सोमवार, 18 जुलाई 2022

22 को होगा, 16वें शिव कांवड़ सेवा शिविर का शुभारंभ

22 को होगा, 16वें शिव कांवड़ सेवा शिविर का शुभारंभ

भानु प्रताप उपाध्याय

सहारनपुर। प्रेरणा क्लब सहारनपुर के तत्वावधान में 16वें शिव कांवड़ सेवा शिविर का शुभारंभ आगामी 22 जुलाई को देहरादून रोड स्थित राकेश केमिकल पुलिस चौकी के सामने,इंडियन पेट्रोल पम्प के बराबर में होने जा रहा है। इस मोके पर सुबह 10 बजे बाबा भोले नाथ जी की पूजा अर्चना होगी, उसके बाद शिविर का शुभारंभ होगा। इस मोके पर प्रेरणा क्लब के अनेक कार्यकर्ताओ सहित भोले बाबा के अनेक भक्त शामिल होंगे।प्रेरणा क्लब के अध्यक्ष गगन गुम्बर ने हमें जानकारी देते हूए बताया,कि चार दिन लगातार हरिद्वार से कांवड़ लेकर आने वाले भोलो की जमकर सेवा की जाएगी। शिविर में भोलो की सेवा के लिए एक चिकित्सा केम्प की भी सुविधा रहेगी।गगन गुम्बर ने बताया, कि दो साल कोरोना काल के चलते हम शिविर नहीं लगा पाएं। उन्होंने बताया,कि शिविर का समापन 22 जुलाई को होगा। इस मोके पर प्रेरणा क्लब के अनेक कार्यकर्ता विपिन बजाज,संजीव खुराना,कमल कश्यप,राजन गुम्बर,सन्नी मनचंदा,दीपक अरोड़ा,पुनीत सुखीजा,लक्ष्य जुनेजा,भारत भूषण,मनोज,दिवाकर मल्होत्रा,शुभम गुम्बर,हेमंत बठला,गौरव जुनेजा,संजीव ठकराल,सोरभ सहित अनेक कार्यकर्ता सेवादार के रूप मे भोलो की सेवा करेंगे।

शिव मंदिर में पूजा-अर्चना, भंडारे का आयोजन किया

शिव मंदिर में पूजा-अर्चना, भंडारे का आयोजन किया

सावन का पहला सोमवार भगवान शिव की पूजा अर्चना करते श्रद्धालु
अविनाश श्रीवास्तव
बेगूसराय। प्रखंड के लक्ष्मण डेरा में भगवान शिव के मंदिर में पूजा-अर्चना करते श्रद्धालु और भंडारे का भी आयोजन किया गया। मंदिर के पुजारी आचर्य लक्ष्मी नारायण पाठक ने बताया कि श्रद्धालुओं के लिए उत्तम व्यवस्था की गई है। मठ के जमीन से जो भी लगान मिलता है, उसे मंदिर में लगाया जाता है। परंतु, बेशकीमती मूर्तियां होने के बावजूद भी सरकार इस पर ध्यान नहीं देती है। आलम यह है, कि मंदिर जजर्र अवस्था में हो गया है। 
वहीं, वहां के वार्ड पार्षद प्रतिनिधि अशोक कुमार यादव ने बताया कि मंदिर की लगन से जो कुछ आता है, इससे मंदिर का निर्माण कराया जा रहा है। लेकिन सरकार थोड़ा ध्यान दे देती, तो सही ढंग पूर्वक मंदिर का निर्माण हो जाता है।

