रविवार, 27 मार्च 2022

ऑस्ट्रेलिया ने 115 रनों से जीता आखिरी टेस्ट मैच

ऑस्ट्रेलिया ने 115 रनों से जीता आखिरी टेस्ट मैच    

मोमीन मलिक                

इस्लामाबाद/सिडनी। पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच लाहौर में खेला गया, तीसरा और आखिरी टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया ने 115 रनों से जीता। 24 साल बाद पाकिस्तान दौरे पर पहुंची ऑस्ट्रेलियाई टीम ने तीन मैचों की बेनॉड-कादिर टेस्ट सीरीज को 1-0 से अपने नाम किया। गद्दाफी स्टेडियम में खेले गए मैच के आखिरी दिन भी दोनों टीमों के बीच एक अच्छी टक्कर देखने को मिली। लेकिन अंत में मेहमान टीम ने शानदार गेंदबाजी के दम पर बाजी मार ली। ऑस्ट्रेलिया के 351 रन के जवाब में पाकिस्तान की टीम 235 रन ही बना पाई और मैच के साथ-साथ सीरीज भी गंवा बैठी। दोनों टीमों के बीच टेस्ट सीरीज खत्म होने के बाद विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की अंक तालिका में भी बड़ा बदलाव हुआ है। 

हार की वजह से पाकिस्तान को जहां बड़ा नुकसान हुआ है तो वहीं भारत को बड़ा फायदा मिला है। सीरीज जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम ने शीर्ष स्थान पर अपनी पकड़ और मजबूत की है। जबकि मेजबान पाकिस्तान दूसरे स्थान से लुढ़ककर चौथे स्थान पर चली गई है। पैट कमिंस की अगुआई वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम चैंपियनशिप में दो सीरीज खेली है, इसमें उसने पांच मैचों में जीत दर्ज करने के साथ ही तीन मुकाबले ड्रा किए हैं। उसके जीत का प्रतिशत अब बढ़कर 75 हो गया है। उनके बाद दक्षिण अफ्रीका की टीम तीन जीत, दो हार के बाद 60 की जीत प्रतिशत के साथ दूसरे स्थान पर पहुंच गई है। अंक तालिका में भारतीय टीम अब तीसरे पायदान पर काबिज हो गई है। टीम इंडिया ने अब तक चार सीरीज के तहत छह जीत, तीन हार और दो ड्रा दर्ज की है। उसका जीत प्रतिशत 58.33 का हो गया है। श्रीलंका (50) पांचवें, न्यूजीलैंड (38.88) छठे, बांग्लादेश (25) सातवें, वेस्टइंडीज (25) आठवें और इंग्लैंड (13.63) नौवें स्थान पर है।

राष्ट्रपति ने रजत जयंती समारोह को सम्बोधित किया

राष्ट्रपति ने रजत जयंती समारोह को सम्बोधित किया    

अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने रविवार को हरिद्वार स्थित दिव्य प्रेम सेवा मिशन के रजत जयंती समारोह को सम्बोधित किया। उन्होंने दिव्य प्रेम सेवा मिशन को संकल्प और सेवा की भावना के साथ मानव कल्याण हेतु संवेदनशीलता से कार्य करने वाली संस्था बताते हुए कहा कि आज से 25 वर्ष पूर्व इस संस्था को एक छोटे बीज के रूप में बोने में उनकी भी भूमिका रही है, जो आज बड़ा वृक्ष बन गई है। राष्ट्रपति ने कहा कि उत्तराखण्ड की पवित्र धरती आध्यात्म् के साथ ही शांति एवं ज्ञान की भूमि रही हैं। गंगोत्री, यमुनोत्री, केदारनाथ, बदरीनाथ के साथ हरिद्वार व हर द्वार भगवान विष्णु एवं शिव की प्राप्ति के द्वार हैं। पतित पावनी जीवन दायिनी गंगा भी इसकी साक्षी है।
उन्होंने कहा कि जब वे पहली बार राज्य सभा के संसद बने तब भी तथा राष्ट्रपति बनने के बाद भी उनकी पहली यात्रा उत्तराखण्ड की रही। उन्होंने कहा कि पवित्र गंगा के तट पर स्थापित यह मिशन मानव सेवा के लिए समर्पित हैं। संस्था द्वारा कुष्ठ रोगियों की समर्पित भाव से की जा रही सेवा सराहनीय है। राष्ट्रपति ने कहा कि स्वतंत्रता के बाद संविधान द्वारा जाति एवं धर्म पर आधारित अस्पृश्यता का तो अंत कर दिया गया, लेकिन अभी भी कुष्ठ के प्रति अस्पृश्यता का भाव समाप्त नहीं हो पाया है। कुष्ठ रोग को कलंक के रूप में देखे जाने की अवैज्ञानिकता के अवशेष आज भी देखे जाते हैं। कुष्ठ रोगियों के प्रति व्याप्त आशंकाओं को दूर करने के प्रयास किये जाने चाहिए। उन्हें भी बीमारी के दौरान तथा उसके बाद स्वास्थ्य होने पर अन्य रोगों से मुक्त होने वाले रोगियों की तरह ही अपनाया जाना चाहिए। इस सम्बन्ध में समाज में फैली आंशकाओं को दूर करने के प्रयासों की भी उन्होंने जरूरत बतायी।
राष्ट्रपति ने कहा कि महात्मा गांधी ने भी कुष्ठ रोगियों की सेवा कर समाज को इसके लिये प्रेरित किया था। महात्मा गांधी का जन्मदिन राष्ट्रीय कुष्ठ दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि कुष्ठ रोग असाधारण नहीं है। इसे असाधारण समझने वाले ही असली रोगी है। राष्ट्रपति ने कहा कि कुष्ठ रोगियों के बीच कार्य करने वालों का आत्मविश्वास कितना ऊंचा होता है, इस संस्था से जुड़े लोग इसका उदाहरण है। इससे पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने दिव्य प्रेम सेवा मिशन, सेवाकुंज परिसर पहुंचने पर शिव अवतरण, शिव ज्ञान से जीव सेवा यज्ञ, सवा करोड़ पार्थिव शिवलिंग पूजन, एक वर्षीय अनुष्ठान कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। इसके पश्चात उन्होंने दिव्य प्रेम सेवा मिशन, सेवाकुंज परिसर में बिल्ब के पौधे का रोपण भी किया। इस अवसर पर राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल से.नि. गुरमीत सिंह ने कहा कि आज का यह कार्यक्रम ‘सेवा की साधना’ को समर्पित है‌। सेवा की साधना की प्रेरणा हमारे प्राचीन ऋषि-मुनियों की देन है।
भारतीय शास्त्रों की देन है, जिनमें परोपकार को सबसे बड़ा पुण्य कहकर महिमामण्डित किया गया है।  पवित्र गुरुवाणी और सिक्ख जीवन दर्शन में सेवा और परिश्रम को सबसे अधिक महत्व दिया गया है। संस्था की इन स्वर्णिम उपलब्धियों’ की पृष्ठभूमि में पिछले पच्चीस वर्षों की तपस्या, सेवा और निष्ठा छिपी हुई है। उन्होंने कहा कि दिव्य प्रेम सेवा मिशन ने, ‘नर सेवा, नारायण सेवा’ के मंत्र को समझा और एक कठिन कार्य को अपने हाथों में लिया है। कुष्ठ रोगियों के बच्चों के भविष्य को उज्जवल बनाने का संकल्प लिया, उनकी शिक्षा और दीक्षा का संकल्प लिया, कला और कौशल विकास का संकल्प लिया यह सब असंभव को संभव बनाने जैसा है। ये कार्य एक सच्चा देशभक्त, राष्ट्रभक्त ही कर सकता है। स्वामी विवेकानन्द ने दुनिया के सामने विश्व गुरू भारत की संकल्पना दी थी, उस संकल्पना की पूर्ति भारतीय ज्ञान के विस्तार और सेवा की सच्ची भावना से ही हो सकती है।
भारत के युवा जितने ज्ञानी और सेवा भावी होंगे हमारा देश उसी गति से विश्वगुरू के अपने पद को प्राप्त कर सकेगा। राज्यपाल ने कहा कि सेवाभावी भारत के निर्माण के लिए युवाओं द्वारा गरीबों, वंचितों, निर्बलों की सेवा का संकल्प लेना होगा। स्वामी विवेकानन्द के ‘नर सेवा, नारायण सेवा’ के मंत्र को सच्चे अर्थो में अपनाना होगा। ज्ञान की उपासना और सेवा की पराकाष्ठा ही हमें विश्व गुरू के पथ पर आगे ले जा सकती है। यह समारोह इस दिशा में कार्य करने के लिए प्रेरणा देने वाला है।  इस अवसर पर अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि दिव्य प्रेम सेवा मिशन से जुड़े लोगों ने वर्ष 1997 से आजतक तिल तिल जलाकर इस मिशन को आगे बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि जिसके प्रेम में दिव्यता होती है उनके लिये दूसरों की सेवा करना ही धर्म बन जाता है।
कुष्ठ रोगियों के हित के लिये यह संस्था निरन्तर कार्य कर रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे सैनिक के पुत्र है और सैनिक कभी सेवानिवृत्त नहीं होता हैं। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रपति सहित अन्य अतिथियों का उत्तराखण्ड की जनता की ओर से स्वागत करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड की जनता ने राज्य के अंदर एक नया इतिहास बनाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि मिशन के संकल्प में कोई विकल्प नहीं है। अतः इस विकल्प रहित संकल्प के सेवा के मिशन को पूर्ण करने में उनका सहयोग रहेगा। दिव्य प्रेम सेवा मिशन के डॉ आशीष गौतम ने संस्था के कार्यों की जानकारी दी। इस अवसर पर देश की प्रथम महिला सविता कोविन्द, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, डॉ. धन सिंह रावत, सांसद रमेश पोखरियाल ‘निशंक’, विधायक आदेश चौहान, प्रदीप बत्रा सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे।

