रविवार, 26 जुलाई 2020

रक्षा और सुरक्षा को लेकर सभी परेशान

बिजिंग। साउथ चाइना सी के मुद्दे पर चीन और अमेरिका के बीच विवाद गहराता जा रहा है। चीन और अमेरिका के बीच हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। चीन चारों तरफ से घिर चुका है। चीन को घेरने की सबसे बड़ी तैयारी समंदर में की जा रही है। यही वजह है कि अब चीन भी अपनी तरफ से अमेरिका समेत ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया का सामना करने की तैयारी कर रहा है।


अमेरिका के विदेश मंत्री माइ​क पोम्पियो ने चीन को लेकर बड़ा बयान दिया है। पोम्पियो ने ट्वीट कर कहा,  'दक्षिण चीन सागर चीन का समुद्री साम्राज्य नहीं है और अब स्वतंत्र राष्ट्रों को एक साथ आना होगा। दरअसल, कोरोना से शुरुआत हुई चीन-अमेरिका की कोल्डवॉर अब ऐसे मोड़ पर आ चुकी है जहां दोनों देशों के बीच हालात युद्ध जैसे हो चुके हैं। अमेरिका तैयारी कर चुका है। देशों के साथ सहयोग हो या फिर युद्धपोत की तैनाती या कॉन्सुलेट बंद करने का ऐलान, चीन की घेराबंदी चारों तरफ से है।             


सीएम शिवांशु 'निर्भयपुत्र'


डरः रूस बिट्रेन पर हमला न कर दें

लंदन। ब्रिटेन में सरकारी अधिकारियों को डर है कि रूस कहीं ब्रिटेन पर स्पेस से हमला न कर दे। दरअसल, रूस ने एक ऐंटी-सैटालाइट हथियार लॉन्च किया है। इसके बाद कॉमन डिफेंस कमिटी के चेयरमैन टोबियस एलवुड ने चेतावनी दी है कि अगर रूस को स्पेस में हथियार बनाने की इजाजत मिलती है तो जीपीएस सिस्टम्स को खतरा हो सकता है। अमेरिकी सेना के स्‍पेस कमान ने बताया था कि अंतरिक्ष में चक्‍कर लगा रहे रूस के सैटलाइट कॉसमॉस 2542 पर 15 जुलाई को उसके अपने ही सैटलाइट कॉसमॉस 2543 ने मिसाइल हमला किया है।
ठप हो जाएगा नैविगेशन
एलवुड ने सरकार से ऐसे खतरे से बचाने के लिए कदम उठाने की अपील की है। उन्होंने चिंता जताई है कि इससे कम्यूनिकेशन और नैविगेशन सिस्टम्स हमले का शिकार हो सकते हैं। एलवुड ने टेलिग्राफ से बताया है, 'हमारी जिंदगी का हर पहलू जीपीएस पर निर्भर है। पेमेंट सिस्टम, कृषि, मशीनरी, मॉडर्न इंडस्ट्रीज और डिफेंस। जीपीएस में नुकसान से नैविगेशन ठप हो जाएगा।' चिंता जताई जा रही है कि इस हथियार से पश्चिमी सैटलाइट्स को नुकसान हो सकता है।           


ब्राजील में कोरोना के 55,891 नए केस

ब्रासीलिया। ब्राजील में कोरोना वायरस के 55,891 नए मामले सामने आए थे और 1,150 लोगों की मौत हो गई थी। एक हफ्ते में यहां कोरोना वायरस से आठ हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। एक हफ्ते पहले यहां मृतकों की संख्या 78 हजार 700 थी। 


बता दें कि दुनियाभर में कोरोना के एक करोड़ 60 लाख 63 हजार से ज्यादा मामले सामने आ गए। वहीं छह लाख 43 हजार लोगों की मौत हो गई। अमेरिका इससे सबसे ज्यादा 41 लाख 94 हजार से ज्यादा मामले सामने आ गए हैं। एक लाख 46 हजार लोगों की मौत हो गई। वहीं भारत में 13 लाख से ज्यादा मामले सामने आ गए हैं और 31 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। रूस में अभी तक आठ लाख से ज्यादा मामलों की पुष्टि हो गई है और 13 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है।


अमेरिकाः 24 घंटे में 77,217 नए केस

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका ने संक्रमण के मामलों में अपना ही रिकार्ड तोड़ते हुए पिछले 24 घंटों में 77,217 नए मामले दर्ज किए हैं। यह महामारी फैलने के बाद से अब तक यहां एक दिन में सबसे ज्यादा मामले हैं। 10 जुलाई को यहां 68 हजार मामले सामने आए थे। यहां सबसे ज्यादा प्रभावित न्यूयॉर्क है जहां 4,31,380 संक्रमित मिले हैं।


टेक्सास और एरिजोना में शवों को रखने की जगह तक खत्म होने के कारण उन्हें दफनाने के लिए बाहर भेजा जा रहा है। दूसरी तरफ, ब्राजील में अधिकारियों ने कहा है कि कई जगह ताबूतों की कमी हो रही है क्योंकि मृतकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। अमेजन के वर्षावनों में इसे काबू करना कठिन हो रहा है। देश में जहां संक्रमितों का आंकड़ा 20 लाख पार हो चुका है वहीं 76,000 से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं।
अमेरिका के बाद भारत में सबसे अधिक जांच
व्हाइट हाउस के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण का पता लगाने के लिए सबसे ज्यादा नमूनों की जांच अमेरिका के बाद भारत ने की हैं। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कायले मैकनेनी ने बृहस्पतिवार को बताया कि कोरोना वायरस की जांच के लिए हमने 4.2 करोड़ से अधिक नमूनों की जांच की है। इसके बाद भारत में सर्वाधिक 1.2 करोड़ नमूनों की जांच हुई है। जांच के मामले में हम पूरे विश्व में पहले नंबर पर हैं।
भारत-अमेरिका मिलकर कर रहे सहयोग
अमेरिका में नियुक्त भारत के राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने कहा कि भारत और अमेरिका कोरोना वायरस के खिलाफ मिलकर सहयोग कर रहे हैं। इसके साथ ही दोनों देश मिलकर कोविड-19 टीका भी विकसित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य, जीवन विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच साझेदारी का लाभ पूरे विश्व को मिलेगा।           


पाकः संक्रमित संख्या 2.59 लाख पार

पाकिस्तान: संक्रमण के मामले 2.59 लाख पार


नई दिल्ली। पाकिस्तान में पिछले 24 घंटों में 2,085 से अधिक नए मामले सामने आने पर शुक्रवार को देश में संक्रमितों का आंकड़ा 2,59,999 तक पहुंच गया। पिछले 24 घंटों में 49 मरीजों की मौत के साथ ही देश में मरने वाले लोगों की कुल संख्या 5,475 हो गई है। अधिकृत जानकारी के मुताबिक, देश में 1,895 लोग अभी भी गंभीर स्थिति में हैं।


मेक्सिको: 37 हजार से ज्यादा मौतें
देश में एक दिन के भीतर 6,406 नए मामले दर्ज हुए हैं। साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण से 668 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। देश में संक्रमण के कुल 3.24 लाख से ज्यादा मामलों के साथ ही 37,500 से ज्यादा मौतें हुईं हैं।             


5.93 लाख की मौत, 1.29 करोड संक्रमित

विश्व में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1.39 करोड़ पार हो गया है। मृतकों की संख्या भी 5.93 लाख से ज्यादा हो गई है। अमेरिका और ब्राजील सर्वाधिक प्रभावित हैं। अमेरिका में जहां एक दिन में 77,000 संक्रमित पाए गए है। वहीं इस दौरान 969 लोगों की मौत भी हुई है। ब्राजील में हर दिन 1,000 से ज्यादा की मौत हो रही है। यहां अधिकारियों ने कहा है कि ताबूतों की कमी पड़ रही है।               


9 जुआरियों पर गिरी गाज, नगदी बरामद

अतुल त्यागी


नौ जुआरियों पर बहादुरगढ़ पुलिस की गिरी गाज ताश के पत्ते सहित नगदी बरामद


हापुड़। बहादुरगढ़ पुलिस ने नौ जुआरी दबोचकर थाना प्रभारी नीरज कुमार ने कार्यवाही की। जुआ की सूचना अनुसार बहादुरगढ चौकी प्रभारी अमित कुमार ने पुलिस टीम के साथ जब क्षेत्रांतर्गत गांव सेहल में छापा मारा तो जुआ खेलते 9 जुआरियों को हिरासत में लिया जिनके पास से ताश के पत्ते और 2 हजार 2 सौ 20 रुपये बरामद किए। थाना बहादुरगढ़ प्रभारी नीरज कुमार ने बताया कि जुआरियों को गिरफ्तार कर कार्यवाही की गई है।


पत्रकार की शहादत पर श्रद्धांजलि अर्पित की

अतुल त्यागी


पत्रकार की निर्मल हत्या पर राष्ट्रीय सैनिक संस्था के पदाधिकारियों ने श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर सरकार से चौथे स्तंभ के विषय के अंदर सोचने की बात रखी। तथा ठोस ठोस कदम उठाने की बात मांग पत्र के द्वारा भेजी गई।


हापुड़। समाज के चौथे स्तंभ पत्रकारिता पर अपराधियों का टूट रहा है तांडव यानी पत्रकार विक्रम जोशी की निर्मल हत्या पर पूर्व सैनिकों ने श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर 26 जुलाई 2020 को गढ़मुक्तेश्वर के सिंभावली के चौधरी फार्म हाउस में किया श्रद्धांजलि सभा में गाजियाबाद के पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या प्रदेश सरकार पर उठाती है। सवाल और निशान चौथा स्तंभ पत्रकारिता समाज का वह चौथा स्तंभ है जो कार्यपालिका न्यायपालिका और व्यवस्था पालिका पर भी नजर रख कर समाज के हर पहलू को सारे देश दुनिया में प्रकाशित करता है तथा सभी के साथ रहता है सच लिखने पर आतंकी और भ्रष्टाचारी लोगों की नजरों में वह दुश्मनी चमकती है मगर वह सच्चाई सामने लाता है जो कलम का इस्तेमाल करता है। उसकी हकीकत बयां करता है और यही वजह है जिसके कारण पत्रकार कलमकार विक्रम जोशी की हत्या की गई संस्था के पदाधिकारियों ने प्रदेश के मुखिया माननीय मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जी योगी जी को मांग पत्र भेजकर पत्रकार की हत्या करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की तथा आर्थिक सहायता और पत्रकार को सुरक्षा प्रदान की जाने की बात रखी इस सभा में श्रद्धांजलि देने वाले चौधरी मनवीर सिंह, उपाध्यक्ष पश्चिम मध्य प्रदेश राष्ट्रीय सैनिक संस्था के कैप्टन राजेश, प्रवक्ता आशीष चौधरी, श्रीमती राजेश, प्रीति, अनीता ,कुसुम, विजेंद्र, विनोद ,अमित विजये आदि मौजूद रहे।              


शहीद को फूल अर्जित कर दी श्रद्धांजलि

अतुल त्यागी, मुकेश सैन


शहीद सतपाल की प्रतिमा पर माला अर्पण कर राष्ट्रीय सैनिक संस्था के पदाधिकारी और पूर्व सैनिकों ने दी सलामी


हापुड़। शहीद सतपाल के प्रतिमा पर माल्यार्पण कर राष्ट्रीय सैनिक संस्था के पदाधिकारियों पूर्व सैनिकों ने दी सलामी, 26 जुलाई का दिन कारगिल विजय दिवस के रूप में पूरे देश भर में शहीदों को सम्मान देने के रूप में मनाया जाता है, दुश्मनों से जंग में देश के जवानों ने शहादत की थी जिस मैं जनपद हापुड़ के तहसील गढ़मुक्तेश्वर स्थित गांव लुहारी निवासी चौधरी सतपाल ने भी जंग के अंदर की थी जंगे मैदानी दुश्मनों से लोहा लेने में देश के प्रति त्याग दिए थे प्राण मगर दुश्मनों के किए थे दांत खट्टे दिया था मुंहतोड़ जवाब, शहीद सतपाल सिंह का देश के लिए बलिदान होने पर जहां क्षेत्र भर की आंखें रोए वहीं परिवार ने सपूत खोने के बाद बेटे का देश पर बलिदान पर गर्व महसूस किया जिस के बाद शहीद सतपाल की प्रतिमा पर गांव में स्थित किया माला अर्पण, आज 26 जुलाई 2020 को राष्ट्रीय सैनिक संस्था के अधिकारी पूर्व सैनिकों ने गांव लुहारी पहुंच कर शहीद सतपाल सिंह की प्रतिमा पर की माला अर्पण सभी की आंखें नम दी सलामी, जिसके बाद चौधरी मनवीर सिंह पूर्व सैनिक ने ग्राम प्रधान लुहारी अय्यूब अली ने कहा कि डहरा कुटी वैट रोड पर लुहारी मोड पर एक बोर्ड सहित सतपाल मार्ग नाम से स्थापित कराया जाए जिससे के लिए ग्राम प्रधान ने इसे हर्ष स्वीकार कर कार्य अंजाम का वादा किया, इस अवसर पर कैप्टन राजेश, कपिल देव, हवलदार जयप्रकाश, ब्रह्मपाल दफेदार, नरेंद्र सिंह ,हनी चौधरी ,कृपाल चौधरी, आशीष शर्मा ने भी माला अर्पण कर दी शहीद सतपाल सिंह को सलामी।


