बुधवार, 2 अक्तूबर 2019

स्कंदमाता रूपेण संस्थिता

नवरात्रि का पाँचवाँ दिन स्कंदमाता की उपासना का दिन होता है। मोक्ष के द्वार खोलने वाली माता परम सुखदायी हैं। माँ अपने भक्तों की समस्त इच्छाओं की पूर्ति करती हैं।


स्कंदमाता - नवदुर्गाओं में पंचम
देवनागरी-स्कंदमाता
संबंध-हिन्दू देवी
अस्त्र-कमल
जीवनसाथी-शिव
सवारी-सिंह
श्लोक:-सिंहासनगता नित्यं पद्माश्रितकरद्वया। शुभदास्तु सदा देवी स्कन्दमाता यशस्विनी।।


कथा:-भगवान स्कंद 'कुमार कार्तिकेय' नाम से भी जाने जाते हैं। ये प्रसिद्ध देवासुर संग्राम में देवताओं के सेनापति बने थे। पुराणों में इन्हें कुमार और शक्ति कहकर इनकी महिमा का वर्णन किया गया है। इन्हीं भगवान स्कंद की माता होने के कारण माँ दुर्गाजी के इस स्वरूप को स्कंदमाता के नाम से जाना जाता है।


स्वरूप:-स्कंदमाता की चार भुजाएँ हैं। इनके दाहिनी तरफ की नीचे वाली भुजा, जो ऊपर की ओर उठी हुई है, उसमें कमल पुष्प है। बाईं तरफ की ऊपर वाली भुजा में वरमुद्रा में तथा नीचे वाली भुजा जो ऊपर की ओर उठी है उसमें भी कमल पुष्प ली हुई हैं। इनका वर्ण पूर्णतः शुभ्र है। ये कमल के आसन पर विराजमान रहती हैं। इसी कारण इन्हें पद्मासना देवी भी कहा जाता है। सिंह भी इनका वाहन है।


महत्व:-नवरात्रि-पूजन के पाँचवें दिन का शास्त्रों में पुष्कल महत्व बताया गया है। इस चक्र में अवस्थित मन वाले साधक की समस्त बाह्य क्रियाओं एवं चित्तवृत्तियों का लोप हो जाता है। वह विशुद्ध चैतन्य स्वरूप की ओर अग्रसर हो रहा होता है।साधक का मन समस्त लौकिक, सांसारिक, मायिक बंधनों से विमुक्त होकर पद्मासना माँ स्कंदमाता के स्वरूप में पूर्णतः तल्लीन होता है। इस समय साधक को पूर्ण सावधानी के साथ उपासना की ओर अग्रसर होना चाहिए। उसे अपनी समस्त ध्यान-वृत्तियों को एकाग्र रखते हुए साधना के पथ पर आगे बढ़ना चाहिए। माँ स्कंदमाता की उपासना से भक्त की समस्त इच्छाएँ पूर्ण हो जाती हैं। इस मृत्युलोक में ही उसे परम शांति और सुख का अनुभव होने लगता है। उसके लिए मोक्ष का द्वार स्वमेव सुलभ हो जाता है। स्कंदमाता की उपासना से बालरूप स्कंद भगवान की उपासना भी स्वमेव हो जाती है। यह विशेषता केवल इन्हीं को प्राप्त है, अतः साधक को स्कंदमाता की उपासना की ओर विशेष ध्यान देना चाहिए। सूर्यमंडल की अधिष्ठात्री देवी होने के कारण इनका उपासक अलौकिक तेज एवं कांति से संपन्न हो जाता है। एक अलौकिक प्रभामंडल अदृश्य भाव से सदैव उसके चतुर्दिक्‌ परिव्याप्त रहता है। यह प्रभामंडल प्रतिक्षण उसके योगक्षेम का निर्वहन करता रहता है।


हमें एकाग्रभाव से मन को पवित्र रखकर माँ की शरण में आने का प्रयत्न करना चाहिए। इस घोर भवसागर के दुःखों से मुक्ति पाकर मोक्ष का मार्ग सुलभ बनाने का इससे उत्तम उपाय दूसरा नहीं है।


हर वर्ग की मदद करेगी को-ओपरेटिव सोसाइटी

विकास कोऑपरेटिव अर्बन थ्रिफ्ट एंड क्रेडिट सोसायटी के कार्यक्रम में भावना बिष्ट ने कहा, हर वर्ग की मदद करेगी सोसायटी


गाजियाबाद। लोनी स्‍थित बेटा हाजीपुर के राजनगर शांति वाटिका में विकास कोआपरेटिव अर्बन थ्रिफ्ट एंड क्रेडिट सोसाइटी का कार्यक्रम हुआ एस एस ऑफिसर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है और गरीबों के हित में काम करने वाली है। मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित समाज सेविका भावना बिष्ट का सोसायटी के लोगों ने फुल मालाओं वाले शाॅल उड़ाकर स्वागत किया।


विकास कोऑपरेटिव अर्बन थ्रिफ्ट एंड क्रेडिट सोसायटी के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए समाज सेविका भावना बिष्ट ने कहा कि यह सोसाइटी उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है और किसी बैंक या चिटफंड की तरह नहीं है कि पैसा जमा कर साल 2 साल में भाग जाए यह सोसाइटी लोगों के हित के लिए बनाई गई है जिसमें मध्यम वर्ग के और गरीबों को की सहायता कर सकें। जैसे कि लोगों के यहां जवान बेटियों जाती है लेकिन पैसे के कारण हो बेटियों की शादी नहीं कर पाते हैं तो ऐसे लोग बैंक से कम ब्याज दर पर पैसा लेकर बेटियों की शादी अभी करा सकते हैं अगर कोई और परेशानी जैसे की बीमारी है तो सोसायटी से पैसा लेकर अपना इलाज करवा सकते हैं। आजकल की स्थिति को देखते हुए हर व्यक्ति और हर वर्ग के व्यक्ति असावती से जुड़कर निकट भविष्य में कम ब्याज दर पर पैसा लेकर फायदा उठा सकता है और इसमें से सब ठीक ही लोग पूरी तरह से लोगों की मदद भी करेंगे। वहीं अगर देखा जाए तो आज के समय में कोई व्यक्ति किसी की मदद नहीं करता हालांकि अलओसी पड़ोसियों को अगर देख लिया जाए किसी चीज की अगर जरूरत पड़ने लगे तो साफ हाथ खड़े कर देते हैं और तरह-तरह के बहाने बना देते हैं लेकिन मदद कोई नहीं करता तो इसीलिए इससे साउथी का गठन किया गया जिससे लोनी क्षेत्र के लोग इस सोसायटी से जुड़कर फायदा उठा सकते हैं। भाई अगर बैंकों की बात करें तो बैंक अमीर आदमियों को तो पैसे दे देता है लेकिन गरीब आदमियों को पैसा लेने के लिए सैकड़ों बार चक्कर लगाने पड़ते हैं और चप्पलें भी टूट जाती हैं और इतनी कागजों की मांग की जाती है कि वह उनकी पूर्ति ही नहीं कर पाते और अंततः निराश होकर घर बैठ जाते हैं जब भी किसी व्यक्ति को ऐसी आवश्यकता पड़े तो वो सोसाइटी से मिलकर कम ब्याज दर पर पैसा लेकर अपने सभी काम कर सकता है। इस अवसर पर उपस्थित रहे नरेश रावण, शिव सिंह रावत, राकेश वत्स,गिरिश आदि सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित रहे।


इनेलो के 64 उम्मीदवारों की सूची जारी

राणा ओबरॉय


 इनेलो प्रदेशाध्यक्ष बीरबल दास ढालिया ने 64 उम्मीदवारों की एक सूची की जारी

चंडीगढ़। इंडियन नेशनल लोकदल पार्टी की चुनाव समिति की बैठक चौधरी ओमप्रकाश चौटाला की अध्यक्षता में दिल्ली में हुई जिसके उपरांत प्रदेशाध्यक्ष बीरबल दास ढालिया ने 64 उम्मीदवारों की एक सूची जारी की है। इन घोषित प्रत्याशियों में 12 महिलाएं हैं। प्रदेशाध्यक्ष ने यह भी बताया कि उम्मीदवारों के चयन के समय समाज के सभी वर्गों एवं समीकरणों को ध्यान में रखकर निर्णय लिया गया है और उन्हें पूर्ण आशा है कि इन उम्मीदवारों को चुनाव में मतदाताओं का पूरा समर्थन मिलेगा।
अभय सिंह चौटाला 46- ऐलनाबाद, करुणदीप चौधरी 02-पंचकुला, जगमाल सिंह 03-नारायणगढ़, ओंकार सिंह 04-अम्बाला कैंट, श्रीमती दया रानी दुखेड़ी 06-मुलाना (अनुसूचित), दिलबाग सिंह पूर्व विधायक 09- यमुनानगर, राजबीर कम्बोज 10-रादौर, श्रीमती सपना बड़शामी 11-लाडवा, श्रीमती कलावती सैन 13-थानेसर, ओमप्रकाश ढांडा गांव किठाना, 16-कलायत, सिद्धार्थ सैनी पुत्र स्व. मेहर सिंह सैनी 17-कैथल, ज्ञान सिंह गुज्जर एडवोकेट 18-पुण्डरी, मनिंद्र राणा पुत्र श्रीमती रेखा राणा पूर्व विधायक 22-घरौंडा, धर्मवीर पाढा 23-असंध, कुलदीप राठी 24-पानीपत ग्रामीण, सुरेश सैनी 25-पानीपत शहर, रवि कल्सन 26-इसराना (अनुसूचित), श्रीमती पे्रमलता छोक्कर 27-समालखा, विजेंद्र सिंह शेखूपुर 28-गन्नौर, इंद्रजीत दहिया 29-राई, विनोद चौहान 30-खरखौदा (अनुसूचित), बालकृष्ण शर्मा 31-सोनीपत, ओमप्रकाश गोयल 32-गोहाना, जोगेंद्र मलिक 33-बडोदा, जोगेंद्र कालवा 35-सफीदों, विजेंद्र रेढू 36-जींद, सतपाल गैंडाखेड़ा 37-उचाना कलां, सुशील पुत्र सूबे सिंह 38-नरवाना (अनुसूचित), डॉ. सीता राम पूर्व विधायक 43-डबवाली, अशोक वर्मा 44-रानियां, राजेश गोदारा 47-आदमपुर, श्रीमती ललिता टांक 48-उकलाना (अनुसूचित), जस्सी पेटवाड़, प्रदेश युवा संयोजक 49-नारनौंद, अमित सैनी 52-हिसार, सतपाल काजला हलका प्रधान 53-नलवा, राज सिंह गागड़वास 54-लोहारू, विजय पंचगामा 55-बाढड़ा, नितिन जांगू जिला युवा संयोजक 56-दादरी, श्रीमती कमला रानी 58-तोशाम, श्रीमती धर्मों देवी पत्नी श्री जगन्नाथ पूर्व मंत्री 59-बवानीखेड़ा (अनुसूचित), कृष्ण कौशिक 61-गढ़ी सांपला-किलोई, बलराज खासा गांव भाली, 63-कलानौर (अनुसूचित), नफे सिंह राठी पूर्व विधायक 64-बहादुरगढ़, महावीर गुलिया 65-बादली, जोगेंद्र 66-झज्जर (अनुसूचित), ओम पहलवान 67-बेरी, श्रीमती नीतू यादव पत्नी श्री हर्षवर्धन 68-अटेली, राजेंद्र शेखावत पूर्व सरपंच ढाना 69-महेंद्रगढ़, राजेश सिहार जिला युवा प्रधान 70-नारनौल, श्रीमती सुमन विरेंद्र गोठड़ी 71-नांगलचौधरी, सम्पत ढहीनवाल 72-बावल (अनुसूचित), किरणपाल यादव 73-कोसली, श्रीमती कमला शर्मा 74-रेवाड़ी, सुखबीर तंवर 75-पटौदी (अनुसूचित), सोनू ठाकरान 76-बादशाहपुर, रोहताश खटाणा 78-सोहना, नासिर हुसैन पुत्र श्री बद्रुद्दीन 79-नूंह, श्रीमती रानी रावत 82-हथीन, सतपाल देशवाल 84-पलवल, नरेंद्र अत्री एडवोकेट 85-पिरथला, कुमारी जगजीत कौर पन्नू 86-फरीदाबाद एनआईटी, अजय भड़ाना 87-बडख़ल, सोमेश चंदेला 89-फरीदाबाद और उमेश भाटी 90-तिगांव।
बीरबल दास ढालिया ने यह भी कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि इनेलो के यह प्रत्याशी एक बार फिर प्रदेश के समाज में सभी 36 बिरादरियों को एकजुट करने में सफल रहेंगे। उनके इस प्रयास से पिछले पांच वर्षों में जिस तरीके से समाज को बांटने का प्रयास किया गया है उसका अंत होगा।


