रविवार, 27 अगस्त 2023

फ्रिज में हुआ ब्लास्ट, दो लोगों की जान गई

फ्रिज में हुआ ब्लास्ट, दो लोगों की जान गई

मणि भूषण    
मुजफ्फरपुर। जिले में एक बार फिर दर्दनाक हादसा सामने आया है। जहां देवरिया थाना क्षेत्र के डुमरी परमानंदपुर गांव में देर रात अचानक विद्युत प्रवाह बढ़ा और शॉर्ट सर्किट होने के साथ घर में रखा फ्रिज अचानक विस्फोट कर गया और चीख पुकार मच गई। देखते ही देखते मां की आंखों के सामने उसकी बेटी और फोटो जिंदा जलकर खाक गई। 
घटना करीब 1:00 बजे रात की है जब यह दर्दनाक हादसा हुआ। इस कारण से लोग जब तक संभालते तब तक दोनों की जान चली गई। फिर भी ठीक पुकार के बाद आसपास के लोग इकट्ठा हुए और इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन को भी दी गई। लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। इस दर्दनाक हादसे के बाद पूरे गांव में मातमी माहौल पसरा हुआ है।
आपको बताते चले कि महज तीन माह पूर्व रीता की शादी नीरज से हुई थी और 3 माह गुजरने ही यह दर्दनाक हादसे की शिकार हो गई। स्थानीय लोगों के अनुसार घर में रखा अन्य सामान भी जलकर खाक हो गया और धमाका इतना जबरदस्त था कि सोया हुआ लोग भी आसपास जग गया और सभी इस बात को जब तक समझते तब तक काफी देर हो चुकी थी।
पूरे मामले पर पूछे जाने पर सरैया एसडीपीओ कुमार चंदन ने कहा कि देवरिया थाना क्षेत्र में देर रात शॉर्ट सर्किट से आग लगने की बात सामने आई है। फ्रिज भी शायद ब्लास्ट हुआ है। जिसमें एक महिला और एक लड़की की जान चली गई है। परिजनों से पुलिस संपर्क में है। विधि संवत कार्रवाई होगी। फिलहाल परिजन द्वारा कोई लिखित शिकायत पुलिस को नहीं दी गई। 

इस्पात बनाने में हाइड्रोजन का इस्तेमाल बढ़ेगा

इस्पात बनाने में हाइड्रोजन का इस्तेमाल बढ़ेगा

अकाशुं उपाध्याय 
नई दिल्ली। टाटा स्टील ने इस्पात बनाने की प्रक्रिया में हाइड्रोजन का इस्तेमाल बढ़ाने की योजना बनाई है। कंपनी ने झारखंड स्थित अपने जमशेदपुर संयंत्र में पायलट परियोजना के सफल होने के बाद यह फैसला किया है।
टाटा स्टील के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) और प्रबंध निदेशक टी वी नरेंद्रन ने यह जानकारी दी। टाटा स्टील ने अप्रैल, 2023 में जमशेदपुर स्थित अपने इस्पात संयंत्र में ई-ब्लास्ट फर्नेस में 40 प्रतिशत इंजेक्शन सिस्टम का उपयोग करके हाइड्रोजन गैस इंजेक्ट करने का प्रयोग शुरू किया था। इस प्रयोग के नतीजों पर एक सवाल के जवाब में नरेंद्रन ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘यह बहुत सफल रहा।
हम इसे बढ़ाएंगे, लेकिन हमें पूर्वी भारत में हरित हाइड्रोजन की जरूरत होगी, जिससे यह तय होगा कि इसका इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है।’’ हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि कंपनी हाइड्रोजन का उपयोग कितनी मात्रा में बढ़ाने की योजना बना रही है।
ब्लास्ट फर्नेस में हाइड्रोजन का इस्तेमाल करके कोयले की खपत को कम किया जा सकता है, जिससे कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी। उन्होंने कहा, ‘‘यह दुनिया में पहली बार है कि ब्लास्ट फर्नेस में इतनी बड़ी मात्रा में हाइड्रोजन गैस लगातार डाली जा रही है।
’’ नीदरलैंड में कंपनी के परिचालन के बारे में नरेंद्रन ने कहा कि वहां कारोबार कोयले से गैस और फिर हाइड्रोजन की ओर बढ़ रहा है। टाटा स्टील नीदरलैंड वहां हाइड्रोजन के सबसे बड़े उपभोक्ताओं में से एक बन जाएगी।

