मंगलवार, 2 फ़रवरी 2021

"आत्मनिर्भर भारत'' 'संपादकीय'

'आत्मनिर्भर भारत'
ऑक्सफोर्ड लैंग्विजेज ने आत्मनिर्भर 'भारत' को 2020 का हिंदी भाषा का शब्द घोषित किया गया है। यह शब्द भाषा विशेषज्ञों कृतिका अग्रवाल पूनम निगम सहाय और इमोगन फॉक्सेल के एक सलाहकार पैनल द्वारा चुना गया है। ऑक्सफोर्ड हिंदी शब्द से यहां तत्पर्य ऐसे शब्द से है। जो पिछले साल के लोकाचार, मनोदशा या स्थिति को प्रतिबिंबित करे और जो सांस्कृतिक महत्व के एक शब्द के रूप में लंबे समय तक बने रहने की क्षमता रखता हो। ऑक्सफोर्ड लैंग्विज’ ने एक बयान में कहा कि प्रधानमंत्री ने जब कोविड-19 से निपटने के लिए पैकेज की घोषणा की थी। तो उन्होंने वैश्विक महामारी से निपटने के लिए देश को एक अर्थव्यवस्था के रूप में एक समाज के रूप में और व्यक्तिगत तौर पर आत्मनिर्भर बनाने पर जोर दिया था। उसने कहा कि इसके बाद ही आत्मनिर्भर भारत शब्द का इस्तेमाल भारत के सार्वजनिक शब्दकोष में एक वाक्यांश और अवधारणा के रूप में काफी बढ़ गया। इसका एक बड़ा उदाहरण भारत का देश में कोविड-19 के टीका का निर्माण करना भी है। गणतंत्र दिवस पर राजपथ पर आत्मनिर्भर भारत अभियान को रेखांकित करते हुए एक झांकी भी निकाली गई थी। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस इंडिया’ के प्रबंध निदेशक शिवरामकृष्णन वेंकटेश्वरन ने कहा कि आत्मनिर्भर 'भारत’ को कई क्षेत्रों के लोगों के बीच पहचान मिली क्योंकि इसे कोविड-19 से प्रभावित अर्थव्यवस्था से निपटने के एक हथियार के तौर पर भी देखा गया। गौरतलब है, कि इससे पहले 2017 में आधार 2018 में नारी शक्ति और 2019 में संविधान को ऑक्सफोर्ड ने हिंदी भाषा का शब्द चुना था। 
चंद्रमौलेश्वर शिवांशु 'निर्भयपुत्र'

संपूर्ण समाधान दिवस पर 20 अधिकारी गैरहाजिर

अमेठी। संपूर्ण समाधान दिवस पर 20 अधिकारी गैरहाजिर, वेतन रोकने के निर्देश

अमेठी। जनपद की चारों तहसीलों में लोगों की शिकायतों के त्वरित निस्तारण के लिए संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। तहसील अमेठी में जिलाधिकारी अरुण कुमार की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित हुआ। इस दौरान  जिलाधिकारी ने सबसे पहले 10:04 बजे उपस्थिति रजिस्टर चेक किया, जिसमें 20 अधिकारी अनुपस्थित पाए गए। जिलाधिकारी ने अधिकारियों का एक दिन का वेतन रोकने और स्पष्टीकरण देने के लिए कहा है। साथ ही भविष्य में संपूर्ण समाधान दिवस में समय से उपस्थित होने के निर्देश दिया।
अनुपस्थित पाए गए अधिकारियों में प्रभागीय वनाधिकारी, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, जिला कृषि अधिकारी, अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड प्रथम, अधिशासी अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण विभाग, अधिशासी अभियंता शारदा सहायक खंड 41, सहायक महा निरीक्षक स्टाम्प, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी, जिला खाद्य एवं विपणन अधिकारी, परियोजना अधिकारी नेडा, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी, मुख्य कार्यकारी अधिकारी मत्स्य, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, जिला उद्योग अधिकारी, सहायक श्रम आयुक्त, जिला खादी ग्राम उद्योग अधिकारी, जिला क्रीड़ा अधिकारी, जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक तथा मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी शामिल हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि शासन जनता की समस्याओं को लेकर अत्यंत गंभीर है। जन सामान्य की शिकायतों के निस्तारण में किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस दौरान उन्होंने संपूर्ण समाधान दिवस में संबंधित अधिकारियों को समय से उपस्थित होने के निर्देश दिए।

जम्मू: क्षेत्र में पर्यटकों की संख्या में गिरावट दर्ज की

अनुच्छेद 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में हुआ ये काम, केंद्र सरकार ने जारी किया बयान
पालूराम  
श्रीनगर। केंद्र सरकार ने मंगलवार को बताया कि जम्मू एवं कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद इस संघ शासित क्षेत्र में पर्यटकों की संख्या में गिरावट दर्ज की गई और इसका सबसे अधिक असर कश्मीर घाटी में हुआ है। राज्यसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में पर्यटन मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने बताया कि पिछले कुछ माह से पर्यटकों की आवक में वृद्धि दर्ज की गई है। पटेल ने कहा पांच अगस्त 2019 से जम्मू एवं कश्मीर में आने वाले पर्यटकों की संख्या में गिरावट आई है। जम्मू की तुलना में यह प्रभाव कश्मीर घाटी में अधिक दिखा। हालांकि पिछले कुछ माह से जम्मू एवं कश्मीर में पर्यटक आगमन में क्रमिक रूप से वृद्धि हो रही है। उन्होंने बताया कि जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख संघ शासित क्षेत्र के प्रशासन के अनुसार अगस्त 2019 से अब तक कश्मीर में 84, 326 पर्यटक आए जबकि जम्मू में 87,94,837 और लद्दाख में 1,00,931 पर्यटक आए। इस दौरान धार्मिक यात्रा पर जम्मू आने वाले पर्यटकों की कुल संख्या 76,80,775 रही। पांच अगस्त 2019 के बाद इन संघ शासित क्षेत्रों में पर्यटन और हस्तशिल्प क्षेत्रों में समाप्त हुई नौकरियों का ब्योरा पूछे जाने पर मंत्री ने बताया कि रोजगार के नुकसान के आकलन के लिए पर्यटन मंत्रालय ने कोई औपचारिक अध्ययन नहीं किया है। पटेल ने हालांकि कहा कि हस्तशिल्प क्षेत्र में जम्मू एवं कश्मीर में इस अवधि के दौरान रोजगार की कोई उल्लेखनीय कमी नहीं आयी है। उन्होंने कहा विभिन्न हस्तशिल्प कार्यकलापों में संलग्न कारीगर अपना कार्य कर रहे हैं। और सरकार विभिन्न योजनाओं के माध्यम से उन्हें सहायता प्रदान कर रही है। केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं के माध्यम से भी जम्मू एवं कश्मीर के कारीगरों को हरसंभव सहायता प्रदान करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।
ज्ञात हो कि पांच अगस्त, 2019 को ही केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को समाप्त कर दिया था। और जम्मू एवं कश्मीर को राज्य से संघ शासित प्रदेश बना दिया गया था। लद्दाख को भी संघ शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया था।

राज्य कैबिनेट की बैठक में हुए महत्वपूर्ण फैसले

देहरादून: राज्य कैबिनेट की बैठक में हुए यह महत्वपूर्ण फैसले
पंकज कपूर   
देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में प्रदेश कैबिनेट की बैठक संपन्न हुई। जिसमें जनहित में यह महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। राज्य कैबिनेट की महत्वपूर्ण बैठक में 5 प्रस्ताव आये जिनमे से 4 प्रस्ताव पर मोहर लगी। शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने जानकारी देते हुए बताया कि 2021 में होने वाले बजट सत्र की तारीख 1 मार्च से लेकर 10 मार्च तक चलेगा।
इसके साथ ही 4 मार्च को राज्य का बजट पेश होगा।
इसके साथ 5 मार्च से बजट पर चर्चा होगी।
इसके साथ ही उत्तराखंड पुलिस निरीक्षक उप निरीक्षक नियमावली में संशोधन किया गया। जल जीवन मिशन में 97 नियुक्ति किये जाने को भी मंजूरी मिली।
इसके साथ ही स्वच्छ भारत मिशन की कमेटी में अब सांसद व विधायको के प्रतिनिधि शामिल हो सकेंगे।

इंटरनेट सेवा के विरोध में चंडीगढ़ हाई-वे जाम

इंटरनेट सेवा बंद करने के विरोध में किसानों ने किया जींद-चंडीगढ़ हाईवे जाम, कही यह बात
राणा ओबराय   
चंडीगढ़। किसान आंदोलन को देखते हुए सरकार द्वारा बंद की गई इंटरनेट सेवा जींद जिले समेत कई जिलों में चार दिन से दिन से बंद है। इसके विरोध में किसानों ने सोमवार देर सायं गांव कंडेला में जाम लगा दिया। सैकड़ों की संख्या में लोग जींद-चंडीगढ़ मार्ग पर इकट्ठे हो गए। ग्रामीणों ने कहा कि इंटरनेट बंद होने के विद्यार्थियों की पढ़ाई समेत बहुत सारे काम प्रभावित हो गए हैं।
फसल यंत्र के लिए ऑनलाइन फीस, मेरी फसल मेरा ब्योरा में रजिस्ट्रेशन सहित तहसील में सारे काम रुके हुए हैं। इससे गांव के लोगों समेत शहर के लोग भी परेशान हैं। किसान नेता टेकराम कंडेला ने कहा कि सरकार एक तरफ डिजिटल इंडिया का नारा दे रही है। दूसरी तरफ सच को रोकने के लिए इंटरनेट बंद कर रही है। जबकि पहले अफवाह को रोकने के लिए इंटरनेट बंद किया जाता है। सरकार देश को गुलामी की तरफ ले जा रही है। इसके साथ ही खटकड़ टोल पर भी किसानों ने मंगलवार को जाम लगाने की बात कही है। किसानों का कहना है। कि राशन डिपो में राशन बायोमैट्रिक मशीन होने से नहीं मिल रहा है। जो कार्य दुकानदार नेट से करते थे। वो प्रभावित हो रहे हैं। मंगलवार को इंटरनेट जरूरत बन गया है। विद्यार्थियों की परीक्षाएं भी चल रही हैं। ऐसे में इन दिनों इंटरनेट जब जरूरी है। तो आधे हरियाणा में इंटरनेट को बंद कर दिया गया है।
किसान नेताओं ने कहा कि सोमवार देर शाम तक इंटरनेट की सेवा बहाल नहीं हुई तो मंगलवार को खटकड़ टोल प्लाजा पर जींद-नरवाना मार्ग व बद्दोवाल टोल प्लाजा पर हिसार-चंडीगढ़ मार्ग को जाम कर देंगे। धरनों का नेतृत्व कर रहे सतबीर पहलवान, ईश्वर, रामनिवास, राममेहर ने कहा कि कई दिनों से इंटरनेट बंद होने से विद्यार्थियों की ऑनलाइन पढ़ाई प्रभावित हो रही है। सरकार सब कुछ ऑनलाइन कर रही है। लेकिन नेट बंद होने से सब कुछ रुक गया है। इंटरनेट से जो कार्य होते थे। वो सभी प्रभावित हो रहे हैं।