संकट में रेलवे ने खर्चों में कटौती की

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने कोरोना संकट के बीच खर्चों में कटौती के मद्देनजर गोपनीय दस्तावेजों के लिए इस्तेमाल होने वाली डाक संदेशवाहक सेवा को बंद करने का निर्णय किया है। 
रेलवे बोर्ड के संयुक्त सचिव बी मजूमदार ने डाक संदेशवाहक सेवा के स्थान पर वीडियो कांफ्रेंस के इस्तेमाल की सलाह दी है। उन्होंने सभी रेलवे जोन के महाप्रबंधकों को इस संबंध में 24 जुलाई को एक पत्र भी भेजा है। पत्र में स्थापना से संबंधित व्यय पर लागत को कम करने और बचत बढ़ाने के उपाय के रूप में, बोर्ड ने चाहा है कि रेलवे पीएसयू और रेलवे बोर्ड के अधिकारियों के बीच सभी चर्चाएं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये होनी चाहिए। निजी संदेशवाहक या डाक संदेशवाहक की व्यवस्था को तुरंत रोका जाना चाहिए। पत्र में कहा गया है कि इन तमाम उपायों का अनुपालन सुनिश्चित किया जाना चाहिए, क्योंकि इससे भत्ते, स्टेशनरी, फैक्स आदि के खर्चे में महत्वपूर्ण बचत होगी।
उल्लेखनीय है कि अब तक रेलवे के गोपनीय दस्तावेजों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाने के लिए डाक संदेशवाहक का सहयोग लिया जाता था। इंटरनेट क्रांति के इस डिजिटल युग में अब वीडियो कॉन्फ्रेंस और ईमेल आदि के माध्यम से संवाद बेहद सुगम और तीव्र हो गया है। इससे ना केवल समय की बचत होती है बल्कि अनावश्यक खर्चों में भी कटौती होती है। इसी को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने यह कदम उठाया है।           


पीएम के एजेंडे में रक्षा सर्वोपरिः नड्डा

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार के एजेंडे में रक्षा का विषय सर्वोपरि रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का फौज के प्रति काफी लगाव है। उनकी हर दीवाली फौज के जवानों के साथ बॉर्डर पर मनती है। इसके पीछे ये संदेश रहता है कि त्योहारों पर भी जो देश की सीमाओं की रक्षा कर रहे हैं, उनके साथ देश का प्रधानमंत्री खड़ा है। 
भाजपा मुख्यालय में ‘कारगिल विजय दिवस’ के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा कि लद्दाख स्टैंड ऑफ में भी प्रधानमंत्री खुद गए थे, उन्होंने बैठकें भी कीं, जवानों का हालचाल भी पूछा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के एजेंडा में रक्षा का विषय फोकस पर रहा है। नड्डा ने कहा कि पूर्व सैनिकों की वन रैंक-वन पेंशन (ओआरओपी) की मांग को पूरा करने का काम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया। करीब 33,000 करोड़ रुपये देकर उन्होंने सभी भुगतान पूरे कराए। उन्होंने कहा कि 40 वर्ष से ओआरओपी का मामला चल रहा था, लेकिन इसके साथ हमेशा राजनीति हुई।
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पूर्व की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के समय लगभग 72 प्रोजेक्ट देश की सीमाओं के लिए थे लेकिन किसी पर काम नहीं हुआ। आज वो सभी72 प्रोजेक्ट पूरे होने वाले हैं। वर्ष 2008 से लेकर 2014 तक 3,610 किमी सड़कें बनी। जबकि 2014 से 2020 तक 4,764 किमी सड़कें बॉर्डर एरिया में बनाई जा चुकी हैं। नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सत्ता में आने के बाद करीब 36 राफेल और 28 अपाचे विमान मंगाए गए। बुलेट प्रूफ जैकेट आज भारत बना रहा है और एक्सपोर्ट भी कर रहा है। उन्होंने कहा कि हर तरह से चिंता की गई कि फौज को फोकस में रखकर सभी जरूरी कार्य पूरे किए जाएं। 
भाजपा अध्यक्ष ने कारगिल युद्ध के दौरान तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का ज़िक्र करते हुए कहा कि जब कारगिल की लड़ाई फौज बॉर्डर पर लड़ रही थी, तो राजनीतिक नेतृत्व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लड़ाई लड़ रही था। नवाज शरीफ ने बिल क्लिंटन से बीच बचाव का आग्रह किया था। कई संदेश अटल जी के पास आए थे लेकिन अटल जी ने स्पष्ट कहा कि भारत युद्ध विराम तब तक नहीं करेगा, जब तब हम पाकिस्तान को पछाड़कर अपनी सीमाओं को सुरक्षित नहीं कर लेते।             


राष्ट्रपति ने आर्मी हॉस्पिटल को दिया अनुदान

कोरोना से निपटने के लिए खरीदे जाएंगे चिकित्सा उपकरण
नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को विजय दिवस के मौके पर कारगिल युद्ध में बहादुरी से लड़ने और सर्वोच्च बलिदान देने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि के रूप में आर्मी हॉस्पिटल (रिसर्च एंड रेफरल) दिल्ली को 20 लाख रुपये का चेक प्रदान किया। इस राशि को चिकित्सा उपकरण खरीदने पर खर्च किया जाएगा जिससे डॉक्टरों और पैरामेडिक्स को कोविड-19 महामारी का प्रभावी ढंग से मुकाबला करने में मदद मिलेगी। 
राष्ट्रपति सचिवालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक कोरोना के मद्देनजर राष्ट्रपति भवन के खर्चों में कटौती के कारण सेना अस्पताल के लिए राष्ट्रपति का योगदान संभव हुआ है। राष्ट्रपति ने पिछले दिनों राष्ट्रपति भवन के खर्चों में कटौती करने के संबंध में निर्देश जारी किए थे। इस पहल की अगली कड़ी के रूप में उन्होंने अपने लिए एक लिमोज़ीन कार खरीदने के प्रस्ताव को टाल दिया था जिसे औपचारिक अवसरों के लिए इस्तेमाल किया जाना था। सशस्त्र बलों के सुप्रीम कमांडर के रूप में राष्ट्रपति का यह कदम आर्मी अस्पताल के अग्रिम पंक्ति के कोविड वारियर्स का मनोबल बढ़ाएगा। उम्मीद है कि अन्य लोग और संगठन भी इससे प्रेरणा लेकर कोरोना योद्धाओं की सहायता के लिए आगे आएंगे। 
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इससे पहले आज कारगिल युद्ध में विजय की 21 वीं वर्षगांठ के मौके पर युद्ध में अपने प्राणों की बाजी लगाने वाले सैनिकों को नमन किया। उन्होंने एक ट्वीट संदेश में कहा, कारगिल विजय दिवस हमारे सशस्त्र बलों की निडरता, दृढ़ संकल्प और असाधारण वीरता का प्रतीक है। उन्होंने कहा मैं उन सैनिकों को नमन करता हूं जिन्होंने दुश्मन का मुकाबला किया और भारत माता की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। राष्ट्र सदा के लिए उनका और उनके परिवारजनों का कृतज्ञ है। 
उल्लेखनीय है कि आर्मी हॉस्पिटल (रिसर्च एंड रेफरल) भारत के सशस्त्र बलों के लिए शीर्ष चिकित्सा देखभाल केंद्र है। कार्यवाहक कमांडेंट मेजर जनरल शरत चंद्र दास स्वयं ऑपरेशन विजय में शामिल रहे थे, जिसके लिए उन्हें युद्ध सेवा पदक से सम्मानित किया गया था। मौजूदा स्थिति में, इसके डॉक्टर, नर्स और पैरामेडिकल स्टाफ लगातार चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं और अपने स्वयं के जीवन को सबसे अधिक जोखिम में डालकर चिकित्सा देखभाल की उच्चतम गुणवत्ता प्रदान कर रहे हैं।             


संभ्रात लोगों के साथ पीस कमेटी की बैठक

कोतवाली कांट में पीस कमेटी की बैठक हुई संपन्न


शाहजहांपुर। कोतवाली कांट (कोतवाल) के द्वारा पीस कमेटी की बैठक संपन्न की गई! जिसमें कि सभी लोगों को पता होगा बकरीद और सावन मास के समाप्ति और रक्षाबंधन त्यौहार आने वाले हैं, इसी के उपलक्ष में थाना अध्यक्ष और उप निरीक्षक ने बैठक के दौरान वैश्विक महामारी कोरोना को लेकर सचेत रहने की बात कही और बताया बकरीद और रक्षाबंधन त्योहार को मनाते हुए आपसी भाईचारा रखें! जिसमें की संपूर्ण तरीके से शांति के साथ त्यौहार को धूमधाम से मनाएं! बैठक में सभी मुस्लिम समुदाय के सदस्यों को यह भी बताया कि ईद की जो भी कुर्बानी करें, वह खुले में ना करें क्योंकि सावन मास का महीना भी चल रहा है,ताकि किसी भी प्रकार का विवाद उत्पन्न ना हो! त्यौहार को आपसी भाईचारा के साथ मनाया जाए! बकरीद के त्यौहार में ईद की कुर्बानी के पश्चात गंदगी इधर-उधर ना डालें! स्वच्छता का वातावरण बनाए रखने का प्रावधान दिया ! यदि त्यौहार के समय किसी भी प्रकार की समस्या होती है,तो सीधे थाना कांट में संपर्क कर सकता है, पूरी तरीके से पुलिस जनता की सेवा में तत्पर है! सभी को पता है,कोविड-19 के चलते प्रतिदिन अधिक से अधिक मरीजों की संख्या बढ़ रही है, ऐसे में कोई भी घर से बाहर ना निकले यदि बहुत ही अति आवश्यक कार्य है, तभी अपने घरों से बाहर निकले हैं,क्योंकि हम सभी लोगों को कोविड-19 से योद्धा बनकर लड़ना है! ताकि हमारा देश इस महामारी से सुरक्षित हो सके! इस पीस कमेटी की बैठक में कांट के चेयरमैन व कांट नगरवासी मुस्लिम समुदाय के सदस्य तथा पत्रकार जलालुद्दीन,वाहिद अली, शिवम शर्मा गौरव शुक्ला,थानेश्वर आदि तमाम पत्रकार मौजूद रहे!         


बेलगाम भाजपाइयों ने गार्ड को खूब पीटा

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। मुरादनगर में सत्ता के नशे में चूर भाजपाई इस समय बेलगाम हो गए। जिले में आए दिन पदाधिकारी और कार्यकर्ता का नाम किसी न किसी विवाद से जुडा ही मिलता है। लगता है खासकर युवा मोर्चा और विवादों को तो जैसे चोली दामन का साथ है जो छुटने का नाम ही नहीं ले रहा। शनिवार शाम को दिल्ली मेरठ रोड़ के असालतनगर हनुमान मंदिर के पास स्थित सीएनजी पंप पर गार्ड द्वारा मास्क लगाने के लिए टोकने पर भाजयुमों के महानगर उपाध्यक्ष समेत आधा दर्जन लोगों ने गार्ड को दौडा-दौडा कर डंडों से पीटा। इतना ही नहीं उस गार्ड के कपड़े तक फाड दिए। उसके बाद उन्होंने सेल्स मैन के साथ भी मारपीट की। जब ये लोग मारपीट कर रहे थे तो अपने आपको भाजपा नेता बता रहे थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी को मौके ही पकड़ लिया। लेकिन सत्ताधारियों के दवाब में रात तक मामले में टाल मटोल करती रही। वहीं पकडे गए लोगों में से एक पूर्व जिलाध्यक्षक का भांजा भी बताया जा रहा है। उधर वीडियों वायरल होने के बाद रविवार सुबह तीन लोगों की गिरफ्तरी दिखा दी गयी। जबकि बताया जा रहा है कि जब ये मामला हुआ उस वक्त वहा आधा दर्जन के करीब लोग मौजूद थे। पंप मैनेजर महेंद्र सिंह कसाना ने बताया कि शनिवार शाम पंप पर एक कार में कुछ युवक सीएनजी भरवाने आए। उन्होंने मास्क नहीं लगाया हुआ था। गार्ड ने मास्क लगाने को कहा तो कार सवारों ने खुद को भाजपा नेता बताते हुए धमकाना शुरू कर दिया। जब गार्ड ने मास्क लगाने का दबाव डाला तो कार सवारों ने गाली-गलौज करते हुए उससे मारपीट शुरू कर दी। दबंगों ने गार्ड को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। शोर-शराबा सुनकर सेल्समैन नवल बीच-बचाव कराने पहुंचा तो हमलावरों ने उसके साथ भी जमकर मारपीट की। आरोप है कि कार सवार हमलावरों ने फोन करके अपने अन्य साथियों को भी पंप पर बुला लिया। जिसके बाद गार्ड और बीच-बचाव करने गए सेल्समैन के साथ भी मारपीट की। इसके बाद जो सामने आया उसके साथ मारपीट होती गयी। घटना में कई कर्मचारियों के कपड़े भी फट गए। पंप पर मौजूद लोग आपराधिक घटना की आशंका से डर गए और इधर-उधर भागने लगे। इस दौरान घटना की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस पहुंची तो कार सवार युवकों ने उसके सामने भी दबंगई दिखाई और मारपीट की।


पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी। भाजपा नेता का नाम आने के बाद पुलिस भी पूरे मामले पर चुप्पी साध रही थी, लेकिन जैसे ही घटना की वीडियो वायरल हुई तो आनन-फानन में इस मामले में रिपोर्ट दर्ज की गई। थाना प्रभारी निरीक्षक अमित कुमार ने बताया कि मारपीट की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। जिस में मारपीट करने वालों को पकड़ थाने ले आई थी। पंप मैनेजर की शिकायत पर 269, 270, 323, 336, 504 की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली थी। इस मामले में मोनू त्यागी, शुभम त्यागी, गौरव त्यागी निवासी गुलधर को गिरफ्तार किया गया है। एसएचओं का कहना है कि मारपीट करने वालों में भाजपा नेता कौन है इसकी जानकारी उन्हें नहीं है। वही बताया गया है कि सीएनजी पंप पर मारपीट करने वाला मोनू त्यागी भाजपा युवा मोर्चा का उपाध्यक्ष है। जिसने मारपीट करते समय भी कहा था कि हम भाजपा नेता हैं। उसकी यह बातें भी सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई हैं भाजपा नेता की गुंडागर्दी से आम आदमी ही नहीं टोल टैक्स आदि कर्मचारी भी काफी परेशान हैं। आए दिन इस तरह की घटनाएं हो रही हैं लेकिन भाजपा के वरिष्ठ नेता चुप्पी साधे हुए हैं।           


नगर पालिका के द्वारा बेहद सख्त कार्रवाई

यूपी के मुख्य सचिव के निर्देश पर खोड़ा-मकनपुर नगरपालिका परिषद ने की बेहद सख्त कार्रवाई।


नौ अवैध आरओ प्लांट को किया सील, सील से छेड़छाड़ करने पर कठोर कार्रवाई करने की दी नसीहत।


गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर और पूर्वी दिल्ली के भूजल माफियाओं को लगा तगड़ा झटका, मोटे मुनाफे काटने के सपने हुए चकनाचूर।


कार्रवाई के दौरान नगरपालिका कर्मियों से उलझने वाले और पालिका परिषद की सम्पत्तियों को क्षति पहुंचाने वालों पर दर्ज होगी प्राथमिकी।


अशोक कौशिक
गाजियाबाद। खोड़ा-मकनपुर नगरपालिका परिषद के अधिशाषी  अधिकारी कृष्ण कुमार भड़ाना ने नगरपालिका क्षेत्र में एक अरसे से जड़ जमाये बैठे जल माफियाओं की कमर अपने एक ही दिन के अभियान में तोड़ दी है। इससे नोएडा, गाजियाबाद और दिल्ली में सक्रिय पेयजल के अवैध सप्लायरों के चेहरे पर भी मातम छा गया है। ईओ के के भड़ाना ने दो टूक शब्दों में चेताया है कि “नगरपालिका क्षेत्र में सक्रिय जल माफियाओं की भलाई इसी में है कि वे एक अरसे से जारी अपने अवैध धंधे बन्द कर दें, अन्यथा नगरपालिका उनके तमाम जलापूर्ति नेटवर्क्स को नेस्तनाबूत करते हुए यदि जरूरत पड़ी तो ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की शुरू करने में नहीं हिचकिचायेगी।” खबर है कि ईओ श्री भड़ाना के इस ऐलान के बाद दो राज्यों के तीन जिलों में सक्रिय भू-जल दोहन करने वाले जल माफियाओं में हड़कम्प मच गया है। ईओ श्री भड़ाना ने बताया कि खोड़ा-मकनपुर नगरपालिका परिषद, गाजियाबाद की  सीमा पड़ोसी जनपद गौतमबुद्ध नगर के साथ साथ पड़ोसी राज्य और देश की राजधानी दिल्ली के पूर्वी जिला से लगती है। जिसका फायदा उठाते हुए जल माफिया दोनों राज्यों के तीनों जिलों में करते हैं। दिल्ली-एनसीआर के छोटे-बड़े सभी ठिकानों पर इनका बाजार इसलिये बन जाता है, क्योंकि ये सस्ता आपूर्ति करके बिसलेरी जैसी दिग्गज कम्पनी को भी अच्छी टक्कर दे देते हैं। खोड़ा में भी पानी की अच्छी खपत होने से इन्हें लोकल बाजार भी प्राप्त है। यही वजह है कि उनकी कार्रवाई से इनकी ही नहीं, इनसे सस्ता जलापूर्ति लेने वालों में भी खलबली मच गई है।


ईओ श्री भड़ाना ने बताया कि मुख्य सचिव, उप्र शासन, लखनऊ द्वारा गत 5 जून एवं 8 जुलाई को भेजे गए दो पत्रों, जिनके द्वारा भूजल के संचयन, संरक्षण एवं संतुलित उपयोग हेतु माह जुलाई में भूजल सप्ताह मनाते हुए विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए गए हैं, जिसके मद्देनजर खोड़ा-मकनपुर नगर पालिका द्वारा गत शुक्रवार से अपनी जोनल टीमों द्वारा प्रातः 10:00 बजे से मौहल्ला दीपक विहार मुख्य मार्ग से कार्रवाई प्रारम्भ करते हुये, मोहल्ला राजीव विहार, मोहल्ला सरस्वती विहार, मोहल्ला दामोदर विहार, मोहल्ला आजाद विहार आदि क्षेत्रों में सघन कार्रवाई की गई है। इस दौरान अवैध रूप से संचालित आरओ पानी प्लांट व व्यावसायिक पानी प्लांट को सील करने का विशेष अभियान चलाया गया। क्योंकि इन पानी के प्लांट के द्वारा अवैध रूप से भारी मात्रा में भूजल दोहन करते हुये, पानी का विक्रय नोएडा एवं दिल्ली के क्षेत्रों में करते हुये अवैध कमाई की जा रही थी, जिससे निकाय क्षेत्र में भूजल स्तर 300 से 400 फीट नीचे चला गया है, जिससे आम-जन को हानि पहुंच रही है। उन्होंने कहा कि आम-जन के घरेलू समरसेबिल फेल होते जा रहे हैं, जिसको देखते हुये भूजल सप्ताह के तहत, यह अभियान चलाया गया और कतिपय  लोगों के अवैध आरओ प्लांटो को सील करने की कार्यवाही पुलिस टीम द्वारा की गयी। अधिशासी अधिकारी के के भड़ाना के मुताबिक, पहला, जोगिन्द्र पुत्र कृपाल, प्लांट स्थित कविता पैलेस के पास मोहल्ला राजीव विहार, खोड़ा, दूसरा मुकेश पत्नी जोगिन्द्र, प्लांट स्थित लाल मंदिर के पास सरस्वती कॉम्पलैक्स, खोड़ा, तीसरा राजपाल पाठक पुत्र राम पाठक, प्लांट स्थित साहिल पब्लिक स्कूल के पास, मोहल्ला दीपक विहार, खोड़ा, चतुर्थ, सुन्दर सिंह पुत्र कृपाल, प्लांट स्थित कविता पैलेस रोड़, मो दामोदर विहार, खोड़ा, पंचम, बबलू पुत्र  देवराज पठानी, प्लांट स्थित-मो. आजाद विहार, खोड़ा, षष्टम, लीलू सिंह, प्लांट स्थित-सरस्वती कॉम्पलैक्स, खोड़ा, सप्तम, भूमि यादव पुत्र प्रकाश यादव, प्लांट स्थित रामेश्वर आटा चक्की के पास. मोहल्ला सरस्वती विहार, खोड़ा, अष्टम, कपिल यादव पुत्र राजपाल यादव, प्लांट स्थित मो. सरस्वती कॉम्पलैक्स, खोड़ा, नवम, लोकेश पुत्र राजेन्द्र, प्लांट स्थित-लाल मंदिर के पास सरस्वती कॉम्पलैक्स, खोड़ा को सील कर दिया गया है। ईओ श्री भड़ाना ने बताया कि सभी के प्लांटों को पालिका टीम द्वारा सील करते हुए स्पष्ट चेतावनी दी गयी है कि किसी भी प्रकार से सील आदि में छेड़छाड़ ना की जायें, अन्यथा की स्थिति में पानी के प्लांट की सारी मशिनरियां जब्त करते हुये, मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि इनके द्वारा नगरपालिका की सड़कों को खोदकर उसके अंदर जो निजी जलापूर्ति पाइप डाला गया है, उसे भी तहस नहस करके इनके नेटवर्क को पूरी तरह से समाप्त किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इनमें से कुछ व्यक्तियों द्वारा पालिका के सरकारी कार्यों में बाधा उत्पन्न की गयी है और सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाया गया है, इसलिए इनके विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराने की कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने कहा कि पालिका द्वारा अवैध व्यावसायिक पानी प्लान्टों के विरूद्ध, यह अभियान आगे भी जारी रहेगा। ईओ श्री भड़ाना ने बताया कि उ.प्र. शासन के निर्देश पर, उनके नियन्त्रण और निर्देशन में, भूजल दोहन के विरूद्ध इस अभियान को पालिका के सफाई एवं खाद्य निरीक्षक, संजीव कुमार, जोन प्रभारी-1 एवं पालिका के अवर अभियन्ता मदनपाल सिंह, जोन प्रभारी- 2 ने अपनी टीमों के साथ सफलतापूर्वक प्रभावी रूप से चलाया। जिससे जल माफियाओं में खलबली मची हुई है।          


बाढ़-भूस्खलन से 123 लोगों की मौत

दिसपुर/ पटना/ शिमला। असम और बिहार में शनिवार को भी बाढ़ की स्थिति भयावह बनी हुई है और पूर्वोत्तर राज्य में एक और व्यक्ति की मौत हुई है। दोनों ही राज्यों में करीब 36 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। असम में बाढ और भूस्खलन से मरनेवालों की संख्या 123 तक पहुंच गई है। वहीं बिहार में अब तक बाढ़ से 10 लोगों की मौत हो चुकी है।सरकारी रिपोर्ट के अनुसार, असम में 27 जिलों में करीब 26.38 लाख प्रभावित हैं और बाढ़ की वजह से 97 और भूस्खलन की वजह से 26 लोगों की मौत हुई है।


रिपोर्ट में बताया गया है कि शुक्रवार से अब प्रभावित लोगों की संख्या में 1.6 लाख की कमी आई है, जबकि प्रभावित जिलों में एक और जिला शामिल हो गया है। ग्वालपाड़ा बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है। यहां 4.7 लाख लोग प्रभावित हैं। वहीं बारपेट और मोरीगांव जिले में क्रमश: 4.24 लाख और 3.75 लाख लोग प्रभावित है।


पंजाबः रक्षाबंधन पर मिलेगी विशेष छूट

लॉकडाउन की वजह से रविवार को बंद रहती हैं दुकानें


CM ने रक्षा बंधन की पूर्व संध्या पर दुकानें खोलने की दी इजाजत


चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने रक्षाबंधन के मौके पर प्रदेश में 2 अगस्त को मिठाई की दुकान खोलने की इजाजत दी है। जाहिर है प्रदेश में रविवार को लॉकडाउन के कारण दुकान खोलने की अनुमति नहीं रहती है। लेकिन सरकार को रक्षाबंधन के मद्देनजर इस रविवार, रक्षाबंधन की पूर्व संध्या पर दुकान खोले जाने को लेकर कई अनुरोध मिले थे। जिसके बाद शनिवार को मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने घोषणा करते हुए कहा कि रक्षाबंधन के त्योहार के मौके पर दो अगस्त को पंजाब में मिठाई की दुकानें खोलने की अनुमति रहेगी। बता दें, तीन अगस्त को पूरे देश में रक्षा बंधन का त्योहार मनाया जाएगा। ''आस्ककैप्टन'' फेसबुक लाइव सत्र के दौरान सिंह ने कहा कि हमारी सरकार ने लोगों का अनुरोध स्वीकार करने का निर्णय लिया है।           


गाजियाबाद में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। साहिबाबाद पुलिस ने विक्रम एंक्लेव स्थित एक फ्लैट में चल रहे देह व्यापार रैकेट का भंडाफोड़ किया है। थाना प्रभारी अनिल शाही ने बताया कि मौके से आठ युवतियों और सात युवकों को गिरफ्तार किया है। देह व्यापार का यह रैकेट एक विधवा महिला चला रही थी।  गिरफ्तार युवतियां दिल्ली, पंजाब, हरियाणा व आसपास के जिलों की हैं।


