शनिवार, 13 मार्च 2021

भारत ने यूएई के साथ किया युद्धाभ्यास, चिंता बढ़ीं

सुनील श्रीवास्तव
नई दिल्ली/ रियाद। भारत और यूएई के बीच बढ़ते आपसी संबंधों के बीच दोनों देश इस समय साझा युद्धाभ्यास कर रहे हैं। ‘डेजर्ट फ्लैग’ नाम के इस युद्धाभ्यास में भारतीय वायुसेना के छह सुखोई एसयू-30 एमकेआई, एक आईएल-78 एयर रिफ्यूलिंग एयरक्राफ्ट और दो सी-17 ग्लोबमास्टर ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट शामिल हैं। यूएई के आसमान में उड़ान भर रहे भारत के इन लड़ाकू विमानों की गूंज वहां से करीब 1700 किलोमीटर दूर पाकिस्तान में सुनाई दे रही है। पाकिस्तान की चिंता बढ़ रही हैं। युद्धाभ्यास में भारत और यूएई के अलावा फ्रांस, अमेरिका, सऊदी अरब, दक्षिण कोरिया और बहरीन की सेना हिस्सा ले रही है। यह पहला मौका है, जब भारत की वायुसेना यूएई में आयोजित किसी युद्धाभ्यास में एक्टिव पार्टिसिपेट कर रही है। इसमें तुर्की के कट्टर दुश्मन ग्रीस को भी ऑब्जर्वर की भूमिका में शामिल किया गया है। जिसे सीधे तौर पर मध्यपूर्व में बदलते रणनीतिक हालात से जोड़कर देखा जा रहा है। तीन से 27 मार्च तक होने वाले युद्धाभ्‍यास ‘डेजर्ट फ्लैग’ में भारत के लड़ाकू विमान अलग-अलग देशों के साथ उड़ान भर रहे हैं। इस युद्धाभ्यास को यूएई के अल धाफ्रा एयरबेस पर आयोजित किया जा रहा है। यह वही एयरबेस है, जहां फ्रांस से भारत आते समय राफेल विमानों की पहली खेप ने थोड़े समय तक आराम किया था। ऐसे में सामरिक रूप से बेहद अहम अदन की खाड़ी के नजदीक स्थित इस एयरबेस से ऑपरेट करने से भारत की सामरिक ताकत और सभी सहयोगी देशों के साथ दोस्ती भी मजबूत हो रही है। इस अभ्‍यास में ग्रीस, जॉर्डन, कुवैत और मिस्र को पर्यवेक्षक राष्‍ट्र का दर्जा दिया गया है। जिससे पाकिस्‍तान और मुस्लिम जगत का खलीफा बनने की चाहत रखने वाले तुर्की की टेंशन बढ़ना तय है। पिछले साल के अंतिम महीने में भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और सऊदी अरब के ऐतिहासिक दौरे पर पहुंचे थे। यह भारत के किसी भी सेना प्रमुख का सऊदी अरब और यूएई का पहला दौरा था। इस दौरान उन्होंने न केवल दोनों देशों के सेना प्रमुखों से मुलाकात की, बल्कि यहां के बड़े स्तर के कई नेताओं के साथ भी बैठकें भी की थी। यही कारण है कि संयुक्त अरब अमीरात और सऊदी अरब ने भारत के साथ युद्धाभ्यास करने का निर्णय लिया। ये दोनों देश अब भारत के साथ रक्षा सहयोग बढ़ाने पर तेजी से काम कर रहे हैं। यही कारण है कि सऊदी और यूएई अब भारत के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने को तैयार है। सऊदी अरब का भारत के साथ सैन्य संबंध बढ़ाना सीधे तौर पर पाकिस्तान के लिए तगड़ा झटका है। अबतक पाकिस्तान अपनी सेना का लालच देकर ही यूएई और सऊदी अरब से खैरात पाता था। लेकिन, पिछले साल कश्मीर को लेकर प्रिंस सलमान की आलोचना करने के कारण पाकिस्तान और सऊदी अरब के संबंध सबसे खराब दौर से गुजर रहे हैं। सऊदी को मनाने पहुंचे पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा को भी बिना प्रिंस से मिले खाली हाथ वापस लौटना पड़ा था। वहीं यूएई ने एक दिन पहले ही कंगाल पाकिस्तान से एक अरब डॉलर की दी गई राशि को वापस मांगा है। ये रकम स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान में जमा है। इसे लौटाने की लास्ट डेट 12 मार्च है। यूएई ने यह रकम इसलिए वापस मांगी है कि उसकी मैच्योरिटी हो गई है। ऐसे में अगर पाकिस्तान यह पैसा वापस कर देता है तो उसके फॉरेन रिजर्व में बहुत बड़ी गिरावट होगी। अब तक अरब देशों में पाकिस्‍तान सेना की अच्‍छी पकड़ रही है। यमन में सऊदी अरब की सेना का नेतृत्‍व पाकिस्‍तान के पूर्व सेना प्रमुख जनरल राहिल शरीफ कर रहे हैं। अब सऊदी अरब और उसका घनिष्‍ठ दोस्‍त यूएई दोनों ही भारत के साथ रक्षा संबंध बढ़ा रहे हैं। भारत ने 20-25 फरवरी के बीच अबू धाबी में हुईं दो नेवल डिफेंस एग्जिबिशंस में आईएनएस प्रलय को भेजा था। पिछले साल दिसंबर में सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने सऊदी अरब और UAE की यात्रा की थी। यही नहीं जब राफेल लड़ाकू विमान फ्रांस से भारत आ रहे थे तो उन्‍हें UAE के एयरफोर्स टैंकर्स ने मिड एयर रिफ्यूलिंग सपोर्ट दिया था। भारतीय वायुसेना ने भी हाल ही में अपने राफेल जेट्स के साथ जोधपुर में फ्रांस के साथ युद्धाभ्‍यास किया था। अरब और भारत जल्द ही द्विपक्षीय सैन्य अभ्यास करने जा रहे हैं। यह अब तक के इतिहास में इन दोनों देशों के बीच पहला युद्धाभ्यास होगा। यह युद्धाभ्यास सऊदी अरब में आयोजित किया जाएगा। इसके लिए भारतीय सेना का एक दल कुछ महीने में सऊदी अरब के दौरे पर जा सकता है। इस युद्धाभ्यास से न केवस सऊदी अरब की सेना की ताकत में इजाफा होगा, बल्कि खाड़ी के देशों में रणनीतिक हालात में भी बड़ा बदलाव होगा।पाकिस्तान अबतक सऊदी अरब की सेना को ट्रेनिंग और हथियार मुहैया कराता था। इतना ही नहीं, इस्लाम के सबसे पवित्र स्थलों में शामिल मक्का और मदीना की सुरक्षा में भी सऊदी अरब पाकिस्तान का सहयोग लेता है। अब भारत की एंट्री से पाकिस्तान के लिए राह और मुश्किल हो जाएगी। सऊदी को यह पता है कि भारत के साथ संबंध बढ़ाना पाकिस्तान की तुलना में अधिक लाभदायक है। इसलिए, अब पाकिस्तान फिर से कौड़ियों का मोहताज होने वाला है।

बंगाल: छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी लड़ेंगी विधान चुनाव

