शुक्रवार, 9 सितंबर 2022

अधिकारी की अध्यक्षता में विकास कार्यो की समीक्षा

अधिकारी की अध्यक्षता में विकास कार्यो की समीक्षा

हरिशंकर त्रिपाठी 

देवरिया। मुख्यमंत्री की प्राथमिकता के 37 बिन्दुओं से सम्बन्धित विकास कार्यो की समीक्षा मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार की अध्यक्षता में विकास भवन के गांधी सभागार में की गई। परियोजना प्रबन्धक सेतु निगम बिना किसी सूचना के बैठक में अनुपस्थित थे, उन्हें कारण बताओं नोटिस जारी करने का निर्देश दिए गए। अधिशासी अभियन्ता विद्युत बैठक में बिना किसी सूचना के अनुपस्थित थे। विलम्ब से इनके प्रतिनिधि द्वारा प्रतिभाग किया गया। वसूली के खराब प्रगति के सम्बन्ध में कारण बताओं नोटिस जारी का निर्देश दिए गए।
सहायक अभियन्ता (निजी लघु सिचाई) द्वारा माह अप्रैल 2022 से माह जुलाई 2022 तक निः शुक्ल बोरिंग के अन्तर्गत लक्ष्य एवं पूर्ति दर्शायी जा रही थी। परन्तु इस माह से डाटा शून्य भरा जा रहा है। बताया गया कि यह योजना लागू नहीं है, आँकड़ों के विसंगति के सम्बन्ध में स्पष्टीकरण जारी करने का निर्देश दिए गए। सामूहिक विवाह के आवेदन पत्रों से सम्बन्धित सूचना प्रतिदिन न उपलब्ध कराने के कारण जिला समाज कल्याण अधिकारी को स्पष्टीकरण जारी करने का निर्देश दिए गए। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को पशुओं के टीकाकरण शत प्रतिशत कराने के निर्देश दिये गये। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी से गोल्डन कार्ड की प्रगति बढ़ाने में सहयोग की अपेक्षा की गई। सभी तहसीलों के एम्बुलेन्स की जाँच तहसील स्तर पर एक दिवस पर ही कराने का निर्देश मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को दिए गए। एम्बुलेन्स का मरीज तक पहुँचने का वास्तविक समय बुकलेट में अंकित करने का निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिये गया। जिला पंचायत राज अधिकारी को प्रिया साफ्ट पर व्यय बढ़ाने का निर्देश दिए गए। दुग्ध विकास अधिकारी को दुग्ध समितियों का माह में कम से कम एक पुनर्गठन करने का निर्देश दिए गए। जिला उद्यान अधिकारी को प्रधानमंत्री सिचाई योजना में प्रकृति बढ़ाने का निर्देश दिये गये। जिला कार्यक्रम अधिकारी को माह सितम्बर में तैयार ऑगनबाडी भवनों का हण्डओवर कराने का निर्देश दिए गए।
गन्ना मूल्यों का भुगतान माह सितम्बर में शत प्रतिशत कराने का निर्देश जिला गन्ना अधिकारी को दिए गए। जनपद स्तरीय, ब्लाक स्तरीय, टाक्स फोर्स द्वारा प्राथमिक विद्यालय में किये जा रहे निरीक्षणों की सत्यापन आख्या मगवाने का निर्देश जिला बेसिक शिक्षा को दिए गए। नये क्लासरूम का उद्घाटन मा. जनप्रतिनिधियों से कराने का निर्देश प्रचार्य आई०टी०आई० को दिए गए। सहायक श्रम आयुक्त को श्रमिक पंजीयन एवं प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में प्रगति बढाने का निर्देश दिए गए। मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग योजना में प्रगति संतोषजनक नहीं पायी गयी जिला खादी ग्राम उद्योग अधिकारी को प्रगति बढ़ाने के निर्देश दिए गए।

बोस की प्रतिमा लाने के लिए फाटकों को तोड़ा

बोस की प्रतिमा लाने के लिए फाटकों को तोड़ा 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा के लिए विशाल ग्रेनाइट पत्थर को तेलंगाना से लेकर दिल्ली लाने वाले 100 फुट लंबे ट्रक को गुजरने के लिए राजमार्गों पर कुछ टोल प्लाजा के फाटकों को अस्थायी रूप से तोड़ना पड़ा, ताकि ट्रक को निकलने का रास्ता देने के लिए उन्हें चौड़ा किया जा सके। तेलंगाना के खम्मम में एक खदान से टेलीफोन ब्लैक स्टोन की आपूर्ति दिल्ली स्थित ग्रेनाइट स्टूडियो इंडिया ने की। ग्रेनाइट स्टूडियो इंडिया के निदेशक रजत मेहता ने कहा कि खदान से इसे राजमार्ग तक ले जाने के लिए एक अस्थायी सड़क बनानी पड़ी थी। मेहता ने शुक्रवार को मीडिया संस्थान से कहा कि यह पत्थर का एक विशाल खंड था, जिसका वजन 280 मीट्रिक टन (एमटी) और लंबाई 32 फुट थी। यह 11 फुट ऊंचा और 8.5 फुट चौड़ा था, जिसमें नेताजी की छवि बनाई गई। लेकिन इसे दिल्ली लाने में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा।

