रविवार, 6 अगस्त 2023

एससी-एसटी, अल्पसंख्यक छात्रों से भेदभाव रोके

एससी-एसटी, अल्पसंख्यक छात्रों से भेदभाव रोके   

अकाशुं उपाध्याय   
नई दिल्ली। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) उच्च शैक्षणिक संस्थानों में पढ़ने वाले अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी) और अल्पसंख्यक समुदायों के छात्रों से संबंधित अपने नियमों में बदलाव करने के लिए तैयार है और उसने एक समिति गठित की है, जो इन छात्रों से होने वाले भेदभाव को रोकने के लिए उपचारात्मक कदम सुझाएगी।
अधिकारियों ने यह जानकारी दी। यह कदम तब उठाया गया है, जब उच्चतम न्यायालय ने पिछले महीने उच्च शिक्षण संस्थानों में वंचित समुदायों के छात्रों की मौत को संवदेनशील मुद्दा बताया, जिस पर लीक से हटकर सोचने की आवश्यकता है।
यूजीसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, उच्च शिक्षण संस्थानों में एससी, एसटी, अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी), पीडब्ल्यूडी और अल्पसंख्यक समुदायों से जुड़े यूजीसी के नियमों एवं योजनाओं में बदलाव लाने तथा विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में एससी तथा एसटी छात्रों के लिए गैर-भेदभाव वाला माहौल सुनिश्चित करने के वास्ते उपचारात्मक कदम उठाने के लिए एक विशेषज्ञ समिति गठित की गई है।
आयोग ने 2012 में यूजीसी (उच्च शिक्षण संस्थानों में समानता को बढ़ावा देना) नियम जारी किए थे। इन नियमों में सभी उच्च शिक्षण संस्थानों में दाखिले के मामले में एससी और एसटी समुदाय के किसी भी छात्र से भेदभाव न करने का प्रावधान है।
इसमें इन संस्थानों में जाति, नस्ल, धर्म, भाषा, लिंग या शारीरिक अक्षमता के आधार पर किसी भी छात्र का उत्पीड़न रोकने तथा ऐसा करने वाले लोगों व प्राधिकारियों को दंडित करने का भी प्रावधान है। यूजीसी ने इस साल अप्रैल में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग तथा महिला प्रतिनिधियों को छात्र शिकायत निवारण समितियों का अध्यक्ष या सदस्य नियुक्त करना अनिवार्य कर दिया था।
एससी और एसटी समुदाय के छात्रों की आत्महत्या के मामले उच्च शिक्षण संस्थानों में इन समुदायों के खिलाफ कथित भेदभाव को लेकर चिंता बढ़ा रहे हैं। उच्चतम न्यायालय की न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना और न्यायमूर्ति एमएम सुंदरेश की पीठ ने शैक्षणिक संस्थानों में कथित तौर पर जाति-आधारित भेदभाव के कारण आत्महत्या करने वाले रोहित वेमुला और पायल तडवी की माताओं की ओर से दाखिल याचिका पर यूजीसी से इस दिशा में उठाए गए कदमों का विवरण मांगा है।

घरेलू शेयर बाजार में गिरावट, नकारात्मक रुझान

घरेलू शेयर बाजार में गिरावट, नकारात्मक रुझान   

अकांशु उपाध्याय  
मुंबई। अमेरिका की साख रेटिंग घटने से वैश्विक बाजार के नकारात्मक रुझान के दबाव में स्थानीय स्तर पर हुई बिकवाली से बीते सप्ताह आधे प्रतिशत से अधिक की गिरावट में रहे घरेलू शेयर बाजार की चाल अगले सप्ताह वैश्विक रुख और कंपनियों के तिमाही नतीजे से तय होगी।
बीते सप्ताह बीएसई का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 438.95 अंक अर्थात् 0.67 प्रतिशत का गोता लगाकर सप्ताहांत पर 65721.25 अंक और नेशनल स्टॉक एक्स चेंज (एनएसई) का निफ़्टी 119.2 अंक यानी 0.61 प्रतिशत की गिरावट लेकर 19517 अंक पर आ गया।
वहीं, समीक्षाधीन सप्ताह में बीएसई की दिग्गज कंपनियों के विपरीत छोटी कंपनियों में लिवाली हुई वहीं मझौली कंपनियों के शेयरों के भाव सपाट रहे। स्मॉलकैप 521.79 अंक की तेज़ी लेकर सप्ताहांत पर 35070.65 अंक पर पहुंच गया जबकि मिडकैप 30162.66 अंक पर सपाट रहा।
विश्लेषकों के अनुसार, क्रेडिट रेटिंग एजेंसी फिच के 'स्थिर' आउटलुक के साथ अमेरिकी साख रेटिंग को 'एएए' से घटाकर 'एए+' कर दिये जाने के बाद वैश्विक अर्थव्यवस्था को लेकर बनी चिंता से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में आई गिरावट से घरेलू बाजार पर दबाव बना।
इसके बाद अमेरिकी फ़ेड रिज़र्व के ब्याज दर में एक बार फिर चौथाई प्रतिशत की बढ़ोतरी करने से बिहार रिटर्न पाने उम्मीदें में विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने स्थानीय स्तर पर जमकर बिकवाली से शेयर बाजार पूरे सप्ताह दबाव में रहा। इन वैश्विक कारकों का प्रभाव अगले सप्ताह भी बाजार पर रह सकता है।
बीते सप्ताह एफआईआई ने बाजार से कुल 2,844.47 करोड़ रुपये निकाल लिए। अगले सप्ताह कोल इंडिया, हिंडाल्को, इरकॉन, ओ आई एल और बायोकॉन समेत कई दिग्गज कंपनियों के चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के परिणाम जारी होने वाले हैं। अगले सप्ताह बाजर को दिशा देने में इन कारकों की अहम भूमिका रहेगी।

मलबा आने से भाई-बहन की मौत, शव निकालें

मलबा आने से भाई-बहन की मौत, शव निकालें   

श्रीराम मौर्य  
टिहरी। उत्तराखंड के इस इलाके से बारिश के बीच बड़ी खबर आ रही है। टिहरी जिले के सकलाना पट्टी में मलबा आने से मकान क्षतिग्रस्त गया। इस हादसे में दो भाई-बहिनों की मलबे से दबकर मौत हो गई। एसडीआरएफ की टीम ने मौके पर पहुंच कर दोनों के शव निकाले।
पुलिस के मुताबिक रविवार की प्रातः डीडीएमओ टिहरी द्वारा बताया गया कि मरोड़ा पुल, सकलाना पट्टी में मलवा आने से एक घर क्षतिग्रस्त हो गया है, जिसमें एक बालक व बालिका दबे हुए है। सकलाना पट्टी के ऊपर बादल फटने की आशंका पर एसडीआरएफ टीम को सुरक्षा के दृष्टिगत मौके पर पहुँचने हेतु सूचित किया गया। सूचना पर पोस्ट सहस्रधारा से एसडीआरएफ टीम हेड कांस्टेबल सुशील कुमार के नेतृत्व में तत्काल मौके के लिए रवाना हुई।
घटना में तहसील धनोल्टी के ग्राम मरोड़ा में रात्रि में हुई बारिश से प्रवीण दास के मकान के पीछे की दीवार टूट गई। जिसमें उनके दो बच्चे कुमारी स्नेहा पुत्री प्रवीण दास उम्र 12 वर्ष, रणवीर पुत्र प्रवीण दास उम्र 10 वर्ष दब गए। राजस्व उप निरीक्षक ल्वारखा, पुलिस चौकी सत्यो द्वारा बच्चों को मलबे से निकालकर दोनों बच्चों को पीएचसी सत्यो पहुँचाया गया, जिन्हें डाक्टर द्वारा मृत घोषित कर दिया गया। एसडीआरएफ रेस्क्यू टीम आवश्यक उपकरणों के साथ मौके पर पहुँच गयी है व किसी भी घटना के दृष्टिगत अलर्ट है।

