सोमवार, 31 जनवरी 2022

मतदान अधिकारियों को 'कर्तव्य' से अवगत कराया

मतदान अधिकारियों को 'कर्तव्य' से अवगत कराया 

हरिशंकर त्रिपाठी           देवरिया। विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनजर पीठासीन अधिकारी तथा प्रथम मतदान अधिकारियों के प्रथम चरण का प्रशिक्षण सोमवार को प्रारंभ हो गया। सेवा समिति बनवारी लाल इंटर कॉलेज में दो पालियों में लगभग एक हजार मतदान कर्मियों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने प्रशिक्षण केंद्र का निरीक्षण कर मतदान कर्मियों को अपना कर्तव्य पूरी सत्यनिष्ठा से पूर्ण करने के लिए प्रेरित किया।

जिलाधिकारी ने प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे पीठासीन अधिकारियों और प्रथम मतदान अधिकारियों को उनके कर्तव्य के महत्व से अवगत कराया और अपने चुनाव सम्बंधी दायित्वों को पूरे मनोयोग से पूर्ण करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि मतदान के दिन निर्धारित दस्तावेजों के साथ बूथ पर आने वाले प्रत्येक मतदाता का मतदान सुनिश्चित कराया जाए।

'विदाई समारोह' कार्यक्रम को संबोधित किया: निरीक्षक

'विदाई समारोह' कार्यक्रम संबोधित किया: निरीक्षक  
सुशील केसरवानी           
कौशाम्बी। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान मंझनपुर के प्राचार्य स्वराज भूषण त्रिपाठी सोमवार को सेवानिवृत्त हो गए। उनकी सेवानिवृत्ति पर जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के ऑडिटोरियम हॉल में विदाई समारोह का आयोजन किया गया। विदाई समारोह को संबोधित करते हुए कार्यक्रम में जिला विद्यालय निरीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने कहा कि स्वराज भूषण त्रिपाठी का कार्यकाल अविस्मरणीय रहेगा।
उन्होंने अपने कार्यकाल में जनपद की शिक्षा व्यवस्था को उत्तरोत्तर गति दी। अपनी विदाई पर संबोधित करते हुए स्वराज भूषण त्रिपाठी ने कहा कि व्यक्ति जिस क्षेत्र में रहे। वहां पर अपनी भूमिका का पूर्ण ईमानदारी के साथ करता है तो यह भी राष्ट्र की सेवा है।
विदाई समारोह में समस्त स्टाफ ने स्मृति चिन्ह देकर कर स्वराज भूषण त्रिपाठी को विदा किया। इस अवसर पर डायट के प्रवक्ता डॉ. अनिरुद्ध श्रीवास्तव, डॉ संदीप कुमार तिवारी, डॉ. अरमा देवी, नरेन्द्र कुमार,डॉ कौशलेंद्र मिश्र,नीतीश कुमार यादव,धीरज यादव, देवेश सिंह यादव ,देवेंद्र कुमार मिश्र,सुरेश मिश्र,डॉ वंदना सिंह राजेंद्र कुमार, अशोक सिंह,विपिन कुमार, अनामिका शर्मा, स्वेता त्रिपाठी, शबनम सिद्धिकी, सबीह मुस्तफ़ा ओम दत्त त्रिपाठी,सुनील कुमार शुक्ला, डॉ दिलीप कुमार तिवारी, ओम प्रकाश सिंह,बलराम त्रिपाठी सहित समस्त स्टाफ उपस्थित रहे।

बाबा-पोते की गोली मारकर हत्या, हमलावर फरार

बाबा-पोते की गोली मारकर हत्या, हमलावर फरार   
गोपीचंद      
बागपत। अपराधी बैखौफ दिनों-दिन आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहें हैं। जबकि, प्रदेश में लगी है आदर्श आचार सहिता। खेकड़ा कोतवाली क्षेत्र के बसी गांव में गन्ना डालने जा रहे बाबा-पोते को गोली मारीं। जानकारी के अनुसार पता चला हैं कि पुरानी रंजिश के चलते की गई सत्य सिंह पुत्र धूम सिंह व मनदीप पुत्र ऋषिपाल की गोली मार कर हत्या। 
हमलावर हत्या की घटना को अंजाम देकर फरार हो गये। सूचना मिलते ही बागपत पुलिस मौके पर पहुँची। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

यूके: कोरोना का आंकड़ा 76,301 तक पहुंचा

यूके: कोरोना का आंकड़ा 76,301 तक पहुंचा      

पंकज कपूर             देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना का ग्राफ फिर तेजी से बढ़ गया है। 24 घंटे के भीतर प्रदेश के सभी 13 जनपदों में सोमवार को कोरोना के कुल 1,200 नए मामले सामने आए है। इसी के साथ राज्य में कोरोना का आंकड़ा 76,301 पहुंच गया है। जबकि राज्य में आज 2,499 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए इस तरह अब तक 44,391 मरीज स्वस्थ हो चुके है। वहीं, सोमवार को 10 कोरोना संक्रमित मरीज की मौत भी हुई है।

सोमवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार राज्य में 1,200 नए लोगों में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई। जिनमें, देहरादून जिले से 368, हरिद्वार से 160, नैनीताल से 210, उधमसिंह नगर से 211, पौडी से 34, टिहरी से 10, चंपावत से 67, पिथौरागढ़ से 07, अल्मोड़ा 25, बागेश्वर से 17, चमोली से 11, रुद्रप्रयाग से 35, उत्तरकाशी से 45 सैंपल पॉजिटिव मिले हैं।

58,014.17 अंक पर बंद हुआ सेंसेक्स, तेजी दर्ज

58,014.17 अंक पर बंद हुआ सेंसेक्स, तेजी दर्ज    

कविता गर्ग             मुंबई। विभिन्न क्षेत्रों में चौतरफा लिवाली से बीएसई सेंसेक्स सोमवार को 813 अंक की बढ़त के साथ एक बार फिर 58,000 अंक के पार निकल गया। वहीं, निफ्टी 17,300 अंक के स्तर को पार कर गया। वित्त वर्ष 2021-22 की आर्थिक समीक्षा में अर्थव्यवस्था की बेहतर वृद्धि दर के अनुमान से बाजार में तेजी आयी। यूरोपीय बाजारों में अच्छी शुरुआत तथा एशियाई बाजारों के मजबूत रुख से भी घरेलू बाजारों में तेजी को बल मिला।

तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स अच्छी बढ़त के साथ खुला और पूरे सत्र के दौरान इसमें तेजी रही। अंत में यह 813.94 अंक यानी 1.42 प्रतिशत मजबूत होकर 58,014.17 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 237.90 अंक यानी 1.39 प्रतिशत मजबूत होकर 17,339.85 अंक पर बंद हुआ।

बालों को स्ट्रेट करने के लिए जानिए घरेलू नुस्खे

बालों को स्ट्रेट करने के लिए जानिए घरेलू नुस्खे      

सरस्वती उपाध्याय             खूबसूरत सीधे शाइनी बाल हर लड़की का सपना होते हैं। कॉस्मैटिक इंडस्ट्री में ऐसे बहुत सारे ट्रीटमेंट हैं। जिन्हें करवा कर बालों को स्ट्रेट किया जा सकता है। मगर, यह सभी ट्रीटमेंट कैमिकल बेस्ड होने की वजह से बालों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। जिसकी वजह से बाल खराब और पतले हो सकते हैं। ऐसे में कुछ ऐसे आसान घरेलू नुस्खे हैं, जिन्हें अपनाकर आप अपने बालों को बिना पैसा खर्च किए ही स्ट्रेट बना सकते हैं।

हॉट ऑयल मसाज: बालों में हॉट ऑयल मसाज करने से बाल सॉफ्ट और शाइनी होते हैं। बालों में एक दिन छोड़कर तेल लगाने से बाल सीधे होते हैं। बालों में तेल लगाने के लिए आप नारियल,ऑलिव, बादाम या फिर शीशम का तेल लगा सकती हैं। तेल लगाते समय बालों की 15 मिनट तक हल्के हाथों से मसाज करें।

मिल्क स्प्रे: आप बालों को स्ट्रेट करने के लिए कोकोनट मिल्क का इस्तेमाल कर सकती हैं। कोकोनट मिल्क एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल होता है। लेकिन कोकोनट ऑयल नहीं मिल रहा हो तो आप साधारण दूध से भी बालों को स्प्रे करते हुए उसे स्ट्रेट कर सकती हैं। रोजाना ऐसा करने से आपके बाल कुछ ही दिनों में स्ट्रेट हो जाएंगे।

कोकोनट मिल्क और नींबू का रस: रूखे बालों को स्ट्रेट नहीं किया जा सकता। बाल रूखे होने पर कोकोनट मिल्क और नींबू के रस को मिलाकर बनाए मिश्रण को एक स्प्रे बोतल में भरकर बालों पर लगाएं। इसके बाद कंघी से बालों को सीधा करते जाएं। कोकोनट मिल्क प्रोटीन का बहुत अच्छा सोर्स है। 

अंडा और ऑलिव ऑयल: अंडे में भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है। अगर आप बालों में अंडा और ऑलिव ऑयल का मिश्रण लगाती हैं तो आपके बाल प्राकृतिक रूप से स्ट्रेट हो जाएंगे। मिश्रण लगाते समय साथ-साथ कंघी भी करें। इसके बाद आप बालों को शॉवर कैप से कवर कर लें। आप 1 घंटे बाद अपने बालों को वॉश कर सकती हैं।

एलोवेरा: एलोवेरा में मौजूद कई तरह के एंजाइम बालों की अच्छी ग्रोथ के लिए जिम्मेदार होते हैं। अगर आपको अपने बाल नेचुरली स्ट्रेट करने हैं तो बालों में एलोवेरा जैल के साथ ऑलिव ऑयल और चंदन के तेल की कुछ बूंदें मिलाकर लगाएं। इसके 2 घंटे बाद बालों को शैंपू कर लें। हफ्ते में 2 बार ऐसा करने से कुछ दिनों में बाल स्ट्रेट हो जाएंगे।

मैच: वेस्टइंडीज ने 16 सदस्यीय टीम का चयन किया

मैच: वेस्टइंडीज ने 16 सदस्यीय टीम का चयन किया 

मोमीन मलिक           सेंट जोन्स। वेस्टइंडीज ने भारत में 16 सितंबर से शुरू होने वाली तीन मैचों की टी-20 श्रृंखला के लिये कीरोन पोलार्ड की अगुवाई में उसी 16 सदस्यीय टीम का चयन किया है। जिसने घरेलू धरती पर इंग्लैंड को हराया। तीनों टी-20 मैच 16, 18 और 20 फरवरी को कोलकाता में खेले जाएंगे। इससे पहले अहमदाबाद में छह, नौ और 11 फरवरी को तीन एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला खेली जाएगी।

वेस्टइंडीज पोलार्ड की अगुवाई में पहले ही वनडे टीम घोषित कर चुका है। पोलार्ड, फैबियन एलेन, डैरेन ब्रावो, जैसन होल्डर, शाई होप, अकील हुसैन, ब्रैंडन किंग, निकोलस पूरण, रोमारियो शेफर्ड, ओडियन स्मिथ और हेडन वॉल्श जूनियर सीमित ओवरों की दोनों टीम में शामिल हैं।