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू (जेएनयू) विश्वविद्यालय छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव लड़ेंगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार आइशी को वामपंथी दल माकपा ने जमुरिया विधानसभा सीट से टिकट दिया है। वह जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष रहते हुए विधानसभा चुनाव लड़ने वाली पहली छात्र बन गई हैं। इससे पहले छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार को भाकपा बिहार की बेगूसराय लोकसभा सीट से उम्मीदवार बना चुकी है। लेकिन इस वामपंथी दल के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले कन्हैया कुमार तब छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष थे।
जानकारी के लिए आपको बता दें कि जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी घोष पश्चिम बंगाल के दुगार्पुर की रहने वाली हैं। आइशी घोष ने स्कूली पढ़ाई दुगार्पुर से की है। उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के दौलत राम कॉलेज से राजनीति विज्ञान में स्नातक की डिग्री हासिल की और जेएनयू से एमफिल कर रही हैं। आइशी जेएनयू में फीस वृद्धि का विरोध कर रही हैं। फीस वृद्धि के खिलाफ उन्होंने जेएनयू में हड़ताल की और छात्रों के सहयोग से आंदोलन करती रही हैं।विधानसभा चुनाव में उन्हें उम्मीदवार बनाए जाने के बाद आइशी घोष ने कहा कि, यह एक बड़ी जिम्मेदारी है। नई जिम्मेदारी मिलने के बावजूद मेरी राजनीति में कोई बदलाव नहीं होगा। उन्होंने कहा कि जेएनयू उनके भीतर हमेशा रहेगा।आइशी के मुताबिक जेएनयू में छात्रसंघ ने जिन मुद्दों पर लड़ाई लड़ी है। आगे भी उन्हीं विषयों पर संघर्ष करना है। आइशी के मुताबिक विश्वविद्यालय हो या फिर देश के अलग-अलग हिस्से सब जगह मुद्दे एक जैसे ही हैं। वह आरक्षण और सांप्रदायिकता का विषय हो सकता है। देश में बढ़ती बेरोजगारी हो या बेहतर शिक्षा व्यवस्था का विषय हो सकता है।

कोरोना: अडानी की संपत्ति 12 लाख करोड़ बढ़ी

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को सवाल किया कि जब कोरोना महामारी के कारण हर कोई संघर्ष करता नजर आ रहा है तो फिर उद्योगपति गौतम अडानी की संपत्ति 50 फीसदी कैसे बढ़ गई। उन्होंने यह टिप्पणी उस वक्त की है। जब एक खबर में कहा गया है कि 2021 में अडानी की संपत्ति 16.2 अरब डॉलर बढ़कर 50 अरब डॉलर हो कांग्रेस नेता ने यह खबर साझा करते हुए ट्वीट किया, ”2020 में आपकी संपत्ति कितनी बढ़ी? जब उन्होंने 12 लाख करोड़ रुपये बनाए और उनकी संपत्ति 50 फीसदी बढ़ गई तो आप लोग संघर्ष कर रहे थे। क्या आप बता सकते हैं कि ऐसा क्यों है।

'वैदिक संध्या' पर गोष्ठी का आयोजन, श्रद्धांजलि दीं

अश्वनी उपाध्याय    

गाजियाबाद। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के तत्वावधान में “वैदिक संध्या” व आर्य नेता रामनाथ सहगल के 98 वें जन्मदिन पर आर्य गोष्ठी का आयोजन ऑनलाइन जूम पर किया गया। यह परिषद का कोरोना काल में 187 वां वेबिनार था। उल्लेखनीय है, कि रामनाथ सहगल का जन्म 13 मार्च 1923 को सरगोधा,पंजाब (अब पाकिस्तान) में हुआ था। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कहा, कि आर्य नेता रामनाथ सहगल का जीवन आर्य समाज के प्रति सदैव समर्पित रहा। आपने युवाओं को आर्य समाज और महर्षि दयानंद की विचारधारा से जोड़ने के लिए सराहनीय कार्य किया। उन्होंने कहा, कि महर्षि दयानंद सरस्वती की जन्मभूमि टंकारा को सँवारने व विश्व प्रसिद्ध करने का श्रेय सहगल जी को ही जाता है। अजमेर में 1983 में आयोजित महर्षि दयानंद निर्वाण शताब्दी समारोह के संयोजक का कार्य कुशलता से निभाया। आप डीएवी मैनेजिंग कमैटी के उपप्रधान व आर्य प्रादेशिक प्रतिनिधि सभा के भी वर्षा सचिव रहे।ऐसे हनुमान कार्यकर्ता को आर्य समाज की ओर से उनकी सेवाओं को स्मरण करते हुए विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। आज की युवा शक्ति के लिए सहगल जी का जीवन प्रेरणा देने का कार्य करता रहेगा। वैदिक विद्वान आचार्य विजय भूषण आर्य ने “वैदिक संध्या” क्यों और कैसे विषय पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वैदिक संध्या परमात्मा के निकट जाने का पहला साधन है। मनुष्य के शरीर में इन्द्रिय,मन,बुद्धि,चित और अहंकार स्थित हैं। वैदिक संध्या में आचमन मंत्र से शरीर, इन्द्रिय स्पर्श और मार्जन मंत्र से इन्द्रियाँ, प्राणायाम मंत्र से मन,अघमर्षण मंत्र से बुद्धि, मनसा-परिक्रमा मंत्र से चित और उपस्थान मंत्र से अहंकार को सुस्थिति संपादन व शुद्व किया जाता है। फिर गायत्री मंत्र द्वारा ईश्वर की स्तुति-प्रार्थना और उपासना की जाती हैं। अंत में ईश्वर को नमस्कार किया जाता हैं। यह पूर्णत वैज्ञानिक विधि हैं जिससे व्यक्ति धार्मिक और सदाचारी बनता हैं। धर्म,अर्थ,काम और मोक्ष को सिद्ध करता हैं।

'अभिभावक सहभागिता कार्यक्रम‘ का आयोजन किया

अश्वनी उपाध्याय  

गाजियाबाद। दिल्ली पब्लिक स्कूल राजनगर में विद्यालय व अभिभावकों में बेहतर समन्वय स्थापित करने हेतु 'अभिभावक सहभागिता कार्यक्रम‘ का आयोजन किया गया। इस कार्य क्रम का शुभारंभ विनम्र अभिवादन, दीप प्रज्वलन एवं सरस्वती वंदना से हुआ। सर्वप्रथम विद्यालय प्रधानाचार्या शशिरंजन ने अभिभावकों को संबोधित करते हुए नए सत्र की शुभकामनाएँ दीं और कहा कि विद्यालय का उद्देश्य भारतीय संस्कृति एवं परंपराओं के अनुरूप गुणवत्तापूर्ण बहुमुखी शिक्षा प्रणाली के माध्यम से बच्चों का सर्वांगीण विकास करना है और यह तभी संभव हो सकता है। जब विद्यालय व अभिभावक के संबंध मजबूत होंगे। फलस्वरूप विद्यालय और अभिभावक कदम से कदम मिलाकर छात्रों का भविष्य निर्माण कर सकेंगे। इसके बाद अभिभावकों को आभासी मंच का प्रयोग करते हुए विद्यालय दिखाया गया। विश्वसनीयता व पारदर्शिता बनाए रखने हेतु विद्यालय की आधारिक संरचना और विद्यालय-पदानुक्रम की संपूर्ण जानकारी दी गई। विद्यालय के पूर्व छात्रों ने अपने अनुभवों को साझा किया। अभिभावकों को गत  वर्षों की महत्वपूर्ण शैक्षणिक व सहशैक्षणिक गतिविधियों की विडियो दिखाकर साक्षात् जानकारी उपलब्ध कराई गई। छात्रों के पोशाक, स्वास्थ्यवर्धक टिफिन, आगामी वर्ष में परीक्षा, शिक्षण संबंधी सम्पूर्ण जानकारी को पीपीटी द्वारा सरलता से समझाया गया। अतः धन्यवाद ज्ञापन के साथ कार्य क्रम का समापन  किया गया।

अनाधिकृत कब्जे की भूमि को प्रशासन ने कराया खाली

कौशाम्बी। सिराथू तहसील के ग्राम सभा परास स्थित गाटा संख्या 467 उसर की भूमि पर ग्राम के रहमान अली अब्दुल खालिक शहंशाह व जुनैद पुत्र गण जुल्फिकार द्वारा अवैध तरीके से कब्जा किया गया था।सरकारी भूमि पर अवैध कब्जे के मामले को उप जिलाधिकारी ने गंभीरता से लिया और उप जिलाधिकारी सिराथू प्रखर उत्तम ने सरकारी भूमि पर अवैध कब्जे को ध्वस्त कराए जाने का निर्देश दिया। उप जिलाधिकारी सिराथू के निर्देश पर अवैध कब्जा धारकों के कब्जे के भवन को ध्वस्त कर दिया गया है। अवैध निर्माण को राजस्व निरीक्षक और पुलिस कर्मियों के द्वारा मौके पर जाकर जेसीबी मशीन से अवैध कब्जा ध्वस्त कराया गया। अवैध कब्जे की भूमि पर बने भवन को ध्वस्त कराए जाने से लोगों में हड़कंप है।
सन्तलाल मौर्य

