मंगलवार, 30 अप्रैल 2024

यूके: 10वीं-12वीं बोर्ड का रिजल्ट घोषित किया

यूके: 10वीं-12वीं बोर्ड का रिजल्ट घोषित किया 

पंकज कपूर 
रामनगर। उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद ने मंगलवार को 10वीं और 12वीं बोर्ड का रिजल्ट घोषित कर दिया है। हाईस्कूल में पिथौरागढ़ जिले की गंगोलीहाट की प्रियांशी रावत ने टॉप किया है। प्रियांशी रावत के 500 में से 500 नंबर आए हैं। यानी प्रियांशी रावत ने 100 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। 12वीं की बात करें तो दो छात्र पीयूष खोलिया और कंचन जोशी ने टॉप किया है। दोनों के 498 नंबर आए हैं।
12वीं की परीक्षा में पंजीकृत परीक्षार्थियों की संख्या 94255 थी, जिसमें से परीक्षा में 92020 परीक्षार्थी शामिल हुए और 76039 परीक्षार्थी पास हुए हैं। परीक्षा का कुल पास प्रतिशत 82.63 रहा। जिसमें छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 78.97 व छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत 85.96 रहा। संस्थागत परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 83.76 व व्यक्तिगत परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 54.14 रहा है।
विवेकानंद इंटर कॉलेज रानीधारा रोड अल्मोड़ा के छात्र पीयूष खोलिया एवं एचजीएस इंटर कॉलेज कुसुमखेड़ा हल्द्वानी (नैनीताल) की छात्रा कंचन जोशी ने संयुक्त रूप से इंटरमीडिएट परीक्षा में पहला स्थान प्राप्त किया है। दोनों ने परीक्षा में 500 में से 488 हासिल करते हुए कुल 97.60 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। दूसरे नंबर पर एपी इंटर कॉलेज जवाहर नगर रुद्रप्रयाग के छात्र अंशुल नेगी रहे। अंशुल ने 500 में से 485 हासिल करते हुए कुल 97 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। तीसरे नंबर पर संयुक्त रूप से दो स्टूडेंट्स रहे हैं। एसवीएम इंटर कॉलेज आवास विकास ऋषिकेश के छात्र हरीश चंद्र बिलज्वाण एवं गोस्वामी गणेश दत्त एमवीएम इंटर कॉलेज उत्तरकाशी के छात्र आयुष अवस्थी ने 500 में से 480 कुल 96.00 प्रतिशत अंक प्राप्त कर संयुक्त रूप से तृतीय स्थान प्राप्त किया है। सम्मान सहित परीक्षा पास करने वाले परीक्षार्थियों की संख्या 9937 तथा प्रतिशत 10.79 रहा। प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 37581 व प्रतिशत 40.84 रहा। द्वितीय श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 27607 व 30 प्रतिशत रहा। तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 226 जिनका 00.24 प्रतिशत रहा। इंटरमीडिएट परीक्षा 2024 में कुल 93.00 फीसदी रिजल्ट के साथ बागेश्वर जिला पहले स्थान पर रहा। इस साल की 12वीं परीक्षा में पास रिजस्ट वर्ष 2023 की तुलना में 01.65 प्रतिशत अधिक रहा। इंटरमीडिएट परीक्षाफल सुधार परीक्षा (द्वितीय) वर्ष 2023 में कुल 509 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए थे, जिसमें 262 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए और उनका परीक्षाफल 58.09 प्रतिशत रहा।

टी-20 विश्व कप के लिए क्रिकेट टीम का ऐलान

टी-20 विश्व कप के लिए क्रिकेट टीम का ऐलान

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की ओर से अगले महीने खेले जाने वाले टी-20 विश्व कप के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का ऐलान कर दिया गया है। रोहित शर्मा को कैप्टन की कमान सौंपते हुए हार्दिक पांड्या को उनके डिप्टी की जिम्मेदारी सौंपी गई है। मंगलवार को अहमदाबाद के आईटीसी नर्मदा होटल में आयोजित की गई भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की बैठक में टी-20 विश्व कप के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का ऐलान कर दिया गया है। मुख्य चयनकर्ता अजीत अगरकर एवं भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के सचिव जय शाह की मौजूदगी में टी-20 विश्व कप क्रिकेट टीम का ऐलान करते हुए बताया गया है कि रोहित शर्मा टी-20 विश्व कप में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान होंगे। जबकि हार्दिक पांड्या उनके साथ उप कप्तान की जिम्मेदारी संभालेंगे। कप्तान रोहित शर्मा के अलावा यशस्वी जयसवाल, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, संजू सैमसन, हार्दिक पांड्या, शिवम दुबे, रविंद्र जडेजा, अक्षर पटेल, कुलदीप यादव, यजुवेंद्र चहल, अर्शदीप, जसप्रीत बुमराह एवं मोहम्मद सिराज को t20 विश्व कप क्रिकेट टीम में शामिल किया गया है। शुभमन गिल, रिंकू सिंह, खलील अहमद एवं आवेश खान बैकअप खिलाड़ी के तौर पर शामिल किए गए हैं।

