बुधवार, 24 अगस्त 2022

भाकियू के पदाधिकारियों ने टोल प्लाजा को फ्री कराया 

भाकियू के पदाधिकारियों ने टोल प्लाजा को फ्री कराया 

भानु प्रताप उपाध्याय 

मुजफ्फरनगर। किसानों से टोल वसूलने का विरोध करने पर टोलकर्मी के द्वारा दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए भाकियू तोमर के पदाधिकारियों ने छपार टोल प्लाजा को फ्री करा दिया और यहीं पर धरना देकर बैठ गए। भाकियू तोमर के युवा जिलाध्यक्ष अंकित गुर्जर व पुरकाजी ब्लाक अध्यक्ष अजय त्यागी ने बताया कि छपार टोल प्लाजा पर किसानों से भी टोल वसूला जा रहा है। बुधवार को भाकियू तोमर के पदाधिकारी के साथ टोलकर्मी ने अभद्रता की, जिससे भाकियू तोमर में रोष हो गया और धरना देकर बैठक गए।

टोल फ्री होने के सूचना पर प्रभारी निरीक्षक आशुतोष कुमार पुलिस फोर्स के साथ टोल पर पहुंचे और पदाधिकारियों को समझाने का प्रयास किया। घन्टों चले हंगामे के बाद टोलकर्मी द्वारा माफी मांगने और टोल प्रबंधक विवेक पांडेय ने भविष्य में ऐसा न होने का आश्वासन देने पर ही धरना समाप्त हुआ।

सेनेटरी नैपकिन पैकेट्स वितरण कर जागरूक किया 

सेनेटरी नैपकिन पैकेट्स वितरण कर जागरूक किया 

गोपीचंद/भानु प्रताप उपाध्याय 

बागपत। बुधवार को सारथी वेलफेयर फाउंडेशन ओर सेवा सिमरन परिवार के तत्वधान में ककोर गांव मे आर्यन पब्लिक स्कूल मे कक्षा 6 से 8 तक की छात्राओं को ओर महिलाओं को व्यक्तिगत साफ सफाई के बारे में बताकर सेनेटरी नैपकिन पैकेट्स वितरण करके छात्राओं को जागरूक किया। स्कूल की लड़कियों ने सैनेट्री नैपकिन के इस्तेमाल के तरीके भी बताएं। 

इसी के साथ-साथ लड़कियों ओर महिलाओं को महिला हेल्प लाइन लाइन नम्बर ओर चाइल्ड हेल्प लाइन नंबर की भी जानकारी दी। सारथी वेलफेयर अध्य्क्ष वंदना  गुप्ता ने बताया, कि हमारा सनेट्री पैड्स के पैकेट्स बाटने का अभियान पूरे जिले बागपत में झुग्गी झोपड़ियों में जा जाकर निरन्तर चल रहा है। जिससे स्कूल की छात्राएं ओर महिलाएं जागरूक हो रही है।

सैनेटरी पैड के इस्तेमाल से हम बहुत सारी बीमारियों से बच सकते है ओर मीनाक्षी अग्रवाल ने महिलाओं को उत्तर प्रदेश सरकार की योजनाओं के बारे मे भी अवगत कराया। इसी मौके पर स्कूल के प्रधानाचार्य सुनील आर्य का पूरा सहयोग रहा। इस मौके पर अध्यक्ष वंदना गुप्ता, मीनाक्षी अग्रवाल, अंजली, आस्था, शिखा, प्रिया, बिमलेश, विकास गुप्ता, आदित्या भारद्वाज, नीरजं, रणबीर सिंह सिरोहा, मास्टर योगेंद्र सिंह, उदयवीर सिंह आदि का पूरा सहयोग रहा।

विरोधियोेें पर दबाव, 3 दामादों को भेजती है 'भाजपा' 

विरोधियोेें पर दबाव, 3 दामादों को भेजती है 'भाजपा' 