इस्लामिक मजहब के पवित्र ग्रंथ में बदलाव संभव नहीं

सत्येंद्र पंवार     
मेरठ। इस्लाम मजहब की पवित्र ग्रंथ में बदलाव संभव नहीं। वसीम रिजवी पर गंभीर आरोप लगाकर देश में अराजकता फैलाने और देश की शांति भंग करने के लिए दोषी करार देकर सरकार को कड़े कदम उठाने चाहिए।
बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी और मेरठ मंडल अध्यक्ष आरडी गादरे ने अपने वक्तव्य में कहा, कि वसीम रिजवी पर लानत हो। जो इस्लाम मजहब में दाखिल होकर भी कोई ज्ञान नहीं रखता। उसको केवल अपनी राजनीति चमकाने या अपने प्रचार प्रसार के लिए आसमानी किताब पवित्र ग्रंथ कुराने पाक के बारे में जो आए थे। हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की मैं ऐसे लोगों पर लानत भेजता हूं और दुआ करता हूं, कि ईश्वर भगवान खुदा अल्लाह इसको हिदायत दे या अन्य जो षड्यंत्रकारी देश की शांति व्यवस्था को भंग करने और अराजकता फैलाने पर लगे हुए हैं। ऐसे आतंकवादी या ऐसे अराजक तत्व को अपने संगठनों में या अपने दलों में या आसपास में जो रख रहे हैं या किसी का ऐसे लोगों पर जो छत्रछाया का काम कर रहे हैं। उन लोगों पर भी उन संगठनों पर भी गंभीर मुकदमे दायर कर उन्हें बीच सड़क पर चौराहे पर पत्थर मारकर सजा देनी चाहिए। क्योंकि, पूरे संसार में सबसे बड़ा मजहब और समानता मसा बाद के लिए प्रचलित इस्लाम मजहब यह पवित्र ग्रंथ जिसके आधार पर ऐसे यजीदी लोगों को समाज में रहने का कोई अधिकार नहीं है। कुराने पाक का आज तक एक जेर जबर तक नहीं हटाया जा सकता तो वसीम रिजवी जैसे आतंकी लोगों या उसके सरगना की क्या औकात है। बहुजन मुक्ति पार्टी से ऐसे लोगों की निंदा नही कड़े शब्दों में निंदा करते हैं और तमाम मूल निवासियों से एकजुट होकर ऐसे यजीद लोगों पर बेशुमार लानत भेजें और उनको आसपास ना भटकने दे। हमारे देश में ऐसे फूट डालने वाले मूल निवासियों के बीच मुनाफिक भरे पड़े हैं। जो अपनी कौम के ही और अपने खुद के भी दुश्मन हैं। बैठक में दीन मोहम्मद सलमानी डॉ. खुर्शीद आलम, सतेन्द्र गौतम, महराजुदुदीन, हबीबुर्रहमान चौहान चौधरी, इश्तियाक अलीमुद्दीन सैफी, मोहम्मद आसिफ, मोहम्मद राशिद सैफी, मनोज कुमार, ओमवीर सिंह, जिला अध्यक्ष एडवोकेट अंजार शहजाद, अंसारी शमी अहमद, इमरान राय सिराजुद्दीन, मोहम्मद लुकमान राम, सिंगार अयूब अली, मौलाना शाहनवाज दिलशाद हाफिज मैनुद्दीन, कमल किशोर, मोहम्मद
आरिफ राजपूत, मोहम्मद अकरम इदरीसी, इकबाल पसीना, महेंद्र मानव, कुलवंत सिंह, भड़ाना शोएब अख्तर आदि मौजूद रहे।

गृहमंत्री विज की गाड़ी दिल्ली में दुर्घटनाग्रस्त हो गईं

राणा ओबराय  
चंडीगढ़। हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज की गाड़ी आज शनिवार को दिल्ली में दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसा एएलएलएमएस हॉस्पिटल के पास हुआ। मंत्री विज एम्स में चेकअप कराने गए थे। चेकअप कराने के बाद वे हरियाणा भवन जा रहे थे, कि हादसा हो गया। हालांकि, हादसे में मंत्री विज को कोई चोट नहीं लगी। लेकिन उनकी गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। सुरक्षाकर्मियों ने तुंरत हरकत में आते हुए मंत्री विज को दूसरी गाड़ी से हरियाणा भवन पहुंचाया। यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए मंत्री विज ने पूरा मामला बताया और कहा कि अचानक ब्रेक लगने से हादसा हो गया था। सब कुछ ठीक है। उन्हें किसी तरह की कोई चोट नहीं लगी है। मंत्री विज ने यह भी बताया कि वे अंबाला से गुरुग्राम करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूरजपाल के बेटे की मौत पर शोक जताने आए थे। वहां से एम्स दिल्ली जांच कराने चले गए। सैंपल देने के बाद लौट रहे थे, कि हादसा हो गया।

राजनीतिक पार्टीयां अपना फैसला लेने के लिए स्वतंत्र

राणा ओबराय   
चंडीगढ। सभी राजनीतिक पार्टीयां अपना फैसला लेने के लिए स्वतंत्र है। यदि, कोई पार्टी हास्यप्रद फैसला लेती है, तो उस प्रदेश की जनता, राजनीतिक लोग और नेता उस पर चर्चा और टिप्पणी करना नहीं भूलते। ऐसा ही एक मामला सामने आया है, कि जिसमें हरियाणा भाजपा पार्टी ने अपने विजयी विधायको और नेताओं को असम विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए न भेजकर पराजित और असफल नेताओ के असम विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के लिए भेजा है। अभी कुछ समय पहले हाल ही में सोनीपत से मेयर का चुनाव हारे एक नेता ने फेसबुक पर अपने ग्रुप फोटो डाली। जिस पर विपक्षी दलों को नेता औऱ राजनीतिक पंडित खूब चटकारे लेते हुए कह रहे हैं, कि यदि इन्होंने असम विधानसभा चुनाव में भाजपा पार्टी को जीत दिला दी, तो अवश्य ही इनके ऊपर लगे असफल और हार के दाग धूल जाएंगे।

