रविवार, 6 सितंबर 2020

चेन्नई, के कप्तान पर धोनी का विचार

चेन्नई के अगले कप्तान के बारे में धोनी ने विचार किया होगाः ब्रावो।


दुबई। चेन्नई सुपर किंग्स के ऑलराउंडर खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो का कहना है कि टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने चेन्नई के अगले कप्तान के बारे में जरुर विचार किया होगा। धोनी ने 2008 में आईपीएल की शुरुआत से ही चेन्नई की कप्तानी की है। उनके नेतृत्व में टीम ने तीन बार आईपीएल का और एक बार चैंपियंस ट्राफी का खिताब जीता है। धोनी ने पिछले महीने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान किया था लेकिन साथ ही उन्होंने फिलहाल आईपीएल में खेलने का निर्णय लिया था।
ब्रावो ने कहा, “मुझे लगता है कि चेन्नई का अगला कप्तान तैयार करना धोनी के दिमाग में होगा। हम सभी जानते हैं कि एक दिन हम लोगों में से सभी खिलाड़ियों को इस खेल से संन्यास लेना है। यह तय करना है कि उन्हें कप्तानी सुरेश रैना को सौंपनी है या किसी युवा खिलाड़ी को टीम की कमान देनी है।”
उन्होंने कहा, “धोनी को अब करोड़ो लोगों की चिंता करने जरुरत नहीं है, उन्हें अब सिर्फ चेन्नई की चिंता करनी है। लेकिन मुझे नहीं लगता कि इससे उनका व्यक्तित्व बदलेगा। इससे उनके नेतृत्व करने का तरीके भी नहीं बदलेगा और वह वैसे ही इंसान रहेंगे जैसे वह हैं।” उल्लेखनीय है कि आईपीएल के 13वें सत्र का आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में होना है।                   


इयान 2020 के बाद लें लेंगे संन्यास

इंग्लैंड के इयान बेल 2020 सीजन के बाद लेंगे संन्यास।


लंदन। इंग्लैंड के अनुभवी बल्लेबाज इयान बेल ने कहा है कि वह 2020 सीजन के बाद क्रिकेट को अलविदा कह देंगे। 38 साल के बेल ने इंग्लैंड के लिए अपना आखिरी मैच 2015 में खेला था। वह हालांकि वार्विकशायर से लगातार काउंटी क्रिकेट खेल रहे हैं। बेल चोट के कारण हालांकि 2019 सीजन नहीं खेल पाए थे। इस साल वह रनों के लिए भी संघर्ष करते दिखाई दिए।
इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) की वेबसाइट पर बेल के हवाले से लिखा है, “मुझे काफी दुख है, लेकिन साथ ही गर्व भी है कि मैं पेशेवर क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर रहा हूं। कल मेरा लाल गेंद का अंतिम मैच होगा और अगले सप्ताह मैं अपने करियर का अंतिम टी-20 मैच खेलूंगा।”
उन्होंने कहा, “मैं जिस खेल को सबसे ज्यादा प्यार करता हूं और जिसे लेकर जुनूनी हूं वो हमेशा बनी रहेंगी। इस समय मेरा शरीर खेल की मांग को पूरा नहीं कर पा रहा है।”
उन्होंने कहा, “इंग्लैंड और वार्विकशायर के लिए खेलने के अपने बचपन के सपने को पूरा करना मेरे लिए सम्मान की बात रही है। बच्चे के तौर पर इनमें से किसी एक के लिए खेलने का सपना सच होनी ही मेरे लिए बड़ी बात थी, लेकिन ऐसा 22 साल तक करना, यह मेरी कामनाओं से भी काफी ज्यादा रहा है।”
दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा, “विश्व की नंबर-1 टीम का दर्जा हासिल करने वाली इंग्लैंड टीम का हिस्सा बनाना, पांच एशेज सीरीज जीतना जिसमें से एक में मैं प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया था, भारत में टेस्ट सीरीज जीतना उस युवा खिलाड़ी के लिए बड़ी बात थी जो सिर्फ एजबेस्टन के लिए बल्लेबाजी करना चाहता था।” बेल ने ऐसे संकेत दिए हैं कि वह आगे चल कर कोचिंग में हाथ आजमा सकते हैं। उन्होंने पिछली सर्दियों में इंग्लैंड लांयस को कोचिंग दी थी।
इंग्लैंड के महान बल्लेबाजों में गिन जाने वाले बेल वनडे में अपने देश के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे नंबर पर आते हैं। उन्होंने अपने देश के लिए 97 टेस्ट मैच खेले हैं और 47.99 की औसत से 7823 रन बनाए हैं। उन्होंने इंग्लैंड के लिए 161 वनडे खेले हैं और 37.86 की औसत से 5416 रन बनाए हैं। वह वनडे में इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे लेकिन मौजूदा कप्तानों- इयोन मोर्गन और जोए रूट ने उन्हें पीछे छोड़ दिया।                  


ग्रैंड स्लैम यूएस के क्वार्टर फाइनल में पहुंचे

अमेरिका ओपन: सेरेना, केनिन, मेदवेदेव, थिएम प्री क्वार्टरफाइनल में।


न्यूयार्क। 23 बार की ग्रैंड स्लेम विजेता अमेरिका की सेरेना विलियम्स, ऑस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन अमेरिका की सोफिया केनिन, दूसरी सीड ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम और तीसरी वरीयता प्राप्त रुस के डेनिल मेदवेदेव अपने-अपने मुकाबले जीतकर वर्ष के आखिरी ग्रैंड स्लेम यूएस ओपन के प्री क्वार्टरफाइनल में पहुंच गए।                  


हासिल करने में समय नहीं लगेगाः वाटसन

लय हासिल करने में ज्यादा समय नहीं लगेगाः वाटसन।


दुबई। चेन्नई सुपर किंग्स के ऑलराउंडर शेन वाटसन ने अभ्यास सत्र में भाग लेने के बाद कहा है कि उन्हें लय वापस हासिल करने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। चेन्नई की टीम ने क्वारेंटीन पीरियड पूरा होने के बाद शुक्रवार से ट्रेनिंग शुरु की।
चेन्नई की टीम गत 21 अगस्त को आईपीएल के लिए संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) पहुंची थी जहां आईपीएल के 13वें सत्र का आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक होना है। यूएई पहुंचने पर नियमनुसार उसे छह दिनों तक क्वारेंटीन में रहना था लेकिन दो खिलाड़ी सहित टीम के 13 सदस्य कोरोना से संक्रमित पाए जाने के बाद टीम समय से ट्रेनिंग शुरु नहीं कर पायी थी। हालांकि चेन्नई के अन्य सदस्यों का कोरोना टेस्ट किया गया था जिसमें सभी के नतीजे नेगेटिव आने पर टीम ने ट्रेनिंग शुरु करने का फैसला लिया था। वाटसन चेन्नई के अनुभवी और महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं। उन्होंने टीम के साथ अभ्यास में भाग लिया।
वाटसन ने ट्वीट कर कहा, “पहले अभ्यास सत्र में चेन्नई सुपर किंग्स के अपने साथी खिलाड़ियों के साथ लौटना काफी रोमांचक रहा। इसमें काफी मजा आया। लय हासिल करने में ज्यादा समय नहीं लगेगा।” उल्लेखनीय है कि आईपीएल शुरु होने से पहले चेन्नई को सुरेश रैना और अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह के निजी कारणों से आईपीएल के इस सत्र से हटने के कारण दोहरा झटका लगा है। ऐसे में टीम को वाटसन से काफी उम्मीदें होंगी।                 


नेताओं को सलाह क्यों नहीं देती सरकार ?

राणा ओबराय


दि कोरोना पॉजिटिव आम व्यक्ति का इलाज घर पर रह कर हो सकता है तो बड़े नेता क्यों घर पर नही करवाते हैं इलाज! अब कांग्रेस के एमपी दीपेंद्र हुड्डा भी हुए कोरोना पोजटिव


चंडीगढ। हरियाणा में जैसे-जैसे कोरोना का असर बढ़ता जा रहा है वैसे वैसे ही सरकार नियमों में ढील देती जा रही है! वैसे तो यह वैश्विक महामारी है। पूरे भारत देश के अंदर इसने अपना प्रकोप जारी रखा हुआ है। परंतु हम हरियाणा की बात करते हैं जब कुछ कोरोनावायरस मरीज प्रदेश में देखे जाते थे तो तब प्रदेश सरकार ने कर्फ्यू/लॉकडाउन जैसी स्थिति को लागू किया हुआ था। परंतु अब जब नित रोज हजारों की संख्या में कोरोनावायरस केस आ रहे हैं तब सरकार ने ढील दी है! यह सब ढील देकर सरकार ने यह साबित किया है कि सरकार स्थिति को संभालने में सक्षम नहीं है! इसलिए ढील दी जा रही है अथवा सरकार कोरोना वायरस से को हल्के में ले रही है! यह समझ से परे की बात है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल व उनके कार्यालय के अनेक अधिकारी, प्रदेश के अनेक मंत्री तथा अनेकों विधायक कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इनका इलाज बड़े-बड़े अस्पतालों में हो रहा है। आज पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के पुत्र एवं हरियाणा से कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा भी कोरोनावायरस पॉजिटिव पाए गए हैं। सोशल मीडिया के अनुसार वह भी शायद किसी बड़े अस्पताल में ही अपना इलाज करवाएंगे। मैं सरकार से जानना व आग्रह करना चाहता हु की अगर कोरोना पॉजिटिव आम व्यक्ति का इलाज घर पर रह कर हो सकता है तो फिर आप बडे बडे नेता घर पर रह कर इलाज क्यों नही करवा रहे हैं क्यों जनता और कर्मचारियों के द्वारा दिया गया का लाखो रुपए का टैक्स बर्बाद कर रहे हो?             