विधिक साक्षरता जागरूकता शिविर का आयोजन

विधिक साक्षरता जागरूकता शिविर का आयोजन

मोहम्मद तौफीक 
बलरामपुर। जनपद न्यायाधीश अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण लल्लू सिंह के निर्देश के क्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एवं तहसील विधिक सेवा समितियों में नामित सभी पी.एल.वी. को राष्ट्रीय लोक अदालत के व्यापक प्रचार-प्रसार करने हेतु मीटिंग की गई एवं मध्यस्था केन्द्र बलरामपुर में आये हुये वादकारियों हेतु विधिक साक्षरता जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।
इस दौरान सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा सभी पी.एल.वी. को अपने कार्य क्षेत्र मंे जाकर राष्ट्रीय लोक अदालत का प्रचार-प्रसार एवं जनमानस को कानूनी जानकारी प्रदान करने के बारे में बताया गया। पैनल अधिवक्ता मुकेश सिंह द्वारा भी इस सम्बन्ध में जानकारी दी गई। इसके साथ ही दिनांक 13 अगस्त, 2022 को राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिक से अधिक मामलों के निस्तारण हेतु मध्यस्था केन्द्र में उपिस्थत वादकारियों को कानूनी जानकारियां शिविर के माध्यम से दी गयी तथा उन्हें पम्पलेट भी बांटे गये। शिविर में उपिस्थत वादकारियों से अपील किया कि वे अपने मामलों को सुलह समझौते के आधार पर निस्तारण कराएं, जिससे समय व धन दोनों की बचत हो। उन्होंने कहा कि लोक अदालत में निस्तारित होने वाले मामलों की कोई अपील नहीं होती है। आयोजित शिविर में मध्यस्थ मुकेश सिंह, राजेन्द्र बहादुर, अधिवक्तागण एवं प्राधिकरण के कर्मचारीगण मौजूद रहे।

सौंदर्यीकरण के लिए प्रस्तावित 4 तालाबों का निरीक्षण

सौंदर्यीकरण के लिए प्रस्तावित 4 तालाबों का निरीक्षण 

नगरायुक्त गजल भारद्वाज ने हलालपुर में तालाब एवं काजीवाला में सामुदायिक शौचालय का किया निरीक्षण

अमृत सरोवर जल संरक्षण एवं स्थानीय रोजगार का हो संगम:-- नगरायुक्त
भानु प्रताप उपाध्याय 
सहारनपुर। नगर आयुक्त ने सोमवार को मिशन अमृत सरोवर के अंतर्गत विकसित कर सौंदर्यीकरण के लिए प्रस्तावित पांच तालाबों में से चार तालाबों का निरीक्षण किया। सांवलपुर नवादा के एक तालाब का निरीक्षण उनके द्वारा पहले ही किया जा चुका है। उन्होंने तीन तालाबों के चयन पर असहमति जताते हुए उनके स्थान पर नये तालाबों का चयन करने के निर्देश निर्माण विभाग को दिए।
नगर आयुक्त गजल भारद्वाज आज वार्ड नंबर 6 में हलालपुर पहुंची और अमृत सरोवर के अंतर्गत सौंदर्यीकरण के लिए प्रस्तावित चिलकाना रोड स्थित तालाब का निरीक्षण किया। अधिशासी अभियंता निर्माण आलोक श्रीवास्तव व सहायक अभियंता दानिश नकवी ने बताया कि उक्त तालाब का क्षेत्रफल करीब साढे़ तीन हेक्टेयर है। तालाब में बरसात के अलावा गांव का पानी भी आता है। तालाब का वाटर स्टोरेज और वाटर हार्वेस्टिंग की दृष्टि से स्थानीय महत्व है। नगरायुक्त ने तत्काल तालाब की डीपीआर बनाने के निर्देश दिए। 
नगरायुक्त ने कहा कि अमृत सरोवर का विकास इस प्रकार किया जाए कि वहां वाटर रिचार्ज और संरक्षण के साथ पर्यटन की दृष्टि से आय का सृजन भी हो तथा वहां तालाब के किनारे बैठकर कुल्हड़ वाली चाय तथा लोकल स्टॉल के माध्यम से लोगों को रोजगार भी मिले। उन्होंने इस प्रकार चिलकाना रोड अमृत सरोवर और सांवलपुर नवादा अमृत सरोवर की पूरी योजना एक सप्ताह में बनाकर निर्माण विभाग को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अगल सप्ताह इसकी समीक्षा की जाएगी।
इसके अलावा उन्होंने वार्ड 63 में धोबीवाला तालाब तथा वार्ड 67 में काजी वाला तालाब का भी निरीक्षण किया। पूछने पर अधिकारियों ने बताया कि उक्त तालाबों में बस्तियों की नालियों का पानी गिरता है। उन्होंने कहा कि इन तालाबों की साफ सफाई तथा खुदाई करायी जाए। नगरायुक्त ने काजी वाला के सामुदायिक शौचालय का भी निरीक्षण किया। उन्होंने नगर स्वास्थय अधिकारी को सभी सामुदायिक व पब्लिक शौचालयों को पूर्णतः संचालित करने तथा क्षेत्रीय सफाई निरीक्षक का नाम और नंबर पेंट कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वे इसी तरह औचक निरीक्षण करेंगी तथा अधिकारियों से भी करायेंगी। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रतिदिन सार्वजनिक शौचालयों की सफाई की फोटो सहित रिपोर्ट कंट्रोल रुम को प्राप्त होनी चाहिए। इस दौरान अपर नगरायुक्त राजेश यादव, अधिशासी अभियंता जलकल सुशील सिंघल, नगर स्वास्थय अधिकारी डॉ.कुनाल जैन व जेई जलकल देशांतर आदि मौजूद रहे। 

