आंध्र प्रदेश लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
आंध्र प्रदेश लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रविवार, 19 मई 2024

तेज रफ्तार ट्रक से टकराई कार, 6 लोगों की मौत

तेज रफ्तार ट्रक से टकराई कार, 6 लोगों की मौत 

इकबाल अंसारी 
अनंतपुर। आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में एक बेहद दर्दनाक सड़क हादसा सामने आया हैं। यहां के बुचापल्ली के पास एक कार सामने से आ रही तेज रफ्तार ट्रक से जा भिड़ी। टक्कर इतनी भीषण थी कि मौके अपर ही कर में सवार छह लोगों ने दम तोड़ दिया। मरने वालों में एक दूल्हा भी शामिल है। सभी शादी की खरीदारी करने हैदराबाद गए हुए थे। लौटने के दौरान उनकी कार सड़क हादसे का शिकार हो गई।
गूंटाकल्लू पुलिस ने बताया कि अनंतपुर से सात लोग शादी समारोह के लिए खरीददारी करने के लिए एक गाड़ी से हैदराबाद गये थे। खरीददारी के बाद जब वे वापस लौट रहे थे, तभी गूटी के पास बुचापल्ली में ये हादसा हुआ। उन्होंने बताया कि ‘‘कार के चालक को झपकी आ गई। इसके बाद गाड़ी डिवाइडर पार करती हुई सड़क के दूसरी तरफ चली गई। इसी बीच एक ट्रक ने उसे टक्कर मार दी।’’
मरने वालों में दो नाबालिग बच्चे, दो महिलाएं और दो पुरुष शामिल हैं। ये सभी आपस में रिश्तेदार थे। पुलिस ने बताया कि हादसे में दूल्हे फिरोज बाशा की भी मौत हो गई। जबकि कार चला रहा व्यक्ति बच गया है।

गुरुवार, 14 दिसंबर 2023

अस्पताल में लगीं आग, कोई घायल नहीं

अस्पताल में लगीं आग, कोई घायल नहीं 

इकबाल अंसारी 
विशाखापट्टनम। आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में एक निजी अस्पताल में मामूली आग लग गई, जिसमें कोई घायल नहीं हुआ। एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि घटना बंदरगाह शहर के जगदम्बा सेंटर स्थित इंडस हॉस्पिटल में सुबह करीब 11 बजे हुई।
अधिकारी ने बताया, ''हमें नहीं मालूम कि यह शॉर्ट सर्किट था या लैब में मामूली आग कैसे लगी, लेकिन इसकी वजह से पास के कुछ फोम पैनलों में आग लग गई और बहुत धुआं निकला।” उन्होंने कहा कि एहतियातन सभी मरीजों को नजदीकी अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया और स्थिति नियंत्रण में है।

रविवार, 12 नवंबर 2023

प्लास्टिक की गेंद बनाने वाले कारखाने में लगी आग

प्लास्टिक की गेंद बनाने वाले कारखाने में लगी आग

इकबाल अंसारी 
विशाखापत्तनम। विशाखापत्तनम में रविवार तड़के एक प्लास्टिक की गेंद बनाने वाले कारखाने में भीषण आग लग गई। पुलिस ने यह जानकारी दी। हालांकि, अब तक किसी तरह के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है। उन्होंने बताया कि आंध्र प्रदेश औद्योगिक बुनियादी ढांचा विकास निगम (एपीआईआईसी) जोन में स्थित एवरग्रीन पॉलिमर कंपनी में शनिवार और रविवार की दरमियानी देर रात करीब दो बजे आग लग गई।
विशाखापत्तनम के पुलिस उपायुक्त-दो के. आनंद रेड्डी ने बताया, ‘‘यह घटना उस समय हुई जब एक ‘ऑपरेटर’(संचालक) ने प्लास्टिक के अवशेषों को हटाने के लिए आग लगाई।’’ पुलिस ने बताया कि छह दमकल गाड़ियों की मदद से आग पर काबू पा लिया गया।

