मंगलवार, 20 अक्तूबर 2020

महामारीः 2026 तक रहेगा 'वायरस'

2026 तक रहेगा कोरोना, एक वैज्ञानिक और दूसरा ज्योतिषी ने की भविष्यवाणी 


नई दिल्ली/ लंदन। महामारी कोरोना को लेकर ब्रिटेन से दो तरह की भविष्यवाणियां देखने को मिली है। एक वैज्ञानिक और दूसरा ज्योतिषीय भविष्यवाणी है। ब्रिटेन की सुप्रसिद्ध ज्योतिषी के अनुसार कोरोना अभी नहीं जाने वाला है। वहीं ब्रिटेन के चीफ साइंटिस्ट का कहना है कि कोरोना वायरस वैक्सीन से भी खत्म नहीं होगा। ये भविष्यवाणियां निश्चित रूप से चिंता पैदा करने वाली हैं। ब्रिटेन की सबसे प्रसिद्ध ज्योतिषी ने कोरोना का मामला सामने आने से करीब एक साल पहले ही महामारी की भविष्यवाणी कर दी थी। और उन्होंने इसके लिए महत्वपूर्ण तारीख भी जारी कर दी थी। अब 56 साल की ज्योतिषी जेसिका एडम्स ने बताया है कि कोरोना महामारी आगे किस तरह चलने वाली है। जेसिका का यह भी कहना है। कि इस साल क्रिसमस के चार दिन पहले चीजें बदल जाएंगी। जेसिका कहती हैं। कि हमलोग फिलहाल बिना युद्ध के ही दूसरे विश्व युद्ध के बाद जैसी स्थिति में हैं। ऐतिहासिक चक्र दोहरा रहा है और हम मध्य में हैं। यह 2026 में खत्म होगा। उन्होंने कहा कि पूरा परिवर्तन होने जा रहा है। सबकुछ बदल जाएगा। डेली मेल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, ज्योतिषी जेसिका एडम्स का कहना है। कि ब्रिटेन में कोरोना अगले साल तक खत्म हो जाएगा। दिलचस्प बात ये है। कि जेसिका ने न सिर्फ कोरोना जैसी महामारी की भविष्यवाणी एक साल पहले कर दी थी। बल्कि महामारी के हिसाब से उन्होंने खुद की जिंदगी भी बदल दी थी। जेसिका एडम्स ने कोरोना की भविष्यवाणी करने के बाद अपने काम का समय आधा कर लिया था। और डायरी से आने वाले दिनों के हर प्रोग्राम कैंसिल कर दिए थे। मार्च में एक खास दोस्त के लिए उन्होंने डिनर पार्टी का प्लान रखा था, जिसे उन्होंने रद्द कर दिया था। जेसिका ने लंदन में अपना घर छोड़ दिया था और तस्मानिया में रहने चली गई थीं। फिलहाल वह तस्मानिया में अकेले ही रह रही हैं। और उनके साथ दो कुत्ते और एक मुर्गी रहती है। कोरोना महामारी शुरू होने से एक साल पहले जेसिका ने यह भी कहा था। कि 10 जनवरी 2020 की तारीख बेहद अहम होगी। बाद में इसी दिन कोरोना से पहली मौत की पुष्टि हुई थी। हालांकि जब जेसिका ने महामारी की भविष्यवाणी की थी। कि तब ज्यादातर लोगों ने उन्हें नजरअंदाज किया था। या फिर उनकी बातों को फर्जी करार दिया था।
एक ओर जहां दुनियाभर में करीब 150 कोरोना वायरस वैक्सीनों पर काम हो रहा है। टॉप एक्सपर्ट ने इससे जुड़े उम्मीदों को झटका दे दिया है। ब्रिटेन के चीफ साइंटिफिक अडवाइजर सर पैट्रिक वॉलेस का कहना है कि वैक्सीन से कोरोना वायरस को रोका नहीं जा सकता है। उनका कहना है। कि वैक्सीन अगले साल मार्च से पहले नहीं मिलेगी। वॉलेस का कहना है। कि आज तक सिर्फ चिकनपॉक्स ही ऐसी बीमारी रही है। जिसे मिटाया जा सका है। मौसमी बुखार की तरह होगा : वॉलेस का कहना है। कि कोरोना वायरस का इलाज मौसमी बुखार की तरह हो सकता है। उन्होंने कहा है। कि वैक्सीन रिसर्च पहले से काफी बेहतर हो चुकी है। लेकिन अभी ऐसी वैक्सीन तैयार करना जो बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंच सके, मुश्किल है। पैट्रिक ने यह जानकारी संसदीय समिति को दी है। उन्होंने कहा कि इसकी संभावना कम है कि ऐसी वैक्सीन मिल सके जो इन्फेक्शन को पूरी तरह रोक सके। वैक्सीन के होंगे कई फायदे पैट्रिक का कहना है। इस बात की संभावना ज्यादा है। कि बीमारी फैलती रहेगी और कहीं-कहीं आम हो जाएगी। हालांकि, उन्होंने साफ किया कि वैक्सिनेशन से इन्फेक्शन की संभावना कम होगी और वायरस की वजह सो होने वाली बीमारी की गंभारता और तीव्रता भी कम हो जाएगी। इसके बाद यह आम फ्लू जैसा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि अगले कुछ महीनों में यह साफ हो जाएगा कि क्या कोई वैक्सीन सुरक्षा दे सकती है। और अगर हां। तो कितने वक्त के लिए। सर पैट्रिक ने कहा कि बहुत सारे वैक्सीन कैंडिडेट ने इम्यून रिस्पॉन्स पैदा किया है। लेकिन तीसरे चरण के ट्रायल के बाद ही यह पता चलेगा कि क्या वे इन्फेक्शन रोक सकती हैं। उन्होंने कहा कि इससे यह भी पता चलेगा कि वैक्सीनें कितनी सुरक्षित हैं। और बड़ी आबादी को वैक्सीन कैसे दी जानी है। उन्होंने कहा है कि अगले साल मार्च से पहले वैक्सीन आम लोगों तक पहुंचना मुश्किल है।            


चाइनीज एप टिक-टॉक से बैन हटाया

चीनः चाइनीज एप टिक-टॉक से बैन हटा


जानिए टिकटॉक ने क्या कहा?


इस्लामाबाद। पाकिस्तान के टेलीकॉम निगरानीकर्ता ने सोमवार को वीडियो साझा करने वाले चीनी एप टिकटॉक पर से बैन हटा लिया. इसका संचालन करने वाली कंपनी की तरफ से 'अनैतिक सामग्री' को नियंत्रित करने का आश्वासन दिए जाने के बाद यह कदम उठाया गया है।


टिकटॉक ने क्या कहा?


पाकिस्तान दूरसंचार प्राधिकरण (पीटीए) ने अनैतिक सामग्री की कई शिकायतें प्राप्त होने के बाद नौ अक्टूबर को टिकटॉक पर प्रतिबंध लगा दिया था. पीटीए ने ट्वीट करके कहा, ' प्रबंधन (टिकटॉक) की ओर से यह आश्वासन मिलने के बाद कि अश्लीलता और अनैतिकता फैलाने वाले सभी अकाउंट को वह ब्लॉक करेंगे, इस पर से प्रतिबंध हटाने का निर्णय लिया गया। टिकटॉक स्थानीय कानूनों के अनुसार, अकाउंट में सुधार करेगा।


इससे पहले, पीटीए ने आरोप लगाया था कि कई बार आपत्ति जताए जाने के बावजूद वीडियो एप संचालन कंपनी अश्लील और अनैतिक सामग्री को रोकने में नाकाम रही। शनिवार को टिकटॉक के स्वामित्व वाली कंपनी ने यहां अपनी सेवाओं में सुधार के लिए और संसाधन लगाने का वादा किया था।


बाइटडांस ने क्या कहा था?