अभिनेत्री उर्फी ने अपनी तस्वीरे शेयर की, पोज दियें

अभिनेत्री उर्फी ने अपनी तस्वीरे शेयर की, पोज दियें    
कविता गर्ग     
मुबंई। टीवी एक्ट्रेस उर्फी जावेद सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हैं। उर्फी रोजाना अपने फोटोशूट की तस्वीरें फैंस के साथ शेयर करती हैं। कभी ट्रेडिशनल तो कभी वेस्टर्न आउटफिट पहने तस्वीरें शेयर कर उर्फी अपनी मौजूदगी का एहसास कराती रहती हैं।
कल ब्लैक ड्रेस में, उसके बाद पर्पल ड्रेस में और अब उर्फी ने ऑलिव ग्रीन पैंट के साथ टॉप पहने तस्वीरें शेयर की हैं। इस आउटफिट के साथ ऑक्सीडाइस्ड ज्वैलरी पहन उर्फी ने अपने लुक को कंप्लीट किया है। जिसमें खुले बाल कर, ऊचीं हील्स पहने कैमरा को पोज दियें हैं। उर्फी को यह लुक सिलेब्रिटी स्टाइलिस्ट रीना मिश्रा ने दिया है। और यह खूबसूरत तस्वीरें मशहूर फोटोग्राफर राना मनाचा ने ली हैं। 
उर्फी का अपने अतरंगे कपड़ों के लिए ट्रोल होना, यह काफी आम हो गया है। हमेशा की तरह उनके इस लुक पर भी फैंस ने सवाल उठा दिए हैं। तस्वीरों में आप देखेंगे की सब सही है। लेकिन उर्फी की पैंट की जिप खुली हुई है। यह देखते ही लोगों ने फिर उर्फी को ट्रोल करना शुरु कर दिया है।
तस्वीरें पोस्ट करते हुए उर्फी ने लिखा डिनर के बाद हर लड़की ऐसी ही होती है। जिसपर फैंस का कहना है- मैडम पैंट सम्भाल लीजिए कहीं नीचे न गिर जाए। वहीं दूसरे ने लिखा इतनी जल्दी क्या थी तस्वीर खिंचवाने की।
पहले तैयार तो हो जाती। तस्वीर देखकर फैंस ने उर्फी को याद भी दिलाया कि आप बटन लगाना भूल गई हैं।
बिग बॉस ओटीटी से निकलने के बाद उर्फी अपने बेबाक अंदाज और ट्रोलिंग को लेकर पॉपुलर होती जा रही हैं। अब बिग बॉस 15 के ग्रैंड फिनाले में जब फैंस ने उर्फी को नहीं देखा तो उनसे सवाल पूछ लिया कि आपको बिग बॉस में क्यों नहीं बुलाया।
इससे पहले भी उर्फी ने बिना जिप पहने पैंट पहनी है। इस बार कोई नई बात नहीं है। उर्फी हमेशा से अलग कपड़े पहन फैंस को सरप्राइज करती आई हैं। कई कपड़े तो उर्फी ने खुद ही बनाए हैं, तो कई कॉपी भी किए हैं। हालांकि अब उर्फी किसी की कॉपी करती नजर नहीं आतीं। लेटेस्ट तस्वीरों में उर्फी ने सभी कपड़े डिजाइन करवाकर ही पहने हैं।

16.9 करोड़ इकाई पर पहुंचा स्मार्टफोन निर्यात

16.9 करोड़ इकाई पर पहुंचा स्मार्टफोन निर्यात
अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। भारत का स्मार्टफोन निर्यात पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 11 फीसदी बढ़कर 16.9 करोड़ इकाई पर पहुंच गया। बाजार का आकार 2021 में 38 अरब के पार पहुंच गया। काउंटरपॉइंट रिसर्च के अध्ययन में यह कहा गया। काउंटरपॉइंट के हालिया अध्ययन के मुताबिक भारत के स्मार्टफोन बाजार का आकार पिछले साल के मुकाबले वर्ष 2021 में 27 फीसदी वृद्धि के साथ 38 अरब डॉलर के पार पहुंच गया। स्मार्टफोन का निर्यात बीते वित्त वर्ष के मुकाबले 2021 में 11 फीसदी बढ़कर 16.9 करोड़ इकाई हो गया।
हालांकि, आपूर्ति संबंधी मुद्दों के कारण दिसंबर तिमाही में पिछले वर्ष की समान अवधि के मुकाबले निर्यात में 8 फीसदी की कमी दर्ज की गई थी। काउंटरपॉइंट के वरिष्ठ शोध विश्लेषक प्राचीर सिंह ने कहा, ”भारतीय स्मार्टफोन बाजार में 2021 में उपभोक्ता मांग अधिक रही जिससे यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन वाला वर्ष रहा।
यह उपलब्धि ऐसे समय हासिल हुई है जब आपूर्ति में अनेक अवरोध आए मसलन कोविड-19 की दूसरी भयावह लहर, पुर्जों की वैश्विक स्तर पर कमी और इनके कारण मूल्य वृद्धि।” निर्यात में सर्वाधिक 24 फीसदी हिस्सेदारी शियोमी की रही।
महंगे मोबाइल (30,000 रुपये से अधिक) की श्रेणी में इस ब्रांड की हिस्सेदारी पिछले साल के मुकाबले सर्वाधिक 258 फीसदी रही। कुल निर्यात में सैमसंग की हिस्सेदारी 18 फीसदी रही और 20,000 से 45,000 रुपये वाली श्रेणी में इसकी सर्वाधिक 28 फीसदी हिस्सेदारी रही।
वीवो की 15 फीसदी, रियलमी की 14 फीसदी और ओप्पो की 10 फीसदी हिस्सेदारी रही। 2021 के पांच शीर्ष ब्रांड में रियलमी सबसे तेजी से वृद्धि करने वाला ब्रांड रहा यह दिसंबर 2021 में पहली बार दूसरे स्थान पर आया। वनप्लस का 2021 में भारत में सर्वाधिक निर्यात रहा।
इस साल एप्पल सबसे तेजी से वृद्धि करने वाले ब्रांड में से एक रहा और पिछले वर्ष के मुकाबले उसने 108 फीसदी वृद्धि दर्ज की। 5जी तकनीक वाले मोबाइल फोन का निर्यात पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष 555 फीसदी बढ़ गया और इस श्रेणी के निर्यात में सर्वाधिक 19 फीसदी हिस्सेदारी वीवो की रही।
भारत का कुल मोबाइल हैंडसेट बाजार 2021 में सात फीसदी बढ़ा और इसमें 17 फीसदी हिस्सेदारी के साथ सैमसंग पहले स्थान पर रहा। काउंटरपॉइंट की शोध विश्लेषक शिल्पी जैन ने कहा कि भारत के स्मार्टफोन बाजार का खुदरा औसत बिक्री मूल्य 2021 में 14 फीसदी बढ़कर अब तक का सर्वाधिक 227 डॉलर हो गया।
उन्होंने कहा, ”इससे भारत के स्मार्टफोन बाजार का राजस्व 2021 में 38 अरब डॉलर के पार चला गया जो पिछले वर्ष की तुलना में 27 फीसदी वृद्धि है।

हलफनामा दाखिल करने का 'एक और अवसर' दिया

हलफनामा दाखिल करने का 'एक और अवसर' दिया   

अकांशु उपाध्याय          नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को इस बात पर नाराजगी जाहिर कि केंद्र ने अभी तक उस याचिका पर अपना जवाबी हलफनामा दाखिल नहीं किया है। जिसमें राष्ट्रीय अल्पसंख्यक शिक्षा संस्थान अधिनियम 2004 की धारा 2 (एफ) की वैधता को चुनौती दी गई है। न्यायालय ने सरकार को 7,500 रुपये का अर्थदंड जमा करने की सूरत में जवाबी हलफनामा दाखिल करने का “एक और अवसर” दिया है।

