मंगलवार, 3 अगस्त 2021

चीन ने 1 घटना का अनदेखा वीडियो जारी किया

बीजिंग। पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में भारतीय जवानों पर घात लगाकर हमला करने वाले चीनी ड्रैगन ने अब इस घटना का एक अब तक का अनदेखा वीडियो जारी किया है। करीब 48 सेकंड के इस वीडिया में नजर आ रहा है कि गलवान नदी के जमा देने वाले पानी में भारतीय जवान मोर्चा संभाले हुए हैं और चीनी सेना के पत्‍थरबाजी का करारा जवाब दे रहे हैं। इस वीडियो में दोनों देशों के सैनिकों के बीच आमने-सामने की जंग भी दिख रही है।

चीन के टीवी चैनल पर दिखाए गए वीडियो में गलवान हिंसा में मारे गए पीएलए जवान के परिवार से बातचीत की गई है। इसी दौरान चीन ने गलवान हिंसा के अब तक अनदेखे रहे वीडियो फुटेज को भी जारी किया है। वीडियो में नजर आ रहा है कि भारत और चीन की सेना के बीच जोरदार झड़प और पत्‍थरबाजी हुई थी। वीडियो के एक हिस्‍से में दिखाई दे रहा है कि कुछ चीनी सैनिक गलवान नदी की तेज धारा में खुद को संभाल नहीं पाए और बह गए।

अम्मी और अब्बा से माफी मांगती नजर आ रहीं सारा

कविता गर्ग            
मुंबई। सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाली फिल्म अभिनेत्री सारा अली खान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सारा अली खान अपनी अम्मी और अब्बा से माफी मांगती नजर आ रही हैं। दरअसल, सारा ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है।जिसमें उनके  नाक पर पहले एक पट्टी बांधे नजर आ रहीं हैं और बाद में उसको हटाते हुए दिखाती हैं। उनकी नाक से खून बह रहा है। दरअसल सारा अली खान के नाक पर चोट लगी है। इस इंजरी का क्या कारण है।इसको लेकर किसी तरह का खुलासा नहीं हुआ है। इस वीडियो को शेयर करते हुए सारा ने लिखा-''सॉरी अम्मी अब्बा लग गई, नाक कट गई।'
सारा अली खान के इस पोस्ट पर फैंस जमकर प्रतिक्रिया दे रहे हैं। सारा अली खान फिल्म अभिनेत्री अमृता सिंह और अभिनेता सैफ अली खान की बेटी है। लेकिन इसके बावजूद सारा ने कभी भी अपने करियर को बनाने के लिए उनके नाम का सहारा नहीं लिया। फिल्म केदारनाथ से बॉलीवुड में डेब्यू करने वाली सारा ने अपने शानदार अभिनय से बहुत कम समय में दर्शकों के दिलों में खास जगह बनाई है। 
वर्कफ़्रंट की बात करें तो सारा अली खान जल्द ही आनंद एल रॉय की फिल्म 'अतरंगी रे' में अक्षय कुमार और धनुष के साथ लीड रोल में नजर आयेंगी।

बंगाल में दीवार गिरने व करंट लगने से 14 की मौंत

मिनाक्षी लोढी           

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में दीवार गिरने और करंट लगने से कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई। वहीं, दामोदर घाटी निगम बांधों से पानी छोड़े जाने के बाद पानी सड़कों और घरों में भर जाने से राज्य के छह जिलों के कम से कम 2.5 लाख लोग विस्थापित हो गए। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने विस्थापितों के लिए आश्रय स्थल बनाए हैं। बाढ़ प्रभावित इलाकों में पिछले एक सप्ताह से राहत अभियान चल रहा है। पूर्व वर्द्धमान,पश्चिम वर्द्धमान,पश्चिम मेदिनीपुर,हुगली, हावड़ा और दक्षिण 24 परगना जिले के अनेक स्थानों में कमर तक पानी भरा हुआ है। जिससे लोगों को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

अधिकारी के मुताबिक एक लाख से अधिक तिरपाल, एक हजार मीट्रिक टन चावल, पानी के हजारों पाउच और साफ कपड़े आश्रय गृह भेजे गए हैं। उन्होंने कहा,” हम बाढ़ के कारण जान गंवाने वाले सभी 14 लोगों के बारे में जानकारियां जुटा रहे हैं। हमें जिला प्रशासन से अंतिम रिपोर्ट मिलने का इंतजार है।” सेना और वायु सेना ने सोमवार को हुगली जिले में बचाव अभियान चलाया,जहां नदियां तटों को तोड़ते हुए बह रही हैं, जिससे गांवों में बाढ़ आ गई है।