एयरफोर्स के जवान ने गोली मारकर की खुदकुशी

एयरफोर्स के जवान ने गोली मारकर की खुदकुशी    

संदीप मिश्र    
बरेली। बरेली के इज्जतनगर थाना क्षेत्र में आज उस वक्त हड़कंप मंच गया, जब एयरफोर्स के एक जवान ने गोली मारकर खुदकुशी कर ली। इस बीच घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों से मामले की जानकारी ली। साथ ही उन्हें मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। वहीं जांच पड़ताल शुरू करते हुए पुलिस ने पंचनामा भरकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है। 
वहीं घटना को लेकर इज्जतनगर थाना पुलिस का कहना है कि उत्तराखंड के बागेश्वर में खकोड़ा गांव का रहने वाला जगदीश राम एयरफोर्स में सूबेदार नायक था। पुलिस के मुताबिक जगदीश राम पिछले कई दिनों से अवसाद में चल रहा था। इस बीच उनसे आज सिर में गोली मारकर खुदकुशी कर ली। मृतक के पास से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें क्या लिखा है इस बात को अभी गोपनीय रखा गया है। वहीं इस बीच इलाके में चर्चा है कि परिवार में विवाद की वजह से जवान ने गोली मारकर खुदकुशी कर ली।

छात्रों को एक्सपोजर विजिट में सम्मिलित करेंगे

छात्रों को एक्सपोजर विजिट में सम्मिलित करेंगे 

हरिओम उपाध्याय 
लखनऊ। उच्च प्राथमिक विद्यालयों के बच्चों में जिज्ञासा आधारित शिक्षा को बढ़ावा देने, वैज्ञानिक मनोवृत्ति का विकास करने, प्रयोग के अवसर उपलब्ध कराने तथा विज्ञान, गणित एवं प्रौद्योगिकी को लोकप्रिय बनाने के उद्देश्य से योगी सरकार राष्ट्रीय अविष्कार अभियान के अंतर्गत प्रदेश में विभिन्न गतिविधियों को शुरू करने का निर्णय लिया है। इसके तहत सरकार की ओर से जनपद और विकास खंड स्तर पर गतिविधियों के संचालन के निर्देश दिए गए हैं। इन गतिविधियों में ब्लॉक स्तर पर क्विज प्रतियोगिता का आयोजन, जनपद स्तर पर विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन, प्रदेश के अंदर और प्रदेश के बाहर बच्चों की एक्सपोजर विजिट जैसी गतिविधियों को सुनिश्चित किया जाना है। इन कार्यक्रमों के संचालन के लिए सरकार ने वार्षिक कार्ययोजना एवं बजट 2023-24 में 17.46 करोड़ की धनराशि स्वीकृत है, जिसे जनपदों को जारी किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि 'राष्ट्रीय आविष्कार अभियान' भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा संचालित किया जा रहा है। योगी सरकार इसी कार्यक्रम को उत्तर प्रदेश में आगे बढ़ा रही है। 
ब्लॉक स्तर पर होगा क्विज प्रतियोगिता का आयोजन 
राज्य परियोजना निदेशक विजय किरण आनंद के द्वारा समस्त जनपदों के बेसिक शिक्षा अधिकारियों को गतिविधियों के संचालन से संबंधित कार्ययोजना और निर्देश जारी किए हैं। इसके अनुसार प्रधानाध्यापक एवं विज्ञान व गणित विषय के शिक्षकों द्वारा परिषदीय उच्च प्राथमिक विद्यालय के बच्चों के लिए विज्ञान विषय से संबंधित क्विज प्रतियोगिता का आयोजन कराया जाएगा। प्रत्येक उच्च प्राथमिक विद्यालयों के उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले कक्षा-6 से 01, कक्षा 7 से 02 एवं कक्षा-8 से 03 बच्चों की ब्लॉक स्तरीय क्विज प्रतियोगिता में प्रतिभागिता सुनिश्चित कराई जाएगी। यदि किसी कक्षा में बच्चों का प्रदर्शन संतोषजनक नहीं है तो ऐसी परिस्थिति में प्रधानाध्यापक द्वारा किन्हीं 02 कक्षाओं से अधिकतम 06 