वैकल्पिक रूप में, याचिका में केंद्र को राज्य स्तर पर अल्पसंख्यक की पहचान के लिए दिशा-निर्देश देने का निर्देश देने की मांग की गई है। याचिका में कहा गया है कि 10 राज्यों में हिंदू अल्पसंख्यक हैं लेकिन वे अल्पसंख्यकों के लिए बनाई गई योजनाओं का लाभ उठाने में सक्षम नहीं हैं। शीर्ष अदालत ने सात जनवरी को केंद्र को चार सप्ताह के भीतर जवाबी हलफनामा दाखिल करने का “अंतिम अवसर” दिया था। न्यायालय ने कहा था कि सरकार को इस मुद्दे पर “एक रुख” अपनाना होगा। न्यायमूर्ति एस के कौल और न्यायमूर्ति एम एम सुंदरेश की पीठ को सोमवार को सूचित किया गया कि केंद्र ने सुनवाई स्थगित करने के अनुरोध के साथ एक पत्र प्रसारित किया है। याचिकाकर्ता अश्विनी कुमार उपाध्याय की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता विकास सिंह ने कहा कि उन्हें केंद्र द्वारा केवल सीमित उद्देश्य के लिए प्रसारित पत्र पर आपत्ति है क्योंकि मामले में सरकार का रुख महत्वपूर्ण होगा और उन्हें कम से कम इसमें तेजी लानी चाहिए।

पीठ ने केंद्र की तरफ से पेश हुए अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल (एएसजी) के एम नटराज से कहा, “आपने एक पत्र प्रसारित किया है लेकिन आप केवल पत्र प्रसारित कर रहे हैं। बाकी सब कुछ हो रहा है। आपको एक रुख अपनाना होगा।” एएसजी ने कोविड-19 की स्थिति का हवाला देते हुए कहा कि सरकार इसपर कोई फैसला लेगी। पीठ ने कहा कि याचिका पर 28 अगस्त 2020 को नोटिस जारी किया गया था। न्यायालय ने कहा कि ऐसे बहाने मत बनाइए जिन्हें स्वीकार करना हमारे लिए बेहद मुश्किल हो। पीठ ने कहा कि यह “अनुचित” है कि केंद्र ने अभी तक जवाबी हलफनामा दाखिल नहीं किया है। पीठ ने कहा, “हम याचिकाकर्ता के वरिष्ठ वकील के अनुरोध के अनुसार एससीबीए (सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन) अधिवक्ता कल्याणा निधि में 7,500 रुपये की रकम जमा करने पर जवाबी हलफनामा दाखिल करने के लिए चार सप्ताह का एक और अवसर प्रदान करते हैं।” इस मामले में अगली सुनवाई 28 मार्च को होगी।


आग्नेयास्त्र की तस्करी, गिरोह का भंडाफोड़ किया

आग्नेयास्त्र की तस्करी, गिरोह का भंडाफोड़ किया   

अकांशु उपाध्याय            नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने हथियारों (आग्नेयास्त्र) की तस्करी करने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़ कर 60 वर्षीय तस्कर को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि तस्कर के पास से 10 अत्याधुनिक पिस्तौल और 20 जिंदा कारतूस जब्त किए गए हैं।

पुलिस के मुताबिक आरोपी की पहचान कासिम अली के रूप में की गयी है और वह उत्तर प्रदेश के हमीरपुर का रहने वाला है। कासिम मध्य प्रदेश से हथियार और गोला-बारूद मंगवाता था और दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आगे उनकी तस्करी करता था। पुलिस के मुताबिक कासिम ने पिछले तीन वर्षों के दौरान दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में 500 से अधिक आग्नेयास्त्रों की आपूर्ति की है।

दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ के उपायुक्त जसमीत सिंह ने कहा कि पुलिस की टीम को सूचना मिली थी कि कासिम अपने सहयोगियों की मदद से दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में हथियारों की तस्करी करने का काम करता था। उसके और गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए पुलिस ने निगरानी शुरू की। इस संबंध में जानकारी जुटाने के लिए गुप्त सूत्रों को तैनात किया गया था। पुलिस उपायुक्त के मुताबिक आरोपी कासिम को शनिवार और रविवार की दरम्यानी रात यहां पुल प्रह्लादपुर के पास एमबी रोड से गिरफ्तार किया गया। कासिम इस काम में पिछले 15 वर्षों से शामिल था।

खुदकुशी मामलें से जुड़ी जांच सीबीआई को सौंपीं

खुदकुशी मामलें से जुड़ी जांच सीबीआई को सौंपीं  

इकबाल अंसारी         मद्रास। मद्रास उच्च न्यायालय की पीठ ने सोमवार को 17 वर्षीय लड़की के खुदकुशी मामलें से जुड़ी जांच सीबीआई को सौंपने का निर्देश दिया। आरोप है कि लड़की को कथित रूप से धर्म परिवर्तित करके ईसाई बनने के लिए बाध्य किया गया था। न्यामूर्ति जीआर स्वामीनाथन ने मामले की सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता, लड़की के पिता और स्कूल प्रबंधन की दलीलों के मद्देनजर जांच हस्तांतरित करने का आदेश दिया।

आदेश में कहा गया है कि लड़की को मरणोपरांत न्याय दिलाना अदालत का कर्तव्य है, लेकिन अब तक के हालात से ऐसा लग रहा है कि जांच सही दिशा में आगे नहीं बढ़ रही है। न्यायमूर्ति स्वामीनाथन ने कहा कि ‘मैं सीबीआई निदेशक, नई दिल्ली को निर्देश देता हूं कि वह राज्य पुलिस से जांच अपने हाथ में लेने के लिए एक अधिकारी नियुक्त करें। सीबीआई स्वतंत्र जांच करेगी और इस आदेश में की गई किसी भी टिप्पणी को ध्यान में नहीं रखेगी।

तंजावुर के मिशनरी स्कूल की 17 वर्षीय छात्रा अरियालुर जिले की रहने वाली थी, जिसने कुछ दिन पहले कथित रूप से खुदकुशी कर ली थी। छात्रावास में रह रही इस लड़की को कथित रूप से धर्म परिवर्तन करके ईसाई धर्म अपनाने के लिए बाध्य किया गया था। इस संबंध में वीडियो भी वायरल हुआ था। हालांकि, स्कूल प्रबंधन ने आरोपों को खारिज करते हुए इस ममाले में स्वार्थ तलाशने वाले तत्वों को दोषी ठहराया है। इस मामले में पीड़िता के पिता ने पहले सीबी-सीआईडी की मांग की थी, लेकिन अंतिम सुनवाई के दौरान उन्होंने सीबीआई जांच की मांग की।