इससे पहले टिकटॉक के स्वामित्व वाली चीनी कंपनी बाइटडांस ने इस बात पर अफसोस जताया है कि पाकिस्तान में उसकी सेवाएं एक सप्ताह से अधिक समय से निलंबित हैं। कंपनी ने शनिवार को कहा, ''टिकटॉक का मिशन रचनात्मकता और आनंद को प्रेरित करना है और यही हमने पाकिस्तान में किया। हमने एक समुदाय बनाया है जिसकी रचनात्मकता और जुनून ने पाकिस्तान के लोगों को आनंदित किया है और प्रतिभाशाली लोगों के लिए आर्थिक अवसर खोले हैं।


भारत और अमेरिका में बैन


कुछ महीने पहले चीन से सीमा विवाद की सूरत में भारत सरकार ने टिकटॉक को देश में हमेशा के लिए बैन कर दिया था। टिकटॉक के भारत में 100 मिलियन से ज्यादा यूजर थे। बाद में अमेरिका ने भी टिकटॉक को बैन कर दिया था। अमेरिका में माइक्रोसॉफ्ट ने टिकटॉक को खरीदने की कोशिश की, लेकिन डील फाइनल नहीं हो पाई। टिकटॉक यूथ के बीच काफी पॉप्युलर है और हजारों यूजर्स के लिए यह आय का भी जरिया है।


इम्यूनिटी बढ़ाता है सिंघाड़े के आटे का लड्डू

नवरात्रि में व्रत रखने के दौरान कई बार ऐसा होता है कि शरीर में कमजोरी हो जाती है। जिसकी वजह से कभी-कभी चक्कर भी आने लगते हैं। ऐसे में बहुत जरूरी है। कि अपने शरीर का भी ध्यान रखा जाए। हम आपको व्रत की ऐसी ही हेल्दी रेसिपी बता रहे हैं। जिसे व्रत के दौरान खाने से आपको कमजोरी और ज्यादा भूख भी नहीं लगेगी। रोजाना एक लड्डू के सेवन करने से आपकी इम्युनिटी भी बढ़ेगी।
सामग्री
सिंघाड़े का आटा     
गुड़          
सोंठ पाउडर      
देसी घी           
काजू-बादाम           
विधि ।
सबसे पहले सिंघाड़े के आटे को छान लीजिए। अगर सिंघाड़े का आटा थोड़ा मोटा रहेगा तो लड्डू सोंधे बनेंगे।
गुड़ को अच्छी तरह से फोड़ लीजिए। गुड़ में एक भी गांठ नहीं रहनी चाहिए।
कटे हुए मेवे को तवे पर हल्का सा भून लीजिए।
कड़ाही में करीब 150 ग्राम घी गर्म कर लीजिए। आपका करीब 100 ग्राम घी बचा रहेगा, इसका बाद में इस्तेमाल करेंगे।
गैस की आंच मीडियम करके सिंघाड़े के आटे को अच्छी तरह से भून लीजिए।  जब आटे से सोंधी खुशबू आने लगे और ये गुलाबी हो जाए तो समझिए की ये भून गया है।अब पिटे हुए गुड़ के ऊपर गरम-गरम सिंघाड़े के आटे को इस तरह से डालिए कि गुड़ पूरी तरह से ढक जाए।
आटे की गर्मी से गुड़ नरम हो जाएगा और सिंघाड़े का लड्डू बनाने में आसानी होगी।आटे के ऊपर अब सोंठ, घी और मेवे डालकर चम्मच की मदद से अच्छी तरह मिला लीजिए। ध्यान रहे कि मिश्रण ठंडा होने से पहले ही आप इसे मिला लें।
जब मिश्रण इतना गरम रह जाए कि आप इसे हाथ से छू सकें तब इसे एक बार हाथ से भी अच्छी तरह मिक्स कर लीजिए।
अब आपको फटाफट लड्डू बनाना है। क्योंकि अगर मिश्रण ठंडा हो गया तो लड्डू बनाना मुश्किल हो जाएगा।
दोनों हाथ से लड्डू बनाने की कोशिश करें इससे ये मिश्रण के गर्म रहते ही बन जाएंगे। सिंघाड़े में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन बी व सी, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस जैसे मिनरल्स, रायबोफ्लेबिन जैसे तत्व पर्याप्त मात्रा में मिलते हैं। आयुर्वेद में कहा गया है कि सिंघाड़े में भैंस के दूध की तुलना में 22 प्रतिशत अधिक खनिज लवण और क्षार तत्व पाए जाते हैं।
वैज्ञानिकों ने तो अमृत तुल्य बताते हुए इसे ताकतवर और पौष्टिक तत्वों का खजाना बताया है। इस फल में कई औषधीय गुण हैं। जिनसे शुगर, अल्सर, हृदय रोग, गठिया जैसे रोगों से बचाव हो सकता है। बुजुर्गों व गर्भवती महिलाओं के लिए तो यह काफी गुणकारी है।                 


इस्तीफा, सरकार गिरने का डर नहींः सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह बोलेः सरकार गिरने का डर नहीं, दे सकता हूं इस्तीफा कृषि बिलों के खिलाफ विधेयक पास।


मनोज सिंह ठाकुर


विधानसभा में कैप्टन अमरिंदर सिंह बिल पेश करते हुए


चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को विधानसभा में केंद्र सरकार के कृषि बिलों के खिलाफ विधेयक पेश किए। अमरिंदर ने विधेयकों को पेश करते हुए भावुक भाषण भी दिया। उन्होंने विपक्षी अकाली दल को निशाने पर भी लिया। अमरिंदर ने कहा कि उनकी सरकार अगर गिरती है। तो गिर जाए। उन्हें इसका डर नहीं है। लेकिन वह किसानों के साथ हैं।
अमरिंदर सिंह ने कहा कि केंद्र का कृषि बिल किसानों और भूमिहीन श्रमिकों के हितों के खिलाफ हैं। उन्होंने इस दौरान तीन विधेयक, किसानों को उत्पादन सुविधा अधिनियम में संशोधन, आवश्यक वस्तु अधिनियम में संशोधन, किसानों के समझौते और कृषि सेवा अधिनियम में संशोधन बिल विधानसभा में पेश किए। विधेयक पेश करने के दौरान अमरिंदर सिंह ने कहा, ‘मुझे अपनी सरकार के गिरने का डर नहीं है। मैं इस्तीफा भी देने के लिए तैयार हूं। पहले भी पंजाब के लिए इस्तीफा दिया था। हम किसानों के साथ पूरी तरह से खड़े हैं। बिल पेश करते हुए अमरिंदर सिंह ने कहा कि कृषी संसोधन बिल और प्रस्तावित इलेक्ट्रिसिटी बिल दोनोंही किसान, मजदुर और वर्कर्स के घातक है।                


सिद्धू ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना

कृषि कानूनों को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा- सरकार करे फसलों की खरीद।


राणा ऑबरॉय


चंडीगढ़। कांग्रेस विधायक नवजोत सिंह सिद्धू ने सोमवार को केंद्र पर निशाना साधते हुए नये कृषि कानूनों को संघीय व्यवस्था पर क्रूर हमला बताया। अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो में पंजाब के पूर्व मंत्री ने फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य और सरकार द्वारा खरीद किये जाने की वकालत की। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार किसानों की आय दोगुनी करने की बात करती है। लेकिन वह उनकी एकमात्र सुनिश्चित आय को छीन रही है। सिद्धू ने कहा ये काले कानून भारत के संघीय ढांचे पर क्रूर हमला हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र राज्य सूची में आने वाले कृषि के मुद्दे पर कानून बनाने की राज्य सरकार लोकतांत्रिक शक्तियों में अतिक्रमण कर रहा है। उन्होंने आरोप लगाया अब वे कृषि को पूंजीपतियों के हाथ में सौंप रहे हैं। वे आएंगे और ईस्ट इंडिया कंपनी की तरह शासन करेंगे। विधायक ने कहा कि केन्द्र सरकार कृषि क्षेत्र पूंजीपतियों के हवाले इसलिए कर रही है। क्योंकि विनिर्माण और सेवा क्षेत्र घाटे में है। उन्होंने केंद्र की आलोचना करते हुए कहा कि वे चाहते हैं। कि साठगांठ वाले पूंजीपति राज करें।                                         


पुलिस ने अवैध कारोबार पर कसा शिकंजा

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


बहादुरगढ़ पुलिस ने अवैध शराब कारोबार पर कसा शिकंजा, दो भट्टी, भारी मात्रा में अवैध शराब, लाहन के साथ चार दबोचा


हापुड़। अवैध शराब कारोबार पर बहादुरगढ़ पुलिस लगातार छापेमारी कर अवैध शराब की दो भट्टी 200 लीटर कच्ची शराब, 900 लीटर लाहन नष्ट करते हुए शराब बनाने के उपकरण बरामद किए। बहादुरगढ़ पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर पलवाडा के जंगल में अवैध शराब कारोबार की सूचना पर जब छापेमारी की तो मौके से चलती दो शराब की भट्टी और चार शराब तैयार करने वाले दबोचकर वैधानिक कार्यवाही की। थाना बहादुरगढ़ प्रभारी नीरज कुमार ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर जब बहादुरगढ़ थाना प्रभारी नीरज कुमार एस आई देवेन्द्र कुमार गौतम, क्राइमडिटैक्सन टीम से अजय कुमार,  सुनील चौधरी, रविन्द्र आदि ने छापेमारी की तो पलवाडा के जंगल खादर में शराब तोड़ते हुए तेजपाल पुत्र डोरी, नैनू पुत्र महाबीर को हिरासत में लिया गया और जिनके पास से मौके से दो शराब की भट्टी, 200 लीटर कच्ची तैयार शराब 900 लीटर लाहन नष्ट गैस सिलेंडर 15 लीटर वाला पतीला रेगुलर सभी उपकरण बरामद कर वैधानिक कार्यवाही की गयी है।               