कौशाम्बी: एनजीपीई-2022 परीक्षा का आयोजन

कौशाम्बी: एनजीपीई-2022 परीक्षा का आयोजन    

गणेश साहू           
कौशाम्बी। महामाया राजकीय महाविद्यालय के भौतिक विज्ञान विभाग द्वारा भौतिक विज्ञान परिषद के तत्वाधान में एनजीपीई-2022 परीक्षा का आयोजन किया गया। परीक्षा के सेंटर इंचार्ज डॉ नीरज कुमार सिंह ने जानकारी दी कि परीक्षा हेतु कुल 40 विद्यार्थियों ने आवेदन किया था। जिसमें से 32 विद्यार्थी परीक्षा में उपस्थित रहे।
उल्लेखनीय है कि भौतिक विज्ञान पृष्ठभूमि के स्नातक स्तरीय प्रथम वर्ष द्वितीय वर्ष तथा तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों को कोलकाता के एसएन बोस इंस्टीट्यूट फॉर बेसिक साइंसेज में इंटीग्रेटेड पीएचडी प्रोग्राम में प्रवेश का अवसर उपलब्ध कराने के लिए यह परीक्षा देशभर में भारतीय भौतिकी शिक्षक परिषद द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित की जाती है।
भारतीय भौतिकी शिक्षक परिषद द्वारा आयोजित एनजीपीई के चीफ कोऑर्डिनेटर डॉ. बीपी त्यागी ने जानकारी दी है कि इस वर्ष देशभर के प्रत्येक प्रदेश से कुल 225परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जिनमें से एक परीक्षा केंद्र महामाया राजकीय महाविद्यालय कौशाम्बी भी बनाया गया। 
भौतिक विज्ञान विभाग के प्रभारी डॉ. नीरज कुमार सिंह  के निर्देशन में भौतिक विज्ञान विभाग में राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा का आयोजन सफल हुआ है।
परीक्षा को संपन्न कराने में महाविद्यालय के गणित विभाग के डॉ. अनिल कुमार, असिस्टेंट प्रोफेसर ,गणित तथा श्रीमती अनीता केसरवानी, कनिष्ठ लिपिक ने कक्ष निरीक्षक के रूप में सहयोग प्रदान किया। परीक्षा संबंधी अन्य कार्यों में श्री साहनी एवं श्री अजय कुमार ने अग्रणी भूमिका निभाई।

30 जून से शुरू होगी 'अमरनाथ' यात्रा: सिन्हा

30 जून से शुरू होगी 'अमरनाथ' यात्रा: सिन्हा       

इकबाल अंसारी           
श्रीनगर। केंद्रशासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल एवं श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के अध्यक्ष मनोज सिन्हा ने रविवार को कहा कि 43 दिनों तक चलने वाली वार्षिक 'अमरनाथ' यात्रा 30 जून से शुरू होगी। सिन्हा ने कहा की पवित्र तीर्थयात्रा 30 जून से सभी कोविड दिशा-निर्देशों के साथ शुरू होगी तथा परंपरा के अनुसार, रक्षा बंधन को समाप्त होगी। सिन्हा ने यहां राजभवन में बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि हमने आगामी यात्रा सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। इस बीच, आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड अप्रैल महीने से तीर्थयात्रियों के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू करेगा और प्रति दिन लगभग 20 हजार तीर्थयात्री आधिकारिक वेबसाइट पर अपना पंजीकरण करा सकते हैं। 
एक अधिकारी ने बताया कि वाहनों और तीर्थयात्रियों की आरएफआईडी आधारित ट्रैकिंग भी की जाएगी। उन्होंने बताया कि श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड द्वारा रामबन जिले के चंद्रकोट में 3200 से अधिक तीर्थयात्रियों की क्षमता वाला यात्री निवास बनाया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि कोविड महामारी के कारण पिछले दो साल तीर्थ यात्रा स्थगित रही।

लड़कियों को निशाना बनाए जाने पर रोक, अपील की

लड़कियों को निशाना बनाए जाने पर रोक, अपील की  

कविता गर्ग        
मुंबई। मिस यूनिवर्स-2021, हरनाज संधू ने समाज से हिजाब सहित विभिन्न मुद्दों पर लड़कियों को निशाना बनाए जाने पर रोक लगाने की अपील की है। संधू ने कहा कि वे जैसे चाहती हैं, उन्हें जीने दें। कर्नाटक उच्च न्यायालय की तीन-न्यायाधीशों की पीठ ने हाल में उन याचिकाओं को खारिज कर दिया, जिनमें शैक्षणिक संस्थानों की कक्षाओं में हिजाब पहनने की अनुमति मांगी गई थी। अदालत ने अपने फैसले में कहा था कि हिजाब इस्लाम में आवश्यक धार्मिक प्रथा नहीं है और शैक्षणिक संस्थानों में निर्धारित पोशाक नियम का पालन किया जाना चाहिए। सोशल मीडिया पर वायरल हुई एक क्लिप में एक पत्रकार ने संधू से हिजाब के मुद्दे पर उनके विचार पूछे।
यह वीडियो यहां 17 मार्च को मिस यूनिवर्स-2021 की घर वापसी के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम का था। इससे पहले कि संधू सवाल का जवाब देतीं, आयोजक ने हस्तक्षेप करते हुए पत्रकार को कोई भी राजनीतिक सवाल पूछने से परहेज करने के लिए कहा। आयोजक ने मीडिया को संधू की यात्रा, सफलता और प्रेरणास्रोत बनने के बारे में सवाल पूछने का सुझाव दिया।
पत्रकार ने जवाब दिया कि हरनाज़ को यही बात कहने दीजिये। इसके बाद संधू ने समाज में लड़कियों को निशाना बनाए जाने पर नाराजगी प्रकट की। उन्होंने कहा कि ईमानदारी से बताइए, आप हमेशा लड़कियों को ही क्यों निशाना बनाते हैं? अब भी आप मुझे निशाना बना रहे हैं। जैसे, हिजाब के मुद्दे पर लड़कियों को निशाना बनाया जा रहा है। उन्हें (लड़कियों को) उनकी मर्जी से जीने दीजिये, उन्हें उनकी मंजिल तक पहुंचने दीजिये, उन्हें उड़ने दीजिये। उनके पंख मत काटिये। काटने ही हैं तो अपने पंख काटिये। इसके बाद संधू ने पत्रकार से उनकी यात्रा, उसके सामने आने वाली बाधाओं और इस साल की शुरुआत में हुई सौंदर्य प्रतियोगिता में सफलता हासिल करने के बारे में सवाल पूछने के लिए कहा।

‘द कश्मीर फाइल्स’ वास्तविकता की फाइल: इंद्रेश

‘द कश्मीर फाइल्स’ वास्तविकता की फाइल: इंद्रेश 

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के राष्ट्रीय कार्यकारणी सदस्य इंद्रेश कुमार ने रविवार को कहा कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ वास्तविकता की फाइल है। उन्होंने सभी राजनेताओं और धर्मों के लोगों से अपील की कि आगे आएं और ऐसी घटनाओं की निंदा करें। आरएसएस से जुड़ी संस्था मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (एमआरएम) के संरक्षक कुमार ने एक वक्तव्य में वर्षों से घरविहीन कश्मीरी पंडितों के पुनर्वास में लोगों से मदद के लिए आगे आने का अनुरोध किया।
कुमार ने बंगलादेश और पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने मांग की, साथ ही साथ पूजा स्थलों के तिरस्कार की बात कही। उन्होंने जोर दिया कि बंगलादेश और पाकिस्तान को भारत की तरह एक ऐसा देश बन जाना चाहिए, जहां सभी धर्मों, जाति और वर्ग का स्वागत हो।
आरएसएस नेता ने रूस और यूक्रेन के बीच जारी संघर्ष की आलोचना करते हुए कहा कि किसी स्थिति में युद्ध समाधान नहीं है। उन्होंने कहा कि अमेरिका, चीन या रूस के द्वारा थोपे गए युद्ध का समर्थन नहीं किया जाना चाहिए, यह विनाश की ओर ले जाता है। कुमार ने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की ताकत बढ़ाने के लिए देश विदेश में सभी स्तर पर वे सदस्यता अभियान शुरू करेंगे।
कार्यकर्ताओं की संख्या बढ़ाने और एकता को मजबूत और समाज में भाईचारा के लिए इस रमजान मंच के सभी कार्यकर्ता देश के विभिन्न हिस्सों में बड़े पैमाने पर एक दिन के इफ्तार कार्यक्रम का आयोजन करेंगे। एमआरएम की स्थापना वर्ष 2002 में हुई थी और बीते 20 वर्ष में भाईचारा और मेल मिलाप का संदेश देकर संस्थान देश में अच्छे से स्थापित हुआ है।

एमपी में 21 से 'कन्या विवाह' प्रारंभ होगें: सीएम

एमपी में 21 से 'कन्या विवाह' प्रारंभ होगें: सीएम  

मनोज सिंह ठाकुर                 

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को कहा, कि राज्य में आगामी 21 अप्रैल से कन्या विवाह शुरु किए जाएंगे।जिसकेे लिए राशि 51 हजार रुपए से बढ़ाकर 55 हजार की जा रही है। चौहान ने यहां आयोजित चिंतन बैठक के दूसरे दिन संवाददाताओं से चर्चा के दौरान ये बात कही। उन्होंने कहा कि चिंतन बैठक का उद्देश्य प्रदेश का विकास तथा जनता का कल्याण ही प्रमुख था। सभी मंत्रिपरिषद के सदस्यों ने अपने महत्वपूर्ण सुझाव दिए, जिससे योजनाओं को बेहतर बनाने में मदद मिली है। इसी क्रम में उन्होंने कहा कि तीर्थ दर्शन योजना को पुन: प्रारंभ करने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना की राशि को अब 51 हजार रुपये से बढ़ाकर 55 हजार रुपये करने का निर्णय लिया है। 21 अप्रैल से कन्या विवाह योजना पुन: प्रारंभ की जा रही है।

