शनिवार, 4 सितंबर 2021

अमेरिका में 1 लाख और लोगों की मौत, आशंका

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका में दिसंबर तक कोरोना की वजह से और एक लाख लोगों के मौत की आशंका जताई गई है। ये बुरी खबर खुद अमेरिका के सबसे बड़े डॉक्टर और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिजीसेस के निदेशक डॉ. एंथनी फॉउची ने सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में दी है। उन्होंने कहा कि मरने वालों में ज्यादातर वो लोग होंगे जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगवाई है। डॉ. फॉउची ने कहा कि यह गणना यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन के मॉडल पर आधारित है।

डॉ. फॉउची ने कहा कि हम जिस दौर से गुजर रहे हैं।उसकी सटीक गणना की जा सकती है। इन मौतों को टाला जा सकता है। हमें पता है, इन मौतों को टालने के लिए लोगों को वैक्सीन लगवाने को लेकर प्रेरित करना होगा, वैक्सीन ड्राइव तेजी से चलाना होगा। इस समय करीब 8 करोड़ अमेरिकी अब तक वैक्सीन नहीं लगवा पाए हैं। ये लोग कोरोना महामारी को दोबारा जन्म दे सकते हैं या फिर संक्रमण की दर को बढ़ा सकते हैं।

हायर एजुकेशन में 'टीचर्स डे' का आयोजन हुआ

कौशाम्बी। भरवारी स्थित एनडी ग्रुप ऑफ स्कूल एमजीएम ग्रुप ऑफ स्कूल के सभी संस्थानों और रिद्धि सिद्धि कॉलेज आफ हायर एजुकेशन में टीचर्स डे का आयोजन हुआ। संस्थान के सभी छात्र छात्राओं ने टीचर्स के सम्मान में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और टीचर्स भी बच्चों के द्वारा किए गए कार्यक्रमों में शामिल हुए एक गजब का उत्साह देखने को मिल रहा था। संस्थान के छात्र छात्राओं ने क्लास वाइज अपने अपने कार्यक्रम आयोजित किए थे जिसमें टीचर्स के द्वारा केक कटिंग की गई और करतल ध्वनि से टीचर्स का सम्मान बच्चो द्वारा किया गया।
गुरु शिष्य की परंपरा का सम्मान,एक दूसरे के प्रति आस्था,विश्वास,समर्पण का प्रतीक शिक्षक दिवस का आयोजन विद्यालय में बच्चों द्वारा आयोजित हुआ, संस्थान के शिक्षक बड़े अभिभूत दिखे।
केपीएस संस्थान की प्रधानाचार्य श्रीमती सीमा पवार ने शिक्षक दिवस के शुभ अवसर पर सभी टीचर्स को शुभकामनाएं दिया और विश्वास व्यक्त किया कि आप अपने शिक्षण के माध्यम से बच्चों को उच्च कोटि की शिक्षा प्रदान करेंगे। 
जिस से कि बच्चे आगे चलकर के देश का मान बढ़ाएंगे वही एनडी स्कूल एंड कॉलेज भरवारी कौशांबी के प्रधानाचार्य डॉक्टर मयंक कुमार मिश्रा ने अपने संदेश में कहा कि शिक्षक किसी भी शिक्षण संस्थान की नीव होता है। जो बच्चों के अंदर शिक्षा रूपी पौधों को आरोपित करता है। जिससे अभिसंचित हो कर के छात्र और छात्रा अपने परिवार का, समाज का ,देश का नाम रोशन करते हैं और अपने शिक्षा के माध्यम से समाज में अंधकार रूपी अशिक्षा को दूर करके समाज को ज्ञानमय करते हैं। जिसके माध्यम से बच्चे शिक्षित होकर के समाज हित में कार्य करते हैं।
संस्थान के चेयरमैन वर्तमान विधायक चायल संजय कुमार गुप्ता ने अपने संदेश में कहा कि छात्र एवं छात्राओं का शिक्षित होना उनका मूल अधिकार है और मेरा प्रयास है कि समाज में रहने वाले कोई भी छात्र अथवा छात्रा शिक्षा से दूर ना रह पाए क्योंकि शिक्षा एक ऐसा माध्यम होता है। जो कि सशक्त समाज, सशक्त राष्ट्र बनाने में मुख्य भूमिका का निर्वहन करता है। इसलिए सभी नागरिकों का मूल कर्तव्य है कि समाज में कोई भी छात्र-छात्रा शिक्षा से वंचित ना रह पाए।कार्यक्रम में आरपी चतुर्वेदी सर, अनुपमा जयसवाल, बद्री विशाल शुक्ला सर, वेद  कुमार ,विजय यादव सर ,एस चंद्र सर, अभिमन्यु पांडे ,रोहित कुमार, प्रद्युम्न कुमार ,आर पी तिवारी ,संतोष प्रजापति, शालू प्रजापति ,प्रदीप कुमार ,सचिन त्रिपाठी,आदि उपस्थित रहे।
गणेश साहू 

कार्यालय निकट स्कूल पर मनाया स्थापना दिवस

गोपीचंद      
बागपत। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल पंजीकृत का स्थापना दिवस 3 सितंबर 2021 को बड़े हर्षोल्लास के साथ जिला कार्यालय निकट नार्मल स्कूल बड़ौत पर मनाया गया। जिसमें 51 व्यापारियों और 11 समाज सेवको का सम्मान किया गया। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के जिला अध्यक्ष व्यापारी भूपेश बब्बर,  जिला महामंत्री अनुराग जैन, जिला कोषाध्यक्ष अमित चिकारा, जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र पवार व समस्त पदाधिकारी गण द्वारा किया गया। जिला अध्यक्ष भूपेश बब्बर ने कहा कि सभी व्यापारियों को अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के साथ एकजुटता से रह कर व्यापारि एकता को मजबयत करना हैं। जिससे हम सभी व्यापारी बड़ी से बड़ी समस्या के साथ बड़ी आसानी से लड़ सकें और कोई भी किसी प्रकार का व्यक्ति व्यापारियों पर हावी ना हो सके। एकता से ही व्यापारियों सम्मान बढ़ेगा।
कार्यक्रम में वरिष्ठ व्यापारी व समाज सेवी जमीरूद्दीन अब्बासी ने मंच के माध्यम से सभी व्यापारी वर्ग से आवाहन किया कि सभी व्यापारी भाई आपीसी सामुदायिक व राजैनतिक विचारधाराओं से ऊपर उठकर सिर्फ व्यापारी एकता के लिये ही एकजुट रहें और कहा कि सबसे पहले हम व्यापारी है और व्यापारी का वजूद व्यापर से ही है, अन्य किसी व्यवस्था से नहीं। अन्य व्यवस्थायें तो सिर्फ छण भंगुर व अस्थायी नहीं हैं। ऐसी व्यवस्थाओं के लिये हम अपने अस्तित्व को कमजोर न करें। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में श्री योगेश जिंदल का स्वागत किया गया कार्यक्रम की अध्यक्षता नरेंद्र जैन ने की व संचालन जिला प्रवक्ता राजीव तोमर ने किया।
कार्यक्रम में व्यापार मण्डल के सभी पदाधिकारी, सदस्य व नगर के मुख्य व्यापारी व समाज सेवी उपस्थित रहें।