किसान:गांधीवादी विचारधारा को खतरा

अविनाश श्रीवास्तव


गाजियाबाद। गांधी जयंती के मौके पर मंडोला विहार योजना से प्रभावित किसान जोकि अपनी अधिग्रहित जमीन के मुआवजे की मांग को लेकर 2 दिसम्बर 2016 से शान्ति पूर्वक सत्याग्रह कर रहे हैं। आज सत्याग्रही किसानो ने गांधी जी की फोटो पर फूल माला अर्पित करने के बाद अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। किसान अर्धनग्न होकर, दिल्ली सहारनपुर रोड के किनारे बैठकर सरकार द्वारा पीड़ित किसानो की अनदेखी करने पर अपना रोष प्रकट करते हुए नजर आये। किसानो ने सरकार को किसान विरोधी करार दिया और सरकार व् सरकारी विभाग आवास विकास परिषद के खिलाफ नारेबाजी करते हुए किसानो ने गांधी वादी विचार धारा को खतरे में बताया । 
सत्याग्रही किसानो ने गांधी जी की अहिंसा वादी विचार धारा को जिन्दा रखते हुए अपने आंदोलन को तीन वर्षो से चला रखा है लेकिन सरकार की तरफ से मांगो की अनदेखी व् कानून का गलत स्तेमाल करके  किसानो पर लगातार की जा रही दमनात्मक कार्यवाहियों के चलते किसानो में रोष व्याप्त है जिसको लेकर किसान एक बार फिर अपने आंदोलन के क्रम में अनिश्चित कालीन आमरण अनशन करने को मजबूर हैं । पीड़ित धरनारत किसान पहले भी तीन बार आमरण अनशन कर चुके हैं लेकिन कोरे अस्वासन पर ही किसानो का अनशन खुलवाकर उन्हें छला गया। अबकी बार किसानो ने दृढ़ निश्चय किया है कि अपनी मातृभूमि के लिए प्राणों की आहुति दे देंगे लेकिन अपना अनशन आश्वासन पर नही खोलेंगे। आमरण अनशन पर बैठने की तारीख अभी तय नही की गई है जल्द ही आधिकारिक रूप से तारीख की घोषणा करके सैकड़ो किसान आमरण पर बैठेंगे। आज धरने पर सैकड़ो किसान व् किसान महिलाये मौजूद रहे। किसान मुकेश त्यागी ने गांधी जी का वेश धारण करके धरनारत किसानो को सत्य और अहिंसा का पाठ भी पढ़ाया।


'पदयात्रा-संदेश यात्रा' की राजनीति

गांधी जयंती पर अजमेर में भाजपा की पद यात्रा और कांग्रेस की संदेश यात्रा।

देश भर में गांधी जयंती उत्साह और संकल्प के साथ मनाई गई। सांसद भागीरथ चौधरी के नेतृत्व में पद यात्रा तथा कांग्रेस की ओर से अजमेर शहर में संदेश यात्रा निकाली गई। चूंकि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है, इसलिए संदेश यात्रा में सरकार का पूरा लवाजमा रहा। हालांकि इस यात्रा को सफल बनाने के लिए महात्मा गांधी जीवन दर्शन के जिला समन्वयक और पूर्व विधायक डॉ. श्रीगोपाल बाहेती और समन्वयक शक्ति प्रताप ने विशेष प्रयास किए। शहर में निकाली गई इस पद यात्रा में जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा, पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप सिंह, अधिकारी सहित स्कूली बच्चे शामिल रहे, अजमेर डेयरी के अध्यक्ष रामचन्द्र चौधरी ने इस यात्रा में खासतौर से भाग लिया। इस मौके पर गांधीवादी विचारक डॉ. बाहेती ने कहा कि आज भी महात्मा गांधी की प्रासांगिकता बनी हुई है। महात्मा गांधी के बताए हुए रास्ते पर चल कर ही समाज का निर्माण किया जा सकता है।  वहीं पुष्कर में भाजपा सांसद चौधरी के नेतृत्व में निकाली गई पद यात्रा में विधायक श्रीमती अनिता भदेल, सुरेश सिंह रावत, भाजपा के जिला अध्यक्ष बीपी सारस्वत आदि भाजपा नेता उपस्थित रहे। सांसद चौधरी ने कहा कि महात्मा गांधी के मार्ग पर चलते हुए ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2 अक्टूबर से सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। इससे पहले गांधी जयंती पर स्वच्छता अभियान की भी शुरुआत की गई। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी महात्मा गांधी को लेकर सिर्फ भाषण नहीं देते बल्कि उनके बताए कार्यों पर अमल भी करते हैं। यही वजह है कि आज देश में घर घर शौचालय बन गए हैं। 
एस.पी.मित्तल


1हजार डॉक्टरों पर 11 हजार का काम

11 हजार पशु चिकित्सकों के स्थान पर राजस्थान में मात्र एक हजार नियुक्त।
डिग्री के बाद भी बेरोजगार हैं चिकित्सक। 
सात साल से नहीं हुई भर्ती। 

हर सरकार ग्रामीण विकास का दवा करती है, लेकिन जमीनी हकीकत अलग होती है। सरकारी रिकॉर्ड के मुताबिक राजस्थान में करीब 577 लाख पशुधन है। मानकों के अनुसार पांच हजार पशुधन पर एक चिकित्सक की नियुक्ति होनी चाहिए। इस लिहाज से राजस्थान के सरकारी पशु चिकित्सालयों में 11 हजार चिकित्सक होने चाहिए, लेकिन इसे दुर्भाग्यपूर्ण कहा जाएगा कि राजस्थान में मात्र एक हजार पशु चिकित्सक ही नियुक्त हैं। सरकार के ग्रामीण विकास के दावों की पोल तो तब खुलती है, जब स्वीकृत पदों पर भी नियुक्ति नहीं होती। राज्य सरकार ने 1937 पद स्वीकृत कर रखे हैं, लेकिन मौजूदा समय में 929 पद रिक्त पड़े हैं। एक ओर युवा डिग्री लेकर इधर-उधर भटक रहा है तो दूसरी ओर सरकारों के गैर जिम्मेदाराना रवैये की वजह से पिछले सात वर्षों से पशु चिकित्सकों की भर्ती नहीं हुई है। 577 लाख पशुधन की देखभाल मात्र एक हजार चिकित्सक कैसे कर रहे होंगे, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। राजस्थान पशु चिकित्सक बेरोजगार संघ के बैनर तले हजारों युवा लम्बे अर्सें से आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन निर्वाचित सरकारों में सुनने वाला कोई नहीं है। युवाओं को जो आंदोलन भाजपा के शासन में करना पड़ता था वहीं अब कांग्रेस के शासन में करना पड़ रहा है। कांग्रेस सरकार ने रिटायर आईएएस दीपक उप्रेती को राजस्थान लोक सेवा आयोग का अध्यक्ष नियुक्त किया था ताकि विभिन्न पदों की भर्ती की प्रक्रिया को तेज किया जा सके, लेकिन अभी तक उप्रेती की प्रभावी भूमिका सामने नहीं आई है। आयोग की वजह से हजारों युवाओं को अभी धरना प्रदर्शन करना पड़ रहा है। राजस्थान पशु चिकित्सक बेरोजगार संघ के मीडिया प्रभारी डॉ. नरसीराम गुर्जर ने बताया कि सरकार ने 900 पदों पर भर्ती का प्रस्ताव आयोग के पास भिजवा दिया है, लेकिन आयोग के ढीले रवैये की वजह से भर्ती की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है। बेरोजगार युवक आयोग में धक्के खाते हैं, लेकिन सुनने वाला कोई नहीं है। पशु चिकित्सकों के आंदोलन के बारे में और अधिक जानकारी मोबाइल नम्बर 9694005684 पर डॉ. नरसीराम गुर्जर से ली जा सकती है। 
एस.पी.मित्तल


कांग्रेस का मतभेद सार्वजनिक

इधर सीएम अशोक गहलोत ने देश में डर का माहौल बताया, उधर दिग्गज कांग्रेसी रामेश्वर डूडी ने अपनी ही सरकार को तानाशाह कहा। अब जनता देगी जवाब। 

जयपुर। राजस्थान में गांधी जयंती के अवसर पर कांग्रेस और प्रदेश सरकार को लेकर अजीब स्थिति रही। सीएम अशोक गहलोत ने गांधी जयंती के विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेते हुए कहा कि देश में डर का माहौल है। केन्द्र की भाजपा सरकार की नीतियों की वजह से सामाजिक तानाबाना बिगड़ गया है। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की साम्प्रदायिक सोच के चलते हालात बहुत बिगड़ गए हैं। कांग्रेस ने अब तक देश में लोकतंत्र को बचाए रखा, लेकिन अब लोकतंत्र को खतरा हो गया है। हमारी संवैधानिक संस्थाएं दबाव में काम कर रही हैं। कांग्रेस आज भी गांधी जी के बताए मार्ग पर चल रही है। सीएम गहलोत जब स्वयं को महात्मा गांधी का अनुयायी मानते हुए प्रवचन दे रहे थे, तभी जयपुर के एसएमएस स्टेडियम में राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के कार्यालय पर जोरदार हंगामा हो रहा था। कांग्रेस के ही कार्यकर्ताओं को नियंत्रित करने के लिए स्टेडियम पर वाटर केकन, वज्र वाहन, क्यूआरटी आरएसी आदि के सशस्त्र जवान तैनात किए गए। ऐसे तनाव पूर्ण माहौल में जब कांग्रेस के दिग्गज नेता और क्रिकेट एसोसिएशन के चुनाव में सीएम गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत को चुनौती देने वाले रामेश्वर डूडी पहुंचे तो हालात बेकाबू हो गए। धक्का मुक्की के बीच डूडी ने आरसीए के कार्यालय में प्रवेश किया। डूडी का कहना रहा रहा कि सरकार ने तानाशाह रवैया अपना रखा है। अब प्रदेश की जनता सरकार को जवाब देगी। यानि डूडी ने अपनी ही सरकार को कठघरे  में खड़ा कर दिया। एक तरफ सीएम गहलोत देश में डर का माहौल बता रहे है तो दूसरी ओर उन्हीं की पार्टी के नेता गहलोत सरकार को तानाशाह कह रहे हैं। जब कांग्रेस के नेताओं को ही मुख्यमंत्री पर भरोसा नहीं है तो गहलोत के कथन के क्या मायने हैं। डूडी के समर्थकों ने आरसीए दफ्तर के बाहर ही नारा लागया। आरसीए का अध्यक्ष कैसा हो, रामेश्वर डूडी जैसा हो। समर्थकों का कहना है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने बेरोजगार पुत्र को रोजगार दिलवाने के लिए आरसीए का अध्यक्ष बनवा रहे हैं। मालूम हो कि वैभव गहलोत  को ही अध्यक्ष बनवाने के लिए रामेश्वर डूडी वाले नागौर जिला क्रिकेट संघ को भी अयोग्य घोषित कर दिया है। नागौर के साथ साथ अलवर और श्रीगंगानगर जिला संघों को भी अयोग्य माना गया है। देखना है कि क्रिकेट की जंग राजस्थान में कांग्रेस को कितना नुकसान पहुंचगी। 
एस.पी.मित्तल