पद पर कांग्रेसियों की बगावत आई सामने

राणा ओबराय


कांग्रेस में अध्यक्ष पद को लेकर फिर सामने आई कांग्रेसियों की बगावत


नई दिल्ली। कांग्रेस में घमासान जल्द थमने वाला नहीं है। कांग्रेस में रविवार को उत्तर प्रदेश के पूर्व सांसदों द्वारा लिखे गये एक लैटर बम के बाद लगता है कि अब यह घमासान और बढ़ेगा। जानकारी के अनुसार यह लैटर बम पिछले साल पार्टी से निकाले गए नौ वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं का कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक पत्र भेजा है, जिसमें कहा गया है कि वह पार्टी को महज ‘इतिहास का हिस्सा बनकर रह जाने से बचा लें। साथ ही उनसे परिवार के मोह से ऊपर उठकर काम करने की अपील की गई है।
यूपी के पूर्व सांसद संतोष सिंह, पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी, पूर्व विधायक विनोद चौधरी, भूधर नारायण मिश्रा, नेकचंद पांडे, स्वयं प्रकाश गोस्वामी और संजीव सिंह के दस्तखत वाले लैटर बम में कहा गया है कि कांग्रेस उत्तर प्रदेश में अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है।


प्रियंका गांधी पर निशाना
यूपी की प्रभारी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए चार पन्नों के पत्र में सोनिया गांधी से परिवार से ऊपर उठने का आग्रह किया गया है। पत्र में लिखा गया है, ‘परिवार के मोह से ऊपर उठें और पार्टी की लोकतांत्रिक परंपराओं को फिर से स्थापति करें।                


संदिग्ध परिस्थितियों में आग, हुआ नुकसान

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


जनपद के गोदाम में लगी आग, लाखों का माल जलकर हुआ राख।


जनपद के बुलंदशहर रोड स्थित एक गोदाम का है जहां आग लगने से लाखों का नुकसान हो गया दमकल कर्मियों ने काफी देर की कड़ी मस्कत के बाद आग पर पाया काबू


हापुड़। बुलंदशहर रोड स्थित जदीद चौकी के पास नरेश चंद का गोदाम है। जिसमे पीओपी की पोलोथिन थी । जिसमेंं रविवार को अचानक संदिग्ध परिस्थितियों में आग लग गयी। देखते ही देखते आग ने इतना विकराल रूप ले लिया। जिसमें लाखों का नुकसान हुआ ऐसा बताया भी जा रहा है। हालांकि मौके पर दमकल की गाड़ी पहुच गई। काफी मस्कत के बाद दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाया। थाना प्रभारी संदीप मालिक ने बताया कि आग सन्दिग्ध रूप से लगी है। इसमे लाखो का नुकसान बताया जा रहा है।                 


गोवंश हत्या के संबंध में दल ने ज्ञापन दिया

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


 जनपद के गांव बड़ौदा सिहानी में 2 दिन पहले हुई गोवंश की हत्या के मामले में गौ रक्षा हिंदू दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ थाना हाफिजपुर में पहुंचकर दिया ज्ञापन


हापुड़। गोरक्षा हिंदू दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष वेद प्रकाश नागर और प्रदेश मंत्री ब्रह्मगिरि महाराज अपने कार्यकर्ताओं के साथ हापुड़ के थाना हाफिजपुर पहुंचे 2 दिन पहले हुई। गांव बड़ोदरा सिहानी मैं गोकशी को लेकर ज्ञापन दिया। वही गौ रक्षा हिंदू दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष वेद नागर ने गौ तस्करों पर रासुका लगाने की मांग की है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बताया 2 दिन पहले सूचना मिली कि बड़ौदा सियानी के जंगल में गाय काटी गई है। जिसमें गोकशी करने वालों ने सपनावत नंगला के एक पूजनीय गोवंश को भी काट दिया। जिससे समाज में बहुत रोष व्याप्त हो रहा है। गौ रक्षा हिंदू दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष वेद नागर ने सपनावत नंगला में इकट्ठे हुए लोगों को समझाया और थाना पहुंचकर लिखित में थाना अध्यक्ष को ज्ञापन देकर बड़ोदरा सिहानी समेत गोकशी करने बालों पर सरकार के आदेश अनुसार रासुका की कार्रवाई की मांग की है गौ रक्षा हिंदू दल के प्रदेश मंत्री ब्रह्मगिरि महाराज ने कहा किसी भी कीमत पर गौ तस्करी बर्दाश्त नहीं की जाएगी इस मौके पर उनके साथ ललित गुर्जर ईश्वर सिंह अजय ठाकुर रमेश सिंह मोनू गुर्जर आदि लोग मौजूद रहे।


पशु चोरों के सामने पुलिस हुई नतमस्तक

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी
सिंभावली पुलिस फेल- पशु चोरों का नहीं कर पाई खुलासा जिसमें बीती रात्रि पशु चोरों ने फिर बोला धावा- नहीं है पशु चोरों को सिंभावली पुलिस का डर


हापुड़। जनपद के थाना सिंभावली क्षेत्र में थमने का नाम नहीं ले रही पशु चोरों की घटना, जहां पर पुलिस पहले ही फेल हो चुकी है। एक भी खुलासा नहीं करने के कारण पशु चोरों का, घटनाए दिन पर दिन बढ़ती जा रही हैं। पशु चोरों की, वहीं पर सिंभावली पुलिस खुलासा करने से बैठिए कोसों दूर पीछे, आखिर क्यों, जहां पर 1 महीने में पशु चोरों के गिरोह क्षेत्र में पूर्ण रूप से जहां चाहे वही से ही पशु चोरी कर दे रहे हैं।घटनाओं को अंजाम, जहां पर गहरा गया किसानों के द्वारा थाने को भी दी गई चेतावनी, मगर सिंभावली पुलिस पर कोई असर नहीं, सिंभावली क्षेत्र में पशु चोरों की बल्ले-बल्ले, जहां पर चोरों ने क्षेत्र में दर्जनों की संख्या में पशु चोरी की घटनाओं को अंजाम दे दिया है, जहां पर माधोपुर रविन्द्र, रिजवान,वैट, सुनील,दरियापुर हरोड़ा से एक -पशु खुलडलिया से , एक पशु वहीं बीती रात्रि पृथ्वी सिंह निवासी फरीदपुर सिंभावली के यहां से जहां पर एक पशु की चोरी करते होगे पशु चोरों ने फिर भी चेतावनी सिंभावली पुलिस को, आखिर क्यों नहीं कर पा रही सिंभावली पुलिस इस मामले का खुलासा जहां पर क्षेत्र की जनता ने है। इस सारे मामले को देखते हुए डर तरह-तरह की चल रही है। क्षेत्र में चर्चाएं, उधर भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं में भारी गुस्सा और उबाल है, अब देखना यह होगा कि सिंभावली पुलिस कितनी जल्दी कर पाती है इन सारे मामलों का खुलासा या यूं ही पीड़ित करते रहेंगे चक्कर दर-दर के।                   


अवैध शराब के साथ 4 अभियुक्त गिरफ्तार

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी
हापुड़ नगर पुलिस ने चेकिंग के दौरान बीती रात्रि पकड़ी अवैध शराब चार अभियुक्तों को किया गिरफ्तार


जनपद थाना हापुड़ नगर पुलिस ने चलाया चेकिंग अभियान


हापुड़। पुलिस अधीक्षक के बीती रात्रि जहां पर हापुड़ नगर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर अवैध शराब बेचने वाले 4 व्यक्तियों को किया गिरफ्तार। अरुणाचल प्रदेश मार्का दारु कि बरामद, जहां पर हापुड़ नगर पुलिस की सख्त पूछताछ में बताया कि अभियुक्त हरीश हापुड़, बबलू पेंटर, शिवम , बिट्टू सैनी निवासी किलौडा थाना भोजपुर गाजियाबाद, चारों अभियुक्तों पर आबकारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है।                 


हमले में 8 तालिबानी आतंकियों की मौत

अफगानिस्तान में सेना के हवाई हमले में आठ तालिबानी आतंकी मारे गए।


काबुल। अफगानिस्तान के उत्तरी बल्ख प्रांत के चारबोलक जिले में सेना के लड़ाकू विमानों ने तालिबानी आतंकवादियों के ठिकानों को निशाना बनाकर हमला किया जिसमें कम से कम आठ आतंकवादी मारे गए हैं। अफगान सेना के प्रवक्ता मोहम्मद हनीफ रेजाई ने यह जानकारी दी। प्रवक्ता के मुताबिक तालिबानी आतंकवादी जिले के साब्जीकर क्षेत्र में एकत्र होकर सुरक्षा चौकियों पर हमले की योजना बना रहे थे।
लेकिन पहले से तैयार सुरक्षाकर्मियों ने आतंकवादियों पर हवाई हमले कर दिए जिसमें आठ आतंकवादी घटनास्थल पर ही मारे गए और बाकी भाग खड़े हुए। यह हमला शनिवार को हुआ था। पिछले कुछ दिनों में देश के उत्तरी क्षेत्र में तालिबानी आतंकवादियों के ठिकानों पर सेना की ओर से किया गया यह दूसरा हवाई हमला है।
इससे पहले शुक्रवार को फारयाब प्रांत के कायसर जिले में तालिबान के ठिकाने पर हुए हमले में दो आतंकवादी मारे गए थे और उसका एक अहम नियंत्रण केंद्र नष्ट हो गया था।               


दिल्ली में डेंगू के खिलाफ बेहतर अभियान

दिल्ली में डेंगू के खिलाफ ’10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ का अभियान शुरू।


नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार सुबह 10 बजे अपने आवास पर साफ-सफाई करके डेंगू के खिलाफ ”10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट” महा अभियान की शुरूआत की। दिल्ली सरकार के सभी मंत्रियों और कई विधायकों ने भी अपने आवास पर साफ-सफाई करके इस अभियान में हिस्सा लिया। उन्होंने भी अपने निवास पर इकट्ठा हुए पानी को बदल कर डेंगू के खिलाफ अगले 10 हफ्ते तक चलने वाले महा अभियान की शुरूआत की।                  


पहलवान को होम क्वॉरेंटाइन रहने को कहा

पहलवान दीपक पुनिया को होम क्वारंटाइन में रहने को कहा गया।


नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से संक्रमित विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता पहलवान दीपक पुनिया को सेहत में सुधार के बाद डॉक्टरों ने घर में ही क्वारंटाइन में रहने की सलाह दी है। दीपक के अलावा नवीन और कृष्णा भी कोरोना से संक्रमित पाए गए थे।
पुरुष पहलवानों का शिविर हरियाणा के सोनीपत में एक सितम्बर से शुरू हुआ था और ये तीनों पहलवान इस शिविर का हिस्सा थे। कोरोना प्रोटोकॉल के अनुसार शिविर में पहुंचे पहलवानों और सपोर्ट स्टाफ का टेस्ट किया गया था।
भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) ने ट्वीट कर बताया कि दीपक की हालत में अब सुधार हुआ है और वह लक्षणरहित हैं जिसके बाद डॉक्टरों ने उन्हें घर पर ही क्वारंटाइन में रहने की सलाह दी है। साई ने कहा कि दीपक को घर में क्वारंटाइन में रखने की सलाह को जिला कोविड नोडल अधिकारी ने मंजूरी दे दी है।                 


ताहिर के रिमांड को लेकर कोर्ट का फैसला

ताहिर की हिरासत रिमांड बढ़ाने को लेकर ईडी की याचिका पर कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा।


नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा दायर उस याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है, जिसमें उसने उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुई हिंसा के मामले को लेकर मनी लॉन्ड्रिंग के सिलसिले में आम आदमी पार्टी के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन की हिरासत रिमांड बढ़ाने की मांग की है।
अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अमिताभ रावत ने ईडी की रिमांड अर्जी पर फैसला सुरक्षित रख लिया है और अब 7 सितंबर को इस पर फैसला होने की संभावना है। ईडी ने ताहिर हुसैन की और नौ दिनों की हिरासत की मांग की है। ईडी ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हुसैन को पेश किया और कहा कि कई औपचारिकताओं और हुसैन के मेडिकल परीक्षण के कारण 29 अगस्त के बजाय 31 अगस्त को उसे उनकी कस्टडी मिली।
इस बीच, हुसैन की ओर से पेश वकील केके मनन ने इस संबंध में विभिन्न फैसलों का हवाला देते हुए ईडी की रिमांड अर्जी का कड़ा विरोध किया। ईडी की ओर से पेश वकीलों अमित महाजन और नवीन कुमार मट्टा ने कहा कि हुसैन ने कई कंपनियों के खातों से धोखाधड़ी कर पैसे ट्रांसफर करके आपराधिक साजिश किया है।
ईडी ने अपनी दलील में कहा, “जो पैसा मिला है वह आपराधिक तरीके से अर्जित है। जो तब विभिन्न अन्य अपराधों को करने के लिए इस्तेमाल किया गया था। हमें उनसे और भी कई दस्तावेजों आदि के साथ पूछताछ के लिए उनकी रिमांड की जरूरत है।” ईडी ने अपनी याचिका में कहा कि व्हाट्सएप चैट, फर्जी चालान और कई आपराधिक दस्तावेज बरामद किए गए हैं। इससे पहले अगस्त में, पूर्वी एमसीडी ने हुसैन को पार्षद पद से बर्खास्त कर दिया था।              


नियंत्रण गति का धीमा 'प्रसार' हानिकारक

नमूनों की उचित हैंडलिंग कोविड के प्रसार को धीमा कर सकती है: विशेषज्ञ।


नई दिल्ली। विशेषज्ञों ने कहा है कि स्वास्थ्यकर्मी, उनमें भी विशेष तौर पर अपनी जान जोखिम में डालकर नमूने लेने वाले लोग पीपीई किट, ग्लब्स और मास्क के अलावा अन्य सावधानियों को अच्छी तरह से बरतें। क्योंकि नमूनों के संग्रह और परिवहन में शामिल लोग और उपकरण संक्रमण के स्रोत के रूप में कार्य कर सकते हैं। लिहाजा इन लोगों द्वारा पीपीई किट का उचित उपयोग अति-आवश्यक है।              


काला 'सागर' में जहाजों की उपस्थिति बढ़ी

काला सागर में विदेशी सैन्य जहाजों की उपस्थिति बढ़ी: रूस


मास्को। रूस ने दावा किया है कि काला सागर में हाल के समय में क्षेत्र के बाहर के देशों के सैन्य जहाजों की उपस्थिति बढ़ गई है। रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु ने रूस के रोसिया एक टेलीविजन चैनल से कहा, “हमारे सैन्य जहाजों की उपस्थिति नियमित रूप से यहां नहीं होती लेकिन क्षेत्र के बाहर के देशों के जहाजी बेड़ों की उपस्थति होती है और नियमित तौर पर होती है।”
उन्होंने कहा, “रूसी सेना आम तौर पर काला सागर में विदेशी सैन्य जहाजों के प्रवेश पर नजर रखता है और कई विदेशी मीडिया इसे गलत रूप से पेश करती है। रूसी नौसेना यह सुनिश्चित करने के लिए ऐसा करती है कि देश को किसी तरह का कोई खतरा न हो।”
हाल के समय में काला सागर में तुर्की की ड्रिलिंग गतिविधियों के कारण क्षेत्र में तनाव बढ़ गया है। पिछले सप्ताह तुर्की ने काला सागर में प्राकृतिक गैस के विशाल भंडार की खोज की और कहा कि क्षेत्र में हाइड्रोकार्बन की खोज करना उसका संप्रभु अधिकार था।                 


शेयर बाजार में गिरावट बनें रहने का अनुमान

शेयर बाजार में भारी गिरावट, अगले सप्ताह भी दबाव बने रहने का अनुमान।


मुंबई। कोरोना काल में किये गये लाॅकडाउन के कारण चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में देश की आर्थिक विकास दर में करीब 24 फीसदी की भारी गिरावट आने के दबाव से बीते सप्ताह घरेलू शेयर में भारी बिकवाली देखी गयी। अगले सप्ताह भी बाजाार पर इन कारकों के हावी रहने से दबाव बने रहने का अनुमान जताया गया है।
समीक्षाधीन अवधि में बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 1110.13 अंक अर्थात 2.81 प्रतिशत गिरकर 38357.18 अंक पर रहा। सप्ताह के दौरान यह 40 हजार अंक के स्तर को पार करने में सफल रहा लेकिन भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव बढ़ने की खबर के दबाव में यह अपने स्तर को बरकरार रखने में असफल रहा।
इसी तरह से नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 313.75 अंक अर्थात 2.69 प्रतिशत गिरकर 11333.85 अंक पर रहा। इस दौरान छोटी और मझौली कंपनियों में भी बिकवाली हावी रही जिससे बीएसई का मिडकैप 2.76 प्रतिशत गिरकर 14817.06 अंक पर और स्मॉलकैप 2.59 प्रतिशत फिसलकर 14602.97 अंक पर रहा।
कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए लगाये गये लॉकडाउन के कारण अप्रैल से जून के दौरान चालू वित्त वर्ष की तिमाही में देश का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि दर शून्य से 23.9 प्रतिशत नीचे लुढ़क गया जो 40 वर्षाें में सबसे बड़ी गिरावट है।
केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा जारी जीडीपी के तिमाही आंकड़ों के अनुसार पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह दर 5.2 प्रतिशत रही थी। लॉकडाउन के कारण देश में आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह से बंद हो गयी थी। मार्च के अंतिम सप्ताह से लेकर मई मध्य तक पूरे देश में पूर्ण बंदी रही थी। इसके बाद सरकार ने चरणबद्ध तरीके से सामाजिक दूरी के मानदंडों का पालन करते हुये विनिर्माण सहित विभिन्न गतिविधियों को शुरू करने की अनुमति दी थी और अब तक सभी क्षेत्र काेरोना से पहले की स्थिति में काम नहीं कर रहे हैं।
चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में देश की जीडीपी 2689556 करोड़ रुपये रहा है जो पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि के 3535267 कराेड़ रुपये की तुलना में 23.9 प्रतिशत कम है। इस तरह से देश के जीडीपी की वृद्धि दर शून्य से 23.9 प्रतिशत नीचे रही है।
विश्लेषकों का कहना है कि यात्री वाहनों की बिक्री में सुधार होने से ऑटो मोबाइल समूह को थोड़ा बल मिला लेकिन जीडीपी में गिरावट और कोरोना के मामलों में बढोतरी होने से निवेशधारणा कमजोर हो गयी। इसके साथ ही पूर्वी लद्दाख में चीन सीमा पर फिर से तनाव बढ़ने का असर भी बाजार पर दिखा है। उनका कहना है कि अगले सप्ताह भी बाजार पर इनका असर होगा और बाजार पर दबाव दिख सकता है।                         


19 साल की कोरोना मरीज के साथ रेप

केरल में 19 साल की कोरोना मरीज के साथ ऐंबुलेंस ड्राइवर ने किया रेप।


तिरुवनंतपुरम। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच केरल से हैरान करने वाली घटना सामने आई है। यहां एक ऐंबुलेंस ड्राइवर ने 19 साल की कोरोना मरीज के साथ रेप किया। आरोपी ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया गया है।
हाइलाइट्स: केरल में ऐंबुलेंस ड्राइवर ने कोविड-19 संक्रमित 19 साल की युवती के साथ बलात्कार किया
घटना पटनमिट्ठा के अरममुला इलाके की है, आरोपी ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया गया है।
ड्राइवर ने एक मरीज को पहले उतारा, इसके बाद युवती को सुनसान जगह लेकर रेप किया
पटनमिट्टाः केरल के पटनमिट्ठा जिले से रेप की हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक ऐंबुलेंस ड्राइवर ने कोविड-19 संक्रमित 19 साल की युवती के साथ कथित रूप से बलात्कार किया। घटना पटनमिट्ठा के अरममुला इलाके की है। आरोपी ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया गया है।
पुलिस ने बताया कि ऐंबुलेंस में दो मरीज थे। ड्राइवर ने एक मरीज को पहले उतार दिया। इसके बाद वह युवती को एक सुनसान जगह ले गया। वहां उसके साथ रेप कर लिया और फिर उसे कोविड केयर सेंटर में छोड़ दिया। एक तरह पूरे देश में कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं। ऐसे में यह घटना बेहद चौंकाने वाली है।
केरल में लगातार बढ़ रहे कोरोना मामले।
भारत में कोरोना के 41 लाख से ज्यादा मामले हो चुके हैं। वहीं केरल में कोरोना संक्रमण के एक दिन में सबसे अधिक 2,655 नए मामले सामने आए। इससे राज्य में संक्रमण के मामले बढ़कर 84,758 हो गए। वहीं संक्रमण से 11 और लोगों की मौत होने से मृतक संख्या 337 पर पहुंच गई।           


अनोखा एटीएमः ₹5 में निकलेगा मास्क

अनोखा एटीएम, मात्र 5 रुपए में निकलेगा मास्क, हाथ भी होंगे सैनिटाइज।


नई दिल्ली। हर व्यक्ति के जेहन में एटीएम  का नाम सुनकर, रुपयों वाले एटीएम की ही तस्वीर आती है। लेकिन क्या आपने कभी मास्क के एटीएम के बारे में सुना है? दरअसल, सहारनपुर नगर निगम ने सहारनपुर में मास्क एटीएम लगाने का आगाज़ कर दिया है। नगर आयुक्त ने मास्क एटीएम का शुभारंभ किया। जिसमें पांच रुपये का सिक्का एटीएम  में डालो और एटीएम से मास्क लो।
आपको जानकर हैरानी होगी कि आखिर मास्क एटीएम  है क्या और यह किस तरह से काम करता है? एटीएम से आपको सिर्फ 5 रुपये में आपको मास्क मिल जाएगा।उत्तर प्रदेश के नगर निगम में पहला मास्क एटीएम सहारनपुर नगर निगम में स्थापित किया गया है।इस एटीएम में केवल 5 रुपये का सिक्का डालकर आपको बाज़ार में 10 रुपये से लेकर 15 रुपये तक मिलने वाले मास्क एटीएम से सिर्फ 5 रुपये में मिल जाएगा।इसके साथ ही इस एटीएम मशीन में बगैर हाथ लगाए आप अपने हाथों को सैनिटाइज भी कर सकते हैं।कोरोना महामारी के संकटकाल के चलते जहां सैनिटाइज और मास्क की काफी अहमियत है।वहीं, अब यह मास्क एटीएम आपको मास्क और सेनिटाइज की आवश्यकता को पूरा करने में अहम भूमिका निभाएगा।
नगर आयुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने कहा कि नगर निगम के अलावा सहारनपुर के सभी सार्वजनिक स्थलों में और सार्वजनिक शौचालय के पास यह मास्क एटीएम स्थापित किए जाएंगे।जो कि इस कोरोना काल में इस महामारी से बचने के लिए अपना अहम योगदान देंगे।इस एटीएम  मास्क की क्षमता 50 मास्क तक होगी।इस एटीएम मास्क मशीन के पास हमारे कर्मचारी भी होंगे जो इस एटीएम के संबंध में लोगों को जानकारी देंगे।           


