रविवार, 13 अक्तूबर 2019

भीड़ के लिए कांग्रेस का अश्लील डांस

गुरुग्राम। हरियाणा में चुनाव का माहौल है और इस माहौल के बीच नेता वोटर्स को लुभाने के लिए हर मुमकिन तरीका अपना रहे हैं। कोई घर-घर घूम रहा है, कोई यात्रा कर रहा है तो कोई वादे कर वोटर्स को लुभा रहा है। मगर गुरुग्राम में इस माहौल से हटकर एक अलग ही माहौल तैयार होने लगा है। इस माहौल को कहते हैं ठुमका लगाओ और वोट पाओ।


गुरुग्राम के बादशाहपुर से कांग्रेस प्रत्याशी कमल वीर यादव की जनसभा का प्रोग्राम था। जहां पर भीड़ को जुटाए रखने के लिए मतदाताओं के सामने डांस करवाया गया। वो भी उन गानों पर जिसे सभ्य समाज में कोई सुनना भी नहीं चाहता। वही चुनाव आयोग ने इस पर अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।


हरियाणा कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी

चंडीगढ़। कांग्रेस ने हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए घोषणा पत्र जारी कर दिया है। हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी गुलाब नबी आज़ाद और प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कुमारी सैलजा मौजूदगी में घोषणा पत्र जारी किया गया। इस दौरान मैनिफेस्टो कमेटी की चेयरपर्सन किरण चौधरी, पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा और पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल मौजूद रहे। घोषणा पत्र में कांग्रेस ने सरकार बनने पर 24 घंटे में कर्ज माफी का वादा किया है। भूमिहीन किसानों को भी कर्जमाफी का लाभ मिलेगा। दो एकड़ तक जमीन रखने वाले किसानों को बिजली मुफ्त देने का वादा किया गया है। प्राकृतिक आपदा से फसल खराब होने पर 12 हजार रुपये प्रति एकड़ मुआवजा देने का वादा किया गया है।


घोषणा पत्र जारी करने के बाद प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने कहा कि कांग्रेस ने अपना संकल्प पत्र जारी कर दिया है। शैलजा ने कहा समय कम था लेकिन मेहनत के साथ घोषणा पत्र तैयार किया है। कांग्रेस नेताओं ने संकल्प पत्र का विमोचन किया। खट्टर सरकार पर आरोप लगाते हुए कुमारी शैलजा ने कहा कि बीजेपी के राज में 36 प्रतिशत अपराध बढ़ा है। वहीं उन्होंने कहा कि भाजपा के राज में घोटाले ही घोटाले हुए। हरियाणा का किसान बीजेपी के राज में त्रस्त है। हरियाणा में बेरोजगारी बढ़ी है।


निर्दल चुनाव लड़ने वाले भाजपाई सस्पेंड

राणा ओबरॉय


चंडीगढ़। 21 अक्टूबर को होने वाले हरियाणा विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता टिकटों के बंटवारे को लेकर बगावत पर उतर आए थे। हरियाणा में बीजपी ने पार्टी के आदेश ना पालन करने पर 3 नेताओं को पार्टी से सस्पेंड कर दिया गया है। बीजेपी ने पार्टी के उन बागी नेताओं को निष्कासित कर दिया है जिन्होंने अपने नामांकन वापस नहीं लिए थे और बीजेपी या उसके सहयोगियों के उम्मीदवार के सामने निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए मैदान में उतरे हैं।


बाल्मीकि विचार आत्मसात की जरूरत

सुनील तिवारी.


कुशीनगर। हियुवा के गोरखपुर व बस्ती मंड़ल के संभाग प्रभारी तथा उत्तर प्रदेश सरकार के दर्जा प्राप्त मंत्री राजेश्वर सिंह द्वारा पड़रौना नगर के सुबाष चौक पर महर्षि वाल्मीकि जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित किया गया। साथ ही श्री सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि हमें महर्षि वाल्मीकि के आदर्शों और सिद्धांतों को आत्मसात करने की जरूरत है।वाल्मीकि ने रामायण की रचना की थी, इसमें बुराई पर अच्छाई की जीत का संदेश है। श्री सिंह ने आगे कहा कि समाज में फैली नशाखोरी को समाप्त कर शिक्षा पर ध्यान देने की जरूरत बताई। शिक्षित समाज के निर्माण से ही देश की तरक्की संभव है।इस मौके पर कार्यक्रम के आयोजक उपाध्यक्ष राज्य सफाई आयोग लालबाबू बाल्मीकि ,युवा नेता नीरज सिंह बिट्टू ने भी अपने बिचार रखें।इस मौके पर सोनू बाल्मीकि जितेंद्र शिवकुमार कल्लू राजू पासवान गोपाल रामाकांत राजभर प्रकाश पांडे,पवन दुबे संदीप तिवारी धनंजयराव माधव तुलस्यान दीपक मौर्य गुड्डू गौड़ सोमेश निषाद मुकेश वाल्मीकि कृष्णा तिवारी आदि मौजूद रहें।


आदित्य की मौत से जनमानस में आक्रोश

सन्दीप मिश्रा


रायबरेली। बीते दो दिन पूर्व सिकन्दर पुर के आदित्य सिंह की हुई निर्मम हत्या को लेकर क्षेत्र के युवाओं सहित जनमानस में भारी आक्रोश व्याप्त है। दो दिन बीत जाने के बाद भी मुख्य आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर देख आक्रोश बढ़ता जा रहा है। वहीं श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह रघुवंशी सहित क्षेत्र के लोगो ने महराजगंज चौराहे पर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन एवं कैण्डल मार्च निकाल कर मृत आत्मा की शान्ति की प्रार्थना की और प्रशासन को चेताया कि यदि जल्द ही न्यायपूर्ण कार्यवाही न हुई तो क्षेत्र की जनता सड़कों पर उतर कर आन्दोलन के लिए बाध्य होगी। 
बताते चलें कि दो दिन पूर्व सिकन्दरपुर निवासी आदित्य सिंह चौहान रायबरेली स्थित सोमू ढाबा में खाना खाने गया था जहां उसके साथ मारपीट की गयी उसके बाद दूसरे दिन उसकी लाश सड़क के किनारे पड़ी मिली। मामले में परिजनों द्वारा सोमू ढाबा के मालिक सहित कर्मचारियों के खिलाफ तहरीर दी है। दो दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक मुख्य आरोपी तक को गिरफ्तार नही कर सकी है। जिससे आम जनता और क्षेत्र के लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। वहीं शनिवार की शाम राजपूत करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह रघुवंशी सहित क्षेत्र के सैकड़ो युवाओं ने महराजगंज चौराहे पर कैण्डल मार्च निकाल कर प्रशासन को मूक चेतावनी दी है यदि मृतक के हत्यारों को सजा न दी गयी तो क्षेत्र की समस्त जनता सड़कों पर उतरने को मजबूर होगी। इस मौके पर ऋषि सिंह, नीलू सिंह, राजकुमार उर्फ मोगा सिंह, भोले सिंह, रणविजय सिंह, मनीष सिंह, भोलू सिंह, अजीत सिंह, हरिहर सिंह, डब्बू सिंह, शिवरमन प्रताप सिंह, रानू सिंह, शैलेंद्र सिंह सहित सैकडो ग्रामीण एवं परिजन मौजूद रहे ।


कर्ज में डूबे परिवार ने खाया जहर,4 मौत

चेन्नई। तमिलनाडु में कर्ज में डूबे एक परिवार के 7 सदस्यों ने कीटनाशक दवा पी ली जिसके बाद इनमें से एक महिला समेत चार लोगों की मौत हो गई। जबकि दो बच्चों सहित तीन को बचा लिया गया है। पुलिस यह आशंका जता रही है कि कर्ज में डूबे परिवार ने सामूहिक आत्महत्या करने का फैसला लिया होगा। घटना चेन्नई के अन्नानूर इलाके की है।


बता दें कि बिल्डिंग ठेकेदार गोविंदस्वामी, उनकी पत्नी सुब्बामल, बेटे नागराज और रवि की मौत हो गई, जबकि गोविंदस्वामी की बेटी कल्याणी, सर्वेश्वरी और योगप्रिया की हालत नाजुक है। इनका मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है। पुलिस ने बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि परिवार को कारोबार में भारी नुकसान हुआ था।उनके ऊपर 80 लाख रुपये का कर्ज था।


हालाकि घर से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है, पुलिस को घटनास्थल पर एक कीटनाशक की एक बोतल मिली है, जिसे फोरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया है। इस घटना की जानकारी तब हुई जब बेटी कल्याणी का पति अरुमुगम शाम 6.50 घर लौटा तो देखा सभी लोग अचेत अवस्था पड़े हुए मिले, उसने तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी।


फाइनल में हारी मंजू,रजत में संतोष

नई दिल्ली। मुक्केबाज मंजू रानी विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप 2019 के फाइनल मैच में हार गई हैं। प्रतियोगिता में अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर मंजू को रजत पदक हासिल हुआ है। मंजू ने पहली बार इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था और कमाल का प्रदर्शन करते हुए वे फाइनल मुकाबले तक पहुंची थीं। यहां उनका मुकाबला मेजबान रूस की दूसरी वरीयता प्राप्त खिलाड़ी एकातेरिना पाल्टसेवा से हुआ,जिनको हाथों मंजू को 4-1 से हार का सामना करना पड़ा।
पहली बार विश्व चैंपियनशिप में भाग ले रही मंजू ने शनिवार को सेमीफाइनल में 48 किलोग्राम वर्ग में पूर्व कांस्य पदक विजेता थाईलैंड की चुथामाथ काकसात को 4-1 से हराया। 18 साल बाद यह पहला मौका है जब किसी भारतीय महिला मुक्केबाज अपने पदार्पण विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची है। मंजू से पहले एमसी मैरी कॉम वर्ष 2001 में अपने पदार्पण विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची थीं। इस पदक के साथ ही इस प्रतियोगिता में भारतीय अभियान भी समाप्त हो गया है। यह भारत का चौथा पदक साबित हुआ। छह बार की चैंपियन एमसी मैरी कॉम और दो अन्य ने कांस्य पदक हासिल किए थे। मैरीकॉम (51 किलोग्राम), जमुना बोरो (54 किग्रा) और लोवलिना बोर्गोहाइन (69 किग्रा) ने कांस्य पदक जीता था।