बोस की एक मूर्ति का निर्माण करने के लिए विशाल ग्रेनाइट को तराशा गया, जिसका वजन 65 मीट्रिक टन था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गत बृहस्पतिवार शाम यहां इंडिया गेट के सामने ऐतिहासिक छतरी में स्थापित की गई बोस की प्रतिमा का अनावरण किया। संस्कृति मंत्रालय ने पहले कहा था कि बड़े ट्रक को विशेष रूप से तेलंगाना से ग्रेनाइट खंड को नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट (एनजीएमए) तक ले जाने के लिए डिजाइन किया गया था और इनके बीच 1665 किलोमीटर की दूरी थी। मेहता ने कहा कि खदान से राष्ट्रीय राजमार्ग तक का हिस्सा कच्चा था और पत्थर को राजमार्ग तक ले जाने के लिए थोड़े समय में एक अस्थायी सड़क बनानी पड़ी थी।

रास्ते में 100 फुट लंबे ट्रक के 42 टायर फट गए और इससे 72 घंटे खराब हो गए। ट्रक दिल्ली पहुंचने के लिए पांच राज्यों से गुजरा। संस्कृति मंत्रालय के अनुसार मूर्तिकारों की एक टीम ने बोस की 28 फुट ऊंची प्रतिमा को तराशने के लिए ‘गहन प्रयास’ किया और इस पर कुल 26,000 मानव घंटे खर्च किए। मेहता ने कहा कि विशाल पत्थर को दिल्ली लाना कोई आसान काम नहीं था। ट्रक इतना विशाल था कि राजमार्गों पर कई जगह कुछ टोल प्लाजा के फाटकों को अस्थायी रूप से तोड़ना पड़ा, खासकर वहां जहां अधिक मोड़ थे।

इस तोड़फोड़ का मकसद फाटकों को चौड़ा करना था ताकि किसी चीज से टकराने के जोखिम के बिना ट्रक वहां से गुजर सके। मेहता के मुताबिक पुलिस ने विशाल पत्थर का महत्व समझने के बाद कई सीमावर्ती क्षेत्रों में ट्रक की अगवानी की। उन्होंने कहा कि ट्रक में चार चालक थे, जो इसे दिन-रात चलाकर लाये थे। मेहता ने बताया कि एक मुद्दा यह भी था कि विशाल ट्रक को आम तौर पर रात के समय चलाकर लाना था, जब सड़क का तापमान कम होता है। लेकिन दिन के समय भी इसे चलाने के कारण गर्मी की वजह से 42 टायर रास्ते में फट गए।

वित्तमंत्री ने ऋण ऐप से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की

वित्तमंत्री ने ऋण ऐप से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बिना पंजीकरण के अवैध तरीके से काम कर रहे ऋण ऐप से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। उन्होंने डिजिटल धोखाधड़ी के बढ़ते मामलों के बीच इस तरह के ऐप की जांच करने के लिए कई उपायों को लागू करने का फैसला भी किया। ज्यादातर डिजिटल ऋण देने वाले ऐप केंद्रीय बैंक के साथ पंजीकृत नहीं हैं और स्वयंभू रूप से संचालित होते हैं। डिजिटल ऋण ऐप के कुछ परिचालकों के कथित रूप से उत्पीड़न के कारण कर्ज लेने वालों में आत्महत्या के मामले भी बढ़ रहे हैं। वित्त मंत्री की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को हुई बैठक में यह फैसला किया गया कि आरबीआई सभी कानूनी ऐप की एक सूची तैयार करेगा। साथ ही इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) यह सुनिश्चित करेगा कि केवल इन्हें ही ऐप स्टोर पर ‘होस्ट’ किया जाए।

आरबीआई ऐसे खातों की निगरानी करेगा, जिनका इस्तेमाल धन शोधन के लिए किया जा सकता है। साथ ही किसी दुरुपयोग से बचने के लिए निष्क्रिय एनबीएफसी (गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी) की समीक्षा की जाएगी। वित्त मंत्रालय ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि केंद्रीय बैंक यह भी सुनिश्चित करेगा कि भुगतान ‘एग्रीगेटर्स’ का पंजीकरण एक समय सीमा के भीतर पूरा हो जाए और उसके बाद किसी भी अपंजीकृत भुगतान ‘एग्रीगेटर’ को काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

