रविवार, 20 फ़रवरी 2022

सीएम ने भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील की

सीएम ने भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील की     

आदर्श श्रीवास्तव       

लखीमपुर खीरी। रविवार को जिले में सीएम योगी आदित्यनाथ ने पांच ताबड़तोड़ रैलियां करते हुए लोगों में जोश भर दिया। योगी आदित्यनाथ ने गोला, ढखेरवा, कस्ता, फरधान, मोहम्मदी में जनसभाएं की और लोगों से भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील की।

जनसभाओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सपा सरकार में सिर्फ सैफई में महोत्सव होते थे भाजपा सरकार में बनारस, प्रयागराज और अयोध्या में होते है। डबल इंजन की सरकार गरीब लोगों को डबल राशन देने के साथ-साथ नमक तेल भी देने का काम कर रही है।

अधिकारी को एसोसिएशन का नया अध्यक्ष बनाया

अधिकारी को एसोसिएशन का नया अध्यक्ष बनाया 

राणा ओबरॉय       
चंडीगढ़। बहुत लंबे समय के बाद एक बार फिर करनाल में एचसीएस अधिकारी लामबंद हुए हैं। रविवार को हरियाणा सिविल सेवा (एचसीएस) अधिकारी एसोसिएशन की करनाल में हुई एक अहम बैठक में 2004 बैच की वरिष्ठ एचसीएस अधिकारी वर्षा खांगवाल को सर्वसम्मति से एसोसिएशन का अध्यक्ष चुन लिया गया। बैठक में एसोसिएशन की पूरी कार्यकारिणी का भी चुनाव हुआ। 
करनाल में हुई इस बैठक में करीब 70 अधिकारियों ने भाग लिया। वर्तमान में सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में बतौर अतिरिक्त निदेशक तैनात वर्षा खांगवाल 2004 बैच की टॉपर भी हैं। अध्यक्ष चुने जाने के बाद उन्होंने कहा कि अध्यक्ष के तौर पर एचसीएस अधिकारियों के मुद्दों पर सरकार के साथ सार्थक बातचीत करना उनका उद्देश्य होगा। जानकारी के मुताबिक़ हरियाणा सिविल सेवा (कार्यकारी) अधिकारी एसोसिएशन की आम सभा की बैठक रविवार को विकास सदन, करनाल में आयोजित की गई। 
इस बैठक में संघ के पदाधिकारियों को सर्वसम्मति से चुना गया। बैठक में श्रीमती वर्षा खांगवाल (2004) को अध्यक्ष, अश्विनी मलिक (2011) को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, रोहित यादव (2013) को उपाध्यक्ष, प्रद्युम्न सिंह (2013) को महासचिव, डॉ वेद बेनीवाल (2016) को संयुक्त सचिव, अनिल यादव (2016) को समन्वय सचिव और राजेश कोथ (2019) को वित्त सचिव चुना गया।

सपा प्रत्याशियों को विजयी बनाने की ज़िम्मेदारी दीं

सपा प्रत्याशियों को विजयी बनाने की ज़िम्मेदारी दीं    

बृजेश केसरवानी         
प्रयागराज। समाजवादी पार्टी के अनुशांगिक संगठन बाबा साहब वाहिन के प्रदेश अध्यक्ष चन्द्रशेखर चौधरी ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की संस्तुति पर प्रयागराज के हेला समाज के नेता सुशान्त चन्द्रा प्रधान को बाबा साहब वाहिनी का प्रदेश सचिव मनोनीत कर समाज के लोगों को समाजवादी पार्टी की नीतियों से अवगत कराते उत्तर प्रदेश के विधान सभा चुनाव मे सपा प्रत्याशियों को भारी मतो से विजयी बनाने की ज़िम्मेदारी दी। 
सुशान्त के मनोनयन पर महानगर अध्यक्ष सै.इफ्तेखार हुसैन, महासचिव रवीन्द्र यादव रवि ,सै.मो.अस्करी, अब्दुल्ला तेहामी ,मो.हसीब मो.सऊद ,सै.हामिद अली, अरशद हुसैन ,जयभारत यादव ,मो.अज़हर ,नटखट हेला, नितिन हेला ,अजीत कौशल ,बब्लू हेला ,राहुल चन्द्रा आदि शामिल रहे।

फाटक की समस्या को लेकर मीटिंग का आयोजन

फाटक की समस्या को लेकर मीटिंग का आयोजन      

अश्वनी उपाध्याय          
गाज़ियाबाद। लोनी बॉर्डर थाना क्षेत्र के पाइप लाइन रोड बंद फाटक शिव मंदिर के पास क्षेत्रीय लोगो ने बंद फाटक की समस्या के समाधान को लेकर एक मीटिंग का आयोजन किया एवं लोगो ने बंद फाटक की समस्या के बारे में ओवर ब्रिज या अंडर ब्रिज की मांग को लेकर अपने अपने विचार व्यक्त किए मीटिंग की अध्यक्षता ओम प्रकाश उपाध्याय ने की एवं मंच संचालन पत्रकार गौरव राय ने किया। 
लोगो ने बताया की लोनी बॉर्डर से लेकर मुराद नगर तक पाइप लाइन रोड मुख्य मार्ग है। जो कावड़ मार्ग के नाम से भी जाना जाता है। बंद फाटक के दोनो तरफ नगर पालिका के आठ वार्ड है। जिसमे लाखो लोग निवास करते है यह मार्ग दर्जनों गांव का रास्ता भी है। क्षेत्र वासियों ने बताया कि बंद फाटक समस्या के समाधान को लेकर दर्जनों आंदोलन हो चुके है। लेकिन आज तक आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला है। लोगो ने जन प्रतिनिधियों पर भी उपेक्षा का आरोप लगाया है। वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद गर्ग ने बताया कि केंद्र एवं प्रदेश में भाजपा की सरकार एवं सांसद विधायक चेयरमैन सभासद भाजपा के होने के बावजूद भी इस समस्या का कोई समाधान नहीं हो पाया है। पत्रकार गौरव राय ने बताया कि लोनी बॉर्डर थाने से बंद फाटक की दूरी एक किलोमीटर है। 
लेकिन, फाटक पार आने में लोनी बॉर्डर पुलिस को पांच से छह किलोमीटर तक घूम कर आना पड़ता है। लोगो ने बताया कि आए दिन रेलवे ट्रैक पार करते समय दुर्घटना होती रहती है। पीड़ित लोगो ने मीटिंग के दौरान मीडिया को जानकारी दी, कि एक कमेटी बना कर आगे की रण नीति तय की जाएगी एवं आर पार की लड़ाई होगी। मीटिंग में समाज सेवी के पी ठाकुर, मुकेश यादव, गजराज सिंह ,त्रिलोक चंद गोस्वामी, सोनू वर्मा ,राजेंद्र कश्यप ,दिनेश शर्मा ,डॉक्टर नकुल आर्य ,कृष्णा कश्यप, सहजाद खान संतोष कुमार मनोज यादव ,अशोक सिंह, आर डी प्रजापति ,विनोद कुमार सिंह आदि काफी संख्या में लोग मौजूद रहे एवं सभी ने अपने अपने विचार व्यक्त किए।

यूके: 24 घंटे में कोरोना के 144 नए मामलें मिलें

यूके: 24 घंटे में कोरोना के 144 नए मामलें मिलें       

पंकज कपूर        

देहरादून। उत्तराखंड में वैश्विक महामारी कोविड-19 का प्रकोप कम होने लगा है। पिछले 24 घंटे के दौरान प्रदेश के सभी 13 जनपदों में कोरोना वायरस के कुल 144 नये मामले सामने आए है। वहीं, प्रदेश में पिछले 24 घंटे में एक कोरोना संक्रमित मरीज की उपचार के दौरान मौत हुई है।

रविवार को उत्तराखंड स्टेट कंट्रोल रूम देहरादून द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना के कुल 144 नए मामलें सामने आए है। जबकि राज्य में 50 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए वहीं श्री महंत इंद्रेश अस्पताल देहरादून में भर्ती एक कोरोना संक्रमित मरीज की मौत भी हुई।

खेल: 'टेनिस खिलाड़ी' मिर्जा ने हार का सामना किया

खेल: 'टेनिस खिलाड़ी' मिर्जा ने हार का सामना किया     

मोमीन मलिक       

आबूधाबी। भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा और चेक गणराज्य की उनकी जोड़ीदार लूसी हरादेका को दुबई ड्यूटी फ्री टेनिस चैंपियनशिप के महिला डबल्स के सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा। पहले सेट में दबदबा बनाने के बावजूद सानिया और हरादेका की जोड़ी को यूक्रेन की ल्युडमाइला किचेनोक और लातविया की येलेना ओस्टापेंको के खिलाफ 6-2, 2-6, 7-10 से शिकस्त झेलनी पड़ी। भारत और चेक गणराज्य की वाइल्ड कार्ड धारक जोड़ी ने 11 ब्रेक प्वॉइंट बचाए। 

जबकि पहले सेट में 3 में से 2 ब्रेक प्वॉइंट जीतकर डब्ल्यूटीए 500 टूर्नामेंट में 1-0 की बढ़त बनाई। सानिया मिर्जा और हरादेका हालांकि लय बरकरार रखने में नाकाम रही और किचेनोक तथा ओस्टापेंको ने वापसी करते हुए दूसरा सेट जीत लिया और फिर मैच भी अपने नाम किया। सानिया ने 2013 में अमेरिका की बेथानी माटेक सैंड्स के साथ मिलकर यहां खिताब जीता था। तीन मिक्स्ड डबल्स सहित 6 ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने वाली 35 साल की सानिया भारत की सबसे सफल महिला टेनिस खिलाड़ी हैं। वह पहले ही घोषणा कर चुकी हैं कि डब्ल्यूटीए टूर पर 2022 उनका अंतिम सत्र होगा।

कथावाचक की भूमिका में नजर आयेगी करीना: शो

कथावाचक की भूमिका में नजर आयेगी करीना: शो   

कविता गर्ग     

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर कलर्स चैनल पर आने वाले शो 'स्पाई बहू' में कथावाचक की भूमिका में नजर आयेगी। कलर्स चैनल रोमांचक लव स्टोरी 'स्पाई बहू' लेकर आ रहा है। 'करीना कपूर'स्पाई बहू' के नए प्रोमो के लिए कथावाचक बनने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। इस प्रोमो में करीना 'स्पाई बहू' के मुख्य कलाकारों सेजल (सना सैय्यद) और योहान (सेहबान अजीम) से दर्शकों का परिचय कराती नजर आएंगी। वहीं शो में सना और सेहबान का किरदार किस तरह से दूसरों से अलग और खास है, ये भी बताएंगी।

'स्पाई बहू' शो को लेकर करीना कपूर खान ने कहा, "मैं प्रेम कहानियों की बहुत बड़ी प्रशंसक हूं, कौन नहीं है? कुछ आनंदमय यानी दिलचस्प और दिल को छू लेने वाले हैं जबकि कुछ आकर्षक और रहस्यमय हैं। नया शो 'स्पाई बहू' एक ऐसी ही आकर्षक प्रेम कहानी है। जासूस, सेजल और एक संदिग्ध आतंकवादी, योहन जिसने मुझे मोहित कर लिया है। दर्शकों को उनकी केमिस्ट्री पसंद आएगी और इस पावर-पैक शो का आनंद लेंगे।"

बताया जा रहा है कि 'स्पाई बहू' की कहानी में सेजल, जो कि एक जासूस होती है। उसे एक संदिग्ध आतंकवादी योहान से प्यार हो जाता है। यहीं ये उनके बीच असामान्य प्रेम कहानी आगे बढ़ाती है। दोनों ही एक दूसरे की असलिया जाने बेखबर प्यार में आगे बढ़ने लगते हैं। वहीं सेजल और योहन दोनों ही राज़ छुपाते हैं और एक ऐसा जोखिम उठाने जा रहे हैं जो उनके रिश्ते को बना या बिगाड़ सकता है। इस शो को अश्विनी यार्डे के विनी यार्ड प्रोडक्शन हाउस के बैनर तले बनाया गया है। अयूब खान, शोभा खोटे, भावना बलसावर जैसे किरदार इस शो में नजर आएंगे।

हादसा: चंबल नदी में गिरीं कार, 8 लोगों की मौंत

हादसा: चंबल नदी में गिरीं कार, 8 लोगों की मौंत      

नरेश राघानी      

जयपुर। राजस्थान में कोटा में नयापुरा पुलिया से कार के चंबल नदी में गिर जाने से रविवार को आठ लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि सुबह करीब साढ़े आठ बजे पुलिस को एक कार के नदी में गिर जाने की सूचना मिली और प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे। 

पुलिस ने बताया कि कार से सात शव बरामद किए गए और एक शव बाद में बचाव कार्य के दौरान बरामद किया गया। यह बारात के लोग बताते जा रहे हैं और मृतकों में दूल्हा भी हो शामिल होने की आंशका जताई जा रही है। बारात चौथ का बरवाड़ा से उज्जैन जा रही थी।