पराली के धुए ने घोटा एनसीआर का गला

नई दिल्ली। उत्तर और पश्चिमी भारत के कई इलाकों में पराली जलाई जा रही है। इसकी ताजा तस्वीरें NASA ने जारी की है। पराली जलाए जाने की वजह से दिल्ली-एनसीआर और आसपास के इलाकों में प्रदूषण बढ़ रहा है। नासा द्वारा जारी की गई तस्वीरों में फायर मैप के जरिए दिखाया गया है कि कैसे उत्तर-पश्चिमी भारत और बार्डर से सटे पाकिस्तान के कुछ हिस्सों में भी पराली जलाने से प्रदूषण बढ़ रहा है।


वहीं दिल्ली-एनसीआर में एयर क्वॉलिटी इंडेक्स (AQI) की बात करें तो मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में यह 192, मंदिर मार्ग पर 186, पूसा में 192, जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में 224, पटपड़गंज में 199, सत्यवती कॉलेज में 284, PGDAV कॉलेज में 245, सोनिया विहार वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में 197, आर के पुरम में 195 और दिल्ली इंस्टिट्यूट ऑफ टूल इंजीनियरिंग, वजीरपुर में AQI 255 है।


इसके अलावा आनंद विहार में AQI 278, झिलमिल इंडस्ट्रियल एरिया में 262, पंजाबी बाग में 198, वसुंधरा, गाजियाबाद में 465 और नोएडा सेक्टर 62 में AQI 316 है। AQI लेवल 200 तक खराब, 200 से 300 के बीच बहुत खराब और 300 से 500 के बीच खतरनाक माना जाता है।


1100 रुपए में लिखा जाएगा बैनामा

भोपाल। मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार दिवाली से पहले महिलाओं को बड़ा तोहफा देने जा रही है। मुख्यमंत्री कमलनाथ  की सरकार ने महिलाओं को प्रॉपर्टी में हिस्सेदार बनाने पर 'तोहफा' देने का निर्णय लिया है। इसके तहत महिलाओं को जायदाद में हिस्सेदार बनाने पर पुरुषों को रजिस्ट्री में रियायत मिलेगी। यानी अगर आप प्रॉपर्टी खरीदने में घर की महिलाओं को पार्टनर बनाते हैं तो रजिस्ट्री कराने में आपको सिर्फ 1100 रुपये देने होंगे। प्रदेश सरकार अचल संपत्ति के सह स्वामित्व विलेख के खर्च में संशोधन करने वाली है।


होगा बड़ा फायदा


दिवाली से पहले कमलनाथ सरकार के महिलाओं के हित में बड़ा फैसला लेने से प्रदेश की बड़ी आबादी को फायदा होने की उम्मीद जताई जा रही है। सरकार की मंशा है कि परिवार के पुरुष सदस्य अगर अपनी पत्नी, बेटी या बहू को अचल संपत्ति में हिस्सेदार बनाते हैं तो उन्हें रजिस्ट्री में फायदा दिया जाएगा। महिला के नाम पर रजिस्ट्री महज 1100 रुपए में होगी। कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आने से पहले यह वचन दिया था, जिसे वह अब पूरा करने जा रही है। अचल संपत्ति खरीदने पर अब तक रजिस्ट्री का खर्चा लोगों पर भारी पड़ता रहा है। लेकिन अब महिलाओं के नाम पर रजिस्ट्री कराने से ना सिर्फ परिवार को फायदा होगा, बल्कि महिलाएं भी सशक्त औऱ मजबूत हो सकेंगी।


अभी होता है बड़ा खर्च


प्रदेश में अभी तक किसी भी प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री कराने पर सरकारी कीमत की 5.3 फीसदी राशि खर्च होती है। लेकिन सरकार के इस फैसले के बाद इस राशि को भी शून्य किया जा रहा है। सामान्य प्रशासन मंत्री डॉ. गोविंद सिंह का कहना है कि इस फैसले को लेकर मंत्रिमंडल में भी चर्चा होगी। उन्होंने कहा कि यह फैसला लेने के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ की तारीफ की जानी चाहिए। फैसले से महिलाओं को सबसे ज्यादा फायदा होगा, क्योंकि इससे घर के बाहर भी उनकी बात को तवज्जो दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार महिलाओं को 50 प्रतिशत तक अधिकार देने की तैयारी में है। रोजगार, व्यापार और ठेकेदारी में उन्हें आगे लाने की नीति पर काम किया जा रहा है। मंत्री ने कहा कि महिलाओं के लिए बहुत उदार नीतियां लाकर उन्हें और मजबूत बनाया जाएगा।
 


सरकार: प्रसव के लिए जेवर गिरवी

कानपुर। कानपुर जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवराजपुर में सिजेरियन प्रसव के लिए गर्भवती से 5 हजार रुपये की वसूली का मामला सामने आया है। पैसा न होने पर गर्भवती को कान से सोने के टॉप्स उतार कर गिरवी रखना पड़ गया। मामला सामने आने के बाद कानपुर के सीएमओ डॉ. अशोक शुक्ला ने चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अनुज दीक्षित को छानबीन के निर्देश दिए हैं।


दरअसल, गौरन निवादा की रहने वाली रश्मि को दो दिन पूर्व प्रसव पीड़ा शुरू हुई। परिजन उन्हें शिवराजपुर सीएचसी लेकर पहुंचे। रश्मि की मां कलावती के अनुसार, स्टाफ नर्स और दूसरे कर्मचारियों ने कहा कि इंतजार करो, सामान्य डिलीवरी हो जाएगी। उनका आरोप है कि शनिवार को अचानक अस्पताल के कर्मचारियों ने कहा कि 15 मिनट के अंदर सीजेरियन करना होगा, नहीं तो जच्चा-बच्चा दोनों की जान को खतरा है।


सोने का कुंडल रखकर सूदखोर ने दिए रुपये


डॉक्‍टरों ने तत्‍काल पांच हजार रुपए की व्‍यवस्‍था करने को कहा. कलावती ने बताया, 'मेरे पास पैसे नहीं थे। मैंने कहा कि मुझे कहीं और से रुपयों का इंतजाम करना होगा। इस पर अस्‍पताल के कर्मचारियों ने तुरंत इंतजाम करने को कहा। उन्‍होंने कहा कि जो गहने पहने हो, उसे गिरवी रख दो। बेटी ने कुंडल पहन रखे थे। कर्मचारी ने साहूकार को अस्‍पताल में ही बुलवा लिया। साहूकार ने कुंडल निकलवा लिए और 5 हजार रुपए देकर चला गया। रुपए देने के बाद बेटी का सीजेरियन किया गया।


सीएमओ ने दिए जांच के निर्देश


सरकार अस्‍पताल में इस तरह का मामला उजागर होने के बाद स्‍वास्‍थ्‍य महकमा जागा। कानपुर के सीएमओ डॉ. अशोक शुक्ला ने बताया कि चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अनुज दीक्षित को जांच के आदेश दिए गए हैं। सीएमओ के मुताबिक, अगर महिला कुंडल गिरवी कराने वाले कर्मचारी की पहचान कर लेती है, उसे पूरी कीमत देनी होगी। उन्होंने कहा कि इस मामले की पड़ताल एसीएमओ डॉ. एके सिंह अलग से करेंगे। वहीं, केंद्र अधीक्षक ने अधिकारियों को बताया कि सफाईकर्मी ने 200 रुपये मांगे थे, जो वापस करा दिए गए हैं।
 


टोनिका सिटी की जमीन पर कब्जा

यूपीएसआईडीसी के अधिकारियों की मिलीभगत से ट्रोनिका सिटी की जमीन पर भूमाफिया कौशर अली ने किया कब्जा 


गाजियाबाद,लोनी। यूपीएसआईडीसी के आफिस से मात्र पांच सौ मीटर की दूरी पर भूमाफिया कौशर अली ने यूपीएसआईडीसी की तकरीबन दो हजार मीटर जमीन पर कब्जा कर लिया है। भूमाफिया कौशर अली के साथ यूपीएसआईडीसी ट्रोनिका सिटी आफिस के अधिकारी भी मिले हुए है वरना आफिस के इतने करीब जमीन पर कब्जा  कैसे हुआ?
इस विषय पर युवा शक्ति एनजीओ के उपाध्यक्ष अरशद अली ने बताया कि उपरोक्त जमीन को कब्जामुक्त कराने के लिए युवा शक्ति एनजीओ लगातार प्रयास कर रही है। मगर ट्रोनिका सिटी आफिस के कर्मचारी कोई कार्यवाही नही कर रहे है। लगातार दो महीने से अधिकारियों को अवगत कराया जा रहा है व शिकायत भी की है। मगर अधिकारियों ने आज तक जमीन पर जा कर भी नही देखा। इससे प्रतीत होता है कि यूपीएसआईडीसी के अधिकारी और भूमाफिया कौशर अली मिले हुए है।
अज़ीम