बुजुर्ग महिला के जीवन को बेटे ने किया समाप्त

अतुल त्यागी         
हापुड़। आपको बता दें मामला जनपद हापुड़ के थाना बहादुरगढ़ क्षेत्र के गांव सिकंदर पुर का है। जहां बुजुर्ग महिला अपने बेटे और बहु के साथ रहती थी। सब कुछ ठीक चल रहा था। लेकिन मां को नहीं पता था उसी का बेटा अपनी पत्नी के साथ मिलकर उस की जीवन लीला को समाप्त किया।
संदिग्ध परिस्थितियों में एक महिला की मौत की खबर जैसे ही ग्रामीणों को पता चली तो काफी संख्या में एकत्रित लोग महिला के घर पहुंच गए। लेकिन महिला के मुंह से बह रहा खून लोगों को हजम नहीं हो रहा था शक की सुई लगातार बढ़ती जा रही थी। जब लोगों ने गहनता से पूछताछ की तो पता चला जिस बेटे को मां ने बड़े ही लाड प्यार से पाला था। उसी बेटे ने पत्नी के साथ मिलकर तकिए से मुंह दबाकर बुजुर्ग महिला को मौत के घाट उतार दिया।
जब महिला की मौत का राज पुलिस को पता चला तो पुलिस के पैरों तले जमीन खिसक गई। आनन-फानन में सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने अब जांच पड़ताल शुरू कर दी है। वही थाना इंचार्ज बहादुरगढ़ का कहना है। बुजुर्ग महिला के भाई की तरफ से तहरीर दी गई है। जांच पड़ताल के बाद वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

मेरठ: राष्ट्रपति भारत सरकार को एक ज्ञापन भेजा

सत्येंद्र पंवार       
मेरठ। देश की राजथानी दिल्ली यू पी और तमाम देश में आए दिन सामूहिक बलात्कार की घटनाएं आम हो गई हैं। केंद्र सरकार प्रदेश सरकार का नारा बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ धूमिल हो रहा है। केंद्र सरकार दिल्ली सरकार या यूपी सरकार या अन्य प्रदेशों की सरकार आंखें बंद कर दोषियों को सह दे रही हैं ?
बहुजन मुक्ति पार्टी ने जिलाधिकारी मेरठ द्वारा माननीय महामहिम राष्ट्रपति भारत सरकार को एक ज्ञापन भेज सीबीआई जाँच की माँग ओर परिवार वालों को एक करोड रुपये से मदद मांगी की।
बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आर डी गादरे ने प्रेस को बताया कि आज देश में बेटियाँ सुरक्षित नही हाल फिलहाल की घटना सबिया उर्फ  (राविया ) उम्र 21 पिता का नाम शमीद। बंकाबाला ठाकुरद्वारा मुरादाबाद उत्तरप्रदेश से दिल्ली संगम विहार में रहने लगे। राविया उर्फ सबिया के परिवार से हुई बातचीत अनुसार जिलाधिकारी के आफिस में लड़की संविदा पर जॉब करती थी। जॉब करते हुए अभी सिर्फ चार महीने हुए थे। 27/08/2021 की रात 8 बजे तक लड़की जॉब से घर नहीं लौटी। राविया के मां बाप ने पुलिस थाने भी जा कर देखा। हर जगह गए डीएम ऑफिस में जॉब करती थी। लड़की वालो को किसी से भी कोई मदद नहीं मिली। सुबह तक मां बाप ने रो रो कर इंतजार किया। 
किसी पर शक नही था, क्योंकि लड़की की किसी से दुश्मनी नहीं थी।  उसके साथ रेप हुआ बलात्कार नही सामूहिक बलात्कार किया और उसके साथ काम करने वाली लड़की भी शामिल हो सकती है। उसको काफी जगह चाकू घोंपा गया। उसके शरीर को नोचा गया। सीने को नोचा गया। दोनो स्तन को काट दिये गये। बहुजन मुक्ति पार्टी आवाहन करती है। अपने देश के नागरिकों से ओर अधिवक्ता समाज इस तरह के कैसो में लड़कियों को इंसाफ दिलाने में आगे आये। जिससे पुलिस असली गुनाहगारो को फांसी की सजा हो तथा राविया के परिवार वालों को एक करोड रुपये की सहयोग राशि दी जाए। बात यहां मुस्लिम या गैर मुस्लिम की नही हैं बल्कि एक बेटी एक बहन की हैं।
 इस तरह की हरकत करने वाले जानवरो को सजा दिलाने में और  उनकी औकात याद दिलाने में बहुजन मुक्ति पार्टी की सरकार लाना होगा।  जिससे 85% मूल निवासियों को हक अधिकार दिलाये जाये।  इस केस को दबाने के लिए निजामुद्दीन नामक व्यक्ति अपने आप को साबिया का पति बताकर अपने आप को हत्यारा बताकर पेश किया गया है। लेकिन जिस तरह से मॄतक शरीर की स्धिति मिली उससे जानकारी मिलती है कि बलात्कार नही सामूहिक बलात्कार कर हत्या की गयी। साबिया उर्फ राविया की हत्या मे आला अधिकारियों का हाथ होने का भी संदेह है। इस तरह की घटाएँ भारतीय संस्कृति पर धब्बा है। बहुजन मुक्ति पार्टी सी बी आई जाँच की माँग करती है और गुनाहगारों को फांसी की सजा की मांग करती है।  जिलाध्यक्ष ओमबीर सिंह सूफी, अमजद अली अन्सारी, मेरठ दक्षिण विधान सभा संगठन मंत्री  परवाना मेरठी एड अतर सिंह गुप्ता, एडवोकेट तौफीक हकीमुद्दीन, काज़िम अहमद, रामकुमार बौद्ध एड सलीम खान, संजय कुमार, महमूद महाराज सैफी, सोहनबीर सिंह, मोहन कुशवाहा, राकेश कुमार, चौ शहजाद, शादाब आरिफ, खुर्शीद आलम, मेरठ महानगर प्रभारी एड अशफाक सैफी एड शरीफ़ सैफी आदि ने मा. राष्ट्रपति महोदय न्यायालय से न्याय देने की मांग की।

कांग्रेस टिकट किसी को नही जाने देगा शाह परिवार

राणा ओबराय          
पानीपत। युवा नेता बिक्रम शाह के मित्रो के अनुसार पानीपत शहरी सीट पर शाह परिवार कांग्रेस टिकट किसी और को नही जाने देगा। 
पिछली बार भी बुल्लेशाह के चुनाव न लड़ने के कारण कांग्रेस की टिकट गैर शाह परिवार में चली गयी थी। बिक्रम के दोस्तो की माने तो पूर्व मंत्री बलबीरपाल शाह के आशीर्वाद से उनके पुत्र बिक्रम शाह को चुनाव लड़ाने का हमने पूरी तरह से मन बना लिया है। मिली जानकारी के अनुसार बिक्रम शाह अब की बार चुनाव अवश्य लड़ेंगे चाहे उसे आजाद प्रत्याशी के तौर पर ही चुनाव लड़ना पड़े। पूरे प्रदेश औऱ पानीपत की जनता पूर्व मंत्री बलबीर शाह की ईमानदारी के बारे में भली भांति जानती है। जिसका पूरा लाभ बिक्रम शाह को चुनाव लड़ने के मौके पर मिल सकता है। बिक्रम के दोस्तो को पूरा विश्वास है कि अब की बार पानीपत शहरी सीट से बिक्रम ही विधायक बनेगा?

