेट जन संपर्क ने कहा कि शिक्षित बेरोजगारों और युवाओं को बेरोजगारी भत्ता या नौकरी दिलाना उनकी प्रथम प्राथमिकता रहेगी।  उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए क्षेत्र में जाकर लोगों से व्यक्तिगत रूप से मिलना संभव नहीं है। फिर भी उनका प्रयास है कि वे कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अधिक से अधिक लोगों से मिलकर उनकी समस्याएँ सुने।  रविवार को भी उन्होंने पिलखुआ के अधिवक्ताओं से जनसम्पर्क कर उनका समर्थन हासिल किया।


सुरेन्द्र पाल सिंह ने कहा कि सरकार को चाहिए कि वे नए अधिवक्ताओं को पहले तीन साल तक 5 हजार रुपए का मासिक भत्ता देने के साथ-साथ पुस्तकालय, ऑफिस व घर के लिए आसान दरों पर बैंकों से लोन की व्यवस्था करे। उन्होंने कहा कि सरकार को युवा अधिवक्ताओं के लिए चेम्बर आदि की व्यवस्था का भी प्रबंध करना चाहिए और वे वकीलों की मांग को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे हैं।


कायम हो शिक्षकों की पुरानी पेंशन व्यवस्था


सुरेन्द्र पाल सिंह का कहना है कि वे पिछले काफी समय से शिक्षकों के लिए पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू करवाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं और यही कारण है कि उन्हें एमएलसी चुनावों में शिक्षकों का भी भारी समर्थन मिल रहा है।  उनका प्रयास है कि सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालयों के शिक्षकों और कर्मचारियों को कैशलेस चिकित्सा की सुविधा मिले तथा वित्तविहीन विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों का मानदेय बहाल हो।                                       


रिलेशनशिप में रह रहे युवक की संदिग्ध मौत

रिलेशनशिप में रह रहे युवक की संदिग्ध अवस्था में मौत


पुलिस मौके पर पहुंची और उसने अजय की लाश को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। माना जा रहा है कि मौत का कारण पार्टी ड्रग की ओवर डोज़ भी हो सकता है।


अश्वनी उपाध्याय 


गाजियाबाद। ट्रांस हिंडन क्षेत्र के इंदिरापुरम की निहो सोसायटी में रहने वाले युवक की रविवार को संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई।  देहरादून का मूल निवासी अजय निहो सोसायटी में अपनी गर्लफ्रेंड के साथ रहता था। सूत्रों के अनुसार अजय और उसकी गर्ल फ्रेंड शनिवार रात को गुरुग्राम में आयोजित एक पार्टी में गए थे और रविवार सुबह सोसायटी में वापस लौटे थे।


घर लौटते समय अजय कार में बेहोशी की हालत में था।  गर्ल फ्रेंड टैक्सी चालक की सहायता से उसे फ्लैट में लेकर गई।  पड़ोसियों के पूछने पर उसने बताया कि अजय ने पार्टी में बहुत शराब पी ली थी और अभी तक नशे में है।  थोड़ी देर में अजय की गर्ल फ्रेंड उसे अकेला छोड़ कर गायब हो गई।  शक होने पर सोसायटी के निवासी थोड़ी देर बाद फिर फ्लैट में पहुंचे जहां अजय मृत अवस्था में मिला।


सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और उसने अजय की लाश को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।  सीसीटीवी फुटेज में अजय की गर्ल फ्रेंड उसे नशे की हालत में टैक्सी से उतार कर फ्लैट में ले जाती हुई दिखाई दी है।  पुलिस ने अपनी जांच शुरू कर दी है।  गर्ल फ्रेंड के बारे में जानकारी जुटाई जा रही और गुरुग्राम में हुई पार्टी के आयोजकों के बारे में भी जानकारी हासिल कर रही है।  माना जा रहा है कि किसी पार्टी ड्रग की ओवर डोज़ के कारण मौत हो सकती है।                                        


बेस्ट डांसरः वर्तिका को मिला 5 लाख का इनाम

बेस्ट डांसर’, कोरियोग्राफर वर्तिका झा को भी मिला 5 लाख रुपए का इनाम


आनंद भट्टाचार्य


गाजियाबाद। टाइगर पॉप के नाम से मशहूर अजय सिंह ने टीवी शो इंडियाज़ बेस्ट डांसर के इस सीजन की ट्रॉफी अपने नाम कर ली है। इस जीत पर अजय सिंह को ट्रॉफी के साथ-साथ 15 लाख रुपए और एक कार भी मिली है।  इसके साथ ही उनकी कोरियोग्राफर वर्तिका झा को भी 5 लाख रुपए का इनाम दिया गया है। मुकुल जैन दूसरे नंबर पर रहे जबकि श्वेता वारीयर को तीसरे स्थान पर संतोष करना पड़ा।


रविवार को प्रसारित शो का ग्रैंड फिनाले के अनुसार अजय को सबसे ज्यादा वोट मिले। शो के प्रशसंक अजय को पहले से ही इस सीजन का विजेता माना कर चल रहे थे। शो में गीता कपूर, मलाइका अरोड़ा और टैंरेंस लुईस बतौर जज शामिल थे। गाँजा तस्करी में गिरफ्तार कॉमेडियन भारती सिंह और उनके पति हर्ष लिंबाचिया इस शो के होस्ट थे।                                          


केवल 50 प्रतिशत विद्यार्थी ही जा सकेंगे केंद्र

करना होगा इन शर्तों का पालन


अकांंशु उपाध्याय 


लखनऊ। 8 महीनों के लंबे ब्रेक के बाद उत्तर प्रदेश में आज से कॉलेज खुले जा रहे हैं। नियमों के अनुसार अभी केवल एक बार में 50 प्रतिशत विद्यार्थियों को ही बुलाया जाएगा। इस संबंध में प्रदेश सरकार ने बीते मंगलवार को दिशानिर्देश जारी किए थे। उच्च शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव मोनिका गर्ग ने सभी जिला मजिस्ट्रेट और यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार को भेजे अपने आदेश में कहा है कि कक्षाएं चरण बद्ध तरीके से फिर से शुरू की जाएं। कक्षाएं इस तरह से लगें कि कैंपस में छात्रों की भीड़ न इकट्ठी हो।


रोटेशन में आएंगे 50% छात्र


प्रदेश सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार रोटेशन के आधार पर  50 प्रतिशत छात्रों की उपस्थिति के साथ कक्षाएं शुरू की जा सकती है। सभी छात्रों को मास्क पहनना होगा। कैंपस और कक्षाओं में सोशल डिस्टेंसिंग संबंधी गाइडलाइंस का पालन करना होगा। हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना होगा।  यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को विद्यार्थियों व स्टाफ के लिए थर्मल स्कैनिंग एवं हैंड वाश का बंदोबस्त करना होगा।


मुख्य सचिव द्वारा जारी पत्र में सभी विश्वविद्यालयों के वाइस चांसलर और प्रिंसपलों से कहा गया है कि संस्थानों को चलाने के लिए एसओपी (स्टैंडर्ज ऑपरेटिंग प्रोसिजर) का पालन किया जाए। साथ ही उन्हें नजदीकी अस्पतालों, स्वास्थ्य केन्द्रों, गैर सरकारी संगठनों व स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ टाईअप भी करना होगा।  इसके अतिरिक्त सभी विद्यार्थियों को आयोग्य सेतु एप डाउनलोड करनी होगी।


अभिभावकों को सलाह दी गई है कि वह सुनिश्चित करें कि उनके बच्चे जब भी घर से बाहर निकलें तो हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन करें। अगर उनका बच्चा स्वस्थ नहीं है तो उसे घर से बाहर न जाने दें। ध्यान देने वाली बात यह है कि केवल वही शैक्षणिक संस्थान खुलेंगे जो कन्टेनमेंट जोन के बाहर होंगे।


बंद रहेंगे हॉस्टल


यूनिवर्सिटी को हेल्थ प्रोटोकॉल के साथ हॉस्टल खोलने की इजाजत होगी। कोरोना लक्षण वाले छात्रों को हॉस्टल में ठहरने की इजाजत नहीं होगी। डाइनिंग टेबल से परहेज करें और छोटे छोटे समूहों में खाना खाएं। कॉमन एरिया में जाते समय मास्क पहनें। स्विमिंग पूल बंद रहेंगे। हॉस्टल में रहने वाले विद्यार्थी कमरा शेयर नहीं कर सकेगे। इसके अलावा कैंपस में आगंतुकों का परिसर में प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। दूसरे प्रदेशों से आ रहे विद्यार्थियों को 14 दिन क्वारंटीन में रखा जाएगा।