'यूनिवर्सल-एक्सप्रेस' समाचार-पत्र की वर्षगांठ

'यूनिवर्सल-एक्सप्रेस' हिन्दी, दैनिक समाचार-पत्र की दसवीं वर्षगांठ पर दीप प्रज्वलित कर शुभकामनाएं दी गई। जैसा कि आप सभी को विदित है। मां दुर्गा के पांचवे रूप का स्कंदमाता के प्रारूप में प्रस्थान किया गया है। जनमानस की भावनाओं को लेकर संघर्ष और समस्याओं के बावजूद, विपरीत परिस्थितियों और प्रतिकूल आवरण में हम 'एक्सप्रेस मीडिया ग्रुप' के सभी सम्मानित नागरिकों के सहयोग से लोकतांत्रिक व्यवस्था के जागरण के प्रति कार्य कर रहे हैं। 74 लाख पाठकगणों का हार्दिक धन्यवाद और इस अपार स्नेह के लिए मैं सदा-सदा के लिए आपकी सहायता के लिए कृतज्ञ रहूंगा। इसके लिए आपका आभार प्रकट करते है।


चंद्रमौलेश्वर शिवांशु 'निर्भयपुत्र'


पंडालों में दिखाया जाएगा पीएम का भाषण

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। भाजपा धर्म और राजनीति का घालमेल करने के लिए लंबे अरसे से जानी जाती है। पार्टी अपने फायदे के लिए धर्म और देवी देवताओं को खूब इस्तेमाल करती रही है। अब उसने बंगाल की दुर्गा पूजा में राजनीति शुरू कर दी है।




दरअसल, अगले साल पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। भाजपा इन चुनावों में किसी भी तरह जीत हासिल करना चाहती है। इसके लिए पार्टी हर कोशिश करने में जुटी है। भाजपा बंगाल में अपनी राजनीतिक जमीन मजबूत करने में तेजी से जुटी है। ऐसे हालात में इस साल बंगाल में दुर्गा पूजा को भाजपा ने चुनावी मैदान में बदल दिया है।

अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 अक्तूबर को कोलकाता में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक पूजा पंडाल का ऑनलाइन उद्घाटन करेंगे। इसके साथ ही उद्घाटन के बाद होने वाले पीएम के संबोधन को 10 पूजा पंडालों में लाइव दिखाया जाएगा। अब अगले विधानसभा चुनावों में कुछ ही महीनों का समय बचा है ऐसे में प्रधानमंत्री मोदी खुद आगे आकर चुनाव की कमान संभाल रहे हैं। इससे पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सत्तर दुर्गा पूजा पंडालों का ऑनलाइन उद्घाटन कर चुकी हैं।             




विभाग के सचिव ने नया आदेश किया जारी

सत्यपाल सिंह


रायपुर। नवा रायपुर स्थित मंत्रालय और विभागाध्यक्ष कार्यालयों के संचालन के संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव डीडी सिंह ने नया आदेश जारी किया है। जारी आदेश में कहा गया है कि अनलॉक-5 की प्रक्रिया और कोरोना संक्रमण को देखते हुए मंत्रालय एवं विभागाध्यक्ष कार्यालयों में अनुभाग अधिकारी और उनसे वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति 100 प्रतिशत और बाकी कर्मचारियों की उपस्थिति 50 प्रतिशत सुनिश्चित किया जाए।


कमलनाथ के बयान पर राहुल की असहमति

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के आइटम वाले बयान पर राहुल गांधी ने कही ये बात 


नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड की यात्रा पर हैं। इस दौरान राहुल गांधी ने मीडिया से बात करते हुए मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान पर असहमति जताई। राहुल ने कहा कि कोई भी महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार नहीं कर सकता है। मध्य प्रदेश की कैबिनेट मंत्री इमरती देवी को आइटम' कहने पर वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने कहा कि मुझे व्यक्तिगत रूप से भाषा पसंद नहीं है। मैं इसकी सराहना नहीं करता हूं। जिस तरह से हम महिलाओं के साथ व्यवहार करते हैं। उसे सुधारने की जरूरत है। हमारी महिलाएं हमारी शान हैं। मैं ऐसी भाषा की सराहना नहीं करता हूं।
तीन दिन की वायनाड यात्रा पर पहुंच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के निशाने पर केंद्र की मोदी सरकार है। राहुल गांधी ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण दुनिया सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। यह बुरा समय है। और हमने केंद्र से अपील की थी। कि गरीबों की मदद की जाए. वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार ने अर्थव्यवस्था को फिर से खड़ा करने के लिए कोई कोशिश नहीं की बिना तैयारी लॉकडाउन लगाने की वजह से लोगों को कई तरह की समस्याएं हुई। अधिकतर लोगों को अपने घर लौटने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा।
राहुल गांधी ने कहा कि केरल के लोगों ने कोरोना के खिलाफ अच्छी लड़ाई लड़ी है। वायनाड की स्थिति काफी बेहतर है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन को आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति नहीं करनी चाहिए। मैंने पहले ही कहा था। कि कोरोना के कारण हमें बहुत समस्या होने वाली है। अब एक-दूसरे पर आरोप लगाने से कोई फायदा नहीं है।                  


केंद्रीय मंत्री बालियान पर बोला हमला

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कृषि कानून के बारे में बोल रहे हैं। उन्होंने केद्रीय मंत्री संजीव बालियान के बयान पर हमला बोला। केंद्रीय मंत्री ने कृषि कानून को लेकर चुनौती दी थी। इस पर कहा कि हमारे मंत्री ने चुनौती पहले की स्वीकार की थी। लेकिन कोई बहस करने नहीं आया।             


पति ने मुर्गी के साथ बनाया संबंध, सजा

नई दिल्ली। आए दिन विश्व के क ईस्थानों से अजीबो-गरीब घटनाएं सुनने को मिलती हैं। एक युवक को मुर्गी के साथ संबंध बनाने के आरोप में दोषी करार दिया गया है और उसे तीन साल जेल की सजा सुनाई गई है। उसकी पत्नी ने ही मुर्गी के साथ संबंध बनाने का वीडियो रिकॉर्ड किया था। डेली मेल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, दोषी करार किए गए 37 साल के युवक का नाम रेहान बेग है। यह मामला ब्रिटेन के ब्रैडफोर्ड का है। ब्रैडफोर्ड क्राउन कोर्ट ने बेग को सजा दी है।


आतंकियों ने 1 पुलिस ऑफिसर की हत्या की

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिला के चांदपोरा क्षेत्र में आज सुबह आतंकवादियों ने एक पुलिस अफिसर को अपनी गोली का शिकार बनाया हुआ है। जिससे उसकी मौत हो गई है। शहीद हुए इंस्पेक्टर का नाम मोहम्मद असरफ भट है। वह चांदपोरा कनेलवां के रहने वाले थे। आतंकियों ने पुलिस के घर में जाकर उने गोली मारी हुई है। हलांकि गोली लगने के बाद शहीद आफिसर को नदजीकी अस्पताल पहुंचाया गया मगर वहां पर उन्होंने दम तोड़ दिया। बताया जा रहा है कि मस्जिद में नमाज अदा करने के बाद घर लौट रहा था, जहां पर आतंकियों ने उनको निशाना बनाया।             


हिमाचलः आईएएस अधिकारियों के तबादले

शिमला। हिमाचल प्रदेश में बिते दिन पूरे ढाई साल बाद पूरा हाने के बाद डीसी के तबादले किए गए है। यह आदेश बिते दिन देररात जारी किए गए है। सात जिलों के डीसी समेत कुल 21 आईएएस अधिकारियों के तबादला आदेश जारी कर दिए हैं। इनमें  शिमला, ऊना, किन्नौर, बिलासपुर, लाहौल, हमीरपुर व चंबा जिले के डीसी बदल दिए गए। सदस्य सचिव राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड आदित्य नेगी को डीसी शिमला लगाया गया है। इसके अलावा विवेक भाटिया को हटाकर विशेष सचिव राजस्व एवं निदेशक पर्यावरण विज्ञान एवं तकनीकी दुनी चंद राणा को डीसी चंबा, विशेष सचिव ऊर्जा हेमराज डीसी बैरवा किन्नौर, एमडी पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम राघव शर्मा को डीसी ऊना, एमडी एचपीएमसी देबश्वेता बनिक को डीसी हमीरपुर, निदेशक टीसीपी रोहित जम्वाल को डीसी बिलासपुर और नगर आयुक्त शिमला पंकज राय को डीसी लाहौल-स्पीति लगा दिया है।             


बच्ची का गला दबाकर मौत के घाट उतारा

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। गाज़ियाबाद के थाना कविनगर क्षेत्र में एक चाचा ने अपनी ढाई वर्षीय मासूम भतीजी की गला दबाकर हत्या कर दी। हत्याकांड को हत्यारोपी ने भाई से विवाद के चलते अंजाम दिया। पुलिस ने हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया है और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बच्ची की हत्या के बाद परिजनों में कोहराम मचा है। एसपी सिटी अभिषेक वर्मा ने बताया कि औद्योगिक क्षेत्र में आरटीओ विभाग के निकट ढाई वर्षीय बच्ची आराध्या अपने परिवार के साथ रहती थी।              


एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा कराने वाली संस्था

बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा कराने वाली संस्था उत्तर-प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) वर्ष 2021 में हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा में शामिल होने के लिए कुल 55 लाख 74 हजार 81 परीक्षार्थियों ने फार्म भरा है। आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को यहां बताया कि हाईस्कूल परीक्षा 2021 के लिए कुल 30 लाख तीन हजार 471 में 29 लाख 85 हजार 973 संस्थागत तथा 17 हजार 498 व्यक्तिगत परीक्षार्थियों ने फार्म भरा है।             


सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर किए

जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर


नई दिल्ली। दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के मेलहुरा इलाके में सुरक्षाबलों ने दो आतंकवादियों को मार गिराया है। उनके पास से एक एके-47 बंदूक और एक पिस्तौल भी बरामद की गई है। सेना ने बताया कि कल शाम से चल रहा यह ऑपरेशन अब खत्म हो चुका है। मुठभेड़ के दौरान एक आतंकी को सोमवार शाम को ही मार गिराया गया था, जबकि एक अन्य को जवानों ने आज ढेर कर दिया। हालांकि मारे गए आतंकवादियों की अभी पहचान नहीं हुई है। दरअसल, खुफिया एजेंसी को मेलहुरा इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली। इस साल अब तक कुल 184 आतंकवादी मारे जा चुके। जिसके बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना की 55 आरआर की एक संयुक्त टीम ने मौके पर पहुंचकर इलाके को खाली करा कर तलाशी अभियान शुरू किया गया। जैसे ही सुरक्षा बलों की संयुक्त टीम संदिग्ध स्थान की ओर बढ़ी, तभी छिपे हुए आतंकवादियों ने ताबड़तोड़ गोलियां चला दी। जिसके बाद सेना ने जवाबी कार्रवाई की। आपको बता दें कि घाटी में इस साल अब तक कुल 184 आतंकवादी मारे जा चुके हैं। पुलवामा में सुरक्षाबलों पर फायरिंग, जवान घायल।
पुलवामा जिले के गंगू इलाके के पास सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम पर सोमवार सुबह आतंकियों ने फायरिंग कर हमला बोल दिया। हमले में सीआरपीएफ का एक जवान घायल हो गया। इस दौरान अन्य जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई की, लेकिन आतंकी वहां से भाग निकले। आतंकियों को पकड़ने के लिए इलाके में तलाशी अभियान चलाया गया। इससे पहले रविवार को आवंतीपोरा में भी आतंकियों के हमले में सीआरपीएफ का एक एसआई और एक नागरिक जख्मी हो गया था।               


चार धाम नियंत्रण मामले में स्वामी पहुंचे एससी

चारधाम नियंत्रण मामले में सुब्रह्मण्यम स्वामी पहुंचे सुप्रीम कोर्ट


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने चारधाम देवस्थान प्रबंधन बोर्ड के जरिये चारों धाम एवं 51 अन्य तीर्थस्थलों पर सरकारी नियंत्रण को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी है। स्वामी ने उत्तराखंड उच्च न्यायालय के 21 जुलाई 2020 के उस फैसले के खिलाफ शीर्ष अदालत का दरवाजा खटखटाया है, जिसके तहत उनकी याचिका निरस्त की गयी थी। स्वामी ने चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड का गठन करके चारों धामों और अन्य 51 तीर्थ स्थानों पर राज्य सरकार द्वारा नियंत्रण लिये जाने को उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी, जहां से उन्हें निराशा हाथ लगी थी, उसके बाद वह सर्वोच्च न्यायालय पहुंचे हैं। भाजपा नेता ने कहा है कि भारत जैसे धर्मनिरपेक्ष देश में केवल मंदिर ही सरकार के नियंत्रण में है, जबकि मस्जिद और अन्य धार्मिक स्थल नहीं। उन्होंने चारों धाम मंदिर और अन्य 51 तीर्थस्थलों को सरकार के नियंत्रण से मुक्त कराने की मांग की है। इस मामले में दो गैर सरकारी संगठनों- ‘पीपुल फॉर धर्म’ और ‘इंडिक कॉलेक्टिव ट्रस्ट’- ने भी उच्च न्यायालय के खिलाफ याचिकाएं दायर की हैं। उच्च न्यायालय ने गत 21 जुलाई को दिये फैसले में चारधाम देवस्थानम् प्रबंधन एक्ट, 2019 की संवैधानिक वैधता को बरकरार रखा है।               


दस राज्यसभा सीटों के लिए नामांकन शुरू

उत्तरप्रदेश की दस राज्यसभा सीटों के लिए नामांकन शुरू


लखनऊ। उत्तर प्रदेश की दस राज्यसभा सीटों पर नौ नवंबर को होने वाले मतदान के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। चुनाव आयोग के सूत्रों ने मंगलवार को यहां बताया कि द्विवार्षिक चुनावों की अधिसूचना आज सुबह जारी की गई। नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 27 अक्टूबर है। नामांकन की जांच 28 अक्टूबर को की जाएगी जबकि दो नवंबर को नाम वापसी की आखिरी तारीख है।
उन्होंने बताया कि यदि आवश्यक हुआ तो मतदान नौ नवंबर को होगा और उसी दिन परिणाम घोषित किए जाएंगे। राज्य विधानसभा के सदस्य इस चुनाव में मतदाता हैं। उत्तर प्रदेश विधानसभा की 403 सदस्यों वाले सदन में भाजपा के 310 विधायक हैं। सत्तारूढ़ दल भाजपा के 10 में से आठ सीटों पर आराम से जीतने की संभावना है। समाजवादी पार्टी(सपा) के 46 विधायक है और पार्टी को एक सीट पर जीत की उम्मीद है जबकि संयुक्त विपक्ष द्वारा भी एक सीट जीती जा सकती है।
राज्य विधानसभा में आठ सीटें रिक्त है। इसलिए आठ सदस्यों की संख्या घटने से मतदाताओं की संख्या 395 रह जायेगी। जीतने वाले उम्मीदवार को 34 वोट प्राप्त करने होंगे। सपा ने पहले ही प्रोफेसर राम गोपाल यादव को द्विवार्षिक चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार के रूप में घोषित किया है, लेकिन भाजपा समेत किसी अन्य पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है। सपा प्रत्याशी प्रोफेसर राम गोपाल यादव बुधवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। सपा ने प्रत्याशी के नामांकन फार्म पर अपने हस्ताक्षर देने के लिए आज लखनऊ में अपने सभी विधायकों को भी तलब किया है। उत्तर प्रदेश के जिन सदस्यों का कार्यकाल 25 नवंबर, 2020 को समाप्त होगा।
उसमें केंद्रीय मंत्री और भाजपा सदस्य हरदीप सिंह पुरी, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह, भाजपा के नीरज शेखर, सपा के राम गोपाल यादव, रवि प्रकाश वर्मा, डॉ0 चंद्रपाल सिंह यादव और जावेद अली खान हैं जबकि बहुजन समाज पार्टी( बसपा) के वीर सिंह और राजाराम। इसके अलावा कांग्रेस सदस्य पीएल पुनिया शामिल है।             


परिजनों ने युवती की मौत पर किया हंगामा

देहरादून: परिजनों ने युवती की मौत पर अस्पताल में किया हंगामा, डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप।


देहरादून। पटेलनगर क्षेेेत्र में मृत्युंजय क्रिटिकल हॉस्पिटल में परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए सोमवार शाम को हंगामा कर दिया। बाजार चौकी प्रभारी नवीन जोशी ने बताया कि आशा रावत (26) पुत्री विक्रम सिंह निवासी ब्रह्मपुरी को एमसीएच हॉस्पिटल में रविवार रात में भर्ती कराया गया था। उपचार के दौरान सोमवार शाम को युवती की मौत हो गई। इस पर परिजनों ने डाक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामला शांत कराया गया। परिजनों ने पुलिस को बताया कि युवती के पेट में इंफेक्शन की वजह से उसे भर्ती कराया गया था। लापरवाही का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की गई। कोतवाली प्रभारी का कहना है कि पूछताछ व जांच की जा रही है। शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।             


पुलवामा में हुई मुठभेड़, 1 आतंकी ढेर

पुलवामा: मुठभेड़ में एक आतंकवादी ढेर


श्रीनगर। जम्मू- कश्मीर के पुलवामा जिले में मंगलवार को घेराबंदी और तलाशी अभियान (कासो) के दौरान सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया। पुलिस प्रवक्ता ने यहां बताया कि राष्ट्रीय रायफल (आरआर), जम्मू-कश्मीर पुलिस विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी के बाद पुलवामा के हरकरिपोरा काकपोरा में घेराबंदी और तलाश अभियान (कासो) शुरु किया। उन्होंने कहा कि इलाके में छिपे आतंकवादियों के सुरक्षा बलों पर स्वचालित हथियारों से गोलियां चलाने तथा सुरक्षा बलों की ओर से जवाबी कार्रवाई के बाद मुठभेड़ शुरु हुई। इस बीच एक घर में छिपा आतंकवादी पास के खेत में भाग गया और सुरक्षा बलों की गोलीबारी में वह मारा गया। प्रवक्ता ने कहा कि अभियान अभी चल रहा है। कानून व्यवस्था बनाए रखने लिए आस-पास के क्षेत्रों में एहतियात के तौर पर अतिरिक्त सुरक्षा बलों और पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।                     


