खेल लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
खेल लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रविवार, 14 जुलाई 2024

गायकवाड़ के लिए ₹1 करोड का फंड जारी किया

गायकवाड़ के लिए ₹1 करोड का फंड जारी किया

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रहे अंशुमन गायकवाड़ की मदद के लिए आगे आते हुए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने एक करोड रुपए का फंड बीमार चल रहे गायकवाड़ के लिए जारी किया है। 
टीम इंडिया के कप्तान रहे कपिल देव ने अंशुमन गायकवाड़ के बीमार होने का मुद्दा उठाया था। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने रविवार को ब्लड कैंसर की बीमारी से जूझ रहे पूर्व भारतीय क्रिकेटर अंशुमन गायकवाड़ की मदद के लिए आगे आते हुए एक करोड रुपए का फंड अंशुमन गायकवाड़ के लिए जारी किया है। ब्लड कैंसर की बीमारी की से जूझ रहे पूर्व भारतीय क्रिकेटर अंशुमन गायकवाड के बीमार होने का मुद्दा टीम इंडिया के कप्तान रहे विश्व कप विजेता टीम के कप्तान कपिल देव ने उठाया था। 
रविवार को बीसीसीआई सचिव ने कपिल देव द्वारा उठाए गए मुद्दे का संज्ञान लेते हुए अंशुमान गायकवाड़ की मदद के लिए फंड जारी कराया है।

मैच: भारत ने जिम्बाब्वे को 42 रनों से हराया

मैच: भारत ने जिम्बाब्वे को 42 रनों से हराया 

सुनील श्रीवास्तव 
हरारे। भारत ने जिम्बाब्वे के बीच पांच मैचों की टी-20 सीरीज के पांचवें मैच में 42 रनों से हरा दिया। सीरीज 4-1 से अपने नाम किया। हरारे के हरारे स्पोर्ट्स क्लब में रविवार (14 जुलाई) को जिम्बाब्वे ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया।
भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट पर 167 रन बनाए। संजू सैमसन ने 45 गेंद पर 58 रन बनाए। शिवम दुबे ने 12 गेंद पर 26 रन बनाए। रियान पराग ने 24 गेंद पर 22 रन बनाए। जिम्बाब्वे के लिए ब्लेसिंग मुजरबानी ने 2 विकेट लिए। सिकंदर रजा, रिचर्ड नगारावा और ब्रैंडन मावुता ने 1-1 विकेट लिए।
जिम्बाब्वे की टीम 18.3 ओवर में 125 रन पर ऑल आउट हुई। जिम्बाब्वे के लिए डायोन मायर्स ने 34 रन बनाए। फराज अकरम और तदिवनाशे मारुमानी ने 27-27 रन बनाए। ब्रायन बेनेट ने 10 रन बनाए। भारत के लिए मुकेश कुमार ने 4 विकेट लिए। शिवम दुबे ने 2 विकेट लिए। तुषार देशपांडे, वाशिंगटन सुंदर और अभिषेक शर्मा ने 1-1 विकेट लिए।
शुभमन गिल की अगुआई में युवा भारतीय टीम ने जिम्बाब्वे में पहला मैच हारने के बाद शानदार वापसी की। दूसरे मैच में अभिषेक शर्मा ने शतक जड़ा तो वहीं शुभमन गिल ने तीसरे और चौथे मैच में अर्धशतक जड़ा। यशस्वी जायसवाल, ऋतुराज गायकवाड़, संजू सैमसन, शिवम दुबे, रिंकू सिंह और वाशिंगटन सुंदर ने भी अच्छा प्रदर्शन किया।
गेंदबाजों की बात करें तो आवेश खान और रवि बिश्नोई ने शानदार गेंदबाजी की। इसके अलावा मुकेश कुमार ने भी अच्छा प्रदर्शन किया। वाशिंगटन सुंदर ने गेंद से भी प्रभावित किया। भारतीय टीम को आगे श्रीलंका दौरे पर जाना है। जहां वह जुलाई अंत और जून के पहले हफ्ते में 3 मैचों की टी20 और 3 मैचों की वनडे सीरीज खेलेगी।

शनिवार, 13 जुलाई 2024

मैच: भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया

मैच: भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया   

अखिलेश पांडेय 

हरारे। भारत ने जिम्बाब्वे को चौथे टी-20 मैच में 10 विकेट से मात दी। इसके साथ ही टीम ने 3-1 से सीरीज भी अपने नाम की। जिम्बाब्वे की टीम पहले बल्लेबाजी करने उतरी और उन्होंने 20 ओवर में 152 रन बनाए। जिम्बाब्वे की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 63 रन बनाए। यह भारत के खिलाफ जिम्बाब्वे की रिकॉर्ड साझेदारी थी। मधवीरे ने 24 और मारुमानी ने 32 रन की पारी खेली।

कप्तान सिकंदर रजा ने सबसे ज्यादा 46 रन बनाए। उनकी पारी और सलामी जोड़ी के कारण ही टीम ने 152 बनाए। भारत की ओर से खलील अहमद ने 2, तुषार देशपांडे, वॉशिंगटन सुंदर, अभिषेक शर्मा और शिवम दुबे ने 1-1 विकेट लिए।

भारतीय टीम को यह लक्ष्य हासिल करने में ज्यादा समय नहीं लगा। यशस्वी जायसवाल ने 53 गेंदों में दो छक्के और 13 चौके लगाए। वहीं शुभमन गिल ने 39 गेंदों में 58 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में दो छक्के और छह चौके लगाए। जिम्बाब्वे ने भारत के खिलाफ पहला टी-20 जीता। लेकिन, इसके बाद वह बैक टू बैक तीन मैच हारे और मैच और अब वह सीरीज भी हार चुके हैं।

शुक्रवार, 12 जुलाई 2024

फील्डिंग कोच के लिए प्रस्तावित नाम अस्वीकार

फील्डिंग कोच के लिए प्रस्तावित नाम अस्वीकार 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड द्वारा हाल ही में टीम इंडिया के मुख्य कोच नियुक्त किए गए गौतम गंभीर को जोर का झटका देते हुए बोर्ड ने उनके फील्डिंग कोच के लिए प्रस्तावित नाम को स्वीकार नहीं किया है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की ओर से टीम इंडिया के मुख्य कोच नियुक्त किए गए गौतम गंभीर को पदभार संभालने से पहले ही बीसीसीआई ने उन्हें जोर का झटका दिया है। मिल रही जानकारी के मुताबिक, टीम इंडिया के मुख्य कोच नियुक्त किए गए गौतम गंभीर ने फील्डिंग कोच के लिए दक्षिण अफ्रीका खिलाड़ी रहे जोंटी रोड्स का नाम प्रस्तावित किया था। लेकिन बोर्ड ने उनके इस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है। बीसीसीआई का मानना है कि सहायक स्टाफ भारतीय ही होना चाहिए। 
उल्लेखनीय है कि दक्षिणी अफ्रीकी बल्लेबाज एवं विख्यात फील्डर रहे जोंटी रोड्स एवं गौतम गंभीर आईपीएल फ्रेंचाइजी लखनऊ सुपर जॉइंट्स के लिए एक साथ काम कर चुके हैं। गौतम गंभीर लखनऊ सुपरजाइंट्स के मैटर रह चुके हैं।

गुरुवार, 11 जुलाई 2024

ट्रॉफी को खेलने के लिए पाक नहीं जाएगी 'इंडिया'