गोली चलाने की कई घटनाओं में चार लोगों की मौंत

काबुल। अफगानिस्तान में तालिबान आतंकवादियों द्वारा हवा में गोली चलाने की कई घटनाओं में चार लोगों की मौत हो गयी और सात अन्य घायल हो गये। एक चिकित्सा सूत्र ने शनिवार को स्पूतनिक को यह जानकारी दी। प्रत्यक्षदर्शियों ने शुक्रवार को बताया कि गोलीबारी कई प्रांतों में हुई।
गोलीबारी के बाद काबुल के निवासियों को लगा कि दोबारा लड़ाई शुरू हो गयी, लेकिन तालिबान ने दावा किया कि वे पंजशीर प्रांत पर कब्जा करने का जश्न मनाने के लिए गोलीबारी कर रहे थे, हालांकि प्रतिरोधी बलों ने इसे नकार दिया है। तालिबानी नेताओं ने अफगानियों के बीच बढ़ती चिंताओं के मद्देनजर अपने सदस्यों से गोलीबारी बंद करने का आह्वान किया।
चिकित्सा सूत्र ने बताया कि कल देर रात हवा में हुई गोलीबारी में चार लोगों की मौत हो गयी और सात अन्य घायल हो गये। काबुल पुलिस के एक सूत्र ने शुक्रवार को बताया कि तालिबान ने पंजशीर पर कब्जा कर लिया है। समूह के प्रवक्ता ने भी प्रांत पर तालिबान के पूर्ण नियंत्रण की पुष्टि की।
अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह, जिन्होंने खुद को राष्ट्रपति घोषित किया है, और प्रतिरोधी नेता अहमद मसूद ने हालांकि इससे इनकार किया। उन्होंने बाद में अपने कानों को हाथों से ढके डरे हुए बच्चों की एक तस्वीर साझा की।

4 निरीक्षकों के तत्काल प्रभाव से स्थानांतरण किएं

पंकज कपूर।  
हल्द्वानी। एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने शुक्रवार देर रात चार उप निरीक्षकों के तत्काल प्रभाव से स्थानांतरण कर दिए है।
उप निरीक्षक सतीश शर्मा चौकी टीपी नगर से वरिष्ठ उपनिरीक्षक थाना भवाली
उप निरीक्षक इंद्रजीत सिंह थाना हल्द्वानी से चौकी प्रभारी टीपी नगर
उप निरीक्षक प्रकाश मेहरा वरिष्ठ उपनिरीक्षक थाना भवाली से थाना हल्द्वानी। 

लाल तप्पड़ के बिरोजा फैक्ट्री में लगी भीषण आग

पंकज कपूर       
देहरादून। डोईवाला के औद्योगिक क्षेत्र लाल तप्पड़ में बिरोजा फैक्ट्री में लगी भीषण आग। पुलिस व दमकल विभाग की टीमें पहुंची मौके पर आग पर काबू पाने के लिए दमकल विभाग का रेस्क्यू जारी ,खुराना ब्रदर्स के नाम पर स्थित है। लाल तप्पड़ में प्लांट ,आग से नुकसान का अभी तक नही आंकलन ,आग लगने के कारणों का पता नही ।लिंक क्लिक करें।


1 दशक देश के विकास के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा कि अगला एक दशक देश के विकास के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है इसलिए पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो (बीपी आर एंड डी) को पुलिस बलों को आंतरिक और बाहरी सुरक्षा चुनौतियों से निपटने में हर तरह से सक्षम बनाने की दिशा में तेजी से काम करने की जरूरत है।
अमित शाह ने आज यहां बीपी आर एंड डी के 51 वें स्थापना दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में अपने संबोधन में कहा कि देश की आंतरिक सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस के हाथों में है जबकि विभिन्न केंद्रीय पुलिस बल सीमाओं की निगरानी मुस्तैदी से कर रहे हैं।
उन्हें यह कहने में कोई संकोच नहीं है की देश बहुत सलामत हाथों में है। उन्होंने कहा कि भारत बहुत तेजी से 50 खरब रुपए की अर्थव्यवस्था बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है और इसे आगे बढ़ने से रोकने के लिए विभिन्न स्तर पर प्रयास किए जा सकते हैं।
उन्होंने कहा कि ऐसे में हमारे पुलिस बालों को बढ़ती और निरंतर बदलती चुनौतियां से निपटने के लिए हमेशा मुस्तैदी और ताकत के साथ तैयार रहना होगा। उन्होंने कहा कि ब्यूरो को इस मामले में राज्यों की पुलिस और केंद्रीय पुलिस बलों को हर तरह से सक्षम बनाकर तथा उनकी क्षमता निर्माण करने में आगे बढ़कर महत्वपूर्ण भूमिका निभानी चाहिए।

लोगों के एकत्रित होने पर लगाई गई पाबंदी जारी

श्रीनगर। अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के निधन के बाद कश्मीर घाटी के ज्यादातर हिस्सों में लोगों के एकत्रित होने पर लगाई गई पाबंदी जारी है। वहीं मोबाइल इंटरनेट सेवाएं शनिवार सुबह फिर बंद कर दी गयीं। गत रात को इंटरनेट सेवाएं बहाल की गयी थी। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।
गिलानी (91) का लंबी बीमारी के बाद बुधवार रात को यहां उनके आवास में निधन हो गया था। जम्मू कश्मीर में तीन दशक से अधिक समय तक अलगाववादी मुहिम का नेतृत्व करने वाले और पाकिस्तान समर्थक अलगाववादी नेता को उनके आवास के समीप एक मस्जिद में सुपुर्द-ए-खाक किया गया। उनके निधन के बाद घाटी में एहतियात के तौर पर पाबंदियां लगायी गयीं।
अधिकारियों ने बताया कि घाटी के ज्यादातर हिस्सों में लोगों के एकत्रित होने पर पाबंदियां लगी हुई हैं लेकिन कुछ हिस्सों में लोगों की आवाजाही में ढील दी गयी है। श्रीनगर के पुराने इलाके और हैदरपुरा में पाबंदियां जारी हैं। गिलानी हैदरपुरा के रहने वाले थे।
उन्होंने बताया कि यहां हैदरपुरा इलाके में गिलानी के आवास तक जाने वाली सड़कें बंद हैं और लोगों की आवाजाही को रोकने के लिए अवरोधक लगाए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि कानून एवं व्यवस्था को बनाए रखने के लिए बड़ी तादाद में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। इंटरनेट सेवाओं और मोबाइल टेलीफोन सेवाओं को दो दिन तक बंद रखने के बाद शुक्रवार रात को बहाल किया गया। हालांकि मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को शनिवार सुबह फिर से बंद कर दिया गया।