भ्रामक विज्ञापन केस, प्राधिकरण को फटकार लगाई

भ्रामक विज्ञापन केस, प्राधिकरण को फटकार लगाई

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को पतंजलि आयुर्वेद के खिलाफ भ्रामक विज्ञापन मामलें में ‘निष्क्रियता’ के लिए उत्तराखंड राज्य लाइसेंसिंग प्राधिकरण को फटकार लगाई। अदालत ने कहा कि प्राधिकरण ने सबकुछ खत्म करने की कोशिश की। कोर्ट बाबा रामदेव-प्रवर्तित कंपनी की भी खिंचाई की और कहा कि वह उसके आदेशों का ‘पालन नहीं’ कर रही है।
जब अदालत ने मूल रिकॉर्ड मांगे तो पतंजलि ने सार्वजनिक माफी की एक ई-प्रति पेश की। जवाब में पीठ ने कहा कि यह अनुपालन नहीं है। न्यायमूर्ति हिमा कोहली और न्यायमूर्ति अहसानुद्दीन अमानुल्लाह की पीठ ने कहा कि मैं इस मामले में अपने हाथ खड़े कर रही हूं, हमारे आदेशों का अनुपालन न करना बहुत हो गया।
अदालत ने पतंजलि को प्रत्येक समाचार पत्र के मूल पृष्ठ को दाखिल करने का ‘एक और अवसर’ दिया, जिसमें माफी जारी की गई थी। हालांकि, पीठ ने कहा कि उल्लेखनीय सुधार हुआ है। न्यायमूर्ति अमानुल्लाह ने कहा कि पहले केवल पतंजलि थी, अब नाम हैं। हम इसकी सराहना करते हैं। वे समझ गए हैं। बता दें कि शुरुआती माफीनामा छोटा होने के बाद कोर्ट ने कंपनी से दोबारा माफीनामा जारी करने को कहा था।
बाबा रामदेव और पतंजलि के प्रबंध निदेशक आचार्य बालकृष्ण दोनों को सुनवाई की अगली तारीख 7 मई को शीर्ष अदालत में व्यक्तिगत रूप से पेश होने से छूट दी गई है। उत्तराखंड राज्य लाइसेंसिंग प्राधिकरण ने अदालत को सूचित किया कि पतंजलि और उसकी सहयोगी कंपनी दिव्य फार्मेसी के 14 उत्पादों के विनिर्माण लाइसेंस 15 अप्रैल को ‘तत्काल प्रभाव’से निलंबित कर दिए गए थे।
इसके जवाब में, शीर्ष अदालत ने कार्रवाई करने में देरी पर सवाल उठाया और कहा कि प्राधिकरण अब ‘नींद से जाग गया है’। उन्होंने कहा कि एक बार जब आप कुछ करना चाहते हैं, तो आप इसे बिजली की गति से करते हैं, लेकिन यदि आप नहीं करते हैं, तो वर्षों तक कुछ भी नहीं होता है। तीन दिनों में, आपने सारी कार्रवाई कर दी है। आप पिछले नौ महीनों से क्या कर रहे थे ? कार्यभार संभालने के बाद से, आखिरकार, आपको एहसास हुआ कि आपके पास शक्ति और जिम्मेदारियां हैं, आप आखिरकार नींद से जाग गए हैं।