1 और किसान की मौत, 2 माह से आंदोलन में था

टिकरी बॉर्डर पर एक और किसान की मौत, 2 माह से आंदोलन में कर रहा था सेवा
अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। टिकरी बॉर्डर किसान आंदेलन में एक और किसान की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार कैथल निवासी 75 वर्षीय किसान दिलीप सिंह की आंदोलन में मौत हो गई। बताया जा रहा है, कि किसान की मौत एक सड़क हादसे में हुई। किसान को सड़क पार करते समय कार ने टक्कर मार दी। जिसके चलते किसान की मौत हो गई। किसान दिलीप सिंह 2 महीने से टिकरी बॉर्डर पर किसान आंदोलन में सेवा कर रहा था। कैथल के जुलानी खेड़ा गांव में 2:00 बजे किसान का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

हिमाचल: कार खाई में गिरने से पति-पत्नी की मौत

कार खाई में गिरने से पति-पत्नी दोनों की मौत, 7 दिसम्बर को हुई थी शादी
मनोज सिंह ठाकुर   
शिमला। 7 दिसम्बर को शादी के बंधन में पति-पत्नी की एक सड़क हादसे में मौत हो गई। हादसा उस वक्त हुआ, जब दोनों कार से शिमला से अंबाला आ रहे थे। रास्ते में उनकी सैंट्रो कार खाई में गिर गई। जिसके चलते दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। लालकुर्ती में स्वर्ण जयंती पार्क के निकट रहने वाली 26 वर्षीय शिवानी का विवाह बीती 7 दिसंबर को लालकुर्ती के एसडी मंदिर में हुआ था। घटना की जानकारी मिलते ही शिवानी की मां व दो भाई शिमला के गांव समरहिल आंदड़ी के लिए रवाना हो गए। शिवानी के पिता एयरफोर्स से रिटायर्ड थे। जिनका देहांत 2009 में हो गया था। वह अपने दो भाइयों व मां के साथ लालकुर्ती में रह रही थी। उसकी एक बड़ी बहन भी है, जोकि विवाहित है।

गादरे ने किया आरजी टेक्चर हार्डवेयर का उद्घाटन

मेरठ। बहुजन मुक्ति पार्टी के पश्चिमांचल महासचिव एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आरडी गादरे ने रवि. वन प्रीमियम आरजी टेक्चर हार्डवेयर का उद्घाटन किया। रिबन प्रीमियम आर्किटेक्चरल हार्डवेयर के प्रोपराइटर साजिद ने बताया, कि इस फैक्ट्री में शीशों के डिजाइन और ग्लास का वर्क और सामान का कार्य किया जाएगा। जिससे लोग इधर-उधर ना भटके और उन लोगों को कम कीमत पर काम और सामान मिल सकेगा हापुड़ रोड निकट चुंगी पर यह कार्य शुरू किया गया। उद्घाटन में सुलेमान साहब रियाजुद्दीन, राष्ट्रीय किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष चौधरी इस्तियाक, मोहम्मद सलीम हरेंद्र चौधरी, सफीक अहमद, मोहम्मद आसिफ, आसिफ भारती नईमुद्दीन, ओमवीर सिंह, अतर सिंह गुप्ता, महेंद्र प्रताप, फहीमुद्दीन जबलपुर आल सिंह आदि मौजूद रहे।

प्रतिस्पर्धा: बादलपुर में पंचायत नहीं होगी, ग्रामवासी

गांव बादलपुर में किसी भी कीमत पर पंचायत नहीं होने देंगे ग्रामवासी
अश्विनी उपाध्याय  
गौतमबुद्ध नगर/दादरी। एक विशेष संगठन द्वारा आगामी 7 फरवरी को बादलपुर में महापंचायत का ऐलान सोशल मीडिया पर किया जा रहा है और इस पंचायत में लाखों की भीड़ जुटने का दावा किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस मैसेज को संज्ञान में लेते हुए मंगलवार को बादलपुर गांव के लोगों ने एक पंचायत का आयोजन किया। जिसमें सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे महापंचायत के इस मैसेज के खिलाफ आवाज उठाई गई। इस दौरान ग्रामीणों द्वारा किसी भी कीमत पर गांव में इस तरह की कोई पंचायत ना होने देने का फैसला लिया। इस मौके पर जगदीश नंबरदार ने कहा कि कुछ लोग अपने राजनीतिक हित के लिए गांव की छवि खराब करना चाह रहे हैं। बादलपुर के ग्रामीणों ने हमेशा किसान मजदूर के हकों की आवाज उठाई है। ऐसे में किसानों के खिलाफ महापंचायत की ग्रामीण सोच भी नहीं सकते। सोशल मीडिया के माध्यम से गांव में महापंचायत की जो अफवाह फैलाई जा रही है। वह निराधार है ऐसी भी किसी भी पंचायत को हम बादलपुर गांव में नहीं होने देंगे। इस मौके पर वीर सिंह नेताजी ने कहा कि कुछ लोगों की मंशा बादलपुर गांव की छवि को धूमिल करने की है। जो लोग इस तरह की बातों का प्रचार कर रहे हैं उनका गांव और समाज से कोई लेना देना नहीं है। प्रत्येक गांव का नागरिक किसानों की इस लड़ाई में उनके साथ है। किसान विरोधी किसी भी व्यक्ति को हम पंचायत तो क्या गांव में घुसने भी नहीं देंगे। इस पंचायत में मुख्य रूप से जगदीश नम्बरदार, मुंशीराम, बीरसिंह नेताजी, अजबसिंह, रामबीर, अशोक प्रधान, धर्मपाल, मामराज, भगतसिंह, सिंह प्रधान, दीपक, निखिल, फिरेराम, वंश,अजयपाल, कमल, गजेंद्र,जगती, हरेंद्र, जितेंद्र प्रजापति आदि लोगो ने भाग लिया।

आंदोलन: "कानून वापसी नहीं, तो घर वापसी नहीं"

अकांशु उपाध्याय   

 नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने संकेत दिया कि सरकार के तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का विरोध अक्टूबर से पहले खत्म नहीं होने जा रहा है। टिकैत ने कहा कि हमारा नारा है। ”कानून वापसी नहीं, तो घर वापसी नहीं।” उन्होंने आगे बताया कि यह आंदोलन जल्द समाप्त नहीं होगा।आपको बता दें कि दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश समेत कई अन्य जगहों के किसान कानूनों के विरोध में पिछले दो महीनों से ज्यादा समय से आंदोलन कर रहे हैं। किसान नेता राकेश टिकैत ने मंगलवार को कहा, ”हमने सरकार को बता दिया कि यह आंदोलन अक्टूबर तक चलेगा। अक्टूबर के बाद आगे की तारीख देंगे। बातचीत भी चलती रहेगी। नौजवानों को बहकाया गया है और उनको लाल किले का रास्ता बताया गया कि पंजाब की कौम बदनाम हो। किसान कौम को बदनाम करने की कोशिश की गई है। प्रदर्शन वाली जगह पर तमाम नेताओं की आवाजाही पर राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों का विरोध राजनीतिक नहीं है और किसी राजनीतिक दल के नेता को मंच पर स्थान नहीं दिया गया है। इससे पहले शिरोमणि अकाली दल, आम आदमी पार्टी, कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल, समाजवादी पार्टी सहित अन्य दलों के नेताओं ने गाजीपुर का दौरा किया था। इस बीच आंदोलन वाली सीमा पर लोहे और कंक्रीट ढांचे से बैरीकेड लगा दिए गए और बाड़बंदी कर दी गई है। इसके अलावा सड़कों पर कीलें लगा दी गई ताकि कोई प्रदर्शनकारी दिल्ली की ओर नहीं बढ़ सके। विरोध स्थल पर इंटरनेट सेवा भी निलंबित कर दी गई है। गाजीपुर की सुरक्षा इतनी चाकचौबंद की गई है कि कई लेयर में सैकड़ों की तादात में सुरक्षाकर्मी बिल्कुल अलर्ट मोड पर तैनात हैं और सीनियर ऑफिसर उन्हें तैयारी को लेकर निर्देश दे रहे हैं। रास्ते को पूरी तरह ब्लॉक कर सुरक्षा का कड़ा पहरा है।