सीएम राइज स्कूल के माध्यम से बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रयास कर रहे हैं। अभी जो सीएम राइज स्कूल के अनुरूप भवन उपलब्ध हैं, उनमें 13 जून से शिक्षण कार्य प्रारंभ कर दिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मई माह से हर जिले में हर महीने 2 दिन विशेष स्वास्थ्य शिविर आयोजित किए जाएंगे। जल जीवन मिशन के लिए बजट में 6000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। जब जल स्रोत का पता चल जाएगा, तभी पाइप लाइन बिछाने का कार्य शुरू करेंगे।

सीएम चौहान ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य होगा, जहां एमबीबीएस की पढ़ाई हिंदी में भी कराई जाएगी। इससे उन प्रतिभावान विद्यार्थियों को विशेष लाभ होगा, जो अंग्रेजी भाषा में थोड़े पीछे हैं। सामान्य बीमारियों के इलाज के लिए मुख्यमंत्री संजीवनी क्लिनिक सभी नगरीय निकायों में स्थापित किए जाएंगे। 22 अप्रैल से ये क्लिनिक कुछ स्थानों पर प्रारंभ हो जाएंगे, बाकी बचे निकायों में भी धीरे-धीरे स्थापित करेंगे।मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस की भर्ती में शारीरिक क्षमता के लिए 50 फीसदी अंक निर्धारित किया गया है, जिसका लाभ पढ़ने लिखने वाले विद्यार्थियों के अलावा ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को भी मिलेगा, जो भाग दौड़ में माहिर होते हैं और उनमें शारीरिक क्षमताएं बेहतर होती हैं। इंसानों के लिए टेलीमेडिसिन की व्यवस्था करने के बाद अब पशुओं और फसलों के लिए भी टेलीमेडिसिन की सुविधा प्रारंभ करने का फैसला किया है।

साथ ही बताया कि साइबर तहसील की शुरुआत की जाएगी। किसी भी संपत्ति की रजिस्ट्री आदि होने पर इसकी जानकारी ऑनलाइन पता चल जाएगा। इससे संपत्तियों के दस्तावेज ऑनलाइन उपलब्ध रहेंगे। जो मामले विवादित हैं उनके लिए बाद में व्यवस्था करेंगे। ‘मां तुझे प्रणाम योजना’ फिर से शुरू की जाएगी, जिसमें मध्यप्रदेश के युवा अपने गांव की मिट्टी लेकर देश की सीमाओं पर जाएंगे, जिससे उनके अंदर राष्ट्र की सेवा और देशभक्ति की भावना सुदृढ़ होगी।

भारत: अगले 5 दिन गर्म हवाएं चलने की संभावना

भारत: अगले 5 दिन गर्म हवाएं चलने की संभावना   

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। देशभर के विभिन्न राज्यों में अप्रैल आने से पहले ही भीषण गर्मी ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है। राजस्थान, मध्य प्रदेश के कई जिलों में पारा लगातार ऊपर जा रहा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ शहरों में मार्च महीने में ही अधिकतम तापमान 38 डिग्री के पार पहुंच चुका है। इस बीच मौसम विभाग ने नॉर्थ, वेस्ट और मध्य भारत में अगले 5 दिन गर्म हवाएं चलने की संभावना व्यक्त की है।
आईएमडी के मुताबिक, राजस्थान, गुजरात, हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और मध्य प्रदेश में गर्मी का असर अभी और देखने को मिलेगा। अगले 4 से 5 दिनों में लू चलने के आसार हैं। वहीं, फिलहाल बारिश होने की भी कोई संभावना नहीं है। 
मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर, पश्चिम और मध्य भारत में गर्मी से राहत के आसार नहीं हैं। मौसम शुष्क के बीच दिन के समय सूरज की तपिश से तापमान में इजाफा देखने को मिलेगा। राजस्थान के बांसवाड़ा में दिन का अधिकतम तापमान 42.1 डिग्री सेल्सियस तक जा पहुंचा है। इस बीच मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में फिर लू चलने की चेतावनी जारी की है।

29 से बेमियादी हड़ताल पर जाएंगे पेट्रोल पंप डीलर्स

29 से बेमियादी हड़ताल पर जाएंगे पेट्रोल पंप डीलर्स  

दुष्यंत टीकम         
रायपुर। छत्तीसगढ़ में हिंदुस्तान पेट्रोलियम एचपीसीएल के सभी पेट्रोल पंप डीलर्स 29 मार्च से बेमियादी हड़ताल पर जा रहे हैं। इनका आरोप है कि एचपीसीएल के अधिकारी डीलर्स का आर्थिक व मानसिक शोषण कर रहे हैं, जिसके चलते डीलर्स तनावग्रस्त हैं। प्रतिदिन मूल्य वृद्धि होने के कारण कंपनी ने डीजल-पेट्रोल की आपूर्ति भी बंद की जा रही है। छत्तीसगढ़ पेट्रोलियम डीलर वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय पांडे ने बताया कि एचपीसीएल के अधिकारियों ने डिपो से पंप संचालकों को 25 मार्च से डीजल-पेट्रोल की आपूर्ति ही बंद कर दी है। ऐसे में एक-दो दिन में HP के अधिकांश पेट्रोल पंप ड्राई हो जायेंगे। पंप संचालक आखिर बेचेगा क्या ? 29 मार्च से पूरे प्रदेश में HP पंप डीलरों की हड़ताल की एक वजह यह भी है।
विजय पांडेय ने बताया कि उन्होंने डिपो से पेट्रोल-डीजल की आपूर्ति नहीं किये जाने को लेकर स्थानीय अधिकारियों से लेकर कलकत्ता में पदस्थ CGM हरिप्रसाद तक से बात की, मगर सभी ने जवाब दिया कि ऊपर से ही पेट्रोल-डीजल देने की मनाही है। विजय पांडेय के मुताबिक कंपनी के अधिकारी फ़िलहाल पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ने का इंतजार कर रहे हैं। जब एक साथ कीमत बढ़ेगी तब सप्लाई की जाएगी, और कंपनी को फायदा होगा। इस फेर में पम्प डीलरों को नुकसान हो रहा है। दरअसल थोड़ी-थोड़ी कीमत बढ़ने पर पंप डीलरों को फायदा हो जाता है, मगर फिलहाल डीलर इस लाभ से वंचित हैं।
पिछले वर्ष ऐन दीवाली के वक्त HP के पम्प डीलरों को भारी नुकसान हो चुका है, पेट्रोलियम डीलर वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय पांडे ने बताया कि पिछले वर्ष दीवाली के वक्त तेल की कीमतें लगभग 12 रूपये कम हो गई थी, एकाएक कीमत कम होने से पूरे छत्तीसगढ़ के डीलरों को लगभग 300 करोड़ का नुकसान हो चुका है। इस नुकसान की भरपाई आज तक नहीं हो सकी है।
पंप डीलरों का कहना है कि जब-जब पेट्रोल-डीजल के दाम में कमी होती है, तब डिपो से बिना मांगे ही बिलिंग कर माल भेज दिया जाता है और जब वृद्धि होती है तब डीलरों को मांग करने पर भी माल नहीं दिया जाता है। एचपीसीएल अपने डीलर्स को इंजन ऑयल बाजार से दुगने दाम पर बिलिंग कर बिना मांगे भेज रहा है। इनका यह भी आरोप है कि शीर्ष अधिकारी लगातार डीलर्स के साथ दुर्व्यवहार करते हैं।
पंप डीलर्स का आरोप है कि डिपो से अक्सर निर्धारित मात्रा से कम नाप-तौल कर डीजल-पेट्रोल दिया जा रहा है, जिसके चलते डीलर्स की आर्थिक स्थिति बद से बदतर होती जा रही है। इनका दावा है कि 20 हजार लीटर तेल की आपूर्ति में लगभग 100 लीटर कम दिया जाता है। इसका नुकसान डीलर को झेलना पड़ता है।
डीलर के साथ-साथ जो ट्रांसपोर्टर हैं, उनको टोल प्लाजा की राशि का पिछले 8 माह से भुगतान नहीं किया गया है। इसके अलावा डिपो में ट्रक-टैंकरों की पार्किंग की व्यवस्था नहीं की गई है। ड्राइवर-कंडक्टर के लिए भी कोई सुविधा डिपो प्रबंधन ने नहीं की है।
लगातार हो रहे नुकसान को देखते हुए एचपीसीएल के छत्तीसगढ़ प्रदेश में स्थित सभी डीलर्स अपने पेट्रोल पंप 29 अप्रैल से अनिश्चितकाल के लिए बंद रखते हुए मंदिर हसौद स्थित डिपो के सामने अनिश्चित हड़ताल पर बैठने जा रहे हैं। विजय पांडे ने कहा कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होती है, हड़ताल जारी रहेगी। साथ ही कोई भी डीलर एचपीसीएल को बकाया राशि जमा नहीं करेगा और ना ही उनसे कोई प्रोडक्ट खरीदेगा।
इस मुद्दे को लेकर हड़ताल की सूचना देने के लिए संगठन के पदाधिकारी कल ज्ञापन सौंपने के लिए रायपुर कलेक्टर से मिलेंगे। वहीं अगर HPCL के अधिकारियों की ओर से कोई पहल नहीं की गई तो 29 मार्च से उनकी अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू ही जायगी।
ग्लैमर दुनिया, जुर्म की गली हो या खेल गांव, टेकनोलॉजी हो या किसी मुद्दे पर बेबाक राय सब कुछ इसी प्लेटफॉर्म पर। हम बताएंगे इतिहास के कुछ ऐसे किस्से जिनसे आप हिल जाएंगे। 

