शुक्रवार, 4 फ़रवरी 2022

कांग्रेस के पक्ष में वोट डालने की अपील: प्रियंका

कांग्रेस के पक्ष में वोट डालने की अपील: प्रियंका    

अश्वनी उपाध्याय            

गाजियाबाद। सभी पार्टियों के प्रमुख नेताओं के बाद शुक्रवार को कांग्रेस महासचिव व यूपी प्रभारी प्रिंयका गांधी भी गाजियाबाद आईं। जहां उन्होंने शहर और साहिबाबाद विधानसभा प्रत्याशियों के लिए जनसम्पर्क किया। इस दौरान उन्होंने लोगों से बात की। उन्हें 10 फरवरी को होने वाले मतदान में कांग्रेस के पक्ष में वोट डालने की अपील की। प्रियंका गांधी ने लाइनपार क्षेत्र के बागू और साहिबाबाद के खोड़ा में जनसम्पर्क किया। इस दौरान कांग्रेस महासचिव के देखने के लिए जमकर लोगों की भीड़ उमड़ी। 

जनता से बोलीं प्रियंका, हमें धर्म या जाति के लिए नहीं, विकास के लिए वोट दीजिए। शहर विधानसभा सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी सुशांत गोयल के चुनाव प्रचार में प्रियंका गांधी ने कृष्णा नगर बागू से लेकर तिगरी गोल चक्कर तक पैदल जनसंपर्क किया। इस दौरान सडक़ों पर प्रियंका गांधी को देखने के लिए जनता का सैलाब उमड़ पड़ा। प्रियंका गांधी लगभग बारह बजे कृष्णा नगर बागू पहुंची। जहां उन्होंने हाथ हिलाकर लोगों का अभिनंदन स्वीकार किया। 

प्रियंका गांधी ने कहा कि कुछ राजनीतिक दल जाति, धर्म और सांप्रदायिकता के नाम पर वोट मांग रहे हैं। जबकि कांग्रेस पार्टी विकास कार्यों के नाम पर जनता के बीच है। विकास को प्राथमिकता मानकर कांगे्रेस चुनाव मैदान में उतरी है। इस दौरान उनके साथ पूजा गोयल, कार्तिकेय कौशिक, लोकेश चौधरी, नसीम खान, पूजा चड्ढा, ममता त्यागी, प्रेमप्रकाश चीनी, कमलेश कुमारी समेत अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

पंपलेट चस्पाकर मतदान का बहिष्कार, घोषणा की

पंपलेट चस्पाकर मतदान का बहिष्कार, घोषणा की  

आदर्श श्रीवास्तव             

लखीमपुर खीरी। विधानसभा का चुनाव हो, चाहे नगरपालिका का। शहर के मोहल्ला कमलापुर के टिंबर वाली गली के लोगों की मांग पर हर बार वोट मांगने आने वाले प्रत्याशी और उनके समर्थत सड़क, नाली और पानी निकास की समुचित व्यवस्था कराने का वादा तो करते हैं, लेकिन चुनाव जीतने के बाद वह मुड़कर पीछे नहीं देखते। इससे नाराज टिंबर वाली गली के लोगों ने इस बार विधानसभा चुनाव में अपने दरवाजों पर पंपलेट चस्पाकर मतदान का बहिष्कार करने की घोषणा की है। पंपलेट में साफ शब्दों में लिखा है कि वोट मांगने के लिए नेता और उनके कार्यकर्ता संपर्क न करें।

गोला रोड पर बसे मोहल्ला कमलापुरी के वाशिंदे काफी समय से पानी निकास की समस्या से जूझ रहे हैं। जरा सी बरसात में यहां की एक टिंबर टिंबर वाली गली तालाब में तब्दील हो जाती है। हालात यह हो जाते हैं कि सड़कों का पानी लोगों के घरों में भर जाता है। सड़क के नाम पर लगा खड़ंजा भी क्षतिग्रस्त है।

महिला की बेबी बंप की तस्वीरें मीडिया पर वायरल

महिला की बेबी बंप की तस्वीरें मीडिया पर वायरल    

अकांशु उपाध्याय           

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर प्रेग्नेंट महिलाओं को लेकर तरह-तरह के मामले सामने आते रहते है। एक और मामला इससे रिलेटिड सामने आया है। एक महिला की बेबी बंप की तस्वीरें सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। इस फोटो को देखकर यूजर्स विभिन्न प्रकार की प्रतिक्रियाएं पेश कर रहे हैं। मिली जानकारी के अनुसार यूरोप के किसी शहर की एक महिला की तस्वीरे सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। फोटो में दिखाई दे रहा, कि एक महिला को बेबी बंप बहुत बडा है। बताया जा रहा है कि महिला करीब 37 सप्ताह से गर्भवती है। 

यह महिला पहले से ही चार बच्चों की मां है। महिला ने कहा कि वह अपने इंद्रधुनषी बच्चे से मिलने के लिये इंतेजार नहीं कर सकती। महिला का कहना है कि उसे चिकित्सीय स्थिति नहीं है। वह नॉर्मल महसूस करती है। इस गर्भवती महिला को पेट इतना बड़ा हो गया कि लोग सोचते है कि उसके पेट में आठ बच्चे हैं। लेकिन महिला का कहना है कि उसने अल्ट्रसाउंड काफी पहले कराया था।

धोखाधड़ी के आरोप में 8 लोगों पर मुकदमा दर्ज

धोखाधड़ी के आरोप में 8 लोगों पर मुकदमा दर्ज    
राणा ओबरॉय         
कुरुक्षेत्र। सरकार कितना भी सख्त कानून बना ले, अपराधी अपराध करने से नही डरते। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। जिसमे कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय और हाईकोर्ट में स्टेनो की नौकरी लगवाने के नाम पर 13.65 लाख रुपये की धोखाधड़ी के आरोप में पुलिस ने आठ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। थाना शाहाबाद पुलिस को दी अपनी शिकायत में गांव लंडा निवासी धर्मेंद्र ने कहा कि वह अपनी बुआ के घर लोहड़ी पर गांव तुंबी (यमुनानगर) गया था। यहां पर उसकी मुलाकात करनैल सिंह से हुई थी। करनैल सिंह ने उसके साथ कार्यक्रम में आए कई युवाओं से कहा कि वह उनको कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में नौकरी सकता है। कई दिन बाद करनैल सिंह ने उसे फोन पर बताया कि उसकी यमुनानगर की रहने वाली एक महिला आरती सिंधु से अच्छी जान पहचान है। 
इस महिला की केयू में एचओडी के साथ जानकारी है। इस समय केयू में राज्यपाल की सहमति से चपरासी, स्टेनो और क्लर्क की भर्तियां निकाली हुई हैं। कई दिनों बाद करनैल और महिला उसे किसी अन्य युवक के काम के लिए अपने साथ राज्यपाल भवन चंडीगढ़ लेकर गए थे। उसे बाहर खड़ा करने के बाद दोनों भवन में गए और कुछ देर बाद बाहर आकर उसे उक्त युवक का केयू में नौकरी का नियुक्ति दिखाया। उन दोनों ने बताया कि अगर उसे भी केयू में नौकरी पर लगना है तो चपरासी के तीन और स्टेनो व क्लर्क के लिए पांच लाख रुपये देने होंगे। यह बात घर आकर उसने अपने पिता को बताई थी। कुछ दिन बाद करनैल ने उसके पिता को उसे और उसकी बहन की चपरासी व स्टेनो की नौकरी लगवाने के एवज में आठ लाख रुपये की मांग की थी। उसके पिता ने करनैल को नौकरी के लिए दो-दो लाख रुपये बस स्टैंड पर दिए थे।
दो दिन बाद करनैल ने फोन पर बताया कि हाईकोर्ट चंडीगढ़ में स्टेनो की नौकरी निकली हुई है। वह उसकी बेटी व भांजी को स्टेनो लगवा देगा। इस एवज में उसने पांच-पांच लाख रुपये देने की मांग की थी, इस पर उसके पिता पैसे देने पर राजी हो गए थे। दो दिन बाद करनैल सिंह, भान सिंह गोस्वामी व उसका बेटा रवि बस स्टैंड पर आए और उसके पिता से पांच लाख 65 हजार रुपये लेकर बकाया रकम चंडीगढ़ में लेने की बात कह कर चले गए थे। बाद में उनका फोन आने पर करनैल, भान सिंह और सतीश उन्हें चंडीगढ़ में मिले और उसके पिता व बुआ ने चार लाख रुपये लेकर चले गए थे। उसके बाद आरोपियों ने फर्जी नियुक्ति पत्र देकर उनको केयू भेजा, मगर उनका नाम सूची में नहीं था। उन्होंने नियुक्ति पत्र की जांच कराई तो वे फर्जी निकले, जिस पर आरोपियों ने उनके पैसे वापस देने का आश्वासन दिया था, मगर उन्होंने उनकी रकम वापस नहीं की थी। शिकायत पर पुलिस ने आरोपी करनैल सिंह, आरती, उसके भाई, मां, सतीश कुमार, मांगे राम, रवि गोस्वामी, भान सिंह के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

मुंबई: 140 अंक से अधिक गिरा सूचकांक सेंसेक्स

मुंबई: 140 अंक से अधिक गिरा सूचकांक सेंसेक्स    

कविता गर्ग           

मुंबई। मिले-जुले वैश्विक रुझानों के बीच बैंकिंग और ऊर्जा शेयरों में कमजोरी के चलते प्रमुख शेयर सूचकांक बीएसई सेंसेक्स शुक्रवार को 140 अंक से अधिक गिर गया। कारोबारियों ने कहा कि विदेशी कोषों के लगातार पैसा निकालने के चलते भी निवेशक चिंतित हैं। कारोबार के अंत में 30 शेयरों वाला बीएसई सूचकांक 143.20 अंक या 0.24 प्रतिशत की गिरावट के साथ 58,644.82 पर बंद हुआ। इसी तरह, एनएसई निफ्टी 43.90 अंक या 0.25 प्रतिशत टूटकर 17,516.30 पर बंद हुआ। सेंसेक्स में सबसे अधिक दो प्रतिशत की गिरावट एसबीआई में हुई।

इसके अलावा एमएंडएम, एनटीपीसी, कोटक बैंक, बजाज फिनसर्व, एचडीएफसी और पावरग्रिड नुकसान में रहने वाले प्रमुख शेयरों में शामिल थे। दूसरी ओर सन फार्मा, एशियन पेंट्स, टाटा स्टील और एचडीएफसी बैंक में बढ़त देखने को मिली। सेंसेक्स में 19 शेयर गिरकर बंद हुए, जबकि 11 में बढ़त देखने को मिली।