अकांशु उपाध्याय/अविनाश श्रीवास्तव 

नई दिल्ली/पटना। उपमुख्यमंत्री ने विधानसभा में कहा है कि जहां पर भारतीय जनता पार्टी की सत्ता नहीं है, वहां पर वह अपने तीन दामादों को जांच पडताल के नाम पर विरोधियोेें पर दबाव बनाने के लिए भेज देती है और ईडी, सीबीआई और आईटी के माध्यम से विरोधियों को डराने-धमकाने के समुचित प्रयास किए जाते हैं। जब मैं विदेश जाता हूं, तो भाजपा मेरे खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी करती है, जबकि नीरव मोदी जैसे धोखेबाज देश छोड़कर आराम से भाग जाते हैं। बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय एवं केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो की ओर से बिहार और झारखंड के विभिन्न स्थानों पर की जा रही छापामार कार्रवाई को लेकर बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने विधानसभा में कहा है कि भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से इस कदर प्यार हो गया है कि जहां पर वह सत्ता में नहीं है, वहां पर राजनैतिक दलों एवं विधायकों को डराने धमकाने के लिए वह अपने तीन दामादों ईडी, आईटी और सीबीआई को भेज देती है। जब मैं विदेश जाता हूं तो भारतीय जनता पार्टी को मेरे खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी कराने की याद आती है। लेकिन जब नीरव मोदी जैसे धोखेबाज देश को छोड़कर भाग जाते हैं तो वह कुछ नहीं कर पाती है। बिहार के डिप्टी सीएम ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी और उसके कर्ता-धर्ता क्षेत्रीय दलों को खत्म कर देना चाहते हैं।

अधिकारियों द्वारा मध्यान्ह भोजन का निरीक्षण: देवरिया 

अधिकारियों द्वारा मध्यान्ह भोजन का निरीक्षण: देवरिया 

हरिशंकर त्रिपाठी

देवरिया। सहायक आयुक्त (खाद्य )-ll खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन जनपद देवरिया रमेश चंद्र पाण्डेय ने बताया है कि आयुक्त ,खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन उत्तर प्रदेश द्वारा दिये गये निर्देश के क्रम में प्राथमिक विद्यालयों में मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता के परीक्षण तथा पके पकाए भोजन की गुणवत्ता जांच करने हेतु एवं जिलाधिकारी द्वारा दिए गए आदेशों के क्रम में बुधवार को जनपद के समस्त तहसीलों में खाद्य सुरक्षा अधिकारियों द्वारा मध्यान्ह भोजन का निरीक्षण किया गया एवं पके पकाए भोजन का नमूना लेकर विश्लेषण हेतु प्रेषित किया गया।

विस्तृत विवरण में सलेमपुर तहसील के बौद्ध शिक्षा संस्थान लघु माध्यमिक विद्यालय मनिहारी सलेमपुर में खाद्य सुरक्षा अधिकारी मनीष मल्ल द्वारा तहरी का नमूना संग्रह कर उपस्थित 133 विद्यार्थियों को खाद्य संरक्षा एवं स्वस्थ खानपान की आदतों के बारे में जागरूक किया गया। इसी प्रकार सदर तहसील के तिलई बेलवा प्रा० वि० में रोस्टर अनुरूप तहरी का नमूना एकत्रित करते हुए कुल 140 विद्यार्थियों एवं अध्यापकों को खाद्य सुरक्षा अधिकारी सन्दीप कुमार श्रीवास्तव द्वारा जागरूक किया गया।

बरहज तहसील के परसिया अजमेर प्राथमिक विद्यालय में तहरी का नमूना एकत्रित करते हुए खाद्य सुरक्षा अधिकारी डा सुभेष कुमार द्वारा कुल 133 विद्यार्थियों को खाद्य सुरक्षा के टिप्स बताए गए। रुद्रपुर तहसील के उच्च प्राथमिक विद्यालय तिवई में खाद्य सुरक्षा अधिकारी अजीत त्रिपाठी द्वारा तहरी का नमूना एकत्रित करते हुए 132 विद्यार्थियों को जागरूक किया गया।भाटपार रानी तहसील में खाद्य सुरक्षा अधिकारी रंजन कुमार श्रीवास्तव द्वारा कम्पोजिट विद्यालय भाटपाररानी में तहरी का नमूना एकत्रित करते हुए 299 विद्यार्थियों को जागरूक किया गया, उपरोक्त कार्यवाही में कुल 5 मध्यान्ह भोजन के नमूने एकत्रित किए गए तथा कुल 806 विद्यार्थियों को खाद्य संरक्षा के पहलुओं से अवगत कराया गया।