गाजियाबादः सीडीओ ने केंद्रो का निरीक्षण किया

अश्वनी उपाध्याय   

गाजियाबाद। मुख्य विकास अधिकारी गाजियाबाद अस्मिता लाल एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी बृज भूषण चौधरी ने मंगलवार को ब्लॉक संसाधन केंद्र लोनी में होने वाले प्रशिक्षण के लिए अधिकृत केंद्र का निरीक्षण किया गया। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने शिक्षकों द्वारा बनाए गए टीएलएम को देखा एवं सराहना की तथा सभी शिक्षकों से प्रशिक्षण को गंभीरता से प्राप्त करने के लिए निर्देशित किया। ब्लॉक संसाधन केंद्र लोनी पर मिशन प्रेरणा के अंतर्गत आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका,समृद्ध हस्त पुस्तिका, प्रिंट रिच  मैटेरियल एवं गणित किट पर आधारित दो दिवसीय प्रशिक्षण का शुभारंभ खंड शिक्षा अधिकारी लोनी पवन कुमार भाटी द्वारा किया गया। इस प्रशिक्षण का उद्देश्य विद्यालय  खुलने से पूर्व शिक्षकों को प्रदत्त सामग्री के विषय में विस्तृत जानकारी देने के लिए तथा सत्र प्रारंभ होने पर समृद्ध मॉड्यूल के माध्यम से सौ दिवसीय उपचारात्मक शिक्षण करने  के लिए दिया जा रहा है। जिसके माध्यम से लंबे समय से विद्यालय ना आ रहे बच्चों के लर्निंगगैप  को दूर  करने के लिए कार्य किया जाएगा। सभी एसआरजी,एआरपी प्रशिक्षण के दौरान संदर्भ दाता की भूमिका में रहेंगे। विभाग द्वारा प्रदत्त सामग्री पर एक स्पष्ट समझ विकसित करने में यह प्रशिक्षण बहुत ही उपयोगी सिद्ध होगा। यह प्रशिक्षण लोनी ब्लॉक में 26 फरवरी 2021 तक चलेगा। संदर्भ दाता के रूप में लोनी ब्लॉक ए आर पी लता शर्मा, रेनू चौधरी, मनीष शर्मा, स्तुति वाजपेई एवं एसआरपी नीरव  शर्मा पूरे माह या प्रशिक्षण प्रदान करेंगे। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी भालचंद्र त्रिपाठी एवं एसआरजी पूनम शर्मा  भी उपस्थित रहे।

पहले दिन से ही कृषि कानूनों का विरोध: संजय

अश्वनी उपाध्याय    

गाजियाबाद। किसान आंदोलन को लेकर नेता अपनी जमीन तलाशने में लगे हुए हैं। जहां एक ओर गाज़ियाबाद की जनता किसानों और पुलिस द्वारा स्थापित सुरक्षा प्रबंधों के कारण हर दिन परेशान हो रहे है। वहीं गाजीपुर बॉर्डर पर राकेश टिकैत पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसानों को लेकर डटे हुए हैं। इन सब के बीच मंगलवार को शिवसेना के प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत गाजीपुर बॉडर पहुंचे। यहां उन्होंने किसान नेता राकेश टिकैतसे मुलाकात की। यूपी गेट पर संजय राउत ने कहा कि हमने पहले दिन से ही कृषि कानूनों का विरोध किया है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुझे विशेष तौर पर गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में भेजा है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने किसान नेता राकेश टिकैत को मेरे द्वारा संदेश भेजा है कि शिवसेना और महाराष्ट्र सरकार पूरी तरह से किसानों के साथ खड़ी हुई है। संजय राउत ने बताया कि शिवसेना प्रमुख भी किसान नेता राकेश टिकैत से स्वयं बातचीत करेंगे। आंदोलन सड़क का है और सड़क पर रहेगा।उन्होंने कहा कि गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलनकारी किसानों को कुचलने की कोशिश की गई। ऐसे में महाराष्ट्र के लोगों का कर्तव्य बनता है कि राकेश टिकैत के साथ खड़े हों। मुझे लगता है कि देश के हर नागरिक का कर्तव्य है कि आंदोलन में पहुंचकर किसानों को समर्थन दें। महाराष्ट्र से हजारों की संख्या में आए किसान गाजीपुर बार्डर में आंदोलन कर रहे हैं। किसान संगठनों द्वारा तीन घंटे के लिए देशव्यापी चक्का जाम का जो ऐलान किया गया है। उसका भी शिवसेना पूरी तरह से समर्थन करती है।

पीएसी के टेंट में घुसा ट्रक, 2 जवानों की मौत हुई

अश्वनी उपाध्याय   

गाजियाबाद। सिकंदराबाद कोतवाली क्षेत्र में हाईवे-91 स्थित चार नंबर कट से यू टर्न लेते समय एक ट्रक डिवाइडर से टकराकर अनियंत्रित हो गया और पीएसी के टेंट में जा घुसा। हादसे में टेंट में बैठे गाजियाबाद निवासी दो जवानों की मौत हो गई। वहीं कुछ अन्य जवान मामूली रूप से घायल हो गए। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों जवानों के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया है। जानकारी के अनुसार किसान आंदोलन के चलते कानून व्यवस्था को सुचारु रखने के लिए सिकंदराबाद में विभिन्न स्थानों पर पुलिस बल की तैनाती की गई है। दरअसल, किसान आंदोलन के चलते हाईवे स्थित चार नंबर कट पर पीएसी के जवानों और अन्य पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। जहां पर पीएसी के कुछ जवान ड्यूटी पर थे। इसी दौरान मंगलवार तड़के करीब चार बजे गाजियाबाद की ओर से आ रहा एक ट्रक चार नंबर कट से यू टर्न लेने लगा और दूसरी तरफ से आ रहे एक डीसीएम से टकराने के बाद पीएसी के टेंट में जा घुसा। इस दौरान ट्रक की चपेट में आने से गाजियाबाद निवासी दो सिपाही प्रवीन और प्रवीण की मौके पर ही मौत हो गई। साथ ही कुछ अन्य जवान मामूली रूप से घायल हो गए। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों मृतक जवानों के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवा दिए हैं। पुलिस ने हादसे की सूचना दोनों सिपाहियों के परिजनों को दे दी है।

कौशाम्बी: प्लांट के स्थान का डीएम ने किया मुआयना

कौशाम्बी। जिले में जल्द ही मेगा फूड प्लांट बनेगा शासन के निर्देश पर जिलाधिकारी ने सिराथू तहसील क्षेत्र में जमीन चयनित करने के लिए मौका निरीक्षण किया है। यह मेगा फूड प्लांट प्रदेश के बड़े प्लांट में शामिल होगा। इस प्लांट के लग जाने से कई हजार लोगों को जिले में रोजगार मिलेगा। शासन के निर्देश पर प्रदेश स्तरीय मेगा फ़ूड प्लांट जिले के सिराथू क्षेत्र में बनाया जाना है। मेगा फूड प्लांट बनाए जाने के लगभग औपचारिकता पूरी हो चुकी है। जिसके लिए जगह का चयन किया जा रहा है। मंगलवार को डीएम अमित कुमार सिंह ने कड़ा के गिरधरपुर गढ़ी गांव में स्थान का निरीक्षण किया है। इस दौरान डीएम ने एसडीएम सिराथू प्रखर उत्तम को तमाम जरूरी दिशा निर्देश दिया है। इस अवसर पर तहसील दार सिराथू सहित सम्बंधित अधिकारी कर्मचारी गण मौजूद रहे। आपको बता दें जनपद में बनने वाला प्रदेश का यह दूसरा सबसे बड़ा मेगा फूड प्लांट है।
सन्तलाल मौर्य 

हरियाणा में जेजेपी पार्टी के नेताओं का पलायन शुरू

राणा ओबराय   
करनाल। कृषि कानूनों को लेकर किसानों का संघर्ष खत्म होता दिखाई नहीं दे रहा है। किसानों को दो महीने से ज्यादा का समय हो गया है। लेकिन अभी तक उनकी मांगों को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है। वहीं इस मामले पर राजनीती भी गर्माई हुई है और इस्तीफों का दौर भी जारी है। इस बीच अब करनाल से भी जेजेपी नेता और जिला अध्यक्ष इंद्रजीत सिंह गोरैया ने पद और पार्टी से इस्तीफा दिया है। उन्होंने अपने इस फैसले का कारण कृषि कानूनों को बताया है। किसानों का समर्थन करते हुए इंद्रजीत सिंह गोरैया ने इस्तीफा दिया और कहा कि मैं अपना व्यक्तिगत फायदा नहीं देखना चाहता था बल्कि मैं किसानों के साथ मिलकर उनकी आवाज़ आगे बढ़ाना चाहता हूं, मैं आगे भी आंदोलन में लगातार जाता रहूंगा। आगे उन्होंने कहा कि अगर वो सरकार और किसानो के मीडिएटर बनते तो शायद दुष्यंत चौटाला का कद ऊपर होता,पर उन्होंने सरकार की बात की किसानों की नहीं, इसलिए मैं पार्टी और पद से इस्तीफा दे रहा हूँ।वहीं उन्होंने कहा कि आगे कहां जाऊंगा इस बारे में कुछ नहीं कह सकता। वहीं उन्होंने सरकार पर निशाना साधा और कहा कि सरकार किसानों के खिलाफ काम कर रही है। मैं किसानों के साथ खड़ा हूँ और किसानों के लिए पार्टी छोड़ रहा हूं। आपको बता दें कि इससे पहले इंडियन नेशनल लोक दल के विधायक अभय सिंह चौटाला भी इस्तीफा दे चुके हैं।