कोविड डैशबोर्ड पर भारत का गलत नक्शा दिखाया

कोविड डैशबोर्ड पर भारत का गलत नक्शा दिखाया 

अखिलेश पांडेय          वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन के कोविड डैशबोर्ड पर भारत का गलत नक्शा दिखाया गया है। इसके बाद तृणमूल कांग्रेस के सांसद ने नरेंद्र मोदी सरकार से इस पर सख्त रुख अपनाने को कहा है। नक्शे में जम्मू-कश्मीर को पाकिस्तान और अरुणाचल प्रदेश को चीन का हिस्सा दिखाया गया है।

तृणमूल कांग्रेस के सांसद शांतनु सेन ने पीएम नरेंद्र मोदी को खत लिखा और गलती को लेकर रविवार को ट्वीट भी किया। उन्होंने पीएम मोदी को लिखे खत में कहा, 'जब मैंने डबल्यूएचओ की साइट पर क्लिक किया, तो दुनिया का नक्शा मेरे सामने आया। जब मैंने उसे भारत के हिस्से को लेकर जूम किया तो एक नीला नक्शा मेरे सामने आया और जम्मू-कश्मीर के लिए दो अलग-अलग रंग दिखाई पड़े। सेन ने कहा कि जब उन्होंने नीले हिस्से पर क्लिक किया, तो नक्शा उन्हें भारत का डेटा दिखा रहा था, लेकिन दूसरा हिस्सा पाकिस्तान का कोविड-19 डेटा दिखा रहा था। तृणमूल कांग्रेस सांसद ने यह भी दावा किया कि अरुणाचल प्रदेश राज्य के एक हिस्से का अलग से सीमांकन किया गया था।

इसे एक गंभीर अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बताते हुए टीएमसी सांसद ने कहा कि भारत सरकार को इसकी जांच करनी चाहिए थी और इस मुद्दे को बहुत पहले ही उठाना चाहिए था। सेन ने यह भी कहा कि भारत के लोगों को सूचित किया जाना चाहिए कि इतनी बड़ी गलती को कैसे नजरअंदाज किया जा रहा है। 2021 में, ट्विटर ने भारत के नक्शे को गलत तरीके से पेश किया, जिसमें जम्मू और कश्मीर को एक अलग देश और लद्दाख के बड़े हिस्से को चीन के रूप में दर्शाया गया। ठीक दस महीने पहले, अक्टूबर 2020 में, ट्विटर ने लेह को पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के हिस्से के रूप में जियो-टैग किया था, जिसे लेकर भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के सचिव अजय साहनी ने ट्विटर के संस्थापक और वैश्विक प्रमुख जैक डोर्सी को एक खत भी लिखा था। सरकार ने खत में कहा कि ट्विटर की ओर से भारत की संप्रभुता और अखंडता का अनादर करने का कोई भी प्रयास गैरकानूनी और पूरी तरह से अस्वीकार्य है। कड़ी प्रतिक्रिया के बाद, ट्विटर ने गलत नक्शा हटा दिया, जो पहले ट्विटर वेबसाइट के करियर सेक्शन में 'ट्वीप लाइफ' टाइटल के तहत नजर आ रहा था।

मणिपुर में बीजेपी प्रत्याशियों की घोषणा, बवाल

मणिपुर में बीजेपी प्रत्याशियों की घोषणा, बवाल    
इकबाल अंसारी          
इंफाल। मणिपुर में बीजेपी प्रत्याशियों की घोषणा होते ही बवाल हो गया और ढेरों इस्तीफे हुए। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के पुतले जलाए और नारे लगाए। रविवार को हुए विरोध प्रदर्शन से मणिपुर बीजेपी के कई नेता काफी हताश और निराश नजर आए।राज्य के विभिन्न हिस्सों में पार्टी कार्यालयों में तोड़फोड़ की गई और प्रदर्शनकारी कई इलाकों में तख्तियों के साथ जमा हो गए। 
इंफाल में बीजेपी मुख्यालय के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी गई है।रिपोर्टों में कहा गया है कि कई नेताओं ने इस्तीफा दे दिया है, हालांकि सटीक संख्या स्पष्ट नहीं है। सूत्रों के मुताबिक, ज्यादातर असंतुष्ट नेता वे थे जिन्हें कांग्रेस के दलबदलुओं को टिकट देने के लिए किनारे लगा गया था।बीजेपी में शामिल होने वाले कम से कम 10 पूर्व कांग्रेस नेताओं को टिकट दिया गया क्योंकि बीजेपी ने घोषणा की कि वह मणिपुर विधानसभा चुनाव में सभी 60 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, उम्मीदवारों की सूची जारी करेगी। मणिपुर में जैसे ही बीजेपी प्रत्याशियों की सूची जारी हुई, वहां कार्यकर्ताओं ने बगावत कर दी। उन्होंने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के पुतले फूंके। कार्यकर्ता इस बात से नाराज हैं कि वहां बीजेपी ने दलबदलुओं को टिकट दिया है। 

बीजेपी सूत्रों ने कहा कि मुख्यमंत्री के अधिकांश वफादारों को पार्टी का टिकट मिला है। तीन महिलाएं कांगपोकपी की नेमचा किपगेन, चंदेल की एसएस ओलिश और नौरिया पखंगलकपा की सोराइसम केबी देवी हैं। बीजेपी ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के तीन पूर्व अधिकारियों को भी मैदान में उतारा है। ये हैं - नुंगबा से डिंगंगलुंग गंगमेई, काकचिंग से येंगखोम सुरचंद्र सिंह और उरीपोक से रघुमणि सिंह। बीजेपी के मणिपुर चुनाव प्रभारी भूपेंद्र ने कहा, "बीजेपी सभी 60 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और अपने दम पर बहुमत हासिल करेगी। मोदी सरकार ने सुनिश्चित किया है कि मणिपुर को एक स्थिर सरकार मिले और वह क्षेत्र के विकास और शांति को सुनिश्चित करना जारी रखेगी।" मणिपुर विधानसभा में बीजेपी के नेतृत्व वाला एनडीए बहुमत में है। इसमें बीजेपी के 30 विधायक, नेशनल पीपुल्स पार्टी के तीन विधायक, नगा पीपुल्स फ्रंट के चार और तीन निर्दलीय विधायक शामिल हैं।