पिछले टी-20 वर्ल्ड कप में ना खेलना दुर्भाग्यपूर्ण

पिछले टी-20 वर्ल्ड कप में ना खेलना दुर्भाग्यपूर्ण
विमलेश यादव  
नई दिल्ली। टीम इंडिया को इस साल के अंत में टी-20 वर्ल्ड कप खेलने ऑस्ट्रेलिया जाना है। इस टी-20 वर्ल्ड कप को देखते हुए इंग्लैंड का दौरा टीम इंडिया के लिए काफी अच्छा रहा। इस दौरे पर टीम ने टी-20 सीरीज के साथ-साथ वनडे सीरीज में भी धमाकेदार प्रदर्शन किया। लेकिन टीम के कप्तान रोहित शर्मा पिछले टी-20 वर्ल्ड कप को अभी तक नहीं भुला पाए हैं। उन्होंने हाल ही में एक बड़ा बयान दिया है और एक उस खिलाड़ी का नाम बताया है। जिसका पिछले टी-20 वर्ल्ड कप में ना खेलना रोहित शर्मा दुर्भाग्यपूर्ण मान रहे हैं। 

रोहित शर्मा ने दिया ये बड़ा बयान...
भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने 3 मैचों की वनडे सीरीज जीतने के बाद बाद खिलाड़ियों की जमकर तारीफ की और खेल में सुधार की बात भी कही। इस दौरान रोहित शर्मा ने लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को लेकर बड़ा बयान दिया और टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में उनके ना खेलने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। रोहित ने चहल की बात करते हुए कहा, ‘वह टीम के काफी अहम खिलाड़ी हैं। उन्हें इतना अनुभव है और वह सभी फॉर्मेट में गेंदबाजी कर रहे हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि वह पिछले टी-20 वर्ल्ड कप में नहीं खेले थे। लेकिन उन्होंने जिस तरह वापसी की है, मैं उससे खुश हूं।’

सेलेक्टर्स ने नहीं दिया था मौका...
युजवेंद्र चहल पिछले साल खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का हिस्सा नहीं बन सके थे। उन्हें सेलेक्टर्स ने टीम के स्क्वाड में शामिल नहीं किया था। उनके इस फैसले ने सभी को चौंका दिया था। लेकिन युजवेंद्र चहल आईपीएल 2022 से शानदार वापसी की है और अब वह इस साल टी-20 वर्ल्ड कप खेलने के सबसे बड़े उम्मीदवार बन गए हैं। इंग्लैंड दौरे पर भी युजवेंद्र चहल टीम इंडिया के लिए सबसे सफल गेंदबाजों में से एक रहे हैं। एवं इंग्लैंड के खिलाफ किया अच्छा प्रदर्शन।
इंग्लैंड के खिलाफ खेली गई वनडे सीरीज में युजवेंद्र चहल टीम इंडिया के दूसरे सबसे सफल गेंदबाज रहे। इस सीरीज में उन्होंने 3 मैचों में 5.35 की इकॉनमी से रन खर्च करते हुए 7 विकेट हासिल किए। वहीं टी-20 सीरीज में भी युजवेंद्र चहल का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा था। इस टी20 सीरीज में उन्होंने 7.00 इकॉनमी से रन खर्च किए थे और 4 विकेट अपने नाम किए थे। उनके इस खेल के बाद वे आने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए कप्तान रोहित शर्मा की पहली पसंद बन गए हैं।