त्वरित गति से पूर्ण गुणवत्ता के साथ निस्तारण हो

पंकज कुमार    
एटा। मंगलवार को कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुरूप जनपद की तीनो तहसीलों में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। डीएम सुखलाल भारती एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने तहसील एटा सदर में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में जनता की समस्याओं को सुना। उन्होंने निर्देश दिए कि जनता की समस्याओं का त्वरित गति से पूर्ण गुणवत्ता के साथ निस्तारण किया जाए। जनता की शिकायतों के निस्तारण में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरतते हुए शासन की मंशानुरूप निस्तारण पर जोर दिया जाए। 
डीएम ने कहा कि शासन के निर्देशानुसार जनपद में 4 फरवरी 2021 को चौरी, चौरा शताब्दी समारोह उत्साह के साथ मनाया जाएगा। सभी संबंधित विभाग समस्त आवश्यक तैयारियां पूर्ण कर ले। चौरी चौरा शताब्दी समारोह का आयोजन कोविड-19 की गाईडलाईन के अनुसार किया जाएगा। सदर तहसील मे कुल 67 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिसमें से 11 का मौके पर निस्तारण किया गया। एडीएम प्रशासन विवेक कुमार मिश्र ने तहसील जलेसर में एसडीएम सहित अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में जनता की समस्याओं को सुना गया। इस दौरान जलेसर तहसील में 22 शिकायतें प्राप्त हुई जिसमें 2 का निस्तारण किया गया। तहसील अलीगंज में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व केशव कुमार सहित अन्य अधिकारियों ने जन समस्याओं को सुना। इस दौरान फरियादियो द्वारा 30 शिकायत निस्तारण हेतु प्रस्तुत की गई, जिसमें से 5 शिकायतों का मौके पर निस्तारण कर दिया गया। सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अजय प्रकाश, सीएमओ डॉ. अरविंद कुमार गर्ग, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी एसपी सिंह, एसडीएम सदर अबुल कलाम, डीडीओ एसएन सिंह कुशवाह, पीडी डीआरडीए निर्मल कुमार द्विवेदी,  बीएसए संजय सिंह, समाज कल्याण अधिकारी रश्मि यादव, डीपीआरओ आलोक कुमार प्रियदर्शी, नायब तहसीलदार रवेंद्र प्रताप सिंह, सीडीपीओ एसपी पाण्डेय सहित अन्य अधिकारी, क्षेत्राधिकारी, थाना प्रभारी, खंड विकास अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

सुसाइड केस में एसआईटी ने सौंपी जांच रिपोर्ट

राणा ओबराय   
पानीपत। मिली जानकारी के अनुसार पूर्व पार्षद हरीश शर्मा के सुसाइड केस में गृहमंत्री अनिल विज के आदेश पर रोहतक रेंज के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) संदीप खिरवार के नेतृत्व में बनाई गई एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। एसआईटी ने तत्कालीन एसपी मनीषा चौधरी समेत सभी आरोपियों को क्लीन चिट दे दी है। एसआईटी की रिपोर्ट पर मॉडल टाउन थाना पुलिस ने केस रद्द करके कोर्ट में कैंसिलेशन रिपोर्ट जमा करा दी है। हालांकि, एसआईटी ने माना कि इस केस में तहसील कैंप के तत्कालीन चौकी प्रभारी बलजीत मलिक ने हरीश शर्मा पर दर्ज केस में गलत धाराएं लगाई थीं। लेकिन सुसाइड से इसका कोई लिंक नहीं मिला। इसलिए, तत्कालीन एसपी के साथ तत्कालीन चौकी प्रभारी बलजीत, एसआई महाबीर सिंह और दो यू-ट्यूबर्स को क्लीनचिट दे दी।

गैंगस्टर एक्ट में वांछित चल रहा अभियुक्त गिरफ्तार

पंकज कुमार  
एटा। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा श्री सुनील कुमार सिंह के निर्देशन में गैंगेस्टर अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत थाना जलेसर पुलिस द्वारा गैंगस्टर एक्ट में वांछित चल रहे अभियुक्त पवन को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई है। थाना जलेसर पुलिस द्वारा चेकिंग के दौरान मुखबिर की सूचना पर थाना जलेसर पर पंजीकृत धारा 2/3 गैंगस्टर एक्ट में वांछित चल रहे अभियुक्त पवन पुत्र भीम सिंह निवासी गणेशपुर थाना जलेसर जनपद एटा को पटना पक्षी विहार के पास से समय करीब 17.35 बजे गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार अभियुक्त के विरुद्ध थाना जलेसर से आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। 

आस्ट्रेलिया ने अफ्रीका के दौरे को स्थगित किया

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया ने कोविड-19 वायरस के प्रकोप के फिर बढ़ने के बाद ‘अस्वीकार्य स्वास्थ्य और सुरक्षा जोखिम’ का हवाला देते हुए अगले महीने के दक्षिण अफ्रीका के दौरे को स्थगित कर दिया। जिससे वह इस साल आयोजित होने वाले विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल से लगभग बाहर हो गया।ऑस्ट्रेलिया को इस दौरे पर तीन टेस्ट मैच खेलने थे। दक्षिण अफ्रीका में हालांकि कोविड-19 के मामले फिर से बढ़ रहे हैं और इस वायरस का नया प्रकार भी मिला है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) के अंतरिम प्रमुख निक हॉकले ने मंगलवार को कहा कि मौजूदा परिस्थितियों में दक्षिण अफ्रीका का दौरा करना संभव नहीं है।

श्रीराम 'निर्भयपुत्र'

चोरी करने वाले अभियुक्त चढ़े पुलिस के हत्थे

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी
हापुड़। जनपद पुलिस को उस वक्त बड़ी कामयाबी मिली। जब पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर चार अंतर राज्य चोरों को गिरफ्तार किया। जनपद टीम बी धर्मेन्द्र सिंह व सिकंदर गेट चौकी प्रभारी सरवन गौतम के नेतृत्व में उस वक्त टीम को कामयाबी मिली। जिस वक्त निजामपुर कट के पास चेकिंग करते हुए एक कैंटर से पुलिस को लूट किया गया, सामान बरामद हुआ। इस गैंग का सरगना विनोद खन्ना अपने साथियों के साथ मिलकर सड़क किनारे खड़े व ढाबे पर खड़े ट्रकों से उसके बराबर में कैंटर लगाकर चोरी किया करता था। पुलिस ने इन अभियुक्तों के पास से काफी मात्रा में सामान बरामद किया इस संदर्भ में पुलिस क्षेत्राधिकारी हापुड़ वैभव कुमार ने बताया कि यह लोग काफी शातिर किस्म के अपराधी हैं। गिरफ्तार अभियुक्त तौसीफ पुत्र अब्दुल्ला निवासी साहिबाबाद जनपद गाजियाबाद, राहत पुत्र जफर निवासी लोनी, गाजियाबाद, खालिद पुत्र उम्मेद अजराड़ा जनपद मेरठ , बिलाल पुत्र अबरार अजराड़ा जनपद मेरठ के निवासी हैं। इन पर पूर्व में भी मुकदमे चल रहे हैं।

सरकार ने संबंधित सभी पक्षकारों के साथ वार्ता की

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को कहा कि सरकार ने पिछले कई वर्षों से कृषि सुधारों के संबंध में सभी पक्षकारों के साथ वार्ता की है। नये कृषि कानूनों से जुड़े मुद्दे के समाधान के लिये सरकार एवं आंदोलनकारी किसान संगठनों के बीच 11 दौर की वार्ता में कानूनों में संशोधन को लेकर सरकार ने एक के बाद एक कई प्रस्ताव रखे हैं। कृषि मंत्री ने यह भी दोहराया कि नये कृषि कानूनों से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीद प्रक्रिया पर कोई असर नहीं पड़ेगा । लोकसभा में एराजा, असदुद्दीन ओवैसी, केसुरेश, नुसरत जहां रूही, बदरूद्दीन अजमल, उत्तम कुमार रेड्डी, कनिमोई करूणानिधि और माला राय सहित कई सदस्यों के प्रश्नों के लिखित उत्तर में कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने यह जवाब दिया। है। नये कृषि कानूनों से जुड़े मुद्दे के समाधान के लिये सरकार एवं आंदोलनकारी किसान संगठनों के बीच 11 दौर की वार्ता में कानूनों में संशोधन को लेकर सरकार ने एक के बाद एक कई प्रस्ताव रखे हैं। कृषि मंत्री ने यह भी दोहराया कि नये कृषि कानूनों से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीद प्रक्रिया पर कोई असर नहीं पड़ेगा । लोकसभा में एराजा, असदुद्दीन ओवैसी, केसुरेश, नुसरत जहां रूही, बदरूद्दीन अजमल, उत्तम कुमार रेड्डी, कनिमोई करूणानिधि और माला राय सहित कई सदस्यों के प्रश्नों के लिखित उत्तर में कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने यह जवाब दिया।

किसानों ने बॉर्डर के लिए सामग्री लेकर कूच किया

अतुल त्यागी, प्रवीण कुमार
हापुड़। किसानों ने नए कृषि कानून के खिलाफ चल रहे आंदोलन पर राकेश टिकैत के समर्थन में किसानों ने दिल्ली गाजीपुर बॉर्डर के लिए खाद्य सामग्री लेकर कूच किया। किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष धनवीर शास्त्री के तत्वधान में सैकड़ों किसान चले दिल्ली की ओर, वही  सैकड़ों किसानों ने किसान बिल पास होने का विरोध किया। थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के कुचेसर सहित कई गांव के सैकड़ों किसानो ने गाजीपुर बॉर्डर पर ट्रेक्टर व गाड़ियों से कूच किया।

उत्तराखंड: पिछले 24 घंटों में प्रदेश में 47 नए केस मिलें

पंकज कपूर   

देहरादून। पिछले 24 घंटों में प्रदेश में 47 नए केस मिले है और तीन मरीजों की मौत भी हुई है। वहीं राज्य के 6 जनपदों में आज भी कोई नया कोरोना पॉजिटिव मरीज नहीं मिला। इसके साथ ही राज्य में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की कुल संख्या 96227 हो गई है। उत्तराखंड में वर्तमान में 1043 एक्टिव केस हैं, जिनका चल रहा है। 1651 लोगों की अब तक संक्रमण से मौत हो चुकी है। जबकि, 7338 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट आना अभी बाकी है। मंगलवार को देहरादून में 19, अल्मोड़ा और बागेश्वर में 1-1, चम्पावत में 2, हरिद्वार में 5, नैनीताल में 10, ऊधमसिंहनगर 9 नए मरीज चिन्हित हुए हैं।