भाजपा विधायक ने सदन में सैनिटाइजर पी लिया

राणा ओबराय  
भुवनेश्वर। ओडिशा विधानसभा में किसानों से धान खरीद में शुक्रवार को कुप्रबंधन को लेकर हंगामेदार प्रदर्शन ने उस समय भयावह रूप ले लिया। जब इस मुद्दे पर सरकार का विरोध कर रहे भाजपा विधायक ने सदन में ही आत्महत्या करने के लिए सैनिटाइजर पी लिया। उन्होंने आरोप लगाया, कि सरकार किसानों से धान खरीदने के मुद्दे पर विचार नहीं कर रही है। विधानसभा में धान के मुद्दे पर जमकर हंगामा हुआ। सुभाष चंद्र पाणिग्रही ने उस समय सैनिटाइजर पीया। जब राज्य के खाद्य और आपूर्ति मंत्री आर पी स्वैन धान खरीद पर बयान पढ़ रहे थे। पाणिग्रही की तुरंत डॉक्टरों ने जांच की। उनकी तबीयत फिलहाल ठीक है। उन्होंने मंडी से किसानों के धान की खरीद के मसले पर ध्यान केंद्रित करने के लिए यह कदम उठाया। उन्होंने शुक्रवार को यह कदम तब उठाया जब राज्य के फूड सप्लाई और कंज्यूमर वेलफेयर मंत्री रनेंद्र प्रताप स्वैन सदन में सवालों के जवाब दे रहे थे। बता दें, कि सुभाष चंद्र पाणिग्रही ने पहले भी दो बार आत्महत्या की चेतावनी दे चुके थे।
इस घटनाक्रम से पहले रनेंद्र प्रताप स्वैन ने कहा, कि सरकार किसानों के धान की खरीद के लिए सभी उचित कदम उठा रही है। उन्होंने कहा, कि विधायकों से कहा कि वे ऐसे किसानों की लिस्ट मुहैया कराएं। जो अपनी खरीफ फसल बेचने से वंचित रह गए हैं। स्वैन ने शुक्रवार को सदन में कहा कि 26 फरवरी को कुल 57.67 मैट्रिक टन धान की खरीद 10.53 लाख रजिस्टर्ड किसानों से की गई है। अबतक 11.25 लाख किसानों से 60.40 लाख मैट्रिक टन धान की खरीद की गई है। उन्होंने कहा कि 72000 किसानों से 2.73 लाख मैट्रिक टन धान की खरीद की जा चुकी है। गौरतलब है, कि सदन में धान की खरीद के मुद्दे पर जमकर हंगामा हुआ। बीजेपी और कांग्रेस के विधायकों ने सदन में इस मसले पर राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। प्रश्नकाल शुरू होने के साथ ही दोनों पार्टियों ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान सदन की कार्यवाही स्थगित भी करनी पड़ी।

अकीदत-ऐहतेराम के साथ मनाया गया बाबा का उर्स

बृजेश केसरवानी  
प्रयागराज। हजरत शहीद मरद शाह बाबा का सालाना उर्स बहादुरगंज वाकए दरगाह शरीफ मे अकीदत और ऐहतेराम के साथ मनाया गया। बड़ी तादात मे जुटे जायरीन ने बाबा के आस्ताने पर हाजरी लगाते हुए चादरपोशी गुलपोशी के साथ अकीदत का इजहार किया। बाद नमाज फजिर कुरआन ख्वानी, गुस्ल सलातो सलाम के साथ मजार पर चादरपोशी की गई।फातिहाख्वानी के साथ महफिले शमा और कव्वाली की महफिल सजी। मुतावल्ली हामिद कुरैशी की सरफरस्ती में अकीदतमन्दों ने फातेहा दिलाई वहीं लोगों मे तबर्रूक़ात भी तक़सीम किया गया। अकीदतमन्दों की जानिब से लंगर का भी एहतेमाम किया गया। जायरीनों ने मुल्क की सलामती, खैरो बरकत और सेहतयाबी की दूआ मांगी। मुतावल्ली हामिद कुरैशी के मुताबिक़ हर साल दरगार पर दूध व मेवों से भरी गागर भी चढ़ाई जाती है। उर्स मे मुख्तलिफ दरगाहों के सज्जादानशीनों ने भी शिरकत की। ओलमाओं ने भी दरगाह शरीफ मे हाज़री लगाते हुए खुसूसी दूआ की। इस मौक़े पर दरगाह के खादिम असद कुरैशी, पप्पू मोईन, हाजी अशफाक, हाफिज, रिजवान, शौकत, शाहरूक, मौलाना नादिर हुसैन, मौलाना गुलाम मुस्तफा समेत दिगर लोगों ने शिरकत की।

महेंद्र की अध्यक्षता में योजना समिति की बैठक संपन्न

बृजेश केसरवानी
प्रयागराज। जल शक्ति और बाढ़ नियंत्रण विभाग उ.प्र डाॅ. महेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में सर्किट हाउस में जिला योजना समिति की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जनपद के विभिन्न विभागोें के लिए 678.30 करोड़ रूपये के प्रस्तावित परिव्यय का अनुमोदन किया गया।जिसके अन्तर्गत स्पेशल कम्पोनेट योजना हेतु प्रस्तावित परिव्यय 166.78 करोड़ प्रस्ताव का। केन्द्र पुरोनिधानित योजनाओं हेतु प्रस्तावित परिव्यय का केन्द्रांश 287.62 करोड़ प्रस्ताव का। प्रधानमंत्री आवास योजना। ग्रामीण के अन्तर्गत 2891 लाभार्थिंयों को आवास निर्माण हेतु रू. 34.69 करोड़ प्रस्ताव का, महात्मा गांधी कार्यक्रम के अन्तर्गत रू. 185.34 करोड़ व्यय कर 55.32 लाख मानव दिवस का सृजन का प्रस्ताव का। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत 4234 समूह के गठन किये जाने हेतु रू0 33.87 करोड़ के प्रस्ताव का। 112 लाभार्थिंयों के गहरे नलकूप स्थापित कराये जाने हेतु रू0 1.99 करोड के प्रस्ताव का। 400 लाभार्थिंयों को मध्यम गहरे नलकूप स्थापित किये जाने हेतु रू0 6.12 करोड़ रूपये के प्रस्ताव का। 10 चेक डैम निर्माण कराये जाने हेतु रू0 4.00 करोड़ के प्रस्ताव का, ग्रामीण सड़कों के निर्माण/पुननिर्माण के अन्तर्गत 240 सड़क लम्बाई 313.76 किमी हेतु रू0 94.19 करोड़ के प्रस्ताव का, वन विभाग द्वारा शहरी क्षेत्र में 3500 बिक्र गार्ड का निर्माण, प्रथम वर्ष के 200 एवं द्वितीय वर्ष के 448 वृक्षारोपण और अनुरक्षण, 1329 हे0 भूमि पर वृक्षारोपण और 2400 हेक्टेयर भूमि पर अग्रिम मृदा कार्य हेतु रू. 15.05 करोड़ के प्रस्ताव का। 5000 स्वच्छ शौचालय के निर्माण हेतु रू. 6.00 करोड़ का प्रस्ताव, ग्रामीण क्षेत्रों में 871 सोलर स्ट्रीट लाइट की स्थापना हेतु रू. 1.89 करोड़ के प्रस्ताव का, जनपद के 25 पर्यटनों स्थलों के पर्यटन विकास हेतु रू0 2.55 करोड़ के प्रस्ताव का, माध्यमिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत विद्यालय भवनों के निर्माण, विस्तार, शिक्षा कार्यालय के निर्माण, शिक्षा अभियान आदि हेतु कुल रू0 16.87 करोड़ के प्रस्ताव का, प्रावैधिक शिक्षा के अन्तर्गत भवन निर्माण, उपकरण साज-सज्जा हेतु रू. 3.23 करोड़ के प्रस्ताव का, ऐलोपैथी, आयुर्वेद और होम्योपैथी के अन्तर्गत रू. 20.69 करोड़ के प्रस्ताव का। नगरीय क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने हेतु रू. 5.59 करोड़ के प्रस्ताव का, सामाजिक सेवाओं यथा-छात्रवृत्ति, पेंशन, पुत्रियों की शादी हेतु अनुदान तथा अत्याचार से पीड़ित व्यक्तियों को आर्थिक सहायता प्रदान किये जाने हेतु रू. 110.95 करोड़ रूपये के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। इस तरह से जनपद के विभिन्न विभागों के लिए 678.30 करोड़ रूपये के प्रस्तावित परिव्यय का जिला योजना समिति द्वारा अनुमोदन किया गया। मंत्री ने वन विभाग के अधिकारियों से जिलेें में किये गये वृक्षारोपण के सम्बंध में जानकारी ली। उन्हें बताया गया, कि इस वर्ष लगभग 62 लाख वृक्षों को लगाने का लक्ष्य है। इस पर मंत्री ने निर्देशित किया, कि पीपल महुआ, आम, नीम, बरगद, जामुन, ऑवला एवं बेल का वृक्ष को अधिक संख्या में रोपित किया जाये। साथ ही इसकी जिओं टैगिंग के माध्यम से इसकी जांच भी करायी जाये। मंत्री ने वृक्षों को लगाने एवं उनकी देखभाल करने के डीएफओ को निर्देश दिये। लघु सिंचाई विभाग के अधिकारियों से कहा कि चेक डैम वहीं पर बनाये जाने का प्रस्ताव भेजा जाये, जहां का जलस्तर बहुत नीचे चला गया है। मंत्री ने पीडब्लूडी के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि नवनिर्मित सड़कों एवं सड़कों की मरम्मत का निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। जहां कहीं भी नई सड़कों का निर्माण कार्य हो रहा हो या हो चुका हो, वहां पर किये गये कार्य को बोर्ड अवश्य लगायें। सड़क और पुलो के निर्माण के बारे में जानकारी लेते हुए मंत्री ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देश दिए कि कहीं पर भी रोड़ पर गड्ढ़ा नहीं दिखना चाहिए। गड्ढ़ा मुक्ति अभियान को गम्भीरता के साथ लेते हुए ये सुनिश्चित करें कि जिले की किसी भी सड़क पर गड्ढ़ा न दिखे। पर्यटन विभाग के अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि किसी भी प्रस्ताव को शासन को भेजने से पूर्व सम्बंधित विधानसभाओं के जनप्रतिनिधियों से बातचीत कर अपना प्रस्ताव दिखाकर ही भेजें। उन्होंने गंगा के तटों के किनारें खेल मैदान बनाने की योजना को प्रमुखतः से लेकर कार्य को तेजी के साथ पूरा करायें। गंगा के तटों के किनारे चबुतरा बनाये जाये, तटों की साफ-सफाई की व्यवस्था हो। स्वास्थ्य विभाग के सीएससी/पीएससी में जो भी भवन जर्जर अवस्था में हो। उसका प्रस्ताव बनाकर भेजें, जल्द से जल्द इस पर कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। वैक्सीनेशन के सम्बंध में जानकारी प्राप्त करते हुए मंत्री ने कहा कि 60 वर्ष तक के व बीमार व्यक्तियों को इस समय वैक्सीनेशन का टीका लगाया जा रहा है। इसका व्यापक प्रचार-प्रसार कराकर लोगो के मन व्याप्त भय को दूर करें और उन्हें कोविड का टीका लगवाने के लिए प्रेरित करें। मंत्री ने बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा, कि जिले में जितनी भी परियोजनाओं संचालित है। उनके शिलान्यास एवं उद्घाटन जनपद के जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर कराया जाये। मंत्री ने कहा, कि जनपद के चहुमुखी विकास के लिए पैसे की कोई कमी नहीं आने दी जायेगी। उन्होंने सभी सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जो भी योजनाएं/परियोजनाएं बनायी जाये। उनको सयम से पूर्ण किया जाये। बैठक में सांसद फूलपुर श्रीमती केशरी देवी पटेल,  सांसद इलाहाबाद प्रो. रीता बहुगुणा जोशी, विधायक कोेरांव, बारा, मेजा, विधान परिषद सदस्य सुरेन्द्र चैधरी, मुख्य विकास अधिकारी- शिपू गिरि, जिला अर्थ और संख्याधिकारी- जितेन्द्र कुमार सहित सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण और सभी सदस्यगण मौजूद रहे।