परेशान करने वाली सड़क बनकर तैयार

चीन को परेशान करने वाली सड़क बनकर तैयार।


बीजिंग। लद्धाख में चीन से जारी तनाव के बीच देश ने एक और कामयाबी हासिल की है। बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन यानि की बीआरओ ने लेह को देश के दूसरे हिस्सों से जोड़ने के लिए एक नई सड़क का निर्माण तकरीबन पूरा कर लिया है।  यह सड़क मनाली को लेह से जोड़ेगी। इससे सेना के जवानों की आवाजाही और आसान हो जाएगी। इसे नीमो-पदम-दारचा के नाम से जाना जाएगा।
दरअसल, यह सड़क किसी भी सीमा से दूर होगी, जिससे पड़ोसी देशों से इस सड़क पर गुजरने वाले सेना के काफिलों की निगरानी असंभव है। यह सड़क सुरक्षा बलों के लिए इसलिए अहम है क्योंकि दुश्मन की नजर में आए बिना सुरक्षाबल लद्दाख तक अपनी पहुंच बना सकेंगे। दो अन्य सड़कें- श्रीनगर-कारगिल-लेह और मनाली सरचू-लेह मार्ग को आसानी से दुश्मन देख पाता है क्योंकि ये सड़कें अंतर्राष्ट्रीय सीमा के करीब हैं, जिसकी वजह से दुश्मन के लिए उन पर निगरानी रखना आसान हो जाता है।
258 किमी लंबे इस हाइवे से मनाली से लेह जाने में करीब 5-6 घंटे की बचत होगी। हाइवे के निर्माण में सिर्फ 30 किमी का काम ही बाकी है। खास बात ये है कि ये सड़क ऑलवेदर रूट  है, मतलब हर मौसम में इस पर आवाजाही हो सकेगी।
भारत ने दारचा और लेह को जोड़ने वाले हाइवे का काम बहुत जल्दी पूरा कर लिया है। इस रास्ते से सैनिकों के लिए रसद और हथियार पहुंचाने में काफी आसानी होगी। इस हाइवे से कारगिल क्षेत्र में भी पहुंच आसान हो जाएगी। 16 सीमा सड़क कार्यबल के कमांडर और सुप्रीटेंडेंट इंजीनियर एमके जैन ने बताया कि निम्मू-दारचा-लेह को जोड़ने वाला हाइवे जल्द ही शुरू हो जाएगा।
258 किमी लंबे इस हाइवे से मनाली से लेह जाने में करीब 5-6 घंटे की बचत होगी। वहीं, पहले की दो सड़कों से मनाली से लेह जाने में तकरीबन 12-14 घंटे लगते थे। इस तीसरी सड़क को साल के 10-11 महीने खोला जा सकेगा। हाइवे के निर्माण में सिर्फ 30 किमी का काम ही बाकी है। सूत्रों के मुताबिक हिमाचल से लद्दाख तक एक और वैकल्पिक मार्ग को दोबारा खोलने का काम चल रहा है और यह 2022 तक चालू हो सकता है।             


भारत आने वाली कंपनियों को 'सब्सिडी'

चीन छोड़कर भारत आने वाली कंपनियों को जापान देगा सब्सिडी।


बीजिंग/ नई दिल्ली/ टोक्यों। चीन को एक के बाद एक झटके लगने का सिलसिला लगातार जारी है।भारत के बाद अब जापान भी चीन पर स्ट्राइक करने की तैयारी में है। जापान ने कहा है कि अगर कोई जापानी कंपनी चीन को छोड़कर भारत में आकर मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट लगाती है तो उसे जापान की सरकार वित्तीय मदद देगी। जापान सप्लाई चेन या कच्चे माल के लिए चीन पर अपनी निर्भरता कम करना चाहता है, इसलिए जापान सरकार ने ऐसा फैसला किया है।जापान चीन के बजाय आसियान देशों में अपने सामान तैयार करेगा। साथ ही जापान ने भारत और बांग्लादेश को भी इस सूची में शामिल किया है, जहां जापानी कंपनियां अपने उत्पाद तैयार कर सकती हैं।जापान के इस फैसले से दोनों देशों को लाभ होगा।
सब्सिडी के लिए 1,615 करोड़ रु किए आवंटित
जापान सरकार ने कंपनियों को प्रोत्साहित करने के लिए सब्सिडी के रूप में अपने 2020 के पूरक बजट में 221 मिलियन डॉलर ( 1,615 करोड़ रुपये) आवंटित किए हैं।जो कंपनियां, चीन से बाहर भारत में और आसियान क्षेत्र में अपनी कंपनी स्थानांतरित करेगी उसे इस सब्लिडी का लाभ मिलेगा। दरअसल सब्सिडी कार्यक्रम के दायरे का विस्तार करके, जापान का लक्ष्य चीन पर अपनी निर्भरता को कम करना है और आपातकाल के दौरान भी चिकित्सा या इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की स्थिर आपूर्ति के लिए एक प्रणाली का निर्माण करना है।
3 सितंबर से जापानी कंपनियां कर सकेंगी आवेदन
जापान चाहता है कि विभिन्न देशों में जापानी कंपनियों की मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट हो ताकि संकट के समय भी जापान को दवा और इलेक्ट्रॉनिक्स कंपोनेंट की आपूर्ति होती रहे।जापान के अखबार में छपी खबर के मुताबिक, 3 सितंबर से इस प्रकार की प्रोत्साहन मदद लेने की इच्छुक जापानी कंपनियां आवेदन कर सकेंगी।             


चावल का ज्यादा सेवन होता है घातक

चावल का ज्यादा सेवन हो सकता है आपके लिए घातक। 


क्या चावल आपका पसंदीदा भोजन है, क्या आप चावल का सेवन रोज़ाना करते हैं ? तो यहां पर हम आपको चावल के बारे में कुछ ऐसी बात बताने जा रहे हैं, जो दिल से जुड़ी है। चावल एक ऐसा अनाज है, जिसका देश-विदेश में अलग-अलग इस्तेमाल कर डिशेस और पकवान बनाए जाते हैं। चावल का उपयोग लगभग पूरे भारत में किया जाता है। पूर्वी और उत्तरी भारत राज्यों में तो चावल जैसे डेली डायट का हिस्सा बन गया है। लेकिन क्या आज के समय में चावल का प्रतिदिन सेवन करना सेहत के लिए कितना फायदेमंद है। क्या चावल से सेहत पर कोई असर भी पड़ता है ?
अब चावल क्यों करता है नुकसान ? हर किसी के मन में ये सवाल तो जरूर आता है कि पुरानी पीढ़ियां भी लंबे समय से चावल का सेवन करती आ रही हैं, लेकिन उनकी हमसे अधिक जीवन व्यतीत करते थे  और स्वस्थ भी रहते थे। लेकिन, आज के युग में इतनी दिक्कतें क्यों आ रही हैं? बता दें की आज हमारे जीवन से कहीं न कहीं हमारा श्रम गायब हो गया है। पहले की पीढ़ियां खेती के लिए प्रतिदिन कई किलोमीटर पैदल चल कर जाया करते थे क्योंकि उस समय आने-जाने के अधिक साधन नहीं हुआ करते थे। इसलिए उनका शरीर और पाचनतंत्र अच्छे से काम करता था। जबकि पुरानी पीढ़ी की तुलना में आज की जनरेशन अधिक आलसी हो चुकी है। इतना ही नहीं  रहन-सहन, खान-पान का संतुलन भी बिगड़ गया है। कई लोग चावल का सेवन न सिर्फ दोनों समय करते हैं, बल्कि अत्यधिक मात्रा में भी चावल खाते  हैं। ऐसे लोगों चावल के सेवन पर परहेज करने की जरूरत है। चावल का अत्यधिक सेवन करने से आप में हृदय सम्बन्धी रोग होने की संभावनाएं भी बढ़ जाती हैं।
आर फैक्टर… खतरा।


यदि डेली रूप से चावलों का सेवन करनेवाले लोगों में मोटापा हो और धूम्रपान की आदत भी हो तो उस व्यक्ति को हृदय रोग होने की संभावना कई गुना बढ़ जाती है। इसलिए महत्व है कि जिन लोगों को ये आदतें हैं, वो सभी इन पर ध्यान रखते हुए चावलों का कम मात्रा में सेवन करें और खुद को शारीरिक रूप से फिट रखें।               