अनिल शाही के अनुसार रैकेट चलाने वाली महिला किराए के फ्लैट में रैकेट चलाती थी। शक से बचने के लिए यह विधवा महिला  हर छह-सात माह में फ्लैट बदल देती थी। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है और विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा है।  


इससे पहले अक्तूबर 2019 में पुलिस व प्रशासन की टीम ने इंदिरापुरम इलाके में तीन स्पा सेंटरों में छापेमारी 9 युवकों व 10 युवतियां आपत्तिजनक स्थिति में गिरफ्तार किया था। पुलिस की पूछताछ में पता चला था कि साढ़े तीन सालों से स्पा सेंटर संचालित हो रहे थे। इनमें मसाज यानी प्रवेश का रेट पांच सौ से एक हजार रुपया तक वसूला जाता था। यह रकम चुकाने के बाद ग्राहक अंदर जाता था। इसके बाद बंद दरवाजे के पीछे रेट तय होता था। इसके बाद ग्राहक जैसी सुविधा मांगते थे, उसके मुताबिक उन्हें भुगतान करना होता था।                                


वापस लौटते मजदूरों में संक्रमण का खतरा

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। लॉकडाउन खत्म होने के बाद विभिन्न राज्यों में गए कामगार अब रोजी रोटी पर लौट रहे हैं।  गाज़ियाबाद जिले के विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों में काम करने वाले मजदूर भी नौकरी पर लौट आए हैं।  इन मजदूरों में कई मजदूरों के कोरोना संक्रमण से पीड़ित होने की संभावना बनी हुई है। अभी हाल ही में हापुड़ जिले की एक औद्योगिक इकाई में पश्चिम बंगाल से लौटे कुछ मजदूर संक्रमित पाए गए थे।


काम पर लौटे मजदूरों में संक्रमण फैलने से रोकने के लिए उपायुक्त (उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन) बीरेंद्र कुमार ने सभी उद्यमियों को सलाह दी है कि वे दूसरे राज्यों से काम पर लौटे कामगारों को नौकरी पर रखने से पहले उनका कोरोना टेस्ट करा लें और यदि कोई कोरोना संक्रमित कामगार मिलता है तो उसे काम पर न रखें। मुफ़्त कोरोना टेस्ट के लिए जिला प्रशासन की ओर से व्यवस्था की गई है। यदि किसी उद्यमी को कोरोना टेस्ट कराने में परेशानी हो रही है तो वह संबंधित औद्योगिक संगठन के माध्यम से या स्वयं ही उपयुक्त से संपर्क कर सकता है।  यदि टेस्ट कराने वाले श्रमिकों की संख्या ज्यादा हुई तो औद्योगिक संगठन के सहयोग से क्षेत्र में एक एंटीजन टेस्ट कैंप भी लगाया जा सकता है।           


हफ्तो से बिजली आपूर्ति ठप, जनता त्रस्त

दो हफ्ते से जला ट्रंसफ़र्मर सौरई बुजुर्ग गांव के ग्रामीण परेशान


कौशाम्बी। सिराथू तहसील क्षेत्र के सौरई बुजुर्ग स्कूल के तरफ गाँव घुसते ही रोड के किनारे लगा 25 केवीए का विद्युत ट्रांसफार्मर लगभग दो हफ्ते से जला हुआ है। इसके जल जाने से क्षेत्र के लोग अंधेरे में रहते है जिससे लोग काफी परेशान हैं ट्रांसफार्मर बदलने के लिए कार्यवाही भी पूरी हो गई है। इसके बावजूद विभाग द्वारा लोगों की परेशानी पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इसे लेकर ग्रामीणों में आक्रोश ब्याप्त है।गांव के ही राममूरत शर्मा, राजू सविता , दीपक सविता, जगत पटेल, गुलाब सरोज, जयचंद्र निर्मल, जितेंद्र निर्मल  व कई अन्य लोगो ने कहा कि गांव में बिजली विभाग ने 25 केवीए का ट्रांसफार्मर लगाया है। लोड अधिक होने के कारण ट्रांसफार्मर बार-बार जल जाता है। विभाग को गांव में उक्त ट्रांसफार्मर को बदल कर 63 केवीए का करने के लिए भी कहा गया है, लेकिन समस्या जस की तस बरकरार है। बिजली नहीं होने से लोगों के साथ-साथ किसान भी खेतो से घर वापस आते ही पँखे जैसे उपकरण चलाने को लेकर काफी परेशान हैं। चूंकि इस समय धान के फसल की रोपाई भी चल रही है। ऐसे में किसानों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। गांव के लोगों ने बिजली विभाग से जला हुआ बिजली का ट्रांसफार्मर बदल कर उच्च क्षमता का ट्रांसफार्मर जल्द से जल्द लगाने की मांग की है, ताकि लोगों को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो। कड़ा विकास खण्ड के सौरई बुजुर्ग ग्रामीण अंचल में फुंके ट्रांसफार्मर को बदलकर विद्युत आपूर्ति बहाल करने का दावा फेल हो गया है। शिकायत के बाद भी 15-15 दिन तक दूसरा ट्रांसफार्मर नहीं लग रहा है। बिजली न मिलने से भीषण गर्मी में जहां लोग बिलबिला रहे हैं वही जिले के आला अधिकारी व जनप्रतिनिधि जनता की समस्या से बेपरवाह हैं। सूबे की कमान संभालते ही मुखिया योगी आदित्यनाथ ने नगरीय इलाके को बिजली कटौती से मुक्त व ग्रामीण अंचल में कम से कम 18 घंटे बिजली देने का फरमान जारी किया था। दावा किया था कि नगर क्षेत्र में 24 घंटे और ग्रामीण क्षेत्र में 48 घंटे के अंदर फुंके ट्रांसफार्मर बदलकर आपूर्ति बहाल कर दी जाएगी। इसके लिए टोल फ्री नंबर जारी करते हुए 24 घंटे शिकायत दर्ज कराने व उसके निस्तारण की व्यवस्था लागू था। कुछ दिनों तक व्यवस्था ठीक-ठाक चली लेकिन वर्तमान में स्थिति पुराने ढर्रे पर आ गई है। ट्रांसफार्मर फुंका तो नगरीय इलाके में तीन से चार दिन और ग्रामीण क्षेत्र में 10 से 25 दिन की छुट्टी हो जा रही है। ग्रामीणों द्वारा चंदा एकत्र कर कुछ धनराशि देने के बाद दो-चार दिन पहले सुविधा मिलने लगती है। ग्रामीणों की माने तो इस उमस भरी गर्मी में अपने परिवारों एवं छोटे छोटे बच्चो के साथ ग्रामीण ब्याकुल रहते है शिकायत के बाद भी कई दिन से जला ट्रंसफ़र्मर नही बदला गया है।


अयोध्याः कौशाम्बी से मिट्टी-जल मंगाया

अयोध्या में प्रभु श्री राम के मंदिर की आधारशिला रखते समय कौशाम्बी की पवित्र मिट्टी और जल मंगाए जाने से कौशाम्बी का पुण्य फिर से हुआ जागृत


रामलला के भव्य मंदिर की नींव में प्रयोग होगा कड़ा धाम की माटी तथा पवित्र कुंड का जल


कौशांबी। जिले के 51 शक्तिपीठों में शामिल प्रसिद्ध तीर्थ स्थल मां शीतला धाम कड़ा की मिट्टी और जल मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम के जन्म भूमि अयोध्या में आगामी 5 अगस्त को राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखे जाने के समय शीतला धाम की मिट्टी और जल शामिल किए जाने की याद त्रेता युग को तरोताजा कराएगी जब प्रभु श्री राम बनवास चित्रकूट जाते समय कौशाम्बी की पवित्र धरती से गुजरे थे।कौशाम्बी क्षेत्र का गौरवशाली इतिहास रहा है। जिसमें राम वन गमन मार्ग युगों युगों तक मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम के यश कीर्ति का गुणगान करता रहेगा अयोध्या में प्रभु श्री राम के मंदिर की आधारशिला रखते समय कौशाम्बी की पवित्र मिट्टी और जल मंगाए जाने से कौशाम्बी का पुण्य फिर से जागृत हुआ है तथा मंदिर निर्माण में लगे संत महात्माओं के इस निर्णय से जिले के लोग अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।


अयोध्या में प्रस्तावित रामलला मंदिर निर्माण की नींव में इक्यावन शक्तिपीठ माता शीतला कड़ा धाम की मिट्टी तथा मंदिर में स्थित पवित्र कुण्ड के जल का प्रयोग किया जाएगा, मालूम हो कि 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अयोध्या में भगवान श्री राम के मन्दिर का शिलान्यास करेंगे, जिसमे पूरे भारत के प्रमुख तीर्थ स्थलों की पवित्र मिट्टी एवं  नदियों के जल नींव में प्रयोग किया जाएगा, इसी के  क्रम में करोड़ों लोगों के आस्था का केंद्र बिंदु प्रदेश के प्रमुख तीर्थ स्थलों में शामिल कड़ा धाम जहाँ पूरे भारत से लाखों तीर्थ यात्री सालभर तीर्थटन के लिए आते रहते हैं,के तीर्थ पुरोहितों ने एक कलश में पवित्र जल तथा दूसरे कलश में मिट्टी भरकर अयोध्या के लिए तीर्थ पुरोहितों का एक जत्था रवाना किया गया, जहाँ वे "रामजन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र" ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय को मिट्टी एवं जल सौंपेगे,मालूम हो कि रामजन्म भूमि को लेकर कई दशकों तक विववाद चलता रहा है, जिसमे उच्चतम न्यायालय के निर्णय के बाद राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ हुआ है,इस आंदोलन में यहाँ के कई बुजुर्ग अपने युवास्था में इस आंदोलन से गहराई से जुड़े थे, शिलान्यास की तारीख की घोषणा के बाद इन बुजुर्गों में नई उत्साह का संचार हुआ है,इस अवसर पर तीर्थ पुरोहितों के साथ धाम वासियों में विशेष उत्साह दिखाई दिया,जिससे पूरा माहौल जय श्री राम के नारों से गूंज उठा इस अवसर पर राधेश्याम पण्डा, जगत प्रसाद पण्डा, पण्डा समाज अध्यक्ष भुक्कड़ पण्डा, रामायणी प्रसाद, ऊदल,मोनू पुरोहित अनिल प्रकाश पण्डा जगत प्रसाद पण्डा कुन्ना पण्डा, कड़ेकान्त रजत पण्डा आदि लोग उपस्थित रहे।


राम मन्दिर आंदोलन से जुड़े भक्त हुए भावुक


राम मंदिर आंदोलन को याद करते हुए आंदोलन से जुड़े सैकड़ो लोग भावुक होते हुए कहते हैं, होने वाला राम मन्दिर निर्माण दशकों के संघर्ष का परिणाम है,राम मंदिर आंदोलन से जुड़े लोगों का कहना है। युवावस्था में अपने सैकड़ो साथियों के साथ केंद्रीय नेतृत्व के आह्वान पर शासन प्रशासन की बन्दिशों को धता बताते हुए, पैदल ही कारसेवा के लिए लोग निकल पड़े रास्ते में हाथ जोड़कर वाहन चालकों से लिफ्ट लिया सैकड़ो किमी पैदल चले दो दिन भूखे रहे और जब अयोध्या पहुंचे तो पुलिस की लाठियाँ खायीं लेकिन संकल्प नही डगमगाया लाख दुश्वारियों के बाद भी हौसला आसमान को छू रहा था,जब भगवान श्री राम का मंदिर बन रहा है तो मन को संतोष है।


सुशील केशरवानी


यूपी में पत्रकार पर हमले की पुनरावृत्ति

गाजियाबाद/ कानपुर। गाजियाबाद पत्रकार की हत्या का मामला खत्म ही नहीं हुआ था कि कानपुर में एक्शन सागर न्यूज़ के पत्रकार नासिर अली पर हमला कर दिया गया।


कानपुर नगर के चमन गंज थाना क्षेत्र में रहने वाले हलीम मुस्लिम इंटर कॉलेज का प्रबंधक मोहम्मद सैम द्वारा अपने घर के बाहर से निकल रहे हैं। नासिर अली पत्रकार पर जानलेवा हमला कर दिया नासिर अली का कहना है कि वह हसीब जो सैम का मामू है के घर के सामने से अपने कार्यालय जा रहा था तभी सैम ने उस पर हमला कर दिया और और हसीब के घर से डंडा निकाल कर डंडों से पीटा जिसके कारण पूरे शरीर और मुंह के जबड़े को तोड़ने की कोशिश करी अपने बचाव में हाथ से जहां जहां रोका वहां पर लाठियों के चोट के निशान है। नासिर अली का कहना है कि अब्दुल हसीब मुझसे इसलिए रंजिश मानता है कि मैं उसकी पैरोकारी न करके अब्दुल हसीब के विरोध में जो काम करता है। उसका साथ देता हूं और उसके गलत कामों का इनकार करता हूं। नासिर ने बताया इससे पहले भी दो बार मुझ पर हमला हुआ था लेकिन मैं बच गया था लेकिन आज यह लग रहा था यह जैसे मुझे जान से मार देगा यह बहुत बड़ी विडंबना की बात है। एक तरफ देश और प्रदेश के मुखिया कह रहे हैं कि पत्रकारों पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा वही रोज कहीं उन्नाव कही गाजियाबाद और कहीं कानपुर में पत्रकारों पर जानलेवा हमला हो रहा है यहां तक की जान ले ली जा रही है अब देखना यह है नासिर पर हुए हमले पर कानपुर की पुलिस और प्रदेश सरकार कितना संज्ञान लेती है।