बच्चों का चयन किया जाएगा। विकास खंड स्तर पर खंड शिक्षा अधिकारी के निर्देशन में क्विज प्रतियोगिता का आयोजन संबंधित ब्लॉक के एआरपी, उच्च प्राथमिक एवं कंपोजिट विद्यालय (कक्षा 6 से 8) के प्रधानाध्यापकों के साथ समन्वय स्थापित करते हुए कराया जाएगा। बच्चों की कापी जांचने के लिए आवश्यकतानुसार विज्ञान एवं गणित के शिक्षकों को नियोजित किया जाएगा। ब्लॉक स्तर पर क्विज प्रतियोगिता के लिए स्वीकृत कुल धनराशि में से 10 प्रतिशत की धनराशि उन बच्चों को दी जाएगी, जो जनपद स्तर पर विज्ञान प्रदर्शनी में प्रतिभाग करेंगे। 
जनपद स्तर पर लगाई जाएगी विज्ञान प्रदर्शनी 
जनपद स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में कुल 100 बच्चों की प्रतिभागिता सुनिश्चित की जाएगी। विज्ञान पर आधारित समसामयिक विषयों पर मॉडल बनाने के लिए बच्चों को प्रेरित किया जाएगा तथा बच्चों को विज्ञान के शिक्षक, एआरपी द्वारा अपेक्षित सहयोग प्रदान किया जाएगा। जनपद स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में छात्र-छात्राओं द्वारा प्रदर्शित मॉडल्स में से विशेषज्ञों की निर्णायक समिति द्वारा उत्कृष्टता के आधार पर 10 सर्वश्रेष्ठ मॉडल्स का चयन किया जाएगा तथा उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा। इसके लिए जनपद स्तर पर डायट प्राचार्य की अध्यक्षता में समिति का गठन किया जाएगा। जनपद स्तर पर आयोजित की जाने वाली विज्ञान प्रदर्शनी में प्रतिभाग करने वाले सर्वश्रेष्ठ 10 बच्चों को प्रमाण पत्र एवं विज्ञान विषय से संबंधित पुस्तकों का सेट, विज्ञान विषय से संबंधित उपकरण, स्मृति चिन्ह, विज्ञान किट, माइक्रोस्कोप, नगद पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। राज्य स्तरीय एक्सपोजर विजिट के लिए प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले बच्चों की सूची मुख्य विकास अधिकारी, जिलाधिकारी के अनुमोदन के बाद राज्य परियोजना कार्यालय को प्रेषित की जाएगी। 
बच्चों के एक्सपोजर विजिट की भी होगी व्यवस्था 
राष्ट्रीय आविष्कार अभियान कार्यक्रम के अंतर्गत खंड शिक्षा अधिकारी के नेतृत्व में प्रति विकास खंड चयनित 100 बच्चों का एक दिवसीय एक्सपोजर विजिट कराया जाएगा। बच्चों को चिन्हित करने में यह ध्यान रखा जाएगा कि बालक-बालिका एवं विभिन्न वर्ग के बच्चों को समान अवसर प्राप्त हो सके। जनपद स्तर पर आयोजित विज्ञान प्रदर्शनी में प्रतिनिधित्व करने वाले बच्चों को एक्सपोजर विजिट में अवश्य सम्मिलित किया जाएगा। एक्सपोजर विजिट में बच्चों के साथ विज्ञान एवं गणित के 02 शिक्षक या प्रधानाध्यापक, संबंधित विकास खंड के विज्ञान एवं गणित के एआरपी तथा संबंधित विकास खंड के खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा भ्रमण में प्रतिभागिता सुनिश्चित की जाएगी। एक्सपोजर विजिट में कम से कम दो महिला शिक्षिका अथवा एआरपी को अवश्य सम्मिलित किया जाएगा, ताकि छात्राओं को कोई असुविधा न हो। एक्सपोजर विजिट के लिए जनपद के अंदर अथवा निकट के जनपद, मण्डल में अवस्थित प्रतिष्ठान जैसे चीनी मिल, तारामंडल, न्यूज पेपर प्रिन्टिंग प्रेस, रीजनल सांइस सिटी म्यूजियम, नेशनल बॉटनिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट, इंस्टीट्यूट आफ हार्टीकल्चर टेक्नोलॉजी, औद्योगिक इकाई, प्रयोगशाला,वैज्ञानिक अनुसंधान इत्यादि का चिन्हांकन किया जाएगा।