अनुसंधानकर्ताओं द्वारा मॉड्यूलर उपकरण बनाया


बेंगलुरु। भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी) और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अनुसंधानकर्ताओं ने एक सर्व सुविधायुक्त, आत्मनिर्भर एवं मॉड्यूलर (जिसमें अनेक हिस्से होते हैं) उपकरण बनाया है। जो सूक्ष्मजीवों को विकसित करने में मददगार होगा। इस उपकरण की मदद से वैज्ञानिक बाह्य अंतरिक्ष में जीव विज्ञान संबंधी प्रयोग करने में सक्षम हो सकेंगे।
बेंगलुरु स्थित आईआईएससी की ओर से जारी एक वक्तव्य में बताया गया कि ‘एक्टा एस्ट्रोनॉटिका’ में प्रकाशित अध्ययन में अध्ययन दल ने दिखाया कि ‘स्पोरोसारसिना पास्चराई’ नाम के जीवाणु के विकास पर नजर रखने और उसे उत्प्रेरित करने के लिए उपकरण का किस तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है, वह भी इस तरह जिसमें मानवीय दखल कम से कम हो।
इसमें बताया गया कि इस तरह के जीवाणु कठोर पर्यावरण में किस प्रकार का व्यवहार करते हैं, यह समझने पर मानव अंतरिक्ष मिशन मसलन इसरो द्वारा नियोजित भारत के पहले मानव वाले अंतरिक्ष यान ‘गगनयान’ के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी मिल पाएगी। इस अध्ययन से जुड़े वरिष्ठ अध्ययनकर्ता एवं मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग के सहायक प्राध्यापक कौशिक विश्वनाथन ने कहा कि इसके पूरी तरह से सर्व सुविधायुक्त होने की जरूरत है, जिसकी किसी और पर निर्भरता नहीं हो।
इसके अलावा सामान्य प्रयोगशाला की तरह आप समान संचालन परिस्थितियों की उम्मीद नहीं कर सकते।” आईआईएससी और इसरो के दल द्वारा तैयार किए गए उपकरण में जीवाणु विकास पर नजर रखने के लिए एलईडी और फोटोडाओड सेंसर है। इसमें भिन्न प्रयोगों के लिए विविध कक्ष हैं और प्रत्येक कक्ष से डेटा एकत्रित और सुरक्षित किया जाएगा।


अपने देश को सोने और चांदी के पदक दिलवाएं

टोक्यो। जापान की राजधानी टोक्यो में आयोजित किए जा रहे पैरालंपिक में भारतीय निशानेबाज मनीष नरवाल और सिंहराज ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए अपने देश को सोने और चांदी के पदक दिलवाए। मनीष ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पुरुषों की 50 मीटर पिस्टल स्पर्धा एसएच-1 में गोल्ड मेडल जीता। इसी स्पर्धा में सिंहराज अडाना ने बेहतरीन निशाना साधते हुए रजत पदक के ऊपर अपना कब्जा जमाया।
भारतीय निशानेबाज मनीष ने फाइनल मुकाबले में 218.2 का स्कोर दर्ज किया, जबकि सिंहराज ने 216.77 और प्राप्त करते हुए सिल्वर मेडल हासिल किया। इस स्पर्धा में रूस ओलंपिक समिति के सह सर्जेई मालिशेव ने 196.8 के साथ कांस्य पदक प्राप्त किया। क्वालिफिकेशन में सिंहराज 536 अंकों के साथ चौथे स्थान पर रहे थे। जबकि मनीष नरवाल 533 अंकों के साथ सातवें नंबर पर रहे। मनीष ने टोक्यो पैरा ओलंपिक में भारत को तीसरा स्वर्ण पदक दिलाने में सफलता प्राप्त की है। इससे पहले भारत की अवनी लेखरा और सुमित अंतिल भारत के लिए सोना जीत चुके हैं। यदि भारतीय निशानेबाज सिंहराज की बात की जाए तो उन्होंने टोक्यो पैरालंपिक में अपना दूसरा पदक जीता है। इससे पहले सिंहराज ने 10 मीटर एयर पिस्टल एसएच-1 स्पर्धा में कांस्य पदक जीता था। उनके अवाला अवनि लेखरा भी दो पदक जीत चुकी हैं जिनमें एक स्वर्ण और एक ब्रांज मेडल शामिल है।

यूपी: बाढ़ के पानी में डूबने से मां-बेटी की मौंत हुईं

हरिओम उपाध्याय           
गोरखपुर। उत्तर प्रदेश में गोरखपुर के बांसगांव क्षेत्र में बाढ़ के पानी में डूबने से मां-बेटी की मौत हो गयी। इसके अलावा अलग अलग थाना क्षेत्रों में दो अन्य के शव पाये गये।
पुलिस ने शनिवार को बताया कि बांसगांव थाना क्षेत्र के परसौना गांव में शुक्रवार देर शाम कंचन (26) अपनी छह माह की बेटी को शौचालय की टंकी पर बैठाकर शौच साफ कर रही थी कि बच्ची उसके हाथ से फिसल कर टंकी के पास बाढ के पानी में डूब गयी। कंचन शोर मचाये बगैर बच्ची की जान बचाने के लिये पानी में कूद गयी। इस हादसे में मां बेटी की मौत हो गयी।
जिले के खजनी थाना क्षेत्र के भीटी खोरिया गांव निवासी सतीश पान्डेय (50) की आमी नदी में स्नान करने के दौरान गहरे पानी में फिसल जाने के कारण डूबकर मृत्यु हो गयी वहीं सहजनवा क्षेत्र के डुमरिया बाबू बांध के सिसयी रेगुलेटर के पास पानी में उतराता एक व्यक्ति का शव मिला है जिसकी शिनाख्त के प्रयास किये जा रहे हैं।


एससी में जजों की कमी के बीच बड़ा फैसला लिया

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। देश के उच्च न्यायालयों में जजों की कमी के बीच सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला लिया। मुख्य न्यायाधीश एनवी रमन्ना की अगुवाई वाली बेंच ने 12 उच्च न्यायालयों में पदोन्नति के लिए 68 नामों की सिफारिश की है। जजों के नामों को लेकर कॉलेजियम की 25 अगस्त और 1 सितंबर को बैठक हुई थी। खास बात यह है कि जज बनाए जाने के लिए सिफारिश किए गए नामों में 10 महिलाएं भी शामिल हैं।
चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना, जस्टिस यूयू ललित और जस्टिस एम खानविलकर की तीन सदस्यीय कॉलेजियम की तरफ से 12 हाईकोर्ट के लिए जजों के नामों की सिफारिश की गई है। इनमें इलाहाबाद, राजस्थान, कलकत्ता, झारखंड, जम्मू-कश्मीर, मद्रास, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, पंजाब और हरियाणा, केरल, छत्तीसगढ़ और असम का नाम शामिल है। अगस्त और सितंबर की शुरुआत में हुई दो बैठकों में कॉलेजियम ने 112 उम्मीदवारों के नाम पर विचार किया था।
इनमें 88 बार से थे और 31 न्यायिक सेवा के थे। 12 उच्च न्यायालयों के लिए सिफारिश नामों में से 44 बार से हैं, जबकि 24 न्यायिक सेवाओं में से हैं। अनुसूचित जनजाति से आने वाली महिला न्यायिक अधिकारी मार्ली वांकुंग के नाम की सिफारिश गुवाहाटी हाई कोर्ट के जज के लिए की गई है। मिजोरम से हाईकोर्ट की पहली महिला जज होंगी। साथ ही कॉलेजियम ने विचार किए गए नामों में शामिल 16 उम्मीदवारों के बारे में और जानकारी मांगी है।