ऐसे ऐप के प्रसार को रोकने के लिए कॉरपोरेट मामलों का मंत्रालय (एमसीए) मुखौटा कंपनियों की पहचान करेगा और उनके दुरुपयोग को रोकने के लिए उनका पंजीकरण रद्द करेगा। इसके अलावा, इन ऐप के बारे में ग्राहकों, बैंक कर्मचारियों, कानून प्रवर्तन एजेंसियों और अन्य संबंधित पक्षों के बीच साइबर जागरूकता बढ़ाने के लिए कदम उठाए जाएंगे। सीतारमण ने बैठक के दौरान खासतौर से कमजोर और निम्न-आय वर्ग के लोगों को भारी ब्याज दरों और छिपे हुए शुल्कों के साथ कर्ज देने वाले अवैध ऋण ऐप के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई। बैठक में वित्त सचिव, आर्थिक मामलों के सचिव, राजस्व सचिव, एमईआईटीवाई सचिव और आरबीआई के डिप्टी गवर्नर सहित कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए।

'भाजपा' ने राज्यों के प्रभारियों का ऐलान किया

'भाजपा' ने राज्यों के प्रभारियों का ऐलान किया

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने बड़ा फेरबदल किया है। भाजपा (BJP) ने राज्यों के प्रभारियों का ऐलान कर दिया है। महाराष्ट्र के दिग्गज नेता विनोद तावड़े को बिहार का प्रभारी बनाया गया है। छत्तीसगढ़ में ओम माथुर को नियुक्त किया गया है। वहीं, पश्चिम बंगाल की जिम्मेदारी मंगल पांडेय को दी गई है। मंगल पांडेय बिहार में स्वास्थ्य मंत्री रह चुके हैं। प्रकाश जावड़ेकर को केरल का प्रभारी बनाया गया है। लक्ष्मीकांत वाजपाई को झारखंड का प्रभारी बनाया गया है।

हरियाणा का प्रभारी विप्लव कुमार देव को बनाया गया है। केरल का प्रभारी सांसद प्रकाश जावेडकर को जबकि राधा मोहन अग्रवाल को सह प्रभारी बनाया गया है। मध्य प्रदेश का प्रभारी मुरलीधर राव को बनाया गया है। मध्य प्रदेश में पंकजा मुंडे और डॉ। रमाशंकर कठेरिया को सह प्रभारी बनाया गया है।

बीजेपी ने की नई नियुक्तियां...
पंजाब का प्रभारी विधायक विजय भाई रुपाणी को जबकि डॉक्टर नरेंद्र सिंह रैना को सह प्रभारी बनाया गया है। दादरा और नगर हवेली एवं दमन और दीव का प्रभारी सांसद विनादे सोनकर को बनाया गया है। सांसद राधा मोहन अग्रवाल को लक्षद्वीप का प्रभारी नियुक्ति किया गया है। तेलंगाना का प्रभारी तरुण चुघ को बनाया गया है। वहीं, अरविंद मेनन को तेलंगाना का सह प्रभारी नियुक्त किया गया है।

सांसद महेश शर्मा को बने त्रिपुरा के प्रभारी...
राजस्थान का प्रभारी सांसद अरुण सिंह को बनाया है। राजस्थान में विजया रहाटकर सह प्रभारी होंगे। त्रिपुरा का प्रभारी सांसद महेश शर्मा को बनाया है। चंडीगढ़ का प्रभारी विजय भाई रुपाणी को बनाया है। नार्थ ईस्ट प्रदेश में संबित पात्रा को संजोयक नियुक्त किया है और सह संयोजक रितुराज सिन्हा होंगे।

प्रदूषित हवा की चपेट में आकर स्कूली बच्चे बेहोश 

प्रदूषित हवा की चपेट में आकर स्कूली बच्चे बेहोश 

संदीप मिश्र 

बुलंदशहर। औद्योगिक एरिया में चल रही फैक्ट्री से निकले केमिकल से प्रदूषित हुई हवा की चपेट में आकर स्कूली बच्चे बेहोश हो गए। प्रदूषण की वजह से बडी संख्या में बच्चों के बेहोश हो जाने से चौतरफा अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। आनन-फानन में बेहोश हुए बच्चों को इलाज के लिए अस्पताल में ले जाकर भर्ती कराया गया। एसडीएम एवं क्षेत्राधिकारी मामले की जानकारी के लिए स्कूल में पहुंचे। शुक्रवार को बुलंदशहर जनपद की सिकंदराबाद थाना क्षेत्र के जोखाबाद इंडस्ट्रीयल एरिया के गांव गोपालपुर के प्राथमिक विद्यालय में किसी फैक्ट्री से निकले केमिकल से प्रदूषित हुई हवा की चपेट में आकर स्कूली बच्चे बेहोश हो गए। बच्चों के बीमार होते स्कूल प्रबंधन के साथ साथ ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। बच्चों के बेहोश होने की जानकारी मिलते ही बच्चों के अभिभावकों के साथ गांव वाले भी मौके पर पहुंच गए और विभिन्न संसाधनों के जरिए बेहोश हुए बच्चों को लेकर सिकंदराबाद के निजी हॉस्पिटल में पहुंचे और बच्चों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया।

