शनिवार, 31 जुलाई 2021

मौजूदा समझौते के प्रावधानों का विस्तार किया

वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली। भारत और अमेरिका ने शुक्रवार को एक मौजूदा समझौते के प्रावधानों का विस्तार किया। जिसके तहत सहयोगी देशों को कनेक्टिविटी, व्यापार और निवेश, स्वास्थ्य सेवा तथा कृषि जैसे विभिन्न क्षेत्रों में संयुक्त रूप से क्षमता निर्माण में मदद दी जाती है। विदेश मंत्रालय ने बताया कि दोनों पक्षों ने वैश्विक विकास के लिए त्रिकोणीय सहयोग पर मार्गदर्शक सिद्धांतों के वक्तव्य (एसजीपी) में दूसरे संशोधन पर हस्ताक्षर किए।एसजीपी समझौते पर नवंबर 2014 में हस्ताक्षर किए गए थे और नए संशोधन ने समझौते की वैधता को 2026 तक बढ़ा दिया है।

विदेश मंत्रालय ने कहा, ''भारत और अमेरिका मुख्य रूप से कृषि, क्षेत्रीय संपर्क, व्यापार और निवेश, पोषण, स्वास्थ्य, स्वच्छ और अक्षय ऊर्जा, महिला सशक्तिकरण, आपदा को लेकर तैयारी, जल, स्वच्छता, शिक्षा और संस्थान निर्माण पर ध्यान केंद्रित करते हुए, कई क्षेत्रों में भागीदार देशों को क्षमता निर्माण सहायता प्रदान करना जारी रखेंगे।

भाजपा-जेजेपी गठबंधन सरकार में विवाद पैदा हुआ

राणा ओबराय             
चंडीगढ़। हरियाणा की भाजपा-जेजेपी गठबंधन सरकार में एक नया विवाद पैदा हो गया है। हरियाणा लोक सेवा आयोग की मात्र एक सीट पर भाजपा ने अपना अपना दावा ठोकते हुए अपनी पार्टी की ओर से आनंद शर्मा को एचपीएससी का मेंबर बना दिया। जिससे नाराज होकर जेजेपी पार्टी के नेता व हरियाणा सरकार में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला और उनकी पार्टी के अन्य नेता शपथग्रहण समारोह में शामिल नहीं हुए। इससे साफ हो गया है कि आनंद शर्मा के एचपीएससी मेंबर बनने से जेजेपी पार्टी खुश नहीं है।

निजी जानकारी के अनुसार मई माह में हुई कैबिनेट मीटिंग में जब एचपीएससी के मेंबरों की संख्या घटाई गई थी तो उस समय भी मीटिंग के अंदर उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने इस प्रस्ताव का विरोध किया था ? क्या हरियाणा की गठबंधन सरकार में सहयोगी पार्टी के पदासीन उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला व जेजेपी पार्टी के विधायकों को मुख्यमंत्री खट्टर अब पहले जैसी अहमियत नही दे रहे हैं। अगर ऐसा है तो यह दावे के साथ कहा जा सकता हैं कि गठबंधन सरकार के दिन थोड़े रह गए हैं ?

हापुड़: युवक ने संदिग्ध परिस्थितियों में लगाईं फांसी

अतुल त्यागी            
हापुड़। मामला जनपद हापुड़ के थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के गांव बनखण्डा का है। जहां युवक ने संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी लगाकर मौत को लगाया गले। मौके पर सुसाइड नोट भी छोड़ा। 
सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने सुसाइड नोट को लिया अपने कब्जे में। भारी पुलिस बल मौके पर जांच पड़ताल में जुटा।
मिली जानकारी के अनुसार फांसी के फंदे पर जैसे ही युवक के लटके होने की खबर परिवार और गांव के लोगों को पता चली तो पूरे गांव में हड़कंप मच गया। इसी दौरान सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस जांच पड़ताल में जुटी है, तो वही लोग तरह-तरह के कयास लगा रहे हैं। चर्चाओं का बाजार गर्म दिखाई दे रहा है।युवक ने फांसी के फंदे पर झूल कर अपनी मौत को गले लगाने के बाद एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है। पुलिस ने हालांकि सुसाइड नोट को अपने कब्जे में ले लिया है और गंभीरता से जांच में जुटी है।

भारतीय टीम को जीत, वंदना ने भूमिका निभाई

पंकज कपूर           

देहरादून। उत्तराखंड के हरिद्वार के छोटे से गांव की हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया ने ओलंपिक में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी वंदना कटारिया ने टोक्यो ओलंपिक में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन गोल दागे और भारतीय टीम को जीत दिलाने में मुख्य भूमिका निभाई। वंदना ने ओलंपिक में हैट्रिक लगाकर पहली भारतीय महिला हॉकी खिलाड़ी का यह खिताब भी अपने नाम कर लिया है। 1984 के बाद किसी भारतीय ने ओलंपिक में हैट्रिक नहीं लगाई थी। 