कांग्रेस की बैठक में विधायक व कार्यकर्ता भिडे

अविनाश श्रीवास्तव  
 बक्सर। बिहार कांग्रेस में कलह खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। आज एक बार फिर कांग्रेस विधायक और कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। मामला बक्सर का है जहां संगठन विस्तार को लेकर प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा जिला अतिथि गृह में बैठक कर रहे थे। तभी उनके सामने ही विधायक और कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। हंगामे के बारे में बताया जा रहा है कि जिला अतिथि गृह में कांग्रेस की बैठक हो रही थी। इस दौरान ही कांग्रेस के नेता आपस में भिड़ गए। एक दूसरे पर कई तरह के आरोप लगाने लगे। किसी तरह से बीच बचाव कर हंगामा को शांत कराया।
आपको बता दें कि कल भी आरा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई थी। वैसे कांग्रेस का आलम ये है कि कांग्रेसी नेता-कार्यकर्ता पार्टी की बैठकों में अपनी ताकत की नुमाइश कर रहे हैं। भक्तचरण दास जब कांग्रेस के प्रभारी बन कर बिहार पहुंचे तो सदाकत आश्रम में हुई पार्टी की पहली बैठक में ही जमकर हंगामा हुआ। रविवार को जब वे गोपालगंज गये तब भी खूब हंगामा हुआ था।

बेटे और पत्नी का कत्ल करकर खुद को मारी गोली

पंजाब। बैंक के बड़े अधिकारी ने बेटे और पत्नी का कत्ल करके खुद को मारी गोली
राणा ओबराय  
चंडीगढ़। मकबूल पूरा इलाके में दिल दहला देने वाली वारदात घटी। एक बैंक के बड़े अधिकारी ने अपने 5 वर्षीय बेटे और पत्नी का कत्ल करने के बाद खुद को भी गोली मार दी। मृतक ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है।
जानकारी के अनुसार मृतक बिक्रमजीत सिंह मान पिछले 2 महीनों से किसी बात को लेकर मानसिक तौर पर परेशान था। इसी के चलते उसने अपने बेटे और पत्नी का कत्ल कर खुद को भी गोली मार कर आत्महत्या कर ली। मृतक के परिवार का कहना है। कि यह सब कैसे हो गया, उन्हें इस बारे में कुछ पता नहीं चला। इस घटना के बाद परिवार शोक में डूबा हुआ है। फिलहाल पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है।

सीएम अमरिंदर का किसानों की मदद का ऐलान

अमरिंदर सिंह का किसानों की मदद के लिए बड़ा ऐलान
राणा ओबराय  
चंडीगढ़। पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा, कि पंजाब सरकार ने दिल्ली में 70 वकीलों को नियुक्त किया है। ताकि किसानों को कानूनी सहायता मिल सके। अमरिंदर ने कहा कि उनकी सरकार ने एक हेल्पलाइन नंबर 112 की भी घोषणा की है। जिस पर लोगों को गणतंत्र दिवस ट्रैक्टर परेड के बाद ‘लापता व्यक्तियों’ के बारे में रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है। एक ट्वीट में, पंजाब के सीएम ने कहा पंजाब सरकार ने दिल्ली में 70 वकीलों की एक टीम की व्यवस्था की है। ताकि दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए किसानों को तुरंत कानूनी मदद मिल सके। मैं व्यक्तिगत रूप से गृह मंत्रालय के साथ लापता किसानों के मुद्दे को उठाऊंगा और इन लोगों को सुरक्षित घर तक पहुंचना सुनिश्चित करूंगा। मदद के लिए 112 पर कॉल करें।

9 ट्रक शराब जब्त, गिनते-गिनते थक गये अधिकारी

शराब से भरे 9 ट्रक जब्त, पेटियां गिनते-गिनते थक गए अफसर 
अविनाश श्रीवास्तव  
पटना। बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू है। लेकिन फिर भी राजधानी पटना में प्रशासन के नाक के नीचे अवैध रूप से शराब की खूब तस्करी हो रही है। यही वजह है। कि उत्पाद विभाग ने पटना में अब तक की सबसे बड़ी शराब की खेप पकड़ी है। उत्पाद विभाग ने पांच हजार शराब की पेटियों को बरामद किया है। जिसकी कीमत 5 करोड़ रुपये आंकी गई है। इस मामले लापरवाही के आरोप में पटना सिटी बाईपास थाने के प्रभारी और चौकीदार को निलंबित कर दिया गया है।

सेंसेक्स 750 अंक बढ़ा, निफ्टी 14,500 के पार

बजट का असर। सेंसेक्स 750 अंक बढ़ा, निफ्टी 14,500 के पार
मनोज सिंह ठाकुर 
मुंबई। आम बजट के एक दिन बाद मंगलवार को प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स में शुरुआती कारोबार के दौरान 750 अंकों से अधिक की तेजी हुई, जबकि एनएसई निफ्टी 14,500 के स्तर को पार कर गया।
इस दौरान बीएसई सेंसेक्स 751.66 अंक या 1.55 प्रतिशत की मजबूती के साथ 49,352.27 पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह निफ्टी 222.65 अंक या 1.56 प्रतिशत बढ़कर 14,503.85 अंक पर पहुंच गया। सेंसेक्स में एचयूएल को छोड़कर सभी शेयर हरे निशान में कारोबार कर रहे थे। सेंसेक्स सोमवार को बजट में घोषित विभिन्न उपायों के चलते 2,314.84 अंक या पांच प्रतिशत बढ़कर 48,600.61 पर बंद हुआ था, इसी तरह निफ्टी 646.60 अंक या 4.74 प्रतिशत बढ़कर 14,281.20 पर पहुंच गया। सूचकांक में बजट के दिन यह अब तक की सबसे बड़ी बढ़ोतरी है।
शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने सोमवार को सकल आधार पर 1,494.23 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। अर्थशास्त्रियों और बाजार विश्लेषकों का मानना ​​है। कि सोमवार को पेश किया गया बजट एक साहसिक और वृद्धि-उन्मुख बजट है। दो सरकारी बैंकों के निजीकरण और भूमि जैसी परिसंपत्तियों के मौद्रीकरण के प्रस्ताव को भी बाजार ने सकारात्मक माना है।

आंदोलन के विरुद्ध पुलिस ने सड़कों में कीलें गाड़ी

किसान आंदोलन, पुलिस ने सड़कों में गाड़ी कीलें
पालूराम
नई दिल्ली। दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डरों पर चल रहे किसान आंदोलन के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई है। दिल्ली पुलिस ने गाजीपुर से डाबर तिराहे की तरफ आने वाली सड़क पर कीलें ठोक दीं। इससे पैदल आवाजाही भी बंद हो गई। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने यूपी गेट पर कई लेयर बैरिकेडिंग और कंटीले तार लगाए थे। इस पर राहुल ने कहा है। कि भारत सरकार को पुल बनाने चाहिए न कि दीवारें। राहुल गांधी ने मंगलवार को इस मामले में ट्वीट किया और राहुल गांधी ने सड़क पर कीलें, बाड़े की तस्वीरें भी ट्वीट की हैं। यूपी गेट पर दिल्ली पुलिस ने गाजीपुर की तरफ बॉर्डर पर सख्त घेराबंदी कर दी है। इससे दिल्ली-गाजियाबाद के बीच पैदल आवाजाही भी बंद हो गई है। रास्ता बंद होने से वाहन चालक भटक रहे हैं। यूपी गेट बॉर्डर पर फिर से किसानों की संख्या में इजाफा हो रहा है। विभिन्न संगठनों के लोग आंदोलन को समर्थन देने पहुंच रहे हैं। किसानों की बढ़ती आवाजाही और 26 जनवरी की हिंसा के बाद दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा घेरा कड़ा कर दिया है। दो दिन से मेरठ एक्सप्रेस वे की दिल्ली वाली सभी लेन बंद हैं। इन दो दिन में कई लेयर बैरिकैड लगाए। उन सभी पर कंटीले तार लगा दिए हैं।

रानीखेत: थल सेना की 15 फरवरी से भर्ती होगीं

रानीखेत: सेना की भर्ती 15 फरवरी से, पढ़िए किस तरह करेंगे प्रतिभाग

रानीखेत। भारतीय सेना में शामिल होकर देश सेवा का जज्बा रखने वाले युवाओं के लिए खुशखबरी... 15 फरवरी से थल सेना की भर्ती रानीखेत में आयोजित की जाएगी। थल सेना भर्ती निदेशक ने जानकारी देते हुए बताया 15 और 17 फरवरी को जनपद चम्पावत, 18 और 23 फरवरी को जनपद पिथौरागढ़ की सेना भर्ती आयोजित की जाएगी। यह भर्ती चार श्रेणियों में आयोजित की जाएगी। जिसमे सोल्जर जीडी सोल्जर तकनीकी, सोल्जर क्लर्क एसकेटी और सोल्जर ट्रेडमैन की श्रेणियां रखी गई है। भर्ती में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को कोविड-19 के नियमों का पालन करना होगा। भर्ती में सोल्जर जीडी के लिए 10 वीं कक्षा में 45 प्रतिशत कुल अंकों के साथ प्रत्येक विषय में कम से कम 33 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं। सोल्जर ट्रेडमैन के लिए 10वीं में 33 प्रतिशत अंक प्रत्येक विषय में होने अनिवार्य हैं। सोल्जर तकनीकी के लिए 12 वीं कक्षा में पीसीएम से प्रत्येक विषय में न्यूनतम 40 प्रतिशत और औसत 50 होना अनिवार्य किया गया है। सोल्जर क्लर्क एसकेटी के लिए 12 वीं कक्षा में गणित, अंग्रेजी के साथ प्रत्येक विषय में 50 प्रतिशत अंक और औसत 60 प्रतिशत होना अनिवार्य है।

