मंगलवार, 8 नवंबर 2022

अब सोमवार से शनिवार तक बंदियों से मुलाकात होगी 

अब सोमवार से शनिवार तक बंदियों से मुलाकात होगी 


अब सोमवार से शनिवार ज़िला जेल में हो सकेगी बन्दियों से मुलाकात

भानु प्रताप उपाध्याय 

सहारनपुर। अभी तक जेलों में रविवार को मुलाकात कराई जाती थी। लेकिन अब रविवार की जगह सोमवार से शनिवार तक बंदियों से मुलाकात कराई जाएगी। जेल में बंद लोगों और उनके परिजनों के लिए अच्छी खबर है। उत्तर प्रदेश जेल मैनुअल में व्यापक बदलाव किए गए हैं। नया जेल मैनुअल लागू कर दिया गया है। जिसके मुताबिक अब सोमवार से शनिवार तक बन्दियों से उनके परिजन और रिश्तेदार मुलाकात कर सकते हैं, रविवार को अवकाश रहेगा। उस दिन बन्दियों से मुलाकात नहीं की जाएंगी‌। यह जानकारी मंगलवार को वरिष्ठ जेल अधीक्षक अमिता दुबे की ओर से दी गई है।

वरिष्ठ जेल अधीक्षक अमिता दुबे ने जानकारी दी है कि साप्ताहिक अवकाश रविवार को रहेगा। रविवार को मुलाकात नहीं होंगी, इसके अलावा सार्वजनिक अवकाश वाले दिनों में भी बन्दियों से उनके परिजनों की मुलाकात नहीं करवाई जाएंगी। मतलब, प्रत्येक रविवार और गैजेटेड होलीडेज के दिन जेल में निरुद्ध लोगों से उनके जानने वाले मुलाकात करने नहीं आ सकेंगे। वरिष्ठ जेल अधीक्षक ने बताया कि उत्तर प्रदेश में नया जेल मैनुअल तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है। जेल मैनुअल में बंदियों से मुलाकातों को लेकर नई व्यवस्था लागू की गई है।

छात्रों को सैनेट्री पैड वितरण कर जागरूक किया

छात्रों को सैनेट्री पैड वितरण कर जागरूक किया


सैनेट्री पैड्स वितरण कर सारथी फाउंडेशन ने छात्राओं को किया जागरूक

गोपीचंद/भानु प्रताप उपाध्याय 

बागपत। मंगलवार को सारथी वेलफेयर फाउंडेशन के तत्वाधान में उत्तर प्रदेश सरकार की योजना के अंतर्गत ओढापुर (बड़ौत) सरकारी स्कूल में जाकर सभी छात्रों को सैनेट्री पैड वितरण कर जागरूक किया। वंदना गुप्ता बताया ने बताया कि महिलाओं को पीरियड के समय सिर्फ सेनेटरी पैड का उपयोग करना चाहिए, क्योंकि पीरियड के समय हाइजीन बहुत जरूरी हैं। आज भी बहुत सी ग्रामीण महिलाएं जागरुकता की कमी के कारण पैड की जगह कपड़े का प्रयोग करती हैं, जो कि स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं हैं। अब तक हमारी संस्था लगभग 15000 (पंद्रह हजार) सैनेटरी पैड्स निशुल्क वितरण कर चुकी है और आगे भी करती रहती, हमारी संस्था का यह उद्देश्य हैं महिलाओं और छात्राओं को जागरूक करना।

इसी के साथ सोनम ,अलीशा, नर्गिश ,आतिका , किरण, अमरीन,सोनिया सभी  छात्राओं ने चार्ट पेपर बना कर जागरूकता का संदेश दिया। स्कूल के  प्रधानाचार्य अंकित पंवार का भी सहयोग रहा इस मौके पर अध्यक्ष वंदना गुप्ता , उपाध्यक्ष शालू गुप्ता, चित्रा आदि ने सैनेट्री पैड्स वितरण किए।

सर्वधर्म प्रार्थना का आयोजन, अतिथियों का स्वागत

सर्वधर्म प्रार्थना का आयोजन, अतिथियों का स्वागत


जिला संघ रायपुर को मिलेगा एक लाख की स्काऊट ड्रेस मंत्री टेकाम ने की घोषणा 

कोरोना काल में स्काउट गाइड द्वारा किए गए कार्य सराहनीय: सत्यनारायण शर्मा

दुष्यंत टीकम 

रायपुर‌। भारत स्काउट गाइड के स्थापना दिवस पर रायपुर जिला स्काउट गाइड द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जिसमें कार्यक्रम का संचालन भारत स्काउट गाइड के जिला आयुक्त डॉ. सुरेश शुक्ला ने किया। कार्यक्रम में सबसे पहले पहुंचे हुए अतिथियों का स्वागत भारत स्काउट गाइड के बच्चों द्वारा बैंड के माध्यम से मंच तक पहुंचा कर किया गया, तत्पश्चात सर्वधर्म प्रार्थना का आयोजन हुआ। कार्यक्रम में पहुंचे मंत्री श्री डॉक्टर प्रेमसाय टेकाम ने कहा कि जीवन में अनुशासन प्रगति का मूल कारक है। स्काउट हमे अनुशासन स्वयं जनसेवा का मार्ग दिखाता है और यही मार्ग में चलकर हम सफलता को हासिल करते हैं। उन्होंने कहा कि भारत स्काउट गाइड की स्थापना पश्चात छत्तीसगढ़ राज्य में स्काउट ने अपना एक उच्च स्थान हासिल किया है। जिसमें रायपुर जिला संघ की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