508 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास की आधारशिला रखी

508 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास की आधारशिला रखी

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए देशभर के 508 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास की आधारशिला रखी।
इसी कड़ी में पीएम ने लालकुआं रेलवे स्टेशन में 24 करोड़ की लागत से होने वाले विकास कार्यों का शिलान्यास किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘दुनिया में साउथ अफ्रीका, यूक्रेन, स्वीडन, यूके जैसे देशों में जितना रेल नेटवर्क है भारत ने अकेले 9 साल में रेल ट्रैक बनाए हैं। देश का लक्ष्य है कि सुलभ और सुखद भी हो। प्लेटफॉर्म पर बैठने के लिए अच्छे वेटिंग रूम बनाए जा रहे हैं। हजारों स्टेशन पर मुफ्त इंटरनेट उपलब्ध होगा।
पुनर्विकास में खर्च किए जाएंगे 25 हजार करोड़
पीएम मोदी ने आगे कहा कि विकसित होने के लक्ष्य की तरफ कदम बढ़ा रहा भारत अपने अमृत काल के प्रारंभ में है। एक नए अध्याय की शुरूआत हो रही है। उन्होंने कहा कि 1300 रेलवे स्टेशनों में से 508 अमृत भारत स्टेशन का पुनर्विकास किया जाएगा। इस पर 25 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।
प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्ष पर भी हमला बोला और कहा कि विपक्ष पुराने ढर्रे पर अड़ा हुआ है। न खुद कुछ करेंगे न कुछ करने देंगे। पीएम ने कहा कि विपक्ष ने संसद के नए भवन का विरोध किया, 70 साल में शहीदों के लिए एक वॉर मेमोरियल तक नहीं किया, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी में नहीं गए। उन्होंने कहा कि आज तक सरदार साहब के स्टेच्यू के सामने जाकर नमन नहीं किया। हम पार्टी से ऊपर उठकर विकास के लिए काम कर रहे हैं और डेढ़ लाख से ज्यादा युवाओं को रेलवे में नौकरी मिली है।
नरेंद्र मोदी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनने वालों की सुबह से ही अच्छी संख्या कार्यक्रम स्थल पर इकट्ठा हुई केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने भी अपने संबोधन में इस पल को ऐतिहासिक पल करार देते हुए समस्त क्षेत्रवासियों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि लालकुआं रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास के लिए लगभग 24 करोड़ की योजना से प्रधानमंत्री द्वारा किया जाने वाला शिलान्यास उनके संसदीय क्षेत्र के सभी लोगों के लिए बेहद गौरव की अनुभूति प्रदान कर रहा है।
इस दौरान कालाढूंगी, रामनगर, नैनीताल, भीमताल, लालकुआं के विधायक क्रमशः बंशीधर भगत, दीवान सिंह बिष्ट, सरिता आर्या, राम सिंह कैड़ा, डॉ मोहन बिष्ट के अलावा कार्यक्रम संयोजक प्रदीप बिष्ट पूर्व विधायक नवीन चंद्र दुमका, दुग्ध संघ अध्यक्ष मुकेश बोरा समेत तमाम गणमान्य लोग मौजूद रहे इस दौरान स्कूली बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर वाह वाही लूटी।

गाजियाबाद की भक्त महिला से रुड़की में गैंगरेप

गाजियाबाद की भक्त महिला से रुड़की में गैंगरेप 

सुनील श्रीवास्तव   
रुड़की/गाजियाबाद। गाजियाबाद से कांवड़ लेने आई एक महिला के साथ रुड़की में बंधक बनाकर गैंगरेप और लूटपाट करने का शर्मनाक मामला सामने आया है। पीड़ित महिला गैंगरेप के बाद बेहोशी की अवस्था में पुलिस को सड़क किनारे मिली। पुलिस ने उसे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया है। महिला फिलहाल कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं थी। महिला को तुरंत में भर्ती कराया गया। पीड़िता ने पुलिस को एक आरोपित का नाम बताया है, पुलिस उसकी तलाश कर रही है।
रुड़की पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार बीती रात्रि गश्त के दौरान पुलिस को डॉक्टर भटनागर गली के पास एक महिला बेहोशी की हालत में सड़क किनारे मिली। कुछ सामान्य होने के बाद खुद को गाजियाबाद निवासी बताने वाली महिला ने पुलिस को बताया कि वह कांवड़ मेले में हरिद्वार से जल लेकर गाजियाबाद जा रही थी। इस दौरान रुड़की के बोट क्लब के पास वह एक शिविर में रुकी थी और मोबाइल चार्ज कराने के लिए वह इधर-उधर घूम रही थी।
उसी समय उसे एक युवक मिला। वह युवक उसके मोबाइल की बैटरी चार्ज करने में मदद के बहाने उसे बाइक पर बैठाकर अपने कमरे पर ले गया और वहां बंधक बनाकर पहले खुद उसके साथ दुष्कर्म किया, फिर अपने दोस्तों से भी उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म कराया। आरोप लगाया कि उसका मोबाइल फोन और उसके पास मौजूद छह हजार रुपये भी आरोपितों ने छीन लिए।
एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह ने बताया कि महिला ने अपने बयान में गैंगरेप की बात कही है। अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। महिला के परिवारजनों से संपर्क करने का प्रयास किया जा रहा है। स्थिति सामान्य होने पर महिला से घटना के बारे में विस्तार से जानकारी ली जाएगी।
इधर घटना की जानकारी मिलने पर बजरंग दल के कार्यकर्ता अस्पताल पहुंचे और घटना की जानकारी ली। इसके बाद उन्होंने गंगनहर कोतवाली पहुंचकर आरोपितों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। गंगनहर कोतवाली के प्रभारी इंस्पेक्टर बीएल भारती ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