समस्याओं के समाधान के संबंध में बैठक ली

समस्याओं के समाधान के संबंध में बैठक ली 

पंकज कपूर 
हल्द्वानी। जिलाधिकारी वंदना सिंह ने कैम्प हल्द्वानी में मानसून सत्र में रकसिया, देवखड़ी एवम कलसिया नाले में जलभराव के कारण होने वाली समस्याओं के समाधान के संबंध में बैठक ली। बैठक लेते हुए डीएम ने एसडीएम, ईई सिंचाई, वन विभाग को संयुक्त रूप से रकसिया, कलसिया नाले, देवखड़ी और नंधौर नदी में इस बार के मानसून में होने वाली हानि की संभावना को देखते हुए स्थल चिन्हित करने के निर्देश दिए। जिससे तात्कालिक तौर पर उपचार कर बचाव किया जा सके। इसके लिए एक सप्ताह के भीतर सभी स्थलों के सफाई हेतु आकलन तैयार करते हुए तत्काल कार्य शुरू करने के निर्देश सिंचाई विभाग को दिए। बैठक में नगर निगम, सिंचाई, लोनिवि को अपने क्षेत्र की समस्त नालियों, कल्वर्ट, कौज वे की सफाई करने और समय से झाड़ी कटान के निर्देश दिए।
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के रकसिया, कलसिया, देवखड़ी और नंधौर के आबादी स्थल में हर वर्ष मानसून काल में नुकसान को संभावना बनी रहती है। जिनके दीर्घकालीन समधान हेतु प्राक्कलन शासन स्तर पर भेजे गए हैं, वर्तमान में ऐसे कुछ अति आवश्यक प्रभावित स्थलों के लिए चिन्हीकरण कर तात्कालिक उपचार किया जाना आवश्यक है जिससे मानसून सत्र में आबादी को होने वाले प्रभाव को रोका जा सके। विभाग द्वारा तैयार आकलन के आधार पर एक सप्ताह के भीतर कार्य शुरू कर चिन्हित स्थानों पर मई माह में पूर्ण करने का लक्ष्य विभागों को दिया गया। इन क्षेत्रों में नाला सफाई का कार्य किया जाएगा जिससे पानी बीच से आसानी से प्रवाहित हो तथा कचरे को हटाकर अन्य मलबे को किनारे किया जाएगा। 
इसके साथ ही शहर में आए दिन लगने वाले जाम से निजात के लिए सिटी मजिस्ट्रेट को शहर की मुख्य सड़कों पर विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए। अभियान के दौरान सड़कों पर खड़ी होने वाली बसों पर प्रभावित करवाई के निर्देश दिए। साथ ही जिन लोगों के द्वारा व्यवसायिक नक्शे में पार्किंग की अनुमति ली गई है। उसका प्रयोग पार्किंग के लिए हो। इसके क्रॉस चेकिंग करने के निर्देश दिए।
बैठक में नगर आयुक्त विशाल मिश्रा, डीएफओ रामनगर दिगंत नायक, सिटी मजिस्ट्रेट ए पी बाजपेई, एस डी एम हल्द्वानी परितोष वर्मा,ईई लोनिवि अशोक चौधरी, सिंचाई बी एस नैनवाल, एस डी ओ ममता चंद सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

'कोविड' वैक्सीन से साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं

'कोविड' वैक्सीन से साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं 

अखिलेश पांडेय 
लंदन। कोविड वैक्सीन को लेकर एक बड़ी खबर है। यह कोविड वैक्सीन ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका कंपनी ने बनाई है। अभी हाल ही में एस्ट्राजेनेका ने यूके (यूनाइटेड किंगडम) हाईकोर्ट में दस्तावेजों में माना कि उनकी कोविड वैक्सीन से टीटीएस जैसे साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।
बता दें कि कई सारे देशों में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविड वैक्सीन को कोविशील्ड और वैक्सज़ेवरिया ब्रांड के नाम से जाना जाता है। अब कंपनी ने खुद कहा कि उनकी वैक्सीन से साइड इफेक्ट्स हो रहे हैं।

टीटीएस सिंड्रोम क्या है ?

टीटीएस का मतलब थ्रोम्बोसाइटोपेनिया सिंड्रोम है। यह शरीर में खून के थक्के जमने के कारण होता है। शरीर में ब्लड क्लॉट बन जाते हैं, जिसकी वजह से व्यक्ति को ब्रेन स्ट्रोक या कार्डियक अरेस्ट होने की संभावना बढ़ जाती है। इसके आलावा इस सिंड्रोम की वजह से शरीर प्लेटलेट्स भी गिर सकते हैं।

मुकदमा क्यों दायर हुआ वैक्सीन को लेकर ?