अभिनेत्री पलक ने 'पिंक ड्रेस' में फोटोशूट करवाया

अभिनेत्री पलक ने 'पिंक ड्रेस' में फोटोशूट करवाया    

कविता गर्ग         

मुंबई। श्वेता तिवारी की बेटी पलक तिवारी हमेशा लाइमलाइट में बनी रहती हैं। फिर चाहे उनका गाना हो, डांस हो या फिर उनका स्टाइल। सभी कुछ उनके फैंस को खूब पसंद आता है। हाल ही में पलक तिवारी ने ऐसा फोटोशूट करवाया है कि तस्वीरें देख फैंस अपने आप पर काबू नहीं कर पा रहे हैं।

इन तस्वीरों में पलक तिवारी बेहद टाइट पिंक कलर की ड्रेस पहने हुई हैं। इस ड्रेस को पहनकर पलक ने दीवार के सहारे खड़े होकर एक से बढ़कर एक पोज दिए हैं। इन पोज को देखकर फैंस के दिल की धड़कनें बढ़ गई हैं।

सीएम वहीं बनेगा, जिसे विधायक अपना नेता चुनेंगे

सीएम वहीं बनेगा, जिसे विधायक अपना नेता चुनेंगे    

पंकज कपूर      

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव से पहले पूर्व सीएम हरीश रावत ने दलित चेहरे को मुख्यमंत्री बनाने की बात कही थी। लेकिन मतदान के बाद से वह खुद को मुख्यमंत्री बनाने या घर बैठने की बात कहते नजर आने लगे थे। वहीं, इन सबके बीच उन्होंने फिर से दलित सीएम का राग आलापना शुरू कर दिया है। जिसको लेकर एक बार फिर उत्तराखंड में राजनीति तेज हो गई है।

मतदान खत्म होते ही हरीश रावत मुख्यमंत्री पद को लेकर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं। चुनाव से पहले हरीश रावत ने किसी दलित को उत्तराखंड का मुख्यमंत्री बनाने की इच्छा जाहिर की थी और इसके ठीक बाद उन्होंने यशपाल आर्य और उनके बेटे को कांग्रेस में शामिल करवाया था। इसके बाद हरीश रावत का नया बयान आया कि, प्रदेश में मुख्यमंत्री वहीं बनेगा, जिसे विधायक अपना नेता चुनेंगे। उसके कुछ ही दिनों बाद सब ने देखा कि कैसे हरीश रावत ने खुद को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने के लिए पार्टी पर दबाव बनाया और खुद के मुख्यमंत्री बनने या घर बैठने की बात तक कह डाली।

6,000 रुपये में चांद पर 1 एकड़ जमीन खरीदी

6,000 रुपये में चांद पर 1 एकड़ जमीन खरीदी 

इकबाल अंसारी       
अगरतला। त्रिपुरा के एक अध्यापक ने खुद को वैलंटाइन्स डे पर चांद पर एक एकड़ जमीन तोहफे में देने का दावा किया है। इस व्यक्ति का कहना है कि वह बॉलीवुड स्टार्स से प्रेरित है। जिन्होंने भी चांद पर खुद की प्रॉपर्टी खरीद रखी है। 
रिपोर्ट के मुताबिक, सुमन देबनाथ ने इंटरनेशनल लूनर सोसायटी से करीब 6,000 रुपये में चांद पर जमीन खरीदी है। रिपोर्ट के मुताबिक, देबनाथ ने कहा कि बॉलीवुड स्टार्स के पास चांद पर अपनी जमीन होती है। वे उनसे प्रेरित थे, लेकिन उन्होंने खुद को विकल्प तलाश करने से रोका, क्योंकि उन्हें लगता था कि कीमतें बहुत ज्यादा और उनकी पहुंच से बाहर होंगी।

भाजपा नेता पर 'गोपनीयता' भंग करने का आरोप

भाजपा नेता पर 'गोपनीयता' भंग करने का आरोप     

संदीप मिश्र        

कानपुर। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में रविवार को चल रहे मतदान के दौरान कानपुर की मेयर और भाजपा नेता प्रमिला पांडेय पर मतदान की गोपनीयता भंग करने के आरोप में स्थानीय प्रशासन ने निर्वाचन नियमों के तहत उनके विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार पांडे कानपुुर के हडसन स्कूल स्थित मतदान केन्द्र पर मतदान करने पहुंची थीं। इस दौरान ईवीएम में वोट देते हुये मेयर की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गयी। तस्वीर में वह एक दल को मतदान करते हुए दिख रही हैं।

इस पर कानपुर की जिला निर्वाचन अधिकारी नेहा शर्मा ने कहा कि पांडे द्वारा मतदान केंद्र में मतदान की गोपनीयता भंग करने की जानकारी मिली है। उन्होंने बताया कि इस पर संज्ञान लेते हुए निर्वाचन नियमों के तहत उनके विरुद्ध मामला दर्ज करने के आदेश दिये गये हैं। शर्मा ने मतदाताओं से निर्वाचन नियमों का पालन करते हुए मतदान करने की अपील की है। गौरतलब है कि मतदान करते हुये ईवीएम की फ़ोटो खींचना, निर्वाचन नियमों के विरुद्ध है। इस संबंध में मेयर पांडे ने बताया कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी कि मतदान केन्द्र के अंदर मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं है। उन्होंने कहा कि वह इसकी जानकारी करेंगी कि वोट डालते समय उनकी फोटो किसने खींचकर वायरल कर दी। 

इस बीच कानपुर देहात की भोगनीपुर विधानसभा सीट के बूथ संख्या 121 पर मतदाताओं द्वारा किसी दल के लिये किये गये मतदान के एवज में किसी अन्य दल की पर्ची निकलने की शिकायत की गयी। समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों ने निर्वाचन आयोग से इस पर संज्ञान लेने की अपील कर इसे दुरुस्त करने की मांंग की।कानपुर के कल्याणपुर विधानसभा क्षेत्र में जवाहरलाल पोलिंग केन्द्र पर कक्ष संख्या 46 व 50 में ईवीएम खराब होने के चलते एक घंटा देर से मतदान शुरु होने की जानकारी मिली है।

योजना: रांची नगर निगम ने अंतिम नोटिस जारी किया

योजना: रांची नगर निगम ने अंतिम नोटिस जारी किया  

मोमीन अहमद      
रांची। प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तृतीय घटक के तहत बन रहे “लाइट हाउस प्रोजेक्ट परियोजना“ के तहत बन रहे आवासों का आवंटन करने की कवायद तेज हो गई है। रांची नगर निगम ने इसको लेकर आवेदकों को अंतिम नोटिस जारी किया। जिन्होंने मांगे गए जरूरी दस्तावेज जमा नहीं किए हैं। इसको लेकर सहायक नगर आयुक्त ने संबंधित आवेदकों को 28 फरवरी तक अपना दस्तावेज जमा करने कहा है। 
इसके उपरान्त चयनित लाभार्थियों का लॉटरी के माध्यम से आवास आवंटन की सूचना प्रकाशित करने की बात नगर निगम ने कही है। 
मालूम हो कि रांची के आनी मौजा, मौसीबाड़ी मैदान, पंचमुखी मंदिर के नजदीक, सेक्टर-01, धुर्वा में 1008 आवासों का निर्माण हो रहा है। इन आवासों को निगम क्षेत्र के भूमिहीन/ बेघर/ रेंटर आदि को दिया जाना है। नगर निगम को आवास लेने के लिए कुल 1521 आवेदकों ने आवेदन किया है।

सीएम कार्यालय के अधिकारियों को अधिकार दिया

सीएम कार्यालय के अधिकारियों को अधिकार दिया     

राणा ओबरॉय      

चंडीगढ़। हरियाणा में बड़े स्तर पर आईएएस अधिकारियों के तबादलों के बाद अब मुख्यमंत्री कार्यालय में तैनात अफसरों को नए सिरे से जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिसमें अलग अलग अफसरों को विभागों का बंटवारा किया गया है। मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव वी उमाशंकर सर्वाधिक 16 महकमे संभालेंगे। मुख्य प्रधान सचिव डीएस ढेसी 11 महकमों के साथ मुख्यमंत्री कार्यालय के ओवरआल इंचार्ज रहेंगे। मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डा. अमित कुमार अग्रवाल भी 11 और उपप्रधान सचिव आशिमा बराड़ 13 महकमे संभालेंगे। जबकि ओएसडी सुधांशु गौतम की जिम्मेदारी बढ़ाई गई है।

मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव डीएस ढेसी ने महकमों में बदलाव के लिखित आदेश जारी कर दिए। विधायी कार्य से संबंधित सभी मामलों के साथ ही नागरिक संसाधन सूचना, उत्पाद शुल्क और कराधान, सिंचाई, सामान्य प्रशासन, कार्मिक, प्रशासनिक सुधार और प्रशिक्षण, आतिथ्य और सतर्कता, गृह, आपराधिक जांच और न्याय प्रशासन, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग एंड अर्बन एस्टेट्स, जेल, शहरी स्थानीय निकाय, विदेशी सहयोग, उद्योग के अलावा उन सभी महकमों को ढेसी ने अपने पास रखा है। जो किसी अन्य को आवंटित नहीं किए गए हैं।


पीएम सोलर पंप से 80 हजार कमाने का मौका

पीएम सोलर पंप से 80 हजार कमाने का मौका    

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। पीएम सोलर पंप योजना, किसानों को सालाना 80,000 रुपये कमाने का मौका दे रही है। सौर ऊर्जा उत्पन्न करने के लिए सरकार अब बंजर भूमि का उपयोग करेगी। 1 मेगावाट सोलर प्लांट लगाने के लिए केंद्र सरकार को 5 एकड़ जमीन की जरूरत है। प्रत्येक 1 मेगावाट क्षमता का सौर संयंत्र से उत्पन्न बिजली के अनुसार सालाना आधार पर लगभग 11 लाख यूनिट बिजली पैदा होगी। सोलर पैनल से 6,600 रुपये प्रति माह लाभ होगा।

बिजली मंत्रालय, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा के अनुसार डिस्कोम्स इस योजना के माध्यम से उत्पादित बिजली खरीदती हैं। किसान की जमीन पर सोलर पैनल लगाने वाली बिजली कंपनी जमींदार को 30 पैसे प्रति यूनिट का भुगतान करेगी। जो लगभग 6,600 रुपये प्रति माह है।

नए प्रकार का एलपीजी सिलेंडर लान्च: उन्नति

नए प्रकार का एलपीजी सिलेंडर लान्च: उन्नति     

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने ग्राहकों के लिए एक नए प्रकार का एलपीजी सिलेंडर लॉन्च किया है। इसे एक समग्र यानि कम्पोजिट सिलेंडर कहा जाता है। इसके कई फायदे हैं। क्योंकि यह वजन में हल्का है और साथ ही इसमें जंग भी नहीं लगती है, तो आइये जानते है इसकी संपूर्ण जानकारी।

एलपीजी कम्पोजिट सिलेंडर तीन स्तरों में बनाया जाता है। जिसमें पहले के अंदर उच्च घनत्व पॉलीथीन की एक परत होती है। यह भीतरी परत पॉलिमर से बने फाइबरग्लास से कोटेड होती है। इसका बाहरी स्तर भी एचडीपीई से बना है। यानि इन सिलेंडरों को पूरी सुरक्षा के साथ बनाया गया है। एलपीजी कंपोजिट सिलेंडर स्टील से बना हुआ है। कॉम्पैक्ट सिलेंडर की तुलना में यह भारी है। इस कॉम्पैक्ट सिलेंडर में और भी कई खूबियां हैं, जो एक नियमित स्टील सिलेंडर के मुक़ाबले काफी बेहतर है। 

कम्पोजिट सिलिंडर की खूबियां....