'मां की बात' पर 100 घंटे तक मैराथन चली

'मां की बात' पर 100 घंटे तक मैराथन चली   

ओम प्रकाश चौबे  
भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम 'मन की बात' को लेकर 100 घंटे की चली मैराथन पर भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष और लोकसभा सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने बधाई प्रेषित की।
शर्मा ने संवाददाताओं से चर्चा के दौरान कहा कि प्रधानमंत्री के मन की बात कार्यक्रम काे लेकर भाजपा की 'मन की बात' कार्यक्रम की टीम के इंचार्ज और प्रदेश कार्यालय मंत्री राघवेंद्र शर्मा ने 100 घंटे मैराथन का प्रण लिया था।
इस कार्यक्रम के 100 एपिसोड को लेकर बिना रुके एक एपिसोड पर एक घंटे तक एक व्यक्ति द्वारा मन की बात कार्यक्रम को रखा गया। 10 हजार विद्यार्थी इस अभियान के साथ जुड़े। उन्होंने इसके लिए पूरी टीम को बधाई दी।
शर्मा ने कहा कि आज प्रधानमंत्री मोदी ने मिशन डेवलपमेंट महिला आधारित विकास के बारे में विशेष तौर पर उल्लेखित किया। चंद्रयान-3 में भी महिला वैज्ञानिकों की बड़ी भूमिका थी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम में अनेक विषयों को छूते हैं। उन्होंने रक्षाबंधन के पर्व पर लोकल फॉर वोकल की भी अपील की।