चार शातिर चोर-लुटेरे किए गिरफ्तार

गौतमबुद्धनगर। नोएडा पुलिस द्वारा 04 शातिर वाहन चोर,मोबाइल लूटेरे गिरफ्तार व 06 मोबाइल लूट,वाहन चोरी की घटनाओ का अनावरण किया।
विगत कुछ समय से जनपद में आवासीय सैक्टर एंव व्यवसायिक क्षेत्र में घटित हो रही वाहन चोरी व मोबाइल लूट की घटनाओ को चुनौती के रुप लेते हुए। श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, गौतमबुद्धनगर के निर्देशन में थाना फेस 3 नोएडा पुलिस द्वारा घटनाओ का सफल अनावरण करते हुए 04 शातिर वाहन चोर/मोबाइल लूटेरो को गिरफ्तार किया गया। 
गिरफ्तारी का घटनाक्रम
मुखबिर की सूचना पर एफएनजी रोड ग्लोबल हास्पिटल के सामने चैकिंग के दौरान टीपीनगर सेक्टर 65 चौराहे की ओर से आने वाली एक मोटर साइकिल व एक स्कूटी को चेक करने का प्रयास किया गया तो दोनो वाहनो पर सवार व्यक्ति अपने-अपने वाहनो को पीछे मोडकर भागने का प्रयास करने लगे। तभी पुलिस वालो ने एक बारगी दबिश देकर घेर कर आवश्क बल प्रयोग कर मोटर साइकिल व स्कूटी सवार 04  व्यक्तियों को पकड लिया । 
गिरफ्तार अभियुक्तो का विवरण 
1.अमन गुप्ता पुत्र नत्थू लाल गुप्ता निवासी खेडा नवादा लाल झण्डे की कोठी के सामने ताना कोतवाली जिला बदांयू हाल पता प्रधान मार्केट सेक्टर 121 अजनारा सोसायटी के पाछे थाना फेस 3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
2.चांद बाबू पुत्र हसमत अली निवासी म0न0 168 गली नं0 13  रतिया मार्ग संगम विहार दिल्ली
3.विकास पुत्र राजकुमार निवासी म0न0 KI/18  426 रतिया मार्ग संगम विहार दिल्ली
4.मोनू पुत्र राजकुमार निवासी गांव गुठावली थाना कोतवली नगर जनद बुलन्दशहर हाल निवासी उन्नति विहार डूब क्षेत्र पर्थला सेक्टर 123 थाना फेस 3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
बरामदगी का विवरणः-
• मोटर साईकिल स्पलेन्डर एनएक्सजी रजि0 नम्बर UP 16 AF 4893 रंग काला इंजन नं. HA12EFB9K00875 चेचिस नं. MBLHA12EKB9K00898  सम्बन्धित मु0अ0सं0 1209/19 धारा 379 भादवि थाना फेस 3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• स्कूटी MESTRO जिस पर बिना नम्बर इंजन नम्बर JF32AADGE03408 चेचिस नम्बर MBLJF32ABDGE03407 सम्बन्धित मु0अ0सं0 1209/19 धारा 379 भादवि थाना सैक्टर 24 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• एमआई रंग नीला जिसका सम्बन्धित मु0अ0सं0 1337/19 धारा 392 भादवि थाना सेक्टर 24 नोएडा 
• वीवो मोबाईल रंग नीला सम्बन्धित  मु0अ0सं0 552/19 धारा 392 भादवि थाना सैक्टर 58 नोएडा
• मोबाईल ASUS रंग काला सम्बन्धित मु0अ0सं0 1211/19 धारा 392 भादवि थाना फेस 3 नोएडा
• 14 अदद मोबाइल (1.आईटेल कीपैड रंग काला 2- मोबाईल रंग सफेद REACHOPULEMT जिसका 3.मोबाईल INTEX रंग काला 4.सैमसंग एन्ड्रायज रंग सिल्वर जिसका 5. मोबाईल INTEX रंग काला 6.मोबाईल INTEX ग्रे कलर 7. जियो ब्लैक कलर कीपैड 8.जियो ब्लैक कलर 9.DTC कीपैड रंग काला 10. मोबाईल MTECH रंग काला व 11. मोबाईल FORME कीपैड रंग लाल 12.एमआई रंग नीला 13. वीवो रंग नीला 14.मोबाइल ASUS रंग काला)
• एक अदद तमंचा 12 बोर मय 03 जिन्दा कारतूस 12 बोर बनाम अमन गुप्ता
• तीन अदद नाजायज चाकू बरामद
अपराध करने का तरीका-
अभियुक्तगण से पूछताछ की गयी तो पूछने पर बताया कि उनकी गैंग में 04 व्यक्ति शामिल है अमन गुप्ता,चांद बाबू 3. विकास 4. मोनू जो दिल्ली, नोएडा व गाजियाबाद में कम्पनी एंव सेक्टरो के बाहर वाहन चोरी करने के लिये रेकी कर वाहन चोरी करने के लिये उक्त स्थानो को चिन्हित करते है तथा जब लोग कम्पनी में काम करते है तभी यह लोग मौका देखकर वाहनो को चोरी कर लेते है तथा उन चोरी के वाहनो से आने जाने वाले लोगो से मोबाइल लूट करते है तथा जब जनता या पुलिस से अपने आप को घिरा देखते है तो वाहन को वही छोडकर भाग जाते है एंव सीसीटीवी कैमरो से बचने के लिये चेहरे पर कपडा बांध लेते है व उन चोरी के वाहनो एंव लूट के मोबाइलो को आने जाने वाले व्यक्तियो को ओने पौने दामो में बेचकर अपना खर्चा चलाते है । 
दौराने गिरफ्तारी पंजीकृत अभियोगो का विवरणः-
• मु0अ0सं0 1218/19 धारा 411/414 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0सं0 1219/19 धारा 3/25 आर्म्स एक्ट  थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1220/19 धारा 4/25 आर्म्स एक्ट  थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1221/19 धारा 4/25 आर्म्स एक्ट  थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
अनावरित घटनाओ का विवरणः-
• मु0अ0स0 425/19 धारा 379 भादवि थाना सेक्टर 24 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0स0 1337/19 धारा 392 भादवि  थाना सेक्टर 24 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0स0 552/19 धारा 392 भादवि थाना सेक्टर 58 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1207/19 धारा 379 भादवि थाना फेस 3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1209/19 धारा 379 भादवि थाना फेस 3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0सं0 1211/19 धारा 392 भादवि थाना फेस 3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
अमन गुप्ता का आपराधिक इतिहास 
• मु0अ0सं0 373/17 धारा 2/3 गैंगस्टर एक्ट थाना विजयनगर जनपद गाजियाबाद
• मु0अ0सं0 1406/16 धारा 4/25 आर्म्स एक्ट थाना विजयनगर जनपद गाजियाबाद
• मु0अ0सं0 39/17 धारा 392/411 भादवि  थाना विजयनगर जनपद गाजियाबाद
• मु0अ0सं0 2051/16 धारा 395 भादवि  थाना विजयनगर जनपद गाजियाबाद
• मु0अ0सं0 47/17 धारा 414 भादवि थाना विजयनगर जनपद गाजियाबाद
• मु0अ0सं0 20/17 धारा 392 भादवि थाना विजयनगर जनपद गाजियाबाद
• मु0अ0सं0 1126/19 धारा 392/411 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0सं0 1127/19 धारा 380/411 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0सं0 1131/19 धारा 411/414/34/482 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1337/19 धारा 392/411 भादवि थाना सैक्टर 24 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1207/19 धारा 379 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1209/19 धारा 379 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1218/19 धारा 411/414 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0सं0 1219/19 धारा 3/25 आर्म्स एक्ट  थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 


चांद बाबू का आपराधिक इतिहास 
• मु0अ0सं0 493/17 धारा 379/411 भादवि थाना ओखला दिल्ली 
• मु0अ0सं0 1337/19 धारा 392/411 भादवि थाना सैक्टर 24 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1211/19 धारा 392/411 भादवि थाना फेस-3 नोएडा गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1218/19 धारा 411/414 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0सं0 1220/19 धारा 4/25 आर्म्स एक्ट  थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 


मोनू का आपराधिक इतिहास 
• मु0अ0सं0  1385/17 धारा 411/414 भादवि   थाना विजयनगर जनपद गाजियाबाद 
• मु0अ0सं0  552/19 धारा 392/411 भादवि   थाना सैक्टर 58 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0  425/19 धारा 379/411 भादवि   थाना सैक्टर 24 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0  1211/19 धारा 392/411 भादवि  थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1207/19 धारा 379/411 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0सं0 1209/19 धारा 379/411 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1218/19 धारा 411/414 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर


विकास का आपराधिक इतिहास 
• मु0अ0सं0 761/16 धारा 379/411 भादवि थाना सरोजनीनगर  दिल्ली 
• मु0अ0सं0   425/19 धारा 379/411 भादवि   थाना सैक्टर 24 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 
• मु0अ0सं0 1209/19 धारा 379/411 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0सं0 1218/19 धारा 411/414 भादवि थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर
• मु0अ0सं0 1221/19 धारा 4/25 आर्म्स एक्ट  थाना फेस -3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर 


गिरफ्तार करने वाली टीम
• उ.नि. श्री मान सिंह
• उ.नि. श्री वरूण पंवार 
• उ.नि. श्री सुमित कुमार
• है0का0 724 राजेश 
• है0का0 942 ब्रजपाल
• है0का0 584 कमलेश मिश्रा 
• का0 2354 अनिल
• का0 2633 खेवेन्द्र
• का0 2365 रवि सहरावत
• का0 49 आशीष 
• का0 163 विकास,थाना फेस 3 नोएडा जनपद गौतमबुद्धनगर


मस्जिद मे आतंकी हमला 16 की मौत

ओगाडुआगो। पश्चिम अफ्रीका के देश बुर्कीना फासो की एक मस्जिद पर हमला हुआ है। सुरक्षा सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार इस हमले में 16 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं। स्थानीय रिपोर्टों में दावा किया गया है कि अज्ञात बंदूकधारियों के एक समूह ने मस्जिद पर हमला किया। यह जानकारी सुरक्षा सूत्रों ने शनिवार को दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
एएफपी के रिपोर्ट के अनुसार, बन्दूकधारी विद्रोहियों ने शुक्रवार शाम को सालमोसी में बड़ी मस्जिद पर हमला कर दिया। मस्जिद में घुसते ही बंदूकधारियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। सूत्रों ने बताया कि 13 की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तीन ने बाद में दम तोड़ दिया।


मैच जीत सीरीज पर कब्जा जमाया

भारत ने पारी और 137 रन से जीता पुणे टेस्ट, सीरीज पर जमाया कब्जा


पुणे। टीम इंडिया ने रविवार को दूसरे टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका को पारी 137 रन से हराकर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-0 से अजेय बढ़त बना ली है। टेस्ट मैच के चौथे दिन टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने मेहमान टीम को फॉलोऑन दिया, लेकिन दक्षिण अफ्रीकी टीम 326 रन की लीड को पार नहीं कर सकी और चौथे दिन के आखिरी सत्र में 189 रन पर पूरी टीम ढेर हो गई। अब दोनों टीमों के बीच सीरीज का आखिरी मुकाबला 19 अक्टूबर को रांची में खेला जाएगा।


चौथे दिन दक्षिण अफ्रीकी टीम अपनी दूसरी पारी खेलने उतरी, लेकिन दिन के पहले ही ओवर में इशांत शर्मा ने मार्करम को आउट कर भारत को पहली सफलता दिला दी। दक्षिण अफ्रीका के विकेट लगातार गिरते रहे, सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर ने पारी को संभालने की कोशिश की, लेकिन कोई और बल्लेबाज उनका साथ नहीं दे पाया।