बच्चों के बेहोश होने की जानकारी जैसे ही जिला मुख्यालय पर पहुंची तो एसडीएम एवं क्षेत्राधिकारी तुरंत स्कूल में जानकारी लेने के लिए गांव पहुंचे। बताया जा रहा है कि औद्योगिक एरिया में फैक्ट्री के केमिकल से हवा के प्रदूषित हो जाने की वजह से बच्चे बेहोश हुए हैं। स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों की संख्या 290 होना बताई जा रही है।

प्राधिकरण ने लिफ्ट में कुत्ते ले जाने पर रोक लगाई 

प्राधिकरण ने लिफ्ट में कुत्ते ले जाने पर रोक लगाई 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। मल्टी स्टोरी बिल्डिंग में रहने वाले लोगों द्वारा सुरक्षा से ज्यादा सिंबल स्टेटस के लिए पाले जा रहे कुत्तों के लिफ्ट से जाते समय काटने की घटनाओं से सबक लेते हुए लखनऊ विकास प्राधिकरण ने अब लिफ्ट में कुत्ते ले जाने पर रोक लगा दी है। आने जाने के लिए कुत्ते के साथ अब सीढियों का इस्तेमाल करना होगा। शुक्रवार को लखनऊ विकास प्राधिकरण के वीसी ने महानगर में बनी बहुमंजिला इमारतों में आने जाने के लिए लगाई गई लिफ्ट में अपने साथ कुत्तों को लाने ले जाने पर रोक लगा दी है। जारी किये गये आदेशों में लखनऊ विकास प्राधिकरण की ओर से कहा गया है कि सुरक्षा के बजाय सिंबल स्टेटस के लिए कुत्ता पालने वाले लोग अब अपने साथ लिफ्ट के भीतर कुत्ते को नहीं ले जा सकेंगे। उल्लेखनीय है कि बीते दिनों के भीतर कई ऐसे मामले उजागर किए हैं, जिनमें लिफ्ट के माध्यम से ले जाए जा रहे कुत्तों ने भीतर मौजूद अन्य लोगों पर जानलेवा हमला किया है।

हाल ही में गाजियाबाद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। जिसमें लिफ्ट में सवार होकर अपने घर जा रहे स्कूली बच्चे को अपनी मालकिन के साथ लिफ्ट में मौजूद कुत्ता पैर में काट लेता है। इसके बाद एक अन्य वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें कुत्ता काटने से घायल हुए पीड़ित को तकरीबन 150 टांके लगाने पड़े हैं।

मशहूर गायक हनी का पत्नी शालिनी से तलाक 

मशहूर गायक हनी का पत्नी शालिनी से तलाक 

कविता गर्ग 

मुंबई। मशहूर गायक हनी सिंह का पत्नी शालिनी तलवार से तलाक हो गया है। जानकारी के मुताबिक, शालिनी ने पिछले साल दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में हनी सिंह के खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज करवाया था। इसके साथ ही शालिनी ने हनी के खिलाफ एक्स्ट्रा-मैरिटल अफेयर की शिकायत भी दर्ज कराई थी। शालिनी तलवार ने 'घरेलू हिंसा, महिलाओं का संरक्षण अधिनियम' के तहत 10 करोड़ रुपये का मुआवजा मांगा था, लेकिन दोनों के बीच एक करोड़ पर समझौता हुआ। दिल्ली के साकेत डिस्ट्रिक कोर्ट के फैमिली कोर्ट में हनी सिंह ने एलिमनी के तौर पर एक करोड़ रुपये का चेक सील्ड लिफाफे में शालिनी को सौंप दिया।

बता दें कि अदालत ने हनी सिंह को 28 अगस्त 2021 तक के लिए नोटिस जारी किया था। वहीं गुरुवार को दोनों के बीच तलाक के बाद मामला शांत हुआ। जानकारी के मुताबिक इस मामले की अगली सुनवाई 20 मार्च 2023 को होगी, जिसमें अगले प्रस्ताव पर सुनवाई की जाएगी।