सोमवार, 26 जून 2023

अवैध संबंध, दोस्त का गला चीर पिया खून 

अवैध संबंध, दोस्त का गला चीर पिया खून 

सत्येंद्र ठाकुर

बंगलुरु। पत्नी के साथ अफेयर के चलते अवैध संबंध होने के शक में एक व्यक्ति ने अपने दोस्त का गला चीर दिया और फिर उसके खून को मुंह लगाकर पीने लगा। इस दौरान नजदीक खड़े युवक के एक अन्य दोस्त ने धारदार हथियार से गला काटने और उसका खून पीने की घटना को मोबाइल में कैद कर लिया। वायरल होने के बाद भाग दौड़ में लगी पुलिस ने आरोपी ने को गिरफ्तार कर लिया है।

कर्नाटक के चिक्काबल्लापुर में रहने वाले विजय ने अपने दोस्त विक्टिम मारेश को मिलने के लिए बुलाया था। दोस्त के बुलावे पर विक्टिम मारेश अपने मित्र विजय के पास मिलने के लिए पहुंच गया। विजय अपने एक अन्य दोस्त जॉन के साथ विक्टिम को नजदीक के जंगल के भीतर ले गया। जहां पर उसने विक्टिम से अपनी पत्नी के साथ उसके अवैध संबंध होने की बात पूछी।

बस इसी बात को लेकर जंगल के भीतर दोनों में विवाद हो गया और देखते ही देखते दोनों में हाथापाई होने लगी । इसी बीच गुस्से में आए विजय ने साथ लाए गए धारदार हथियार से विक्टिम के गले पर प्रहार करते हुए उसे काट दिया। विजय ने दोस्त की गर्दन काटने तक ही अपने को सीमित नहीं रखा बल्कि विक्टिम का गला काटने के बाद वह उसका खून पीने लगा। जंगल में साथ गए दोस्त जॉन ने इस समूची घटना का वीडियो बना लिया। जब यह वीडियों सोशल मीडिया पर वायरल कर हुआ तो इंसान का गला काटने के बाद उसका खून पीने का वीडियो वायरल होते ही समाज में हलचल मच गई और पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया।

पुलिस ने वीडियो के आधार पर आरोपी विजय की खोजबीन करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया है। घटना का वीडियो किसने वायरल किया है अभी इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है। पुलिस ने बताया कि दोस्त के हमले में घायल हुए विक्टिम को स्थानीय लोगों ने अस्पताल पहुंचाया जहां उसकी जान बच गई है।

बुधवार, 21 जून 2023

बच्ची को जंजीरों में बांधकर रखता था रेपिस्ट

बच्ची को जंजीरों में बांधकर रखता था रेपिस्ट

इकबाल अंसारी

विशाखापत्तनम। आंध्र प्रदेश में विशाखापत्तनम के एक अनाथालय में नाबालिग के साथ बार-बार रेप का मामला सामने आया है। आरोप है कि 15 साल की एक लड़की के साथ दो साल तक बलात्कार किया गया। पीड़िता ने बताया कि उसे आश्रम के एक कमरे में जंजीर से बांधकर रखा गया था। ढंग से खाना भी नहीं मिलता था। आरोपी का नाम पूर्णानंद सरस्वती है। उम्र 63 साल वो खुद को संत बताता है।

दिशा पुलिस स्टेशन के सहायक पुलिस आयुक्त विवेकानंद ने बताया कि आरोपी वेंकोजिपलेम क्षेत्र में ‘स्वामी ज्ञानानंद आश्रम’ चलाता है। आश्रम के तहत एक अनाथालय और एक वृद्धाश्रम भी चलाया जाता है। पुलिस के मुताबिक, पीड़िता राजामहेंद्रवरम की रहने वाली है। छोटी उम्र में ही उसने अपने माता-पिता को खो दिया था। जिसके बाद उसकी नानी ने पांचवीं क्लास की पढ़ाई के बाद ज्ञानानंद आश्रम से जुड़े अनाथालय में उसे भर्ती कराया था, वो दो साल से आश्रम में रह रही थी।

नाबालिग ने शिकायत में क्या बताया?

