शुक्रवार, 4 नवंबर 2022

भगवान शालिग्राम और तुलसी का विवाह संपन्न: यूपी 

भगवान शालिग्राम और तुलसी का विवाह संपन्न: यूपी 


भगवान श्री शालिग्राम वाह तुलसी विवाह के शुभ मुहूर्त पर शोभायात्रा निकाली गई

बृजेश केसरवानी 

प्रयागराज। प्रयागराज में शाहगंज स्थित भगवान शालिग्राम के मंदिर से भव्य शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें ध्वजा पताका बैंड बाजे इत्यादि के साथ भगवान शालिग्राम और तुलसी का विवाह संपन्न हुआ। हजारों की संख्या में भक्तों नाचते गाते शोभायात्रा में सम्मिलित हुए शोभा यात्रा का आकर्षक काली सॉन्ग भी बना भक्तों का मानना है कि यह शोभायात्रा विगत 94 साल से हम लोग दर्शन करके अपने परिवार की सुख शांति के कामना करता हूं तथा भगवान शालिग्राम और तुलसी का आशीर्वाद हम भक्तों को प्राप्त होता है।

इस शोभायात्रा में पंडित पीतांबर त्रिपाठी, गौरी शंकर, भरत कनौजिया, डाबर भाई, मोहम्मद आमिर, सोनू रावत, मोहम्मद याकूब शामिल थे। कोतवाली इंचार्ज अमर सिंह, रघुवंशी घंटाघर, चौकी इंचार्ज सुमित श्रीवास्तव, बादशाही मंडी इंचार्ज ज्ञानेश्वर कुमार, संतोष कुमार सिंह ने शोभा यात्रा को सकुशल संपन्न कराने में अपना योगदान दिया।

डीएम ने समेकित खेती पर फोकस करने के निर्देश दिए

डीएम ने समेकित खेती पर फोकस करने के निर्देश दिए

पंकज कपूर 

बागेश्वर। जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने रेखीय विभागो की समीक्षा बैठक लेते हुए समेकित खेती पर फोकस करने के निर्देश दिए। कहा, कि रेखीय विभागों द्वारा जहां समेकित खेती की जा रही है। उसका निरीक्षण कर कार्ययोजना प्रस्तुत की जाए। उन्होंने कहा जन समस्याओं के लिए ग्राम पंचायतों में रात्रि चौपाल लगाई जाएगी। जिलाधिकारी द्वारा गुरूवार को कलेक्टे्रट में कृषि, उद्यान, पशुपालन, मत्स्य, ग्राम्य विकास विभाग, रेशम, भेषज आदि विभागों के कार्यो को लेकर समीक्षा की गई, उन्होंने विभागों द्वारा चलाई जा रही योजनाओं पर विस्तार से जानकारियां ली।

जिलाधिकारी ने कहा कि किसी क्षेत्र विशेष में होने वाली फसल पर काम किया जाए, जिससे उस विशेष क्षेत्र को उस फसल के लिए उपयोगी बनाया जा सके तथा बडे पैमाने पर उस फसल का उत्पादन के साथ ही एलाइड सेक्टर में कार्य करें । उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा के अनुरूप किसानों की आय को किस प्रकार बढाया जा सकता है इस दिशा में विभागों को एक साथ कार्य करने की जरूरत है। उन्होंने मस्त्य विभाग को ट्राउड मछली उत्पादन बढाने के साथ ही मार्केट तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने उद्यान विभाग को कीवी व सेब के उत्पादन को बढावा देते हुए इसे कलस्टर के रूप में विकसित करने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने कृषि व उद्यान अधिकारी को टॉप 100 किसानों व मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को टॉप 100 पशुपालको की सूची उपलब्ध कराने के निर्देश दिए व पशुओं की दवा व उन्हें टीकाकरण समय से कराने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को गोट वैली विकसित करने के साथ ही मार्केटिंग पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आजीविका संवर्द्धन कार्यो को प्राथमिकता से किया जाए। जिलाधिकारी ने डेयरी विभाग को मिल्क प्रोडेक्शन बढाने के निर्देश देते हुए लोगो को इस क्षेत्र में कार्य करने हेतु प्रेरित करने को कहा।

जिलाधिकारी ने कहा कि मनेरगा के कार्यो को समय से पूर्ण किया जाए व कार्य पूर्ण होते ही सोशल आडिट भी किया जाए तथा कार्यो की जीओ टैगिंग भी साथ-साथ करने के निर्देश दिए। उन्होंने गरूड़ गंगा पुनर्जनन के तहत रिचार्ज जोन में किए जा रहे कार्यो की नियमित मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए, ताकि अच्छा परिणाम सामने आ सके। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी संजय सिंह, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 आर चन्द्रा, जिला उद्यान अधिकारी आरके सिंह, मत्स्य अधिकारी मनोज मियान, समाज कल्याण अधिकारी हेम तिवारी सहित भेषज, रेशम व दुग्ध विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

गांगुली को अध्यक्ष पद से हटाने के खिलाफ याचिका 

गांगुली को अध्यक्ष पद से हटाने के खिलाफ याचिका 

मोमीन मलिक 
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष पद से हटाने के खिलाफ कलकत्ता हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका (पीआईएल) दायर की गई है। अधिवक्ता रामप्रसाद सरकार द्वारा दायर जनहित याचिका पर मंगलवार को सुनवाई होने की संभावना है। सरकार का तर्क है कि गांगुली को बीसीसीआई प्रमुख के पद से हटा दिया गया था, जबकि सुप्रीम कोर्ट का स्पष्ट आदेश था कि वह उस कुर्सी पर और तीन साल तक बने रह सकते हैं। उन्होंने कहा, "सुप्रीम कोर्ट के आदेश ने जय शाह के लिए 2025 तक तीन साल और बीसीसीआई सचिव के रूप में बने रहने का रास्ता साफ कर दिया। हालांकि, शाह की अपनी कुर्सी पर बने रहने के बावजूद, गांगुली को हटा दिया गया।" उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बंगाल टीम के पूर्व खिलाड़ी होने के नाते गांगुली बंगाल का गौरव हैं। उन्होंने कहा, "यह राज्य का अपमान है।