हरियाणा बसपा के 27 प्रत्याशियों का ऐलान

चंडीगढ़। बहुजन समाज पार्टी(बसपा) ने हरियाणा विधानसभा चुनावों के मद्देनजर 27 उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है। बसपा सुप्रीमो मायावती के कार्यालय से उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की गई है। बसपा ने बेरी विधानसभा सीट से रमेश दलाल को टिकट दिया है, आरक्षित वर्ग की सीट इसराना से सुनीता सभ्रवाल को टिकट दिया है। रानिया विधानसभा सीट से दया राम और डबवाली विधानसभा से सुभाष नंबरदार को टिकट दिया गया है। बसपा ने दादरी विधानसभा सीट से बक्शी सैनी को टिकट दिया है, वहीं कालका से अश्विनी नागरा को उतारा है।



आतंकी कलीमुद्दीन ने किए कई खुलासे

रांची। झारखंड पुलिस के आतंक निरोधी दस्ता (एटीएस) के हाथों गिरफ्तार किया गया अलकायदा का आतंकी मौलाना कलीमुद्दीन ने अपने कोलकाता कनेक्शन का भी खुलासा किया है। पता चला है कि कोलकाता में उसका बेटा हुजैफा रहता है। कलीमुद्दीन भी लंबे समय तक कोलकाता में रहा है और महानगर के अलावा बंगाल के विभिन्न हिस्सों का दौरा कर उसने कई आतंकियों को तैयार किया है। एटीएस की पूछताछ में इस बात का खुलासा होने के बाद कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) सक्रिय हो गई है। एसटीएफ की एक टीम झारखंड की राजधानी रांची के लिए रवाना हुई है जहां मौलाना कलीमुद्दीन से पूछताछ होनी है।


वही कलीमुद्दीन से पूछताछ में पता चला है कि अलकायदा से जुड़ने वालों को सऊदी अरब से काठमांडू के रास्ते पाकिस्तान भेजा जाता है, जहां से वे प्रशिक्षण लेकर लौटते हैं। जमशेदपुर के धतकीडीह का अब्दुल सामी, अबु सूफियान और मसूद प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके हैं। अब्दुल सामी तिहाड़ जेल जबकि मसूद जमशेदपुर के घाघीडीह जेल में बंद हैं। 2016 में इन दोनों की गिरफ्तारी हुई थी. सामी दिल्ली के पास हरियाणा के मेवात और मसूद जमशेदपुर से गिरफ्तार हुआ था. सामी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने गिरफ्तार किया था। बुधवार को एसटीएफ सूत्रों ने बताया कि मौलाना कलीमुद्दीन ने झारखंड के अलावा ओडिसा और पश्चिम बंगाल में अपने विशाल नेटवर्क के बारे में खुलासा किया है। उसके बेटे और परिवार के अन्य सदस्यों की मौजूदगी कोलकाता में ही है जिन पर निगरानी रखी जा रही है। कलीमुद्दीन से पूछताछ कर यह पता लगाने की कोशिश की जाएगी की पश्चिम बंगाल से उसके आतंक नेटवर्क का क्या कुछ कनेक्शन रहा है। दरअसल 21 सितंबर की रात को जमशेदपुर से कोलकाता आने के लिए वह रवाना हुआ था। टाटानगर स्टेशन पर एटीएस की टीम ने उसे गिरफ्तार किया था। उसका एक अन्य सहयोगी है जिसका नाम अब्दुल रहमान कटकी है। 2015 में उसे ओडिशा में गिरफ्तार कर लिया गया था और तब से लेकर अब तक वह तिहाड़ जेल में बंद है।


पूछताछ में उसी ने इस बात का खुलासा किया था कि दुनिया का सबसे खूंखार आतंकी माना जाने वाला ओसामा बिन लादेन का संगठन अलकायदा का भारत में नेटवर्क चलाने की जिम्मेदारी मौलाना कलीमुद्दीन का है। उसके बाद से सुरक्षा एजेंसियां उसकी तलाश में जुटी हुई थी। कोलकाता पुलिस की एसटीएफ और अन्य एजेंसियों से भी उसकी जानकारी साझा की गई थी। देश भर की सुरक्षा एजेंसियों उसकी तलाश में थी लेकिन वह सब को चकमा देने में सफल रहा था। आखिरकार उसे झारखंड पुलिस की एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया है। अब जबकि उसने अपने कोलकाता कनेक्शन का खुलासा किया है तो बंगाल की सुरक्षा एजेंसियां भी चौकस हो गई हैं। आतंकी ने बताया है कि उसने झारखंड के अलावा बंगाल, ओडिशा और आंध्र प्रदेश में अलकायदा के नेटवर्क को मजबूत किया है। कई जगहों पर उसने आतंकियों का स्लीपर सेल तैयार किया है जिन्हें सऊदी अरब से काठमांडू के रास्ते ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान भेजा जाता था। वहां से प्रशिक्षण लेकर ही आतंकी भारत लौटते थे जहां आतंकी नेटवर्क फैलाने और आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की साजिश रची जाती थी।


'गांधी संदेश यात्रा' कांग्रेस का हंगामा

नई दिल्‍ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बापू की 150वीं जयंती के मौके पर कहा, राष्ट्रपिता ने दिखाया है कि कैसे सभी जीवित प्राणियों के लिए प्रेम और अहिंसा ही एकमात्र तरीका है जिससे हम कट्टरता और घृणा को परास्त कर सकते हैं। मंगलवार सुबह सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राजघाट जाकर महात्मा गांधी को श्रद्धा सुमन अर्पित किए।महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर कांग्रेस अध्यक्ष (अंतरिम) सोनिया गांधी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ  आरएसएस) पर हमला बोला है। सोनिया गांधी ने कहा कि कुछ लोग आरएसएस को भारत का प्रतीक बनाना चाहते हैं। पदयात्रा जब राजघाट पहुंची तो कांग्रेस की अतंरिम अध्यक्ष सोनिया ने कहा, 'भारत की बुनियाद में गांधी के सिद्धांत है। कांग्रेस हमेशा गांधीजी के सिद्धांतों पर चली। जो पूर्ण सत्ता चाहते हैं वह गांधी को कभी समझ नहीं पाए। गांधीजी प्रेम के लिए खड़े रहे, नफरत के लिए नहीं। झूठ की राजनीति वाले गांधी को नहीं समझ सकते। आज देश में युवा बेरोजगारी का सामना कर रहे हैं।'


कांग्रेस ने गांधी जी, गांधीवाद और गांधी का संदेश पहुंचाने के लिए निकाली पदयात्रा


कांग्रेस की तरह आज (बुधवार) से बीजेपी ने 'गांधी संकल्प यात्रा' शुरू कर दी है। इस यात्रा को गृहमंत्री अमित शाह ने हरी झंडी दिखाई। कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि  मैं देशभर के करोड़ों कार्यकर्ताओं को कहना चाहता हूं कि गांधी 150 हम सब के लिए संकल्प का वर्ष बने, गांधी 150 राष्ट्र को एक मुकाम आगे ले जाने का वर्ष बने।


 


'बसपा' कार्यालय पर 'बसपा' का धरना

लखनऊ । बसपा के इतिहास में अभूतपूर्व घटना घटित हुई जब बसपा नेता अनुभव चक के नेर्तत्व में सैकड़ो कार्यकर्ता और पदाधिकारी बहिन कुमारी मायावती की नीतियों और बसपा में बहुजन नायक ईवी रामस्वामी पेरियार के अपमान के विरोध में बसपा के लखनऊ स्थित प्रदेश कार्यालय और बसपा सुप्रीमो मायावती के 9 माल एवेन्यू स्थित आवास पर प्रदर्शन करने जा धमके। प्रदर्शनकारी नारे लिखी हुई तख्तियां अपने हाथों में लिए हुए थे जिनमें लिखा हुआ था। प्रत्याशी बनना हो या पदाधिकारी,पहले बताओ थैली है कितनी भारी, बी एस पी की क्या पहचान,सतीश परेश और खानदान कांशीराम तेरी नेक कमाई,बहिन जी ने बेच खाई कांशीराम तेरा मिशन अधूरा,बहिन जी ने डुबो दिया पूरा।


अनुभव चक और समर्थकों को देखते ही कार्यालय और आवास पर हलचल मच गई आनन फानन में पुलिस भी बुला ली गयी पर प्रदर्शनकारियों के नेता अनुभव चक ने कहा कि हमने अपने जीवन के 18 कीमती वर्ष बहुजन समाज पार्टी को कांशीराम साहब और बहुजन नायकों के बताए रास्ते पर अर्थात मिशन पर चलने के लिये दिए थे। पर आज BSP (Bahujan Samaj Party) न रहकर पूरी तरह से Bhai Satish Party (BSP) बन चुकी है और इसीलिये अब इस पार्टी में बहुजन नायकों का अपमान होना प्रारम्भ हो गया है,साथ ही साथ अभी भी बहिनजी अपने धन- मोह को छोड़ नहीं पा रही है और अपनी कमियों को दूर करने की जगह हर बार हार का ठीकरा ई वी एम पर फोड़ रही है।ऐसे में ये जरूरी था कि पहली बार बहिन जी के आवास पर चढ़ कर प्रदर्शन किया जाए और उनके आवास के प्रवेश द्वार पर निवास पर तैनात सुरक्षा कर्मियों और पुलिस कर्मियो के विरोध के बाद भी निवास-कु.मायावती राष्ट्रीय अध्यक्ष Bhai Satish Party(BSP) का बैनर लगा दिया।।वहीं पर कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए अनुभव चक ने कहा कि कांशीराम ने जिस जाति तोड़ो समाज जोड़ो और समता मूलक समाज की परिकल्पना के साथ बसपा की स्थापना की थी बसपा अब उस मिशन से भटक चुकी है।आज की तारीख में बसपा मायावती के परिजनों और चाटुकारों और सतीश मिश्रा के परिजनों के निर्देश पर चल रही है। मायावती के आवास के बाहर काफी देर नारे बाजी और हंगामे की स्थित बनी रही।कार्यक्रम के बाद सभी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने बसपा से इस्तीफा दे दिया।अनुभव चक के समर्थन में इस्तीफा देने वालो में प्रमुख रूप से बबलू पासवान(जिला प्रभारी),राजेन्द्र गुप्ता(जिला प्रभारी),जे पी सोनकर(नगर कोषाध्यक्ष),अमित संखवार(मंडल संयोजक वामसेफ कानपुर),अनिल चक(पूर्व जिला अध्यक्ष भाईचारा कमेटी),राजकिशोर चक(मंडल संयोजक),प्रभात खटीक(पूर्व जिला अध्यक्ष झांसी), वीरेंद्र गौतम(पूर्व पार्षद प्रत्याशी वार्ड 11),अजीत कठेरिया(पूर्व पार्षद प्रत्याशी वार्ड 27),mohd फिरदौस(पूर्व पार्षद प्रत्याशी वार्ड 49),संजय सोनकर (पूर्व पार्षद प्रत्याशी वार्ड 7),वीरेंद्र सोनकर(पूर्व पार्षद प्रत्याशी वार्ड 44),मनीष चक (पूर्व जिला संयोजक),हरेंद्र संखवार पूर्व जिला अध्यक्ष कानपुर देहात, आदि सैकड़ो कार्यकर्ता शामिल थे।