पुलिस के मुताबिक, नाबालिग ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि पिछले दो साल से आरोपी ने उसे एक कमरे में जंजीर से बांधकर प्रताड़ित किया और बार-बार उसका रेप किया। नाबालिग ने आरोप लगाया कि पूर्णानंद उसे हर रात अपने बेडरूम में ले जाता था और उसके साथ बलात्कार करता था। लड़की ने बताया कि उसे ढंग से खाना भी नहीं दिया जाता था।

रिपोर्ट के मुताबिक, 13 जून को पीड़िता अनाथालय में काम करने वाली एक महिला की मदद से वहां से भाग निकली और ट्रेन से विजयवाड़ा पहुंची। यात्रा के दौरान उसने एक साथी महिला यात्री को सारी बात बताई, इसके बाद स्थानीय बाल कल्याण समिति की मदद से मामला पुलिस में दर्ज हुआ।

सोमवार, 10 अप्रैल 2023

एपी: दो महीने के लिए मछली पकड़ने पर प्रतिबंध

एपी: दो महीने के लिए मछली पकड़ने पर प्रतिबंध

इकबाल अंसारी 

अमरावती। आंध्र प्रदेश सरकार ने झींगा और मछली की विभिन्न प्रजातियों के संरक्षण और प्रजनन के मौसम को ध्यान में रखते हुए, राज्य के उस जल क्षेत्र में दो महीने के लिए मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया है, जो बंगाल की खाड़ी में आता है। एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि वार्षिक प्रतिबंध 15 अप्रैल से शुरू होगा और 14 जून तक चलेगा। कुल 61 दिनों की इस अवधि के दौरान सभी पंजीकृत, मछली पकड़ने में इस्तेमाल होने वाली मशीनयुक्त और मोटर चालित नावों से मछली पकड़ने पर रोक होगी।

मत्स्य विभाग के अधिकारी ने एक बयान में कहा, “आदेश का मुख्य उद्देश्य बहुतायत में मिलने वाली झींगा और मछली की विभिन्न प्रजातियों के प्रजनन के मौसम के दौरान संरक्षण उपायों का पालन करना है। सभी मछुआरों से अनुरोध है कि वे समुद्री मछली पकड़ने पर प्रतिबंध का सख्ती से पालन करें जैसा कि पिछले वर्षों में किया गया था।” उन्होंने कहा कि इस उपाय का उद्देश्य प्रतिबंध के बाद की अवधि में मछुआरों को मछली पकड़ने के लिए बेहतर स्थिति प्रदान करना और भावी पीढ़ी के लिए मत्स्य संपदा को बनाए रखना है।

उल्लंघन करने पर मत्स्य विभाग दोषियों की नावों को जब्त कर लेगा और आंध्र प्रदेश समुद्री मत्स्य पालन विनियमन अधिनियम, 1994 के प्रावधानों के तहत भारी जुर्माना लगाएगा, जिसमें सब्सिडी वाले तेल की आपूर्ति और अन्य लाभों को रद्द करना शामिल है। प्रतिबंध को सख्ती से लागू करने के लिए विभाग तटरक्षक बल, तटीय सुरक्षा पुलिस, नौसेना और राजस्व विभाग के साथ मिलकर दक्षिणी राज्य के तट पर गश्त लगा रहा है, जो भारत की दूसरी सबसे बड़ी तटरेखा है। 

गुरुवार, 12 जनवरी 2023

वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के डिब्बे पर पथराव, शीशा टूटा

वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के डिब्बे पर पथराव, शीशा टूटा

सन्नी उपाध्याय

विशाखापत्तनम। आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में कुछ अज्ञात लोगों ने रेलवे यार्ड में खड़ी नई वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के एक डिब्बे पर पथराव किया, जिससे उसकी खिड़की का शीशा टूट गया। पुलिस ने यह जानकारी दी। यह वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन सिकंदराबाद और विशाखापत्तनम के बीच चलाई जाएगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा इसे 15 जनवरी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हरी झंडी दिखाई जानी है।

रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) की प्रारंभिक जांच से पता चला है कि कंचारपालेम में कोच परिसर के पास खेल रहे कुछ बच्चों ने बुधवार रात कथित तौर पर शरारत में ट्रेन के एक डिब्बे पर पथराव किया, जिससे उसकी खिड़की का शीशा टूट गया। घटना की जांच में विशाखापत्तनम पुलिस भी अब आरपीएफ के साथ शामिल हो गई है