रिकॉर्ड: एक मिनट में 10 गुब्बारे नाक से फुलाएं 

रिकॉर्ड: एक मिनट में 10 गुब्बारे नाक से फुलाएं 

अखिलेश पांडेय 

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के एक शख्स ने गिनीज बुक में अपना नाम दर्ज करवाने के लिए ऐसा अजीबोगरीब वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम किया है। जिसे सुनकर आप भी चौंक जाएंगे। दरअसल, अमेरिका के आईडाहो राज्य के डेविड रश ने एक मिनट में 10 गुब्बारे अपनी नाक से फुलाएं, उन्हें बांधा और एक नया रिकॉर्ड अपने नाम किया है। खास बात यह है, कि डेविड रश गिनीज बुक के करीब 250 वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ चुके हैं। वे ऐसा एसटीईएम एजुकेशन को प्रमोट करने के लिए करते हैं। ताजा रिकॉर्ड के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने गुब्बारे फुलाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ने के बारे में 5 साल पहले सोचा था, लेकिन सर्दी, जुकाम और एलर्जी वगैरह के चलते वह 9 गुब्बारे फुलाने के पिछले रिकॉर्ड को तोड़ नहीं पा रहे थे।

डेविड ने बताया कि गिनीज रूल्स के मुताबिक उन्हें 60 सेकंड में 10 गुब्बारे नाक से न सिर्फ फुलाने थे, बल्कि उन्हें बांधकर रखना भी था। रश ने 60 सेकंड में 10 गुब्बारे फुलाकर नया रिकॉर्ड बना ही लिया। बता दें कि इसके पहले यह रिकॉर्ड 2016 में अशरिता फरमैन ने बनाया था।

शिंदे-उद्धव गुट के विधायक मानसून सत्र में भिड़े 

शिंदे-उद्धव गुट के विधायक मानसून सत्र में भिड़े 

कविता गर्ग 

मुंबई। महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे गुट और भाजपा की सरकार बनने के बाद उद्धव गुट और शिंदे गुट के बीच तनातनी लगातार बनी हुई है। मानसून सत्र में शिंदे गुट के विधायक और उद्धव गुट के विधायक एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी करते हुए आमने-सामने आ गए और भिड़ गए। इस दौरान उद्धव गुट के विधायकों ने शिंदे गुट पर नारेबाजी करते हुए “50 खोखे-एकदम ओके” जैसे नारे लगाए।

इसके बाद शिंदे गुट ने भी नारे लगाए और विधानसभा भवन की सीढ़ियों पर ही दोनों गुट आपस में भिड़ गए। इस दौरान विपक्ष के विधायकों के हाथों में गाजर लिए हुए थे। उनका उद्देश्य एकनाथ शिंदे के गुट को चिढ़ाने का था। इससे पहले भी दोनों गुट्टों के बीच तनातनी होते देखी गई है।

साइबर-वित्तीय सहयोग के लिए समझौते पर हस्ताक्षर 

साइबर-वित्तीय सहयोग के लिए समझौते पर हस्ताक्षर 

डॉक्टर सुभाषचंद्र गहलोत 

येरूशलम/वाशिंगटन डीसी। इजरायल और अमेरिका ने साइबर-वित्तीय सहयोग के लिए पहले समझौते पर हस्ताक्षर किए। इजरायल के वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि मंगलवार को इजरायली मंत्रालय और अमेरिकी ट्रेजरी विभाग द्वारा हस्ताक्षरित समझौता दोनों देशों के बीच लंबे समय से चले आ रहे संबंधों और सहयोग को मजबूत करने में योगदान देगा।

समझौते में वित्तीय साइबर सूचनाओं को साझा करना शामिल है, जैसे कि साइबर सुरक्षा, खतरे और वित्तीय प्रणालियों की लचीलापन को मजबूत करने के लिए कार्य पद्धति। बयान में कहा गया है कि दोनों देश संयुक्त सीमा पार साइबर-वित्तीय अभ्यास करने के लिए भी सहमत हैं। पहला अभ्यास इस साल के अंत में होने की उम्मीद है।

फिलीपींस: उष्णकटिबंधीय तूफान आने से 3 घायल  

फिलीपींस: उष्णकटिबंधीय तूफान आने से 3 घायल  

अखिलेश पांडेय 

मनीला। उत्तरी फिलीपींस में बुधवार को एक उष्णकटिबंधीय तूफान आने से कम से कम तीन लोग घायल हो गए। जबकि, हजारों लोगों को अपने घर छोड़ने पड़े। तूफान के कारण अधिकारियों ने बाढ़ और भूस्खलन की आशंका के मद्देनजर राजधानी और कई अन्य प्रांतों में स्कूलों तथा सरकारी कार्यालयों के बंद रहने की घोषणा की है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, उष्णकटिबंधीय तूफान ‘मा-ऑन’ पर्वतीय उत्तरी प्रांतों से गुजरने के बाद थोड़ा कमजोर पड़ा। हालांकि, मंगलवार सुबह इसाबेला प्रांत के मैकोनकॉन शहर पहुंचने के बाद 95 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं, जिन्होंने बाद में 115 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ ली थी। तूफान रात में शहर से गुजर गया। तूफान दक्षिणी चीन की ओर बढ़ते समय समुद्र में एक बार फिर जोर पकड़ सकता है। तूफान का सबसे अधिक असर लुजोन क्षेत्र के उत्तरी सिरे पर महसूस किया गया।