ट्रॉफी को खेलने के लिए पाक नहीं जाएगी 'इंडिया' 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी खेलने के लिए टीम इंडिया के पाकिस्तान जाने से भारतीय भारत क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड द्वारा इनकार कर दिया गया है। अब बीसीसीआई भारत के मैच में पाकिस्तान की जगह दुबई में कराने के लिए आईसीसी से कहेगा।
बृहस्पतिवार को भारत क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने कहा है कि अगले साल फरवरी में होने वाले चैंपियंस ट्रॉफी को खेलने के लिए भारत की टीम पाकिस्तान नहीं जाएगी। बल्कि, भारत क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड टीम इंडिया के मैच पाकिस्तान के स्थान पर दुबई में करने के लिए आईसीसी से कहेगा। 
गौरतलब है कि चैंपियंस ट्राफी -2025 का आयोजन अगले साल 19 फरवरी से लेकर 9 मार्च तक पाकिस्तान में किया जायेगा। इस दौरान 10 मार्च की तिथि फाइनल के लिए रिजर्व डे के तौर पर निर्धारित की गई है। पाकिस्तान क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने आईसीसी ट्रॉफी के 15 मैचों ड्रॉफ्ट आईसीसी के पास भेज दिया है। भारत क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की ओर से अभी तक पाकिस्तान में 1 मार्च को लाहौर में होना प्रस्तावित किए भारत के साथ भिड़ंत वाले इस मैच को लेकर भारत ने अपनी सहमति नहीं दी है।

बुधवार, 10 जुलाई 2024

मैच: 'भारत' ने जिम्बाब्वे को 23 रनों से हराया

मैच: 'भारत' ने जिम्बाब्वे को 23 रनों से हराया 

अखिलेश पांडेय 
हरारे। भारत ने बुधवार को तीसरे टी-20 में जिम्बाब्वे को 23 रनों से मात दी। कप्तान शुभमन गिल (66) की अर्धशतकीय पारी के दम पर भारतीय टीम ने 183 रन का लक्ष्य रखा। जवाब में जिम्बाब्वे ने निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट गंवाकर 159 रन बनाए। मेजबान जिम्बाब्वे के लिए डियोन मायर्स (नाबाद 65) ने अर्धशतक ठोका। क्लाइव मडांडे ने 37 रन की पारी खेली। भारत की ओर से ऑलराउंडर वॉशिंगटन सुंदर ने शानदार गेंदबाजी की। 
उन्होंने चार ओवर के स्पेल में 15 रन देकर तीन विकेट चटकाए। वह प्लेयर ऑफ द मैच अवॉर्ड से नवाजे गए। तेज गेंदबाज आवेश खान ने दो और खलील अहमद ने एक शिकार किया। भारत ने पांच मैचों की सीरीज में 2-1 की बढ़त हासिल कर ली है। 
लक्ष्य का पीछा करते हुए जिम्बाब्वे ने बेहद खराब आगाज किया। 39 रन तक आधी टीम पवेलियन लौट गई। जॉनाथन कैंपबेल (1), ब्रायन बेनेट (4) और वेस्ली मधेवेरे (1) दहाई अंक में नहीं पहुंचे। कप्तान सिकंदर रजा ने 15 और तदिवनाशे मारुमानी ने 13 रन का योगदान दिया। मुश्किल हालात में मायर्स और मडांडे ने डटकर भारतीय गेंदबाजों का मुकाबला किया। दोनों ने छठे विकेट के लिए 77 रन जोड़े। दोनों जिस अंदाज में खेल रहे थे, उसके चलते भारतीय खेमा टेंशन में आ गया था। यह साझेदारी 17वें ओवर में टूटी। सुंदर ने मडांडे को रिंकू के हाथों कैच लपकावाया। उन्होंने 26 गेंदों का सामना करने के बाद दो चौके और दो छक्के लगाए। मायर्स ने 49 गेंदों की पारी में सात चौके और एक छक्का मारा। उन्होंने टी20 इंटरनेशल करियर का पहला अर्धशतक लगाया है। वेलिंगटन मसाकाद्जा 18 रन बनाकर नाबाद लौटे।
इससे पहले, भारत ने टॉस जीतकर 182/4 का स्कोर खड़ा किया। भारत के लिए सर्वाधिक रन गिल ने बनाए। उन्होंने 49 गेंदों में 7 चौकों और तीन सिक्स के जरिए 66 रन जुटाए। पहले बैटिंग करने उतरी भारतीय टीम ने अच्छी शुरुआत की। गिल ने यशस्वी जायसवाल (27 गेंदों में 36, चार चौके, दो सिक्स) के संग पहले विकेट के लिए 67 रन जोड़े। यशस्वी नौवें ओवर में जिम्बाब्वे के सिकंदर का शिकार बने। दूसरे मैच में शतक जड़ने वाले अभिषेक शर्मा 10 रन बनाने के बाद पेविलियन लौट गए। उन्हें भी सिकंदर ने आउट किया। गिल ने ऋतुराज गायकवाड़ के संग तीसरे विकेट के लिए 72 रन की पार्टनरशिप की। ब्लेसिंग मुजाराबानी ने 18वें ओवर में गिल को अपने जाल में फंसाया। गायकवाड़ अर्धशतक से चूक गए। उन्होंने 28 गेंदों में 49 रन बनाए, जिसमें चार चौके और तीन सिक्स शामिल हैं। उन्हें मुजाराबानी ने अंतिम ओवर में आउट किया। संजू सैमसन 12 और रिंकू सिंर 1 रन बनाकर नाबाद रहे।

ZIM 159/6 (20 ओवर)
IND 182/4 (20 ओवर)

भारत की प्लेइंग इलेवन: यशस्वी जायसवाल, अभिषेक शर्मा, शुभमन गिल (कप्तान), ऋतुराज गायकवाड़, संजू सैमसन (विकेटकीपर), शिवम दुबे, रिंकू सिंह, वॉशिंगटन सुंदर, रवि बिश्नोई, अवेश खान, खलील अहमद।

जिम्बाब्वे की प्लेइंग इलेवन: तदिवनाशे मारुमानी, वेस्ली मधेवेरे, ब्रायन बेनेट, डियोन मायर्स, सिकंदर रजा (कप्तान), जॉनाथन कैंपबेल, क्लाइव मडांडे (विकेटकीपर), वेलिंगटन मसाकाद्जा, रिचर्ड नगारवा, ब्लेसिंग मुजाराबानी, तेंदई चतारा।

मंगलवार, 9 जुलाई 2024

टीम 'इंडिया' के नए हेड कोच बनें गौतम, ऐलान

टीम 'इंडिया' के नए हेड कोच बनें गौतम, ऐलान 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। टीम इंडिया को नया हेड कोच मिल गया है और तमाम अटकलों को सही साबित करते हुए बीसीसीआई ने पूर्व स्टार ओपनर गौतम गंभीर को टीम इंडिया की जिम्मेदारी दी है। बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने मंगलवार 9 जुलाई को गंभीर के नाम का ऐलान करते हुए टीम इंडिया में उनका स्वागत किया।
पिछले महीने तक ही गंभीर कोलकाता नाइट राइडर्स के मेंटॉर थे, जहां उनके नेतृत्व में केकेआर ने 10 साल के लंबे इंतजार के बाद आईपीएल 2024 का खिताब जीता था।
गौतम गंभीर कोच के रूप में राहुल द्रविड़ की जगह लेंगे, जिन्होंने टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में टीम इंडिया की जीत के साथ ही अपना सफर खत्म किया था। गंभीर के कोच बनने की उम्मीद पिछले काफी वक्त से जताई जा रही थी। उनके मेंटॉर रहते हुए कोलकाता के आईपीएल चैंपियन बनने के बाद से ही बीसीसीआई उनके संपर्क में थी, जिसके बाद गंभीर ने औपचारिक तौर पर आवेदन किया था और फिर पिछले महीने क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी को इंटरव्यू भी दिया था‌।

भारतीय क्रिकेट के लिए गंभीर आदर्श शख्स

जय शाह ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मे एक्स पर एक पोस्ट में गंभीर के नाम का ऐलान किया और कहा कि मॉडर्न क्रिकेट में तेजी से काफी बदलाव हो रहे हैं और गंभीर ने इन बदलावों को करीब से देखा है। अलग-अलग रोल में गंभीर की मेहनत और सफलता की तारीफ करते हुए शाह ने भरोसा जताया कि भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने के लिए गंभीर ही सबसे आदर्श शख्सियत हैं।
टीम इंडिया के लिए गौतम गंभीर के स्पष्ट विजन और लंबे अनुभव को अहम बताते हुए शाह ने उन्हें दुनिया की सबसे पॉपुलर क्रिकेट टीम के कोच के लिए सही विकल्प बताया और बीसीसीआई की ओर से उन्हें पूरे सहयोग का भरोसा भी दिलाया।

कब तक रहेंगे हेड कोच ?