  • कम्पोजिट सिलेंडर का वजन 5 किलो और 10 किलो है।
  • यह सिलेंडर पारदर्शी है जिससे आप सिलेंडर में बची हुई गैस की मात्रा देख सकते हैं।
  • इससे उपभोक्ताओं को गैस की मात्रा को देखते हुए अपने अगले रिफिल की योजना बनाने में मदद मिलेगी।
  • कंपोजिट सिलेंडर में जंग नहीं लगता है और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह क्षतिग्रस्त नहीं होता है जिससे यह सुरक्षित हो जाता है।
  • इस सिलेंडर को आधुनिक किचन के हिसाब से डिजाइन किया गया है।

सीएम अमरिंदर ने 'कांग्रेस' पर जमकर हमला बोला

सीएम अमरिंदर ने 'कांग्रेस' पर जमकर हमला बोला    

अमित शर्मा        

जालंधर। पंजाब लोक कांग्रेस प्रमुख कैप्टर अमरिंदर सिंह ने कहा कि वे (कांग्रेस) इस बात से चिंतित हैं कि मैं पंजाब में क्या हासिल कर पा रहा हूं ? जो उनके खिलाफ जा रहा है। मैं भविष्यवाणी कर सकता हूं कि कांग्रेस को 20-30 से अधिक सीटें नहीं मिलेंगी। जालंधर पंजाब में 117 विधानसभा सीटों के लिए मतदान हो रहा है। इसी बीच पूर्व मुख्यमंत्री और पंजाब लोक कांग्रेस प्रमुख कैप्टन अमरिंदर सिंह ने रविवार को कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। 

उन्होंने कहा कि वे (कांग्रेस) इस बात से चिंतित हैं कि मैं पंजाब में क्या हासिल कर पा रहा हूं। जो उनके खिलाफ जा रहा है। समाचार एजेंसी एएनआई के साथ बातचीत में पंजाब लोक कांग्रेस प्रमुख कैप्टर अमरिंदर सिंह ने कहा कि वे (कांग्रेस) इस बात से चिंतित हैं कि मैं पंजाब में क्या हासिल कर पा रहा हूं। जो उनके खिलाफ जा रहा है। मैं भविष्यवाणी कर सकता हूं कि कांग्रेस को 20-30 से अधिक सीटें नहीं मिलेंगी। उन्होंने कहा कि पटियाला और आसपास की सीटों पर हमें बहुत अच्छी जीत देखने को मिलेगी। 

भाजपा-पीएलसी और ढिंढसा गठबंधन को अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है तो हमें और क्या चाहिए। कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि चरणजीत चन्नी क्या हैं ? क्या वह जादूगर है कि 3 महीने में वह पंजाब में चमत्कार कर सकता है? उन्होंने कहा कि दोनों (चन्नी और सिद्धू) बेकार हैं। आपको बता दें कि पंजाब की 117 सीटों में 93 महिलाओं समेत कुल 1,304 उम्मीदवार हैं। जो अपनी किस्मत की आजमाइश कर रहे हैं और इन तमाम उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हो जाएगी। जिसका नतीजा 10 मार्च को उत्तर प्रदेश, गोवा, मिजोरम और उत्तराखंड के साथ आएगा।

एयर इंडिया के 2 पायलट्स की स्किल पर तारीफ

एयर इंडिया के 2 पायलट्स की स्किल पर तारीफ    

अखिलेश पांडेय          

लंदन/नई दिल्ली। एयर इंडिया के दो पायलट्स की स्किल की तारीफ पूरी दुनिया में हो रही है। ये पायलट हैं, कैप्टन अंचित भारद्वाज और आदित्य राव, जिन्होंने 18 फरवरी को ब्रिटेन के हीथ्रो एयरपोर्ट पर तूफान के बीच एयर इंडिया के दो विमानों को सुरक्षित लैंड करवाया था। रिपोर्ट के मुताबिक, अंचित भारद्वाज हैदराबाद से टेकऑफ करने वाली एआई-147 फ्लाइट को उड़ा रहे थे, जबकि आदित्य राव गोवा से टेकऑफ करने वाली फ्लाइट एआई-145 के पायलट थे। दोनों की तारीफ करते हुए एयर इंडिया के एक अधिकारी ने मीडिया से कहा कि हमारे कुशल पायलट्स ने लंदन के हीथ्रो एयरपोर्ट पर उस समय अपने विमानों की लैंडिंग कराई जब कई दूसरी एयरलाइंस ऐसा नहीं कर सकीं।

हीथ्रो एयरपोर्ट पर उस समय तूफान यूनिस की वजह से तेज हवाएं चल रही थीं। इसके चलते एयरपोर्ट प्रशासन ने कई फ्लाइट्स को गो अराउंड में रखा था, लेकिन एअर इंडिया के दोनों पायलट्स ने अपने विमानों को सुरक्षित तरीके से लैंड करा लिया। दोनों फ्लाइ‌ट्स की लैंडिंग को बिगजेट टीवी नाम के यूट्यूब चैनल ने लाइव स्ट्रीम किया था। यूनिस तूफान की वजह से ब्रिटेन में 400 से ज्यादा उड़ानें रद्द कर दी गई थीं। लंदन के हिथ्रो एयरपोर्ट पर कई विमानों के रूट को डायवर्ट कर दिया गया था। वहीं बेल्जियम और आयरलैंड में भी तूफान की वजह से फ्लाइट्स को रद्द कर किया गया था।

यूनिस तूफान के चलते उत्तर-पश्चिमी यूरोपा में ट्रांसपोर्ट नेटवर्क बदहाल हो गया है और कम से कम 16 लोगों की जान गई है। तूफान प्रभावित देशों में ब्रिटेन, आयरलैंड, नीदरलैंड, बेल्जियम, जर्मनी और पोलैंड शामिल हैं।यूनिस ने बेल्जियम और यूनाइटेड किंगडम में करोड़ों का नुकसान पहुंचाया। मौसम विभाग के मुताबिक हवा की गति तेज होने के कारण ब्रिटेन में करीब 2 लाख घरों की बिजली चली गई है। इधर तेज हवाओं से लंदन के इनडोर स्टेडियम ओ2 अरेना की छत उड़ गई है। वहीं तूफान की वजह से लोग अब भी घरों में दुबके हुए हैं।

फ्लोरिडा के समुद्र में हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ

फ्लोरिडा के समुद्र में हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ     

सुनील श्रीवास्तव        

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के फ्लोरिडा में मियामी बीच के पास समुद्र में एक हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हेलिकॉप्टर जिस स्थान पर दुर्घटनाग्रस्त हुआ। उससे कुछ ही दूरी पर सैकड़ों लोग स्वीमिंग और बीच पर पार्टी कर रहे थे। हेलिकॉप्टर दुर्घटना में दो लोग घायल बताए जा रहे हैं। दोनों घायलों को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि पूरा बीच लोगों से भरा हुआ है। तभी आसमान से हेलिकॉप्टर बीच समुद्र में गिर जाता है। वीडियो में उक्त स्थान के पास बड़ी संख्या में लोग स्वीमिंग करते हुए देखे जा सकते हैं। हेलिकॉप्टर को पानी में गिरता देख आसपास के लोगों में कोहराम मच जाता है और लोग इधर-उधर भागने लगते हैं।

मियामी बीच पुलिस अधिकारियों का कहना है कि फिलहाल हेलिकॉप्टर में सवार दोनों लोगों की हालात स्थिर है। एमबीपीडी के ट्वीट के अनुसार घटना दोपहर लगभग 1:20 बजे (स्थानीय समयानुसार) हुई। 
घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस बीच फायर डिपार्टमेंट और ओशन रेस्क्यू विभाग अन्य सहयोगी एजेंसियों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और लोगों को निकाला।
मियामी बीच फायर रेस्क्यू के एक अधिकारी ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि फिलहाल इसमें किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। अगर यह दुर्घटना 50 गज और अंदर की ओर जमीन पर होती तो बड़े पैमाने पर नुकसान होता और लोगों की जान जा सकती थी। वहीं, इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर लोग खूब शेयर कर रहे हैं।

1,000 अतिरिक्त लोगों की नियुक्ति करेगी 'टाटा'

1,000 अतिरिक्त लोगों की नियुक्ति करेगी 'टाटा'   

अकांशु उपाध्याय      

नई दिल्ली। टाटा टेक्नोलॉजीज ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए चालू वित्त वर्ष 2022-23 में तय योजना से कम से कम 1,000 अतिरिक्त लोगों की नियुक्ति करेगी। हालांकि, कंपनी ने 12 माह की अवधि में 3,000 से अधिक नवोन्मेषकों की नियुक्ति करने की योजना बनाई है। कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी। जनवरी में वैश्विक इंजीनियरिंग और उत्पाद विकास डिजिटल सेवा कंपनी ने अपने विस्तारित प्रतिभा नियुक्ति कार्यक्रम के तहत 12 महीने की अवधि में 3,000 से अधिक नवोन्मेषणों की भर्ती करने की योजना की घोषणा की थी।

इसके तहत कंपनी ने दुनिया के सभी प्रमुख बाजारों के अलावा देश के कई राज्यों मसलन महाराष्ट्र, कर्नाटक और तमिलनाडु में अपने कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने की योजना बनाई थी। टाटा टेक्नोलॉजीज के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) वारेन हैरिस ने कहा कि, यह इस तथ्य की इशारा करता है कि हम अवसरों की कमी नहीं कर रहे हैं। हम आपूर्ति-पक्ष की कमी में हैं, इसलिए हम जो निवेश कर रहे हैं, वह क्षमता और क्षमता के प्रकार के निर्माण की ओर झुका है।

उन्होंने कहा कि कंपनी इस क्षेत्र में कितनी सफल रही है, इसका अंदाजा इसी बात से लगता है कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में हमने 1,500 लोगों को भर्ती किया है। ऐसे में 3,000 की प्रतिबद्धता को कुछ हद तक कम है। हम वित्त वर्ष 2022-23 में 3,000 से अधिक लोगों की नियुक्ति करेंगे। यह पूछे जाने पर कि नियुक्तियां कितनी अधिक होंगी, हैरिस ने कहा कि, 3,000 से ऊपर के संदर्भ में हम अगले साल के लिए कारोबारी योजना तैयार कर रहे हैं। लेकिन मुझे उम्मीद है कि हम 3,000 पर कम से कम 1,000 अधिक की और नियुक्ति करेंगे।टाटा टेक्नोलॉजीज ऑटोनोमस, कनेक्टेड, इलेक्ट्रिफिकेशन एंड शेयर्ड (एसीईएस) मोबिलिटी और डिजिटल में निवेश के चलते तेजी से बढ़ रही है, क्योंकि विनिर्माण कंपनियां ग्राहकों की नई जरूरतों को पूरा करने का प्रयास कर रही हैं। कंपनी ने 31 दिसंबर, 2021 को समाप्त चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 1,034.1 करोड़ रुपये की परिचालन आय और 201.2 करोड़ रुपये का कर-पूर्व लाभ दर्ज किया है जो उसका सर्वश्रेष्ठ तिमाही प्रदर्शन है।

8 पुलिस अधिकारियों के तबादले एवं पदस्थापना

8 पुलिस अधिकारियों के तबादले एवं पदस्थापना     

इकबाल अंसारी        

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा की अगुवाई वाले प्रशासन ने केंद्र शासित प्रदेश में दो प्रशासनिक और आठ पुलिस अधिकारियों के तबादले और पदस्थापना का आदेश दिया है तथा इसी के साथ रियासी जिले को नया उपायुक्त और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मिला है। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी एक आदेश के अनुसार, जम्मू-कश्मीर प्रशासनिक सेवा (जेकेएएस) की अधिकारी बबीला रकवाल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी, जे-के एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी, का स्थानांतरण कर दिया गया है और चरणदीप सिंह की जगह रियासी के उपायुक्त के रूप में उन्हें पदस्थापित किया गया है। सिंह (जेकेएएस) का तबादला करके उन्हें जम्मू कश्मीर के ग्रामीण स्वच्छता के निदेशक पद पर तैनात किया गया है। 

जम्मू कश्मीर के पंचायती राज निदेशक राकेश कुमार स्रांगल को अतिरिक्त प्रभार से मुक्त कर दिया गया है। आदेश के अनुसार, सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के प्रधान सचिव आलोक कुमार जम्मू कश्मीर ऊर्जा विकास एजेंसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी का पद संभालेंगे। शनिवार रात गृह विभाग द्वारा जारी एक अलग आदेश के अनुसार, प्रशासन ने आठ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों के तबादले और पदस्थापना के आदेश जारी किये हैं। साथ ही एक अन्य एसएसपी को अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। आईआरपी की 16वीं बटालियन के कमांडेंट अमित गुप्ता (जेकेपीएस) की एसएसपी रियासी के पद पर तैनाती की गयी है। वह शैलेंद्र सिंह का स्थान लेंगे, जिनका तबादला एसएसपी सुरक्षा कार्यशाला के पद पर किया गया है।

खालिस्तान आंदोलन के विरुद्ध बयान जारी: दिग्विजय

खालिस्तान आंदोलन के विरुद्ध बयान जारी: दिग्विजय   

मनोज सिंह ठाकुर       

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आम आदमी पार्टी (आप) के पूर्व नेता कुमार विश्वास का समर्थन किया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से खालिस्तान आंदोलन के खिलाफ बयान जारी करने की मांग की। विश्वास ने केजरीवाल पर पंजाब विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान अलगाववादियों का समर्थन करने का आरोप लगाया था लेकिन आप प्रमुख ने इन आरोपों को खारिज कर दिया।

दिग्विजय सिंह ने शनिवार रात हिंदी में एक ट्वीट में कहा, ” कुमार विश्वास ने केजरीवाल जी से बहुत ही साधारण मांग की है। केजरीवाल जी एक बयान खालिस्तान के खिलाफ दे दें। उसमें केजरीवाल जी को कोई एतराज नहीं होना चाहिए।” आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि केजरीवाल पर लगाए गए आरोपों के बाद विश्वास की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए केंद्र ने शनिवार को विश्वास को वाई श्रेणी की सुरक्षा देने का फैसला किया है।

नाबालिग किशोरी से दुष्कर्म, मामला दर्ज किया

नाबालिग किशोरी से दुष्कर्म, मामला दर्ज किया      

दुष्यंत टीकम      

जशपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक विवाह समारोह से एक किशोरी को उठाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आने के बाद सनसनी फैल गई। बगीचा पुलिस ने दुष्कर्म मामले की सूचना मिलते ही रिपोर्ट दर्ज कर दो आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रतिभा पाण्डेय ने आज बताया कि पंडरापाठ के पास सुलेशा गांव में एक वैवाहिक समारोह से दो दिन पहले एक नाबालिग किशोरी को बदमाशों ने उठा लिया। किशोरी को बदमाश कवासी जंगल ले गए और उससे सामूहिक दुष्कर्म किया।