बंदरगाहों पर सिर्फ 'मेक इन इंडिया' पोत चलेंगे

अब बंदरगाहों पर चलेंगे सिर्फ ‘मेक इन इंडिया’ पोत, सरकार ने दिए निर्देश।


नई दिल्ली। आत्मनिर्भर भारत के तहत जहाजरानी मंत्रालय ने सभी प्रमुख बंदरगाहों को सिर्फ भारत में बने पोत खरीदने या किराये पर चलाने का निर्देश दिए हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत आह्वान के तहत जहाजरानी मंत्रालय  ने देश में नौवहन को बढ़ावा देने के लिए सभी प्रमुख बंदरगाहों को सिर्फ भारत में बने पोत खरीदने या किराये पर चलाने का निर्देश दिए हैं। जहाजरानी मंत्रालय ने सभी प्रमुख बंदरगाहों को उन्हीं कर्षण नावों (बड़े जहाजों को खींचने वाली मजबूत नाव) को खरीदने या किराये पर लेने का निर्देश दिया है जो केवल स्वदेशी हैं।जहाजरानी मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा कि नई गाइडलाइन से हमारे प्रमुख बंदरगाहों पर छोटे पोत की जरूरत ‘मेक इन इंडिया’ के तहत पूरी होगी.’ इस नई योजना से देश के 16 प्रमुख बंदरगाहों पर छोटे पोत बनाने में मदद मिलेगी और हमारे बंदरगाह आत्मनिर्भर बनेंगे।
मेक इन इंडिया को मिलेगा बढ़ावा
देश में 23,000 से ज्यादा पोत नियमित रूप से आते हैं और उनकी मरम्मत की भी जरूरत पड़ती है इसे देखते हुए हम यह नीति अपना रहे हैं। जहाजरानी मंत्रालय भारतीय जहाज निर्माण उद्योग को बढ़ावा देने का लक्ष्य लेकर चल रहा है और मेक इन इंडिया जहाज निर्माण के लिए कुछ अग्रणी देशों के साथ चर्चा भी कर रहा है। इस बीच, सरकार का यह निर्णय जहाज निर्माण में ‘मेक इन इंडिया’ को साकार करने की दिशा में एक बड़ा कदम साबित होगा।
आत्म निर्भर भारत में आत्म निर्भर पोत।
केंद्रीय जहाजरानी राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री मनसुख मांडविया ने कहा कि सरकार पुराने शिपयार्ड को पुनर्जीवित करने और भारत में जहाज निर्माण को बढ़ावा देने के लिए पूरी कोशिश कर रही है। यह भारतीय जहाज निर्माण के पुनरुद्धार और आत्म निर्भर भारत में आत्म निर्भर पोत परिवहन को बढ़ावा देने की दिशा में एक बड़ा कदम है। सरकार भारत में जहाज निर्माण, जहाज की मरम्मत, जहाज पुनर्चक्रण (रिसाइक्लिंग) और झंडी से सूचित करने के लिए एक पारिस्थितिकी तंत्र बनाने की कोशिश करेगी। आने वाले समय में आत्म निर्भर पोत परिवहन एक प्रणाली बनने जा रहा है।
किया जाएगा समिति का गठन
भारतीय बंदरगाह संघ के प्रबंध निदेशक के अधीन एक स्थायी विनिर्देश समिति का गठन करने का प्रस्ताव है जिसमें कोचीन शिप यार्ड लिमिटेड (सीएसएल), भारतीय पोत परिवहन निगम, (एससीआई), भारतीय पोत परिवहन पंजीयन (आईआरएस) के प्रतिनिधि और शिपिंग महानिदेशक शामिल होंगे।स्थायी विनिर्देश समिति लगभग पांच रूपों / प्रकार के छोटे नावों की संक्षिप्त सूची बनाएगी और एक स्वीकृत मानकीकृत डिजाइन और विनिर्देश (एएसटीडीएस) तैयार करेगी।
यह एएसटीडीएस विनिर्देश, सामान्य व्यवस्था, बुनियादी गणना, बुनियादी संरचनात्मक चित्र, प्रमुख प्रणाली के चित्र और अन्य निर्माण मानकों आदि की रूपरेखा तैयार करेगा।इन मानकों को स्थायी विनिर्देश समिति अच्छी तरह जांच परख करेगी और इसके बाद आईआरएस इसे सैद्धांतिक तौर पर प्रमाणित करेगी और तब भारतीय बंदरगाह संघ इसे अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेगा।जहाजरानी मंत्रालय प्रमुख बंदरगाहों को कुछ विंडो भी प्रदान करेगा ताकि निर्माण समय का लाभ उठाया जा सके।
हाल ही में सरकार के स्वामित्व वाली कोचीन शिप यार्ड लिमिटेड नार्वे सरकार से दो स्वचालित जहाजों के लिए ऑर्डर हासिल करने में सफल रही है। यह अपनी तरह के मानव रहित जहाजों में से पहला होगा। जहाजरानी मंत्रालय द्वारा लिए गए विभिन्न फैसले निकट भविष्य में जहाज निर्माण क्षेत्र को पूरी तरह से बदल देंगे।           


झांसी में बनेगा बोर्ड का क्षेत्रीय कार्यालय

झांसी में बनेगा प्रयागराज बोर्ड का क्षेत्रीय कार्यालय।


झांसी। माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक विनय कुमार पांडेय ने कहा कि झांसी में जल्द ही प्रयागराज बोर्ड का क्षेत्रीय कार्यालय तैयार होगा। इसके लिए शासन को स्वीकृति के लिए प्रस्ताव भेजा जा रहा है। बुंदेलखंड की क्षेत्रीय आवश्यकता को देखते हुए यह प्रस्ताव भेजा जाएगा।
शनिवार को माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक ने शिक्षा भवन में निरीक्षण कर अधिकारियों के साथ मंडलीय समीक्षा बैठक की। इस मौके पर पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय कार्यालय के होने से विद्यार्थियों एवं शिक्षकों को इलाहाबाद तक नहीं आना पडे़गा। अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि वे अच्छे शिक्षकों का समूह बनाकर बेविनार कराएं। नई शिक्षा नीति का सभी अध्ययन कर नई योजनाएं बनाएं। वर्चुअल स्कूल को लेकर उन्होंने कहा कि विभाग के सभी अधिकारी और शिक्षक लगातार मेहनत कर रहे हैं। शिक्षक नवाचार का प्रयोग अधिक करें। माध्यमिक के विद्यालयों में कर्मचारियों की कमी को लेकर उन्होंने कहा कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की भर्ती को लेकर प्रस्ताव तैयार हुआ है। जल्द ही इस पर निर्णय लिया जाएगा। इसके अलावा जहां शिक्षकों की कमी है, वहां भी चयन आयोग के माध्यम से भर्ती हो रही है। उन्होंने कहा कि सभी विद्यालयों में ड्रॉप बाक्स रखने को कहा गया है। ऐसे मेें जिन विद्यार्थियों के पास मोबाइल नहीं हैं, वे ड्राप बाक्स के माध्यम से शिक्षक से पढ़ाई की सामग्री प्राप्त कर सकते हैं।           


पुलिस महकमे में बड़े फेरबदल की तैयारी

पुलिस महकमे में बड़े फेरबदल की तैयारी, बदलेंगे यूपी के शीर्ष अफसर, कल जारी हो सकती है तबादला सूची।


लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस महकमे में बड़े फेरबदल की तैयारी की जा रही है। इसके लिए गृह विभाग के शीर्ष अफसर पिछले दिनों दो बार सिग्रेचर बिल्डिंग में डीजीपी के साथ मंथन कर चुके हैं। पुलिस व गृह विभाग के शीर्ष अफसर शुक्रवार को भी काफी देर तक बैठे।
माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री शनिवार की सुबह गोरखपुर चले जाने से इस सूची पर अंतिम निर्णय नहीं हो सका। वह सोमवार को वह लखनऊ लौटेंगे, जिसके बाद तबादला सूची जारी हो सकेगी।
तीन एडीजी, कम से कम दो आईजी बदलेंगे।
पुलिस सूत्रों का कहना है कि इस बार जिन अधिकारियों के तबादले पर मंथन हुआ है उनमें से तीन जोन के एडीजी, दो आईजी प्रमुख रूप से शामिल हैं। ये ऐसे अफसर हैं जो लंबे समय से एक ही जगह पर जमे हुए हैं। इनका कार्यक्षेत्र बदलने की कवायद की जा रही है। इस सूची में प्रमुख रूप से आगरा व गोरखपुर जोन के एडीजी के नाम शामिल हैं।
आधा दर्जन से अधिक पुलिस कप्तान फेहरिस्त में
दो साल से अधिक समय से एक ही जिले में जमे कप्तानों के नाम तबादले की फेहरिस्त में सबसे ऊपर बताई जा रही है। इनमें फिरोजाबाद में सचींद्र पटेल, अमरोहा में विपिन टाडा, कन्नौज के एसपी अमरेंद्र प्रताप सिंह, संभल में यमुना प्रसाद के अलावा पूर्वी उत्तर प्रदेश के दो से तीन जिलों के पुलिस कप्तानों के नाम शामिल हैं।           


हत्या से दहला जनपद, बड़ी वारदात

हत्या से दहला गोंडा सरेआम गोंडा शहर में बड़ी वारदात


गोण्डा। सरेशाम गोंडा शहर में बड़ी वारदात। सिरफिरे युवक ने जमकर मचाया तांडव।
अपने ही परिवार पर तलवार से हमला। तलवार से भाभी को उतारा मौत के घाट। मां और एक बच्चा गंभीर रूप से घायल।
बचाने आए पड़ोसी पर भी तलवार से हमला। हमले में घायल 4 लोग अस्पताल में भर्ती। दो की हालत बताई जा रही नाजुक। हत्यारोपी सिरफिरा मौके से फरार
मौके पर एसपी, एएसपी और सीओ।      
नगर और देहात थाने की फोर्स मौके पर पहुंची।
शहर के पॉश इलाके आवास विकास की घटना l


ढांचा तैयार करने की कोशिश में अमेरिका

नई दिल्ली/ वॉशिंगटन डीसी/ बीजिंग। अमेरिका-चीन को सिर्फ दक्षिण-एशिया ही नहीं, इंडो-पैसिफिक के साथ पूरी दुनिया के लिए चुनौती और खतरा मानता है। यही कारण है कि अब वह Quad देशों के संबंधों को औपचारिक रूप देने पर काम कर रहा है। Quad देश यानी भारत, ऑस्ट्रेलिया, जापान और अमेरिका। जापान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक देश के गृह विभाग के एक सीनियर अधिकारी का कहना है कि इन चार देशों के बीच मजबूत होते रणनीतिक संबंधों को औपचारिक रूप देने का प्लान बनाया जा रहा है ताकि इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में चीन को टक्कर दी जा सके।
'यहां NATO, EU जैसा कुछ नहीं'
गृह विभाग के उपसचिव स्टीफन बीगन ने बताया है, 'यह सच है कि इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में मजबूत बहुपक्षीय ढांचे की कमी है। उनके पास NATO, यूरोपियन यूनियन जैसा कुछ नहीं है। यहां एक मौका है कि किसी वक्त पर ऐसे स्ट्रक्चर को औपचारिक रूप दिया जाए।' Quad यानी Quadrilateral Security Dialogue में शामिल चारों लोकतांत्रिक देश समय-समय पर समिट और सैन्य अभ्यास करते हैं। इसके साथ ही क्षेत्रीय आर्थिक और विकास में सहयोग पर चर्चा होती है। बीगन का कहना है कि भले ही अमेरिका की रणनीति चीन को हर क्षेत्र में पीछे करने की है, सिर्फ यही Quad का मकसद नहीं है।             


पारा चढ़ने पर डीएम नें लगाई फटकार

बागेश्वर। जिला सलाहकार एवं समन्वय समिति की मासिक बैठक में आधी अधूरी तैयारी से आने पर जिलाधिकारी कर्मचारियों पर भड़क गए। सभी कर्मचारियों को सख्त निर्देशित करते हुए नाराज डीएम बैठक भी छोड़ चले गए।


शनिवार को जिलाधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में शनिवार को जिला स्तरीय पुनरीक्षण सह जिला सलाहकार एवं समन्वय समिति की मासिक समीक्षा बैठक हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने विभिन्न विभागों द्वारा संचालित हो रही जन कल्याणकारी योजनाओं के लिए ऋण उपलब्ध कराए जाने व पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित करने के लिए योजनावार समीक्षा की। इसके बाद संबंधित बैंकों से जानकारी ली गई। स्पष्ट जानकारी उपलब्ध न कराने पर नाराजगी जताई। उन्होने संबंधित बैंकर्स को कड़े निर्देश दिए कि बैंकों को जो भी लक्ष्य एवं आवेदन पत्र प्राप्त हुए हैं, उन पर की गई कार्यवाही के संबंध में स्पष्ट आंख्या लेकर बैठक में उपस्थित होना चाहिए था। बैंकर्स आधी-अधूरी जानकारी के साथ बैठक में उपस्थित होने पर उन्होंने कड़ी फटकार लगाते हुए भविष्य में पूर्ण तैयारी के साथ बैठक में उपस्थित होने के निर्देश दिए।           


चीन-लद्दाख में दिख रही है 'चालबाजी'