राहुल द्रविड़ नवंबर 2021 में टीम इंडिया के कोच बने थे और उन्हें 2 साल का कार्यकाल दिया गया था। द्रविड़ का वक्त वनडे वर्ल्ड कप 2023 के फाइनल के साथ ही खत्म हो गया था। लेकिन इसके बावजूद बीसीसीआई ने उन्हें टी-20 वर्ल्ड कप तक एक्सटेंशन दिया था। गंभीर को हालांकि शुरू से ही लंबा कार्यकाल मिलेगा। बीसीसीआई ने मई में जब नए हेड कोच के लिए विज्ञापन जारी किया था, उस वक्त ही साफ कर दिया था कि नए कोच का कार्यकाल 31 दिसंबर 2027 तक यानी साढ़े 3 साल का रहेगा।

रविवार, 7 जुलाई 2024

दिग्गज धोनी ने अपना 43वां जन्मदिन मनाया

दिग्गज धोनी ने अपना 43वां जन्मदिन मनाया 

इकबाल अंसारी 
अमरावती। भारतीय क्रिकेट के दिग्गज एमएस धोनी ने रविवार को अपना 43वां जन्मदिन मनाया। इस खास मौके पर उनकी पत्नी साक्षी और करीबी दोस्तों ने एक छोटी सी मिडनाइट पार्टी का आयोजन किया।
बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान की मौजूदगी ने धोनी की बर्थडे पार्टी को और भी खास बना दिया। धोनी के बर्थडे का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। इसमें धोनी अंडे से जुड़ा एक सवाल पूछते हैं, जिसके बाद हर कोई हैरान रह जाता है।

दिलचस्प है माही भाई का ये वीडियो

पार्टी में प्यार और सम्मान देखने को मिला। पार्टी में एक दिलचस्प लम्हा तब आया, जब केक काटने के बाद, पत्नी साक्षी ने धोनी के पैर छुए। धोनी ने भी अपने दोस्तों के सामने हंसी-मजाक के बीच साक्षी को आशीर्वाद दिया। वहीं, एक अन्य वीडियो में धोनी को यह कहते हुए सुना गया- "ये एगलेस है ना?" शायद वह यह सुनिश्चित कर रहे थे कि केक में अंडा न हो, ताकि पार्टी में उनके शाकाहारी दोस्त भी उसका मजा ले सकें।

धोनी की बर्थडे पार्टी में मौजूद थे सलमान खान

धोनी के जन्मदिन की पार्टी उस वक्त और खास बन गई, जब वहां सलमान खान भी आ धमके। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में सलमान खान को धोनी के साथ पार्टी करते हुए देखा जा सकता है। सलमान ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में धोनी की एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा, "हैप्पी बर्थडे कप्तान साहब!"

धोनी के बर्थडे पर लगाया गया 100 फीट का कट-आउट

धोनी के जन्मदिन का जश्न सिर्फ पार्टी तक ही सीमित नहीं रहा। आंध्र प्रदेश के नंदीगामा में उनके फैंस ने उनके 43वें जन्मदिन को खास बनाने के लिए एमएसडी का 100 फीट का कट-आउट लगाया।

अभिषेक ने 47 गेंदों में जड़ा शतक, रचा इतिहास

अभिषेक ने 47 गेंदों में जड़ा शतक, रचा इतिहास 

अखिलेश पांडेय 
हरारे। पहला मैच गंवाने के बाद जिम्बाब्वे के खिलाफ दूसरे टी-20 मुकाबले में भारतीय खिलाड़ियों ने जबरदस्त वापसी की। दूसरे टी-20 मैच में भारतीय कप्तान शुभमन गिल ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया।
पहले टी-20 में टीम के लिए सबसे अधिक रन बनाने वाले कप्तान शुभमन गिल का बल्ला दूसरे टी-20 मैच में नहीं चला और वह जल्द ही पवेलियन लौट गए।

अभिषेका शर्मा ने जड़ा शतक

हालांकि, दूसरे छोर पर अभिषेक शर्मा ने शतकीय पारी खेली। अभिषेक शर्मा ने ऋतुराज गायकवाड़ के साथ टीम को संभालने का काम किया। अभिषेक शर्मा और ऋतुराज गायकवाड़ के बीच दूसरे विकेट के लिए सबसे अधिक 137 रनों की साझेदारी हुई। इस दौरान अभिषेक शर्मा ने ताबड़तोड़ अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए महज 47 गेंदों में शतक जड़ दिया। अभिषेक शर्मा ने लगातार तीन छक्के लगाते हुए अपना इंटरनेशनल क्रिकेट करियर का पहला शतक पूरा किया।

ऐसा करने वाले बने तीसरे बल्लेबाज

अभिषेक शर्मा अब भारत की तरफ से अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में भारत के लिए सबसे तेज शतक लगाने वाले तीसरे खिलाड़ी बन गए हैं। रोहित शर्मा ने भारत के लिए सबसे तेज 35 गेंद में टी-20 फॉर्मेट में शतक जड़ा था। जबकि सूर्यकुमार यादव के नाम 45 गेंदों में शतक जड़ने का रिकॉर्ड है। वहीं इस लिस्ट में अब तीसरे नंबर पर अभिषेक शर्मा का नाम आ गया है। अभिषेक शर्मा और केएल राहुल संयुक्त रूप से 47 गेंद में शतक लगाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं।
टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने अभिषेक शर्मा के शतक और ऋतुराज गायकवाड़ के अर्धशतक की बदौलत 20 ओवर में दो विकेट पर 234 रन बनाए। भारतीय टीम की आतिशी बल्लेबाजी देखकर सोशल मीडिया पर फैंस लगातार अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

भारत : शुभमन गिल (कप्तान), अभिषेक शर्मा, ऋतुराज गायकवाड़, साई सुदर्शन, रियान पराग, रिंकू सिंह, ध्रुव जुरेल (विकेटकीपर), वाशिंगटन सुंदर, रवि बिश्नोई, आवेश खान, मुकेश कुमार।

जिम्बाब्वे : वेस्ले मधेवेरे, इनोसेंट काया, ब्रायन बेनेट, सिकंदर रजा (कप्तान), डायोन मायर्स, जॉनथन कैंपबेल, क्लाइव मदांडे (विकेटकीपर), वेलिंगटन मसाकाद्जा, ल्यूक जोंगवे, ब्लेसिंग मुजरबानी, तेंदाई चतारा।