उन्होंने कहा कि बदमाशों ने पीड़ित से मारपीट की, जिससे वह घायल हो गई। किशोरी ने घर पहुंच कर परिजन को घटना की जानकारी दी, जिसके बाद कल पुलिस ने पांच बदमाशों के विरुद्ध दुष्कर्म का मामला दर्ज किया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पीड़ित की गंभीर हालत को देखकर उसे तत्काल उपचार के लिए बगीचा स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया है। मामले में दो आरोपियों को हिरासत में लेने के बाद पुलिस की टीम शेष आरोपियों की तलाश में जुटी गई है।

2 दिनों तक बारिश के आसार, येलो अलर्ट जारी

2 दिनों तक बारिश के आसार, येलो अलर्ट जारी    

अकांशु उपाध्याय       

नई दिल्ली। उत्तर भारत के ज्यादातर राज्यों में धूप निकलने से ठंड लगभग खत्म हो रही है। खिलती धूप ने लोगों को कड़ाके वाली सर्दी से काफी राहत दी है। वहीं, राज्यों के न्यूनतम तापमान भी लगातार बढ़ते जा रहे हैं। दिल्ली-एनसीआर में लगातार निकल रही धूप ने ठंड को काफी हद तक कम कर दिया है। हालांकि लोग सुबह और रात के समय हल्का कोहरा महसूस कर सकते हैं। मौसम विभाग की माने तो आज यानी रविवार को राजधानी में हल्की हवाएं चलेंगी। जिसके चलते मौसम में हल्की ठंड महसूस की जा सकेगी। सोमवार को राजधानी का मौसम बिल्कुल सामान्य रहने वाला है। आईएमडी के अनुसार अगले हफ्ते 22 फरवरी को एक बार फिर पश्चिमी विक्षोभ एक्टिव हो रहा है। इसके कारण 22 और 23 फरवरी को दिल्ली और उसके आसपास के कुछ इलाके में बारिश हो सकती है।  हिमाचल प्रदेश में आने वाले 21 फरवरी को मौसम साफ रहेगा। हालांकि मौसम विभाग की माने तो 22 और 23 फरवरी को राज्य के कई क्षेत्रों में बर्फबारी और बारिश हो सकती है। दो दिनों तक बारिश के आसार देखते हुए मध्य पर्वतीय जिलों में येलो अलर्ट जारी किया गया है।

मध्य प्रदेश में निकल रही धूप के कारण लोगों को ठंड से काफी राहत मिली है। लेकिन लोगों को सुबह और रात के समय हल्की ठंड महसूस होती होगी। राज्य में कल यानी शनिवार को पचमढ़ी, नर्मदापुरम, बैतूल, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, मंडला और डिंडोरी में हल्की बारिश हुई। आसमान में बादल लगे होने के कारण रात का तापमान कहीं-कहीं साढ़े चार डिग्री तक ऊपर पहुंच गया था। वहीं IMD की माने तो आने वाले दो दिनों तक ऐसा ही मौसम रहने के आसार हैं। आज-कल कई जिलों में हल्की बारिश हो सकती है।

उत्तर प्रदेश में बीते कुछ दिनें से धूप खिलने के कारण मौसम साफ है। हालांकि मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि इस बार प्रदेश में गर्मी जल्दी नहीं आने वाली है। वहीं विभाग ने मार्च के महीने में होली के आस-पास जमकर बारिश होगी। बिहार के अधिकर जिलों में बादल छाए रहेंगे। आईएमडी के मुताबिक पटना समेत कई शहरों का अधिकतम तापमान 26 डिग्री तो वहीं न्यूनतम तापमान 13 डिग्री रहने का अनुमान है। वहीं 20 फरवरी को कई हिस्सों में बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होगी। इसके बाद आसमान साफ रहने की संभावना है।

चुनाव: प्रियंका ने कांग्रेस को वोट देने की अपील की

चुनाव: प्रियंका ने कांग्रेस को वोट देने की अपील की

अकांशु उपाध्याय        

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तथा पार्टी की उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने पंजाब तथा उत्तर प्रदेश में विकास, शांति, और खुशहाली के लिए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को वोट देने की रविवार को मतदाताओं से अपील की। राहुल गांधी ने पंजाब के खुशहाल भविष्य के लिए मतदाताओं से अपील करते हुए कहा, “जो जन का साथ दे, निडर होकर जवाब दे, वोट उसी को दो! पंजाब के प्रगतिशील भविष्य के लिए वोट करें।”

उन्होंने उत्तर प्रदेश में मतदाताओं से बदलाव के लिए कांग्रेस को वोट देने का आग्रह करते हुए मतदाताओं से कहा, “वोट उत्तर प्रदेश में पड़ेगा, बदलाव देशभर में आएगा! शांति और प्रगति के लिए वोट दें। नयी सरकार बनेगी तो नया भविष्य बनेगा। प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के मतदाताओं से अपील करते हुए कहा, “उत्तर प्रदेश के मेरे बहनों भाइयों इन चुनावों में आप पर एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। आपको प्रदेश को एक नई राजनीति के रास्ते पर ले जाना है। आपको प्रदेश के आने वाले कल को संवारना है।इस बार आपके मुद्दों को समझने और सुलझाने वाली सरकार चुनिए। वोट जरूर करिए।

उन्होंने पंजाब के मतदाताओं से कहा, “पंजाब के बहनों-भाइयों स्थिरता और विकास एक दूसरे के पूरक हैं। शांति, सुरक्षा एवं संपन्नता के लिए दिया गया एक-एक वोट नई सोच के साथ पंजाब की बेहतरी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। पंजाब के लिए, पंजाबियत के सम्मान के लिए भारी संख्या में मतदान करें।

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 19,968 नए मामलें

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 19,968 नए मामलें      

अकांशु उपाध्याय    

नई दिल्ली। देश में जानलेवा कोरोना वायरस महामारी के मामलें रविवार को घटे हैं। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 19 हजार 968 नए मामलें सामने आए हैं और 673 लोगों की मौत हो गई। कल 22 हजार 270 मामले दर्ज किए गए थे। यानी कल की तुलना में रविवार को मामले घटे हैं। देश में पिछले दिन 48 हजार 847 लोग ठीक हुए हैं। जानिए देश में कोरोना की ताजा स्थिति क्या है ? केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 2 लाख 24 हजार 187 हो गई है। वहीं, इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 5 लाख 11 हजार 903 हो गई है। आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक 4 करोड़ 20 लाख 86 हजार 383 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत अभी तक कोरोना वायरस रोधी टीकों  की करीब 175 करोड़ से खुराक दी जा चुकी हैं। कल 30 लाख 81 हजार 336 डोज़ दी गईं। जिसके बाद अबतक वैक्सीन की 175 करोड़ 37 लाख 22 हजार 697 डोज़ दी जा चुकी हैं। मंत्रालय ने कहा कि स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम पंक्ति के कर्मियों और 60 साल और इससे अधिक उम्र के लोगों को अब तक 1.82 करोड़ से अधिक यानी (1,87,00,141) एहतियाती खुराक दी जा चुकी हैं।

बिहार: सुप्रीमो लालू को सजा सुनाएगा स्पेशल कोर्ट

बिहार: सुप्रीमो लालू को सजा सुनाएगा स्पेशल कोर्ट     

अकांशु उपाध्याय     

नई दिल्ली। करीब 950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले मामलों में राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। सीबीआई के स्पेशल कोर्ट पहले ही चारा घोटालों के सभी 5 मामलों में लालू यादव को दोषी करार दे चुकी है। लालू यादव फिलहाल रिम्स में एडमिट हैं। डोरंडा कोषागार से 139 करोड़ रुपये की अवैध निकासी मामले में मंगलवार को दोषी ठहराए जाने के बाद अभी लालू यादव को सजा नहीं सुनाई गई है। इस मामले में 21 फरवरी को सीबीआई का स्पेशल कोर्ट लालू यादव को सजा सुनाएगा।

डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी मामले में सजा से पहले ही चारा घोटाले के दो मामलों में ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग की धाराओं में अलग से केस दर्ज किया है। प्रवर्तन निदेशालय के एंट्री से लालू यादव की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। क्योंकि ईडी की टीम मनी लॉन्ड्रिंग एंगल समेत आय से अधिक की संपत्ति एंगल को खंगालेगी। दोनों मामलों में चूंकि लालू यादव को सजा सुनाई जा चुकी है, ऐसे में उनकी प्रॉपर्टी को अटैच भी किया जा सकता है।
ईडी ने आरसी 38 ए/96 और आरसी 45/96 केस को टेकओवर किया है। मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद और 950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले के अन्य दोषियों के खिलाफ जांच की जाएगी।
आरसी 38 ए/96 में सीबीआई के विशेष अदालत ने 3.76 करोड़ रुपये के अवैध निकासी मामले में लालू समेत 19 आरोपियों को दोषी ठहराया था, जिसमें सात साल की सजा और 60 लाख रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई थी।
लालू प्रसाद यादव, अजीत कुमार वर्मा, अरुण कुमार सिंह, विमल कांत दास, गोपीनाथ दास, कृष्णा कुमार प्रसाद, मनोरंजन प्रसाद, महिंदर सिंह बेदी, नंदकिशोर प्रसाद, नरेश प्रसाद, ओम प्रकाश दिवाकर, पंकज मोहन भुज, फूलचंद सिंह, पितांबर झा, राधा मोहन मंडल, राजकुमार शर्मा उर्फ राजा राम जोशी, रघुनंदन प्रसाद, राजेंद्र कुमार बगरिया, और शरदेंदु कुमार दास।
बता दें कि पहले भी सीबीआई की रांची स्थित विशेष अदालत ने ईडी को आदेश दिया था कि इन अभियुक्तों ने जनवरी 1990 के बाद जो भी चल-अचल संपत्ति बनाई है, उसे जब्त करें।
इससे पहले लालू प्रसाद को चारा घोटाले से जुड़े चार मामलों में करीब 14 साल की सजा सुनाई गई थी। ये मामले दुमका, देवघर और चाईबासा कोषागार से जुड़े थे। सजा के साथ-साथ उनको 60 लाख का जुर्माना भी भरना पड़ा था। फिलहाल लालू यादव जमानत पर बाहर हैं। बता दें कि पहले भी सीबीआई की रांची स्थित विशेष अदालत ने ईडी को आदेश दिया था कि इन अभियुक्तों ने जनवरी 1990 के बाद जो भी चल-अचल संपत्ति बनाई है, उसे जब्त करें।
इससे पहले लालू प्रसाद को चारा घोटाले से जुड़े चार मामलों में करीब 14 साल की सजा सुनाई गई थी। ये मामले दुमका, देवघर और चाईबासा कोषागार से जुड़े थे। सजा के साथ-साथ उनको 60 लाख का जुर्माना भी भरना पड़ा था। फिलहाल लालू यादव जमानत पर बाहर हैं।

रेगुलेटर इंश्योरेंस नियमों में बदलाव करने की योजना

रेगुलेटर इंश्योरेंस नियमों में बदलाव करने की योजना    

अकांशु उपाध्याय       

नई दिल्ली पर्सनल एक्सीडेंटल पॉलिसी से जुड़ा नियम जल्द ही बदल सकता है। इंश्योरेंस रेगुलेटर आइआरडीएआई इस दिशा में काम कर रही है। बीमाकर्ताओं को आ रही दिक्कत को देखते हुए रेगुलेटर इंश्योरेंस नियमों में बदलाव करने की योजना पर काम कर रहा है। नए अपडेट नियम के बाद अगर किसी व्यक्ति ने बिना किसी ब्रेक के अपनी पर्सनल एक्सीडेंटल पॉलिसी को रिन्यू कराना जारी रखा है तो इंश्योरेंस कंपनियां उस व्यक्ति की पॉलिसी को जीवन में कभी भी रिन्यू करने से इनकार नही कर पाएंगी।

इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने 16 फरवरी, 2022 को एक एक्सपोजर ड्राफ्ट इश्यू किया था। इसके मुताबिक कोई भी इंश्योरेंस कंपनी पॉलिसीहोल्डर की उम्र के आधार पर कभी भी पर्सनल एक्सीडेंट इंश्योरेंस को रिन्यू करने से मना नहीं कर पाएगी। एक्सपोजर ड्राफ्ट में इंश्योरेंस से जुड़े नियमों में बदलावों से जुड़े प्रस्ताव में यह प्रपोजल भी शामिल है।अगर कोई पॉलिसीहोल्डर अपनी इंश्योरेंस पॉलिसी को एक इंश्योरेंस कंपनी से दूसरी कंपनी में पोर्ट कराना चाहता है तो इससे भी जुड़े नियम में बदलाव का प्रस्ताव किया गया है। इसके तहत प्रस्ताव किया गया है कि पोर्टेबिलिटी फॉर्म रिसीव करने के पांच दिन के भीतर इंश्योरेंस कंपनियों को  से जरूरी जानकारी ले लेनी होगी। इसका प्रस्तावित संशोधन का मकसद किसी भी इंश्योरेंस पॉलिसी की पोर्टेबिलिटी एक निश्चित समय के भीतर सुनिश्चित करना है।