वंदना ने इस एेतिहासिक उपलब्धि के जरिए दिवंगत पिता को श्रद्धांजलि दी है। अपनी तैयारी के चलते वह पिता के निधन पर भी गांव नहीं आ सकी थीं। वंदना की इस उपलब्धि पर परिवारजनों, ग्रामीणों और जिले के खेल अधिकारियों में जश्न का माहौल है। बहादराबाद ब्लॉक क्षेत्र के गांव रोशनाबाद निवासी वंदना कटारिया ने पढ़ाई के साथ हॉकी को अपना कॅरियर बनाने के लिए जी जान से मेहनत की है।

वंदना कटारिया का जन्म 15 अप्रैल 1992 में रोशनाबाद में ही हुआ है। वंदना कटारिया ने पहली बार जूनियर अंतरराष्ट्रीय स्पर्धा में 2006 में प्रतिभाग किया। वर्ष 2013 में देश में सबसे अधिक गोल करने में सफल रहीं। जर्मनी में हुए जूनियर महिला विश्वकप में वंदना कटारिया कांस्य पदक विजेता बनीं। वंदना ने हॉकी में फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। वह भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान भी रह चुकी हैं। 2021 मई में पिता नाहर सिंह का आकस्मिक निधन हो गया। तब गांव नहीं आ पाई थीं। तब ओलंपिक के लिए बेंगलुरु में चल रहे कैंप में तैयारी कर रही थीं। उसकी हैट्रिक लगाने से गांव में जश्न है।

डीएम ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण किया

कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार ने शनिवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मंझनपुर का निरीक्षण किया। निरीक्षण में जिलाधिकारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में ऑक्सीजन प्लॉण्ट एवं आक्सीजन पाइप लाइन के निर्माण कार्य को देखा। प्लॉट का निर्माण कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है। छोटी मोटी कमियों को तत्काल पूर्ण कराते हुए उन्होंने प्लांट को जल्द से जल्द चालू कराये जाने का निर्देश दिया है। 
जिलाधिकारी ने अस्पताल परिसर में जलभराव वाले स्थान में मिट्टी डलवाने एवं जल निकासी हेतु नाली निर्माण कराये जाने का निर्देश अधिशासी अधिकारी नगर पालिका मंझनपुर को दिये हैं।उन्होंने वहां पर खड़े निष्प्रयोज्य वाहनों की नीलामी कराये जाने का निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिया है। जिलाधिकारी ने अस्पताल परिसर में साफ-सफाई कराये जाने का भी निर्देश दिया है। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी विनय कुमार गुप्ता, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. केसी राय अधिशासी अभियंता विद्युत सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे।
उज्ज्वल केशरवानी 

आयुर्विज्ञान संस्थान स्थापित के लिए मंजूरी मांगी

बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बासवराज बोम्मई ने राज्य के हुबली-धारवाड़ में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) स्थापित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मंजूरी मांगी है। मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी बयान के मुताबिक बोम्मई ने प्रधानमंत्री से कलाबुर्गी में ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल को क्षेत्रीय एम्स जैसे संस्थान के रूप में उन्नयन करने की भी प्रधानमंत्री से अपील की है। बयान में कहा गया है कि मोदी ने मुख्यमंत्री को राज्य के विकास के लिए पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया और राज्य की प्रगति के लिए उन्हें शुभकामनाएं दी।

दिल्ली में शनिवार को कोरोना के 58 नए मामलें मिलें

अकांशु उपाध्याय              

ई दिल्ली। दिल्ली में शनिवार को कोविड-19 के 58 नए मामले सामने आए तथा एक संक्रमित की मौत हुई। वहीं, संक्रमण दर घटकर 0.08 फीसदी हो गई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई। स्वास्थ्य बुलेटिन में बताया गया कि एक संक्रमित की मौत होने से यहां मरने वालों की संख्या 25,053 पर पहुंच गई है। शुक्रवार को यहां संक्रमण के 63 नए मामले आए थे तथा तीन व्यक्तियों की मौत हुई थी और संक्रमण दर 0.09 फीसदी थी।

दिल्ली में बृहस्पतिवार को संक्रमण के कारण किसी की मौत नहीं हुई थी और दूसरी लहर के बाद से यह तीसरी बार था, जब महामारी के कारण एक दिन में किसी की मौत नहीं हुई थी। इससे पहले 18 जुलाई और 24 जुलाई को संक्रमण के कारण किसी की जान नहीं गई थी। इससे पहले इस वर्ष दो मार्च को भी राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के कारण किसी की मौत का मामला सामने नहीं आया था। तब संक्रमण दर 0.33 फीसदी थी।


कृषि कानूनों की मांग से जुड़ा प्रस्ताव पारित किया

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने संसद में पारित तीन कृषि कानूनों को वापस करने की मांग से जुड़ा प्रस्ताव संख्या बल के आधार पर दिल्ली विधानसभा में पारित किया है। तीनों कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमा पर डटे किसानों की मांगों के समर्थन में दिल्ली सरकार का यह एक और प्रयास है।
दिल्ली विधानसभा के मानसून सत्र के अंतिम दिन शुक्रवार को सदन में आम आदमी पार्टी के सदस्य की ओर से चर्चा के लिए लगाए गए विषय पर पार्टी ने अपना रुख स्पष्ट किया है।  
आम आदमी पार्टी के विधायक जरनैल सिंह की ओर से विधानसभा में इस संबंध में लगाए गए प्रस्ताव पर चर्चा भी की गई। चर्चा में सत्तापक्ष और विपक्ष दोनों की ओर से सदस्यों हिस्सा लिया।
चर्चा के दौरान दिल्ली के शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन दिल्ली सरकार का रुख स्पष्ट करते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार इन तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ शुरुआत से ही विरोध कर रही है। वह किसानों की मांगों का पुरजोर तरीके से समर्थन करती है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को किसानों के द्वारा करीब 1 साल से विरोध प्रदर्शन करने के बाद अब इन कानूनों को तुरंत वापस लेना चाहिए।