उनको हटाए जाने के पीछे निश्चित रूप से कुछ राजनीतिक साजिश है।" गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद पश्चिम बंगाल में जबरदस्त राजनीतिक बवाल हुआ था। मुख्यमंत्री ममता के अलावा कई नेताओं ने उनके पक्ष में बयान दिया था और उनके निष्कासन को राजनीतिक साजिश और उनके प्रति अन्याय बताया। सीएम ममता ने कहा था कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गांगुली को भारत का प्रतिनिधि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) का अध्यक्ष बनाने के लिए कहेंगी। हालांकि, ऐसा भी नहीं हुआ। बीसीसीआई अध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद गांगुली ने घोषणा की थी कि वह बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष बनने के लिए चुनाव लड़ेंगे। हालांकि, अंतिम समय में, वह पीछे हट गए। इसके बजाय उस पद के लिए अपने बड़े भाई, स्नेहासिस गांगुली का समर्थन किया, जो बंगाल टीम के पूर्व खिलाड़ी भी थे।

देवरिया: पराली प्रबंधन संबंधी बैठक आयोजित, निर्देश 

देवरिया: पराली प्रबंधन संबंधी बैठक आयोजित, निर्देश 

हरिशंकर त्रिपाठी 

देवरिया। जिलाधिकारी द्वारा दिए गए निर्देश के क्रम में जनपद के समस्त विकास खंडों एवं तहसील में पराली प्रबंधन संबंधी बैठक आयोजित की गई। बैठक में उपजिलाधिकारी, तहसीलदार, खंड विकास अधिकारी, थानाध्यक्ष, सहायक विकास अधिकारी कृषि, लेखपाल, ग्राम सचिव, प्रधान द्वारा प्रतिभाग किया गया। निर्देश दिया गया कि सभी ग्राम सचिव एवं ग्राम प्रधान अपने अपने गांव में डुग्गी पिटवाकर पराली जलाने से होने वाले नुकसान के बारे में किसानों को जागरूक किया जाय तथा पराली जलाने से रोका जाएं।

यदि किसी गांव में कोई किसान पराली जलाते हुए पाया जाए तो 2 एकड़ क्षेत्र से कम पर ढाई हजार रुपया प्रतिघटना , दो से 5 एकड़ क्षेत्रफल ₹5000 प्रति घटना तथा 5 एकड़ से अधिक क्षेत्रफल पर ₹15000 प्रति घटना की दर से जुर्माना तहसील के माध्यम से वसूल कराया जाए। यदि किसी क्षेत्र में बिना एस.एम.एस. लगे हार्वेस्टर फसल की कटाई कर रहा है, वह तो उसे संबंधित थाना के माध्यम से तत्काल सीज कराया जाए एवं सीज हार्वेस्टर को तब तक न छोड़ा जाए, जब तक की हार्वेस्टर मालिक अपने स्वयं के खर्च पर हार्वेस्टर में एस.एम.एस. लगवा नहीं लेता है।

यदि कोई किसान बार-बार पहले जलाता है तो उसे कृषि विभाग द्वारा विभिन्न योजनाओं में दिए जाने वाले अनुदान से वंचित रखा जाएगा
जनपद में अब तक दो हार्वेस्टर बिना sms लगे धान की फसल कटाई करते पाए गए, जिनकी सीज की कार्रवाई की गई है तथा पराली जलाते पाए जाने पर एक किसान के विरुद्ध 2500 रुपया जुर्माना लगाया गया है।

शिव महापुराण कथा के आयोजन को लेकर तैयारियां 

शिव महापुराण कथा के आयोजन को लेकर तैयारियां 


पंडित प्रदीप मिश्रा द्वारा होने वाले शिव महापुराण कथा स्थल का पुलिस प्रशासन ने किया निरीक्षण, आयोजन समिति के साथ की विस्तार से चर्चा

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अंतरराष्ट्रीय कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा सीहोर वाले द्वारा 9 नवंबर से 13 नवंबर तक होने वाले शिव महापुराण कथा के आयोजन को लेकर तैयारियां जोरो पर है। शुक्रवार को कथा स्थल गुढ़ियारी के दही हांडी मैदान में पुलिस के अधिकारी और थाना इंचार्ज ने आयोजन समिति के साथ यातायात और सुरक्षा व्यवस्था पर व्यापक चर्चा की और स्थल का निरीक्षण किया। इसके साथ पुलिस प्रशासन ने आयोजन स्थल में पर्याप्त पुलिस बल की व्यवस्था प्रदान करने और समिति के वालेंटियर के साथ सहयोग करने का आश्वासन दिया। 

आपको बता दें के पंडित प्रदीप मिश्रा द्वारा होने वाले शिव महापुराण कथा की तैयारियां जोरो पर है। कथा को अब 5 दिन शेष है और और आयोजन को लेकर शहरवासियों में काफी उत्साह है। आयोजन को सफल बनाने के लिए आयोजक बसंत अग्रवाल, समिति के सदस्य , राजनेता, जनप्रतिनिधि, पुलिस प्रशासन, क्षेत्रवासी और महिलाएं अपना बहुमूल्य योगदान दे रहे हैं। 

शुक्रवार की बैठक में आयोजन समिति के प्रमुख बसंत अग्रवाल, आशु सिंघानिया, दिनानाथ शर्मा, महेश शर्मा, प्रकाश माहेश्वरी, शिव ठाकुर, अन्नू साहू , सुंदर जोगी, विजय जडेजा, दाऊ लाल साहू श्रवण शर्मा, मोहन उपारकर, हेमेंद्र साहू,आजाद गुर्जर, प्रकाश , समिति के सदस्य, युवाओं और क्षेत्रवासी उपस्थित थे।

लोनी: कल जनसभा को संबोधित करेंगे जयंत 

लोनी: कल जनसभा को संबोधित करेंगे जयंत 

इकबाल अंसारी/अश्वनी उपाध्याय 

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आते जा रहे हैं, वैसे वैसे चुनाव समर में ताल ठोकने की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों का रक्तचाप बढ़ता जा रहा है। प्रदेश में सक्रिय राजनीतिक दलों में टिकट बंटवारे को लेकर मंथन जारी है। जिसके कारण पार्टी आधारित चुनाव लड़ने वालों को दिन-रात का तनाव खाए जा रहा है। टिकट होगा या नहीं, इसी उठल पुथल ने रातों की नींद और दिन का चैन छीन लिया है। 