राष्ट्रपति फर्दिनांद मार्कोस जूनियर ने एहतियाती तौर पर मंगलवार से बुधवार तक घनी आबादी वाले मनीला महानगर और कई बाहरी प्रांतों में सभी स्कूल में कक्षाएं निलंबित कर दी हैं और सरकारी कार्यालय बंद रहने का निर्देश भी दिया है। प्रेस सचिव ट्रिक्सी क्रूज-एंजेल्स ने मंगलवार को कहा, ‘‘भारी बारिश आम जनता के लिए खतरे का कारण बन सकती है।’’ कोरोनो वायरस संक्रमण के प्रकोप के कारण लगे लॉकडाउन की वजह से दो साल के अंतराल के बाद पहली बार सोमवार से स्कूल परिसर में कक्षाएं शुरू की गईं थी, हालांकि तूफान के कारण स्कूल बंद करने पड़े। सुरक्षा अधिकारी रुएली रैप्सिंग ने बताया कि कागायन प्रांत में पेड़ गिरने से तीन ग्रामीण घायल हो गए और उन्हें विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। केवल कागायन में ही बाढ़, भूस्खलन की आशंका के कारण विभिन्न गांवों से 7,000 से अधिक लोगों को निकाला गया है।

पत्रकार की जमानत याचिका पर 26 को सुनवाई 

पत्रकार की जमानत याचिका पर 26 को सुनवाई 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने बुधवार कहा कि वह केरल के पत्रकार सिद्दीक कप्पन की जमानत याचिका पर 26 अगस्त को सुनवाई करेगा। उत्तर प्रदेश पुलिस में कप्पन को 5 अक्टूबर 2020 को गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया था। कप्पन उत्तर प्रदेश के हाथरस में एक नाबालिग दलित लड़की से दुष्कर्म और हत्या के बाद उत्पन्न स्थिति से जुड़ी रिपोर्टिंग करने जा रहे थे तभी, तीन अन्य लोगों के साथ उन्हें भी गिरफ्तार किया गया था। मुख्य न्यायाधीश एन वी रमना की अध्यक्षता वाली पीठ ने विशेष उल्लेख के दौरान आरोपी पत्रकार के वकील हारिस बीरन ने तत्काल सुनवाई की गुहार लगाई। 

पीठ ने उनकी शीघ्र सुनवाई की अर्जी स्वीकार करते हुए मामले को शुक्रवार के लिए सूचीबद्ध करने का निर्देश दिया। इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ ने दो अगस्त को कप्पन की जमानत याचिका को खारिज कर दिया था। जमानत याचिका खारिज करने पर याचिकाकर्ता का दावा है कि जमानत नहीं मिलने से ‘उन्हें महत्वपूर्ण अधिकार से वंचित किया गया है।” याचिका में कहा गया है कि याचिकाकर्ता को झूठे आरोपों के आधार पर लगभग दो सालों से सलाखों के पीछे रखा गया हैं। उनका कहना है कि सिर्फ इसलिए कि वह हाथरस दुष्कर्म और हत्या के कुख्यात मामले पर रिपोर्टिंग के अपने पेशेवर कर्तव्य का निर्वहन करने की मांग की थी। 

याचिका में अदालत को अवगत कराया गया है, जिस वाहन में याचिकाकर्ता यात्रा कर रहे थे, उसके चालक को जमानत दे दी गई है। याचिकाकर्ता का दावा है कि वह 19 वर्षीय दलित लड़की से सामूहिक बलात्कार और हत्या की रिपोर्ट करने के लिए हाथरस जा रहा था, तभी गिरफ्तार किया गया था। कप्पन ने पुलिस के इस दावे को निराधार करार दिया कि उससे शांति भंग होने की आशंका थी। इसी वजह से गिरफ्तार किया गया था। उत्तर प्रदेश सरकार ने पहले दावा किया था कि आरोपी को पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया से जुड़ा पाया गया है, जो प्रतिबंधित स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) की जगह बनाया गया है। पुलिस का यह भी आरोप है कि कप्पन ने दिसंबर, 2018 में बंद हुए अखबार ‘तेजस’ के लिए काम किया। यह पीएफआई का मुखपत्र था। पुलिस का दावा है कि उस अखबार के विचार ऐसे थे कि उसने आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को शहीद करार दिया था।