मोर्चा: तीसरें चरण का आंदोलन और धरना किया

सत्येंद्र पंवार              
मेरठ। मेडिकल प्रवेश के लिए 12 सितंबर 2021 को आयोजित होने वाली नीट परीक्षा में 52% ओबीसी को सरकार द्वारा आरक्षण मिलना चाहिए।
राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा के बैनर तले जिला मुख्यालय पर कचहरी परिसर में राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा का धरना-प्रदर्शन का तीसरें चरण का आंदोलन और धरना किया गया। बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आर डी गादरे ने बताया कि 26 जनवरी 1950 को संविधान लागू होने के समय से ही लगातार ओबीसी के साथ छेड़छाड़ की जा रही है। पिछड़ा वर्ग समाज को आज तक 52% होते हुए कोई आरक्षण नहीं दिया गया। 
लेकिन क्रीमीलेयर लगाकर 1931 के बाद 27% प्रतिनिधित्व आरक्षण की घोषणा की गई। लेकिन आज तक वह भी नहीं मिला। इसी को लेकर सरकार ने अब पूर्णतया आरक्षण खत्म करने की घोषणा की। इसी को लेकर राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा का बहुजन मुक्ति पार्टी जाहिर समर्थन करती है। राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा के साथ मैदान। 12 सितंबर 2021 को आयोजित की जाने वाली नीट परीक्षा में ओबीसी को 27% आरक्षण प्रतिनिधित्व जरूर मिलना चाहिए अन्यथा बहुजन मुक्ति पार्टी जन आंदोलन सड़कों पर उतरकर करने के लिए बाध्य होगी। 
राष्ट्रीय किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष चौधरी इस्तियाक ने कहा कि आज सरकार किसानों को भी अनदेखा कर रही है और किसान समाज के इतने बड़े आंदोलन के चलते हुए आज तक कानों पर जूं नहीं चल रही है। यह सरकार निकम्मी है, इसको जरूर बदलनी है। पिछड़ा वर्ग समाज को 52% हिस्सेदारी मिलनी जरूरी है। तभी हमारा समाज का सुधार हो सकेगा। 
राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष सुनील कुमार सैनी ने कहा कि यदि अब तक सरकार पिछड़ा वर्ग समाज की परेशानियों को नहीं समझ सकती है तो हम लोग मजबूर होकर सड़कों पर जन आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे। राज्यों का पाठ्यक्रम और नीट के पाठ्यक्रम में जमीन आसमान का अंतर है आज तक जाति आधारित गिनती नहीं की गई है। बिना कोचिंग के नीट पास करना कठिन है। अच्छी कोचिंग संस्थान शहरों में है। जहां लाखों रुपए फीस वसूली जाती है। ग्रामीण इलाकों के छात्र कोचिंग क्लास नहीं कर पाते। नीट में अंग्रेजी माध्यम का पेपर सरल और आसान जबकि राज्य की भाषा में पेपर काफी कठिन होते हैं पिछड़ा वर्ग मोर्चा को 27% आरक्षण जरूर मिलना चाहिए। एडवोकेट अतर सिंह गुप्ता ने कहा कि यह सरकार पिछड़ा वर्ग मोर्चा अल्पसंख्यक अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति सभी मूल निवासियों के साथ बड़ा भेदभाव कर रही है और किसी को कोई अधिकार नहीं देना चाहती। मूल निवासियों को अधिकार वंचित कर देना चाहती है। डॉक्टर एसपी सिंह ने कहा कि बहुजन क्रांति मोर्चा राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा का जाहिर समर्थन करता है। यदि नीट में आरक्षण नहीं मिला तो हम लोग ओबीसी के लिए पूरे समाज इंडिया में जन आंदोलन करने के लिए तैयार हैं। 
ज्ञापन देने वालों में आर डी गादरे देव कुमार, भारतीय विद्यार्थी मोर्चा योगेश, डॉक्टर फारुख, डॉक्टर हितेश सहतवार, डॉक्टर एस पी सिंह, एडवोकेट खुर्रम रामशरण गौतम चौधरी स्थित राष्ट्रीय किसान मोर्चा मोहम्मद कामिल, एडवोकेट रियासत अली, धर्मवीर गुर्जर, एडवोकेट अतर सिंह, प्रवीण कुमार, जावेद मंसूरी, ओमवीर सिंह, राम सुरेश गौतम, संदीप कुमार जाटव, रामवीर सिंह गुर्जर चौधरी, संजय सिंह, संजीव कुमार चौधर, ऋषि पाल गुर्जर, धर्मवीर गुर्जर फखरे, आलम आदि मौजूद रहे।

परिक्षा को निष्पक्ष रूप से संपन्न कराने के निर्देश दिएं

कौशाम्बी। जिलाधिकारी ने बैठक में संबंधित अधिकारियों को परीक्षा को सकुशल पारदर्शी एवं निष्पक्ष रूप से संपन्न कराये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने प्रत्येक कक्ष में सीसीटीवी कैमरों को लगाये जाने कक्ष निरीक्षकों की ड्यूटी मजिस्ट्रेटों की ड्यूटी एवं आब्जर्बर की ड्यूटी की विस्तृत जानकारी प्राप्त करते हुए जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिये हैं, कि रिजर्व में भी अधिकारियों की ड्यूटी लगायी जाए। जिससे आवश्यकता पड़ने पर कार्य को सुगमता से सम्पादित किया जा सके। उन्होंने कहा कि माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का अक्षरशः पालन कराया जाए। किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाएं।
गणेश साहू 

यूके: सरकार ने कर्फ्यू को 10 अगस्त तक बढ़ाया

पंकज कपूर                 
देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आने के बावजूद कोई ढिलाई न देते हुए राज्य सरकार ने कोविड कर्फ्यू को 10 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया। यहां इस संबंध में सोमवार देर रात मुख्य सचिव डा. सुखबीर सिंह संधु द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि 10 अगस्त की सुबह छह बजे तक कोविड कर्फ्यू प्रभावी रहेगा। इस दौरान पिछली सभी रियायतों को जारी रखा गया है।
त्रसोमवार से प्रदेश भर में खुले सरकारी और निजी विद्यालयों को शिक्षा विभाग द्वारा जारी मानक प्रचलन विधि (एसओपी) का कडाई से पालन सुनिश्चित करने को कहा गया है। इसी प्रकार, राज्य में आईटीआई, पॉलीटेक्निक, महाविद्यालय, मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज तथा विश्वविद्यालयों को खोलने के लिए संबंधित विभाग द्वारा पृथक से कोविड प्रोटोकॉल के प्रावधानों के साथ एसओपी जारी की जाएगी।


निर्देश देने का अनुरोध करने वाली याचिका खारिज

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन का इस्तेमाल बंद करने और देश में आगामी चुनावों में फिर से मत पत्रों (बैलट पेपर) का प्रयोग करने का निर्वाचन आयोग को निर्देश देने का अनुरोध करने वाली याचिका को मंगलवार को खारिज कर दिया। साथ ही याचिकाकर्ता पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया।
मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ ने कहा कि वकील सी आर जया सुकिन की याचिका ”प्रचार हित याचिका” (पीआईएल) है जो अफवाहों और “निराधार आरोपों एवं अनुमानों” पर आधारित है। अदालत ने कहा, “याचिकाकर्ता (सुकिन) ने ईवीएम के कामकाज पर ठोस रूप से कुछ भी तर्क नहीं दिए। हमें याचिका पर सुनवाई करने का कोई कारण नहीं दिखता।
 यह कहा गया कि याचिका चार दस्तावेजों पर आधारित थी, जिनमें से एक कोई खबर थी और अन्य उच्चतम न्यायालय के समक्ष उसके प्रतिवेदन एवं याचिका से संबंधित थे, और सुकिन को खुद ईवीएम के बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं थी। अदालत ने कहा, “याचिकाकर्ता ने खबर पढ़ी और ईवीएम और उसके काम-काज को देखे बिना याचिका दाखिल कर दी,जिसे निर्वाचन आयोग के साथ-साथ संसद की भी स्वीकृति प्राप्त है।”
अदालत ने कहा कि सुकिन शोध करने और उचित तर्कों के साथ नई याचिका दाखिल कर सकते हैं। अदालत ने आदेश दिया, “याचिका 10,000 रुपये के अर्थदंड के साथ खारिज की जाती है जिसे चार हफ्ते के अंदर दिल्ली राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के पास जमा कराना होगा।” निर्वाचन आयोग की तरफ से पेश अधिवक्ता सिद्धांत कुमार ने कहा कि देश की कई अदालतें पहले ही इसपर गौर कर चुकी हैं और मुद्दे पर फैसला दे चुकी हैं।