रसोई गैस सिलेंडर 450 रुपए में मिलेगा: एमपी

रसोई गैस सिलेंडर 450 रुपए में मिलेगा: एमपी    

इकबाल अंसारी    
भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को घोषणा करते हुए कहा, पुलिस और बाकी जितनी भी नौकरियां हैं, उनमें 35 फीसदी भर्तियां आगे से बेटियों की होंगी। कई पद ऐसे होते हैं, जिनमें सरकार नियुक्ति करती है। अब सरकार ऐसे नॉमिनेटेड पोस्ट पर 35 फीसदी महिलाओं की नियुक्ति करेगी।
भोपाल के जंबूरी मैदान में हुए लाड़ली बहना सम्मेलन में मुख्यमंत्री ने कहा, मध्यप्रदेश के हर थाने में महिला डेस्क के साथ पर्याप्त मात्रा में बेटियों को पुलिस के रूप में रखेंगे। लाड़ली बहनें शआजीविका मिशन में आएंगी। काम-धंधे के लिए बैंक उन्हें लोन देगा, इसका ब्याज केवल 2 फीसदी होगा, यह भी भैया भरेगा।
सीएम ने आगे और भी ऐलान करते हुए कहा, सावन के इस महीने में रसोई गैस 450 रुपए में तुम्हारा भैया दिलवाएगा। इसके बाद परमानेंट व्यवस्था बनाएंगे, ताकि बहनों को महंगा गैस सिलेंडर न लेना पड़े।
मुख्यमंत्री ने यह भी कहा, बढ़े हुए बिजली के बिल की वसूली नहीं होगी। सितंबर में बढ़े हुए बिजली के बिल जीरो हो जाएंगे। गरीब बहनों का बिजली बिल केवल 100 रुपए हो जाएगा। दूर - दराज के जिन मजरे और टोले में बिजली नहीं है और 20 मकान की कोई बस्ती है तो वहां बिजली लेकर जाएंगे। इसके लिए 900 करोड़ की व्यवस्था की है।
सम्मेलन शुरू होने से पहले मुख्यमंत्री ने लाड़ली बहना सेना की सदस्यों के पैर पखारे। महिलाओं ने ब्ड को बड़ी राखी भेंट की।सीएम ने लाड़ली बहना कैलेंडर लॉन्च किया। मुख्यमंत्री ने सम्मेलन के मंच से लाड़ली बहनों के बैंक खातों में रक्षा बंधन के लिए 250 रुपए जारी किए। कहा- रक्षाबंधन धूमधाम से मनाओ। 10 सितंबर को फिर 1 हजार रुपए डाले जाएंगे। अक्टूबर से लाड़ली बहनों के बैंक खातों में 1250 रुपए डाले जाएंगे।  
मुख्यमंत्री ने कहा, शराब नीति में शामिल होगा कि जहां आधी से ज्यादा बहनें नहीं चाहेंगी कि उस क्षेत्र में शराब की दुकान हो, वहां अगले साल से शराब की दुकान बंद कर दी जाएंगी। उन्होंने कहा, मैं धर्म का भेद नहीं करता। सारी बहनें, मेरी बहनें हैं। चाहे कोई जाति की हो, हिंदू हो या मुसलमान हो, मुझे फर्क नहीं पड़ता।
मुख्यमंत्री ने कहा, श्इंडस्ट्रियल एस्टेट्स में बहनों को उद्यमिता के लिए प्लॉट प्राथमिकता से दिए जाएंगे। गांवों में बहनों को रहने के लिए प्लॉट दिया जाएगा। शहर में माफिया से छीनी गई जमीनों से बहनों के रहने के लिए प्लॉट दिए जाएंगे।श् आगे कहा, श्मैं ये भी घोषणा कर रहा हूं कि लाड़ली बेटियों को मामा पढ़ाएगा, उनकी फीस मैं भरवाऊंगा, ताकी बेटियां भी ठीक से पढ़ सकें।

लड़कियों की तस्करी रोकने के लिए प्लान बनाया

लड़कियों की तस्करी रोकने के लिए प्लान बनाया

पंकज कपूर
शिमला। मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने प्रदेश से लकड़ियों की तस्करी से निपटने के लिए एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए वन विभाग की चौकियों को पुलिस सीमा चौकियों के साथ एकीकृत करने के निर्देश जारी किए हैं। मुख्यमंत्री ने आज यहां वन विभाग की बैठक की अध्यक्षता करते हुए इमारती लकड़ी की तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए इन एकीकृत चौकियों पर सीसीटीवी निगरानी सहित अत्याधुनिक तकनीक अपनाने पर बल दिया।
ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि इमारती लकड़ी की तस्करी से राज्य सरकार को राजस्व की हानि होती है। उन्होंने वन विभाग को लकड़ी के अवैध व्यापार पर रोक लगाने के लिए सक्रिय एवं कड़े कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वन और पुलिस चौकियों के एकीकरण से व्यापक निगरानी एवं इमारती लकड़ी चोरी के विरूद्ध प्रभावी कदम सुनिश्चित होंगे।
उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के जंगल उत्तरी भारत को प्राणवायु प्रदान करते हैं और वन राज्य की मूल्यवान संपत्ति हैं। उन्होंने कहा कि हाल ही में हुई भारी बारिश से प्रदेश की वन सम्पदा को भारी नुकसान पहुंचा है। उन्होंने वन विभाग को वन भूमि में गिरे पेड़ों को तुरंत हटाने और उनका उचित निपटान सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए।