आपको बता दें कि विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों में पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष की परीक्षाएं कराने के निर्देश पहले ही जारी हो चुके हैं। आजकल विवि में परीक्षाएं चल रही हैं। वहीं प्रयोगशाला व पीएचडी धारकों के लिए भी कक्षा चलाने के आदेश पहले ही जारी हो चुके हैं।                               


अग्रवाल स्वीट से औषधि विभाग ने लिए सैंपल

जिला खाद्यओषधि विभाग की टीम ने अग्रवाल स्वीट इंडिया शालीमार गार्डन से सेंपल भरा । दुकानदार की चालाकी हुई कैमरे में कैद


अंकित गोस्वामी


गाजियाबाद । साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित एक्सटेंशन 1 में अग्रवाल स्वीट इंडिया से फ़ूड विभाग की टीम ने शिकायत के बाद सेंपल भरे। आपको बतादेंं कि पनीर का सेंपल लेते समय दुकानदार ने चालाकी करते हुए अमूल कम्पनी का पनीर दे रहा था । दुकानदार की ये चालाकी कैमरे में हुई कैद । किस तरह लोगो की जिंदगी से ये लोग कर रहे है खिलवाड़। जब की ऐसे मिलावट खोरो के खिलाफ जिला प्रशासन कर रही हैं बड़े पैमाने पर कार्यवाही ।                               


सबसे निचले पायदान पर पहुंची कांग्रेसः नबी

राणा ओबराय
कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद बोले-72 सालों में सबसे निचले पायदान पर पहुंची कांग्रेस,ब्लाक स्तर पर लोगो का कांग्रेस से टूटा सम्बंध
नई दिल्ली। कांग्रेस में कलह थमने का नाम नहीं ले रही है। खासकर पार्टी नेतृत्व को लेकर अलग-अलग स्तरों पर विरोध के स्वर मुखर होते जा रहे हैं। आज वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हमारे लोगों का ब्लॉक स्तर पर, जिला स्तर पर लोगों के साथ कनेक्शन टूट गया है। जब कोई पदाधिकारी हमारी पार्टी में बनता है तो वो लेटर पैड छाप देता है, विजिटिंग कार्ड बना देता है, वो समझता है बस मेरा काम खत्म हो गया, काम तो उस समय से शुरू होना चाहिए। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि चुनाव 5-सितारा होटल में बैठकर नहीं जीते जाते। आज नेताओं के साथ समस्या यह है कि अगर उन्हें पार्टी का टिकट मिलता है, तो वे पहले 5-सितारा होटल बुक करते हैं। अगर कहीं कोई उबड़-खाबड़ सड़क है तो वे वहां नहीं जाएंगे। जब तक ये कल्चर हम नहीं बदलेंगे, हम चुनाव नहीं जीत सकते। गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हम सभी नुकसान के बारे में चिंतित हैं, खासकर बिहार और उपचुनाव परिणामों के बारे में। मैं नुकसान के लिए नेतृत्व को दोष नहीं देता हूं। क्योंकि पार्टी के बड़े नेताओं का जमीनी स्तर पर संपर्क टूट गया है। पिछले 72 सालों में कांग्रेस सबसे निचले पायदान पर है। पार्टी के पदाधिकारियों पर बरसते हुए आजाद ने कहा कि पार्टी के पदाधिकारियों को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी,जब तक उन्हें पदाधिकारी नियुक्त नहीं किया जाता, तब तक वे कहीं नहीं जाएंगे, लेकिन अगर सभी पदाधिकारी चुने जाते हैं, तो वे अपनी जिम्मेदारी समझेंगे, अब वक्त है कि हर किसी को पार्टी में पद दिया जाए।
उधर, बिहार विधानसभा चुनाव और कई राज्यों में हुए उपचुनावों में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन पर कपिल सिब्बल और एक अन्य वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम की टिप्पणियों के बारे में पूछे जाने पर पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि वह उनकी बातों से असहमत नहीं हैं, लेकिन किसी को मीडिया में जाकर यह नगाड़ा पीटने की क्या जरूरत है कि ‘हमें क्या करने की आवश्यकता है?’
आजाद ने कहा कि ब्लॉग लेवल पर, जिला स्तर पर कार्यकर्ताओं का संबंध लोगों से टूट गया है। आदमी को पार्टी से इश्क होना चाहिए। गुलाम नबी आजाद ने शेर सुनाते हुए कहा कि ये इश्क़ नहीं आसां इतना ही समझ लीजिए, इक आग का दरिया है और डूब के जाना है। आजाद ने कहा, ‘हमारा ढांचा कमजोर है, हमें ढांचा पहले खड़ा करना पड़ेगा। फिर उसमें कोई भी नेता हो चलेगा। सिर्फ नेता बदलने से आप कहेंगे कि पार्टी बदल जाएगी, बिहार आएगा, मध्य प्रदेश आएगा, उत्तर प्रदेश आएगा, नहीं वो सिस्टम से बदलेगा।’ आजाद ने कहा कि हमारे लोगों का ब्लॉक स्तर पर, जिला स्तर पर लोगों के साथ कनेक्शन टूट गया है। जब कोई पदाधिकारी हमारी पार्टी में बनता है तो वो लेटर पैड छाप देता है, विजिटिंग कार्ड बना देता है, वो समझता है बस मेरा काम ख़त्म हो गया, काम तो उस समय से शुरू होना चाहिए।                                             


हिमाचलः भारी बर्फबारी बरसात की चेतावनी

राणा ओबराय
मौसम विभाग ने शिमला सहित छह जिलों में भारी बारिश व बर्फबारी की दी चेतावनी, पंजाब-हरियाणा के कुछ इलाकों में तापमान में गिरावट की दर्ज


शिमला। उत्तर भारत में ठंड ने जोर पकड़ लिया है। पंजाब, हरियाणा के कई शहरों में आज धूप निकली लेकिन बाद में सारा दिन बादल छाए रहे। कई शहरों में बारिश के आसार बने। पंजाब-हरियाणा के कुछ इलाकों में तापमान में गिरावट दर्ज की गई। उधर, हिमाचल प्रदेश में आगामी चार दिन मौसम कड़े तेवर दिखाएगा। मौसम विभाग ने शिमला सहित छह जिलों में भारी बारिश व बर्फबारी की चेतावनी दी है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक राज्य के पर्वतीय व उच्चपर्वतीय क्षेत्रों में 26 नवम्बर तक मौसम खराब रहेगा। इस दौरान बारिश व बर्फबारी का दौर चलने की संभावना है। मध्यपर्वतीय व अधिक उंचाई वाले क्षेत्रों में 25 नवम्बर को भारी बारिश व बर्फबारी का येलो अलर्ट रहेगा। इस दिन पूरे प्रदेश में मौसम खराब रहेगा। 27 नवम्बर से मौसम के साफ रहने का अनुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से मौसम में बदलाव आ रहा है और इससे लोगों को कड़ाके की ठंड का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि शिमला, कुल्लू, चंबा, किन्नौर, लाहौल-स्पीति और मंडी व सिरमौर के उंचे क्षेत्रों में 25 नवम्बर को भारी बारिश व बर्फबारी होने की संभावना है। इस बीच राज्य की पर्वत श्रंखलाओं पर रविवार को भी हल्के हितपात का दौर चला। लाहौल-स्पीति, किन्नौर और कुल्लू की उंची चोटियों पर ताजा हिमपात हुआ। जिला शिमला व आसपास के क्षेत्रों में भी मौसम के मिजाज बदले नजर आए। जिलाभर में दोपहर बाद आसमान बादलों से घिरा रहा। इस दौरान ठंडी हवाएं भी चलीं, जिससे दिन के समय ठंड का एहसास हुआ। मौसम विभाग द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि वर्तमान में राज्य में न्यूनतम तापमान सामान्य से 2 से 3 डिग्री नीचे और अधिकतम तापमान सामान्य से 3 से 4 डिग्री नीचे चल रहा है। लाहौल-स्पीति का मुख्यालय केलंग राज्य में सबसे ठंडा स्थल रहा, जहां रविवार को न्युनतम तापमान माइनस 6.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके अलावा किन्नौर के कल्पा में न्यूनतम तापमान -2.6 डिग्री, मनाली में 0.2 डिग्री, भुंतर व सोलन में 1.7 डिग्री, सुंदनगर व पालमपुर में 2 डिग्री, कुफरी में 3.6 डिग्री, डल्हौजी में 3.8 डिग्री, चंबा में 3.9 डिग्री, मंडी में 4 डिग्री, उना में 4.2 डिग्री, कांगड़ा में 4.4 डिग्री, हमीरपुर में 4.7 डिग्री, बिलासपुर में 5 डिग्री, शिमला में 5.1 डिग्री और धर्मशाला में 6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ।                                