नींबू पानी के अनेक फायदे, देसी कोल्ड ड्रिंक

नींबू पानी पीने के ये अनोखे फायदे,जरूर जानिए

नींबू पानी को अगर देशी कोल्ड्र‍िंक कहा जाए, तो इसमें कुछ गलत नहीं होगा। प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन और मिनरल्स से भरपूर यह पेय सेहत और सौंदर्य से जुड़े इतने फायदे देता है। जितने आप सोच भी नहीं सकते। जानिए नींबू पानी के कुछ ऐसे ही फायदे जो आपकी सेहत के लिए बेहद लाभदायक हैं। नींबू विटामिन सी का बेहतर स्रेत है। साथ ही, इसमें विभिन्न विटामिन्स जैसे थियामिन, रिबोफ्लोविन, नियासिन, विटामिन बी- 6, फोलेट और विटामिन-ई की थोड़ी मात्रा मौजूद रहती है। यह खराब गले, कब्ज, किडनी और मसूड़ों की समस्याओं में राहत पहुंचाता है। साथ ही ब्लड प्रेशर और तनाव को कम करता है। त्वचा को स्वस्थ बनाने के साथ ही लिवर के लिए भी यह बेहतर होता है।
पाचन क्रिया, वजन संतुलित करने और कई तरह के कैंसर से बचाव करने में नींबू पानी मददगार होता है। नींबू पानी में कई तरह के मिनरल्स जैसे आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, कैल्शियम, पोटैशियम और जिंक पाए जाते हैं।
किडनी स्टोन । नींबू पानी का स्वास्थ्य पर पड़ने वाला सबसे महत्वपूर्ण फायदा है। इसका किडनी स्टोन से राहत पहुंचाना। मुख्यरूप से किडनी स्टोन शरीर से बिना किसी परेशानी के निकल जाता है। लेकिन कुछ मामलों में यह यूरीन के बहाव को ब्लॉक कर देते हैं। जो अत्यधिक पीड़ा का कारण बनता है। नींबू पानी पीने से शरीर को रिहाइड्रेट होने में मदद मिलती है। और यह यूरीन को पतला रखने में मदद करता है। साथ ही यह किडनी स्टोन बनने के किसी भी तरह के खतरे को कम करता है।
डायबि‍टीज। नींबू पानी, हाई शुगर वाले जूस व ड्रिंक का बेहतर विकल्प माना जाता है। खासतौर से उनके लिए जो डायबिटीज के मरीज हैं। या वजन कम करना चाहते हैं। यह शुगर को गंभीर स्तर तक पहुंचाए बिना शरीर को रिहाइड्रेट व एनर्जाइज करता है।
पाचनक्रिया में फायदेमंद। नींबू पानी में मौजूद नींबू का रस हाइड्रोक्लोरिक एसिड और पित्त सिक्रेशन के प्रोडक्शन में वृद्धि करता है। जो पाचन के लिए आवश्यक है। साथ ही यह एसिडिटी और गठिया के खतरे को भी कम करता है। जो लोग आमतौर पर पाचन-संबंधी समस्याओं जैसे एबडॉमिनल क्रैम्प्स, ब्लॉटिंग, जलन और गैस की समस्या आदि से परेशान होते हैं। उन्हें नियमित रूप से नींबू पानी का सेवन करना चाहिए।

हरियाणा का मौसम बदलेगा करवट, अनुमान जारी

हरियाणा का मौसम लेगा करवट, बारिश के साथ इस दिन हो सकती है ओलावृष्टी, जानें मौसम का पूर्वानुमान
राणा ओबरॉय  
चंडीगढ़। प्रदेश में सोमवार को रात का तापमान सामान्य से 4 डिग्री कम रहा। करनाल में यह 4 डिग्री दर्ज किया गया। दिन का तापमान सामान्य से 5 डिग्री अधिक रहा। नारनौल में यह 27 डिग्री पर पहुंच गया। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, 3 से 5 फरवरी के बीच पश्चिमी विक्षोभ के असर से बारिश व कुछ क्षेत्रों में ओले गिरने की संभावना है। अधिकांश जिलों में रात का पारा बढ़कर 12 डिग्री तक पहुंच सकता है। इसके बाद फिर ठंड लौटेगी व रात का पारा गिरेगा। बसंत पंचमी के बाद ठंड से राहत की उम्मीद है। उधर, मौसम विभाग के मुताबिक, जनवरी में दिल्ली में शीतलहर के 7 दिन दर्ज हुए, जो 2008 के बाद सर्वाधिक हैं। तब ऐसा 12 दिनों तक हुआ था।

ताकतवर फल, सेवन से खत्म हो जाते हैं कई रोग

दुनिया का सबसे ताकतवर फल, सेवन करने से जड़ से खत्म हो जाते है। ये रोग जाने फायदे

आप लोगो ने अपने जीवन में हर तरह के फल खाये होंगे। फल को खाने से सेहत अच्छी रहती है। और फलो के सेवन से हमे शक्ति मिलती है। लेकिन आज हम जिस फल के बारे में बात करने जा रहे है। उस फल के बहुत सारे फायदे है। इसके सेवन से कई रोग जड़ से खत्म हो जाते है। इस फल का नाम आड़ू है। यह खाने में बहुत मीठा होता है। और लोग इसे बहुत चाव से खाते है। इसलिए आज हम आपको इस फल के फायदों के बारे में बताने के लिए जा रहे है !
खाने के फायदे
हड्डियों के लिए फायदेमंद
आड़ू के अन्दर भरपूर मात्रा में कैल्शियम और प्रोटीन होता है। जो हड्डियों को मजबूत करने में बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है। यह हड्डियों के घनत्व को बड़ा देता है। जिससे जोड़ो का दर्द कम हो जाता है। 
दांतो के लिए फायदेमंद
आड़ू के अन्दर फास्फोरस की मात्रा भी पायी जाती है। जो दांतो को मजबूत करने के लिए बहुत ज्यादा कारदार होता है। इसके सेवन से दांत भी मजबूत होते है।
इम्युनिटी सिस्टम
आड़ू का फल इम्यूनिटी सिस्टम को बढ़ाने में बहुत ही सहायक होता है। आंडू के फल का नियमित सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है। जिससे शरीर में किसी भी प्रकार का रोग होने की संभावना कम हो जाती है।
इसके अन्दर भरपूर मात्रा में फाइबर तत्व भी पाया जाता है। जो वजन को कण्ट्रोल करने के लिए फायदेमंद होता है। अगर आप इसका नियमित रूप से सेवन करते हैं। तो कुछ ही दिनों में आपका वजन कम हो जाएगा। इसके अलावा यह आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी मदद करता है।

यात्रियों के लिए खुशखबरी, स्पेशल ट्रेन फिर चलेगी

रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी, गंगानगर स्पेशल ट्रेन फिर चलेगी
राणा ओबरॉय  
 चंडीगढ़। रेल यात्रियों की लगातार चली आ रही मांग को देखते हुए रेलवे अधिकारियों ने हिसार से भिवानी व रेवाड़ी जाने वाले यात्रियों के लिए गंगानगर स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है। आपको बता दें कि यह रेल मार्च माह से बंद चल रही थी।
हिसार रेलवे स्टेशन के अधीक्षक केएल चौधरी व टिकट सुपरवाइजर पुरुषोत्तम मीणा ने बताया कि ट्रेन 5 फरवरी से प्रतिदिन सुबह 7:35 बजे हिसार रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी। यहां से 8:20 बजे रवाना होगी। इसके बाद यह ट्रेन 9:50 बजे भिवानी रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी। यहां से 9:55 बजे रवाना होगी। 12.10 बजे ट्रेन रेवाड़ी रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी। इसी तरह डाउन फेरे में रेवाड़ी से ट्रेन 12:50 बजे चलेगी। यह ट्रेन 2:35 बजे भिवानी पहुंचेगी। हिसार शाम 4:05 बजे पहुंचेगी। यहां से 16:15 बजे रवाना होगी। स्टेशन अधीक्षक का कहना है। कि ट्रेन को चलाने की सभी तैयारी पूरी कर ली गई है।

राजस्व घाटा, अनुदान में 631 करोड़ की कटौती

शिमला। कोरोनाकाल में केंद्रीय बजट में हिमाचल प्रदेश के राजस्व घाटा अनुदान में 631 करोड़ रुपये की कटौती की गई है। प्रदेश को आगामी वित्तीय वर्ष के लिए 10,800 करोड़ रुपये मिलेंगे जबकि चालू वित्तीय वर्ष में 11,431 करोड़ रुपये मिले थे। हिमाचल सरकार अपने वार्षिक बजट में इसी राशि से घाटे की पूर्ति करती है।  पंद्रहवें वित्तायोग से एक तरह से हिमाचल प्रदेश को यह झटका लगा है। कोरोनाकाल में प्रदेश की अर्थव्यवस्था की हालत खराब होने के चलते हिमाचल प्रदेश ज्यादा राजस्व घाटा अनुदान की उम्मीद लगाए बैठे था। चालू वित्तीय वर्ष के लिए पिछले साल पंद्रहवें वित्तायोग ने केरल के बाद हिमाचल को बड़ी राहत दी थी। 11,431 करोड़ रुपये की यह ग्रांट अभूतपूर्व थी। इसे वर्ष 2019-20 की तुलना में 45 फीसदी बढ़ाया गया था। उल्लेखनीय है कि चौदहवें वित्तायोग की ओर से पिछले कई वित्तीय वर्षों में मिले राजस्व घाटा अनुदान की बनिस्बत यह ग्रांट ज्यादा है।
 राजस्व घाटा अनुदान करोना संकट के कारण कम भी मिलता है तो प्रदेश सरकार अपने संसाधनों से आगामी बजट का प्रबंध कर लेगी। केंद्र ने हिमाचल प्रदेश को राजस्व घाटा अनुदान देकर राहत दी है। - जयराम ठाकुर, मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश।