ग्रामीण विधायक एवं भारत स्काउट्स एवं गाइड्स के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री सत्यनारायण शर्मा ने अपने उद्बोधन में कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य के अस्तित्व में आते ही भारत स्काउट गाइड छत्तीसगढ़ की स्थापना के तत्काल बाद रायपुर जिला संघ के द्वारा अंतरराष्ट्रीय जंबूरी का आयोजन जिला संघ रायपुर की सक्रियता को दर्शाता है। चाहे वह कोरोना काल की बात हो या फिर पर्यावरण का संदेश देते वृक्षारोपण की बात हो, यातायात व्यवस्था की बात हो हर किसी क्षेत्र में रायपुर जिला संघ का उल्लेखनीय योगदान रहा है। 21 दिन मे पच्चीस लाख राशि का सूखा राशन वितरण करोना काल में किया जाना रायपुर जिला संघ की उपलब्धि रही है।

जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री पंकज शर्मा ने उपस्थित स्काऊट गाइड के बच्चों को स्काऊट से जुड़कर समाज सेवा में अग्रणी भूमिका निभाने की बात कही। वहीं, जिला मुख्य आयुक्त डॉ सुरेश शुक्ला ने जिला संघ के द्वारा किए गए कार्यों का विवरण देते हुए, शिक्षा मंत्री डॉक्टर टेकाम के द्वारा एक लाख राशि का स्काउट की ड्रेस जिला संघ को देने की घोषणा का स्वागत करते हुए आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर जिला संघ रायपुर के राज्यपाल पुरस्कृत स्काऊट गाइड को प्रमाण पत्र शिक्षा मंत्री ने वितरित किया। जिला संघ के उपाध्यक्ष अजय तिवारी ने आभार प्रदर्शन करते हुए कहा कि डाक्टर टेकाम एवं श्री सत्यनारायण शर्मा का हमेशा योगदान सहयोग रायपुर जिला संघ को रहा है और भविष्य में भी उनका आशीर्वाद सहयोग मिलता रहेगा। इस अवसर पर उपाध्यक्ष गायत्री सिंह, अध्यक्ष जी स्वामी, अपर संचालक शिक्षा जेपी रथ ,ओएसडी माननीय शिक्षा मंत्री श्री बंजारा जी ,राज्य सचिव कैलाश सोनी, जिला शिक्षा अधिकारी आर एल ठाकुर, निजी महाविद्यालय संघ के, सिद्धार्थ दास, राजेश मिश्रा, अखिलेश आमदे, गोवर्धन साहू, मृत्युंजय शुक्ला, गोपाल वर्मा ,बीपी वर्मा ,अभिलाषा शुक्ला ,कुसुम त्रिपाठी, सीमा पांडे ,अग्रवाल मैडम, लीना वर्मा कंचन लता यादव, रोहित कुमार वर्मा, दीपक ध्रुवंशी, जी साई कृष्णा, बालक दास राउत , डिग्री लाल पटेल,नमन साहू , दिनेश देवांगन ,लक्ष्मी नारायण पटेल ,जामवंत पटेल ,आशा जाधव ,दुर्गा यादव ,अनिता विश्वकर्मा ,आदि उपस्थित थे।

जाम की गंभीर स्थिति, आने-जाने मे भारी परेशानी

जाम की गंभीर स्थिति, आने-जाने मे भारी परेशानी


शामली जिला कांग्रेस एवं भारतीय किसान मजदूर सयुंक्त युनियन की टीम शामली शुगर मिल अधिकारियो से की वार्ता की: दीपक सैनी  

भानु प्रताप उपाध्याय 

शामली। जिला कांग्रेस एवं भारतीय किसान मजदूर सयुंक्त यूनियन के नेतृत्व मे और राजबीर सिंह राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि अपने पदाधिकारियों व कार्यक्रताओं के साथ शामली सरशादीलाल शुगर मिल के अधिकारियो से शहर में लगातार कई दिनों से जाम की बन रही स्थिति को देखते हुए शहर के व्यापारीयो की स्कूली बच्चों व मरीजों को आने-जाने मे भारी परेशानी का सामना करना पड रहा है। जाम की गंभीर स्थिति अपनी भयंकर रूप धारण कर चुकी है। दीपक सैनी कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने कहा कि अगर कोई मरीज एम्बुलेंस द्वारा ईलाज के लिए कही। दूसरी जगह ले जाना पड जाए तो शहर से बाहर या शहर के अन्दर किसी डॉक्टर या हास्पिटल मे जाना सभ्वंव नही है। विनोद निवाॅल किसान नेता ने कहा कि किसान गार्मिण क्षेत्रो से गन्ना डालने के लिए शुगर मिल मे आता है और शुगर मिल बन्द होने के कारण किसान भुखा प्यासा 24 घण्टे से अपने टैक्टर-टार्ली भैसा बुग्गी के पास बैठा हुआ है।

वो अपने साधनो को छोड़कर अपने घर पर नही जा सकता किसानो का पिछले साल का गन्ना भुगतान अभी तक पुरा नही किया गया। इसके बावजूद किसान शुगर मिल पर गन्ना लेकर आ रहा है और उसके लिए मिल की तरफ से कोई सुविधा नही दी जा रही है। वो सड़क पर बैठकर अपना गन्ना तूलवाने का इन्तज़ार कर रहा है। शुगर मिल अधिकारियो ने आश्वासन दिया आने वाले 24 घण्टे के अन्दर शुगर मिल सुचारु रूप से चालू हो जाएगी।मगर सब ठीक है। शामली शूगर मिल के मालिक का अछछा व्वाहार है किसानो ओर जनप्रिय लोगो का सम्मान करते है।सिस्टम पिछे ही खराब चल रहा है।

