शनिवार, 8 मई 2021

अब किसी भी हिस्से में यात्रा करना प्रतिबंधित: पाक

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने अगले हफ्ते मनाए जाने वाले ईद उल-फितर के त्योहार से पहले आठ दिन का आंशिक लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है। देश में 8-16 मई तक गैर जरूरी बिजनेस और पर्यटन साइट्स बंद रहेंगी। इसके साथ ही किसी भी हिस्से में यात्रा करना प्रतिबंधित होगा। इस समय ये देश कोरोना वायरस महामारी की तसरी लहर का सामना कर रहा है। यहां अप्रैल महीने में ही संक्रमण के एक लाख 40 हजार से अधिक मामले मिले हैं और 3 हजार लोगों की मौत हो गई है। अधिकारियों ने भारत का उदाहरण देते हुए चेतावनी दी है और कहा है कि प्रतिबंध लगाना जरूरी है नहीं तो भारत जैसी स्थिति हो जाएगी। पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, शनिवार को 4,109 नए मामले सामने आए हैं। हालांकि, असल संख्या इससे भी ज्यादा बताई जा रही है।

गाजियाबाद: सक्रिय मरीजों की संख्या-6134 हुईं

अश्वनी उपाध्याय                

गाजियाबाद। राज्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दैनिक रिपोर्ट के अनुसार, आज शनिवार को जिले में 564 नए संक्रमितों की पहचान हुई जबकि 1,100 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इस अवधि में 8 मरीजों की मौत के बाद सक्रिय मरीजों की संख्या 6134 हो गई है।  गाज़ियाबाद में अब तक कुल 40,795 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं। गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) में 24 घंटों की अवधि में 1188 नए संक्रमित मिले जबकि 1331 संक्रमितों को डिस्चार्ज किया गया। यहाँ 11 मरीजों की मृत्यु के बाद सक्रिय संक्रमितों की संख्या 8545 हो गई है। नोएडा में अब तक कुल 44107 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं।

गाजियाबाद समेत यूपी में 10 मई तक कर्फ्यू: उपाय

अश्वनी उपाध्याय             

गाजियाबाद। कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जिला समेत पूरे उत्तर प्रदेश में 10 मई तक कर्फ़्यू लगा हुआ है। 10 मई की सुबह 7 बजे तक प्रभावी कोरोना कर्फ़्यू में सभी तरह की औद्योगिक गतिविधियां कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुसार चलाने की इजाजत है। इसी प्रकार फार्मेसी और सर्जिकल सामान विक्रेताओं को भी कोरोना कर्फ़्यू से बाहर रखा गया है। किन्तु, कोरोना कर्फ़्यू में दैनिक उपयोग की दुकानें जैसे सब्जी, फल, दूध, किराना इत्यादि की दुकानों को छोड़ कर अन्य सभी प्रकार की व्यापारिक गतिविधियां प्रतिबंधित हैं। पिछले कुछ दिनों से गाज़ियाबाद के विभिन्न व्यापारिक संगठनों से शिकायतें मिल रहीं थी कि पुलिसकर्मी प्रातः 10 बजे के बाद फल, दूध, सब्जी और किराना आदि की दुकानें भी बंद करा रहे थे। हालांकि, राज्य सरकार द्वारा जारी आदेशों में इन दुकानों को खोलने के लिए कोई समयावधि तय नहीं थी किन्तु सिटी मजिस्ट्रेट मेरठ ने जिले के लिए उक्त दुकानों का समय निश्चित कर दिया था। गाज़ियाबाद के पुलिस कर्मी इसी आदेश को दिखा कर यहाँ भी जबर्दस्ती दुकानें बंद कर रहे थे।

कौशाम्बी: संदिग्ध परिस्थिति में युवक का शव मिला

कौशाम्बी। कोखराज थाना क्षेत्र के बजहा इमामगंज में एक 38 वर्षीय युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में फाँसी में झूलता हुआ शव मिला। सूचना पर पहुँची मूरतगंज चौकी पुलिस व कोखराज थाना पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मौके की परस्थिति युवक की आत्महत्या से इंकार कर रही है।
घटनाक्रम के मुताबिक कोखराज थाना क्षेत्र के इमामगंज बजहा गांव निवासी वीरेंद्र कुमार यादव उर्फ दुर्गा उम्र 38 वर्ष पुत्र अशर्फीलाल यादव का शनिवार की सुबह घर में शव मिला है। परिजनों के मुताबिक, युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है। युवक की मौत की जानकारी मिलते ही आसपास के लोग घटनास्थल पर एकत्रित हो गए हैं। मामले की सूचना पुलिस को दी गई है सूचना पाते ही मौके पर पुलिस पहुंची है और लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
मंजीत सिंह 

परिजनों ने हॉस्पिटल पर लगाया लापरवाही का आरोप

अतुल त्यागी                  
हापुड़। पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र के रामा हॉस्पिटल में एक मरीज की मृत्यु के बाद उसके परिजनों ने जमकर  हंगामा किया। परिजनों ने हॉस्पिटल स्टाफ पर लापरवाही का आरोप लगाया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने समझा बुझा कर परिजनों को शांत किया। रामा हॉस्पिटल का विवादों से है, पुराना नाता। अभी कुछ दिन पहले एक युवक की मृत्यु के बाद उसके परिजनों को शव ना देने के कारण हुआ था। धौलाना एसडीएम के कहने के बावजूद भी रमा हॉस्पिटल वालों ने नहीं दिया था। उसके परिजनों को शव और उसके परिजनों से ₹35000 लेकर ही उसके परिजनों को शव सौंपा था।

लिफ्ट वाहक रॉकेट के महासागर में गिरने की संभावना

वाशिंगटन डीसी। चीन के लॉन्ग मार्च 5बी हैवी-लिफ्ट वाहक रॉकेट के रविवार को प्रशांत महासागर में गिरने की संभावना है। चीन का 21 टन वजनी विशालकाय रॉकेट अंतरिक्ष में अनियंत्रित हो गया है और यह अब पृथ्‍वी की ओर बढ़ रहा है। अमेरिकी वायु सेना के नवीनतम पूर्वानुमानों के अनुसार यह जानकारी सामने आयी हैस्पेस-ट्रैकडॉटओआरजी द्वारा प्रकाशित अनुमान के मुताबिक यह अंतरिक्ष यान का दूसरा चरण 9 मई (रविवार) को लगभग जीएमटी के अनुसार दो बजकर 52 मिनट पर पृथ्वी के वायुमंडल में फिर से प्रवेश करने का अनुमान है। यह प्रशांत महासागर के दक्षिणी भाग में न्यूजीलैंड से ज्यादा दूर नहीं है। इससे पहले यह अनुमान लगाया गया था कि रॉकेट दूसरे चरण में आठ मई को जीएमटी अनुसार एक बजकर 11 मिनट और 19 बजकर 11 मिनट के बीच पृथ्वी के वायुमंडल में फिर से प्रवेश करेगा।रूस की रोस्कोसमोस अंतरिक्ष एजेंसी ने शुक्रवार को कहा था कि लॉन्ग मार्च 5 बी हेवी-लिफ्ट लॉन्च वाहन के दूसरे चरण में 9 मई को प्रशांत महासागर में पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करने की संभावना जतायी गयी थी।
विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि चीनी रॉकेट पृथ्‍वी पर अगर किसी आबादी वाले इलाके से टकराता है तो भारी तबाही हो सकती है। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि इस रॉकेट का मलबा न्‍यूयॉर्क, मैड्रिड और पेइचिंग जैसे शहरों में कहीं भी गिर सकता है। रॉकेट को चीन के वेनचांग रॉकेट प्रक्षेपण स्थल से 29 अप्रैल को प्रक्षेपित किया गया था।

रिलीफ फंड में 24 घंटों के अंदर ₹3.6 करोड़ जमा हुएं

कविता गर्ग             
मुंबई। देश में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच मनोरंजन जगत की हस्तियां देश की इस मुश्किल घड़ी में जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए बढ़ -चढ़ कर आगे आ रही हैं। इसी कड़ी में फिल्म अभिनेत्री अनुष्का शर्मा और भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने इस मुश्किल घड़ी में लोगों की मदद के लिए फंड रेजिंग का अभियान शुरू किया है। शुक्रवार को विरुष्का के नाम से मशहूर इस कपल ने इस अभियान की शुरुआत दो करोड़ रुपये की राशि के योगदान के साथ की थी। इसके साथ ही दोनों ने लोगों से अपील की थी कि जितना हो सके इस अभियान में अपना योगदान दें। जिसके बाद कोविड 19 रिलीफ फंड में महज 24 घंटों के अंदर 3.6 करोड़ रुपये जमा हो गए हैं। फैंस के इस सपोर्ट के लिए अनुष्का और विराट ने उनका आभार जताया है। अनुष्का शर्मा ने एक पोस्ट शेयर कर लिखा -' इस मुहिम में योगदान देने वाले लोगों का दिल से शुक्रिया। हमने आधे से ज्यादा का लक्ष्य़ हासिल कर लिया है। चलिए इसे पूरा करते हैं। वहीं इसे लेकर विराट कोहली ने लिखा कि सिर्फ 24 घंटों में 3.6 करोड़ रुपये, ये दिल खुश करने वाला है। चलिए देश के लोगों की मदद के लिए ऐसे ही लगातार लड़ते रहेंगे।'

