सोमवार, 29 जनवरी 2024

राइफल निशानेबाजी स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता

राइफल निशानेबाजी स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। भारत के दिव्यांश सिंह पंवार ने आईएसएसएफ विश्व कप 2024 में पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल निशानेबाजी स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता। रविवार को खेले गये मुकाबले में टोक्यो ओलंपियन दिव्यांश सिंह पंवार ने क्वालिफिकेशन राउंड में 632.4 का स्कोर बनाकर शीर्ष स्थान हासिल किया और हमवतन अर्जुन बाबुता के साथ पदक राउंड के लिए क्वालीफाई किया, जो 630.7 के स्कोर के साथ क्वालीफाइंग राउंड में चौथे स्थान पर रहे। संदीप सिंह 630.4 के स्कोर के साथ सातवें, रुद्राक्ष बालासाहेब पाटिल 629.3 के साथ 11वें स्थान पर रहे। दिव्यांश सिंह पंवार 253.7 के स्कोर के साथ एक बार फिर शीर्ष पर रहते हुए एक वर्ल्ड रिकॉर्ड स्कोर बनाया। इटली के डेनिलो डेनिस सोलाज़ो ने 251.8 के साथ रजत पदक जीता, जबकि सर्बियाई निशानेबाज लज़ार कोवासेविक को 230.6 के साथ कांस्य पदक मिला। अर्जुन बाबुता 166.1 के स्कोर के साथ छठे स्थान पर रहे। एक अन्य मुकाबले में सोनम उत्तम मस्कर ने अपने पहले आईएसएसएफ विश्व कप में प्रतिस्पर्धा करते हुए मिस्र अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक सिटी शूटिंग रेंज में महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल प्रतियोगिता में रजत पदक जीता। सोनम ने फाइनल में 252.1 का स्कोर किया और जर्मनी की अन्ना जानसेन से 0.9 पीछे रहीं। पोलैंड की एनेटा स्टैंकीविक्ज़ (230.4) ने भारत की नैंसी (209.5) को पीछे छोड़ते हुए कांस्य पदक जीता। सोनम और नैन्सी ने क्रमशः 632.7 और 633.1 के स्कोर के साथ फाइनल में जगह बनाई थी और 60-शॉट क्वालिफिकेशन राउंड को क्रमशः पांचवें और चौथे स्थान पर समाप्त किया था। भारत की तिलोत्तमा सेन 627.6 के स्कोर के साथ क्वालीफिकेशन में 29वें स्थान पर थीं, जबकि आरपीओ के लिए खेल रही रमिता 632.0 के स्कोर के साथ 10वें स्थान पर रहीं। दो स्वर्ण और तीन रजत के साथ भारत पहले आईएसएसएफ विश्वकप की पदक तालिका में शीर्ष पर है।

संलिप्तता के मामलें में 2 लोगों पर मामला दर्ज किया

संलिप्तता के मामलें में 2 लोगों पर मामला दर्ज किया

इकबाल अंसारी 
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सोमवार को बारामूला जिले में राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में संलिप्तता के मामलें में दो लोगों पर सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत मामला दर्ज किया। पुलिस ने दोनों की पहचान खानपोरा बारामूला निवासी फैयाज अहमद कुमार उर्फ ​​नर्शिमा और जनबाजपोरा बारामूला के सफीर अहमद भट उर्फ ​​सफीर मौलवी के रूप में की है। 
एक पुलिस बयान में कहा गया कि राष्ट्र विरोधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए बारामूला पुलिस ने सक्षम प्राधिकारी से औपचारिक हिरासत आदेश प्राप्त करने के बाद सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम के तहत दो व्यक्तियों पर मामला दर्ज किया। गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों को सेंट्रल जेल कोट-बलवाल जेल जम्मू में रखा गया है। पुलिस ने बताया कि इन लोगों के खिलाफ कई मामले दर्ज हैं और ये कानून-व्यवस्था बिगाड़ने और तोड़फोड़ में शामिल थे। पुलिस ने बताया कि दोनों के खिलाफ कई एफआईआर दर्ज होने के बावजूद उन्होंने अपनी राष्ट्र-विरोधी और असामाजिक गतिविधियाें को नहीं छोड़ा।