आपको जानकारी के लिए बता दें कि इस समय एस्ट्राजेनेका कंपनी पर मुकदमा चल रहा है। यह मुकदमा जेमी स्कॉट नाम के व्यक्ति ने दायर किया है। ये व्यक्ति एस्ट्राजेनेका वैक्सीन लगवाने के बाद ब्रेन डैमेज का शिकार हुआ था। इसके आलावा कई और लोगों ने भी अदालत में शिकायत की थी। वैक्सीन लेने के बाद उन्हें साइड इफेक्ट हुआ था, ऐसी उनकी शिकायत थी। अब लोग वैक्सीन की वजह से हुई समस्याओं के लिए मुआवजे की मांग कर रहे हैं।
अब सुरक्षा के चलते एस्ट्राज़ेनेका-ऑक्सफ़ोर्ड वैक्सीन को यूके में इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है। वहीं कंपनी ने भी मान लिया है कि उनकी वैक्सीन से साइड इफेक्ट्स हो रहे हैं। इसके बाद से जो लोग वैक्सीन से प्रभावित हुए हैं वो मुआवजे की मांग कर रहे हैं। वैसे कंपनी ने इसके साइड इफेक्ट की बात तो मान ली है, लेकिन इससे होने बीमारियां या बुरे प्रभावों के बारे में नहीं मान रही है।

फेक वीडियो के मामलें में दो लोगों को अरेस्ट किया

फेक वीडियो के मामलें में दो लोगों को अरेस्ट किया 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के वायरल हो रहे फेक वीडियो के मामलें को लेकर हरकत में आई पुलिस द्वारा दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जिनका आम आदमी पार्टी और कांग्रेस से लिंक जुडा होना बताया गया है। उधर इस मामले में दिल्ली पुलिस तेलंगाना के मुख्यमंत्री को पहले ही पूछताछ के लिए तलब कर चुकी है। मंगलवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के फर्जी वीडियो के मामले को लेकर हरकत में पुलिस द्वारा आम आदमी पार्टी और कांग्रेस से जुड़े दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गुजरात की अहमदाबाद साइबर क्राइम टीम द्वारा की गई इस कार्यवाही के अंतर्गत अरेस्ट किए गए दोनों लोगों से फिलहाल पूछताछ की जा रही है। आज हुई दो लोगों की गिरफ्तारी से पहले सोमवार को असम पुलिस की ओर से भी दावा करते हुए कहा गया था कि उसने इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार करते हुए उसके कब्जे से एक लैपटॉप तथा दो मोबाइल फोन भी जप्त किए हैं। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने अपने राज्य से गिरफ्तार किए गए व्यक्ति का नाम रितौम सिंह बताया था। उल्लेखनीय है कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो के माध्यम से दावा किया जा रहा था कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भारतीय जनता पार्टी के तीसरी बार जीतने पर एससी एसटी एवं ओबीसी रिजर्वेशन को खत्म करने की बात कह रहे हैं। मामला उजागर होने के बाद की गई तहकीकात में पता चला कि शेयर किया जा रहा गृहमंत्री अमित शाह का यह वीडियो एडिट करके वायरल किया गया है। जबकि वास्तविक वीडियो वर्ष 2023 में तेलंगाना में दिए गए एक भाषण का था, जिसमें गृहमंत्री मुस्लिम कोटा खत्म करने की बात कह रहे थे।

एक्ट्रेस ने लाल रंग की साड़ी में अंदाज दिखाया

एक्ट्रेस ने लाल रंग की साड़ी में अंदाज दिखाया

कविता गर्ग 
मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस रवीना टंडन ने सालों से इंडस्ट्री में एक खास जगह बनाई हुई है। उनका काम और अंदाज को बहुत पसंद किया जाता है। कुछ देर पहले उन्होंने एक बार फिर लाल रंग की साड़ी में कातिलाना अंदाज दिखाया। तस्वीरों में वो किसी अप्सरा जैसी नजर आ रही हैं। साथ ही साड़ी के साथ उन्होंने ब्लाउज भी बहुत स्टाइलिश ब्लाउज कैरी किया है।
रवीना टंडन ने कुछ देर पहले फैंस के साथ लाल रंग की साड़ी में तस्वीरें शेयर की। फोटोज में उनका खास लुक देख फैंस इंप्रेस हो गए हैं। मिनटों के अंदर उनकी तस्वीरें इंटरनेट पर छा गई हैं।
साड़ी के साथ रवीना ने खास स्टाइल वाला ब्लाउज कैरी किया है। स्लीवलेस ब्लाउज के नेक पर डिजाइन बना हुआ है‌। वहीं, उनकी साड़ी के कपड़े की बात करें तो वो भी एक ट्विस्ट के साथ नजर आ रहा है‌। रवीना ने इसके साथ हाथ और कान में ज्वेलरी कैरी की है।
49 साल की उम्र में भी रवीना टंडन सभी एक्ट्रेस को टक्कर देती दिखती हैं। फिर चाहे वेस्टर्न हो या एथनिक, हर बार वो यूनीक लुक में दिखती हैं। साथ ही एक्ट्रेस फिटनेस का भी खास ख्याल रखती हैं।
रवीना टंडन का लेटेस्ट लुक देख फैंस इंप्रेस हो गए हैं। कमेंट सेक्शन में उनकी जमकर वाहवाही हो रही है। बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं है। वो हर बार लुक से लोगों को दीवाना बना लेती हैं। 
मिनटों के अंदर रवीना की तस्वीरें इंटरनेट पर छा गई हैं। एक्ट्रेस के फैन पेज उनकी तस्वीरों को शानदार कैप्शन के साथ शेयर कर रहे हैं।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-193, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. बुधवार, मई 01, 2024