विपक्ष भजन गाता नजर आएगा:योगी

लखनऊ। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर जहां एक ओर सूबे की योगी आदित्यनाथ सरकार विधानसभा में एक अनोखा रिकॉर्ड बनाएगी तो वहीं राजधानी की सड़कों पर राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस अपनी ताकत का प्रदर्शन करती नजर आएगी। दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव गांधी प्रतिमा पर कार्यकर्ताओं संग भजन गाते नजर आएंगे। बापू की 150वीं जयंती के अवसर पर योगी सरकार बुधवार सुबह 11 बजे से गुरवार रात 11 बजे तक विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर इतिहास बनाएगी। हालांकि सरकार के इस विशेष सत्र का विपक्षी दलों समाजवादी पार्टी, बसपा और कांग्रेस ने बहिष्कार किया है।
प्रियंका दिखाएंगी ताकत
दरअसल, जहां सरकार के लिए बापू की जयंती स्वच्छता का सन्देश देने का सहारा बनी है, वहीं विपक्ष के लिए सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने की लाठी बनी है। शाहजहांपुर चिन्मयानंद प्रकरण में कांग्रेस के न्याय पदयात्रा के दौरान नेताओं की गिरफ़्तारी से नाराज कांग्रेस आज लखनऊ के सड़कों पर आक्रोश पदयात्रा निकालने जा रही है। प्रदेशभर से जुट रहे कार्यकर्ताओं का नेतृत्व खुद राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा करेंगी और सरकार के खिलाफ पदयात्र निकाली जाएगी। गांधी जयंती पर पहले से जो पदयात्र प्रस्तावित थी, उसे कांग्रेस ने जनाक्रोश यात्र नाम दे दिया। अब इसकी अगुआई करने के लिए प्रियंका आ रही हैं। विधानमंडल दल की उपनेता आराधना मिश्र ने बताया कि प्रियंका सुबह 10 बजे लखनऊ एयरपोर्ट और 11.55 बजे शहीद स्मारक पहुंचेंगी। 12 बजे वह प्रदेशभर के कार्यकर्ताओं के साथ यहां से मौन पदयात्र शुरू कर लगभग 1.30 बजे जीपीओ स्थित गांधी प्रतिमा पहुंचकर पुष्पांजलि अर्पित करेंगी।
सपा करेगी गांधी प्रतिमा पर भजन
जहां एक और कांग्रेस जनाक्रोश पदयात्रा निकालेगी तो वहीँ समाजवादी पार्टी गांधी प्रतिमा के सामने भजन जाएंगे। समाजवादी पार्टी के दलनेता व नेता विरोधी दल रामगोविदं चौधरी ने बताया कि सपा कार्यकर्ता गांधी जयंती पर उनके प्रिय भजन गाएंगे। हजरतगंज के जीपीओ पार्क स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास अखिलेश यादव व पार्टी के तमाम नेता और कार्यकर्ता उनके प्रिय भजनों, राष्ट्रगान तथा देश प्रेम के अन्य गीतो के साथ गांधीजी के जीवनदर्शन पर चर्चा करेंगे। साथ ही उनकी कल्पना के भारत के निर्माण के लिए संकल्प लिया जाएगा।
बिना विपक्ष का होगा विशेष सत्र
विधानसभा के विशेष सत्र में विपक्ष की गैर मौजूदगी में 36 घाटे तक संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा निर्धारित लक्ष्य विजन 2030 पर चर्चा होगी। इस सत्र में गरीबी उन्मूलन, भुखमरी समाप्त करना, सबका स्वस्थ जीवन, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, लैंगिक समानता, सुरक्षित जल व स्वच्छता का सतत प्रबंधन, किफायती, सतत एवं आधुनिक ऊर्जा, आर्थिक विकास, उद्यमिता अभिनवीकरण एवं अवस्थापना, असमानता कम करना, समावेशी एवं सुरक्षित शहर, सतत उपभोग एवं उत्पादन, जलवायु परिवर्तन, भूमि पर जीवन, शांतिपूर्ण एवं समावेशी संस्थाओं का निर्माण आदि विषय शामिल है।


बेटे को बचाने के चक्कर में गई जान

कानपुर। कानपुर के नजीराबाद थाना क्षेत्र की कोकाकोला क्रॉसिंग के पास मंगलवार शाम को पिता-पुत्र की ट्रेन से कटकर मौत हो गई। घर में विवाद के बाद बेटा आत्महत्या करने क्रासिंग पहुंचा था। पीछे-पीछे पिता भी पहुंच गए। बेटे को बचाने में वे भी ट्रेन की चपेट में आ गए। नजीराबाद के नेहरू नगर निवासी प्रेम कुमार श्रीवास्तव (50) बांसमंडी स्थित मसूद कांप्लेक्स में कपड़े की दुकान में काम करते थे। उनका बेटा नमन श्रीवास्तव (16) बीएनएसडी इंटर कॉलेज में 12वीं का छात्र था। पुलिस के मुताबिक नमन ने करीब एक सप्ताह पहले 13 हजार रुपये का ऑनलाइन मोबाइल खरीदा था।


पैसों का भुगतान बहन नैंसी के एटीएम से कर दिया था।सोमवार को नैंसी को इसकी जानकारी हुई, तब से घर में विवाद चल रहा था। मंगलवार सुबह नमन का पिता से भी झगड़ा हुआ। इसके बाद शाम करीब साढ़े छह बजे नमन खुदकुशी की धमकी देकर घर से निकल गया।


पीछे-पीछे प्रेम कुमार भी चल दिए। नमन क्रॉसिंग के पास रेलवे ट्रैक के किनारे बैठा था। प्रेम कुमार भी बगल में बैठ गए और उसे समझाने लगे। इसी बीच ट्रेन आई तो नमन ट्रैक पर पहुंच गया। प्रेम भी उसे बचाने के लिए आगे बढ़े और दोनों ट्रेन की चपेट में आ गए। मौके पर मौत हो गई। नजीराबाद थाने के एसएसआई नरेश पाल सिंह ने बताया कि घरेलू विवाद की बात सामने आई है। जांच की जा रही है।


दरोगा को मारे घुसे थप्पड़, फरार

उन्नाव। एक तरफ यूपी पुलिस ताबड़तोड़ एनकाउंटर करने में लगी है, वहीं उन्नाव की पुलिस अपराधियों से पिटती नजर आ रही है। जिसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में फैसल नाम का वारंटी, एसआई के साथ मारपीट करता दिख रहा है। पूरा मामला सदर कोतवाली क्षेत्र के सिंगरौसी गांव का बताया जा रहा है।


जानकारी के मुताबिक, मामला उन्नाव जिले के सदर कोतवाली क्षेत्र के सिंगरौसी गांव का है। पुलिस कई दिनों से फरार चल रहे फैसल को पकड़ने रविवार को सिंगरौसी गांव पहुंची थी। इसी दौरान जब पुलिस फैसल को पकड़ कर ले जाने लगी तो उसने दरोगा के साथ मारपीट की। जिसका वीडियो वायरल हो रहा है।इस वीडियो में वारंटी फैजल, दारोगा को थप्पड़ और घूंसे मारता हुआ नजर आ रहा है। वहीं खुद को पुलिस से छुड़ाने के लिए अपने साथियों को बुलाता नजर आ रहा है। जिसके बाद वांछित फैजल, मोहल्ले वालों की मदद से फरार भी हो गया। बताया जा रहा है कि दारोगा, मारपीट में काफी घायल हो गए। तीन पुलिसवालों के होते हुए भी पिट गए दारोगा


वायरल हो रहे वीडियो में नजर आ रहा है कि तीन पुलिस वाले वांछित फैजल को पकड़े हुए हैं। तीन पुलिसवालों के होते हुए भी फैजल, दारोगा को थप्पड़ और घूंसे मारता दिख रहा है। इतना ही नहीं वह अपने लोगों को भी बुला रहा है। वहीं, उन्नाव एसपी एमपी वर्मा ने बताया कि पुलिस से मारपीट करने के मामले में हारून को पकड़कर है। पूछताछ के दौरान हारून ने रूआब, सावेज, अभिषेक, आकाश, सारूल, गुड्डू, सारिक, महफूज के नाम बताएं। जिसके बाद पुलिस 10 नामजद और 50 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इनके विरुद्ध पुलिस पार्टी पर हमला करने, कार्य में बाधा पहुंचाने के संबंध में मुकदमा दर्ज कराया गया है। इसमें टीमें बनाकर के गिरफ्तारी की कार्रवाई की जा रही है। जांच के बाद अग्रिम अन्य कार्रवाई भी की जाएगी।


परिवार का सामूहिक आत्महत्या का प्रयास

दौसा जिले में एक परिवार ने बीती रात सामूहिक आत्महत्या करने का प्रयास किया। बताया जा रहा है कि एक ही परिवार के सभी सदस्यों ने जहरीले पदार्थ का सेवन करके जाने देने की कोशिश की।


दौसा। राजस्थान के दौसा जिले में एक परिवार के 5 लोगों  ने मंगलवार की रात सामूहिक आत्महत्या करने का प्रयास किया। बताया जा रहा है कि परिवार के सभी सदस्यों ने जहरीले पदार्थ का सेवन करके जाने देने की कोशिश की। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस तुरंत ही मौके पर पहुंची और घर के सभी सदस्यों को स्थानीय लोगों की मदद से अस्पताल में पहुंचाया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।


सभी सदस्यों को दौसा जिला अस्पताल में कराया भर्ती 


घटना जिले के टोरडा गांव की है, जहां एक परिवार के सभी सदस्यों ने जहर पीकर अपनी जान देने की कोशिश की। इस पूरे घटनाक्रम में सुरेश बैरवा, संजय बैरवा, रेखा बैरवा, बिन्नो बैरवा व किशन लाल बैरवा ने जहरीले पदार्थ का सेवन किया है। सिकंदरा थाना पुलिस को जब इस घटना की जानकारी मिली तो वह तुरंत घटनास्थल पर पहुंची। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने परिवार के सभी सदस्यों को दौसा जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से परिवार के सभी सदस्यों की गंभीर स्थिति को देखते हुए उन्हें जयपुर  रेफर कर दिया गया।


खुदकुशी के प्रयास करने के कारणों का नहीं हुआ खुलासा


हालांकि आत्महत्या के प्रयास का वास्तविक कारणों का अभी तक पता नहीं चला है, लेकिन संभावना जताई जा रही है कि परिवार की किसी सदस्य ने अन्य धर्म में शादी कर ली थी, जिसकी वजह से परिवार ने यह कदम उठाया है। फिलहाल पुलिस आस-पास के लोगों से भी पूछताछ में जुटी है। पुलिस का कहना है कि इलाज के बाद मामले का खुलासा हो पाएगा।