इंश्योरेंस कंपनियों को इस बात के लिए भी प्रोत्साहित किया गया है कि अगर किसी पॉलिसीहोल्डर के रिस्क प्रोफाइल में सुधार होता है तो इंश्योरेंस कंपनियों को उस व्यक्ति को डिस्काउंट देना चाहिए। कोरोना काल ने हेल्थ इंश्योरेंस की जरूरत को सबको सामने ला दिया है। इस महामारी ने बताया है कि हेल्थ इंश्योरेंस किस प्रकार आपकी गाढ़ी कमाई को किसी भी तरह के नुकसान से बचाता है।

100 से ज्यादा पक्षियों के जीवाश्वम खोजें: अध्ययन

100 से ज्यादा पक्षियों के जीवाश्वम खोजें: अध्ययन    

सुनील श्रीवास्तव     

बीजिंग। आम लोगों में पुरातन युग के जीवों में डायानासोर का ही कौतूहल होता है। लेकिन इस युग में कई पक्षी भी हुआ करते थे। हाल ही में चीन की दीवार के पास जीवाश्मविज्ञानियों की टीम ने सौ से भी ज्यादा पक्षियों के जीवाश्वम खोजे हैं। जो आज से 12 करोड़ साल पहले रहा करते थे। यह वह समय था जब दुनिया भर में डायनासोर का राज हुआ करता था। बुरी तरह कुचले हुए इन जीवाश्मों में छह का शोधकर्ताओं ने अध्ययन किया और दो नई प्रजातियों का पता लगाया। शोधकर्ताओं का कहना है कि इस नई खोज से इस इलाकों और संपूर्ण पक्षियों की जानकारी का अधूरापन खत्म हो सकेगा।

जर्नल ऑफ सिस्टेमेटिक्स एंड इवोल्यूशन में प्रकाशित इस अध्ययन के प्रमुख लेखक और शिकागो के फील्ड म्यूजियम में वर्टीबरेट पेलेओंटोलॉजी के एसोसिएट क्यूरेट चिंगमाई ओ कॉर्नर ने बताया कि इन पक्षियों के दातों के बारे में अनोखी जानकारी मिली है जो किसी दूसरे पक्षी या इस तरह के डायनासोर में देखने को नहीं मिली है। कॉर्नर ने बताया कि इन जीवाश्मों का अध्ययन एक बहुत ही लंबा और कष्टकारी प्रक्रिया थी। इन नमूनों में दो नई प्रजातियों की जानकारी क्रिटेशिल काल के पक्षियों के बारे में नई जानकारी मिली है। ये जीवास्व चीन ऐसी जगह से मिले हैं हां पहले भी पक्षियों के जीवाश्म मिलते रहे हैं। ये जीव आधुनिक पक्षियों के काफी नजदीक हैं।

पहले कभी इतनी संरक्षित खोपड़ी नहीं दिखी
इस अध्ययन के सहलेखक और यूटा टेक यूनिवर्सिटी की जेरी हैरिस ने बताया कि अभी तक मिले सभी पक्षी जीवाश्मों इस तरह की खोपड़ी देखने को नहीं मिली है। इससे पक्षियों के विकास के  बारे में जो जानकारी का अभाव था उसे पूरा करने में सहायता मिलेगी। इस तरह के जीवाश्म में पहले कभी खोपड़ी इतनी संरक्षित नहीं दिखी। जीवों के इतिहास क बात की जाए तो सभी पक्षी डायनासोर हैं लेकिन सभी डायनासोर पक्षी नहीं है।  केवल डायनासोर का एक छोटा समूह ही पक्षियों में विकसित हो गया जो 9 करोड़ साल पहले थे। आधुनिक पक्षी महाविनाश से बचे उन्हीं पक्षियों के वंशज हैं। लेकिन बहुत से प्रागैतिहासित पक्षी विलुप्त हो गए थे। ओकॉर्नर का काम इन्हीं शुरुआती पक्षियों का अध्ययन कर यह पता लगाना है कि क्यों कुछ पक्षी बच गए तो कुछ विलुप्त हो गए।

उत्तरपश्चिम चीन चांगमा नाम की जगह पर पक्षियों के बहुत सारे जीवाश्म मिलते हैं। यहां गैनसस यूमेनेनसिस प्रजाति के पक्षियों के सबसे ज्यादा जीवाश्म मिले हैं। जीवाश्म इस प्रजाति का है। यह निर्धारण करना भी कठिन काम नहीं है। खोपड़ी और गर्दन के हिस्सों का अध्ययन कर शोधकर्ताओं ने पता लगाया कि उन्हें दो नई प्रजातियों की जीवाश्म मिले हैं। चांगमा में पतली पतली परतों के बीच अलग अलग समय के जीवाश्म मिलते हैं। ऐसा लगता है कि इतिहास के पन्ने पलटे जा रहे हैं। चूंकि जीवाश्व दब कर चपटे हो गए थे इनके सम्पूर्ण हिस्सों का सीटी स्कैन करने में बहुत समय लगा। फिर भी काफी प्रयास के बाद शोधक्रता छह में से दो नमूने के ऐसे जबड़े का पता लगा जो अब तक अनजान थे। ये नई प्रजातियां मीमानाविस डक्ट्रिक्स और ब्रेविडेन्टाविस झांगी नाम दिया गया है।

महिलाओं की अंतरंग तस्वीरें, टेलीग्राम पर शेयर

महिलाओं की अंतरंग तस्वीरें, टेलीग्राम पर शेयर     

अखिलेश पांडेय    

कुआलालंपुर। मलेशिया बीबीसी ने अपनी पड़ताल में पाया है कि महिलाओं की अंतरंग तस्वीरें उनका शोषण करने, शर्मसार और ब्लैकमेल करने के इरादे से सोशल मीडिया ऐप टेलीग्राम पर बड़े स्तर पर शेयर की जा रही हैं। टेलीग्राम पर अपनी नग्न तस्वीरें देखने के साथ ही सारा की ज़िंदगी में जैसे भूचाल आ गया। टेलीग्राम पर उनके इंस्टाग्राम और फ़ेसबुक अकाउंट के साथ साथ उनका फ़ोन नंबर भी शेयर किया गया था। जिससे अचानक ही उनके पास अनजान लोगों के कई फ़ोन कॉल्स आने लगे और ये सभी सारा से उनकी और तस्वीरें मांगने लगे। वे कहती हैं, ''उन्होंने मुझे ऐसा महसूस कराया कि मैं एक वेश्या हूं। क्योंकि उन्हें विश्वास था। मैंने अपनी अंतरंग तस्वीरें खुद शेयर की थीं। जैसे एक महिला के रूप में मेरा कोई मूल्य नहीं था। सारा (बदला हुआ नाम) ने एक शख़्स के साथ अपनी तस्वीर शेयर की थी, लेकिन ये तस्वीर टेलीग्राम पर 18 हज़ार फॉलोअर्स वाले एक ग्रुप में शेयर कर दी गई, इनमें से कई फॉलोअर क्यूबा के हवाना में उनके पड़ोसी थे। उन्हें डर लगता है कि सड़कों पर चलने वाले कई अनजान लोगों ने भी उनकी नग्न तस्वीर को देखा होगा। सारा अकेली नहीं है। टेलीग्राम पर महीनों की जांच के बाद, हमनें पाया कि कम से कम 20 देशों में बड़े ग्रुप और चैनल महिलाओं की हजारों गुप्त रूप से फिल्माई गई, चोरी या लीक की गई तस्वीरों को शेयर कर रहे हैं। और इस बात के लगभग ना के बराबर सबूत हैं कि प्लेटफॉर्म इस विकट समस्या से निपट रहा है। क्यूबा से हज़ारों किलोमीटर दूर, निगार एक नई ज़िंदगी में ढलने की कोशिश कर रही हैं। 

निगार अज़रबैजान से हैं, लेकिन वह कहती हैं कि उन्हें देश छोड़ने पर मजबूर किया गया। साल 2021 में उनका अपने पति के साथ का एक अंतरंग वीडियो उनके परिवार को भेजा गया और फिर वह टेलीग्राम के एक ग्रुप पर शेयर कर दिया गया। वह बताती हैं, "मेरी माँ रोने लगी और मुझसे बोलीं, 'एक वीडियो है, यह मुझे भेजा गया है। उसे देखकर मैं बर्बाद हो गई थी, बिल्कुल बर्बाद हो गयी। उनके वीडियो को 40,000 सदस्यों के ग्रुप में शेयर किया गया था। फुटेज में निगार के पूर्व पति का चेहरा ब्लर था लेकिन उनका चेहरा साफ़ नज़र आ रहा है। अब निगार का उनके पति से तलाक हो चुका है।उनका मानना है कि उनके पूर्व पति ने ही गुपचुप तरीके से उनका वीडियो बनाया था ताकि निगार के भाई को ब्लैकमेल किया जा सके, जो कि अज़रबैजान के राष्ट्रपति के एक प्रमुख आलोचक हैं। वे कहती हैं कि उसकी मां को बताया गया था कि अगर उनके भाई ने अपना एक्टिविज़म न रोका तो ये वीडियो टेलीग्राम पर जारी कर दिया जाएगा। निगार कहती हैं, ''लोग आपको हेय दृष्टि से देखते हैं, इससे कोई फ़र्क नहीं पड़ता कि आप शादी-शुदा हैं। निगार का कहना है कि उन्होंने वीडियो के बारे में अपने पूर्व पति से बात की लेकिन उन्होंने वीडियो बनाने की बात से इनकार कर दिया। बीबीसी ने उनका पक्ष जानने के लिए संपर्क किया लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। निगार अब तक अपनी ज़िंदगी में आगे नहीं बढ़ सकी हैं। वे कहती हैं, ''मैं इससे उबर नहीं पाई हूं, अब तक मैं सप्ताह में दो बार थैरेपिस्ट से मिलती रही हूं। वह कहते हैं कि मुझमें कोई सुधार नहीं हो रहा है। वह कहते हैं क्या मैं इसे भूल सकती हूं और मैं कहती हूं नहीं। निगार और सारा की तस्वीरों की टेलीग्राम पर रिपोर्ट किया गया। लेकिन प्लेटफॉर्म ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

बीबीसी रूस से लेकर ब्राज़ील और केन्या से लेकर मलेशिया तक के देशों में 18 टेलीग्राम चैनलों और 24 ग्रुपों को मॉनिटर किया। जिस पर कुल फॉलोअर्स लगभग 20 लाख है। इन ग्रुप पर तस्वीरों के साथ घर के पते और माता-पिता के फ़ोन नंबर जैसे व्यक्तिगत विवरण भी पोस्ट किए गए थे। हमने देखा कि ग्रुप एडमिन लोगों से उनके एक्स-पार्टनर, सहकर्मियों या साथी-छात्रों की अंतरंग तस्वीरें मैसेज भेजने के लिए कहते हैं, ताकि भेजने वाले की पहचान छुपा कर शेयर किया जा सके। टेलीग्राम कहता है कि दुनिया भर में उसके 50 करोड़ से अधिक सक्रिय उपयोगकर्ता हैं- जो कि ट्विटर से भी अधिक है, इस प्लेटफॉर्म पर कई यूजर्स इसके सीक्रेट प्लेटफॉर्म होने के नाते जुड़े हैं। बीते साल जनवरी में व्हाट्सएप ने जब अपनी डेटा पॉलिसी में बदलाव किया तो लाखों लोग टेलीग्राम पर चले गए। टेलीग्राम लंबे समय से मीडिया सेंसरशिप वाले देशों में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों के बीच लोकप्रिय रहा है। इसमें यूजर अपना नाम या फ़ोन नंबर साझा किए बिना पोस्ट कर सकते हैं, और अधिकतम 2,00,000 सदस्यों के साथ सार्वजनिक या निजी ग्रुप बना सकते हैं। यहां किसी चैनल को भी लोग एक साथ असीमित संख्या में देख सकते हैं।