इशांत के बाद उमेश यादव ने भारत को दूसरी सफलता दिलाई। छठें ओवर की चौथी गेंद पर उमेश यादव ने ब्रायन को पवेलियन भेजा। उमेश की गेंद पर साहा ने शानदार ड्राइव लगाकर कैच लपका। ब्रायन आठ रन ही बनाकर पवेलियन लौट गए। आर अश्विन ने फाफ डुप्लेसी को आउट कर भारत को बड़ी सफलता दिलाई। अश्विन ने इस सीरीज में उन्हें तीसरी बार आउट किया। 25वें ओवर की दूसरी गेंद पर एल्गर अश्विन की गेंद पर मिड ऑफ की ओर खेलने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन उमेश यादव ने भागते हुए कैच लपक डीन एल्गर की पारी का अंत किया। वह 72 गेंदों में 48 रन बनाकर आउट हुए। रवींद्र जडेजा ने 29वें ओवर की दूसरी गेंद पर क्विंटन डीकॉक (5) को बोल्ड कर दिया। 43वें ओवर की पहली गेंद पर रवींद्र जडेजा की गेंद पर बावुमा एलबीडब्ल्यू होने से बचे, लेकिन अगली ही गेंद पर वह स्लिप में अजिंक्य रहाणे को कैच थमा बैठ।


पहली पारी की ही तरह वर्नोन फिलेंडर और केशव महाराज क्रीज पर जम गए थे। दोनों बल्लेबाजों ने भारत के जीत के इंतजार को बढ़ाया, लेकिन और भारतीय गेंदबाजों को परेशान कर दिया है। दोनों के बीच 110 गेंदों में 51 रन की साझेदारी हो चुकी है। भारतीय टीम की ओर से सर्वाधिक चार विकेट रविचंद्रन अश्विन ने चटकाए। उमेश यादव को तीन, मोहम्मद शमी को दो तो रवींद्र जडेजा की झोली में एक विकेट आया।


चुनाव प्रचार में उतरेंगे दिग्गज

 नई दिल्ली। हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए आज से आठ दिनों बाद 21 अक्टूबर को वोटिंग होगी। इन चुनावों में मतदाताओं को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए कांग्रेस और बीजेपी समेत सभी दलों ने एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी चुनावी प्रचार अभियान में उतरेंगे।


पीएम मोदी आज दोपहर 12 बजे उत्तरी महाराष्ट्र के जलगांव में रैली से अपने अभियान की शुरूआत करेंगे। इसके बाद शाम 4 बजे विदर्भ के भंडारा जिले के सकोली में उनकी दूसरी जनसभा होगीी। चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री राज्य में कुल नौ रैलियों को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी आने वाले दिनों में हरियाणा में भी रैलियां करेंगे।


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी महाराष्ट्र के लातूर में आज पहली जनसभा को संबोधित करेंगे। इसके बाद वह मुंबई के चांदीवली और धारावी इलाकों में भी पार्टी उम्मीदवारों के लिए वोट मांगेंगे। लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद गांधी पहली बार चुनाव प्रचार के लिए लोगों के बीच होंगे। पिछले दिनों राहुल गांधी 'व्यक्तिगत यात्रा' पर कुछ दिनों के लिए विदेश गए थे। लौटने के बाद वह गुजरात में अपने खिलाफ चल रहे मानहानि के मामले में अदालत के समक्ष पेश भी हुए।


सपना के लाइफ स्टाइल में आया बदलाव

मॉलीवुड। हरियाणवी डांसर सपना चौधरी आज किसी पहचान की मोहतान नहीं। देशभर में उनके लाखों प्रशंसक हैं जो कि उनके डांस के साथ-साथ उनके अंदाज के भी दीवाने हैं। सपना चौधरी ने इंस्टाग्राम पर अपनी एक फोटो शेयर की है जिसमें शॉर्ट ड्रेस में वो बेहद सेक्सी लग रही हैं। सपना चौधरी इन दिनों जमकर फोटोशूट करा रही हैं जिसकी फोटो वो आए दिन शेयर करती रहती हैं।


सपना चौधरी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं आए दिन वो अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर अपनी एक से बढ़कर एक फोटो शेयर करती रहती हैं। ट्रेडिशनल से लेकर वेस्टर्न आउटफिट में सपना चौधरी अपनी फोटो शेयर करती हैं और उनका अंदाज उनके फैंस का दिल जीत लेते हैं।


सपना चौधरी का हाल ही में गाना लुटेरा रिलीज हुआ। इस गाने में भी सपना चौधरी बला की खूबसूरत लग रही थीं। यूट्यूब पर इस गाने ने काफी धमाल मचाया। वहीं कुछ और गाने भी हैं जो सपना चौधरी के रिलीज होने वाले हैं। सपना चौधरी बिग बॉस में भी नजर आ चुकी हैं। बिग बॉस के बाद सपना हरियाणवी से लेकर भोजपुरी पंजाबी और बॉलीवुड फिल्मों में भी नजर आ चुकी हैं।


श्रुति को भी लगी थी नशे की लत

बॉलीवुड की इस एक्ट्रेस को लग गयी थी नशे की लत


मुंबई। सुपरस्टार कमल हासन की बेटी एक्ट्रेस श्रुति हासन हाल ही में, एक चैट शो पर पहुंचीी। इस दौरान उन्होंने अपनी पर्सनल जिंदगी को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे किए। एक्ट्रेस श्रुति हासन ने माइकल कॉर्सेल के साथ अपने रिलेशनशिप और ब्रेकअप की वजह भी बताई। इस चैट शो के दौरान श्रुति हासन  ने अपने दिल की सारी बातें शेयर कीी। श्रुति हासन ने बताया कि शराब छोड़ने के बाद उनकी हेल्थ पर इसका काफी बुरा प्रभाव पड़ा थाा। हालांकि अब उनकी ये आदत छूट गई हैं, लेकिन 33 साल पहले उनके लिए चीजें बहुत कठिन थीं।


इंटरव्यू के दौरान श्रुति हासन ने कहा, 'मैं बहुत बड़ी विश्की लवर थी। हालांकि मैंने इन सबसे ब्रेक लेने और इस आदत को पूरी तरह छोड़ने का सोचा। यह मेरे लिए एक नया बदलाव था। जब उनसे पूछा गया कि शराब से उनकी शरीर पर क्या प्रभाव पड़ा तो इस पर उन्होंने कहा, 'हां, मैं ठीक नहीं थी और मैंने ये बात किसी को नहीं बताई। मुझे लगा ये मेरा निजी मुद्दा है और मैं अपनी पर्सनल चीजें किसी के साथ भी शेयर नहीं कर सकती।


एक्ट्रेस श्रुति हासन ने माइकल कॉर्सेल के साथ अपने रिलेशनशिप को लेकर कहा, 'मैं बहुत कूल टाइप की लड़की थी। मैं बहुत मासूम भी थी, हर कोई मेरे आसपास बॉस बनने की कोशिश करता था। मैं बहुत इमोशनल लड़की थी इस वजह से वो लोग मेरे सामने बॉस बन जाते थे। हां, लेकिन मुझे ये कहना पड़ेगा कि ये मेरे लिए काफी अच्छा एक्सपीरियंस रहा।


हवाई अड्डे पर बम की सूचना से हड़कंप

लखनऊ। लखनऊ के अमौसी हवाई अड्डे पर शनिवार को बम की सूचना से हड़कंप मच गया। चेन्नई जा रहे इंडिगो एयरलाइन्स की फ्लाइट में बम होने की सूचना मिली। इस फ्लाइट के सभी यात्री टर्मिनल में ही खड़े थे। इसके बाद यात्रियों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में सुरक्षाबलों ने फ्लाइट की बारीकी से जांच करवाई। जांच के बाद सूचना फर्जी निकली। सुरक्षाबलों ने फर्जी सूचना देने वाले यात्री को हिरासत में ले लिया। यात्री की पहचान पीयूष वर्मा के रूप में हुई है। पीयूष शाहजहांपुर के जिला अस्पताल में क्वालिटी मैनेजर के पद पर तैनात है। वहीं पीयूष के परिजनों ने उसे मानसिक रूप से अस्वस्थ्य बताया है। जैसे ही बम की अफवाह फैली तो टर्मिनल में मौजूद सैकड़ों यात्रियों में हड़कंप मच गया। घबराहट में यात्रियों ने अपने परिजनों को फोन पर जानकारी दी। इस पर एयरपोर्ट प्रशासन ने यात्रियों को समझा-बुझाकर शांत कराया।


हिगबीस ने ली 11 जान, 73 लाख संरक्षित

टोक्यो। जापान में छह दशक के इतिहास में तूफान से भारी तबाही हुई है। हिगबीस तूफान का कहर जारी है। अब तक 11 लोगों की जान जा चुकी है। 17 लोग लापता हैं। 1417 लोगों को रेस्क्यू किया गया है। करीब 73 लाख लोगों को अन्यत्र सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। यह जानकारी रविवार को राष्ट्रीय प्रसारक एनएचके की रिपोर्ट में दी गई।


रिपोर्ट के मुताबिक हिगबीस तूफान की चपेट में आए 106 लोग घायल हो गए हैं। इससे पहले कहा गया था कि हिगबीस तूफान में फंसे पांच लोगों की मौत हो गई और 11 लोग लापता हो गए। नागानो शहर के आपात अधिकारी यासुहिरो यामागुची ने मीडिया से कहा है कि 'रात भर में हमने 427 परिवारों, 1,417 लोगों को प्रभावित स्थानों से निकाल कर सुरक्षित जगह पहुंचा दिया। हालांकि अभी नुकसान के आकलन की जानकारी नहीं मिल पाई है।'


स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हिगबीस तूफान की भयावहता के मद्देनजर टोक्यो, मी, शिजुका, गुम्मा और चिबा के अलावा दक्षिणी प्रांत के लाखों नागारिकों को घर खाली करने के आदेश दिए गए हैं। उल्लेखनीय है कि हिगबीस तूफान की वजह से शनिवार को अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय 1929 फ्लाइट्स को रद्द कर दिया गया था।


समाज एकत्रित करना आरएसएस का काम

भुवनेश्वर। ओडिशा के नौ-दिवसीय दौरे पर आए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि बेहतरी के लिए समाज को बदलाव की जरूरत है, वहीं समाज में प्रत्येक व्यक्ति को बदलना असंभव है। उन्होंने कहा कि देश को समाज में बदलाव कर बदला जा सकता है।