अगर तीसरा बच्चा पैदा, 11.50 लाख का बोनस

अगर तीसरा बच्चा पैदा, 11.50 लाख का बोनस     
अखिलेश पांंडेेय      
बीजिंग। पहली बार सुनने में ये थोड़ा अजीब जरूर लगेगा। जी हां, चीन में इन दिनों कंपनियां अपने कर्मचारियों को ये ऑफर दे रही हैं कि अगर तीसरा बच्चा पैदा करते हो, तो 1 साल की छुट्टी और 11.50 लाख रुपए का बोनस दिया जाएगा। कंपनियों का ये ऑफर लोगों को खूब पसंद आ रहा है और अब लोग अधिक बच्चे पैदा करने के लिए प्रोत्साहित हो रहे हैं। चीन में आर्थिक संकट के बीच सरकार लोगों को ये ऑफर दे रही है।दरअसल, चीन में लंबे समय से सिंगल चाइल्ड पॉलिसी थी। सरकार ने बढ़ती आबादी को कंट्रोल करने के लिए लंबे समय तक सिंगल चाइल्ड पॉलिसी को अपनाया, लेकिन अब चीन में डेमोग्राफी पर कुछ सालों से संकट पैदा हो गया है। 
चीन की कुल आबादी में अधिक उम्र वाले ज्यादा होने लगे हैं और कामकाजी उम्र के लोगों की कमी हो रही है, इसीलिए अब सरकार ने लोगों को अधिक बच्चे पैदा करने के लिए प्रोत्साहित करना शुरू कर दिया है।चाइनजी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन में बेबी बोनस, एक्सटेंडेड पेड लीव्स, टैक्स छूट, बच्चों को पालने के लिए सब्सिडी जैसे लाभ भी कंपनियां अपने कर्मचारियों को दे रही हैं। चीन की 'बीजिंग दाबियॉन्ग टेक्नोलॉजी ग्रुप' कंपनी अपने कर्मचारियों को सबसे तगड़ा ऑफर दे रही है।कंपनी का ऑफर है तीसरा बच्चा पैदा करने पर कर्मचारियों को करीब 11.50 लाख रुपए कैश और सालभर की छुट्टी मिलेगी। महिला कर्मचारियों के लिए यह छुट्टी 12 महीने तक की है, जबकि पैरेंटल लीव 9 महीने तक की दी जा रही है। इसके अलावा कंपनी पहला और दूसरा बच्चा पैदा करने पर भी 3.54 लाख रुपए और 60 लाख रुपए की राशि कर्मचारियों को दे रही है।

5 राज्यों में कोविड-19 की स्थिति का जायजा लिया

5 राज्यों में कोविड-19 की स्थिति का जायजा लिया  
अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। विधानसभा चुनाव वाले पांच राज्यों में कोरोना वायरस (कोविड-19) की स्थिति का जायजा लेने के लिए निर्वाचन आयोग की सोमवार को अहम बैठक हुई। चीफ इलेक्शन कमीशन सुशील चंद्रा ने केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव से मुलाकात के बाद रैलियों पर बैन के संबंध में फैसला लिया। बैठक में यह तय किया गया कि 11 फरवरी तक राजनीतिक रैलियों और रोड शो पर रोक रहेगी। हालांकि अब 20 लोग डोर-टू-डोर जाकर चुनाव प्रचार कर सकते हैं।
वहीं, 1000 लोगों के साथ जनसभा करने की भी अनुमति दी गई है। बता दें कि इससे पहले कोरोना मामलों में वृद्धि का हवाला देते हुए, चुनाव आयोग ने 8 जनवरी को उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर के लिए मतदान कार्यक्रम की घोषणा के दौरान प्रत्यक्ष रैली और रोड शो पर प्रतिबंध लगा दिया था, जिसे अब बढ़ाकर 11 फरवरी तक कर दिया गया है।

बीएसएनएल ने 2 रिचार्ज प्लान्स पेश कियें, वैलिडिटी

बीएसएनएल ने 2 रिचार्ज प्लान्स पेश कियें, वैलिडिटी 
अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। बीएसएनएल ने 2,999 रुपये और 299 रुपये के दो रिचार्ज प्लान्स पेश किये हैं। जिन्हें 1 फरवरी 2022 से उपलब्ध किया जाएगा।
2,999 रुपये वाले प्लान में बीएसएनएल 365 दिनों की वैलिडिटी के साथ आया है और इसे एक प्रमोशनल प्लान के तौर पर पेश किया गया है। इस प्लान में 365 दिनों की वैलिडिटी मिलती है, लेकिन अगर आप 31 मार्च 2022 से पहले रीचार्ज कराते हैं तो आपको 90 दिनों की एक्स्ट्रा वैलिडिटी मिलेगी। इस प्लान में डेली 3 जीबी डेटा के साथ अनलिमिटेड कॉलिंग की सुविधा दी जा रही है और रेज 100 एसएमएस भी मिलेंगे।
बीएसएनएल के 299 रुपये वाले रीचार्ज प्लान की बात करें, तो इसे 30 दिनों की वैलिडिटी के साथ पेश किया गया है। इसके साथ ही, इस प्रीपेड रीचार्ज प्लान में भी रोजाना 3 जीबी डेटा के साथ अनलिमिटेड कॉलिंग और रोजाना 100 एसएमएस के भी बेनिफिट्स मिलेंगे।