अन्य एशियाई बाजारों में हांगकांग, तोक्यो और सोल में शेयर मजबूती के साथ बंद हुए। नए साल की छुट्टियों के कारण चीन के बाजार बंद रहे। यूरोप में दोपहर कारोबार के दौरान शेयर बाजारों में मिलाजुला रुख देखा गया। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.22 प्रतिशत बढ़कर 92.22 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर पहुंच गया। शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बृहस्पतिवार को 1,597.54 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

15 हजार की रिश्वत लेते भ्रष्ट लिपिक अरेस्ट: ब्यूरो

15 हजार की रिश्वत लेते भ्रष्ट लिपिक अरेस्ट: ब्यूरो   

अश्वनी उपाध्याय             गाजियाबाद। एंटी करप्शन ब्यूरो ने गाजियाबाद से नगर निगम के लिपिक को 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। एसीबी की मेरठ ब्रांच द्वारा की कार्यवाही के बाद भ्रष्ट लिपिक के खिलाफ थाना लिंक रोड में मुकदमा दर्ज कराया गया है। अब लिपिक को मेरठ की स्पेशल कोर्ट में पेश करके जेल भेजा जाएगा। एंटी करप्शन ब्यूरो के डीआईजी राजीव मल्होत्रा ने बताया कि गाजियाबाद में वैशाली सेक्टर-4 अजनारा निवासी प्रदीप गुप्ता ने इस संबंध में शिकायत की थी। प्रदीप के अनुसार, उनके मकान/ऑफिस का हाउस टैक्स रिवाइज करने के नाम पर 15 हजार रुपए की रिश्वत मांगी जा रही थी। प्रदीप गुप्ता ने बताया कि उनकी पत्नी प्रियंका गुप्ता का कार्यालय रामप्रस्थ कॉलोनी में है। 

गृहकर न बढ़ाने की एवज में यह रकम नगर निगम में गृहकर विभाग के कनिष्ठ लिपिक देवीशरण शर्मा के द्वारा मांगी जा रही थी। इस शिकायत पर एंटी करप्शन ने शुक्रवार को जाल बिछाया और रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। एंटी करप्शन ब्यूरो मेरठ यूनिट के इंस्पेक्टर अशोक कुमार शर्मा के द्वारा इस संबंध में देवीशरण शर्मा के खिलाफ थाना लिंक रोड में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

शवदाहगृह के निर्माण का ग्रामीणों ने विरोध किया

शवदाहगृह के निर्माण का ग्रामीणों ने विरोध किया    
अजीत कुशवाहा        
कौशाम्बी। सिराथू तहसील ग्राम ककोड़ा कशिया गलत तरीके से स्थान चयनित करके बनाया जा रहा था। जिसका ग्रामीणों ने डटकर विरोध किया। मामले की शिकायत डिप्टी सीएम के परिजन तक पहुंची। जिस पर डिप्टी सीएम के परिजनों ने भी हस्तक्षेप किया। वही, गलत स्थान पर सौदा के बनाए जाने का विरोध कर ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से भी शिकायत की थी। जिलाधिकारी ने भी ग्रामीणों की बातों को सुनने के अधीनस्थों को निर्देश दिया। 
शवदाहगृह का निर्माण दो विद्यालय के बीच मे हो रहा था। जिसका सीधा असर स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के भविष्य पर पड़ता जिस पर बच्चों के भविष्य को ध्यान में रखकर शवदाहगृह के निर्माण का ग्रामीणों ने विरोध किया। डिप्टी सीएम के पुत्र योगेश मौर्य से ग्रामीणों ने अपनी समस्याओं को रखा जिस पर तत्काल जिलाधिकारी से बात कर आबादी व स्कूल से दूर शवदाहगृह बनवाने को कहा गया। वही पर इस को निरस्तीकरण कर दूसरे जगह पर प्रस्ताव कर निर्माण के लिए निर्देशित किया गया। 
जिस पर योगेश मौर्य व डिप्टी सीएम जिन्दाबाद के नारे भी ग्रामीणों ने लगाया इस मौके पर पंचम लाल ग्राम प्रधान सहित सैकड़ों ग्रामीणों की मौजूदगी रही।

इंग्लैंड के खिलाफ फाइनल में उतरेंगी भारतीय टीम

इंग्लैंड के खिलाफ फाइनल में उतरेंगी भारतीय टीम   
मोमीन मलिक         
नई दिल्ली/ लंदन। पिछले 14 सीजन में आठ बार फाइनल खेलकर चार खिताब जीत चुकी भारतीय टीम अंडर 19 विश्व कप इतिहास की सबसे कामयाब टीम है और इंग्लैंड के खिलाफ शनिवार को फाइनल में यश धुल की टीम इस दबदबे पर मुहर लगाने के इरादे से उतरेगी। भारत की नजरें रिकॉर्ड पांचवें खिताब पर है और मौजूदा फॉर्म को देखते हुए यह मुश्किल भी नहीं लग रहा। दूसरी ओर इंग्लैंड का इरादा भी इतिहास रचने का है और दोनों टीमों के बीच यह मुकाबला रोमांचक होने की उम्मीद है। 
मैदान से बाहर कोरोना संक्रमण से जूझने के बावजूद भारतीय टीम को फाइनल तक पहुंचने में दिक्कत नहीं आई जो खिलाड़ियों की प्रतिभा और टीम की गहराई की बानगी पेश करती है। 
कप्तान धुल और उपकप्तान शेख रशीद संक्रमण के कारण तीन में से दो मैच नहीं खेल सके थे। संक्रमित खिलाड़ियों में सबसे बुरी तरह प्रभावित हुए धुल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल में शानदार शतक जड़ा। वहीं रशीद ने भी 95 रन की पारी खेली। 

फरवरी-मार्च में 3 दिन बंद रहेगीं हवाई आवाजाही

फरवरी-मार्च में 3 दिन बंद रहेगीं हवाई आवाजाही     

सुनील श्रीवास्तव        

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर एयरपोर्ट पर अगले दो महीने यानी फरवरी और मार्च में शुक्रवार, शनिवार और रविवार को हवाई जहाजों की आवाजाही बाधित रहेगी। श्रीनगर एयरपोर्ट के अधिकारियों की ओर से शुक्रवार को जारी सूचना में बताया गया कि एयरपोर्ट पर रिपेयरिंग के काम की वजह से हर शुक्रवार शाम 5 से जहाजों का परिचालन बंद कर दिया जाएगा।

श्रीनगर एयरपोर्ट के अधिकारियों ने बताया कि एयरपोर्ट पर रनवे की मरम्मत के लिए एयरपोर्ट पर शुक्रवार, शनिवार और रविवार को शाम 5 बजे के बाद कोई भी उड़ान संचालित नहीं होगी और यह पाबंदी फरवरी और मार्च दोनों महीनों तक लागू रहेगी। एक बयान में एयरपोर्ट के अधिकारियों ने कहा कि वे फरवरी और मार्च के दौरान पूरे रनवे पर पॉलिमर संशोधित इमल्शन का काम शुरू कर रहे हैं। यात्रियों से कहा गया है कि वे यात्रा से पहले एयरपोर्ट की ओर से जारी नई समय-सारिणी चेक कर लें।

ड्रग्स-भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करेगीं बीजेपी: मंत्री

ड्रग्स-भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करेगीं बीजेपी: मंत्री    

अमित शर्मा            

चंडीगढ़। पंजाब विधानसभा चुनावों में अब काफी कम वक्त बचा है। ऐसे में बीजेपी के स्टार प्रचारकों ने भी यहां चुनाव प्रचार की शुरुआत कर दी है। शुक्रवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पंजाब के होशियारपुर में स्टार प्रचारकों के कैंपेन की शुरुआत करने पहुंचे और विरोधियों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, कि पंजाब में आज तक बीजेपी नेतृत्व वाली एनडीए की सरकार नहीं बनी। आप सरकार बनाइए हम पंजाब की तस्वीर बदल देंगे। बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार पंजाब से ड्रग्स और भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म कर देगी। पंजाब को कांग्रेस ने बर्बाद कर दिया। राहुल गांधी को इतिहास का ज्ञान नहीं। चीन ने भारतीय जमीन तब हथियाई थी जब नेहरु जी प्रधानमंत्री थे। 

अक्साई चीन जब बना तब इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री थीं। जब हमारे जवान चीन की सीमा पर अपनी जमीन की रक्षा करने के लिए शहीद हो रहे थे। तब राहुल गांधी चीन के राजदूत के साथ बैठे हुए थे।हमारे कांग्रेस की सरकारों के वक्त भले ही लाख मतभेद रहे हो। लेकिन हमने कभी भी अपने देश की सेना के शौर्य पर सवाल नहीं उठाए। राहुल गांधी ने संसद में जो कुछ कहा उससे पीड़ा हुई। राहुल ने संसद में इतिहास को तोड़ने-मरोड़ने की कोशिश की। उन्होंने आरोप लगाया कि हमारी गलत विदेश नीतियों के कारण पाकिस्तान और चीन में दोस्ती हो गई है, क्या उन्हें पहले का इतिहास नहीं पता है ?