शामली शुगर मिल मे वाताॅ करने वाले राजबीर सिहं राष्ट्रीय अध्यक्ष किसान ,दीपक सैनी कांग्रेस जिलाध्यक्ष ,विनोद निवाॅल किसान नेता व प्रमुख समाजसेवी , प्रवीण तरार जिला उपाध्यक्ष , शैखरपाल प्रदेश महासचिव कांग्रेस दीपक शर्मा किसान नेता, डॉक्टर श्रीपाल सिंह जिलाध्यक्ष पिछड़ा,  अश्वनी शर्मा प्रदेश महासचिव ,कटारिया जिलाध्यक्ष अनुचित, संदीप शर्मा जिला सचिव, नरेंद्र मलिक वरिष्ठ कांग्रेसी , सुरेंद्र सरोहा वरिष्ठ कांग्रेसी,रिजवान सेवादल अध्यक्ष, नासीर चोधरी वरिष्ठ कांग्रेसी ,  महिपाल शर्मा  वरिष्ठ कांग्रेसी ,गोल्डी जिलाध्यक्ष युवा ,विनोद सेन वरिष्ठ कांग्रेसी महाबीर सैनी वरिष्ठ कांग्रेसी, रामपाल पांचाल, गयुर ब्लाक अध्यक्ष शामली,राहुल शर्मा जिला सचिव  आजम सिद्दीकी शामली आदि शामिल हुए।

जी-20 प्रेसीडेंसी, थीम और वेबसाइट का अनावरण

जी-20 प्रेसीडेंसी, थीम और वेबसाइट का अनावरण

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भारत के जी-20 प्रेसीडेंसी के लोगों, थीम और वेबसाइट का अनावरण किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कुछ दिनों बाद 1 दिसंबर से भारत G20 की अध्यक्षता करेगा। भारत के लिए ये ऐतिहासिक अवसर है। आज इसी संदर्भ में इस समिट की लोगो, थीम और वेबसाइट का अनावरण किया गया है। G20 ऐसे देशों का समूह है जिनका आर्थिक सामर्थ्य विश्व की 85% GDP का प्रतिनिधित्व करता है

पीएम मोदी ने कहा कि G-20 का ये लोगो केवल एक प्रतीक चिन्ह नहीं है। ये एक संदेश है, ये एक भावना है, जो हमारी रगों में है। ये एक संकल्प है जो हमारी सोच में शामिल रहा है। इस लोगो और थीम के जरिए हमने एक संदेश दिया है। युद्ध से मुक्ति के लिए बुद्ध के जो संदेश हैं हिंसा के प्रतिरोध में महात्मा गांधी के जो समाधान हैं। G20 के जरिए भारत उनकी वैश्विक प्रतिष्ठा को नई ऊर्जा दे रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि G20 लोगो में कमल का प्रतीक आशा का प्रतिनिधित्व करता है। आज जब भारत G-20 की अध्यक्षता करने जा रहा है तो ये आयोजन हमारे लिए 130 करोड़ भारतीयों की शक्ति और सामर्थ्य प्रतिनिधित्व है।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि विश्व में कोई भी फर्स्ट वर्ल्ड या थर्ड वर्लड न हो, बल्कि केवल वन वर्लड हो। आज विश्व में भारत को जानने की, भारत को समझने की एक अभूतपूर्व जिज्ञासा है। G-20 का ये Logo केवल एक प्रतीक चिन्ह नहीं है। ये एक संदेश है। ये एक भावना है, जो हमारी रगों में है। ये एक संकल्प है, जो हमारी सोच में शामिल रहा है।

स्टेशन के बीच 'वंदे भारत' ट्रेन पर पथराव: दावा 

स्टेशन के बीच 'वंदे भारत' ट्रेन पर पथराव: दावा 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी को निशाना बनाते हुए अंकलेश्वर एवं भरूच स्टेशन के बीच वंदे भारत ट्रेन पर पथराव किया गया। असदुद्दीन की पार्टी की ओर से अब तस्वीरें जारी करते हुए दावा किया गया है कि ओवैसी की सीट के सामने रेलगाड़ी की खिड़की पर उस समय पत्थर फेंके गए, जब असदुद्दीन ओवैसी अहमदाबाद से चलकर सूरत जा रहे थे। 

मंगलवार को एआईएमआईएम के नेता वारिस पठान ने ट्विटर के माध्यम से तस्वीरें वायरल करते हुए जानकारी दी है कि सोमवार की शाम जब हम असदुद्दीन ओवैसी साहब, साबिर काबलीवाला साहब और एआईएमआईएम की अन्य टीम के साथ अहमदाबाद से चलकर सूरत के लिए वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन में सवार होकर जा रहे थे, तब कुछ अज्ञात लोगों ने ट्रेन पर जोर से पथराव किया और शीशे को तोड़ दिया।

उधर पश्चिमी जोन के रेलवे चीफ रिलेशन ऑफिसर सुमित ठाकुर ने अपने बयान में इस बात की पुष्टि करते हुए कहा है कि वंदे भारत ट्रेन पर पत्थर फेंका गया है। लेकिन भीतर किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ है। उन्होंने बताया कि 7 नवंबर को मुंबई जाते समय वंदे भारत एक्सप्रेस पर पत्थर मारने की घटना सामने आई है। यह घटना अंकलेश्वर और भरूच स्टेशन के बीच अंजाम दी गई है।

ट्विटर: मस्क ने एक छोटी टीम को साथ में रखा

ट्विटर: मस्क ने एक छोटी टीम को साथ में रखा

सुनील श्रीवास्तव 

सैन फ्रांसिस्को/वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे धनी व्यक्ति एलन मस्क ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म ‘ट्विटर’ के अधिग्रहण और व्यापक छटनी के बाद अपने दोस्तों और विश्वास-पात्रों की एक छोटी टीम को साथ में रखा है, जिनमें भारतीय मूल के सॉफ्टवेयर इंजीनियर श्रीराम कृष्णन भी शामिल हैं। टीम को इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के लिए अपने दृष्टिकोण को लागू करने का काम सौंपा गया है। बीबीसी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि जाहिर तौर पर इसमें भारतीय मूल के सॉफ्टवेयर इंजीनियर और ट्विटर के पूर्व कार्यकारी श्रीराम कृष्णन शामिल हैं, जिन्होंने पिछले साल कंपनी छोड़ दी थी।