मैच: भारत ने जिम्बाब्वे को 100 रनों से हराया

मैच: भारत ने जिम्बाब्वे को 100 रनों से हराया 

सुनील श्रीवास्तव 
हरारे। भारत ने जिम्बाब्वे के खिलाफ टी-20 सीरीज में धमाकेदार वापसी की है। पहला मैच 13 रन से गंवाने वाली भारतीय टीम ने रविवार को दूसरे मुकाबले में 100 रनों से जीत हासिल की। ओपनर अभिषेक शर्मा (47 गेंदों में 100, सात चौके, आठ सिक्स) की तूफानी सेंचुरी के दम पर भारत ने 235 का लक्ष्य रखा। जवाब में जिम्बाब्वे टीम 18.4 ओवर में 134 रन पर ऑलआउट हो गई। जिम्बाब्वे की ओर से सर्वाधिक रन वेस्ली मधेवेरे (43) ने बनाए। ल्यूक जोंगवे ने 33 और ब्रायन बेनेट ने 26 रन का योगदान दिया। मेजबान टीम के पांच प्लेयर दहाई अंक में नहीं पहुंचे, जिसमें कप्तान सिकंदर रजा (4) भी शामिल हैं। जिम्बाब्वे ने सात विकेट 76 के स्कोर तक गंवा दिए थे। जोंगवे ने किसी तरह एक छोर संभाला और जिम्बाब्वे को 100 के पार पहुंचाया। भारत के लिए तेज गेंदबाज मुकेश कुमार और आवेश खान तीन-तीन विकेट चटकाए। स्पिनर रवि बिश्नोई और ऑलराउंडर वॉशिगंटन सुंदर ने एक-एक शिकार किया। जिम्बाब्वे का एक प्लेयर रनआउट हुआ।
इससे पहले, भारत ने हरारे के मैदान पर निर्धारित 20 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर 234 रन जुटाए। टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। कप्तान शुभमन गिल (2) दूसरे ओवर में ब्लेसिंग मुजारबानी का शिकार बने। इसके बाद, अभिषेक और ऋतुराज गायकवाड़ ने दूसरे विकेट के लिए 137 रन की दमदार साझेदारी की। अभिषेक को मसाकाद्जा ने 14वें ओवर में आउट किया। उनके जाने के बाद बैटिंग के लिए आए रिंकू सिंह ने आक्रामक तेवर दिखाए। उन्होंने गायकवाड़ के साथ तीसरे विकेट के लिए 87 रन की अटूट साझेदारी की। गायकवाड़ ने 47 गेंदों में 11 चौकों और एक सिक्स की बदौलत नाबाद 77 रन बनाए। रिंकू 22 गेंदों में 48 रन बनाकर नाबाद रहे। उन्होंने अपनी पारी में दो चौके और पांच सिक्स जमाए। पांच मैचों की सीरीज फिलहाल 1-1 की बराबरी पर है। सीरीज का तीसरा मुकाबला बुधवार को आयोजित होगा।

टी20आई सीरीज में वापसी करेंगे रोहित-विराट

टी20आई सीरीज में वापसी करेंगे रोहित-विराट

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा और विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के बारबाडोस में टी-20 विश्व कप की ट्रॉफी हाथ में लेते ही क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप टी-20आई (T-20I) को अलविदा कह दिया था।
हालांकि, टेस्ट और वनडे टीम के कप्तान रोहित शर्मा और विराट कोहली टी-20 इंटरनेशनल के फॉर्मेंट में वापसी कर सकते हैं।

रोहित शर्मा-विराट कोहली इस वजह से करेंगे वापसी 

रोहित-कोहली के संन्यास के लेने के बाद भारत और श्रीलंका की संयुक्त मेजबानी में होने वाली टी20 विश्व कप 2026 में टीम इंडिया के खिताब की बचाव करने की जिम्मेदारी युवा खिलाड़ियों पर हैं। हालांकि, जिम्बॉब्वे दौरे पर युवा खिलाड़ियों के साथ गई टीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही। जिम्बॉब्वे जैसी कमजोर टीम के खिलाफ टी-20आई सीरीज का पहला मैच ही हार गई है।
ऐसे में अगर युवा खिलाड़ियों से सजी टीम इंडिया जिम्बॉब्वे, श्रीलंका जैसे देशों के खिलाफ सीरीज हारती है, तो रोहित शर्मा और विराट कोहली इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका जैसी बड़ी टीमों के खिलाफ टी20आई सीरीज में वापसी कर सकते हैं।

टी-20 विश्व कप 2026 ले सकते हैं हिस्सा

रोहित शर्मा और विराट कोहली अगर टी-20 इंटरनेशनल के फॉर्मेट में वापसी करते हैं, तो वें इस साल 8 नवंबर में एक बार फिर टी-20आई खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं। भारतीय टीम 8 नवंबर से 15 नवंबर तक साउथ अफ्रीकी दौरे पर चार मैचों की टी20आई सीरीज खेलने जाएगी। इसके बाद टीम इंडिया इंग्लैंड के खिलाफ 22 जनवरी से 2 फरवरी तक इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू मैदान पर पांच मैचों की टी-20आई सीरीज खेलेगी।
साल 2026 में भारत में होने वाले टी-20 विश्व कप के साथ अपने टी-20आई करियर का समापन कर सकते हैं। अगर ऐसा होता है और टीम इंडिया टी20विश्व कप कब्जाने में कामयाब रहती है, तो भारतीय क्रिकेट के इतिहास में यह पहली बार होगा जब टीम इंडिया अपने किसी आईसीसी ट्रॉफी को डिफेंड करेगी।

चार से छ: आईसीसी ट्रॉफी जीत सकते हैं रोहित-कोहली

रोहित शर्मा और विराट कोहली टी20आई में वापसी करते हैं, तो उनके पास चार से पांच आईसीसी ट्रॉफी जीतने का मौका होगा। इस समय दोनों खिलाड़ी तीन आईसीसी ट्रॉफी जीत चुके हैं। अगले दो साल में एक विश्व टेस्ट चैंपियनशिप, चैंपियंस ट्रॉफी और टी20 विश्व कप खेला जाना है। ऐसे में टीम इंडिया शानदार प्रदर्शन जारी रखती है, तो दोनों खिलाड़ियों के पास अधिक से अधिक 3 ट्रॉफी जीतने का मौका है।

मैच: जिम्बाब्वे ने भारत को 13 रनों से हराया

मैच: जिम्बाब्वे ने भारत को 13 रनों से हराया 

अखिलेश पांडेय 
हरारे। जिम्बाब्वे ने भारत के खिलाफ शनिवार को खेले गए पहले टी-20 मैच में बड़े उलटफेर को अंजाम दिया। सिकंदर रजा की कप्तानी में टीम ने भारत को 13 रनों से हरा दिया। जिम्बाब्वे ने भारत के सामने 116 रन का लक्ष्य रखा।
भारतीय टीम इसके जवाब में 19.5 ओवर में 102 रन पर ऑलआउट हो गई। यह भारत के खिलाफ टी20 क्रिकेट में जिम्बाब्वे की सिर्फ तीसरी जीत है। इससे पहले जिम्बाब्वे ने भारत को 2015 और 2016 में एक-एक बार शिकस्त दी है। यह टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में इस साल भारत की पहली हार भी है। इससे पहले भारत ने 2024 में लगातार 12 टी-20 मैच जीते थे। 
भारत ने एक हफ्ते पहले ही टी-20 वर्ल्ड कप जीता है। जिम्बाब्वे का दौरा करने वाली टीम में भले ही वर्ल्ड चैंपियन टीम का एक भी खिलाड़ी नहीं है, लेकिन ये युवा खिलाड़ी भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का अच्छा-खासा अनुभव रखते हैं, तो फिर भारतीय टीम इस आसान से स्कोर का पीछा क्यों नहीं कर पाई ? 
आइए जानते हैं भारतीय टीम की हार के पांच कारण !