नासिर अली


10 फ़ीसदी लोगों को मिल रहा है राशन

लहना में आए प्रवासी मज़दूरों को नही मिला राशन


राशन किट बाटने वाले ज़िम्मेदारों ने ही लूट घसोट कर लिया या फिर सरकार दे रही है झूंठे आश्वासन


कौशाम्बी। करारी थाना क्षेत्र के लहना गांव में 10% लोगों को राशन देकर जिम्मेदार पल्ला झाड़ रहे जैसा कि योगी सरकार ने प्रवासी मज़दूरों को राशन किट देने के लिए आदेश दिया था वही दूसरी ओर उनके अधिकारी कर्मचारी अपना पेट भरने से नही आते है। बाज 25 मार्च को खालीं हाँथ लौटे मज़दूरों को 14 दिन स्कूलों में कोरन्टीन किया गया था योगी सरकार के राशन किट बाटने के फैसले से चेहरे प्रवासियों के खिले हुए थे वही ज़िम्मेदारों ने कोरन्टीन रहे सरोज कुमार पुत्र राम स्वरूप, ब्रजेश कुमार उर्फ गोलू पुत्र राम स्वरूप, सोहंलाल पुत्र बच्चू लाल राम, करण पुत्र सोर्गी मौजी लाल, संतलाल पुत्र कल्लू सुखराम, रिंकु पुत्र राम आसरे, मिश्री लाल पुत्र बुधई राजेन्द्र, पुत्र स्वर्गीय बचाऊ लाल, शिव फूल पुत्र बचउ लाल शिवचन्द पुत्र मुन्नी लाल को सरकारी स्कूल में एहतियात के लिए रखा था इनको कोई राशन किट नही मिली।


योगी सरकार के बनाए हुए हेल्फ़ लाइन नम्बर से कई बार काल आई पूछा गया। राशन किट के विषय मे तो प्रवासियों ने जवाब दिया कि नही मिला क्या राशन किट बाटने वाले  ज़िम्मेदारों ने ही लूट घसोट कर लिया या सरकार झूंठे आश्वासन दे रही थी। 


ज़ैगम अब्बास


संजय रामलीला कमेटी के अध्यक्ष बनें

रामलीला कमेटी करारी के अध्यक्ष बने संजय जयसवाल


कौशाम्बी। करारी के ऐतिहासिक रामलीला कमेटी के पदाधिकारियों द्वारा की गई बैठक में  फैसला लिया गया।
ट्रस्टी रमेश चंद्र शर्मा, संरक्षक बच्चा कुशवाहा व संरक्षक राकेश जायसवाल  की अगुवई में पदाधिकारियोंं का गठन किया।
भाजपा जिला महामंत्री संजय जायसवाल को अध्यक्ष बनाया गया। ज्ञान शर्मा को प्रबंधक, रमेश केसरवानी कोषाध्यक्ष तथा कल्लू राम चौरसिया को ग्राम मंंच प्रबंधक बनाया।


जैगम अब्बास


बेहद दुर्लभ और जोखिम भरा ऑपरेशन

कोलकाता।  चिकित्सा क्षेत्र में कोलकाता ने एक और मिसाल कायम की है। कोरोना जैसे गंभीर संकट के समय महानगर में एक बेहद दुर्लभ व जोखिम भरे ऑपरेशन को शनिवार को अंजाम दिया गया। एक मरीज की जान बचाने के लिए उसकी खोपड़ी के एक हिस्से को काटकर उसके पेट में रख दिया गया है। मस्तिष्क से बोझ कम करने के लिए यह कदम उठाया गया। खोपड़ी अगले 90 दिनों तक मरीज के पेट की चमड़ी के नीचे रहेगी और उसके बाद उसे फिर से उसकी जगह पर लगा दिया जाएगा। जानकारी के मुताबिक दक्षिण कोलकाता के भवानीपुर इलाके की रहने वाली 42 साल की अपाला मित्रा लंबे समय से सिरदर्द से परेशान थी। कोरोना के डर से उसका सिरदर्द दुगना हो गया था। अपाला इसे आम तरह का सिरदर्द समझकर दवा ले रही थी। उससे कुछ समय के लिए राहत मिलती थी लेकिन बाद में फिर सिरदर्द शुरू हो जाता था। गत एक मई को वह अचानक बेहोश होकर गिर पड़ी थी। 15 मई को उसे  कोलकाता के पार्क सर्कस स्थित इंस्टीच्यूट आफ न्यूरोसाइंसेज में ले जाया गया। वहां सिर की एंजियोग्राफी कराई गई तो पता चला कि मस्तिष्क की जिन धमनियों से रक्त का प्रवाह होता है, वह फट गई है। इसके साथ ही ‘सर्वाकनायेड हैमरेज’ और ‘इंट्रेसेरेब्रल हैमरेज’ का भी पता चला।



  • डॉक्टरों के मुताबिक ऐसे मामलों में बचने की उम्मीद एक फीसद से भी कम रहती है। अपाला के मस्तिष्क के ब्लड वेसेल्स के फट जाने से सर्वाकनायेड हैमरेज हुआ था, जिसके कारण वह कोमा में चली गई थी। अपाला 10 दिनों तक बेजान वस्तु की तरह बिस्तर पर पड़ी हुई थी। दूसरी तरफ उनके पति लॉकडाउन के कारण हैदराबाद में फंसे हुए थे। वे मोबाइल से वीडियो कॉल कर पत्नी की हालत का जायजा ले रहे थे। शल्य चिकित्सक डॉक्टर अमित कुमार घोष ने परिवार की सहमति से इस दुर्लभ ऑपरेशन की तैयारी शुरू की। इस ऑपरेशन को चिकित्सकीय भाषा में “डिक्सप्रेसिव क्रोनियेकटमी एंड इवैकुएशन ऑफ हेपाटोमा एंड क्लिपिंग ऑफ एनुरिजम” कहा जाता है। आसान शब्दों में कहें तो खोपड़ी के एक हिस्से को काटकर पेट की चमड़ी के नीचे रखना। डॉक्टर घोष ने बताया कि यह बेहद दुर्लभ ऑपरेशन है। कोरोना के समय इस तरह का ऑपरेशन करना और भी जोखिमपूर्ण था लेकिन मरीज की जान बचाने के लिए दूसरा कोई रास्ता नहीं था। मस्तिष्क की धमनियां फट जाने से मरीज कोमा में चली गई थी। मस्तिष्क के दबाव को कम करने के लिए खोपड़ी के 12 सेंटीमीटर हिस्से को काटकर पेट की चमड़ी के नीचे रखा गया है। 90 दिनों बाद उसे फिर से उसकी जगह पर लगा दिया जाएगा। सिर के अंदर की धमनियों के फूल जाने को ‘एनुरिजम’ कहा जाता है। इस मामले में धमनियां फट गई थीं इसलिए मरीज कोमा में चली गई थी। धमनियां और न फटे इसलिए क्लिप से उसे जोड़ा गया है। इसे ‘क्लिप ऑफ एनुरिजम’ कहा जाता है। अपाला के पति जुलाई के अंत में कोलकाता लौटेंगे।           


अब परमाणु हथियारों के निशाने पर चीन

नई दिल्ली। एलएसी पर चल रही तनातनी के बीच खबर है कि भारत ने अपने परमाणु हथियारों का रुख पाकिस्तान की बजाए चीन की तरफ कर दिया है। इंटरनेशनल जर्नल, ‘बुलेटिन फॉर एटोमिक साईंटिस्ट’ के मुताबिक, चीन की राजधानी बीजिंग भी अब भारत की न्युक्लिर मिसाइल की जद में है। जर्नल ने ‘इंडियन न्युक्लिर फोर्सेज़-2020’ नाम से छपे लेख में खुलासा किया है कि भारत की न्युक्लिर-स्ट्रटेजी का जोर अब पाकिस्तान की बजाए चीन की तरफ है। लेख में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि भारत अपने तीन पुराने परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम एयरक्राफ्ट, जमीन से मार करने वाले प्लेटफार्म और समंदर से मार करने वाले सिस्टम्स को बदल रहा है। हालांकि, जर्नल के लेख में इस बात का खुलासा नहीं किया है कि ये तीन कौन से प्लेटफार्म हैं लेकिन एबीपी न्यूज के पास इसकी पुख्ता जानकारी है।


आपको बता दें कि भारतीय वायुसेना के जंगी बेड़े में इस महीने की 29 जुलाई को फ्रांस से लिए पांच राफेल लड़ाकू विमान शामिल होने वाले हैं। ये रफाल विमान परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम हैं। अभी तक वायुसेना के पास मिराज-2000 और सुखोई विमान थे, जो परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम थे। लेकिन अब भारत रफाल विमानों पर ज्यादा निर्भर होना चाहता है। इसी तरह भारत का सरकारी रक्षा संस्थान DRDO यानि डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन पिछले कुछ समय से अग्नि-6 मिसाइल पर काम कर रहा है, जो परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है और जिसकी रेंज दस हजार किलोमीटर से ज्यादा है. अग्नि-5, जिसकी रेंज करीब पांच हजार किलोमीटर है वो चीन की राजधानी बीजिंग तक दागी जा सकती है। दिल्ली से बीजिंग की दूरी करीब 4,000 किलोमीटर है। इसी मिसाइल का जिक्र, बुलेटिन ऑफ एटोमिक साईंटिस्ट जर्नल में किया गया है. ये जर्नल, द्वितीय विश्वयुद्ध के तुरंत बाद नागासाकी और हिरोशिमा में परमाणु बम के हमलों के बाद शुरू किया गया था और तब से दुनियाभर की वैज्ञानिक रिसर्च और वैश्विक-सुरक्षा पर नजर रखती है।


यहां पर ये भी जानना जरूरी है कि भारतीय नौसेना की परमाणु पनडुब्बी, आईएनएस अरिहंत भी अब समुद्री जंगी बेड़ा का हिस्सा बन चुकी है और समंदर में तैनात रहती है. इससे पहले जो परमाणु पनडुब्बी, आईएनएस चक्र नौसेना के पास थी, वो रूस से 2012 में लीज़ पर ली गई थी। लेकिन चक्र पनडुब्बी परमाणु-उर्जा से तो चलती थी लेकिन परमाणु हथियार दागने में सक्षम नहीं थी जबकि अरिहंत न्युक्लिर-एनर्जी पर भी आधारित है और परमाणु-मिसाइल भी लांच कर सकती है। इसके भारतीय नौसेना में शामिल होने से भारत का जल, थल और आकाश, तीनों में ‘ट्राईड’ पूरा हो चुका है।


हाल ही में ग्लोबल थिंकटैंक, ‘सिपरी’ ने भी अपनी ताजा रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया था कि भारत और पाकिस्तान दोनों ही अपने एटमी हथियारों का जखीरा बढ़ा रहे हैं। स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस एंड रिसर्च सेंटर यानि सिपरी ने जून के महीने में ‘साल 2020 रिपोर्ट’ जारी कर खुलासा किया था कि चीन के पास इस समय करीब 320 परमाणु हथियार हैं जो पिछले साल के मुकाबले बढ़ गए है। साल 2019 में चीन के पास 290 एटमी हथियार थे। खास बात ये हैं कि रिपोर्ट के मुताबिक, चीन काफी तेजी से अपनी एटमी जखीरे का आधुनिकिकरण कर रहा है। रिपोर्ट में कहा गया था कि चीन, जल और थल यानि जमीन और समंदर से मार करने वाली नई परमाणु मिसाइलें तैयार कर रहा है। इसके अलावा परमाणु-मिसाइल से लैस लड़ाकू विमानों को भी बनाने में जुटा है, जिससे उसका ‘न्युक्लिर-ट्राईड’ पूरा हो सके। दुनियाभर में हथियारों की खरीद-फरोख्त, सेनाओं के रक्षा बजट और एटमी हथियारों पर पैनी नजर रखने वाले थिंकटैंक, सिपरी के मुताबिक पाकिस्तान के पास इस समय 150-160 एटमी हथियार हैं। इसका मतलब है कि चीन और पाकिस्तान के कुल मिलाकर करीब 480 परमाणु हथियार हैं. इन एटमी हथियारों में बम, मिसाइल और उनकों दागने वाले लड़ाकू विमानों को शामिल किया जाता है।