वहीं, दूसरी ओर बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन ने आगामी पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले 11 संकल्प निर्धारित किए हैं। पंजाब बीजेपी और पंजाब लोक कांग्रेस ने 11 सूत्री घोषणा-पत्र जारी किया है।बीजेपी के नेता हरदीप सिंह पुरी ने गठबंध का संकल्प पत्र जारी करते हुए कहा, ‘पंजाब कुशासन, माफिया, भ्रष्टाचार और ड्रग्स से त्रस्त है। हमारे 11 संकल्पों का उद्देश्य इन बुराइयों को खत्म करना है। पुरी ने कहा कि संकल्पों को पंजाब की रग और उसके दिल को ध्यान में रखते हुए हुए बनाया गया है।

स्वास्थ्य और बालों के लिए फायदेमंद हैं फूड्स डाइट

स्वास्थ्य और बालों के लिए फायदेमंद हैं फूड्स डाइट 

मोमीन अहमद          

सर्दी के मौसम सर्दी-जुकाम जैसी कई स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में जरूरी है कि आप ऐसे फूड्स डाइट में शामिल करें। जो इम्युनिटी बढ़ाने में आपकी मदद करते हों। इन फूड्स को डाइट में शामिल करने से ये न केवल आपकी इम्युनिटी बढ़ाएंगे। बल्कि ये आपको मौसमी स्वास्थ्य समस्याओं से बचाने में मदद करते हैं। आप अपने आहार में गोंद, हरी सब्जियां और तिल के बीज जैसे सुपरफूड्स शामिल कर सकते हैं। ये आपके जोड़ों और हड्डियों के स्वास्थ्य, त्वचा और बालों के लिए बहुत फायदेमंद हैं। क्योंकि ये पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। आइए जानें और कौन से फूड्स डाइट में शामिल कर सकते हैं और इनके क्या फायदे हैं।

गोंद: सर्दियों के मौसम में आप गोंद के लड्डू का सेवन कर सकते हैं। इन लड्डू को बनाने के लिए गोंद को घी में भूनना होता है और इसमें पिसी हुई चीनी मिलाकर लड्डू बनाए जाते हैं। ये फाइबर से भरपूर होते हैं। ये हड्डियों के लिए अच्छे होते हैं। पाचन तंत्र को स्वस्थ रखते हैं और आपको ऊर्जावान रखते हैं।

हरी सब्जियां: सर्दियों में आप कई तरह की हरी सब्जियों को डाइट में शामिल कर सकते हैं। इसमें पालक, मेथी, पुदीना, हरी प्याज, सरसों जैसे साग आदि शामिल हैं। इनका सेवन आप करी, सूप और सलाद के रूप में कर सकते हैं। ये एंटीऑक्सीडेंट, फाइबर, विटामिन से भरपूर होते हैं। इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। ये हाथों और पैरों में जलन को भी कम करने में मदद करते हैं।

जड़ वाली सब्जियां: शलजम और शकरकंद जैसी सब्जियों का सेवन टिक्की और सब्जी के रूप में किया जा सकता है। आप इन्हें भूनकर भी नमक और मिर्च पाउडर के साथ खा सकते हैं। ये वजन घटाने और पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करती हैं।

तिल के बीज: सफेद तिल हों या काले तिल को चिक्की, लड्डू, चटनी के रूप में खाएं या फिर भुने हुए तिल को करी और सलाद में मसाला के रूप में इस्तेमाल करें। ये आवश्यक फैटी एसिड, विटामिन ई से भरपूर होते हैं। ये हड्डियों, त्वचा और बालों के लिए अच्छे होते हैं।

मूंगफली: मूंगफली को आप कई तरह के व्यंजन में शामिल कर सकते हैं। इन्हें पोहा और लड्डू आदि में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। ये विटामिन बी, अमीनो एसिड, पॉलीफेनोल्स से भरपूर होती हैं। ये आपके हृदय के लिए बहुत फायदेमंद हैं।

घी: दाल और करी में तड़का लगाने के लिए घी का इस्तेमाल करें। इसका इस्तेमाल आप चावल, भाकरी और रोटियों में भी कर सकते हैं। इसमें आवश्यक फैटी एसिड होते हैं। ये विटामिन डी, ए, ई से भरपूर होता है. ये खाने के स्वाद को बढ़ाने के अलावा सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है।

अपकमिंग फिल्म ‘अटैक’ की रिलीज डेट अनाउंस

अपकमिंग फिल्म ‘अटैक’ की रिलीज डेट अनाउंस 
कविता गर्ग            
मुंबई। एक्टर जॉन अब्राहम की अपकमिंग फिल्म ‘अटैक’ की रिलीज डेट अनाउंस कर दी गई है। इस बात की जानकारी जॉन अब्राहम ने खुद फिल्म का पोस्टर सोशल मीडिया पर शेयर कर दी है। जिसके कैप्शन में उन्होंने लिखा, हमारे देश के पहले सुपर सोल्जर और देश के गौरव को बचाने के लिए उनकी स्ट्राइक को देखने के लिए तैयार हो जाइए। 
‘अटैक’ 1 अप्रैल 2022 को दुनिया भर के सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है। लक्ष्य राज आनंद के डायरेक्शन में बनीं इस फिल्म में जॉन के अलावा जैकलीन फर्नांडीज और रकुल प्रीत सिंह भी लीड रोल में नजर आएंगी।

जीमेल के यूजर इंटरफेस में बदलाव, रीडिजाइन

जीमेल के यूजर इंटरफेस में बदलाव, रीडिजाइन 

अखिलेश पांंडेय        

वाशिंगटन डीसी। पॉप्युलर ईमेल सर्विस जीमेल की डिजाइन बदलने जा रही है। दरअसल गूगल ने जीमेल के यूजर इंटरफेस में बदलाव का ऐलान किया है। मतलब जीमेल सर्विस को रीडिजाइन किया जाएगा। गूगल जीमेल में कई नई सर्विस को जोड़ने जा रहा है। ऐसे में यूजर को जीमेल विंडो में गूगल चैट, गूगल मीट और गूगल स्पेस जैसी सर्विस का लुत्फ मिलेगा। मतलब जीमेल से ही गूगल की बाकी सर्विस को इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए अलग से ऐप ओपन करने की जरूरत नहीं होगी।

8 फरवरी से दिखेंगे जीमेल में बदलाव

गूगल वर्कप्लेस ब्लॉग पोस्ट के मुताबिक वर्कस्पेस यूजर 8 फरवरी से जीमेल के नए इंटीग्रेटेड व्यू की टेस्टिंग कर पाएंगे। जीमेल के नए लेआउट में यूजर्स को चार बटन ऑप्शन दिये जाएंगे, जिससे यूजर जीमेल से मेल, चैट, स्पेस और गूगल मीट में शिफ्ट किया जा सकेगा। मतलब जीमेल, चैट और मीट के लिए सिंगल कम्बाइंड लेआउट होगा। गूगल इंटीग्रेटेड व्यू फीचर को जीमेल में 2022 की दूसरी तिमाही तक रोलआउट करेगा। ऐसे में जीमेल यूजर्स को इस साल जून से पहले जीमेल का नया यूजर इंटरफेस मिल जाएगा।

गूगल के अनुसार यूजर नए लेआउट में अपडेट करते हैं, तो मौजूदा मेल और लेबल ऑप्शन की समान सूची देख पाएंगे। वर्कस्पेस टूल में बदलाव का ऐलान पहली बार सितंबर 2021 में किया गया था। यूजर गूगल मीट लिंक के बिना अन्य जीमेल यूजर्स के साथ आमने-सामने कॉल कर पाएंगे। जो जीमेल यूजर नए जीमेल लेआउट को अपडेट नहीं करेंगे, उन्हें कंपनी अप्रैल तक अपने आप नए लेआउट में स्विच कर देगी। गूगल की मानें, तो अपडेटेड गूगल वर्कस्पेस बिजनेस स्टार्टर, बिजनेस स्टैंडर्ड, बिजनेस प्लस, एंटरप्राइज एसेंशियल, एंटरप्राइज स्टैंडर्ड, एंटरप्राइज प्लस, एजुकेशन फंडामेंटल्स, एजुकेशन प्लस, फ्रंटलाइन और गैर-लाभकारी संस्थाओं के साथ-साथ जी सूट बेसिक और बिजनेस ग्राहकों के लिए उपलब्ध होंगे।

7 फरवरी को होगीं आरबीआई की बैठक: गवर्नर

7 फरवरी को होगीं आरबीआई की बैठक: गवर्नर   

अकांशु उपाध्याय         नई दिल्ली। 7 फरवरी को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी की अहम बैठक होने वाली है। 9 फरवरी को गवर्नर शक्तिकांत दास एमपीसी की बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी देंगे। ब्रिटिश ब्रोकरेज फर्म का कहना है कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया इस बार रिवर्स रेपो रेट में बढ़ोतरी का ऐलान कर सकता है। उसने कहा कि सिस्टम से एक्सेस लिक्विडिटी को कम करने के लिए आरबीआई यह फैसला उठा सकता है। वर्तमान में रेपो रेट 4 फीसदी है। जबकि रिवर्स रेपो रेट 3.35 फीसदी है। बार्कलेज के मुताबिक, रिवर्स रेपो रेट 0.20-0.25 बेसिस प्वाइंट्स से बढ़ाया जा सकता है।

बार्कलेज ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सरकार ने बजट 2022 पेश करते हुए कैपिटल एक्सपेंडिचर पर फोकस किया है। वित्त वर्ष 2022-23 के लिए कैपिटल एक्सपेंडिचर को 35 फीसदी से बढ़ाया गया है।इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल का भाव लगातार बढ़ रहा है। इसका सीधा असर पेट्रोल-डीजल की रेट पर होता है। हालांकि, 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव के कारण मार्च तक पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोतरी की संभावना नहीं है। उसके बाद ऑयल मार्केटिंग कंपनियां इसे ग्राहकों को पास करेंगी और महंगाई में तेजी से उछाल आएगा। ऐनालिस्ट्स का ये भी कहना है कि ओमिक्रॉन वेरिएंट का इकोनॉमी पर असर बहुत ज्यादा असर नहीं दिख रहा है।ऐसे में रिजर्व बैंक रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट की खाई को कम करने की दिशा में काम करेगा। अभी रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट के बीच 0.65 फीसदी की खाई है।माना जा रहा है कि इस साल रिजर्व बैंक सबसे पहले इस खाई को घटाकर 0.25 फीसदी पर लाएगा। चालू वित्त वर्ष में अगस्त दिसंबर के बीच आरबीआई रेपो रेट 4 फीसदी से बढ़ाकर 4.75 फीसदी तक कर सकता है।

बजट 2022 में निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2020-23 के लिए फिस्कल डेफिसिट का टार्गेट जीडीपी का 6.4 फीसदी रखा है। चालू वित्त वर्ष यानी 2021-22 के लिए डेफिसिट के पहले के 6.8 फीसदी लक्ष्य को बढ़ाकर 6.9 फीसदी कर दिया गया है। रेटिंग एजेंसी फिच ने फिस्कल डेफिसिट के टार्गेट पर सवाल उठाया है। उसने कहा कि फिस्कल डेफिसिट का लक्ष्य 6.1 फीसदी से ज्यादा नहीं रखना चाहिए था। नवंबर में रेटिंग के दौरान उसने अगले वित्त वर्ष के लिए डेफिसिट का अनुमान 6.1 फीसदी रखा था। ऐनालिस्ट्स का कहना था कि अगर फिस्कल डेफिसिट का लक्ष्य ज्यादा रखा जाता है तो आरबीआई को मॉनिटरी पॉलिसी में बदलाव करना होगा। फिच ने कहा कि इमर्जिंग इकोनॉमी में भारत पर सबसे ज्यादा कर्ज का बोझ है। नवंबर 2021 में फिच रेटिंग्स ने भारत की सॉवरिन रेटिंग बीबीबी- के साथ नेगेटिव आउटलुक रखा था। ताजा बयान के मुताबिक, भारत पर कर्ज का बोझ जीडीपी का 90 फीसदी के करीब है।इमर्जिंग इकोनॉमी में जिन देशों की रेटिंग ‘बीबीबी-‘ है, भारत पर सबसे ज्यादा कर्ज का बोझ है। मई 2020 से रेपो रेट 4 फीसदी और रिवर्स रेपो रेट 3.35 फीसदी पर बरकरार है। रेपो रेट वह इंट्रेस्ट रेट होता है। जिसपर आरबीआई बैंकों को लोन बांटता है।रिवर्स रेपो रेट वह इंट्रेस्ट रेट होता जब वह बैंकों से कर्ज लेने पर उन्हें इंट्रेस्ट ऑफर करता है।