144 आवासीय व अनावासीय भवनों का लोकार्पण 

144 आवासीय व अनावासीय भवनों का लोकार्पण 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वर्चुअल माध्यम से बटन दबाते हुए गोंडा, कौशांबी, आगरा और अलीगढ़ आदि कई जनपदों में पुलिस विभाग के 144 आवासीय एवं अनावासीय भवनों का लोकार्पण किया और कहा कि 260 करोड रुपए की इन 144 परियोजनाओं को दुनिया के सबसे बड़े पुलिस बल को सौंपते हुए मुझे अत्यंत ख़ुशी हो रही है। बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वर्चुअल माध्यम से जनपद गोंडा एवं अन्य जनपदों के पुलिस विभाग के आवासीय एवं अनावासीय भवनों का लोकार्पण करते हुए कहा है कि 5 वर्षाे के अंदर किये गये प्रदेश विकास के कार्यों का परिणाम आज हम सभी के सामने है। 5 वर्ष पहले तक उत्तर प्रदेश की छवि एक ऐसे राज्य के रूप में बनी हुई थी जो देश और दुनिया में बीमारू राज्य के रूप में शुमार किया जाता था और इस राज्य में विकास को लेकर किसी की कोई सोच नहीं थी। इसका कारण यह था कि हमारे सूबे की कानून व्यवस्था बदतर हालातों में पहुंच चुकी थी। Also Read - प्रेमिका से मिलने घर में घुसे प्रेमी की पेड़ से बांधकर कर दी ऐसी हालत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्ववर्ती सरकारों का नाम लिए बगैर उनके ऊपर हमलावर होते हुए कहा है कि हर दूसरे तीसरे दिन एक बडा दंगा होने के कारण प्रदेश के बारे में लोगों की धारणा अत्यंत खराब हो चुकी थी। राज्य के भीतर कोई अपने आप को सुरक्षित महसूस नहीं करता था। लेकिन अब पुलिस विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अथक प्रयासों की वजह आज प्रदेश की गिनती सबसे सुरक्षित राज्य के तौर पर हो रही है। वर्चुअल लोकापर्ण के मौके पर पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर और सदर विधायक तथा अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

सीबीआई की छापेमारी के पीछे षड्यंत्र होने का आरोप 

सीबीआई की छापेमारी के पीछे षड्यंत्र होने का आरोप 

अविनाश श्रीवास्तव 

पटना। बिहार में सत्तारूढ़ महागठबंधन ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेताओं के मालिकाना हक वाले परिसरों पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की छापेमारी के पीछे कोई षड्यंत्र होने का बुधवार को आरोप लगाया। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने केंद्रीय रेल मंत्री के रूप में लालू प्रसाद के कार्यकाल के दौरान हुए भूखंड के बदले नौकरी संबंधी कथित घोटाले को लेकर गुरुग्राम स्थित एक निर्माणाधीन मॉल समेत 25 स्थलों पर बुधवार को छापे मारे। ऐसा माना जाता है कि बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के मालिकाना हक वाली एक कंपनी इस मॉल का निर्माण कर रही है। यह छापेमारी ऐसे समय में की गई, जब कुछ ही घंटों बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार को विधानसभा में बहुमत साबित करना है। बिहार विधानसभा के विशेष सत्र में भाग लेने पहुंचीं पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कहा, ‘‘नई सरकार के गठन से भाजपा डर गई है। केंद्रीय एजेंसी की छापेमारी से हम डरने वाले नहीं है। बिहार की जनता सब देख रही है।’’