कोरोना से संबंधित प्रोटोकॉल के कारण निर्णय किया

लंदन। इंग्लैंड ने छह मैचों की श्रृंखला के लिये बांग्लादेश का अपना दौरा मार्च 2023 तक स्थगित कर दिया है। यह दौरा इस साल सितंबर और अक्टूबर में होना था।
इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने मंगलवार को कहा कि उसने और बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने आपसी सहमति से इस दौरे का नया कार्यक्रम तय करने का फैसला किया। इस दौरे में तीन वनडे और इतने ही टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जाने हैं।
बयान में हालांकि दौरा स्थगित करने का कोई कारण नहीं बताया गया है लेकिन इंग्लैंड के मीडिया के अनुसार कोविड-19 से संबंधित पृथकवास प्रोटोकॉल के कारण यह निर्णय किया गया। इंग्लैंड के शीर्ष खिलाड़ी अभी भारत के खिलाफ बुधवार से ट्रेंटब्रिज में शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच की तैयारियों में लगे हैं।

विधायकों को भत्ते के रूप में मिलेंगे 90,000 रुपये

अकांशु उपाध्याय                    
नई दिल्ली। अरविंद केजरीवाल सरकार द्वारा केंद्र अनुशंसित बढ़ोतरी की सीमा को मंगलवार को मंजूरी देने के बाद दिल्ली के विधायकों को अब प्रति माह 90,000 रुपये वेतन और भत्ते के रूप में मिलेंगे। सरकार ने एक बयान में बताया कि इससे पहले प्रत्येक विधायक को 53,000 रुपये मिल रहे थे जिसमें 12,000 रुपये वेतन और शेष राशि भत्ते के रूप में शामिल थे।इस बढ़ोत्तरी के साथ प्रत्येक विधायक को 30,000 रुपये तनख्वाह और 60,000 रुपये भत्ते के तौर पर मिलेंगे। 
बयान में दावा किया गया कि वृद्धि के बावजूद दिल्ली के विधायक देश में सबसे कम वेतन पाने विधायक रहेंगे।इसमें बताया गया कि दिल्ली के विधायकों की तनख्वाह पिछले 10 वर्षों में नहीं बढ़ी थी और केजरीवाल सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय से उनका वेतन एवं भत्ते अन्य राज्यों के विधायकों के बराबर बढ़ाने का अनुरोध किया था।

'संशोधन' विधेयक 2021 ध्वनिमत से पारित किया

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। राज्यसभा ने विपक्षी दलों के जबरदस्त हंगामे के बीच आज दिवाला और शोधन अक्षमता संहिता (संशोधन) विधेयक 2021 ध्वनिमत से पारित कर दिया। जिसके बाद सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी गयी। विपक्ष दलों के हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही इससे पहले भी बारह और फिर दो बजे तक स्थगित की गयी थी।
दो बजे जैसे ही राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई उप सभापति भुवनेश्वर कलिता ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से विधेयक पेश करने को कहा। इससे पहले कांग्रेस के नेता शक्तिसिंह गोहिल ने विधेयक के विरोध में अपना संकल्प सदन में रखा। इस बीच तृणमूल कांग्रेस के सदस्य आसने के निकट आकर हंगामा करने लगे। कांग्रेस के सदस्यों ने भी उनका समर्थन किया।
विधेयक पर हंगामे के बीच ही बेहद संक्षिप्त चर्चा करायी गयी।
जिसके बाद सीतारमण ने अपने संक्षिप्त भाषण में सदस्यों द्वारा व्यक्त चिंताओं का समाधान करने तथा उनके सुझावों पर विचार करने का आश्वासन देते सदन से विधेयक पारित करने की अपील की। सदन ने हंगामे के बीच ही कांग्रेस के नेता शक्तिसिंह गोहिल और अन्य सदस्यों के विधेयक को नामंजूर करने से संबंधित संकल्प को अस्वीकार कर दिया। इसके बाद सदन ने विधेयक ध्वनिमत से पारित कर दिया जिससे इस पर संसद की मुहर लग गयी क्योंकि लोकसभा इसे पहले ही पारित कर चुकी है। यह विधेयक गत अप्रैल में इस संबंध में लाये गये अध्यादेश का स्थान लेगा।

विधेयक पारित होते ही उप सभापति भुवनेश्वर कलिता ने आसन के निकट नारेबाजी कर रहे सदस्यों से अपनी जगहों पर लौटने की अपील की और कहा कि अभी सदन में दो और महत्वपूर्ण विधेयक आने हैं जो आप लोगों के संसदीय क्षेत्रों में विकास कार्यों के लिए महत्वपूर्ण हैं। सदस्यों पर इसका असर न होते देख और अव्यवस्था बनने के कारण उप सभापति ने सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी।

बढ़ोतरी के विरोध में साइकिल से संसद पहुंचे नेता

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य विपक्षी नेता पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस और खाद्य वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में मंगलवार को साइकिल से संसद पहुंचे। कांस्टीट्यूशन क्लब में विपक्षी नेताओं के साथ नाश्ते पर चर्चा के बाद राहुल गांधी साइकिल चलाते हुए संसद पहुंचे।
उन्होंने साइकिल पर आगे की ओर एक तख्ती लगा रखी थी जिस पर रसोई गैस के सिलेंडर की तस्वीर थी और इसकी कीमत 834 रुपये लिखी हुई थी। सूत्रों का कहना है कि विपक्षी नेताओं की बैठक में राहुल गांधी ने महंगाई के विरोध में संसद तक साइकिल मार्च का सुझाव दिया था। उनके साथ लोकसभा में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल, अधीर रंजन चौधरी, गौरव गोगोई, सैयद नासिर हुसैन, राजद के मनोज झा, तृणमूल कांग्रेस के कल्याण बनर्जी और कुछ अन्य सांसद भी साइकिल चलाकर संसद पहुंचे।
कांग्रेस प्रवक्ता और राज्यसभा सदस्य सैयद नासिर हुसैन ने कहा, ”राहुल जी और दूसरे विपक्षी नेताओं ने आम जनता की आवाज उठाई है। लोग महंगाई से परेशान हैं, लेकिन सरकार किसी नहीं सुन रही है। हम संसद के भीतर और बाहर जनता की आवाज उठाते रहेंगे।