उन्होने कहा कि आरएसएस सिर्फ हिंदू समाज को नहीं बल्कि संपूर्ण समाज को व्यवस्थित करने के लिए काम कर रहा है। यहां बुद्धिजीवियों से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि तो सही तरीका ये है। ऐसा सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति तैयार किया जाए जो समाज और देश में बदलाव लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाए। आरएसएस के सूत्रों ने कहा कि इस दौरान भागवत 15-20 अक्टूबर के बीच अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक में शामिल होंगे, जहां विभिन्न राज्यों और मान्यता प्राप्त समूहों के पदाधिकारी शामिल होंगे। आरएसएस की सर्वोच्च नियामक इकाई अपनी वार्षिक बैठक ओडिशा में पहली बार आयोजित कर रही है।


गवर्नर ने वित्त मंत्री को आश्वस्त किया

नई दिल्ली। पंजाब एवं महाराष्ट्र कोऑपरेटिव(पीएमसी बैंक) मामले पर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने आश्वस्त किया कि ग्राहकों की चिंताओं को शीर्ष प्राथमिकता पर रखा जाएगा।


भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास से वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि मैं दोहराना चाहूंगी कि भारतीय वित्त मंत्रालय यह सुनिश्चित करेगा कि ग्राहकों की चिंताओं को व्यापक रूप से दूर किया जाए।


बता दें वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने पंजाब एवं महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (PMC) बैंक के ग्राहकों के पैसे के बारे में उनकी चिंताओं पर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास से बात की है।आरबीआई ने भी सहकारी बैंकों के लिए एक नई ई-मेल आधारित रिपोर्टिग प्रणाली की घोषणा की है। PMC घोटाले पर वित्त मंत्री का बयान, 'को-ऑपरेटिव बैंक से सरकार कोई लेना-देना नहीं, RBI करती है निगरानी'।आरबीआई ने पीएमसी बैंक के जमाकर्ताओं के लिए प्रति खाता धन निकासी की सीमा बढ़ाकर 25,000 रुपये कर दी है। पिछले सप्ताह आरबीआई ने निकासी सीमा 1,000 रुपये से बढ़ाकर 10,000 रुपये कर दी थी। बैंक नियामकीय रडार पर तब आया, जब हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्च र लिमिटेड (एचडीआईएल) और उसके निदेशक पीएमसी बैंक से लिए गए 4,355 करोड़ रुपये के ऋण का भुगतान नहीं कर पाए।


गैंगरेप के बाद निर्वस्त्र फांसी पर लटकाया

कोरिया। जिले के झगराखांड थाना क्षेत्र के कोड़ा चौकी में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। इलाके में एक युवती को निर्वस्त्र कर फांसी पर लटका दिया गया। युवती का हले उसके घर से अपहरण किया गया। युवती के साथ जमकर मारपीट की गई। फांसी पर लटकाने से पहले आरोपियों ने पत्थर मारकर युवती का चेहरा बिगाड़ने की भी कोशिश की थी।


मामला झगराखांड थाना क्षेत्र के कोड़ा चौकी के सीमावर्ती क्षेत्र का है, जहां युवती का घर से ही अपहरण कर लिया गया। इसके बाद युवती के साथ जमकर मारपीट की गई। युवती को निर्वस्त्र कर फांसी पर लटका दिया गया। किस्मत से फांसी पर लटकाई गई युवती की रस्सी टूट गई और वो पेड़ से नीचे गिर गई। निर्वस्त्र हालत में ही युवती सीमावर्ती गांव में पहुंची। ग्रामीणों ने मामले की सूचना पुलिस को दी।बुरी तरह से घायल युवती को पुलिस ने मनेन्द्रगढ़ हॉस्पिटल में भर्ती किया गया। युवती की हालत बेहद गंभीर है। पुलिस ने प्रथम दृष्टया दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। युवती के साथ दरिंदगी के इस मामले में जानकारी लगने पर सरगुजा विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष विधायक गुलाब कमरो ने सामुदायिक स्वास्थ केंद्र मनेन्द्रगढ़ पहुंच कर ली पीड़िता के स्वास्थ्य की जानकारी।


बिगबॉस बंद होने का खतरा गहराया

नई दिल्ली। टेलीविजन का चर्चित शो बिग बॉस-13 (Big Boss-13) पर बंद होने का खतरा मंडरा रहा है। उक्त सीरियल (शो) में कंटेंट को लेकर विवाद बढ़ा हे। सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने लोगों की शिकायत के बाद अधिकारियों से इस शो के बारे में रिपोर्ट मांगी है। जावड़ेकर ने एक संवाददाता सम्मेलन में टीवी शो द्वारा अश्लीलता फैलाने के आरोप पर कहा कि मुझे इस संबंध में एक पत्र मिला था।


जावड़ेकर ने कहा कि मैंने प्रसारण मंत्रालय के अधिकारियों से इस पर रिपोर्ट मांगी है कि बिग बॉस में क्या दिखाया जा रहा है। इस सप्ताह रिपोर्ट मिल जाएगी। अश्लीलता फैलाने का आरोप : जावड़ेकर का यह बयान ऐसे समय आया है जब उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद जिले के लोनी से भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने बिग बॉस को बंद करने का अनुरोध करते हुए उन्हें पत्र लिखा है। नंदकिशोर ने पत्र में बिग बॉस 13 पर अश्लीलता फैलाने और सामाजिक नैतिकता को चोट पहुंचाने वाला बताया है।


लव जिहाद बढ़ावा देने का आरोप: दूसरी ओर हिन्दू परिषद का आरोप है कि बिग बॉस के होस्ट सलमान खान लव जिहाद को बढ़ावा दे रहे हैं। शो में अलग-अलग समुदाय के लोगों को बिस्तर साझा करने के लिए कहकर अश्लीलता फैलाई जा रही है। परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया के नेतृत्व में कानपुर में पिछले रविवार को प्रदर्शन किया गया था और सलमान का पुतला फूंका गया था। साधु-संतों ने किया शो का विरोध : वृंदावन में अध्यात्म रक्षा मंच एवं युवा ब्राह्मण सभा के कार्यकर्ताओं ने बिग बॉस-13 के 'बेड फ्रेंड फॉर एवर' कॉन्सेप्ट को अध्यात्म रक्षा मंच एवं युवा ब्राह्मण सभा ने शो बंद न होने की स्थिति में आंदोलन करने की चेतावनी दी। वृन्दावन के राधासनेह बिहारी मंदिर में संपन्न बैठक में शो के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए साधु-संतों ने इसे तुरंत बंद करने की मांग की। मंच ने शो को देश की सभ्यता और संस्कृति के खिलाफ बताया।


जल्दबाजी में फैसला ना ले: मेष

राशिफल


मेष राशि के जातकों के लिए रविवार का दिन शांति से बितेगा। परिवार वालों के साथ अच्छा समय बिताएंगे। जल्दबाजी में कोई भी फैसला न लें, धनहानी हो सकती है।


वृषभ राशि के जातकों के लिए आज का दिन थकान भरा रहेगा। भावनात्मक रिश्तों से जुड़ें मामलों में शुभ समाचार मिलने की उम्मीद है। आप जो भी फैसला करेंगे आज पूरे होंगे और साझेदारी के कार्य निर्बाध संपन्न होंगे।


मिथुन राशि के जातकों के लिए आज का दिन शुभ रहेगा।जल्दबाजी में किसी भी फैसले से बचें। प्रियजनों के लिए समय निकालने की कोशिश करेंगे। पुराने धन की प्राप्ती के योग बन रहे हैं।


कर्क राशि के जातकों के लिए आज का दिन शुभ रहेगा, नौकरी में हालात सुधरेंगे। किसी पुराने दोस्त से मुलाकात हो सकती है। इसके साथ ही धन लाभ की संभावनाएं भी है। छात्रों को परीक्षा में सफलता मिलेगी।


सिंह राशि के जातकों के लिए आज दिन सामान्य रहेगा। कारोबार के सिलसिले में की गई यात्रा लाभदायक रहेगी। परिवार के साथ अच्छा समय बीतेगा। धन लाभ की संभावनाएं भी बन रही हैं। नौकरी की तलाश कर रहे जातकों को शुभ समाचार मिलेगा।


कन्या राशि के जातकों के लिए आज दिन भारी हो सकता है। दिन भर की भाग-दौड़ के बाद कई कार्य अधूरे रहेंगे। आज संयम बनाए रखें क्रोध न करें।


तुला राशि के जातकों के लिए आज का दिन शुभ रहेगा। छात्रों को परीक्षा में सफलता मिलेगी। कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों वरिष्ठ अधिकारी प्रशंसा करेंगे। कारोबार में स्थिति मजबूत होगी और धन लाभ हो सकता है।


मकर राशि के जातकों के लिए आज का दिन शुभ रहेगा। दिनभर सकारात्मक ऊर्जा से भरपूर रहेंगे। कारोबार में लाभ होने की संभावना है। नौकरी की तलाश कर रहे जातकों को शुभ समाचार मिल सकता है।


धनु राशि के जातकों के लिए आज का दिन कठिन रहेगा। कार्यक्षेत्र में वरिष्ठ अधिकारियों से कहासुनी हो सकती है। परीक्षा में परिणाम आशा के विपरीत आ सकते हैं। धन हानि के संयोग है।


मकर राशि के जातकों के लिए का दिन शुभ रहेगा। भावनात्म रूप से खुद को मजबूत महसूस करेंगे। प्रियजनों के साथ समय बिताएंगे। धन का व्यय अधिक होगा।


कुंभ राशि के जातकों के लिए दिन शुभ रहेगा। कार्यक्षेत्र में अधिकारी प्रसन्न होंगे। जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा। धनलाभ होगा। पुराने मित्रों से मुलाकात हो सकती है।


मीन-मीन राशि के जातकों के लिए आज का दिन सामान्य रहेगा। कार्यक्षेत्र में वरिष्ठ अधिकारियों से विवाद की संभावना है। क्रोध पर संयम रखें। परिवार वालों के साथ अच्छा वक्त बिताएंगे।