सांसद ने पूछा वैक्सीन लगवाने वालों का हालचाल

 बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। स्वरूपरानी हॉस्पिटल मेडिकल कॉलेज, जिलें मे फूलपुर सांसद केशरी देवी पटेल ने वैक्सीनेशन सेंटर मे कोविड-19 वैक्सीन लगवाने वाली जनता से मुलाकात कर उनका हालचाल पूछा। सांसद ने वैक्सीन लगवाने वालों को बताया, कि किसी को कोई समस्या नहीं होगी वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। घबराने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा, कि हमारे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अथक प्रयास से आज शनिवार को पूरे देश के लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष भाजपा गणेश केसरवानी, सांसद मीडिया प्रभारी उमेश तिवारी आदि मौजूद रहे।

देश में संक्रमण के 24 हजार से अधिक नए मामले

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण में पिछले कुछ समय से अचानक आयी तेजी के बीच शनिवार को इस बीमारी से स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा 20 हजार के करीब पहुंच गया है। पिछले 24 घंटे के दौरान सक्रिय मामलों की रफ्तार में कमी देखी गई तथा नए सक्रिय 4785 से बढ़े। इस अवधि में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या 140 दर्ज की गई है। शुक्रवार को यह 117, गुरूवार को 126, बुधवार को 133, मंगलवार, सोमवार को 97, रविवार को 100, शनिवार को 108 और शुक्रवार को मृतकों की संख्या 113 दर्ज की गई थी। इस बीच देश में अब तक दो करोड़ 82 लाख 18 हजार से अधिक लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से आज सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण के 24,882 नये मामले सामने आये हैं जिससे संक्रमितों की संख्या एक करोड़ 13 लाख 33 हजार 728 हो गयी है। पिछले 24 घंटों में 19,957 मरीज स्वस्थ हुए हैं। जिसे मिलाकर अब तक 1,09,73,260 मरीज कोरोनामुक्त भी हो चुके हैं।
सक्रिय मामले 4785 बढ़ने से 20,20,22 हो गये हैं। इसी अवधि में 140 और मरीजों की मौत के साथ इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 1,58,446 हो गयी है। देश में रिकवरी दर 96.82 और सक्रिय मामलों की दर 1.78 प्रतिशत हो गया है। जबकि मृत्युदर अभी 1.40 फीसदी पर है।
महाराष्ट्र कोरोना के सक्रिय मामलों में शीर्ष पर है। और राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान सक्रिय मामले 4417 बढ़ने से इनकी संख्या बढ़कर 1,11,724 हो गयी है। राज्य में 11344 मरीज स्वस्थ हुए, जिसे मिलाकर कोरोना को मात देने वालों की तादाद 21,17,744 लाख पहुंच गयी है। जबकि 56 और मरीजों की मौत से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 52,723 हो गया है।

ट्रक ने कई वाहनों को मारी टक्कर, 2 लोगों की मौत

श्रीनगर। जम्मू के फल एवं सब्जी बाजार में शनिवार को एक ट्रक ने करीब एक दर्जन वाहनों को टक्कर मार दी।जिससे दो लोगों की मौत हो गई। जबकि, चार अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। पुलिस ने बताया, कि हादसा ट्रक चालक द्वारा संभवत: वाहन पर से नियंत्रण खोने की वजह से हुआ। पुलिस अधिकारी ने बताया, कि हादसा नरवाल मंडी में उस समय हुआ जब सुबह के वक्त लोग फल-सब्जियां खरीद रहे थे। उन्होंने बताया कि ट्रक पर राजस्थान का पंजीकरण नंबर था। और ट्रक के चालक ने संभवत। ब्रेक फेल होने की वजह से वाहन पर से नियंत्रण खो दिया जिससे ट्रक ने सामान ढोने वाले चार छोटे वाहनों, तीन कार और दो दोपहिया वाहनों सहित करीब एक दर्जन वाहनों को टक्कर मार दी।
अधिकारी ने बताया कि इस हादसे में अखनूर निवासी सूरज प्रकाश (45)और आरएस पुरा निवासी बोधराज (40) की मौत हो गई जबकि गंभीर रूप से घायल अन्य चार लोगों को राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि हादसे के बाद ट्रक चालक फरार हो गया और उसे पकड़ने की कोशिश की जा रही है।