'नीट पीजी परीक्षा' को 6-8 सप्ताह के लिए टाला

'नीट पीजी परीक्षा' को 6-8 सप्ताह के लिए टाला  
अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने नीट पीजी परीक्षा 2022 को 6-8 सप्ताह के लिए टाल दी है। परीक्षा 12 मार्च, 2022 को होनी थी। नीट पीजी परीक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी थी। दरसअल, एक याचिका में राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (नीट) पीजी परीक्षा टालने की मांग की गई थी। सुप्रीम कोर्ट में छात्रों के एक समूह ने याचिका दायर कर यह मांग की थी। परीक्षा के आयोजन के लिए नई तिथियों के बारे में मंत्रालय और राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड की समिति 6-8 सप्ताह के बाद समीक्षा कर फैसला लेगी।पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल कोर्स में दाखिले के इच्छुक छात्रों ने याचिका में दावा किया था कि कई एमबीबीएस स्नातक छात्र अनिवार्य इंटर्नशिप अवधि पूरी न होने के कारण मार्च 2022 की नीट परीक्षा नहीं दे पाएंगे। 
इसलिए परीक्षा टाल देनी चाहिए। छह एमबीबीएस स्नातकों द्वारा दुबे लॉ चैंबर्स के माध्यम से दायर याचिका में राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड को निर्धारित परीक्षा को तब तक स्थगित करने का निर्देश देने की मांग की गई थी। जब तक कि पीजी परीक्षा के पात्रता नियमों में निर्धारित उम्मीदवारों की अनिवार्य इंटर्नशिप अवधि को पूरा करने जैसी विभिन्न आवश्यकताओं को पूरा नहीं किया जाता है। याचिकाकर्ताओं छात्रों का कहना था कि सैकड़ों एमबीबीएस स्नातक, जिनकी इंटर्नशिप कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए लगाई गई उनकी ड्यूटी के कारण अटकी हुई थी। ऐसे सैकड़ों छात्र इस अनिवार्य इंटर्नशिप ड्यूटी को पूरी नहीं कर पाने के कारण नीट पीजी 2022 की परीक्षा में शामिल होने से चूक जाएंगे। जबकि इसमें उनकी कोई गलती नहीं है। इसलिए, याचिका में परीक्षा स्थगित करने की मांग की गई है।

'पृथ्वीराज' के रिलीज होने का इंतजार कर रहें अक्षय

'पृथ्वीराज' के रिलीज होने का इंतजार कर रहें अक्षय    

कविता गर्ग          

मुंबई। अक्षय कुमार और मिस वर्ल्ड 2017 रहीं मानुषी छिल्लर की फिल्म पृथ्वीराज को लेकर बवाल रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है। अक्षय जहां इस फिल्म के रिलीज होने का बेसब्री से इंतजार कर रहें हैं। वहीं करणी सेना की मांग है कि इस फिल्म को बैन किया जाए। दरअसल, इलाहाबाद हाईकोर्टे के लखनऊ बेंच ने केंद्रीय सरकार से पूछा कि क्या सेंसर बोर्ड ने फिल्म पृथ्वीराज की रिलीज को लेकर सर्टिफिकेट दे दिया है? कोर्ट का ये ऑर्डर करणी सेना की जनहित याचिका पर आया। जिसमें फिल्म को बैन करने की मांग थी। याचिका में फिल्म को बैन करने की मांग उठी है। क्योंकि उनका दावा है कि फिल्म में पृथ्वीराज की गलत और वल्गर छवि दिखाई जा रही है। इससे लोगों की भावनाओं को आहत पहुंचा है। याचिकाकर्ताओं का ये भी कहना है कि फिल्म के प्रीव्यू से पता चल रहा है कि ये कॉन्ट्रोवर्शियल होगी। अब देखते हैं कि आगे सुनवाई में फिल्म को लेकर क्या फैसला सुनाया जाएगा।

बता दें कि करणी सेना इससे पहले भी बॉलीवुड फिल्म को लेकर अपना विरोध जाहिर कर चुकी है। इससे पहले दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर स्टारर फिल्म पद्मावत को लेकर भी करणी सेना ने काफी विरोध किया था। इस फिल्म को संजय लीला भंसाली ने डायरेक्ट किया था और करणी सेना ने फिल्म के रिलीज वाले दिन भी हर थिएटर के बाहर अपना प्रदर्शन किया था। फिल्म पृथ्वीराज की बात करें तो इसमें अक्षय कुमार के साथ मानुषी छिल्लर लीड रोल में नजर आएंगी। इस फिल्म के जरिए मानुषी बॉलीवुड में डेब्यू कर रही हैं।

फिल्म का टीजर रिलीज हो चुका है और फिल्म को काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला था। टीजर रिलीज के दौरान अक्षय ने कहा था, ‘पृथ्वीराज लीजेंड थे। वह हमारे देश के सबसे निडर और महान राजा थे। हमने उनकी लाइफ को सही तरीके से दिखाने की पूरी कोशिश की है और आशा है कि आप सभी दर्शकों को वो पसंद आएगा। मैं फिल्म को आप सबको दिखाने के लिए काफी एक्साइटेड हूं। जितना मैं उनके बारे में पढ़ता हूं उतना मैं उनका और फैन हो जाता हूं। यश राज द्वारा प्रोड्यूस इस फिल्म को डॉक्टर चंद्रप्रकाश द्विवेदी डायरेक्ट कर रहे हैं। फिल्म इससे पहले इसी साल 21 जनवरी को रिलीज होने वाली थी, लेकिन कोविड की वजह से फिल्म की रिलीज डेट पोस्टपोन हो गई।

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 1,49,394 नए मामलें

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 1,49,394 नए मामलें     
अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। भारत में कोरोना के नए मामलों में एक दिन बाद फिर कमी देखने को मिली है। देश में कोरोना संक्रमण के शुक्रवार को 1,49,394 नए मामलें सामने आए हैं। कल यानी गुरुवार के मुकाबले कोरोना के नए मामलों में आज 13 फीसद की कमी देखने को मिली है। बता दें कि कल कोरोना के 1,72,433 नए मामले सामने आए थे।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि बीते 24 घंटे में कोरोना से 1,072 मरीजों की मौत हुई है। वहीं, इस दौरान 2,46,674 लोग ठीक भी हुए हैं। देश में कोरोना के एक्टिव केस घटकर 14,35,569 हो गए हैं। डेली पाजिटिविटी रेट भी घटकर 9.27% हो गया है। वहीं, कुल मृतकों का आंकड़ा 5,00,055 पहुंच गया है।

मॉल निर्माण के दौरान हुआ हादसा, 7 की मौत

मॉल निर्माण के दौरान हुआ हादसा, 7 की मौत 
कविता गर्ग 
पुणे। पुणे में गुरुवार की देर रात बड़ा हादसा हो गया। इसमें 7 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि 3 मजदूर गंभीर रूप से घायल हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दरअसल, पुणे के येरवडा शास्त्रीनगर वाडिया बंगले के पास बिल्डिंग की स्लैब की जाली गिरने से ये हादसा हुआ। दुर्घटना में 5 मजदूरों की मृत्युत घटनास्थल पर हो गई थी। ऐसी जानकारी ट्रैफिक पुलिस उपायुक्त राहुल श्रीरामे ने दी।

इस घटना के बारे में राहुल श्रीरामे द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, वाडिया बंगले के पास एक मॉल का निर्माण कार्य रात 10.30 बजे शुरू था। इसी दौरान ये हादसा हुआ, जिसमें 10 मजदूर गंभीर रूप से घायल हुए। जिनमें से अबतक कुल 7 की मौत हो चुकी है। ये मजदूर कहां से थे और कुल कितने मजदूर थे, इसकी जांच की जा रही है। अग्निशामक दल की मदद से घटना स्थल पर सहायता पहुंचाई गई।

नाबालिग बेटियों को तीसरी मंजिल से फेंका, मौत

नाबालिग बेटियों को तीसरी मंजिल से फेंका, मौत

अविनाश श्रीवास्तव

पटना। दिल को झकझोर देने वाली दुखद खबर पटना सिटी के बहादुरपुर थाना इलाके से आयी है। यहां बाजार समिति के पास तीन मंजिला मकान से दो नाबालिग बच्चियों को युवक ने गुरुवार की रात फेंक दिया है। इस दौरान एक बच्ची की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी, जबकि दूसरे को इलाज के लिए पीएमसीएच अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत चिंताजनक बताई जा रही है।

पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ कर रही है। इधर आक्रोशित लोग सड़क जाम कर आरोपी के खिलाफ आक्रोश प्रकट कर रहे हैं। थाना का घेराव भी लोगों की ओर से किया जा रहा है। पुलिस गिरफ्तार युवक से यह जानने की कोशिश कर रही है कि उसने आखिर ऐसा किया क्यूं।

मानव शरीर के कुछ रोचक तथ्यों की जानकारी


मानव शरीर के कुछ रोचक तथ्यों की जानकारी 

तराशा अग्रवाल

हमारे शरीर की आवश्यक जानकारी हमें पता न हो तो ये अच्छी बात नही हैं। मानव शरीर हमेशा से एक पहेली बनी हुई है। इस पोस्ट में हम आपको मानव शारीर के रोचक तथ्य बताने जा रहे है। यह जानकारी पूरी नहीं है क्योंंकि वह जानकारी बहुत बड़ी हैं।
  1. शरीर की सबसे बड़ी हड्डी जांघ की हड्डी (femur) होती है। सामान्य व्यक्ति की जांघ की हड्डी लगभग 48 से.मी. लम्बी होती है।

  2. शरीर की सबसे छोटी हड्डी कान की स्टअप (stirrup) हड्डी होती है।

  3. मनुष्य के शरीर में दो फेफड़े होते हैं। दाहिना फेफड़ा बायें फेफड़े से बड़ा होता है।