इसी राजनीतिक गहमागहमी में नगर पालिका परिषद लोनी की राजनीति भी कुछ गर्माती दिख रही है। पूर्व चेयरमैन मनोज धामा और वर्तमान चेयरमैन रंजीता धामा ने राष्ट्रीय लोकदल से हाथ मिला लिया है। इस फेरबदल से निकाय चुनाव का रास्ता ज्यादा कठिन नहीं रहा है। चूंकि, भाजपा प्रत्याशी के लिए यह सीट रिजर्व मानी जाती रही है। किंतु भाजपा का बिखराव इस बार इस भ्रम को तोड़ देगा। टिकट के दावेदारों की भीड़ से इसका अनुमान लगाया जा सकता है। 

वहीं, विधानसभा चुनाव में क्षेत्रीय जनता का गठबंधन प्रत्याशी मदन भैया को ताबड़तोड़ मतदान इस बात का स्पष्टीकरण भी करता है कि जनता में भाजपा विरोधी भावना का प्रसार प्रबल गति से बढ़ रहा है। आपको बताते चलें कि कल रविवार को राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी लोनी स्थित लाल बाग में धामा दंपति के द्वारा आयोजित एक जनसभा को संबोधित करेंगे। जनप्रिय नेता जयंत चौधरी के आगमन की लहर क्षेत्र में पूरी तरह फैल चुकी है। जयंत चौधरी गरीब, मजदूर, किसान और जवान हित के विषय पर सदा सबसे आगे खड़े मिलते हैं। उनकी इसी लोकप्रियता के कारण हजारों लोग ना चाहते हुए भी उनकी सभा का हिस्सा बनेंगे।

उधर, पूर्व चेयरमैन मनोज धामा ने बताया कि कार्यक्रम 01 बजे से शुरू होगा और 02 बजकर 30 मिनट पर जयंत चौधरी आ जाएंगे। जनसभा क्षेत्र की जनता को समर्पित है। लोकप्रिय नेता जयंत चौधरी जनता के समक्ष अपने विचार रखेंगे। हम नगर के विकास के लिए समर्पित भाव से काम कर रहे हैं। विकास के इसी क्रम को आगे जारी रखने के लिए जनता से मेरा निवेदन है कि इस विकास की यात्रा में अपना साथ और सहयोग बनाए रखें। एनसीआर में वायु प्रदूषण अपने चरम पर पहुंच गया है, घर के बाहर मास्क का उपयोग करें। जिससे आप लोगों का स्वास्थ्य प्रभावित ना हो। जनसभा में पधार कर आशीर्वाद प्रदान करें।

दुर्घटना में मारे गए लोगों के प्रति गहरा शोक व्यक्त 

दुर्घटना में मारे गए लोगों के प्रति गहरा शोक व्यक्त 

मनोज सिंह ठाकुर 

बैतूल। मध्य-प्रदेश के बैतूल जिले के झल्लार थाना क्षेत्र में शुक्रवार तड़के बस और कार की जबर्दस्त भिडंत में कार सवार ग्यारह लोगों की मृत्यु हो गई। पुलिस सूत्रों ने प्रारंभिक जानकारी में बताया कि कार महाराष्ट्र से मध्यप्रदेश के बैतूल की तरफ आ रही थी, तभी तड़के झल्लार थाना क्षेत्र में कार की एक खाली बस से जबर्दस्त टक्कर हो गई। दुर्घटना में कार सवार ग्यारह लोगों की मौत हो गई। मृतकों में कुछ बच्चे भी बताए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि कार में श्रमिक सवार थे, जो महाराष्ट्र से मजदूर कर अपने घर लौट रहे थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में शुक्रवार को हुई भीषण दुर्घटना में मारे गए लोगों के प्रति गहरा शोक व्यक्त किया। साथ ही हताहतों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से आर्थिक मदद दिये जाने की घोषणा की।प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में कहा “ मध्य प्रदेश के बैतूल में सड़क दुर्घटना में लोगों का मारा जाना बेहद दुखद है, परिजनों के प्रति गहरी संवेदना। घायल जल्द से जल्द स्वस्थ हों। इस दुर्घटना में मारे गये लोगों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो- दो लाख और घायलों को 50-50 हजार सहायता राशि के रूप में दी जायेगी।”

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के झल्लार थानाक्षेत्र में बस और कार की जबरदस्त भिड़ंत में 11 लोगों की मौत हो गयी। मृतकों में कुछ बच्चे भी शामिल बताये जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि कार में सवार होकर श्रमिक महाराष्ट्र से घर लौट रहे थे इसी दौरान रास्ते में यह दुर्घटना हो गयी। बैतूल जिले के झल्लार थाना क्षेत्र में आज तड़के बस और कार की जबर्दस्त भिडंत में कार सवार ग्यारह लोगों की मृत्यु हो गयी।बैतूल जिले के झल्लार थाना क्षेत्र में आज तड़के बस और कार की जबर्दस्त भिडंत में कार सवार ग्यारह लोगों की मृत्यु हो गयी।बैतूल जिले के झल्लार थाना क्षेत्र में आज तड़के बस और कार की जबर्दस्त भिडंत में कार सवार ग्यारह लोगों की मृत्यु हो गयी।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बैतूल जिले के झल्लार थाना क्षेत्र में हुए सड़क हादसे में ग्यारह लोगों के असमय निधन पर शोक संवेदना व्यक्त किया है। धिकारिक जानकारी के अनुसार श्री चौहान ने कहा कि बैतूल जिले के झल्लार थाना क्षेत्र में भीषण सड़क दुर्घटना का दु:खद समाचार प्राप्त हुआ है। वे ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करते हैं। दुख की इस घड़ी में वे शोकाकुल परिवार के साथ है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख तथा घायलों को दस-दस हजार रुपए की सहायता राशि दी जाएगी। उन्होंने कहा कि घायलों का इलाज नि:शुल्क किया जाएगा।