सिद्धार्थ की अचानक मौत ने सभी को सन्न किया

कविता गर्ग           
मुबंई। मनोरंजन जगत के चमकते सितारे सिद्धार्थ शुक्ला की अचानक मौत ने सभी को सन्न कर दिया है। 40 साल की उम्र में हार्ट अटैक से सिद्धार्थ के निधन पर किसी का भी यकीन कर पाना मुश्क‍िल है। टीवी इंडस्ट्री से लेकर बॉलीवुड के बड़े बड़े सितारों तक ने उन्हें श्रद्धांजल‍ि दी है। किसी ने दो शब्द जाह‍िर किए तो किसी ने मौन रहकर अपने दुख को जाह‍िर किया।
एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा भी सिद्धार्थ शुक्ला के निधन से आहत हुई हैं, पर सिद्धार्थ की मौत के बाद उनपर चली खबरों पर उन्होंने अपना गुस्सा भी दिखाया है। अनुष्का ने स्टैंड अप कॉमेड‍ियन और यूट्यूबर जाक‍िर खान के पोस्ट को अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर शेयर कर नाराजगी जताई है।
जाक‍िर खान ने अपने पोस्ट में लिखा 'वो तुम्हें इंसान नहीं समझते इसल‍िए नहीं है कोई लाइन....ना कोई बाउंड्रीज हैं, तुम्हारी लाश उनके लिए कोई रूह निकला हुआ जिस्म नहीं, बस तस्वीर लेने का एक और मौका है, जितनी हो सके...ये वैसा है जैसे, दंगों में किसी जलते घर में से बर्तन चुराने की कोश‍िश करना। क्योंकि उनके इसके बाद, तुम क्या ही काम आओगे, ज्यादा से ज्यादा 10 तस्वीरें, 5 खबरें, 3 वीड‍ियोज, 2 स्टोरीज। 1 पोस्ट और बस खत्म। इसल‍िए तुम्हारी मौत तमाशा ही रहेगी। रोती मां भी तमाशा, गम से टूटा हुआ बाप तमाशा, बेसुध बहन, हिम्मत हारे हुए भाई, तुमसे मोहब्बत करता हर इंसान उनके लिए बस तमाशा है।

एसबीआई ने अपने खाताधारकों को अलर्ट किया

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक आफॅ इंडिया ने अपने खाताधारकों को अलर्ट किया है। एक नोटिफिकेशन जारी कर बताया है कि आज से बैंकिंग समेत 7 तरह की सेवाएं आज से बंद हो गई है। वहीं बताया है कि ये सर्विसेज कब से शुरू हो जाएगी।
एसबीआई ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए कहा कि ‘4 सितंबर की रात 11:35 बजे से 5 सितंबर को 01:35 बजे तक मेंटेन‍ेंस गतिविधियां चलेंगी. इस दौरान इंटरनेट बैंकिंग, योनो , योनो लाइट , योनो बिजनेस और आईएमपीएस और यूपीआई सेवाएं उपलब्‍ध नहीं रहेंगी।
ऐसे में अगर आप बैंकिंग से जुड़े कुछ काम निपटाने के बादे में सोच रहे हैं। तो बिना देरी कर आज ही काम को पूरा ले वरना आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। बता दें कि इससे पहले भी 16 और 17 जुलाई के लिए भी एसबीआई ने ऐसा ही अलर्ट जारी किया था, जिसके बाद रात 10 बजकर 45 मिनट से देर रात 1 बजकर 15 मिनट तक (150 मिनट) के लिए ये सेवाएं उपलब्ध नहीं थीं।

नए सिरे से डीपीसी कराए जाने के आदेश पर रोक

दुष्यंत टीकम          
रायपुर। छत्तीसगढ़ बिलासपुर हाईकोर्ट ने राज्य शासन के 7 प्रमुख अफसरों के नए सिरे से डीपीसी कराए जाने के आदेश पर रोक लगा दिया है। आगामी आदेश तक उन्हें प्रमोशन नहीं दिया जा सकता है। इन अधिकारियों के प्रमोशन को केन्द्रीय प्रशासनिक अधिकरण (कैट) ने चुनौती देते हुए हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। दरअसल साल 2003 में आयोजित पीएससी परीक्षा के बाद तूलिका प्रजापति, फरिहा आलम सिद्दीकी, चन्दन त्रिपाठी, जयश्री जैन, प्रियंका थवाईत, दीपक अग्रवाल समेत 7 लोगों का चयन उप जिला कलेक्टर पद पर हुआ था। इनको पिछले साल प्रमोशन दिया गया था. एक अभ्यर्थी हिना नेताम ने प्रमोशन प्रक्रिया को केन्द्रीय प्रशासनिक अधिकरण (कैट) में चुनौती दी थी। केट ने इस मामले में सुनवाई करते हुए राज्य लोकसेवा आयोग को दोबारा इन पदों के लिए डीपीसी कराने का आदेश दिया था।

सीएम के विधानसभा पहुंचने का रास्ता साफ हुआ

मिनाक्षी लोढी         
कोलकाता। प. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के विधानसभा पहुंचने का रास्ता साफ हो गया है। चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल की खाली पड़ी विधान सभा सीटों में से तीन और ओडिशा की एक सीट पर 30 सितंबर को उपचुनाव कराने का ऐलान किया है। बंगाल में भवानीपुर, शमशेरगंज और जंगीपुर सीटों पर उपचुनाव होंगे। वहीं, ओडिशा की पीपली सीट पर भी उपचुनाव कराया जा रहा है। इन सीटों पर आज से ही चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है।


प्रदेश प्रभारी के बयान को नफ़रत का प्रमाण बताया

दुष्यंत टीकम                    
रायपुर। बस्तर में आयोजित भाजपा के चिंतन शिविर के अंतिम दिन जबकि चिंतन शिविर बस्तर के संभागीय सम्मेलन में परिवर्तित हो गया था और प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी ने विवादित बयान दे दिया था। उस बयान पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीखा पलटवार करते हुए उस बयान को छत्तीसगढ़ी अस्मिता से जोड़ते हुए बयान को छत्तीसगढ़ से नफ़रत का प्रमाण बताया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजीव भवन में पत्रकारों से कहा "पुरंदरेश्वरी ने कहा था कि थूक देंगे तो मंत्रिमंडल बह जाएगा,छत्तीसगढ़ माता कौशल्या की ज़मीन है। यहाँ महिलाएं पूजी जाती हैं। इसलिए मैं उनके बारे में कुछ नहीं कहना चाह रहा लेकिन मैं ये जरुर कहना चाहता हूँ मैं मुख्यमंत्री बाद में हूँ पहले किसान हूँ। इसलिए उन्होने हम पर नहीं किसानों पर थूकने की बात कही है। ये किसानों से कैसी घृणा करते हैं ये उजागर करता है।अनुसूचित जाति जनजाति से कैसी घृणा करते हैं यह बयान इसे उजागर करता है" मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा "यह बयान छत्तीसगढ़ से नफ़रत को ज़ाहिर करता है,हम इसे बर्दाश्त न
हीं कर सकते, इस बयान का तीन दिन बाद भी भाजपा की ओर से कोई खंडन नहीं आया है, इससे साफ़ है कि पूरी भाजपा किसानों से नफ़रत करती है,समूचे छत्तीसगढ से घृणा करती है, मैं इस बयान का विरोध करता हूँ" इसके पहले मुख्यमंत्री बघेल ने भाजपा के बस्तर में आयोजित चिंतन शिविर को लेकर यह कहते हुए सवाल उठाया "बस्तर में चिंतन शिविर आयोजित हुआ लेकिन उनके ऐजेंडे में नक्सल समस्या शिक्षा रोजगार जैसे मुद्दे नहीं थे,उनके शिविर में ऐजेंडा था कि ओबीसी वर्ग को कैसे साधना है सत्ता में कैसे आना है।