किसान नेता टिकैत को कॉल पर धमकी, शिकायत दर्ज

किसान नेता टिकैत को कॉल पर धमकी, शिकायत दर्ज 

संदीप मिश्र          
मुजफ्फरनगर। लंबे समय से किसानों की समस्याओं को लेकर सरकार से लड़ाई लड़ने वाले किसान नेता राकेश टिकैत कृषि कानून के विरोध को लेकर बेबाक और बहादुरी से आंदोलन में डटे रहने के बाद एक बड़े किसान नेता के रूप में उभरे हैं। लेकिन, आजकल राकेश टिकैत को एक अनजान कॉल का डर सताने लगा है। जिसे लेकर राकेश टिकैत बेहद खौफ ज्यादा नजर आ रहे हैं। अनजानी कॉल की खौफ के कारण चौधरी राकेश टिकैत मुजफ्फरनगर पुलिस में अनजान नंबर से कॉल पर धमकी देने वाले व्यक्ति के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।
आंदोलन के बाद लगातार उनको और उनके परिवार के सदस्यों को मोबाइल फोन पर अनजान नंबर से धमकी भरे फोन आ रहे हैं। जिस पर उन्हें मारने की धमकी के साथ-साथ गाली गलौच और अभद्र व्यवहार भी किया जा रहा है। इस अनजानी कॉल से मिल रही धमकी के कारण राकेश टिकैत और उनका पूरा परिवार बेहद खौफ में नजर आ रहा है।
राकेश टिकैत का कहना है कि उन्होंने कई मर्तबा पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। लेकिन आज तक पुलिस ने ना ही तो उस अनजान नंबर को ट्रेस किया है और ना ही फोन पर धमकी देने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। राकेश टिकैत का आरोप है कि कहीं ना कहीं फोन पर धमकी देने वाले बीजेपी के कार्यकर्ता हैं जो कृषि कानून आंदोलन के बाद से लगातार उन को धमकी दे रहे हैं और यही वजह है कि। मुजफ्फरनगर पुलिस फोन पर धमकी देने वाले व्यक्ति के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं कर रही है। वहीं किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिल रही जान से मारने की धमकी को लेकर मुजफ्फरनगर की सिविल लाइन पुलिस ने तहरीर के आधार पर अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
सीओ सिटी कुलदीप सिंह का कहना है कि अभी जानकारी में आया है कि किसान नेता राकेश टिकैत को किसी अनजान व्यक्ति द्वारा फोन पर धमकी और अभद्र व्यवहार के साथ साथ गाली गलौज की जा रही है इस मामले में किसान नेता राकेश टिकैत की ओर से प्रज्वल त्यागी द्वारा थाना सिविल लाइन पुलिस को एक शिकायत पत्र दिया गया है। शिकायत-पत्र के आधार पर पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है।

'द कश्मीर फाइल्स’ को बैन करने की मांग: मौलवी

'द कश्मीर फाइल्स’ को बैन करने की मांग: मौलवी  

इकबाल अंसारी        
श्रीनगर। नब्बे के दशक में जम्मू-कश्मीर में हुए कश्मीरी पंडितों के जनसंहार और उनके पलायन पर बनी फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर एक नया विवाद बयान सामने आया हैै। जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले की जामा मस्जिद के मौलवी फारूक ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को बैन करने की मांग करते हुए भड़काऊ बयानबाजी की है। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा हैै।

मौलाना फारूक ने कहा कि इस फिल्म के बहाने मुसलमानों के खिलाफ साजिश की जा रही है। मौलाना ने केंद्र की मोदी सरकार पर भी निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि समाज को बांटने के लिए यह फिल्म बनाई गई है। इस फिल्म के जरिए एक दीवार खड़ी करने की कोशिश की जा रही है। हिंदू-मुस्लिमों को आपस में लड़ाकर सियासत करने की कोशिश की जा रही है।

मौलाना फारूक ने कहा कि बीते 32 साल में न जाने कितने कश्मीरी मुस्लिम मारे गए लेकिन, उनका कोई जिक्र ही नहीं हो रहा है. कश्मीरी मुस्लिमों के दु:ख-दर्द को भुला दिया गया है। उनका खून किसी को नजर नहीं आता। जामिया मस्जिद के मौलवी ने आगे कहा, ”हम अमनपसंद लोग हैं, हमने इस मुल्क पर 800 वर्षों तक हुकूमत की है, इन लोगों तो ने 70 साल शासन किया है, लेकिन हमारी पहचान को मिटाना मुमकिन नहीं है। तुम मिट जाओगे लेकिन हम नहीं मिटेंगे।

वीडियो वायरल होने के बाद मौलाना फारूक ने सफाई देते हुए कहा कि कश्मीरी पंडित जम्मू-कश्मीर का एक अहम हिस्सा हैं। उन्होंने कहा कि मेरे बयान गलत तरीके से न लिया जाए। हम शांति चाहते हैं और सभी धर्मों का सम्मान करते हैं।विवादों के बीच, विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ ने बॉक्स ऑफिस पर 200 करोड़ के आकड़े को पार कर लिया है और 250 करोड़ के आकड़े की ओर बढ़ रही है। यह फिल्म 11 मार्च को रिलीज हुई थी, जिसमें अनुपम खेर, मिथुन चक्रवर्ती, पल्लवी जोशी और दर्शन कुमार ने प्रमुख भूमिकाएं निभाई हैं।

कार्यालय सभागार में बैठक व प्रशिक्षण का आयोजन

कार्यालय सभागार में बैठक व प्रशिक्षण का आयोजन   

पंकज कपूर           
चंपावत। 1 अप्रैल से 30 अप्रैल 2022 तक नेशनल डीवार्मिंग डे एवं एनीमिया मुक्त भारत अभियान कार्यक्रम के सफल संचालन हेतु रविवार को जिलाधिकारी विनीत तोमर की अध्यक्षता में मुख्य शिक्षाधिकारी कार्यालय सभागार में बैठक व प्रशिक्षण का आयोजन किया गया।
इस दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि इस कार्यक्रम के उद्देश्य के तहत राजकीय विद्यालयों/मान्यता प्राप्त विद्यालयों/आंगनबाड़ी केंद्रों में अध्ययनरत तथा नामांकित एवं विद्यालय नहीं जाने वाले बच्चों को एलबेंडाजोल टैबलेट खिलाई जानी हैं। साथ ही एनीमिया मुक्त भारत बनाए जाने का उद्देश हैं। चिकित्साधिकारी डॉ. श्वेता खर्कवाल ने बताया कि जिले में एक से 19 वर्ष तक के बच्चों को राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के तहत 18 अप्रैल से 23 अप्रैल तक आशा व आगंनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा घर-घर जाकर पेट के कीड़े (कृमि) मारने की दवा एल्बेण्डाजाल खिलाने का अभियान चलाया जाएगा।
इसके साथ ही जनपद को अनीमिया मुक्त बनाने का उद्देश्य है। उन्होंने बताया कि हीमोग्लोबिन हमारे खून में पाया जाता हैं और हमारे शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाता है। खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा का एक स्तर से कम हो जाना अनीमिया कहलाता है। जिसके लक्षण त्वचा, चेहरे, जीब व आंखों में लालीमां की कमी।काम करने में जल्दी थकावट हो जाना।सांस फूलना या घुटन होना होते हैं।
भोजन में आयरन की कमी होना, पेट मे कीड़े होना व पीने के पानी मे फ्लोरोसिस की मात्रा अधिक अनीमिया का कारण हो सकता हैं।उन्होंने बताया इस कार्यक्रम को पूरी तरह से सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग, बाल विकास एवं शिक्षा विभाग संयुक्त रूप से कार्य करगें।उन्होंने बताया कि यह कार्यक्रम जनपद के 4 ब्लाकों, 714 विद्यालयों व 397 आंगनबाड़ी केंद्रों में चलाया जाएगा।आई0एफ0ए व एल्बेलडाजोल की गोली सरकारी स्कूलों और आंगनबाड़ी से निःशुल्क प्राप्त कर सकते हैं।
पेट के कीड़ों से बचाव के लिए एल्बेलडाजोल की एक गोली साल में दो बार जरूर लेनी चाहिए।उन्होंने बताया कि बच्चों में कृमि संक्रमण होने से कुपोषण और खून की कमी होने के साथ साथ थकावट होना, पढ़ाई में मन न लगना, जी मिचलाना, दस्त, पेट दर्द, कमजोरी, भूख न लगना जैसे लक्षण हो जाते हैं।
ज्यादा छोटे बच्चों को टेबलेट चूरा कर पानी के साथ खिलाया जाए। बड़े बच्चों को भी दवा चबा चबाकर ही खानी चाहिए। किसी भी तरह की बीमारी होने पर बच्चे को एल्बेण्डाजाल टेबलेट नहीं खिलानी है। यदि किसी भी तरह उल्टी या मिचली महसूस होती है तो खबराने की जरूरत नहीं। पेट में कीड़े ज्यादा होने पर दवा खाने के बाद सरदर्द, उल्टी, मिचली, थकान होना या चक्कर आना महसूस होना एक सामान्य प्रक्रिया है। दवा खाने के थोड़ी देर बाद सब सही हो जाता है।इसके अलावा फिर भी किसी अन्य तरह की बड़ी परेशानी हो तो चिकित्सक से सम्पर्क अवश्य करें।
इस दौरान अपरजिलाधिकारी शिवचरण द्विवेदी, मुख्य चिकिसाधिकारी के0के0अग्रवाल, मुख्य शिक्षाधिकारी बी0पी कुशवाहा, एसीएमओ डॉ इंदरजीत पांडेय, डॉ कुलदीप यादव, एमओआईसी, सीडीपीओ, आंगनबाड़ी कार्यकत्री, आशा कार्यकत्री समेत अन्य मौजूद रहे।