अलगाववादी नेता शाह के घर को कुर्क किया: ईडी

अलगाववादी नेता शाह के घर को कुर्क किया: ईडी

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/श्रीनगर। प्रवर्तन निदेशालय की ओर से की गई एक बड़ी कार्रवाई के अंतर्गत जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेता शब्बीर शाह के श्रीनगर स्थित घर को कुर्क कर लिया गया है। केंद्र शासित प्रदेश में आतंकवादी गतिविधियों के वित्तपोषण से जुड़े मनी लांड्रिंग के मामले की जांच कर रही प्रवर्तन निदेशालय टीम द्वारा यह कार्यवाही की गई है। शुक्रवार को जम्मू कश्मीर के अलगाववादी नेता शब्बीर शाह के खिलाफ एक बड़ी कार्यवाही करते हुए परिवर्तन निदेशालय द्वारा बरजुल्ला थाना क्षेत्र के सनत नगर स्थित आवाज को कुर्क कर लिया गया है।

मनी लांड्रिंग के मामले में अलगाववादी नेता के खिलाफ की गई इस बड़ी कार्यवाही से अब आतंकवाद के वित्तपोषण से जुड़े लोगों में हड़कंप मच गया है। प्रवर्तन निदेशालय की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि शब्बीर अहमद शाह घाटी में जुलूस, पथराव, विरोध प्रदर्शन, बंद, हड़ताल और अन्य विध्वंसक गतिविधियों के माध्यम से राज्य में अशांति फैलाने के प्रयासों में सक्रिय भूमिका निभा रहे थे। अलगाववादी नेता प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन और पाकिस्तान में स्थित अन्य संगठनों से हवाला और विभिन्न अन्य तरीकों से धन प्राप्त कर रहा था।

एससी ने नैनीताल हाईकोर्ट के फैसले पर स्टे लगाया 

एससी ने नैनीताल हाईकोर्ट के फैसले पर स्टे लगाया 

अकांशु उपाध्याय/पंकज कपूर 

नई दिल्ली/देहरादून। उत्तराखंड सरकार की नौकरियों में राज्य की महिलाओं को 30 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण के लिए सुप्रीम कोर्ट में दाखिल विशेष अनुग्रह याचिका (एसएलपी) पर शुक्रवार को सुनवाई हुई। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने नैनीताल हाईकोर्ट के फैसले पर स्टे लगा दिया है।
सीएम धामी ने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं। हमारी सरकार प्रदेश की महिलाओं के हितों की रक्षा के लिए कटिबद्ध है। हमने महिला आरक्षण को यथावत बनाए रखने के लिए अध्यादेश लाने की भी पूरी तैयारी कर ली थी। साथ ही हमने हाईकोर्ट में भी समय से अपील करके प्रभावी पैरवी सुनिश्चित की थी। 
बता दें कि प्रदेश सरकार ने उच्च न्यायालय के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। उच्च न्यायालय ने एक याचिका पर राज्य की महिलाओं के लिए क्षैतिज आरक्षण वाले शासनादेशों पर रोक लगा दी थी। अदालत की रोक के बाद प्रदेश सरकार पर क्षैतिज आरक्षण को बनाए रखने के लिए दबाव बन गया था।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आश्वस्त किया था कि सरकार महिलाओं के क्षैतिज आरक्षण को कायम रखने के लिए कानून बनाएगी और सर्वोच्च न्यायालय में जाएगी। प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में इन दोनों विकल्पों पर सहमति बनीं और अध्यादेश लाने का फैसला लिया।
महिला क्षैतिज आरक्षण के लिए प्रदेश मंत्रिमंडल ने अध्यादेश लाने पर सहमति दी थी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अध्यादेश के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। कार्मिक व सतर्कता विभाग ने प्रस्ताव विधायी को भेज दिया है। जानकारों का मानना है कि सुप्रीम कोर्ट में दायर एसएलपी से पहले अध्यादेश लाने से पैरवी को मजबूती मिल सकती थी। मौजूदा स्थिति में राज्य सरकार को सुप्रीम कोर्ट में क्षैतिज आरक्षण वाले शासनादेशों के लिए पैरवी करेगी। 

दिल्ली एमडीसी चुनाव की वोटिंग 4 दिसंबर को होगी 

दिल्ली एमडीसी चुनाव की वोटिंग 4 दिसंबर को होगी 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली में नगर निगम (एमसीडी) के चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया गया है। दिल्ली चुनाव आयुक्त विजय देव ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बताया कि दिल्ली एमडीसी चुनाव की वोटिंग 4 दिसंबर को होगी और 7 दिसंबर को नतीजे आएंगे। सुबह 8 बजे से शाम साढ़े 5 बजे तक वोटिंग होगी। उन्होंने बताया कि आज से आचार संहिता लागू हो जाएगी। चुनाव प्रचार के लिए लगे होर्डिंग्स और बैनर हटा दिए जाएंगे।

विजय देव (दिल्ली राज्य चुनाव आयुक्त) ने बताया कि दिल्ली में परिसीमन प्रक्रिया जरूरी थी, ये लंबी प्रक्रिया है। हमने समय सीमा में परिसीमन प्रक्रिया को पूरा किया। मतदान केंद्रों की फिर से रूपरेखा तैयार की गई। दिल्ली नगर निगम के तहत 68 निर्वाचन क्षेत्र हैं, जिनमें 250 वार्ड निर्धारित किए गए हैं। 42 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित रहेंगी, जिनमें से 21 सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित रहेंगी। अन्य सीटें में से 104 सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित रहेंगी। MCD के चुनावों में कुल 250 ARO होंगे। 2 हजार सेक्टर मजिस्ट्रेट होंगे। 68 जनरल ऑब्जर्वर तैनात होंगे। राज्य चुनाव आयोग ने MCD चुनावों की घोषणा करते हुए बताया कि, इन चुनावों में EVM मशीनों की मदद से वोटिंग की जाएगी।

अब मॉडल बुक ऑफ कंडक्ट की एक बुकलेट जारी की जाएगी। लाउडस्पीकर के उपयोग पर पर रोक रहेगी। लाउडस्पीकर का यूज करने के लिए परमीशन लेनी होगी। परमीशन लेने के बाद भी रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर नहीं बजा सकेंगे। दिल्ली में अवैध रूप से लगे होर्डिंग्स और पोस्टर्स के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। उम्मीदवारों के नामांकन 68 स्थानों पर सुबह 10 बजे से दोपहर 3 बजे तक होंगे। एक कैंडिडेट चुनाव प्रचार में 8 लाख रुपए तक खर्च कर सकता है। पिछले चुनाव में खर्च सीमा 5.75 लाख रुपए थी।