3. शक-1945, बैशाख, कृष्ण-पक्ष, तिथि-सप्तमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 06:03, सूर्यास्त: 06:43।

5. न्‍यूनतम तापमान- 31 डी.सै., अधिकतम- 19+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

रजिस्ट्रेशन का आंकड़ा 16.37 लाख के पार हुआ

रजिस्ट्रेशन का आंकड़ा 16.37 लाख के पार हुआ 

पंकज कपूर 
देहरादून। उत्तराखंड में चारधाम यात्रा 2024 को लेकर यात्रियों में गजब का उत्साह देखा जा रहा है। यही वजह है कि रजिस्ट्रेशन का आंकड़ा 16.37 लाख के पार हो गया है। लगातार बढ़ते रजिस्ट्रेशन को देखते हुए राज्य सरकार ने रजिस्ट्रेशन की एक दिन की समय सीमा भी तय कर दी है। यानी एक लिमिट से ज्यादा लोग एक दिन में रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पाएंगे। क्योंकि, मई महीने में जो भक्त चारधाम आना चाहते हैं, उन्होंने रजिस्ट्रेशन करवा लिया है। उनकी संख्या लाखों में पहुंच गई है। ऐसे में व्यवस्था और यात्रा की तैयारी को देखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है।
चारधाम यात्रा आने वाले यात्रियों का उत्साह इस कदर है कि अभी से ही होटल, हेली टिकट और वाहन करीबन बुक हो गए हैं। आलम ये है कि बुकिंग भी रिकॉर्ड तोड़ हो चुकी है। ऐसे में कोई मई महीने में चारधाम आना चाहता है तो उसकी फजीहत भी सकती है। क्योंकि, मई महीने की रजिस्ट्रेशन की समय सीमा पूरी हो गई है। एक आंकड़े के मुताबिक, 10 मई से शुरू होने वाली चारधाम यात्रा में अभी तक 10 मई से लेकर 31 मई तक के पंजीकरण पूरे हो चुके हैं।
यमुनोत्री धाम के लिए अभी तक 2,72506, गंगोत्री के लिए 3,03,505, केदारनाथ धाम के लिए 5,77,241 और बदरीनाथ धाम के लिए 4,83,879 यात्री रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं। अभी तक यानी 28 मई तक चारधाम यात्रा के लिए कुल 16,37,131 यात्री रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं। वहीं, हेमकुंड साहिब की बात करें तो 27,261 यात्री रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं। ऐसे में इतनी ज्यादा संख्या में जब यात्री मंदिरों में पहुंचेंगे तो दर्शन में लंबा समय लग सकता है। उन्हें कई-कई घंटे की लाइन लगानी पड़ सकती है। लिहाजा, मंदिर समिति ने स्टॉल और टोकन की व्यवस्था को और ज्यादा कारगर बनाने के प्रयास शुरू कर दिए हैं।
चारधाम यात्रा में आने वाले यात्री सबसे ज्यादा केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के दर्शन करते हैं। साल 2013 की आपदा के बाद से केदारनाथ में यात्रियों की संख्या साल दर साल बढ़ रही है। जिसे देखते हुए सरकार को हेली सेवा को भी अपग्रेड करना पड़ा है। केदारनाथ में हेलीकॉप्टर से आने वाले यात्रियों की संख्या भी रिकॉर्ड तोड़ रही है। आलम ये है कि अभी तक मई और जून महीने की हेली टिकट बुकिंग फुल हो चुकी है।
ऐसे में सितंबर महीने की बुकिंग शुरू कर दी गई है। सितंबर महीने की भी 85 फीसदी टिकटों की बुकिंग हो चुकी है। बात अगर अक्टूबर महीने की करें तो अभी तक 35 फीसदी टिकट बुक हो चुके हैं। चारधाम यात्रा में अक्टूबर महीने के बाद अमूमन मानसून की रफ्तार धीमी पड़ जाती है। लिहाजा, यात्री आगे की बुकिंग अभी से ही करवा रहे हैं।