मुनमुन का 'सिजलिंग डांस' मूव्स इंटरनेट पर वायरल

मुनमुन का 'सिजलिंग डांस' मूव्स इंटरनेट पर वायरल   

कविता गर्ग        
मुंबई। 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' रविवार को हर घर में देखा जाने वाला एक टॉप टीवी शो में से एक है। इस सीरियल के हर कलाकार ने अपने फैंस के दिलो में एक अलग सी जगह बना ली है। वहीं इस शो से रातों-रात स्टार बनी मुनमुन दत्ता यूं तो किसी पहचान की मोहताज नहीं है। शो मे बबिता का किरदार निभाती मुनमुन दत्ता की हर एक अदाओं पर दर्शक दिल हार जाते हैं। ऐसी ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर इन दिनों तेजी से वायरल हो रही है। जिसमें मुनमुन दत्ता के सिजलिंग डांस मूव्स इंटरनेट पर तबाही मचा चुके हैं। उनकी दमदार कातिलाना अदाओं ने इंटरनेट पर बिजलियां गिरा दी हैं। फैंस इनकी तस्वीरों पर धड़ाधड़ लाइक व कमेंट की बरसात कर रहे हैं और मुनमुन को अपना ढेर सारा प्यार भेज रहे हैं।
इस वीडियो में मुनमुन ग्रीन स्पार्कली ड्रेस पहने खुले बालों और अट्रैक्टिव मेकअप के साथ कमर लचकाती दिखाई दी हैं। बता दें इन दिनों मुनमुन का यह सॉन्ग फेवरेट बना हुआ है। तमन्ना भाटिया और बादशाह के इस गाने को बबीता जी का खूब प्यार मिल रहा है। तबाही गाने पर तबाही मचाती मुनमुन दत्ता कातिलाना लग रही हैं। साथ ही वह अपने घर के हर एक कोने पर इस गाने को शूट करती नजर आई है। थाई स्लट ड्रेस पहने, बिखरे बालों के साथ वो कातिलाना अदाओं का भी जादू चला रही हैं।

महिलाओं ने 'दशामाता' के पूजन की शुरुआत की

महिलाओं ने 'दशामाता' के पूजन की शुरुआत की   

पंकज कपूर         
उज्जैन। शीतला माता का पूजन करने के बाद एक बार फिर महिलाओं ने रविवार को दशामाता के पूजन की शुरुआत की है। घरों के आासपास मंदिरों में सुबह से ही महिलाएं पूजन के लिए पहुंच रही हैं और पीपल के पेड़ पर सूत का धागा बांधकर राजा नल और रानी दमयंती की कथा का श्रवण कर रही हैं।
चैत्र माह के कृष्ण-पक्ष की दशमी पर रविवार को महिलाओं द्वारा सुख-समृद्धि और परिवार की दशा सुधारने के लिए दशामाता का पूजन किया जा रहा है। महिलाएं सुबह से घर के आसपास बने मंदिरों में पूजन की थाली लेकर पहुंचती दिखाई दे रही हैं। मंदिर परिसरों में लगे पीपल के पेड़ पर सूत के धागे में दस गांठ बांधकर उसे पेड़ की परिक्रमा लगाकर बांधा जा रहा है और सुख समृद्धि की कामना कर दशामाता से आशीर्वाद लिया जा रहा है। पूजा-अर्चना के बाद महिलाओं द्वारा राजा नल और दमयंती की कथा सुनी जा रही है। दशामाता पूजन का क्रम शहर में देर शाम तक जारी रहेगा। दो दिन पूर्व महिलाओं ने शीतला माता का पूजन कर ठंडे भोजन का नैवेद्य अर्पित किया था। धार्मिक नगरी में पारंपरिक पर्वों का काफी महत्व है जिसके चलते हर दिन आस्था दिखाई देती है। विद्वानों के मतों के अनुसार दशा माता महामारी-बीमारी, दोष, ग्रह बाधा और काली-बुरी नजर को दूर कर देती हैं। माता का प्रताप इतना है कि वह किसी भी व्यक्ति को राजा बना सकती है। आर्थिक संकट के कारण जीवन अगर कष्ट में है तो मां उसे तार देती हैं।
दशामाता का व्रत करने के पीछे पौराणिक मान्यता है कि इस व्रत को द्वापर युग से बहुत पहले राजा नल की पत्नी दमयंती ने किया था। दुर्भाग्यवश दमयंती के पति राजा नल का राजपाट छीन गया था और उन्हें अज्ञातवास में भटकना पड़ा था। इसके बाद दमयंती ने दशा माता का व्रत रखा और 11 वर्ष तक उनकी पूजा की। जिसके परिणाम स्वरूप राजा नल को उनका राज्य मिल पुन: गया था।
रंगपंचमी पर्व के एक दिन बाद महिलाओं ने घरों में भोजन बनाकर अगले दिन शीतला सप्तमी पर माता को ठंडे भोजन का नैवेद्य अर्पित कर पूजन अर्चन किया था और घरों में ठंडे भोजन का सेवन किया था। वहीं आज दशामाता पर्व पर घरों में चूल्हे पर तवा नहीं चढ़ा है और दाल-बाटी बनाई गई है।

28-29 मार्च को 'भारत बंद' की घोषणा, हड़ताल

28-29 मार्च को 'भारत बंद' की घोषणा, हड़ताल   

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। भारत बंद का आह्वान, मोदी सरकार की उन नीतियों के खिलाफ किया जा रहा है। जिनसे कर्मचारी, किसान और आम जनता प्रभावित हो रही है। अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ ने फेसबुक पर लिखा कि बैंकिंग सेक्टर भी इस हड़ताल में शामिल होगा। बता दें केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के एक फोरम ने 28 मार्च और 29 मार्च को भारत बंद की घोषणा की है।
कई राज्यों में तैयारियों का जायजा लेने के बाद यूनियनों ने कर्मचारी, किसान, जनता और देश विरोधी नीतियों के खिलाफ दो दिन के हड़ताल का ऐलान किया है। इसमें रोडवेज, ट्रांसपोर्ट और बिजली विभाग के कर्मचारियों भी शामिल हो सकते हैं। सात प्वाइंट में जानिए इस भारत बंद का हमारे-आपके जीवन पर क्या असर पड़ सकता है?
केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के संयुक्त मंच ने 22 मार्च 2022 को दिल्ली में एक बैठक की। इसमें विभिन्न राज्यों और सेक्टर में 28-29 मार्च 2022 को दो दिवसीय अखिल भारतीय हड़ताल की तैयारियों का जायजा लिया गया। एक बयान में कहा गया है, कि सरकार की नीतियां आम जनता, मजदूर और किसान विरोधी हैं।
 बयान में कहा गया कि एस्मा (हरियाणा और चंडीगढ़) लगने की आशंकाओं के बीच रोडवेज, ट्रांसपोर्ट और बिजली कर्मचारियों ने हड़ताल में शामिल होने का फैसला किया है।
बैंकिंग और इंश्योरेंस सहित फाइनेंशियल सेक्टर भी इस हड़ताल का समर्थन कर रहे हैं।
कोयला, इस्पात, तेल, टेलिकॉम, पोस्टल, इनकम टैक्स, तांबा, बैंक, बीमा जैसे क्षेत्रों में यूनियनों को भी हड़ताल में शामिल होने की अपील की गई है।
रेलवे और रक्षा क्षेत्र की यूनियनें देशभर में सैकड़ों जगह हड़ताल के समर्थन में भारत बंद करेंगी।
एसबीआई का कहना है कि हड़ताल के कारण बैंकिंग सेवाएं प्रभावित हो सकती हैं। हालांकि, अपनी शाखाओं और ऑफिस में सामान्य कामकाज सुनिश्चित करने के लिए व्यवस्था की गई है. कुछ कामकाज प्रभावित हो सकता है।
सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निजीकरण के सरकार के फैसले और बैंकिंग कानून संशोधन विधेयक-2021 के विरोध में हड़ताल किया जा रहा है।

राज्यपाल के अभिभाषण-लेखानुदान को लेकर तैयारी

राज्यपाल के अभिभाषण-लेखानुदान को लेकर तैयारी   

पंकज कपूर                
देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का विधानसभा सत्र आगामी 29 मार्च से शुरू होने जा रहा है। ऐसे में जहां इस पहले सत्र की पूरी तैयारी की जा रही है। राज्यपाल के अभिभाषण और लेखानुदान को लेकर धामी सरकार तेजी से तैयारी में लगी हुई है। 
वही, अब सरकार में संसदीय कार्य मंत्री प्रेम चंद अग्रवाल ने कहा है कि आगामी 28 मार्च 2022 को भारतीय जनता पार्टी विधान मंडल दल की बैठक माननीय मुख्यमंत्री के आवास “मुख्य सेवक सदन” में शाम 8:00 बजे आहूत की गई है इस बैठक में 29 तारीख से प्रारंभ होने वाले विधानसभा सत्र को लेकर चर्चा वार्ता की जाएगी। कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा है कि बैठक में भारतीय जनता पार्टी के सभी मंत्री एवं विधायकों को आमंत्रित किया गया है।