633 रुपये में मिलेगा एलपीजी सिलेंडर, बुकिंग

633 रुपये में मिलेगा एलपीजी सिलेंडर, बुकिंग   
अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। अगर आप भी गैस सिलेंडर की बुकिंग करा रहे हैं या फिर नया कनेक्शन लेने का प्लान बना रहे हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। अब आपको सस्ते में एलपीजी सिलेंडर मिल सकता है। देश की सरकारी तेल कंपनी ग्राहकों के लिए एक अच्छा ऑप्शन लेकर आई है। जिसमें आपको सस्ते में यानी सिर्फ 633 रुपये में गैस-सिलेंडर मिल जाएगा। आपको बता दें इस समय देश में गैस सिलेंडर की कीमतें आसमान पर हैं। ऐसे में इंडेन आपको सिर्फ 633 रुपये में गैस-सिलेंडर दे रही है। इंडेन अपने ग्राहकों की सुविधा को देखते हुए आपके लिए कंपोजिट सिलेंडर लेकर आई है। इस सिलेंडर को आप सिर्फ 633.5 रुपये में ले सकते हैं। इस सिलेंडर को आप आसानी से एक जगह से दूसरी जगह ले जा सकते हैं। इसके अलावा अगर आपकी फैमिली छोटी है तो यह आपके लिए बेस्ट ऑप्शन हो सकता है।आपको बता दें कंपोजिट सिलेंडर वजन में हल्के होते हैं और इसमें आपको 10 किलो गैस मिलती है। इसी वजह से इन सिलेंडर की कीमत कम होती है। इस सिलेंडर की खासियत यह है कि ये पारदर्शी होते हैं।इंडियन ऑयल ने बताया कि यह कंपोजिट वाला सिलेंडर अभी 28 शहरों में उपलब्ध है।
लेकिन यह जल्द ही सभी शहरों में उपलब्ध होगा। एलओसीएल की वेबसाइट के मुताबिक यह सिलेंडर मुंबई में 634 रुपये, कोलकाता में 652, चैन्‍नई 645 रुपये में , लखनऊ में 660 रुपये, इंदौर में 653 रुपये, भोपाल में 638 रुपये, गोरखपुर में 677 रुपये है।

अपना खजाना भरने में लगीं हैं केंद्र सरकार: सापरा

अपना खजाना भरने में लगीं हैं केंद्र सरकार: सापरा    

पंकज कपूर            हल्द्वानी। एआईसीसी के राष्ट्रीय प्रवक्ता चरण सिंह सापरा ने कहा कि महंगाई का तांडव चल रहा है और केंद्र सरकार लोगो की जेब काटकर अपना खजाना भरने में लगी हुई है। भाजपा ने विपक्ष में रहते हुए महंगाई को डायन की संज्ञा दी थी, लेकिन अब यह डायन भक्तों की मामी बन गई है। सोमवार को कांग्रेस भवन स्वराज आश्रम में पत्रकारों से वार्ता करते हुए राष्ट्रीय प्रवक्ता चरण सिंह सापरा ने कहा कि महंगाई के विरोध में पूर्व में स्मृति इरानी के साथ जो फिल्मी सितारे अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, सलमान खान व आमिर खान सड़को पर उतर गए थे और यह बोल रहे थे कि पेट्रोल डीजल इतना महंगा हो गया है कि गाड़ी को आग लगाने का मन कर रहा है, जबकि आज पेट्रोल व डीजल के दाम आसमान छू रहे है। और ये फिल्मी सितारे मोदी के डर से अपनी जुबान पर ताला लगाए हुए बैठे है। 

उन्होंने कहा कि इस सरकार की बेशर्मी तो देखिए सत्ता में आने से पहले कहते थे कि हवाई चप्पल पहनने वाले हर व्यक्ति को हवाई यात्रा कराई जायेगी और आज चप्पल, जूते की खरीद पर ही जीएसटी लगा दी गई है। इतना ही नही एटीएम से अपने ही रुपये निकालने पर लोगो को अब 21 रुपये चार्ज अदा करना पड़ रहा है। उन्होंने केंद्र सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि इस देश को वर्तमान में चार लोग चला रहे है, इन चार लोगों में से दो लोग बेच रहे है और दो लोग खरीद रहे है। उत्तराखण्ड की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए चरण सिंह सापरा ने कहा कि पूरे देश मे उत्तराखण्ड राज्य ही ऐसा है जहाँ कोरोना महामारी के समय पर भी कोरोना टेस्टिंग का घोटाला हुआ। और इसका खमियाजा इस प्रदेश की जनता ने तीन तीन मुख्यमंत्री के रूप में देखा। इस दौरान कांग्रेस ने चार- धाम, चार-काम पंच लाइन पर आधारित एक गीत भी लांच किया। पत्रकार वार्ता में एआईसीसी की राष्ट्रीय सचिव जरिता लैतफलांग, पूर्व पालिका अध्यक्ष हेमंत बगडवाल, नरेश अग्रवाल, सलीम सिद्दीकी, गोविंद बगडवाल मुख्य रूप से मौजूद थे।


संसद के 2 सदनों की बैठक संबोधित की: राष्ट्रपति

संसद के 2 सदनों की बैठक संबोधित की: राष्ट्रपति   

अकांशु उपाध्याय          नई दिल्ली। बजट सत्र की शुरुआत में सेंट्रल हॉल में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करते हुए कि भारत सर्वाधिक कोरोना रोधी टीकाकरण करने वाले अग्रणी देशों में शामिल है। हमने रिकॉर्ड समय में कोविड रोधी टीकों की 150 करोड़ खुराक लगाईं आज देश में 90 प्रतिशत से अधिक वयस्क नागरिकों को टीके की एक डोज़ मिल चुकी है, जबकि 70 प्रतिशत से अधिक लोग दोनों डोज़ ले चुके हैं।राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार द्वारा 64 हजार करोड़ रुपए की लागत से शुरू किया गया प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इनफ्रास्ट्रक्चर मिशन एक सराहनीय उदाहरण है। इससे आने वाले संकटों के लिए भी देश को तैयार किया जा सकेगा। देश का कृषि निर्यात 2020-21 में 25 प्रतिशत बढ़कर तीन लाख करोड़ रूपये हो गया। प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर मिशन देश को भविष्य में स्वास्थ्य संकट के लिए तैयार करेगा। ‘हर घर जल’ योजना के तहत छह करोड़ से अधिक ग्रामीण घरों में नल से जल की आपूर्ति की जा रही है। कोविड महामारी के बावजूद किसानों ने 2020-21 में 30 करोड़ टन खाद्यान्न का उत्पादन किया। पीएम-किसान योजना के माध्यम से 11 करोड़ से अधिक कृषक परिवारों को 1.80 लाख करोड़ रुपये प्राप्त हुए, कृषि क्षेत्र में बड़े बदलाव देखे गये। लैंगिक समानता लाने के उद्देश्य से मेरी सरकार ने महिलाओं के लिए विवाह की न्यूनतम आयु को बढ़ाकर 21 वर्ष किया। देश में 2016 से 56 विविध क्षेत्रों में 60,000 से अधिक स्टार्ट-अप की शुरुआत से छह लाख से अधिक नये रोजगारों का सृजन हुआ।