'इंडिया' की मुंबई मीटिंग की डेट का ऐलान किया

'इंडिया' की मुंबई मीटिंग की डेट का ऐलान किया   

अखिलेश पांडेय   
नई दिल्ली। विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस ’(INDIA) की मुंबई मीटिंग की डेट का ऐलान हो गया है। यह मीटिंग 31 अगस्त और एक सितंबर को मुंबई में होगी। इस बात की घोषणा शनिवार को शिवसेना (उद्धव गुट) के नेता संजय राऊत ने मुंबई में आयोजित प्रेस कॉफ्रेंस में दी।
संजय राऊत ने बताया कि पटना और बेंगलुरु के बाद INDIA की बैठक 31 अगस्त-1 सितंबर को मुंबई में होगी। बैठक की मेजबानी शिवसेना करेगी और इसकी मेजबानी उद्धव ठाकरे करेंगे। हमारे साथ कांग्रेस और एनसीपी भी होंगी।
आज की बैठक में शरद पवार, सुप्रिया सुले, पृथ्वीराज चव्हाण, नाना पटोले, अशोक चव्हाण और अन्य लोग थे। विपक्षी गठबंधन की इस मीटिंग का एजेंडा भी लगभग तय हो चुका है। इस मीटिंग में विपक्षी गठबंधन इंडिया के संयोजक के नाम फाइनल होगा।
लोकसभा चुनाव 2024 की तैयारी तेज हो चली है। मिशन 2024 के लिए कांग्रेस सहित 26 विपक्षी दलों ने INDIA नामक गठबंधन बनाया है। जिसकी तीसरी बैठक मुंबई में होगी। इस मीटिंग की तारीख का ऐलान हो गया है। 
 विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस ’(INDIA) की मुंबई मीटिंग की डेट का ऐलान हो गया है। यह मीटिंग 31 अगस्त और एक सितंबर को मुंबई में होगी। इस बात की घोषणा शनिवार को शिवसेना (उद्धव गुट) के नेता संजय राऊत ने मुंबई में आयोजित प्रेस कॉफ्रेंस में दी।
संजय राऊत ने बताया कि पटना और बेंगलुरु के बाद INDIA की बैठक 31 अगस्त-1 सितंबर को मुंबई में होगी। बैठक की मेजबानी शिवसेना करेगी और इसकी मेजबानी उद्धव ठाकरे करेंगे। हमारे साथ कांग्रेस और एनसीपी भी होंगी।
आज की बैठक में शरद पवार, सुप्रिया सुले, पृथ्वीराज चव्हाण, नाना पटोले, अशोक चव्हाण और अन्य लोग थे। विपक्षी गठबंधन की इस मीटिंग का एजेंडा भी लगभग तय हो चुका है। इस मीटिंग में विपक्षी गठबंधन इंडिया के संयोजक के नाम फाइनल होगा।
इंडिया की मुंबई मीटिंग भी बेंगुलरु की तरह ही होगी। पहले दिन सभी नेताओं के लिए रात्रिभोज रखा जाएगा। जबकि एक सितंबर को दिन में मुख्य मीटिंग होगी। इसके बाद इसी दिन शाम को विपक्षी नेता ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक यह बैठक मुंबई के पवई में स्थित किसी होटल में होगी। पहले मीटिंग की कई तारीखों को लेकर बात चली थी, लेकिन इस दौरान सभी नेता मौजूद नहीं थे। ऐसे में तारीख में बदलाव करना पड़ा।
मालूम हो कि विपक्षी गठबंधन की अभी तक दो बैठक हो चुकी है। पहली बैठक बिहार की राजधानी पटना में 23 जून को हुई थी। इस बैठक की मेजबानी बिहारी के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने की थी। इस मीटिंग में 17 विपक्षी दल शामिल हुए थे।
इसके बाद दूसरी मीटिंग बेंगलुरु में 17-18 जुलाई की हुई थी। इस बैठक की मेजबानी कांग्रेस ने की थी। इस मीटिंग में 26 विपक्षी दल शामिल हुए थे। मुंबई में होने वाली बैठक पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे की शिवसेना और पूर्व मुख्यमंत्री शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की मेजबानी में होगी। इस मीटिंग में गठबंधन के किसी संयोजक के नाम पर फैसला हो सकता है। साथ ही समन्वय समिति का भी गठन हो सकता है। साथ ही इसी बैठक में 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए सीट के तालमेल के संदर्भ में भी कोई रूपरेखा तैयार की जा सकती है।

दंगाइयों का सहारा बना होटल ज़मींदोज़ किया

दंगाइयों का सहारा बना होटल ज़मींदोज़ किया   

राजेश ओबरॉय   
चंडीगढ। विश्व हिंदू परिषद की ब्रज मंडल यात्रा के दौरान नूंह में हुई हिंसा में जिस होटल के ऊपर से दंगाइयों द्वारा यात्रा में शामिल लोगों पर पत्थर फेंके गए थे, आज दंगाइयों के लिए हिंसा का सबसे बड़ा सहारा बने इस होटल को बुलडोजर की मदद से जमींदोज कर दिया गया है। जिला प्रशासन का कहना है कि यह होटल कम रेस्ट्रा अवैध रूप से बनाया गया था और सोमवार को हुई हिंसा के दौरान दंगाइयों ने होटल की छत का इस्तेमाल करते हुए यही से पथराव किया था। रविवार को भी हरियाणा के नूंह में हुई हिंसा में शामिल दंगाइयों पर सरकार का बुलडोजर एक्शन जारी है। जिला प्रशासन द्वारा भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में अवैध होटल कमरे रैस्ट्रा को बुलडोजर की सहायता से जमींदोज कर दिया गया है। 
जिला प्रशासन का कहना है कि यह इमारत पूरी तरह से अनाधिकृत थी और सरकार तथा विभाग की ओर से पहले ही होटल के संचालकों को नोटिस भेज दिया गया था। उसी के तहत आज होटल के खिलाफ बुलडोजर कार्रवाई की गई है। जिला नगर योजनाकार विनेश कुमार ने बताया है कि सोमवार को नूंह में निकाली गई ब्रजमंडल यात्रा पर दंगाइयों ने इसी होटल की छत पर चढ़कर पथराव किया था। उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन की ओर से पिछले 3 दिनों से लगातार बुलडोजर की कार्यवाही की जा रही है। शनिवार को प्रशासन ने नल्हार मेडिकल कॉलेज के आसपास के तकरीबन 2.6 एकड़ जमीन समेत 12 अलग-अलग स्थानों पर बुलडोजर चलाते हुए अवैध निर्माण को गिराकर सरकारी भूमि को अपने कब्जे में ले लिया था।

लोकायुक्त जांच, पालिका में भ्रष्टाचार का खुलासा

लोकायुक्त जांच, पालिका में भ्रष्टाचार का खुलासा

दुष्यंत टीकम
अनुपपुर। मध्य प्रदेश के अनूपपुर जिले के बिजुरी नगर पालिका में आज लोकायुक्त और पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई की है। लोकायुक्त टीम और पुलिस ने बिजुरी नपा से गायब 47 लाख कीमत के जनरेटर को शैलेश शुक्ला के खेत के पास से जब्त कर लिया है।
जानकारी के मुताबिक बिजुरी नगर पालिका में सामग्री खरीदी में हुई अनियमितता की जांच की जा रही है। जिसमें बताया गया कि बिजुरी नगर पालिका ने 47 लाख रुपए का 900 किलोवाट का जनरेटर खरीदा। सप्लायर का कहना है कि 250 केवी का जनरेटर सप्लाई किया गया था, जबकि एमआर ट्रेडर्स मनेंद्रगढ़ का कहना है कि जनरेटर नगर पालिका को 47 लाख में बेचा गया था।
स्थानीय व्यवसायी शैलेश शुक्ला के मुताबिक जेनरेटर किराये पर दिया गया था। नगर पालिका ने किराया नहीं दिया। इसके बाद जेनरेटर वापस उनके घर लाकर रख दिया गया। जबकि नगर पालिका द्वारा 900 केवी जनरेटर की खरीद दिखाई गई थी। जांच में पाया गया कि मनेंद्रगढ़ एमआर ट्रेडर्स द्वारा नगर पालिका को 250 केवी जनरेटर की आपूर्ति की गई थी। नगर पालिका ने 47 लाख रुपए में जनरेटर खरीदना बताया है, जबकि लोकायुक्त जांच में जनरेटर 17 लाख 10 हजार रुपए में खरीदा जाना बताया गया है।
जनरेटर अनियमित पाए जाने पर जब्त कर बिजुरी थाने में रखवाया गया। नगर पालिका से जेनरेटर, पानी के टैंकर, टायरों की खरीद, प्रतीक्षालय सामग्री, स्टील कुर्सियां, कंप्यूटर संबंधी सामग्री, शवगृह बॉक्स आदि गायब हैं। सामग्री गायब होने से बिजुरी नपा को करीब 7 करोड़ 27 लाख 57,297 रुपए की आर्थिक क्षति हुई।