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जनता दल (यूनाइटेड) (जदयू) के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा, ‘‘मैं इस मामले के गुण एवं दोष पर टिप्पणी नहीं करना चाहता, लेकिन सीबीआई के छापे जिस समय मारे गए, वह इस बात का स्पष्ट संकेत देते हैं कि जांच एजेंसी भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) की मदद करने की कोशिश कर रही हैं।’’ कुमार ने हाल में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ नाता तोड़कर राजद के साथ हाथ मिलाया है। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली, गुरुग्राम, पटना, मधुबनी एवं कटिहार समेत अन्य जगहों पर छापेमारी की गई। उन्होंने बताया कि विधान परिषद सदस्य सुनील सिंह, राज्य सभा के सदस्यों अशफाक करीम एवं फैयाज अहमद और विधान परिषद के पूर्व सदस्य सुबोध राय समेत राजद के कई वरिष्ठ नेताओं के परिसरों में छापे मारे जा रहे हैं। सिंह ने अपने आवास ‘राजवंशी नगर’ अपार्टमेंट के छज्जे से संवाददाताओं से चिल्लाते हुए कहा, ‘‘यह स्पष्ट रूप से धमकाने के लिए किया गया है।

छापेमारी आज क्यों की जा रही है? हमें स्थानीय पुलिस भी नहीं दिख रही, जो छापेमारी के दौरान सीबीआई के साथ आमतौर पर होती है।’’ सिंह बिहार राज्य सहकारी संघ के अध्यक्ष भी हैं और सीबीआई अधिकारियों के एक दल ने लगभग पांच किलोमीटर दूर गांधी मैदान के पास उनके कार्यालय में भी छापेमारी की। बिहार विधानसभा के इस विशेष सत्र में भाग लेने पहुंचे जनता दल (यूनाइटेड) (जदयू), राजद, कांग्रेस और वाम दलों सहित कुल सात दलों के महागठबंधन के विधायकों ने इसे ‘‘लोकतंत्र की हत्या’’ बताते हुए इसके विरोध में नारे लगाए। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी-लेलिनवादी) (भाकपा-माले) के विधायक संदीप सौरव ने विधानसभा के बाहर संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह छापेमारी स्पष्ट रूप से दिखाती है कि भाजपा ने संवैधानिक औचित्य को हवा में उड़ा दिया है। केंद्र और कई राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी (भाजपा) के किसी भी नेता के खिलाफ कोई छापेमारी नहीं होती।’’

इस बीच, भाजपा नेताओं ने अपने पूर्व सहयोगी नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने न केवल भाजपा से नाता तोड़ा, बल्कि राजद और कांग्रेस जैसे ‘‘भ्रष्ट’’ दलों के साथ गठबंधन किया। भाजपा नेता एवं पूर्व मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा, ‘‘राजद ही पैसे के ढेर पर बैठी है और इसीलिए उसके नेताओं को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। नीतीश कुमार ने बिहार पर शासन करने के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को मिले जनादेश से न केवल विश्वासघात किया, बल्कि भ्रष्टाचारियों के साथ गठजोड़ भी किया।’’ अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने 2008-09 में मुंबई, जबलपुर, कोलकाता, जयपुर एवं हाजीपुर के रेलवे जोन में नौकरी पाने वाले 12 लोगों के अलावा राजद सुप्रीमो, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और उनकी बेटियों मीसा भारती और हेमा यादव को इस मामले में नामजद किया है। केंद्रीय एजेंसी ने 23 सितंबर, 2021 को जमीन के बदले रेलवे में नौकरी देने संबंधी घोटाले को लेकर प्राथमिकी दर्ज की थी।