इंडियन नेवी रिक्रूटमेंट में 362 पदों को भर्ती

इंडियन नेवी रिक्रूटमेंट में 362 पदों को भर्ती

अकाशुं उपाध्याय 
नई दिल्ली। इंडियन नेवी ने ट्रेड्समैन मेट भर्ती का नोटिफिकेशन 2023 जारी किया है। इन पदों को हेड क्वार्टर अंडमान और निकोबार कमांड रिक्रूटमेंट में भर्ती किया जाएगा। 362 पदों को भर्ती करेंगे। ऐसे में, जो अभ्यर्थी इसके लिए आवेदन करना चाहते हैं, वे ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। ऑफिशियल वेबसाइट पर आवेदन प्रक्रिया की जानकारी दी गई है।
नोटिफिकेशन के अनुसार भर्ती के लिए 26 अगस्त 2023 को सुबह 10:00 बजे से ऑनलाइन आवेदन करना शुरू हो गया है। वहीं, इंडियन नेवी ट्रेड्समैन मेट भर्ती 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 25 सितंबर 2023 को शाम 5:00 तक है। ऑफिशियल वेबसाइट पर, इच्छुक और योग्य अभ्यर्थी विस्तृत नोटिफिकेशन देख सकते हैं।
डिटेल्सइंडियन नेवी ट्रेड्समैन मेट भर्ती 2023: 362 पदों में सामान्य वर्ग के लिए 151 पद, ओबीसी के लिए 97 पद, एसडब्ल्यूएस के लिए 35 पद, अनुसूचित जाति के लिए 26 पद और अनुसूचित जनजाति के लिए 26 पद हैं। आवेदन शुल्क: अभ्यर्थियों को किसी भी वर्ग से आवेदन करने के लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा।आयु सीमाइंडियन नेवी ट्रेड्समैन मेट भर्ती 2023 के लिए 18 वर्ष से 25 वर्ष तक होनी चाहिए। 26 अगस्त 2023 को आधार मानकर आयु की गणना की जाएगी।आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को भी आयु सीमा से छूट मिलेगी।
आवेदन कैसे करें: पहले सरकारी वेबसाइट पर जाएं।- फिर नौकरी लिंक पर क्लिक करें।- व्यक्तिगत जानकारी दर्ज करके सबमिट करें।अब यूजर आईडी और पासवर्ड बनाएँ।- फिर फॉर्म भरकर सबमिट करें।- संबंधित दस्तावेजों को अपलोड करें।- फिर आवेदन की एक प्रति डाउनलोड कर अपने पास रखें।
विभाग का नाम- Indian Navy
पद का नाम- Tradesman Mate
कुल पद - 362 Post
आवेदन की अंतिम तिथि- 25 सितंबर 2023
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
कैटेगरी- Indian Navy Tradesman Vacancy 2023
भाषा- हिंदी
नौकरी स्थान- All India
विभागीय वेबसाइट- joinindiannavy.gov.in