बढ़े हुए बिजली बिलों की वसूली स्थगित की, घोषणा

बढ़े हुए बिजली बिलों की वसूली स्थगित की, घोषणा

ओम प्रकाश चौबे
भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक और बड़ा ऐलान किया है। सीएम ने राज्य में बढ़े हुए बिजली बिलों की वसूली स्थगित करने की घोषणा की है। बिजली उपभोक्ता जो केवल एक किलोवाट तक बिजली की खपत करते हैं। बढ़े हुए बिजली बिल की वसूली स्थगित कर उन सभी उपभोक्ताओं की जांच कराई जाएगी। इसकी घोषणा छतरपुर में विकास पर्व कार्यक्रम के दौरान की गई।
सीएम शिवराज ने छतरपुर के नौगांव में एक जनसभा में कहा कि मुझे पता चला है कि आपने यहां बिजली के बिल बढ़ा दिए हैं। अपचिता मत करना मैं 1 किलोवाट तक बढ़े हुए बिल की वसूली को स्थगित कर दूंगा। सरकार आपके बिलों का भुगतान करेगी।
मुख्यमंत्री चौहान ने चुटकी लेते हुए कहा कि बिजली का बिल भगवान ब्रह्मा ने लिखा है और इसे कम नहीं किया जा सकता। गरीब उपभोक्ताओं के बिजली बिल की वसूली स्थगित करेंगे, सरकार भुगतान करेगी। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही किसान अनुदान पर ट्रांसफार्मर रखने की योजना शुरू कर रहे हैं, ताकि आपको बिजली की कोई दिक्कत न हो।

बरसात के कारण सोने-चांदी के भाव में गिरावट

बरसात के कारण सोने-चांदी के भाव में गिरावट   

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। अगर आपने सोना खरीदने में देरी की तो आपको पछताना पड़ेगा। जानकारों के मुताबिक आने वाले दिनों में सरसों तेल की कीमत में काफी बढ़ोतरी हो सकती है। सर्राफा बाजार में 24 कैरेट सोना आखिरी बार 59,290 रुपये, जबकि 22 कैरेट 54,310 रुपये प्रति दस ग्राम दर्ज किया गया। आप सोना खरीदने से पहले मेट्रो में खरीदारी करके पैसे बचा सकते हैं।
जानिए इन शहरों में सोने के ताजा भाव
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 24 कैरेट सोने की कीमतें 60,100 रुपये जबकि 22 कैरेट सोने की कीमतें 55,100 रुपये प्रति दस ग्राम दर्ज की गईं। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में 24 कैरेट सोने की कीमतें 59,950 रुपये जबकि 22 कैरेट सोने की कीमतें 54,950 रुपये प्रति दस ग्राम दर्ज की गईं।
राष्ट्रीय आर्थिक राजधानी मुंबई में 24 कैरेट सोने की कीमतें 59,950 रुपये, जबकि 22 कैरेट सोने की कीमतें 55,950 रुपये प्रति दस ग्राम दर्ज की गईं। तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में 24 कैरेट सोने की कीमतें 58,330 रुपये जबकि 22 कैरेट सोने की कीमतें 55,550 रुपये प्रति दस ग्राम दर्ज की गईं। ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में 24 कैरेट सोने की कीमत 59,950 रुपये, जबकि 22 कैरेट सोने की कीमत 54,950 रुपये प्रति दस ग्राम दर्ज की गई।
तुरंत जानें मिस्ड कॉल से सोने की कीमत
देश के तमाम शहरों में आप सोना खरीदने की प्लानिंग कर रहे हैं तो फिर बिल्कुल भी देर नहीं करें। आप 22 कैरेट और 18 कैरेट गोल्ड ज्वेलरी के खुदरा रेट जानने के लिए 8955664433 पर मिस्ड कॉल कर सकते हैं। मिस्ड कॉल के बाद आपको मैसेज के जरिए रेट की जानकारी प्रदान कर दी जाएगी।

कुएं की सफाई करने गए दो युवकों की मौत

कुएं की सफाई करने गए दो युवकों की मौत

रवि जाकड़    
हिसार। हरियाणा के हिसार जिले से हादसे की एक बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां गांव सिसाय बोलान के मंदिर में कुएं की सफाई करने उतरे 2 लोगों की मौत हो गई। जबकि तीसरे युवक को जिंदा बाहर निकालने में सफलता हाथ लगी। मृतकों के नाम सुनील और जयबीर है। 
एक- दूसरे को बचाने के चक्कर में गई जान
मिली जानकारी के अनुसार, गांव के शिव मंदिर में सालों पुराने कुएं में सफाई का काम चल रहा था। सबसे पहले जयवीर सफाई करने के लिए नीचे उतरा लेकिन थोड़ी देर बाद ही उसका दम घुटना शुरू हो गया। उसने हाथ पैर मारने शुरू किए। ऊपर खड़ा सुनील उसे बचाने के लिए नीचे उतरा, लेकिन उसका भी दम घुट गया। वहां खड़े लोगों ने शोर मचाया तो ग्रामीण इकट्‌ठे हो गए।
जिसके बाद एक अन्य युवक अनिल रस्सी की मदद से कुएं में नीचे उतरा। उसने सुनील को बाहर निकाला, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। प्रशासनिक टीम भी सूचना मिलते ही पहुंच गई थी। जिसके बाद जयवीर के शव को बाहर निकाला गया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए हांसी के सिविल अस्पताल भिजवा दिया है। वहीं एक साथ गांव में दो युवकों की मौत से सन्नाटा पसर गया है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल बना हुआ है।