गणतंत्र: पहली बार आदिवासी महिला की ताजपोशी

गणतंत्र: पहली बार आदिवासी महिला की ताजपोशी 

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। देश के 15वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान जारी है। इस मतदान में कुल 4800 निर्वाचित सांसद और विधायक हिस्सा ले रहे हैं। चुनाव में राजग उम्मीदवाद द्रौपदी मुर्मू की जीत और इसके साथ ही देश के शीर्ष संवैधानिक पद पर पहली बार आदिवासी महिला की ताजपोशी तय है। 27 दलों के समर्थन के साथ द्रौपदी मुर्मू का पलड़ा भारी है।

वहीं, महज 14 दलों का समर्थन के साथ सिन्हा को करीब 3.62 लाख वोट ही मिलने की उम्मीद है।

पाइपलाइन रोड पर सेवा शिविर का आयोजन

पाइपलाइन रोड पर सेवा शिविर का आयोजन
अश्वनी उपाध्याय
गाजियाबाद। पुलिस शिव भक्तों की सेवा में सदैव तत्पर है। लोनी कावड़ सेवा संघ पाइपलाइन रोड पर शिव भक्तों का हार्दिक स्वागत व अभिनंदन करता है। कावड़ सेवा संघ के तत्वाधान में सोमवार को मथुरापुर गांव के पास पाइपलाइन रोड पर कांवड़ सेवा शिविर का तीसरा दिन रहा। कांवड़ सेवा शिविर के मुख्य आयोजक विनोद गुप्ता एवं केके गर्ग ने संस्था के पदाधिकारियों के साथ शिव भक्तों की सेवा की। 
संस्था के आयोजक राहुल सिंघल ने बताया कि शिविर में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं एवं कावड़ियों के ठहरने एवं खान-पान की उचित व्यवस्था की गई है। कावड़ियों के उपचार के लिए विशेष चिकित्सक रखे गए हैं। इस शिविर में मुरादनगर पाइपलाइन पुलिस चौकी इंचार्ज एवम स्टॉप पूरा सहयोग कर रहा है। आज वरिष्ठ समाजसेवी एवं भाजपा नेता कैलाश गर्ग, अग्रवाल समिति के संरक्षक सुधीर गुप्ता, मथुरापुर ग्राम प्रधान रणजीत सिंह, प्रमोद गर्ग, समाजसेवी बबली अग्रवाल, भाजपा नेता सत्येंद्र बंसल, पत्रकार मदन लाल, अनूप शर्मा, रविंद्र बजरंग टेंट वाले, राजेंद्र सिंघल आदि सम्मानित लोग मौजूद रहे एवं शिव भक्तों की सेवा में अपना योगदान दिया।