आप के 4 विधायकों को 20-20 करोड़ देने की पेशकश

आप के 4 विधायकों को 20-20 करोड़ देने की पेशकश 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर आरोप लगाया कि उन्होंने पार्टी में शामिल होने के लिए आप के चार विधायकों को 20-20 करोड़ रुपये देने की पेशकश की है। राज्य सभा सदस्य संजय सिंह ने यहां संवाददाताओं को बताया कि विधायकों को भाजपा में शामिल नहीं होने पर केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय द्वारा जांच की भी धमकी दी गई थी। सिंह ने कहा कि अजय दत्त, संजीव झा, सोमनाथ भारती और श्री कुलदीप से भाजपा नेताओं ने संपर्क किया था।
सिंह ने कहा, उन्होंने उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को धमकाने की कोशिश की और अब दिल्ली के विधायकों पर भी यही पैंतरा अपना रहे है। वे विधायकों को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं। उन्हें जांच के दायरे में लाकर एजेंसियों द्वारा जांच की धमकी दी जा रही है। संवाददाता सम्मेलन के दौरान आप के चारों विधायक मौजूद थे, जिन्हें भाजपा के शामिल होने के लिए पेशकश की गयी थी। सिंह ने कहा, भाजपा के उनके मित्र नेता ने पार्टी में शामिल होने के लिए 20 करोड़ रुपये की पेशकश की और यह भी कहा कि अगर वे भाजपा में शामिल नहीं होते हैं, तो उनके खिलाफ सीबीआई और ईडी जांच शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा, भाजपा का महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे पर प्रयोग सफल होने के बाद अब सिसोदिया और हमारे विधायकों पर उनका प्रयोग विफल रहा।
उन्होंने कहा, भाजपा नेताओं ने कहा कि यदि आप पार्टी छोड़ते हैं तो आपको 20 करोड़ रुपये मिलेंगे, यदि आप और विधायकों को तोड़ते हैं तो 25 करोड़ रुपये मिलेंगे। वे यह भी दावा कर रहे हैं कि 20-25 विधायक उनके संपर्क में हैं। इस बीच, सिसोदिया ने ट्वीट किया कि उनके पार्टी न छोड़ने के बाद अब भाजपा आप विधायकों को प्रभावित करने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा, अरविंद केजरीवाल शहीद भगत सिंह को अपना आदर्श मानते हैं। वह अपनी जान दे देंगे लेकिन उन्हें धोखा नहीं देंगे। आपकी सीबीआई और ईडी का भय बेकार हैं। इस सप्ताह की शुरुआत में सिसोदिया ने आरोप लगाया था कि उन्हें भाजपा से संदेश मिला है कि यदि वह भाजपा में शामिल होते हैं तो उनके खिलाफ सभी मामले बंद कर दिए जाएंगे। दिल्ली की आबकारी नीति में कथित अनियमितताओं से जुड़े एक मामले में सिसोदिया पर 19 अगस्त को सीबीआई ने छापा मारा था। गौरतलब है कि दिल्ली सरकार ने नई आबकारी नीति को वापस ले लिया है।

पुलिस थाने की बिजली काटता नजर आया, लाइनमैन 

पुलिस थाने की बिजली काटता नजर आया, लाइनमैन 

भानु प्रताप उपाध्याय 

शामली। यूपी के शामली जिले के थानाभवन कस्बा क्षेत्र में एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। वीडियो में लाइनमैन पुलिस थाने की बिजली काटता हुआ दिखाई दे रहा है। वीडियो के बारे में कहा जा रहा है कि थानाभवन में बिजली घर पर तैनात संविदा कर्मी लाइनमैन मेहताब का चरथावल तिराहे पर मोटरसाइकिल पर चालान काट दिया। जिसमें पुलिस द्वारा उसका 6000 रुपए का जुर्माना लगाया गया। जिसके बाद उसने आक्रोश में आकर थाने का बिजली बिल बकाया होने पर अपना गुस्सा थाने की बिजली काट कर दिखाया है।

बताया जा रहा है कि थानाभवन कस्बा क्षेत्र में पुलिस चेकिंग कर रही थी। चेकिंग के दौरान वहां से एक संविदाकर्मी लाइन मैन गुजरा। पुलिसकर्मियों ने हेलमेट और नंबर प्लेट न पड़ी होने पर उसका चालान काट दिया। संविदाकर्मी ने पुलिसकर्मियों से कहा कि वह लाइन चेक कर रहा है इसलिए हेलमेट नहीं लगाए है और नंबर प्लेट लगवाने के लिए जा रहा है। इसी बात से नाराज संविदाकर्मी ने थाने का की बिजली काट दी।संविदा कर्मी लाइनमैन का कहना है कि उसकी तनख्वाह 5000 रुपए है और उसका 6000 रुपए का चालान काट दिया गया। वह मोटरसाइकिल पर लाइन चेक करने के बाद आ रहा था उसने हेलमेट नहीं पहना था।

ट्रैफिक पुलिस ने उसे रोक लिया और हेलमेट के लिए कहा उसने कहा कि मैं विद्युत लाइन देख कर आया है आगे से वह हेलमेट का इस्तेमाल करूंगा और नियमों का पालन करुगा, लेकिन पुलिस ने यह कहते हुए उसका चालान काट दिया की विद्युत विभाग के कर्मचारी लूट का खसोट करते हैं अधिक बिल भेजते हैं और विद्युत कर्मचारी है तो चालान जरूर काटे जाएंगे। जबकि उसके सामने ही कई लोगों को उन्होंने बिना चालान काटे भी छोड़ दिया। विद्युत कनेक्शन कटने से थाने में पुलिस कर्मचारी गर्मी का सामना कर रहे हैं। इस मामले में थाना अध्यक्ष अनिल कुमार का कहना है कि थाने की बिजली काटने का कोई मामला हमारी जानकारी में नहीं है। अगर ऐसा है तो दिखा लिया जाएगा।