पूर्व सीएम ने सिद्धारमैया को जिम्मेदार ठहराया

पूर्व सीएम ने सिद्धारमैया को जिम्मेदार ठहराया   


इकबाल अंसारी        

कोलार। कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री व जनतादल (एस) विधायक दल के नेता एच. डी कुमारस्वामी ने राज्य में अशांति और सभी अप्रिय घटनाओं के लिए विपक्षी और कांग्रेस के नेता सिद्धारमैया को जिम्मेदार ठहराया है। कुमारस्वामी ने यहां मीडिया से बात करते हुए आरोप लगाया कि कांग्रेस व भारतीय जनता पार्टी एक ही सिक्के के दो पहलू हैं।उन्होंने कहा कि कांग्रेस और भाजपा नहीं चाहती कि राज्य के लोग शांतिपूर्ण जीवन जिएं। उन्हें बस सत्ता की जरूरत है। वे सत्ता के लिए चाहे कुछ भी कर लें। दोनों पार्टियां राज्य की अखंडता को कमजोर कर रही हैं। उनका उद्देश्य धर्म के धर्म के बीच संघर्ष पैदा करना और शांति भंग करना है।pm

उन्होंने सिद्धारमैया पर हमला करते हुए कहा कि यह उन्हीं की चाल है कि धार्मिक स्थलों, मेलों और धार्मिक लोगों को व्यापार करने की अनुमति नहीं है। उन्होंने सिद्धारमैया पर हिजाब विवाद को भी सघर्ष का कारण बनाने का आरोप लगाया। कुमारस्वामी ने यह भी आरोप लगाया कि 2018 में गठित गठबंधन सरकार के पतन के लिए जिम्मेदार श्री सिद्धारमैया ने भाजपा सरकार का समर्थन किया।

उन्होंने कहा कि अब सिद्धारमैया गुमराह कर रहे हैं कि जद(एस) ने भाजपा के साथ समझौता कर लिया है। उन्होंने कहा कि यह सर्वविदित तथ्य है कि वह भाजपा के संपर्क में हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ने एक सवाल का जवाब दिया कि अगर चुनाव समय से पहले कराया जाता है तो उनकी पार्टी सामना करने के लिए तैयार हैं।

जियो ने 555 रुपये का नया प्लान लॉन्च किया

जियो ने 555 रुपये का नया प्लान लॉन्च किया  

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। जियो के इस प्लान में आपको जियो के हिसाब से पूरे 12 महीने (28 दिन का महीना) की वैधता मिलती है। आइए जानते हैं, जियो के इस प्लान के बारे में। रिलायंस जियो ने आईपीएल 2022 के खास मौके पर कई सारे प्लान अपडेट किए हैं। इसके अलावा जियो ने 555 रुपये का नया प्लान भी लॉन्च किया है।
एयरटेल, वोडाफोन आइडिया और जियो के के सभी प्लान कुछ दिन पहले ही महंगे हुए हैं, लेकिन उसके बाद भी जियो के प्लान अन्य दोनों कंपनियों के मुकाबले सस्ते हैं। जियो के पास दो तरह के प्री-पेड प्लान हैं जिनमें से पहला स्मार्टफोन के लिए है और दूसरा जियो फोन के लिए है। आज हम आपको जियो के एक ऐसे प्लान के बारे में बताएंगे जिसकी कीमत महज 899 रुपये है और आपको इस प्लान में जियो के हिसाब से पूरे 12 महीने (28 दिन का महीना) की वैधता मिलती है।
आइए जानते हैं जियो के इस प्लान के बारे में सबसे पहले आपको बता दें कि यह प्लान जियो के सभी यूजर्स के लिए नहीं है। यह प्लान सिर्फ जियो फोन यूजर्स के लिए है। जियो के इस प्लान की कीमत 899 रुपये है।
इस प्लान में कुल 336 दिनों की वैधता मिलती है यानी जियो के गणित के हिसाब से 12 महीने की वैधता मिलती है, क्योंकि जियो के गणित में 28 दिनों की महीना होता है।जियो फोन के इस प्लान में मिलने वाले डाटा की बात करें तो इसमें 24 जीबी डाटा मिलता है यानी हर महीने 2 जीबी हाई-स्पीड डाटा मिलेगा।
इस प्लान में आपको सभी नेटवर्क पर अनलिमिटेड कॉलिंग मिलेगी और हर महीने 50 SMS मिलेंगे।तो यदि आप जियो फोन इस्तेमाल कर रहे हैं तो यह प्लान आपके लिए बेस्ट है और यदि आप सिर्फ कॉलिंग के लिए रिचार्ज कराना चाहते हैं तो यह प्लान आपके के लिए किसी तोहफे से कम नहीं है।

मन की बात, पीएम ने सभी भारतीयों को बधाई दी

मन की बात, पीएम ने सभी भारतीयों को बधाई दी   

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने “मन की बात” में भारी बहुमत से सरकार बनाने पर बात कही।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक उपलब्धि के लिए सभी भारतीयों को बधाई दी और कहा, “पिछले हफ्ते, भारत ने 400 अरब डॉलर, यानी 30 लाख करोड़ रुपये का निर्यात लक्ष्य हासिल किया है। पहले तो यह अर्थव्यवस्था से जुड़ा मामला है, लेकिन इससे भी ज्यादा अर्थव्यवस्था, यह भारत की क्षमता और क्षमता से अधिक संबंधित है। इसका मतलब है कि दुनिया में भारतीय सामानों की मांग बढ़ रही है।
उन्होंने कहा, “भारत आर्थिक प्रगति की दिशा में बड़ा कदम उठा रहा है। जब हर भारतीय को ‘वोकल फॉर लोकल’ मिल जाए, तो लोकल को ग्लोबल होने में देर नहीं लगती है।
अप्रैल-22 मार्च, 2021-22 के दौरान निर्यात 37 प्रतिशत बढ़कर 400 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया, जो 2020-21 में 292 बिलियन अमेरिकी डॉलर था। पहली बार, भारत का व्यापारिक निर्यात एक वित्तीय वर्ष में 400 बिलियन अमरीकी डालर को पार कर गया है।
आज हमारे छोटे उद्यमी सरकारी ई-मार्केटप्लेस के जरिए सरकारी खरीद में प्रमुख भूमिका निभा रहे हैं। तकनीक के जरिए एक पारदर्शी व्यवस्था विकसित की गई है।

असिस्टेंट टाउन प्लानिंग सुपरवाइजर के पदों पर भर्ती

असिस्टेंट टाउन प्लानिंग सुपरवाइजर के पदों पर भर्ती 

अविनाश श्रीवास्तव           
पटना। अगर आप बिहार में नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो यह आपके लिए एक सुनहरा मौका हो सकता है। दरअसल बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की तरफ से असिस्टेंट टाउन प्लानिंग सुपरवाइजर के पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। इस भर्ती प्रक्रिया के तहत कुल 107 पदों पर आवेदन किया जाएगा। आवेदन करने वाले इच्छुक और योग्य उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट bpsc.bih.nic.in पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं।
बता दें इन पदों पर भर्ती करने के लिए उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से रिमोट सेंसिंग और जीआईएस में बैचलर ऑफ प्लानिंग / पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्स / मास्टर इन प्लानिंग / मास्टर इन टाउन प्लानिंग / मास्टर इन रीजनल प्लानिंग / मास्टर इन अर्बन प्लानिंग / मास्टर इन सिटी प्लानिंग / मास्टर इन अर्बन प्लानिंग / मास्टर इन सिटी प्लानिंग / मास्टर इन कंट्री प्लानिंग में डिग्री होनी चाहिए। इस भर्ती के लिए आवेदन की प्रक्रिया 15 मार्च 2022 से शुरू हो गई है। वहीं आवेदन करने की आखिरी तारीख 6 अप्रैल 2022 है।
वहीं आयोग कार्यालय में आवेदन की हार्ड कॉपी व सर्टिफिकेट्स प्राप्त होने की आखिरी तारीख 20 अप्रैल 2022 (शाम 5 बजे) तक है। अगर बात करें आयु सीमा की तो आवेदन करने वाले उम्मीदवारों की आयु सीमा 21 से 37 वर्ष के बीच होनी चाहिए। वहीं आवेदन शुल्क की बात करें तो सामान्य के लिए 750 रूपये, बिहार के एससी / एसटी के लिए 200 रूपये, एससी/एसटी/बिहार की महिलाओं के लिए 200 रूपये, पीडब्ल्यूडी के लिए 200 रूपये वहीं अन्य के लिए 700 रूपये निर्धारित किया गया है।
इस भर्ती के लिए उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा के माध्यम से किया जाना है। लिखित परीक्षा में दो पेपर शामिल होंगे। वहीं चयन प्रक्रिया में साक्षात्कार शामिल नहीं है। लिखित परीक्षा पैटर्न और चयन प्रक्रिया की अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट पर जाकर नोटिफिकेशन चेक कर सकते हैं।

गृहमंत्री शाह ने कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया

गृहमंत्री शाह ने कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया

अमित शर्मा            

चंडीगढ़। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को चंडीगढ़ में अत्याधुनिक एकीकृत कमान एवं नियंत्रण केंद्र समेत कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया। शाह ने वाणिज्य महाविद्यालय के छात्रावास प्रखंड, पुलिस कर्मियों के लिए 240 आवास निर्माण परियोजना और एक बस डिपो-सह-कार्यशाला की भी आधारशिला रखी। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री के साथ पंजाब के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित भी मौजूद थे। आईसीसीसी परियोजना के तहत यातायात उल्लंघन पर नजर रखने के लिए चंडीगढ़ में 2,000 से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।

आईसीसीसी केंद्र को सेवाओं और डेटा विश्लेषण की प्रभावी निगरानी के लिए पानी, बिजली, सीवेज, ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, परिवहन, ई-गवर्नेंस, पार्किंग और सार्वजनिक-बाइक साझाकरण सहित प्रमुख नागरिक सेवाओं के साथ एकीकृत किया गया है। केंद्रीय मंत्री ने जिन अन्य परियोजनाओं का उद्घाटन किया, उनमें चंडीगढ़ आवास बोर्ड का एक नया कार्यालय भवन, दो सरकारी स्कूल और एक पार्क शामिल हैं।