रिपोर्ट के मुताबिक, भारत के परमाणु हथियारों में भी पिछले साल के मुकाबले बढ़ोत्तरी हुई है। पिछले साल जहां भारत के पास कुल 130-140 एटमी हथियार थे। इस साल ये नंबर बढ़कर 150 हो गया है लेकिन ये संख्या चीन और पाकिस्तान के एटमी जखीरे से कम है। हालांकि, रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि भारत और पाकिस्तान दोनों ही अपनी न्युक्लिर-फोर्सेज़ का साइज तो बढ़ा ही रहे हैं साथ ही अलग-अलग तरह के एटमी हथियारों को अपने जखीरे में शामिल भी कर रहे हैं।आपको बता दें कि ये दोनों रिपोर्ट ऐसे समय में आई है जब दुनिया की दो सबसे बड़ी सेनाएं (भारत और चीन की) पिछले ढाई महीने से सीमा पर एक दूसरे के सामने टकराव की स्थिति में हैं। पाकिस्तान के साथ भी भारत की एलओसी पर तनातनी चल रही है।   


 शिवांशु 'निर्भयपुत्र'


चीनी दूतावास पर अमेरिका का कब्जा

वाशिंगटन डीसी/ बिजिंग। अमेरिका और चीन के बीच तल्खी बेहद बढ़ गई है। दोनों देशों के बीच अघोषित युद्ध जैसे हालात के बीच अमेरिका ने चीन के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है।ह्यूस्टन में चीनी वाणिज्य दूतावास को बंद करने के बाद अमेरिका के संघीय एजेंट और एजेंसियों के अधिकारियों ने चीनी दूतावास पर कब्जा कर लिया है। अमेरिका ने यह कार्रवाई ऐसे समय की है जब अमेरिका और चीन के बीच तनाव अपने चरम पर है। गौरतलब है कि अमेरिका के ट्रंप प्रशासन ने इस सप्ताह दोनों देशों के बीच तनाव को बढ़ाते हुए चीन को ह्यूस्टन स्थित वाणिज्य दूतावास को आर्थिक जासूसी का आरोप लगाते हुए बंद करने का आदेश दिया था।


चीनी वाणिज्य दूतावास पिछले चालीस सालों से  ह्यूस्टन के पाश मॉन्टरॉस बॉउलवार्ड इलाके मेंं स्थित है। अचानक ट्रंप प्रशासन ने इसे शुक्रवार शाम को बंद कर दिया। शुक्रवार को इमारत से चीन का झंडा और राजकीय चिह्न हटा दिया गया और तड़के वाणिज्य दूतावास के कर्मचारियों को इमारत से अपना सामान बाहर निकालते हुए देखा गया। चीनी राजनयिकों के इमारत खाली करते ही अमेरिकी अधिकारियों ने दलबल के साथ पहुंचकर इस पर कब्जा कर लिया। चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि उसने वाणिज्य दूतावास में अमेरिकी अधिकारियों के बलपूर्वक प्रवेश के खिलाफ कड़ा विरोध दर्ज कराया है।                   


'मन की बात' कई मुद्दों पर विस्तृत चर्चा

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 बजे ‘मन की बात’ कार्यक्रम में देश को संबोधित किया।कारगिल विजय दिवस,कोरोना महामारी, वोकल फॉर लोकल, हैंडलूम और बाढ़ जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात की।


21 साल पहले आज के ही दिन कारगिल के युद्ध में हमारी सेना ने भारत की जीत का झंडा फहराया था। कारगिल का युद्ध जिन परिस्थितियों में हुआ था वो भारत कभी नहीं भूल सकता है। पाकिस्तान ने बड़े-बड़े मंसूबे को पालकर भारत की भूमि हथियाने और अपने यहां चल रहे आंतरिक कलह से ध्यान भटकाने को लेकर दुस्साहस किया था,भारत तब पाकिस्तान से अच्छे संबंधों के लिए प्रयासरत था। कारगिल युद्ध के समय मुझे भी कारगिल जाने और हमारे जवानों की वीरता के दर्शन का सौभाग्य मिला था। वो दिन मेरे जीवन के सबसे अनमोल क्षणों में से एक है। देश के नौजवानों से आग्रह है कि आज दिनभर कारगिल विजय से जुड़े हमारे जाबाजों की कहानियां,वीर- माताओं के त्याग के बारे में,एक-दूसरे को बताएं और शेयर करें।


कारगिल युद्ध के समय अटल जी ने लालकिले से जो कहा था वो आज भी हम सभी के लिए बहुत प्रासंगिक है। अटल जी ने तब देश को गांधी जी के एक मंत्र की याद दिलाई थी। अटल जी ने कहा था कि कारगिल युद्ध ने हमें एक दूसरा मंत्र दिया है। ये मंत्र था कि कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने से पहले हम ये सोचें कि क्या हमारा ये कदम उस सैनिक के सम्मान के अनुरूप है जिसने उन दुर्गम पहाड़ियों में अपने प्राणों की आहुति दी थी।


अभी कुछ दिन बाद रक्षाबंधन का पावन पर्व आ रहा है,मैं इन दिनों देख रहा हूं कि कई लोग और संस्थाएं इस बार रक्षाबंधन को अलग तरीके से मनाने का अभियान चला रहीं हैं,कई लोग इसे वोकल फॉर लोकल से भी जोड़ रहे हैं और ये बात भी सही है। इस समय बारिश का मौसम है, पिछली बार भी मैंने आप से कहा था कि बरसात में गंदगी और उनसे होने वाली बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। अस्पतालों में भीड़ भी बढ़ जाती है इसीलिए आप साफ-सफाई पर बहुत ज्यादा ध्यान दें। कभी-कभी हम इस बात को समझे बिना सोशल मीडिया पर ऐसी चीजों को बढ़ावा दे देते हैं जो हमारे देश का बहुत नुकसान करती हैं,कभी-कभी जिज्ञासा वश फॉरवर्ड करते रहते हैं,पता है गलत है ये फिर भी करते रहते हैं। हमारा आचार- व्यवहार,हमारी वाणी,हमारे बयान,हमारी मर्यादा, हमारे लक्ष्य कसौटी में जरूर रहना चाहिए कि हम जो कर रहे हैं,कह रहे हैं, उससे सैनिकों का मनोबल बढ़े, उनका सम्मान बढ़े। आज हमारे देश में रिकवरी रेट अन्य देशों के मुकाबले बेहतर है,साथ ही हमारे देश में कोरोना से मृत्युदर भी दुनिया के ज्यादातर देशों से काफी कम है,पिछले कुछ महीनों से पूरे देश ने एकजुट होकर जिस तरह कोरोना से मुकाबला किया है। उसने अनेक आशंकाओं को गलत साबित कर दिया है। कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, हमें बहुत ही ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। चेहरे पर मास्क लगाना या गमछे का उपयोग करना,दो गज की दूरी, लगातार हाथ धोना, कहीं पर भी थूकना नहीं, साफ सफाई का पूरा ध्यान रखना यही हमारे हथियार हैं जो हमें कोरोना से बचा सकते हैं। भारत का हैंडलूम और हैंडक्राफ्ट कितना रिच है, इसमें कितनी विविधता है। ये दुनिया जितना ज्यादा जानेगी उतना ही हमारे लोकल कारीगरों और बुनकरों को लाभ होगा। हम सभी का प्रयास होना चाहिए कि न सिर्फ भारतीय हैंडलूम और हैंडक्राफ्ट का ज्यादा-से-ज्यादा उपयोग करें बल्कि इसके बारे में ज्यादा-से-ज्यादा लोगों को बताएं।           


शहीद स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की

देहरादून। कारगिल विजय दिवस पर रविवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गांधी पार्क में बने कारगिल शहीद स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की। कारगिल विजय दिवस के अवसर पर आज प्रदेशभर में शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। कोरोना वायरस को देखते हुए इस दौरान कई जगह सूक्ष्य कार्यक्रम आयोजित किए गए।


वहीं, सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने वीडियो संदेश जारी कर शहीदों को नमन किया। उन्होंने कहा कि आज कारगिल विजय दिवस के 21 साल पूरे हो गए हैं। उत्तराखंड का इतिहास रहा है कि जब भी देश को सैनिकों की जरूरत पड़ी तो यहां के सैनिकों ने सबसे पहले कदम आगे बढ़ाए हैं। उन वीरों का पराक्रम अदुभत था। ऐसी लड़ाई न पहले लड़ी गई थी और न भविष्य में लड़ी जा सकती है। उन्होंने कहा कि शहीदों की वीरांगनाओं और बच्चों को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि सरकार उनके साथ है। वहीं, कारगिल विजय दिवस पर तीर्थनगरी और आसपास क्षेत्र में रहने वाले शहीदों का भावपूर्ण स्मरण किया गया। अमित ग्राम निवासी कैप्टन अमित सेमवाल की स्मृति में बनाए गए स्मारक पर स्थानीय नागरिकों ने पुष्पांजलि अर्पित की। उनके पिता तारा दत्त सेमवाल सहित स्वजनों को स्थानीय नागरिकों ने माल्यार्पण कर सम्मानित किया। ऋषिकेश स्थित कारगिल शहीद मनीष थापा के स्मारक पर भी उनके स्वजनों ने स्थानीय नागरिकों सहित श्रद्धा सुमन अर्पित किए। शहीद विकास गुरुंग के निवास क्षेत्र रुषा फार्म में भी स्थानीय जनप्रतिनिधियों और नागरिकों ने उनके स्मारक पर जाकर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। जिला पंचायत सदस्य संजीव चौहान ,उप प्रधान राजेश व्यास, महावीर उपाध्याय, मानवेंद्र कंडारी, विनोद, राजू थापा आदि ने वीर शहीदों को याद किया। वहीं डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदंडे ने कहा कि शहीदों का बलिदान कभी भुलाया नहीं जा सकता है। इनकी शहादत की कहानी आने वाले भविष्य के लिए प्रेरणा का काम करेगी। उन्होंने कहा कि देश की रक्षा में जनपद का काफी योगदान रहा है।   


चपेट में आने से वृद्ध महिला की मौत

कोरबा। सुबह सौच के लिए निकली ग्रामीण महिला मालगाड़ी की चपेट में गई महिला को गंभीर चोट लगने से मौके पर ही दम तोड़ दिया। मिली जानकारी के अनुसार उरगा थाना अंतर्गत ग्राम सरगबुंदिया निवासी 75 वर्षिय बुधवारा बाई बंजारे पति नत्थू राम बंजारे सुबह सौच के लिए सरगबुंदिया के रेलवे लाइन पटरी की ओर गयी हुई थी,अचानक माल गाड़ी के आने से वृद्ध महिला उसके चपटे में आगई,जिसके बाद महिला ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।             


रिकॉर्डः यूपी में 2712 नए संक्रमित मिलें

यूपी में रिकार्ड 2712 नये मामले आये, 50 मौतें भी हुई, लखनऊ में 297, गाज़ियाबाद में 122, नॉएडा में 93 पॉजिटिव मिले


लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार की तमाम कवायद के बावजूद कोरोना संक्रमण के नये मामलों में तेजी जारी है। पिछले 24 घंटे में जहां रिकार्ड 2712 मामले सामने आये वहीं अब तक की सबसे ज्यादा 50 मौतें भी इस दौरान हुई। पिछले 24 घंटों में राज्य में कोरोना के 2712 नये मामले प्रकाश में आये है जबकि पहले से भर्ती 1909 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किये गये। इस अवधि मे 50 मरीजों की मृत्यु हुयी जो एक दिन में हुयी मौतों में सर्वाधिक है। इसके बावजूद अब अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या 21 हजार 711 हो गयी है। सूबे में कोरोना संक्रमण की शुरूआत से लेकर आज शाम तीन बजे तक 1348 संक्रमित मरीजों की मृत्यु हो चुकी थी हालांकि 37 हजार 712 मरीज स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज भी किये गये हैं।


 लखनऊ में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 297 नये मामले सामने आये जबकि पहले से भर्ती सात मरीजों की मौत हुयी। जिले में फिलहाल 3389 मरीजों का उपचार किया जा रहा है। इस दौरान कानपुर में 189, झांसी में 148,वाराणसी में 147,प्रयागराज में 124,गाजियाबाद में 122,जौनपुर में 121,बलिया में 135 और नोएडा में 93 नये मरीज अस्पतालों में भर्ती किये गये। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को बताया कि गुरूवार को कोरोना के 50 हजार 697 नमूनों की जांच की गई है जिसे मिलाकर अब तक 17 लाख पांच हजार 348 सैंपल्स की जांच की जा चुकी है। कल 5-5 सैंपल के 2879 पूल और 10-10 सैंपल के 268 पूल लगाए गए। 5-5 सैंपल के 2879 पूल में से 481 में पॉजिटिविटी देखी गई जबकि 10-10 सैंपल के 323 पूल में से 30 संक्रमित निकले।उन्होने बताया कि अब तक 33995 इलाकों में1,33,06,810 घरों का सर्विलांस किया गया है, जिसमें छह करोड़ 77 लाख 18 हजार 224 लोग रहते हैं। प्रदेश में अब कोविड हेल्प डेस्क की संख्या बढ़कर 56164 की गई है। इन कोविड हेल्प डेस्क के माध्यम से 69633 लोगों की पहचान की गई है जिनमें कोई न कोई लक्षण मिले हैं।