विरोध में विधानसभा में सोए 'विधायक'

अमरिंदर सिंह सरकार की इस बात के विरोध में विधानसभा में सोए विधायक


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। राजनीति में नेताओं की पब्लिक छवि बहुत मायने रखती है। अपनी छवि को बेहतर करने के लिए और मीडिया में अपनी तस्वीरें छपवाने के लिए नेता हर दिन कुछ न कुछ करते रहते हैं। कई बार इनकी हरकतें केवल अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की कवायद भर होती है। ऐसी ही एक हरकत में आम आदमी पार्टी के विधायकों ने पंजाब विधान सभा के अंदर सोकर अपनी रात बिताई। दरअसल केंद्र सरकार के कृषि बिलों की काट के लिए पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार एक विधेयक लाने की तैयारियां कर रही है। आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल के विध्यक मांग कर रहे हैं कि इस अध्यादेश की कॉपी उन्हें पहले दिखाई जाए। हालांकि नियमानुसार चर्चा के लिए बिल पेश होने से पहले उसकी कॉपी सभी सदस्यों को भेजी जाती है लेकिन विरोधी दलों की मांग थी कि यह कॉपी उन्हें कल ही दी जाए।  इस छोटी सी की मांग लिए उन्होंने विधानसभा के अंदर सो कर रात बिताई और अपना विरोध दर्ज कराया। आपको बता दें कि सोमवार सुबह से पंजाब विधानसभा का दो दिवसीय विशेष सत्र शुरू हो गया। इस विशेष सत्र में राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आज एक विधेयक लाएंगे। विधेयक को मंजूरी के लिए सदन में पेश किया जाएगा।           


ऐलानः नहीं बचेंगे चाइनीज पटाखें-लड़ियां

नहीं बेचेंगे चाइनीज़ पटाखे और लड़ियाँ, गाज़ियाबाद के व्यापारियों ने किया ऐलान


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। चीन की सरकार द्वारा की जा रही भारत विरोधी हरकतों का मुंह तोड़ जवाब देते हुए गाज़ियाबाद के पटाखा व्यापारियों ने घोषणा की है कि इस बार वे भारत में बने पटाखे ही बेचेंगे। गाज़ियाबाद पूरे एनसीआर क्षेत्र में पटाखों का एक बड़ा बाजार है और हर साल दीवाली और शादियों के सीजन में करोड़ों रुपए के पटाखे बेचे जाते हैं। व्यापारी संगठनों का कहना है कि कि अन्य व्यापारियों को भी समझाया जा रहा है कि वे चाइना का कोई भी माल ना बेचें। एक व्यापारी ने कहा कि खून का अंतिम कतरा तक बहा देंगे, लेकिन चाइना का कोई माल गाजियाबाद शहर में नहीं बिकने देंगे। इस प्रकार एक अन्य पटाखा व्यापारी ने कहा कि चाइना गद्दार है और हम किसी गद्दार देश का माल नहीं बेचेंगे। एक व्यापारी ने ये भी कहा कि जो पुराना चाइना का माल पड़ा हुआ है, उसे पानी में डाल देंगे, लेकिन बेचेंगे नहीं। फिलहाल सभी पटाखा व्यापारी, जिला प्रशासन से पटाखे बेचने का लाइसेंस मिलने का इंतजार कर रहे हैं।             


आशा ने किया पानी की टंकी का शिलान्यास

मेयर आशा शर्मा ने किया जनकपुरी में पानी की टंकी का शिलान्यास, 50 हजार लोगों को मिलेगा लाभ।


साहिबाबाद। महापौर आशा शर्मा ने आज जनकपुरी साहिबाबाद के खजूर वाले पार्क में एक पानी की टंकी का शिलान्यास किया। नगर निगम के वार्ड 70 में अमृत योजना से बनने वाली इस टंकी से राज बाग, शालीमार गार्डन, वृंदावन गार्डन, जनकपुरी, श्री राम नगर और श्याम एन्क्लेव के लगभग 50 हजार लोगों के घरों में पानी की सप्लाई होगी। पार्षद मनपिंदर कौर सिद्धू ने बताया कि इस प्रोजेक्ट पर लगभग 11 करोड़ रुपए की लागत आएगी। इलाके में रहने वाले लोग पिछले काफी समय से इलाके में पानी की टंकी की मांग कर रहे थे। टंकी के निर्माण से पानी की समस्या को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है।  इसी के साथ जनकपुरी मेन मार्केट में आरसीसी नाली एवं डेंस सड़क के निर्माण कार्य का भी उद्घाटन महापौर जी द्वारा कराया गया। वार्ड 73 में इंटरलॉक टाइल का काम शुरू। मेयर आशा शर्मा ने शालीमार गार्डन (वार्ड 73) के सी ब्लॉक में साइड पटरी पर लगने वाली इंटरलॉक टाइल के कार्य का भी शिलान्यास किया।  पार्षद सुनीता रेड्डी ने बताया कि ढाई सौ मीटर पटरी की लागत 22 लाख रुपए आएगी। पटरी बनने के बाद पैदल चलने वाले लोगों को लाभ मिले और इसके साथ ही नवनिर्मित सड़क का भी बचाव होगा। उद्घाटन के दौरान पार्षद मनविंदर कौर सिद्धू, पार्षद सुनीता रेड्डी, पार्षद पति बलवंत सिंह, पार्षद पति पवन रेड्डी, डॉक्टर उत्तम, पवन कुमार, प्रीतम सिंह, विजय पाल, सुरेंद्र, दिनेश मावी, नरेश देवरानी, कैलाश पांडे, सुरेश तिवारी व क्षेत्र के कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे।               


पूर्व सीएम भगत सिंह को हाईकोर्ट का नोटिस

महाराष्ट्र के राज्यपाल व उत्तराखं‍ड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी को हाईकोर्ट का नोटिस।


नैनीताल। उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने महाराष्ट्र के राज्यपाल तथा पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी को उच्च न्यायालय के आदेश का अनुपालन नहीं करने के मामले में अवमानना नोटिस जारी कर चार सप्ताह में जवाब देने को कहा है। न्यायमूर्ति शरद कुमार शर्मा की पीठ ने मंगलवार को देहरादून की गैर सरकारी संस्था (एनजीओ) रूरल लिटिगेशन एंड एनटाइटलमेंट केंद्र की ओर से दायर अवमानना याचिका की सुनवाई करते हुए यह नोटिस जारी किया है। याचिकाकर्ता ने अदालत को बताया गया की पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी के खिलाफ दायर अवमानना याचिका पोषणीय है। याचिका दायर करने से पहले सभी औपचारिकताओं का पालन किया गया है। कोश्यारी को 60 दिन पहले नोटिस जारी किया गया है। उन्होंने बताया कि अदालत ने मामले की सुनवाई करते हुए कोश्यारी को नोटिस जारी कर चार सप्ताह में जवाब देने के निर्देश दिए हैं।याचिकाकर्ता ने भगत सिंह कोश्यारी को बतौर पूर्व मुख्यमंत्री पक्षकार बनाया है। उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड उच्च न्यायालय की ओर से प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी को सरकारी आवास तथा अन्य सुविधाओं के आवंटन के मामले में पिछले वर्ष तीन मई को बाजार दर पर बकाया जमा करने के निर्देश दिए गए थे। याचिकाकर्ता का आरोप है कि कोश्यारी ने आज तक अदालत के आदेश का अनुपालन नहीं किया है।               


पाक आर्मी चीफ ने रची भयानक साजिश

कश्‍मीर। तालिबान संग मिलकर पाक‍िस्‍तानी आर्मी चीफ ने रची खतरनाक साजिश, लश्‍कर, जैश, हिज्‍बुल को कमान।