अवैध निर्माण पर आज सुनवाई करेगा एससी

अवैध निर्माण पर आज सुनवाई करेगा एससी

सुनील श्रीवास्तव  
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में कृष्ण जन्मभूमि के पास कथित रूप से बने अवैध निर्माण को हटाने के लिए इसे ध्वस्त करने के अभियान से संबंधित याचिका पर सोमवार को सुनवाई करेगा। शीर्ष अदालत की वेबसाइट पर अपलोड की गई सोमवार की वाद सूची के अनुसार याचिका पर न्यायमूर्ति अनिरुद्ध बोस, न्यायमूर्ति संजय कुमार और न्यायमूर्ति एसवीएन भट्टी की पीठ सुनवाई करेगी। 
यह मामला कृष्ण जन्मभूमि के पास की बस्तियां गिराए जाने से संबंधित है। उच्चतम न्यायालय ने इस मामले में 16 अगस्त को सुनवाई के दौरान रेलवे अधिकारियों के ध्वस्तीकरण अभियान पर 10 दिन के लिए रोक लगा थी। यह अभियान कथित रूप से अवैध निर्माण को हटाने के लिए चलाया गया था।
न्यायालय ने याचिकाकर्ता याकूब शाह की याचिका पर केंद्र और अन्य को नोटिस जारी कर जवाब मांगा। इसके बाद यह मामला 25 अगस्त को फिर शीर्ष अदालत में पहुंचा, लेकिन न्यायालय ने अंतरिम आदेश में उल्लिखित अवधि का का विस्तार करने से इनकार कर दिया। याचिकाकर्ता के वकील ने 16 अगस्त को शीर्ष अदालत को बताया था कि 100 घरों पर बुलडोजर चलाया गया है। उन्होंने कहा कि यह कवायद उस दिन की गई जब उत्तर प्रदेश की अदालतें बंद थीं।

कम उम्र की पर्वतारोही सानवी, एवरेस्ट फतह

कम उम्र की पर्वतारोही सानवी, एवरेस्ट फतह 

अमित शर्मा    
चंडीगढ़। जिस उम्र में अधिकांश बच्चे आलस के साथ इधर-उधर अपना समय बिताते हैं, उसमें आठ साल की सानवी सूद को ट्रैकिंग और पर्वतारोहण पसंद है। पंजाब के रूपनगर जिले की सानवी माउंट एवरेस्ट के आधार शिविर पर भारत का झंडा लहरा चुकी है।
सानवी के पिता दीपक सूद ने बताया कि उसने यह उपलब्धि सात वर्ष की आयु में ही हासिल कर ली थी और वह ऐसा करने वाली देश की सबसे कम उम्र की लड़की है। सूद ने बताया कि सानवी ने पिछले वर्ष जुलाई में 5,895 मीटर की ऊंचाई पर स्थित अफ्रीकी महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट किलिमंजारो पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की थी।
उस समय वह माउंट किलिमंजारो पर चढ़ने वाली एशिया की सबसे कम उम्र की लड़की थी। सानवी की पहाड़ों पर चढ़ने की चाहत इस साल भी जारी रही। सानवी ने मई में ऑस्ट्रेलिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट कोसियुस्को (2,228 मीटर) पर चढ़ाई की थी और जुलाई में उसने रूस में माउंट एल्ब्रस (5,642 मीटर) पर चढ़ाई की थी, इस उपलब्धि को हासिल करने वाली वह दुनिया की सबसे कम उम्र की लड़की है।
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने इस क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए सानवी को स्वतंत्रता दिवस पर राज्य पुरस्कार से सम्मानित किया था। युवा पर्वतारोही ने बताया कि ट्रैकिंग अभियान और पहाड़ों पर चढ़ने के लिए उसके पिता ने उसे प्रेरित किया है।