पिछली बार की तरह ईवीएम का यूज किया जाएगा। 50 हजार से ज्यादा ईवीएम रखी गई हैं। सबसे पहले मॉक पोल होगा। नोटा का इस्तेमाल होगा। वोटर की सुविधा के लिए फोटोग्राफ युक्त आईडी कार्ड दिखाना होगा। चुनाव में एक लाख से ज्यादा कर्मचारियों की तैनाती होगी। इनमें पुलिस भी शामिल होगी।

उम्मीदवारों का नामांकन 68 स्थानों पर सुबह 10 बजे से दोपहर 3 बजे तक होगा। पुलिस को भी उचित सुरक्षा मुहैया कराने के निर्देश दिए गए हैं। पहले उम्मीदवार 5।75 लाख रुपए तक खर्च कर सकता था। अब इसे बढ़ा दिया गया है और 8 लाख रुपए तक खर्च कर सकते हैं।

आज से अवैध होर्डिंग्स व पोस्टरों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई होगी। रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर की परमीशन नहीं होगी। उम्मीदवारों का नामांकन 68 स्थानों पर सुबह 10 बजे से दोपहर 3 बजे तक होगा। पुलिस को भी उचित सुरक्षा मुहैया कराने के निर्देश दिए गए हैं। पहले उम्मीदवार 5।75 लाख रुपए तक खर्च कर सकता था। अब इसे बढ़ा दिया गया है और 8 लाख रुपए तक खर्च कर सकते हैं।

बता दें कि दिल्ली नगर निगम की 250 सीटें हैं। इनमें से अनुसूचित जाति (SC) के लिए 42 सीटें आरक्षित की गई हैं। जबकि महिलाओं के लिए भी 50 फीसदी सीटें आरक्षित रहेंगी। इन सभी सीटों को चिन्हित कर लिया गया है। दिल्ली नगर निगम के वार्डों के परिसीमन के बाद केंद्र सरकार ने 18 अक्टूबर को एक नोटिफिकेशन जारी किया था। नोटिफिकेशन में आयोग ने कहा था कि मुख्य निर्वाचन अधिकारियों द्वारा संशोधित मतदाता सूची की अंतिम तिथि 1 जनवरी, 2022 है, इसे एमसीडी चुनावों के लिए मतदाता सूची के रूप में माना जाएगा। अधिकारियों ने कहा था कि इसका मतलब है कि जो लोग 1 जनवरी, 2022 तक मतदाता बने, वे ही आगामी एमसीडी चुनाव में अपना वोट डाल सकेंगे।

इससे पहले दिल्ली नगर निगम में 272 सीटें थीं। पहले उत्तरी और दक्षिण नगर निगम 104-104 पार्षद सीटें थीं, जबकि पूर्वी दिल्ली में 64 सीटें हुआ करती थीं, लेकिन एकीकरण और परिसीमन के बाद 250 सीटें हैं। दिल्ली के 21 विधानसभा क्षेत्रों में एक-एक वार्ड कम किए गए हैं तो एक विधानसभा में सीट बढ़ी भी है। इस तरह दिल्ली में 250 वार्डों में पार्षद के चुनाव होंगे।

दिल्ली में 1 जनवरी 2022 तक करीब 1।48 करोड़ मतदाता थे। गृह मंत्रालय (MHA) ने बीते मंगलवार को एमसीडी के परिसीमन के बाद नोटिफिकेशन जारी किया था, जिसके बाद एमसीडी चुनाव को लेकर रास्ता साफ हो गया था। गृह मंत्रालय द्वारा जारी 800 पन्नों के नोटिफिकेशन में कहा गया कि दिल्ली में नगर निगम के वार्डों की संख्या अब 250 होगी। नगर पालिका के एकीकरण से पहले 70 विधानसभा क्षेत्रों में 272 वार्ड हुआ करते थे।

दिल्ली में इस बार सरकार ने निगमों का एकीकरण कर दिया है। हालांकि निगम और सशक्त हो, जनता को ज्यादा लाभ मिले इसके प्रावधान एमसीडी एकीकरण एक्ट में नहीं हैं। इसके अलावा एक्ट में निगम के दिवालिया होने की वजह, पार्षदों और मेयर को पावरफुल बनने या मिलने वाले नए अधिकारों का कोई जिक्र नहीं है।

दिल्ली नगर निगम की कुल 250 पार्षद सीटों में से 42 सीट को अनुसूचित जाति (एससी) के लिए आरक्षित किया गया है। 42 रिजर्व सीटों का फैसला दिल्ली का राज्य निर्वाचन आयोग चिन्हित और आरक्षित करके नोटिफिकेशन जारी करेगा। वहीं, 50 फीसदी सीटें महिलाओं के लिए रिजर्व रहेंगी। इस तरह महिलाओं, ओबीसी और सामान्य वर्ग वाली पार्षद सीटें होंगी। एमसीडी में सामान्य वर्ग के वार्डों में 50 प्रतिशत वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित होंगी। इस तरह से अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित वार्डों में महिलाओं के लिए 21 वार्ड और सामान्य वर्ग 104 वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित होंगे। आम तौर पर यह प्रक्रिया चुनाव की घोषणा करने से कुछ दिन पहले की जाती है। ऐसे ही ओबीसी के लिए 27 फीसदी सीटें आरक्षित करनी होगी।

एमसीडी चुनाव में फिलहाल 1।49 करोड़ मतदाता है। दिल्ली के सभी मतदान केंद्रों की सूची को छह नवंबर तक तैयार करने का काम पूरा हो जाएगा। पोलिंग बूथवार मतदाताओं की सूची जारी की जाएगी। राज्य चुनाव आयोग दिल्ली विधानसभाओं के हिसाब से तैयार मतदाता सूची का ही इस्तेमाल आगामी निगम चुनाव में करेगा। ऐसे में 1500 मतदाताओं पर एक पोलिंग बूथ बनाए जा सकते हैं।

दिल्ली में 250 वार्ड में निगम चुनाव होंगे। दिल्ली विधानसभा के हिसाब से बने मतदाता सूची का इस्तेमाल एमसाडी चुनाव में होगा। पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान दिल्ली में 2860 पोलिंग स्टेशन पर कुल 13 हजार 760 मतदान बूथ बनाए गए थे, लेकिन यह निकाय चुनाव है। ऐसे में मतदाताओं की संख्या बढ़ी है, जिसके लिहाज से मतदान केंद्र संख्या पहले से ज्यादा होगी। जिला चुनाव अधिकारियों को निर्देश है कि पोलिंग स्टेशन जिस वार्ड के लिए बनाए जा रहे हैं, वे उसी की सीमा क्षेत्र में स्थित हो। एमसीडी चुनाव कराने के लिए बिहार के 12 जिलों से 30 हजार ईवीएम मंगाई गई हैं।

दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) तीनों इलाकों में बंटी हुई थी, जो उत्तरी दिल्ली, दक्षिण दिल्ली और पूर्वी दिल्ली के रूप में जानी जाती थी। मोदी सरकार ने मई 2022 में दिल्ली के तीनों निगमों को मिलाकर एकीकृत कर दिया। इस तरह एक एमसीडी हो गई है। दिल्ली एमसीडी में अभी तक मेयर, कमिश्नर और चीफ इंजीनियर तीन-तीन हुआ करते थे, जो अलग-अलग जोन के होते थे। एमसीडी के एकीकरण किए जाने के बाद अब मेयर, कमिश्नर और चीफ इंजीनियर एक-एक होंगे। उनके पास पहले से ज्यादा शक्तियां होंगी।

दिल्ली नगर निगम चुनाव में सीधे मेयर का चुनाव नहीं किया जाता बल्कि पार्षद के जरिए होता है। दिल्ली में 250 पार्षद के लिए चुनाव होंगे। ऐसे में जिस पार्टी के सबसे ज्यादा पार्षद जीतकर आएंगे, उस पार्टी का मेयर होगा। पार्षदों के जरिए मेयर और डिप्टी मेयर का चुनाव किया जाता है। पांच साल में हर एक साल पर मेयर, डिप्टी मेयर और स्टैंडिंग कमेटी के चेयरमैन का चुनाव किया जाता है। चुनावों से पहले ही कूड़े के पहाड़ों समेत यमुना सफाई के मुद्दे को लेकर भाजपा और आम आदमी पार्टी (आप) आमने-सामने हैं। वहीं, कांग्रेस भी इन चुनावों में अपनी स्थिति मजबूत करने की कोशिश में जुटी है।

राजनीतिक संघर्ष जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध 'पीएम'

राजनीतिक संघर्ष जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध 'पीएम'

अखिलेश पांडेय 

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान, अपने ऊपर हुए जानलेवा हमले के बावजूद सरकार पर जल्द चुनाव कराने का दबाव बनाने के लिए अपना राजनीतिक संघर्ष जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उनकी पार्टी ने यह जानकारी दी। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में विरोध मार्च के दौरान एक बंदूकधारी ने खान (70) को ले जा रहे ट्रक पर गोली चला दी, जिससे खान के पैर में गोली लग गई थी।

इस हमले में एक व्यक्ति की मौत हुई है। खान की पार्टी का दावा है कि यह इमरान खान की ‘‘हत्या का प्रयास’’ था। खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी (पीटीआई) के एक वरिष्ठ नेता फवाद चौधरी ने आरोप लगाया कि यह ‘‘यह हमला खान पर एक सुनियोजित हत्या का प्रयास था और वह बाल-बाल बच गए। हमला किसी नौ एम.एम. की पिस्तौल से नहीं बल्कि एक स्वचालित हथियार से किया गया।’’

पुलिस ने कहा था कि हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि सात घायल हो गए। हालांकि, ‘डॉन’ अखबार ने शुक्रवार को कहा, एक व्यक्ति की मौत के अलावा 14 लोग घायल हुए हैं। पीटीआई पार्टी के अनुसार, लाहौर में खान द्वारा बनवाए गए शौकत खानम अस्पताल में उनकी सर्जरी की गई और अब वे खतरे से बाहर हैं।

पार्टी ने यह भी कहा कि खान विरोध मार्च जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर खान के हवाले से कहा गया, ‘‘मैं नहीं झुकूंगा, लेकिन अपने साथी पाकिस्तानियों के लिए ‘हकीकी आज़ादी’ हासिल करने के वास्ते दृढ़ रहूंगा।’’ यह मार्च शुक्रवार को सुबह 11 बजे वजीराबाद से फिर से बहाल किया जाएगा।

'द अर्थशॉट' पुरस्कार के अंतिम 15 में जगह बनाई 

'द अर्थशॉट' पुरस्कार के अंतिम 15 में जगह बनाई 

संदीप मिश्र 

कानपुर। शहर के फ्लेदर का डंका दुनिया भर में बज रहा है। अपनी पर्यावरण के अनुकूल खूबियों के चलते इसने पर्यावरण के सबसे बड़े 'द अर्थशॉट' पुरस्कार के अंतिम 15 में जगह बनाई है। इसका फाइनल बोस्टन में दो दिसंबर को होगा, जिसमें से पांच स्टार्टअप को एक मिलियन पाउंड का इनाम दिया जाएगा। इस उपलब्धि से शहर के साथ ही देश के लोगों को खुशी है।

फाइनल के लिए मुकाबले में यूएसए, हांगकांग, केन्या, इंग्लैंड, पुर्तगाल, नीदरलैंड, ओमान आदि देशों के स्टार्टअप हैं। आर्यनगर के अंकित अग्रवाल ने आईआईटी कानपुर स्टार्टअप एंड इन्क्यूबेशन सेंटर से उद्यमिता विकास किया। उन्होंने कानपुर समेत आसपास के मंदिरों से निकलने वाले फूल और अन्य पूजन सामग्री से अगरबत्ती, धूपबत्ती, पैकिंग मैटेरियल, बॉक्स आदि तैयार कराए। वह और उनकी टीम में शामिल विशेषज्ञों ने फूलों से कृत्रिम चमड़ा विकसित किया, जिसको फ्लेदर नाम दिया गया।

फ्लेदर की खूबियों के चलते कंपनी को पहले ही कई पुरस्कार हासिल हो चुके हैं। कई फैशन इंडस्ट्रीज इसकी सेल चालू कर दी है। फ्लेदर को द अर्थशॉट प्राइज के लिए भेजा गया, जिसका पर्यावरण को सुरक्षित, संरक्षित और साफ सुथरा रखने में सहयोगी स्टार्टअप से तैयार अन्य उत्पादों से मुकाबला हुआ। अंकित अग्रवाल के मुताबिक फ्लेदर का प्रदर्शन काफी शानदार रहा। यह वेस्ट फ्री वर्ड कैटेगरी में चयनित हुआ है।