नई दिल्ली/ बीजिंग। लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर मई महीने से सीमा विवाद जारी है। पिछले महीने 29-30 अगस्त की रात चुशूल सेक्टर के रेजांग ला में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने घुसपैठ की कोशिश की, जिसे भारतीय सैनिकों ने नाकाम कर दिया। महीनों से चल रहे विवाद की वजह से सैनिकों लद्दाख में लंबे वक्त तक डटे रहने का इरादा है। उन्हें साफ तौर पर निर्देश दिए गए हैं कि किसी भी चीनी सैनिकों के उकसावे का मुंहतोड़ जवाब दें।


सीमा पर तनाव कम करने को लेकर दोनों पक्षों में लगातार सैन्य और कूटनीतिक स्तर पर बातचीत का दौर भी जारी है। शीर्ष सैन्य अधिकारियों से लेकर कूटनीतिक स्तर की कई वार्ताएं हो चुकी हैं, लेकिन इसके बावजूद तनाव पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ। हालांकि, लद्दाख में टकराव वाली कई जगहों से चीनी सैनिक पीछे गए तो तनातनी में कुछ कमी आई, लेकिन पिछले महीने के अंत में हुई घटना ने दोनों देशों के रिश्तों को वापस तनावपूर्ण बना दिया।           


अमेरिका की हालत बहुत खराब हैः ट्रंप

वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली/ बीजिंग। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया है कि वाशिंगटन लद्दाख क्षेत्र में बेहद खराब हालात से उबरने के उपायों पर भारत और चीन से बात कर रहा है, हालांकि यह पूछे जाने पर कि क्या बीजिंग का भारत के प्रति धौंस जमाने वाला रुख रहा है, तो इस बात का उन्होंनवे गोलमोल जवाब दिया। उन्होंने शुक्रवार को वाशिंगटन में एक न्यूज कॉन्फ्रेंस में कहा, हम चीन और भारत के सम्मान के लिए मदद के लिए तैयार हैं। अगर हम कुछ भी कर सकते हैं तो हमें इसमें शामिल होना होगा और मदद करनी होगी और हम दोनों देशों से इस बारे में बात कर रहे हैं।


उन्होंने लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर दोनों पक्षों के बीच टकराव के बारे में कहा, यह बहुत ही बुरी स्थिति है, बहुत खराब स्थिति है। जहां भारत के अनुसार, चीन ने अपने सैनिकों की मौजूदगी और गतिविधियां बढ़ाई हैं। एक रिपोर्टर द्वारा पूछे जाने पर कि क्या चीन भारत पर धौंस जमा रहा है तो उन्होंने कहा, मुझे उम्मीद है कि ऐसा नहीं है। लोग जितना समझ रहे हैं, उससे कहीं ज्यादा वे निश्चित रूप से इस मामले में अधिक मजबूती से जा रहे हैं।


अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने बुधवार को चीन पर अपने पड़ोसियों को धमकाने, धौंस जमाने का आरोप लगाया था। पोम्पियो ने कहा था, ताइवान जलडमरूमध्य से लेकर हिमालय और उससे आगे तक, चीनी कम्युनिस्ट पार्टी स्पष्ट रूप से अपने पड़ोसियों को धमकाने में लगी हुई है।


ट्रंप इससे पहले, मई में मध्यस्थता की पेशकश कर चुके हैं, जिसे भारत-चीन दोनों ने ठुकरा दिया था। हालांकि, ट्रंप कई मुद्दों पर चीन के आलोचक रहे हैं और यहां तक कहा है कि यह अमेरिका के लिए एक वैश्विक खतरा है, लेकिन उन्होंने भारत-चीन संघर्ष पर एक निश्चित रुख अपनाने में संकोच किया है।दोनों (भारत-चीन) परमाणु संपन्न देशों के बीच जून से लद्दाख में एलएसी पर गतिरोध जारी है।           


लड़ाकू विमान के मलबे को निकालेगा 'चीन'

बीजिंग। चीन के एक गैर सरकारी संगठन ने द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान झील में डूब गए एक अमेरिकी लड़ाकू विमान के मलबे को निकालने की कोशिश शुरू की है। इस विमान को 'द फ्लाइंग टाइगर्स ग्रुप' के पायलट उड़ा रहे थे। दरअसल, द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान जापान ने चीन पर आक्रमण कर दिया था। जापान का बढ़ता प्रभुत्व देखकर अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति फ्रैंकलिन डी रूजवेल्ट ने 'द फ्लाइंग टाइगर्स' को चीन भेजा।


फ्लाइंग टाइगर्स दिसंबर 1941 से लेकर तब तक जापान के सैनिकों से लोहा लेते रहे जब तक उन्होंने आत्मसमर्पण नहीं कर दिया। इसी दौरान अभियान में लगे कर्टिस पी-40 विमान 1942 में दक्षिण पश्चिमी शहर कुनमिंग के पास दियांची झील में क्रैश हो गया। इसी शहर में द फ्लाइंग टाइगर्स का अड्डा था।               


पुलिस ने किशोर को मात्र-3 घंटे में सौंपा

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी द्वारा गुमशुदा बच्चों की तलाश हेतु चलाए जा रहे ऑपरेशनखुशी अभियान के तहत थाना कोतवाली नगर द्वारा 13 वर्षीय किशोर को कड़ी मेहनत व लगन से मात्र 3 घन्टे में सकुशल बरामद कर लिया। 5 सितंबर को रुद्राक्ष उम्र करीब 13 वर्ष नामक किशोर बिना बताए घर से चला गया था। किशोर के पिता की सूचना के आधार पर थाना कोतवली पुलिस टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए अथक प्रयास व लगन से मात्र 3 घंटो के भीतर किशोर को थाना बादलपुर जनपद गौतमबुद्धनगर से सकुशल बरामद कर उसके परिवारीजनों के सुपुर्द किया गया। परिजनों ने पुलिस का ह्रदय से धन्यवाद किया।


बता दें कि किशोर की बरामदगी के बाद जिले में पुलिस के सराहनीय कार्य की चर्चा है, हालांकि पुलिस किसी भी गायब हुए बच्चे का पता लगाने का हमेशा भरसक प्रयास करती है।             


मृतका का नहीं हो सका 'अस्थि विसर्जन'

मोदीनगर। कोरोना पॉजिटिव महिला की मृत्यु होने पर शुक्रवार दोपहर पूरे परिवार को गाजियाबाद के अस्पताल में क्वारंटाइन कर दिया गया। दो दिन पहले ही महिला का अंतिम संस्कार हुआ था। अब शुक्रवार से पूरा परिवार क्वारंटाइन है। पितरों के दिनों में भी महिला की अस्थियां विसर्जित नहीं हो सकी हैं। घर पर ताला लगा हुआ है। वहीं क्वारंटाइन परिवार का आरोप है कि शुक्रवार शाम से उन्हें खाने-पीने के लिए कुछ नहीं मिला है। यहां शौचालयों में पानी तक नहीं है। गंदगी फैली हुई है।


गांव बिसोखर निवासी एक महिला की कुछ दिनों पहले तबीयत खराब हो गई थी। उपचार के लिए उन्हें शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन हालत गंभीर होने के चलते उन्हें मेरठ के अस्पताल में रेफर कर दिया था, जहां उपचार के दौरान महिला की मृत्यु हो गई थी। इसके बाद स्वजन शव को वापस ले आए थे और आसपास के लोगों के साथ मिलकर उनका अंतिम संस्कार कर दिया था। इसके कुछ ही समय बाद मेरठ के अस्पताल से फोन आया कि मृतक महिला कोरोना पॉजिटिव थी। इसकी जानकारी स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों को भी मिली तो सभी की कोरोना जांच कराना अनिवार्य किया, लेकिन बिना जांच कराए ही सभी को गाजियाबाद के क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती करा दिया गया है। स्वजन के अनुसार, शुक्रवार दोपहर गाजियाबाद सीएमओ कार्यालय से उनके पास फोन आया कि कोरोना जांच कराने के लिए उन्हें अस्पताल ले जाया जाएगा। जिसके बाद मृतका के दोनों पुत्र, पुत्रवधु व पोते समेत पड़ोसी युवक को गाजियाबाद के आइडीएल सेंटर में क्वारंटाइन कर दिया गया, लेकिन शनिवार तक किसी की भी कोरोना जांच नहीं कराई गई। उनके घर पर इस समय ताला लगा हुआ। वहीं परिवार के लोगों का आरोप है कि पहले तो बिना कोरोना जांच कराए उन्हें भर्ती करा दिया गया। अब खाने-पीने के लिए भी कुछ नहीं दिया जा रहा है। शौचालयों में बुरी तरह गंदगी फैली पड़ी है। पानी की व्यवस्था नहीं है। उधर परिवार का कोई सदस्य घर पर नहीं होने के चलते अभी तक महिला की अस्थियां भी विसर्जित नहीं हो सकी हैं। इस बारे में मोदीनगर सीएचसी के प्रभारी डॉ. कैलाश चंद का कहना है कि क्वारंटाइन सेंटर गाजियाबाद में है। इस तरह का मामला उनके संज्ञान में नहीं है।           


गाजियाबाद में अपराध कर रहे 'बदमाश'

अवनीश मिश्र


साहिबाबाद। अनलॉक के बाद गाजियाबाद में अपराधों की बाढ़ सी आ गई है। हर दिन लूट, झपटमारी, चोरी और ठगी हो रही है। दिल्ली के बदमाश यहां अपराध कर फरार हो जाते हैं। उन्हें सलाखों के पीछे भेजकर अपराधों पर अंकुश लगाना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है। अनलॉक में बढ़ा अपराध: कोरोना के कारण हुए लॉकडाउन के दौरान जिले में लूट, झपटमारी, चोरी का ग्राफ बहुत नीचे गिरा। इस दौरान सिर्फ ऑनलाइन ठगी हुई। उसका ग्राफ भी सामान्य दिनों की अपेक्षा कम रहा। अनलॉक होते ही अपराध बढ़े। आए दिन लूट, झपटमारी, चोरी और ठगी होने लगी। सबसे ज्यादा वाहन चोरी और झपटमारी की घटनाएं हो रही हैं। दिल्ली के बदमाशों का मिला सुराग: जिले में अपराध रोकने के लिए काम कर रही पुलिस की जांच-पड़ताल में आ रहा है कि दिल्ली के बदमाश यहां सक्रिय हैं। दिल्ली के बदमाश यहां लूट, चोरी व ठगी कर रहे हैं। ऐसे कई गिरोह को पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस कई गिरोह के काफी करीब पहुंच चुकी है। पुलिस की टीमें उन पर काम कर रही है। सीमाओं की सुरक्षा पर सवाल: दिल्ली की सीमाओं पर बैरियर लगे हैं। पुलिस तैनात रहती है। जांच-पड़ताल होते रहने का दावा किया जा रहा है। दिल्ली के अपराधी फर्जी नंबर प्लेट लगे वाहन और अवैध असलहा सहित सीमा पार कर वारदात को अंजाम देकर फरार हो जा रहे हैं। गाजियाबाद या दिल्ली की पुलिस को उनकी भनक तक नहीं लग रही है। इससे सीमाओं की सुरक्षा व्यवस्था की पूरी तरह से पोल खुल रही है। दिल्ली के गिरोह सक्रिय हुए हैं। उन पर काम किया जा रहा है। हाल में ही लूट और ठगी करने वाले दिल्ली के बदमाशों को पकड़ा गया है। उम्मीद है कि जल्द ही अन्य बदमाश भी पकड़े जाएंगे।             