संपूर्ण समाधान दिवस मात्र दिखावा

भानु प्रताप


शामली। कैराना तहसील मे अक्तुबर माह के प्रथम सम्पूर्ण समाधान दिवस का तहसील सभा कक्ष में आयोजित कार्यक्रम में कुल 59 शिकायते आयी। जिनमे से केवल 4 शिकायतो का ही मौके पर निस्तारण कराया गया। मंगलवार को उपजिलाधिकारी डा अमितपाल शर्मा की अध्यक्षता में तहसील समाधान दिवस का आयोजन किया गया। जिसमें अवैध कब्‍जे, पेशन, जमीनी विवाद से संबधित कुल 59 शिकायते आयी। जिनमें से 4 शिकायतो को मौके पर निस्तारण कराया गया। बाकी शिकायतो को एक सप्ताह में निस्तारण हेतू संबधित विभागीय अधिकारियो को प्रेषित कर दिया गया। वही 4-5 अधिकारियो के समय पर नही पहुचने के कारण उन्हे कारण बताओ नोटिस भी जारी किए गये। इस अवसर पर सीओ प्रदीप सिंह, तहसीलदार रनबीर सिंह के अलावा अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।


तेलुगू फिल्म रोमांटिक का 'बोल्ड लुक'

टॉलीवुड। तेलुगू फिल्म 'रोमांटिक' का फर्स्ट लुक जारी हो गया है। इसमें एक्ट्रेस केतिका शर्मा ने टॉपलेस अवतार में सोशल मीडिया पर सनसनी मचा दी है। ऐसे में लोगों को अंदाजा है कि फिल्म में बोल्ड सीन देखने को मिल सकते हैं। फिल्म में मुख्य भूमिका में फिल्म मेकर जगन्नाथ पुरी के बेटे आकाश पुरी हैं। फिल्म का डायरेक्शन अनिल पादुरी कर रहे हैं और यह उनकी डायरेक्शन में बनने वाली पहली फिल्म होगी। फिल्म के मुख्य किरदार आकाश पुरी इसमें एक झुग्गी वाले लड़के के किरदार में हैं। फिल्म को आकाश के पिता जगन्नाथ पुरी ही प्रोड्यूस कर रहे हैं।


बता दें कि आकाश पुरी ने अपने अभिनय की शुरुआत चाइल्ड एक्टर के तौर पर की थी। केतिका शर्मा की बात करें तो वह इस मूवी से टॉलीवुड में एंट्री कर रही हैं। इससे पहले केतिका शर्मा अपने कुछ वीडियो से इंटरनेट पर सनसनी फैला चुकी हैं।


भाजपा का उसूल प्रत्याशी नहीं बदलते

राणा ओबराय


नई दिल्ली। नई दिल्ली स्तिथ हरियाणा भवन में एक कार्यकर्ता द्वारा जब हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से जब टिकट वितरण को लेकर कार्यकर्ताओं द्वारा बवाल काटने के नाम पर पुनर्विचार के बारे में सवाल पूछा गया तो मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जवाब देते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी सिद्धान्तवादी पार्टी है जो कभी भी टिकट देने के बाद अपना उम्मीदवार नहीं बदलती है चाहे पार्टी वहां जीते या हारे। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा आप लोग अपने अपने क्षेत्र में जाकर पार्टी के लिए कार्य करो।


ट्रेन की चपेट में आकर दंपति की मौत

जालौन। जालौन के एट रेलवे स्टेशन पर पत्नी सहित दवा लेने कानपुर जा रहे हाजी सलीम ट्रेन संख्या 1141 की चपेट मे आ गये । जिससे दम्पत्ति के चिथड़े उड गये।, ह्रदय विदारक घटना से सहमे लोग। स्टेशन परिसर के आसपास मोजूद यात्रियो भगदड़ मच गई। हादसे के बाद काफी देर तक खड़ी रही ट्रेन 1141 ,रेल प्रशासन की सूचना पर जीआरपी और स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची। शवों को कब्जे में लेकर छानबीन की जा रही है। सवो को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की तैयारी कर रही है।


खबर-नसीम सिद्दीकी


निर्माण रोकने वाले दबंगों के खिलाफ धरना

दबंगों द्वारा गांव की नली और खड़ंजा न बनने देने के खिलाफ आज ग्रामीणों ने शुरू किया धरना प्रदर्शन।
कुशीनगर। नेबुआ नावरंगिया ब्लॉक अंतर्गत ग्राम पंचायत सूरत छपरा के प्रधान द्वारा अपनी ही ग्राम पंचायत के रास्ते पर जब सोलिंग और नाली बनवाने का कार्य शुरु किया तो उसे कुछ दबंगों द्वारा रोक दिया गया। जबकि पूर्बजों के ज़माने से यह रास्ता चल रहा है। सरकारी महकमे फेल है।मौजूदा ग्राम प्रधान प्रतिनिधि शतीस यादव ने बताया कि हमारे ग्राम पंचायत का रास्ता है। जिसे रामशंकर यादव,सत्तन यादव,जनार्दन यादव,जोधन यादव,बिक्रम यादव आदि लोग दबंगई और गुण्डई के बल पर रस्ते का कार्य रोका है। ब्लॉक से लेकर जिले तक प्रधान द्वारा लिखित और मौखिक रूप से सूचना दी गई। परन्तु कोई कार्यवाही न होने की खबर को सुन कुशीनगर के सांसद ने खुद एसडीएम खडडा को आदेशित किया कि ग्राम सभा के रोके गए रास्ते का कार्य तत्काल पूर्ण कराया जाये। धरना प्रदर्शन में मुख्य रूप से कांता यादव,सुबास प्रसाद,छेदी गुप्ता,राधा प्रसाद,पप्पू,यादव,अरबिन्द यादब,बिनय यादव,रटन प्रसाद ,बजरंगी गुप्ता सहित सैकङो ग्रामीण आज धरने पर बैठे।


अवैध संबंधों के चलते ससुर-बहू ने दी जान

अवैध संबंधों में ससुर और बहू ने की खुदकुशी एक ही चारपाई पर मिले शव l
इटावा। जनपद के लवेदी थाना क्षेत्र के ग्राम असद पुर में मंगलवार की सुबह एक ही चारपाई पर ससुर और बहू के शव पड़े मिले तो सनसनी फैल गई। सुबह जब चारपाई पर मां और बाबा को मृत पड़ा देखा तो मासूम बेटा चीख पड़ा। उसका शोर सुनकर पड़ोसी पहुंच गए कहा जा रहा है कि अवैध संबंधों के चलते ससुर और बहू ने जहरीला पदार्थ खाकर खुदकुशी की है। महिला का पति बाहर रहकर प्राइवेट नौकरी करता है। पुलिस ने घटना की छानबीन शुरू की है, नजारा देखकर सन्न रह गए परिजन l
ग्राम असद पुर में मंगलवार की सुबह उस समय सनसनी फैल गई कृष्ण मुरारी और उनकी बहू सरिता का शव एक ही चारपाई पर पड़ा पाया। सरिता का 6 वर्षीय पुत्र अंकुश ने सोते समय प्यास लगने पर मां को आवाज दी। मां के नहीं उठने पर अंकुश उठा और चारपाई के पास पहुंचा चारपाई पर लेटी मां सरिता को हिलाया और फिर बाबा को हिलाया। लेकिन दोनों में कोई हरकत नहीं हुई। इस पर वह तेजी से रोने लगा। वह रोते ही पड़ोस में रहने वाले कृष्ण मुरारी के भाई प्रकाश के घर पहुंचा। उसे रोता देखकर परिजन साथ में घर आए और नजारा देखकर सन्न रह गए। परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना की पड़ताल की और पड़ोसियों से पूछताछ की l
दिल्ली में रहकर पति करता है नौकरी l
ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि 56 वर्षीय कृष्ण मुरारी घर में 40 वर्षीय बहु सरिता देवी और 6 वर्षीय पौत्र अंकुश के साथ रहते थे। उनका बेटा पंकज दिल्ली में रहकर प्राइवेट नौकरी करता है। वह कभी-कभार त्योहार पर ही घर आता है। बीते कई वर्षों से सरिता बेटे के साथ ही रह रही थी। ग्रामीणों का कहना है कि पति के बाहर रहने से महिला के अपने ससुर से संबंध हो गए थे। पुलिस ने प्राथमिक छानबीन के बाद अवैध संबंधों के चलते जहरीला पदार्थ खाकर ससुर और बहू के खुद कशी करने और तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई करने की बात कही है l
रिपोर्ट-संजय कुमार


कांग्रेस-किसानों का सातवें दिन धरना

महाराजगंज। निचलौल के चंदन नदी घाट पर सातवें दिन जारी रहा कांग्रेसी कार्यकर्ता व किसानों का आंदोलन l
निचलौल गन्ना भुगतान दिलाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष किसान नेता राजू कुमार गुप्ता एवं ग्रामीणों के अगुवाई में आज सातवां दिन भी घंटों जल सत्याग्रह जारी रहा। इसके उपरांत दर्जनों ग्रामीणों के लोग अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया योगी सरकार जिला प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए। और जल्द से जल्द पुलिया स्वीकृत कराया जाए एवं (gadaura) चीनी मिल पर गरीब किसानों का ब्याज सहित तत्काल भुगतान हो और एक सुर में शुक्र हर. बकुल डीहा बोधना कट खोर मैरी झर वालिया बन्नी सिंगा भार डगरपुर समेत दर्जनों ग्रामीणों ने गंगा मैया की कसम खाकर प्रण लिया। अंतिम सांस तक 2 सूत्री मांग पूरा होने तक गांधीवादी सत्याग्रह जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि सभी सत्याग्रही का स्वास्थ्य खराब हो रहा है। सरकार और जिला प्रशासन नींद की गोली खाकर सोया हुआ है। हम लोग भी अंतिम सांस तक चाहे हमारी जान क्यों ना चली जाए लड़ाई जारी रहेगी। जिसकी सारी जिम्मेदारी योगी सरकार एवं जिला प्रशासन का होगा। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के दुर्भाग्य है की क्षेत्र के गैर कांग्रेसी जनप्रतिनिधि सिर्फ इस क्षेत्र को धोखा दिया और क्षेत्र का विकास न करके सिर्फ अपना विकास किया। मांग पूरी होने तक जल सत्याग्रह जारी रहेगा इस दौरान रामकृपाल यादव, सुरेश मौर्य, शिवकुमार, बैजनाथ यादव, लोरिक यादव, जावेद उर्फ छोटू, वेद प्रकाश मौर्य, वेदनाथ यादव, दीनानाथ, इंद्रजीत मौर्य ,मुन्ना यादव ,कपिल देव गुप्ता ,चरण यादव ,मुकेश गौड़ संजय चौहान, अवधेश यादव, शिव प्रताप चौहान, आलम, इंद्रावती, चंद्रावती, शकुंतला आदि सैकड़ों लोग उपस्थित रहे l
रिपोर्ट-संजय कुमार


हरियाणा कांग्रेस में जबरदस्त घमासान

चडींगढ। हरियाणा में 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए लिस्ट जारी होने से पहले ही कांग्रेस में जबरदस्त घमासाना मच गया है। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता किरण चौधरी और अशोक तंवर पार्टी से नाराज बताये जा रहे हैं। टिकट वितरण में अनदेखी से नाराज किरण चौधरी बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर पहुंच गईं है। वही अशोक तंवर कल से ही वही डटे है।


इतना ही नहीं, सूत्रों के मुताबिक ये दोनों नेता इस्तीफा भी दे सकते हैं। तंवर ओर किरण सोनिया गांधी से मुलाकात कर अपनी नाराजगी व्यक्त कर चुके हैं। वही सोनिया गांधी के आवास के बाहर तंवर समर्थकों का जोरदार प्रदर्शन जारी है।