10 ग्राम की गिरावट के साथ बंद हुआ 'सोना'

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। सोना खरीदारों के लिए अच्छी खबर है। इस कारोबारी हफ्ते के पांचवें और अंतिम दिन शुक्रवार को सोने की कीमत में गिरावट दर्ज की गई। शुक्रवार को सोना 28 रुपये प्रति 10 ग्राम की गिरावट के साथ बंद हुआ है।
इस गिरावट के बाद सोना 47246 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुई। इससे पहले पिछले कारोबारी सत्र में गुरुवार को सोना 47274 रुपये प्रति दस ग्राम के स्तर पर बंद हुआ था।
सोना सस्ता होने से ग्राहकों की बल्ले बल्ले, अब इतने रुपये में मिल रहा 10 ग्राम सोना, जानिए क्या है ताजा भाव?
शुक्रवार को सोने के साथ-साथ चांदी की कीमत में भी सस्ता हुआ। शुक्रवार को चांदी की कीमत में 117 रुपये प्रति किलो की गिरावट दर्ज की गई। इस गिरावट के बाद चांदी 63475 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर पर बंद हुआ। यह रेट पिछले कारोबारी दिवस को 63592 रुपये प्रति किलो था।


अफगान: 5,50,000 से अधिक लोग विस्थापित हुए

काबूल। अफगानिस्तान की गंभीर जरूरतों को उजागर करने और देश के लोगों की मदद के लिए अंतरराष्ट्रीय भागीदारों द्वारा आवश्यक तत्काल वित्तीय सहायता और कार्यों पर जोर देने के वास्ते 13 सितंबर को एक उच्च स्तर का मंत्रिस्तरीय कार्यक्रम आयोजित करेगा। 
अफगानिस्तान एक अत्यंत विकट स्थिति में हैं तथा लंबे संघर्ष, गंभीर सूखे और कोविड-19 महामारी का सामना कर रहा है। यह स्थिति तब है जबकि देश की लगभग आधी आबादी यानी करीब 1.8 करोड़ अफगानियों को पहले से ही सहायता की आवश्यकता थी। संयुक्त राष्ट्र ने एक बयान में कहा कि देश में जनवरी 2021 से 5,50,000 से अधिक लोग विस्थापित हुए हैं।
प्रत्येक तीन में से एक अफगानी नागरिक संकट या आपातकालीन स्तर की खाद्य असुरक्षा का सामना कर रहा है और पांच वर्ष से कम उम्र के आधे से अधिक बच्चे भीषण कुपोषण की कगार पर हैं। संयुक्त राष्ट्र ने एक बयान में कहा कि भयंकर सूखा मानवीय संकट को बढ़ा रहा है और आगामी सर्दियों में स्थिति अधिक कठोर होने की आशंका है।
संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के प्रवक्ता ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र, अफगानिस्तान के लोगों के साथ एकजुटता से खड़ा है और महासचिव संकटग्रस्त देश की बढ़ती जरूरतों को पूरा करने हेतु 13 सितंबर को एक उच्च स्तर की मंत्रिस्तरीय मानवीय बैठक बुलाने के लिए जिनेवा की यात्रा करेंगे।
उन्होंने बताया कि यह सम्मेलन वित्त पोषण में तेजी से वृद्धि की वकालत करेगा ताकि जीवन रक्षक मानवीय अभियान जारी रह सके तथा अफगानी नागरिकों तक आवश्यक सेवाओं की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए पूर्ण एवं निर्बाध मानवीय सहायता की अपील करेगा।

दस्तावेजों को गोपनीय सूची से हटाने का निर्देश दिया

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने 11 सितंबर, 2001 को हुए आतंकवादी हमले से संबंधित कुछ दस्तावेजों को गोपनीय सूची से हटाने का निर्देश दिया है। सरकार का यह फैसला उन पीड़ितों के परिवारों के लिए मददगार होगा जो सऊदी अरब की सरकार के खिलाफ अपने आरोपों के संबंध में लंबे समय से रिकॉर्ड की मांग कर रहे हैं।
यह आदेश 11 सितंबर के आतंकवादी हमले की घटना के 20 साल पूरा होने से महज एक सप्ताह पहले आया है और इन दस्तावेजों को सार्वजनिक करने की मांग को लेकर बरसों से पीड़ितों के परिवार और सरकार के बीच टकराव चल रहा था। बाइडन ने शुक्रवार को दस्तावेजों को गोपनीय सूची से हटाने का निर्देश दिया और उन्होंने वादा किया कि उनका प्रशासन इस समुदाय के सदस्यों के साथ सम्मानपूर्वक जुड़ना जारी रखेगा।
शासकीय आदेश में कहा गया है कि दो दशक पहले हुई यह दुखद घटना अमेरिकी इतिहास और अमेरिकियों की स्मृति में आज भी ताजा है। इसलिए यह सुनिश्चित करने का प्रयास है कि पारदर्शिता को और बढ़ाया जाए। आदेश में न्याय विभाग और अन्य कार्यकारी शाखा एजेंसियों को कुछ निश्चित रिकॉर्ड को गोपनीय सूची से हटाने की समीक्षा शुरू करने का निर्देश दिया गया और इसके लिए आवश्यक है कि अवर्गीकृत दस्तावेज अगले छह महीनों में जारी किए जाए।
न्यूयॉर्क में संघीय अदालत में एक मुकदमा काफी समय से लंबित है जिसमें सऊदी अरब की सरकार और उसके अधिकारियों पर घटना से पहले विमान के अपहरणकर्ताओं को मदद उपलब्ध कराने का आरोप लगाते हुए उन्हें जिम्मेदार ठहराने का अनुरोध किया गया है।

संक्रमण के मामलों की संख्या 3,29,45,907 हुईं

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 42,618 नए मामले सामने आने से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 3,29,45,907 हो गयी। जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या 4,05,681 पर पहुंच गई। उपचाराधीन मामलों में लगातार चौथे दिन वृद्धि दर्ज की गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह आठ बजे तक अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, 330 और मरीजों के जान गंवाने से इस महामारी से मरने वाले लोगों की संख्या 4,40,225 पर पहुंच गई।
मंत्रालय ने बताया कि 24 घंटे की अवधि में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 5,903 की वृद्धि हुई। उपचाराधीन मरीजों की कुल संख्या संक्रमण के कुल मामलों का 1.23 प्रतिशत है जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 97.43 प्रतिशत है। आंकड़ों के मुताबिक, दैनिक संक्रमण दर 2.50 प्रतिशत और साप्ताहिक दर 2.63 प्रतिशत है। पिछले 71 दिनों से यह तीन प्रतिशत से कम रही है।
देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे।