पूर्व सीईओ पराग अग्रवाल और अन्य भारतीय मूल के अधिकारियों की अनौपचारिक बर्खास्तगी के बाद, उद्यम पूंजी फर्म आंद्रेसेन होरोविट्ज़ या ए16जेड में काम कर रहे कृष्णन ने पिछले सप्ताह ट्वीट किया कि वह ‘मस्क को अस्थायी रूप से मदद कर रहे है।’ बीबीसी ने कहा कि यह फिलहाल यह साफ नहीं है कि कृष्णन किस पद से जुड़ेंगे, इस संबंध में जब टिप्पणी के लिए संपर्क किया गया, तो कृष्णन ने कहा कि वह ‘ट्विटर से संबंधित किसी भी चीज़ में अभी मदद नहीं कर सकते।’

यह कहना भी मुश्किल है कि इस समय मस्क के साथ उनका जुड़ाव कितना करीब है, हालांकि रिपोर्टों ने उन्हें बार-बार अपने ‘नजदीकी सर्कल’ के हिस्से के रूप में वर्णित किया है। सिलिकॉन वैली गर्ल नामक एक यूट्यूब को 2021 के एक साक्षात्कार में, कृष्णन ने कहा कि उन्हें और उनकी पत्नी आरती राममूर्ति को पहली बार मस्क का तब पता चला जब उन्होंने कुछ साल पहले ‘ट्विटर से जुड़े कुछ मामलों’ में मदद की और उन्होंने ‘उसके माध्यम से एक रिश्ता बनाया।” द न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार, कई साल पहले कैलिफोर्निया में स्पेसएक्स के मुख्यालय के एक निजी दौरे के दौरान युगल ने मस्क से मुलाकात की।

कृष्णन दंपत्ति व मस्क के बीच सबसे प्रमुख मुलाकात फरवरी 2021 में हुई जब मस्क एक टॉक शो में दिखाई दिए, जिसे युगल ने क्लब हाउस में होस्ट किया था। बीबीसी ने बताया कि सोशल मीडिया के अविश्वसनीयता के दौर में – दुनिया के सबसे अमीर आदमी को एक विशेष ‘केवल एक आमंत्रण ’ ऐप पर दिखाया गया था , और शो बहुत अधिक ट्रेंड करने लगा।

द गुड टाइम शो, जो तब से अन्य प्लेटफार्मों पर चला गया है, अमेरिका में बेहद लोकप्रिय है। पॉडकास्ट जो इंटरनेट संस्कृति, राजनीति और सिलिकॉन वैली में नवीनतम घटनाओं की अतिव्यापी दुनिया में एक झलक पेश करता है, इसमें कृष्णन और राममूर्ति जाने पहचाने नाम है। कंपनी की वेबसाइट के अनुसार, ए16जेड के सह-संस्थापक, मार्क एंड्रीसेन का कहना है कि कृष्णन ‘शायद दुनिया के एकमात्र व्यक्ति हैं जिन्होंने हमारे समय के तीन सबसे बड़े सोशल प्लेटफार्मों में वरिष्ठ उत्पाद पदों पर काम किया है।’ इस 37 वर्षीय व्यक्ति ने ट्विटर के अलावा माइक्रोसॉफ्ट, याहू, स्नैप और फेसबुक में भी काम किया है।

राममूर्ति ने अपनी दो कंपनियां शुरू करने से पहले फेसबुक और नेटफ्लिक्स में काम किया है। दोनो को मिलाकर , उन्हें एक अच्छी तरह से जुड़े ‘तकनीकी शक्ति युगल’ के रूप में वर्णित किया गया है। कृष्णन का जन्म चेन्नई में एक मध्यम आय वाले परिवार में हुआ था। उन्होंने यूट्यूब चैनल को बताया था कि उनका जीवन उस समय बदल गया जब उन्होंने 1990 के दशक के अंत में अपने पिता को एक कंप्यूटर खरीदने के लिए मना लिया। उन्होंने चैनल को 2021 के साक्षात्कार में बताया, “इसकी कीमत लगभग 60,000-70,000 रुपये थी, जो मेरे पिता के वेतन का एक बड़ा हिस्सा था। मैंने उनसे कहा कि मैं इसे अपनी पढ़ाई के लिए इस्तेमाल करूंगा।”

पर उसके पास अभी भी इंटरनेट नहीं था क्योंकि डायल-अप कनेक्शन महंगा था। इसलिए वह खुद को मूल बातें सिखाने और हर रात अभ्यास करने के बजाय कोडिंग किताबें खरीदता था। 2002 में अन्ना विश्वविद्यालय, चेन्नई में इंजीनियरिंग की पढ़ाई के दौरान कृष्णन राममूर्ति से ऑनलाइन मिले। कृष्णन ने साक्षात्कार में कहा, “हमारी पहली डेट में से एक 1999 की सिलिकॉन वैली फिल्म की बिट-टोरेंट कॉपी को अपने छोटे से कमरे में देखने के दौरान थी।” उनका बड़ा ब्रेक कुछ महीने बाद आया जब माइक्रोसॉफ्ट पर कृष्णन के ब्लॉग पोस्ट में से एक को कंपनी के एक कार्यकारी ने देखा, जिसने 2005 में इस युगल को काम पर रखा।

वर्ष 2007 में, कृष्णन अमेरिका चले गए और राममूर्ति छह महीने बाद उनके साथ आ गयी। माइक्रोसॉफ्ट में काम करने के बाद यह जोड़ी दूसरी बड़ी टेक कंपनियों में चली गई। उन्हें 2017 में अमेरिकी नागरिकता मिली थी। कृष्णन ने अतीत में समझाया कि पिछले दिसंबर में उन्होंने पॉडकास्टर्स के रूप में अपना करियर शुरू किया। इसलिए उन्होंने महामारी के दौरान तकनीकी स्थान के बारे में बातचीत करने के लिएलोक प्रिय हुए क्लब हाउस में जाने का फैसला किया।