8 घंटे के बदले 12 घंटे की हो सकती है शिफ्ट

नौकरी करने वालों के लिए बड़ी खबर, 8 के बदले 12 घंटे की हो सकती है जॉब शिफ्ट, ये है वजह


नई दिल्ली। जॉब करने वालों को ऑफिस में ज्यादा समय बिताने के लिए कमर कसनी पड़ सकती है। क्योंकि सरकार वर्किंग ऑवर को 8 घंटे प्रतिदिन से बढ़ाकर 12 करने पर विचार कर रही है। दरअसल, श्रम मंत्रालय ने संसद में हाल ही में वर्किंग ऑवर को बढ़ाकर अधिकतम 12 घंटे प्रतिदिन करने का प्रस्ताव दिया है। अभी कार्य दिवस अधिकतम 8 घंटे का होता है। श्रम मंत्रालय ने 12 घंटे के शिफ्ट का प्रस्ताव दिया मंत्रालय ने व्यावसायिक सुरक्षा, स्वास्थ्य एवं कार्य शर्तें कोड 2020 के ड्राफ्ट रूल के तहत अधिकतम 12 घंटे के कार्य दिवस का प्रस्ताव दिया है। इसमें बीच में इंटरवल भी शामिल हैं। हालांकि 19 नवंबर 2020 को नोटिफाइड इस ड्राफ्ट रूल में वीकली वर्किंग ऑवर को 48 घंटे पर बरकरार रखा गया है। मौजूदा प्रवाधानों के तहत आठ घंटे के कार्यदिवस में कार्य सप्ताह छह दिन का होता है और एक दिन अवकाश का होता है। मिनी मून की हुई खोज, इस दिन दिखाई देगा, जाने रहस्यों के बारे में श्रमिकों को ओवरटाइम मिल सकेगा श्रम मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ''यह भारत की विषम जलवायु परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए किया गया है, जहां काम पूरे दिन में बंटा हुआ होता है। इससे श्रमिकों को ओवरटाइम भत्ता के माध्यम से अधिक कमाई करने की सुविधा मिलेगी.'' अधिकारी ने कहा, "हमने ड्राफ्ट रूल में आवश्यक प्रावधान किया है ताकि आठ घंटे से अधिक काम करने वाले सभी श्रमिकों को ओवरटाइम मिल सके.'' ओएसएच कोड के ड्राफ्ट रूल के अनुसार, किसी भी दिन ओवरटाइम की गणना में 15 से 30 मिनट के समय को 30 मिनट गिना जाएगा. मौजूदा व्यवस्था के तहत 30 मिनट से कम समय की गिनती ओवरटाइम के रूप में नहीं की जाती है। सांसदों को मिला नया फ्लैट, पीएम मोदी ने किया उद्घाटन, मिलेगी ये सुविधाएं एक सप्ताह में 48 घंटे से ज्यादा काम नहीं ड्राफ्ट रूल में कहा गया है, ''किसी भी श्रमिक को एक सप्ताह में 48 घंटे से अधिक समय तक किसी प्रतिष्ठान में काम करने की आवश्यक्ता नहीं होगी और न ही ऐसा करने की अनुमति दी जायेगी। काम के घंटे को इस तरीके से व्यवस्थित करना होगा कि बीच में आराम के लिये इंटरवल के समय समेत किसी भी दिन कार्य के घंटे 12 से अधिक नहीं होने चाहिए।' मसौदे के अनुसार, कोई भी व्यक्ति कम से कम आधे घंटे के इंटरवल के बिना पांच घंटे से अधिक लगातार काम नहीं करेगा। सप्ताह के हिसाब से हर रोज कार्य के घंटे इस तरह से तय करने होंगे कि पूरे सप्ताह में ये 48 घंटे से अधिक न हो पाएं।                                  


भारत में 44,059 नए मामले, मृतक-511

कोरोना अपडेट: भारत में 44,059 नए मामले, इतने लोगों की मौत 


नई दिल्ली। भारत में लगातार 16वें दिन कोरोना के 50 हजार से कम नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिसके बाद संक्रमण के कुल मामले 91 लाख के पार पहुंच गए। देश में पिछले 24 घंटे में 44,059 नए संक्रमित मरीज आए हैं। वहीं 511 लोग कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए। अच्छी बात ये है कि बीते दिन 41,024 मरीज कोरोना से ठीक भी हुए हैं। कोरोना मामले बढ़ने की ये संख्या दुनिया में अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा है. वहीं मौत की संख्या दुनिया में चौथे नंबर पर है।  मिनी मून की हुई खोज, इस दिन दिखाई देगा, जाने रहस्यों के बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 91 लाख 40 हजार हो गए हैं। इनमें से अब तक एक लाख 33 हजार 738 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। कुल एक्टिव केस बढ़कर चार लाख 43 हजार पर आ गए. पिछले 24 घंटे में एक्टिव केस की संख्या 2524 बढ़ गई। अब तक कुल 85 लाख 62 हजार लोग कोरोना को मात देकर ठीक हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में 41,024 मरीज कोरोना से ठीक हुए। सांसदों को मिला नया फ्लैट, पीएम मोदी ने किया उद्घाटन, मिलेगी ये सुविधाएं 26 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एक्टिव केस 20,000 से कम हैं और 9 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एक्टिव केस 20,000 से ज़्यादा हैं. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार, देश में 22 नवंबर तक कोरोना वायरस के लिए कुल 13 करोड़ 25 लाख सैंपल टेस्ट किए गए, जिनमें से 8.49 लाख सैंपल कल टेस्ट किए गए। पॉजिटिविटी रेट सात फीसदी है। मृत्यु दर और रिकवरी रेट महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में कोरोना वायरस के एक्टिव केस, मृत्यु दर और रिकवरी रेट का प्रतिशत सबसे ज्यादा है। राहत की बात है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. इसके साथ ही भारत में रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है। फिलहाल देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.46 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 93.70 फीसदी है। एक्टिव केस 5 फीसदी से भी कम है। सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं। एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का छठा स्थान है। कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है। रिकवरी दुनिया में सबसे ज्यादा भारत में हुई है। मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत का नंबर है।                                   


सरकार बढ़ाने जा रहीं है किसानों की आमदनी

यूपी सरकार अब ऐसे बढ़ाने जा रही हैं किसानों की आमदनी, खेती करने पर मिलेगी 10 लाख रुपये की मदद


लखनऊ। योगी सरकार प्रदेश में किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए नए तरीकों का प्रयोग कर रही है। अब सरकार का मकसद है। किसानों की आमदनी को ऐसे बढ़ाया जाए ताकि उनको पारंपरिक खेती करने में जिस तरह से नुकसान होता है, उससे बच जाएं। सरकार की मंशा प्रदेश को जैविक खेती का हब बनाने की है, इससे प्रदेश में पहले चरण में 63 जिलों की 68 हेक्टेयर रकबे में ऑर्गेनिक फसल लहलहाएंगी। इस प्रोजेक्ट में जिन जिलों को शामिल किया गया है उनमें 27 जिले नमामि गंगे परियोजना में और 36 जिले पारंपरिक खेती करते हैं। बेहतर तरीके से मॉनीटरिंग हो इसके लिए सरकार की एप्रोच क्लस्टर खेती की होगी, हर क्लस्टर 50 एकड़ का होगा। खेती करने वाले किसानों को प्रोत्साहन देने के लिए सरकार 3 साल में प्रति क्लस्टर 10 लाख रुपये का ग्रांट भी देगी। इसमें से 3,30,000 से 3,30,000 रुपये पहले और तीसरे साल दिए जाएंगे, बीच के साल में यह ग्रांट 3,40,000 रुपये की होगी।जिन जिलों को इस योजना में शामिल किया जाएगा, उनमें झांसी, जालौन, ललितपुर, बांदा, हमीरपुर, महोबा, चित्रकूट, मीरजापुर, गोरखपुर, पीलीभीत, गोंडा, आगरा, मथुरा, वाराणसी, कौशांबी, फतेहपुर, देवरिया, फरुखार्बाद, उन्नाव, रायबरेली, बहराईच, बाराबंकी, श्रावस्ती, फैजाबाद, कानपुर देहात, आजमगढ़, सुल्तानपुर,कानपुर नगर, फिरोजाबाद, बदांयू, अमरोहा, बिजनौर, चंदौली, सोनभद्र, बलरामपुर और सिद्धार्थनगर शामिल हैं।                                 