जल दोहन मुख्य कारण, भूजल का घटता स्तर

जल दोहन मुख्य कारण, भूजल का घटता स्तर

दीपक राणा  
गाजियाबाद। भूजल जन - जागरूकता के उद्देश्य से प्रदेश में दिनांक 16 जुलाई से 22 जुलाई तक उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भूजल सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। वही, अनियंत्रित एवं अविवेकपूर्ण दोहन तथा पुनभ्ररण के अभाव में उपलब्धता एंव गुणवत्ता में कमी आ रही है। ऐसी स्थिति में प्रदेश स्तर पर जागरूकता के उद्देश्य से "भूजल सप्ताह" का आयोजन सराहनीय प्रयास है। उत्तर प्रदेश सरकार की 16 से 22 जुलाई 2022 "भूजल सप्ताह" से प्रेरणा लेते हुए, सामाजिक कार्यकर्ता रविंद्र आर्य ने 5 लोगो के खिलाफ पत्र लिख भूजल दोहन की शिकायत किया। यह पत्र गा.बाद मुख्य विकास अधिकारी विक्रमादित्य मलिक और लघु सिचाई खंड के नोडल अधिकारी हरिओम को यह सब जानकारी कर उचित कारवाही करने को पत्र में कहा गया।
बता दे की रविंद्र आर्य ने पत्र में लिखा की गाजियाबाद शहर का माना-जाना वाला 4 सितारा फॉर्च्यून इन ग्राज़िया होटल बिना एन ओ सी के भूजल दोहन कर रहा है। जिसमे की मालिवाड़ा चौक में वाहन धोने का सर्विस स्टेशन एवं लोनी रोड पर 2 अबैध आर ओ प्लांट और 1 कार धुलाई सर्विस स्टेशन के संचालकों के बारे मे लिखा की सालों से बिना एन ओ सी के सुचारु रूप से चला रहे है। और अबैध आर ओ प्लांट पानी के टैंकरो द्वारा गाजियाबाद, लोनी और साहिबाबाद, इंद्रापुरम क्षेत्र में सप्लाई कर भूजल दोहन कर रहे है। जिससे स्थानीय क्षेत्र का जलस्तर कम होता जा रहा है।
अपको बता दे की उत्तर प्रदेश सरकार के अधिनियम 2019 एक्ट अनुसार उत्तर प्रदेश में एन ओ सी और लाइसेंस के बगैर कोई भी कंपनी या व्यक्ति आर ओ प्लांट संचालित नहीं कर सकता है। जिसमे की भूमि से जल दोहन कर व्यवसाय करना भी कानूनी जुर्म है। जिसमे 2 लाख से 5 लाख का जुर्माना और 6 महीने से 1 साल की सजा का भी प्रावधान है।

सूची : 1. फॉर्च्यून इन ग्राज़िया, 4 स्टार होटल, सेक्टर 23, संजय नगर, 2. संचालक : जय प्रकाश चौधरी (चौधरी सर्विस स्टेशन) मालिवाड़ा चौक। 3. वीर सिंह नागर (जे डी एस कार धुलाई सर्विस स्टेशन) लोनी रोड। 4. महिपाल सिंह चौहान (चौहान इंटरप्राइजेज) लोनी रोड। 5. रनजन/बंटी (दीपक डीएम वॉटर सप्लाई स्टोर) लोनी रोड, मोहन नगर।

बिना एन ओ सी के जल दोहन कर व्यवसाय करने वाले अबैध आर ओ प्लांटो और कार और दुपहिया वाहनों को जल दोहन करने वालों की सूची दिया गया। रविंद्र आर्य का कहना है की जल दोहन के कारण ही उत्तर प्रदेश और हमारे जिला गाजियाबाद में भूजल स्तर में कमी आई है। जबकि सिंचाई में 60-65 प्रतिशत भूमिगत जल का प्रयोग किया जाता है। भूजल संरक्षण के लिए हमें इस परम्परा को रोकना होगा। अपनी आमदनी तो बढ़ाना चहाते है, पर भूजल बचा रहे इसके लिए कोई प्रयास नहीं करते हैं। देश में पानी के के परम्परागत स्रोत कम वर्षा व बेतरतीब दोहन के चलते खत्म होते जा रहे हैं इस कारण भूजल स्तर घटता जा रहा है।

गंगनहर कांवड़ मार्ग, पाइपलाइन रोड का भ्रमण

गंगनहर कांवड़ मार्ग, पाइपलाइन रोड का भ्रमण 
दीपक राणा
गाजियाबाद। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा अनुसार गाजियाबाद के जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लगातार जिले में भ्रमण कर रहे है। डीएम और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनिराज ने सोमवार को गंगनहर कांवड़ मार्ग और पाइपलाइन रोड का भ्रमण किया और गंगनहर मेरठ बॉर्डर का भी पैदल निरीक्षण किया।