पुलिस के मुताबिक, वंदे भारत एक्सप्रेस का एक रेक रखरखाव संबंधी जांच के लिए बुधवार को चेन्नई से विशाखापत्तनम पहुंचा था। अधिकारियों ने बताया कि विशाखापत्तनम में रेक को कंचारपालेम स्थित नए कोच परिसर में ले जाया गया था, जहां यह घटना हुई। पुलिस के अनुसार, पथराव में ट्रेन की एक खिड़की का शीशा पूरी तरह से टूट गया, जबकि दूसरे में मामूली दरार आई। एक स्थानीय पुलिस अधिकारी ने कहा कि वे पथराव करने वाले लोगों की तलाश कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि घटना के बाद इलाके में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है।

शनिवार, 26 नवंबर 2022

पद्मावती ने सूर्यप्रभा वाहनम पर आकाशीय सवारी की 

पद्मावती ने सूर्यप्रभा वाहनम पर आकाशीय सवारी की 

इकबाल अंसारी 

तिरुपति। आंध्र प्रदेश के तिरुपति के निकट तिरुचनूर में चल रहे वार्षिक कार्तिक ब्रह्मोत्सवम के सातवें दिन शनिवार को देवी पद्मावती देवी ने शक्तिशाली सूर्यप्रभा वाहनम पर आकाशीय सवारी की और सूरज की तेज किरणों ने वाहनम की चमक को और अधिक बढ़ा दिया।

देवी को अपने भक्तों को आशीर्वाद देने के लिए चारों माडा सड़कों पर सूर्यप्रभा वाहनम पर सवार किया गया था। तिरुमाला के दोनों पुजारी, ट्रस्ट बोर्ड के सदस्य अशोक कुमार, संयुक्त कार्यकारी अधिकारी वीरब्रह्मम और अन्य लोग भी इस मौके पर उपस्थित थे।

शनिवार, 8 अक्तूबर 2022

ग्रुप-IV के पदों पर नोटिफकेशन जारी किया: आयोग

ग्रुप-IV के पदों पर नोटिफकेशन जारी किया: आयोग

विमलेश यादव 

अमरावती। जो युवा सरकारी नौकरी की तलाश में हैं, उनके लिए एक अच्छा मौका हो सकता है। दरअसल, आंध्र प्रदेश लोक सेवा आयोग ने ग्रुप-IV के पदों पर नोटिफकेशन जारी किया है। इच्छुक और योग्य उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट psc.ap.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। बता दें भर्ती अभियान के जरिए आंध्र प्रदेश लोक सेवा आयोग कुल छह पद पर भर्ती करने जा रहा है। इन पदों पर आवेदन करने की अंतिम तिथि 19 अक्टूबर 2022 हैं। वहीं इन पदों पर आवेदन फीस जमा करने की आखिरी तारीख 18 अक्टूबर 2022 है।

सैलरी डिटेल्स...
इन पदों के चयनित उम्मीदवारों को 25,220 रुपये से लेकर 80,910 रुपये महीना तक सैलरी दी जाएगी।

बत दें इन पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों की आयु 18 से 42 साल तक होनी चाहिए।

शैक्षिणक योग्यता...
इन पदों पर आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट्स की डिग्री होनी चाहिए। बता दें इन पदों पर आवेदन करने से पहले उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर पूरी डिटेल्स चेक कर सकते हैं।

ऐसे करें आवेदन...

  • सबसे पहले उम्मीदवार इसकी ऑफिशियल वेबसाइट psc.ap.gov.in पर जाएं।
  • अब होम पेज दिए गए वन टाइम प्रोफाइल रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करें।
  • अभ्यर्थी अब अपनी प्रोफाइल बनाए और योग्यता अनुसार पद आवेदन करें।
  • आवेदन फॉर्म भरकर उसमें मांगे गए सभी दस्तावेज अपलोड करें।
  • आवेदन शुल्क का भुगतान करें और आवेदन फॉर्म सबमिट करें।
  • फॉर्म का डाउनलोड कर भविष्य के अपने पास प्रिंट आउट अपने पास निकाल कर रख लें।