किराया के चलते ट्रेन में लोग नहीं कर रहें सफर

तेजस एक्सप्रेस आज से हो जाएंगी बंद, किराया के चलते ट्रेन में लोग नही कर रहे सफर


लखनऊ। देश की पहली कॉरपोरेट ट्रेन तेजस आज यानी 23 नवंबर से अगले आदेश तक बंद रहेगी। लखनऊ-दिल्ली के बीच चल रही तेजस का संचालन आइआरसीटीसी के जिम्मे था। फ्लैक्सी किराए से महंगा सफर होने के कारण लोग ट्रेन में सीटें नहीं बुक करा रहे हैं। ऐसे में यात्रियों के अभाव में ट्रेन का संचालन बंद होने जा रहा है। ढेरों सुविधाओं के बावजूद रेलवे प्रशासन यात्रियों को आकर्षित नहीं कर सका। ऐसे में रेलवे बोर्ड ने आईआरसीटीसी को 23 नवंबर से अगले आदेश तक ट्रेन को निरस्त करने के लिए आदेश दिए हैं। पहली बार लखनऊ से तेजस का संचालन चार अक्तूबर 2019 को शुरू हुआ था। रविवार को अंतिम बार तेजस सुबह साढ़े छह बजे लखनऊ से नई दिल्ली 200 के करीब यात्रियों को लेकर रवाना हुई।


दीपावली में भी खाली रहीं सीटें


मार्च में लॉकडाउन बाद तेजस ट्रेन का संचालन 17 अक्तूबर को शुरू हुआ था। उम्मीद थी दीपावली में यात्री मिलेंगे। पर, ऐसा हो नहीं सका, जबकि एडवांस में 10 दिन का आरक्षण बढ़ाकर एक महीने कर दिया गया। बावजूद यात्री नहीं मिलने वाली वजह से 14 नवंबर को तेजस को रद्द करना पड़ा।                                         


बिहारः नाराज पति ने पत्नी को दी कड़ी सजा

पैर दबाने में देर होने से नाराज पति ने पत्नी को दी ऐसी सजा, जिसे जानकर आप हो जाएंगे हैरान, जानिए पूरा मामला


अविनाश श्रीवास्तव


पटना। बिहार के जहानाबाद में रविवार को पैर दबाने में देरी होने से नाराज पति ने अपनी पत्नी की जान लेने का प्रयास किया। सनकी पति ने अपनी पत्नी पर चाकू से हमला कर दिया, जिससे महिला की गर्दन और हाथ की उंगली कट गई। इधर, घायल महिला को आनन-फानन इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं, घटना के बाद आरोपी पति मौके से फरार हो गया, घटना जिले के घोसी थाना क्षेत्र के धरमपुर गांव की है। घटना के संबंध में घायल महिला ने बताया कि आरोपी बाहर से घूमकर आया और पैर दबाने की बात कहने लगा। इसी बात को लेकर दोनों में तू-तू मैं-मैं हो गई और आक्रोशित होकर आरोपी ने घर में रखे चाकू से महिला का गला रेत दिया और बीच बचाव में महिला के हाथ की अंगुली भी कट गई।
इधर, घायल महिला की बहन ने बताया कि आरोपी अक्सर उसकी बहन के साथ मारपीट किया करता है। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस घायल महिला का बयान दर्ज कर मामले की छानबीन में जुट गई है, वहीं आरोपी पति की तलाश कर रही हैं।                                                                                                                                  


यूपी में बर्फीली हवाओं ने बढ़ाई ठंड, उम्मीद

उत्तर-प्रदेश में बर्फ़ीली हवाओं ने बढ़ाई ठंड, मौसम विभाग के मुताबिक दो दिन में राहत मिलने की उम्मीद


लखनऊ। पश्चिम से चल रही बर्फीली हवाओं ने उत्तर प्रदेश में ठंड बढ़ा दी है। वही प्रदेश में तापमान में तेजी से गिरावट हुई है। पिछले पांच दिनों में अधिकतम तापमान में लगभग तीन डिग्री व न्यूनतम तापमान में पांच डिग्री की गिरावट हुई है। लेकिन पश्चिमी विक्षोभ के कारण अगले दो दिन में राहत मिलने की उम्मीद है। तामपान में वृद्धि होने का अनुमान है। रविवार को अधिकतम तापमान 24.4 डिग्री व न्यूनतम तापमान 9.5 डिग्री रिकार्ड हुआ है। दिन व रात के तापमान में गिरावट से लोगों को गरम कपड़े निकालने को मजबूर हुए। रात में कई घरों में रजाई निकल आई है। वहीं दिन में लोग पूरी बांह का स्वेटर व जैकेट पहने हुए नजर आए।
मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता का कहना है कि पश्चिम से आ रही बर्फीली हवाओं के कारण तापमान में तेजी से गिरावट हुई है। लेकिन पश्चिमी विक्षोभ के कारण अगले दो दिन में तापमान में वृद्धि होने का अनुमान है।                                  


हिमाचलः शुरू सीमाएं फिर हो सकती हैं सील

हिमाचलः ठक शुरु सीमाएं फिर हो सकती हैं सील, शिक्षण संस्थान पर भी होगा फैसला


शिमला। सीएम जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हिमाच कैबिनेट की बैठक शुरु हो गई। प्रदेश सचिवालय में कुछ देर पहले शुरु हुई बैठक में सभी कैबिनेट मंत्री मौजूद है। आज इस बैठक में कोरोना के बढ़ते कहर के बीच कई अहम निर्णय लिए जा सकते हैं। जिन में प्रदेश की सीमाएं सील करने व शिक्षण संस्थानों को खोलने या बंद रखने संबंधी निर्णय प्रमुख है। जाहिर है। रविवार को सीएम जयराम ठाकुर ने भी मंडी में कोरोना को लेकर कुछ सख्ती करने के संकेत दिए थे। बता दें कि प्रदेश में बीते सात दिनों में कोरोना के मामलों में बेतहाशा वृद्धि हुई है। वहीं 80 लोगों की मौत हो चुकी है। जिससे प्रदेश सरकार (भी चिंतित है। देश के कई राज्यों में बढ़ते कोरोना मामलों के चलते कहीं कर्फ्यू तो कहीं कई तरह की पाबंदियां लगा दी गई हैं। इसी तर्ज पर आज जयराम सरकार भी कैबिनेट में कोई बड़ा फैसला ले सकती है। सरकार अब किसी तरह की ढील नहीं देना चाहती है। पाबंदियां हटाने व कई तरह की छूट बाजार, शादी-समारोहों में नियमों का पालन ना होने से भी मामले लगातार बढ़ रहे हैं।                                


मास्क नहीं पहनने पर 70 करोड़ का जुर्माना वसूला

मास्क नहीं पहनने वालों से 78 करोड़ रुपए का जुर्माना वसूला गया


अहमदाबाद। अहमदाबाद, बड़ौदा, राजकोट और सूरत में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू घोषित किया गया है। जैसे ही कोरोना रोगियों की संख्या बढ़ रही है। राज्य सरकार ने मास्क और सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करने के निर्देश जारी किए हैं। दूसरी ओर, राज्य में 26 लाख नागरिकों से 78 करोड़ रुपए का जुर्माना वसूला गया है। जिन्होंने 15 जून से मास्क नहीं पहना है। यह स्टैचू ऑफ यूनिटी की वार्षिक कमाई से अधिक है। 31 अक्टूबर 2018 को गुजरात के केवडिया में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का उद्घाटन किया गया। इसके बाद, 31 अक्टूबर, 2019 तक पर्यटकों की आय 63.50 करोड़ रुपए थी।
अहमदाबाद में प्रति मिनट 120 जुर्माना
गुजरात सरकार और पुलिस प्रशासन के लगातार निर्देशों के बावजूद, नागरिक अपने घरों से बाहर निकलते समय मास्क नहीं पहनते हैं। अकेले अहमदाबाद में, हर मिनट मास्क नहीं पहनने के लिए 120 से अधिक लोगों पर जुर्माना लगाया जा रहा है। अहमदाबाद हॉस्पिटल्स एंड नर्सिंग होम्स एसोसिएशन ने भी मास्क पहनने वालों के लिए उच्च जुर्माना की मांग की है।
राज्य सरकार और प्रशासन ने सुझाव दिया है। कि कोरोना से बचाव के लिए मास्क पहनना चाहिए। परिणामस्वरूप, राज्य सरकार ने नागरिकों को सस्ते मास्क प्रदान किए हैं। 5 मास्क का एक पैकेट अमूल के मिल्क पार्लर पर केवल 2 रूपए में उपलब्ध है। इसके बावजूद, नागरिक दो रुपए का मास्क पहनने के लिए तैयार नहीं हैं। मास्क नहीं पहनने वालों को 1,000 रुपए का जुर्माना भरना होगा। जो लोग मास्क नहीं पहनते हैं। उन्हें कोरोना टेस्ट करवाना होगा। यदि रिपोर्ट सकारात्मक आई तो उसे सीधे अस्पताल भेजा जाएगा।
कार्रवाई के लिए 141 लोगों की एक टीम
पुलिसकर्मी कोरोना अनलॉक के नियमों का पालन करने के लिए तैयार हैं। एनएमसी ने 141 कर्मचारियों की एक टीम भी तैनात की है। वे उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हैं। जो मास्क नहीं पहनते हैं। और सार्वजनिक रूप से थूकते हैं। ऐसी टीमों को शहर के 7 क्षेत्रों में तैनात किया गया है।                             