फ्लैट की मंजिल से नीचे गिरा 'इंजीनियर'

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। जनपद के अहिंसा खंड-2 की क्लाउड-9 सोसायटी में शुक्रवार रात 11वीं मंजिल से गिरकर एक युवक की मौत हो गई। एटा के 24 साल के दीपक यहां किराए के फ्लैट में रहते थे। वह नोएडा की एक कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर थे। हादसे के पीछे फ्लैट की बालकनी में लगी ग्रिल के कमजोर होने की बात सामने आ रही है।


युवक के साथ ग्रिल भी निकलकर नीचे गिरी है। इसके अलावा फ्लैट में 5 दोस्तों के मौजूद होने और पार्टी करने की बात भी सामने आई है। इंदिरापुरम थाना प्रभारी संजीव शर्मा ने बताया कि ग्रिल कमजोर होने की बात जानकारी में आई है। अभी मृतक के घरवालों की ओर से तहरीर नहीं मिली है।                 


22 सूत्री मांगों को लेकर किया प्रदर्शन

मुजफ्फरपुर। 22 सूत्री मांगों को लेकर मुजफ्फरपुर जिला किसान सभा के आह्वान पर समाहरणालय के पास प्रदर्शन किया गया। इससे पहले खुदीराम बोस स्मारक स्थल से किसानों का जुलूस निकाला गया। समाहरणालय पहुंचकर धरना दिया। अध्यक्षता किसान नेता राजमंगल ठाकुर ने की। इस दौरान वक्ताओं ने बाढ़ पीड़ित परिवारों के बैंक खाते में छह हजार रुपये नकद अनुदान शीघ्र उपलब्ध कराने की मांग की। वक्ताओं ने केंद्र व बिहार सरकार को किसान विरोधी बताते हुए विगत जून में केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन किसान विरोधी अध्यादेश को वापस लेने को कहा। संचालन राम किशोर झा ने किया। पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने जिलाधिकारी से मिलकर 22 सूत्री मांग पत्र सौंपा। किसानों की मांगों से राज्य व केंद्र सरकार को अवगत कराने की मांग की। सभा में जिला सचिव चंदेश्वर प्रसाद चौधरी, किसान नेता अजय कुमार सिंह, अरुण कुमार ठाकुर, राधेश्याम प्रसाद ठाकुर, विश्वनाथ ठाकुर, शम्भू शरण ठाकुर, मो.युनूस, सुनील कुमार श्रीवास्तव, संतोष कुमार पांडेय, शत्रुघ्न प्रसाद, अजीत कुमार, रघुवर भक्त, प्रो.लक्ष्मीकांत आदि थे।            


ग्रामीणों ने रुकवाया 'शौचालय का निर्माण'

अजीतमल। मुख्यमंत्री समग्र विकास योजना में चयनित ग्राम पंचायत भीखेपुर में बन रहे सार्वजनिक शौचालय का निर्माण कार्य शनिवार को ग्रामीणों ने रुकवा दिया। उन्होंने निर्माण कार्य में घटिया सामग्री प्रयोग किए जाने का आरोप लगाते हुए खंड विकास अधिकारी को जानकारी दी। उन्होंने जांच कर दोषी के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया है।


ग्राम पंचायत भीखेपुर मुख्यमंत्री समग्र विकास योजना में चयनित ग्राम पंचायत है। इसके मजरा लक्ष्मण की मडै़या में सार्वजनिक शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। ग्रामीणों ने शनिवार को मौके पर पहुंचकर कार्य कर रहे लोगों को पुरानी ईंटों का इस्तेमाल करते देख आक्रोश प्रकट किया। गांव के बादशाह, ओमकार, रविद्र, टिकू, अमर सिंह, नीरज, सीटू, अंकुश, राजू आदि ने गुणवत्ता पर सवालिया निशान उठाते खंड विकास अधिकारी अश्वनी सोनकर को मोबाइल से सूचना दी। उन्होंने कार्य को जांच होने तक रोके जाने की गुहार लगाई। ग्रामीणों का आरोप है कि निर्माण में नई ईंट की जगह ग्राम प्रधान द्वारा मनमानी करते हुए पुरानी ईंट का प्रयोग किया जा रहा है। वहीं निर्माण में प्रयुक्त किया जाने वाले सीमेंट और मौरंग का अनुपात भी मानक विहीन है। खंड विकास अधिकारी अश्वनी सोनकर ने बताया कि कोरोना पाजिटिव होने के चलते वह अभी होम आइसोलेट हैं। मामले की सूचना मिली है, जांच कराई जाएगी। निर्माण में अनियमितता और निर्धारित मानक न पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी।             


जनपद में निफा ने लगाया 'निशुल्क कैंप'

घरौंडा। सामाजिक संस्था निफा की ओर से शिक्षक दिवस पर रेलवे स्टेशन के नजदीक निशुल्क बीपी, शुगर व शारीरिक जांच शिविर लगाया गया। इसमें एक निजी अस्पताल की टीम ने सहयोग किया। कैंप में 100 से ज्यादा लोगों की स्वास्थ्य जांच की गई। साथ ही उन्हें जरूरी परामर्श भी दिए। निफा के घरौंडा अध्यक्ष कमलकांत धीमान ने कहा कि आज सभी को बीपी, शुगर की समस्या बढ़ रही है, जिसकी समय समय पर जांच कराना बेहद जरुरी होता है। शिविर में जांच के साथ लोगों को जरूरी परामर्श दिए गए। इस तरह के कैंप भविष्य में भी लगाए जाएंगे। इस मौके पर सौरभ जैन , सुमित वशिष्ठ, सुधांशु गुप्ता, रवि धीमान, कपिल धीमान, दिव्यम गुप्ता, राहुल धीमान, अजय मित्तल, सचिन गुप्ता, अंशुल मित्तल, रजत गोयल, निखिल वर्मा, अमन जोशी, भूपेश धीमान, मोहित धीमान, मोनू कुमार, ग्रवित शर्मा, शुभम राणा, लव जुनेजा मौजूद रहे।           


अध्यक्ष के खिलाफ हुआ जांच का विरोध

जासं/ बागेश्वर। उत्तराखंड जनरल ओबीसी इंप्लाइज एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष दीपक जोशी के खिलाफ जांच बैठाए जाने पर नाराज कर्मचारियों ने शनिवार को लोनिवि कार्यालय के सामने काला फीता बांधकर प्रदर्शन किया। कहा कि यह पहले चरण के आंदोलन की शुरुआत है।


तय किया कि छह सितंबर को सांसद, विधायकों से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपेंगे। सात सितंबर को जिलाधिकारी के माध्यम से सरकार को ज्ञापन भेजा जाएगा। आठ को एक दिवसीय उपवास पर रहेंगे और नौ सितंबर को एक दिवसीय कार्य बहिष्कार किया जाएगा। लोनिवि, विकास भवन समेत तमाम विभागों में तैनात कर्मचारियों ने काला फीता बांधकर विरोध प्रदर्शन किया। संगठन के अध्यक्ष केसी मिश्रा ने कहा कि उत्तराखंड सरकार के जनरल ओबीसी कर्मचारी नेता दीपक जोशी के खिलाफ षड्यंत्र कारी रणनीति अपनाई जा रही है। विरोध में आज समस्त जनपदों में काला फीता बांधकर विरोध प्रदर्शन किया गया। इस मौके पर रवि जोशी, अनिल जोशी, संतोष जोशी, मंजुल पांडे, हरीश गोस्वामी, आलोक पांडे, शंकर नायक, मीनाक्षी जोशी, पायल जोशी, शंकर काला, राम सिंह, राजू मेहता, लीलाधर चौबे आदि मौजूद थे।           


बच्चे ने निगला 'जहरीले सांप' का बच्चा

बरेली: बच्चे ने निगला जहरीले सांप का बच्चा, और फिर…


बरेली। बरेली जिले के फतेहगंज क्षेत्र के भोलापुर गांव में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है, जहां एक साल के बच्चे ने घर के आंगन में खेलते हुए सांप को निगल लिया। खबरों के मुताबिक, लड़के ने सांप को थोड़ा सा काट लिया था और जब उसकी मां ने उसके मुंह में कोई वस्तु देखी तो उसने उसे आंशिक रूप से निगल लिया था। जब मां ने उसे बाहर निकाला तो देखकर हैरान रह गई कि यह एक सांप था।
लड़के को तुरंत अस्पताल ले जाया गया। लड़के के पिता धरमपाल छह इंच लंबे मरे हुए सांप को अपने साथ अस्पताल लेकर गए।चिकित्सा अधिकारी हरीश चंद्र ने कहा कि लड़के को एंटी-वेनम इंजेक्शन दिया गया और उसे आपातकालीन वार्ड में भर्ती कराया गया।
डॉक्टरों के अनुसार, यह एक क्रेट हैचलिंग (करैत) सांप था, जो बेहद जहरीला होता है, लेकिन समय पर इलाज हो जाने के कारण बच्चा खतरे से बाहर है।
लड़के के पिता धरमपाल एक किसान हैं, उन्होंने संवाददाताओं को बताया, “मेरी पत्नी सोमवती ने देवेंद्र के मुंह में कुछ देखा और जब उसने उसे बाहर निकाला, तो वह डर से चीख पड़ी क्योंकि यह एक छोटा सांप था जो जल्द ही मर गया।”
वरिष्ठ आईएफएस (भारतीय वन सेवा) अधिकारी रमेश पांडे ने कहा कि “क्रेट हैचलिंग और आम वुल्फ सांप अक्सर समान दिखते हैं। उनकी स्किन के एक जैसे पैटर्न के कारण उनकी पहचान करना मुश्किल हेाता है। क्रेट हैचलिंग के काटने से इंसान की मौत हो सकती है लेकिन वुल्फ घातक नहीं होता है। लड़के को एंटी-वेनम देने में कोई नुकसान नहीं है, क्योंकि इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है।”           


'मोदी सरकार' का असंगठित क्षेत्र पर प्रहार

जीएसटी का स्वरुप बिगाड़ कर मोदी सरकार ने किया असंगठित क्षेत्र पर प्रहार: राहुल।


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने असंगठित क्षेत्र की बदहाली के लिए मोदी सरकार की नीतियों को जिम्मेदार ठहराते हुए उस पर कड़ा हमला किया और कहा कि वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के मूल स्वरूप को बदलकर असंगठित अर्थव्यवस्था को तबाह किया गया है।             