10 हजार स्क्वायर फिट फ्लेदर बनाने का लक्ष्य

अंकित अग्रवाल ने बताया कि अभी उनके यहां हर दिन 90 स्क्वायर फिट फ्लेदर बन रहा है। इसको बढ़ाकर 10 हजार स्क्वायर फिट निर्माण प्रतिदिन करना है।

मुंबई: एक्ट्रेस नेहा ने अपनी लेटेस्ट तस्वीरें शेयर की 

मुंबई: एक्ट्रेस नेहा ने अपनी लेटेस्ट तस्वीरें शेयर की 

कविता गर्ग 

मुंबई। भोजपुरी सिनेमा हॉट एक्ट्रेस नेहा मलिक आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। नेहा अपने सिजलिंग, ग्लैमरस और बोल्ड लुक की वजह से सोशल मीडिया में चर्चा में रहती हैं। एक्ट्रेस की एक झलक पाने के लिए फैंस बेताब रहते हैं। एक बार फिर नेहा ने अपनी बोल्ड तस्वीरों शेयर कर इंटरनेट का तापमान बढ़ा दिया है।

नेहा मलिक ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर अपनी लेटेस्ट तस्वीरें शेयर की हैं। जिसमें उन्हें लाइट ग्रीन टू पीस ड्रेस में देखा जा रहा हैं। नेहा मलिक ने ये फोटोज दुबई की सड़कों पर क्लिक करवाई है, जो फैंस को काफी पसंद आ रही है। नेहा मलिक फोटो में काफी ज्यादा ग्लैमरस लग रही हैं, जिसे देख हर कोई घायल हो रहा। आपको बता दें कि नेहा मलिका का यह फोटोशूट इस वक्त सोशल मीडिया पर तहलका मचा रहा है। तस्वीरें देखने के बाद हर ओर उनके हुस्न के चर्चे हो रहे हैं।

धरना: शिवसेना नेता सुधीर को दिनदहाड़े गोली मारी

धरना: शिवसेना नेता सुधीर को दिनदहाड़े गोली मारी

अमित शर्मा 

अमृतसर। अमृतसर में शिवसेना नेता सुधीर सूरी को शुक्रवार को दिनदहाड़े गोली मार दी गई। गोपाल मंदिर के बाहर कूड़े में भगवानों की मूर्तियां मिलने के विरोध में शिवसेना नेता मंदिर के बाहर धरने पर बैठे थे। इसी दौरान भीड़ में से किसी ने उन्हें गोली मारी दी। उन्हें आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया है। वहीं पुलिस ने तुरंत नाकाबंदी कर हमलावर संदीप सिंह को गिरफ्तार कर लिया।

अमृतसर पुलिस कमिश्नर अरूण पाल सिंह ने बताया कि हमारे पास 3:30-4 बजे कंट्रोल रूम से कॉल आई थी कि सुधीर सूरी की गोली मारी है। उन्हें अस्पताल ले गए जहां उनकी मृत्यु हो गई। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर उससे हथियार जब्त किया है। मामले में कार्रवाई जारी है। लोगों शांति बनाए रखें।सुधीर सुरी शिव सेना हिंदुस्तान के प्रधान रह चुके हैं। उन पर दो से तीन गोलियां चलाई गई हैं। मालूम हो कि पिछले कुछ समय से सुधरी सूरी पर हमला करने की बनाई जा रही थी। पुलिस ने भी पिछले महीने कुछ गैंगस्टर को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में आरोपियों ने ही इसका खुलासा किया था।

पंजाब में एसटीएफ और अमृतसर पुलिस ने ज्वाइंट ऑपरेशन में पिछले महीने 4 गैंगस्टर गिरफ्तार किया था। पकड़े गए गैंगस्टर रिंदा और लिंडा के गुर्गे था। इनसे पूछताछ में सनसनीखेज खुलासा हुआ है। गिरफ्तार किए गए गैंगस्टर शिवसेना नेता सुधीर सूरी पर हमले की साजिश रच रहे थे। इसके लिए उनकी रेकी भी कर चुके थे। इससे पहले कि वो वारदात को अंजाम देते पुलिस और एसटीएफ ने चारों को धर दबोचा। आरोपियों ने ये भी कबूल किया है कि सूरी पर हमला दीवाली से पहले करना था। इन गैंगस्टर्स के पकड़े जाने से पंजाब में एक बड़ी वारदात टल गई।

'बीईएल' ने मोटोरोला लिमिटेड के साथ करार किया 

'बीईएल' ने मोटोरोला लिमिटेड के साथ करार किया 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/बेंगलुरु। सार्वजनिक क्षेत्र की नवरत्न रक्षा कंपनी भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) ने ब्रॉडबैंड समेत अन्य सेवाओं के क्षेत्र में सहयोग के लिए मोटोरोला सॉल्यूशंस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के साथ करार किया है। कंपनी ने एक बयान में बताया कि इस समझौते का उद्देश्य बीईएल तथा मोटोरोला की पूरक क्षमताओं और ताकतों का लाभ उठाना है।

इसमें आगे कहा गया, बीईएल तथा मोटोरोला पेशेवर मोबाइल रेडियो श्रेणी के उपयोगकर्ताओं की जरूरतों को पूरा करने और उनको उनकी टीमों के साथ तेज गति और प्रभावशीलता के साथ जोड़ने में मदद देंगे। ऐसा पुश टू टॉक (पीटीटी) सेवा मोटोरोला वेव पीटीएक्स के माध्यम से किया जाएगा। इसमें बताया गया कि वेव पीटीएक्स नेटवर्क से स्वतंत्र मल्टीमीडिया कम्युनिकेशन सेवा है जो एक बटन दबाने पर अलग-अलग टीमों को तुरंत कनेक्ट कर देती है।