डिंपल-वरुण की मुलाकात, शंकाओं का अंबार

डिंपल-वरुण की मुलाकात, शंकाओं का अंबार 

आत्माराम त्रिपाठी  
लखनऊ। अगले साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर भले ही अभी कुछ महीने बाकी हों, लेकिन सभी राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां जोरों पर शुरू कर दी है। इसी बीच छोटे दल और नेता अपनी सियासी नैय्या पार लगाने के लिए मुफीद और जिताऊ पार्टी के लिए हाथ पैर मार रहे हैं।
सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओपी राजभर, सपा विधायक रहे दारा सिंह चौहान का बीजेपी के साथ जाना इसी कड़ी का हिस्सा भर है। वहीं इस वक्त सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही एक तस्वीर ने सियासी पारा बढ़ा दिया है। इस तस्वीर में समाजवादी पार्टी से सांसद डिम्पल यादव बीजेपी के एक चर्चित सांसद से बात करते हुए नजर आ रही हैं।
दरअसल सपा मुखिया अखिलेश यादव की पत्नी व मैनपुरी से लोकसभा सांसद डिंपल यादव बीजेपी सांसद वरुण गांधी के साथ दिखाई दे रही है। वरुण गांधी भारतीय जनता पार्टी से पीलीभीत लोकसभा सीट से सांसद हैं। यह वायरल हो रही तस्वीर लोकसभा की लॉबी की बताई जा रही है। इस वक्त मानसून सत्र चल रहा है। इसमें हिस्सा लेने के लिए दोनों दलों के सांसद संसद पहुंचे थे। फिलहाल इस तस्वीर में डिंपल यादव और वरुण गांधी एक दूसरे से क्या बात कर रहे हैं ये तो सामने नहीं आया है, लेकिन फिर भी चुनावी मौसम में इस तरह से सपा सांसद और बीजेपी सांसद की एक साथ फोटो वायरल होने से सियासी पारा जरूर बढ़ गया है।
क्या वरुण गांधी बदलेंगे पाला?
वहीं इस तस्वीर के वायरल होने के बाद से राजनीतिक गलियारों में लोग तरह तरह की चर्चाएं कर रहे हैं। चर्चा ये भी हो रही है कि क्या वरुण गांधी आगामी लोकसभा चुनाव से पहले कोई बड़ा कदम उठाने वाले है। क्योंकि वरुण गांधी बीजेपी से सांसद रहते हुए भी सरकार के खिलाफ मुखर रहते हैं।
वरुण गांधी बेरोजगारी, किसान, अग्निवीर योजना जैसे तमाम मुद्दों के साथ ही अपनी ही सरकार की योजनाओं को लेकर समय समय पर सोशल मीडिया के जरिये भी अपनी बात रखते हुए नजर आते है। इसके कारण कहीं ना कहीं बीजेपी सरकार के लिए मुश्किलें खड़ी हो जाती है। यही वजह है कि वरुण हमेशा चर्चा में बने रहते हैं और लोकसभा चुनाव से पहले पाला बदलने की भी समय-समय पर चर्चाएं चलती रही है।
चर्चाओं का बाजार गर्म
इस दौरान एक दावा यह भी किया जा रहा है कि बीजेपी में रहते अपनी सरकार की योजनाओं की कड़ी आलोचना करने के चलते बीते विधानसभा चुनाव के दौरान चर्चा थी कि वरुण गांधी बीजेपी का साथ छोड़ सपा गठबंधन में शामिल हो सकते हैं। दावा है कि इसके लिए उनकी अखिलेश यादव से बातचीत भी हुई थी लेकिन उस वक्त ऐसा नहीं हुआ। इसी साल शुरुआती महीने में वरुण गांधी के समाजवादी पार्टी में शामिल होने की अटकलों को लेकर जब सपा नेता शिवपाल सिंह यादव से पूछा गया तो उन्होंने कहा था कि भ्रष्ट भाजपा सरकार को सत्ता से बाहर करने वाले सभी लोगों का स्वागत है।
अखिलेश की करते रहे हैं तारीफ
उधर वरुण और अखिलेश यादव एक दूसरे की तारीफ भी कर चुके हैं। सपा मुखिया अखि‍लेश यादव ने अपने एक बयान में बीजेपी सांसद वरुण गांधी को लेकर कहा था कि वरुण गांधी अच्छे नेता हैं, यदि सपा में आते हैं तो उनका स्वागत है।
हालांकि वरुण के सपा के साथ साथ कांग्रेस में भी जाने की अटकलें लग रही थी। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक सवाल के जवाब में बोले थे कि मैं वरुण गांधी को गले लगा सकता हूं, लेकिन उनकी विचारधारा को स्वीकार नहीं कर सकता। इन्हीं कयासबाजी के बीच अब जब एक बार फिर देश का चुनाव नजदीक आ रहा है तो फिर से वरुण गांधी को लेकर तमाम तरह की चर्चाएं होने लगी है। वहीं सपा सांसद व अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव के वरुण गांधी से बात करते हुए वायरल हुई तस्वीर ने इस बात को हवा दे दी है।
ऐसे ढलता चला गया बीजेपी में वरुण का कद
बताते चलें कि सुल्तानपुर से सांसद मेनका गांधी के बेटे वरुण गांधी ने अपने करियर की शुरुआत 2009 में पीलीभीत से भाजपा सांसद के तौर पर की थी। इसके बाद उनका कद भाजपा में बढ़ता गया और उन्हें राष्ट्रीय महासचिव बना दिया गया। उनकी पहचान फायर ब्रैंड नेता के तौर पर भी हुई। 2015 में अचानक उनका ग्राफ नीचे गिरने लगा। पहले उन्हें भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पश्चिम बंगाल के प्रभारी पद से हटाया गया। उस वक्त चर्चा हुई कि वरुण ने बतौर पश्चिम बंगाल प्रभारी वहां हुई मोदी की रैली को सफल नहीं बताया था। इसके बाद वरुण ने 2016 में प्रयागराज में हुई भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में अपने खूब पोस्टर-बैनर लगवा दिए तो इसे खुद को सीएम फेस की तरह पेश करना माना गया।
टिकट पर लटक रही तलवार!
भाजपा आलाकमान उनसे नाराज हुआ तो वरुण ने खुद भी दूरी बना ली। भाजपा के संगठनात्मक कार्यक्रमों से उनकी गैरहाजिरी चर्चा का विषय बनने लगी। इसके बाद 2017 के विधानसभा चुनाव में वह भाजपा के स्टार प्रचारकों की सूची से बाहर हो गए। तब से वह लगातार भाजपा सरकार पर हमलावर हैं। जब 2019 में मोदी सरकार 2.0 बनी तो वरुण की मां मेनका गांधी को कैबिनेट में भी नहीं लिया गया। 2021 में वरुण और सुलतानपुर से सांसद मेनका दोनों भाजपा की राष्ट्रीय कार्यसमिति से भी बाहर हो गए। कहा जा रहा है कि बीजेपी के कई बड़े नेता इस बार दोनों को लोकसभा का टिकट न देने के पक्ष में हैं।