एक साथ 22 झोपड़ियां जलकर खाक हुई

एक साथ 22 झोपड़ियां जलकर खाक हुई 

पंकज कपूर 
देहरादून। राजधानी देहरादून में सोमवार सुबह भीषण अग्निकांड हो गया। यहां एक साथ 22 झोपड़ियां जलकर खाक हो गईं। बताया जा रहा है कि इस दौरान पांच गैस सिलेंडरों में भी ब्लास्ट हुए, जिससे आग और भीषण हो गई थी। सूचना मिलते ही दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाया।
जानकारी के मुताबिक देहरादून के खुड़बुड़ा मोहल्ले में कई मजदूर झोपड़ियां बनाकर अपने परिवार के साथ रहते हैं। प्राथमिक दौर पर जो जानकारी सामने आई है, उसके अनुसार कुछ मजदूर झोपड़ियां के पास ही तांबा जला रहे थे। उसी से आग एक झोपड़ी में लग गई। इससे पहले मौके पर मौजदू लोग कुछ कर पाते आग देखते ही देखते अन्य झोपड़ियों तक भी फैल गई। इसी तरह से आग ने करीब 22 झोपड़ियों को अपनी चपेट में ले लिया।
आग की लपटें देखकर इलाके में अफरा-तफरी का माहौल हो गया है। समय रहते झोपड़ियों में मौजूद बच्चे और महिलाओं को बाहर निकाला गया, जिस कारण कोई जनहानि नहीं हुई। वहीं मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। बताया जा रहा है कि इस आग में झोपड़ियों में रखे पांच सिलेंडर भी फट गए थे, जिससे आग और ज्यादा फैल गई थी। इस घटना से इलाके लोग दहश्त में आ गए थे।
नगर अग्निशमन अधिकारी सुरेश चंद्र ने बताया कि झोपड़ियों में आग लगने की सूचना पाकर तत्काल फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को मौके पर भेजा गया और करीब 3 घंटे बाद आग पर काबू पाया गया। प्राथमिक जांच में जो सामने आया है, उसके मुताबिक यही कहा जा रहा है कि वहीं का कोई व्यक्ति तांबा जला रहा था, जिस कारण ये आग लगी है। हालांकि अभी मामले की जांच की जा रही है। झोपड़िया में आग लगने वाले मामले में अग्निशमन की टीम द्वारा दो बच्चों का रेस्क्यू किया गया। यहां 22 से 23 परिवार रहते हैं, जो कूड़ा बीनने का काम करते हैं।

'लीची की आईसक्रीम' बनाने की आसान रेसिपी

'लीची की आईसक्रीम' बनाने की आसान रेसिपी

सरस्वती उपाध्याय 
आप चाहें तो घर पर लीची की आईसक्रीम भी बना सकते हैं, जो बच्चों को भी काफी पसंद आएगी। इसलिए आज हम इसकी आसान रेसिपी आपको बताने वाले हैं। आइए जानते हैं, कैसे आप घर पर आसानी से लीची की आईसक्रीम बना सकते हैं, जिसका स्वाद आप कभी नहीं भूलेंगे।

कप कटी हुई लीची
1 कप दूध पाउडर
3/4 चम्मच मक्के का आटा
3 कप दूध
1/2 कप चीनी
1/2 कप ताजी क्रीम
सजावट के लिए
1/2 कप टूटी और बीज रहित लीची

एक कटोरे में दूध पाउडर, 1 कप दूध और कॉर्नफ्लोर डालें। सभी चीजों को अच्छे से मिलाने के लिए इसे फेंट लीजिए।
अब एक पैन पर बचा हुआ दूध डालें। फिर इसमें चीनी डालें और चलाते हुए अच्छे से मिक्स कर लें। इसमें उबाल आने दें और बीच-बीच में मिलाते रहें।
अब पैन में स्टेप 1 में तैयार मिश्रण डालें। इसे अच्छे से मिलाएं और मध्यम आंच पर 5 मिनट तक पकने दें।
पकने के बाद इसे थोड़ी देर ठंडा होने दें और फिर ताजी क्रीम डालें। ताजी क्रीम के बाद, बीज रहित लीची का गूदा डालें। एक व्हिस्क का उपयोग करके सभी चीजों को अच्छी तरह मिला लें।
मिश्रण को एक कंटेनर में डालें और एल्युमिनियम फॉयल से ढक दें। इसे 6 घंटे तक जमने दें।
एक बार जब यह अर्ध-सेट हो जाए, तो मिश्रण को ब्लेंड करें और एक कटोरे में निकाल लें। कटी हुई लीची डालें। सभी चीजों को अच्छे से मिला लीजिए।
अब मिश्रण को दोबारा कंटेनर में डालें। इसे एल्युमिनियम फॉयल से ढक दें। इसे 10 घंटे तक जमने दें।
अब आपकी लीची आइसक्रीम तैयार है। आप इसके ऊपर कुछ पिस्ता या कटे हुए जामुन डाल सकते हैं।