लोकसभा सीट को लेकर बैठक का आयोजन किया

लोकसभा सीट को लेकर बैठक का आयोजन किया

भानु प्रताप उपाध्याय 
मुजफ्फरनगर। 2024 का चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक पार्टी तैयारी कर रही है। मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट को लेकर सोमवार को रालोद ने एक बैठक का आयोजन किया। जिसमें रालोद के बड़े नेता भी पहुंचे।
पश्चिम उत्तर प्रदेश लोकसभा प्रभारी कुंवर नरेंद्र सिंह ने बताया कि मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट रालोद की है और काफी समय से रालोद ही इस सीट पर चुनाव लड़ती आई है। आने वाले समय में लोकसभा चुनाव में भी जयंत चौधरी के परिवार से ही कोई यहां पर चुनाव लड़ेगा। या फिर रालोद पार्टी का ही कोई भी नेता इस सीट से चुनाव लड़ेगा। जिसको लेकर आज मुजफ्फरनगर में रालोद के द्वारा आज यह बैठक की गई।

एक बार फिर रूस के 'राष्ट्रपति' बनेंगे पुतिन

एक बार फिर रूस के 'राष्ट्रपति' बनेंगे पुतिन 

अखिलेश पांडेय 
मॉस्को। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन एक बार फिर रूस के राष्ट्रपति बन सकते हैं। वे इस ओर एक कदम और बढ़ा चुके हैं। दरअसल, चुनाव आयोग ने पुतिन का नाम उम्मीदवार के रूप में पंजीकृत कर लिया है। राष्ट्रपति पद का चुनाव इसी साल मार्च में होने वाला है। इसे लेकर आयोग ने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का नाम उम्मीदवार के रूप में सोमवार को औपचारिक रूप से पंजीकृत किया। आगामी चुनाव के बाद पुतिन का और साल के लिए सत्ता में आना तय माना जा रहा है। पुतिन इस समय 71 साल के हैं और वे निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं। लेकिन रूस की राजनीतिक व्यवस्था पर उनका पूरा नियंत्रण है। इसे उन्होंने 24 साल की अपनी सत्ता में स्थापित किया है। पुतिन को चुनौती दे सकने वाले उनके प्रमुख आलोचक या तो जेल में हैं या विदेश में रह रहे हैं। देश में स्वतंत्र मीडिया पर मुख्य रूप से प्रतिबंध है।
ऐसे में 15 मार्च से 17 मार्च के बीच होने वाले चुनाव में पुतिन की जीत निश्चित लग रही है। पुतिन ने 2012 में ‘यूनाइटेड रशिया‘ पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा था, लेकिन 2018 में वे निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनावी मैदान में उतरे थे। पुतिन की लोकप्रियता की रेटिंग लगभग 80 प्रतिशत है और वह ‘यूनाइटेड रशिया‘ की तुलना में कहीं अधिक लोकप्रिय हैं। केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने रूस के सभी 89 क्षेत्रों से पुतिन के अभियान द्वारा एकत्र किए गए 3,15,000 हस्ताक्षरों की समीक्षा के बाद राष्ट्रपति को उम्मीदवार के तौर पर औपचारिक मान्यता दे दी। रूसी चुनाव कानून के अनुसार कम से कम 3,00,000 हस्ताक्षर के बाद ही स्वतंत्र उम्मीदवारों का नाम मतपत्र पर आ सकता है। आयोग ने उन तीन अन्य उम्मीदवारों को पहले ही मंजूरी दे दी है, जिन्हें संसद में प्रतिनिधित्व करने वाले दलों ने नामित किया है और उन्हें हस्ताक्षर एकत्र करने की आवश्यकता नहीं थी।