बीबीसी ने कहा कि यह साक्षात्कार विश्लेषण और विशेषज्ञों के साथ स्पष्ट प्रतिक्रिया के साथ तैयार किया गया है ,जिसमें फेसबुक के सह-संस्थापक मार्क जुकरबर्ग भी शामिल हैं। कृष्णन अतीत में मस्क के खुले प्रशंसक रहे हैं, उन्होंने उन्हें ‘प्रेरणादायक व्यक्ति और एक प्रतिष्ठित संस्थापक’ के रूप में वर्णित किया है। उन्होंने ट्विटर के लिए मस्क के दृष्टिकोण का भी खुलकर समर्थन किया है और माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट पर डी-प्लेटफ़ॉर्मिंग जैसी प्रथाओं की आलोचना की है।

उन्होंने पिछले महीने ट्विटर पर लिखा था, “अतिरिक्त न्यायिक इंटरनेट पुलिस जो आपके प्लेटफॉर्म पर प्रवर्तन की ओर ले जाती है, वह डायस्टोपियन अधिनायकवाद का मार्ग है।” बीबीसी की रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐसी अटकलें हैं कि मस्क ने कृष्णन ( एक क्रिप्टोकरेंसी विशेषज्ञ ) को अपने बिटकॉइन को ट्विटर के साथ एकीकृत करने के लिए मंच पर ले लिया होगा।

मनोरंजन: फिल्म 'महादेव का गोरखपुर' की शूटिंग शुरू 

मनोरंजन: फिल्म 'महादेव का गोरखपुर' की शूटिंग शुरू 

कविता गर्ग 

मुंबई। भोजपुरी सिनेमा के मेगा स्टार और सांसद रवि किशन ने अपनी पैन इंडिया फिल्म 'महादेव का गोरखपुर' की शूटिंग शुरू कर दी है। रवि किशन एक पैन इंडिया फिल्म महादेव का गोरखपुर लेकर आ रहे हैं। रवि किशन ने इस फिल्म का मोशन पोस्टर रिलीज किया।

छह भाषाओं में फिल्म होगी रिलीज
पोस्टर पर रवि साधु के गेटअप में हाथ में त्रिशूल थामे नजर आ रहे हैं। पास में नंदी को दिखाया गया है। पृष्ठभूमि में भगवान शंकर की मुखाकृति नजर आ रही है। महादेव का गोरखपुर का निर्देशन राजेश मोहनन कर रहे हैं। यह फिल्म भोजपुरी,हिंदी ,तमिल, तेलुगु, मलयालम और कन्नड़ भाषाओं में 2023 में रिलीज होगी।

मोशन पोस्टर शेयर
रवि किशन ने इंस्टाग्राम पर मोशन पोस्टर शेयर कर लिखा कि भोजपुरी से अपनी पहली पैन इंडिया फिल्म, जो 6 भाषाओं में रिलीज होगी, फर्स्ट लुक मोशन पोस्टर शेयर करके बहुत प्रसन्नता हो रही है। आपका सपोर्ट और आशीर्वाद चाहिए। हर हर महादेव। फिल्म महादेव का गोरखपुर में रवि किशन, प्रमोद पाठक , लाल, राजश्री पोनप्पा , किशोर ,मानसी सहगल, सुशील सिंह, विनीत विशाल, रविशंकर खरे की अहम भूमिका है। निर्माता प्रीतेश शाह और सलिल शंकरन हैं। फिल्म की कहानी सनारायन ने लिखी है। डीओपी अरविंद सिंह एवं फिल्म में संगीत अगम अग्रवाल ने दिया है।

हेल्दी मॉकटेल को अपनी लाइफस्टाइल में शामिल करें

हेल्दी मॉकटेल को अपनी लाइफस्टाइल में शामिल करें

सरस्वती उपाध्याय 

लोगों में स्ट्रेस और नींद न आने की समस्या बढ़ गई है। ऐसे में शराब की लत छोड़कर आप हेल्दी मॉकटेल भी अपनी लाइफस्टाइल में शामिल कर सकते हैं। ये बहुत इजी है और आप इस तरीके से बनाएंगे तो घर पर ही आपको बिल्कुल रेस्टोरेंट जैसा टेस्ट मिलेगा।

सामग्री 1 गिलास मॉकटेल बनाने के लिए
सोडा- आधा कप
कुटी हुई बर्फ- आधा कप
अनार का रस- आधा कप
नींबू का रस- 1 चम्मच
चीनी- डेढ़ चम्मच

सजावट के लिए सामग्री
स्ट्रॉ
पेपर की छतरी
अनार के दाने
नींबू या संतरे की स्लाइस

रेसिपी
गिलास में सबसे पहले कुटी हुई बर्फ डालिए, इसमें अब चीनी डालिए उसके बाद आधा कप सोडा डालिए, इसमें अब अनार का रस और नींबू का रस मिलाइए। अब इसमें ऊपर से कुछ अनार दाने डालिए, गिलास में ऊपर नींबू या संतरे की स्लाइस लगाइए, स्ट्रॉ डालिए और पेपर की छतरी से सजाकर सर्व करिए।

राजनीति, चापलूसों से घिरे हुए हैं अखिलेश: यादव 

राजनीति, चापलूसों से घिरे हुए हैं अखिलेश: यादव 

संदीप मिश्र 

लखनऊ/गोरखपुर। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने एक बार फिर समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव पर हमला बोला है। उन्होंने यहां आयोजित एक निजी कार्यक्रम में कहा कि अखिलेश यादव चापलूसों से घिरे हुए हैं। उन्होंने कहा कि हम और हमारी पार्टी ही असली समाजवादी पार्टी है। इसलिए समाजवाद पर भरोसा रखने वाले लोग हमारे साथ हैं।