सीएम योगी ने 'मिशन शक्ति अभियान' में निर्देश दिए

हरिओम उपाध्याय                 
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान और स्वावलंबन के लिए संचालित 'मिशन शक्ति अभियान' में विभागों की संख्या कम करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अभियान का नोडल गृह विभाग को ही बनाने को कहा है। उन्होंने थानों में तैनात महिलाओं को बीट इंचार्ज बनाने और महिला सिपाहियों की संख्या भी बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। वे शुक्रवार को अपने आवास पर मिशन शक्ति के तीसरे चरण की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे।
उन्होंने कहा है कि इस अभियान का समाज पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है। 
इसलिए इसे और प्रभावशाली तरीके संचालित किया जाएगा। महिलाओं की सहायता के लिए थानों में स्थापित हेल्पडेस्क को प्रभावी ढंग से संचालित करने के निर्देश देते हुए सीएम ने '1090 वीमेन पावर लाइन' पर दर्ज शिकायतों का निस्तारण पीड़ितों की संतुष्टि के मुताबिक करने और उनसे नियमित समय पर फीडबैक लेने को भी कहा। इस मौके पर प्रमुख सचिव महिला कल्याण वी हेकाली झिमोमी ने मिशन शक्ति के तीसरे चरण को लागू करने के संबंध में प्रजेंटेशन दिया। प्रजेंटेशन देखने के बाद सीएम ने अभियान से संबंधित विभागों की संख्या घटाकर अधिकतम 5 या 6 तक सीमित करने के निर्देश दिए हैं। इसमें मुख्य रूप से गृह, स्वास्थ्य, शिक्षा, नगर विकास, महिला कल्याण और बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग को ही जोड़ने को कहा है।
सड़कों पर समुचित प्रकाश की व्यवस्था हो
सीएम ने महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए लगाए गए सीसीटीवी को आपस में लिंक करने और निजी संस्थाओं, मॉल व कार्यालयों में लगे सीसीटीवी कैमरों को भी इनसे जोड़ने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सड़कों पर समुचित मार्ग प्रकाश की व्यवस्था करने और गृह विभाग को अभियान की समीक्षा करने के भी निर्देश दिए हैं।
एडीजी नीरा रावत ने वीमेन पावर लाइन से संचालित कार्यक्रमों का प्रजेंटेशन दिया।
वहीं, आईजी लखनऊ रेंज लक्ष्मी सिंह ने मिशन शक्ति के तीसरे चरण के अभियान का प्रजेंटेशन देते हुए महिला अपराधियों के विरुद्ध की जाने वाली कार्रवाई का ब्योरा व महिला बीट पुलिस अधिकारियों की तैनाती समेत अन्य सुझाव दिए। अभियान से संबंधित एसीएस स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, एसीएस ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, एसीएस उच्च शिक्षा मोनिका गर्ग और एसीएस माध्यमिक शिक्षा आराधना शुक्ला ने भी अपने-अपने विभागों के क्रियाकलापों की जानकारी दी।

आशुतोष ने बच्चे के संक्रमित पाए जाने की पुष्टि की

पंकज कपूर               
देहरादून। कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए सरकार और स्वास्थ्य विभाग विभिन्न तरह से जागरूकता फैलाने के साथ ही हर संभव प्रयास कर रहा है। बावजूद इसके इन दिनों स्कूलों को खोलने की सरकार तैयारियां कर रही है। वहीं दून अस्पताल के पीआईसीयू में तीन दिन से भर्ती एक 12 साल का बच्चा कोरोना संक्रमित पाया गया है। जिससे विभाग के अफसर एवं अस्पताल के डाक्टर सकते में हैं। क्योंकि अस्पताल में एक माह बाद कोई बच्चा संक्रमित पाया गया है।
अस्पताल में रोजाना चार से पांच बच्चे विभिन्न बीमारियों को लेकर भर्ती हो रहे हैं। कोरोना जांच सभी की कराई जाती है। एक माह बाद कोई बच्चा संक्रमित मिला है। दून मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आशुतोष सयाना ने बच्चे के संक्रमित पाए जाने की पुष्टि की है।
उन्होंने बताया कि, विभाग के एचओडी डॉ. अशोक कुमार के अंडर में बच्चा भर्ती है। बच्चे को ऑक्सीजन की जरूरत नहीं है और अब हालत सामान्य है। शुक्रवार को सामान्य वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। विशेष निगरानी में बच्चे को रखा गया है। बच्चे के माता-पिता यूपी के एक जिले से है। जो चार माह पूर्व बच्चे को यहां लाए थे। पहले बच्चा ओपीडी में भी अस्पताल आया था। बुधवार को इमरजेंसी में आया तो उसे भर्ती किया गया। उसे सात दिन से बुखार था। अब हालत सामान्य है, चिंता जैसी कोई बात नहीं है।
बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. विशाल कौशिक, डॉ. आयशा इमरान का कहना है कि, इस मौसम में बच्चों का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। बरसात के मौसम में बच्चों को गंदे पानी से बचाना है। ताजा एवं तरल खाना बच्चों को दिया जाना है। उन्हें साफ, हो सके तो उबला पानी पिलाएं, गंदगी से बचाएं।
कुछ दिक्कत जैसे बुखार, नजला, खांसी एवं बच्चा गुमसुम नजर आएं तो तुरंत डाक्टर को दिखाएं। तीसरी लहर की आशंकाओं को लेकर पैनिक न फैलाएं। कोरोना से बचाव को एहतियात बरतें। घर से निकलने से पहले मास्क एवं सेनेटाइजर का प्रयोग करें। घर में वापस आने पर नहा धोकर ही बच्चों से मिलें।