याचिका पर सुनवाई किए जाने का अनुरोध किया

अकांशु उपाध्याय                       
नई दिल्ली। राकेश अस्थाना को दिल्ली पुलिस प्रमुख नियुक्त करने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में अवमानना कार्रवाई याचिका दायर करने वाले एक वकील ने अपनी याचिका पर तत्काल सुनवाई किए जाने का अनुरोध किया है।
न्यायालय ने मंगलवार को वकील एमएल शर्मा से कहा कि अगर रजिस्ट्री ने क्रमांकित किया है, तो उनकी याचिका को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया जाएगा। शर्मा ने कहा, ”मैंने राकेश अस्थाना की नियुक्ति के खिलाफ अवमानना याचिका दायर की है।” प्रधान न्यायाधीश एन वी रमण की अध्यक्षता वाली पीठ ने वकील से कहा, ”यदि यह क्रमांकित है, तो हम इसकी सुनवाई के लिए तारीख तय करेंगे।”
याचिका के अनुसार, मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति के प्रमुख प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री ने संयुक्त रूप से फैसला किया तथा अस्थाना को दिल्ली पुलिस आयुक्त नियुक्त किया। याचिका में आरोप लगाया गया है कि यह प्रकाश सिंह मामले में शीर्ष अदालत के फैसले के खिलाफ है।
शर्मा ने अपनी याचिका में कहा कि शीर्ष अदालत के फैसले के अनुसार, ”डीजीपी के रूप में नियुक्ति से पहले व्यक्ति की कम से कम तीन महीने की सेवा शेष होनी चाहिए”। 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी अस्थाना को 27 जुलाई को दिल्ली पुलिस आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया था। उनकी नियुक्ति 31 जुलाई को उनकी सेवानिवृत्ति से कुछ दिन पहले हुई थी।

भविष्य: खिलाड़ियों ने उत्साह के साथ प्रदर्शन किया

अकांशु उपाध्याय                       
नई दिल्ली। कांग्रेस ने कहा है कि भारतीय हॉकी टीम ओलंपिक के सेमीफाइनल में हार भले ही गई है। लेकिन हमारे खिलाड़ियों ने जिस उत्साह के साथ प्रदर्शन किया है। उससे साफ है कि भारत में हाकी का भविष्य उज्ज्वल है।
कांग्रेस संचार विभाग के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आज यहां संवाददाताओं से कहा कि पहले हाफ में भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन जबरदस्त रहा है। हमारे खिलाड़ियों के इस खेल से स्पष्ट होता है कि भारत में हॉकी का भविष्य बहुत अच्छा है।
उन्होंने कहा कि भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन उत्साहजनक रहा है और उनका उम्दा खेल साबित करता है कि अगले ओलंपिक में स्वर्ण पदक हमारा है।

सक्रिय शीर्ष दस आतंकवादियों की सूची जारी की

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कश्मीर घाटी में सक्रिय शीर्ष दस आतंकवादियों की सूची जारी की है।
पुलिस महानिरीक्षक (आईजीपी) विजय कुमार ने ट्वीटर के जरिए आतंकवादियों के नाम की सूची जारी की।
कुमार ने ट्वीट किया, “शीर्ष 10 लक्ष्य: पुराने आतंकवादी- सलीम पर्रे, यूसुफ कांट्रो, अब्बास शेख, रेयाज शेटगुंड, फारूक नाली, जुबैर वानी और अशरफ मोलवी। नए आतंकवादी- साकिब मंजूर, उमर मुस्ताक खांडे और वकील शाह।”
इस वर्ष दक्षिण कश्मीर में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी), जैश-ए-मोहम्मद (जेएम) और हिजबुल मुजाहिदीन (एचएम) आतंकवादियों संगठनों के शीर्ष कमांडरों सहित 85 से अधिक आतंकवादियों को विभिन्न मुठभेड़ों में ढेर किया हैं। मुठभेड़ के दौरान करीब 12 आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने की अनुमति दी गई थी।

24 घंटे में 38 हजार से अधिक मरीज स्वस्थ हुए

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस (कोविड-19) के 38 हजार से अधिक मरीज स्वस्थ हुए है तथा इस दौरान 30,549 नये मामले सामने आए है।
इस बीच देश में सोमवार को 61 लाख 09 हजार 587 लोगों को कोरोना के टीके लगाये गये। देश में अब तक 47 करोड़ 85 लाख 44 हजार 114 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार 24 घंटों में कोरोना के 30,549 नये मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर तीन करोड़ 17 लाख 26 हजार 507 हो गया है। इस दौरान 38 हजार 887 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद इस महामारी को मात देने वालों की कुल संख्या बढ़कर 3,08,96,354 हो गयी है। सक्रिय मामले 8760 घटकर चार लाख 04 हजार 958 हो गये हैं। इसी अवधि में 422 मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर चार लाख 25 हजार 195 हो गया है।देश में सक्रिय मामलों की दर बढ़कर 1.31 फीसदी, रिकवरी दर घटकर 97.35 फीसदी और मृत्यु दर 1.34 फीसदी है।
महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों के दौरान सक्रिय मामले 2212 बढ़कर 82350 रह गये हैं। इसी दौरान राज्य में 4110 मरीजों के स्वस्थ हाेने के बाद कोरोनामुक्त होने वालों की तादाद बढ़कर 6094896 हो गयी है जबकि 157 मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 132948 हो गया है।

सागर बांध में सेना का हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ

राणा ओबराय                    
चंडीगढ़। पठानकोट के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र लांबा ने बताया कि रणजीत सागर बांध में सेना का एक हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। लांबा ने मीडिया को फोन पर कहा, ” हमें सेना के एक हेलीकॉप्टर के झील में दुर्घटनाग्रस्त होन की जानकारी मिली है। हमने अपने दलों को मौके पर भेज दिया है।” विस्तृत जानकारियों का इंतजार है। यह बांध पंजाब के पठानकोट से 30 किलोमीटर दूर स्थित है।
हेलीकॉप्टर का कुछ मलबा बांध में तैरता हुआ मिला है। हादसे के बाद सेना के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रंजीत सागर बांध में दुर्घटनाग्रस्त हुए आर्मी एविएशन एएलएच ध्रुव हेलीकॉप्टर के दोनों पायलट सुरक्षित हैं। वेपन सिस्टम इंटीग्रेटेड हेलीकॉप्टर ने पठानकोट (पंजाब) से उड़ान भरी थी और नियमित उड़ान के दौरान दुर्घटना का शिकार हुआ। वहीं हेलीकॉप्टर क्रैश की खबर के बाद आनन-फानन में राहत और बचाव दल मौके पर पहुंचा और ऑपरेशन शुरू कर दिया।

एनएलएफटी द्वारा हमले में 2 जवान शहीद हुएं

अगरतला। त्रिपुरा में मंगलवार तड़के उग्रवादी संगठन ‘नेशनल लिबरेशन फ्रंट ऑफ त्रिपुरा’ (एनएलएफटी) द्वारा घात लगाकर किए गए हमले में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दो जवान शहीद हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।
उन्होंने कहा कि राज्य के धलाई जिले में उग्रवादियों ने घात लगाकर हमला किया और शहीद हुए लोगों में बीएसएफ का एक उपनिरीक्षक भी शामिल है। घटना की विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा है। एनएलएफटी एक प्रतिबंधित संगठन है।