गुरुवार, 12 अगस्त 2021

ईओएस-03 कक्षा में स्थापित, विफल रहा रॉकेट

अमरावती। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) का जीएसएलवी रॉकेट भू-अवलोकन सैटेलाइट ईओएस-03 को कक्षा में स्थापित करने में बृहस्पतिवार को विफल रहा। रॉकेट के ‘कम तापमान बनाकर रखने संबंधी क्रायोजेनिक चरण’ में खराबी आने के कारण यह मिशन पूरी तरह संपन्न नहीं हो पाया।
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने बताया कि पहले और दूसरे चरण में रॉकेट का प्रदर्शन सामान्य रहा था। इसरो की ओर से जारी एक अधिसूचना के अनुसार, 51.70 मीटर लंबे सैटेलाइट जीएसएलवी-एफ10/ईओएस-03 ने 26 घंटे की उलटी गिनती के समाप्त होने के तुरंत बाद सुबह पांच बजकर 43 मिनट पर श्रीहरिकोटा के दूसरे लॉन्च पैड (प्रक्षेपण स्थल) से सफलतापूर्वक उड़ान भरी थी।
पहले और दूसरे चरण में रॉकेट का प्रदर्शन सामान्य रहा था। ‘क्रायोजेनिक अपर स्टेज’ तकनीकी खराबी के कारण पूर्ण नहीं हो पाई। जैसी उम्मीद थी उस तरह मिशन सम्पन्न नहीं हो पाया। इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने कहा कि मिशन मुख्य रूप से क्रायोजेनिक चरण में एक तकनीकी विसंगति के कारण पूरी तरह से सम्पन्न नहीं किया जा सका।
यह प्रक्षेपण इस साल अप्रैल या मई में होना था लेकिन कोविड-19 वैश्विक महामारी की दूसरी लहर के चलते इसे टाल दिया गया था। फरवरी में ब्राजील के भू-अवलोकन सैटेलाइट एमेजोनिया-1 और 18 अन्य छोटे उपग्रहों के प्रक्षेपण के बाद 2021 में इसरो का यह दूसरा मिशन था। ‘मिशन कंट्रोल सेंटर’ के वैज्ञानिकों ने इससे पहले बताया था कि उड़ान भरने से पहले, ‘लॉन्च ऑथराइजेशन बोर्ड’ ने योजना के अनुसार सामान्य उड़ान भरने के लिए मंजूरी दी थी।
पहले और दूसरे चरण में रॉकेट का प्रदर्शन सामान्य रहा। कुछ मिनटों बाद हालांकि, वैज्ञानिकों को चर्चा करते देखा गया और रेंज ऑपरेशन्स निदेशक द्वारा मिशन कंट्रोल सेंटर में घोषणा की गई कि कुछ खराबी के कारण मिशन पूरी तरह से सम्पन्न नहीं हो सका। ‘मिशन कंट्रोल सेंटर’ में रेंज ऑपरेशन्स निदेशक की घोषणा की, ” क्रायोजेनिक चरण में, प्रदर्शन में विसंगति देखी गई। मिशन पूरी तरह से सम्पन्न नहीं हो सका।
इस अभियान का उद्देश्य नियमित अंतराल पर बड़े क्षेत्र की वास्तविक समय पर तस्वीरें उपलब्ध कराना, प्राकृतिक आपदाओं की त्वरित निगरानी करना और कृषि, वनीकरण, जल संसाधनों तथा आपदा चेतावनी प्रदान करना, चक्रवात की निगरानी करना, बादल फटने आदि के बारे में जानकारी प्राप्त करना था।
इसरो मिशन का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है। 
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के जीएसएलवी रॉकेट के भू-अवलोकन उपग्रह ईओएस-03 को कक्षा में स्थापित करने में बृहस्पतिवार को विफल रहने के बाद केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि इस उपग्रह के प्रक्षेपण का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है।
प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) में राज्यमंत्री और अंतरिक्ष विभाग के प्रभारी सिंह ने कहा कि उन्होंने इसरो अध्यक्ष के. सिवन से मिशन को लेकर विस्तार से चर्चा की है। उन्होंने कहा कि प्रक्षेपण के पहले दो स्तर ठीक रहे लेकिन उसके बाद क्रायोजेनिक के ”अपर स्टेज” में तकनीकी खामी आ गयी।
सिंह ने ट्वीट किया, ”इसरो अध्यक्ष डॉ. के. सिवन से बात की और विस्तार से चर्चा की। पहले दो चरण ठीक रहे, लेकिन उसके बाद क्रायोजेनिक अपर स्टेज में दिक्कत आ गयी। मिशन का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है। गौरतलब है कि बृहस्पतिवार को सुबह प्रक्षेपित किया गया जीएसएलवी रॉकेट देश के नए पृथ्वी अवलोकन उपग्रह ईओएस-03 को अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित करने में नाकाम रहा। इसके बाद इसरो को यह घोषणा करनी पड़ी कि मिशन संपन्न नहीं हो सका।