सीएम ने ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया

सीएम ने ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया

पंकज कपूर 
हरिद्वार। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को हरिद्वार रेलवे स्टेशन से अयोध्या जाने वाली आस्था स्पेशल ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस ट्रेन से 1504 श्रद्धालु प्रथम रवानगी में अयोध्या पहुँचेंगे।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने हरिद्वार से अयोध्या के मध्य आस्था स्पेशल ट्रेन के संचालन की शुभकामनाएं देते हुए ट्रेन के संचालन पर प्रधानमंत्री और रेल मंत्री का धन्यवाद ज्ञापित किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस ट्रेन के संचालन से हरिद्वार, ऋषिकेश, देहरादून सहित गढ़वाल व कुमाउं क्षेत्र के रामभक्तों को सहूलियत मिलेगी। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के लिए हम सभी ने कितना संघर्ष किया, अब हमें उस संघर्ष का प्रतिफल प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व वाली सरकार में मिला है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राम मंदिर के लिए चलाए गए आंदोलन में अर्पण भी था, तर्पण भी था, संघर्ष भी था, संकल्प भी था। उन्होंने कहा कि जिनके त्याग, बलिदान और संघर्ष से वर्षों पुराना ये स्वप्न साकार हुआ, जिनकी तपस्या राममंदिर में नींव की भांति जुड़ी हुई है, मैं उन सभी लोगों को नमन करता हूँ, उनका वंदन करता हूं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में भारत ने भगवान भास्कर के सानिध्य में सरयू के किनारे एक स्वर्णिम अध्याय रचा है। अब सदियों का इंतजार समाप्त हो गया है और हर कोई अयोध्या में भगवान श्रीराम के दर्शन करने को लालायित है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब मैं स्टेशन में प्रवेश कर रहा था तो रामभक्तों के चेहरों पर जो भाव देख रहा था, उन्हें शब्दों में बयां करना संभव नहीं है। सभी रामभक्त वर्षों पुराने स्वप्न को सच होते देखने के लिए अयोध्या जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रीराम का मंदिर हमारी संस्कृति का आधुनिक प्रतीक बनेगा, हमारी शाश्वत आस्था का प्रतीक बनेगा, हमारी राष्ट्रीय भावना का प्रतीक बनेगा और ये मंदिर करोड़ों-करोड़ लोगों की सामूहिक संकल्प शक्ति का भी प्रतीक बनेगा।
उन्होंने कहा कि श्रीराम मंदिर आने वाली पीढ़ियों को आस्था, श्रद्धा, और संकल्प की प्रेरणा देता रहेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम उत्तराखंड को भगवान श्रीराम के आशीर्वाद से देश का श्रेष्ठ राज्य बनाने के लिए कृतसंकल्पित हैं। इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए अपने विकल्प रहित संकल्प के मंत्र को लेकर निरंतर आगे बढ़ रहे हैं और इस लक्ष्य में हमें आप सभी का सहयोग व समर्थन चाहिए।

किसान की हत्या, 4 दोषियों को आजीवन कारावास

किसान की हत्या, 4 दोषियों को आजीवन कारावास 

भानु प्रताप उपाध्याय 
मुजफ्फरनगर। सिखेड़ा थाना क्षेत्र के नंगला मुबारिक गांव के जंगल में 13 साल पहले किसान की हत्या के मामलें में चार दोषियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई। अपर सत्र न्यायालय संख्या-10 की पीठासीन अधिकारी हेमलता त्यागी ने फैसला सुनाया। जानसठ क्षेत्र के कवाल गांव निवासी अहसान अपने चचेरे भाई अनवार के साथ सिखेड़ा क्षेत्र के नंगला मुबारिक गांव के जंगल में स्थित खेतों में आठ दिसंबर 2011 की रात पानी चलाने गया था। बदमाशों ने गोली मारकर अहसान की हत्या कर दी और फरार हो गए। अनवार ने किसी तरह जान बचाकर परिजनों को जानकारी दी।
मृतक के चाचा वादी लतीफ ने हत्या का अज्ञात में मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने जांच के बाद रंजिश के चलते हत्या किए जाने का खुलासा किया था। आरोपी जानसठ के कवाल निवासी वसीम उर्फ अड़वानी, पप्पू, रतनपुरी के नंगला भनवाड़ा निवासी नौशाद और शौकीन के खिलाफ अलग-अलग आरोप पत्र दाखिल किए। प्रकरण की सुनवाई अपर सत्र न्यायालय संख्या-10 में हुई। अदालत में चारों आरोपियों पर दोष सिद्ध हुआ।
बता दें कि दोषियों को हत्या में आजीवन कारावास और 20-20 हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई गई, जबकि दोषी वसीम उर्फ अड़वानी को आर्म्स एक्ट में तीन साल की सजा सुनाई गई है।

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन 

सामूहिक विवाह कार्यक्रम में कुल 333 जोडे़ विवाह के बन्धन में बधें

सांसद, जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी ने नवविवाहित जोड़ों को आर्शीवाद देकर परमपिता परमेश्वर से सफल एवं सुखमय दाम्पत्य जीवन की कामना की