100 से अधिक लोगों को स्वीकृति-पत्र वितरित किएं

पंकज कपूर              
देहरादून। प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के अंतर्गत चिन्हित लाभार्थियों को आवास स्वीकृति पत्र सौंपे। सीएम कैम्प कार्यालय परिसर स्थित जनता दर्शन हॉल में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने प्रदेश के लाभार्थियों को प्रथम किश्त की राशि डीबीटी द्वारा ऑनलाईन जारी की। उन्होंने कार्यक्रम में 100 से अधिक लोगों को आवास स्वीकृति पत्र वितरित किए।
मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि, प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण में प्रदेश के लाभार्थियों को आवास बन जाने के बाद सामान आदि के लिए पांच-पांच हजार रूपए दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि, राज्य सरकार सबका साथ- सबका विकास- सबका विश्वास के ध्येय वाक्य के साथ सरकार नहीं बल्कि साझेदार के तौर पर काम कर रही सरकार है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजनाएं समाज में अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति को सीधे लाभ पहुंचा रही है। पहले योजनाएं बनती थीं, पर उसका लाभ पात्र लोगों तक नहीं पहुंचता था। परंतु प्रधानमंत्री जी ने दूरदर्शिता के साथ पहले सभी के जनधन योजना में खाते खुलवाए और अब उन खातों में डीबीटी द्वारा योजना की राशि सीधे लाभार्थी को दी जा रही है। स्वच्छ भारत मिशन, उज्ज्वला योजना, किसान सम्मान निधि आदि योजनाओं से करोड़ों भारतीयों को लाभ मिला है।

छत्तीसगढ़ में मौसम विभाग ने हाईअलर्ट जारी किया

दुष्यंत टीकम       

रायपुर। अगले 4 घंटे प्रदेश में मौसम विभाग ने हाई अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक प्रदेश के इन जिलों में बाढ़ जैसे हालात भी बन सकते है। मौसम विभाग ने कहा कि सरगुजा संभाग में पूर्व में ही अच्छी बारिश हो चुकी है। आज भारी बारिश की वजह से बलरामपुर, जशपुर, कोरिया में बाढ जैसे हालात बनने की सम्भावना है।

मौसम विभाग के मुताबिक एक चिन्हित निम्न दाब का क्षेत्र झारखण्ड और उससे लगे गंगेटिक पश्चिम बंगाल के ऊपर स्थित है। इसके साथ ऊपरी हवा का चक्रवात घेरा 7.6 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। इसके पश्चिम उत्तर पश्चिम दिशा में आगे बढ़ने की प्रबल संभावना है। एक निम्न दाब का क्षेत्र दक्षिणी मध्य उत्तर प्रदेश के ऊपर स्थित है। इसके साथ चक्रीय चक्रवाती घेरा 7.6 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। मानसून द्रोणिका गंगानगर, नरनौल, उत्तर प्रदेश में स्थित निम्न दाब के केंद्र, गया, चिन्हित निम्न दाब के केंद्र और उसके बाद दक्षिण-पूर्व की ओर उत्तर बंगाल की खाड़ी तक स्थित हैं।