यूके: पत्रकार के खिलाफ पुलिस को तहरीर सौपीं

पंकज कपूर          
दिनेशपुर। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दिनेशपुर की बदहाली और मरीजों की परेशानी को लेकर पत्रकार ने खबर प्रकाशित की थी। इस बात से चिकित्सक ने व्यवस्था सुधारने की बजाय पत्रकार के खिलाफ पुलिस को तहरीर सौप दी। बीते दिनों इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार अजय कुमार ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दिनेशपुर की बदहाली को लेकर खबर बनाई थी आरोप है कि केंद्र के प्रभारी चिकित्सक ने खबर प्रकाशित करने से मना किया तथा कई रसूखदार लोगों से इस संबंध में दबाव बनाया। लेकिन पत्रकार ने खबर प्रकाशित कर दिया। पत्रकार का आरोप है कि खबर प्रकाशित होने के बाद नाराज डॉक्टर ने पत्रकार के खिलाफ वैक्सीनेशन में बाधा डालने का आरोप लगाते हुए इन्हें उठाने में तहरीर दी उधर श्रमजीवी पत्रकार यूनियन गूलरभोज दिनेशपुर वा यूनियन के जिला अध्यक्ष रुद्रपुर के सहित तमाम पत्रकारों ने प्रभारी चिकित्सक के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर जिलाधिकारी, सीएमओ और एसएसपी को ज्ञापन दिया है।
आपको बताते चलें कि दिनेशपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सक आए दिन चर्चा में रहते हैं आम लोगों का आरोप है कि डॉक्टर का व्यवहार उनके प्रति सही नही है। जिसके चलते अस्पताल की ओपीडी भी बहुत कम हो गई है वही प्रभारी चिकित्सक का मेडिकल बनाने के नाम पर रिश्वत लेने की वीडियो भी वायरल हुई थी जिसके बाद जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने इस मामले में सत्यता पाई। लेकिन गौरतलब है कि प्रभारी चिकित्सक की तैनाती अभी भी दिनेशपुर में बनी हुई है और आए दिन लोगों से दुर्व्यवहार के मामले चर्चा का विषय बना हुआ है। 

सचीव द्वारा 4 पुलिस अधीक्षकों के तबादले किएं

हरिओम उपाध्याय      
लखनऊ। अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी द्वारा चार अपर पुलिस अधीक्षकों के तबादले किए गए हैं।
शासन की ओर से अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी द्वारा जारी की गई तबादला सूची में जनपद मेरठ में अपर पुलिस अधीक्षक अपराध के पद पर तैनात राम अर्ज को जनपद बिजनौर का अपर पुलिस अधीक्षक बनाया गया है। बिजनौर के अपर पुलिस अधीक्षक अमित कुमार मेरठ के नये अपर पुलिस अधीक्षक अपराध बनाए गए हैं। सीबीसीआईडी मेरठ की अपर पुलिस अधीक्षक मोहिनी पाठक यूपी 112 मुख्यालय लखनऊ की अपर पुलिस अधीक्षक बनाई गई है। ईओडब्ल्यू मुख्यालय लखनऊ में अपर पुलिस अधीक्षक राम सुरेश को पीएसी सीतापुर में 27 वीं वाहिनी का उप सेनानायक बनाया गया है।

सरकार ने एक बार फिर ब्यूरोक्रेसी में बदलाव किया

नरेश राघानी                            
जयपुर। राजस्थान में जारी सियासी खींचतान के बीच गहलोत सरकार ने एक बार फिर ब्यूरोक्रेसी में बड़ा बदलाव किया है। गहलोत सरकार ने राजस्थान प्रशासनिक सेवाओं के 283 अधिकारियों के तबादलों के बाद सोमवार रात को फिर से 38 आरएएस अधिकारियों को बदल दिया है। कार्मिक विभाग ने देर रात तबादला सूची जारी की है। तबादला सूची में जनप्रतिनिधियों की मांग का भी खासा ध्यान रखा गया है। रिक्त पदों पर अधिकारी लगाए गए हैं।  इनमें बड़ी संख्या में उपखंड अधिकारी और अतिरिक्त जिला कलेक्टर बदले गए हैं।  राज्य सरकार इन दिनों जनप्रतिनिधियों की मांगों के अनुरूप ही अफसरों के तबादले कर रही है। 
इस तबादला सूची में आरएएस अधिकारी पुष्पा हरवानी को उपखंड अधिकारी दीगोद, हनुमान सिंह राठौड़ को गढ़ी, दौलतराम को जैसलमेर, प्यारेलाल को अलवर, अशोक कुमार गुप्ता को लूणकरणसर, दीपांशु सांगवान को सूरजगढ़ और पंकज बड़गूजर को उपखंड अधिकारी मुंडावर लगाया गया है। 
इसी तरह से सूरजभान विश्नोई को उपखंड अधिकारी सायला, लाखाराम को धोरीमन्ना और संदीप कुमार को आसींद लगाया गया है। योगेश कुमार को उपखंड अधिकारी मलारना डूंगर, छोटूलाल शर्मा को आनंदपुरी, भूपेंद्र कुमार यादव को दूदू, अभिलाषा को गढ़साना, विनीत कुमार सुखाड़िया को एसडीएम गलियाकोट और देवी सिंह को एसडीएम सीमलवाड़ा लगाया गया है। 
वरिष्ठ आरएएस अधिकारी रघुनाथ खटीक को भरतपुर अतिरिक्त जिला कलेक्टर पद पर तैनात किया गया है। गजेंद्र सिंह राठौड़ को अतिरिक्त संभागीय आयुक्त अजमेर, उम्मेद सिंह को अतिरिक्त निदेशक एवं संयुक्त सचिव सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, नरेंद्रपाल सिंह को उपायुक्त उपनिवेशन विभाग जैसलमेर, प्रह्लाद सहाय नागा को रजिस्टार कृषि विश्वविद्यालय जोबनेर जयपुर और गोविंद सिंह राणावत को रसद अधिकारी उदयपुर ग्रामीण लगाया गया है।
इसके अलावा सुभाषचंद्र शर्मा प्रथम को संपदा अधिकारी मुस्लिम युवक रोड जयपुर, उत्तर सिंह शेखावत को सीईओ जिला परिषद परियोजना अधिकारी सवाई माधोपुर, डॉ. राजेश गोयल को एडीएम भीलवाड़ा, जब्बर सिंह को उपायुक्त उपनिवेशन विभाग जैसलमेर, कुंतल विश्नोई को उप निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग जयपुर, राजेंद्र सिंह शेखावत प्रथम को रजिस्टार भूमि अर्जन पुनर्वासन प्राधिकरण राजस्व मंडल अजमेर और अनिल कुमार को सचिव संगीत नाटक अकादमी जोधपुर में पदस्थापित किया गया है। सुनील शर्मा प्रथम को एडीएम विराटनगर, सांवरमल रेगर को सहायक निदेशक लोक सेवक प्रशासनिक सुधार जैसलमेर में पोस्टिंग दी गई है।
दरअसल, राज्य सरकार ने जनप्रतिनिधियों की मांग के मद्देनजर ही अफसरों के तबादले किए हैं। हाल ही में राजस्थान के कांग्रेस प्रभारी अजय माकन के दौरे के दौरान जनप्रतिनिधियों ने अफसरों के कामकाज के रवैए पर सवाल उठाए थे। विधायकों का कहना है कि अफसर उनकी सुनते नहीं हैं। वे उनकी मांगों के प्रति गंभीर नहीं हैं। 

सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में 1 आतंकी मारा गया

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के बांदीपुरा जिले में मंगलवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने उत्तरी कश्मीर के बांदीपुरा के चांदजी इलाके में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था।
उन्होंने बताया कि आतंकवादियों के सुरक्षा बल पर गोलियां चलाने से अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया। सुरक्षा बल ने भी गोलीबारी का माकूल जवाब दिया। अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया है। आतंकवादी और उसके संगठन से जुड़ी जानकारी हासिल करने की कोशिश की जा रही है। अभियान अब भी जारी है।

विपक्षी दलों को आड़े हाथों लेकर आरोप लगाया

अकांशु उपाध्याय              

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में कागज फाड़ने और उसके टुकड़े कर हवा में लहराने तथा विधेयकों के पारित किए जाने के तौर तरीकों के लिए आपत्तिजनक टिप्पणियां करने के लिए मंगलवार को विपक्षी दलों को आड़े हाथों लिया और आरोप लगाया कि अपने आचरण से वह विधायिका और संविधान का अपमान कर रहे हैं।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि विपक्षी सदस्यों का आचरण ओर उनका व्यवहार जनता का भी अपमान है। अखिल भारतीय चिकित्सा शिक्षा कोटा योजना में अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 27 प्रतिशत और आर्थिक रूप से पिछड़े (ईडब्ल्यूएस) छात्रों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था करने के लिए बैठक में प्रधानमंत्री का अभिनंदन किया गया।

हादसा: डिवाइडर से टकराकर पलटीं अनियंत्रित बस

हरिओम उपाध्याय                         
बदायूं। बदायूं के थाना सहसवान क्षेत्र में दिल्ली से बदायूं आ रही रोडवेज बस मंगलवार सुबह अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराकर पलट गई। हादसे में चालक की मौके पर ही मौत हो गई जबकि कुछ बस यात्रियों को मामूली चोट आई हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बस चालक के शव को अपने कब्जे में ले लिया।
पुलिस सूत्रों के अनुसार हादसा मंगलवार सुबह करीब पांच बजे बदायूँ के सहसवान में बदायूँ राजमार्ग पर स्थित डीपी महाविद्यालय के पास हुआ। रोडवेज बस दिल्ली से बदायूँ जा रही थी जैसे ही बस बदायूँ मेरठ राजमार्ग पर स्थित डीपी महाविद्यालय के पास पहुँची रोडवेज बस डिवाइडर में घुस कर पलट गई।
हादसे में बस चालक पंकज पाठक (40) की मौत हो गयी। सूचना पर पहुँची पुलिस ने बस चालक के शव को अपने कब्जे में ले लिया, और घटना की सूचना बस चालक के परिजन को दी। बस में बैठी दो दर्जन से अधिक सवारियों को हल्की फुल्की चोटें आई हैं। उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद उनके गंतव्य को भेज दिया गया हैं।

वायरल: सामंथा बडे मुहं वाली के नाम से मशहूर हुईं

अकांशु उपाध्याय                     
नई दिल्ली। टिकटॉक पर लोग अपना मनोंरजन करने के लिये वीडियो अपलोड करते रहते हैं। जिससे कई आम आदमी अपनी काबिलियत के दम पर टिकटॉक स्टार भी बन गये हैं। ऐसे ही अमेरिका की एक स्टार सामंथा ने कई अनोखे वीडियो टिकटॉक पर अपलोड किये। वीडिया वायरल होने पर सामंथा बडे मुहं वाली के नाम से मशहूर हो गई। 
अब सामंथा को सबसे बड़े मुंह गैप वाली महिला के खिताब के चयनित किया गया है।
सामंथा ने अपना मनोरंजन करने के लिये टिकटॉक पर अपने वीडियो बनाने प्रारंभ किये थे। उनकी वीडियों को लाखों लोग देखने और पंसद करने लगे। वीडियो वायरल होने से सामंथा सबसे बड़ा मुंह खोलने वाली महिला के रूप में मशहूर हो गई। सामंथा के टिकटॉक पर 17 लाख से भी अधिक फॉलोअर्स हैं। उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर ऐसे कई वीडियो अपलोड किये हैं, जिसमें वह अपने बड़ें मुंह का आकार दिखाती हुई नजर आ रही हैं। वह अपने मुंह को अविश्वसनीय रूप से 2.56 इंच तक मुंह आपॅन कर सकती है। अब सामंथा को सबसे बड़े मुंह गैप वाली महिला के खिताब के चयनित किया गया है।

मंडलों में हुई नियुक्तियों को लेकर विवाद शुरू हुआ

दुष्यंत टीकम                           
रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से हाल ही में आयोग, निगम और मंडलों में हुई नियुक्तियों को लेकर विवाद शुरू हो गया है। इन नियुक्तियों को नियम विरुद्ध बताते हुए हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है। जनहित याचिका में कहा गया है कि इनके अध्यक्ष पदों पर मनमर्जी से सिर्फ राजनीतिक व्यक्तियों को बैठाया गया है। याचिका पर आने वाले दिनों में जल्द सुनवाई हो सकती है।
अभिषेक चौबे ने एडवोकेट योगेश्वर शर्मा के माध्यम से हाईकोर्ट में जनहित दायर की है। इसमें बताया गया है कि छत्तीसगढ़ शासन ने विभिन्न संवैधानिक आयोग जैसे बाल अधिकार संरक्षण आयोग, अनुसूचित जनजाति आयोग आदि में अध्यक्ष पद पर पिछले दिनों नियुक्ति की गई थी। नियुक्त लोगों के चयन में कोई पारदर्शिता नहीं बरती गई और न ही विज्ञापन के जरिए भर्ती हुई है।
याचिकाकर्ता ने नियमों का हवाला देते हुए कहा कि बाल अधिकारों के संरक्षण में कार्य किए हुए व्यक्ति और अनुसूचित जनजाति के मामलों की जानकारी रखने वाले व्यक्ति का चयन इन पदों पर करना था। चेयरमैन की नियुक्ति चयन समिति द्वारा होनी थी। उसके विपरीत छत्तीसगढ़ शासन ने ही सारी नियुक्तियों की जानकारी मात्र प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से दी। जबकि सुप्रीम कोर्ट ने ऐसे पदों पर नियुक्ति के लिए चयन प्रक्रिया को वेबसाइट पर सार्वजनिक करने को कहा था।