गौरतलब है कि मैनपुरी लोकसभा चुनाव को लेकर शिवपाल काफी आशान्वित थे। उन्हें लग रहा था कि चुनाव में उनकी पार्टी को समाजवादी पार्टी में शामिल कर अखिलेश यादव उन्हें मैनपुरी चुनाव में उतारेंगे। लेकिन ऐसा अभी तक नहीं हुआ है। कयास लगाए जा रहे हैं कि समाजवादी पार्टी से तेज प्रताप यादव को मैनपुरी का टिकट मिल सकता है। शिवपाल यादव के इस बयान से चाचा-भतीजे के बीच में सब कुछ ठीक नहीं होने के साफ़ संकेत मिल रहे हैं। इसका असर आने वाले समय में उपचुनावों में भी देखने को मिल सकता है।

स्कूली शिक्षकों के 8,000 खाली पदों को समाप्त करेंगे 

स्कूली शिक्षकों के 8,000 खाली पदों को समाप्त करेंगे 

इकबाल अंसारी 

गुवाहाटी। असम सरकार ने मंगलवार को कहा कि वह प्राथमिक शिक्षा विभाग के तहत स्कूली शिक्षकों के 8,000 खाली पदों को समाप्त करेगी। क्योंकि सर्व शिक्षा अभियान के तहत पहले ही बड़ी संख्या में संविदा शिक्षक काम कर रहे हैं।

शिक्षा मंत्री रनोज पेगू ने कहा कि राज्य सरकार ने 2020 में निम्न प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में सर्व शिक्षा अभियान के तहत काम कर रहे 11,206 संविदा शिक्षकों को नियमित वेतनमान और अन्य लाभ की पेशकश की थी। उन्होंने फेसबुक पर एक पोस्ट में लिखा कि भविष्य में आवश्यकता पड़ने पर राज्य सरकार पद सृजित कर सकती है।

553वें 'प्रकाश' पर्व पर बड़ी संख्या में उमड़े श्रद्धालु 

553वें 'प्रकाश' पर्व पर बड़ी संख्या में उमड़े श्रद्धालु 

राणा ओबरॉय/अमित शर्मा 

चंडीगढ़। सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव के 553वें प्रकाश पर्व के मौके पर मंगलवार को पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के गुरुद्वारों में बड़ी संख्या में श्रद्धालु उमड़े। श्रद्धालु अमृतसर में स्वर्ण मंदिर, कपूरथला में सुल्तानपुर लोधी और हरियाणा के पंचकुला में नाडा साहिब सहित अन्य धार्मिक स्थलों पर मत्था टेकने पहुंचे।

पंजाब के प्रमुख शहरों- लुधियाना, जालंधर, बठिंडा, मोहाली और आनंदपुर साहिब में गुरुद्वारों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। हरियाणा में, कुरुक्षेत्र, अंबाला, सिरसा, करनाल और यमुनानगर के गुरुद्वारों में भी गुरुपर्व पर भारी भीड़ देखी गई। इस अवसर पर गुरुद्वारों को शानदार ढंग से सजाया गया था और विभिन्न धर्मों के लोग भी गुरुद्वारों में समारोह को देखने के लिए कतार में खड़े थे। उन्होंने प्रार्थना भी की और शबद कीर्तन सुना।

पहले सिख गुरु का जन्म 1469 में आज के दिन वर्तमान पाकिस्तान में लाहौर के पास ननकाना साहिब में हुआ था। श्रद्धालुओं ने सुल्तानपुर लोधी में ऐतिहासिक गुरुद्वारा बेर साहिब में भी पूजा-अर्चना की। माना जाता है कि गुरु नानक देव 14 साल से अधिक समय तक सुल्तानपुर लोधी में रहे और काली बेईं में स्नान करने के बाद उन्हें ज्ञान प्राप्त हुआ।

पहले सिख गुरु बेर के पेड़ के नीचे ध्यान किया करते थे। इस अवसर पर गुरुद्वारों में अखंड पाठ (गुरु ग्रंथ साहिब का निरंतर पाठ) का भोग समारोह आयोजित किया गया। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आनंदपुर साहिब स्थित गुरुद्वारा केसगढ़ साहिब में मत्था टेका।

छात्रों को गणित, विज्ञान और अन्य विषय पढ़ाए जाएंगे

छात्रों को गणित, विज्ञान और अन्य विषय पढ़ाए जाएंगे

संदीप मिश्र 

लखनऊ/वाराणसी। यूपी के मंत्री धर्मपाल सिंह ने मंगलवार को कहा कि पीएम मोदी के संकल्प के अनुरूप राज्य में मदरसा के छात्रों को गणित, विज्ञान और अन्य विषय पढ़ाए जाएंगे, ताकि वे अधिकारी बन सकें। पत्रकारों से बातचीत में प्रदेश के पशुधन एवं दुग्ध विकास, राजनीतिक पेंशन, अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ एवं हज तथा नागरिक सुरक्षा मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के संकल्प के अनुरूप मुख्यमंत्री योगी उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बना रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री मोदी की मंशा अल्पसंख्यक छात्रों के ‘एक हाथ में कुरान तो दूसरे में लैपटॉप हो’ के अनुरूप मदरसों में पढ़ने वाले अल्पसंख्यक बच्चों को अब हिंदी, गणित, विज्ञान व सामाजिक विज्ञान आदि विषयों की शिक्षा दी जाएगी। जिससे वे मात्र दीन (धर्म) की पढ़ाई कर मौलवी न बनकर अब आईएएस, पीसीएस, इंजीनियर और डॉक्टर बने।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अब हुजूर (अधिकारी) के बच्चे ही हुजूर नहीं, बल्कि मजदूर के बच्चे भी हुजूर बनेंगे।’’ सिंह मंगलवार को अपने वाराणसी दौरे के दौरान सर्किट हाउस में विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में एक-एक वृहद गोवंश स्थल बनाया जाएगा जिसमें दो से चार हजार गोवंश आश्रय ले सकेंगे।