गाजियाबाद के जिलाधिकारी ने कहा है कि कावड़ रोड पर सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त कर ली गई है। कांवड़ सेवा शिविर से लेकर के लाइटिंग की व्यवस्था भी की गई है। 40 वॉच टावर लगाए गए हैं और 400 सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जाएगी।
मुरादनगर गंग नहर पर जो अति संवेदनशील इलाका है। रात्रि में गश्त बढ़ा दी गई है और पूरे इलाके को सेक्टर में  बाटकर अधिकारियों और पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाए गए हैं।
 खुद मॉनिटरिंग करने के लिए एसडीएम और सीओ लेवल के अधिकारियों को लगाया गया है ताकि सुरक्षा में किसी तरह की कोई चूक ना हो।
 इसी व्यवस्था का जायजा आज खुद जिलाधिकारी ने लिया और का और रोड पर मुरादनगर गैंग नहर और पाइपलाइन रोड का निरीक्षण किया। कांवरिया हरिद्वार से जल लेकर आ रहे हैं।
उनकी सुरक्षा बेहद चिंता का विषय है जिसको लेकर के पुलिस प्रशासन अलर्ट है। उत्तर प्रदेश पुलिस दिल्ली और उत्तराखंड की पुलिस से मिलकर बॉर्डर पर संयुक्त सुरक्षा व्यवस्था का कवच तैयार किया गया है। सहारनपुर पुलिस उत्तराखंड की रुड़की पुलिस से मिलकर संयुक्त सुरक्षा निगरानी कर रही है ।
तो वहीं गाजियाबाद पुलिस दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर दिल्ली यूपी बॉर्डर पर डटी हुई है और संयुक्त रूप से निगरानी कर रहे हैं।
कांवरिया को किसी भी तरह का कोई दिक्कत ना हो और असुरक्षा की भावना पैदा ना हो इसके लिए सभी जगह रास्तों में बैरिकेट्स लगाए गए हैं।
कावड़ यात्रा को सुरक्षित तरीके से संपन्न कराने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदिनाथ के निर्देश हैं उसी के क्रम में तमाम अधिकारी प्रशासनिक लोग लगे हुए हैं। पुलिस प्रशासन के साथ-साथ सामाजिक संगठन धार्मिक संगठन और वॉलिंटियर्स भी लगाए गए हैं। शुरू हो गया है वहीं शहर के कुछ इलाकों में इक्का-दुक्का शिवभक्त गुजर रहे हैं।

कावड़ियों को कोई दिक्कत ना हो इसके लिए गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जमीनी हकीकत जानने की कोशिश भी कर रहे हैं। जहां पर उनको कमियां दिखती है तुरंत उन को दुरुस्त कराने के निर्देश देते हैं उनके साथ आज एसपी देहात डॉ. ईरज राजा व क्षेत्रीय पुलिस कर्मी भी मौजूद थे।

सड़क हादसा, फरीदाबाद के 2 कांवड़ियों की मौंत

सड़क हादसा, फरीदाबाद के 2 कांवड़ियों की मौंत
भानु प्रताप उपाध्याय
मुजफ्फरनगर। बीती रात सड़क हादसे में हरियाणा के फरीदाबाद निवासी दो शिवभक्त कांवड़ियों की दर्दनाक तरीके से मौत हो गई। दोनों कांवड़ियां जल लेने के लिए बाइक से हरिद्वार जा रहे थे कि बीच रास्ते में छोटे हाथी से उनकी बाइक टकरा गई। इस हादसे में एक अन्य के घायल होने की भी अपुष्ट जानकारी मिल रही है।
दरअसल, हरियाणा के फरीदाबाद जनपद के शिव दुर्गा विहार लकडपुर निवासी शिवभक्त कावड़िया सौरभ पुत्र नरेश अपने साथी योगेश के साथ बाइक पर सवार होकर हरिद्वार से जल लेने के लिए जा रहा था। बताया जाता है कि जब वो लोग मुजफ्फरनगर के थाना छपार क्षेत्र के अंतर्गत रामपुर तिराहे के पास पहुंचे तो उसी दौरान सामने से आ रहे छोटे हाथी ने उन्हें टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही दोनों गिरकर बुरी तरह से घायल हो गए और दोनों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।
बताया जाता है कि इस हादसे में एक अन्य व्यक्ति भी घायल हो गया, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। हादसे के बाद पुलिस ने छोटे हाथी के चालक को हिरासत में लेते हुए वाहन को भी कब्जे में ले लिया है।