रक्षा सौदों में ‘मेक इन इंडिया’ को प्राथमिकता दी गयी है, 209 वस्तुओं का सशस्त्र बल आयात नहीं करेंगे। भारत को इस वित्त वर्ष के पहले सात महीनों में 48 अरब डॉलर का एफडीआई मिला, यह देश में निवेशकों के भरोसे का सबूत है। भारत ने जलवायु परिवर्तन से निपटने की अपनी प्रतिबद्धता के तहत 2070 तक शून्य उत्सर्जन का लक्ष्य रखा है। भारत में अब 1.40 लाख किलोमीटर से अधिक लंबे राष्ट्रीय राजमार्गों का नेटवर्क है जो मार्च 2014 में 90,000 किलोमीटर था। गतिशक्ति मास्टरप्लान भारत में बहु-मोडल परिवहन के नए युग की शुरुआत कर रहा है।संसद के बजट सत्र के पहले दिन, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण की शुरुआत से पहले सोमवार को तमिलनाडु से ताल्लुक रखने वाले कांग्रेस और द्रमुक के कई सांसदों ने राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (नीट) से संबंधित विधेयक को स्वीकृति देने में राज्यपाल द्वारा ‘विलंब किए जाने’ को लेकर विरोध जताया। इस विधेयक को तमिलनाडु विधानसभा ने पारित किया है जिसमें राज्य को नीट से मुक्त करने का प्रावधान किया गया है। यह विधेयक राज्यपाल के विचारार्थ लंबित है। संसद के बजट सत्र के पहले दिन राष्ट्रपति का अभिभाषण आरंभ होने से पहले द्रमुक और कांग्रेस सांसदों ने विरोध जताया और तख्तियां भी लहराईं। बैठने के लिए कहे जाने से पहले ही वे बैठ गए। इसके बाद राष्ट्रपति का अभिभाषण आरंभ हुआ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि चुनाव का लोकतंत्र में अपना स्थान है और वह प्रक्रिया जारी रहेगी लेकिन पूरे वर्ष का खाका खींचने वाला, संसद का बजट सत्र बहुत महत्वपूर्ण है। बजट सत्र के पहले दिन संवाददाताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने सभी सांसदों और राजनीतिक दलों से इस सत्र को फलदायी बनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि ‘यह बात सही है कि बार-बार चुनाव के कारण सत्र भी प्रभावित होते हैं, चर्चाएं भी प्रभावित होती हैं। लेकिन मैं सभी सांसदों से प्रार्थना करूंगा… चुनाव अपनी जगह पर हैं… चलते रहेंगे… लेकिन बजट सत्र पूरे वर्ष भर का खाका खींचता है। इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण होता है।” उन्होंने सांसदों का आह्वान करते हुए कहा, ”हम पूरी प्रतिबद्धता के साथ इस बजट सत्र को जितना ज्यादा फलदायी बनाएंगे, आने वाला पूरा वर्ष हमें नई आर्थिक ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए भी एक बहुत बड़ा कारक बनेगा।’ उन्होंने सभी राजनीतिक दलों से ”मुक्त और मानवीय संवेदनाओं’ से भरी हुई चर्चा और ‘अच्छे मकसद’ से चर्चा की अपेक्षा जताई। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज की वैश्विक परिस्थिति में भारत के लिए बहुत अवसर मौजूद हैं और भारत की आर्थिक प्रगति, भारत में टीकाकरण का अभियान, भारत के अपने खोजे हुए टीके पूरी दुनिया में एक विश्वास पैदा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बजट सत्र में भी हम सांसदों की बातचीत, चर्चा के मुद्दे और खुले मन से की गई चर्चा, वैश्विक प्रभाव का एक महत्वपूर्ण अवसर बन सकती है। उन्होंने उम्मीद जताई कि सभी सांसद और सभी राजनीतिक दल खुले मन से उत्तम चर्चा करके देश को प्रगति के रास्ते पर ले जाने में, उसमें गति लाने में अवश्य मददगार होंगे। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, मणिपुर और गोवा में विधानसभा चुनाव की प्रक्रिया जारी है।

भारत: कोरोना मृतकों की संख्या-4,95,050 हुईं

भारत: कोरोना मृतकों की संख्या-4,95,050 हुईं

अकांशु उपाध्याय          नई दिल्ली। भारत में एक दिन में 2,09,918 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद अब तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या 4.13 करोड़ से अधिक हो गई। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा सोमवार को अद्यतन किये गए आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। सुबह आठ बजे अद्यतन किये गए आकंड़ों के मुताबिक, 24 घंटे के दौरान 959 संक्रमितों की मौत के बाद मृतकों की कुल संख्या 4,95,050 हो गई।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि देश में उपचाराधीन रोगियों की संख्या में 53,669 की कमी आई है और अब इनकी तादाद 18,31,268 हो गई है, जो संक्रमितों की कुल संख्या का 4.43 प्रतिशत है। संक्रमण से ठीक होने की दर 94.37 प्रतिशत हो गयी है। मंत्रालय के अनुसार देश में दैनिक संक्रमण दर 15.77 प्रतिशत जबकि साप्ताहिक संक्रमण दर 15.75 प्रतिशत रही।

महिलाओं को इंसान नहीं समझते देशवासी: राहुल

महिलाओं को इंसान नहीं समझते देशवासी: राहुल  

अकांशु उपाध्याय           नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली में 20 वर्षीय महिला के साथ कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार और उसकी पिटाई की घटना को लेकर सोमवार को कहा कि यह कड़वा सच है कि बहुत सारे देशवासी महिलाओं को इंसान नहीं समझते। उन्होंने ट्वीट किया कि ’20 वर्षीय महिला की निर्ममता से पिटाई किए जाने संबंधी वीडियो हमारे समाज का बहुत वीभत्स चेहरा सामने लाता है।

कड़वा सच यह है कि बहुत सारे भारतीय, महिलाओं को इंसान नहीं समझते। गौरतलब है कि पूर्वी दिल्ली की एक कॉलोनी में पड़ोसियों द्वारा 20 वर्षीय महिला का कथित तौर पर अपहरण करने, उससे सामूहिक बलात्कार करने और सड़क पर उसे निर्वस्त्र घुमाने का मामला सामने आया है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-114, (वर्ष-05)
2. मंगलवार, फरवरी 1, 2022
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-अमावस्या, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:10, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 9 डी.सै., अधिकतम-21+ डी सै.।  बर्फबारी व शीतलहर की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, (प्रधान संपादक) राधेश्याम व शिवांशु, (सहायक संपादक) श्रीराम व सरस्वती के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
10.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालयः डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न    सुशील केसरवानी         कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी शशिकान्त त्रिपाठी की अध्यक्षता में उद...