मथुरा में शुक्रवार को 14 और कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 689 हो गयी है। डिप्टी कलेक्टर राजीव उपाध्याय ने कहा कि अब बिना किसी प्रयोजन के घूमनेवालेां एंव कोविद-19 के नियमों का पालन न करनेवालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि युवकों का अनायास घूमना रोका जाएगा। जिला स्वास्थ्य सूचना एवं शिक्षा अधिकारी जितेन्द्र सिंह ने बताया कि आज आई रिपोर्ट में 21 संक्रमित स्वस्थ हो चुके है। जिससे संक्रमण से स्वस्थ होनेवालों की संख्या बढ़कर अब तक 489 हो गई है। एक पाॅजिटिव केस दुबारा जुड़ गया था जिसको हटा देने से संक्रमित मामलों की संख्या 689 हो गई है। जहां नौ लोग 40 वर्ष से कम आयु के हैं वहीं महिलाओं की संख्या दो है और 40 वर्ष से अधिक आयु के पांच लोग हैं।आज की रिपोर्ट यह बताती है कि युवा वर्ग अब भी लापरवाही कर रहा है जिसके कारण ही वे अधिक संख्या में संक्रमित हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि अब तक लिये गए 16383 जांच के नमूनों में 14644 नमूने निगेटिव पाए गए है। 832 नमूनो की रिपोर्ट लम्बित है। कुल ऐक्टिव मामले 171 हैं , जब कि अब तक की मृतक संख्या 28 है।           


बैंगलुरूः 3 हजार संक्रमित हुए गायब

बेंगलुरु। कर्नाटक में कोरोना वायरस से कोहराम मचा है।पिछले करीब 3 हफ्तों से यहां मरीजों की संख्या में रिकॉर्ड इज़ाफा हुआ है। राज्य में मरीजों की संख्या 90 हज़ार को पार कर गई है। इस बीच खबर है कि राजधानी बेंगलुरु में कोरोना के 3338 मरीज़ गायब हो गए हैं। आखिर वे कहां गए इनका कोई अता पता नहीं है। फिलहाल प्रशासन इनकी तलाश में जुटा है।


अगर हिसाब लगाया जाए तो ये शहर में कुल कोरोना वायरस पॉजिटिव लोगों की संख्या का 7 प्रतिशत हिस्सा है।अधिकारियों का कहना है कि उनके पास मरीजों को ट्रैक करने का कोई साधन नहीं है। क्या रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद इन सबने खुद को क्वॉरंटीन किया है, इस बारे में भी फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिली है. बेंगलुरु महानगर पालिका के कमिश्नर एन मंजुनाथ प्रसाद ने कहा, ’हम पुलिस की मदद से कुछ कोरोना पॉजिटिव मरीजों का पता लगा सकते हैं, लेकिन 3338 अभी भी अनट्रेसेबल हैं। कई मरीजों ने गलत मोबाइल नंबर और पते दिए हैं, जैसे ही इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई ये गायब हो गए।
अब मरीजों का सैंपल लेने से पहले सरकार इन सबका पहचान पत्र देख रही है। इसके अलावा इनके मोबाइल नंबर को भी वेरिफाई किया जाएगा। उप मुख्यमंत्री डॉ.अश्वत नारायण ने कहा, ’हमें ये सुनिश्चित करना होगा कि सारे संक्रमित लोगों का पता लगाया जाए और उन्हें क्वारंटीन किया जाए. हमने इसे प्राथमिकता दी है ताकि उनका पता लगाया जा सके और उन्हें अलग किया जा सके। कर्नाटक में राजधानी बेंगलुरु कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है। पिछले दो हफ्ते में यहां कोरोना के केस 16 हज़ार से बढ़कर 27 हजार तक पहुंच गए हैं। कर्नाटक में पिछले 24 घंटे में 5,072 नए मामले आने के साथ ही राज्य में अभी तक 90,942 लोग के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। राज्य में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण से 1,796 लोग की मौत हुई है।       


'दिल्ली मॉडल' को लागू करने की तैयारी

नई दिल्ली। देश में कोरोने वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच सोमवार को केंद्र सरकार राज्यों के साथ एक बैठक करने जा रही है, जिसमें ब्व्टप्क्-19 से बचाव के लिए ’दिल्ली मॉडल’ को अपनाने के लिए कहा जा सकता है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। आपको बता दें कि बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला करेंगे। दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने नाम नहीं छपने की शर्त पर कहा कि इस उच्चस्तरीय बैठक में दिल्ली में कोरोना के खिलाफ उठाए गए कदमों को अपनाने के लिए अन्य राज्यों के लिए भी प्लानिंग की जाएगी। इसके साथ ही आने वाले दिनों में दिल्ली में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए रणनीति पर भी चर्चा होगी। बैठक के एजेंडा के मुताबिक, दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव केंद्र के वरीय अधिकारियों के समक्ष दिल्ली में कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए किए गए प्रयासों पर चर्चा करेंगे। इस बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण और नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल भी शामिल रहेंगे।
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि ’दिल्ली मॉडल’ परीक्षण, होम आइसोलेशन, पारदर्शी डेटा, अस्पतालों में बेड और प्लाज्मा थेरेपी पर आधारित था। लेकिन इन पांच चीजों को प्राप्त करने के लिए, हमने तीन सिद्धांतों का पालन किया। पहला टीम वर्क, दूसरा रचनात्मक आलोचना को स्वीकार करना और जो गलत है, उसे ठीक करना और तीसरा, चाहे कितनी भी बुरी स्थिति क्यों न हो, एक सरकार के रूप में हथियार नहीं डालना। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोने के बढ़ते संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए उठाए गए कदमों के लिए केंद्र और दिल्ली सरकार की तारीफ की थी।   


कविता गर्ग       



असलाह के साथ टॉप 10 अपराधी अरेस्ट

तमंचा-कारतूस के साथ टापटेन अपराधी गिरफ्तार


गाजीपुर। बहरियाबाद थाना पुलिस ने शनिवार की देर शाम पलिवार गांव के पास वाहन चेकिंग के दौरान एक टाप-टेन अपराधी को गिरफ्तार किया। उसके पास से एक तमंचा और कारतूस बरामद किया। संबंधित धाराओं में चालान कर जेल भेज दिया गया।
मालूम हो कि थाना पुलिस शनिवार की देर शाम करीब साढ़े छह बजे गाजीपुर-आजमगढ़ सीमा पर पलिवार गांव के पास चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान एक संदिग्ध व्यक्ति पैदल आता दिखाई दिया। पास आने पर जैसे ही पुलिस ने रुकने का इशारा किया, वह भागना चाहा, लेकिन घेरेबंदी कर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। तलाशी लेने पर उसके पास से एक 315 बोर तमंचा और एक जिंदा कारतूस बरामद किया। इस संबंध पुलिस ने बताया कि गिरफ्त में आया अपराधी थाना क्षेत्र के रायपुर निवासी नंदन उर्फ अभिनंदन है। संबंधित धाराओं में उसका चालान कर जेल भेज दिया गया। गिरफ्तार करने वाली टीम में एसआई सुनील यादव, कांस्टेबल अजीत कुमार सरोज,अंकित कुशवाहा, मनोज कुमार यादव शामिल रहे।


 फारुख खान             


30601 लोगों की मौत, 1287945 संक्रमित

नई दिल्ली। भा 12 लाख 87 हजार रत में कोरोना का कहर जारी है। हर दिन के साथ मामले बढ़ते जा रहे हैं। देश में संक्रमितों की संख्या अब 12 लाख के पार पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में अबतक 12 लाख 87 हजार 945 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 30,601 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 8 लाख 17 हजार 208 लोग ठीक भी हुए हैं। पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 49 हजार 310 नए मामले सामने आए और 740 मौतें हुईं।


दुनिया में तीसरा सबसे प्रभावित देश


कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का तीसरा सबसे प्रभावित देश है। अमेरिका, ब्राजील के बाद कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित भारत है। लेकिन अगर प्रति 10 लाख आबादी पर संक्रमित मामलों और मृत्युदर की बात करें तो अन्य देशों की तुलना में भारत की स्थिति बहुत बेहतर है। भारत से अधिक मामले अमेरिका (4,169,172), ब्राजील (2,289,951) में हैं। देश में कोरोना मामले बढ़ने की रफ्तार भी दुनिया में तीसरे नंबर पर बनी हुई है।




           



लोकसेवा ने स्थगित की परीक्षाएं

भोपाल। राज्य में कोरोनावायरस महामारी के लगातार बढ़ते कहर को देखते हुए मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग ने आगामी सभी परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है। गुरुवार को पीएससी ने इस बारे में अधिसूचना जारी कर औपचारिक घोषणा कर दी। आयोग नया संशोधित कैलेंडर जल्द ही जारी करेगा।
खबरों के मुताबिक, मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग ने राज्य में कोरोना की वजह से बने हालातों के मद्देनजर अपनी आगामी परीक्षाएं रद्द करने का फैसला लिया है। आयोग ने कहा, राज्य सेवा आयोग एवं आयोग द्वारा आयोजित अन्य परीक्षाओं में आरक्षण से संबंधित प्रकरण माननीय न्यायालय में विचाराधीन होने एवं कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों के कारण आयोग द्वारा जारी वर्ष 2020 की आगामी परीक्षाओं के कैलेंडर को स्थगित किया जाता है।
एमपीपीएससी द्वारा इस साल आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं को स्थगित किए जाने से 2019 एवं 2020 की कई परीक्षाएं प्रभावित हुई हैं। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य सेवा परीक्षा 2019 के लिए अधिसूचना 14 नवंबर 2019 को जारी की गई थी।               


जीम, स्कूल, सिनेमाघर कब होंगे चालू

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन से गुजर रहे देश में अब अब अनलॉक-3 को लेकर चर्चा शुरू हो गई है। सभी इस बात को लेकर कयास लगा रहे हैं कि क्या स्कूल, ट्रेन से लेकर जिम और सिनेमा हॉल में आखिर किसे खोला जाएगा और किसे पहले की ही तरह बंद रखा जाएगा।









बता दें कि अनलॉक-2 31 जुलाई को खत्म हो रहा है। इसके बाद से शुरू होने वाले अनलॉक-3 में सिनेमाघरोंमल्टीप्लेक्स को खोलने को लेकर चर्चा जोरों पर है। जानकारों के अनुसारसिनेमाघरों मालिकों की ओर से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय तक बात पहुंचाई गई हैजिसके बाद मंत्रालय ने इस संबंध में गृह मंत्रालय से चर्चा की है। प्रस्ताव के मुताबिक सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए शुरूआती दौर में गिनती के सिनेमाघरों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ शोज दिखाने की छूट देने की बात कही गई है। इसके बाद की स्थिति को देखते हुए आगे बढ़ाने या घटाने के संबंध में निर्णय लिया जा सकता है।         








3 वर्षीय मासूम से रेप, अरेस्ट किया

सुरेश उपाध्याय


बुलधाना। शुक्रवार दोपहर 3:30 नांदुरा पंचायत समिति के पीछे तीन साल की बच्ची को बहला-फुसलाकर ले जाकर 24 साल के नराधम नैनेश लक्ष्मणदास रामचंदानी रहवासी,नांदुरा पंचायत समिति के पीछे झाड़ियों में हैवानियत का शिकार बनाते हुए उस पर बलात्कार किया और उसके बाद उसे गला घोट कर मारने की कोशिश की और वहां से फरार हो गया पास के दवाखाने के कर्मचारियों को झाड़ियों के पीछे से रोने की आवाज सुनकर पहुंचे तो बच्ची के गुप्त अंगो से बह रहे खून में लथपथ गंभीर अवस्था में देखकर सबके होश उड़ गए जिसे तुरंत नांदुरा के सरकारी अस्पताल में लाया गया लेकिन बच्चे की हालत को देखते हुए खामगांव के अस्पताल रेफर किया गया।  पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए आरोपी को हिरासत में लिया और आगे की कार्रवाई नांदुरा के थानेदार अनिल पाटील कर रहे है।         


राजस्थान राज्यपाल के खिलाफ मोर्चा

जयपुर। राजभवन और राजस्थान सरकार के बीच टकराव बढ़ता ही जा रहा है। विधानसभा सत्र की अनुमति नहीं देने से नारजा कांग्रेस ने अब राज्यपाल के खिलाफ मोर्चा खोला दिया है। कांग्रेस पार्टी रविवार को अभियान चलाएगी। यह अभियान सोशल मीडिया पर आज दिन भर चलेगा। वहीं, सोमवार को कांग्रेस पार्टी जयपुर सहित सभी राज्य की राजधानियों में राजभवन का घेराव करेगी। राजस्थान कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने ट्वीट कर कहा कि देश की संवैधानिक संस्थाओं व मूल्यों पर भाजपा द्वारा निरंतर प्रहार किया जा रहा है।लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई सरकारों को धन बल व केन्द्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग से अस्थिर करने का कुंठित कृत्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इसी क्रम में राष्ट्रव्यापी अभियान चलाया जाएगा।