मनोज सिंह ठाकुर
पाकिस्‍तानी आर्मी चीफ ने कश्‍मीर के ल‍िए रची साज‍िश


इस्‍लामाबाद। जम्‍मू-कश्‍मीर में भारतीय सेना के जोरदार सफाई अभियान से बौखलाए पाकिस्‍तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने कश्‍मीर में आतंकी गतिविधियों को तेज करने के लिए नया खतरनाक प्‍लान तैयार किया है। इस संबंध में बाजवा ने जम्‍मू-कश्‍मीर में सक्रिय आतंकी संगठनों जैश-ए-मोहम्‍मद, लश्‍कर-ए-तैयबा, हिज्‍बुल मुजाहिद्दीन और तालिबान के शीर्ष कमांडरों के साथ गुप्‍त बैठकें भी की हैं।
हिंदुस्‍तान टाइम्‍स की रिपोर्ट के मुताबिक जैश-ए-मोहम्‍मद का कमांडर मुफ्ती मोहम्‍मद असगर खान कश्‍मीरी भी इस बैठक में मौजूद था। जो जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंकी गतिविधियों का समन्‍वय कर रहा है। भारतीय खुफिया एजेंसियों का कहना है। कि पाकिस्‍तानी सेना के जनरलों ने सभी आतंकी संगठनों के बीच बैठक कराई है। ताकि उनके बीच एकजुटता बन सके। इस एकजुटता का मकसद पाकिस्‍तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की मदद से भारतीय सेना पर हमले तेज करना है। दरअसल, भारत के आर्टिकल 370 के खत्‍म करने और जम्‍मू-कश्‍मीर को संघशासित प्रदेश का दर्जा देने के बाद पाकिस्‍तानी सेना बौखलाई हुई है। भारतीय खुफिया एजेंसियों और सुरक्षा बलों की ओर से तैयार किए गए डोजियर में कहा गया है। कि जैश, लश्‍कर, तालिबान और हिज्‍बुल के कमांडरों के साथ कई बैठकें हुई हैं। इस संबंध में पहली बैठक 27 दिसंबर को हुई थी। इसमें लश्‍कर के संस्‍थापक संगठन जमात उद दावा के महासचिव आमिर हमला ने जैश के कमांडरों के साथ बहालपुर में बैठक की थी। ताकि दोनों मिलकर एक साथ भारत के खिलाफ अभियान तेज कर सके।
लश्‍कर का कमांडर जकिउर रहमान लखवी हुआ शामिल।
इसके बाद 3 से 8 जनवरी और 19 जनवरी को इस्‍लामाबाद में पाकिस्‍तानी सेना और आईएसआई के अधिकारियों के साथ बैठकें हुईं। इन बैठकों में वैश्विक स्‍तर पर आतंकी संगठन घोषित किए गए समूहों के कमांडर भी शामिल हुए। इसमें जैश का अघोषित प्रमुख मुफ्ती रऊफ असगर, जैश चीफ मसूद अजहर का भाई मौलाना अम्‍मार, लश्‍कर का कमांडर जकिउर रहमान लखवी और आमित हमजा शामिल हुए थे।
इस बैठक में एकजुटता बनने के बाद मुफ्ती असगर ने लश्‍कर के कमांडरों से मुलाकात की ताकि कश्‍मीर में उनके नापाक मंसूबों को अंजाम दिया जा सके। इन आतंकी संगठनों में हथियारों को आपस में साझा करने और छिपे हुए समर्थकों की मदद करने पर सहमति बनी। इन गुटों में सहमति बनी है। कि अब हिज्‍बुल कश्‍मीर में सभी हमलों की जिम्‍मेदारी लेगा। जैश के कमांडर तालिबान के साथ संपर्क में हैं। ताकि काबुल में आतंकियों की सरकार बनने के बाद उसके आतंकवादियों को कश्‍मीर में भेजा जा सके।             


गोल्डन कार्ड वितरित किए जाएः सीएम योगी

अभियान चलाकर आयुष्मान भारत एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के गोल्डन कार्ड वितरित किए जाएंः मुख्यमंत्री योगी


नई दिल्ली। मुख्यमंत्री ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत), मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना की समीक्षा की। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने विगत 03 वर्षों में भारत सरकार द्वारा संचालित सभी योजनाओं में सम्मानजनक स्थान बनाया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) में भी राज्य द्वारा अग्रणी स्थान प्राप्त किया जाए, इसके लिए प्रभावी प्रयास किए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि अभियान चलाकर प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) तथा मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के गोल्डन कार्ड बनाए और वितरित किए जाएं। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि 01 नवम्बर, 2020 को प्रदेश का प्रत्येक गांव प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) से संतृप्त हो जाए। उन्होंने कहा कि शत-प्रतिशत पात्र लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराने के लिए प्रभावी प्रयास किए जाएं। जिलाधिकारी द्वारा जनपद स्तर पर योजना के क्रियान्वयन की साप्ताहिक समीक्षा भी की जाए। पात्र लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए प्रेरित किया जाए। उन्होंने कहा कि निर्गत गोल्डन कार्ड की संख्या के अनुपात में उपचारित लाभार्थियों की संख्या बढ़ाने के लिए भी कार्य किया जाए।             


नक्सलियों की खतरनाक प्लानिंग का खुलासा

नक्सलियों की खतरनाक प्लानिंग का खुलासा नेताओं और सुरक्षा बलों पर कर सकते है।


अविनाश श्रीवास्तव


पटना। बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान नक्सली की खतरनाक प्लानिंग का खुलासा हुआ। नक्सली चुनाव के दौरान बड़े नेताओं को निशाना बनाने की योजना बना रहे हैं। इस बाबत खुफिया एजेंसियों ने स्थानीय पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया है। खुफिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान नक्सली आईईडी या बारूदी सुरंगों के जरिए राजनीतिक दलों के नेताओं सुरक्षा बलों, पैरा मिलिट्री फोर्स पर हमला कर सकते हैं। रिपोर्ट में कहा गया कि विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता भी चुनाव प्रचार के दौरान नक्सलियों की रडार पर हैं। खुफिया इनपुट से यह भी पता चलता है। कि झारखंड से सटे बिहार के कई इलाकों में नक्सली गतिविधियां बढ़ गई है। सुरक्षा एजेंसियों को जमुई, गया और औरंगाबाद जिलों में नक्सल गतिविधियों पर नजर रखने के लिए कहा गया है। गौरतलब है। कि कल ही बिहार चुनाव का बहिष्कार करने के लिए प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के सदस्यों ने औरंगाबाद के जंगली इलाकों के कई गांव में पोस्टर लगा दिए. नक्सलियों ने पोस्टर के जरिए लोगों से कहा है। कि पुलिस का राज ध्वस्त करें। भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था बनानी है। तो क्रांतिकारी जन कमेटी जनताना सरकार का निर्माण करें। इन पोस्टर पर ​लिखा गया कोरोना महामारी से मुक्ति पाना है। तो क्रांतिकारी जन कमेटी जनताना सरकार बनानी है। इसके अलावा नक्सलियों ने एनआरसी, नए कृषि बिल, नई शिक्षानीति को लेकर भी पोस्टर लगाए हैं। नक्सलियों का कहना है। कि इन व्यवस्थाओं से मुक्ति चाहिए तो वोट बहिष्कार करें।             


जिला दंडाधिकारी के आदेश, धारा 44 लागू

ग्राम तिर्रा में धारा 144 लागू, जिला दण्डाधिकारी ने जारी किए आदेश


मनोज सिंह ठाकुर
धमतरी। अनुविभागीय दण्डाधिकारी धमतरी द्वारा ग्राम तिर्रा में भूमि संबंधी विवाद के कारण कानून व्यवस्था की स्थिति निर्मित होकर वर्तमान में लोक प्रशांति के भंग होने तथा मानव जीवन एवं सम्पत्ति को खतरा होने की आशंका संबंधी प्रतिवेदन जिला दण्डाधिकारी को प्रस्तुत किया गया। इसके मद्देनजर धमतरी तहसील के ग्राम तिर्रा में सामान्य जनजीवन एवं लोक सम्पत्ति के लिए, लोक सम्पत्ति की सुरक्षा को उत्पन्न हुए खतरे का निवारण करने के लिए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जय प्रकाश मौर्य ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 (1) के तहत प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग में लाते हुए आदेश पारित किए हैं। इसके तहत कोई भी व्यक्ति, सार्वजनिक स्थल में किसी प्रकार का शस्त्र, लाठी, बल्लम, तलवार, चैन एवं अन्य हथियार अपने साथ लेकर नहीं चलेगा और न ही रखेगा। इसके अतिरिक्त पांच व्यक्ति से अधिक संख्या में एक जगह एकत्रित नहीं होगा। यह आदेश ग्राम तिर्रा में प्रभावशील रहेगा।               


कृषि कानून को लेकर विशेष विधानसभा सत्र

विधानसभाः कृषि कानून को लेकर विधानसभा का विशेष सत्र 27-28 को


रायपुर। केंद्र सरकार के नए कृषि कानून को लेकर विधानसभा का विशेष सत्र 27 और 28 अक्टूबर को होने की संभावना है। प्रदेश के संसदीय कार्यमंत्री रविंद्र चौबे ने इसकी जानकारी दी। चौबे ने बताया कि छत्तीसगढ़ के किसानों के लिए सरकार नए कृषि कानून बनाने का निर्णय लिया है। वहीं विधानसभा के विशेष सत्र में नए कृषि कानून को पारित किया जाएगा। वहीं दो दिवसीय विशेष सत्र के लिए सरकार राज्यपाल को फाइल भेजी है।             