वाइस एडमिरल ने प्रमुख के तौर पर प्रभार संभाला

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। नौवहन एवं दिशा विशेषज्ञ, वाइस एडमिरल एस एम घोरमडे ने भारतीय नौसेना के उपप्रमुख के तौर पर शनिवार को प्रभार संभाला। एडमिरल घोरमडे का भारतीय नौसेना के अग्रिम मोर्चे के युद्धपोतों पर व्यापक परिचालन अनुभव रहा है। जिसमें निर्देशित मिसाइल पोत आईएनएस ब्रह्मपुत्र, पनडुब्बी बचाव पोत आईएनएस निरीक्षक और सुरंग भेदी पोत आईएनएस एलेप्पी की कमान संभालना शामिल है।
उन्होंने वाइस एडमिरल जी अशोक कुमार की जगह ली है जो 39 वर्षों की सेवा के बाद सेवानिवृत्त हुए हैं। नौसेना के वरिष्ठ अधिकारी नौसेना के उपप्रमुख का पद संभालने से पहले एकीकृत रक्षा स्टाफ के मुख्यालयों में तीनों सेवा के उपप्रमुखों की नियुक्ति (अभियान एवं प्रशिक्षण) की जिम्मेदारी संभाल रहे थे। वाइस एडमिरल घोरमडे राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खड़कवासला, रोड आइलैंड में अमेरिकी नेवल वॉर कॉलेज में नेवल स्टाफ कॉलेज और मुंबई के नेवल वॉर कॉलेज के विद्यार्थी रहे हैं।
उन्होंने एक जनवरी, 1984 में भारतीय नौसेना में कमिशन प्राप्त कियाथा और उन्हें नौवहन एवं दिशा विशेषज्ञ के तौर पर जाना जाता है। तट पर उनकी महत्वपूर्ण स्टाफ नियुक्तियों में सहायक प्रमुख (मानव संसाधन विकास), कर्मियों के प्रधान निदेशक और नौसेना मुख्यालय में नौसेना योजनाओं का निदेशक पद शामिल है।
वाइस एडमिरल के पद पर उन्होंने नौसैन्य अभियानों के महानिदेशक, पूर्वी नौसैन्य कमान के प्रमुख और कार्मिक सेवाओं के नियंत्रक जैसे चुनौतीपूर्ण और प्रतिष्ठित पदों को संभाला है। फ्लैग ऑफिसर (वरिष्ठ नौसैन्य अधिकारी) को भारत के राष्ट्रपति द्वारा 2017 में अतिविशिष्ट सेवा पदक और 2007 में नौसेना पदक से सम्मानित किया गया है।

'राष्ट्रीय पुरस्कार' से सम्मानित होगें डॉ. पूनावाला

कविता गर्ग                    
पुणे। पुणे के कोविड-19 रोधी टीका निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) के अध्यक्ष डॉ. सायरस पूनावाला को 2021 के लिए प्रतिष्ठित लोकमान्य तिलक राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। लोकमान्य तिलक ट्रस्ट के अध्यक्ष दीपक तिलक ने यह घोषणा की।
उन्होंने शुक्रवार को कहा, ”पूनावाला को कोविड-19 महामारी के दौरान उनके काम के लिए सम्मानित किया जाएगा, जिसमें उन्होंने कोविशील्ड टीका बनाकर कई लोगों की जिंदगियों को बचाने में मदद की। उनके नेतृत्व में दुनिया को रिकॉर्ड वक्त में कोविशील्ड टीके की करोड़ों खुराक मिल पायी। पूनावाला अलग-अलग टीकों को किफायती दामों पर बनाने में अग्रणी रहे हैं।”
उन्होंने बताया कि यह पुरस्कार समारोह 13 अगस्त को होगा। पुरस्कार के तौर पर एक लाख रुपये का नकद इनाम और एक स्मृति चिह्न दिया जाएगा। तिलक ने कहा कि यह पुरस्कार हर साल एक अगस्त को लोकमान्य तिलक की पुण्यतिथि पर दिया जाता है लेकिन कोरोना वायरस स्थिति के कारण इस बार तारीख बदल दी गयी है। इस पुरस्कार की शुरुआत 1983 में हुई थी और अभी तक विभिन्न प्रतिष्ठित लोगों को इससे सम्मानित किया जा चुका है।

प्राकृतिक आपदाओं की चपेट में आईं 'दुनिया'