नागरिक उड्डयन मंत्री ने वर्चुअली उद्घाटन किया

नागरिक उड्डयन मंत्री ने वर्चुअली उद्घाटन किया    


मनोज सिंह ठाकुर         

ग्वालियर। नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को वाराणसी से गोरखपुर सहित कई अन्य विमान सेवाओं का मध्यप्रदेश के ग्वालियर में वर्चुअली उद्घाटन किया। इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी वर्चुअली इस कार्यक्रम से जुड़े। कार्यक्रम के बाद सिंधिया ने ट्वीट करते हुए बताया कि आज बाबा विश्वनाथ की नगरी वाराणसी से बाबा गोरखनाथ की पावन भूमि गोरखपुर सहित कानपुर-गोरखपुर-कानपुर, वाराणसी-गोरखपुर-वाराणसी, वाराणसी-गुवाहाटी-वाराणसी, हैदराबाद-पुदुचेरी-हैदराबाद, हैदराबाद- जबलपुर- हैदराबाद और पुदुचेरी-बेंगलुरु-पुदुचेरी की सीधी विमान सेवाओं का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि इससे इन सभी जगह के नागरिकों को आवागमन की सुगमता के साथ ही दर्शनार्थियों को भी सहूलियत होगी।

नायब तहसीलदार समेत 10 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट

नायब तहसीलदार समेत 10 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट     

अतुल त्यागी          
हापुड़। न्यायालय के आदेश पर तत्कालीन तहसीलदार, नायब तहसीलदार समेत 10 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हुई है। मामला गढ़मुक्तेश्वर नगर क्षेत्र में गुरुद्वारे की भूमि के फर्जी दस्तावेज तैयार कर बैनामा कराने का है।
गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के उपसचिव गुरुमुख सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि नगर के मोहल्ला उपाध्याय नगर में खसरा संख्या 184/1 व 182/2 में करीब दो बीघा भूमि गुरुद्वारे की संपत्ति है। जिसका उपयोग गुरुद्वारा प्रबंधन समिति धार्मिक कार्यों के लिए करती हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2015 में 25 मई को चंद्रशेखर नामक व्यक्ति ने फर्जी दस्तावेज तैयार कराकर गुरुद्वारा प्रबंधन समिति की जमीन का बैनामा करा लिया। इस संबंध में उन्होंने गढ़मुक्तेश्वर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बावजूद जुलाई 2015 में एक बार फिर दो फर्जी बैनामे करा दिए गए। उन्होंने बताया कि वर्ष 2013 में तैनात तहसीलदार, नायब तहसीलदार व क्षेत्रीय लेखपालों द्वारा आरोपियों से सांठगांठ कर भूमि की खसरा-खतौनी से गुरुद्वारा समिति का नाम हटाकर नवीन परती के रूप में दर्ज करा दिया गया।
इसके बाद अनिल, राजीव निवासी मोहल्ला होलीवाला, नीरज निवासी नक्का कुआं रोड, मनोज निवासी मोहल्ला घोसियान, संजीव कुमार निवासी मोहल्ला कटरा गुलाम अली अमरोहा, चंद्रशेखर निवासी मंडी चौक गढ़मुक्तेश्वर ने आपस में साज कर दो बैनामे करा लिए। इस संबंध में गढ़मुक्तेश्वर थाने में तहरीर दी गई, लेकिन मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिसके बाद वादी ने न्यायालय की शरण ली। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शरू कर दी है।
गढ़मुक्तेश्वर सीओ पवन कुमार ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर सभी आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज तैयार कराने आदि धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है।

फिल्म दसवीं का गाना 'मचा-मचा रे' रिलीज हुआ

फिल्म दसवीं का गाना 'मचा-मचा रे' रिलीज हुआ 

कविता गर्ग              

मुंबई। बॉलीवुड के जूनियर बी अभिषेक बच्चन की आने वाली फिल्म दसवीं का गाना 'मचा-मचा रे' रिलीज कर दिया गया है। फिल्म दसवीं का पहला गाना 'मचा-मचा रे' रिलीज हो चुका है, जिसमें अभिषेक का देसी स्वैग देखने को मिल रहा है। फिल्म में अभिषेक बच्चन गंगा राम चौधरी का किरदार निभा रहे हैं। 'मचा-मचा रे' को सिंगर मीका सिंह, दिव्या कुमार, सचिन-जिगर ने अपनी आवाज दी है। गाने का म्यूजिक सचिन-जिगर ने मिलकर कम्पोज किया है और इस गाने के बोल अमिताभ भट्टाचार्य ने लिखे हैं।


गौरतलब है कि फिल्म दसवीं एक अनपढ़, भ्रष्ट और आडंबरपूर्ण नेता की कहानी बताती है जो जेल में फंसने के बाद एजुकेशन के महत्व के बारे में समझ पाता है। अभिषेक बच्चन के अलावा इस फिल्म में निमृत कौर और यामी गौतम अहम भूमिका में हैं। निमृत कौर जहां फिल्म में अभिषेक बच्चन की पत्नी की भूमिका में हैं, वही यामी गौतम पुलिस ऑफिसर की भूमिका में हैं।इस फिल्म को दिनेश विजन की मैडॉक फिल्म्स और जियो स्टूडियोज ने प्रोड्यूस किया है।

लगातार तीसरे दिन पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी

लगातार तीसरे दिन पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी  

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। देश में तेल विपणन करने वाली कंपनियों ने रविवार को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में क्रमश, 50 और 55 पैसे प्रति लीटर का इजाफा कर दिया। कंपनियों ने लगातार तीसरे दिन पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी की है। राजधानी दिल्ली में पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी के साथ यहां पेट्रोल 99.11 रुपये और डीजल 90.42 रुपये प्रति लीटर हो गया है। जबकि शनिवार को पेट्रोल 98.61 और डीजल 89.87 की कीमत पर था। तेल कंपनियों ने 137 दिनों की स्थिरता के बाद पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी शुरू कर दी है। जिससे अब तक बीते छह दिनों में पेट्रोल-डीजल की कीमत पांच बार बढ़ चुकी है।

मुंबई में पेट्रोल और डीजल के दाम इस बढ़ोतरी से 113.88 और 98.13 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं।

रूस के यूक्रेन पर हमला करने के कारण वैश्विक स्तर पर तेल और प्राकृतिक गैस की आपूर्ति बाधित होने की आशंका में इनकी कीमतों में उछाल आया है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चा तेल इसके कारण 13 वर्षाें के उच्चतम स्तर पर पहुंच चुका है।

लोकतंत्र में अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करेंगे: यादव

लोकतंत्र में अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करेंगे: यादव  

संदीप मिश्र 

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव ने रविवार को प्रदेश के मतदाताओं का समाजवादी पार्टी को भारी समर्थन देने के लिए आभार जताते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव के परिणाम जनभावना के अनुरूप नहीं आये, लेकिन उससे निराश न होकर हम विपक्ष में रहकर लोकतंत्र में अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करेंगे। अखिलेश यादव आज पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में विधानमण्डल दल की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि चुनाव में समाजवादी पार्टी ने सभी का मुकाबला किया। आरएसएस और भाजपा ने सत्ता  का दुरुपयोग किया। आरएसएस भाजपा का राजनैतिक संगठन है। सपा के समर्थकों के नाम वोटर लिस्ट से काटे गए। प्रशासन निष्पक्ष नहीं रहा। पोस्टल बैलेट से जीत को हार में बदल दिया गया। लोकतंत्र के साथ छल किया गया। भाजपा गुण्डागर्दी करा रही है। राज्य की जनता परिवर्तन चाहती थी।

यादव ने कहा कि भाजपा की सरकार बनते ही महंगाई चरम पर पहुंच गई। किसानों की आय दोगुनी नहीं हुई। रोजी-रोजगार है नहीं। नौजवान आत्महत्या कर रहा है। व्यापार चौपट है। बजट में केवल तीन माह के लिए गरीबों की सस्ता राशन देने का प्रावधान है। कानून व्यवस्था नदारत है। मुख्यमंत्री जी को बतौर मोहरा इस्तेमाल किया जा रहा है। 

 अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी सदन से सड़क तक सरकार के अन्याय के खिलाफ संघर्ष करेगी। भाजपा-आरएसएस की लोकतंत्र में आस्था नहीं है। आरएसएस अधिनायकशाही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को जहां जनता के प्रति जवाबदेह होना होगा वहीं विधानसभा के प्रति भी सरकार को जवाब देना होगा। हमें विपक्ष के रूप में जनता की आकांक्षा को पूरा करना है। सदन में सरकार को घेरना है। 

समाजवादी पार्टी के विधायकों ने  अखिलेश यादव के नेतृत्व की सराहना की। विधायकों ने उनके प्रति अपने अटूट विश्वास के प्रदर्शन के साथ कहा कि उनके नेतृत्व में वे समाजवादी पार्टी को मजबूती देने का काम करेंगे। विधायकों ने भरोसा दिलाया कि समाजवादी पार्टी श्री अखिलेश यादव के साथ पूरी निष्ठा से सदन से सड़क तक अन्याय के विरूद्ध संघर्ष करेंगे।


737 का दूसरा ब्लैक बॉक्स दुर्घटना स्थल से बरामद

737 का दूसरा ब्लैक बॉक्स दुर्घटना स्थल से बरामद  

सुनील श्रीवास्तव          

बीजिंग। चीन में दुर्घटनाग्रस्त हुए चाइना ईस्टर्न एयरलाइंस के बोइंग विमान 737 का दूसरा ब्लैक बॉक्स दुर्घटना स्थल से बरामद कर लिया गया है। सीसीटीवी की रिपोर्ट में रविवार को यह जानकारी दी गयी। चाइना ईस्टर्न एयरलाइंस की उड़ान संख्या एमयू 5735 21 मार्च को जब कुनमिंग से गुआंग्झू जा रही थी। तभी रास्ते में पहाड़ी इलाके में किसी तकनीकी गड़बड़ी के कारण विमान ने तेजी से गोता खाया और सुदूर इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