सोमवार, 7 जून 2021

आंध्र प्रदेश: सरकार ने कर्फ्यू को 20 जून तक बढ़ाया

प्रमोद वेसले                
अमरावती। राज्य सरकार ने आंध्र प्रदेश में कोरोना का प्रकोप और बढ़ते मामलों को देखते हुए कर्फ्यू की सीमा बढ़ाने का फैसला किया है। राज्य में अब 20 जून तक लॉकडाउन लागू रहेगा। सोमवार को मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने अपने ताड़ीपल्ली स्थित कार्यालय में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। बैठक में सरकार ने कर्फ्यू को इस महीने के 20 तक बढ़ा दिया है। साथ ही छूट की अवधि भी बढ़ा दी है। वर्तमान में छूट का समय सुबह छह बजे से दोपहर 12 बजे तक था। अब 11 जून से छूट का समय बढ़ाकर दोपहर 2 बजे करने का निर्णय लिया गया। साथ ही सरकारी कार्यालय और व्यापारिक प्रतिष्ठान सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुलेंगे।

शनिवार, 8 मई 2021

पत्थर की खदान में विस्फोट, 9 कर्मचारियों की मौत

कडपा। आंध्र प्रदेश के कडापा जिले में शनिवार को चूना पत्थर की एक खदान में हुए विस्फोट में 9 कर्मचारियों की मौत हो गई। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस के मुताबिक मृतकों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि विस्फोट स्थल पर क्षत-विक्षत शव बिखरे पड़े थे। कडापा जिले के पुलिस अधीक्षक के अंबुराजन ने बताया कि यह हादसा तब हुआ जब मामिल्लापल्ली गांव के बाहर स्थित चूना पत्थर की खदान पर जिलेटिन की छड़ों की एक खेप उतारी जा रही थी। धमाका इतना तेज था कि वाहन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। जिलेटिन की यह छड़ें बुडवेल से लाई गई थीं।

दुर्घटनास्थल से एसपी ने बताया, “यह लाइसेंस प्राप्त खदान है और प्रमाणित संचालक द्वारा यह खेप लाई गई थी। धमाका तब हुआ जब छड़ों को वाहन से उतारा जा रहा था” हादसे की वजह का अब तक पता नहीं चला है।मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से जारी एक बयान के मुताबिक, मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने कडापा जिले के अधिकारियों से बात कर घटना की जानकारी ली। इसमें कहा गया कि उन्होंने हादसे में जान गंवाने वालों के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की हैं।