लंदन। हाल के हफ्तों में दुनिया रिकॉर्ड तोड़ने वाली प्राकृतिक आपदाओं की चपेट में आयी। चीन और पश्चिम यूरोप में भयंकर बाढ़ आयी, उत्तर अमेरिका में गर्म हवाएं चली और सूखा पड़ा तथा उप आर्कटिक क्षेत्रों में जंगलों में आग लगी। ब्रिटेन के मौसम पर एक वार्षिक रिपोर्ट बताती है कि असाधारण मौसम या बेमौसम घटनाएं पूरी दुनिया में आम हो गयी है। अगस्त 2020 में दक्षिण इंग्लैंड में लगातार छह दिन तापमान 34 डिग्री सेल्सियस रहा।
भविष्य में ब्रिटेन में गर्मियों में नियमित तौर पर तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक रहने की आशंका है जबकि वैश्विक ताप वृद्धि 1.5 डिग्री सेल्सियस तक सीमित रहेगी। कनाडा में जून 2021 में राष्ट्रीय तापमान का रिकॉर्ड टूट गया और लिटन, ब्रिटिश कोलंबिया में पारा 49.6 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया गया। ब्रिटिश कोलंबिया कुछ दिनों पहले जंगल में लगी आग से तबाह हो गया। इनमें से कई घटनाओं ने दुनिया भर के जलवायु वैज्ञानिकों को हैरान कर दिया। कुछ वैज्ञानिकों को यह चिंता होनी शुरू हुई कि उन्होंने यह ठीक से नहीं आंका कि जलवायु कितनी जल्दी परिवर्तित होगी। सबकुछ चिंताजनक है।
बाढ़ और जंगल में लगी आग अलग घटनाएं नहीं हैं। ये जलवायु प्रणाली में कई अंतर संबंधों का नतीजा है। लंदन में जुलाई के मध्य में अचानक आयी बाढ़ के उदाहरण को देखिए। गर्मी में आए आंधी तूफान के कारण ऐसा हुआ जो पृथ्वी की सतह से उठती गर्म हवाओं से प्रेरित थे। इस बीच पश्चिमी अमेरिका के एक जंगल में भड़की आग लंबे समय तक सूखा पड़ने का नतीजा है।
पृथ्वी की जलवायु जटिल, गतिशील और अव्यवस्थित है जिसमें भूमि, समुद्र और वायुमंडल के बीच संपर्क और ऊर्जा प्रवाह शामिल है। लेकिन इन सभी जटिलताओं को समझना हमेशा संभव नहीं है इसलिए वैज्ञानिकों को उन्हें रेखीय प्रणालियों और मॉडलों में फिट करने के लिए प्रबंधनीय टुकड़ों में तोड़ना पड़ा। इसके परिणामस्वरूप हम प्रत्येक हानिकारक प्राकृतिक आपदा को दूसरे से अलग समझते हैं। बाढ़ आने में बारिश और जंगल में आग लगने में चिंगारी के अलावा कई अन्य तत्व भी जिम्मेदार होते हैं। 
हमारी जलवायु प्रणाली के सभी तत्व किसी न किसी तरीके से एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं।
हमारी जलवायु के गर्म होना जारी होने के कारण उसका आधार बदल रहा है। इसके कारण मौसमी परिस्थितियां भी तेजी से बदल रही हैं जिससे असाधारण मौसम या बेमौसमी घटनाओं को परिभाषित करना चुनौतीपूर्ण हो गया है। असाधारण मौसमी घटनाओं के बीच अंतर संबंधों को हाल फिलहाल तक विज्ञान समुदाय ने काफी अनदेखी की। लेकिन अब इन जटिल संबंधों की पहचान करने के लिए अंतरराष्ट्रीय अनुसंधान बढ़ रहा है।

भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए ऐलान किया

राणा ओबराय                   
चंडीगढ। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने शहीद ऊधम सिंह के शहीदी दिवस पर आज उन्हें नमन कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए ऐलान किया कि आजादी की लड़ाई में अंडमान की सेलुलर जेल में प्राण न्योछावर करने वाले गुमनाम नायकों के सम्मान में एक स्मारक का निर्माण जल्द किया जाएगा। यह स्मारक वतन पर फिदा होने वाले परवानों को समर्पित होगा जिनको काले पानी की सज़ा भुगतनी पड़ी। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज यहां राज्य स्तरीय समागम के दौरान शहीद ऊधम सिंह स्मारक को लोकार्पित करते हुए कहा कि देश के स्वतंत्रता आंदोलन में बेमिसाल योगदान देने वाले ऐसे देशभक्तों और स्वतंत्रता सेनानियों, विशेषकर पंजाब के महान सपूतों की शिनाख़्त प्रसिद्ध इतिहासकार और विद्वान पहले ही कर चुके हैं।
मुख्यमंत्री ने अपने पिछले कार्यकाल के दौरान सुनामी से तबाह हुए इलाके का दौरा करने के मौके पर अंडमान टापू में सेलुलर जेल के दौरे को याद करते हुए कहा कि उनको यह जान कर बहुत हैरानी हुई कि वहां दीवारों पर शहीदों के खुदे हुए नामों में से वह किसी को भी नहीं जानते थे। ये शहीद काले पानी की सज़ा भुगतते हुए गुमनामी में ही इस जहां को छोड़ गए और उनकी यादें भी जेल तक ही सीमित होकर रह गई। भारत माता के जांबाज सपूतों के बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता।
ज्ञातव्य है कि शहीद ऊधम सिंह के तांबे की आदमकद प्रतिमा वाला स्मारक बनाया गया है जिसके साथ दोनों तरफ़ स्थापित चार -चार पत्थरों पर शहीद ऊधम सिंह के जीवन, इतिहास और मिसाली योगदान को अंग्रेज़ी और पंजाबी में उकेरा गया है। एक अजायबघर भी बनाया गया है। जहां निशानियां, विलक्षण तस्वीरों, दस्तावेज़ और महान शहीद की अस्थियां कलश में रखी गई हैं। इस स्मारक पर 6.40 करोड़ रुपए की लागत आई है जिसमें से ज़मीन की कीमत पर 3.40 करोड़ जबकि बाकी 3 करोड़ रुपए इसके निर्माण पर ख़र्च किये गए हैं।
महान क्रांतिकारी के 82वें शहीदी दिवस के मौके पर श्रद्धा-सुमन भेंट करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि महान शहीद का बलिदान हमारी नौजवान पीढ़ी में राष्ट्रीयता और देशप्रेम का जज़्बा पैदा करता रहेगा। उन्होंने लोगों से इस स्मारक का सही ढंग से रख-रखाव करने की अपील की।
इस दौरान मुख्यमंत्री शहीद ऊधम सिंह के वारिसों को भी मिले और सम्मान के तौर पर उनको शॉल से सम्मानित किया जिनमें जीत सिंह, ग्यान सिंह, रणजीत कौर, जीत सिंह पुत्र बचन सिंह, मोहन सिंह, श्याम सिंह, गुरमीत सिंह और मलकीत सिंह (सभी सुनाम निवासी) शामिल थे। इस मौके पर शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला, अतिरिक्त मुख्य सचिव पर्यटन संजय कुमार, मुख्यमंत्री के विशेष प्रमुख सचिव गुरकिरत कृपाल सिंह, पर्यटन और सांस्कृतिक विभाग के निदेशक कंवल प्रीत बराड़, डिप्टी कमिश्नर रामवीर, डी.आई.जी. विक्रमजीत दुग्गल और एस.एस.पी. विवेक शील सोनी उपस्थित थे।