मलबे में दबकर सास की दर्दनाक मौत, बहू गंभीर

मलबे में दबकर सास की दर्दनाक मौत, बहू गंभीर 
भानु प्रताप उपाध्याय  
मुजफ्फरनगर। यूपी के मुजफ्फरनगर में सोमवार सुबह भरभराकर गिरी सीढ़ियां और दीवार के मलबे में दबकर सास की दर्दनाक तरीके से मौत हो गई, जबकि बहू गंभीर रूप से घायल हो गई। घायल महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
ऐसे हुआ हादसा
दरअसल ये पूरा मामला भोपा थाना क्षेत्र के गांव तिस्सा का है, जहां सोमवार सुबह करीब 9 बजे 65 वर्षीय दयावती अपनी पुत्रवधू रविता के साथ मकान की छत पर अनाज सुखाने के लिए जा रही थी। जैसे ही दोनों सीढ़ियों पर चढ़ने लगी तो उसी वक्त हादसा हो गया। अचानक सीढ़ियां और उसकी दीवार भरभराकर गिर गई। इस हादसे में सास-बहू मलबे में दब गई। शोर-शराबा सुनकर आस-पड़ोस के लोग तुरंत मौके पर पहुंचे और दोनों को मलबे से बाहर निकाला। हालांकि तब तक सास दयावती की सांसे थम चुकी थी, जबकि रविता भी बुरी तरह से जख्मी हो चुकी थी।
सूचना पर पहुंची पुलिस
मामले की सूचना मिलते ही आनन-फानन में भोपा थाना पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची और घायल रविता को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंचाया। साथ ही दयावती के शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।
पति की हो चुकी है मौत
जानकारी के मुताबिक मृतका दयावती के पति अतर सिंह की कुछ समय पूर्व ही मौत हो चुकी है। गांव में वो अपने दो पुत्रों विनोद और कपिल के साथ रहती थी। दोनों पुत्रों में से विनोद की शादी लगभग 15 वर्ष पूर्व रविता से हुई थी, जिससे उसके तीन पुत्र लक्ष्य, विनय और अवि है। बाहर गए हुए थे मृतका के बेटे
हादसे के वक्त महिला के दोनों पुत्र कामकाज के लिए बाहर गए हुए थे। वहीं तीनों पौत्र सोमवार होने के कारण गांव के ही स्कूल में पढ़ने के लिए गए हुए थे। माना जा रहा है कि अगर बच्चे आसपास खेल रहे होते तो बड़ी घटना घटित हो सकती थी। ग्रामीणों ने परिवार को मुआवजा दिलाने की मांग की है।

शर्मनाक: मुंह पर कालिख, गले में जूतें-चप्पल

शर्मनाक: मुंह पर कालिख, गले में जूतें-चप्पल

उपेंद्र कुमार  

महराजगंज। खबर यूपी के जनपद महराजगंज से है, जहां एक शोहदे को ग्रामीणों ने छेड़खानी करने पर तालिबानी सजा दे डाली। ग्रामीणों ने शोहदे को ना केवल मुंह काला करके गांव में घुमाया, बल्कि उसके गले में जूतों की माला डाल दी। ग्रामीणों की इस तालिबानी सजा का वीडियो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

दरअसल ये पूरा मामला महराजगंज जिले के कोल्हुई थाना इलाके के एक गांव का है। आरोप है कि गांव के ही एक युवक ने गांव की एक महिला को पहले नशीला पदार्थ खिलाकर उसे बेहोश किया और फिर उसकी छेड़खानी करते हुए वीडियो बना ली। ये अश्लील वीडियो ग्रामीणों और पीड़िता के परिजनों ने देखी तो उनका खून खोल उठा और उन्होंने इस सूचना पुलिस को ना देकर खुद ही सजा देने की ठान ली।

मुंह पर कालिख, गले में जूतों-चप्पलों की माला!