कौशाम्बी। मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना “मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना” के अन्तर्गत आज मिनी स्टेडियम तिलगुड़ी, नेवादा में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सामूहिक विवाह कार्यक्रम में कुल 333 जोडे़ विवाह के बन्धन में बधें, जिसमें 03 जोड़े मुस्लिम समुदाय के भी सम्मिलित हैं। सांसद विनोद कुमार सोनकर, जिलाधिकारी सुजीत कुमार एवं मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 रवि किशोर त्रिवेदी ने नवविवाहित जोड़ों को आर्शीवाद देते हुए परमपिता परमेश्वर से सफल एवं सुखमय दाम्पत्य जीवन की कामना की।
सासंद विनोद सोनकर ने समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम इतने भव्य एवं व्यवस्थित तरीके से आयोजित कराने के लिए जिला प्रशासन को धन्यवाद दिया। उन्होंने नव-विवाहित जोड़ों को आर्शीवाद देते हुए ईश्वर से उनके सफल एवं सुखमय वैवाहिक जीवन की कॉमना की। उन्हांने सभी नव दाम्पत्य जोड़ों से कहा कि जिनका नाम मतदाता सूची में दर्ज नहीं हैं, वे अपना नाम मतदाता सूची में अवश्य दर्ज करायें तथा राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान करें। उन्हांने कहा कि केन्द्र एवं प्रदेश में ऐसी सरकार है, जो बिना किसी भेद-भाव के गरीब, शोषित, पीड़ित, मजदूर, किसान एवं समाज के सभी वर्गों की चिन्ता कर, उनके कल्याण के लिए निरन्तर कार्य कर रहीं है मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत गरीब बेटियों का विवाह कराया जा रहा हैं। उन्होंने कहा कि मा0 मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में गरीब बेटियॉ, जो कभी सपना नहीं देख सकतीं, कल्पना भी नहीं कर सकतीं थी, कि उनका भी इतने भव्य तरीके से विवाह होगा, जिसमें सांसद एवं जिलाधिकारी आदि शामिल होंगे, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत गरीब बेटियों के विवाह करायें जा रहें हैं। मा0 प्रधानमंत्री जी ने 2014 में हरियाणा की धरती से देश के लोगों से आवाह्न कर संकल्प दिलाया कि इस देश की बेटी को बचाना भी है तथा पढ़ाना भी है। मा0 प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में देश की बेटियों को बचाने के साथ ही पढ़ाने एवं आगे बढ़ाने का कार्य हुआ है। बेटी के पैदा होने से लेकर शिक्षा, रोजगार एवं विवाह की व्यवस्था सरकार द्वारा की जा रहीं है। उन्होंने कहा कि बेटियों के पैदा होने पर मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत रू0-06 हजार खाते में जमा कराया जाता है। उन्हांने कहा कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत 2017 से लेकर अब तक जनपद में 06  हजार 500 से अधिक गरीब बेटियों के हॉथ पीले करने का कार्य किया गया। उन्हांने कहा कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार सबका साथ, सबका विकास के साथ कार्य कर रहीं हैं। उन्होंने कहा कि 2024 तक हर घर-नल से जल पहुॅचाने का कार्य किया जा रहा है। उन्हांने कहा कि मा0 प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में 05 करोड़ से अधिक लोगों को प्रधानमंत्री आवास देने का कार्य किया गया। उन्होंने कहा कि सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन जिला मुख्यालय के स्थान पर विधानसभावार आयोजित किया जा रहा हैं ताकि गॉव के लोंगो को आने-जाने में कोई परेशानी न होने पायें। 13 फरवरी को विधानसभा-सिराथू के सरदार बिट्ठल भाई पटेल इंटर कॉलेज, उदहिन बुजुर्ग में सामूहिक विवाह का आयोजन किया जाएगा।
जिलाधिकारी सुजीत कुमार ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना शासन की महत्वाकॉक्षी योजना है, जिसके द्वारा जो परिवार अपने पुत्रियां के विवाह करने में सक्षम नहीं हैं, उन सभी के पुत्रियों का विवाह, इस योजना के अन्तर्गत कार्यक्रम आयोजित कर किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत विवाहित जोड़ों को दाम्पत्य जीवन में खुशहाली एवं गृहस्थी की स्थापना के लिए सहायता राशि के रूप में 35000 (पैतीस हजार) रूपये कन्या के खाते में हस्तान्तरित की जाती है तथा विवाहित जोड़ों को विवाह संस्कार के लिए आवश्यक सामग्री (कपडे़, विछिया, पायल, बर्तन, ट्राली बैग, दीवार घड़ी) दिया जाता है। प्रत्येक विवाहित जोड़े पर शादी व्यवस्था के लिए रूपये 06 हजार खर्च करने का प्रावधान है। इस प्रकार कुल 51 हजार रूपये प्रत्येक जोड़े पर व्यय किये जाने का प्राविधान है इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 रवि किशोर त्रिवेदी एवं जिला समाज कल्याण अधिकारी दिलीप कुमार सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण तथा गणमान्य उपस्थित रहें।
सुशील केसरवानी

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-101, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. मंगलवार, जनवरी 30, 2024

3. शक-1945, पौष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 07:13, सूर्यास्त: 06:52।

5. न्‍यूनतम तापमान- 9 डी.सै., अधिकतम- 21+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू  पंकज कपूर  देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू हो गय...