सीएम ने 11वीं एग्री एशिया प्रदर्शनी का उद्घाटन किया

सीएम ने 11वीं एग्री एशिया प्रदर्शनी का उद्घाटन किया

इकबाल अंसारी 

गांधीनगर। गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने शुक्रवार को गांधीनगर में 11वीं एग्री एशिया प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए कहा कि गुजरात खेती को प्राथमिकता देकर खेती में समयानुकूल अत्याधुनिक तकनीक के उपयोग से फसल वृद्धि और किसानों की समृद्धि के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संकल्प को साकार करने में अग्रसर रहा है। भूपेंद्र पटेल ने इस संदर्भ में कहा कि किसानों की आय दुगुनी कर कृषि अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए प्रधानमंत्री ने देश को जो किसान हितकारी योजनाएं दी हैं, गुजरात में उसका सुचारु तरीके से कार्यान्वयन हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी ने गुजरात में खेती, गांव और अंतिम व्यक्ति के सर्वग्राही विकास की मजबूत नींव रखी है।

उन्होंने कहा कि गुजरात आज कृषि, उद्योग, वित्तीय प्रबंधन, निर्यात और कोविड प्रबंधन सहित तमाम क्षेत्रों में देश का रोल मॉडल बना है, इसके मूल में विकास की राजनीति और सभी के कल्याण का मंत्र निहित है। श्री पटेल ने कहा कि सरकार ने खेती के क्षेत्र में तकनीक के उपयोग के साथ-साथ पोषण युक्त खेती के लिए प्राकृतिक खेती की भी रणनीति अपनाई है। राज्य सरकार प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के अलावा ड्रोन टेक्नोलॉजी के उपयोग से खेती क्षेत्र के संपूर्ण विकास के लिए खेती को प्राथमिकता दे रही है।

उन्होंने कहा कि गुजरात ने कृषि क्रांति, वाइब्रेंट समिट से औद्योगिक निवेश की व्यापक सफलता, प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) हासिल करने में शीर्ष स्थान, नीति आयोग के सुशासन और वित्तीय प्रबंधन सूचकांक में आगे रहने की परंपरा को बरकरार रखा है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि इस तरह की प्रदर्शनी राज्य के किसानों को फसल पद्धतियों के वैश्विक रुझान और कृषि ज्ञान-विज्ञान को स्थानीय स्तर पर उपलब्ध कराने में लाभकारी सिद्ध होगी। उन्होंने प्रदर्शनी के जर्मनी पैवेलियन, प्राकृतिक खेती से संबंधित पैवेलियन और ड्रोन पैवेलियन सहित विभिन्न पैवेलियनों और स्टॉल्स का दौरा भी किया।

'वंदे भारत' ट्रेन के सभी परीक्षण सफलता पूर्वक पूरे 

'वंदे भारत' ट्रेन के सभी परीक्षण सफलता पूर्वक पूरे 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे की नई पीढ़ी की वंदे भारत ट्रेन के सभी परीक्षण शुक्रवार को सफलता पूर्वक पूरे हो गये हैं और अब यह गाड़ी 180 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से यात्रियों की सेवा के लिए तैयार हो गयी है। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन में यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि वंदे भारत एक्सप्रेस का नया रैक पहले से हल्का है और नई आधुनिक बोगी डिजायन के कारण यात्रियों को 180 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से बिना कोई झटका या कंपन के दौड़ने में सक्षम है। पहली वंदे भारत 160 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से चलने के अनुकूल है। श्री वैष्णव ने कहा कि वंदेभारत एक्सप्रेस के 75 रैकों का निर्माण अगले माह से चेन्नई में इंटीग्रल कोच कारखाने में शुरू हो जाएगा और हर माह दो तीन से शुरू हो कर आठ दस रैक प्रतिमाह तक बनने लगेंगे।

उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सपने के अनुरूप वंदे भारत के भविष्य में बनने वाले 400 रैक 200 किलाेमीटर प्रतिघंटे की गति से चलने में सक्षम होंगे जिन्हें विकसित देशों में निर्यात भी किया जाएगा। वंदे भारत के पहले संस्करण एवं इस नये संस्करण के बीच अंतर का उल्लेख करते हुए कहा कि पहली वंदे भारत ट्रेन शून्य से सौ किलोमीटर प्रतिघंटा की गति 54.6 सेकेण्ड में पकड़ती थी जबकि नयी वंदे भारत 52 सेकेण्ड में इस गतिसीमा को पार कर लेती है। पहली वंदे भारत का एक्सल लोड 17 टन था जो नयी गाड़ी में 15.3 टन है। पहली गाड़ी का वजन 430 टन था लेकिन नयी गाड़ी का वजन 392 टन है यानी 38 टन कम है। बाढ़ की दशा में यदि पटरियों पर करीब दो फुट तक पानी भरा है तो भी वंदे भारत ट्रेन को आराम से चलाया जा सकता है, पहले संस्करण का केवल 40 सेंटीमीटर यानी सवा फुट से कुछ अधिक तक भरे पानी में ही चलाया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि नयी गाड़ी में वायु प्रशीतन (एसी) प्रणाली को भी उन्नत बनाया गया है और अब इसमें एक फोटो कैटलिटिक एयर प्यूरीफायर सिस्टम लगाया गया जो वातावरण में कोरोना सहित किसी भी वायरस को खत्म कर देता है। नये एसी सिस्टम में ऊर्जा की खपत 15 प्रतिशत कम होगी। नयी गाड़ी में अब रिक्लाइनिंग सीटें लगायीं गयीं हैं जो यात्रियों के लिए अधिक आरामदेह हैं। पहले संस्करण में बैटरी बैक अप एक घंटे है जबकि नये संस्करण में तीन घंटे का बैटरी बैक अप है। नए रैक में टक्कररोधी तकनीक ‘कवच’ लगायी गयी है। गाड़ी में आग लगने की स्थिति में इलैक्ट्रॉनिक उपकरणों को बचाने के लिए स्वचालित प्रणाली लगायी गयी है। आपात निकास भी बढ़ाए गये हैं। उन्होंने कहा कि वंदे भारत ट्रेन की बाेगी की डिजायन में कुछ अहम बदलाव किये गये हैं।