हिमाचलः 24 घंटों में 15 संक्रमितों की मौत हुई

हिमाचल प्रदेश में पिछले 24 घंटों में 15 कोरोना संक्रमितों की मौत


शिमला। देवभूमि हिमाचल में भी कोरोना का कहर जारी है। प्रदेश में पिछले 24 घंटों में 15 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है और इसके बाद पूरे प्रदेश में मौत का आंकड़ा 524 से पार कर चुका है। इन मौतों में आपकों बता दें कि पहली मौत जिला चंबा में 1, कांगड़ा में 4, किन्नौर में 1, कुल्लू में 1, मंडी में 5, शिमला में 1, सोलन में 2 दर्ज की गई है। वहीं राहत की बात यह है। कि इसके बीच प्रदेश में 644 लोगों ने कोरोना का मात देकर स्वास्थ हुए है। प्रदेश में अब कोरोना का कुल आंकड़ा 33 हजार 951 पहुंच गया है। जिनमें 6 हजार 662 मामले अभी भी एक्टिव है। प्रदेश में अब तक कोरोना से 26 हजार 733 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं।
वहीं राहत की बात यह है। कि इसके बीच प्रदेश में 644 लोगों ने कोरोना का मात देकर स्वास्थ हुए है। प्रदेश में अब कोरोना का कुल आंकड़ा 33 हजार 951 पहुंच गया है। जिनमें 6 हजार 662 मामले अभी भी एक्टिव है। प्रदेश में अब तक कोरोना से 26 हजार 733 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं।                                       


भारतः वायरस के बीच महंगाई की मार जारी

नई दिल्ली/ कोलकाता/ मुंबई/ चेन्नई। मुंबई में पेट्रोल 88.23 रुपये प्रति लीटर और डीजल 77.73 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है। कोलकाता में पेट्रोल 83.10 रुपये प्रति लीटर और डीजल 74.82 रुपये प्रति लीटर हो गया। चेन्नई में पेट्रोल की कीमत 84.53 रुपये प्रति लीटर और डीजल 76.72 रुपये प्रति लीटर है। देश में कोरोना वायरस के कहर के बीच जनता पर महंगाई की मार जारी है। देश में लगातार चौथे दिन सोमवार को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी दर्ज की गई। सार्वजनिक क्षेत्र की अग्रणी तेल विपणन कंपनी इंडियन आयल के मुताबिक आज देश के चार बड़े महानगरों में डीजल के दाम 17 से 19 पैसे और पेट्रोल के सात पैसे तक प्रति लीटर बढ़ाए गए हैं।
दिल्ली में डीजल 18 पैसे और पेट्रोल 07 पैसे प्रति लीटर मंहगा हुआ है। तेल विपणन क्षेत्र की अग्रणी कंपनी इंडियन आयल के अनुसार आज दिल्ली में पेट्रोल 81.53 रुपये जबकि डीजल 71.25 रुपये प्रति लीटर हो गये।
मुंबई में पेट्रोल 88.23 रुपये प्रति लीटर और डीजल 77.73 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। कोलकाता में पेट्रोल 83.10 रुपये प्रति लीटर और डीजल 74.82 रुपये प्रति लीटर हो गया। चेन्नई में पेट्रोल की कीमत 84.53 रुपये प्रति लीटर और डीजल 76.72 रुपये प्रति लीटर रही। आईओसीएल के मुताबिक,आज देश के चार बड़े महानगरों पेट्रोल और डीजल की कीमत इस प्रकार है।
चार महानगरों में डीजल-पेट्रोल की कीमत
दिल्ली में डीजल 71.25, पेट्रोल 81.53 रुपये प्रति लीटर
मुंबई में डीजल 77.73, पेट्रोल 88.23 रुपये प्रति लीटर
कोलकाता में डीजल 74.82, पेट्रोल 83.10 रुपये प्रति लीटर
चेन्नई में डीजल 76.72, पेट्रोल 84.53 रुपये प्रति लीटर
ब्रेंट क्रूड 45 डालर प्रति बैरल पर पहुंच गया है। शुक्रवार को 48 दिनों तक लगातार स्थिर रहने के बाद दोनों ईंधन के दामों में पहली बार बढ़ोतरी हुई थी।
हर दिन पेट्रोल डीजल की कीमत बदलती है। विदेशी मुद्रा दरों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमतें क्या हैं। इसके आधार पर रोज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। पेट्रोल और डीजल की कीमत हर रोज तय करने का काम तेल कंपनियां करती हैं। डीलर पेट्रोल पंप चलाने वाले लोग हैं। वे खुद को खुदरा कीमतों पर उपभोक्ताओं के अंत में करों और अपने स्वयं के मार्जिन जोड़ने के बाद पेट्रोल बेचते हैं। पेट्रोल रेट और डीजल रेट में यह कॉस्ट भी जुड़ती है।                             


50 हजार के ईनामी का मुठभेड़ में अंत किया

पुलिस ने मुठभेड़ में 50 हजार क्रिमिनल का किया अंत


वाराणसी। पुलिस और बदमाशों के बीच वाराणसी के रिंग रोड़ के निकट मुठभेड़ हो गयी। मुठभेड़ के दौरान पुलिस 50 हजार के इनामी अपराधी को अपनी गोली का स्वाद चखाने में कामयाब रही। अपराधी के घायल होने के बाद पुलिस द्वारा बदमाश को चिकित्सालय ले जाया गया। जहाँ डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक अपराधी का एक साथी अंधेरा का लाभ उठाकर फरार होने में कामयाब रहा। मुठभेड़ के वक्त ही दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए। जिनका इलाज चिकित्सालय में चल रहा है।
वाराणसी के पुलिस कप्तान अमित पाठक ने जानकारी दी कि पुलिस को मुखबिर की सूचना मिली कि दो अपराधी किसी घटना को अंजाम देने निकले है। पुलिस ने अपराधी को गिरफ्तार करने के लिये चेकिंग अभियान चलाया। उसी दौरान एक काले रंग के अपाचे बाईक पर दो बाईक सवार आते दिखाई दिये। पुलिस ने उन्हें रूकने का इशारा किया तो बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग करते हुए भागने लगे। पुलिस ने बदमाशों को जवाब देते हुए फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने मुठभेड़ में अपनी गोली से बदमाश मोनू चौहान को घायल कर दिया। बदमाश मोनू चौहान के एक गोली बाएं पैर और दूसरी सिर में लगी। जिसे पुलिस द्वारा चिकित्सालय ले जाया गया। जहाँ डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
गौरतलब है। कि गोइठहां में व्यापारी से लूट और हत्या का आरोपित मोनू उर्फ मोनी उर्फ अरविंद चौहान पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था। जिसे आज वाराणसी पुलिस ने ढेर कर दिया है। मृतक बदमाश मोनू चौहान पर 50 हजार रुपये का इनाम था। एक लाख रुपये इनाम घोषित करने की संस्तुति की गई थी। मृतक बदमाश मोनू चौहान का साथी अनिल यादव अंधेरे का लाभ उठाकर फरार होने में कामयाब रहा। मुठभेड़ में पांडेयपुर चौकी प्रभारी राजकुमार पांडेय और क्राइम ब्रांच के सिपाही विनय सिंह को भी गोली लगी है। दोनों पुलिसकर्मियों जख्मी होने पर उन्हें चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।                                          