योजनाबद्ध तरीके से आरोपी को ग्रामीणों ने पकड़कर पहले बुरी तरह से पीटा और फिर उसके मुंह पर कालिख पोतकर उसके गले में जूतों की माला डाल दी। ग्रामीणों का गुस्सा यहीं पर शांत नहीं हुआबल्कि ग्रामीणों ने आरोपी को गांव भर में इसी हालत में घूमाया। इसी बीच बहुत से ग्रामीणों ने इस तालिबानी सजा की वीडियो भी बना लीजो अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है।

पुलिस ने लिया संज्ञान, ग्रामीणों पर हुई एफआईआर

इस मामले में सीओ अनुज कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि मामला संज्ञान में आने के बाद जांच की गई है। जिसके बाद इस मामले में मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। बहरहाल... इस वीडियो के वारयल होने और फिर मुकदमा होने के बाद गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। साथ ही पुलिस भी वीडियो के आधार पर आरोपियों की पहचान करने में जुट गई है। माना जा रहा है कि पुलिस वीडियो के आधार पर पहचान कर आरोपी ग्रामीणों को सलाखों के पीछे भेजेगी।

55 साल के अधेड़ ने बच्ची के साथ दरिंदगी की

55 साल के अधेड़ ने बच्ची के साथ दरिंदगी की
अविनाश श्रीवास्तव  
बांका। बिहार के बांका जिले में एक अधेड़ द्वारा एक बच्ची के साथ दुष्कर्म किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। घर के बाहर खेल रही सात साल की मासूम बच्ची को 55 साल के अधेड़ ने बुलाया और उसके साथ दरिंदगी की। 
घटना धोरैया थाना क्षेत्र अंतर्गत बटसार पंचायत के एक गांव की है।इस संबंध में पीड़िता की मां ने गांव के ही 55 वर्षीय दीप नारायण मंडल उर्फ दीपू सिंह के विरुद्ध थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है। इसमें कहा गया है कि गत गत 15 जुलाई की संध्या वह बहियार मूंग तोड़ने गई हुई थी। इस दौरान घटना को अंजाम दिया।थानाध्यक्ष महेश्वर राय ने कहा कि पुलिस प्राथमिकी दर्ज करने के साथ ही आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।
बताया गया है कि बच्ची घर के बाहर अन्य बच्चों के साथ खेल रही थी। इसी बीच उसे बहियार में कुछ लोगों द्वारा बताया गया कि उसकी बच्ची बुरी तरह रो रही है। घर आई तो पूछताछ में बच्ची द्वारा बताया गया कि आरोपी ने बिस्कुट देने के लिए उसे बुलाया। मना किया तो हाथ पकड़कर जबरदस्ती उसे अपने घर ले गया और रूम में बंद कर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। इधर घटना के बाद आरोपी घर छोड़कर फरार है।

बस नर्मदा नदी में गिरी, हादसे में 12 की मौत हुई

बस नर्मदा नदी में गिरी, हादसे में 12 की मौत हुई 

दुष्यंत टीकम


खरगोन। मध्य प्रदेश के खरगोन में एक बड़ा हादसा हो गया यहां 55 यात्रियों से भरी एक बस नर्मदा नदी में गिर गई, हादसे में 12 की मौत हो गई और 15 लोग बचाए गए। मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने खलघाट, खरगोन में हुई बस दुर्घटना का संज्ञान लिया,मुख्यमंत्री ने घायलों के समुचित इलाज की व्यवस्था के निर्देश दिए हैं। सीएम खरगोन, इंदौर जिला प्रशासन के साथ निरंतर संपर्क बनाए हुए हैं, हादसे के बाद बस को क्रेन के द्वारा निकाल लिया गया है।सीएम चौहान ने साथ ही खरगोन कलेक्टर से फोन पर फिर चर्चा कर रेस्क्यू ऑपरेशन की विस्तृत जानकारी ली।

मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने घटना पर दुख जताते हुए ट्वीट कर लिखा कि खरगोन के खलघाट में बस के खाई में गिरने से हुई दुर्घटना का दुखद समाचार प्राप्त हुआ।ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्रीचरणों में स्थान और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने तथा घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-283, (वर्ष-05)
2. मंगलवार, जुलाई 19, 2022
3. शक-1944, श्रावण, कृष्ण-पक्ष, तिथि-षष्ठी, विक्रमी सवंत-2079।
4. सूर्योदय प्रातः 05:22, सूर्यास्त: 07:15।
5. न्‍यूनतम तापमान- 27 डी.सै., अधिकतम-36+ डी.सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...