एयर स्प्रिंग के कारण पटरियों से झटके नहीं लगते हैं जबकि साइड डैम्पर्स के कारण कोच में तेज गति के कारण दायें बायें होने से बचाव होता है। इसी कारण 180 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति पर पानी के गिलास में एक बूंद भी नहीं छलकती है। रेल मंत्री ने कहा कि रेलगाड़ियों में आरामदेह यात्रा को कम्फर्ट इंडेक्स से आंका जाता है। वंदे भारत ट्रेन के नये संस्करण का कम्फर्ट इंडेक्स 3.2 है जबकि विश्व के विकसित देशों में प्रमुख लग्ज़री गाड़ियों का कम्फर्ट इंडेक्स 2.8 से 3 तक है।

उन्होंने कहा कि वंदे भारत को यदि विदेशों में बिछी पटरियों के स्तर वाले ट्रैक पर चलाया जाये तो कम्फर्ट इंडेक्स 2.8 तक आसानी में आ जाएगा। श्री वैष्णव ने कहा कि वंदे भारत के उन्नत संस्करण को विश्व बाजार में निर्यात के लिए पेश किया जा सकता है। दूसरे लग्ज़री रेल रैकों की तुलना में कम लागत वाले और अंतरराष्ट्रीय स्तर के कम्फर्ट इंडेक्स वाले रैक को बाज़ार में अच्छी प्रतिक्रिया मिलने की आशा है। नयी वंदे भारत एक्सप्रेस को किस मार्ग पर चलाया जाएगा, इस बारे में पूछने पर रेल मंत्री ने मुस्करा कर कहा, “थोड़ा सा इंतजार कीजिए।”

कांग्रेस अध्यक्ष बनना है या नहीं, जवाब देंगे: राहुल 

कांग्रेस अध्यक्ष बनना है या नहीं, जवाब देंगे: राहुल 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। राहुल गांधी ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि मैंने अपना मन बना लिया है और मैं काफी स्पष्ट हूं। मैं अध्यक्ष बनूंगा या नहीं यह उस दिन सामने आ जाएगा, जब पार्टी के चुनाव होंगे। कृपया उस दिन तक इंतजार करें। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को बड़ा बयान दिया। उन्होंने पार्टी की अध्यक्षता स्वीकार करने को लेकर किए गए सवाल पर पहली बार अपना पक्ष रखा। राहुल ने कहा कि उन्होंने फैसला कर लिया है कि उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष बनना है या नहीं और वे अपना जवाब चुनाव के दौरान ही देंगे।

राहुल ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि मैंने अपना मन बना लिया है और मैं काफी स्पष्ट हूं। मैं अध्यक्ष बनूंगा या नहीं यह उस दिन सामने आ जाएगा, जब पार्टी के चुनाव होंगे। कृपया उस दिन तक इंतजार करें। बता दें कि राहुल गांधी फिलहाल भारत जोड़ो यात्रा में हिस्सा ले रहे हैं। यह यात्रा कन्याकुमारी से कश्मीर तक रखी गई है। गांधी ने कहा है कि वे इस यात्रा का नेतृत्व नहीं कर रहे, बल्कि महज इसका हिस्सा हैं। कांग्रेस के भीतर मचे घमासान और पार्टी के सामने जो चुनौतियां हैं। ऐसे में दूसरा सवाल यह पैदा होता है कि जब सबकुछ पता है तो वह जिम्मेदारी से पीछे क्यों हट रहे हैं। जिम्मेदारी पार्टी की कमान संभालने की।

कांग्रेस की ओर से घोषित चुनाव कार्यक्रम के अनुसार, 22 सितंबर को पार्टी अध्यक्ष पद के चुनाव की अधिसूचना जारी होगी। इसके बाद 24 सितंबर से नामांकन दाखिल किए जा सकते हैं और यदि एक से अधिक उम्मीदवार हुए तो 17 अक्टूबर को मतदान होगा। यह चुनावी कार्यक्रम है और इसके अलावा बाकी सब सवाल। कांग्रेस की ओर से अध्यक्ष पद के लिए कौन नामांकन दाखिल करेगा। राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत को लेकर ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि वो पार्टी के अगले अध्यक्ष हो सकते हैं।