मुंबई: 10 दिनों में होगा लॉकडाउन का फैसला

महाराष्ट्र कोरोना की दूसरी लहर! अगले 10 दिनों में होगा लॉकडाउन का फैसला


नितिन तोरस्कर
मुंबई। महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने रविवार को इस बात के संकेत दिए हैं, कि आने वाले दिनों में लॉकडाउन के आदेश जारी किया जा सकता है। अजित पवार ने कहा है। कि यह हाल ही में संपन्न त्यौहारों के दौरान बाजारों और सार्वजनिक जगहों पर दिखे भीड़ के कारण है। अजित पवार ने कहा, कि “आने वाले 8-10 दिनों में हालात की समीक्षा की जाएगी, परिस्थितियों के अनुसार लॉकडाउन का फैसला लिया जाएगा।  खबर के मुताबिक, पुणे में राज्य के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा दीपावली के दौरान काफी भीड़ थी! गणेश चतुर्थी के दौरान भी हमने भीड़ को देखा! हम संबंधित विभागों से बात कर रहे हैं। अगले 8-10 दिन स्थिति की समीक्षा किया जाएगा, इसके बाद लॉकडाउन के बारे में आगे निर्णय लिया जाएगा।
अजित पवार ने जानकारी देते हुए कहा, कि “दीपावली के दौरान भारी भीड़ थी। मानो भीड़ से कोरोना की ही मौत हो गई हो। अब ऐसी भविष्यवाणियां हैं। कि दूसरी लहर आ सकती है! स्कूलों को शुरू करने के लिए सरकार ने बहुत सारे नियम बनाए गए हैं। जिसमें अलग-अलग बचाव के नियम शामिल हैं। इसमें स्वच्छता का पूरा ख्याल रखा जाना जरुरी है। 
आप को बता देंकि राज्य सरकार ने स्थानिय क्षेत्रों में लोगों के स्वास्थ्य और कोविड-19 की स्थिति के आधार पर कल यानी सोमवार से कक्षा 9 से लेकर 12 तक के बच्चों के लिए स्कूलों, फिर से खोलने की अनुमति दे दी है। वहीं कुछ इलाकों में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया गया है। जिसमें पिंपरी चिंचवाड़ भी शामिल है।  अजित पवार का बयान ऐसे समय में आया है। जब देश की राजधानी दिल्ली में बढ़ते ‘कोरोनो वॉयरस’ के मामलों के मद्देनजर, इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं। कि दिल्ली से आने-जाने वाले गाडियों। ट्रेन और फ्लाइट पर केजरीवाल सरकार रोक लगाने का फैसला कर सकती है।
आप को और अधिक जानकारी देते हुए बता दें कि महाराष्ट्र उन राज्यों में हैं। जहां लगातार कोरोना वॉयरस’ के मामले देश में सबसे ज्यादा बडे हैं। स्वास्थ्य विभाग से राज्य के मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि रविवार को महाराष्ट्र में 5, 753 कोरोना वॉयरस’ के नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। जिसके बाद राज्य में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 17, 80, 208 हो गई है। रविवार को 50 लोगों ने ‘कोरोना के कारण अपनी जान गंवाई। इन ऑकडों के बाद राज्य में कोरोना के कारण हुई मौतों की संख्या 46, 623 हो गई है। आशा करते हैं। कि मंदीरो और मस्जिदों तथा धार्मिक स्थानों को बंदकर, घरों में दिया जलाया गया ताली और थाली बजाकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई में घंटी बजा चूके आम जनता को कम-से-कम अब तो समझ जाना चाहिए कि लोगों का जीवन अब खतरे में है। अपने और आस-पास के लोगों का खयाल करें बे-वजह लोगों के संपर्क में न आएं। फिल्हाल कोरोना का वायरस अब भी हमारे जीवन के लिए खतरा बना हुआ है।                           


मुंबई: एक्ट्रेस कैटरीना का हुआ कोरोना टेस्ट

कटरीना कैफ का हुआ कोरोना टेस्ट, जल्द शुरू करेंगी शूटिंग


मनोज सिंह ठाकुर


मुंबई। दुनियाभर में कोरोना वायरस के बाद लॉकडाउन हुआ था और फिल्म इंडस्ट्री भी इससे अछूती नहीं रही। हालांकि अब धीरे-धीरे फिल्म इंडस्ट्री फिर से लाइन पर आ रही है एवं दोबारा फिल्मों की शूटिंग शुरू हो रही हैं। हालांकि शूटिंग में सरकार की गाइडलाइंस का पालन किया जा रहा है। और कोरोना के चलते काफी एहतियात बरता जा रहा है। अब कटरीना कैफ अपनी अगली फिल्म शूटिंग करने जा रही हैं। तो उनका भी पहले कोरोना टेस्ट हुआ है।
कटरीना कैफ ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर कोरोना टेस्ट कराते हुए वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो के साथ उन्होंने लिखा यह किया जाना चाहिए, शूट के लिए टेस्टिंग (डैनी की तरफ से बेहद जरूरी निर्देश हमेशा मुस्कुराइये। वीडियो में दिखाई दे रहा है। कि टेस्ट कर रहे मेडिकल प्रफेशनल ने पीपीई किट पहनी हुई है। बता दें कि कटरीना कैफ आने वाले दिनों में भारत के डायरेक्टर रहे अली अब्बास जफर की एक फिल्म में काम करने जा रही हैं। जिसमें वह एक सुपरवुमन का किरदार निभाएंगी। कटरीना की आने वाली फिल्म सूर्यवंशी भी रिलीज के लिए तैयार है। जिसमें वह लंबे समय बाद अक्षय कुमार के साथ दिखाई देंगी। इसके अलावा वह सिद्धांत चतुर्वेदी और ईशान खट्टर के साथ फिल्म फोन भूत में दिखाई देंगी।


अभिषेक की हरकत से गोविंदा ने तोड़ी चुप्पी

कृष्णा अभिषेक की हरकत से गोविंदा ने तोड़ी चुप्पी


मुंबई। गोविंदा और उनके भांजे कृष्णा अभिषेक के बीच दरार आए दो साल हो गए लेकिन अब तक उनकी सुलह नहीं हो पाई है। बात कृष्णा की पत्नी कश्मीरा के ट्वीट से शुरू हुई थी। इसमें उन्होंने लिखा था कि कुछ लोग पैसे के लिए नाचते हैं। इस पर गोविंदा की पत्नी बुरा मान गईं। कृष्णा ने रीसेंटली कपिल शर्मा के शो पर परफॉर्म नहीं किया क्योंकि वहां गोविंदा पहुंचे थे। अब गोविंदा ने इस विवाद पर चुप्पी तोड़ी है। एक इंटरव्यू के दौरान गोविंदा ने कहा- इस मामले में पब्लिक पर बोलने में बहुत दुख हो रहा है। लेकिन अब बहुत हो गया सच सामने आना चाहिए। मैंने रिपोर्ट पढ़ी कि मेरे भांजे ने उस टीवी शो पर परफॉर्म नहीं किया क्योंकि मैं वहां गेस्ट था। उसने हमारे रिश्ते पर भी बात की। उनके स्टेटमेंट में कई नाम खराब करने वाले और बेकार के कॉमेंट्स थे। गोविंदा ने यह भी कहा कि कृष्णा बचपन से उनके परिवार के बेहद करीब रहे हैं। पता नहीं पब्लिक में ये सब बोलकर उनको क्या मिल रहा है।                             