एफ-16 ईएक्स विमान भारत को देने की मंजूरी दी

वाशिंगटन डीसी। वायुसेना को जल्द अमेरिका का सबसे अत्याधुनिक युद्धक विमान एफ-16ईएक्स मिल सकता है। भारत के साथ बढ़ती दोस्ती का संकेत देते हुए अमेरिकी सरकार ने एफ-15 शृंखला के सबसे नए स्वरूप के विमान भारत को देने की मंजूरी दे दी है। यह बहुउद्देश्यीय होने के साथ-साथ हर मौसम और रात में भी हमला करने में सक्षम है। बोइंग इंटरनेशनल सेल्स ऐंड इंडस्ट्रीयल पार्टनशिप्स की उपाध्यक्ष मारिया एच लैने ने बताया, दोनों देशों की सरकारों के बीच चर्चा हुई और फिर दोनों देशों की वायुसेना ने एफ-15ईएक्स के बारे में सूचनाओं का आदान-प्रदान किया। लैने ने कहा, भारत को एफ-15ईएक्स विमान देने के हमारे लाइसेंस संबंधी अनुरोध को अमेरिका की सरकार ने स्वीकार कर लिया है। बोइंग ने कहा कि बंगलूरू में अगले हफ्ते से शुरू हो रहे एयरो इंडिया 2021 में एफ-15ईएक्स विमान को प्रदर्शित किया जाएगा। अमेरिकी सरकार का यह निर्णय भारत के साथ मजबूत दोस्ती का प्रतीक है। यह दोनों देशों के बीच बढ़ते भरोसे और लंबे वक्त तक चलने वाले संबंधों की ओर इशारा करता है। एफ-15ईएक्स में इसी शृंखला के पुराने विमानों की तुलना में अधिक हथियार ले जाने की क्षमता है। इसके साथ ही यह हाइपरसोनिक मिसाइल यानी ध्वनि से पांच गुना तेज चलने वाली मिसाइल ले जा सकता है। बेहतरीन डिजिटल इंजीनियरिंग और सॉफ्टवेयर से लैस ये विमान दशकों तक आसानी से अपग्रेड किए जा सकेंगे। कांग्रेसनल रिसर्च सर्विस के अनुसार, तकनीक की वजह से ये दुश्मन की नजर में आए बिना उसकी सीमा में घुसकर निशाने को तबाह कर सकता है। भारतीय वायुसेना ने अप्रैल 2019 में करीब 1.30 लाख करोड़ या 18 बिलियन डॉलर की लागत से 114 विमानों के अधिग्रहण के लिए ‘सूचना का अनुरोध’ या शुरुआती निविदा जारी की थी। इसे हाल के वर्षों में दुनिया की सबसे बड़ी सैन्य खरीद बताया गया था।

राजद्रोह की याचिका, आदेश देने से किया इंकार

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह की याचिका पर कोई भी आदेश पारित करने से इनकार कर दिया। याचिका में उन्होंने अदालत से उत्तर प्रदेश में राजद्रोह सहित विभिन्न आरोपों के तहत दर्ज एफआईआर के सिलसिले में गिरफ्तारी से सुरक्षा देने की मांग की थी। इस मामले पर अब शीर्ष अदालत अगले हफ्ते सुनवाई करेगा।
संजय ने आरोप लगाया है कि राजनीतिक बदले की भावना से उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। एक अलग याचिका में उन्होंने इलाहाबाद उच्च न्यायालय के 21 जनवरी के फैसले को भी चुनौती दी है।
वहीं इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ बेंच ने भी मंगलवार को आप सांसद संजय सिंह के खिलाफ हजरतगंज थाने में दर्ज मुकदमे में राहत देने से इनकार कर दिया है। यह आदेश न्यायमूर्ति राकेश श्रीवास्तव की एकल सदस्यीय पीठ ने दिया। अदालत ने संजय सिंह की याचिका को खारिज करते हुए कहा कि निचली अदालत द्वारा चार्जशीट पर संज्ञान लेने में कोई भी त्रुटि नहीं की गई है।
हजरतगंज कोतवाली में सांसद के खिलाफ 12 अगस्त 2020 के कुछ विवादास्पद बयानों को लेकर एफआईआर दर्ज हुई थी। बाद में पुलिस ने उनके खिलाफ अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया था। इस पर एमपीएमएलए की स्पेशल कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए संजय सिंह को समन जारी किया था। सांसद ने उक्त मामले में निचली अदालत द्वारा संज्ञान लेने को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी।

किसान आंदोलन: गाजीपुर बॉर्डर पूरी तरह सील

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। कृषि कानूनों के खिलाफ 67 दिनों से किसानों का प्रदर्शन जारी है। गाजीपुर बॉर्डर पर हर नए दिन के साथ लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अलावा हरियाणा से भी बड़ी संख्या में किसान यहां पहुंच रहे हैं। सुरक्षा व्यवस्था को बनाए रखने के लिए पुलिस ने गाजीपुर बॉर्डर को पूरी तरह से सील कर दिया है। सोमवार को दिल्ली मेरठ हाइवे से किसी को भी बॉर्डर की ओर नहीं आने दिया गया। इससे यातायात ठप हो गया है और लोगों को घंटो जाम से जूझना पड़ा।
 दिल्ली मेरठ हाईवे पर आनंद विहार के गोल चक्कर से गाजियाबाद की ओर किसी को भी नहीं जाने दिया जा रहा है। यहां से यातायात को आनंद विहार से आगे रामप्रस्थ और अप्सरा बॉर्डर के रास्ते गाजियाबाद की ओर भेजा गया। इससे आनंद विहार गोल चक्कर, दिलशाद गार्डन पर पूरे दिन जाम लगा रहा। उधर, गाजीपुर रोड, नरवाना रोड, स्वामी दयानंद मार्ग, विकास मार्ग, मदर डेरी रोड, अक्षरधाम और रिंग रोड तक के यातायात पर भी काफी असर पड़ा। इन जगहों से गुजरते वक्त लोगों को घंटो जाम में फंसे रहना पड़ा। गणतंत्र दिवस के दिन किसान रैली के दौरान हुई हिंसा के बाद से ही गाजीपुर बॉर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। बैरिकेडिंग को वैल्डिंग कर जोड़ दिया गया है। किसानों के धरनास्थल की तरफ आने-जाने का रास्ते पूरी तरह से ब्लॉक है। पुलिस और आपात सेवाओं से जुड़े लोगों के अलावा किसी को भी दिल्ली के रास्ते बॉर्डर तक नहीं जाने दिया जा रहा है। पुलिस ने गाजीपुर बॉर्डर पर पक्की बैरिकेडिंग कर दी है, उसके बाद से इस रूट खुलने की संभावना भी पूरी तरह खत्म हो गई है। ऐसे में आने वाले दिनों में भी लोगों को जाम से जूझना पड़ सकता है। दिल्ली पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव सोमवार शाम को जवानों का मनोबल बढ़ाने के लिए गाजीपुर बार्डर पहुंचे। पुलिस आयुक्त ने पुलिस कर्मियों के अलावा अर्द्धसैनिक बलों की जमकर तारीफ की। इस दौरान आयुक्त ने बॉर्डर पर किए गए सुरक्षा इंतजामों का जायजा भी लिया। पुलिस आयुक्त के साथ स्पेशल सीपी राजेश खुराना, संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार और पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त दीपक यादव भी मौजूद रहे। आयुक्त वहां दिनरात वहां ड्यूटी कर रहे जवानों से बातचीत भी की। दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एक फरवरी को किसानों ने संसद भवन तक पैदल मार्च करने के लिए कहा था। हालांकि बाद में किसानों ने खुद ही उसे वापस भी ले लिया। लेकिन बावजूद इसके पुलिस ने किसानों को बॉर्डर पर ही रोकने के भरपूर इंतजाम किए थे। सोमवार शाम को पुलिस आयुक्त अचानक अधिकारियों के साथ वहां पहुंच गए। पुलिस आयुक्त ने एनएच-9 स्थित डिवाइडर पर चढ़कर अपने जवानों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने अपने जवानों को दिशा निर्देश भी दिए। काफी समय वहां बिताने के बाद पुलिस आयुक्त वहां से वापस लौट गए।

विपक्ष ने दिया कृषि कानून पर स्थगन का प्रस्ताव

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। लोकसभा में मंगलवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव को लेकर चर्चा शुरु होगी। लोकसभा में पश्चिम बंगाल से सांसद लॉकेट चटर्जी बहस की शुरुआत करेंगी। वहीं राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद और कांग्रेस सांसद दीपेन्द्र हुड्डा ने किसान कानूनों को लेकर कार्य स्थगन प्रस्ताव दिया है। तीनों किसान कानूनों को लेकर विपक्ष दोनों सदनों में हंगामा कर सकता है। राज्यसभा की कार्यवाही आज सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक चलेगी। जबकि लोकसभा की कार्यवाही शाम 4 बजे से रात 9 बजे तक चलेगी। सभी राजनीतिक दलों के नेताओं ने सर्वसम्मति से तय किया है कि बजट सत्र का पहला भाग 13 फरवरी तक संचालित होगा। ताकि विभागों से संबद्ध संसदीय समितियां विभिन्न विभागों और मंत्रालयों की अनुदान मांगों की जांच कर सकें। पहले, बजट सत्र के पहले भाग का संचालन 15 फरवरी तक होना था।

यूपी: पीएफआई ने बोर्ड के प्रवक्ता को धमकी दी

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश के कानपुर में सूफी इस्लामिक बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता और संगठन प्रभारी कौसर हसन मजीदी को पीएफआई ने जान से मारने की धमकी दी है. जूही थाना क्षेत्र के परमपुरवा में रहने वाले मजीदी को धमकी भरा पत्र आया है। जिसमें पीएफआई की मुखालफत करने के लिए उनका सिर कलम करने की बात लिखी गयी है। इसके बाद पीड़ित ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। वहीं, कानपुर पुलिस अब मामले की जांच में जुटी हुई है। धमकी भरा पत्र उर्दू में लिखा हुआ है।
गौरतलब है कि परमपुरवा के रहने वाले एसआरए पब्लिक स्कूल संचालक व सूफी इस्लामिक बोर्ड के राष्ट्रीय प्रवक्ता कौसर हसन मजीदी बीते कुछ महीनो से पीएफआई को बैन किये जाने की मुहिम चला रहे हैं।उन्‍होंने नवम्बर 2020 मे प्रेस कान्फ्रेंस कर पीएफआई को बैन किये जाने की मांग की थी। इसी कड़ी में बोर्ड ने हैशटैग पीएफआई बैन ट्रेंड कराया था। काफी समय तक हैशटैग पीएफआई बैन ट्विटर ट्रेंड में बना रहा था। इसके साथ ही बोर्ड पीएफआई को बैन कराने के लिए लगातार मुखर है और सोशल मीडिया पर भी बैन किये जाने की मांग कर रहा है। इस घटना की कौसर हसन मजीदी ने पुलिस को जानकारी दे दी है। सूचना के कुछ ही देर में पुलिस मौके पर पहुंची और पत्र की जांच में जुट गई है. बाबूपुरवा क्षेत्राधिकारी आलोक सिंह ने बताया की मामला संज्ञान में आया है। जिसके बाद पत्र को कब्जे में लेकर पढ़वाया गया है और उसमें धमकी भारी भाषा का इस्तेमाल किया गया है। मामले की जांच की जा रही है।हालांकि अभी तक तहरीर प्राप्त नहीं हुई है। जबकि कौसर हसन मजीदी के घर के बाहर पुलिस तैनात कर दी गयी है।