  4. शरीर में सबसे बड़ा ग्लैंड जिगर/यकृत (liver) है।

  5. मनुष्य के शरीर में लगभग 650 मांसपेशियां होती है।

  6. वयस्क पुरुष के मस्तिष्क का वजन लगभग 1400 ग्राम होता है।

  7. छोटी आंत लगभग 7 मीटर लम्बी होती है और उसका व्यास लगभग 2.5 से.मी. होता है।

  8. प्रोटीन शरीर के बढ़ने में सहायता देते हैं।

  9. कार्बोहाइड्रेट्स और वसा (fats) शरीर को ऊर्जा देते हैं। 

  10. सामान्य व्यक्ति के हृदय का वजन लगभग 350 ग्राम होता है।

  11. हृदय की रक्त पंप करने की क्षमता प्रति मिनट लगभग 4.5 लिटर होती है।

  12. सामान्य वयस्क के हृदय की धड़कन एक मिनट में. 70-72 बार होती है।

  13. बच्चे के हृदय की धड़कन वयस्क से ज्यादा होती है।

  14. मानव शरीर में लगभग 60 प्रतिशत जल होता है- मस्तिष्क में 85 प्रतिशत जल है, रक्त में 79 प्रतिशत जल है तथा फेफड़ों में लगभग 80 प्रतिशत जल होता है।

  15. जो हवा हम सांस के द्वारा अन्दर ले जाते हैं, उसमें 21% ऑक्सीजन और 0.03% कार्बन डाइऑक्साइड होती है।

  16. जो हवा हम सांस के द्वारा बाहर छोड़ते हैं उसमें 16% ऑक्सीजन और 4.5% कार्बन डाइऑक्साइड होती है।

  17. शान्ति से बैठा या लेटा हुआ मनुष्य प्रति मिनट 15 या 16 बार सांस लेता है। 

  18. नवजात शिशु प्रति मिनट लगभग 45 बार सांस लेता है और 6 साल का बच्चा लगभग 25 बार सांस लेता है।

  19. एक बार सांस अन्दर लेने में सामान्य वयस्क लगभग 500 मि.लि. हवा अन्दर ले जाता है।

  20. हमारे शरीर में पित्त (bile) यकृत (liver) में बनता है और गाल ब्लैडर (gall blader) में इकट्ठा रहता है।

  21. शरीर के भीतर रक्त परिभ्रमण (blood circulation) में लगभग 23 सेकेण्ड का समय लगता है।

  22. कोशिकाओं तक आक्सीजन पहुंचाने का काम हेमोग्लोविन (haemoglobin) करता है।

  23. शरीर के भीतर प्रति सेकेण्ड लगभग 150 लाख कोशिकायें नष्ट होती हैं।

  24. छोटी आंत लगभग 7 मीटर लम्बी होती है और उसका व्यास लगभग 2.5 से.मी. होता है।

  25. प्रोटीन शरीर के बढ़ने में सहायता देते हैं।

  26. कार्बोहाइड्रेट्स और वसा (fats) शरीर को ऊर्जा देते हैं।

  27. सामान्य व्यक्ति के हृदय का वजन लगभग 350 ग्राम होता है।

  28. व्यायाम, कड़े परिश्रम और उत्तेजना के समय धड़कन बढ़ जाती है।

  29. एक सामान्य वयस्क पुरुष के शरीर में लगभग 4.5 से 5 लीटर रक्त होता है।
  30. मनुष्य के रक्त को चार वर्गों में बांटा गया है – A, B, AB और O ।

  31. जिस व्यक्ति का रक्त O वर्ग का हो, वह सभी वर्गों के रक्त वालों को अपना रक्त दे सकता है।

  32. शरीर में रक्त की लाल कोशिकायें बोन मैरो (bone) marrow) में पैदा होती है।

  33. शरीर में रक्त को जमने में मदद करने वाला पदार्थ फिब्रिनोजिन (fibrinogen) है।

  34. हमारे कान में लेब्रिन्थ नाम का अंग है, जिसमें पेरीलिम्फ नामक तरल पदार्थ होता है, जो हमारे शरीर के संतुलन को नियमित करता है।

  35. शरीर में सबसे दृढ़ (मजबूत) तत्त्व दांतों का एनामिल होता है।

  36. हमारे शरीर में अन्तःस्रावी ग्रन्थियों (endocrine glands) से हार्मोन्स पैदा होते हैं।

  37. हमारे शरीर में तापमान का नियंत्रण मस्तिष्क के क हाईयलमस नामक भाग से होता है।

  38. रक्त की सफेद कोशिकायें (WBC) इन्फेक्शन से लड़कर उसे समाप्त करने का काम करती है।

  39. आंख के भीतर प्रकाश के प्रति संवेदनशील अंग का नाम रेटिना (retina) है।

  40. छींकते समय आंख खुली नहीं रखी जा सकतीं।

सूटकेस में बंद की गर्लफ्रेंड, चेकिंग में पकड़ा गया

सूटकेस में बंद की गर्लफ्रेंड, चेकिंग में पकड़ा गया 


सैयद आमीन


बेंगलुरु। फरवरी में वैलेंटाइन वीक शुरू होनेवाला है। इस बीच कर्नाटक में मणिपाल के रहने वाले एक लड़के का वीडियो वायरल हो गया। जिसको देखने के बाद हर कोई हैरान है कि आखिर ये कैसा हो सकता है। सूटकेस में एक लड़का अपनी गर्लफ्रेंड को बंद कर ले जा रहा था, मगर चेकिंग के दौरान पकड़ा गया।

सूटकेस के अंदर गर्लफ्रेंड!
सोशल मीडिया पर एक वीडियो बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है। इसके बारे में दावा किया जा रहा है कि कर्नाटक के मणिपाल का है। जहां एक छात्र कथित तौर पर अपनी गर्लफ्रेंड को सूटकेस के अंदर छिपाकर आधी रात को हॉस्टल से बाहर निकल रहा था। तभी किसी ने गार्ड को सूचना दे दी। हॉस्टल के गार्ड ने जब सूटकेस की चेकिंग की तो उसकी ये हरकत पकड़ी गई।

गार्ड ने खोली कपल की पोल
सूटकेस से लड़की के निकलने का वीडियो ट्विटर पर जमकर यूजर्स शेयर कर रहे हैं, हालांकि एनबीटी इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। वायरल वीडियो के साथ-साथ मणिपाल सूटकेस भी ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा। इस घटना से जुड़े छात्र और उसके कॉलेज के नामों का खुलासा नहीं किया गया है। वीडियो में दावा किया गया है कि एक स्टूडेंट अपनी लवर को सूटकेस में बंद करके हॉस्टल से बाहर निकालने की तरकीब निकाली, लेकिन पकड़ा गया।

पुराना वीडियो फिर वायरल!
वीडियो में दिख रहा है कि लड़के से गेट पर सूटकेस के बारे में पूछताछ की जा रही है। जाहिर है उससे सूटकेस खोलने के लिए गार्ड ने कहा था। उसने बिना मन का सूटकेस खोला तो उसमें से एक लड़की निकली। वायरल वीडियो को कर्नाटक के मणिपाल के छात्रों का बताया जा रहा है। वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि ये 2019 का है।

बीजेपी ने 3 विधानसभा प्रत्याशियों की घोषणा की

बीजेपी ने 3 विधानसभा प्रत्याशियों की घोषणा की   

आदर्श श्रीवास्तव        

सीतापुर। यूपी के सीतापुर में बीजेपी ने तीन विधानसभा के प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी है। इसमें बीजेपी ने सीतापुर सदर सीट से एक साधारण कार्यकर्ता को टिकट दिया है। ये कार्यकर्ता स्कूटर बनाने का मिस्त्री है। जो सालों से बीजेपी के साथ जुड़ा हुआ है। बीजेपी ने स्कूटर मिस्त्री को प्रत्याशी बनाकर हैरान कर दिया है।महोली से विधायक शशांक त्रिवेदी को दोबारा टिकट दिया गया है। इतना ही नहीं सिधौली विधानसभा से सपा छोड़कर आए पूर्व विधायक मनीष रावत को बीजेपी ने टिकट देकर प्रत्याशी बनाया है। सीतापुर सदर सीट से राकेश राठौर गुरु जो बीजेपी के साधारण कार्यकर्ता हैं और स्कूटर बनाने के मैकेनिक हैं। उन्हें टिकट देकर बीजेपी ने सदर विधानसभा से उतारा है।

बीजेपी सीतापुर सदर से राकेश राठौर गुरु को प्रत्याशी बनाकर चुनाव मैदान में उतारा है। आपको बता दें कि राकेश राठौर गुरु 1980 से स्कूटर बनाने के मिस्त्री हैं और स्कूटर बनाने का काम करते हैं। वह पिछले कई वर्षों से बीजेपी के साधारण कार्यकर्ता के रूप में काम कर रहे हैं। टिकट मिलने के बाद वो खुद पर भरोसा नहीं कर पा रहे हैं। राठौर मोदी और योगी को धन्यवाद दे रहे हैं। सीतापुर सदर बीजेपी से प्रत्याशी राकेश राठौर गुरु के बेटे ने पीएम मोदी और सीएम योगी को धन्यवाद देते हुए कहा कि एक छोटे से कार्यकर्ता और स्कूटर बनाने वाले मिस्त्री को टिकट देकर बीजेपी ने यह बता दिया है कि छोटे कार्यकर्ता का भी सम्मान होता है।

बीजेपी के नेता साकेत मिश्रा को टिकट ना मिलने के बाद उनके समर्थकों और कार्यकर्ताओं में नाराजगी व्याप्त है। समर्थक फेसबुक पर एक अभियान चलाकर बीजेपी नेता साकेत मिश्रा से निर्दलीय चुनाव लड़ने की मांग कर रहे हैं, तो वहीं साकेत मिश्रा ने भी टिकट कटने के बाद सोशल मीडिया प्रपोज डालकर जनता का सुझाव मांगा है। फिलहाल टिकट कटने से साकेत मिश्रा के समर्थकों में नाराजगी देखने को मिल रही है। जिसको लेकर उनके समर्थक फेसबुक पर तरह-तरह की चर्चाएं कर रहे हैं।

शीर्ष नेतृत्व एक कमजोर सीएम चाहते हैंः सिद्धू

शीर्ष नेतृत्व एक कमजोर सीएम चाहते हैंः सिद्धू 

अमित शर्मा               चंडीगढ़। पंजाब के लिए कांग्रेस के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा राहुल गांधी रविवार को करने वाले हैं। इससे पहले शीर्ष दो दावेदारों में से एक, नवजोत सिंह सिद्धू ने आलाकमान को एक कड़ा संदेश भेजा है। उन्होंने कल कहा, “शीर्ष पर बैठे लोग” एक कमजोर मुख्यमंत्री चाहते हैं, जो उनकी धुन पर नाच सके। उन्होंने कहा, “नया पंजाब बनाना है तो मुख्यमंत्री के हाथ में है। इस बार आपको मुख्यमंत्री चुनना है। शीर्ष पर बैठे लोग एक कमजोर मुख्यमंत्री चाहते हैं। जो उनकी धुन पर नाच सके। क्या आप ऐसा मुख्यमंत्री चाहते हैं?” सिद्धू ने गुरुवार को अपने समर्थकों को पंजाबी में कहा। जाहिर तौर पर गांधी परिवार पर साधे गए इस निशाने पर वहां मौजूद लोगों ने सिद्धू के समर्थन में नारेबाजी की।