जानवर को बचाने के चक्कर में 6 लोगों की मौत

जानवर को बचाने के चक्कर में 6 लोगों की मौत    

संदीप मिश्र 
श्रावस्ती। हाईवे पर फर्राटा भरते हुए दौड़ रही कार अचानक से सामने आए आवारा पशुओं को बचाने के चक्कर में अनियंत्रित होते हुए पेड़ से टकरा गई। फिर इसके बाद सड़क किनारे पानी भरे गड्ढे में जा गिरी। इस हादसे में 5 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक व्यक्ति ने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया। ड्राइवर को गंभीर हालत के चलते हायर सेंटर के लिए रेफर किया गया है। पड़ोसी देश नेपाल के नानपारा का रहने वाला ड्राइवर अजय कुमार मिश्र अपने देश के रहने वाले परिवार को कार में बैठाकर बलरामपुर स्थित उनकी रिश्तेदारी में गया था। किराए की गाड़ी में सवार होकर जब यह परिवार वापस नेपाल लौट रहा था तो इकौना थाना क्षेत्र के भगवानपुर गांव के पास पहुंचते ही अचानक से कार के सामने आवारा जानवर आ गए। 
रास्ते में अचानक आए जानवरों को बचाने के चक्कर में कार अनियंत्रित हो गई और सड़क किनारे खड़े पेड़ से जा टकराई। इसके बाद कार ने सड़क किनारे बने गड्ढे का रुख किया, जिसमें पानी भरा हुआ था। देखते ही देखते यह कार पानी के भीतर समा गई। इस हादसे को देखकर जब तक आसपास के लोग पुलिस को सूचना देकर मौके पर पहुंचते उस समय तक कार पूरी तरह से पानी में डूब चुकी थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुई कार के दरवाजे गैस कटर की सहायता से कटवाकर भीतर फंसे लोगों को बाहर निकाला। 
कार में सवार 7 लोगों में से 6 की मौत हो चुकी थी। मृतकों की शिनाख्त 32 वर्षीय वैभव, उसकी पत्नी दीपिका तथा दो बच्चों के रूप में हुई है। इनमें एक 3 साल की और दूसरी 1 साल की थी। इस हादसे में वैभव के चचेरे भाई 28 वर्षीय नीलांम तथा बहन 18 वर्षीय सुनीति की भी मौत हो गई है। पुलिस ने गंभीर रूप से घायल हुए ड्राइवर को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जहां से उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है।

बाइक सवार लोगों की ट्रक से टक्कर, 3 की मौत

बाइक सवार लोगों की ट्रक से टक्कर, 3 की मौत    

आदर्श श्रीवास्तव   
चंदौली। उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले में आज की शुरुआत भीषण सड़क दुर्घटना की खबर से साथ हुई। अलीनगर थाना क्षेत्र के आलमपुर के समीप ट्रक की चपेट में आने से बाइक सवार तीन लोगों की मौत हो गई, जिसमें दो महिलाएं शामिल हैं। घटना से परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र के काली महाल निवासी शंकर राम का 20 वर्षीय पुत्र अनिल कुमार अपनी मां सावित्री देवी 45 वर्ष और नानी रमावती देवी 70 वर्ष को लेकर बाइक से पुराने जीटी रोड से अलीनगर की ओर जा रहा था। आलमपुर पुलिस पिकेट के पास चंदौली की ओर से जा रहे ट्रक ने बाइक को रौंद दिया। अनिल कुमार व एक महिला की मौके पर ही मौत हो गई। गंभीर रूप से घायल महिला को जिला अस्पताल ले जाया जा रहा था लेकिन रास्ते में ही उसने भी दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। वहीं परिजनों को भी सूचना दी गई। आनन-फानन में परिजन भी रोते बिलखते पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे। घटना से परिवार सदमे में हैं।

इंटरनेट सेवा प्रतिबंध, 8 अगस्त तक बढ़ाया

इंटरनेट सेवा प्रतिबंध, 8 अगस्त तक बढ़ाया   

राजेश ओबरॉय    
नूंह। हरियाणा के नूंह में बीते सोमवार यानी 31 जुलाई को हुई हिंसक झड़प को लेकर मोबाइल इंटरनेट सेवा पर प्रतिबंध 8 अगस्त तक बढ़ा दिया गया है। ताजा जानकारी के मुताबिक, हरियाणा के नूंह जिले में वॉयस कॉल को छोड़कर मोबाइल नेटवर्क पर प्रदान की जाने वाली मोबाइल इंटरनेट सेवाओं, बल्कि SMS और सभी डोंगल सेवाओं आदि का निलंबन 8 अगस्त 2023 तक बढ़ा दिया गया है।
नूंह में एक होटल कम रेस्तरां को ध्वस्त कर दिया गया। जिला प्रशासन का कहना है कि यह अवैध रूप से बनाया गया था और हाल ही में हुई हिंसा के दौरान गुंडों ने यहां से पथराव किया था।नूंह में हिंसा की पूर्व सूचना को लेकर अफसरशाही आपस में बंट गई है। एक तरफ पुलिस की अलग-अलग टीमें मामले की जांच कर रही हैं तो वहीं सीआइडी विंग के एक इंस्पेक्टर ने समूचे पुलिसिया तंत्र पर सवाल खड़ा कर दिया है। सीआइडी के एक इंस्पेक्टर ने स्टिंग आपरेशन में दावा किया कि उसके पास इस हिंसा को लेकर समय रहते इनपुट आ गया था और उसने आला अधिकारियों को सूचित कर दिया था।
नूंह हिंसा के मामले में जांच एजेंसियों को अभी तक मिले इनपुट के अनुसार साइबर अपराधियों के खिलाफ जुटाए सबूतों को खत्म करने के लिए साइबर थाने पर हमला किया गया। अप्रैल में पुलिस के पांच हजार कर्मचारियों ने नूंह के 14 गांवों में एक साथ 320 साइबर अपराधियों के ठिकानों पर छापामारी कर करीब 100 करोड़ रुपये की साइबर ठगी का पर्दाफाश किया था।
गुरुग्राम के सेक्टर-57 स्थित मस्जिद में आग लगाने व नायब इमाम की हत्या मामले में चार युवकों की गिरफ्तारी के विरोध में गांव तिगरा में हिंदू समुदाय की महापंचायत आयोजित की जा रही है। इसे लेकर प्रशासन हाई अलर्ट है। पूरे इलाके में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। नूंह में विश्व हिंदू परिषद की जलाभिषेक यात्रा पर हमले के बाद नायब इमाम की हत्या कर दी गई थी। हिंदू समुदाय के लोगों का कहना है कि अराजक तत्वों ने हत्या की होगी। जिन्हें गिरफ्तार किया गया है, उनका मामले से कोई लेना-देना नहीं।

चंद्रयान-3: चंद्रमा की कक्षा में स्थापित किया

चंद्रयान-3: चंद्रमा की कक्षा में स्थापित किया    

इकबाल अंसारी   
बेंगलुरु। चंद्रयान-3 सफलतापूर्वक चंद्रमा की कक्षा में स्थापित किया गया। इसरो ने अपने एक ट्वीट के जरिए यह जानकारी दी है। एजेंसी ने अपने बयान में कहा, चंद्रयान-3 को सफलतापूर्वक चंद्रमा की कक्षा में स्थापित कर दिया गया है। मिशन ऑपरेशंस कॉम्प्लेक्स (एमओएक्स), आईस्ट्रैक (इसरो टेलीमेट्री, ट्रैकिंग और कमांड नेटवर्क), बेंगलुरु से पेरिल्यून पर रेट्रो-बर्निंग का आदेश दिया गया था। पेरिल्यून अंतरिक्ष यान का चंद्रमा से निकटतम बिंदु है। 
इसरो की ओर से कहा गया कि कक्षा में दूरी कम करने का ऑपरेशन रविवार को रात 11 बजे किया जाएगा। इसरो ने अपने केंद्रों को उपग्रह से प्राप्‍त एक संदेश भी साझा किया, जिसमें लिखा था,  यह चंद्रयान-3 है। मैं चंद्र गुरुत्वाकर्षण महसूस कर रहा हूं। 14 जुलाई को लॉन्च के बाद से तीन हफ्तों में पांच से अधिक परिवर्तन में, इसरो चंद्रयान -3 अंतरिक्ष यान को पृथ्वी से दूर और दूर की कक्षाओं में ले जा रहा है। 
इसरो ने शुक्रवार को बताया था कि चंद्रयान-3 ने 14 जुलाई को प्रक्षेपण के बाद से चंद्रमा की लगभग दो-तिहाई दूरी तय कर ली है। एक अगस्त को अंतरिक्ष यान को पृथ्वी की कक्षा से ऊपर उठाकर चंद्रमा की ओर बढ़ाने की प्रक्रिया को सफलतापूर्वक पूरा किया गया और यान को ‘ट्रांसलूनर कक्षा में डाल दिया गया। इससे पहले, उसने कहा था कि वह 23 अगस्त को चंद्रयान-3 की चंद्रमा की सतह पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग कराने की कोशिश करेगा।