रविवार, 14 मार्च 2021

एपी: सड़क हादसे में 6 मजदूरों की मौत, 8 घायल

अमरावती। आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले में नुजिविदु के नजदीक रविवार सुबह एक सड़क हादसे में छह कृषि मजदूरों की मौत हो गई। जबकि, आठ अन्य घायल हो गए हैं। पुलिस ने बताया कि ये लोग विजयवाड़ा से 55 किलोमीटर दूर नुजिविदु के नजदीक लियोन टांडा नामक आदिवासी बस्ती के रहने वाले थे और ऑटोरिक्शे से नजदीकी गांव जा रहे थे। तभी अज्ञात वाहन ने उनके ऑटो में टक्कर मार दी। पुलिस ने बताया कि छह मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि, आठ लोग घायल हो गए। जिन्हें नुजिविदु और विजयवाडा के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। नुजिविदु के उप-खंड पुलिस अधिकारी श्रीनिवासुलु ने बताया, कि मामला दर्ज कर टक्कर मारने वाले वाहन की तलाश की जा रही है। आंध्र प्रदेश के राज्यपाल बिश्वभूषण हरिचंदन, उप मुख्यमंत्री (स्वास्थ्य) एकेके श्रीनिवास, गृहमंत्री एम सुचित्रा, तेलुगुदेशम पार्टी अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू और जन सेना के अध्यक्ष के पवन कल्याण ने इस हादसे पर शोक व्यक्त किया है। श्रीनिवास ने कृष्णा जिले के चिकित्सा अधिकारी को घायलों का बेहतर इलाज सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मृतकों के परिवार को सरकारी सहायता उपलब्ध कराने का भी आश्वासन दिया है।

शनिवार, 27 फ़रवरी 2021

46 साल के व्यक्ति ने खरीदी, 12 साल की लड़की

46 साल के व्यक्ति को 10,000 रुपये में 12 साल की लड़की बेची

नेल्लोर। आंध्र प्रदेश के नेल्लोर जिले में एक दंपति ने अपनी 12 साल की लड़की को 46 वर्षीय एक व्यक्ति को बेच दिया। दंपति ने ऐसा इसलिए किया, क्योंकि उन्हें अपनी बड़ी बेटी का इलाज करना था। उनकी बड़ी बेटी सांस के रोग से पीड़ित है। चिन्ना सुब्बैया ने नाबालिग से शादी की। हालांकि महिला और बाल विकास अधिकारियों ने लड़की को बचा लिया। नाबालिग को जिला बाल स्वास्थ्य केंद्र में स्थानांतरित कर दिया गया है। जहां उसकी काउंसलिंग की जा रही है।
कोट्टूर निवासी दंपति से उनके पड़ोसी सुब्बैया ने मुलाकात की। उसने कथित तौर पर 10,000 रुपये में सौदा किया। रिपोर्ट के अनुसार लड़की के माता-पिता ने 25,000 रुपये मागे थे। इस मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों ने कहा कि सुब्बैया की पत्नी ने झगड़े के बाद उसे छोड़ दिया था। नाबालिग से शादी करने के बाद वह उसे अपने रिश्तेदार के यहां धामपुर जिले में ले आया। जहां नाबालिग ने रोना शुरू कर दिया, जिसके बाद पड़ोसियों ने उससे पूछताछ की और गांव के सरपंच को मामले की जानकारी दी। गांव के सरपंच ने तब बाल विकास विभाग से संपर्क किया।

शनिवार, 13 फ़रवरी 2021

खाई में गिरी टूरिस्ट बस, 5 लोगों की मौत 13 घायल

खाई में जा गिरी टूरिस्ट बस, 5 लोगों की मौत, 13 घायल

विशाखापट्टणम। जिले में एक भीषण हादसा हो गए। जहां देर रात अरकु में एक दूरिस्ट बस अनंतगिरी में खाई में गिर गई। इस हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई और 13 लोग घायल हो गए। मृतकों में एक बच्चा भी शामिल है। ऐसा माना जा रहा है कि इस बस में 30 लोग सवार थे। विशाखापट्टनम इलाके के डीआईजी रंगा राव ने बताया कि घटनास्थल पर टीम पहुंच चुकी है। और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। इसके अलावा एक और वरिष्ठ अधिकारी का कहना है। कि राष्ट्रीय आपदा राहत बल और राज्य अग्निशमन सेवा कर्मचारियों की ओर से बचाव कार्य किया जा रहा है।
स्थानीय लोगों की माने तो बस में सवार यात्री तेलंगाना के रहने वाले हैं। जो पहाड़ी इलाके अरकू को देखने आए थे। वहीं हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिवार वालों के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी संवेदना व्यक्त की हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया कि विशाखापट्टनम में हुए बस हादसे से आहत हूं। जिन लोगों ने इस हादसे में अपनी जान गंवाई है। उनके परिवार के प्रति संवेदनाएं। घायलों के लिए प्रार्थना कि वो जल्द ठीक हो जाएं।
इसके अलावा आंध्र प्रदेश के विपक्षी पार्टी के नेता चंद्रबाबू नायडु ने भी इस हादसे के प्रतिझ अपना दुख प्रकट किया है। चंद्रबाबू नायडु ने ट्वीट किया कि अरकू घाट रोड में हुए भीषण बस दुर्घटना से बेहद दुख पहुंचा है। मैं मृतकों के परिवारजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। और घायलों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं।
टीआरएस नेता केटी रामा राव ने ट्विटर के जरिए कहा कि अरकू में हुए बसे हादसे को लेकर चिंतित हैं। और उन्होंने आंध्र प्रदेश सरकार से हर संभव मदद प्रदान करने की अपील की है।