सूत्रों का कहना है कि पार्टी के सर्वे में चन्नी सबसे आगे चल रहे हैं। बता दें कि इस सर्वे में कांग्रेस ने प्रत्याशियों, कार्यकर्ताओं, सांसदों और विधायकों से राय जानने की कोशिश की। बता दें कि मुख्यमंत्री पद के चेहरे को लेकर दो ही नामों पर तेजी से चर्चा चल रही थी। सूत्रों का कहना है कि नवजोत सिंह सिद्धू को इस मामले में वरीयता नहीं दी जाएगी। सिद्धू को लंबे समय से मुख्यमंत्री पद चाह रहे है, पिछले साल सितंबर महीने में जब पार्टी ने अमरिंदर सिंह को बर्खास्त कर दिया था। तब उन्होंने अपने इस सपने को लगभग पूरा कर लिया था। लेकिन तभी पार्टी ने चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बना दिया।
चन्नी को अब सिद्धू को पीछे छोड़ते हुए देखा गया है। जो एक बहुत ही सार्वजनिक प्रतिद्वंद्विता रही है। कांग्रेस ने 20 फरवरी को होने वाले पंजाब चुनाव के लिए चन्नी को दो निर्वाचन क्षेत्र सौंपे हैं। जो इस बात का संकेत है कि वह मुख्यमंत्री के लिए पार्टी की पसंद हो सकते हैं और एक सीट पर हारने की स्थिति में उन्हें बैकअप दिया गया है।

एमएसपीः 5 राज्यों में चुनाव के बाद बनेगी कमेटी

एमएसपीः 5 राज्यों में चुनाव के बाद बनेगी कमेटी 
अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। भारत सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य तय करने के लिए समिति बनाएगी। जिसका गठन 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों के बाद होगा। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने राज्यसभा में अहम जानकारी देते हुए बताया है कि केंद्र सरकार एमएसपी को पारदर्शी बनाने के लिए समिति बनाने की घोषणा करेगी। ये घोषणा पांचों राज्यों में विधानसभा चुनाव के बाद की जाएगी। नवंबर 2021 में केंद्र सरकार के तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने के बाद किसान न्यूनतम समर्थन मूल्य की मांग पर अड़ गए थे। नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि 2018-19 से पहले ऐसा कोई प्रावधान नहीं था कि न्यूनतम समर्थन मूल्य को किसानों के लिए लाभकारी बनाया जाए।

एमएसपी यानी मिनिमम सपोर्ट प्राइस या फिर न्यूनतम समर्थन मूल्य। केंद्र सरकार फसलों की एक न्यूनतम कीमत तय करती है, इसे ही न्यूनतम समर्थन मूल्य कहा जाता है। अगर बाजार में फसल की कीमत कम भी हो जाती है, तो भी सरकार किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य के हिसाब से ही फसल का भुगतान करेगी। फसलों की मिनिमम सपोर्ट प्राइस कमीशन फॉर एग्रीकल्चरल कॉस्ट्स एंड प्राइसेस तय करता है। आयोग समय के साथ खेती की लागत और बाकी पैमानों के आधार पर फसलों की कम से कम कीमत तय करके अपने सुझाव सरकार के पास भेजता है।

पंजाब सीएम के भतीजे को ईडी ने किया अरेस्ट

पंजाब सीएम के भतीजे को ईडी ने किया अरेस्ट


अमित शर्मा 

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे भूपिंदर सिंह हनी को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दिनभर की पूछताछ के बाद गुरुवार की शाम को गिरफ्तार कर लिया है। सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी है। आपको बता दें कि हनी पर अवैध रेत खनन के आरोप लगे हैं।

ईडी अधिकारियों ने उनसे आठ घंटे तक पूछताछ की। भूपिंदर के घर से 7.9 करोड़ रुपये और उसके सहयोगी संदीप कुमार के परिसर से 2 करोड़ रुपये जब्त किए गए थे। ईडी अधिकारी भूपिंदर सिंह 'हनी' और संदीप सहित उसके दो सहयोगियों से फिर से जब्त की गई नकदी के स्रोत के बारे में पूछताछ करेंगे। अवैध रेत खनन रैकेट के इर्द-गिर्द मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में तीनों की जांच की जा रही है। आशंका जताई जा रही है कि धन शोधन और अवैध बालू खनन के लिए मुखौटा कंपनियों का इस्तेमाल किया जा रहा था। प्रवर्तन निदेशालय की जांच में पता चला है कि भूपिंदर सिंह, कुदरतदीप सिंह और संदीप कुमार प्रोवाइडर्स ओवरसीज सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक हैं।

इस कंपनी की स्थापना अक्टूबर 2018 में हुई थी। छह महीने बाद कुदरतदीप सिंह के खिलाफ अवैध बालू खनन मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई थी। ईडी को संदेह है कि रेत खदान का ठेका दिलाने में काले धन का निवेश किया गया था। सूत्रों का कहना है कि कंपनी बहुत छोटे पैमाने की है और करोड़ों का ठेका मिलने की संभावना नहीं है। एक बयान में, प्रवर्तन निदेशालय ने कहा था कि अवैध रेत खनन और संपत्ति लेनदेन, मोबाइल फोन, 21 लाख रुपये से अधिक के सोने और 12 लाख रुपये की रोलेक्स घड़ी से संबंधित अपमानजनक दस्तावेज भी तलाशी के दौरान जब्त किए गए थे। पंजाब विधानसभा के 117 सदस्यों के चुनाव के लिए 20 फरवरी को मतदान होगा। मतगणना 10 मार्च को होगी।

गोरखपुर शहर सीट से सीएम योगी का नामांकन

गोरखपुर शहर सीट से सीएम योगी का नामांकन  


संदीप मिश्र     

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए शुक्रवार को गोरखपुर (शहरी) से अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। सीएम योगी के साथ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के शीर्ष नेता भी थे। जब उन्होंने आज अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। एक रैली के बाद, अमित शाह और आदित्यनाथ चुनाव के लिए कागजात जमा करने के लिए कलेक्ट्रेट कार्यालय गए। आदित्यनाथ पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने इससे पहले पांच बार गोरखपुर लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व किया था। गोरखपुर शहरी सीट पर छठे चरण में 3 मार्च को मतदान होना है।

उत्तर प्रदेश में पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को, दूसरे चरण का 14 फरवरी को, तीसरे चरण का 20 फरवरी को, चौथे चरण का 23 फरवरी को, पांचवें चरण का 27 फरवरी को, छठे चरण का 3 मार्च को मतदान होगा। सातवें चरण में 7 मार्च को वोटों की गिनती 10 मार्च को होगी।

विपक्ष लगाए कितना जोर, भाजपा 300 पार

विपक्ष लगाए कितना जोर, भाजपा 300 पार


संदीप मिश्र 

लखनऊ/गोरखपुर। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में भारतीय जनता पार्टी के प्रचार अभियान को धार देने के साथ कायकर्ता का हौसला बढ़ाने के अभियान में लगे गृह मंत्री अमित शाह गोरखपुर पहुंचे। सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ अन्य दिग्गजों ने उनका स्वागत किया। भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन में गृह मंत्री अमित शाह के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जोश भरा। अमित शाह ने साफ कहा कि विपक्ष कितनी भी कोशिश कर ले, भाजपा 300 से ऊपर सीट पाएगी। उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कानून का शासन स्थापित किया। अब माफिया जेल में हैं। बड़े अपराधी जमानत तुड़वाकर जेल जा रहे है। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ ने सुशासन दिया है। अतीक अहमद मुख्तार अंसारी जैसेम माफिया जेल में हैं।

अमित शाह ने कहा कि पीएम मोदी ने गरीबों के घर में उजाला किया है। बिजली दी और कोरोना संक्रमण काल में मुफ्त टीका दिया है। हमने दो साल तक गरीबों को राशन दिया है। प्रदेश में केन्द्र सरकार की सभी 73 योजनाओं का योगी आदित्यनाथ सरकार ने ही ठीक से उपयोग किया। जिससे आज प्रदेश में हर तरफ खुशहाली और विकास दिखाई दे रहा है। इन योजनाओं के क्रियान्वयन में यूपी शीर्ष पांच में है। वह दिन दूर नहीं जब योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश सभी में शीर्ष राज्य होगा। विपक्ष यहां पर कितनी भी कोशिश कर ले, भाजपा 300 से ऊपर सीट पाएगी। शाह ने कहा कि बुआ-बबुआ की सरकार में जापानी इंसेफेलाइटिस से होने वाली मौतों का सिलसिला पूरे पूर्वांचल में जारी रहा। योगी आदित्यनाथ की सरकार आते ही 5 साल में यह रोग 90 प्रतिशत कम हो गया। भाजपा के शासन में ही यूपी का विकास हो सकता है, इसलिए हम सब को जिताने के लिए तैयार हो जाएं और प्रचंड बहुमत से जीत दिलाएं क्योंकि योगी की सरकार ही गरीब पिछड़ों और दलितों को ऊपर ले जाएगी और प्रदेश को नंबर एक बनाएगी। संबोधन शुरू करने से पहले गृह मंत्री ने कार्यकर्ताओं से जयकारा लगावाया। उन्‍होंने कहा कि जयकारे की गूंज सहारनपुर तक पहुंचनी चाहिए। गृह मंत्री ने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले 2013 में जब वह गोरखपुर आए थे तो लोगों ने कहा कि क्‍या पार्टी डबल डिजिट में पहुंच पाएगी। आज यह हालत विपक्ष की हो गई है।

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, सांसद रवि किशन, कमलेश पासवान, विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष युधिष्ठिर सिंह, महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता ने गृह मंत्री अमित शाह का एयरफोर्स स्टेशन पर स्वागत किया। भारतीय जनता पार्टी के चाणक्य माने जाने वाले अमित शाह गोरखपुर के एयरपोर्ट से सीधा कार्यकर्ता सम्मेलन में पहुंचे। कार्यकर्ता सम्मेलन के मंच पर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के प्रभारी केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने उनका स्वागत किया।