शवों का अंतिम संस्कार निशुल्क कराने का निर्णय

हरिओम उपाध्याय                   
लखनऊ। राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण से हुई लोगों की मौत के बाद अब सभी शवों का अंतिम संस्कार नि:शुल्क कराने का निर्णय किया है। इसको लेकर शासन की ओर से आदेश भी जारी कर दिया गया है।
 अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह ने जारी आदेश पत्र में सभी नगर निगम व नगर निकाय को उनके मूल कर्त्तव्य याद दिलाया है। उन्होंने सभी को पत्र जारी करके यह निर्देश दिए है कि कोविड-19 के संक्रमण के कारण किसी की भी मृत्यु की दशा में नगरीय निकाय की सीमा के अंतर्गत सभी शवों का नि:शुल्क अंतिम संस्कार कराने की व्यवस्था की जाये। साथ ही इस प्रक्रिया में कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करना जरुरी है। 
उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया में होने वाले व्यय नगरीय निकाय अपने स्रोतों से या फिर राज्य वित्त आयोग से उपलब्ध कराई गई धनराशि से होगा। यह व्यव एक प्रकरण में अधिकतम पांच हजार रुपये तक होगा। 

विश्व: 32.70 लाख से अधिक की मौंत, संक्रमण

वाशिंगटन डीसी। विश्व भर में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के फिर तेजी से फैलने के बीच इस महामारी के संक्रमण से 32.70 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, संक्रमितों की संख्या 15.69 करोड़ से अधिक हो गई है। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र (सीएसएसई) की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार दुनिया के 192 देशों एवं क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 15 करोड़ 69 लाख 19 हजार 303 हो गयी है। जबकि 32 लाख 70 हजार 397 लोग काल-कलवित हो गए हैं। वैश्विक महाशक्ति माने जाने वाले अमेरिका में कोरोना वायरस का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है और यहां संक्रमितों की संख्या तीन करोड 26 लाख 52 हजार से पार हो गयी है। जबकि 5.80 लाख से अधिक मरीजों की इस महामारी से मौत हो चुकी है। दुनिया में कोरोना संक्रमितों के मामले में भारत दूसरे स्थान पर और मृतकों के मामले में चौथे स्थान पर है। पिछले 24 घंटे में जहां 4,01,078 नये मामले आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर दो करोड़ 18 लाख 92 हजार 676 हो गया। वहीं, 4187 मरीज अपनी जान गंवा बैठे और इस बीमारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2,38,270 हो गयी है।

धर्मशाला में महसूस किए गए भूकंप के हल्के झटके

श्रीराम मौर्य                

शिमला। हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में शनिवार की सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार यहां किसी प्रकार के जान-माल का नुकसान नहीं हुआ है। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ने हिमाचल प्रदेश में झटके लगने की पुष्टि करते हुए कहा है कि वहीं रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 3 रही। बता दें, कि हाल ही में 5 मई को असम के सोनितपुर में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे।इनकी भी रिक्टर पैमाने पर तीव्रता काफी कम 3.5 रही थी। वहीं 28 अप्रैल को असम में आए भूकंप की रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 6.4 तीव्रता मापी गई थी।

टीकाकरण में आने वाला खर्च वहन करेंगीं सरकार

अकांशु उपाध्याय                 

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने सभी मीडिया हाउस जिसमें इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, डिजिटल मीडिया और प्रिंट मीडिया शामिल है। सभी के लिए एक सामूहिक कोरोना टीकाकरण अभियान आयोजित करने का निर्णय लिया है। सरकार उनके कार्यालयों में टीकाकरण अभियान आयोजित करेगी। इस टीकाकरण में आने वाला खर्च दिल्ली सरकार वहन करेगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को पत्रकारों और उनके परिजनों को कोविड-19 का टीका दिलाने के अनुरोध पर संज्ञान लेते हुए सभी पत्रकारों को सरकारी खर्चे पर कोरोना का टीका लगाने का फैसला लिया है। दिल्ली पत्रकार संघ ने दिल्ली में पत्रकारों और मीडियाकर्मियों के लिए कोविड-19 के टीकाकरण के लिए दिल्ली के हर जिले में कुछ विनिर्दिष्ट चिकित्सा केंद्रों पर एक संक्षिप्त अवधि में ही सही, कुछ दिनो के लिए समय नियत कर उनको कोविड 19 की वैक्सीन देने की मांग गत बुधवार को मुख्यमंत्री से की थी।  संघ ने सरकार से अनुरोध किया था कि कोरोना वायरस संक्रमण से मौत होने पर पत्रकार के परिवार को आर्थिक सहायता की भी घोषणा की जाए।  इस मौके पर दिल्ली पत्रकार संघ के अध्यक्ष मनोहर सिंह ने खुशी जाहिर की है। उल्लेखनीय है कि ओडिशा, कर्नाटक, तमिलनाडु, पंजाब, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना और कई अन्य राज्यों ने पत्रकारों को 'कोरोना योद्धा' माना है। उत्तर प्रदेश, बिहार और कई अन्य राज्यों में पत्रकारों तथा उनके परिवार को कोविड-टीकाकरण में प्राथमिकता देने की घोषणा की जा चुकी है।

आइओएस और एंड्राइड में उपलब्ध होगा टीपजर

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। बीते कुछ समय से ट्विटर लगातार नए फीचर को लेकर काम कर रहा है। इसी कड़ी में अब ट्विटर ने एक फीचर टीपजर लाया है। टीपजर की मदद से लोग एक दूसरे को पैसे भेज सकेंगे। यह फीचर आइओएस और एंड्राइड दोनों में उपलब्ध होगा। फिलहाल इस फीचर को आनंद कुछ चुनिंदा यूजर्स ही उठा सकते हैं। इस फीचर को फिलहाल पत्रकार अलग-अलग मामलों के एक्सपर्ट, क्रिएटर्स और गैर-लाभकारी संस्थाओं के लिए पेश किया गया है।लेकिन कंपनी जल्द ही इसे सभी यूजर्स के लिए रोलआउट कर सकती है।
आपको बता दें कि ट्विटर ने कहा इस पेमेंट के लिए वह किसी तरह का कोई कमीशन नहीं लेगा। ट्विटर टीपजर फीचर को जल्द ही सभी के लिए जारी किया जाएगा, लेकिन इसके लिए कंपनी ने कोई तारीख तय नहीं की है। ये फीचर ट्विटर यूजर्स को पैसे कमाने में भी मदद करेगा। इसके जरिए आप उन ट्विटर अकाउंट्स को टिप दे सकते हैं जिनके कंटेंट आपको पसंद हैं। एंड्रॉयड में ये टीपजर फीचर स्पेसिस में भी काम करेगा जो ट्विटर का लाइव ऑडियो बेस्ड फीचर है। कंपनी का कहना है कि ट्विटर के अंदर लोगों को पैसे दे कर सपोर्ट करने की राह में ये पहला कदम है।

विमानवाहक पोत पर आग लगने की मामूली घटना

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। भारत के इकलौते विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य पर शनिवार को तड़के आग लगने की मामूली घटना हुई। लेकिन करवार में ड्यूटी पर तैनात क्रू की त्वरित कार्रवाई से उस पर काबू पा लिया गया। जहाज पर तैनात सभी कर्मचारी सुरक्षित हैं और कोई बड़ी क्षति नहीं हुई। नौसेना ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। नौसेना प्रवक्ता के अनुसार इस वक्त कारवार बंदरगाह पर तैनात आईएनएस विक्रमादित्य के सेलर एकामडेशन कंपार्टमेंट में आज तड़के अचानक आग लग गई। ड्यूटी स्टाफ ने उठ रही आग और धुएं को देखने के बाद फायर फाइटिंग ऑपरेशन लांच किया। तत्काल की गई इस कार्रवाई के बाद आग पर काबू पा लिया गया। 
 नौसेना के एक प्रवक्ता ने यहां एक बयान में बताया कि आग बुझा दी गई है और पोत में सवार सभी कर्मी सुरक्षित हैं। बयान में कहा गया है कि जहाज में नौसैनिकों के रहने वाले हिस्से से धुआं उठते देख पोत के ड्यूटी कर्मियों ने आग को बुझाने के लिए तत्काल कार्रवाई की। पोत में सवार सभी कर्मियों की गिनती की गई और कोई बड़ा नुकसान नहीं पहुंचा है। 
 आईएनएस विक्रमादित्य का पुराना नाम एडमिरल गोर्शकोव है। कीव क्लास के इस विमान वाहक पोत को रूस से भारत ने 2.33 अरब डॉलर के सौदे के तहत खरीदा था। इसने 1996 तक सोवियत और रूसी नौसेना में अपनी सेवाएं दी हैं। खास बात है कि तीन फुटबॉल मैदानों के बराबर इस पोत पर कुल 22 डेक हैं और इसमें 1600 कर्मी रह सकते हैं। इस इकलौते विमानवाहक युद्धपोत को 16 नवम्बर, 2013 को भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था। 
 भारतीय ​नौसेना​ को अमेरिका से मिलने वाले सभी 24 ​​एमएच-60 ​रोमियो ​​​हेलीकॉप्टर​​ इसी विमान वाहक पोत से संचालित होंगे​​।​ इन्हें 2023 या अंत तक ​नौसेना के बेड़े में ​शामिल किया जाएगा। नौसेना का दूसरा विमानवाहक युद्धपोत आईएनएस विक्रांत अभी परीक्षण के दौर से गुजर रहा है। इसके 2021 के अंत या 2022 की शुरुआत में इसके नौसेना के परिवार का हिस्सा बनने की उम्मीद है। 