सीएम की मूर्ति लगाने का फैसला, विवाद शुरू हुआ

मिनाक्षी लोढी
कोलकाता। पश्चिम बंगाल में नया विवाद शुरू हो गया है। यह विवाद पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में बागुईहाटी क्षेत्र के नज़रूल पार्क उन्नयन समिति द्वारा देवी दुर्गा के साथ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मूर्ति लगाने के फैसले के बाद शुरू हुआ है। इस मुद्दे को लेकर बीजेपी नेता अर्जुन सिंह ने कहा है कि भारतीय इतिहास में जिस भी राजनेता ने अपना आदर्श बनाया है, उसे विनाश का सामना करना पड़ा है।
यह आज तक का इतिहास है। मायावती हो या दक्षिण के बड़े राजनेता, जिस भी राजनेता की पूजा की गई है, वे विनाश की ओर ले गए हैं। वहीं दुर्गा पूजा की तैयारी में जुटे मशहूर क्ले मॉडलर मिंटू पाल अपने कुमारतुली स्टूडियो में फाइबरग्लास की मूर्ति बना रही हैं। मिंटू पल ने कहा कि यह विचार कोलकाता में होने वाली थीम पूजा से आया है, इसलिए थीम पूजा के समय सभी क्लब चाहते हैं कि क्लब आगे बढ़े और कुछ नया दिखाए।

कनाडा की 18 वर्ष की लीला से हारी 'ओसाका'

एल्बनि। पिछली चैम्पियन नाओमी ओसाका अमेरिकी ओपन के तीसरे दौर में कनाडा की 18 वर्ष की लीला फर्नांडिज से हार गई। जिसके बाद अपने गुस्से पर काबू नहीं रख सकी और रैकेट तोड़ दिया। प्वाइंट के बीच काफी समय लेने के लिये दर्शकों ने ओसाका की काफी हूटिंग भी की।
वह आखिर में 5 . 7, 6 . 7, 6 . 4 से हार गई। दुनिया की 73वें नंबर की खिलाड़ी लीला पहली बार ग्रैंडस्लैम के चौथे दौर में पहुंची है। ग्रैंडस्लैम में लगातार 16 मैच और चार खिताब जीतकर आई ओसाका का फ्रेंच ओपन के बाद यह दूसरा ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट था। फ्रेंच ओपन के दूसरे दौर में जीतने के बाद उन्होंने मानसिक स्वास्थ्य कारणों से नाम वापिस ले लिया था। वह विम्लबडन भी नहीं खेली थी लेकिन तोक्यो ओलंपिक में भाग लिया था जहां उन्होंने अग्निकुंड भी प्रज्जवलित किया था।

4 अक्‍टूबर से शुरू होगीं 'वेब सीरीज' की शूटिंग

कविता गर्ग                  
मुंबई। बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान वेबीरीज ’92 डेज’ बनाने जा रहे हैं। सलमान खान अपने बैनर ‘सलमान खान फिल्म्स’ तले वेब सीरिज ’92 डेज’ बनाने जा रहे हैं। इस वेब सीरीज की शूटिंग 04 अक्‍टूबर से शुरू होने वाली है। इस वेब शो की शूटिंग आगरा, धौलपुर, मुरैना, ग्‍वालियर, दतिया, झांसी, ओरछा और चंदेरी के लोकेशनों पर होगी। 
सलमान खान के बहनोई आयुष शर्मा इस सीरीज में लीड रोल में हैं जबकि अन्य कलाकार दक्षिण भारत से लिये गये है। बताया जा रहा है कि इस वेब सीरीज की कहानी थोड़ी बहुत फिल्म ‘बागबान’ की तरह है। इसे वेब सीरीज को सलमान के साथ-साथ दक्षिण भारत के दो और प्रोडक्शन हाऊस प्रोड्यूस कर रहें हैं।

संस्कृति बदलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए

वाशिंगटन डीसी/काबूल। अफगानिस्तान पर कब्जा करने वाले आतंकवादी संगठन तालिबान ने कहा है कि देश में केवल हिजाब पहनने वाली महिलाओं को ही शिक्षा और काम (रोजगार) का अधिकार मिलेगा तथा अमेरिका को देश की संस्कृति बदलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।
तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने शुक्रवार देर रात ‘फॉक्स न्यूज’ से कहा, “महिलाओं के अधिकारों के बारे में कोई समस्या नहीं होगी, उनकी शिक्षा और काम के बारे में भी कोई समस्या नहीं होगी। हमारी संस्कृति है कि वे हिजाब के साथ शिक्षा प्राप्त कर सकती हैं। वे हिजाब के साथ काम कर सकती हैं।
उन्होंने कहा कि अमेरिका ने अफगानिस्तान से महिलाओं के बिना हिजाब के काम करने और शिक्षा प्राप्त करने के अधिकार को सुनिश्चित करने का आह्वान किया था, जो अफगानी संस्कृति को बदलने का एक प्रयास था। संगठन के दृष्टिकोण से यह अस्वीकार्य है।
गौरतलब है कि तालिबान ने एक सप्ताह तक अफगानिस्तान के विभिन्न प्रांतों पर हमलों और कब्जे के बाद 15 अगस्त को काबुल में प्रवेश किया जिसके कारण राष्ट्रपति अशरफ गनी को पद से इस्तीफा देकर देश छोड़ना पड़ा और अमेरिका समर्थित सरकार गिर गयी।

मनीष नरवाल और सिंहराज सिंह की तारीफ की

टोक्यो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टोक्यो पैरालम्पिक में निशानेबाजी मिश्रित 50 मीटर पिस्टल एसएच1 स्पर्धा में स्वर्ण और रजत पदक जीतने वाले मनीष नरवाल और सिंहराज सिंह अडाना की तारीफ करते हुए कहा कि भारतीय खेलों के लिये यह खास पल है।
मोदी ने ट्वीट किया ,” टोक्यो पैरालम्पिक में जीत का सिलसिला जारी है। युवा और बेहद प्रतिभाशाली मनीष नरवाल की शानदार उपलब्धि। उनका स्वर्ण पदक भारतीय खेलों के लिये खास पल है। उन्हें बधाई और भविष्य के लिये शुभकामना।
वहीं उन्होंने आगे कहा ,” शानदार सिंहराज सिंह अडाना ने फिर यह कर दिखाया। उन्होंने एक और पदक जीता और इस बार मिश्रित 50 मीटर पिस्टल एसएच1 में पदक जीता। भारत को उनकी उपलब्धि पर गर्व है । उन्हें बधाई और भविष्य के लिये शुभकामना।”

विश्व रिकॉर्डधारी उन्नीस वर्ष के नरवाल ने पैरालम्पिक का रिकॉर्ड बनाते हुए 218 . 2 स्कोर करके स्वर्ण पदक जीता। वहीं पी1 पुरूषों की एस मीटर एयर पिस्टल एसएच1 स्पर्धा में मंगलवार को कांस्य जीतने वाले अडाना ने 216 . 7 अंक बनाकर रजत पदक अपने नाम किया। इसके साथ ही अडाना एक ही खेलों में दो पदक जीतने वाले चुनिंदा खिलाड़ियों में शामिल हो गए।

5 सितंबर को उत्साह के साथ मनेगा 'टीचर्स डे'