प्यारेलाल की पुण्यतिथि पर नमन किया

मुख्यमंत्री ने ठाकुर प्यारेलाल सिंह की पुण्यतिथि पर उन्हें किया नमन।


रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में श्रमिक आंदोलन के सूत्रधार और सहकारिता के प्रणेता ठाकुर प्यारेलाल सिंह की पुण्यतिथि 20 अक्टूबर पर उन्हें नमन किया है। श्री बघेल ने ठाकुर प्यारेलाल सिंह के योगदान को याद करते हुए कहा है। कि छत्तीसगढ़ में स्वतंत्रता संग्राम को आगे ले जाने के साथ ही यहां जनजागरण में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने छत्तीसगढ़ में छात्रों को संगठित कर राष्ट्रीय आंदोलन की ओर मोड़ा। राजनांदगांव में मिल मजदूरों को अधिकार दिलाने के लिए उन्होंने संघर्ष किया और उनका हक दिलाया। लागों को शोषण और अत्याचार से मुक्त कराने की दिशा में भी वह सक्रिय रहे। उनकेे नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में बुनकर संगठित हुए और छत्तीसगढ़ बनुकर संघ की स्थापना हुई। श्री बघेल ने कहा ऐसे सेवाभावी माटीपुत्र ठाकुर प्यारेलाल जी के विचार मूल्य हमेशा हमें प्रेरित करते रहेंगे।             


संभागायुक्त ने कार्यालय का किया निरीक्षण

संभागायुक्त अलंग ने पीडब्लूडी कार्यालय का किया औचक निरीक्षण।


बिलासपुर। संभागायुक्त डाॅ. संजय अलंग ने पीडब्लूडी उप संभाग क्रमांक 01 भवन एवं सड़क कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। कार्यालय में संधारित पंजियां अपडेट नहीं होने पर उन्होंने फटकार भी लगाई। संभागायुक्त डाॅ. संजय अलंग लोक निर्माण विभाग के कार्यालय में अचानक पहुंचे। उन्होंने कार्यालय के विभिन्न पंजियों का निरीक्षण किया और आवश्यक निर्देश दिये। संभागायुक्त ने कार्यालय में संधारित कर्मचारियों की सेवा पुस्तिका का अवलोकन कर उसे तीन हफ्ते के अंदर अद्यतन करने के निर्देश दिये और सेवा पुस्तिका का सत्यापन करने को भी कहा। उन्होंने बिल रजिस्टर, केश बुक, बीटीआर, स्टोर पंजी, स्टाॅक पंजी, अवकाश लेखा पंजी का निरीक्षण किया और संबंधित शाखा के प्रभारियों को इन सभी पंजियों को अद्यतन करने का निर्देश दिया। तकनीकी शाखा से संबंधित विभिन्न पंजियों का भी निरीक्षण किया। इस अवसर पर डिप्टी कमिश्नर श्रीमती रचना मिश्रा, पीडब्लूडी के कार्यपालन यंत्री श्री के.आर.गंगेश्री उपस्थित थे।               


सुजैन खान का इंस्टाग्राम अकाउंट हैक किया

सुजैन खान ने कहा, मुझे बिल्कुल भी अहसास नहीं हुआ 


मुंबई। बॉलीवुड एक्टर ऋतिक रोशन की एक्स वाइफ और एंटरप्रेन्योर सुज़ैन खान का इंस्टाग्राम अकाउंट हैक हो गया था। इस बात की जानकारी उन्होंने खुद दी है। इंस्टाग्राम पर उन्होंने एक लंबा पोस्ट शेयर किया है, जिसमें उन्होंने बताया कि आखिर कैसे उनका इंस्टाग्राम अकाउंट हैक किया गया।
अपनी पोस्ट में उन्होंने अपने फैंस से कहा है कि वह उनकी जैसी गलती न करें। सुज़ैन खान ने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा- ‘मेरा इंस्टाग्राम अकाउंट एक फर्जी ईमेल द्वारा हैक किया गया था। जो इंस्टाग्राम की तरह दिख रहा था। मुझे बिल्कुल भी अहसास नहीं हुआ कि यह ऑथेंटिक नहीं है और इसलिए मैंने बटन पर क्लिक कर किया। मैं बहुत ईमानदारी से यह नोट को लिख रही हूं, प्लीज किसी भी गैर-भरोसेमंद ईमेल या मैसेज पर क्लिक न करें।’ उन्होंने आगे इंस्टाग्राम को भी शुक्रिया भी किया। उन्होंने लिखा- ‘तुरंत स्थिति को संभाल लेने और मेरा अकाउंट वापस दिलाने के लिए इंस्टाग्राम की टीम को बड़ा शुक्रिया’। सुज़ैन ने आखिर में लिखा वायरल चोरों और डकैतों से सावधान रहें।                 


बरसात के कारण प्याज की कीमतों में बढ़ोतरी

क्या आप जानते हैं दिवाली तक प्याज की कीमत 100/- किलोग्राम तक पहुंचने की वजह


नई दिल्ली। देश के कई इलाकों में हो रही बेमौसम बारिश के चलते आने वाले दिनों में प्याज आम जनता को जेब पर असर डाल सकता है। ऐसा माना जा रहा है कि अगर प्याज के भाव इसी तेजी से बढ़ते रहे तो इस साल दिवाली पर प्याज काफी महंगा हो सकता है। इस वक्त ही खुदरा बाजार मे प्याज 40-50 रुपए किलो है। सोमवार को नासिक में स्थित देश की सबसे बड़ी प्याज मंडी लासलगांव में प्याज का बाजार भाव 6802 रुपए प्रति क्विंटल तक पहुंच गया। ये दाम इस साल में सबसे ज्यादा है। कारोबारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में रिटेल मार्केट में प्याज के दाम 100 रुपये के पार पहुंच सकते हैं। आखिर क्यों महंगा हो रहा है प्याज? देश के सबसे बड़ी प्याज की मंडी महाराष्ट्र के लासलगांव में सोमवार को अच्छी प्याज का बाजार भाव 6 हजार 802 रुपए प्रति क्विंटल तक पहुंच गया। अंग्रेजी के अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र के कई इलाको में भारी बारिश हो रही है। इसके चलते खेतों में प्याज की फसल बर्बाद हो गई है, जिसकी वजह से प्याज के भाव आसमान पर पहुंच रहे हैं। प्याज के दाम फरवरी तक कम नहीं होंगे? कारोबारियों का कहना है कि महाराष्ट्र , राजस्थान, गुजरात और कर्नाटक में फसल को भारी नुकसान हुआ है। इसीलिए व्यापारियों ने भी जमाखोरी शुरू कर दी है। नयी फसल फरवरी में आएगी, तब तक प्याज की कीमत कम होने के कोई संकेत नहीं है। प्याज की कीमत बढ़ने की एक वजह होटल और ढाबे शुरू होना भी है। इस वजह से भी प्याज की डिमांड बढ़ी है, जिसकी वजह से प्याज महंगा हो रहा है। बता दें 14 अक्टूबर को प्याज व्यापारियों के यहां इनकम टैक्स विभाग की कार्रवाई हुई थी। इसके बाद मंडी में व्यापारी नहीं आ रहे थे। यानी मंडी में कारोबार बंद हो गया था, लेकिन सोमवार को जैसे ही मंडी खुली, प्याज के दाम में 2000 रुपए प्रति क्विंटल तक बढ़ गए। इसके अलावा कर्नाटक में भी हुई बिना मौसम बारिश की वजह से प्याज की आपूर्ति में कमी देखने को मिली है जिसका सीधा असर कीमतों पर देखने को मिल रहा है। बता दें लासलगांव में सोमवार को कमाल किस्म की प्याज के भाव 6802 रुपए प्रति क्विंटल, सरासरी किस्म के भाव 6200 रुपए और खराब किस्म की प्याज के भाव 1500 रुपए प्रति क्विंटल दर्ज किए गए। भारत में प्याज की खेती के तीन सीजन है। पहला खरीफ, दूसरा खरीफ के बाद और तीसरा रबी सीजन। खरीफ सीजन में प्याज की बुआई जुलाई अगस्त महीने में की जाती है। खरीफ सीजन में बोई गई प्याज की फसल अक्टूबर दिसंबर में मार्केट में आती है। प्याज का दूसरे सीजन में बुआई अक्टूबर नवंबर में की जाती है। इनकी कटाई जनवरी मार्च में होती है। प्याज की तीसरी फसल रबी फसल है। इसमें दिसंबर जनवरी में बुआई होती है और फसल की कटाई मार्च से लेकर मई तक होती है। एक आंकड़े के मुताबिक प्याज के कुल उत्पादन का 65 फीसदी रबी सीजन में होती है। देश में नवरात्र शुरू होते ही आलू के दाम में बेतहाशा बढ़ोतरी देखी जा रही है। नवरात्र के दौरान आम लोग फलहार में आलू का आहार ज्यादा इस्तेमाल करते हैं। दिल्ली-एनसीआर सहित देश के कई हिस्सों में आलू का रेट 60 रुपये पार कर गया है। कोरोना महामारी के बीच नवरात्र पूजा शुरू होने के साथ आलू के दाम में इस तरह बढ़ोतरी से आम लोगों के जेब पर अतिरिक्त खर्च पड़ रहा है। कारोबारियों का कहना है कि मंडी में 30 रुपए किलो मिलने वाले आलू की कीमत फूटकर बाजार में 50 से 60 रुपए तक पहुंच गई है। नवरात्र के बीच में भी दाम में आगे और इजाफा होने की संभावना है।                   