अर्जी पर एचसी ने कहा, 1 मार्च को पेश हो कंगना

मनोज सिंह ठाकुर 
मुंबई। मानहानि केस में मुंबई की अंधेरी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट आरआर खान ने कंगना रनौत को समन जारी कर दिया। मजिस्ट्रेट ने मानहानि केस में जावेद अख्तर की ओर से एडवोकेट जय कुमार भारद्वाज की दलीलों को सुनने के बाद उन्हें समन जारी किया। गीतकार ने एक्ट्रेस के खिलाफ नेशनल टेलिविजन पर कथित रूप से बदनाम करने के लिए मानहानि का केस किया हुआ है। समन में कंगना रनौत को 1 मार्च 2021 को अदालत में पेश होने को कहा गया है।
जुहू पुलिस स्टेशन ने मुंबई के अंधेरी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट को बताया है कि कंगना रनौत के खिलाफ लगाए गए आरोपों की और जांच किए जाने की आवश्यकता है। बॉलीवुड गीतकार जावेद अख्तर और उनके वकील निरंजन मुंदरगी की सुनवाई के बाद मजिस्ट्रेट अदालत ने जुहू पुलिस को दिसंबर 2020 में मानहानि के आरोप में रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश दिया था. अदालत ने जुहू पुलिस को 18 जनवरी, 2021 को एक रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश दिया था, हालांकि उन्होंने और समय मांगा था।
पेश की गई रिपोर्ट में कहा गया कि कंगना रनौत के खिलाफ लगाए गए आरोपों की आगे जांच किए जाने की जरूरत है। जुहू पुलिस की रिपोर्ट में आम गवाह के बयान शामिल थे, जिसमें एक डॉक्टर का बयान भी शामिल था। डॉक्टर ने यह भी गवाही दी कि इंटरव्यू में कंगना रनौत ने कथित रूप से ऐसी कोई बातचीत नहीं की थी।

यूपी में 10 आइएएस अफ़सरों के हुए तबादले

हरिओम उपाध्याय  
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने देर रात 10 आईएएस अफसरों के तबादले कर दिए। मुख्य सचिव आरके तिवारी को आईडीसी का अतरिक्त चार्ज दिया गया है।इसके अलावा अपर मुख्य सचिव ऊर्जा अरविंद कुमार को हटाकर औद्योगिक विकास विभाग भेजा गया है। बताया जा रहा है कि विभागीय मंत्री श्रीकांत शर्मा से उनकी न बनने की वजह से इनका विभाग बदला गया है। हालांकि उन्हें महत्वपूर्ण विभाग औद्योगिक विकास विभाग व आईटी एवं इलेक्ट्रानिक का अपर मुख्य सचिव बनाया गया है। इसके अलावा अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल को वित्त विभाग से हटाते हुए राज्य कर यानी वाणिज्य कर विभाग का अपर मुख्य सचिव बनाया गया है।संजीव मित्तल के खिलाफ लगातार शिकायतें आ रही थीं कि वे वित्तीय प्रस्तावों पर अडंगा लगा रहे थे। एस राधा चौहान को अपर मुख्य सचिव व्यावसायिक शिक्षा एवं प्राविधिक शिक्षा, महिला कल्याण, बाल विकास एवं पुष्टाहार, महानिदेशक राज्य पोषण मिशन  से हटाकर अपर मुख्य सचिव वित्त बनाया गया है।आलोक कुमार द्वितीय को प्रमुख सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य, परिवार कल्याण से हटाकर प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा बनाया गया है। अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा रजनीश दुबे को अपर मुख्य सचिव नगर विकास, नगरीय रोजगार, गरीबी उन्मूलन, राज्य मिशन निदेशक स्वच्छ भारत मिशन नगरीय की जिम्मेदारी दी गई है। एम देवराज को अध्यक्ष एवं एमडी पावर कार्पोरेशन, अध्यक्ष जल विद्युत निगम, अध्यक्ष राज्य विद्युत उत्पादन व पारेण निगम की जिम्मेदारी दी गई है। दीपक कुमार को प्रमुख सचिव आवास व अपर स्थानिक आयुक्त, आलोक कुमार तृतीय को सचिव मुख्यमंत्री के साथ व्यावसायिक शिक्षा व प्राविधिक शिक्षा का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।

राजनीतिकरण का आरोप लगने पर दिया जवाब

टिकैत ने आंदोलन में राजनीतिकरण का आरोप लगने पर दिया जवाब, कहा- लोकतंत्र का मजाक बनाए जाने के बाद लिया राजनीतिक समर्थन

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा ने केन्द्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन में राजनीतिक दलों को नहीं घुसने दिया था। लेकिन प्रदर्शन स्थलों पर लोकतंत्र का मजाक बनाए जाने के बाद ही उसने राजनीतिक समर्थन लिया। गाजीपुर में दिल्ली-मेरठ राजमार्ग पर प्रदर्शन स्थल पर सैकड़ों की संख्या में किसानों के जुटने की पृष्ठभूमि में टिकैत ने यह टिप्पणी की पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, उत्तराखंड से बड़ी संख्या में किसान गाजीपुर सीमा पर जुट रहे हैं। एक सवाल के जवाब में टिकैत ने कहा, संयुक्त किसान मोर्चा ने राजनीतिक दलों को अपने आंदोलन में प्रवेश नहीं करने दिया था, क्योंकि हमारा आंदोलन गैर राजनीतिक है। प्रदर्शन को लेकर लोकतंत्र का मजाक बनाए जाने के बाद, राजनीतिक दलों से समर्थन लिया गया. इसके बावजूद, नेताओं को किसान आंदोलन के मंच से दूर रखा गया है।गाजीपुर बॉर्डर पर टिकैत से मिलने आए शिअद प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने कहा, मोदी साब नु किसाना दी मन दी गल सुननी चाहिदी है।  शिअद कृषि कानूनों को लेकर केन्द्र में सत्तारूढ़ राजग से रिश्ता तोड़ चुका है।

यूपी में शुरू हुई बोर्ड के 12वीं कक्षा की परीक्षा

हरिओम उपाध्याय    
लखनऊ। उत्तर प्रदेश बोर्ड की शैक्षणिक सत्र 2020-21 की इंटरमीडिएट प्रैक्टिकल परीक्षा की तारीखें घोषित हो चुकी है। परीक्षा 2 चरणों में होगी। पहले चरण में 10 मंडलों के 39 जिलों में 10,58,617 परीक्षार्थी 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षा देंगे। बोर्ड ने पहले चरण की प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए 7,505 परीक्षक नियुक्त किए हैं।
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के सचिव दिव्यकांत शुक्ला के अनुसार 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए नियुक्त किए गए परीक्षकों के नियुक्ति पत्र बोर्ड की वेबसाइट पर विद्यालयों को ऑनलाइन उपलब्ध करा दिया गया है। नियुक्ति पत्र को अलग से भी जिलों को भेजा जा रहा है।
बोर्ड की ओर से कोविड गाइडलाइन का पालन कराते हुए परीक्षा कराने के निर्देश पहले ही जारी किए जा चुके हैं. 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए 21 जनवरी 2021 को बोर्ड ने तारीख घोषित की थी।

जीवन में दुख भी जरूरी है

जीवन में दुःख भी जरूरी है
एक सूफी फकीर था, शेख फरीद। उसकी प्रार्थना में एक बात हमेशा होती थी। उसके शिष्य उससे पूछने लगे कि यह बात हमारी समझ में नहीं आती हैं कि हम भी प्रार्थना करते हैं, औरों को भी हमने प्रार्थना करते देखा है। लेकिन यह बात हमें कभी समझ में नहीं आती, तुम रोज-रोज यह क्या कहते हो कि हे प्रभु, थोड़ा दुःख मुझे तू रोज देते रहना ? यह भी कोई प्रार्थना है ? लोग प्रार्थना करते हैं, सुख दो; और तुम प्रार्थना करते हो, हे प्रभु, थोड़ा दुःख रोज देते रहना।
फरीद ने कहा कि सुख में तो मैं सो जाता हूँ और दुःख मुझे जगाता है। सुख में तो मैं अक्सर परमात्मा को भूल जाता हूँ और दुःख में मुझे उसकी याद आती है। दुःख मुझे उसके करीब लाता है। इसलिए मैं प्रार्थना करता हूँ, हे प्रभु, इतना कृपालु मत हो जाना कि सुख-ही-सुख दे दे। क्योंकि मुझे अभी अपने पर भरोसा नहीं है। तू सुख-ही-सुख दे दे तो मैं सो ही जाऊँ। जगाने को ही कोई बात नहीं रह जाए। अलार्म ही बंद हो गया। तू अलार्म बजाता रहना, थोड़ा-थोड़ा दुःख देते रहना, ताकि याद उठती रहे, मैं तुझे भूल न पाऊँ, तेरा विस्मरण न हो जाए।
सरस्वती-||

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

खाने-पीने के जरिए पेट तक पहुंच सकते हैं किटाणु

वाशिंगटन डीसी। पूरे घर में किचन सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाली जगह होती है। ऐसे में खाना बनाते वक्त गंदगी भी सबसे ज्यादा किचिन में ही फैलती ...