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। टीचर्स डे हर साल हम बड़े उत्साह के साथ 5 सितंबर को मनाते हैं और अपने शिक्षकों का आशीर्वाद प्राप्त करते हैं। इस दिन देश के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधकृष्णन का जन्म हुआ था। डॉ. सर्वपल्ली राधकृष्णन एक बहुत बड़े विद्वान और शिक्षक थे। इन्होंने अपने जीवन के 40 साल शिक्षक के रूप में बीताए थे। डॉ. सर्वपल्ली राधकृष्णन की लगन और उनके योगदान को देखते हुए उनके जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है, जिसे हम टीचर्स डे भी कहते हैं।
शिक्षक हमारे जीवन में एक महत्तवपूर्ण भूमिका निभाते हैं। शिक्षक हमें जीवन में सही-गलत का फर्क बताते हैं। शिक्षक के भिना हम अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते। जिस तरहं हमारे शरीर को स्वास्थ रहने के लिए भोजन की आवश्यकता पड़ती है उसी तरहं जीवन में आगे बढ़ने के लिए शिक्षा की जरुरत होती है। शिक्षक हमारे अंदर की अच्छाईयों को पहचानकर हमें एक अच्छा इंसान बनने में मदद करते हैं। हम सभी को शिक्षकों के योगदान के लिए उनका सम्मान करना चाहिए। शिक्षक के बिना एक बच्चे का जीवन अंधेरे से भरा हुआ होता है। ऐसे में सभी बच्चों के पास अपने शिक्षकों को थैंक्यू कहने के लिए यह दिन बेहद खास होता है। आज हम इस टीचर्स डे को खास बनाने के लिए सभी बच्चों को बताने जा रहे हैं कि वो अपने शिक्षकों को क्या गिफ्ट दे सकते हैं।
एक टीचर के लिए पेन से बड़ा कोई गिफ्ट नहीं हो सकता। पेन हमेशा टीचर के साथ रहता है। पेन का इस्तेमाल टीचर हमेशा ज्ञान देने के लिए करते हैं। इसलिए आप अपने टीचर को पेन देकर काफी खुश कर सकते हैं।टीचर्स डे पर टीचर को डायरी गिफ्ट करना बेहद खास हो सकता है। टीचर्स डायरी में हमेशा जरुरी चीजें नोट करते हैं, इस कारण डायरी हमेशा टीचर्स के पास रहती है। आप डायरी गिफ्ट करके इस टीचर डे को खास बना सकते हैं।टीचर्स डे पर ग्रीटिंग कार्ड देना काफी अच्छा विकल्प है। ग्रीटिंग कार्ड पर आप टीचर के प्रति अपने भाव लिख कर उन्हें भेंट कर सकते हैं। इससे आपके टीचर्स काफी खुश हो सकते हैं।

15वें संस्करण 2022 की तैयारी में जुटा कंट्रोल बोर्ड

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। आईपीएल का 14वां संस्करण बीच में रोकना पड़ा था। अब 19 सितंबर से बचे हुए मैच दुबई में शुरू होंगे लेकिन बीसीसीआई यानी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड आईपीएल के 15वें संस्करण यानी -2022 की तैयारी में जुट गया है।
भारत-श्रीलंका दूसरा टी-20 आज के मैच पर भी लगा ग्रहण , क्या कैंसल हो जाएगी सीरीज।
इसमें दो नयी टीमें आईपीएल में शामिल होंगी। यानी अगले आईपीएल में दस टीमें होंगी। हर क्रिकेट प्रेमी यह जानने को उत्सुक है कि यह टीमें किन शहरों से होंगी तो आपको बता दें कि कई शहर इस में दौड़ में आगे माने जा रहे हैं। सूत्रों का दावा है कि शहरों की दौड़ में अहमदाबाद, लखनऊ के अलावा कटक गुवाहाटी की टीमों पर भी बोली लग सकती है। वहीं, कोच्ची शहर भी बड़े दावेदारों में है। वैसे सबसे ज्यादा संभावना अहमदाबाद लखनऊ की टीमें बनने की जताई जा रही है।
यहां बता दें कि हाल ही में हाल ही में बीसीसीआई ने दो नयी टीमों के लिए बोली आमंत्रित की है। इसमें एक टीम के लिेए बेस प्राइस 2000 करोड़ रुपये रखा गया है। हालांकि दोनों टीमों की कुल कीमत 5000 करोड़ रुपये से ऊपर जाने का अनुमान लगाया जा रहा है। बीसीसीआई ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि 3000 करोड़ रुपये सालाना से कम वार्षिक आय वाली कंपनियां बोली नहीं लगा सकती हैं। वहीं, ये संभावना जताई जा रही है कि नयी टीमों के खरीदारों में अडानी ग्रुप आरपीएसजी ग्रुप के आने के कयास लगाए जा रहे हैं।  वहीं, प्रसिद्ध फार्मास्युटिकल कंपनी टोरेंट के भी इस रेस में होने की संभावना है। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई से बातचीत में बताया था कि यदि कई कंपिनयां मिलकर भी बोली लगाती हैं तो उनका स्वागत है।  ऐसे में सूत्रों का दावा है कि तीन कंपनियों को मिलकर बोली लगाने की अधिकार भी मिल सकता है।
यहां बता दें कि दो नई टीमों के लिए बीसीसीआई ने जो टेंडर निकाले हैं, उन्हें भरने की आखिरी तारीख 5 अक्टूबर तय की गई है। बोली के दस्तावेज 75 करोड़ रुपये में खरीदे जा सकते हैं. इसे बाद में बीसीसीआई रद्द भी कर सकती है। इसमें टीम को खरीदने की पात्रता, बोली लगाने की प्रक्रिया, प्रस्तावित नई टीमों के अधिकारों से जुड़ी तमाम जानकारी रहेगी।
बीसीसीआई के मुताबिक, बोली जमा करने के इच्छुक किसी भी कंपनी को इंविटेशन टू टेंडर यानी आईटीटी खरीदना जरूरी होगा। हालांकि इससे पहले भी राइजिंग पुणे ज्वाइंट्स गुजरात लॉयंस नाम की टीम आईपीएल में शामिल की गई थीं लेकिन तब चेन्नई सुपर किंग्स राजस्थान रॉयल्स को स्पॉट फिक्सिंग के कारण दो साल के लिए निलंबित कर दिया गया था।

बीजेपी: आशीर्वाद रैली को जनता का समर्थन मिला

पंकज कपूर             
हल्द्वानी। कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा आपसी मनमुटाव को दूर करने की यात्रा है। क्योंकि कांग्रेस के अंदर जो गुटबाजी है। वह कई बार खुलकर जनता के सामने आ चुकी है। उसी गुटबाजी और मनमुटाव को दूर करने के लिए कॉंग्रेस की परिवर्तन यात्रा चल रही है। बीजेपी के पूर्व प्रदेश महामंत्री गजराज बिष्ट ने यह बात कही है ,उन्होंने कहा कि 2017 में जनता कांग्रेस के भ्रष्टाचार से परेशान होकर परिवर्तन कर चुकी है अब कांग्रेस को किसी परिवर्तन की उम्मीद नहीं करनी चाहिए। केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट के नेतृत्व में बीजेपी की जन आशीर्वाद रैली को जिस तरह से जनता का समर्थन मिला है। उससे यह स्पष्ट हो गया है कि प्रदेश की जनता फिर से भारतीय जनता पार्टी को सत्ता सौंपने जा रही है। कांग्रेस को इस परिवर्तन यात्रा से सिर्फ इतना फायदा होगा कि पिछले चुनाव में उनकी जो 11 सीटें आई थी वह घटकर 3 या 5 तक रह जाएंगी और भारतीय जनता पार्टी 60 प्लस के नारे के साथ 2022 में पुनः विजयी होकर सत्ता पर काबिज होगी।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-385 (साल-02)
2. रविवार, सितंबर 5, 2021
3. शक-1984,सावन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-चतुर्दशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -23 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...