महामारी: देश के लोगों को सरकार ने विफल किया

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कोविड​​-19 स्थिति पर मोदी सरकार पर तीखा हमला करते हुए कहा कि भारत राजनीतिक नेतृत्व आज एक अपंग है।जिसमें लोगों के लिए कोई सहानुभूति नहीं है। मोदी सरकार ने हमारे देश के लोगों को विफल कर दिया है। इस संकट से निपटने के लिए सक्षम, शांत और दूरदर्शी नेतृत्व की आवश्यकता है। मोदी सरकार की उदासीनता और अक्षमता के कारण राष्ट्र डूब रहा है। उन्होंने संकट के इस दौर में सरकार से सर्वदलीय बैठक बुलाने की बात कही।
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को कांग्रेस संसदीय दल (सीपीपी) की एक वर्चुअल बैठक में पार्टी सांसदों को संबोधित करते हुए कहा कि वायरस के खिलाफ लड़ाई ने राजनीतिक मतभेदों को जन्म दिया और कांग्रेस पार्टी ने दृढ़ता से माना कि कोविड से लड़ाई सरकार से लड़ाई नहीं बल्कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई है। उन्होंने कहा कि हमें स्पष्ट रूप से बताएं – सिस्टम विफल नहीं हुआ है। मोदी सरकार रचनात्मक रूप से भारत की कई शक्तियों और संसाधनों को कोरोना लड़ाई में उपयोग करने में असमर्थ रही है।  मैं यह स्पष्ट रूप से कहती हूं। इसके पहले अपनी प्रारंभिक टिप्पणी में सोनिया गांधी ने हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के प्रदर्शन को निराशाजनक और अप्रत्याशित करार देते हुए कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में इसकी समीक्षा होगी।

कल के हालात को रोकना हमारे वश में नहीं: पीएम

अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। कोरोना की तीसरी लहर के बारे में तो कल्पना करने से डर लगता है। लेकिन हालात को रोकना अब हमारे वश में नहीं है। इस बात पर भी बहस करना व्यर्थ है कि ऐसे हालात हमने क्यों आने दिये। अब तो जो भी और जैसे भी हालात हैं, उनका सामना करना होगा। उनसे मुकाबले की तैयारी करनी होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में कोरोना के हालात पर 6 मई को एक बड़ी बैठक की। पीएम मोदी को इस बैठक में देश के हरेक राज्य में कोविड-19 की स्थिति की जानकारी दी गई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बैठक में दवाइयों की कमी और टीकाकरण को लेकर निर्देश भी दिए।
पीएम मोदी ने बैठक में कहा कि सभी राज्य कोरोना टीकाकरण की गति में कमी नहीं आने दें। प्रधानमंत्री कार्यालय ने इसकी जानकारी दी। पीएमओ ने बताया कि प्रधानमंत्री के समक्ष विभिन्न राज्यों में कोविड प्रकोप की एक विस्तृत तस्वीर प्रस्तुत गई। उन्हें 12 राज्यों में 1 लाख से अधिक सक्रिय मामलों की जानकारी दी गई थी। इसके साथ ही हाई केस लोड वाले जिलों के बारे में पीएम को अवगत कराया गया। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से बताया गया कि पीएम को राज्यों द्वारा स्वास्थ्य सुविधाओं के बुनियादी ढांचे के बारे में बताया गया। पीएम ने निर्देश दिया कि स्वास्थ्य सेवाओं के बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए जरूरी पहलुओं के बारे में राज्यों को सहायता और मार्गदर्शन दिया जाना चाहिए। पीएम मोदी की इस अहम बैठक में कोरोना की रोकथाम के लिए त्वरित और समग्र उपायों को सुनिश्चित करने के उपायों पर भी चर्चा की गई है। यह बात काफी महत्वपूर्ण है। इस समय कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए कोरोना गाइडलाइन का पालन करवाने और वैक्सीन लगवाने की जहां त्वरित जरूरत है, वहीं कोरोना संक्रमितों को जरूरी दवाएं और जरूरत के अनुसार आक्सीजन उपलब्ध कराना भी समग्र उपायों में शामिल करना होगा। इसके साथ ही हमें अभी से तैयारी करनी होगी ताकि कोरोना की तीसरी लहर के समय इस तरह की आपाधापी न मचे जैसी दूसरी लहर के समय मची है। हमारी प्रायोरिटी इस समय स्वास्थ्य होना चाहिए, ठीक उसी तरह जैसे हमने देश की आजादी को प्राथमिकता तय किया था।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना को नियंत्रित करने के त्वरित और समग्र उपायों के बारे में बताया कि राज्यों को ऐसे जिलों की पहचान करने के लिए एक एडवाइजरी भेजी गई थी, जहां केस पॉजिटिविटी 10 फीसदी या उससे अधिक है और ऑक्सीजन सपोर्टेड या आईसीयू बेड 60प्रतिशत से ज्यादा भरे हुए हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि देश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के बीच जरूरी मदद हर स्घ्थान तक पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। कोरोना हमले के पहले चरण में वैक्सीन नहीं थी। अब दूसरे चरण में हमारे ही देश में दो वैक्सीन बन गयीं और सफलतापूर्वक लगायी जा रही हैं। इसबीच वैक्सीन की कमी महसूस की गयी क्योंकि वैक्सीन बनाने वाली कम्पनियों को कच्चे माल की आपूर्ति रोक दी गयी थी। इस बात को लेकर अमेरिका में सांसदों ने राष्ट्पति जो बाइडन की आलोचना की। अमेरिका ने न केवल कच्चे माल की आपूर्ति बहाल कर दी बल्कि कोरोना का इंजेक्शन् स ऑक्सीजन न वेंटीलेटर भी भारत के लिए भेजे। इसी प्रकार अन्य देशों ने भी मदद पहुंचाई है। अब जरूरत है इसे जरूरतमंदों तक पहुंचाने की। एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) ने जानकारी दी है कि वो पूरे देश में कोरोना वायरस संक्रमण की वैक्सीन ऑक्सीजन और अन्य जरूरी संसाधन जल्द और सुरक्षित रूप में पहुंचाने का कार्य सुचारू रूप से कर रही है ताकि देश में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर से लड़ा जा सके। अपनी सह कंपनी एएआई कार्गो लोजिस्टिक्स एंड एलाइड सर्विसेज कंपनी लिमिटेड (एएआईसीएलएएस) के साथ मिलकर कोरोना वैक्सीन की डोज, ऑक्सीजन कंटेनर और अन्य मेडिकल उपकरण को पूरे देश में सुरक्षित और जल्घ्द पहुंचाने में जुटी है ताकि अस्पतालों तक यह समय पर पहुंच सकें और टीकाकरण अभियान चलता रहे। एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि एएआई के कार्गो टर्मिनल का इस्तेमाल कोरोना वैक्सीन और अन्य जरूरी सामान को रखने, प्रोसेज करने और उन्हें भेजने के लिए किया जा रहा है। एएआई के अनुसार अब तक उसके द्वारा करीब 9.5 करोड़ वैक्घ्सीन डोज भेजी जा चुकी है। एएआईसीएलएएस के साथ मिलकर भारतीय वायुसेना और ब्यूरों ऑफ सिविल एविएशन सिक्युरिटी (बीसीएएस) से विचार विमर्श करने के बाद वैक्सीन को पूरे देश में पहुंचाया जा रहा है। एएआई ने जानकारी दी है कि अब तक 2,81,000 किलोग्राम वजनी कोरोना वायरस वैक्सीन को घरेलू एयरलाइंस की 400 उड़ानों के जरिये 40 एयरपोर्ट पर भेजा गया है।
देश में कोरोना की रफ्तार पूरी तरह से बेकाबू हो गई है। लगातार दूसरे दिन कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्घ्या ने 4 लाख के आंकड़े को पार किया है, जबकि अब तक देश में तीन बार ऐसा हुआ है जब कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्घ्या 4 लाख से अधिक हुई है। पिछले 24 घंटे के आंकड़ों पर नजर दौड़ाएं तो देश में कोरोना के 4 लाख 14 हजार 182 मामले सामने आए हैं जबकि इस दौरान 3,920 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। गत 5 मई की बात करें तो देश में कोरोना के 4 लाख 12 हजार 262 पॉजिटिव केस सामने आए थे, जबकि 3,980 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी। सभी राज्यों में इसका प्रकोप अभी बढ ही रहा है। महाराष्ट् में एक बार फिर कोरोना का ग्राफ ऊपर चढ़ने लगा है। बीती 6 मई को कोविड-19 के 62,194 नए मामले सामने आए जबकि 853 मरीजों की मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक नए मामले सामने आने के बाद अब तक 73,515 मरीजों की जान चली गई है जबकि संक्रमितों की कुल संख्या 49,42,736 हो गई है। एक दिन पहले की तुलना में कोविड-19 के 4554 अधिक नए मामले सामने आए जबकि 67 कम मरीजों ने जान गंवाई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 6 मई को बताया कि नए मामले सामने आने के बाद कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 2,14,91, 592 हो गए हैं। पिछले 24 घंटे में कोरोना से होने वाली मौत के बाद देश में कोरोना महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या 2,34,088 से अधिक हो गई है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच इस महामारी से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। पिछले 24 घंटे में 3 लाख 28 हजार 141 कोरोना मरीजों ने कोरोना की जंग जीत ली है।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार तेजी पर विराम

अंकाशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में जारी तेजी पर विराम लग गया है। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों ने तेल की कीमत में शनिवार को कोई बदलाव नहीं किया है। विधानसभा चुनाव के बाद लगातार चार दिनों तक पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी से पेट्रोल 90 पैसे और डीजल एक रुपया प्रति लीटर तक महंगा हो चुका है। 
इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक देश  के चारो महानगरों दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में पेट्रोल की कीमत बढ़कर क्रमश: 91.27 रुपये 97.61 रुपये, 93.15 रुपये और 91.41 रुपये प्रति लीटर हो गया है। वहीं, इन महानगरों में डीजल के दाम भी इस बढ़ोतरी के साथ क्रमश: 81.73 रुपये, 88.82 रुपये, 86.65 रुपये और 84.57 रुपये प्रति लीटर हो गया है। 
उल्लेखनीय है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत में तेजी बने रहने के संकेत हैं। एक दिन पहले अमेरिकी बाजार में ब्रेंट क्रूड 0.19 डॉलर की बढ़ोतरी के साथ 68.28 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। वहीं, डब्ल्यूटीआई क्रूड भी 0.18 डॉलर की तेजी के साथ 64.90 डॉलर प्रति बैरल तक चला गया था।

10 मई को क्रांति दिवस के रूप में मनाने का निर्णय

अश्वनी उपाध्याय                     
गाजियाबाद। नये कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन की अगुवाई कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में 10 मई को क्रांति दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया है। इस दौरान प्रवासी मजदूरों और गरीबों के लिए आंदोलन स्थल पर 24 घंटे भोजन की व्यवस्था किए जाने की घोषणा भी मोर्चा की तरफ से की गई है।
कोविड-19 पॉजिटिव कार्यकर्ता की तरफ बढ़ाया राकेश शर्मा ने मदद का हाथ।
केंद्र सरकार के नये कृषि कानूनों के विरोध में राजधानी के गाजीपुर, टीकरी और सिंधु बॉर्डर पर चलाए जा रहे आंदोलन की अगुवाई कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा का कहना है कि देश में वर्ष 1857 में अंग्रेजों की गुलामी से मुक्ति पाने के लिये आजादी के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन की शुरुआत 10 मई को हुई थी। इसलिए नए कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसान 10 मई को क्रांति दिवस के रूप में मनाएंगे। किसान मोर्चा का कहना है कि इस दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना-19 की गाइडलाइन का ध्यान रखते हुए किसानों से अपने अपने स्तर से क्रांति दिवस मनाने की अपील की गई है। संयुक्त किसान मोर्चा गाजीपुर के प्रवक्ता जगतार सिंह बाजवा ने बताया कि आगामी 10 मई को क्रांति दिवस के मौके पर सजाये मंच से अमर शहीद मंगल पांडे समेत अन्य शहीदों को याद करते हुए उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी। इस दौरान किसान आंदोलन को सफलता के मुकाम तक पहुंचाने का संकल्प भी किसान नेताओं व किसानों द्वारा दोहराया जाएगा। किसान मोर्चा की ओर से घोषणा की गई है कि कोरोना संक्रमण की वजह से लगाये गये लॉकडाउन की मार झेल रहे प्रवासी मजदूरों व गरीबों के लिए सवेरे 7.00 बजे से लेकर 9.00 बजे तक जलपान तथा सवेरे 9.00 बजे से लेकर रात 9.00 बजे तक भोजन की आंदोलन स्थल पर व्यवस्था रहेगी। इस दौरान किसी भी समय आने वाले जरूरतमंदों को भी भोजन मुहैया कराया जाएगा। आंदोलन स्थल के आसपास कोई भी व्यक्ति रोटी के अभाव में भूखा ना सोए इसकी जिम्मेदारी किसान आंदोलन चला रहे स्वयंसेवकों को सौंपी गई है। बैठक में डी.पी. सिंह, बलजिंदर सिंह मान, धर्मपाल सिंह सहित अन्य कई लोग मौजूद रहे।

जवाबी हमलें में 25 तालिबान आतंकियों की मौंत

काबुल। अफगानिस्तान के बघलान प्रांत में शुक्रवार की रात सेना के जवाबी हमले में कम से कम 25 तालिबान आतंकवादियों की मौत हो गयी और 12 अन्य घायल हो गये। रक्षा मंत्रालय ने शनिवार को एक बयान जारी कर यह जानकारी दी।
बयान के मुताबिक अफगानी वायुसेना के सहयोग से चलाये गये अभियान के दौरान आतंकवादियों के एक वाहन, कुछ हथियारों और विस्फोटक उपकरणों को भी नष्ट कर दिया गया। तालिबान समूह ने अभी इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है।
इससे पहले हाल में तालिबान के सैंकड़ों लड़ाकों ने बघलान प्रांत पर कब्जा करने का प्रयास किया था।तेजी से बदलती दुनिया के इस दौर में इंटरनेट क्रान्ति ने अपनी शक्ति से सबको चकित कर दिया है। इस ताकत की वजह से मीडिया संसार में एक ज़बरदस्त बदलाव की बयार बह रही है। कहने का मतलब मीडिया का एक नया स्वरूप उभर कर सामने आया है। हमने भी अपनी ‘खोजी न्यूज’ वेबसाइट लॉन्च कर दी है।

'कम्युनिटी किचन' के संचालन की फिर एक नई पहल

हरिओम उपाध्याय                 
लखनऊ। वैश्विक महामारी के चुनौतीपूर्ण दौर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समूचे उत्तर प्रदेश में सामुदायिक भोजनालय (कम्युनिटी किचन) के संचालन की फिर एक नई पहल कर दी है। सरकार की इस पहल से प्रदेश में आंशिक कर्फ्यू के दौरान अब गरीबों को मुफ्त भोजन मिलने जा रहा है। लखनऊ, प्रयागराज और कानपुर में इस तरह के कम्युनिटी किचन की सेवाओं की शुरुआत हो रही है। अन्य जनपदों में भी इसके संचालन का काम तीव्र गति से किया जा रहा है। 
 राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि योगी सरकार राज्य में सामुदायिक भोजनालय के संचालन की जरूरत पर शुरुआत से जोर दे रही है। मुख्यमंत्री निर्देश दे चुके हैं कि आंशिक कोरोना कर्फ्यू के दौरान कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे और भूखा न सोए। कहीं भी किसी श्रमिक, ठेला, रेहड़ी व्यवसायी, दिहाड़ी मजदूर को भोजन की समस्या न हो। उनके इस आदेश के बाद कम्युनिटी किचन के संचालन का काम शुरु किया गया है। कोरोना संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिये सरकार लगातार जरूरी कदम उठा रही है। इस कड़ी में कृषि उत्पादन आयुक्त स्तर से कम्युनिटी किचन के संचालन की जिम्मेदारी संभाली जा रही है। औद्योगिक इकाइयों में भोजन के आवश्कतानुसार प्रबंध किये जा रहे हैं। काई भी व्यक्ति भोजन के अभाव में परेशान न हो, इसे सुनिश्चित किये जाने के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी कर दिये गये हैं। 