मसूरी: खाई में गिरी कार, 3 लोगों की मौत

मसूरी: खाई में गिरी कार, 3 लोगों की मौत 

पंकज कपूर 
मसूरी। देहरादून जिले के मसूरी में सोमवार को बड़ा सड़क हादसा हो गया। यहां तेज रफ्तार कार खाई में गिर गई। हादसे के वक्त कार में तीन लोग सवार थे, जिनकी मौत हो गई। फिलहाल मृतकों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। पुलिस को कार में कुछ कागजात मिले है, जिनके आधार पर मृतकों की शिनाख्त करने का प्रयास किया जा रहा है।
मसूरी कोतवाली अरविंद चौधरी और फायर सर्विस इंचार्ज धीरज ने बताया कि घटना देर रात की है। इसीलिए किसी को कोई जानकारी नहीं मिल पाई थी। सुबह स्थानीय लोगों ने ही हाथी पांव शनि बैंड के पास कार नीचे खाई में गिरी हुई देखी थी। जब वे लोग नीचे गए तो देखा कि कार सवार तीन लोग मृत अवस्था में पड़े हैं। उन्होंने तत्काल मामले की सूचना पुलिस को दी।
मसूरी कोतवाल अरविंद चौधरी ने बताया कि मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची और फायर सर्विस व एसडीआरएफ की टीम के साथ मिलकर खाई से तीनों कार सवारों को ऊपर सड़क पर लाए। इसके बाद तीनों को 108 एंबुलेंस से उप जिला चिकित्सालय मसूरी भेजा गया, जहां डॉक्टरों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया।
मसूरी कोतवाल अरविंद चौधरी ने बताया कि फिलहाल तीनों की पहचान नहीं हो पाई है। गाड़ी से कुछ आधार कार्ड मिले हैं, जिनके आधार पर कहा जा सकता है कि तीनों हरियाणा के रहने वाले थे। मृतकों की जेब से कई आधार कार्ड मिले हैं। जिनके आधार पर उनकी पहचान करने की कोशिश की जा रही है।
मसूरी कोतवाल अरविंद चौधरी की मानें तो हाथी पांव शनि बैंड के पास मोड़ पर टायर के निशाना देखकर लग रहा है कि कार काफी स्पीड में थी, जिस कारण मोड़ पर ड्राइवर का कार पर नियंत्रण नहीं रहा और कार बेकाबू होकर नीचे खाई में गिर गई।

मृतकों के नाम
1- विकास त्यागी पुत्र महेंद्र सिंह निवासी मकान नंबर 268 बरी गन्नौर सोनीपत हरियाणा, उम्र 44 वर्ष
2- राजपाल पुत्र दीपचंद निवासी साहपुर तहसील गन्नौर सोनीपत, उम्र 50 वर्ष
3- ओम प्रकाश उर्फ बबलू पुत्र लीलू निवासी गन्नौर नियर स्टेडियम सोनीपत, हरियाणा, उम्र 45 वर्ष