सामान्य जीव असामान्य विशेषता

लंगूर (Langur), एशियायी बन्दरों की विभिन्न जातियों का सामान्य नाम है। यह प्राइमेट गण (Primate) के सर्कोपिथीसिडी कुल (Cercopithecidae family) का प्रसिद्ध प्राणी है, जो कहीं-कहीं हनुमान बंदर भी कहा जाता है। यह कद में बंदरी से कुछ बड़ा, लगभग दो फुट का होता है। लेकिन इसकी दुम इसके शरीर से लंबी रहती है। मादा नर से छोटी होती है। लंगूर एक जगद से दूसरी जगह छलांग लगाते हुए अगर पहुँचने में असमर्थ हो जाऐ तो अपनी पुँछ के सहारे जमीन पर पाँव रखे बिना अपने पूर्व के स्थान पर वापस आ जाता है।


इसके शरीर का रंग सिलेटी तथा अयाल भूरा होता है जो ऊपर की ओर गाढ़ा और नीचे की ओर हलका रहता है। चेहरे, कान, तलुए और हाथ-पैर का बाहरी हिस्सा काला रहता है।


लंगूर, बंदरों से कम ऊधमी होते हैं और आबादियों की अपेक्षा जंगलों में रहना अधिक पसंद करते हैं, लेकिन कहीं-कहीं बस्तियों में भी इनके बड़े-बड़े गोल दिखाई पड़ते हैं। इनका मुख्य भोजन फल-फूल है, लेकिन बंदरों की तरह, ये गल्ला, कीड़े मकोड़े और अंडे भी खा लेते हैं। मादा एक बार में एक बच्चा देती है, जो कुछ समय तक माँ के पेट से चिपका रहता है।


बाजरा: अन्र-चारा लाभप्रद

बाजरा एक प्रमुख फसल है। एक प्रकार की बड़ी घास जिसकी बालियों में हरे रंग के छोटे छोटे दाने लगते हैं। इन दानों की गिनती मोटे अन्नों में होती है। प्रायाः सारे उत्तरी, पश्चिमी और दक्षिणी भारत में लोग इसे खाते हैं। बाजरा मोटे अन्नों में सबसे अधिक उगाया जाने वाला अनाज है। इसे अफ्रीका और भारतीय उपमहाद्वीप में प्रागेतिहासिक काल से उगाया जाता रहा है, यद्यपि इसका मूल अफ्रीका में माना गया है। भारत में इसे बाद में प्रस्तुत किया गया था। भारत में इसे इसा पूर्व २००० वर्ष से उगाये जाने के प्रमाण मिलते है। इसका मतलब है कि यह अफ्रीका में इससे पहले ही उगाया जाने लगा था। यह पश्चिमी अफ्रीका के सहल क्षेत्र से निकल कर फैला है।


बाजरे की विशेषता है सूखा प्रभावित क्षेत्र में भी उग जाना, तथा ऊँचा तापक्रम झेल जाना। यह अम्लीयता को भी झेल जाता है। यही कारण है कि यह उन क्षेत्रों में उगाया जाता है जहां मक्का या गेहूँ नही उगाये जा सकते। आज विश्व भर में बाजरा २६०,००० वर्ग किलोमीटर में उगाया जाता है। मोटे अन्न उत्पादन का आधा भाग बाजरा होता है।


इस अनाज की खेती बहुत सी बातों में ज्वार की खेती से मिलती जुलती होती है। यह खरीफ की फसल है और प्रायः ज्वार के कुछ पीछे वर्षा ऋतु में बोई और उससे कुछ पहले अर्थात् जाड़े के आरंभ में काटी जाती हैं। इसके खेतों में खाद देने या सिंचाई करने की विशेष आवश्यकता नहीं होती। इसके लिये पहले तीन चार बार जमीन जोत दी जाती है और तब बीज बो दिए जाते हैं। एकाध बार निराई करना अवश्य आवश्यक होता है। इसके लिये किसी बहुत अच्छी जमीन की आवश्यकता नहीं होती और यह साधारण से साधारण जमीन में भी प्रायः अच्छी तरह होता है। यहाँ तक कि राजस्थान की बलुई भूमि में भी यह अधिकता से होता है। गुजरात आदि देशों में तो अच्छी करारी रूई बोने से पहले जमीन तयार करने के लिय इसे बोते हैं। बाजरे के दानों का आटा पीसकर और उसकी रोटी बनाकर खाई जाती है। इसकी रोटी बहुत ही बलवर्धक और पुष्टिकारक मानी जाती है। कुछ लोग दानों को यों ही उबालकर और उसमें नमक मिर्च आदि डालकर खाते हैं। इस रूप में इसे 'खिचड़ी' कहते हैं। कहीं कहीं लोग इसे पशुओं के चारे के लिये ही बोते हैं। वैद्यक में यह वादि, गरम, रूखा, अग्निदीपक पित्त को कुपित करनेवाला, देर में पचनेवाला, कांतिजनक, बलवर्धक और स्त्रियों के काम को बढा़नेवाला माना गया है।


प्रयोग-बाजरे का प्रयोग भारत तथा अफ्रीका में रोटी, दलिया तथा बीयर बनाने में होता है। फसल के बचे भाग का प्रयोग चारा\चारे, ईंधन तथा निर्माण कार्य में भी होता है। विश्व के विकसित भागों में इसका प्रयोग भोजन में ना होकर चारे के रूप में होता है। मुर्गी जो इसे चारे के रूप में खाती है के अंडो में ओमेगा ३ फैटी अम्ल ज्यादा पाया जाता है। दूसरे जंतु भी इसे चारे के रूप में खाकर अधिक उत्पादन करते है।


राजनीति विज्ञान की विभिन्न परिभाषा

राजनीति विज्ञान का क्षेत्र 
जिस प्रकार राजनीति विज्ञान की परिभाषा विभिन्न विचारकों ने विभिन्न प्रकार से की है, उसी प्रकार उसके क्षेत्र को भिन्न-भिन्न लेखकों ने विभिन्न शब्दों में व्यक्त किया है। उदाहरणार्थ फ्रांसीसी विचारक ब्लुंशली के अनुसार ''राजनीति विज्ञान का संबंध राज्य के आधारों से है वह उसकी आवश्यक प्रकृति, उसके विविध रूपों, उसकी अभिव्यक्ति तथा उसके विकास का अध्ययन करता है।'' डॉ॰ गार्नर के अनुसार ''इसकी मौलिक समस्याओं में साधारणतः प्रथम राज्य की उत्पत्ति और उसकी प्रकृति का अनुसंधान, द्वितीय राजनीतिक संस्थाओं की प्रगति, उसके इतिहास तथा उनके स्वरूपों का अध्ययन, तथा तृतीय, जहां तक संभव हो, इसके आधार पर राजनैतिक और विकास के नियमों का निर्धारण करना सम्मिलित है। गैटेल ने राजनीति शास्त्र के क्षेत्र का विस्तृत वर्णन करते हुये लिखा है कि ''ऐतिहासिक दृष्टि से राजनीति शास्त्र राज्य की उत्पत्ति, राजनीतिक संस्थाओं के विकास तथा अतीत के सिद्धान्तों का अध्ययन करता है।... वर्तमान का अध्ययन करने में यह विद्यमान राजनीतिक संस्थाओं तथा विचारधाराओं का वर्णन, उनकी तुलना तथा वर्गीकरण करने का प्रयत्न करता है। परिवर्तनशील परिस्थितियों तथा नैतिक मापदण्डों के आधार पर राजनीतिक संस्थाओं तथा क्रियाकलापों को अधिक उन्नत बनाने के उद्धेश्य से राजनीति शास्त्र भविष्य की ओर भी देखता हुआ यह भी विचार करता है कि राज्य कैसा होना चाहिये।''


राजनीति शास्त्र के क्षेत्र के विषय में उपरोक्त परिभाषाओं से तीन विचारधाराएँ सामने आती है-


प्रथम राज्य को राजनीति विज्ञान का प्रतिपाद्य विषय मानती है,
द्वितीय विचारधारा सरकार पर ही ध्यान केन्द्रित करती है
तृतीय विचारधारा राज्य व सरकार दोनों को राजनीति विज्ञान का प्रतिपाद्य विषय मानती है।
परम्परागत राजनीति विज्ञान का क्षेत्र निर्धारण करने हेतु संयुक्त राष्ट्र संघ की यूनेस्को द्वारा सितम्बर 1948 में विश्व के प्रमुख राजनीतिशास्त्रियों का सम्मेलन अयोजित किया गया जिसमें परम्परागत राजनीति विज्ञान के क्षेत्र के अन्तर्गत निम्नलिखित अध्ययन विषय शामिल किये जाने का निर्णय किया गया-


(१) राजनीति के सिद्धान्त- अतीत और वर्तमान के राजनीतिक सिद्धान्तों एवं विचारों का अध्ययन।


(२) राजनीतिक संस्थाएँ - संविधान, राष्ट्रीय सरकार, प्रादेशिक व स्थानीय शासन का सरल व तुलनात्मक अध्ययन।


(३) राजनीतिक दल, समूह एवं लोकमत- राजनीतिक दल एवं दबाब समूहों का राजनीतिक व्यवहार, लोकमत तथा शासन में नागरिकों के भाग लेने की प्रक्रिया का अध्ययन।


(४) अन्तर्राष्ट्रीय सम्बन्ध- अन्तर्राष्ट्रीय राजनीति, अन्तर्राष्ट्रीय विधि, अन्तर्राष्ट्रीय संगठन तथा अन्तर्राष्ट्रीय प्रशासन का अध्ययन।


परम्परागत राजनीति विज्ञान की विशेषताएँ संपादित करें
परम्परागत राजनीति विज्ञान दर्शन एवं कल्पना पर आधारित है। परम्परावादी विचारक अधिकांशतः दर्शन से प्रभावित रहे हैं। इन विचारकों ने मानवीय जीवन के मूल्यों पर ध्यान दिया हैं। इनके चिन्तन की प्रणाली निगमनात्मक है। परम्परागत राजनीति विज्ञान में प्लेटो का विशेष महत्व है। प्लेटो के अतिरिक्त रोमन विचारक सिसरो और मध्ययुग में संत ऑगस्टाइन के चिन्तन में परम्परागत राजनीति विज्ञान की स्पष्ट झलक मिलती हैं। आधुनिक युग में परम्परागत राजनीति विज्ञान के प्रबल समर्थको की काफी संख्या है। रूसो, काण्ट, हीगल, ग्रीन, बोसांके, लास्की, ओकशॉट एवं लियोस्ट्रास की रचनाओं में प्लेटो के विचारों की स्पष्ट झलक दिखाई देती है।