विमान में 132 लोग सवार थे। जिसमे 123 यात्री और नौ चालक दल के सदस्य थे। सीसीटीवी की रिपोर्ट में बताया गया कि विमान का दूसरा ब्लैक बॉक्स दुर्घटनास्थल से बरामद कर लिया गया है। लेकिन दुर्घटना के कारणों का अभी पता चलना बाकी है।चीन के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने बताया कि दुर्घटना में कोई भी जीवित नहीं बचा है। बोइंग 737 के कॉकपिट का वॉइस रिकॉर्डर बुधवार को ही मिल गया था।

यात्रा के दौरान प्लेन का दरवाजा खोलने की कोशिश

यात्रा के दौरान प्लेन का दरवाजा खोलने की कोशिश 

सुनील श्रीवास्तव          
अंकारा/लंदन। यात्रा करते समय बहुत तरह के लोग अक्सर मिल जाते हैं। कुछ लोग गरम स्वभाव के होते हैं तो कुछ लोग नरम स्वभाव के होते हैं। लेकिन कुछ लोग ऐसे होते हैं कि तमाशा कर देते हैं। एक फ्लाइट में एक महिला ने यात्रा के दौरान प्लेन का दरवाजा खोलने की कोशिश की। फ्लाइट ब्रिटेन के मैनचेस्‍टर शहर से तुर्की के अंतालया शहर जा रही थी।‌ घटना सोमवार की बताई जा रही है। फ्लाइट हजारों फीट उपर जा चुकी थी और महिला दरवाजा खोलने की कोशिश करने लगी। मुताबिक, महिला रॉडी कैथरीन बुश केबिन क्रू के सदस्‍यों से भी भिड़ गई। इस मामले में एयरलाइंस वालों ने महिला पर कार्रवाई की है। साथ ही इस पैसेंजर पर 5 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है‌। साथ ही एयरलाइंस कंपनी में सफर करने आजीवन प्रतिबंध लगा दिया है। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस महिला का नाम रॉडी कैथरीन बुश है।
महिला ने अचानक रोना शुरू कर दिया और फ्लाइट के अंदर यात्रियों पर चिल्लाने लगी। आरोप है कि कुछ यात्रियों को थप्पड़ भी मारे. Jet2 के मैनेजिंग डायरेक्‍टर फिल वार्ड ने बताया कि कैथरीन वार्ड का ये बर्ताव बिल्कुल स्वीकार नहीं था। इस तरह की घटनाएं काफी दुर्लभ होती है। महिला ने फ्लाइट का दरवाजा खोलने की कोशिश की‌। इस हरकत से वहां के लोग काफी डर गए। वहीं एक और यात्री ने बताया कि वह लगातार शोर मचा रही थी। वहीं यात्रा खत्‍म होने के बाद Jet2 की ओर से सभी पैसेंजर्स को असुविधा के लिए माफी मांगने का मैसेज भेजा।

अभिनेत्री मोनालिसा ने थ्रोबैक फोटो शेयर की

अभिनेत्री मोनालिसा ने थ्रोबैक फोटो शेयर की 

कविता गर्ग         
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री मोनालिसा, सोशल मीडिया पर अपने हॉट और बोल्ड अवतार से सभी के पसीने छुड़ा रही हैं। एक्ट्रेस ने इंटरनेट पर हाल ही में अपनी बेहद हसीं तस्वीरें साझा की जिसमें उनका बेहद बोल्ड अवतार देखने को मिला। मोनालिसा ने अपने मालदीव वेकेशन से एक थ्रोबैक फोटो शेयर की। जो इंटरनेट पर सभी का ध्यान आकर्षित कर रहा है।
मोनालिसा ने अपने फैंस के लिए मालदीव वेकेशन की थ्रोबैक तस्वीरें साझा की है। मोनालिसा की जबरदस्त फैन फॉलोइंग है इस बात का अंदाजा उनकी पोस्ट पर होने वाले कमेंट से लगाया जा सकता है। लोग अपनी पसंदीदा अभिनेत्री की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। इस तस्वीर पर कमेंट करते हुए एक यूजर ने लिखा, “हॉट।” वहीं दूसरे ने लिखा, “यू आर सो क्यूट मैम।” इन तस्वीरों को देखकर ये तो जरूर कहा जा सकता है कि मोनालिसा ने इन छुट्टियों को खूब एंजॉय किया होगा।

नाटो एकजुट हैं, उसे तोड़ा नहीं जा सकता: बाइडन

नाटो एकजुट हैं, उसे तोड़ा नहीं जा सकता: बाइडन 

अखिलेश पांडेय          
कीव/मास्को। यूक्रेन पर रूस के हमले को लेकर पोलैंड में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है कि नाटो एकजुट हैं, उसे तोड़ा नहीं जा सकता है। साथ ही उन्होंने कहा कि रूस लोकतंत्र का गला घोंट रहा है। यूक्रेन आज अपनी आजादी के लिए लड़ रहा है। यूक्रेन के साथ हम पूरी ताकत के साथ खड़े हैं‌। बाइडेन ने कहा कि यूक्रेन के लोग अपनी आजादी के लिए लड़ रहे हैं। हमें लोकतंत्र के लिए पूरी ताकत के साथ लड़ना है।
बाइडेन ने कहा कि यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की लोकतांत्रिक रूप से चुने गए राष्ट्रपति हैं। उन्होंने कहा कि यूक्रेन पर हमले का रूस के पास कोई तर्क नहीं है। संबोधन के दौरान बाइडेन ने यूक्रेन के लिए आर्थिक मदद का भी ऐलान किया। उन्होंने कहा कि बर्बर हमले के लिए रूस जिम्मेदार है। मैंने यूक्रेन के शरणार्थियों से मुलाकात की है और हम यूक्रेन के लोगों के साथ खड़े हैं।
बाइडेन ने कहा कि हम यूक्रेन की मदद करते रहेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रतिबंधों की वजह से रूस की आर्थिक स्थिति खराब हो गई है। रूस ने लोकतंत्र का गला घोंटा है। बाइडेन ने अपील की है कि सभी देश मिलकर यूक्रेन की मदद करें। यूक्रेन की रक्षा के लिए अमेरिका हमेशा खड़ा रहेगा। उन्होंने ये भी कहा कि नाटो रूस के लिए खतरा नहीं है।
बाइडेन ने कहा कि अमेरिका की फौज हर मदद के लिए पोलैंड में मौजूद है। नाटो देशों की रक्षा के लिए अमेरिका मजबूती से खड़ा है। उन्होंने कहा कि लंबी लड़ाई के लिए दुनिया को तैयार रहना चाहिए। दुनिया के देश फिलहाल यूक्रेन के शरणार्थियों की मदद करें. अमेरिका यूक्रेन को हर मदद देने को तैयार है। बाइडेन ने कहा कि दुनिया को रूस नाटो के बारे में गलत बता रहा है। रूस के लोग हमारे लिए दुश्मन नहीं हैं।
तेल के लिए रूस पर निर्भरता खत्म करे यूरोप।
जो बाइडेन ने कहा कि तेल के लिए रूस पर निर्भरता को यूरोप खत्म करे। साथ ही उन्होंने कहा कि यूरोपिय देश रूस से तेल खरीदकर युद्ध मशीन की मदद न करें। उन्होंने रूस को चेतावनी जारी करते हुए कहा कि नाटो देशों की सीमा में घुसने की कोशिश रूस न करे। बाइडेन ने कहा कि अमेरिका ने एक बिलियन डॉलर की मदद की है। 
अमेरिकी राष्ट्रपति के संबोधन से कुछ मिनट पहले रूसी सेना ने पौलेंड सीमा से कुछ दूर यूक्रेन के लवीव शहर पर मिसाइल से हमला किया। मिसाइल से हमले में 5 लोग घायल हो गए।  रूसी सेना की ओर से ये हमला ऐसे समय में किया गया जब धमाका स्थल से कुछ ही दूरी पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन पोलैंड की राजधानी वारसॉ में मौजूद थे।
यूक्रेन के शरणार्थियों से मिलने के बाद बाइडेन ने पुतिन को कसाई बताया।
अपने संबोधन से कुछ घंटे पहले बाइडेन ने पोलैंड में यूक्रेन के शरणार्थियों से मुलाकात की। मुलाकात के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन को कसाई बताया है। बाइडेन ने ट्वीट कर कहा कि पोलैंड में शरणार्थी स्थल पर मौजूद बच्चों ने मुझसे कहा कि मेरे पिताजी, मेरे दादा, मेरे भाई के लिए प्रार्थना करें, जो रूस के सैनिकों से लड़ रहे हैं।
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने ट्वीट कर लिखा कि मैंने यूक्रेन के विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री के अलावा पोलैंड के राष्ट्रपति आंद्रेजेज डूडा के साथ मुलाकात की है। हम अपने मानवीय प्रयासों को देखने के लिए एक शरणार्थी स्थल का दौरा कर रहे हैं। आज रात मैं लोकतांत्रिक सिद्धांतों में निहित भविष्य के प्रति अपनी प्रतिबद्धता पर टिप्पणी कर रहा हूं।

सेंट्रल पीस कमेटी की बैठक का आयोजन: डीएम 

सेंट्रल पीस कमेटी की बैठक का आयोजन: डीएम  हरिशंकर त्रिपाठी  देवरिया। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में दशहरा, ईद...