अंतिम ओवरों में ढिलाई

भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया।  मुकेश कुमार ने दूसरे ही ओवर में जिम्बाब्वे को झटका देते हुए इनोसेंट काइया को शून्य के स्कोर पर पवेलियन लौटा दिया। वेस्ले माधेवेरे और ब्रायन बेनेट ने दूसरे विकेट के लिए 34 रन जोड़े। लेकिन इसके बाद रवि बिश्नोई की फिरकी जिम्बाब्वे पर भारी पड़ गई।
बिश्नोई ने माधेवेरे और ब्रायंट दोनों को 11 रन के अंतराल में पवेलियन लौटा दिया। उन्होंने अपने चार ओवर में सिर्फ 13 रन देकर कुल चार विकेट लिए। वाशिंगटन सुंदर ने अपने चार ओवर में 11 रन देकर दो विकेट चटकाए। जिम्बाब्वे की ओर से क्लिव मडांडे ने सर्वाधिक 29 रन बनाए। उन्होंने 25 गेंद की पारी में चार चौके जड़े।
जिम्बाब्वे 15.3 ओवर में 90 रन पर अपने 9 विकेट गंवा चुकी थी। भारतीय टीम अगर चौकस होती तो मेजबान टीम का आखिरी विकेट जल्द से जल्द ले सकती थी। लेकिन, उसने जिम्बाब्वे को अंतिम 27 गेंद पर 25 बहुमूल्य रन जोड़ने का मौका दिया। इसके बरक्स, भारतीय टीम 86 रन पर नौ विकेट गंवाने के बाद अंतिम तीन ओवर में सिर्फ 16 रन ही बना सकी।

फील्डिंग में सुस्ती

भारतीय टीम ने भले ही हरारे स्पोर्ट्स क्लब की धीमी पिच पर अच्छी गेंदबाजी की, लेकिन फील्डिंग में वह अच्छा स्तर बरकरार नहीं रख सकीं। यह वजह रही कि जिम्बाब्वे मुश्किल परिस्थितियों में ऐसा स्कोर खड़ा कर सकीं, जो हासिल करना भारत के लिए नामुमकिन साबित हुआ। कप्तान शुभमन गिल ने मैच के बाद यह बात स्वीकार भी की।
गिल ने कहा, "हमने काफी अच्छी गेंदबाजी की, लेकिन फील्डिंग में हमने खुद को निराश किया। हम अच्छे स्तर की फील्डिंग नहीं कर पाए। हर कोई थोड़ा सुस्त लग रहा था।"

टॉप ऑर्डर की धैर्यहीन बल्लेबाजी

भारतीय टीम जब 115 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी तो उसके बल्लेबाजों के पास संयम से बल्लेबाजी करने का मौका था।  लेकिन, जिम्बाब्वे की धारदार गेंदबाजी के आगे सभी एक के बाद एक पवेलियन लौटते चले गए। 10वें ओवर की समाप्ति तक भारत की आधी टीम मात्र 43 रन पर पवेलियन लौट चुकी थी। 11वें ओवर में रज़ा ने गिल को बोल्ड कर उन्हें भी पवेलियन का रास्ता दिखाया। 
गिल ने 29 गेंद पर पांच चौकों की मदद से सर्वाधिक 31 रन बनाए, लेकिन यह भारत को जीत दिलाने के लिए काफी नहीं था। भारत के आठ बल्लेबाज 10 रन का आंकड़ा भी नहीं छू सके, जो टीम की हार का बड़ा कारण बना।
गिल ने हार के बाद कहा, "हमने पिच पर समय बिताने और अपनी बल्लेबाजी का आनंद लेने के बारे में बात की लेकिन (बल्लेबाजी) उस तरह से नहीं हुई। आधी पारी में हमने 5 विकेट खो दिए थे, अगर मैं अंत तक वहां रुकता तो हमारे लिए बेहतर होता। मैं जिस तरह से आउट हुआ उससे बहुत निराश हूं। हमारे लिए आखिर में थोड़ी उम्मीद थी। लेकिन, जब आप 115 रन का पीछा कर रहे हों और आपका नंबर 10 बल्लेबाज पिच पर हो ज्यादा कुछ नहीं किया जा सकता।"

सिकंदर रज़ा का कुशल नेतृत्व

भारतीय युवा भले ही अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतर सके, लेकिन जिम्बाब्वे की जीत का श्रेय सिकंदर रजा को भी जाना चाहिए। उन्होंने सही तरह से गेंदबाजों को रोटेट किया और जब भारत शुरुआती झटके लगने के बाद दबाव में था, तो उन्होंने आक्रामकता में कमी नहीं होने दी।
रज़ा ने गिल का बहुमूल्य विकेट लेकर मैच को जिम्बाब्वे की झोली में तो डाला ही, इसके अलावा भी उन्होंने दो और विकेट चटकाए। इस प्रदर्शन के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया। रज़ा ने मैच के बाद कहा, "जीत से बहुत खुशी महसूस हो रही है। काम अभी ख़त्म नहीं हुआ, सीरीज़ अभी बाकी है। वर्ल्ड चैंपियन आखिरी वर्ल्ड चैंपियन की तरह खेलते हैं। इसलिए, हमें अगले मैच के लिए तैयार रहना होगा।''

अगला मैच रविवार को

भारत और जिम्बाब्वे का अगला मैच रविवार को हरारे में ही खेला जाएगा। इस जीत के साथ जिम्बाब्वे ने पांच मैच की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है।

शुक्रवार, 5 जुलाई 2024

जिम्बाब्वे ने नए 'कोचिंग स्टाफ' की घोषणा की

जिम्बाब्वे ने नए 'कोचिंग स्टाफ' की घोषणा की

अखिलेश पांडेय 
हरारे। जिम्बाब्वे और टीम इंडिया के बीच 6 जुलाई से 5 मैचों की टी-20 सीरीज की शुरुआत होने जा रही है। मेजबान टीम ने आगामी सीरीज से पहले अपने नए कोचिंग स्टाफ की घोषणा की है।
जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड ने दक्षिण अफ्रीका के पूर्व गेंदबाज चार्ल लैंगवेल्ट को टीम का नया गेंदबाजी कोच चुना है।
जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर जानकारी साझा करते हुए लिखा कि, 'जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड (ZC) ने सीनियर पुरुष राष्ट्रीय टीम के लिए नए कोचिंग स्टाफ की नियुक्ति कर ली है। मिशी जांच समिति द्वारा की गई सिफारिशों के अनुरूप है, ये सभी नियुक्ति की गई है।
पिछले महीने मुख्य कोच के रूप में जस्टिन सैमन्स और बल्लेबाजी कोच के रूप में डियोन इब्राहिम की घोषणा के बाद, अब बाकी तकनीकी कर्मियों की पुष्टि हो गई है। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर चार्ल लैंगवेल्ट को बॉलिंग कोच के रूप में नामित किया गया है, उनके हमवतन रवीश गोबिंद और कर्टली डीजल क्रमशः स्ट्रेटेजिक परफोर्मेंस कोच और स्ट्रेंथ और कंडीशनिंग कोच के रूप में आए हैं।'
सभी नियुक्तियाँ सैमन्स के परामर्श से की गईं, जिन्होंने स्टुअर्ट मात्सिकेनेरी को बनाए रखने का भी विकल्प चुना। हालांकि वह अब फील्डिंग कोच की भूमिका निभा रहे हैं, जबकि अमातो माचिकिचो टीम के फिजियोथेरेपिस्ट के रूप में काम करना जारी रखेंगे। ZC ने अभी तक टीम मैनेजर के पद पर भर्ती नहीं की है।