केपीटीएल को 1,200 करोड़ रुपये के ऑर्डर मिले
कल्पतरु पॉवर ट्रांसमिशन लिमिटेड (केपीटीएल) को 1,200 करोड़ रुपये के नए ऑर्डर मिले हैं। ऊर्जा एवं अवसंरचना क्षेत्र की कंपनी केपीटीएल ने एक बयान में यह जानकारी दी। केपीटीएल ने बताया कि उसे और उसकी अंतरराष्ट्रीय अनुषंगियों को 1,290 करोड़ रुपये के नए ऑर्डर मिले हैं। ये ऑर्डर भारत और विदेशी बाजारों में पारेषण एवं वितरण (टी एंड डी) व्यवसाय के लिए हैं। इनमें तेल एवं गैस के ऑर्डर, रेलवे के ऑर्डर शामिल हैं। कंपनी के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी मनीष मोहनोत ने बताया कि चालू वित्त वर्ष में कंपनी को अब तक 6,890 करोड़ रुपये के ऑर्डर मिल चुके हैं।

मैसेज भेजने के बाद भी बदलाव कर सकेंगे: व्हाट्सएप

मैसेज भेजने के बाद भी बदलाव कर सकेंगे: व्हाट्सएप 

अकांशु उपाध्याय/अखिलेश पांडेय 

नई दिल्ली/वाशिंगटन डीसी। व्हाट्सएप (WhatsApp) पर एक नया फीचर आ रहा है, जिसके जरिए आप मैसेज भेजने के बाद भी उसमें बदलाव कर सकेंगे। दरअसल, व्हाट्सएप बीटा में कई नए फीचर्स की टेस्टिंग कर रहा है। क्योंकि यह उनमें से कुछ को पब्लिक स्टेबल अपडेट के माध्यम से जारी करता है। कंपनी को एंड्रॉइड और आईओएस बीटा ऐप पर “मैसेज योरसेल्फ” और प्रोफाइल फोटो जैसे कुछ नए वॉट्सऐप फीचर की टेस्टिंग करते हुए भी स्पॉट किया गया है। iOS के लिए नया बीटा अपडेट अब एक नया फीचर प्राप्त कर रहा है। व्हाट्सएप आईओएस बीटा ऐप पर मैसेज को एडिट करने की क्षमता की टेस्टिंग कर रहा है। इस फीचर को कुछ महीने पहले एंड्रॉइड बीटा ऐप पर टेस्टिंग के दौरान देखा गया था।

इसके अलावा, व्हाट्सएप ने सभी यूजर्स के लिए एक नया आईओएस अपडेट भी रोल आउट किया है, जो उन्हें सीधे यूजर प्रोफाइल से व्हाट्सएप स्टेटस देखने की अनुमति देता है। आइए आईओएस यूजर्स के लिए आने वाले वॉट्सऐप के नए फीचर्स पर एक नजर डालते हैं।WhatsApp लेटेस्ट iOS बीटा अपडेट में मैसेज को एडिट करने की क्षमता की टेस्टिंग कर रहा है। इस फीचर को iOS 22.23.0.73 अपडेट में टेस्टिंग के दौरान देखा गया था। व्हाट्सएप के नए फीचर ट्रैक करने वाली वेबसाइट WABetaInfo द्वारा इस फीचर को सबसे पहले देखा गया, नए अपडेट भेजे गए मैसेज को लंबे समय तक दबाने पर एक एडिट मैसेज ऑप्शन दिखाता है। भेजे गए मैसेज को एडिट करने के बाद, वॉट्सऐप चैट बबल के भीतर एक “एडिट” लेबल जोड़ देगा। लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है कि यदि यूजर किसी मैसेज को एडिट करना चाहते हैं, तो ऐसा करने के लिए उनके पास सिर्फ 15 मिनट की ही समय होगा।

फिलहाल, बीटा ऐप में सिर्फ टेक्स्ट मैसेज को ही एडिट किया जा सकता है। यह सुविधा वर्तमान में तस्वीरों, वीडियो और डॉक्यूमेंट्स के कैप्शन टेक्स्ट को एडिट करने का सपोर्ट नहीं करती है। WABetaInfo को उम्मीद है कि फ्यूचर अपडेट इसका सपोर्ट प्रदान करेगा। वर्तमान में, सभी यूजर्स के लिए अपडेट कब जारी किया जाएगा, फिलहाल इस बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आई है। फिलहाल इस फीचर पर काम किया जा रहा है और इसे सभी यूजर्स के लिए उपलब्ध कराए जाने में कुछ समय लग सकता है। व्हाट्सएप बीटा यूजर्स इस फीचर को 22.23.0.73 वर्जन में अपडेट करने के बाद अपने आईओएस ऐप पर आजमा सकते हैं।

दूसरा फीचर जो सभी यूजर्स के लिए आईओएस ऐप पर चुपचाप जारी किया गया है, वह है यूजर के प्रोफाइल से वॉट्सऐप स्टेटस देखने की क्षमता। यानी यूजर को अपने कॉन्टैक्ट्स द्वारा पोस्ट किए गए स्टेटस को देखने के लिए अलग से स्टेटस टैब पर नहीं जाना होगा।

यूजर्स को अपने iOS ऐप को 22.21.77 वर्जन पर अपडेट करना होगा। एक बार अपडेट होने के बाद, वे अपने किसी भी कॉन्टैक्ट के प्रोफाइल में जा सकते हैं और प्रोफाइल पिक्चर पर टैप कर सकते हैं। इसके बाद, आपसे पूछा जाएगा कि क्या आप स्टेटस या प्रोफाइल पिक्चर देखना चाहते हैं। जब भी कोई नया स्टेटस यूजर द्वारा नहीं देखा जाता है, तो उन्हें प्रोफ़ाइल फोटो के चारों ओर एक नीला घेरा दिखाई देगा। अपडेट को iOS पर सभी यूजर्स के लिए रोल आउट किया जा रहा है। यदि आपको ऐप्पल ऐप स्टोर पर अभी तक अपडेट प्राप्त नहीं हुआ है, तो हमारा सुझाव है कि इसे प्राप्त करने के लिए कुछ दिनों तक प्रतीक्षा करें। एक बार जब ऐप आपके आईफोन पर 22.21.77 वर्जन में अपडेट हो जाता है, तो आपको नया फीचर मिलने की संभावना है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन




प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-390, (वर्ष-05)

2. शनिवार, नवंबर 5, 2022

3. शक-1944, कार्तिक, शुक्ल-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 07:02, सूर्यास्त: 05:36। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 22 डी.सै., अधिकतम-33+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया महाप्रबन्धक श्री सतीश कुमार ने किया निरंजन पुल का निरीक्षण अधिकारियों के ...