चुनाव: 58 हजार गांवों में ‘जनसंवाद’ करेगी भाजपा

हरिओम उपाध्याय
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी ने 58 हजार से अधिक ग्राम सभाओं में जनसंवाद करने का लक्ष्य रखा है।
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष और पंचायत चुनाव के लिए संगठन के प्रभारी व एमएलसी विजय बहादुर पाठक ने बताया कि 18 मार्च तक पार्टी के नेता, केंद्र व राज्‍य सरकार के मंत्री, सांसद व विधायक 58 हजार से अधिक ग्राम सभाओं में पहुंचकर जनसंवाद करेंगे और केंद्र और राज्य की लोक कल्याणकारी योजनाओं पर चर्चा करेंगे। पाठक ने बताया कि भाजपा ने केंद्र और राज्‍य सरकार के मंत्रियों और पार्टी के पदाधिकारियों को ग्राम चौपालों में पहुंचने की जिम्मेदारी दी है। उन्होंने दावा किया कि भाजपा को गांव-गांव में व्यापक समर्थन मिल रहा है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बृहस्पतिवार को लखनऊ के गंगागंज से ग्राम चौपाल अभियान का शुभारंभ किया।
उल्लेखनीय है। कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में भाजपा ग्राम प्रधान और क्षेत्र पंचायत सदस्य के पद पर सीधे अपने उम्मीदवार नहीं उतार रही है। लेकिन जिला पंचायत सदस्य के लिए तीन हजार से अधिक सभी वार्डों में अपने प्रत्याशी उतारेगी। इस चुनाव के जरिये भाजपा 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भी अपनी जमीनी हकीकत का आकलन करेगी।

वैक्सीनेशन को बढाने के लिए नेताओं ने संभाली कमान

 संदीप मिश्र
बरेली। जनपद में कोविड वैक्सीनेशन का प्रतिशत बेहद कम है। 20 प्रतिशत लोग ही वैक्सीन लगवा रहे हैं। इस पर राज्य सरकार ने चिंता जताई है। पंचायत चुनाव नजदीक हैं। कोरोना काल की उपलब्धियां लेकर आमजन के बीच पहुंचने के लिए भाजपा हाईकमान ने वैक्सीनेशन का प्रतिशत बढ़ाने के लिए संगठन के नेताओं को लगाया है।
बरेली जनपद में केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार, शहर विधायक डा. अरुण कुमार और मेयर डा.उमेश गौतम समेत पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने शनिवार से 45 की उम्र से अधिक वाले लोगों को जागरूक करने की पहल शुरू कर दी है। केंद्रीय मंत्री, विधायक ने कई कार्यकर्ताओं को जिला अस्पताल ले जाकर उनका वैक्सीनेशन कराया। वैक्सीनेशन के 18 केंद्रों की प्रतिनिधियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

कोरोना की गाइडलाइन तोड़ने वालों को किया माफ

पंकज कपूर 
देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने लॉकडाउन के दाैरान कोविड महामारी अधिनियम का उल्लंघन करने वालों को राहत दे दी है। सरकार ने शुक्रवार को कैबिनेट बैठक में इन लोगों पर दर्ज किए गए मुकदमों को वापस लेने का फैसला किया है। राज्य में इस अधिनियम के तोड़ने वाले 4500 लोगों पर मामले दर्ज किए गए थे।
इस फैसले के बारे में मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने बताया कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए ये नियम बनाए गए थे। इसके तहत सार्वजनिक स्थानों पर घूमने, भीड़ जुटाने पर प्रतिबंध था। लॉकडाउन के दौरान इन नियमों काे न मानने वाले 4500 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया था। शुक्रवार को अब तीरथ सरकार ने अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में इन मुकदमों को वापस लेने का फैसला लिया है।

ट्राले से टकराई बस, 5 की मौत सहित 1 दर्जन घायल

नरेश राघानी   
जोधपुर। राजस्थान में जोधपुर जिले के बाप थाना क्षेत्र में आज सुबह मिनीबस और ट्राले के टकरा जाने से दो महिलाओं सहित पांच लोगों की मौत हो गई। जबकि, छह बच्चों सहित एक दर्जन लोग घायल हो गए। पुलिस के अनुसार, दिल्ली के ये लोग जैसलमेर में घूमकर वापस दिल्ली लौट रहे थे, कि सुबह राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या ग्यारह पर क्षेत्र के गाडना गांव के पास उनकी मिनीबस सामने से आ रहे ट्राले से टकरा गई।
हादसे में दो महिलाओं सहित पांच लोगों की घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई। मिनी बस क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे में तीन महिलाओं एवं छह बच्चों सहित बारह घायल लोगों को मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से मिनीबस से बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। घायलों में कुछ लोगों की स्थिति गंभीर बताई जा रही है। और उन्हें बीकानेर भेजा गया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हादसे पर दुख जताया हैं। और कहा कि जोधपुर के बाप क्षेत्र में गाड़ना गांव के पास हुए सड़क हादसे में पांच लोगों की मृत्यु अत्यंत दुखद है। मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं, ईश्वर उन्हें इस बेहद कठिन समय में सम्बल दें दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करें। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना भी की।
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने भी हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि गाडना में दिल्ली के पर्यटकों की बस का भीषण सड़क हादसा अत्यधिक दुखद घटना है। श्री पूनियां ने हादसे के मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए घायल लोगों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की ईश्वर से प्रार्थना की।

महंगाई से जूझ रहे लोगों को बीमा कंपनियां देगीं झटका

 अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। अगले महीने यानी अप्रैल से शुरू हो रहे नए वित्तीय वर्ष में आप पर एक और बोझ बढ़ने वाला है। महंगाई से जूझ रहे लोगों को अब बीमा कंपनियां झटका देने वाली हैं। वह टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम महंगा करने की तैयारी कर रही हैं। साल 2020 में लोगों के लिए स्वास्थ्य और जीनव बीमा का महत्व बढ़ा है। कोरोना काल में लोग इंश्योरेंस की ओर ज्यादा आकर्षित हुए हैं। जिन लोगों ने पहले से ही बीमा करा रखा था। वे अब हेल्थ इंश्योरेंस का दायरा बढ़ा रहे हैं। लेकिन अगले महीने से आपको इंश्योरेंस महंगा पड़ सकता है।
एक रिपोर्ट्स के मुताबिक, जीवन बीमा कराने की लागत 10 से 15 फीसदी तक बढ़ सकती है। इसके पीछे कारण बताया जा रहा है कि कोरोना महामारी के चलते इंश्योरेंस कंपनियों को नुकसान हुआ है। उनकी बीमा लागत और खर्च काफी बढ़ गई है। इस वजह से लाइफ कवर लेना महंगा होने वाला है। मालूम हो कि इस बढ़त का असर पॉलिसी लेने वाले नए ग्राहकों पर होगा। पुराने ग्राहकों के लिए जो प्रीमियम तय किया गया था। उन्हें उसी का भुगतान करना होगा।
टाटा एआईए, एगॉन लाइफ, मैक्स लाइफ, पीएनबी मेटलाइफ, मैक्स लाइफ इंश्योरेंस और इंडियाफर्स्ट लाइफ ने अगले वित्त वर्ष से बढ़ी हुई कीमतों के साथ नए टर्म इंश्योरेंस उत्पाद लॉन्च करने की अनुमति लेने के लिए बीमा नियामक इरडा के पास आवेदन किया है। बीमा कंपनियों का कहना है। कि उनको अपना प्रीमियम बढ़ाना होगा क्योंकि कोरोना के दौरान री-इंश्योरेंस महंगा हो गया है। हालांकि कोविड-19 के आने से पहले ही री-इंश्योरेंस की दरें भारतीय जीवन बीमा कंपनियों के लिए बढ़ रही थीं। क्योंकि वैश्विक अंडरराइटर्स ने देश में री-इंश्योरेंस की बेहद कम दरों पर चिंता जताई थी। री-इंश्योरेंस की दरों में बढ़ोतरी ऐसे वक्त में हुई है। जब जीवन बीमा कंपनियां के पास महामारी के चलते अनुमान से अधिक मृत्यु दावे आ रहे हैं।

छपरा: 184 कार्टन विदेशी शराब बरामद, 2 गिरफ्तार

 अविनाश श्रीवास्तव
छपरा। बिहार में सारण जिले के मशरक थाना क्षेत्र से उत्पाद विभाग की टीम ने शनिवार को 184 कार्टन विदेशी शराब के साथ दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। उत्पाद विभाग के सूत्रों ने यहां बताया कि सीवान- मशरक राजकीय राजमार्ग संख्या 73 पर वाहनों की जांच की जा रही थी। इसी क्रम में एक मोबिल टैंकर की तलाशी ली गई। तलाशी के दौरान मोबिल टैंकर से 184 कार्टन विदेशी शराब बरामद की गयी है। सूत्रों ने बताया कि मोबिल टैंकर पर सवार दिल्ली निवासी फुरकान और रायबरेली निवासी मुकेश यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