'अस्पताल एवं अनुसंधान केंद्र' का उद्घाटन: पीएम 

'अस्पताल एवं अनुसंधान केंद्र' का उद्घाटन: पीएम 

अकांशु उपाध्याय/अमित शर्मा 

नई दिल्ली/चंडीगढ़/मोहाली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को यहां ‘‘होमी भाभा कैंसर अस्पताल एवं अनुसंधान केंद्र’’ का उद्घाटन किया। इस अस्पताल का 660 करोड़ रुपये की लागत से टाटा मेमोरियल सेंटर ने निर्माण किया है, जो भारत सरकार के परमाणु ऊर्जा विभाग के तहत सहायता-प्राप्त संस्थान है। यह कैंसर अस्पताल तृतीयक स्तर का अस्पताल है, जिसकी 300 बिस्तरों की क्षमता है। अस्पताल कैंसर के सभी प्रकारों के उपचार के लिये हर आधुनिक सुविधाओं से लैस है।

यहां सर्जरी, रेडियोथेरेपी और मेडिकल ऑन्कोलॉजी– कीमोथेरेपी, इम्यूनोथेरेपी और बोन मैरो ट्रांसप्लांट की सुविधा उपलब्ध होगी। यह अस्पताल पूरे क्षेत्र में कैंसर सुविधा और उपचार के लिये “केंद्र” के रूप में और संगरूर में 100 बिस्तरों वाला अस्पताल इसकी “शाखा” के रूप में कार्य करेगा। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भगवंत मान भी उपस्थित थे।

वर्ष 2025 तक करीब 80 फीसदी इलेक्ट्रिक बसें होंगी

वर्ष 2025 तक करीब 80 फीसदी इलेक्ट्रिक बसें होंगी 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि शहर के समूचे बस बेड़े में वर्ष 2025 तक करीब 80 फीसदी इलेक्ट्रिक बसें होंगी। केजरीवाल ने यहां राजघाट डिपो से 97 इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इसके बाद शहर में इलेक्ट्रिक बसों की कुल संख्या 250 हो गई है। मुख्यमंत्री ने कहा, “ 1500 बसों के लिए पहले ही ऑर्डर दिया जा चुका है, जिन्हें नवंबर-दिसंबर तक शामिल किया जाएगा।

दिल्ली में इस समय 153 ई-बसें चल रही हैं और आज की बसों के बाद इन बसों की संख्या 250 हो जाएगी।” उन्होंने कहा कि सितंबर तक 50 और ई-बसों को बेड़े में शामिल किया जाएगा।” केजरीवाल ने कहा कि नवंबर 2023 तक दिल्ली की सड़कों पर करीब 1800 ई बसें चल सकती हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, “ जिस तरह हमने शिक्षा और स्वास्थ्य के मामले में दिल्ली को विश्वस्तरीय मॉडल बनाया है, वैसे ही शहर को दुनिया में परिवहन का मॉडल भी बनाया जाएगा।” परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक क्षण है और इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना करना उन लोगों को करारा जवाब है, जो कह रहे थे कि दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) बंद हो जाएगा।

शेरगिल ने राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद से इस्तीफा दिया 

शेरगिल ने राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद से इस्तीफा दिया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता जयवीर शेरगिल ने कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद से इस्तीफा दिया। जयवीर शेरगिल भारत के सर्वोच्च न्यायालय में पेशे से वकील हैं। सोनिया गांधी को लिखे अपने इस्तीफे में शेरगिल ने कहा है कि पार्टी में 'स्वार्थी हितों से प्रभावित' होकर फैसले लिए जा रहे हैं।

उन्होंने लिखा, "मुझे यह कहते हुए दुख हो रहा है कि अब फैसले जनता और देश के हितों में नहीं लिए जाते हैं, बल्कि यह उन लोगों के स्वार्थी हितों से प्रभावित हैं जो चाटुकारिता में लिप्त हैं और लगातार जमीनी हकीकत की अनदेखी कर रहे हैं।" इस्तीफा देने से पहले वह कांग्रेस के सबसे युवा राष्ट्रीय मीडिया पैनलिस्ट थे।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-320, (वर्ष-05)

2. बृहस्पतिवार, अगस्त 25, 2022

3.शक-1944, भाद्रपद, कृष्ण-पक्ष, तिथि-त्रयोदशी, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 05:51, सूर्यास्त: 06:56। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 26 डी.सै., अधिकतम-34+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक कासहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...