अस्पतालों पर की गई कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी: एचसी

बृजेश केसरवानी                 
प्रयागराज। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार से ऑक्सीजन की कमी बताकर मरीजों को लौटाने वाले लखनऊ के दो अस्पतालों पर की गई कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी है। कोर्ट ने कहा कि लखनऊ के हर्ष हास्पिटल और सन हास्पिटल में ऑक्सीजन होने के बावजूद मरीजों को ऑक्सीजन नहीं होने का बहाना बनाकर क्यों लौटाया गया। इस पर सरकार ने दोनों अस्पतालों के खिलाफ क्या कार्रवाई की है। कोर्ट ने देश में टीके की कमी पर केंद्र सरकार से रिपोर्ट मांगी है। पूछा है कि रूसी टीके स्पूतनिक के आयात की क्या स्थिति है। 
 अदालत ने सुझाव दिया है कि यदि देश में टीके की कमी है तो इसे विदेशों से आयात किया जाए। स्वतः प्रेरित जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही न्यायमूर्ति सिद्धार्थ वर्मा और न्यायमूर्ति अजीत कुमार की पीठ ने मेरठ के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से पांच मरीजों की मौत को लेकर डीएम मेरठ के हलफनामे को असंतोषजनक माना। कोर्ट ने डीएम को बेहतर जानकारी के साथ हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया है। वहीं केंद्र और राज्य सरकार से कोराना संक्रमण से पैदा हुए हालात पर आगे की कार्यवाही की जानकारी मांगी है। हाईकोर्ट के निर्देश पर राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव मतगणना की सीसीटीवी फुटेज कोर्ट में पेश की। पिछली सुनवाई पर कोर्ट ने लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर, गाजियाबाद, मेरठ, गौतमबुद्ध नगर और आगरा में मतगणना की सीसीटीवी फुटेज पेश करने का निर्देश दिया था। 
 इलाहाबाद हाईकोर्ट के जज जस्टिस वीके श्रीवास्तव की कोविड से मौत मामले में अदालत ने राज्य सरकार से उनके इलाज का ब्यौरा मांगा है। जस्टिस श्रीवास्तव पहले राममनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती थे। जहां इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप है। बाद में उनको एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था। 
हाईकोर्ट के निर्देश पर अपर महाधिवक्ता मनीष गोयल ने प्रदेश सरकार की ओर से रिपोर्ट पेश की थी जिसमें पूरे इलाज का ब्यौरा नहीं था। हाईकोर्ट बार के अध्यक्ष अमरेंद्र नाथ सिंह ने वकीलों के टीकाकरण के लिए अलग काउंटर बनाने की मांग की। याचिका की अगली सुनवाई 11 मई को होगी।

18 से 44 वर्ष आयु के लोगों को नहीं लगेंगीं वैक्सीन

मेरठ। उत्तर प्रदेश में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के बाहरी राज्यों के लोगों को कोरोना वैक्सीन नहीं लगेगी। अब केवल उत्तर प्रदेश के निवासियों को ही प्रदेश के सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए लोगों को अब उत्तर प्रदेश का ही आधार कार्ड दिखाना होगा। 
 जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डाॅ. प्रवीण गौतम ने बताया कि 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए शासन ने नियमों में बदलाव कर दिया है। उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की मिशन निदेशक अर्पणा उपाध्याय ने नियमों में हुए बदलाव का आदेश जारी किया है। दूसरे प्रदेश के लोगों द्वारा ऑनलाइन पंजीकरण कराकर उत्तर प्रदेश में कोरोना वैक्सीन लगवाने का मामला जब शासन तक पहुंचा तो इस पर मंथन के बाद नियमों में बदलाव किया गया। यह निर्णय इसलिए लिया गया है, क्योंकि 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए वैक्सीन उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा खरीदी जा रही है। प्रदेश सरकार द्वारा खरीदी गई वैक्सीन से केवल उत्तर प्रदेश के निवासियों का ही टीकाकरण किया जाएगा। प्रदेश के सभी जिलों में शुरू होगा टीकाकरण। मिशन निदेशक अर्पणा उपाध्याय ने अपने आदेश में कहा है कि अभी प्रदेश के मेरठ, लखनऊ, प्रयागराज, बरेली, गोरखपुर, कानपुर और वाराणसी में ही 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों को टीके लगाए जा रहे हैं। जल्दी ही इसका विस्तार प्रदेश के सभी जिलों में किया जाएगा। 

वायु सेना-नौसेना ने अपने प्रयासों को और तेज किया

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। वायु सेना और नौसेना ने मौजूदा कोविड संकट से निपटने में नागरिक प्रशासन की सहायता करने के अपने प्रयासों को और तेज कर दिया है। इसके साथ ही दोनों सेनाएं विदेशों से ऑक्सीजन कंटेनरों और चिकित्सा उपकरणों को लाने में जुटी हैं। वायुसेना के सी-17 विमानों ने अब तक 400 उड़ानें भरी हैं। 351 घरेलू उड़ानों में वायुसेना ने 4,904 मीट्रिक टन की क्षमता के 252 ऑक्सीजन टैंकर देश के भीतर प्रमुख और जरूरतमंद शहरों तक पहुंचाए हैं। 
 रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय वायुसेना के विमानों ने 1,233 मीट्रिक टन क्षमता के 72 क्रायोजेनिक ऑक्सीजन भंडारण कंटेनर और 1,252 खाली ऑक्सीजन सिलेंडर लाने के लिए अब तक कुल 59 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भरी हैं। यह कंटेनर और सिलेंडर सिंगापुर, दुबई, बैंकॉक, यूके, जर्मनी, बेल्जियम और ऑस्ट्रेलिया से लाये गए हैं। इसके अलावा सी-17 और आईएल-76 विमानों को इज़राइल और सिंगापुर से क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर, ऑक्सीजन जनरेटर और वेंटिलेटर एयरलिफ्ट करने का काम सौंपा गया है। विदेशों से लाये गए ऑक्सीजन क्रायोजेनिक कंटेनर और सिलेंडरों को देश के भीतर जामनगर, भोपाल, चंडीगढ़, पनागर, इंदौर, रांची, आगरा, जोधपुर, बेगमपेट, भुवनेश्वर, पुणे, सूरत, रायपुर, उदयपुर, मुंबई, लखनऊ, नागपुर, ग्वालियर, विजयवाड़ा, बड़ौदा, दीमापुर और हिंडन तक पहुंचाया गया है।  
 इसी तरह भारतीय नौसेना ने कोविड संकट के दौरान ऑपरेशन समुद्र सेतु-II लॉन्च करके 09 जहाजों को तैनात किया है। इसमें आईएनएस तलवार, आईएनएस कोलकाता, आईएनएस ऐरावत, आईएनएस कोच्चि, आईएनएस तबर, आईएनएस त्रिकंद, आईएनएस जलाश्व और आईएनएस शार्दुल को ऑक्सीजन कंटेनर, सिलेंडर, कॉन्सेंट्रेटर्स और संबंधित उपकरण विदेशी मित्र देशों से लाने के लिए तैनात किया गया है। भारतीय नौसेना का जहाज आईएनएस कोलकाता 40 मीट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन, 215 मीट्रिक टन तरल चिकित्सा ऑक्सीजन और 2600 ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर 9 मई को कुवैत से भारत लौट आएगा। इसके अलावा बहरीन, दोहा, क़तर, सिंगापुर से नौसेना के जहाज चिकित्सा सामग्री ला रहे हैं।

एचसी ने कैबिनेट मंत्री इमरान को नोटिस जारी किया

अकांशु उपाध्याय           

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार के कैबिनेट मंत्री इमरान हुसैन को नोटिस जारी किया है। जस्टिस विपिन सांघी की अध्यक्षता वाली बेंच ने नोटिस जारी कर कल यानि आठ मई तक जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। इमरान हुसैन पर कथित तौर पर ऑक्सीजन सिलेंडर की जमाखोरी कर उन्हें बंटवाने का आरोप है। याचिका वेदांश आनंद ने दायर की है। याचिकाकर्ता की ओर से वकील अमित तिवारी ने बल्लीमारन से विधायक और दिल्ली सरकार के कैबिनेट मंत्री इमरान हुसैन पर मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर की जमाखोरी करने का आरोप लगाया। याचिका में कहा गया है कि याचिकाकर्ता ने पिछले 5 मई को आम आदमी पार्टी के दिल्ली के पेज पर देखा कि दिल्ली के मंत्री इमरान हुसैन लोगों को अपने पार्टी दफ्तर पर मुफ्त में ऑक्सीजन की सप्लाई करेंगे। अगर किसी को जरूरत हो तो वो मंत्री के दफ्तर पर आकर ऑक्सीजन ले सकता है। याचिका में कहा गया है कि जब पूरा देश ऑक्सीजन के संकट से गुजर रहा है। ऐसे में दिल्ली सरकार के एक मंत्री द्वारा ऑक्सीजन सिलेंडर की जमाखोरी की जा रही है। उन्होंने कहा कि इमरान हुसैन को ऑक्सीजन सिलेंडर की सप्लाई करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई हो। याचिका में दिल्ली में मेडिकल ऑक्सीजन की निर्बाध सप्लाई करने के लिए तत्काल कदम उठाने का निर्देश देने की मांग की गई है।