योगी आदित्यनाथ के नामांकन की तैयारी

प्रदेश में चार फरवरी से शुरू हो रही छठे चरण की नामांकन प्रक्रिया के पहले दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नामांकन करेंगे। इसके लिए चार सेट में नामांकन पत्र खरीदे गए हैं। नामांकन कराने गृह मंत्री अमित शाह आए हैं। महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज से कचहरी के लिए योगी आदित्यनाथ के साथ अमित शाह भी पैदल जाएंगे।

कोरोना, अंतिम स्टेज में पहुंचे कैंसर के मरीज

कोरोना, अंतिम स्टेज में पहुंचे कैंसर के मरीज 

मोहम्मद रियाज 

नई दिल्ली। हर साल 4 फरवरी को विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है। दुनियाभर में कैंसर से हर साल लाखों लोगों की मौत होती है। कोरोना महामारी के बाद से कैंसर के मरीजों की स्थिति काफी खराब हो गई है। संक्रमण के डर के वजह से कैंसर के लक्षण वाले रोगी समय पर अस्पताल नहीं पहुंचे। इससे उनकी स्थिति काफी बिगड़ गई। अब हालात ऐसे हो गए हैं कि कई मरीजों का कैंसर आखिरी स्टेज में पहुंच गया है। इससे यह लोग जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहे हैं।

फोर्टिस रिसर्च इंस्टीट्यूट के ऑनकोलॉजी विभाग के डॉक्टर नितेश रस्तोगी ने बताया कि कोविड के बाद कैंसर के उपचार और निदान में काफी बदलाव देखा गया है। कोरोना से पहले देखा जाता था कि स्‍तन, अंडाशय और कोलोरेक्‍टल कैंसर के मरीजों के कैंस का शुरुआती स्टेज में ही पता चल जाता था और इलाज भी हो जाता था, लेकिन कोरोना के डर के कारण लोग अस्पताल आने से बचते रहे। उन्हें कैंसर से ज्यादा डर कोरोना से लगा। इसलिए मरीज समय पर अस्पताल नहीं आए। इस कारण अब हालत बिगड़ने पर वह आखिरी स्टेज में मरीज़ अस्‍पताल पहुंच रहे हैं। ऐसे में उनके इलाज में काफी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है। डॉ. नितेश ने कहा कि कोरोना के समय इन मरीजों को महसूस हो गया था कि उनके स्‍वास्‍थ्‍य में कुछ गड़बड़ हुई है, लेकिन वे कोविड से संक्रमित होने के डर की वजह से अस्‍पताल जाने और डॉक्‍टरों से सलाह लेने से बचते रहे थे।

कोरोना की वजह से इलाज का खर्च भी बढ़ा

डॉ. नितेश ने कहा कि कोरोना के कारण इलाज में हुई देरी की वजह से इलाज का खर्च बढ़ गया। उपचार के चलते पैदा होने वाले साइड इफेक्‍ट्स (Side effects) भी और जटिल हुए। डॉ. नितेश का कहना है कि कोरोना की वजह से कैंसर जैसी  बीमारी का इलाज ना कराना घातक साबित हो सकता है। कोरोना नहीं भी हुआ तो कैंसर जानलेवा बन सकता है। इसलिए अब समय आ गया है कि लोगों इस बारे में जागरूक हो। कैंसर के लक्षण दिखने पर तुरंत इलाज शुरू कराएं। डॉक्‍टरों के साथ मिलकर या वर्चुअल आधार पर सलाह भी लें सकते हैं।

कैंसर मरीजों का इलाज बडे़ स्तर पर प्रभावित हुआ

आकाश हेल्थकेयर के ऑनकोलॉजी डिपार्टमेंट हेड डॉक्टर प्रवीण जैन बताते हैं कि  कोविड-19 महामारी ने कैंसर मरीजों के इलाज़ को बुरी तरह से प्रभावित किया है। कई अस्पतालों में कैंसर मरीजों की रूटीन केयर तक में रुकावट आई है। इस वजह से गंभीर कैंसर मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा है। संक्रमण के डर की वजह से पूरी तरह से सुरक्षा उपकरण पहनकर मरीजों का इलाज़ किया गया। कैंसर मरीजों को इस बीमारी से तो खतरा था कि लेकिन कम इम्यूनिटी के कारण उनको कोविड होने का डर भी सबसे ज्यादा था। कई कैंसर के मरीज कोविड के डर के कारण समय पर इलाज़ भी नहीं करा रहे थे। इस समस्या से निपटने के लिए हमने कैंसर मरीजों के साथ भी संपर्क बनाए रखा। उन्हें प्रोत्साहित किया कि वे कोविड की चिंताओं के कारण इलाज़ को बीच न छोड़े।

एम्स की ओपीडी में  कैंसर मरीज 51 फीसदी कम हुए

कोरोना महामारी के कारण कैंसर का इलाज इस कदम प्रभावित हुआ है कि दिल्ली एम्स की ओपीडी में कैंसर मरीज 51 फीसदी तक कम हो गए हैं। एम्स के सर्जिकल ऑन्कोलॉजी विभाग के प्रोफेसर एस. वी. एस देव के एक शोधपत्र में यह जानकारी सामने आई है। इसके मुताबिक, एम्स की ओपीडी में कोरोना काल से पहले साल 2019 में 179500 कैंसर मरीज फॉलोअप के लिए आए और 13728 नए मरीज पंजीकृत हुए थे, जबकि कोरोना काल के दौरान साल 2020 में ओपीडी में सिर्फ 79800 कैंसर मरीज फॉलोअप के लिए आए और 6675 ही नए कैंसर मरीजों ने रजिस्ट्रेशन कराया।

यह हैं कैंसर के लक्षण

राजीव गांधी कैंसर अस्पताल के डॉक्टर विनीत तलवार बताते हैं कि कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसमें शरीर में अनियंत्रित रूप कोशिकाएं बढ़ने लगती हैं। कैंसर शरीर में कहीं भी हो सकता है। अगर इनमें से दो-तीन लक्षण भी दिख रहे हैं तो तुकंत डॉक्टरों की  सलाह लेनी चाहिए।

अचला सप्तमी को मनाई जाएगी सूर्य जयंती

अचला सप्तमी को मनाई जाएगी सूर्य जयंती

सरस्वती उपाध्याय 

सनातन धर्म के अनुसार हर एक दिन किसी ना किसी भगवान को समर्पित माना जाता है। हर एक देवी-देवता को जो भी दिन समर्पित हैं, उनको भक्त भी खास रूप से पूजा-अर्चना के साथ मनाते हैं। ऐसे में माघ का मास पूजा-पाठ के लिए काफी खास माना जाता है। हिंदू कैलेंडर के आधार पर माघ शुक्ल सप्तमी तिथि को अचला सप्तमी का व्रत रखा जाता है। अचला सप्तमी रथ सप्तमी या सूर्य जयंती भी कहते हैं। इस दिन सूर्य देव की पूजा करते हैं और उनको जल अर्पित करते हैं। कहते हैं कि इस दिन अगर भक्त पूरी श्रद्धा और निष्ठा के साथ पूजा करते हैं तो सूर्यदेव की कृपा से रोग दूर होता है, धन-धान्य में वृद्धि होती है।

इस दिन पूजा करने से जीवन के हर प्रकार के कष्टों से मुक्ति मिलती है। माना जाता है कि माघ माह के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को सूर्य देव अपने सात घोड़े वाले रथ पर सवार होकर प्रकट हुए थे और पूरी सृष्टि को प्रकाशित किया था। जिस कारण से ही हर साल माघ मास ही शुक्ल सप्तमी को अचला सप्तमी, रथ सप्तमी या सूर्य जयंती के रूप में मनाया जाता है। तो आइए जानते हैं कि साल 2022 में अचला सप्तमी कब है और पूजा मुहूर्त क्या है ?

हिन्दू कैलेंडर के के अनुसार, माघ मास की शुक्ल सप्तमी की तिथि 07 फरवरी को प्रात: काल 04 बजकर 37 मिनट से शुरु हो रही है, जो कि 08 फरवरी को सुबह 06 बजकर 15 मिनट तक मान्य होगी। इसके साथ ही सूर्य देव का उदय 07 फरवरी को सप्तमी तिथि में ही हो रहा है, इस कारण से अचला सप्तमी को 07 फरवरी दिन सोमवार को मनाया जाएगा।

इसके साथ ही बता दें कि अचला सप्तमी के दिन सूर्य देव की पूजा का महत्व है। सूर्य पूजा का शुभ मुहूर्त प्रात: 05:22 बजे से लेकर प्रात: 07:06 बजे तक है। इस दिन प्रात: स्नान करके सूर्य देव को जल में लाल फूल, लाल चंदन, अक्षत्, चीनी आदि मिलाकर ओम सूर्य देवाय नमः मंत्र का उच्चारण करते हुए अर्पित करें।

अचला सप्तमी को सूर्यदेव को खुश करने के लिए भक्त खास रूप से व्रत रखते हैं। आपको बता दें कि इस दिन सूर्य देव को प्रसन्न करके आप प्रभु से उत्तम स्वास्थ्य एवं धन धान्य का आशीर्वाद प्राप्त करने की प्रार्थना करें। सूर्य देव की कृपा से संतान की प्राप्ति भी होती है। माना जाता है कि इस दिन सूर्य देव को प्रसन्न करने के लिए आप आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ कर सकते हैं। कहा जाता है कि खुद प्रभु श्रीराम ने सूर्य देव की पूजा के समय इसका अनन्त फल देने का पाठ किया था।


सरस्वती पूजा, ऋतुराज बसंत फूलों पर बाहर

सरस्वती पूजा, ऋतुराज बसंत फूलों पर बाहर


सरस्वती उपाध्याय             

प्राचीन भारत और नेपाल में पूरे साल को जिन छह मौसमों में बाँटा जाता था उनमें वसंत लोगों का सबसे मनचाहा मौसम था। जब फूलों पर बहार आ जाती, खेतों में सरसों का फूल मानो सोना चमकने लगता, जौंं और गेहूं की बालियाँ खिलने लगतीं, आमों के पेड़ों पर मांजर (बौर) आ जाता और हर तरफ रंग-बिरंगी तितलिियां मँडराने लगतीं। भर-भर भंवरे भंवराने लगते। वसंत ऋतु का स्वागत करने के लिए माघ महीने के पाँचवे दिन एक बड़ा जश्न मनाया जाता था जिसमें विष्णु और कामदेव की पूजा होती हैं। यह वसंत पंचमी का त्यौहार कहलाता था।  