दिल्ली मेट्रो की त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था लागू की

दिल्ली मेट्रो की त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था लागू की   

मोमिन अहमद   
नई दिल्ली। अगर आप दिल्ली मेट्रो से सफर करते हैं तो आपके काम की खबर है। अब मेट्रो से आने जाने में थोड़ा ज्यादा टाइम लग सकता है। जी हां, डीएमआरसी ने ट्वीट कर लोगों को यह जानकारी दी है। डीएमआरसी ने कहा, ‘सिक्योरिटी अपडेट- स्वतंत्रता दिवस से पहले बढ़े सुरक्षा उपायों के चलते अतिरिक्त समय चाहिए। ऐसे में यात्रियों का कुछ अतिरिक्त समय लगेगा। आपसे सहयोग की अपेक्षा है।’
दिल्ली पुलिस को पूरी तरह से अलर्ट मोड़ पर रहने को कहा गया है। दिल्ली पुलिस ने जगह-जगह संदिग्धों की जांच और उनसे पूछताछ कर सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता करने में लगी है। दिल्ली मेट्रो ने भी इसे देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया है। मेट्रो की सुरक्षा और जांच में लगी सीआईएसएफ और मेट्रो रेल पुलिस दोनों ही सतर्कता बरतते हुए मेट्रो परिसर में आने वाले यात्रियों की कड़ी जांच में लगे हुए हैं।
मेट्रो ने लोगों को अलर्ट कर दिया है जिससे स्टेशनों पर भीड़ बढ़ने या लंबी लाइन लगने से वे घबराएं नहीं। एक-एक व्यक्ति की सिर से पैर तक जांच करने के बाद ही उन्हें मेट्रो में बैठने दिया जा रहा है। 15 अगस्त इसी तरह के हालात देखने को मिलेंगे।
अब तक जहां मेट्रो स्टेशन में प्रवेश के लिए मेटल डिटेक्टर गेट से केवल गुजरना पड़ता था, वहीं अब डीएमआरसी ने मेट्रो परिसर के अंदर तीन स्तरीय जांच व्यवस्था शुरू कर दी है। जिससे मेट्रो में सवार होने के लिए यात्रियों को थोड़ा इंतजार करना पड़ रहा है और यही कारण है कि मेट्रो स्टेशन के बाहर यात्रियों की लंबी कतार नजर आ रही है। यह व्यवस्था अगले कुछ दिनों तक जारी रहेगी। इसके अलावा, पार्किंग, स्टोर और मेट्रो परिसर के बाहर भी सघन जांच की जा रही है।
10 मिनट पहले पहुंचें मेट्रो स्टेशन
सबसे ज्यादा दिक्कत उन मुख्य स्टेशन पर हो रही है जहां पर जंक्शन या इंटरचेंज प्वाइंट हैं और जहां पर सरकारी कर्मियों के साथ आम यात्रियों की बहुलता होती है। इनमें राजीव चौक, मंडी हाउस, चावडी बाजार, चांदनी चौक, नई दिल्ली, आईएसबीटी, पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय, उद्योग भवन, एम्स, करोल बाग, साउथ एक्सटेंशन, सरोजनी नगर और एयरपोर्ट जैसे प्रमुख स्टेशन शामिल हैं। मेट्रो स्टेशन पर जांच में लगने वाले समय और यात्रियों की लंबी लाईन को देखते हुए सीआईएसएफ की तरफ से कहा गया है कि सुरक्षा जांच में अधिक समय लग सकता है, इसलिए मेट्रो ने लोगों से अपील की है कि वे सामान्य दिनों से कुछ मिनट पहले घर से निकलें। ताकि उन्हें मेट्रो स्टेशनों पर परेशानियों का सामना न करना पड़े।
मेट्रो के यात्री ध्यान दें 5 बड़ी बातें
स्वतंत्रता दिवस समारोह के चलते मेट्रो में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। स्टेशनों पर अतिरिक्त जवानों की तैनाती की गई है। मेट्रो स्टेशनों पर अब तीन स्तरीय सुरक्षा जांच शुरू हो गई है। सुबह-शाम भीड़ ज्यादा होने पर सुरक्षा जांच में समय लग सकता है इसलिए पहले से प्लान करके घर से निकलें। अब मेटल डिटेक्टर के गेट पर ही जवान तैनात किए गए हैं। यानी गेट के पहले और बाद में भी जांच होगी। सुबह-शाम ऑफिस या बाहर निकलने वालों के लिए डीएमआरसी ने कहा है कि समय ज्यादा लेकर घर से निकलें।

ट्रेन हादसे में 50 घायल, 15 शव बरामद किए

ट्रेन हादसे में 50 घायल, 15 शव बरामद किए

अखिलेश पांडेय    
सहजादपुर। पाकिस्तान में रविवार को दर्दनाक रेल हादसा हुआ। रविवार को पाकिस्तान के शहजादपुर और नवाबशाह के बीच स्थित सहारा रेलवे स्टेशन के पास रावलपिंडी जाने वाली हजारा एक्सप्रेस की 10 बोगियां पलट जाने से कम से कम 50 लोग घायल हो गए। रेस्क्यू अभियान में 15 शवों को निकाला जा चुका है। मरने वालों की संख्या में अभी और इजाफा हो सकता है। रेस्क्यू अभियान जारी है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि ट्रेन में बड़ी संख्या में लोग सवार थे। जानकारी के अनुसार, ट्रेन कराची से पंजाब जा रही थी जब यह दुर्घटना का शिकार हो गई।
पाक अधिकारियों ने बताया कि हजारा एक्सप्रेस ट्रेन रविवार को शहजादपुर और नवाबशाह के बीच उस समय पटरी से उतर गई जब वह कराची से रावलपिंडी जा रही थी। संघार के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) के अनुसार, दुर्घटना में 15 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 50 लोग घायल हो गए हैं।
हादसे में घायल लोगों को नवाबशाह के पीपुल्स मेडिकल अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया। उधर, अधिकारियों का कहना है कि पटरी से उतरने के पीछे का कारण अभी तक ज्ञात नहीं है। रेलवे मंडल अधीक्षक महमूदुर रहमान ने कहा कि विवरण अभी भी प्राप्त किया जा रहा है।
पुलिस ने कहा कि बोगियों से यात्रियों को निकालने के लिए बचाव प्रयास फिलहाल किए जा रहे हैं। स्थानीय प्रशासन के अनुसार, दुर्घटना के बाद आसपास के अस्पतालों में आपातकाल लागू कर दिया गया है। डीएस ने पुष्टि की, ''शुरुआती जानकारी के मुताबिक, 7 से 8 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं और पलट गए हैं। लेकिन यह संख्या और बढ़ सकती है।''