दुर्दांत: 1 ही परिवार के 5 सदस्यों ने की आत्महत्या

 अविनाश श्रीवास्तव 
सुपौल। बिहार के सुपौल जिले के राघोपुर थाना अंतर्गत गद्दी गांव में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। सभी के शव फांसी के फंदे से झूलते मिले। पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने शनिवार को बताया कि फॉरेंसिक विशेषज्ञों का दल घटनास्थल का मुआयना कर रहा है। मृतकों की शिनाख्त मिश्रीलाल साह (50), उनकी पत्नी (44 , दो बेटियों और नौ वर्ष के एक पुत्र के रूप में की गई है।
क्षेत्र में चर्चा है। कि आर्थिक तंगी से परेशान होने के कारण मिश्रीलाल ने अपने पूरे परिवार के साथ आत्महत्या कर ली है। इस संबंध में पूछे जाने पर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि मिश्रीलाल कोयला बेचकर जीवकोपार्जन करते थे। और उनकी बड़ी लड़की ने करीब ढाई साल पहले अंतरजातीय विवाह किया था। जिसके बाद परिवार गांव के लोगों से और रिश्तेदारों से अलग-थलग रहने लगा था।

शोपियां में मुजाहिद्दीन के 7 सहयोगी गिरफ्तार किए


श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले से आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन से जुड़े सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी।
पुलिस ने ट्वीट कर कहा कि आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन के लिए काम करने वाले सात लोगों को शोपियां पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार, गिरफ्तार लोगों के पास से आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई है। पुलिस ने बताया, कि प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है और जांच जारी है।

पंजाब के मंत्री पहुंचे लखनऊ, करीबियों ने अगवानी की

हरिओम उपाध्याय  
लखनऊ। पंजाब के एक मंत्री बिना किसी सूचना के लखनऊ पहुंच जाते हैं। सबसे बड़ी बात, जब वे लखनऊ पहुंचते हैं तो उनकी अगवानी माफिया मुख्तार अंसारी के करीबी करते हैं। अब इस बात पर सवाल उठ रहे हैं। एक तरफ तो पंजाब सरकार माफिया को यूपी को सौंपने को तैयार नहीं है। वहीं दूसरी ओर पंजाब के मंत्री की अगवानी माफिया के करीबी कर रहे हैं। यूपी का माफिया मुख्तार अंसारी यूपी और पंजाब की सरकार के बीच हाॅट टाॅक का सबब बना हुआ है। दोनों राज्यों की सरकारों की लड़ाई सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गई है। उत्तर प्रदेश सरकार लगातार मुख्तार अंसारी को यूपी लाने की मांग कर रहा है। लेकिन पंजाब इसके लिए तैयार नहीं है। पंजाब सरकार बार-बार मुख्तार की खराब तबियत का हवाला देती है। लेकिन अब उसके दावों की पोल खुलती नजर आ रही है। पंजाब सरकार के एक मंत्री बिना कोई जानकारी दिये लखनऊ पहुंच गये। लखनऊ का दौरा गुपचुप रूप से किया। सबसे बड़ी बात तो यह है। कि मंत्री का स्वागत करने वाले लोग मुख्तार के करीबी बताये जा रहे हैं। बताया जाता है। कि मंत्री के लिए मुख्तार के करीबियों ने फाईव स्टार होटल का अरेंजमेंट किया। मुख्तार अंसारी पिछले दो साल से पंजाब की जेल में हैं। लेकिन यूपी के बार-बार कहने के बावजूद भी पंजाब मुख्तार अंसारी को नहीं सौंप रहा है। वहीं पंजाब के मंत्री की अगुवाई मुख्तार के करीबियों द्वारा की जा रही है।

सीएम के हाथों नियुक्ति पत्र, शिक्षकों की संख्या बढ़ी

हरिओम  उपाध्याय
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को बेसिक शिक्षा परिषद को 271 खंड शिक्षा अधिकारी दिए। इन सभी नवनियुक्त खंड शिक्षा अधिकारियों को नियुक्ति पत्र भी मुख्यमंत्री ने अपने हाथों से प्रदान किया और उन्हें नई जिम्मेदारी के लिए बधाई भी दी।
लखनऊ के लोकभवन में आयोजित कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा हमने चार वर्ष के इस कार्यकाल के दौरान प्रदेश में चार लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज से चार वर्ष पहले उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) की गरिमा दांव पर लगी थी। जाति, क्षेत्र, मत और मजहब देखकर नियुक्तियां दी जाती थीं। धनबल और बाहुबल का भरपूर दुरुपयोग होता था। उन स्थितियों में पारदर्शिता और सुचिता कपोल कल्पना मात्र थी। लेकिन आज सभी चयन आयोगों से पारदर्शी तरीके से अभ्यर्थियों का चयन हो रहा है। सरकार ने आयोगों और बोर्डों को पहले ही कह दिया था। कि कहीं भी पक्षपात या भ्रष्टाचार की शिकायत मिली तो सख्त कार्रवाई होगी। इसी का परिणाम है। कि आज कोई भी युवा भ्रष्टाचार की शिकायत नहीं करता है। 309 पदों के लिए विज्ञापन और भर्ती 271 पदों पर
बता दें कि खंड शिक्षा अधिकारियों के लिए 309 पदों पर विज्ञापन निकाला था। जिसमें से 271 सफल घोषित हुए। प्रदेश में 12 साल बाद खंड शिक्षा अधिकारियों की नियुक्ति हुई है। खंड शिक्षा अधिकारी 2019 की मुख्य परीक्षा में 271 अभ्यर्थी सफल घोषित हुए थे। खंड शिक्षा अधिकारी 2019 की मुख्य परीक्षा 6 दिसंबर, 2020 को आयोजित हुई थी। इस परीक्षा में कुल 4182 अभ्यर्थी शामिल हुए थे।
प्रदेश में हर तीसरे दिन होता था बड़ा दंगा
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कभी उत्तर प्रदेश में हर दूसरे-तीसरे दिन बड़ा दंगा होता था। जिसमें काफी संपत्ति की हानि होती थी। इन दंगों के कारण प्रदेश की छवि प्रभावित होती थी। आम आदमी परेशान होते थे। इस दौरान नियंत्रण के लिए पुलिस बल की आवश्यकता थी। लेकिन पुलिस कर्मियों की संख्या कम थी। तीन लाख की बजाए सवा लाख बल ही मौजूद था।
कानून व्यवस्था को दुरूस्त किया, महिलाओं को दी प्राथमिकता
कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए पीएसी की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। लेकिन उसकी 54 कंपनियां समाप्त कर दी गई थीं। तब प्रदेश सरकार ने कहा कि पूरी पारदर्शी तरीके से भर्ती की प्रक्रिया होनी है। जिसमें महिलाओं को प्राथमिकता दी गई। इसी का परिणाम है। कि चार वर्षों के दौरान डेढ़ लाख से अधिक पुलिस कर्मियों की भर्ती की गई।
पूर्व सरकारों में बिना वसूली नहीं होती थी। नियुक्ति
मुख्यमंत्री ने नव नियुक्त अभ्यर्थियों से पूछा कि भर्ती के दौरान किसी को सिफारिश की आवश्यकता पड़ी। जवाब नहीं में आया तो सीएम योगी ने फिर पूछा कि किसी अधिकारी नेता, मंत्री या उनके घर के लोग आपसे पैसे वसूलने के लिए आए हों। इसका भी जवाब नहीं में आया तो उन्होंने कहा कि वर्ष 2017 से पहले ऐसा होता था। कोई खानदान था। जिनमें अलग-अलग भर्ती आवंटित हो जाती थी। कि ये भर्ती चाचा देखेंगे, ये भर्ती भाई देखेंगे या भतीजा देखेगा।