बुजुर्ग को 'डीसी' बनाया,मामला निपटाया

कैथल। नायक फिल्म में अनिल कपूर के एक दिन के सीएम बनने की तर्ज पर कसान गांव का 88 वर्षीय शिवचरण एक दिन का कैथल का डीसी बना। बुजुर्ग डीसी ने कार्यालय में कुर्सी पर बैठकर जहां अपने 9 साल पुराने जमीन बंटवारे का विवाद निपटाया, वहीं अन्य फरियादियों की शिकायतें सुन मौके पर तहसीलदार समेत कई अधिकारियों को आदेश दिए। जो अधिकारी बुजुर्ग को चक्कर कटवा रहे थे, वे डीसी बनते ही, जी हजूरी करते नजर आए।


कुर्सी पर बैठे बुजुर्ग डीसी ने कहा कि काम क्यूं लेट होवै सै, यह नीयत का फर्क है। अच्छी नीयत होगी तो अच्छे काम होवैं सै। सरकार पैसे देवै सै तो अफसरां नै काम भी करना चाहिए। इसी बीच वहां पहुंचे कुछ पत्रकार बोले- आप ऑर्डर दो, आप डीसी हो, ऑर्डर के दयूं मेरा झोला मेरा डोगा कड़ै सै भाई। म्हारी पूछ हो ज्या तो पेटा सा भर ज्या। ईब मैं संतुष्ट हूं।


टिकट ना मिलने पर, रोया भाजपा नेता

कैथल। मेरी तीस वर्ष की तपस्या का फल भाजपा ने धोखा देकर दिया, षडय़ंत्र के तहत मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मेरा टिकट कटवाया है। मेरे दोनों बच्चे भी भाजपा में पैदा हुए और आज खुद बच्चों वाले हो चुके हैं। ये शब्द भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य रणधीर गोलन ने पूंडरी जश्र पैलेस में आयोजित हलका कार्यकर्ताओं की बैठक में पार्टी टिकट कटने के बाद भावुक होते हुए कहे। इसके साथ ही उन्होंने कार्यकर्ताओं की सहमति से भाजपा से बगावत करते हुए आजाद प्रत्याशी के रूप में चुनाव लडऩे का भी ऐलान कर दिया।


वही हजारों कार्यकर्ताओं ने भाजपा पार्टी के बाहरी प्रत्याशी का विरोध करते हुए गोलन को अपना प्रत्याशी घोषित किया। गोलन ने रोते हुए कार्यकर्ताओं के बीच में अपना दर्द प्रकट करते हुए कहा कि उन्होंने 30 वर्षों से बगैर कोई परवाह किये दिन-रात पार्टी के विकास के लिए अपने खून-पसीने से सींचने का काम किया और अब जब मौका आया तो पार्टी ने पीठ में छूरा घोंपने का काम किया। उनका मात्र इतना कसूर था कि उन्होंने कार्य कार्यकारिणी की बैठक में बिजली निगम द्वारा आये दिन डाले जाने वाले बिजली चोरी के छापों को बंद करने के लिए आवाज उठाई थी, जिसकी मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गांठ बांध ली और उन्हें सरकार के खिलाफ बोलने जैसे आरोप लगा दिये।


गांधी-शास्‍त्री को नेताओ ने दी श्रद्धांजलि

गांधी और शास्त्री की जयंती पर पीएम मोदी, सोनिया और मनमोहन सिंह ने दी श्रद्धांजलि


नई दिल्‍ली। आज देशभर में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाई जा रही है। पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की भी 116वीं जयंती है। इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपिता की समाधि स्थल राजघाट पर उन्हें श्रद्धांजलि दी।


कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, केंद्रीय मंत्रियों पीयूष गोयल एवं हरदीप सिंह पुरी और भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने भी राष्ट्रपिता को पुष्पांजलि अर्पित की। उपराष्ट्रपति ने ट्वीट किया, 'हम महात्मा गांधी को उनकी 150वीं जयंती पर श्रद्धांजलि देते हैं। आइए, हम दैनिक जीवन में गांधीवादी सिद्धांतों को लागू कर और अपनाकर हमारे जीवन में बदलाव लाने का प्रयास करें।'


प्रधानमंत्री ने कहा कि देश मानवता के प्रति गांधी के चिरस्थायी योगदान के लिए उनका आभार व्यक्त करता है। उन्होंने ट्वीट किया, 'हम उनके सपनों को साकार करने और एक बेहतर दुनिया बनाने के लिए लगातार कड़ा परिश्रम करने का संकल्प लेते हैं।' मोदी ने गांधी पर एक छोटा वीडियो भी ट्वीट किया जिसके जरिए बताया कि बापू का शांति का संदेश वैश्विक समुदाय के लिए अब भी प्रासंगिक है।


पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती को लेकर पीएम मोदी ने एक और वीडियो ट्विट किया है जिसमें लिखा है कि 'जय जवान जय किसान' के उद्घोष से देश में नव-ऊर्जा का संचार करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी को उनकी जयंती पर शत-शत नमन।


गांधी जयंती पर चित्रकला प्रतियोगिता

कोरबा। छत्तीसगढ़ प्रदेश युवा कांग्रेस के दिशानिर्देश पर युवा कांग्रेस जिला कोरबा द्वारा शासकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय,रामपुर (PWD) में भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के जयंती कद अवसर पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया।गया जिसमें मुख्य अथिति के रूप में युवा कांग्रेस के पूर्व कोरबा लोकसभा अध्यक्ष श्यामनारायण सोनी जी विशिष्ट अथिति के रूप में युवा कांग्रेस झारखंड प्रभारी अभय तिवारी जी एव युवा कांग्रेस प्रदेश सचिव एव कोरबा जिला प्रभारी गौरव दुबे जी के द्वारा किया गया कार्यक्रम का आयोजन जिला युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष नितिन चौरसिया के नेतृत्व मे एव कार्यकारिणी अध्यक्ष आकाश शर्मा के विशेष उपस्थिति में हुआ, कार्यक्रम में करीब 168 बच्चों एव करीब 15 विद्यालयो के छात्र छात्राओं ने कार्यक्रम में सहभागिता प्रदान किया कार्यक्रम में प्रथम पुरस्कार कु रश्मि प्रजापति बल सदन विद्यालय, बालको को 7777 रुपये प्रदान किया गया,द्वितीय विकास केसरवानी शासकीय विद्यालय, रजगामार 5555 रुपये एव  श्रेया साहू न्यू एरा प्रोग्रेसिव विद्यालय, कोरबा 3333 रुपये प्रदान किया इसके अलावा उभरते सितारे के रूप में अनुभूति सक्सेना डीएवी,कोरबा की छात्रा को दिया गया,मंच संचालन युवा कांग्रेस महासचिव एव कार्यालय प्रभारी मधूसूदन दास के द्वारा किया गया।


प्रमुख रूप से युवा कांग्रेस विधानसभा अध्यक्षगण बालेन्द्र सिंह,रवि कश्यप,बृजभूषण प्रसाद,धर्मराज अग्रवाल,युवा कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष भरत मिश्रा,कृष्णपाल सिंह,महासचिव सहजाद आलम,नरेंद्र यादव,पंकज सोनी,लखन पात्रे,सचिव विवेक श्रीवास,शब्बीर खान,मितेश यादव,कमल चंद्रा,विनय गुप्ता, बाबा महन्त,ब्लॉक अध्यक्ष हरिहर दास, राघव साहू,निरंजन श्रीवास,प्रिंस मित्तल,मोनू कुरैसी,अंकित श्रीवास्तव, एनएसयूआई जिला संयोजक ज्ञानेंद्र चंद्रा,साबिर अंसारी,आशु अली,अमरेश पंडित,अमित सिंह,और अनेक युवा कांग्रेसी उपस्थित थे।


गडकरी ने लॉन्च की 'बांस की बोतल'

नई दिल्ली। केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम और सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती की पूर्व संध्या पर मंगलवार को नई दिल्ली में केवीआईसी के नए उत्पादों को लॉन्च करने के साथ-साथ एक विशेष बिक्री अभियान भी शुरू किया। उन्होंने बांस से बनी 700 एमएल और 900 एमएल की क्षमता वाली बोतल को लॉन्च किया। यह बोतल त्रिपुरा स्थित एक संगठन द्वारा बनाई गई है। इसे प्लास्टिक की बोतलों का सटीक प्रतिस्थापन या विकल्प माना जा रहा है क्योंकि यह प्राकृतिक, किफायती, आकर्षक और सर्वाधिक पर्यावरण अनुकूल है। उन्होंने लाडली द्वारा तैयार किफायती सैनिटरी नैपकिन के साथ-साथ एक नए साबुन और कच्ची घानी सरसों तेल को भी लॉन्च किया।


महात्मा गांधी की 150वीं जयंती की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपिता को स्मरण करते हुए गडकरी ने कहा कि खादी और ग्रामोद्योग गांधीजी के हृदय के बहुत करीब थे। उन्होंने कहा कि गांधीवादी अर्थशास्त्र में अधिकतम लोगों की भागीदारी के साथ अधिकतम उत्पादन पर जोर दिया जाता है और भारत सरकार उनके सपनों को साकार करने के लिए पूरी तन्मयता के साथ काम कर रही है। उन्होंने कहा कि 400 रेलवे स्टेशनों पर कुल्हड़ में चाय सुलभ कराना और चमड़ा कारीगरों को टूल किट का वितरण इसी दिशा में अहम कदम हैं। गडकरी ने खादी उत्पादों के आधुनिकीकरण की आवश्यकता पर भी बल दिया, ताकि उन्हें युवाओं के लिए और ज्यादा आकर्षक बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि मंत्रालय और केवीआईसी इस संबंध में प्रख्यात डिजाइनरों के साथ सहयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में 200 एमएसएमई कंपनियां नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) में सूचीबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि केवीआईसी को भी एनएसई में कुछ उद्यमियों को सूचीबद्ध कराने के प्रयास करने चाहिए जिससे कर्ज का प्रवाह आसान हो जाएगा। 


गडकरी ने पर्यावरण अनुकूल, किफायती और स्वास्थ्य तथा पर्यावरण के लिए बेहतर माने जाने वाले नए उत्पादों को विकसित करने में केवीआईसी द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस वर्ष खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) 13 अक्टूबर, 2018 को एक ही दिन में 1.25 करोड़ रुपये की बिक्री करने के स्वयं के रिकॉर्ड को तोड़ देगा। 
केवीआईसी के अध्यक्ष विनय सक्सेना ने कहा कि केवीआईसी ग्रामोद्योगों के पुनरुत्थान में जुटा हुआ है। आज लॉन्च किए गए कच्ची घानी सरसों तेल की आपूर्ति प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी) से जुड़ी एक यूनिट कर रही है, जिसे हाल ही में जयपुर के निकट स्थापित किया गया है। किफायती सैनिटरी नैपकिन भी एक पीएमईजीपी यूनिट में तैयार किए जा रहे हैं जो चंडीगढ़ में अवस्थित है। उन्होंने बताया कि केवीआईसी का वार्षिक कारोबार लगभग 3,000 करोड़ रुपये है और इसे आने वाले वर्षों में बढ़ाकर 5,000 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंचाने की कोशिश की जा रही है। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाने के मद्देनजर केवीआईसी पहली बार गांधी टोपी एवं गांधी धोती पर 40 प्रतिशत डिस्काउंट या छूट दे रही है। इसी तरह सभी ग्रामोद्योग उत्पादों पर 20 प्रतिशत छूट दी जाएगी जो 2 अक्टूबर से प्रभावी होगी और यह 40 दिनों के लिए मान्य होगी।