4 अवैध निर्माणों पर सीलिंग की करवाई की

4 अवैध निर्माणों पर सीलिंग की करवाई की 

पंकज कपूर 
ऋषिकेश। टिहरी विकास प्राधिकरण ने करवाई करते हुए 4 अवैध निर्माणों पर सीलिंग की करवाई की। करवाई के दौरान अवैध निर्माण करने वाले स्वामी विभागीय अधिकारियों से कुछ और दिन की मोहलत मांगते नजर आए।
सोमवार को टिहरी विकास प्राधिकरण ने तपोवन क्षेत्र में करवाई करते हुए 2 अवैध निर्माणों पर सील की करवाई की, वहीं खारास्रोत में 1 और शीशमझाड़ी में एक अवैध निर्माण सील किया है। सील होने वाले में तपोवन स्तिथ आकाश वर्मा और सुमन जैन की 7 मंजिला अवैध बिल्डिंग सील की गई, जबकि खारास्रोत नदी पर वीरपाल नाम क एक व्यक्ति द्वारा बनाई जा रही अवैध इमारत सील की गई। वहीं शीशमझाड़ी स्तिथ अनिता धीमान नाम की महिला की अवैध इमारत पर सीलिंग की करवाई की गई।
सहायक अभियंता दिग्विजय तिवारी ने बताया कि क्षेत्र में चल रहे अवैध निर्माणों पर करवाई के लिए विभाग एक्शन में है। लगातार अवैध निर्माणों को चिंहित किया जा रहा है और नोटिस के बाद सीलिंग और जरूरत पड़ी तो ध्वस्तीकरण की करवाई भी की जाएगी। फिलहाल 4 अवैध निर्माण सील किए गए है।

उम्मीदवार उज्ज्वल ने नामांकन-पत्र दाखिल किया

उम्मीदवार उज्ज्वल ने नामांकन-पत्र दाखिल किया 

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। इलाहाबाद संसदीय सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार उज्ज्वल रमण सिंह ने सोमवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर नामांकन-पत्र दाखिल किया। अशोक नगर स्थित आवास से दोपहर करीब 130 बजे उज्ज्वल रमण सिंह नामांकन करने के लिए निकले। दोपहर लगभग 215 बजे कलेक्ट्रेट पहुंचकर उन्होंने नामांकन पत्र दाखिल किया। उनके साथ कांग्रेस के पूर्व विधायक अनुग्रह नारायण सिंह शेखर बहुगुणा सहित अन्य सपा नेता व कार्यकर्ता भी रहे मौजूद।
 इलाहाबाद संसदीय सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार उज्ज्वल रमण सिंह ने सोमवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर नामांकन पत्र दाखिल किया। इस दौरान उनके साथ समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के नेता व कार्यकर्ता रहे।
अशोक नगर स्थित आवास से दोपहर करीब 1:30 बजे उज्ज्वल रमण सिंह नामांकन करने के लिए निकले। दोपहर लगभग 2:15 बजे कलेक्ट्रेट पहुंचकर उन्होंने नामांकन पत्र दाखिल किया। उनके साथ कांग्रेस के पूर्व विधायक अनुग्रह नारायण सिंह, शेखर बहुगुणा, सपा एमएलसी मानसिंह यादव, पंधारी यादव, अब्दुल सलमान ,रविंद्र यादव समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल रहे।

अंतर्विभागीय साप्ताहिक बैठक संपन्न: सीएमओ

अंतर्विभागीय साप्ताहिक बैठक संपन्न: सीएमओ 

विशेष संचारी रोग नियन्त्रण एवं दस्तक अभियान के सफल संचालन के लिए अन्तर्विभागीय बैठक संपन्न 

कौशाम्बी। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सुष्पेन्द्र कुमार की अध्यक्षता में मुख्य चिकित्साधिकारी सभागार में  विशेष संचारी रोग नियन्त्रण एवं दस्तक अभियान के सफल संचालन के लिए अंतर्विभागीय साप्ताहिक बैठक संपन्न हुई।
बैठक में बताया गया कि झाड़ियों की कटाई में अपेक्षित प्रगति नहीं हुई है,जिस पर मुख्य चिकित्साधिकारी ने जिला कृषि अधिकारी से कहा कि झाड़ियों की कटाई में प्रगति लायी जाय तथा आमजन को चूहा-छछूंदर से फैलने वाली बीमारियों के प्रति जागरूक किया जाय। उन्हांने सभी ई0ओ0 एवं जिला पंचायतराज अधिकारी से कहा कि नियमित रूप से साफ-सफाई करायी जाएं। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी से कहा कि बड़े सुअर पालकों के साथ ही छोटे सुअर पालकों को भी संचारी रोगों से बचाव के प्रति जागरूक किया जाय। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों से कहा कि आगामी संचारी रोग नियन्त्रण अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए पहले से ही कार्ययोजना बना लिया जाएं।
सुबोध केशरवानी

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-192, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. मंगलवार, अप्रैल 30, 2024

3. शक-1945, बैशाख, कृष्ण-पक्ष, तिथि-षष्ठी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 06:03, सूर्यास्त: 06:43।

5. न्‍यूनतम तापमान- 33 डी.सै., अधिकतम- 17+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। इस समय देश में सभी देशवासियों का गर्मी से हाल बेहाल है और अभी...