भारत के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिए जिम्बाब्वे टीम

सिकंदर रजा (कप्तान), फराज अकरम, ब्रायन बेनेट, जॉनाथन कैंपबेल, तेंडाई चटारा , ल्यूक जोंगवे, इनोसेंट कैया, क्लाइव मदांडे, वेस्ली माधेवेर, ब्रैंडन मावुता, तदिवानाशे मारुमनी, वेलिंगटन मसाकाद्जा, डायोन मायर्स, ब्लेसिंग मुज़ारबानी, अंतम नकवी , रिचर्ड नगारवा, मिल्टन शुम्बा।
सभी 5 मुकाबले हरारे स्पोर्ट्स क्लब में आयोजित होंगे। पहला मैच 6 जुलाई, दूसरा मुकाबला 7 जुलाई, तीसरा 10 जुलाई, चौथा 13 जुलाई और अंतिम मैच 14 जुलाई को खेला जाएगा। टीम इंडिया की कमान इस बार शुभमन गिल संभालते हुए दिखेंगे, जबकि 4 खिलाड़ियों को पहली बार टीम इंडिया में खेलने का मौका मिल सकता है इन खिलाड़ियों में रियान पराग, अभिषेक शर्मा, हर्षित राणा और तुषार देशपांडे का नाम शामिल है।

पाकिस्तान की नेशनल टीम के शेड्यूल का ऐलान

पाकिस्तान की नेशनल टीम के शेड्यूल का ऐलान 

सुनील श्रीवास्तव 
इस्लामाबाद। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने 2024-25 के लिए पाकिस्तान की नेशनल टीम के शेड्यूल का ऐलान कर दिया है। बता दें, चैंपियंस ट्रॉफी 2025 भी पाकिस्तान की मेजबानी में खेली जानी है। ऐसे में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने एक बड़ा फैसला लिया है।
पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों की तैयारियों को ध्यान में रखते हुए चैंपियंस ट्रॉफी 2025 से पहले एक खास इंतजाम किया है। ये टूर्नामेंट में टीम के काफी काम भी आ सकता है।

पाकिस्तान की टीम ने चली नई चाल

पाकिस्तान की टीम आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2025 से पहले सात टेस्ट मैचों के लिए बांग्लादेश, इंग्लैंड और वेस्टइंडीज की मेजबानी करेगी। वहीं, इस टूर्नामेंट से पहले वह एक ट्राई सीरीज खेलेगी। से ट्राई सीरीज पाकिस्तान, साउथ अफ्रीका और न्यूजीलैंड के बीच खेली जाएगी। ये सीरीज 8 से 14 फरवरी तक मुल्तान में होगी और फिर चैंपियंस ट्रॉफी का आयोजन होगा। इस सीरीज में पाकिस्तान की टीम अपनी तैयारियों को परखने उतरेगी।

पाकिस्तान का घरेलू सीजन

पाकिस्तान की टीम 2024-25 के घरेलू सीजन की शुरुआत में बांग्लादेश के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज के साथ करेगी। पहला टेस्ट रावलपिंडी में 21से 25 अगस्त तक और दूसरा टेस्ट मैच कराची में 30 अगस्त से 3 सितंबर तक खेला जाएगा। इसके बाद 7 से 28 अक्टूबर के बीच वह इंग्लैंड टीम की मेजबानी की करेगी, दोनों टीमों के बीच 3 टेस्ट मैच खेले जाएंगे। वहीं, 16 जनवरी 2025 से 28 जनवरी के बीच पाकिस्तान की टीम वेस्टइंडीज का दौरा करेगी।

इन देशों का करेगी दौरा

घरेलू मैचों के अलावा पाकिस्तान की टीम 4 नवंबर से 7 जनवरी तक ऑस्ट्रेलिया, जिम्बाब्वे और साउथ अफ्रीका का दौरा करेगी। जिसमें दो टेस्ट, नौ वनडे और नौ टी-20 मैच खेले जाएंगे। पाकिस्तान की टीम 4 नवंबर से 18 नवंबर के बीच ऑस्ट्रेलिया में 3 वनडे और 3 टी-20 मैच खेलेगी। इसके बाद जिम्बाब्वे में भी वह तीन वनडे और इतने ही टी-20 मैच खेलेगी। जिम्बाब्वे का ये दौरा 24 नवंबर से 5 दिसंबर तक का होगा। फिर पाकिस्तान की टीम साउथ अफ्रीका जाएगा। जहां 10 दिसंबर से 7 जनवरी तक 3 टी20, 3 वनडे और 2 टेस्ट मैच खेले जाएंगे।

बुधवार, 3 जुलाई 2024

टी-20आई और वनडे क्रिकेट से संन्यास का ऐलान

टी-20आई और वनडे क्रिकेट से संन्यास का ऐलान

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। टी-20 विश्व कप की जीत के बाद से भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित शर्मा, विराट कोहली और रवींद्र जडेजा के टी-20आई से संन्यास का ऐलान कर दिया है।
इन तीन खिलाड़ियों के टी-20 इंटरनेशनल (T-20I) से संन्यास का ऐलान करने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम का एक तेज गेंदबाज अपने साथी खिलाड़ियों के संन्यास से बुरी तरह टूट चुका है। इन तीनों के संन्यास के बाद से इस तेज गेंदबाज ने अब टी-20आई और वनडे क्रिकेट से भी संन्यास का ऐलान कर दिया है।

रोहित-कोहली के रिटायरमेंट के बाद शमी का संन्यास !

रोहित शर्मा, विराट कोहली और रवींद्र जडेजा के टी-20आई से संन्यास का ऐलान करने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी भी टी-20 इंटरनेशनल और वनडे क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर सकते हैं। मोहम्मद शमी इन दिनों चोट के चलते वनडे विश्व कप के बाद से ही टीम इंडिया से बाहर हैं और टीम में वापसी की तैयारियों में लगे हैं।
मोहम्मद शमी इस समय 33 वर्ष से अधिक हैं और इस उम्र में तीनों फॉर्मेंट खेलना आसान नहीं है। ऐसे में चोट से बचने के लिए और करियर लंबा खींचने के लिए शमी वनडे और टेस्ट से रिटायरमेंट का ऐलान कर सकते हैं।

मोहम्मद शमी वनडे और टी-20 करियर

मोहम्मद शमी ने टीम इंडिया के लिए 101 वनडे मैचों में हिस्सा लिया है और इस दौरान उन्होंने 23.7 की औसत, 25 के स्ट्राइक रेट और 5.55 की इकॉनमी रेट से 195 विकेट लिए हैं। इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 57 रन देकर 7 विकेट है। वहीं, टी20 इंटरनेशनल की बात करें तो मोहम्मद शमी वनडे जितने प्रभावी नहीं रहे हैं और टीम इंडिया के लिए 23 मैचों में लगभग 9 की इकॉनमी रेट से 24 विकेट चटकाए हैं।

टेस्ट क्रिकेट खेलते रहेंगे मोहम्मद शमी 

33 साल के मोहम्मद शमी संभव है कि चोट से बचने के लिए सिर्फ टेस्ट क्रिकेट पर फोकस करें। हालांकि, इसके साथ वें इंडियन प्रीमियर लीग का हिस्सा बनें रह सकते हैं। शमी ने टीम इंडिया के लिए अब तक कुल 64 टेस्ट मैच खेले हैं।
इस दौरान उन्होंने 27.7 की औसत और 50.3 की स्ट्राइक रेट से 229 विकेट निकाले हैं। वहीं, टेस्ट क्रिकेट में मोहम्मद शमी का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन एक पारी में 56 रन देकर 6 विकेट चटकाना है। शमी ने टेस्ट मैच की एक पारी में 6 बार पांच विकेट लेने का कारनामा किया है।