बिजनौर:हत्यारोपी के पीछे लगाया ड्रोन

बिजनौर। बिजनौर के बढ़ापुर थाना क्षेत्र में अपने पड़ोसी बीजेपी नेता के बेटे कृष्णा और भतीजे राहुल को दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या करने वाले आरोपी मोहल्ला नौमी में रहने वाला अश्वनी उर्फ जॉनी दादा को पकड़ने के लिए बिजनौर में इन दिनों पुलिस प्रशासन के द्वारा ड्रोन का सहारा लिया जा रहा है।


पुलिस के आला अधिकारी हत्यारे को पकड़ने के लिए ऐड़ी चोटी का जोर लगा रही है और यही वजह है कि 50 बीघा ईख के खेत में जॉनी के छिपे होने की वजह से चारों तरफ भारी फोर्स ने घेर रखा है। साथ ही ड्रोन कैमरे के जरिए से आरोपी हत्यारे की तलाश जारी है।फरार हत्यारे ने 30 सितंबर की शाम को स्योहारा थाना क्षेत्र के गांव दौलताबाद में एक तरफा प्यार में गोलियां बरसाकर नितिका को मौत के घाट उतारकर फरार हो गया। नितिका को गोली मारने के बाद जोनी दादा ईख के खेत मे जा घुसा। घटना की जानकारी के बाद पुलिस ने पूरे जंगल की घेराबंदी कर रखी है।24 घंटे से ज़्यादा हो चुके है। जॉनी अभी भी खेत मे घुसा हुआ है। पुलिस के मुताबिक, अभी तक आरोपी पकड़ा नहीं गया है। ईख के खेत में ही उसे पकड़ने के लिए ड्रोन का सहारा लिया गया है। आरोपी जॉनी की सर्चिंग की जा रही है।


इसरो के वैज्ञानिक की संदिग्ध मौत

हैदराबाद। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के नेशनल रिमोट सेंसिंग सेंटर के वैज्ञानिक एस. सुरेश की हैदराबाद में उनके ही फ्लैट पर हत्‍या कर दी गई है। पुलिस के अनुसार, अज्ञात व्‍यक्ति ने उनके सिर पर किसी भारी चीज से वार किया है। वारदात के समय केरल के सुरेश फ्लैट में अकेले मौजूद थे। बतादें कि उनका फ्लैट शहर के बीचों-बीच अमीरपेट इलाके के अन्‍नपूर्णा अपार्टमेंट में है, जिसमें वह करीब 20 साल से रह रहे थे।


फ्लैट का दरवाजा तोड़कर अंदर घुसी पुलिस : दरअसल, एस. सुरेश मंगलवार को जब कार्यालय नहीं पहुंचने तो उनके साथियों ने मोबाइल पर फोन किया। फोन रसीव नहीं होने पर उन्होंने एस. सुरेश की पत्नी इंदिरा को सूचना दी। उनकी पत्नी चेन्नई में बैंक कर्मचारी हैं। उनकी पत्नी का 2005 में चेन्नई तबादला हो गया था। दोस्‍तों का फोन आने के बाद इंदिरा परिजनों के साथ हैदराबाद पहुंचीं और पुलिस को सूचना दी। पुलिस जब फ्लैट का दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंची तो वहां सुरेश का शव हॉल में पड़ा था।


नेताओं की नजरबंदी से हटी पाबंदी

गांधीजी की जयंती के अवसर पर जम्मू और कश्मीर


नई दिल्ली। प्रशासन ने जम्मू में कुछ नेताओं की नजरबंदी खत्म कर दी है। धारा 370 हटाने के बाद स्थानीय पुलिस ने एहतिहात के तौर पर जम्मू में कई नेताओं को नजरबंद किया था। पूर्व मंत्री और डोगरा स्वाभिमान संगठन पार्टी के अध्यक्ष चौधरी लाल सिंह को भी नजरबंद किया गया था। जम्मू में नजरबंद सभी विपक्षी दलों के नेताओं पर से नजरबंदी हटा दी गई है। जिन नेताओं पर से नजरबंदी हटाई गई है उसमें नेशनल कॉन्फ्रेंस, कांग्रेस, पैंथर्स पार्टी के नेता शामिल हैं।


डोगरा स्वाभिमान संगठन पार्टी के अध्यक्ष चौधरी लाल सिंह के अलावा जिन नेताओं से नजरबंदी हटाई गई है, उसमें नेशनल कॉन्फ्रेंस के देवेंद्र राणा और एसएस सालाथिया, कांग्रेस रमन भल्ला और पैंथर्स पार्टी के हर्षदेव सिंह के नाम शामिल हैं। इन नेताओं को 5 अगस्त से नजरबंद कर लिया गया था।


पीएम ने 'अहिंसादूत' को श्रद्धांजलि दी

नई दिल्‍ली। आज 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी का जन्मदिन है। उन्हें पूरी दुनिया में अहिंसा के प्रतीक के तौर पर जाना जाता है। उनके जन्मदिन को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाता है। उनकी 150वीं जयंती के लिए पूरे देश में जोर-शोर से तैयारियां चल रही हैं।


आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जंयती के साथ देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की 116वीं जयंती मनाई जा रही है। पूरे देश में कई जगहों पर इस अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इस अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी ने राजघाट पहुंचकर बापू को श्रद्धांजलि अर्पित की। पीएम मोदी के साथ लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और हरदीप पुरी ने भी राष्ट्रपिता को उनकी 150वीं जयंती पर नमन किया। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी और लोकसभा अध्यक्ष राजघाट पर आयोजित प्रार्थना सभा में भी शामिल हुए।


सोनिया गांधी और बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी श्रद्धांजलि अर्पित की।इससे पहले कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी बापू की समाधि पर पहुंचकर राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि अर्पित की।


इससे पहले आज सुबह ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, 'गांधी जी की जंयती पर शत शत नमन…बापू का सपना पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत करते रहेंगे। मानवता के लिए गांधी जी के योगदान के लिए हमेशा कृतज्ञ रहेंगे।' इसके साथ ही पीएम मोदी ने गांधी जी का एक वीडियो भी शेयर किया।


राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को उनकी 150वीं जन्म-जयंती पर शत-शत नमन। इसके बाद कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और पूर्व पीएम डॉ मनमोहन सिंह ने लाल बहादुर शास्त्री की समाधि विजय घाट पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शास्त्री जी याद करते हुए ट्वीट किया, 'जय जवान जय किसान' के उद्घोष से देश में नव-ऊर्जा का संचार करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी को उनकी जयंती पर शत-शत नमन।'


कोई पुराना रोग उभर सकता है:सिंह

राशिफल 


मेष-वाहन, मशीनरी व अग्नि आदि के प्रयोग में सावधानी रखें। शारीरिक हानि की आशंका है। पुराना रोग परेशानी का कारण बन सकता है। क्रोध तथा उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। राजमान व यश प्राप्ति की संभावना है। आय में वृद्धि होगी। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। निवेश शुभ रहेगा।


वृष-जीवनसाथी के स्वास्थ्‍य का ध्यान रखें। सहयोग प्राप्त होगा। कानूनी अड़चन दूर होगी। शत्रुभय रहेगा। सुख के साधन जुटेंगे। आय में सुगमता रहेगी। भाग्य का साथ मिलेगा। शेयर मार्केट तथा म्युचुअल फंड मनोनुकूल रहेंगे। घर-बाहर प्रसन्नता तथा उत्साह बने रहेंगे।


मिथुन-प्रतिद्वंद्विता बढ़ेगी। विवाद बढ़ने की आशंका है। क्लेश होगा। भूमि व भवन संबंधी निर्णय लेने में जल्दबाजी न करें। कोई बड़ा कारोबारी सौदा बड़ा लाभ दे सकता है। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। आय में वृद्धि होगी। प्रसन्नता रहेगी।


कर्क-लाभ के अवसर हाथ आएंगे। विद्यार्थी वर्ग अपने कार्य में सफलता हासिल करेगा। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। किसी मनोरंजक यात्रा का आयोजन हो सकता है। स्वादिष्ट भोजन का आनंद प्राप्त होगा। आराम तथा मनोरंजन का समय प्राप्त होगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी।


सिंह-कोई पुराना रोग उभर सकता है। किसी व्यक्ति विशेष से अकारण विवाद हो सकता है। संयम बरतें। दु:खद समाचार प्राप्त हो सकता है। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। भावनाओं को वश में रखें। मन की बात किसी को न बतलाएं। दूसरों के कार्य में दखल न लें।


कन्या-पहले की गई मेहनत का फल अब मिलेगा। सामाजिक कार्य करने की प्रेरणा प्राप्त होगी। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। आय में वृद्धि होगी। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। नौकरी में कार्य की प्रशंसा होगी। निवेश शुभ रहेगा। थकान महसूस होगी।


तुला-बोलचाल में संतुलन रखें। परिवार के छोटे सदस्यों के स्वास्थ्‍य व अध्ययन संबंधी चिंता रहेगी। घर में अतिथियों का आगमन होगा। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। कोई बड़ा कार्य प्रारंभ करने तथा लंबे प्रवास का मन बनेगा। लाभ होगा।


वृश्चिक-किसी अनहोनी की आशंका रहेगी। शारीरिक कष्ट संभव है। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। अप्रत्याशित लाभ के योग हैं। शेयर मार्केट व म्युचुअल फंड इत्यादि मनोनुकूल लाभ देंगे। थकान महसूस होगी।


धनु-मानसिक उलझनें रहेंगी। शारीरिक कष्ट से बाधा होगी। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। कर्ज लेने की आवश्यकता पड़ सकती है। धैर्य रखें। किसी व्यक्ति विशेष से कहासुनी हो सकती है। नए संबंध बनाने से पहले व्यक्ति को परख लें। धोखा खा सकते हैं। आय होगी।


मकर-कुंआरों को वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। भागदौड़ रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। भाग्य का साथ मिलेगा। कारोबार में वृद्धि होगी। निवेश शुभ रहेगा। प्रमाद न करें।


कुंभ-किसी लंबी यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। नेत्र पीड़ा की आशंका है। नई योजना बनेगी। तत्काल लाभ नहीं मिलेगा। व्यापार-व्यवसाय इत्यादि मनोनुकूल रहेंगे। शेयर मार्केट तथा म्युचुअल फंड लाभदायक रहेंगे। जोखिम न लें।


मीन-वाणी पर नियंत्रण रखें। शारीरिक कष्ट संभव है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। धर्म-कर्म में रुचि रहेगी। पूजा-पाठ पर व्यय होगा। चिंता तथा तनाव रहेंगे। कोर्ट व कचहरी के कार्य मनोनुकूल रहेंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। प्रमाद न करें।


बिच्छू का जहर मददगार

बिच्छू सन्धिपाद (Arthropoda) संघ का साँस लेनेवाला अष्टपाद (Arachnid) है। इसकी अनेक जातियाँ हैं, जिनमें आपसी अंतर बहुत मामूली हैं। यहाँ बूथस (Buthus) वंश का विवरण दिया जा रहा है, जो लगभग सभी जातियों पर घटता है।