बॉलीवुड वर्कस को 1500 रूपये की आर्थिक सहायता

कविता गर्ग                 

मुंबई। बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान कोरोना महामारी संकट के समय 25 हजार बॉलीवुड वर्कस को 1500 रूपये की आर्थिक सहायता करने जा रहे हैं। कोरोना मामलों की बढ़ती संख्या को देखने के बाद महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में लॉकडाउन लगाया हुआ है।लॉकडाउन लगने की वजह से फिल्मों और टीवी शोज की शूटिंग रोक दी गई है। शूटिंग रुकने की वजह से इंडस्ट्री के वर्कर्स आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं। सलमान खान लोगों की मदद के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाया है। सलमान खान फिल्म इंडस्ट्री के वर्कर्स, तकनीशियनों से लेकर स्टंटमैन, स्पॉटबॉय और मेकअप कलाकारों को आर्थिक मदद मुहैया कराएंगे। सलमान 25 हजार वर्कर्स को 1500 रुपये दान करेंगे।

6 महीनों में कोईं काम न करने का नतीजा: ममता

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि देश में कोविड-19 संकट केंद्र के पिछले छह महीनों में कोई काम न करने का नतीजा है। क्योंकि केंद्रीय मंत्री और नेता बंगाल पर कब्जा करने के लिए रोज राज्य में आ रहे थे। बनर्जी विधानसभा में तृणमूल कांग्रेस के विधायक बिमान बंदोपाध्याय के तीसरी बार अध्यक्ष के तौर पर निर्वाचित होने के बाद बोल रही थीं। सांप्रदायिक उकसावे वाली गतिविधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी देते हुए मुख्यमंत्री ने दावा किया कि भाजपा चुनाव जीतने में नाकाम रहने के बाद हिंसा भड़का रही थी। बनर्जी ने निर्वाचन आयोग में सुधार की जरूरत पर जोर देते हुए कहा, ‘‘मैं चुनौती दे सकती हूं कि अगर निर्वाचन आयोग ने सीधे-सीधे उनकी मदद न की होती तो वे (भाजपा) 30 सीटें भी नहीं जीत पाते। 
उन्होंने दावा किया, ‘‘अब वे (भाजपा) जनादेश को स्वीकार नहीं कर सकते और फर्जी वीडियो पोस्ट करके हिंसा भड़का रहे हैं।’’ उन्होंने प्रशासन को हिंसा और साम्प्रदायिक तनाव भड़काने की कोशिश करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया। बनर्जी ने कहा कि केंद्रीय बलों के कर्मी आरटी-पीसीआर कोविड-19 जांच कराए बिना चुनावों के दौरान राज्य में तैनात थे जिससे यह संक्रमण फैला।
मुख्यमंत्री ने दावा किया कि केंद्र ने पिछले छह महीनों में काम नहीं किया। उन्होंने कहा, ‘‘बंगाल में दोहरे-इंजन वाली सरकार बनाने के लिए उन्होंने भारत को बर्बादी की कगार पर धकेल दिया। पिछले छह महीनों में केंद्र सरकार ने कोई काम नहीं किया और वे बंगाल पर कब्जा जमाने के लिए रोज यहां आते थे। गौरतलब है कि कई केंद्रीय मंत्री और भाजपा शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के अलावा पार्टी का शीर्ष नेतृत्व पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार कर रहा था। बनर्जी ने टीकाकरण किए जाने की मांग करते हुए कहा कि केंद्र सरकार की प्राथमिकता नयी संसद इमारत, प्रधानमंत्री आवास और प्रतिमाओं पर 50,000 करोड़ रुपये खर्च करने के बजाय टीकाकरण करने की होनी चाहिए। वहीं, विपक्षी भाजपा विधायकों ने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया।

बंगाल में 10 भाजपा नेताओं को हिरासत में लिया

प्रशांत कुमार  

कोलकाता। बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद से जारी राजनीतिक हिंसा के खिलाफ शुक्रवार को कोलकाता में गांधी मूर्ति के समक्ष प्रदर्शन कर रहीं भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष वानती श्रीनिवासन समेत 10 नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। श्रीनिवासन के अलावा जिन नेताओं को गिरफ्तार किया गया उनमें राज्यसभा सदस्य रूपा गांगुली, प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष व आसनसोल दक्षिण विधानसभा से नवनिर्वाचित विधायक अग्निमित्रा पाल एवं विधायक चंदना बाउरी व अन्य शामिल हैं। हालांकि, पुलिस ने शाम में इन सभी महिला नेताओं को छोड़ दिया।

जेडीयू नेता तनवीर अख्तर की कोरोना से मौत हुईं

अविनाश श्रीवास्तव   
पटना। जनता दल यूनाइटेड के नेता और विधान पार्षद तनवीर अख्तर की कोरोना से मौत हो गई है। कुछ दिनों से पटना के एक अस्पताल में भर्ती थे जहां आज उन्होंने अंतिम सांस ली। बता दे तनवीर अख्तर जेडीयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश के इंचार्ज थे। एमएलसी तनवीर अख्तर विधानसभा कोटे से 2016 में एमएलसी बने थे और उनका कार्यकाल जुलाई 2022 तक था।
बता दें, जदयू नेता तनवीर अख्तर गया जिला के रहने वाले थे। पहले ये कांग्रेस पार्टी से जुड़े थे। कांग्रेस से ही 2016 में एमएलसी चुने गए थे। मार्च 2018 में जब अशोक चौधरी कांग्रेस छोड़ जदयू में शामिल हुए थे तो उनमें से एक एमएलसी तनवीर अख्तर भी थे। ये जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष भी रह चुके थे। इसके अलावे बिहार कांग्रेस में भी ये कई पदों पर अपनी सेवा दे चुके थे।

मोदी ने राहुल गांधी व लालू यादव पर बोला हमला

अविनाश श्रीवास्तव   
पटना। कोरोना की दूसरी लहर से पूरे देश में कोहराम मचा हुआ है। कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या थमने का नाम नहीं ले रही है। वही इस महामारी से कई लोगों की जानें भी अब तक जा चुकी है। इस आपदा की घड़ी में राजनीति भी तेज हो गयी है। इस महामारी के दौर में राजनितिक दलों के नेताओं द्वारा आरोप प्रत्यारोप भी जारी है। कभी सत्ता पक्ष विपक्ष पर हमलावर है तो कभी विपक्षी दल सत्ता पक्ष पर हमला बोल रहे हैं। राजनेताओं का हमला ट्विटर पर भी जारी है। 
इसी क्रम में बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम व सांसद सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट किया है। सुशील मोदी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी और आरजेडी सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव पर हमला बोला। सुशील मोदी ने ट्विटर पर लिखा कि राहुल गांधी और लालू यादव कोराना योद्धाओं का मनोबल गिरा रहे हैं।सुशील मोदी ने कहा कि लालू की बयानबाजी ओछी राजनीति है। संकट के समय में राहुल और लालू यादव की बयानबाजी दवा और ऑक्सीजन की कालाबाजारी से भी अधिक खतरनाक है। कोरोना के संक्रमण से निपटने के लिए सरकार ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। बिहटा में सेना ने विशेष कोविड अस्पताल शुरू किया है। वही दूसरी तरफ ऐसे विपदा की घड़ी में राहुल गांधी और लालू प्रसाद नकारात्मक बयान देकर कोरोना योद्धाओं का मनोबल गिरा रहे हैं। सुशील मोदी ने कहा कि महामारी के समय ओछी राजनीति करना ज्यादा खतरनाक है। सुशील मोदी ने यह भी कहा कि रेमडेसिविर इंजेक्शन व ऑक्सीजन की नहीं होगी किल्लत...