उन्होंने बताया कि वक्फ बोर्ड के अवैध कब्जे वाली जमीनों को खाली कराकर उस पर स्कूल, अस्पताल और पार्क बनवाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि शासन के निर्देशानुसार जनपद के गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का जनपद स्तरीय त्रिसदस्यीय कमेटी द्वारा सर्वे किया गया, जिसमें गैर मान्यता प्राप्त कुल 99 मदरसे प्रकाश में आये साथ ही जिलाधिकारी वाराणसी के निर्देश के क्रम में जनपद के 108 मान्यता प्राप्त एवं राज्यानुदानित मदरसों का भी सत्यापन किया गया।

मंत्री ने बताया कि राज्यानुदानित मदरसों के शिक्षकों/शिक्षणेत्तर कर्मियों के वेतन आदि का भुगतान नियमित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मदरसा मिनी आईटीआई के अनुदेशकों/कर्मियों को वेतन आदि का भुगतान के तहत जनपद में तीन मदरसों में मिनी आईटीआई योजना संचालित है। उन्होंने कहा कि मदरसा मिनी आईटीआई में कम्प्यूटर ऑपरेटर एण्ड प्रोग्रामिंग असिस्टेंट (कोपा), सिलाई-कटाई, इलेक्ट्रॉनिक्स, इलेक्ट्रीशियन, रेफ्रिजरेशन एवं एयर कन्डिशनिंग आदि विषयों से जुड़ा प्रशिक्षण दिया जाता है।

खेल: पुरुष एकल वर्ग में छठे पायदान पर पहुंचे सेन

खेल: पुरुष एकल वर्ग में छठे पायदान पर पहुंचे सेन

मोमीन मलिक 

नई दिल्ली/कुआलालंपुर। भारतीय स्टार शटलर लक्ष्य सेन बीडब्ल्यूएफ द्वारा जारी ताजा विश्व रैंकिंग में दो स्थान की छलांग के साथ पुरुष एकल वर्ग में छठे पायदान पर पहुंच गए हैं, जो उनके करियर में अब तक का सर्वश्रेष्ठ है। पिछली जनवरी में इंडिया ओपन बीडब्ल्यूएफ सुपर 500 टूर्नामेंट और मार्च में प्रतिष्ठित ऑल इंग्लैंड ओपन सुपर 1000 टूर्नामेंट में रजत पदक जीतने के बाद सेन ने इस साल की शुरुआत में शीर्ष 10 में अपनी जगह बनाई थी।

बीडब्लूएफ की मंगलवार को जारी पुरूष एकल रैकिंग में किदांबी श्रीकांत 11वें और फार्म में चल रहे एचएस प्रणय 12वें स्थान पर हैं। महिलाओं में पीवी सिंधु एकल वर्ग में पांचवें स्थान पर रही, जबकि सात्विकसाईराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की पुरुष युगल जोड़ी ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ विश्व नंबर सात का रूतबा हासिल किया है। साईराज और चिराग ने फ्रेंच ओपन खिताब जीतने के बाद सुपर 750 टूर्नामेंट जीतने वाली पहली भारतीय युगल टीम बनकर इतिहास रच दिया है।

महिला युगल में, अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी की अनुभवी जोड़ी दुनिया में 21वें नंबर पर बनी हुई है। गायत्री गोपीचंद और त्रेसा जॉली की उभरती युवा जोड़ी पांच पायदान चढ़कर दुनिया की 23वें नंबर की खिलाड़ी बन गई है। मिश्रित युगल में तनीषा क्रास्तो और ईशान भटनागर दो पायदान के फायदे से 28वें स्थान पर पहुंच गए हैं।

महिला प्रोफेसर को ‘अमेजन रिसर्च अवार्ड’ मिला

महिला प्रोफेसर को ‘अमेजन रिसर्च अवार्ड’ मिला

अखिलेश पांडेय/सुनील श्रीवास्तव 

वाशिंगटन डीसी/न्यूयॉर्क। अमेरिका में एक यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस की भारतीय-अमेरिकी महिला प्रोफेसर को नकारात्मक यूजर अनुभवों को कम करने वाला टूल डिजाइन करने के लिए ‘अमेजन रिसर्च अवार्ड’ मिला है। कंसास यूनिवर्सिटी ने एक बयान में कहा कि पवित्रा प्रभाकर अमेजन से पुरस्कार प्राप्त करने वालों में से एक हैं। प्रभाकर वर्तमान में राष्ट्रीय विज्ञान फाउंडेशन में एक कार्यक्रम निदेशक के रूप में कार्यरत हैं और फिलहाल अवकाश पर हैं।

टूल का उपयोग मशीन लर्निंग-आधारित सॉफ्टवेयर सिस्टम के यूजर अनुभव में व्यवधान पैदा करने वाले बदलावों को कम करने के लिए किया जाएगा। क्योंकि उत्पाद को समय के साथ परिष्कृत और नए सिरे से प्रशिक्षित किया जाता है। प्रभाकर ने कहा, ‘‘परियोजना का विस्तृत उद्देश्य यह है कि मशीन लर्निंग आधारित प्रणाली के दो संस्करण समान हैं या अलग इस बारे में वे स्वत: बता पाएं।’’

प्रभाकर ने अर्बाना-कैम्पेन में यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनोइस से कंप्यूटर साइंस में डॉक्टरेट और अप्लायड मैथेमैटिक्स में मास्टर की डिग्री ली है। इसके बाद उन्होंने कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में सेंटर फॉर द मैथेमैटिक्स ऑफ इन्फॉर्मेशन पोस्टडॉक्टरल फेलोशिप की।

अमेरिकी लोकतंत्र की रक्षा के लिए मतदान करें, आग्रह 

अमेरिकी लोकतंत्र की रक्षा के लिए मतदान करें, आग्रह 

डॉक्टर सुभाषचंद्र गहलोत 

वाशिंगटन डीसी। अमेरिकी प्रतिनिधिसभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने कहा कि उनके पति पर क्रूर हमले का उनके मध्यावधि चुनाव के बाद कांग्रेस में बने रहने के फैसले पर असर पड़ेगा। पेलोसी ने अमेरिका के लोगों से आग्रह किया, ‘अमेरिकी लोकतंत्र की रक्षा के लिए मतदान करें।