खेल: दुनिया के नंबर-1 ऑलराउंडर बनें हार्दिक

खेल: दुनिया के नंबर-1 ऑलराउंडर बनें हार्दिक 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। टी20 वर्ल्ड कप 2024 में शानदार प्रदर्शन से भारतीय टीम के स्टार खिलाड़ी हार्दिक पंड्या, कुलदीप यादव और जसप्रीत बुमराह को टी20 रैंकिंग में फायदा हुआ है। हार्दिक संयुक्त रूप से दुनिया के नंबर-1 ऑलराउंडर बन गए हैं।
वहीं, कुलदीप यादव की टॉप-10 गेंदबाजों में एंट्री हो गई है। जसप्रीत बुमराह ने 12 स्थान की छलांग लगाई है। अर्शदीप सिंह करियर के सर्वश्रेष्ठ रैंक पर पहुंच गए हैं। आईसीसी ने बुधवार (3 जून) को इसकी जानकारी दी।
हार्दिक पंड्या दो पायदान ऊपर चढ़कर श्रीलंका के स्टार वानिंदु हसरंगा के साथ नंबर-1 ऑलराउंडर बन गए हैं। टी20 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल में हेनरिक क्लासेन और डेविड मिलर के महत्वपूर्ण विकेट लेकर बड़ा योगदान देने वाले इस ऑलराउंडर ने बल्ले और गेंद से अच्छा प्रदर्शन किया और में नंबर 1 ऑलराउंडर बनने वाले पहले भारतीय बन गए। टी20 ऑलराउंडर रैंकिंग के शीर्ष 10 में और भी बदलाव हुए हैं। मार्कस स्टोइनिस, सिकंदर रजा, शाकिब अल हसन और लियाम लिविंगस्टोन एक-एक स्थान ऊपर चढ़ गए हैं। मोहम्मद नबी चार स्थान नीचे खिसककर शीर्ष पांच से बाहर हो गए हैं।

जसप्रीत बुमराह की रैंकिंग

टी20 बॉलिंग रैंकिंग में एनरिक नॉर्खिया सात पायदान ऊपर चढ़कर करियर के सर्वश्रेष्ठ दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। 675 रेटिंग अंकों के साथ शीर्ष पर काबिज आदिल राशिद से ठीक पीछे हैं। टी20 विश्व कप में 15 विकेट लेकर प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट रहने वाले भारत के स्टार तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह 12 पायदान ऊपर चढ़कर 12वें नंबर पर है। यह 2020 के अंत के बाद से उनका सर्वोच्च स्थान है।

अर्शदीप सिंह 13वें स्थान पर

कुलदीप यादव गेंदबाजी रैंकिंग में शीर्ष दस में शामिल हो गए हैं। वे तीन पायदान ऊपर चढ़कर संयुक्त रूप से आठवें स्थान पर हैं। टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले अर्शदीप सिंह चार पायदान ऊपर चढ़कर करियर के सर्वश्रेष्ठ 13वें स्थान पर पहुंच गए हैं। तबरेज शम्सी पांच पायदान ऊपर चढ़कर शीर्ष 15 में पहुंच गए हैं। बल्लेबाजी रैंकिंग में शीर्ष दस में बहुत अधिक बदलाव नहीं हुआ, केवल एक मामूली बदलाव हुआ है। दक्षिण अफ्रीका के कप्तान एडेन मार्करम बल्ले दो पायदान नीचे आ गए।

मंगलवार, 2 जुलाई 2024

टी-20 क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं बुमराह

टी-20 क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं बुमराह 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। टीम इंडिया के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में से एक जसप्रीत बुमराह ने हाल ही में टी-20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में हिस्सा लिया था। इस टूर्नामेंट में जसप्रीत बुमराह ने शानदार गेंदबाजी की और इसी गेंदबाजी की वजह से ही भारतीय टीम टी-20 वर्ल्ड कप 2024 को अपने नाम किया है।
लेकिन अब जसप्रीत बुमराह के बारे में एक ऐसी खबर सुनने को मिल रही है जिसके बाद सभी समर्थक बेहद ही मायूस हो गए हैं। दरअसल बात यह है कि, पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर यह खबर आ रही है कि, जसप्रीत बुमराह ने टी-20 क्रिकेट से संन्यास लेने का मन बना लिया है।

जसप्रीत बुमराह ले सकते हैं टी-20 से संन्यास !

टीम इंडिया के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में से एक जसप्रीत बुमराह के बारे में यह खबर आ रही है कि, ये अब जल्द से जल्द टी-20 क्रिकेट को अलविदा कहने के बारे में विचार सकते हैं। दरअसल बात यह है कि, जसप्रीत बुमराह भारतीय टीम के सबसे प्रमुख हथियार हैं और अगर ऐसे में ये अगर ज्यादा क्रिकेट में भाग लिए। तो फिर चोटिल होने का खतरा लगातार बना रहेगा। इसी वजह से कहा जा रहा है कि, बड़े टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के लिए ये टी-20 क्रिकेट को अलविदा कहने के बारे में विचार कर लिया है।

युवा खिलाड़ियों को मिलेगा मौका

अगर जसप्रीत बुमराह टी-20 क्रिकेट से अपने संन्यास का ऐलान करते हैं, तो फिर उनकी जगह पर मैनेजमेंट युवा खिलाड़ियों को मौका देते हुए दिखाई दे सकती है। जसप्रीत बुमराह जब टी-20 क्रिकेट से संन्यास का ऐलान करेंगे तो फिर वो ओडीआई और टेस्ट क्रिकेट में अधिक ध्यान देंगे और इसी वजह से भारतीय क्रिकेट का फायदा होगा। एक्सपर्ट्स की मानें तो वर्कलोड कम होने की वजह से मैनेजमेंट इन्हें आगामी 'चैंपियंस ट्रॉफी 2025' और 'वर्ल्डटेस्ट चैम्पियनशिप 2025' की तैयारियों के लिए भेज सकती है।

कुछ इस प्रकार है जसप्रीत बुमराह का टी-20 करियर

अगर बात करें, टीम इंडिया के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में से एक जसप्रीत बुमराह के क्रिकेट करियर की तो इनका क्रिकेट करियर बेहद ही शानदार रहा है। इन्होंने भारतीय टीम के लिए खेले गए 70 मैचों की 69 पारियों में 17.74 की औसत और 6.27 की इकॉनमी रेट से 89 विकेट अपने नाम किए हैं। जसप्रीत बुमराह के इसी आकड़े देखने के बाद इन्हें दुनिया का सबसे खतरनाक गेंदबाज माना जाता है।

6 जुलाई से होगी भारत-जिम्बाब्वे मैच की शुरुआत

6 जुलाई से होगी भारत-जिम्बाब्वे मैच की शुरुआत 

अखिलेश पांडेय 
हरारे। टी-20 वर्ल्ड कप 2024 का समापन हो चुका है और भारतीय टीम ने इसका समापन चैंपियन बनने के साथ किया। अब टीम इंडिया का अगला पड़ाव जिम्बाब्वे दौरा है, जहां पर भारत और जिम्बाब्वे के बीच 5 मैचों की टी-20 सीरीज खेली जाएगी।
जिम्बाब्वे दौरे के लिए टीम इंडिया की ऐलान पहले ही किया जा चुका है और टीम की कप्तानी शुभमन गिल के हाथों में हैं।
जिम्बाब्वे के खिलाफ इस टी-20आई सीरीज में कई भारतीय सीनियर खिलाड़ी नहीं खेलेंगे। रोहित शर्मा, विराट कोहली, रविंद्र जडेजा पहले ही टी-20आई से संन्यास ले चुके हैं। अब भारत-जिम्बाब्वे के बीच होने वाले मुकाबले भारत के समय के मुताबिक, कितने बजे शुरू होंगे आइए आपको इसकी जानकारी देते हैं।