खेल: हॉकी के मुकाबले में भारत को 5-2 से हराया

दुष्यंत टीकम                          
रायपुर। भारतीय हॉकी टीम की जीत के लिए देशभर में हवन-पूजन हो रहा था। लेकिन निराशा हाथ लगी है। दरअसल एलेक्सजेंडर हेंडरिक्स 19वें, 49वें, 53वें की शानदार हैट्रिक के दम पर मौजूदा वर्ल्ड चैम्पियन बेल्जियम ने मंगलवार को टोक्यो ओलंपिक में खेले गए पुरुष हॉकी के सेमीफाइनल मुकाबले में भारत को 5-2 से हरा दिया। 
ओई हॉकी स्टेडियम नॉर्थ पिच पर खेले गए इस मैच में एक समय भारत 2-1 से आगे था, लेकिन इसके बाद वह बुरी तरह पिछड़ता चला गया और अंतत: 1980 के बाद पहला फाइनल खेलने से चूक गया।

एमपी में भारी वर्षा होने की संभावना व्यक्त की

मनोज सिंह ठाकुर                                 
भोपाल। मध्य प्रदेश में मूसलाधार बारिश से हाल बेहाल है। शिवपुरी और श्योपुर जिलों में सोमवार को दो लोगों की मौत हो गई है। वहीं शिवपुरी जिले के तीन गांवों के कई लोग बाढ़ के पानी में फंस गए हैं। जिन्हें बचाने के लिए बीते शाम को सेना के हेलिकॉप्टर लगाए गए। हालात यह हैं कि शिवपुरी शहर के कई कॉलोनियों में पानी भरा हुआ है। 
मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में मध्य प्रदेश के 25 जिलों में भारी से अत्यधिक भारी वर्षा होने की संभावना व्यक्त की है। जिसके चलते रेड अलर्ट और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। भारतीय मौसम विभाग की माने तो बिहार, उत्तरप्रदेश और उतराखण्ड समेत कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है।

सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा की: राहुल

अकांशु उपाध्याय                           
नई दिल्ली। पेगासस जासूसी मामले पर चर्चा की मांग कर रहे विपक्षी दलों के हंगामे के कारण संसद में बने गतिरोध के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने विपक्ष के नेताओं के साथ मिलकर सरकार को घेरने और दबाव बनाने की रणनीति पर मंगलवार को चर्चा की।
राहुल गांधी के न्योते पर कई प्रमुख विपक्षी दलों के नेता नाश्ते पर कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में मिले। बैठक में राहुल गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, तृणमूल कांग्रेस के नेता कल्याण बनर्जी, शिवसेना के नेता संजय राउत, राजद के मनोज झा और कई अन्य दलों के नेता शामिल हुए।
कांग्रेस नेता ने विपक्षी नेताओं के साथ नाश्ते पर ऐसे समय बैठक की है जब पेगासस और कुछ अन्य मुद्दों को लेकर पिछले कई दिनों से संसद के दोनों सदनों में गतिरोध बना हुआ है। 19 जुलाई से मॉनसून सत्र आरंभ हुआ था। लेकिन, अब तक दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित रही है।
विपक्षी दलों का कहना है कि पेगासस जासूसी मुद्दे पर पहले चर्चा कराने के लिए सरकार के तैयार होने के बाद ही संसद में गतिरोध खत्म होगा। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने विपक्ष की मांग को खारिज करते हुए शुक्रवार को लोकसभा में कहा था कि यह कोई मुद्दा ही नहीं है।

बच्चों को हर महीने 2500 रुपये की आर्थिक मदद

हरिओम उपाध्याय                          
लखनऊ। यूपी में अब सभी अनाथ बच्चों को हर महीने 2500 रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी। सोमवार को हुई कैबिनेट की बैठक में ये फैसला लिया गया। 
यूपी की योगी सरकार ने अब प्रदेश के सभी अनाथ बच्चों को 2500 रुपये की आर्थिक मदद देने का एलान किया है। यानी सरकार कोविड-19 के चलते अनाथ हुए बच्चों के बाद ऐसे बच्चों को भी हर महीने 2500 रुपये देगी जो किसी भी कारण से माता-पिता या अभिभावक खो चुके हैं। योगी मंत्रिमंडल ने सोमवार को सरकार के इस प्रस्ताव को अनुमोदित किया। 
राज्य सरकार ऐसे बच्चों को 'उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (सामान्य)' के अंतर्गत 2500 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।
इस योजना के अन्तर्गत पात्रता की श्रेणी में आने वाले परिवार के अधिकतम दो बच्चों को प्रतिमाह प्रति बालक/बालिका 2500 रुपये की सहायता धनराशि प्रदान की जायेगी। यह योजना 100 फीसदी राज्य सरकार द्वारा वित्त पोषित है। 
सोमवार को जारी सरकारी बयान के अनुसार मंत्रिपरिषद ने उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (सामान्य) के अन्तर्गत आर्थिक सहयोग प्रदान करने के प्रस्ताव को अनुमोदित किया। इसके तहत 18 वर्ष से कम आयु के जिन बच्चों ने कोविड-19 से भिन्न अन्य कारणों से अपने माता-पिता दोनों या दोनों में से किसी एक अथवा अभिभावक को खो दिया है, उन्हें आर्थिक सहायता दी जाएगी।
इसके अलावा जिन बच्चों की माता तलाकशुदा या परित्यक्ता है या फिर जिन बच्चों के माता-पिता या परिवार का मुख्यकर्ता जेल में है, या जो बच्चे बाल श्रम, बाल भिक्षावृत्ति/बाल वेश्यावृत्ति से मुक्त कराकर परिवार/पारिवारिक वातावरण में समायोजित कराये गये हों उन्हें तथा भिक्षावृत्ति/वेश्यावृत्ति में सम्मिलित परिवारों के बच्चों को भी आर्थिक सहायता दी जाएगी।
सरकार के अनुसार 18 से 23 वर्ष तक जिन नवयुवकों ने अपने माता-पिता या अभिभावक को कोविड या अन्य कारणों से खो दिया है और 12वीं कक्षा तक की शिक्षा पूरी करने के बाद स्नातक की डिग्री या डिप्लोमा प्राप्त करने के लिए शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं, उन्हें भी इसका लाभ मिलेगा। कक्षा 12 तक शिक्षा पूर्ण करने के उपरान्त नीट, जेईई, क्लैट जैसे राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय प्रतियोगी परीक्षा उत्तीर्ण करने पर भी सहायता दी जाएगी। इस योजना का लाभ एक परिवार के अधिकतम दो बच्चों को मिल सकेगा।