नड्डा ने आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में भाग लिया

नड्डा ने आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में भाग लिया 

अकांशु उपाध्याय/दुष्यंत टीकम 

नई दिल्ली/रायपुर। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने साइंस कॉलेज ग्राउंड, आमनाका में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में भाग लिया। जे.पी. नड्डा ने कहा कि एक समय था, जब भूपेश बघेल जैसे लोग भाई को भाई से लड़ाते रहे, इलाके को इलाके से लड़ाते रहे, भ्रष्टाचार के सहारे लोगों को गुमराह करते रहे हैं। नड्डा ने कहा कि ये नरेंद्र मोदी की संस्कृति है कि अब किसी को भी लोगों के सामने रिपोर्ट कार्ड लेकर जाना पड़ेगा। कुछ दिन पहले यहां हमारे 71 आदिवासी भाई मारे गए और भूपेश बघेल केरल में राहुल गांधी के साथ ताली बजा रहे थे। ये स्थिति आकर खड़ी हो गई है। छत्तीसगढ़ को छोड़ दिया है, कोई चिंता नहीं है।

नड्डा ने कहा कि छत्तीसगढ़ अगर बना तो वो भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी के कारण बना। छत्तीसगढ़ अलग राज्य बनने का एक विचार था और उस विचार को अटल जी ने साकार किया। राजनीति, कुर्सी पर बैठने का विषय नहीं है, राजनीति, गद्दी पर अड्डा जमाने का विषय नहीं है, राजनीति, सेवा के भाव से है और भाजपा के लिए सेवा ही लक्ष्य है। नड्डा ने कहा कि भाजपा के लिए सत्ता माध्यम है, सेवा हमारा लक्ष्य है। छत्तीसगढ़ में एक तरफ कांग्रेस की भ्रष्ट सरकार है जो सिर्फ और सिर्फ जनता को लूटने में लगी है, वहीं दूसरी तरफ भाजपा की सरकार थी जो दिन-रात छत्तीसगढ़ की जनता की सेवा में लगी थी। छत्तीसगढ़ में अभी बड़ी संख्या में आदिवासी भाई मारे गए, मगर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी केरल में राहुल गांधी के साथ ताली बजा रहे थे। छत्तीसगढ़ की जनता को छोड़कर एक परिवार की सेवा में लग गए हैं, आज ये स्थिति आ गई है।

नए महाराजा 'चार्ल्स तृतीय' दर्शकों के सामने आएंगे

नए महाराजा 'चार्ल्स तृतीय' दर्शकों के सामने आएंगे

डॉक्टर सुभाषचंद्र गहलोत 

लंदन। ब्रिटेन और इसकी राजधानी में शुक्रवार को महारानी एलिजाबेथ (द्वितीय) की मृत्यु के के बाद आधिकारिक, अर्ध-आधिकारिक और अन्य कार्यक्रमों की गहमा गहमी रहेगी। रिपोर्ट के मुताबिक यहां सब वही हो रह है, जिसकी उम्मीद की जा रही थी। किंग चार्ल्स (तृतीय) और अब महारानी पत्नी बन गयी कैमिला, जो गुरुवार की रात बाल्मोरल में रुकी थीं, शुक्रवार को लंदन की यात्रा करेंगी, जहां नए महाराजा (चार्ल्स तृतीय) नए प्रधानमंत्री लिज ट्रस के साथ दर्शकों के सामने आएंगे।

महाराजा अर्ल मार्शल (नॉरफ़ॉक के ड्यूक) से मिलेंगे। मार्शल आने वाले दिनों के लिए सावधानीपूर्वक कोरियोग्राफ किए गए कार्यक्रम को मंजूरी देने और रानी के अंतिम संस्कार के प्रभारी हैं। पीए समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार महारानी के अंतिम संस्कार के अगले दिन तक, सरकार राष्ट्रीय शोक की अवधि की घोषणा करेगी, जो लगभग 12 दिनों तक रहने की संभावना है।

रिपोर्ट के मुताबिक, बकिंघम पैलेस और अन्य शाही इमारतों के बाहर जनता की भीड़ जुटना शुरु हो गयी है और लोगों ने फूल अप्रित करना शुरु कर दिया है। मंत्री यह भी घोषणा करेंगे कि अंतिम संस्कार के दिन सार्वजनिक अवकाश होगा। इसके अलावा राजा शाही परिवार और शाही परिवारों के सदस्यों के लिए कार्यक्रम की अवधि या शाही शोक का फैसला करेंगे।