'आयुष्मान सहकार' योजना चलाने का ऐलान किया

सरकार का ग्रामीणों के लिए बड़ा ऐलान


नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने आयुष्मान भारत की तर्ज पर ग्रामीण भारत के स्वास्थ्य सेवाओं के बुनियादी ढांचे में और सुधार लाने के लिए ‘आयुष्मान सहकार’ योजना शुरू करने का ऐलान किया है। इस योजना के तहत राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम ग्रामीण भारत में स्वास्थ्य सेवा (हेल्थकेयर) के इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए सहकारी समितियों को 10,000 करोड़ रुपये का ऋण उपलब्ध कराएगा। सोमवार को लांच की गई आयुष्मान सहकार योजना के तहत सहकारी संस्थाओं को ग्रामीण इलाकों में अस्पताल, मेडिकल कॉलेज खोलने से लेकर अन्य स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए कर्ज उपलब्ध कराया जाएगा।
केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने सोमवार को एक नई स्कीम आयुष्मान सहकार का शुभारंभ किया। इस योजना के तहत राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम ग्रामीण भारत में स्वास्थ्य सेवा के बुनियादी ढांचे के विकास के लिए सहकारी समितियों को 10,000 करोड़ रुपये के लोन उपलब्ध कराएगा। NCDC के मैनेजिंग एडिटर संदीप नायक ने कहा कि देश में करीब 52 अस्पताल सहकारी समितियों द्वारा संचालित हैं। इन अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या 5,000 है।
‘आयुष्मान सहकार स्कीम’ ग्रामीण क्षेत्रों में हॉस्पिटल, हेल्थकेयर व एजुकेशन इंफ्रास्ट्रक्चर की स्थापना, आधुनिकीकरण, विस्तार, मरम्मत, रिनोवेशन को कवर करेगी। यह सहकारी अस्पतालों की मेडिकल व आयुष शिक्षा शुरू करने में मदद भी करेगी। स्कीम परिचालन जरूरतों को पूरा करने के लिए वर्किंग कैपिटल और मार्जिन मनी भी उपलब्ध कराएगी। बयान में कहा गया कि स्कीम महिलाओं की अधिकता वाली सहकारी समितियों को 1 फीसदी का इंट्रेस्ट सबवेंशन उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि एनसीडीसी के कोष से सहकारिताओं द्वारा स्वास्थ्य सेवा के प्रावधान को प्रोत्साहन मिलेगा। सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि जिन भी सहकारी समितियों के उपनियमों में स्वास्थ्य सेवा से संबंधित गतिविधियों के लिए उचित प्रावधान है। वे एनसीडीसी से कर्ज प्राप्त कर सकेंगी। एनसीडीसी की और से वित्तीय या तो राज्य सरकारों के माध्यम या पात्र सहकारी समितियों को सीधे प्राप्त होगी। अन्य स्रोतों से सब्सिडी या अनुदान परस्पर अनुबंध के हिसाब से होगा। रूपाला ने वर्चुअल तरीके से इस योजना का शुभारंभ करने के बाद कहा कि मौजूदा महामारी के दौर और सुविधाओं के निर्माण की जरूरत महसूस हुई है। एनसीडीसी की योजना केंद्र सरकार की ओर से किसानों के कल्याण की गतिविधियों की दिशा में एक ओर कदम है। पूरे देश में और खासकर ग्रामीण इलाकों में कोऑपरेटिव की अहम मौजूदगी है। दुग्ध उत्पादन से लेकर विभिन्न क्षेत्रों में कोऑपरेटिव किसानों के बीच काम कर रही हैं। इनमें कुछ कोऑपरेटिव संस्थाएं ऐसी भी हैं जो अस्पताल भी चलाती हैं।             


देश में कोरोना के 75.97 लाख मामले हुए

देश में कोरोना के 75.97 लाख मामले, सक्रिय मामले घटकर 7.48 लाख


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण का आंकड़ा लगातार बढ़ते हुए 75.97 लाख हो गया है। वहीं स्वस्थ होने वाले की मरीजों की संख्या बढ़ने से सक्रिय मामले घटकर 7.48 लाख पर आ गए हैं।                  


या देवी सर्वभूतेषु स्कंदमाता रूपेण संस्थिता


नवरात्रि का पाँचवाँ दिन स्कंदमाता की उपासना का दिन होता है। मोक्ष के द्वार खोलने वाली माता परम सुखदायी हैं। माँ अपने भक्तों की समस्त इच्छाओं की पूर्ति करती हैं।































स्कंदमाता

स्कंदमाता - नवदुर्गाओं में पंचम
 स्कंदमाता
संबंधहिन्दू देवी
अस्त्रकमल
जीवनसाथीशिव
सवारीसिंह


 

श्लोक



सिंहासनगता नित्यं पद्माश्रितकरद्वया | शुभदास्तु सदा देवी स्कन्दमाता यशस्विनी ||



कथा



भगवान स्कंद 'कुमार कार्तिकेय' नाम से भी जाने जाते हैं। ये प्रसिद्ध देवासुर संग्राम में देवताओं के सेनापति बने थे। पुराणों में इन्हें कुमार और शक्ति कहकर इनकी महिमा का वर्णन किया गया है। इन्हीं भगवान स्कंद की माता होने के कारण माँ दुर्गाजी के इस स्वरूप को स्कंदमाता के नाम से जाना जाता है।



महत्व



नवरात्रि-पूजन के पाँचवें दिन का शास्त्रों में पुष्कल महत्व बताया गया है। इस चक्र में अवस्थित मन वाले साधक की समस्त बाह्य क्रियाओं एवं चित्तवृत्तियों का लोप हो जाता है। वह विशुद्ध चैतन्य स्वरूप की ओर अग्रसर हो रहा होता है।


साधक का मन समस्त लौकिक, सांसारिक, मायिक बंधनों से विमुक्त होकर पद्मासना माँ स्कंदमाता के स्वरूप में पूर्णतः तल्लीन होता है। इस समय साधक को पूर्ण सावधानी के साथ उपासना की ओर अग्रसर होना चाहिए। उसे अपनी समस्त ध्यान-वृत्तियों को एकाग्र रखते हुए साधना के पथ पर आगे बढ़ना चाहिए।


माँ स्कंदमाता की उपासना से भक्त की समस्त इच्छाएँ पूर्ण हो जाती हैं। इस मृत्युलोक में ही उसे परम शांति और सुख का अनुभव होने लगता है। उसके लिए मोक्ष का द्वार स्वमेव सुलभ हो जाता है। स्कंदमाता की उपासना से बालरूप स्कंद भगवान की उपासना भी स्वमेव हो जाती है। यह विशेषता केवल इन्हीं को प्राप्त है, अतः साधक को स्कंदमाता की उपासना की ओर विशेष ध्यान देना चाहिए।


सूर्यमंडल की अधिष्ठात्री देवी होने के कारण इनका उपासक अलौकिक तेज एवं कांति से संपन्न हो जाता है। एक अलौकिक प्रभामंडल अदृश्य भाव से सदैव उसके चतुर्दिक्‌ परिव्याप्त रहता है। यह प्रभामंडल प्रतिक्षण उसके योगक्षेम का निर्वहन करता रहता है।


हमें एकाग्रभाव से मन को पवित्र रखकर माँ की शरण में आने का प्रयत्न करना चाहिए। इस घोर भवसागर के दुःखों से मुक्ति पाकर मोक्ष का मार्ग सुलभ बनाने का इससे उत्तम उपाय दूसरा नहीं है।



उपासना



प्रत्येक सर्वसाधारण के लिए आराधना योग्य यह श्लोक सरल और स्पष्ट है। माँ जगदम्बे की भक्ति पाने के लिए इसे कंठस्थ कर नवरात्रि में पाँचवें दिन इसका जाप करना चाहिए।


या देवी सर्वभू‍तेषु माँ स्कंदमाता रूपेण संस्थिता।


नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।


अर्थ : हे माँ! सर्वत्र विराजमान और स्कंदमाता के रूप में प्रसिद्ध अम्बे, आपको मेरा बार-बार प्रणाम है। या मैं आपको बारंबार प्रणाम करता हूँ। हे माँ, मुझे सब पापों से मुक्ति प्रदान करें। इस दिन साधक का मन 'विशुद्ध' चक्र में अवस्थित होता है। इनके विग्रह में भगवान स्कंदजी बालरूप में इनकी गोद में बैठे होते हैं।                



सर्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)













 अक्टूबर 21, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-66 (साल-02)
2. बुधवार, अक्टूबर 21, 2020
3. शक-1978, अश्विन, शुक्ल-पक्ष, तिथि- पंचम नवरात्रा, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 60:10, सूर्यास्त 06:23।


5. न्‍यूनतम तापमान 20+ डी.सै.,अधिकतम-33+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेंगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275                                                  (सर्वाधिकार सुरक्षित)                                             " alt="" aria-hidden="true" />














दिल्ली में सोमवार को 131 नए मामलें सामने आएं

अकांशु उपाध्याय               नई दिल्ली।  दिल्ली में सोमवार को 22 फरवरी के बाद से कोविड-19 के सबसे कम 131 नए मामले सामने आए तथा 16 मरीजों की...