शल्को वाली नरभक्षी मछलियां

मछली शल्कों वाला एक जलचर है जो कि कम से कम एक जोडा़ पंखों से युक्त होती है। मछलियाँ मीठे पानी के स्त्रोतों और समुद्र में बहुतायत में पाई जाती हैं। समुद्र तट के आसपास के इलाकों में मछलियाँ खाने और पोषण का एक प्रमुख स्रोत हैं। कई सभ्यताओं के साहित्य, इतिहास एवं उनकी संस्कृति में मछलियों का विशेष स्थान है। इस दुनिया में मछलियों की कम से कम 28,500 प्रजातियां पाई जाती हैं जिन्हें अलग अलग स्थानों पर कोई 2,18,000 भिन्न नामों से जाना जाता है। इसकी परिभाषा कई मछलियों को अन्य जलीय प्रणी से अलग करती है, यथा ह्वेल एक मछली नहीं है। परिभाषा के मुताबिक़, मछली एक ऐसी जलीय प्राणी है जिसकी रीढ़ की हड्डी होती है (कशेरुकी जन्तु), तथा आजीवन गलफड़े (गिल्स) से युक्त होती हैं तथा अगर कोई डालीनुमा अंग होते हैं (लिंब) तो वे फ़िन के रूप में होते हैं।


मानवभक्षी मछलियां 
कुछ मछलियाँ न केवल विशालकाय हैं, बल्कि इतनी खतरनाक है कि पूरे इंसान को निगल भी सकती हैं।


किलर कैटफिश-यह हिमालय की तलहटी में मिलने वाली एक विशाल और नरभक्षी कैटफिश प्रजाति है।


डीमन फिश-जैसा कि इसका नाम है, यह दैत्याकार मछली है। यह दुनिया की सबसे खतरनाक मछलियों में से एक है। यह बड़े से बड़े जीवों को भी निगल जाती है। डीमन फिश अफ्रीका की कांगो नदी में पाई जाती है।


डेथ रे-थाइलैंड की मीकांग नदी में जेरेमी ने दुनिया की सबसे बड़ी मछलियों में से एक डेथ रे को खोज निकाला। इसका वजन लगभग 7 सौ पाउंड है। इसके शरीर पर एक जहरीली और कांटेदार पूंछ होती है, जिसके प्रहार से इंसान की जान भी जा सकती है।


किलर स्नेकहेड-मछली से ज्यादा गैंगस्टर लगने वाली यह मछली हवा में सांस लेती है और जमीन पर भी रेंग लेती है। अपनी ही प्रजाति के जीवों को यह शौक से खाती है। यह एशिया में मुख्य रूप से चीन और दक्षिण कोरिया में पाई जाती है।


कांगो किलर-अफ्रीका की कांगो नदी में पाई जाने वाली कांगो किलर के खतरनाक होने का अंदाजा इस बात से लगा सकते है कि अफ्रीका में इसके बारे में एक लोककथा है, जिसमें कहा गया है कि यह मछली एक आत्मा के रूप में मछुआरों को ललचा कर उन्हें मौत की तरफ ले जाती है।


अलास्कन हॉरर-अलास्का की बर्फीली झील में मिलती है महाकाय अलास्कन हॉरर। इसके बारे में प्रचलित लोककथाओं में इसे आदमखोर माना जाता है।


रिट वैली किलर-अफ्रीका की रिट वैली में एक विशालकाय जीव रहता है -एम्पुटा या नाइल पर्च। यह अफ्रीका के ताजे पानी की सबसे बड़ी मछली है।


पिरान्हा-वर्ष 1976 में यात्रियों से भरी बस अमेरिका के अमेजॉन नदी में गिर गई और कई लोगों की जान चली गई। जब शवों को बाहर निकाला गया, तो उनमें से कुछ को पिरान्हा मछलियों ने इतनी बुरी तरह खा लिया था कि उनकी पहचान उनके कपड़ों से हुई।


एलिगेटर गार-यह सादे पानी की ऐसी मछली है, जो इंसानों पर आक्रामक हमले करती है। यह शार्क की तरह खतरनाक और मगरमच्छ की तरह विशाल है।


यूरोपिययन मैनईटर-यह यूरोप के ताजे पानी वाली नदियों में अपनी थूथन उठाए घूमती रहती है। आक्रामक वैल्स कैटफिश इंसानों को भी अपना शिकार बना सकती है।


अमेजॉन असासिंस-अमेजन की गहराइयों में रहने वाली असासिंस शिकार को अपनी जीभ से कुचलती है, जो हड्डी से बनी होती है।


अमेजन लैश ईटर्स-यह अफ्रीकन मछली इंसान को निगल सकती है। यह जब हमला करती है, तो शरीर पर छुरा घोंपने जैसा निशान बन जाता है।


जीवाणु-रोधी शहद

शहद को जीवाणु निवारण रूप में प्रयोग किया जाता है। इस प्रक्रिया में शहद के उत्पादन में काम करने वाली मधुमक्खियां एन्जाइम ग्लूकोज ऑक्सीडेज को नेक्टर में बदल देती हैं। जब शहद को घाव पर लगाया जाता है तो इस एंजाइम के साथ हवा की ऑक्सीजन के संपर्क में आते ही बैक्टीरीसाइड हाइड्रोजन पर आक्साइड बनती है। मनुका (मेडिहनी) औषधीय मधु होता है जिसके जीवाणु-रोधी कई तरह के स्रोतों से ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड आदि स्थानों से प्राप्त किए जाते हैं। वर्ष २००७ में हेल्थ कनाडा ओर यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) ने क्रमश: पहली बार इस मेडिसिनल हनी को घाव और जलने में प्रयोग की अनुशंसा की है। इनके अलावा शहद के प्रयोग से सूजन और दर्द भी दूर हो जाते हैं। घावों या सूजन से आने वाली दुर्गंध भी दूर होती है। शहद की पट्टी बांधने से मरे हुए ऊतकों की कोशिकाओं के स्थान पर नई कोशिकाएं पनप आती हैं। इस प्रकार मधु से घाव तो भरते ही हैं और उनके निशान भी नहीं रहते।


अहार-रूप में उपयोग-मधु एक ऊष्मा व ऊर्जा दायक आहार है तथा दूध के साथ मिलाकर यह सम्पूर्ण आहार बन जाता है। इसमें मुख्यतः अवकारक शर्कराएं, कुछ प्रोटीन, विटामिन तथा लवण उपस्थित होते हैं। शहद सभी आयु के लोगों के लिए श्रेष्ठ आहार माना जाता है और रक्त में हीमोग्लोबिन निर्माण में सहायक होता है। एक किलोग्राम शहद से लगभग ५५०० कैलोरी ऊर्जा मिलती है। एक किलोग्राम शहद से प्राप्त ऊर्जा के तुल्य दूसरे प्रकार के खाद्य पदार्थो में ६५ अण्डों, १३ कि.ग्रा. दूध, ८ कि.ग्रा. प्लम, १९ कि.ग्रा. हरे मटर, १३ कि.ग्रा. सेब व २० कि.ग्रा. गाजर के बराबर हो सकता है।


विभिन्न धर्मों-शहद को प्राचीन काल से ही विभिन्न धर्मों में उच्च मान्यता मिली हुई है। हिन्दु धर्म के प्राचीन ग्रन्थ, ऋगवेद में भी शहद तथा मधुमक्खियों के बारे में बहुत से सन्दर्भ मिलते हैं। शहद हिन्दू धर्म के बहुत से धार्मिक कृत्यों तथा समारोहों में प्रयोग होता है। प्राचीन यूनानी सभ्यता में भी शहद को बहुत मूल्यवान आहार तथा भगवान की देन माना जाता था। यूनानी देवताओं को अमरत्व प्राप्त था जिसका कारण उनके द्वारा किया गया ऐम्ब्रोसिआ सेवन बताया गया था, जिसमें शहद एक प्रमुख भाग होता था। अरस्तु की पुस्तक नेचुरल हिस्टरी में भी शहद पर बहुत से प्रत्यक्ष प्रेक्षण उपलब्ध हैं। उसका विश्वास था कि शहद में जीवन वृद्धि तथा शरीर हृष्ट-पुष्ट रखने के लिए आसाधारण गुण होते हैं। इस्लाम के पवित्र ग्रन्थ कुरान के सूरा-१६ अन-नह्ल के अनुसार शहद सभी बीमारियों को निदान करता है। यहूदी धर्म में भी शहद को आहार या हनी बनाने में प्रयोग किया जाता है। संसार के लगभग सभी धर्मो ने शहद की अनूठी गुणवत्ता की प्रशंसा की है। जैन धर्म में मधु सेवन को अनैतिक माना जाता हैं। जैन ग्रन्थ, पुरुषार्थ सिद्धयुपाय में लिखा हैं


लोक में मधु का एक छोटा सा खंड भी बहुधा मधुमक्खियों की हिंसा का स्वरुप होता है। जो मूढ बुद्धि रखने वाला मधु का सेवन करता है वह अत्यंत हिंसक होता है।
—पुरुषार्थ सिद्धयुपाय (६९)


औषधीय गुणों से भरपूर चकोतरा

चकोतरा निम्बू-वंश का एक फल है, जो उस वंश की सबसे बड़ी जातियों में से एक है। हालांकि निम्बू-वंश के बहुत से फल दो या उस से अधिक जातियों के संकर (हाइब्रिड) होते हैं, चकोतरा एक शुद्ध प्राकृतिक जाति है। इसके कच्चे फल का रंग हरा, और पके हुए का हल्का हरा या फिर पीला होता है। पूरा बड़ा होने पर इसके फल का व्यास (डायामीटर) १५-२५ सेमी और वज़न १ से २ किलोग्राम होता है। इसके स्वाद में खटास और कुछ मीठापन तो होता है, लेकिन कड़वाहट नहीं। चकोतरा मूलतः भारतीय उपमहाद्वीप और दक्षिणपूर्वी एशिया क्षेत्र की जन्मी हुई जाति है।


वैसे तो चकोतरा स्वस्थ व्यक्तियों के लिए लाभदायक माना जाता है, लेकिन चकोतरे के रस में कुछ ऐसे रसायन हैं जो कुछ दवाओं का असर को कम कर देते हैं या उनसे मिलकर शरीर में हानिकारक रासायनिक यौगिक बना देते हैं।