भाजपा ने वेस्ट बंगाल की घेराबंदी की, मॉडल

वेस्ट बंगाल में बीजेपी का गुजरात मॉडल 


कोलकाता। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मिथिला विजय के बाद अब पूरी तरह से पश्चिम बंगाल की घेराबंदी कर दी है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने घोषणा कर दी है। कि वे हर महीने पश्चिम बंगाल का दौरा करेंगे। इसी के साथ यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल में गुजरात मॉडल लागू किया जाएगा। अब इसको लेकर बहस छिड़ गयी है। कि यह माडल कैसा होगा। एक टीवी चैनल पर बहस के दौरान भाजपा के एक समर्थक ने कहा कि पश्चिम बंगाल में हिन्दुओं के अपमान को वर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल को कश्मीर नहीं बनने दिया जाएगा। इस तरह पश्चिम बंगाल में गुजरात मॉडल के अलग अलग मतलब निकाले जाने लगे हैं। तृणमूल कांग्रेस की नेता ममता बनर्जी का इससे मतलब है। बाहरी लोगों का वर्चस्व, जबकि कांग्रेस और वामपंथी दलों के लिए गुजरात मॉडल का मतलब है। दंगे वाला गुजरात। इत्तेफाक से 19 नवम्बर की शाम को गुजरात के मॉडल शहर अहमदाबाद में तीन दिन का कर्फ्यू लगा दिया गया। यह कर्फ्यू कोरोना संक्रमण के दोबारा बढते प्रकोप के चलते लगाया गया। कर्फ्यू लगने से एक दिन पहले ही कोरोना गाइड लाइन्स की जिस तरह धज्जियां उड़ाई गयीं उसे भी एक तरह का गुजरात मॉडल बताया जा रहा है।
पश्चिम बंगाल में भाजपा और संघ को बाहरी लोग और विभाजनकारी ताकत बताते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि उन्हें हराने की आवश्यकता है। ममता बनर्जी ने इससे पहले भी कई मौकों पर भाजपा को बाहरी लोगों की पार्टी बताया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने किसी का नाम लिए बगैर कहा कि कुछ लोग दूसरे राज्यों से गुंडे लेकर आ रहे हैं। ताकि 2021 के विधानसभा चुनावों से पहले राज्य की शांति भंग की जा सके। ममता बनर्जी के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा ने कहा देश के बाकी हिस्सों से आने वाले भारतीयों का तृणमूल कांग्रेस सरकार स्वागत नहीं करती है। लेकिन बांग्लादेशी घुसपैठियों का दिल खोलकर स्वागत किया जाता है। हिन्दी भाषी बहुल क्षेत्र पोस्ता बाजार में जगधात्री पूजा के शुभारंभ के अवसर पर बनर्जी ने लोगों से कहा कि वे राज्य में अशांति फैलाने वाले गुंडों और बाहरी लोगों का प्रतिकार करें। उन्होंने कहा अगर बाहर से कुछ गुंडे हमारे राज्य में आकर आपको आतंकित करते हैं। तो आप सभी को एकजुट होकर उनका प्रतिकार करना चाहिए। मैं वादा करती हूं कि हम आपके साथ होंगे। हम शांति में विश्वास करते हैं। लेकिन कुछ लोग सिर्फ चुनाव के दौरान दूसरों को आतंकित करने आते हैं। हम उन्हें यहां मनमर्जी नहीं करने देंगे। इन बाहरी लोगों को विभाजनकारी ताकत बताते हुए बनर्जी ने कहा कि उन्हें हराने की आवश्यकता है।
तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने इससे पहले भी कई मौकों पर भाजपा को बाहरी लोगों की पार्टी बताया है। बनर्जी के बयान पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पार्टी के बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख का बयान राज्य में भाजपा की बढ़ती पकड़ पर पार्टी की हताशा व्यक्त कर रहा है। उन्होंने कहा, ऐसे बयान तृणमूल कांग्रेस और उसके नेतृत्व के गुस्से और हताशा को दर्शाते हैं। बहरहाल, पश्चिम बंगाल में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव का समय नजदीक आ रहा है। वैसे वैसे सियासी जंग भी तेज होती जा रही है। खासकर राज्यपाल धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच जुबानी जंग जारी है। पश्चिम बंगाल की राजनीति में दिलचस्पी रखने वाले तो यहां तक कहते हैं। कि ममता बनर्जी एक तरफ हैं। और भाजपा, कांग्रेस व माकपा के साथ राज्यपाल दूसरी तरफ से मोर्चा संभाले हैं। राज्य की कानून-व्यवस्था को लेकर जहां राज्यपाल ने ममता बनर्जी सरकार पर हमला बोला है। वहीं, मुख्यमंत्री ने बिना किसी का नाम लिए तीखी भाषा में जवाब दिया है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने सुरक्षा मुहैया कराने को लेकर कथित तौर पर राजनीति करने पर सतारूढ़ तृणमूल कांग्रेस सरकार की जमकर आलोचना की। राज्य सरकार ने हाल ही में तृणमूल कांग्रेस के मंत्री सुवेंदु अधिकारी के तीन करीबी सहयोगियों को दी गई सुरक्षा वापस ले ली है। अधिकारी ने हाल ही में एक रैली में पार्टी के खिलाफ बोला था। धनखड़ ने यह भी दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस के इशारे पर स्थानीय अधिकारियों ने शहीद सैनिक के परिवार से मिलने नहीं दिया और भाजपा सांसद जगन्नाथ सरकार की यात्रा में रुकावट डाली। राज्यपाल ने कहा कि बार-बार चेतावनी के बावजूद कुछ अधिकारी राजनीतिक कार्यकर्ताओं की तरह काम कर रहे हैं। मुर्शिदाबाद यात्रा के दौरान धनखड़ ने पत्रकारों से कहा सुरक्षा मुहैया कराने जैसे मुद्दे पर राजनीतिक दबाव में आकर काम करना लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाने जैसा है। उन्होंने यह जानना चाहा कि क्या राज्य की स्थिति ऐसी हो गई है। कि किसी व्यक्ति को सुरक्षा देने के लिए उसकी राजनीतिक आस्था पर ध्यान दिया जा रहा है। शहीद को श्रद्धांजलि देने जा रहे सरकार को कुछ अधिकारियों द्वारा इंतजार कराए जाने' के विवाद के सदर्भ में धनखड़ ने कहा कि ऐसे व्यवहार के बारे में जानकर कोई भी हैरान हो सकता है। ऐसे हालात में पश्चिम बंगाल के लिए भाजपा का गुजरात माडल क्या हो सकता है, यह समझना मुश्किल नहीं रह जाता। माजरा तब और साफ हो जाता है। जब भाजपा के नेता अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं की हत्या के आंकड़े पेश करते हैं। और हत्या का आरोप तृणमूल कांग्रेस पर लगाते हैं। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को सत्ता से बेदखल करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा देने वाली भारतीय जनता पार्टी ने राज्य के प्रभारियों को टास्क देना शुरू कर दिया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने अपनी नयी टीम के राज्य प्रभारियों के साथ बैठकें शुरू कर दी हैं। भाजपा फिलहाल पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की सरकार से सत्ता छीनने की कोशिशों में जुटी हुई है। इस राज्य में उसे अभी तक सत्ता नहीं मिली है। पिछले लोकसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन के बाद पार्टी वहां एक मजबूत ताकत के रूप में उभरी है। इसलिए वर्ष 2021 के विधानसभा चुनावों में पार्टी को बहुमत हासिल करने की उम्मीद है। भाजपा पूर्वी भारत में धीरे-धीरे पैर जमा रही है। असम में भाजपा इस वक्त सत्ता में है। और वहां उसके सामने अपनी सत्ता को बचाये रखने की चुनौती है। वर्ष 2021 में कई राज्यों में विधानसभा चुनाव हैं। और इसकी तैयारी भाजपा ने अभी से शुरू कर दी है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राज्यों के प्रभारियों के साथ 19 नवम्बर को पहली बैठक की और उन्हें अपने-अपने क्षेत्रों का व्यापक दौरा करने और संगठनात्मक गतिविधियों को लगातार जारी रखने को कहा। सूत्रों की मानें तो जेपी नड्डा ने सभी राज्यों के प्रभारियों को अपने-अपने जिम्मे वाले राज्यों में अधिक से अधिक सक्रिय रहने के लिए कहा लेकिन ज्यादा जोर उन राज्यों के प्रभारियों पर रहा जहां अगले साल विधानसभा के चुनाव हैं। ऐसे प्रभारियों को उन्होंने विशेष जोश के साथ काम करने की सलाह दी। पश्चिम बंगाल ऐसा ही राज्य है। भाजपा में महासचिवों, उपाध्यक्षों और सचिवों को विभिन्न राज्यों का जिम्मा दिया जाता है। पार्टी की भाषा में उसे प्रभारी कहते हैं। प्रभारियों का मुख्य काम राज्यों के नेताओं और केंद्रीय नेतृत्व के बीच एक कड़ी की भूमिका निभाना होता है। राजनीतिक निर्णयों में उनके सुझाव अहम होते हैं। वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से यह बैठक ऐसे समय में हुई है। जब अगले साल पश्चिम बंगाल, केरल, असम, तमिलनाडु, और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव होने हैं। बैठक के दौरान भाजपा के संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने प्रभारियों को उनकी भूमिका और भावी कार्ययोजना को लेकर एक प्रस्तुति भी दी। नड्डा ने पिछले सप्ताह पार्टी के केंद्रीय पदाधिकारियों को राज्यों और संघशासित प्रदेशों का प्रभार सौंपा था।