10वीं व 12वीं के विद्यार्थियों का रिजल्ट जारी किया

हरिओम उपाध्याय               
लखनऊ। कोरोना काल में देश के कई राज्यों की तरह यूपी बोर्ड ने भी परीक्षाएं रद कराने का फैसला लिया था। ऐसे में परीक्षा परिणामों के लिए बोर्ड ने 50-50 का फार्मूला अपना कर आज 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों का रिजल्ट जारी कर दिया है।
इसके बाद आप अपने लॉगिन क्रेडेंशियल में रोल नंबर या रजिस्ट्रेशन नंबर डालकर यूपी बोर्ड हाईस्कूल/दसवीं कक्षा परीक्षा 2021 परिणाम पर क्लिक कर इसे सब्मिट करें। इसके बाद अगले पेज पर आपको यूपी बोर्ड 10वीं का रिजल्ट मिल जाएगा।

तीरंदाजी स्पर्धा में भारत की चुनौती समाप्त हुईं

टोक्यो। ओलंपिक की तीरंदाजी स्पर्धा में भारत की चुनौती पदक के बिना ही समाप्त हो गई।जब अतनु दास पुरूषों के व्यक्तिगत वर्ग के प्री क्वार्टर फाइनल में जापान के ताकाहारू फुरूकावा से 4 . 6 से हार गए। दास पांचवें सेट में एक बार भी 10 स्कोर नहीं कर सके और आठ का स्कोर उन पर भारी पड़ा।
दुनिया की नंबर एक तीरंदाज दीपिका कुमारी के क्वार्टर फाइनल में हारने के बाद भारत की उम्मीदें दास पर ही टिकी थी। पिछले मैच में लंदन ओलंपिक के स्वर्ण पदक विजेता ओ जिन हयेक को हराने के बाद दास लंदन ओलंपिक रजत पदक विजेता और यहां टीम वर्ग का कांस्य जीत चुके जापानी तीरंदाज को नहीं हरा सके। एक समय 1 . 3 से पिछड़ने के बाद उन्होंने वापसी करके स्कोर 3 . 3 कर दिया।
चौथे सेट में मुकाबला बराबरी का रहा लेकिन जापानी तीरंदाज ने पांचवें सेट में 28 . 27 से जीत दर्ज की । दास ने आखिरी दोनों तीर पर आठ स्कोर किया। दस से शुरूआत करने के बाद दास ने दबाव बनाया लेकिन जापानी खिलाड़ी ने बराबरी से उनका सामना करके दूसरा सेट जीता। चौथे सेट में दास ने दो बार 10 स्कोर किया और इस सेट के बाद स्कोर बराबर था।

विश्व में संक्रमितों की संख्या-19.73 करोड़ हुईं

वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली। विश्वभर में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के संक्रमितों की संख्या बढ़कर 19.73 करोड़ हो गई है और अब तक इसके कारण 42.07 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।
अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र (सीएसएसई) की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार दुनिया के 192 देशों एवं क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 19 करोड़ 73 लाख 24 हजार 486 हो गयी है। जबकि 42 लाख 07 हजार 954 लोग इस महमारी से जान गंवा चुके हैं।
विश्व में महाशक्ति माने जाने वाले अमेरिका में कोरोना वायरस की रफ्तार फिर से तेज हो गई है। यहां संक्रमितों की संख्या 3.49 करोड़ से अधिक हो गयी है और 6.13 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गयी है। दुनिया में कोरोना संक्रमितों के मामले में भारत दूसरे और मृतकों के मामले में तीसरे स्थान पर है।
देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 41,649 नये मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर तीन करोड़ 16 लाख 13 हजार 993 हो गया है। इस दौरान 37 हजार 291 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद इस महामारी को मात देने वालों की कुल संख्या बढ़कर 3,07,81,263 हो गयी है।
सक्रिय मामले 3765 बढ़कर चार लाख 08 हजार 290 हो गये हैं। इसी अवधि में 593 मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर चार लाख 23 हजार 810 हो गया है।देश में सक्रिय मामलों की दर घटकर 1.29 फीसदी, रिकवरी दर घटकर 97.37 फीसदी और मृत्यु दर 1.34 फीसदी है ब्राजील संक्रमितों के मामले में अब तीसरे स्थान पर है, जहां कोरोना संक्रमण के मामले फिर से बढ़ रहे हैं और अभी तक इससे 1.98 करोड़ से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं जबकि 5.55 लाख से अधिक मरीजों की मौत हो चुकी है।
ब्राजील कोरोना से हुई मौतों के मामले में विश्व में दूसरे स्थान पर है। संक्रमण के मामले में फ्रांस रूस से आगे निकल गया है। यहां कोरोना वायरस से अब तक 61.66 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं जबकि 1.12 लाख से अधिक मरीजों की मौत हो चुकी है।
रूस में कोरोना संक्रमितों की संख्या 61.61 लाख से अधिक हो गई है और इसके संक्रमण से 1.55 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। ब्रिटेन में कोरोना से प्रभावित लोगों की संख्या 58.57 लाख से अधिक हो गयी है और 129,877 मरीजों की मौत हो चुकी है।