छत से फिसलकर गिरने से युवक की दर्दनाक मौत

छत से फिसलकर गिरने से युवक की दर्दनाक मौत

गणेश साहू
कौशाम्बी। संदीपन घाट थाना क्षेत्र के मोहिद्दीनपुर गैस कछार गांव में परिवार के साथ छत पर सो रहा एक युवक आधी रात को छत से गिर गया है। युवक के गिरने के बाद मामले की जानकारी परिजनों को नहीं हुई। अधिक चोट लग जाने के बाद युवक बचाव के लिए रोता चिल्लाता रहा।
लेकिन परिवार के लोग नहीं जागे रोते चिल्लाते कराहते तड़प तड़प कर युवक की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई है। युवक की मौत के बाद जब परिजन नींद से जागे तो युवक मौके पर मौजूद नहीं था। परिजन उसे खोजने लगे वह छत के नीचे पड़ा था। मौके पर पहुंचकर परिजनों ने जब देखा तो युवक की मौत हो गई थी। मौत की जानकारी मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया हो हल्ला सुनकर आसपास के लोग भी घटना स्थल पर पहुंच गए। जिसने भी युवक की मौत की बात सुनी वह अचंभित रह गया मामले की सूचना पुलिस को दी गई है। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटनास्थल पर कोहराम मचा हुआ है।
जानकारी के मुताबिक संदीपन घाट थाना क्षेत्र के मोहद्दीनपुर गौस कछार निवासी गुंडा उम्र 34 वर्ष पुत्र मूलचंद्र शनिवार को खाना खा कर अपने परिवार व बच्चों को लेकर छत पर सो रहा था। परिजनों के मुताबिक रात लगभग 2.30 बजे बाथरूम करने के लिए वह उठ कर गया। तभी लाइट न होने के कारण अधेरे में उसका पैर फिसल गया और वह छत से गिर गया काफी देर होने पर बच्चों ने उठ कर देखा कि वह जमीन पर नीचे पड़ा था शोर गुल सुन कर घर वाले मौके पर पहुंचे और देखे कि उसकी मौके पर मौत हो गई। घर में कोहराम की आवाज सुनकर आसपास के लोग भी मौके पहुंच गए।
पुलिस को मामले की सूचना दी गई। सूचना पाते ही मौके पर थाना पुलिस ने पहुँच कर पंचनामा भर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक गुंडा मजदूरी कर अपने परिवार व चारों बच्चों का भरण पोषण करता था, परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

शराब के नशे में शेर के बाड़े में कूदा शराबी

शराब के नशे में शेर के बाड़े में कूदा शराबी  

सरस्वती उपाध्याय 
शेर जंगल का राजा होता है। इसकी एक दहाड़ से ही अच्चे-अच्छे सूरमाओं की हालत खराब हो जाती है। मगर नशे के आगे शेर और उसकी दहाड़ भी किसी काम की नहीं है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसे देखने के बाद ये साफ हो जाएगा कि इंसान अगर नशे में है तो शेर भी उसे नहीं डरा सकता है। वीडियो भारत के किसी चिड़ियाघर का है।
सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा जिसमें नशे में धुत एक शख्स शेर के बाड़े में कूद जाता है। शख्स का शेर से सामना होने के बाद जो कुछ हुआ उसपर आपको यकीन नहीं होगा। नशे में धुत शख्स शेर के सामने पहले तो जमीन पर बैठ जाता है। इसके बाद जनाब उसके आगे आराम करने लगते हैं जैसे मानों वो शेर उनके सामने नहीं बल्कि टीवी पर दिख रहा है।
सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो में आप सुन सकते हैं कि वहां मौजूद लोग उसे शख्स को बचने के लिए कई आईडिया दे रहे हैं। कोई कह रहा है कि ‘उसके आगे लेट जा।’ तो कोई कह रहा है कि ‘चिल्लाओ मत नहीं तो शेर उसे खा जाएगा।’ मगर नशे में होने की वजह से उस इंसान को कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। इस वीडियो को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X(पहले ट्विटर) पर @CCTV IDIOTS नाम के पेज से शेयर किया गया है। खबर लिखे जाने तक इस वीडियो को 10.6 मिलियन लोगों ने देखा है और 38 हजार से ज्यादा लोगों ने लाइक किया है।
इसके बाद शेर ने भी उसे सीधा कर दिया। शेर ने उसे लात मारते हुए उठाया। शेर से लात खाने के बाद वो शख्स उठ गया। शख्स के उठने के बाद शेर ने उस पर हमला करने का प्रयास किया। मगर नशे में धुत शख्स उल्टा शेर को ही इशारा करने लगा। वो शेर को ही वहां से जाने को कहने लगा मगर पूरी वीडियो में शेर उसके आगे पीछे घूमता दिख रहा है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-314, (वर्ष-06)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. सोमवार, अगस्त 28, 2023

3. शक-1944, श्रावण, शुक्ल-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:22, सूर्यास्त: 07:06।

5. न्‍यूनतम तापमान- 21 डी.सै., अधिकतम- 33+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए  सरस्वती उपाध्याय  बेहद सुंदर और सुगंधित फूल 'गुलाब' गुणों की खान है और इसकी पं...