दरअसल, कांग्रेस के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने ट्वीट कर राजभवन घेराव की घोषणा की है। वेणुगोपाल ने लिखा, लोकतंत्र की हत्या के खिलाफ देश भर के राजभवन घेरेगी कांग्रेस. इधर, बीजेपी नेता राज्यपाल से राजभवन में मुलाकात की। राज्यपाल से मुलाकात के बाद बीजेपी राज्य सरकार पर हमलावर हो गई. बीजेपी का कहना है कि हमने राष्ट्रपति शासन की मांग नहीं की है। बीजेपी ने सीएम गहलोत से इस्तीफे की मांग भी की है। बीजेपी का कहना है कि सीएम गहलोत ने राजभवन घेराव की चेतावनी दी थी। उन्होंने गलत भाषा का इस्तेमाल किया था। होटल फेयरमोंट में हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद सीएम अशोक गहलोत ने कहा, बीजेपी के षड्यंत्र को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा।
बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने शनिवार को पूरे राजस्थान में केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया था। कांग्रेस ने 11 बजे से सभी जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन शुरू किया था। पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने विरोध प्रदर्शन को लेकर निर्देश जारी किए थे. निर्देश में कोरोना गाइडलाइन का पालन करने को कहा गया था। 50 से ज्यादा लोगों को इकट्ठा नहीं होने की हिदायत दी गई थी।


बता दें कि राजस्थान में लगातार गहराते जा रहे सियासी संकट के बीच अब सरकार और राजभवन के बीच भी टकराव शुरू हो गया है। दरअसल, सीएम अशोक गहलोत ने गुरुवार को राज्यपाल कलराज मिश्र से मिलकर विधानसभा सत्र बुलाने की मांग रखी थी। आज राज्यपाल ने उसपर कई क्वेरीज की हैं। उन्होंने जानना चाहा है कि आखिर इतनी जल्दी क्या है कि अचानक से सत्र बुलाने की मांग की गई?             


मनोज सिंह ठाकुर


सरकार गिरानी है तो मेरी गिराओः उद्धव

राणा ओबराय


महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने चेतावनी भरे लहजे में कहा, मेरी सरकार गिरानी है तो गिराओ, याद रखना स्टीयरिंग तो मेरे हाथ में रहेगा


मुंबई। राजस्थान में जारी संकट के बीच में महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने बड़ा बयान दिया है। एक इंटरव्यू में उद्धव ठाकरे ने कहा कि जिस किसी को उनकी सरकार गिरानी है वो गिराए। वो देख लेंगे। उनका कहना है कि इंतजार किसका है? अब सरकार गिराओ, सरकार तीन पहियों वाली है, लेकिन वो गरीबों का वाहन है, पर उसकी स्टीयरिंग तो उनके हाथ में है। बुलेट ट्रेन या रिक्शा में चुनाव करना पड़ा तो वो रिक्शा ही चुनेंगे।
उद्धव ठाकरे ने कहा कि वो गरीबों के साथ ही खड़े रहेंगे। उन्होंने कहा कि अपनी यह भूमिका मैं बदलता नहीं हूं। कोई ऐसी सोच न बनाए कि अब मैं मुख्यमंत्री बन गया हूं, मतलब बुलेट ट्रेन के पीछे खड़ा रहूंगा। महाराष्ट्र सीएम ने कहा कि महाराष्ट्र की अर्थव्यवस्था डगमगा गई है, लेकिन रास्ता निकालेंगे। ऑपरेशन लोटस महाराष्ट्र में सफल होगा या नहीं? इस सवाल के जवाब में महाराष्ट्र सीएम ने कहा कि करके देखो ना। मैं भविष्यवाणी कैसे करूंगा? आप करके देखो। जोड़-तोड़ करके देखो। एक महत्वपूर्ण मुद्दा क्या है कि ऐसा कोई भी विपक्षी नेता दिखाओ जो दूसरी पार्टी में जाकर सर्वोच्च पद पर पहुंचा है, मुख्यमंत्री बना है।सीएम उद्धव ने कहा कि आपको आपकी पार्टी में ऐसा क्या मिलता नहीं है कि आप दूसरी पार्टी में जाते हैं। कई जगह पर ऐसे उदाहरण हैं। ऐसे तोड़फोड़ होता है उसके पीछे ‘इस्तेमाल करो और फेंक दो’ यही नीति सबने अपनाई है। वहीं, तीन पहियों वाली सरकार के आरोप पर महाराष्ट्र सीएम ने कहा कि ‘सरकार तीन पहियों वाली है, लेकिन वह गरीबों का वाहन है। मैंने इतना ही कहा कि मैं मुख्यमंत्री होने के नाते सर्वांगीण विकास करूंगा। लोग मेरे साथ हैं, इसलिए मैं बुलेट ट्रेन ले आऊं, ऐसा नहीं है, जब तक कि वो सर्वमत से ना हो। इसलिए तीन पहिया तो तीन पहिया। वह एक दिशा में चलती है ना, फिर आपका पेट क्यों दुखता है?’सीएम उद्धव ने सवाल पूछते हुए कहा कि केंद्र में कितने पहिये हैं? हमारी तो ये तीन पार्टियों की सरकार है। केंद्र में कितने दलों की सरकार है, बताओ ना? पिछली बार जब मैं एनडीए की मीटिंग में गया था, तब तो 30-35 पहिए थे। मतलब रेलगाड़ी थी।           


सीबीआई ने मारा छापा, एसएओ अरेस्ट

रोहिणी। सीबीआई ने रोहिणी जिले के विजय विहार थाने में तैनात एसएचओ एसएस चहल के साथ ही दो सिपाहियों को भी गिरफ्तार किया है। आरोप है कि एक प्लॉट पर कथित कब्जे को लेकर एसएचओ ने 5 लाख रुपये की रकम मांगी थी और बाद में सौदा 2 लाख रुपये में तय हुआ था। सीबीआई प्रवक्ता आरके गौड़ के मुताबिक सीबीआई की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा को एक शख्स ने इस मामले की शिकायत दी थी।


शिकायतकर्ता ने बताया था कि वह विजय विहार इलाके में अपना मकान बनवा रहा था। आरोप है कि इस दौरान एक दूसरी पार्टी ने प्लॉट पर कब्जा करने की कोशिश की। झगड़ा होने की स्थिति में दोनों पार्टियों को विजय विहार थाने ले जाया गया जहां पर सिपाही की मार्फत एसएचओ ने 5 लाख रुपये रिश्वत की मांग की। शिकायतकर्ता ने जब यह पैसे देने में असमर्थता जाहिर की तो मामला 2 लाख रुपये में तय हुआ।शिकायतकर्ता ने इस बाबत सीबीआई की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा को सूचना दी और अपनी शिकायत में कहा कि वह इस काम के लिए एसएचओ को पैसे नहीं देना चाहता। लिहाजा इस मामले में कानूनी कार्रवाई की जाऐ।         


हिमाचल में हो सकता है 'संपूर्ण लॉकडाउन'

शिमला। हिमाचल प्रदेश में बढ़ते मामलों को लेकर हिमाचल प्रदश में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रदेश की जनता से जबाव मांगा हुआ है। ओर हिमाचल प्रदेश सीएमओं की साईट पर वोट लिस्ट जारी करते हुए जनता से जबाव मांगा है। लॉक डाउन बेहद जरूरी है। अगर लॉक डाउन नहीं होगा तो कोरोना वायरस बढ़ता जाएगा। हालांकि कोरोना वायरस अब भी बढ़ रहा है। लेकिन अगर हम लॉक डाउन नहीं करेंगे तो कोरोना वायरस और भी बढ़ेगा। इसीलिए जयराम ठाकुर ने हिमाचल में लॉक डाउन की तैयारी चलाई है।


शिवांशु 'निर्भयपुत्र'


यूपी की जेलों में फैला 'कोरोना वायरस'

बलिया/ लखनऊ। उत्तर प्रदेश की जेलों में कोरोना वायरस अब तेजी से फैल रहा है। झांसी की जेल में 128 कैदियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के एक दिन बाद ही बलिया जिला जेल में 228 कैदियों का परीक्षण पॉजिटिव आया है। जेल अधीक्षक प्रशांत कुमार मौर्य ने कहा, “जेल में संक्रमित कैदियों को अलग-अलग बैरकों में रखा गया है। उन्हें स्वास्थ्य विभाग के निदेर्शानुसार दवा और भोजन दिया जा रहा है।” जेल अधिकारी ने कहा कि एक अकेली महिला कैदी का भी परीक्षण पॉजिटिव आया है, उसे बसंतपुर के एल -1 अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


जेल प्रशासन ने बताया कि 817 कैदियों के एंटीजन परीक्षण के दौरान स्टाफ के एक सदस्य समेत 228 कैदियों का परीक्षण पॉजिटिव आया। बता दें कि बलिया जेल में 1,049 कैदी हैं। जिसमें अब तक 486 संक्रमित हो चुके हैं। इसके अलावा, 25 जेल कर्मचारियों में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलों को अस्थायी जेल स्थापित करने का निर्देश दिया था। इस संबंध में गृह विभाग द्वारा एक विज्ञप्ति भी जारी की गई थी। हालांकि, बलिया के जिला मजिस्ट्रेट श्रीहरि प्रताप शाही ने स्वीकार किया है कि जिले में अस्थायी जेल की सुविधा नहीं है। उन्होंने कहा, “हमने केवल ‘तब्लीगी जमात’ के लिए ऐसी जेलें बनाई थीं।”


शाही ने आगे कहा कि 22 जुलाई को 16 कैदियों के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद जेल में बड़े पैमाने पर सैंपलिंग की गई है। प्रसार को सीमित करने को लेकर उन्होंने कहा, “कुल आठ बैरकों में से तीन बैरकों को आइसोलेशन वार्ड में बदल दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग की एक टीम को जेल के अंदर इसकी यूनिट लगाने करने के लिए भी कहा गया है।” 


 संजय कुमार          


सुरक्षा चौकी पर आतंकवादियों का हमला

श्रीनगर। केन्द्रशासित जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में रविवार को आतंकवादियों ने एक सुरक्षा चौकी पर हमला किया था। हमले में किसी के हताहत होने की रिपोर्ट नहीं है। आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि शोपियां जिले के शुगलू में अज्ञात आतंकवादियों ने केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और जम्मू-कश्मीर पुलिस की संयुक्त चौकी पर हमला किया।               


योगी ने किया 15 आईपीएस का तबादला

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन पुलिस अधिकारियों पर शिकंजा कसा है, जो अपने-अपने जिलों में कानून-व्यवस्था को नियंत्रित करने में विफल रहे हैं। इनमें 15 आईपीएस अधिकारी शामिल हैं, जिनका तबादला और पोस्टिंग से संबंधित आदेश जारी किया गया है। बीते शनिवार रात जारी किए गए तबादले और पोस्टिंग संबंधी आदेशों के अनुसार, कानपुर एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु को झांसी स्थानांतरित कर दिया गया है, वहीं उनके पद में कोई बदलाव नहीं किया गया है। गौरतलब है कि 2-3 जुलाई की रात को बिकरू गांव में आठ पुलिस अधिकारियों की हत्या और एक लैब तकनीशियन की अपहरण-हत्या के मद्देनजर उनका स्थानांतरण हुआ है।


कानपुर में प्रभु का कार्यकाल विवादों से भरा रहा और ज्यादातर मामलों में पुलिस की भूमिका संदिग्ध रही। गैंगस्टर विकास दुबे की 10 जुलाई को मुठभेड़ और लैब टेक्नीशियन की रिहाई के लिए दी गई फिरौती की रकम ने पुलिस की भूमिका को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया था। अब तक अलीगढ़ रेंज के डीआईजी के पद पर तैनात रहे प्रीतिंदर सिंह अब कानपुर के नए डीआईजी / एसएसपी होंगे। अमेठी की एसपी ख्याति गर्ग को लखनऊ पुलिस कमिशनरेट में डीसीपी (केंद्रीय) के रूप में स्थानांतरित किया गया है, जबकि डीसीपी सेंट्रल दिनेश सिंह अमेठी के नए एसपी होंगे। अपने पड़ोसियों के साथ एक नाले को लेकर हुए विवाद के बाद पिछले सप्ताह लखनऊ में एक महिला ने जान दे दी थी, जिसके बाद गर्ग ने सुर्खियां बटोरीं थी। महिला का दावा था कि पुलिस ने उसकी शिकायतों पर कार्रवाई नहीं की।           


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)


 जुलाई 27, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-347 (साल-01)
2. सोमवार, जुलाई-27, 2020
3. शक-1943, श्रावण,शुक्ल-पक्ष, तिथि- सप्तमी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 05:25,सूर्यास्त 07:20।


5. न्‍यूनतम तापमान 25+ डी.सै.,अधिकतम-36+ डी.सै.। भारी बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275


(सर्वाधिकार सुरक्षित)                  


अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...