कोविड-19 ने लगाया पुनर्वास प्रक्रिया पर ब्रेक

कोविड-19 ने लगाया शरणार्थियों की पुनर्वास प्रक्रिया पर ब्रेक


नई दिल्ली। संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक इस बात की जानकारी सामने आई है कि इस वर्ष के शुरुआती 9 माह के दौरान पुनर्वासितों की संख्या में जबरदस्त गिरावट दर्ज की गई है। संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी की एक ताजा रिपोर्ट में इस बात की जानकारी सामने आई है। यूएनएचसीआर के मुताबिक वर्ष 2019 के शुरुआती नौ माह में जहां 50 से अधिक शरणार्थियों को पुनर्वासित किया गया था वहीं इस बार ये संख्या महज 15425 है। एजेंसी में इस काम का जिम्मा संभाल रही असिसटेंट हाई कमिश्नर गिलियन ट्रिग्गस का कहना है कि मौजूदा आंकड़े दो दशकों में सबसे कम हैं। ये संगठन के उन प्रयासों को जबरदस्त झटका है। जो शरणार्थियों के तौर पर जीने वाले और जोखिमों का सामना करने वालों का जीवन बचाने में जुटा है। यूएनएचसीआर के आंकड़े बताते हैं। कि मौजूदा वर्ष में सबसे अधिक सीरियाई नागरिकों को पुनर्वासित किया गया है। जो करीब 40 फीसद से कुछ अधिक हैं। इसके बाद अफ्रीकी देश कांगो के लोग हैं। जिनकी तादाद करीब 16 फीसद है। इसके बाद आने वालों में इराक म्यांमार और अफगानिस्तान से आए शरणार्थियों को पुनर्वासित किया गया है। रिपोर्ट के अनुसार जनवरी-सितंबर के बीच करीब 15 हजार लोगों को हिंसा का शिकार होना पड़ा है। वहीं वैश्विक महामारी कोविड-19 की वजह पुनर्वासितों की संख्या में गिरावट की बात सामने आई है।                               


दिल्ली: लॉकडाउन लगाने की याचिका खारिज

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने उस याचिका पर विचार करने से इनकार कर दिया। जिसमें कोविड-19 के बढ़ते मामलों तथा वायु प्रदूषण के स्तर के मद्देनजर आप सरकार को शहर में तत्काल ‘लॉकडाउन’ लगाने का निर्देश देने की मांग की गई थी। अदालत ने याचिका को ‘आधी-अधूरी’ तथा ‘अनावश्यक’ बताया। मुख्य न्यायाधीश डी.एन. पटेल और न्यायमूर्ति प्रतीक जालान की पीठ ने कहा कि याचिका बिना किसी पूर्व तैयारी के दायर की गई है। इसे अस्वीकार करने के साथ-साथ इसपर जुर्माना भी लगाया जाना चाहिए।                                    


यूपीः सीएम योगी को धमकी भरा संदेश, अरेस्ट

हरिओम उपाध्याय


लखनऊ। उत्‍तर-प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को वाट़्सएप पर धमकी भरा संदेश भेजने वाले एक 16 वर्षीय नाबालिग को लखनऊ पुलिस ने अपनी अभिरक्षा में लेकर उसके खिलाफ सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।पुलिस के अनुसार नाबालिग ने पुलिस के डायल-112 सेवा के वाट़्सएप पर मुख्‍यमंत्री के लिए धमकी भरे संदेश भेजे। जिसकी सूचना सुशांत गोल्‍फ सिटी थाने को दी गई। सुशांत गोल्‍फ सिटी थाने में उसके खिलाफ सुसंगत धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया। इसके बाद लखनऊ के पुलिस कमिश्‍नर डीके ठाकुर ने बताया कि सर्विलांस, साइबर और आगरा पुलिस की मदद से नाबालिग का लोकेशन पता कर उसको आगरा से लखनऊ पुलिस ने रविवार को अपनी अभिरक्षा में ले लिया। पुलिस के अनुसार उसके कब्‍जे से मोबाइल और सिम बरामद किया गया है। मोइाबल से उसने मैसेज डिलीट कर दिए थे जिसकी रिकवरी के लिए साइबर फोरेंसिक टीम के पास भेजा गया है। विधिक कार्यवाही पूर्ण कर उसे बाल न्‍यायालय में पेश किया जा रहा है।                                         


मुंबई: कॉमेडियन भारती को मिली जमानत

मुंबई। ड्रग केस में गिरफ्तार कॉमेडियन भारती सिंह और उनके पति हर्ष को जमानत मिल गई है। आपको बता दें कि शनिवार (21 नवंबर) को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने मुंबई में भारती के घर पर छापेमारी की थी। इस दौरान वहां से गांजा बरामद किया गया था। पूछताछ में भारती सिंह ने कबूला कि उन्होंने ड्रग्स लिए थे।                           


दूसरे धर्म में शादी करने वालों को ₹50,000

नई दिल्ली। देश के कई भाजपा शासित राज्य लव जिहाद के खिलाफ सख्त कानून बनाने में लगे हैं, वहींं दूसरी तरफ उत्तराखंड सरकार दूसरे धर्म और जाति में शादी करने के लिए युवाओं को प्रोत्साहित कर रही है। उत्तराखंड सरकार दूसरे धर्म में शादी करने के लिए जोड़ों को प्रोत्साहन स्वरूप पचास हजार रुपये की धनराशि दे रही है। जानकारी के मुताबिक उत्तराखंड सरकार नगद प्रोत्साहन उन सभी जोड़ो को देगी जो कानूनी रूप से पंजीकृत हैं। ये जानकारी राज्य के समाज कल्याण विभाग से जुड़े अधिकारियों ने दी है। वैसे राज्य सरकार का ये फैसला दूसरे राज्यों की भाजपा सरकारों को आईना दिखा रहा है।                               

सीजी: यात्रियों की एयरपोर्ट पर होगी 'स्क्रीनिंग'

रायपुर। छत्तीसगढ़ सहित देश के कई राज्यों में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए विमान से आने जाने वाले यात्रियों का कोविड स्क्रीनिंग करने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।                                   


दिल्ली: सोना-चांदी में आई जबरदस्त गिरावट

नई दिल्ली। दिवाली के बाद कोरोना वायरस की वैक्सीन बीते एक सप्ताह काफी चर्चा में रही है। जिसके बाद इंटरनेशनल मार्केट में सोना और चांदी के दाम में जबरदस्त गिरावट देखने को मिली है। जिसका असर भारत के वायदा बाजार पर भी हुआ है। भारतीय वायदा बाजार में दिवाली के दिन स्पेशल ट्रेडिंग के बाद से शुक्रवार को बाजार बंद होने तक सोना 800 रुपए प्रति दस ग्राम से ज्यादा सस्ता हो चुका है। जबकि चांदी के दाम में करीब 1800 रुपए प्रति किलोग्राम की गिरावट देखने को मिल चुकी है। जानकारों की मानें तो आने वाले सप्ताह में वैक्सीन का असर सोने और चांदी के दाम में और देखने को मिल सकता है।                                 


पीएम मोदी ने फ्लैटों का किया उद्घाटन

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को राजधानी दिल्ली में संसद सदस्यों के लिए डॉ बीडी मार्ग पर बनाए गए बहुमंजिला फ्लैटों का उद्घाटन किया। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से आयोजित इस उद्घाटन समारोह में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और संसद की आवास समिति के अध्यक्ष सी आर पाटिल भी शामिल हुए। बिरला ने 2017 में इस परियोजना का शिलान्यास किया गया था। बिरला ने बताया कि इसके निर्माण में 27 माह लगे और इसमें कुल लागत 188 करोड रुपये की आई। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य में अनुमानित लागत से 30 करोड़ की बचत की गई। उन्होंने कहा कि लोकसभा के गठन के बाद सांसदों के आवास की अक्सर दिक्कतें आया करती थी और उन्हें होटलों में ठहराया जाता था। जिससे सरकार पर आर्थिक बोझ भी पड़ता था। उन्होंने उम्मीद जताई कि 18 वीं लोकसभा की जब शुरुआत होगी तो किसी भी सांसद को होटल में ठहरने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।                           


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


 


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)



 नवंबर 24, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-99 (साल-02)
2. मंगलवार, नवंबर 24, 2020
3. शक-1981, कार्तिक, शुक्ल-पक्ष, तिथि-दशमी, विक्रमी संवत 2077।


4. प्रातः 06:49, सूर्यास्त 05:18।


5. न्‍यूनतम तापमान 11+ डी.सै., अधिकतम-23+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेंगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +91935030275                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित)                               




'क्लब हाउस’ संवाद के अनुच्छेद 370 पर बयान दिया

अकांशु उपाध्याय                नई दिल्ली।  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने ‘क्लब हाउस’ संवाद के अनुच्छेद 370 को लेकर विवादित बयान द...