टैमोक्सिफ़ेन (Tamoxifen) - यह एक कर्क रोग (कैन्सर) की दवा है और चकोतरा खाने से इसके प्रभाव में कमी आ सकती है।
स्टैटिन (Statin) - यह कई प्रकारों व नामों से बिकने वाली कोलेस्टेरॉल कम करने की औषधि है जिसे हृदय रोग से बचने के लिए लिया जाता है। चकोतरा इसका प्रभाव कम करता है। कुछ स्टैटिन दवाएँ ऐसी हैं जिनपर चकोतरे का कोई असर नहीं होता।
कोडीन (Codeine) - यह दर्द और भारी ख़ासी से राहत देने की दवा है जिसका पीढ़ा-विरोधी प्रभाव चकोतरे से कम हो जाता है।
पैरासिटामोल (Acetaminophen / paracetamol) - चकोतरा खाने से रक्त में पैरासिटामोल का संकेंद्रण (कान्सेन्ट्रेशन) बढ़ सकता है। यह यकृत (लीवर) के लिए हानिकारक हो सकता है।
ऐम्लोडीपीन / ऐम्लोगार्ड (Amlodipine / Amlogard) - चकोतरे से इस दवा का रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) कम करने का प्रभाव बिना चेतावनी के अचानक बढ़ सकता है, यानि रक्तचाप में अत्याधिक कमी आ सकती है।
यह कुछ ही दवाएँ हैं जिनपर चकोतरे का असर होता है। ऐसी और भी दवाएँ हैं जो इस सूची में शामिल नहीं।


चकोतरा के फायद 
बुखार के लिए :- चकोतरा में प्राकृतिक रूप से किनीन होता है। जो मलेरिया बुखार में बहुत लाभदायक होता है। बुखार से छुटकारा पाने के लिए चकोतरा का नियमित रूप से सेवन करना चाहिए।
गठिया के लिए :- गठिया जैसी समस्याओं के लिए चकोतरा फल बहुत अच्छा माना जाता है। इसमें प्रचुर मात्रा में कैल्शियम होता है। जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद व गठिया रोग को दूर करता है
पांचन क्रिया ठीक रखने के लिए :- पांचनक्रिया को ठीक रखने चकोतरा अन्य फलो के मुकाबले हल्का होता है। जो आसानी से पेट में पच जाता है शरीर में पांचन किया को ठीक रखने में मदद करता है। जिससे पेट सम्बंधित अन्य विकार नहीं होता है।


महर्षि वशिष्ठ का राष्ट्रवाद उपदेश

महर्षि वशिष्ठ का राष्ट्रवाद पर उपदेश 
देखो मनिवरो, आज हम तुम्हारे समक्ष पूर्व की भांति कुछ मनोहर वेद मंत्रों का गुणगान गाते चले जा रहे हैं। यह भी तुम्हें प्रतीत हो गया होगा। आज हमने पूर्व से जिन वेद मंत्रों का पठन-पाठन किया है। हमारे यहां परंपरागतो से ही उस मनोहर वेदवानी का प्रसार होता रहता है। जिस पवित्र वेद वाणी में उस परमपिता परमात्मा की महिमा का गुणगान गाया जाता है। क्योंकि वह परमपिता परमात्मा इस ब्रह्मांड में सूत्र की भांति रमण करते रहते हैं। जैसा नाना प्रकार के मनके एक ही सूत्र में पिरोने से माला बन जाती है। इसी प्रकार से जो परब्रह्म परमात्मा है वह वास्तव में तत्व की भांति है। ओर यह जो ब्रह्मांड है, नाना प्रकार के लोक लोकांतरो वाला जगत है और नाना प्रकार के विचारवेता और विचार करने वाले पुरुषत्व है। परंतु वे सर्वत्र जितने भी मनके है,परब्रह्म परमात्मा जो सूत्र रूप में विद्यमान है। उस सूत्र में पिरोए जाते हैं। एक यह भी विचित्रमाला बन जाती है और इस माला को जो भी धारण करता है। मानो यम व्रत्ता व्रते,  वह वर्ती बन जाता है। क्योंकि वास्तव में माला धारण करना ही चाहिए। परमपिता परमात्मा जो 'ब्रह्म सत्यम ब्रव्वे कृतम्' मानो व सूत्र रूप से हमें दृष्टिपात आते रहते हैं और इस सूत्र में हम सब सूत्रित रहते हैं। विचार आता रहता है कि हमें उस सूत्र के ऊपर विचार-विनिमय करना है। क्योंकि सूत्रों की चर्चाएं परंपरागत से ही मानवीय मस्तिष्क में सदैव निहींत रही है और नाना ऋषियो के मध्य में मानो ब्रह्म सूत्र और यह जगत मनका बन कर के कुछ सूत्र में पिरोने से ही मुनिवरो देखो उसकी आभा निहींत हो जाती है। तो विचार आता रहता है कि हम उस माला को अपने में धारण करते रहे। जैसे वेद का एक मंत्र है और वह वेद का मंत्र देखो, वह एक शब्द मानो जैसे माला में मनका होता है। इसी प्रकार एक-एक शब्द और वह भी शब्द नहीं मानो एक-एक अक्षर मानो वह माला की भांति ही तो दृष्टिपात आता है। तो इसलिए हमें उस माला को धारण करना चाहिए और वह कैसी भव्य माला है। जो ब्रह्म सूत्र में पिरोई हुई है। जो माला को जान लेता है माला को अपने में धारण कर लेता है तो बेटा वह मालावान बन जाता है और वह अनंतमयी धारा के ऊपर अपना विचार-विनिमय करना आरंभ कर देता है। आओ मेरे प्यारे, वेद का मंत्र क्या कह रहा है कि हम सूत्र को जानने वाले बने। उस सूत्र में अपनी भावनाओं का मनका रूपी भावना उस सूत्र में पिरो करके बेटा एक माला बन जाती है। मेरे पुत्रों उस माला को धारण करने वाला ही तो मानव अपनी मानवीयता में सदैव निहित रहता है और अपने में धारयामी बना रहता है। मुनिवारो, देखो मैं तुम्हें इस संबंध में विशेष विचार देने नहीं आया हूं। विचार केवल यह है कि परमपिता परमात्मा के राष्ट्र में विद्यमान है। हमें देखो ब्रह्म राष्ट्र और आंतरिक राष्ट्र दोनों को ऊंचा बनाना है। आज के हमारे वेद के पठन-पाठन में उस माला की चर्चा हो रही है। जिस को धारण करने के पश्चात वह मालामयी बन जाता है। हमें बेटा उस माला को धारण करते हुए इस सागर से पार होना है। जैसे राजा अपने राष्ट्र को उन्नत बनाने के लिए माला को धारण करता है और उस माला में प्रत्येक राष्ट्र अव्यवों को पिरो देता है तो बेटा वह माला बन जाती है। आज मैं कैसी माला का वर्णन करने चला हूं। इस माला को धारण करने वाला जिज्ञासु विवेकी बन जाता है और राष्ट्रवेता अपने में राष्ट्रीयता को धारण कर लेता है। विचार आता रहता है कि हम सदैव उस महानता के ऊपर विचार विनिमय करते हुए, उस माला को हमें अपने में धारण करना है। जिस माला को धारण करने के पश्चात मानव को शेष आवश्यकता नहीं रहती है। मेरे प्यारे, मैं तुम्हें विशेषता में नहीं ले जाना चाहता हूं। विचार केवल यह है कि संसार एक माला के सदृश्य है। नाना प्रकार के लोक लोकतंर पिरोए जाते हैं तो माला बन जाती है। मेरे प्यारे, विचारों को एक सूत्र में लाने का प्रयास करते हैं। उसमें विचारों को पिरो देते हैं तो माला बन जाती है। बेटा एक-एक परमाणु जब परमाणु में प्रवेश हो जाता है, तो वह माला बन जाती है।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस


हिंदी दैनिक


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


October 14, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-71 (साल-01)
2. सोमवार,14 अक्टूबर 2019
3. शक-1941,अश्‍विन,कृष्णपक्ष,तिथि- प्रतिपदा, विक्रमी संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 06:18,सूर्यास्त 06:00
5. न्‍यूनतम तापमान -21 डी.सै.,अधिकतम-32+ डी.सै., हवा की गति धीमी रहेगी।
6. समाचार पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है! सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


बांटने-छांटने की राजनीति अतीत: मोदी

महाराष्ट्र में बोले पीएम मोदी- बांटने और छांटने की राजनीति अब अतीत बनी


जलगांव। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से ठीक एक हफ्ते पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जलगांव से चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है। जलगांव में अपना भाषण पूरा करने के बाद पीएम भंडारा के साकोली पहुंचे।पीएम मोदी ने सकोली में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, 'पांच साल पहले जब मैं विधानसभा चुनाव के लिए आपके बीच आया था तो मैंने कहा था कि आप महाराष्ट्र में अवसर दीजिए, हम आपको स्थिर सरकार और सशक्त नेतृत्व देंगे। देवेंद्र फडणवीस के रूप में मजबूत नेतृत्व महाराष्ट्र को मिला है।'


पीएम ने विपक्षियों पर निशाना साधते हुए कहा कि बांटने और छांटने वाली राजनीति अब अतीत हो गई है और इसका ट्रेलर 2014 में आपने दिखा दिया था और इस चुनाव में आप लोग पूरी फिल्म दिखाने वाले हैं। पीएम मोदी ने सकोली में कहा कि आज हमारी हर नीति, हर रणनीति- जनकल्याण से राष्ट्रकल्याण की है, जन अभियान से राष्ट्रनिर्माण की है। उन्होंने कहा, 'चाहे गरीबों के घर का और शौचालय का निर्माण हो, हर घर में बिजली का कनेक्शन हो, गरीबों को मुफ्त इलाज मिले। इन सभी योजनाओं के केंद्र में गरीब और सामान्य जन है।'


पीएम मोदी ने पानी का मुद्दा भी जनता के बीच उठाया। पीएम ने कहा, 'पहले पानी के मामलों को अलग-अलग मंत्रालय और विभाग देखते थे, सब बिखरा पड़ा था। इसका एक असर ये भी था कि पानी से जुड़ी योजनाएं पूरा होने में वर्षों लग जाते थे। अब ये सभी विभाग जल शक्ति मंत्रालय के अंतर्गत लाये गए हैं।'


एक्ट्रेस शर्लिन ने शिल्पा के बयान पर रिएक्ट किया

कविता गर्ग        मुबंई। पोर्नोग्राफी केस में बिजनेसमैन राज कुंद्रा जेल में हैं। राज कुंद्रा पर अश्लील फिल्में बनाकर उन्हें ओटीटी प्लेटफॉर्म...