11 सितंबर को एक दिन का राजकीय शोक, ऐलान 

11 सितंबर को एक दिन का राजकीय शोक, ऐलान 

अकांशु उपाध्याय/सुनील श्रीवास्तव 

नई दिल्ली/लंदन। ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर भारत सरकार ने शोक व्यक्त किया है। शुक्रवार को गृह मंत्रालय की ओर से बयान जारी करते हुए जानकारी दी गई कि सरकार ने 11 सितंबर यानी रविवार को ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के सम्मान में एक दिन का राजकीय शोक का ऐलान किया है। बता दें कि क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय की गुरुवार रात (भारतीय समयानुसार) निधन हो गया था।

गृह मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि शोक के दिन पूरे भारत में सभी इमारतों पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा। इस दिन कोई आधिकारिक कार्य नहीं होगा। गौरतलब है कि ब्रिटेन की महामहिम महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का 8 सितंबर 2022 को निधन हो गया। वह ब्रिटेन में सबसे लंबे समय तक राज करने वाली महारानी थीं। उन्होंने गुरुवार रात (भारतीय समयानुसार) स्कॉटलैंड के बाल्मोरल कैसल महल में आखिरी सांस ली। वह 96 साल की थीं। महारानी ने 70 साल तक ब्रिटेन में शासन किया।

कर्लीज क्लब के ऊपर चल रहा बुलडोजर रुका: एससी 

कर्लीज क्लब के ऊपर चल रहा बुलडोजर रुका: एससी 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली/पण्जी। गोवा में प्रशासन के निर्देश पर कर्लीज क्लब के ऊपर चल रहा बुलडोजर फिलहाल सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद रुक गया है। अदालत की ओर से क्लब को जमींदोज करने पर रोक इस शर्त पर लगाई गई है कि क्लब के भीतर फिलहाल किसी तरह की व्यवसायिक गतिविधियां नहीं होगी। शुक्रवार की सवेरे से गोवा के कर्लीज क्लब को गिराने का काम कर रहे बुलडोजर के ऊपर फिलहाल सुप्रीम कोर्ट की ओर से ब्रेक लगा दिए गए हैं। अदालत ने फिलहाल क्लब को जमींदोज नहीं किए जाने का निर्देश दिया है। अदालत की ओर से क्लब के जमींदोज करने पर रोक इस शर्त पर लगाई है कि फिलहाल क्लब के भीतर किसी तरह की व्यावसायिक गतिविधियां नहीं होंगी। यह रोक ऐसे समय पर लगाई गई हैं जब शुक्रवार की सवेरे ही क्लब को गिराने का काम शुरू कर दिया गया था और उसे गिराने के लिए बुलडोजर भी मौके पर पहुंच चुका था। जिस कर्लीज क्लब को गिराने पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक लगाई गई है। इसी क्लब के भीतर भारतीय जनता पार्टी के नेता एवं टिकटोक स्टार सोनाली फोगाट को ड्रग्स की ओवरडोज दी गई थी, जिसके चलते उनकी मौत हो गई थी।

अमेरिकी सांसद प्रमिला को भारत लौटने की धमकी 

अमेरिकी सांसद प्रमिला को भारत लौटने की धमकी 

अकांशु उपाध्याय/अखिलेश पांडेय 

नई दिल्ली/वाशिंगटन डीसी। भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल को एक पुरुष ने फोन पर आपत्तिजनक एवं नफरत भरे संदेश भेजते हुए उन्हें वापस भारत लौटने की धमकी दी है। भारत के चेन्नई में जन्म लेने वाली अमेरिकी सांसद ने पांच ऐसे ऑडियो संदेश सोशल मीडिया पर साझा किए हैं, जिसमें उन्हें वापस लौटने की धमकी दी गई है। भारत के चेन्नई में जन्म लेने वाली भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल को एक पुरुष द्वारा फोन के माध्यम से आपत्तिजनक एवं नफरत भरे संदेश भेजकर भारत वापिस लौटने की धमकी दी गई है।

अमेरिकी सांसद की ओर से वायरल किए गए संदेश के उन हिस्सों को फिलहाल एडिट किया गया है, जिनमें अश्लील एवं अभद्र बातें कही गई हैं। वायरल हो रहे ऑडियो संदेश में साफतौर पर सुना जा सकता है कि एक पूर्व अमेरिकी सांसद को भारत वापस नहीं लौटने पर गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दे रहा है। गौरतलब है कि प्रमिला जयपाल ऐसी पहली भारतीय अमेरिकी सांसद हैं, जिन्होंने अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में सिएटल का प्रतिनिधित्व किया है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-336, (वर्ष-05)

2. शनिवार, सितंबर 10, 2022

3. शक-1944, भाद्रपद, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पूर्णिमा, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 05:51, सूर्यास्त: 06:56। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 28 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...