भारतीय समय के मुताबिक 4.30 बजे शुरू होगा मैच

भारत और जिम्बाब्वे के बीच पांच मैचों की टी20आई सीरीज की शुरुआत 6 जुलाई से होगी। जबकि, आखिरी मैच 14 जुलाई को खेला जाएगा। वहीं दूसरा मैच 7 जुलाई तो वहीं, तीसरा मैच 10 जुलाई को होगा। जबकि, तीसरा मैच दोनों देशों के बीच 13 जुलाई को खेला जाएगा। दोनों देशों के बीच सभी मुकाबले हरारे स्पोर्ट्स क्लब, हरारे में खेला जाएगा।
भारतीय समय के मुताबिक सभी मैच शाम 4.30 बजे से शुरू होंगे जबकि ये मैच जिम्बाब्वे के समय के मुताबिक दोपहर एक बजे से खेला जाएगा। भारत के खिलाफ होने वाले टी-20आई सीरीज के लिए जिम्बाब्वे ने भी अपनी टीम का ऐलान कर दिया है और ये टीम सिकंदर रजा की कप्तानी में भारत के खिलाफ मैदान पर उतरेगी।
भारत बनाम जिम्बाब्वे टी-20आई सीरीज का कार्यक्रम

पहला टी-20आई - शनिवार, 6 जुलाई, शाम 4.30 बजे (भारतीय समय के मुताबिक)

दूसरा टी-20आई - रविवार, 7 जुलाई, शाम 4.30 बजे (भारतीय समय के मुताबिक)

तीसरा टी-20आई - बुधवार, 10 जुलाई, शाम 4.30 बजे (भारतीय समय के मुताबिक)

चौथा टी-20आई - शनिवार, 13 जुलाई, शाम 4.30 बजे (भारतीय समय के मुताबिक)

पांचवां टी-20आई - रविवार, 14 जुलाई, शाम 4.30 बजे (भारतीय समय के मुताबिक)।

भारत की टीम

शुभमन गिल (कप्तान), यशस्वी जायसवाल, ऋतुराज गायकवाड़, अभिषेक शर्मा, रिंकू सिंह, संजू सैमसन (विकेट कीपर), ध्रुव जुरेल (विकेट कीपर), शिवम दुबे, रियान पराग, वाशिंगटन सुंदर, रवि बिश्नोई, आवेश खान, खलील अहमद, मुकेश कुमार, तुषार देशपांडे।

जिम्बाब्वे की टीम

सिकंदर रजा (कप्तान), फराज अकरम, ब्रायन बेनेट, जोनाथन कैंपबेल, तेंदई चतारा, ल्यूक जोंगवे, इनोसेंट कैया, क्लाइव मदंडे, वेस्ली मधेवेरे, तदीवानाशे मारुमानी, वेलिंगटन मसाकाद्जा, ब्रैंडन मावुता, ब्लेसिंग मुजरबानी, डायोन मायर्स, एंटम नकवी, रिचर्ड नगारवा, मिल्टन शुम्बा।

600 छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज बनें रोहित

600 छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज बनें रोहित 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। टी20 वर्ल्ड कप के दौरान भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने कई बड़े रिकॉर्ड्स अपने नाम किए। रोहित शर्मा इंटरनेशनल मैचों में 600 छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज बनें। उन्होंने आयरलैंड के खिलाफ यह मुकाम हासिल किया।
रोहित शर्मा के अलावा अन्य किसी बल्लेबाज ने क्रिकेट इतिहास में 600 छक्के नहीं लगाए हैं।
साथ ही रोहित शर्मा टी20 फॉर्मेट में 200 छक्के लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं। भारतीय कप्तान ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यह मुकाम हासिल किया। उन्होंने अपने 159 इंटरनेशनल मैचों में 205 छक्के लगाए।
रोहित शर्मा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीनों फॉर्मेट में 80 मैच खेले है, जिसमें उन्होंने रिकॉर्ड 132 छक्के लगाए। यह किसी बल्लेबाज का किसी एक टीम के खिलाफ सबसे ज्यादा छक्के का रिकॉर्ड है।
इसके अलावा रोहित शर्मा टी20 फॉर्मेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। रोहित शर्मा ने 159 टी20 मैचों में 4145 रन बनाए हैं।
साथ ही रोहित शर्मा 50 इंटरनेशनल टी20 मैच जीतने वाले पहले कप्तान बन गए हैं। रोहित शर्मा की कप्तानी में भारत ने 62 टी20 खेले, जिसमें 50 जीत मिली।
रोहित शर्मा एकमात्र कप्तान हैं, जिन्होंने टी20 वर्ल्ड कप में 100 फीसदी मैच जीते हैं। इस टी20 वर्ल्ड कप में भारत ने अपने सारे मैच जीते। भारतीय टीम ने आयरलैंड के खिलाफ अपने अभियान का आगाज किया था। जबकि फाइनल में साउथ अफ्रीका को हराकर ट्रॉफी अपने नाम की। 
इसके अलावा रोहित शर्मा 2 टी20 वर्ल्ड कप जीतने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं। इससे पहले भारतीय टीम ने टी20 वर्ल्ड कप 2007 अपने नाम किया था, रोहित शर्मा उस भारतीय टीम का हिस्सा थे।

सोमवार, 1 जुलाई 2024

'वैंकूवर नाइट्स' की कमान संभालेंगे रिजवान

'वैंकूवर नाइट्स' की कमान संभालेंगे रिजवान 

अखिलेश पांडेय 
इस्लामाबाद। पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने हाल ही में बाबर आजम की कप्तानी में T20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में हिस्सा लिया है। बाबर आजम की कप्तानी में पाकिस्तान की टीम का प्रदर्शन बेहद ही खराब रहा और पाकिस्तान की टीम इस T20 वर्ल्ड कप के पहले ही चरण से बाहर हो गई।
बाबर आजम जब से पाकिस्तान के कप्तान बने हैं तभी से इस टीम के बुरे दिन शूरु हो गए हैं और एक-एक करके टीम हर एक महत्वपूर्ण टूर्नामेंट में बुरी तरह से चोक कर जाती है। लेकिन अब बाबर आजम से जुड़ी हुई एक ऐसी खबर आ रही है, जिसे सुनकर उनके सभी समर्थक बेहद ही मायूस हो गए हैं।

बाबर आजम के हाथ से गई कप्तानी

हाल ही में कैरिबियाई सरजमीं पर खेले गए T20 World Cup में पाकिस्तान की टीम का प्रदर्शन बेहद ही निराशाजनक रहा है और इसी वजह से टीम को कई छोटी टीमों के हाथों बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा है। इसी वजह से अब खबर आ रही है कि, बाबर आजम को कप्तानी की रेस से भी बाहर कर दिया गया है। दरअसल बात यह है कि, बाबर आजम को T20 कनाडा की टीम वैंकूवर नाइट्स ने अपनी टीम का कप्तान नहीं नियुक्त किया है।

इस खिलाड़ी को मिली बाबर आजम की जगह कप्तान

जब यह खबर आई थी कि, वैंकूवर नाइट्स की टीम ने बाबर आजम (Babar Azam) को टीम में शामिल किया है, उस वक्त यह कहा जा रहा था कि, आगामी समय यही टीम की कमान संभालते हुए दिखाई देंगे। मगर अब खबर आ रही है कि, वैंकूवर नाइट्स की मैनेजमेंट ने बाबर आजम की जगह पर उन्हीं के हमवतन विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान को मौका देने का फैसला कर लिया है। T20 के चौथे सीजन में अब वैंकूवर नाइट्स की कमान अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान संभालते हुए दिखाई देंगे।

ये दो पाकिस्तानी भी हैं टीम का हिस्सा

T-20 के चौथे सीजन के लिए वैंकूवर नाइट्स की मैनेजमेंट ने जिस स्क्वाड का चयन किया है, उसमें कई पाकिस्तानी खिलाड़ी शामिल हैं। वैंकूवर नाइट्स के स्क्वाड में बाबर आजम और मोहम्मद रिजवान के साथ ही साथ मोहम्मद आमिर और आसिफ अली जैसे बेहतरीन खिलाड़ी भी हैं।

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...