रेलवे ने 18 ट्रेनों को अगले आदेशों तक बंद किया

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। कोरोना महामारी फैलने और यात्रियों की कम के चलते रेलवे ने शताब्दी व जनशताब्दी एक्‍सप्रेस समेत 18 ट्रेनों को अगले आदेशों तक बंद कर दिया है। वाया अंबाला विभिन्न राज्यों में जाने वाली ये ट्रेनें 9 मई से रद्द रहेंगी।
ट्रेन नंबर 2005 नई दिल्ली-कालका डेली स्‍पेशल – 9 मई 02006 कालका-नई दिल्ली शताब्दी- 10 मई 02011 नई दिल्ली-कालका स्पेशल- 9 मई 02012 शताब्दी कालका-नई दिल्ली स्पेशल – 9 मई 02013 शताब्दी नई-दिल्ली अमृतसर – 9 मई 02014 शताब्दी अमृतसर नई दिल्ली -10 मई 02029 शताब्दी स्पेशल नई दिल्ली-अमृतसर- 9 मई 02030 शताब्दी स्पेशल अमृतसर नई दिल्ली – 9 मई 02045 शताब्दी नई दिल्ली-चंडीगढ़- 9 मई 02046 शताब्दी चंडीगढ़-नई दिल्ली- 9 मई 02057 जनशताब्दी नई दिल्ली-ऊना हिमाचल 9 मई 02058 जनशताब्दी ऊना-हिमाचल-नई दिल्ली- 10 मई 02265 दुरंतो स्पेशल दिल्ली सराय रोहिल्ला-जम्मू तवी 9 मई 02266 दुरंतो स्पेशल जम्मू तवी- दिल्ली सराय- 9 मई 02445 नई दिल्ली-कटरा स्पेशल 9 मई 02446 कटरा-नई दिल्ली 02455 दिल्ली सराय रोहिल्ला-बीकानेर स्पेशल- 9 मई 02456 बीकानेर-नई दिल्ली स्पेशल ट्रेन- 10 मई से अगले आदेश तक नहीं चलेंगी।

बदलते मौसम से सर्दी-खांसी और गले में खराश

मदन प्रजापति  
देश में कोरोना का कहर इस कदर बढ़ रहा है कि आजकल थोड़ी सी तबीयत खराब होने पर कोरोना का डर सताने लगता है। हल्की फुल्की खांसी को भी इंग्नोर करना आपको भारी पड़ सकता है। हल्की से तबीयत खराब होने पर कोविड टेस्ट जरुर करा लें। अगर खांसी होने लगे तो टेस्ट के साथ आरटीपीआर टेस्ट के अलावा सीटी स्कैन भी करवाएं। जब टेस्ट ठीक है तो बाकी उपचारों का सहारा लें। क्योंकि लगातार मौसम में बदलाव के कारण ‌‌लोगों‌‌ ‌‌को‌‌ ‌‌सर्दी‌,‌ ‌‌खांसी‌‌ ‌‌और‌‌ ‌‌गले‌‌ ‌‌में‌‌ ‌‌खराश‌‌ ‌‌की‌‌ ‌‌समस्या‌‌ ‌‌हो जाती है।
  • ‌‌कटे ‌‌हुए‌‌ ‌‌लहसुन‌‌ ‌‌की‌‌ ‌‌एक‌‌ ‌‌जड़‌‌ ‌‌भूनें‌‌ ‌‌और‌‌ ‌‌सोने‌‌ ‌‌से‌‌ ‌‌पहले‌‌ ‌‌इसे‌‌ ‌‌एक‌‌ ‌‌चम्मच‌‌ ‌‌शहद‌‌ ‌‌में‌‌ ‌‌मिलाकर‌‌ ‌‌खा‌‌ ‌‌लें।‌ ‌
  • शहद‌‌,‌‌ ‌‌काली मिर्च पाउडर और अदरक वाली गर्म चाय पीने से खांसी ठीक होती है। ‌
  • एक गिलास गर्म दूध में एक चौथाई छोटा चम्मच हल्दी पाउडर ‌‌मिलाएं‌‌ ‌‌और‌‌ ‌‌सोने‌‌ ‌‌से‌‌ ‌‌पहले‌‌ पिएं। ‌
  • गर्म पानी में नमक डालकर उसके गरारे करने से भी खांसी में आराम मिलता है
  • ‌नमक के पानी से गले की‌‌ ‌‌खुजली‌‌‌‌ ‌‌ठीक‌‌ होती है, ‌‌बलगम‌‌ बंद होता है, ‌‌सूजन‌‌ ‌‌और‌‌ ‌‌जलन‌‌ ‌‌को‌‌ ‌‌कम‌‌ ‌‌करने‌‌ ‌‌में‌‌ ‌‌भी‌‌ ‌‌मदद‌‌ ‌‌करता‌‌ ‌‌है।‌पुदीने‌‌ ‌‌की‌‌ ‌‌पत्तियों‌‌ ‌‌का सेवन करें। इनमें‌‌ ‌‌मेन्थॉल‌‌ ‌‌नामक‌‌ ‌‌एक‌‌ ‌‌यौगिक‌‌ ‌‌होता‌‌ ‌‌है‌,‌ ‌‌जो‌‌ ‌‌खांसी‌‌ ‌‌से‌‌ ‌‌ख़राब‌‌ ‌‌हो‌‌ ‌‌चुके‌‌ ‌‌गले‌‌ ‌‌में‌‌ ‌‌तंत्रिका‌‌ ‌‌अंत‌‌ ‌‌को‌‌ ‌‌सुन्न‌ कर‌‌ ‌‌सकता‌‌ ‌‌है।‌‌ ‌‌मेन्थॉल‌‌ ‌‌बलगम‌‌ ‌‌को‌‌ ‌‌तोड़ने‌‌ ‌‌और‌‌ ‌‌जमाव‌‌ ‌‌को‌‌ ‌‌कम‌‌ ‌‌करने‌‌ ‌‌में‌‌ मदद करता ‌‌है।‌‌ ‌खांसी‌‌ ‌‌दूर करने के लिए ‌‌दिन‌‌ ‌‌में‌‌ ‌2-3‌ ‌‌बार‌‌ ‌‌पुदीने ‌‌की‌‌ ‌‌चाय‌‌ ‌पिएं। ‌

बारिश का पूर्वानुमान मौसम विभाग ने जारी किया

राणा ओबरॉय   
चंडीगढ़। हरियाणा में 11 व 12 मई को फिर से बारिश का पूर्वानुमान मौसम विभाग ने जारी किया है। प्रदेश के कुछ जिलों में 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से तेज हवाएं चल सकती है। इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। इससे पहले वीरवार शाम को आए अंधड़ व बारिश से शुक्रवार को मौसम सुहावना रहा। अधिकतम तापमान में 5 और न्यूनतम तापमान में 6 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आई है। मौसम विभाग ने 11 व 12 मई को फिर से बारिश का पूर्वानुमान जारी किया है।प्रदेश में हुई बारिश से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई। रोहतक का अधिकतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट के साथ 35.5 और पंचकूला का सबसे कम 33.4 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं रात्रि तापमान की बात करें तो गुरुग्राम का 25.5 और हिसार का 18.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
एचएयू के कृषि मौसम विभाग के अध्यक्ष डॉ. मदन खीचड़ के अनुसार प्रदेश में 8 मई तक मौसम परिवर्तनशील बना रहेगा और इस दौरान बीच-बीच में आंशिक बादल छाने और मध्यम गति से हवाएं चलने की संभावना है। इसके बाद 11 और 12 मई को फिर से एक और पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा। जिसके प्रभाव प्रदेश भर में रहने की संभावना है।हरियाणा में 11 मई को फिर से पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से बारिश के साथ धूल भरी आंधी भी चल सकती है। अगले 3 दिन गर्मी में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं होगी। शनिवार को हल्के बदल छाने की संभावना है।

2,38,270 लोगों की मौत, 4,01,078 नये संक्रमित

अकांशु उपाध्याय   

नई दिल्ली। देश में एक दिन में कोविड-19 से रिकॉर्ड 4,187 मरीजों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 2,38,270 पर पहुंच गई है जबकि 4,01,078 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 2,18,92,676 हो गए हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक 37,23,446 मरीजों का अब भी इलाज चल रहा है जो कुल मामलों का 17.01 प्रतिशत है जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर घटकर 81.90 प्रतिशत हो गई है। आंकड़ों के मुताबिक बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 1,79,30,960 हो गई है जबकि संक्रमण से मृत्यु दर 1.09 फीसदी दर्ज की गई है।देश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या पिछले साल सात अगस्त को 20 लाख को पार कर गई थी। वहीं कोविड-19 मरीजों की संख्या 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के आंकड़े को पार कर गई थी। इसके बाद 28 सितंबर को कोविड-19 के मामले 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख, 19 दिसंबर को एक करोड़ के पार हो गए थे।

भारत ने चार मई को गंभीर स्थिति में पहुंचते हुए दो करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया था। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक सात मई तक 30,04,10,043 नमूनों की जांच की गई है जिनमें से 18,08,344 नमूनों की शुक्रवार को जांच की गई।

मौत के नये मामलों में, सर्वाधिक 898 मौत महाराष्ट्र में, कर्नाटक में 592, उत्तर प्रदेश में 372, दिल्ली में 341, छत्तीसगढ़ में 208, तमिलनाडु में 197, पंजाब में 165, राजस्थान में 164, हरियाणा में 162, उत्तराखंड में 137, झारखंड में 136, गुजरात में 119 और पश्चिम बंगाल में 112 लोगों की मौत हो गई।

देश में अबतक हुई कुल 2,38,270 मौत में से 74,413 महाराष्ट्र में, 18,739 दिल्ली में, 17,804 लोगों की कर्नाटक में, 15,171 की तमिलनाडु में, 14,873 उत्तर प्रदेश में, 12,076 लोगों की पश्चिम बंगाल में, 10,158 की पंजाब में, 10,158 की छत्तीसगढ़ में और 10,144 लोगों की पंजाब में मौत हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 70 प्रतिशत से अधिक मरीजों की मौत अन्य गंभीर बीमारियों के कारण हुई है।