गोपनीयता के लिए टेलीग्राम की खा़ा चर्चा है, ये एप एंड टू एंड एन्क्रिप्शन देता है। जो सुनिश्चित करता है कि जो दो लोग बात कर रहे हैं।वही मैसेज देख सकते हैं। यह सिग्नल और व्हाट्सएप जैसे सुरक्षित चैट ऐप्स पर भी डिफ़ॉल्ट सेटिंग है। प्लेटफ़ॉर्म कम विनियमित (रेगुलेटेड) स्थान चाहने वाले उपयोगकर्ताओं को भी आकर्षित करता है, जिनमें वे लोग भी शामिल हैं। जिन्हें अन्य प्लेटफ़ॉर्म से प्रतिबंधित कर दिया गया है। डिजिटल राइट्स ग्रुप एक्सेस नाउ की तकनीकी क़ानूनी सलाहकार नतालिया क्रापिवा कहती हैं, "टेलीग्राम और उसके मालिकों के अनुसार, वे यूजर्स को सेंसर नहीं करना चाहते है। लेकिन, बीबीसी के शोध से पता चला है कि इस तरह के रुख़ ने टेलीग्राम को न्यूड तस्वीरों को लीक करने और शेयर करने का अड्डा बना दिया है। टेलीग्राम के पास इस तरह की तस्वीरें जिसे किसी की इच्छा के ख़िलाफ़ शेयर किया जाए उससे निपटने की कोई नीति नहीं है। लेकिन जब यूजर इसके टर्म-कंडीशन पर सहमति दर्ज करते हैं तो उनमें से एक नियम ये कहता है कि ''सार्वजनिक रूप से देखे जा सकने वाले टेलीग्राम चैनलों, बॉट आदि पर अवैध अश्लील सामग्री पोस्ट न करें। टेलीग्राम पर सार्वजनिक और निजी दोनों ग्रुप और चैनलों में इन-ऐप रिपोर्टिंग सुविधा भी है। जहां यूजर्स पोर्नोग्राफ़ी को रिपोर्ट कर सकते हैं। टेलीग्राम इस तरह के रिपोर्ट पर कितनी जल्दी कार्रवाई करता है ये देखने के लिए बीबीसी की टीम ने 100 पोर्नोग्राफ़ी की तस्वीरों को इन-एप रिपोर्टिंग फ़ीचर से रिपोर्ट किया। एक महीने बाद भी इनमें से 96 तस्वीरें प्लेटफॉर्म पर एक्सेसेबल बनी रहीं। वहीं चार तस्वीरें प्राइवेट ग्रुप में अभी भी थीं जिन्हें एक्सेस नहीं कर पाएं।इस पड़ताल के दौरान बीबीसी की टीम के साथ भी एक परेशान करने वाला वाकया हुआ, जहां रूस के एक अकाउंट से बीबीसी की टीम को टेलीग्राम पर चाइल्स पोर्नोग्राफ़ी एक कप कॉफ़ी से भी कम कीमत पर बेचने की कोशिश की गई। ऐसे ही बच्चों के पोर्न से जुड़े एक वीडियो पर जब एप्पल ने अपने प्लेटफ़ॉर्म से टेलीग्राम को कुछ वक़्त के लिए हटा दिया था तब जाकर टेलीग्राम ने बच्चों के पोर्नोग्राफ़ी पर कुछ कदम उठाए।

प्लेटफॉर्म ने 2019 में यूरोपीय संघ की अपराध एजेंसी यूरोपोल के साथ मिलकर इस्लामिक स्टेट की एक बड़ी यूनिट को ख़त्म करने के लिए काम किया था। लेकिन अंतरंग तस्वीरों को हटाना टेलीग्राम की प्राथमिकता नहीं मालूम होती है। हमने नाम न छापने की शर्त पर पांच टेलीग्राम कंटेंट मॉडरेटर से बात की। उन्होंने हमें बताया कि वे एक ऑटोमेटेड सिस्टम के माध्यम से यूजर्स से रिपोर्ट प्राप्त करते हैं, जिसे वे "स्पैम" और "नॉट स्पैम नहीं" जैसे विकल्प चुन कर निपटा लेते हैं। उन्होंने बताया कि वह इस तरह की तस्वीरों के लिए प्रो-एक्टिव सर्च नहीं करते, जहां तक उन्हें पता है टेलीग्राम भी ऐसे कंटेट के लिए एआई का इस्तेमाल नहीं करता है।जोआना जब 13 साल की थीं तो उन्हें मलेशिया के टेलीग्राम पर अपनी न्यूड तस्वीर मिलीं। उन्होंने एक फ़ेक अकाउंट बनाया, ग्रुप जॉइन करके अपनी तस्वीर रिपोर्ट की।उन्होंने अपने दोस्तों से भी ये फ़ोटो रिपोर्ट करने को कहा। मीडिया के दबाव के बीच, ग्रुप को अंततः बंद कर दिया गया। लेकिन अपनी पड़ताल के दौरान, हमने पाया कि कम से कम दो डुप्लीकेट ग्रुप एक ही तरह की तस्वीरें साझा कर रहे हैं।

जोआना कहती हैं, "कभी-कभी आप इतना असहाय महसूस करते हैं, क्योंकि हमने इन ग्रुपों को हटाने के लिए बहुत कुछ करने की कोशिश की है। लेकिन वे अभी भी सामने आ रहे हैं, इसलिए मुझे नहीं पता कि इसका कोई अंत है या नहीं। टेलीग्राम ने बीबीसी को इंटरव्यू देने से इनकार कर दिया, लेकिन एक बयान में उसने हमें बताया कि यह सार्वजनिक ग्रुप, चैनल की लगातार निगरानी करता है और कंटेंट के बारे में अगर कोई यूजर रिपोर्ट करता है तो उसे प्रोसेस किया जाता है। टेलीग्राम पर कुछ सार्वजनिक चैनलों पर विज्ञापनों को रोलआउट कर रहा है इससे साफ़ है कि संस्थापक पावेल ड्यूरोव इससे एड के ज़रिए पैसे कमाने की मंशा रखते हैं। इससे टेलीग्राम पर व्हाट्सएप जैसे सोशल मीडिया प्रतिद्वंद्वियों के कदम मिलाने का दबाव बढ़ने की संभावना है। व्हाट्सएप ने अंतरंग तस्वीरें साझा करने के ख़िलाफ़ नीतियों को पेश करना शुरू कर दिया है। ऐसे में देखना होगा कि टेलीग्राम कब तक इसे नज़रअंदाज़ करता रहेगा। उन महिलाओं के लिए जिनकी ज़िंदगी टेलीग्राम पर आई तस्वीरों ने बदल दी हैं। उनके लिए ये बदलाव अभी बहुत दूर है।

पहली बार वोट करने वाले मतदान जरूर करें: पीएम

पहली बार वोट करने वाले मतदान जरूर करें: पीएम    

संदीप मिश्र      

लखनऊ/ चंडीगढ़। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंजाब और उत्तर प्रदेश के मतदाताओं से अपील करते हुए ट्वीट किया है। ''पंजाब में विधानसभा चुनाव और यूपी में तीसरे चरण का मतदान रविवार को शुरू हो चुका है। सभी लोग बड़ी संख्या में मतदान करें। ख़ास कर युवा और पहली बार वोट करने वाले मतदान ज़रूर करें। वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में तीसरे चरण के मतदान को अपील करते हुए ट्विटर पर लिखा है, ''भयमुक्त, दंगामुक्त, अपराधमुक्त प्रदेश के लिए, राष्ट्रवाद की विजय के लिए, 'आत्मनिर्भर एवं नए उत्तर प्रदेश' के निर्माण के लिए और जन-जन के उत्थान के लिए, आप सभी मतदान अवश्य करें। पहले मतदान, फिर जलपान।

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने भी ट्वीट कर लोगों से मतदान करने की अपील की है। चरणजीत सिंह चन्नी ने अपने ट्वीट में लिखा है, ''पंजाब आज मतदान हो रहा है। आप सभी प्रगतिशील बदलाव के लिए मतदान के ज़रिए अपने संवैधानिक अधिकारों का इस्तेमाल करें। आप अपने दोस्तों और परिवार को भी मतदान कराने ले जाएं क्योंकि हर एक वोट अहम है।समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, समाजवादी पार्टी के सांसद रामगोपाल यादव ने सैफई में कहा कि चौथे चरण के चुनाव में ही उनकी पार्टी बहुमत हासिल कर लेगी। रामगोपाल यादव ने कहा कि बाक़ी के तीन चरणों में पार्टी जिन सीटों पर जीत दर्ज करेगी, वे अतिरिक्त होंगी। पंजाब में एक शरीर से जुडे दो बच्चे सोना और मोना ने मनवाल के एक मतदान केंद्र पर मतदान किया। उन्होंने कहा, “पहली बार मतदान करके बहुत अच्छा लग रहा है। नागरिकों को अपने मत का इस्तेमाल ज़रूर करना चाहिए।

'1945 के बाद सबसे बड़ी जंग' की तैयारी: जॉनसन

'1945 के बाद सबसे बड़ी जंग' की तैयारी: जॉनसन   

अखिलेश पांडेय        

लंदन। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने बीबीसी से कहा है कि सबूत ये संकेत दे रहे हैं कि रूस यूरोप में "1945 के बाद सबसे बड़ी जंग" की तैयारी कर रहा है।बीबीसी संवाददाता सोफ़ी रावर्थ को दिए एक साक्षात्कार में ब्रितानी प्रधानमंत्री ने कहा, "सारे संकेत ये हैं कि कुछ मायनों में रूस ने अपनी इस तैयारी को अंजाम देना भी शुरू कर दिया है। पीएम जॉनसन ने कहा कि ख़ुफिया जानकारी के मुताबिक, रूस का मकसद यूक्रेन पर इस तरह हमला करने का है। जिससे राजधानी कीव की घेराबंदी कर ली जाए। म्यूनिख में दुनियाभर के शीर्ष नेताओं के वार्षिक सुरक्षा कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री जॉनसन ने कहा, "लोगों को समझना होगा कि इससे मानव जीवन को भारी नुकसान हो सकता है।

अमरीकी सरकार की ओर से जारी किए ताज़ा अनुमान के अनुसार यूक्रेन की सीमा पर अब तकरीबन 1 लाख 69 हज़ार से 1 लाख 90 के बीच रूसी सैनिक तैनात हैं। ये सैनिक रूस और पड़ोसी देश बेलारूस में मौजूद हैं। लेकिन इनमें पूर्वी यूक्रेन के विद्रोही गुट के लोग भी शामिल हैं। उन्होंने कहा, "जो तैयारी हम देख रहे हैं, वो कुछ ऐसी है। जो 1945 के बाद यूरोप में सबसे बड़ी जंग हो सकती है। केवल पूर्व के रास्ते, डोनबास क्षेत्र से हमले की संभावना को देखा जा रहा है, हमें मिली ख़ुफिया जानकारी के मुताबिक, हमला बेलारूस के रास्ते भी हो सकता है। जिससे राजधानी कीव को घेरा जा सके। मुझे लगता है कि लोगों को ये समझने की ज़रूरत है कि इससे न सिर्फ़ यूक्रेन बल्कि रूस को भी भारी संख्या में अपने लोगों की जान गंवानी पड़ सकती है। पश्चिमी देशों के अधिकारियों ने हालिया दिनों में चेतावनी दी है कि रूस किसी भी समय यूक्रेन पर हमला कर सकता है, लेकिन रूस ने इन दावों का खंडन करते हुए कहा है कि उसके सैनिक इस क्षेत्र में सैन्य अभ्यास कर रहे हैं।

यूक्रेन पर रूस के हमले का ख़तरा अभी भी मंडरा रहा है या नहीं, इस सवाल पर जॉनसन ने कहा कि मुझे डर है कि संकेत यही हैं। उन्होंने कहा, "सच ये है कि सभी संकेत यही हैं कि रूस ने युद्ध की तैयारियों को कुछ मायनों में अंजाम देना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा, "मुझे डर है कि हमें जो योजना दिख रही है, वो कुछ ऐसी है। जो यूरोप में 1945 के बाद सबसे बड़ा युद्ध हो सकता है। लोगों को सिर्फ़ यूक्रेन में संभावित मौतों के बारे में नहीं बल्कि युवा रूसी लोगों की जान के बारे में भी सोचने की ज़रूरत है। बोरिस जॉनसन ने दुनिया के नेताओं से कहा कि अगर रूस ने यूक्रेन पर हमला किया तो इसका "असर पूरी दुनिया पर पड़ सकता है।

कार ड्राइवर के पदों पर भर्ती, नोटिफिकेशन जारी

कार ड्राइवर के पदों पर भर्ती, नोटिफिकेशन जारी    

अकांशु उपाध्याय     

नई दिल्ली। भारतीय डाक ने स्टाफ कार ड्राइवर के पदों पर भर्ती के लिए अपने आधिकारिक वेबसाइट पर एक नोटिफिकेशन जारी किया है। नोटिफिकेशन के अनुसार, इस प्रक्रिया के माध्यम से स्टाफ कार ड्राइवर के 29 रिक्त पदों पर भर्ती की जाएगी। जिसमें, अनारक्षित वर्ग के लिए 15 पद, अनुसूचित जाति वर्ग के लिए 3 पद, अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 8 पद और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए 3 पद शामिल हैं। भारतीय डाक में इन पदों पर चयनित उम्मीदवारों को वेतन मैट्रिक्स लेवल 2 के तहत 19900 रुपए से 63200 रुपए महीने तक का वेतन दिया जाएगा।

भर्ती के लिए उम्मीदवारों का चयन ड्राइविंग टेस्ट के आधार पर किया जाएगा। सभी योग्य उम्मीदवार  के लिए निर्धारित प्रारूप में तय समय के अंदर आवेदन कर सकते हैं। सभी उम्मीदवार आवेदन करने से पहले नोटिफिकेशन के माध्यम से अपनी योग्यता अवश्य जांच लें। अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर चेक कर सकते हैं। भारतीय डाक में स्टाफ कार ड्राइवर पदों पर भर्ती के लिए उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 10वीं या समकक्ष परीक्षा पास होना चाहिए। इसके अलावा भर्ती के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 18 साल और अधिकतम आयु 27 साल निर्धारित की गई है। हालांकि, सरकारी नियमों के अनुसार अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति वर्ग के उम्मीदवारों को अधिकतम आयु सीमा में 5 साल और अन्य पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को 3 साल की छूट दी जाएगी।