सोमवार, 25 जनवरी 2021

अंधविश्वास के चलते दो बेटियों की बलि चढ़ाई

दुष्यंत टिकम  

चित्तूर। आंध्र प्रदेश में माता-पिता ने अंधविश्वास और अति भक्ति के कारण दो बेटियों की बेरहमी से हत्या कर दी। यह घटना राष्ट्रीय बालिका दिवस (24 जनवरी) पर रविवार रात को चित्तूर जिले के मदनपल्ली में हुई है। पुलिस के अनुसार, मदनपल्ली शहर के टीचर्स कॉलोनी शिवनगर निवासी वल्लुरुपल्ले पुरुषोत्तम नायडू और पद्मजा रह रहे हैं। पुरुषोत्तम नायडू महिला डिग्री कॉलेज में वाइस प्रिंसिपल और पद्मजा मास्टर माइंड स्कूल की प्रिंसिपल हैं। उन्हें दो बेटियां अलेख्या (27) और साईदिव्या (22) हैं।

इसी क्रम में रविवार को एकादशी के संदर्भ में मकान में विशेष पूजा-अर्चना करने की व्यवस्था की। इसी दौरान माता-पिता ने व्यायाम के लिए उपयोग में आने वाले डंबल से दो बेटियों की बेहरमी से हत्या कर दी। इस दौरान मकान में से चीख पुकार सुनाई दी। चीख पुकार सुनकर स्थानीय लोगों ने मकान में जाकर देखा तो अलेख्या और साईदिव्या की हत्या कर दी गई थी। उन्होंने पुलिस को इस घटना के बारे में खबर किया। पुलिस मौके पर पहुंची और पुरुषोत्तम नायडू और पद्मजा को हिरासत में लिया।

पूछताछ के दौरान पुरुषोत्तम और पद्मजा ने पुलिस से कहा, “सत्य की दुनिया लौटकर आएगी। हमारी बेटियों को हम बचा लेंगे। एक दिन का समय दीजिए। हमारी बेटियां जरूर उठकर आएगी।” पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। इस संबंध में अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है।

मंगलवार, 15 दिसंबर 2020

तेज रफ्तार लॉरी ने मारी टक्कर, चार बच्चों की मौत

कुरनूल। आंध्र प्रदेश में कुरनूल- चित्तूर राज्य राजमार्ग पर मंगलवार को एक तेज रफ्तार लॉरी ने पैदल जा रहे लोगों को टक्कर मार दी, जिससे चार बच्चों की मौत हो गई और आठ अन्य घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि 40 से अधिक लोग पैदल एक सभा के लिये जा रहे थे।

सिरिवेला मंडल के येरागुंटुला गांव में एक तेज रफ्तार लॉरी ने उन लोगों को टक्कर मार दी। हादसे में झांसी (15), सुष्मिता (15), वम्शी (10) और हर्षवर्धन (10) की मौत हो गई। झांसी की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी, जबकि सुष्मिता, वामशी और हर्षवर्धन ने नांदयाल के सरकारी अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।घायलों को नांदयाल के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है जिनमें से दो की हालत गंभीर बतायी जा रही है। हादसे के बाद ड्राइवर ने लॉरी लेकर भागने की कोशिश की , लेकिन स्थानीय लोगों ने लॉरी का पीछा किया और बटुलुरु गांव में चालक को पकड़ लिया।

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...