कर्मियों के बीच संक्रमण रोकने में कारगर है 'मास्क'

फोर्ट लॉडरडेल। फ्लोरिडा के स्वास्थ्य विभाग ने शुक्रवार को बताया कि राज्य में इस हफ्ते कोरोना वायरस के मामले 50 फीसदी तक बढ़ गए हैं। यहां लगातार छह हफ्ते से संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं और फ्लोरिडा संक्रमण का केंद्र बनता जा रहा है। इससे पहले गवर्नर रॉन डेसान्टिस ने स्कूली छात्रों के लिए अगले महीने शुरू हो रही कक्षाओं के दौरान मास्क पहनना अनिवार्य बनाने के नियम पर रोक लगा दी थी।
उन्होंने कहा था कि ऐसा कोई साक्ष्य नहीं है जो यह बताता हो कि मास्क छात्रों या स्कूल के कर्मियों के बीच संक्रमण रोकने में कारगर है। पिछले हफ्ते राज्यभर में संक्रमण के 1,10,000 से अधिक नए मामले सामने आए जो उससे पिछले हफ्ते से 73,000 अधिक हैं और 11 जून वाले हफ्ते से 11 गुना अधिक है। संक्रमण के मामले फिर उतने ही हो गए हैं। 
जितने जनवरी माह में बड़े पैमाने पर टीकाकरण शुरू होने से पहले थे। फ्लोरिडा हॉस्पिटल एसोसिएशन की ओर से शुक्रवार को कहा गया कि अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या पिछले साल के इस तरह के सर्वाधिक मामलों जितनी ही है। अभी 9,300 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। इससे पहले सर्वाधिक 10,179 मरीज 23 जुलाई 2020 को अस्पतालों में भर्ती थे। राज्य में इस हफ्ते संक्रमण से 409 लोगों की मौत हुई है और मार्च 2020 से अब तक 39,000 लोगों की मौत हो चुकी है।
गवर्नर का कहना है कि मामले बढ़ने की वजह यह है कि गर्म मौसम के कारण लोग घरों में रह रहे हैं और एयर कंडिशनर के कारण वायरस फैल रहा है। फ्लोरिडा में 12 वर्ष से अधिक उम्र के करीब 60 फीसदी लोगों का टीकाकरण हो चुका है।

राष्ट्रपति की हत्या केस में अधिकारी को अरेस्ट किया

हैती। हैती के राष्ट्रपति जोवेनेल मोइसे की हत्या मामले में पुलिस ने शुक्रवार को एक और अधिकारी को गिरफ्तार किया है। राष्ट्रीय पुलिस की प्रवक्ता मारी मिशेल वेरियर ने बताया कि सात जुलाई को राष्ट्रपति के आवास पर हुए हमला मामले में अब तक 27 लोगों की गिरफ्तारी हुई है और इस संबंध में अभी और लोगों को पकड़ा जाना बाकी है।अन्य नौ अधिकारियों को पूछताछ के लिए अलग-थलग रखा गया है। 
घटना में भूमिका के संदेह में अब तक करीब 44 लोगों से पूछताछ हुई है। अधिकारियों ने आम लोगों से भी मदद की अपील की है। वेरियर ने कहा कि आप सभी से अनुरोध है कि पुलिस जिन अपराधियों की तलाश कर रही है, उन्हें ढूंढने में हमारी मदद करें।
अपनी भागीदारी दिखाएं और उन लोगों को तलाशने में हमारी मदद करें। उन्होंने यह भी कहा कि संदिग्धों को पकड़ने में सुराग देने वालों को ”बड़ा” इनाम दिया जाएगा। हालांकि उन्होंने इनाम की राशि की घोषणा नहीं की। हैती पुलिस ने राष्ट्रपति मोइसे के सामान्य सुरक्षा समन्वयक रहे जीन लागुएल सिविल को सोमवार को गिरफ्तार किया था।
पुलिस मामले में अब भी कई संदिग्धों की तलाश कर रही है जिसमें एक पूर्व विरोधी नेता और पूर्व सांसद शामिल है। सोमवार को अधिकारियों ने कहा कि इस मामले में सुपीरियर कोर्ट के न्यायाधीश विंडेल कॉक थेलोट भी संदिग्ध हैं। हालांकि अब भी यह स्पष्ट नहीं है कि राष्ट्रपति की हत्या की साजिश किसने रची।

मौजूदा समझौते के प्रावधानों का विस्तार किया

वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली। भारत और अमेरिका ने शुक्रवार को एक मौजूदा समझौते के प्रावधानों का विस्तार किया। जिसके तहत सहयोगी देशों को कनेक्टिवि...