बवाल के बाद छावनी में तब्दील हुआ जोगी नवादा

बवाल के बाद छावनी में तब्दील हुआ जोगी नवादा    

आदिल अंसारी   
बरेली। बरेली के जोगी नवादा में एक सप्ताह में दो बार हुए बवाल के बाद अब इलाके में हालात सामान्य नजर आ रहे हैं। इलाके में दुकानें खुली हैं और लोगों की आवाजाही भी हो रही है। वहीं सावन के पांचवे सोमवार को देखते हुए इलाके में पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है। चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनात कर दी गई है। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए जोगी नवादा में पुलिस और आरएएफ के जवानों की तैनाती की गई है। 
वहीं ड्रोन कैमरे से भी इलाके की निगरानी की जा रही है और विवादित क्षेत्र में बैरिकेडिंग कर दी गई है। बता दें, जोगी नवादा में दो बार बवाल के बाद पुलिस हंगामा करने वालों के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है। पुलिस अब तक कई मुकदमे दर्ज करके कई लोगों को जेल भेज चुकी है, जबकि अन्य उपद्रवियों की तलाश में वीडियो और फुटेज खंगाले जा रहे हैं।  
बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंची बरेली
बता दें सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर से पूरे क्षेत्र में दो कंपनी आरएएफ, चार कंपनी पीएसी तैनात की गई है। इसमें एक एएसपी, दो डिप्टी एसपी, पीएसी के एक उप सेना नायक व दो सहायक सेना नायक, 10 इंस्पेक्टर, 30 सब इंस्पेक्टर, पांच महिला सब इंस्पेक्टर, 50 हेड कांस्टेबल्स, 100 कांस्टेबल्स के साथ ही 30 महिला कांस्टेबल को तैनात किया गया है।

मणिपुर हिंसा: 15 घरों को फूंका, 5 लोगों की मौत

मणिपुर हिंसा: 15 घरों को फूंका, 5 लोगों की मौत    

सुनील श्रीवास्तव    
इंफाल। मणिपुर में अब जबकि हर 75 नागरिक पर एक सुरक्षाकर्मी तैनात है, हिंसा रुकने का नाम ही नहीं ले रही है। शनिवार को भड़की ताजा हिंसा में भीड़ ने 15 मकानों को फूंक दिया और 5 लोगों की हत्या कर दी। रविवार तड़के 45 वर्षीय एक व्यक्ति को गोली मार दी गई। व्यक्ति को घायल अवस्था में क्षेत्रीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया है। फिलहाल  उसकी हालत से खतरे से बाहर है।
आम हड़ताल के बीच हिंसा की घटनाएं
27 विधानसभा क्षेत्रों की कोऑर्डिनेशन कमेटी ने शनिवार को 24 घंटे की आम हड़ताल बुलाई थी। हिंसा की घटनाएं सामने आने के बाद इम्फाल घाटी में सामान्य जनजीवन एक बार फिर पटरी से उतर गया। शनिवार शाम को लैंगोल खेल गांव में हुई है। सूचना मिलने पर सुरक्षाबल के जवान पहुंचे और भीड़ पर काबू पाने के लिए मोर्चा संभाला। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए सुरक्षाकर्मियों ने कई राउंड आंसू गैस के गोले दागे। पूर्वी इम्फाल जिले के चेकोन इलाके में भी हिंसा की खबर मिली है। वहां शनिवार को एक बड़े व्यावसायिक प्रतिष्ठान में आग लगा दी गई। आसपास के तीन घरों में भी आग लग गई। दमकलकर्मियों ने आग पर काबू पाया।
बिष्णुपुर में मैतेई समुदाय के 3 लोगों की हत्या
शुक्रवार की रात बिष्णुपुर जिले में मैतेई समुदाय के तीन लोगों की हत्या कर दी गई थी। बाद में उपद्रवियों ने कुकी समुदाय के कई घरों में आग भी लगा दी थी। पुलिस सूत्रों का कहना है कि कुछ लोग बफर जोन को पार करके मैतेई इलाकों में आए और उन्होंने मैतेई इलाकों में फायरिंग की। बिष्णुपुर जिले के क्वाक्टा इलाके से दो किमी से आगे तक केंद्रीय बलों ने बफर जोन बनाया है।
हथियार लूटकर ले गई थी भीड़
गुरुवार शाम को भी बिष्णुपुर में कई जगहों पर फायरिंग हुई थी, जिसके बाद इलाके में हालात तनावपूर्ण बन गए थे। अनियंत्रित भीड़ की सुरक्षाकर्मियों के साथ झड़प भी हुईं। सुरक्षा बलों ने सात अवैध बंकरों को नष्ट कर दिया था। भीड़ ने बिष्णुपुर जिले में दूसरी आईआरबी यूनिट की चौकियों पर हमला किया था और गोला-बारूद समेत कई हथियार लूटकर ले गए थे। मणिपुर पुलिस ने बताया कि भीड़ ने मणिपुर राइफल्स की दूसरी और 7 टीयू बटालियन से हथियार और गोला-बारूद छीनने की कोशिश की, लेकिन सुरक्षा बलों ने उन्हें खदेड़ दिया।

पुलिस पर पथराव कर हिस्ट्रीशीटर को छुड़ाया

पुलिस पर पथराव कर हिस्ट्रीशीटर को छुड़ाया    

संदीप मिश्र     
लखनऊ। हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर रिश्तेदारों और करीबियों ने पथराव कर दिया। इससे लोगों पुलिस की कस्टडी से हिस्ट्रीशीटर को छुड़ा लिए। पथराव में दरोगा और सिपाही घायल हो गए। घटना के बाद मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया। वहीं मौके से पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।
इकबाल नगर निवासी हिस्ट्रीशीटर हुक्की पर दो अगस्त को मारपीट और बलवा करने की धारा में ठाकुरगंज थाने में मुकदमा दर्ज हुआ था। शुक्रवार देर रात उसके एक धार्मिक जलसे में शामिल होने की सूचना मिली थी। जिसके चलते केस के विवेचक दरोगा अशोक कुमार सिंह, सिपाही अनिल पाल के साथ उसको पकड़ने गए थे।
भीड़ का फायदा उठाकर हिस्ट्रीशीटर फरार
जहां हुक्की के मजलिस खत्म होने के बाद निकलते ही दोनों ने पकड़ लिया। हुक्की के शोर मचाते ही दर्जन भर लोग एकत्र हो गए हंगामा करने लगे। दरोगा अशोक और सिपाही अनिल कुछ समझते भीड़ ने पथराव कर दिया। पीठ और सिर पर पत्थर लगने से दोनों घायल हो गए। वहीं भीड़ का फायदा उठाकर हुक्की भाग निकला।
पांच लोगों से पुलिस कर रही पूछताछ
दूसरी तरफ दरोगा और सिपाही ने थाने पर घटना की सूचना दी। जिसके बाद इंस्पेक्टर विकास राय फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने दबिश देकर पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं घायल दरोगा और सिपाही का प्राथमिक उपचार कराया गया।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-295, (वर्ष-06)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. सोमवार, अगस्त 7, 2023

3. शक-1944, श्रावण, कृष्ण-पक्ष, तिथि-सप्तमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:19, सूर्यास्त: 07:07।

5. न्‍यूनतम तापमान- 24 डी.सै., अधिकतम- 37+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...