अभिनेत्री कंगना कोरोना संक्रमण की चपेट में आई

कविता गर्ग   
मुंबई। सुप्रसिद्ध सिने तारिका कंगना रनौत भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गई हैं। आज शनिवार को उनकी कोविड टैस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद उन्होंने खुद को क्वारैंटाइन कर लिया है। उन्होंने स्वयं सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी है। उन्होंने ध्यान मुद्रा में तस्वीर भी पोस्ट की है।कंगना ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट की गई अपनी तस्वीर के कैप्शन में लिखा, ‘मैं बीते कुछ दिनों से थकान और कमजोरी महसूस कर रही थी। आंखों में हल्की जलन भी हो रही थी। हिमाचल जाने का सोच रही थी, इसलिए कल कोरोना टेस्ट कराया, आज रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।’ उन्होंने लिखा, ‘मैंने खुद को क्वारैंटाइन कर लिया है। मुझे कोई आइडिया नहीं था कि यह वायरस मेरे शरीर में पार्टी कर रहा था। अब मुझे पता चल गया है तो मैं इसे ध्वस्त कर दूंगी।”

स्वर्ण पदक विजेता हॉकी खिलाड़ी की कोरोना से मौत

इकबाल अंसारी  

नई दिल्ली। भारतीय हॉकी टीम के पूर्व सदस्य और मॉस्को ओलंपिक 1980 के स्वर्ण पदक विजेता रविंदर पाल सिंह ने करीब दो सप्ताह कोरोना संक्रमण से जूझने के बाद शनिवार की सुबह लखनऊ में अंतिम सांस ली। वह 65 वर्ष के थे।

रविंदर पाल सिंह को 24 अप्रैल को विवेकानंद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार वह कोरोना संक्रमण से उबर चुके थे और टेस्ट नेगेटिव आने के बाद कोरोना वॉर्ड से बाहर थे। शुक्रवार को उनकी हालत अचानक बिगड़ी और उन्हें वेंटिलेटर पर रखना पड़ा। लॉस एंजिलिस ओलंपिक 1984 खेल चुके रविंदर पाल सिंह ने विवाह नहीं किया था। उनकी एक भतीजी प्रज्ञा यादव है।

वह 1979 जूनियर विश्व कप भी खेले थे और हॉकी छोड़ने के बाद स्टेट बैंक से स्वैच्छिक सेवानिवृति ले ली थी। सीतापुर में जन्में रविंदर पाल सिंह ने 1979 से 1984 के बीच शानदार प्रदर्शन किया। दो ओलंपिक के अलावा वह 1980 और 1983 में चैम्पियंस ट्रॉफी, 1982 विश्व कप और 1982 एशिया कप भी खेले।

ठाकरे से कोविड-19 की वर्तमान स्थिति पर चर्चा की

हरिओम उपाध्याय   

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बात कर राज्य में कोविड-19 की वर्तमान स्थिति पर चर्चा की। सरकारी सूत्रों ने यह जानकारी दी। पिछले कुछ दिनों से प्रधानमंत्री हर दिन राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात कर वहां की कोविड-19 की स्थिति का जायजा ले रहे हैं।

उन्होंने शुक्रवार को मणिपुर, त्रिपुरा और सिक्किम के मुख्यमंत्रियों से बात की थी जबकि उससे पहले उन्होंने आंध्र प्रदेश, ओड़िशा, झारखंड और तेलंगाना के मुख्यमंत्रियों से बात कर इन राज्यों में कोविड-19 की ताजा स्थिति पर चर्चा की थी। प्रधानमंत्री जम्मू एवं कश्मीर के साथ ही पुडुचेरी के उपराज्यपालों से भी बात कर स्थिति की समीक्षा कर चुके हैं।

देश में एक दिन में कोविड-19 से रिकॉर्ड 4,187 मरीजों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 2,38,270 पर पहुंच गई है जबकि 4,01,078 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामले शनिवार को बढ़कर 2,18,92,676 हो गए हैं। मौत के नये मामलों में सर्वाधिक 898 मौतें महाराष्ट्र में हुई हैं। देश में अबतक हुई कुल 2,38,270 मौत में से 74,413 महाराष्ट्र में हुई हैं।

10,000 मजदूरों को खाना खिलायेंगी सनी लियोनी

कविता गर्ग   
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री सनी लियोनी कोरोना महामारी संकट के समय लोगों की मदद के लिये आगे आयी हैं और वह दिल्ली में दस हजार प्रवासी मजदूरों को खाना खिलायेंगी। कोरोना महामारी संकट के समय में लोगों को कई तरह की आर्थिक दिक्कतों का भी सामना करना पढ़ रहा है। बॉलीवुड के कई स्टार्स लोगों की मदद करने में आगे आ रहे हैं। सनी लियोनी ने भी लोगों की मदद के लिये हाथ बढ़ाया है। सनी लियोनी ने दिल्ली में दस प्रवासी श्रमिकों को खाना खिलाने के लिए पीपुल फॉर द एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स (पेटा) के साथ हाथ मिलाया है।
सनी लियोनी ने कहा, “हम इस वक्त एक मुश्किल घड़ी से गुजर रहे हैं लेकिन करुणा और एकजुटता के साथ हम इससे भी आगे निकल जाएंगे। मुझे पेटा इंडिया के साथ एक बार फिर काम करने में खुशी हो रही है। इस बार हम हजारों जरूरतमंद लोगों को प्रोटीन युक्त शाकाहारी भोजन प्राप्त कराएंगे।

महामारी के दौर में लोगों को पोष्टिक खाने की जरूरत है इसलिए हमने इस बात का भी खास ख्याल रखा है। मजदूरों तक जो खाना पहुंचाया जाएगा उसमें दाल चावल या ‘खिचड़ी’ और अक्सर फल शामिल होंगे।”

पत्थर की खदान में विस्फोट, 9 कर्मचारियों की मौत

कडपा। आंध्र प्रदेश के कडापा जिले में शनिवार को चूना पत्थर की एक खदान में हुए विस्फोट में 9 कर्मचारियों की मौत हो गई। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस के मुताबिक मृतकों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि विस्फोट स्थल पर क्षत-विक्षत शव बिखरे पड़े थे। कडापा जिले के पुलिस अधीक्षक के अंबुराजन ने बताया कि यह हादसा तब हुआ जब मामिल्लापल्ली गांव के बाहर स्थित चूना पत्थर की खदान पर जिलेटिन की छड़ों की एक खेप उतारी जा रही थी। धमाका इतना तेज था कि वाहन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। जिलेटिन की यह छड़ें बुडवेल से लाई गई थीं।

दुर्घटनास्थल से एसपी ने बताया, “यह लाइसेंस प्राप्त खदान है और प्रमाणित संचालक द्वारा यह खेप लाई गई थी। धमाका तब हुआ जब छड़ों को वाहन से उतारा जा रहा था” हादसे की वजह का अब तक पता नहीं चला है।मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से जारी एक बयान के मुताबिक, मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने कडापा जिले के अधिकारियों से बात कर घटना की जानकारी ली। इसमें कहा गया कि उन्होंने हादसे में जान गंवाने वालों के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की हैं।

10 से 24 मई तक पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा

चेन्नई। तमिलनाडु में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ने के बीच सरकार ने इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए राज्यभर में दो हफ्ते का ‘‘पूर्ण लॉकडाउन’’ लगाने की शनिवार को घोषणा की। मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने एक बयान में कहा कि ‘‘अपरिहार्य कारणों’’ से लॉकडाउन लगाया जा रहा है और चिकित्सा विशेषज्ञों के अलावा शुक्रवार को जिलाधिकारियों के साथ हुई समीक्षा बैठक से मिली जानकारियों के आधार पर यह फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा, ‘‘पूर्ण लॉकडाउन 10 मई को सुबह चार बजे से 24 मई को सुबह चार बजे तक लागू रहेगा।’’
तमिलनाडु में शुक्रवार को कोरोना वायरस के 26,465 नए मामले आए और पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 197 लोगों की मौत हुई। इसके साथ राज्य में संक्रमण के मामले 13.23 लाख हो चुके हैं और मृतकों की संख्या 15,171 पर पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, 1,35,355 मरीजों का उपचार चल रहा है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण    
1. अंक-266 (साल-02)
2. रविवार, मई 9, 2021
3. शक-1984,बैसाख, कृष्ण-पक्ष, तिथि- द्वादशी, विक्रमी सवंत-2078। 
सहरी 04:05, इफ्तार 07:06। 26 रमजान, हिजरी 1442।
4. सूर्योदय प्रातः 06:02, सूर्यास्त 07:02।
5. न्‍यूनतम तापमान -13 डी.सै., अधिकतम-37+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...