चीन ने पूरे शहर का टेस्ट कराने का फैसला किया

बीजिंग। दुनिया में कोरोना के सबसे पहले मामलों को रिपोर्ट करने वाले चीन के शहर वुहान में यह वायरस एक साल बाद फिर लौट आया है। इसके बाद चीन ने पूरे शहर का ही कोविड टेस्ट कराने का फैसला किया है। वुहान शहर की आबादी 1.1 करोड़ की है।
चीन सभी नागरिकों का न्यूक्लिक एसिड टेस्ट कराया जाएगा, ताकि कोरोना वायरस के फैलने की किसी भी आशंका को खत्म किया जा सके। वुहान के अधिकारियों का कहना है कि प्रवासी मजदूरों के बीच कोरोना वायरस के सात नए मामले सामने आए हैं। लेकिन इसने स्वास्थ्य एजेंसियों के कान खड़े कर दिए हैं, क्योंकि चीन ने आधी से ज्यादा आबादी का वैक्सीनेशन पूरा कर लेने का दावा किया है। चीन ने कोरोना के सबसे पहले केंद्र वुहान में वायरस पर काबू पाने के लिए बेहद सख्त लॉकडाउन लागू किया था, जिसके अच्छे नतीजे भी देखने को मिले थे। वुहान प्रशासन ने पूरे शहर को घरों में ही कैद कर दिया था। सभी घरेलू यातायात साधनों को बंद कर दिया गया था।
इसके बाद कई महीनों तक कोरोना वायरस की जांच और संक्रमण की रोकथाम का अभियान चलता रहा था। चीन में मंगलवार को कोरोना वायरस के 61 नए मामले मिले हैं। बेहद तेजी से फैलने वाला डेल्टा वैरिएंट भी कई शहरों तक पहुंच गया है। चीन के नानजिंग प्रांत में संक्रमण के लगातार मामले मिल रहे हैं, जो पूरे देश में फैलने की आशंका से हड़कंप मच गया है।
बीजिंग (Beijing) समेत कई अन्य बड़े शहरों में भी लाखों नागरिकों का कोरोना टेस्ट कराया जा रहा है। जहां कोरोना संक्रमण के मामले समूह में मिल रहे हैं, वहां इमारतों या परिसरों को सील भी किया जा रहा है। अनिवार्य क्वारंटाइन की प्रक्रिया भी तेज कर दी गई है। नानजिंग के निकट पूर्वी शहर यांगझोऊ (Yangzhou) में भी बड़े पैमाने पर कोरोना जांच के अभियान के बाद 40 नए केस मिले हैं। इसके बाद लोगों को घरों में ही रहने को कहा गया है।
यांगझोऊ में 1.3 करोड़ की शहरी आबादी है। यहां हर घर से सिर्फ एक ही व्यक्ति को एक दिन में घर से बाहर निकलने और सामान खरीदने की आजादी दी गई है। चीन के हुनान प्रांत के शहर झांगजिएजि और झुझोऊ शहर में भी स्थानीय प्रशासन ने ऐसे आदेश जारी किए हैं। इन दोनों शहरों में आबादी 20 लाख से ऊपर है।

शुरुआती कारोबार में 245 अंक चढ़ा 'सेंसेक्स'

कविता गर्ग                    
मुंबई। एचडीएफसी, टीसीएस और इंफोसिस जैसे बड़े शेयरों में बढ़त और सकारात्मक व्यापक आर्थिक संकेतकों के चलते प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स मंगलवार को शुरुआती कारोबार में करीब 245 अंक चढ़ा गया। इस दौरान 30 शेयरों वाला सूचकांक 244.77 अंक या 0.46 प्रतिशत बढ़कर 53,195.40 पर कारोबार कर रहा था। जबकि व्यापक एनएसई निफ्टी 56.85 अंक या 0.36 प्रतिशत बढ़कर 15,942 पर पहुंच गया। सेंसेक्स में सबसे अधिक तीन प्रतिशत की बढ़त एशियन पेंट्स में हुई।
इसके अलावा टाइटन, पावरग्रिड, एचडीएफसी, एमएंडएम और टेक महिंद्रा भी बढ़त के साथ कारोबार कर रहे थे। दूसरी ओर एचसीएल टेक, बजाज ऑटो, टाटा स्टील, आईसीआईसीआई बैंक और एनटीपीसी में गिरावट हुई। पिछले सत्र में सेंसेक्स 363.79 अंक या 0.69 प्रतिशत की तेजी के साथ 52,950.63 पर बंद हुआ था, जबकि निफ्टी 122.10 अंक या 0.77 प्रतिशत बढ़कर 15,885.15 पर बंद हुआ। इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.07 प्रतिशत बढ़कर 72.94 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

राष्ट्रपति के कुलमैन में रैली को संबोधित करेंगे ट्रंप

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प आगामी 21 अगस्त को अलबामा प्रांत में रैली को संबोधित करेंगे। डोनाल्ड ट्रम्प के कार्यालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक पूर्व राष्ट्रपति अलबामा प्रांत के कुलमैन में एक विशाल रैली को संबोधित करेंगे। रैली की मेजबानी अलबामा रिपब्लिकन पार्टी करेगी।
डोनाल्ड ट्रम्प अपने सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों में राष्ट्रपति जो बिडेन पर वोट चोरी का आरोप लगाते हुए चुनाव सुधार का आह्वान करते रहे हैं। उन्होंने कल सोमवार को एक बयान में कहा था कि वह 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में हुए धोखाधड़ी का नए सबूतों के साथ शीघ्र ही खुलासा करेंगे। उन्होंने जोर दिया है कि इस बात के सबूत हैं कि चुनाव में ऐसी धोखाधड़ी और अनियमितताओं का पता चला है , जो देश में कभी नहीं हुए। इनमें न्यादातर मामले पहले से ही सार्वजनिक हैं और निकट भविष्य में बहुत कुछ सामने आयेगा।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-353 (साल-02)
2. बुधवार, जुलाई 4, 2021
3. शक-1984,सावन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-दसमीं, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -20 डी.सै., अधिकतम-38+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...