विधानसभा: 3 घंटे में 17.77 प्रतिशत मतदान हुआ

विधानसभा: 3 घंटे में 17.77 प्रतिशत मतदान हुआ    

अमित शर्मा    

चंडीगढ़। पंजाब विधानसभा की कुल 117 सीटों के लिये रविवार सुबह आठ बजे से मतदान शुरू हुआ। राज्य में पहले तीन घंटों (11 बजे तक) में 17.77 प्रतिशत मतदान हुआ। मतदान सुबह आठ बजे शुरू हुआ और कुछेक घटनाओं को छोड़ कर शांतिपूर्ण चल रहा है। राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में शुरूआत में यह धीमा रहा। लेकिन शहरी क्षेत्रों में अपेक्षाकृत तेजी देखी गई।ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह ठंड के कारण इक्का-दुक्का मतदाता मतदान केंद्रों पर पहुंच। लेकिन सूरज चढ़ने के साथ इनकी संख्या बढ़ने लगी। लोग सुबह का कामकाज निपटा कर मतदान केंद्रों पर पहुंचने लगे और कतारें लगनी शुरू हो गईं। शहरी क्षेत्रों में मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की जल्द ही कतारें लगनी शुरू हो गईं। पहले एक घंटे में 4.86 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। आम आदमी पार्टी(आप) का मुख्यमंत्री पद का चेहरा और सांसद भगवंत मान ने गुरूद्वारा सच्चा धन में मत्था टेकने के बाद मोहाली के फेज-तीन मतदान केंद्र में मतदान किया और इसके बाद वह संगरूर रवाना हो गये।

उप मुख्यमंत्री और कांग्रेस उम्मीदवार सुखजिंदर सिंह रंधावा ने डेरा बाबा नानक और ओम प्रकाश सोनी ने अमृतसर-सैंट्रल ,कैबिनेट मंत्री परगट सिंह ने जालंधर कैंट के मीठापुर, कैबिनेट मनप्रीत सिंह बादल ने मुक्तसर जिले के बादल गांव और अभिनेता सोनू सूद की बहन मालविका सूद ने मोगा में राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में मतदान किया। कैबिनेट मंत्री भरत भूषण आशु ने लुधियाना, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुनील जाखड़ ने अबोहर विधानसभा के पंचकोसी, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने पठानकोट में मतदान किया। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने पत्नी नवजोत कौर सिद्धू के साथ अमृतसर के स्वामी विवेकानंद कॉलेज में मतदान किया। कांग्रेस सांसद प्रताप सिंह बाजवा ने गुरदासपुर और मनीष तिवारी ने लुधियाना में वोट डाला।

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, उनके सांसद पुत्र और पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल और सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने मुक्तसर जिले के बादल गांव में मतदान किया। सुखबीर बादल ने इस चुनाव में शिरोमणि अकाली दल(शिअद) और बहुजन समाज पार्टी(बसपा) गठबंधन को 80 से ज्यादा सीटें मिलने और राज्य में सरकार बनाने का का दावा किया। पंजाब के सबसे अमीर उम्मीदवार कुलवंत सिंह कलसन ने मोहाली के सेक्टर 71 के मतदान बूथ पर परिवार सहित मतदान किया।उनकी आमदनी 233 करोड़ रुपये है। जुड़वां भाई सोहना मोहना ने अमृतसर के मानावाला स्कूल स्थित मतदान केंद्र में मतदान किया। दोनों ने अलग अलग मतदान किया। इस दौरान गोपनीयता सुनिश्चित की गई।

चुनाव मैदान में विभिन्न राजनीतिक दलों और निर्दलीयों समेत कुल 1,304 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं जिनमें 93 महिलाएं, दो थर्ड जेंडर और शेष 1,209 पुरुष हैं। राज्य में 14,684 स्थलों पर 24,740 मतदान केंद्र बनाये गये हैं। इनमें से 1,051 जगहों पर 2,013 मतदान केंद्र संवेदनशील घोषित किये गये हैं। राज्य के कुल 2,14,99,804 पंजीकृत मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इनमें 1,12,98,081 पुरूष, 1,02,00,996 महिला और 727 थर्ड जेंडर हैं। जो आज चुनावी मैदान में उतरे प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला ईवीएम में बंद करेंगे और 10 मार्च को इन उम्मीदवारों को भाग्य का फैसला आयेगा।

‘हरित हाइड्रोजन’ संयंत्र स्थापित करेगी आईओसी

‘हरित हाइड्रोजन’ संयंत्र स्थापित करेगी आईओसी    

अकांशु उपाध्याय    

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) कार्बन उत्सर्जन वाली इकाइयों को बदलने के लिए 2024 तक अपनी मथुरा और पानीपत रिफाइनरियों में ‘हरित हाइड्रोजन’ संयंत्र स्थापित करेगी। कंपनी का मानना है कि हालिया घोषित हरित हाइड्रोजन नीति ऊर्जा बदलाव की दृष्टि से एक महत्वपूर्ण पहल है और इससे लागत को कम करने में मदद मिलेगी। आईओसी के निदेशक शोध एवं विकास एस एस वी रामकुमार का कहना है कि नई नीति से हरित हाइड्रोजन के विनिर्माण की लागत में 40-50 प्रतिशत की कटौती होगी। उन्होंने यहां कि यह नीति हरित हाइड्रोजन के उत्पादन के लिए सबसे बड़ी ‘समर्थक’ साबित होगी।’ पेट्रोलियम रिफाइनरियां, उर्वरक संयंत्र और इस्पात इकाइयां तैयार उत्पादों के उत्पादन के लिए प्रक्रिया में ईंधन के रूप में हाइड्रोजन का उपयोग करती हैं।

रिफाइनरियों में पेट्रोल और डीजल से अतिरिक्त सल्फर को हटाने के लिए हाइड्रोजन का उपयोग किया जाता है। मौजूदा समय में हाइड्रोजन प्राकृतिक गैस या नेफ्था जैसे जीवाश्म ईंधन से उत्पन्न होता है और इससे कार्बन उत्सर्जन होता है। आईओसी ने इस ‘ग्रे हाइड्रोजन’ को ‘हरित हाइड्रोजन’ से बदलने की योजना बनाई है। जिसे ‘स्वच्छ’ हाइड्रोजन’ भी कहा जाता है। इसमें ऊर्जा का इस्तेमाल नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों मसलन सौर या पवन से किया जाता है और पानी को इलेक्ट्रोलिसिस (विद्युत अपघटन) प्रक्रिया के जरिये दो हाइड्रोजन कणों और एक ऑक्सीजन कण में बांटा जाता है। रामकुमार ने कहा कि नवीकरणीय ऊर्जा की दो रुपये प्रति किलोवॉट (या प्रति यूनिट) की मुख्य लागत वास्तव में उत्पादन स्थल (राजस्थान या लद्दाख में सौर फार्म आदि में) की कीमत है।इसे पारेषण लाइनों के जरिये विभिन्न राज्यों में भेजे जाने पर अलग-अलग शुल्क लगते हैं। इसके बाद यह लागत चार से सात रुपये प्रति यूनिट हो जाती है। उन्होंने बताया कि कारखाना गेट की लागत चार से सात रुपये प्रति यूनिट पर हरित हाइड्रोजन की उत्पादन लागत 500 रुपये प्रति किलो आती है।

वहीं मौजूदा ग्रे हाइड्रोजन में यह सिर्फ 150 रुपये प्रति किलो बैठती है। गत 17 फरवरी को घोषित हाइड्रोजन नीति के तहत हरित हाइड्रोजन के उत्पादन के लिए नवीकरणीय ऊर्जा के खुले इस्तेमाल की छूट होगी और उसपर केंद्रीय अधिभार और अंतर-राज्य पारेषण शुल्क नहीं लगेगा। यह सुविधा 30 जून, 2025 से पहले शुरू होने वाली परियोजनाओं पर मिलेगी। रामकुमार ने कहा कि इससे आवश्यक रूप से हरित हाइड्रोजन की उत्पादन लागत में 40 से 50 प्रतिशत की कमी आएगी।

नई पेंशन योजना पर विचार कर रहा ईपीएफओ

नई पेंशन योजना पर विचार कर रहा ईपीएफओ   

अकांशु उपाध्याय        

नई दिल्ली। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) संगठित क्षेत्र के 15,000 रुपये से अधिक का मूल वेतन पाने वाले तथा कर्मचारी पेंशन योजना-1995 (ईपीएस-95) के तहत अनिवार्य रूप से नहीं आने वाले कर्मचारियों के लिए एक नई पेंशन योजना लाने पर विचार कर रहा है। वर्तमान में संगठित क्षेत्र के वे कर्मचारी जिनका मूल वेतन (मूल वेतन और महंगाई भत्ता) 15,000 रुपये तक है, अनिवार्य रूप से ईपीएस-95 के तहत आते हैं। ईपीएफओ के सदस्यों के बीच ऊंचे योगदान पर अधिक पेंशन की मांग की गई है। इस प्रकार उन लोगों के लिए एक नया पेंशन उत्पाद या योजना लाने के लिए सक्रिय रूप से विचार किया जा रहा है, जिनका मासिक मूल वेतन 15,000 रुपये से अधिक है।” सूत्र के अनुसार, इस नए पेंशन उत्पाद पर प्रस्ताव 11 और 12 मार्च को गुवाहाटी में ईपीएफओ के निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड (सीबीटी) की बैठक में आ सकता है।

बैठक के दौरान सीबीटी द्वारा नवंबर, 2021 में पेंशन संबंधी मुद्दों पर गठित एक उप-समिति भी अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। सूत्र ने बताया कि ऐसे ईपीएफओ अंशधारक हैं जिन्हें 15,000 रुपये से अधिक का मासिक मूल वेतन मिल रहा है, लेकिन वे ईपीएस-95 के तहत 8.33 प्रतिशत की कम दर से ही योगदान कर पाते हैं। इस तरह उन्हें कम पेंशन मिलती है। ईपीएफओ ने 2014 में मासिक पेंशन योग्य मूल वेतन को 15,000 रुपये तक सीमित करने के लिए योजना में संशोधन किया था। 15,000 रुपये की सीमा केवल सेवा में शामिल होने के समय लागू होती है। संगठित क्षेत्र में वेतन संशोधन और मूल्यवृद्धि की वजह से इसे एक सितंबर, 2014 से 6,500 रुपये से ऊपर संशोधित किया गया था। बाद में मासिक मूल वेतन की सीमा को बढ़ाकर 25,000 रुपये करने की मांग हुई और उसपर विचार-विमर्श किया गया, लेकिन प्रस्ताव को मंजूरी नहीं मिल पाई।

उद्योग के अनुमान के अनुसार, पेंशन योग्य वेतन बढ़ाने से संगठित क्षेत्र के 50 लाख और कर्मचारी ईपीएस-95 के दायरे में आ सकते हैं। पूर्व श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने दिसंबर, 2016 में लोकसभा में एक लिखित जवाब में कहा था कि कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1952 के तहत ‘कवरेज’ के लिए वेतन सीमा 15,000 रुपये प्रतिमाह से बढ़ाकर 25,000 रुपये मासिक करने का प्रस्ताव ईपीएफओ ने पेश किया था लेकिन इसपर कोई निर्णय नहीं हुआ। सूत्र ने कहा कि उन लोगों के लिए एक नए पेंशन उत्पाद की आवश्यकता है जो या तो कम योगदान करने के लिए मजबूर हैं या जो इस योजना की सदस्यता नहीं ले सके हैं। क्योंकि सेवा में शामिल होने के समय उनका मासिक मूल वेतन 15,000 रुपये से अधिक था।

यूपी: 16 जिलें, 59 सीट, 57.58 प्रतिशत मतदान

यूपी: 16 जिलें, 59 सीट, 57.58 प्रतिशत मतदान 

संदीप मिश्र     

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में तीसरे चरण में 59 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के सामान्य निर्वाचन-2022 के लिए कल दिनांक 20 फरवरी, 2022 को मतदान सुबह 7 बजे से शुरू होकर शाम को 6.00 बजे समाप्त हुआ। 16 जिलों हाथरस, फिरोजाबाद, एटा, कासगंज, मैनपुरी, फर्रूखाबाद, कन्नौज, इटावा, औरैया, कानपुर देहात, कानपुर नगर, जालौन, झांसी, ललितपुर, हमीरपुर तथा महोबा में अवस्थित 59 विधान सभा क्षेत्रों के लिए हुआ है। शाम  5 बजे तक जिलों से प्राप्त सूचना के आधार पर तीसरे चरण में कुल 57.58 प्रतिशत मतदान हुआ है। 

इस चरण में शाम छह बजे तक होने वाले मतदान में 2.16 करोड़ मतदाता 627 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में कैद कर देंगे।चुनाव आयोग ने स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान संपन्न कराने के लिये की गयी व्यापक तैयारियों के बीच सुरक्षा के पुख्ता इंतजामोें के साये में मतदान शुरु होने की जानकारी दी है। 