बसंत पंचमी का पर्व हर साल माघ माह के शुक्ल-पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। इस बार बसंत पंचमी 5 फरवरी, शनिवार के दिन पड़ रही है। इस दिन मां सरस्वती की पूजा-अर्चना कर उनका आशीर्वाद प्राप्त किया जाता है। मां को इस दिन पीले रंग के वस्त्र, पीले पुष्प, गुलाल, अक्षत, धूप, दीप, गंध आदि अर्पित किए जाते हैं। मान्यता है कि इस दिन मां सरस्वती कमल पर विराजमान होकर हाथ में वीणा लेकर और पुस्तक धारण करके प्रकट हुई थीं।

तब से ही माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को बसंत पंचमी का पर्व मनाया जाता है। मान्यता है कि इस दिन मां शारदे की पूजा करने से मां प्रसन्न होकर भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करती हैं। जिन भक्तों पर मां शारदे की कृपा बरसाती हैं। उन्हें कला, संगीत और शिक्षा के क्षेत्र में बेशुमार सफलता मिलती है। बसंत पंचमी के दिन मां को जल्दी प्रसन्न करने के लिए सरस्वती वंदना और सरस्वती मंत्रों का जाप अवश्य करें।

सभी राशियों पर शुभ-अशुभ प्रभाव पड़ेगा: ज्योतिष

सभी राशियों पर शुभ-अशुभ प्रभाव पड़ेगा: ज्योतिष  

तीर्थराज पांंडेय          ज्योतिष में राशि परिवर्तन को बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। राशि परिवर्तन का सभी राशियों पर शुभ- अशुभ प्रभाव पड़ता है। फरवरी माह में सूर्य, शुक्र और मंगल राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं। 13 फरवरी को सूर्य राशि परिवर्तन करेंगे। सूर्य के बाद 26 फरवरी को मंगल राशि परिवर्तन करेंगे। मंगल 26 फरवरी को मकर राशि में प्रवेश करेंगे। मंगल के बाद 27 फरवरी को शुक्र भी मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे। आइए जानते हैं सूर्य, शुक्र और मंगल के राशि परिवर्तन से किन राशि वालों को शुभ फल की प्राप्ति होगीं।

सिंह राशि: नौकरी और व्यापार में तरक्की के योग बन रहे। धन- लाभ हो सकता है। लेन-देन के लिए समय शुभ है। इस समय निवेश करना शुभ रहेगा। नौकरी और व्यापार में तरक्की के योग बन रहे हैं। स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है।

कन्या राशि: कार्यों में सफलता के योग बन रहे हैं। भाग्य का साथ मिलेगा। नौकरी और व्यापार के लिए समय शुभ रहेगा। आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना होगी। परिवार के सदस्यों के साथ समय व्यतीत करने का अवसर मिलेगा। दांपत्य जीवन में सुख का अनुभव करेंगे।

वृश्चिक राशि: नौकरी और व्यापार के लिए समय शुभ है। मान-सम्मान मिलेगा। कार्यों में सफलता मिलेगी। दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। परिवार के सदस्यों के साथ समय व्यतीत करेंगे।

मकर राशि: धन-लाभ होगा, जिससे आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। व्यवसाय में लाभ के योग बनेंगे। भाई-बहन से मदद मिल सकती है। साहस और पराक्रम में वृद्धि होगी। मान-सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। जीवनसाथी के साथ समय व्यतीत करने का अवसर मिलेगा।

मीन राशि: कार्यों में सफलता के योग बन रहे हैं। भाग्य का साथ मिलेगा। नौकरी और व्यापार के लिए समय शुभ रहेगा। आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना होगी। परिवार के सदस्यों के साथ समय व्यतीत करने का अवसर मिलेगा। दांपत्य जीवन में सुख का अनुभव करेंगे। परिवार से अचानक शुभ समाचार की प्राप्ति हो सकती है।

चुनाव लड़ रहे बागियों को मनाने के प्रयास बंद कियें

चुनाव लड़ रहे बागियों को मनाने के प्रयास बंद कियें    

पंकज कपूर            देहरादून। उत्तराखंड प्रदेश में विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर उत्तराखंड की राजनीति को लेकर अभी भी प्रयास जारी है। कांग्रेस ने बगावत कर चुनाव लड़ रहे बागियों को मनाने के प्रयास बंद नहीं कियें हैं। अभी बागियों के लिए कांग्रेस में लौटने का एक मौका है। प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव ने साफ किया कि अभी भी सभी को मनाने के प्रयास चल रहे हैं। दरअसल, निष्कासन सिर्फ पार्टी में अनुशासन बनाए रखने के लिए किया है। उन्होंने कहा कि सभी बागियों से अभी भी बात चल रही है। उन्हें साथ लाने के प्रयास चल रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि पार्टी बेहद मजबूती के साथ चुनाव लड़ रही है। इस चुनाव में कांग्र्रेस 50 के करीब सीटें जीत रही है। राज्य में कांग्रेस की एक मजबूत सरकार दी जाएगी। राज्य की जनता भी कांग्रेस के साथ खड़ी है। ये चुनाव जनता कांग्रेस के लिए लड़ रही है। कांग्र्रेस ने अपने घोषणा पत्र में महिला, युवा, कर्मचारी, किसानों से जुड़े विषयों को शामिल किया है। महिलाओं पर विशेष केंद्रित किया गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के पास इस चुनाव में बताने के लिए कुछ नहीं है।

'किसानों' को राहत व मुआवजा प्रदान करें सरकार

'किसानों' को राहत व मुआवजा प्रदान करें सरकार   

मनोज सिंह ठाकुर         भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि वे ओलावृष्टि से फसलों को हुई नुकसान के लिए किसानों को तत्काल राहत व मुआवजा प्रदान करे। श्री कमलनाथ ने ट्वीट के माध्यम से कहा कि प्रदेश के कुछ हिस्सों में ओलवृष्टि होने की जानकारी मिली है।

उन्होंने कहा कि किसानो को क़रीब एक माह बीत जाने के बाद भी पिछली ओलवृष्टि का अभी तक कोई मुआवज़ा व राहत नही मिली है। ऐसे में इस ओलवृष्टि ने उनके संकट को और बढ़ा दिया है। श्री कमलनाथ ने कहा कि मैं सरकार से माँग करता हूँ कि किसानों के इस संकट को समझते हुए उन्हें तत्काल राहत व मुआवज़ा प्रदान करे।

राजस्थान में नाइट कर्फ्यू समाप्त करने का निर्णय

राजस्थान में नाइट कर्फ्यू समाप्त करने का निर्णय      

नरेश राघानी          जयपुर। राजस्थान सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर लागू की गई पाबंदियों में ढील देते हुए रात्रिकालीन कर्फ्यू समाप्त करने का फैसला किया है। इसके अलावा राज्य में धार्मिक स्थल अब अपने समयानुसार खुल सकेंगे जबकि वैवाहिक आयोजनों में 250 लोग शामिल हो सकेंगे। 

राजस्थान के गृह विभाग ने महामारी के मद्देनजर जारी दिशानिर्देशों को संशोधित करते हुए यह ढील दी है। ये आदेश शनिवार से प्रभावी होंगे।

सीएम की 'चोर दरवाज़ें' से मदद, कदम उठाया गया

सीएम की 'चोर दरवाज़ें' से मदद, कदम उठाया गया   
अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। कांग्रेस ने प्रवर्तन निदेशालय द्वारा पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के रिश्तेदार को गिरफ्तार किए जाने के बाद शुक्रवार को आरोप लगाया कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने किसान आंदोलन का बदला लेने के लिए पंजाब पर “हमला” किया है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह दावा भी किया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की “चोर दरवाज़े” से मदद करने के लिए यह कदम उठाया गया है।
उन्होंने ट्वीट किया, पंजाब चुनाव से 15 दिन पहले मोदी सरकार की “राजनीतिक नौटंकी” फिर शुरू ! भाजपा का “इलेक्शन डिपार्टमेंट” – ईडी मैदान में उतरा। कांग्रेस नेता ने दावा किया, “क्रॉनोलॉजी समझें – पंजाब के लोग अब किसान आंदोलन के पक्ष में खड़े होने की क़ीमत चुका रहे है। मोदी जी हार की हताशा में फ़र्ज़ी छापे-गिरफ़्तारी करवा रहे है। उन्होंने आरोप लगाया कि, यह हमला मुख्यमंत्री चन्नी पर नहीं, पंजाब पर है, किसान आंदोलन का समर्थन करने की सजा है, यह बदला है कल किसानों द्वारा भाजपा को चुनावों में “दंड” दिए जाने के आह्वान का।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-118, (वर्ष-05)
2. शनिवार, फरवरी 5, 2022
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:10, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 8 डी.सै., अधिकतम-16+ डी सै.।  बर्फबारी व शीतलहर की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, (प्रधान संपादक) राधेश्याम व शिवांशु, (सहायक संपादक) श्रीराम व सरस्वती के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
10.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालयः डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

'मास्क-ग्लव्स' पहनकर करना होगा चुनाव मतदान

'मास्क-ग्लव्स' पहनकर करना होगा चुनाव मतदान      

अश्वनी उपाध्याय             गाजियाबाद। विधान सभा चुनाव 2022 के दौरान गाज़ियाबाद में विभिन्न राजनैतिक दलों द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में भले ही कोरोना प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ाई जा रही हों। लेकिन मतदान करते समय आपको सख्त नियमों का पालन करना होगा। मतदान करने के समय कोविड19 प्रोटोकॉल सुनिश्चित कराने के लिए जिम्मेदार नोडल अधिकारी और गाज़ियाबाद के एसीएमओ डॉ दिनेश सक्सेना का कहना है कि इस बार मतदाताओं को मुंह पर मास्क और हाथ में ग्लव्स पहनकर मतदान करना होगा।

प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग द्वारा विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं। इसके अंतर्गत जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग ने प्रत्येक मतदान केंद्र पर कोविड हेल्प डेस्क बनाने की प्रक्रिया तेज कर दी है। मतदान करने आए हर मतदाता को थर्मल स्कैनिंग के बाद ही केंद्र में प्रवेश करने दिया जाएगा। उसे मतदान करने से पहले दस्ताने पहनने होंगे। जिला प्रशासन द्वारा हर केंद्र पर दस्तानों और मास्क की व्यवस्था कराई जा रही है।

दूसरी ओर मतदाताओं को मत डालने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। बीएलओ स्तर से मतदाता पर्चियां बंटनी शुरू हो गईं हैं और आशा, एएनएम, आरडब्ल्यूए के साथ ही निगरानी समितियां घर-घर जाकर मत डालने के लिए लोगों को प्रेरित कर रही हैं।

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न    सुशील केसरवानी         कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी शशिकान्त त्रिपाठी की अध्यक्षता में उद...