यूपीः कांग्रेस में एक और लेटर 'बम'

उप्र: कांग्रेस में एक और लेटर ‘बम’, लिखा- ‘परिवार के मोह से ऊपर उठें’।


लखनऊ। कांग्रेस एक और ‘लेटर बम’ के साथ पार्टी में होने वाले धमाके के लिए तैयार है, इस बार यह उत्तर प्रदेश (यूपी) से है। पिछले साल पार्टी से निष्कासित नौ वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक पत्र भेजा है, जिसमें कहा गया है कि वह पार्टी को महज ‘इतिहास’ का हिस्सा बनकर रह जाने से बचा लें।
प्रियंका गांधी वाड्रा, जो कि यूपी की प्रभारी व पार्टी महासचिव हैं, उन्हें परोक्ष रूप से निशाने पर लेते हुए, चार पन्नों के पत्र में सोनिया गांधी से परिवार से ऊपर उठने का आग्रह किया गया है। पत्र में लिखा गया है, ‘परिवार के मोह से ऊपर उठें’ और पार्टी की लोकतांत्रिक परंपराओं को पुनर्स्थापित करें।
पूर्व सांसद संतोष सिंह, पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी, पूर्व विधायक विनोद चौधरी, भूधर नारायण मिश्रा, नेकचंद पांडे, स्वयं प्रकाश गोस्वामी और संजीव सिंह के दस्तखत वाले पत्र में कहा गया है कि कांग्रेस उत्तर प्रदेश में अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है।
पत्र में कहा गया है, “इस बात की आशंका है कि आपको राज्य मामलों के प्रभारी द्वारा मौजूदा स्थिति से अवगत नहीं कराया जा रहा है। हम लगभग एक साल से आपसे मिलने के लिए अपॉइंटमेंट की मांग कर रहे हैं, लेकिन मना कर दिया जाता है। हमने अपने निष्कासन के खिलाफ अपील की थी जो अवैध था लेकिन केंद्रीय अनुशासन समिति को भी हमारी अपील पर विचार करने का समय नहीं मिला।”
कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने आगे दावा किया कि पार्टी के पदों पर उन लोगों का कब्जा है जो वेतन के आधार पर काम कर रहे हैं और पार्टी के प्राथमिक सदस्य भी नहीं हैं। पत्र में कहा गया है, “ये नेता पार्टी की विचारधारा से परिचित नहीं हैं, लेकिन उन्हें यूपी में पार्टी को दिशा देने का काम सौंपा गया है।”
इसमें आगे कहा गया है कि ये लोग उन नेताओं के प्रदर्शन का आकलन कर रहे हैं जो 1977-80 के संकट के दौरान कांग्रेस के साथ चट्टान की तरह खड़े थे। लोकतांत्रिक मानदंडों की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं और वरिष्ठ नेताओं को निशाना बनाया जा रहा है, अपमानित किया जा रहा है और निकाला जा रहा है। वास्तव में, हमें मीडिया से हमारे निष्कासन के बारे में पता चला था, जो राज्य इकाई में नई कार्य संस्कृति की बात करता है।
पत्र में आरोप लगाया गया है कि नेताओं और पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच संवाद की कमी है। इन्होंने आगे कहा कि यूपी में एनएसयूआई और युवा कांग्रेस निष्क्रिय से हो गए हैं।
नेताओं ने कांग्रेस आलाकमान से वरिष्ठ नेताओं के साथ संवाद को बढ़ावा देने का आग्रह किया है। उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर यह मौजूदा मामलों की ओर आंख मूंद लेता है, तो कांग्रेस को यूपी में तगड़ा नुकसान होगा, जो कभी पार्टी का गढ़ हुआ करता था। यह पत्र ऐसे समय में आया है जब पार्टी उत्तर प्रदेश में पहले से ही गुटबाजी, मतभेदों का सामना कर रही है।           


रैली में बिना 'मास्क' के निकले लोग

महामारी को नकारने रोम में निकाली गई रैली, बिना मास्क के निकले लोग।


रोम। कोरोना वायरस महामारी की मौजूदगी को नकारते हुए इटली की राजधानी में लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। इसके लिए सर्कस मैक्सिमस के पास कुछ हजार लोग इकट्ठे हुए।                   


केस को लेकर कलेक्टर ने दिए निर्देश

पत्थलगांव में 12 सितंबर तक टोटल लॉकडाउन, कोरोना के बढ़ते केस को लेकर कलेक्टर ने दिए निर्देश।


पत्थलगांव। जशपुर के पत्थलगांव में लगातार बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या को देखते हुए 12 सितंबर तक टोटल लॉकडाउन किया गया है।
इस दौरान जरुरी सेवाओं में पहले की तरह छूट रहेगी। इसके साथ ही कोरोना के गाइडलाइन का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए गए हैं। कलेक्टर ने इसके निर्देश जारी किए हैं। आपको बतादें छत्तीसगढ़ में रोजाना हजारों में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। कोरोना ने प्रदेश के करीब सभी जिलों में अपना पैर पसारना शुरू कर दिया है।
छत्तीसगढ़ में शनिवार को कोरोना मरीजों के सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं। प्रदेश में सर्वाधिक 2529 मरीजों की पुष्टि हुई है। वहीं, 879 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। जबकि आज 19 संक्रमितों की मौत हो गई है।
आज मिले कुल 2529 नए मरीजों के साथ प्रदेश में अब प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 43163 हो गई है। इनमें से 20487 संक्रमित इलाज के बाद स्वस्थ हो चुके हैं और 22320 लोगों का डॉक्टरों की निगरानी में उपचार जारी है। जबकि प्रदेश में 356 लोगों की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो चुकी है।           


ईरानी 'रक्षा मंत्री' के साथ बैठकः राजनाथ

राजनाथ ने तेहरान में की ईरानी रक्षा मंत्री के साथ द्विपक्षीय बैठक


नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रूस की यात्रा से स्वदेश लौटते समय शनिवार को ईरान की राजधानी तेहरान में अपने ईरानी समकक्ष ब्रिगेडियर जनरल अमीर हात्मी के साथ द्विपक्षीय बातचीत की।              


देश में 90 हजार से अधिक नए मामले

देश में कोरोना का फिर टूटा रिकॉर्ड, 90 हजार से अधिक नए मामले।


नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में रिकार्ड-दर-रिकार्ड तेजी के बीच एक दिन में अब तक सर्वाधिक 90 हजार से अधिक नए मामले सामने आए जिससे संक्रमितों का आंकड़ा 41.13 लाख हो गया हालांकि राहत की बात यह है कि इस दौरान 73 हजार से ज्यादा मरीजों के स्वस्थ होने के कारण सक्रिय मामले 20.96 प्रतिशत पर आ गए।             


'ईरान-रूस' करेंगे वैक्सीन का उत्पादन

ईरान, रूस मिलकर करेंगे कोविड-19 वैक्सीन का उत्पादन


काहिरा। ईरान और रूस मिलकर इस्लामिक गणराज्य में कोविड-19 वैक्सीन का उत्पादन करेंगे। इस दौरान ईरान में मामलों की संख्या बढ़कर 384,666 हो गई है। इस बीच इराक के स्वास्थ्य अधिकारी ने चेतावनी दी है कि नागरिकों को कोरोना वायरस को लेकर गंभीरता कम नहीं करनी चाहिए क्योंकि यहां एक ही दिन में 4,644 नए मामले दर्ज हुए हैं।               


राज्यपालों को संबोधित करेंगे 'राष्ट्रपति-पीएम'

नई शिक्षा नीति पर राज्यपालों को संबोधित करेंगे राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री।


नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 7 सितंबर (सोमवार) को सुबह 10.30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर राज्यपालों के सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित करेंगे। ‘उच्च शिक्षा के बदलाव में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 की भूमिका’ विषय पर इस सम्मेलन का आयोजन भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है।             


लालकुआं से युवती का किया अपहरण

ब्रेकिंग न्यूज : लालकुआं से युवती का अपहरण, पुलिस से सम्भाले नहीं संभले लोग।


लालकुआं । शनिवार रात सहेलियों के साथ कोतवाली से लगी सड़क पर टहल रही युवती का कार सवार युवकों ने अपहरण कर लिया। सहेलियों ने काफी शोर मचाया लेकिन अपहरण्कर्ता अपने मंसूबे को अंजाम देने में सफल रहे। शोर सुनकर आसपास के लोगों ने कार का पीछा भी किया, कार सवारों को रोक पाने में नाकामयाब ही रहे। कार सवार युवती को लेकर हल्द्वानी की तरफ भागे। युवती की बरामदगी की मांग को लेकर स्थानीय लोगों ने परिजनों के साथ मिलकर लालकुआं कोतवाली घेराव किया। पुलिस को बल प्रयोग कर भीड को खदेड़ना पड़ा।
इसके बाद जगह जगह रास्ते जाम करने की सूचना आने लगी। आधी रात को एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे। परिजनों से बातचीत कर युवती की बरामदगी के लिए तीन टीमों का गठन किया गया।
अपहरण की वारदात रात लगभग 10 बजे घटित हुई। नगर के वार्ड नंबर चार निवासी युवती अपनी तीन सहेलियों के साथ कोतवाली से सटी सड़क पर टहल रही थी। इस बीच टांडा जंगल की ओर से आयी कार ठीक उनकी बगल में रुकी। पीड़ित के साथ टहल रही लडकियों के अनुसार कार में तीन युवक सवार थे। तीनों कार से उतरे और पीडिता को जबरन कार में डाल दिया। यह देख उसकी सहेलियों ने शोर मचाया। लड़कियों की आवाज सुनकर लोग मौके पर पहुंचे और जब तक वे कुछ समझते कार चौराहे से हल्द्वानी की ओर मुड़ गई।
कोतवाली के पास हुई इस घटना से स्थानीय लोग सड़क पर उतर आए। युवती की बरामदगी की मांग को लेकर नारेबाजी करते हुए कोतवाली जा पहुचे। पुलिस ने बल प्रयोग किया तो रात 11.30 बजे राष्ट्रीय राजमार्ग जाम करने का प्रयास किया। इसके बाद सभी देर रात तक कोतवाली के पास ही डटे रहे।             


नदी से 2 आतंकियों के शव बरामद किए

कश्मीर: किशनगंगा नदी से दो आतंकवादियों के शव बरामद


श्रीनगर। कश्मीर के गुरेज में तुलैल क्षेत्र में सेना और पुलिस ने किशनगंगा नदी से दो शव बरामद किए हैं। इसके अलावा हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किया गया है। मेडिको-लीगल औपचारिकताओं के लिए शवों को गुरेज अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया था।              


दुनिया में सबसे अधिक परेशान देश है 'अमेरिका'

वाशिंगटन डीसी। कोरोना महामारी की शुरुआत के साथ ही दुनिया भर में सबसे अधिक परेशान देश अमेरिका है। वैश्विक मामलों का आंकड़े की लिस्ट में पहले ...