आयोग की ओर से बताया गया कि तीसरे चरण में बृज क्षेत्र के पांच जिलों फिरोजाबाद, हाथरस, मैनपुरी, एटा और कासगंज की 19, अवध क्षेत्र के कानपुर, कानपुर देहात, औरैया, फर्रुखाबाद, कन्नौज और इटावा जिले की 27 तथा बुंदेलखंड के पांच जिलों झांसी, जालौन, ललितपुर, महोबा और हमीरपुर की 13 सीटों पर सुबत सात बजे मतदान शुरु हो गया। इस चरण में 15,557 मतदान केन्द्रों के 25,794 मतदेय स्थलों पर मतदान हो रहा है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक मतदान शुरु होने के समय कुछ एक मतदान केन्द्रों पर इक्का दुक्का मतदाता पहुंचे। सर्द सुबह में शुरु हुए मतदान के बीच मतदाताओं को धूप निकलने का इंतजार है। कोविड प्रोटोकॉल के तहत मतदाताओं को मास्क पहन कर ही मतदान केन्द्र में अंदर जाने की इजाजत है। इसके अलावा चुनाव आयोग ने सेनेटाइजर और थर्मल स्केनिंग सहित अन्य इंतजाम भी मतदान केन्द्रों पर किये हैं।

तीसरे चरण में 13 विधान सभा क्षेत्रों कन्नाैज, शिकोहाबाद, फिरोजाबाद, मैनपुरी, भोगांव, किशनी, कहरल, अलीगंज, सादाबाद, आर्यनगर, सीसामऊ, किदवई नगर और कानपुर कैंट को संवेदनशील श्रेणी में रखा गया है। इनके 887 इलाकों के 5401 अतिसंवेदनशील मतदेय स्थलों पर सुरक्षा के अतिरिक्त इंतजाम किये गये हैं। इस चरण में समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव की प्रतिष्ठा दांव पर है। अखिलेश मैनपुरी की करहल विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में है। उनका मुकाबला भाजपा प्रत्याशी एवं केन्द्रीय राज्य मंत्री एसपी सिंह बघेल से है। इसी जिले की भोगांव सीट पर योगी सरकार में आबकारी मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री और कानपुर जिले की महाराजगंज सीट पर औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना भी किस्मत आजमा रहे हैं। मतदान पर पैनी निगाह रखने के लिये आयोग ने 52 सामान्य प्रेक्षक,16 पुलिस प्रेक्षक तथा 19 व्यय प्रेक्षक तैनात किये हैं। इसके अलावा 2235 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 273 जोनल मजिस्ट्रेट, 832 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तथा 3069 माइक्रो ऑब्जर्वर भी तैनात किये गये हैं।

वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में तीसरे चरण की 59 में से 49 सीटों पर भाजपा ने कब्जा जमाया था, जबकि मात्र नौ सीटें सपा और एक सीट पर कांग्रेस जीत सकी थी। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का इस इलाके में खाता भी नहीं खुल सका था। अपने वजूद की लड़ाई लड़ रहे विपक्षी दलों को इस चुनाव में तीसरे चरण वाली सीटों पर खोई जमीन वापस पाने की उम्मीद है वहीं, भाजपा किसी भी कीमत पर इस इलाके में खुद को कमजोर नहीं पड़ने देने की भरपूर कोशिश कर रही है। गौरतलब है कि पहले दो चरण के चुनाव में 20 जिलों की 113 सीटों पर मतदान हो चुका है। इसमें 10 फरवरी को 11 जिलों की 58 सीटों पर और 14 फरवरी को नौ जिलों की 55 सीटों पर मतदान हुआ था।

चर्चित चेहरों वाली अन्य प्रमुख सीटों में सादाबाद,जसवंतनगर,फर्रुखाबाद और कन्नौज सीट शामिल है। सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के भाई शिवपाल सिंह यादव इटावा की जसवंतनगर सीट से सपा के चुनाव चिन्ह पर मैदान में हैं जबकि मुलायम के समधी हरिओम यादव भाजपा के टिकट पर सिरसागंज सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं। बसपा के ब्राह्मण चेहरा रहे रामवीर उपाध्याय इस बार सादाबाद से भाजपा के उम्मीदवार हैं। हाल ही में भारतीय पुलिस सेवा से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेने वाले कानपुर के पुलिस आयुक्त रहे असीम अरुण कन्नौज (सु) सीट से भाजपा के प्रत्याशी हैं। पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद की पत्नी लुइस खुर्शीद फर्रुखाबाद सीट से कांग्रेस प्रत्याशी हैं। कांग्रेस ने 2017 में कानपुर की किदवईनगर सीट पर अजय कपूर और गोविंदनगर सीट पर करिश्मा ठाकुर की बहुत कम मतों से हार के कारण एक बार फिर इस चुनाव में दोनों को उम्मीदवार बनाया है। इस चरण के मतदान वाली 59 सीटों में से लगभग दो दर्जन सीटों पर दलित मतदाता और इतनी ही सीटों पर पिछड़ी जातियाें का बाहुल्य हार जीत का फैसला करता है।

यूक्रेन ने 'डीपीआर' की कई बस्तियों पर गोलाबारी की

यूक्रेन ने 'डीपीआर' की कई बस्तियों पर गोलाबारी की

सुनील श्रीवास्तव       

कीव। यूक्रेन के सुरक्षा बलों ने देश के दक्षिण-पूर्व (डोनबास) में स्व-घोषित डोनेट्स्क पीपुल्स रिपब्लिक (डीपीआर) की कई बस्तियों पर गोलाबारी की है। जिसमें मिन्स्क समझौतों द्वारा निषिद्ध 120-मिमी कैलिबर गोले भी शामिल हैं। युद्धविराम व्यवस्था पर नियंत्रण एवं समन्वय के लिए स्थापित संयुक्त केंद्र के डीपीआर मिशन ने यह जानकारी दी है। डीपीआर अधिकारियों ने रविवार को तड़के बताया कि कोमुनारिवका और स्टारोमीखाइलिवका की बस्तियों में 120 मिमी कैलिबर की कुल बीस गोले दागे गए। वहीं 122 मिमी के कैलिबर के 25 गोले पेट्रिव्सके की बस्ती में दागे गए।

इससे पहले डीपीआर मिशन ने बीती रात कहा था कि यूक्रेन की सुरक्षा बलों ने डोनेट्स्क में 120 मिमी के 12 गोले दागे हैं, जबकि डोनेट्स्क उपनगरों में स्थित ओलेक्सांद्रिव्का की बस्ती में 122 मिमी के चार गोले दागे हैं। मिशन के मुताबिक रविवार तड़के डीपीआर में कई अन्य बस्तियों को भी मिन्स्क समझौतों द्वारा प्रतिबंधित हथगोले और गोलों से निशाना बनाया गया।

'भाजपा' सरकार बनने पर माफियाओं की विदाई तय

'भाजपा' सरकार बनने पर माफियाओं की विदाई तय  

अमित शर्मा       

चंडीगढ़। रविवार को पूरा पंजाब डबल इंजन की सरकार चाहता है। यहां भाजपा सरकार बनने पर रेत और नशीले पदार्थों का कारोबार करने वाले माफियाओं की विदाई होगी। गरीब की तकलीफ दूर हो और उसका जीवन आसान बने , ये हमारे लिये सर्वोच्च प्राथमिकता का काम है। पंजाब के किसानों को नई सोच और विजन वाली सरकार चाहिये। किसान को बेहतर फसल , कम लागत और बेहतर कीमत की जरूरत है। इसके लिये हमारी सरकार बीज से बाजार तक नई व्यवस्था बना रही है। पारदर्शी सरकार आई तो पंजाब में बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर होगा। ना उद्योगों को पलायन करना पड़ेगा और ना नौजवानों को अपना गांव , अपने दोस्त , अपने बूढ़े मां बाप , अपने खेत खलिहान छोड़कर पंजाब से बाहर जाना पड़ेगा। 

उक्त बातें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज अबोहर की नई अनाज मंडी में जनसभा को संबोधित करते हुये कही। इस दौरान उन्होंने सत्तारूढ़ कांग्रेस और सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भी हमला बोला। पीएम मोदी ने कांग्रेस पर किसानों को धोखा देने का आरोप लगाते हुये कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार ने अनाज की रिकॉर्ड खरीद की है। पंजाब के सीएम चन्नी के ‘यूपी-बिहार के भैया’ वाले बयान पर पलटवार करते हुये उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा से एक क्षेत्र के लोगों को दूसरे से लड़ाती आयी है। यहां कांग्रेस के मुख्यमंत्री ने जो बयान दिया उस पर दिल्ली का परिवार उनके साथ खड़े होकर तालियां बजा रहे थे, जिसे पूरे देश ने देखा। अपने इन बयानों से ये लोग किसका अपमान कर रहे हैं ? यहां का कोई ऐसा गांव नहीं होगा जहां हमारे उत्तरप्रदेश या बिहार के भाई बहन मेहनत ना करते हों। यह गुरु रविदास और गुरु गोबिंद सिंंह की धरती का अपमान है। 

पीएम ने कहा ‘इतिहास गवाह है कि कांग्रेस ने किसानों को हमेशा धोखा दिया है।’ उन्होंने कहा, ‘‘स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट में की गई सिफारिशों को लागू करने की कई वर्षों से मांग की जा रही थी , लेकिन उन्होंने फाइल दबाये रखी और कांग्रेस सरकारों ने केवल झूठ बोला। जब केंद्र में उनकी सरकार बनीं तो उसने आयोग की सिफारिशों को लागू किया। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार के कार्यकाल में अनाज की रिकॉर्ड खरीदारी हुई।प्रधानमंत्री ने पंजाब में कांग्रेस सरकार को निशाना बनाते हुये कहा कि राज्य में हर कारोबार पर माफिया का कब्जा हो गया है। कांग्रेस सरकार की नीतियों के कारण पंजाब में कोई भी निवेश करने के लिये तैयार नहीं है। अब पूरे पंजाब में एक ही आवाज उठ रही है और वह आवाज है कि भाजपा नीत गठबंधन को जीत दिलाकर ‘‘डबल इंजन’’ की सरकार बनायी जाये। कांग्रेस की जो ‘पार्टनर इन क्राइम’ पार्टी है , वो भी एक के बाद एक झूठ पंजाब में आकर बोल रही है। ये वो लोग हैं जिनकी दिल्ली में सरकार है। आज पंजाब में आकर सिखों को झूठ बोलने वाले इन लोगों ने दिल्ली में एक भी सिख को मंत्री नहीं बनाया है। उन्होंने कहा कि 84 के दंगों के समय कांग्रेस के नेता क्या कर रहे थे ? ये बात आपसे ज्यादा और कौन जान सकता है। मैं उस वक्त गुजरात में था , एक भी सिख परिवार को तकलीफ नहीं होने दी। पीएम ने आम आदमी पार्टी को कांग्रेस की कार्बन कॉपी बताते हुये कहा कि कांग्रेस के साथ मिलकर उन्होंने सरकार बनायी। उन्होंने दिल्ली के गली-मोहल्लों में ठेके खुलवा दिया हैं , इसलिये उनसे पंजाब में नशा खत्म करने की उम्मीद करना बेकार है। पीएम मोदी ने कहा ‘डबल इंजन सरकार का अर्थ तेज विकास है। डबल इंजन सरकार का अर्थ कारोबार को बढ़ावा देना , नौकरियां देना और स्वरोजगार के नये अवसर पैदा करना है। 

‘हमें एक मौका दीजिये , मुझे पांच साल दीजिये और फिर देखिये कि डबल इंजन की सरकार पंजाब को कैसे विकास के मार्ग पर तेजी से आगे ले जायेगी।उन्होंने कहा कि पंजाब के किसानों को एक ऐसी सरकार की जरूरत है जिसमें नई सोच और नजरिया हो। किसान समुदाय कम निवेश में अच्छी उपज चाहता है , जिसे भाजपा सरकार सुनिश्चित कर सकती है। सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार की नीतियों के कारण कोई भी उद्योगपति पंजाब में निवेश करने को तैयार नहीं है।अगर पंजाब चुनाव 2022 में बीजेपी सत्ता में आती है तो केंद्र और राज्य में ‘डबल इंजन सरकार’ राज्य में निवेश सुनिश्चित करेगी। पीएम ने कहा कि ये पंजाब में मेरी आखिरी रैली है। मैं जहां-जहां गया वहां से यही दिख रहा है कि पंजाब के लोगों ने ठान लिया है कि वो डबल इंजन की सरकार बनाने जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि आज पंजाब को एक ऐसी सरकार की जरूरत है जो देशभक्ति की भावना से पंजाब के विकास की प्रेरणा ले। पंजाब की सुरक्षा और विकास के संकल्प व समर्पण के साथ भाजपा आपके सामने आई है , उसे पांच साल दें। जनसभा में संबोधन के दौरान उन्‍होंने अपनी सरकार के मिशन का उल्‍लेख करते हुये विभिन्‍न योजनाओं की भी चर्चा की। उन्होंने अंत में एक बार पुनः राज्य के समग्र विकास के लिये भाजपा नीत गठबंधन को सत्ता में लाने की अपील की।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-135, (वर्ष-05)
2. सोमवार, फरवरी 21, 2022
3. शक-1984, फाल्गुन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:01, सूर्यास्त: 06:09।
5. न्‍यूनतम तापमान- 11 डी.सै., अधिकतम-26+ डी सै.।  बर्फबारी व शीतलहर की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, (प्रधान संपादक) राधेश्याम व शिवांशु, (सहायक संपादक) श्रीराम व सरस्वती के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
10.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालयः डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न    सुशील केसरवानी         कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी शशिकान्त त्रिपाठी की अध्यक्षता में उद...