डेमोक्रेटिक पार्टी की नेता पेलोसी ने ‘सीएनएन’ को दिए साक्षात्कार में पार्टी के सदन में बहुमत खोने पर भविष्य को लेकर अपने मंसूबे स्पष्ट नहीं किए। हालांकि कई लोगों का मानना है कि ऐसी स्थिति में पेलोसी और अन्य पद छोड़ेंगे। पति पर हुए हमले की बात करते हुए पेलोसी की आंखे नम हो गई और उन्होंने कहा, पति के साथ जो हुआ उससे दुखी हूं, साथ ही में देश के लिए भी दुखी हूं। उन्होंने कहा, मैं बस चाहती हूं कि लोग मतदान करें और हम चुनाव के नतीजों का सम्मान करेंगे। उम्मीद करते हैं कि दूसरा पक्ष भी नतीजों का सम्मान करेगा।

कांग्रेस में बने रहने के संबंध में किए सवाल पर पेलोसी ने कहा कि वह सिर्फ इतना कहना चाहेंगी कि उनके पति पर हुए हमले से उनकी सोच बदली है। पेलोसी ने पहले भी कभी अपने भविष्य की रणनीतियों को लेकर सार्वजनिक रूप से चर्चा नहीं की है। पेलोसी ने ‘सीएनएन’ से कहा, पिछले एक दो सप्ताह में जो हुआ उससे मेरा फैसला यकीनन प्रभावित होगा। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सहयोगियों और ट्विटर के नए मालिक एलन मस्क सहित कई शीर्ष रिपब्लिकन नेताओं ने पेलोसी के पति पर हुए हमले का मजाक उड़ाया था।

पेलोसी ने कहा, दुष्प्रचार को रोकने के लिए रिपब्लिकन को कुछ तो संदेश देना होगा। हम चाहते हैं कि देश इस सबसे उबरे।’’ गौरतलब है कि मध्यावधि चुनाव से 11 दिन पहले एक व्यक्ति पेलोसी के घर में जबरन घुस गया और उनके पति पॉल पेलोसी पर हमला किया। आरोपी व्यक्ति ने अधिकारियों को बताया कि वह परिवार के सैन फ्रांसिस्को स्थित घर में घुस गया और पॉल के सिर पर हथौड़े से वार करने से पहले पेलोसी को ढूंढ रहा था। पॉल को इलाज के बाद गत बृहस्पतिवार को अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी।

चोरी: हास्य अभिनेता दास के खिलाफ मामला दर्ज 

चोरी: हास्य अभिनेता दास के खिलाफ मामला दर्ज 

कविता गर्ग 

मुंबई। मुंबई पुलिस ने हास्य अभिनेता वीर दास के खिलाफ सहमति के बावजूद कथित तौर पर सामग्री चोरी करने को लेकर मामला दर्ज किया है। दास के खिलाफ अश्विन गिडवानी प्रोडक्शन प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक एवं निर्माता अश्विन गिडवानी की शिकायत पर मुंबई के कफ पारेड थाने में मामला दर्ज हुआ है।

प्रोडक्शन हाउस ने आरोप लगाया है कि दास ने संयुक्त रूप से बनाई गई एक स्क्रिप्ट से 12 चुटकुले चुराए हैं। एक अधिकारी ने बताया कि दास के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के बाद उन्होंने ‘दिल्ली बेली’ के अभिनेता से संपर्क किया और उनका पक्ष जानना चाहा, लेकिन अभी तक उनसे सम्पर्क नहीं हो पाया है। अधिकारी ने बताया कि प्राथमिकी कॉपीराइट अधिनियम 1957 के तहत दर्ज की गयी है। हम मामले की जांच कर रहे हैं।

विश्व दिवस के रूप में नामित 18 नवंबर, प्रस्ताव 

विश्व दिवस के रूप में नामित 18 नवंबर, प्रस्ताव 

अखिलेश पांडेय 

वाशिंगटन डीसी। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने बाल यौन शोषण, दुर्व्यवहार और हिंसा की रोकथाम और उपचार के लिए हर साल 18 नवंबर को विश्व दिवस के रूप में नामित करने के लिए एक प्रस्ताव अपनाया है। प्रस्ताव सभी सदस्य देशों, संयुक्त राष्ट्र प्रणाली के प्रासंगिक संगठनों और अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठनों, विश्व नेताओं, विश्वास अभिनेताओं, नागरिक समाज और अन्य प्रासंगिक हितधारकों को प्रत्येक वर्ष इस विश्व दिवस को इस तरह से मनाने के लिए आमंत्रित करता है जिसे वह इसके लिए सबसे उपयुक्त मानते हो। 

यह बाल यौन शोषण से प्रभावित लोगों के बारे में जन जागरूकता बढ़ाने और बाल यौन शोषण, दुर्व्यवहार और हिंसा को रोकने और समाप्त करने की आवश्यकता और अपराधियों को जवाबदेह ठहराने की अनिवार्यता को प्रोत्साहित करता है।

उत्तरजीवियों और पीड़ितों की न्याय और उपचार तक पहुंच सुनिश्चित करना, साथ ही उनके कलंक को रोकने और समाप्त करने, उनके उपचार को बढ़ावा देने, उनकी गरिमा की पुष्टि करने और उनके अधिकारों की रक्षा करने की आवश्यकता पर खुली चर्चा की सुविधा प्रदान करना।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-394, (वर्ष-05)

2. बुधवार, नवंबर 9, 2022

3. शक-1944, मार्गशीर्ष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 07:02, सूर्यास्त: 05:36। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 22 डी.सै., अधिकतम-33+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया महाप्रबन्धक श्री सतीश कुमार ने किया निरंजन पुल का निरीक्षण अधिकारियों के ...