यह साधारणतः उष्ण प्रदेशों में पत्थर आदि के नीचे छिपे पाये जाते हैं और रात्रि में बाहर निकलते हैं। बिच्छू की लगभग 2000 जातियाँ होती हैं जो न्यूजीलैंड तथा अंटार्कटिक को छोड़कर विश्व के सभी भागों में पाई जाती हैं। इसका शरीर लंबा चपटा और दो भागों- शिरोवक्ष और उदर में बटा होता है। शिरोवक्ष में चार जोड़े पैर और अन्य उपांग जुड़े रहते हैं। सबसे नीचे के खंड से डंक जुड़ा रहता है जो विष-ग्रंथि से संबद्ध रहता है। शरीर काइटिन के बाह्यकंकाल से ढका रहता है। इसके सिर के ऊपर दो आँखें होती हैं। इसके दो से पाँच जोड़ी आँखे सिर के सामने के किनारों में पायी जाती हैं।
बिच्छू साधारणतः उन क्षेत्रों में रहना पसन्द करते हैं जहां का तापमान 200 से 370 सेंटीग्रेड के बीच रहता हैं। परन्तु ये जमा देने वाले शीत तथा मरूभूमि की गरमी को भी सहन कर सकते हैं।


अधिकांश बिच्छू इंसान के लिए हानिकारक नहीं हैं। वैसे, बिच्छू का डंक बेहद पीड़ादायक होता है और इसके लिए इलाज की जरूरत पड़ती है। शोधकर्ताओं के मुताबिक बिच्छू के जहर में पाए जाने वाले रसायन क्लोरोटोक्सिन को अगर ट्यूमर वाली जगह पर लगाया जाए तो इससे स्वस्थ और कैंसरग्रस्त कोशिकाओं की पहचान आसानी से की जा सकती है। वैज्ञानिकों का दावा है कि क्लोरोटोक्सिन कैंसरग्रस्त कोशिकाओं पर सकारात्मक असर डालता है। यह कई तरह के कैंसर के इलाज में कारगर साबित हो सकता है। उनका मानना है कि बिच्छू का जहर कैंसर का ऑपरेशन करने वाले सर्जनों के लिए मददगार साबित हो सकता है। उन्हें कैंसरग्रस्त और स्वस्थ कोशिकाओं की पहचान करने में आसानी होगी।


लाभदायक अदरक

अदरक (वानस्पतिक नाम: जिंजिबर ऑफ़िसिनेल / Zingiber officinale), एक भूमिगत रूपान्तरित तना है। यह मिट्टी के अन्दर क्षैतिज बढ़ता है। इसमें काफी मात्रा में भोज्य पदार्थ संचित रहता है जिसके कारण यह फूलकर मोटा हो जाता है। अदरक जिंजीबरेसी कुल का पौधा है। अधिकतर उष्णकटिबंधीय (ट्रापिकल्स) और शीतोष्ण कटिबंध (सबट्रापिकल) भागों में पाया जाता है। अदरक दक्षिण एशिया का देशज है किन्तु अब यह पूर्वी अफ्रीका और कैरेबियन में भी पैदा होता है। अदरक का पौधा चीन, जापान, मसकराइन और प्रशांत महासागर के द्वीपों में भी मिलता है। इसके पौधे में सिमपोडियल राइजोम पाया जाता है।


सूखे हुए अदरक को सौंठ (शुष्ठी) कहते हैं। भारत में यह बंगाल, बिहार, चेन्नई,मध्य प्रदेश कोचीन, पंजाब और उत्तर प्रदेश में अधिक उत्पन्न होती है। अदरक का कोई बीज नहीं होता, इसके कंद के ही छोटे-छोटे टुकड़े जमीन में गाड़ दिए जाते हैं। यह एक पौधे की जड़ है। यह भारत में एक मसाले के रूप में प्रमुख है।


अदरक का अन्य उपयोग:-अदरक का इस्तेमाल अधिकतर भोजन के बनाने के दौरान किया जाता है। अक्सर सर्दियों में लोगों को खांसी-जुकाम की परेशानी हो जाती है जिसमें अदरक प्रयोग बेहद ही कारगर माना जाता है। यह अरूची और हृदय रोगों में भी फायदेमंद है। इसके अलावा भी अदरक कई और बीमारियों के लिए भी फ़ायदेमंद मानी गई है।


यज्ञोपवित संकल्प,अन्वेषण

गतांक से...
मेरे पुत्रों, मैं तुम्हें एक ऋषि के आसन पर ले जाना चाहता हूं। जहां ॠषिवर अपने में विचार विनिमय और अन्वेषण करते रहे हैं। 'बाल्‍यम्‌ ब्रह्म' आज का दिवस कहलाता है। 'नोनम्‌म्‌ ब्रह्म' जहां महापुरुषों की उत्पत्ति का मूल बन जाता है। आज मैं तुम्हें ऐसे क्षेत्र में ले जाऊंगा जहां ऋषि-मुनि अपने में बड़ा अन्वेषण और अनुसंधान करते रहे हैं। माता कौशल्या का जीवन मुझे स्मरण आता रहता है। उनके जीवन में कितनी प्रतिभा रही है। कितनी विचित्रता रही है। जिसके ऊपर हम प्राय: अपने में विचार विनिमय करते रहते हैं। यहां मूल उत्पत्ति का पालना करने की कितनी उधरवा में सीमा होती है। वास्तव में कोई सीमा नहीं होती है। कि कितनी पालना कर सकता है प्राणी। आज मैं तुम्हें त्रेता के काल में ले जाना चाहता हूं, जिस काल में मानव अपने में बड़ा अन्वेषण और विचार विनिमय करता रहा है। माता कौशल्या के गर्भ में जब पुनीत आत्मा विद्यमान थी, तो माता कौशल्या ने एक नियम बनाया था। जब पुत्रेष्टि यज्ञ हुआ तो, यज्ञ होते समय नियम बनाया कि मैं राष्ट्र का अन्न ग्रहण नहीं करूंगी। क्योंकि जब यजमान यज्ञ करता है तो यह यजमान अपनी दक्षिणा प्रदान करता है। जब पुत्रेष्‍टि यज्ञ हुआ तो उस समय कौशल्या से दक्षिणा प्राप्त करने लगे। जब वे प्रदान करने लगी तो ऋषि ने कहा कि हे दिव्या, हमे द्रव्य की दक्षिणा नहीं चाहते, हमें तो दक्षिणा दीजिए कि अब जो राष्ट्र है वह रसातल को जा रहा है यहां आलस्य और प्रमाद बलवती होता जा रहा है। रघुवंश और राजा रघु का जो राज था। महाराजा दिलीप की जो उत्तम प्रणाली थी, उसमें सुक्ष्‍मवाद आ गया है। माता कौशल्या बोली ॠषिवर, पूज्‍यपाद, जो तुम चाहते हो वर्णन करो। उन्होंने कहा तुम्हारे गर्व से एक ऐसे बालक का जन्म होना चाहिए। जो त्याग और तपस्या में ही परिणत होने वाला हो। माता कौशल्या ने वह स्वीकार कर लिया और उन्होंने कहा कि भगवान, तपस्या में ही अपने जीवन को व्यतीत करूंगी। मैं राष्ट्र का अनुकरण नहीं करूंगी। यह उन्होंने संकल्प लिया। मुझे वह काल स्‍मरण आता रहता है कि कैसे उन्होंने संकल्प किया और अपना गृह निवास करने लगी। जब उस शरीर में आत्मा वृत्तियों में रत हो रहा था तो राजा को यह प्रतीत हुआ कि कौशल्या राष्ट्र का अन्‍न ग्रहण नहीं कर रही है और यह बड़ा एक पापाचार बन जाएगा। यदि राष्ट्र का अन्‍न ग्रहण नहीं किया, वह स्वयं कला कौशल करके उसके बदले जी द्रव्य जाता है उसी से लेकर के अपने उधर की पूर्ति करती रहती। स्‍मरण आता रहता है कि राजा ने कहा हे देवी,राष्‍ट्र का अन्‍न ग्रहण नहीं कर रही हो। उन्होंने कहा प्रभु राष्ट्र का जो अन्‍न होता है। वह रजोगुण और तमोगुण से सना होता है। इसलिए मैं उसको ग्रहण नहीं करना चाहती। क्योंकि रजोगुण तमोगुण हमारे विचारों और तरंगों के लिए पवित्र नहीं होता है। राजा ने बहुत नम्रता से भी कहा परंतु कौशल्या ने स्वीकार नहीं किया। अंतिम परिणाम यह हुआ। 'ब्राह्मणम्‌ ब्रह्म कृतम' बेटा सायंकाल का समय था राजा ने कहा कि मैं वशिष्ठ और माता अरुंधति से आग्रह करूंगा। तो यह अन्‍न ग्रहण कर सकेगी। राजा दशरथ अपने वाहन में विद्यमान हो करके भयंकर वनो में जहां वशिष्ठ मुनि महाराजा और माता अरुंधति अपने विद्यालय में निवास करते थे। वह उनके द्वार पर पहुंचे पूर्णिमा का चंद्रमा अपनी संपन्न कलाओं से युक्त था। माता अरुधंती और वशिष्ठ मुनि महाराज एक स्थली पर विद्यमान हो पर कुछ चर्चा कर रहे थे। राजा दशरथ भी उन चर्चाओं को श्रवण करने लगे। माता अरुंधति ने कहा हे प्रभु, यह चंद्रमा कैसा प्रकाशमयी है। मानो अपने में प्रकाशमान है। वशिष्ठ मुनि बोले कि हे देवी, तुम्हें यह प्रतित है कि आज पूर्णिमा का चंद्रमा है और यह सोलह कलाओं से युक्त है। यह समुद्रों से अमृत को लेता है और उसकी वृष्टि कर देता है। चंद्रमा समुद्रों का अधिपति कहलाता है। यह चंद्रमा अमृत को बरसाने वाला है। हे देवी, तुम्हें यह प्रतीत है कि यही तो पृथ्वी के गर्भ में सोम बनकर के अमृत को प्रदान कराता रहता है। यही चंद्रमा की कांति है, जो माता के गर्भ स्थल में जब शिशु होता है तो उसे अमृत प्रदान करता है। यह वही सोम बनकर के अमृत को बहता रहता है। यह अपनी सोलह कलाओं से युक्त है। हे देवी, इसका समुद्रों से मिलान है समुद्र से अमृत लेता है। नाना वनस्पतियों को शोम्‍य बनाता है। माता अरुंधति बड़ी प्रसन्न हुई उन्होंने कहा प्रभु धन्य है। मैं यह जानना चाहती हूं कि एक वशिष्ठ मंडल है और एक अरुंधति मंडल है। इन दोनों का परस्पर क्या समन्वय रहता है। उन्होंने कहा हे देवी, यह जो अरुधंति और वशिष्ठ मंडल है यह अंतरिक्ष मे निवास करने वाले हैं। चंद्रमा से उधरवा गति में गमन करते हैं। अपनी परिधि में भ्रमण करते रहते हैं। जब भी कोई विज्ञान के वांग्मय में प्रवेश करता रहा है। विज्ञान में रत होता रहा है। उसी समय चंद्रमा देखो वशिष्ठ और अरुंधती दोनों की कातिंयां पृथ्वी मंडल पर बुध के माध्यम से होती रहती है और उसको वैज्ञानिक अपने में ग्रहण करते हैं और यंत्रों का निर्माण करते रहे हैं।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


October 03, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-60 (साल-01)
2. बृहस्पतिवार, 03अक्टूबर 2019
3. शक-1941,अश्‍विन,शुक्‍लपक्ष,तिथि - पचंमी, विक्रमी संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 6:15,सूर्यास्त 6:10
5. न्‍यूनतम तापमान -24 डी.सै.,अधिकतम-32+ डी.सै., हवा की गति धीमी रहेगी, बरसात की संभावना रहेगी।
6. समाचार पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है! सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


कोच लोधगर का दिल का दौरा पड़ने से निधन हुआ

मिनाक्षी लोढी        कोलकाता। पश्चिम बंगाल के पूर्व स्पिनर और मिजोरम अंडर-19 टीम के मुख्य कोच मुर्तजा लोधगर का शुक्रवार की रात को विशाखापट्ट...