गंगवार ने फुटवियर का फीता काटकर किया उद्घाटन

 पंकज कपूर 
रुद्रपुर। कुर्मी महासभा के संस्थापक एवं केंद्रीय अध्यक्ष सौरभ गंगवार ने ट्रांजिस्ट कैंप श्मशान घाट रोड पर राठौर इलेक्ट्रिशन एंड फुटवियर का फीता काटकर उद्घाटन किया। केंद्रीय अध्यक्ष सौरभ गंगवार ने कहा ग्राहकों की सेवा का ख्याल रखना ही व्यवसाय की मूल साख होती है। उन्होंने राठौर इलेक्ट्रीशियन एंड फुटवियर के प्रोपराइटर अनिल कुमार राठौर को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दी।
उन्होंने कहा कि खुशी की बात यह है, कि आज शनिवार को युवा वर्ग स्वरोजगार से जुड़ रहा है। जो स्वयं के लिये आय के स्रोत पैदा करने के साथ ही अन्य लोगों के लिये भी रोजगार के अवसर पैदा करता है।
राठौर इलेक्ट्रीशियन एंड फुटवियर के प्रोपराइटर अनिल कुमार राठौर ने कहा की ग्राहकों को बेहतर सेवा देने का हर संभव प्रयास किया जाएगा।
उद्घाटन करने वालों में मौजूद कुर्मी महासभा के संस्थापक एवं केंद्रीय अध्यक्ष सौरभ गंगवार, जिला अध्यक्ष मनोहर लाल गंगवार, नरेश कुमार, रामपाल धनकर, ईश्वरी प्रसाद राठौर, सुनील राठौर, अनिल राठौर, अमर सिंह राठौर, तारावती राठौर, छत्रपति राठौर, छोटेलाल राठौर, बेचेलाल राठौर, अयोध्या प्रसाद राठौर, ओमप्रकाश राठौर, लक्ष्मी देवी राठौर, रूपा देवी राठौर, अजय राठौर, रवि राठौर, मुन्नालाल राठौर, लाखन राठौर, सूरज राठौर आदि लोग उपस्थित थे।

इज़ाफ़ा: 28 से घरेलू मार्गों पर शुरू होगी 66 नई उड़ानें


मनोज सिंह ठाकुर
मुंबई। किफायती सेवाएं देने वाली विमानन कंपनी स्पाइसजेट ने घरेलू नेटवर्क पर 28 मार्च से 66 नयी उड़ानें शुरू करने की घोषणा की है। इनमें कुछ मार्गों पर अतिरिक्त उड़ानें भी शामिल हैं। एयरलाइन ने शनिवार को कहा कि इन नयी उड़ानों का परिचालन बोइंग 737 और क्षेत्रीय जेट बॉम्बार्डियर क्यू 400 के जरिये किया जाएगा। कंपनी का इरादा अपने नेटवर्क के विस्तार के जरिये महानगरों और छोटे शहरों के बीच संपर्क बढ़ाना है।स्पाइसजेट की मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी (सीसीओ) शिल्पा भाटिया ने कहा अपने घरेलू परिचालन का विस्तार कर हम खुश हैं। गर्मियों की समयसारिणी की शुरुआत के साथ हम 66 नयी उड़ानें शुरू करेंगे। देश की सबसे बड़ी क्षेत्रीय विमानन कंपनी के रूप में हम क्षेत्रीय संपर्क बढ़ाने को प्रतिबद्ध हैं। एयरलाइन ने बयान में कहा कि छोटे शहरों की यात्रा मांग को पूरा करने के लिए उसने दरभंगा, दुर्गापुर, झारसुगुड़ा, ग्वालियर और नासिक को कुछ महत्वपूर्ण महानगरों से जोड़ने के लिए नयी उड़ानें शुरू की हैं। शुरुआत में इन शहरों को स्पाइसजेट ने उड़ान योजना से जोड़ा था। स्पाइसजेट ने कहा कि वह अहमदाबाद-दरभंगा-अहमदाबाद, हैदराबाद-दरभंगा-हैदराबाद, पुणे-दरभंगा-पुणे और कोलकाता-दरभंगा-कोलकाता मार्ग पर नई उड़ानें शुरू करेगी।
इससे पहले एयरलाइन ने दरभंगा को मुंबई, दिल्ली और बेंगलुरु से जोड़ा था। इसी तरह दुर्गापुर को पुणे से जोड़ा जाएगा। दुर्गापुर को स्पाइसजेट पहले ही चेन्नई, मुंबई और दिल्ली से जोड़ चुकी है। झारसुगुड़ा को अब भी दिल्ली, हैदराबाद और कोलकाता के बाद चेन्नई से जोड़ा जाएगा।

झटका: भाजपा के पूर्व केंद्रीय मंत्री टीएमसी में शामिल

पालूराम   
कोलकाता। पूर्व केंद्रीय मंत्री और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शासन के धुर विरोधी यशवंत सिन्हा शनिवार को तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए। उन्होंने पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए आठ चरणों में होने वाले चुनाव से पहले यह कदम उठाया है। सिन्हा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के मंत्रिमंडल में कई मंत्रालयों की जिम्मेदारी निभा चुके हैं। लेकिन भगवा पार्टी के नेतृत्व से मतभेदों के चलते वर्ष 2018 में उन्होंने भाजपा छोड़ दी। उनके बेटे जयंत सिन्हा झारखंड के हजारीबाग से भाजपा के लोकसभा सदस्य हैं।
सिन्हा ने कहा देश अजीब परिस्थिति से गुजर रहा है। हमारे मूल्य और सिद्धांत खतरे में हैं। उन्होंने कहा ”लोकतंत्र की मजबूती संस्थाओ में निहित है। और सभी संस्थाओं को व्यवस्थागत तरीके से कमजोर किया जा रहा है। सिन्हा (83 वर्षीय) ने भाजपा के खिलाफ लड़ाई में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का समर्थन करने की शपथ ली। तृणमूल कांग्रेस के लोकसभा में नेता सुदीप बंदोपाध्याय ने कहा हम अपनी पार्टी में यशवंत सिन्हा का स्वागत करते हैं। उनकी हिस्सेदारी से चुनाव में भाजपा के खिलाफ हमारी लड़ाई और मजबूत होगी। सिन्हा ने वर्ष 1990 में चंद्रशेखर की सरकार में वित्तमंत्री की जिम्मेदारी निभाई थी। और इसके बाद वाजपेयी मंत्रिमंडल भी उन्हें इस मंत्रालय का कार्यभार मिला। उन्होंने वाजपेयी सरकार में विदेशमंत्री की भी जिम्मेदारी निभाई।

हाजीपुर: 499 कार्टन विदेशी शराब बरामद, 2 अरेस्ट

 अविनाश श्रीवास्तव 
हाजीपुर। बिहार में वैशाली जिले के पातेपुर थाना क्षेत्र से पुलिस ने 499 कार्टन विदेशी शराब के साथ दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस सूत्रों ने शनिवार को यहां बताया सूचना के आधार पर बहुआरा पेट्रोल पंप के निकट एक ठिकाने पर शुक्रवार की देर रात छापेमारी की गयी। इस दौरान मौके से ट्रक और पिकअप वैन पर लदी 499 कार्टन हरियाणा निर्मित विदेशी शराब बरामद की गयी। बरामद शराब की कीमत करीब 50 लाख रूपये है। सूत्रों ने बताया कि इस सिलसिले में मोहम्मद जुनैद खान और धनंजय सिंह को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

इटली में कोरोना की नई लहर, लगा लॉकडाउन

रोम। यूरोपीय देश में इटली में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी की नई लहर के प्रकोप को देखते हुए अधिकारियों ने सोमवार से दुकानें, रेस्तरां और स्कूल बंद करने की घोषणा की है। इटली के प्रधानमंत्री मारियो ड्रैगी ने शुक्रवार को कोरोना की नई लहर की चेतावनी जारी करते हुए यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि ईस्टर पर 3-5 अप्रैल को तीन दिनों के लिए देश भर पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। उन्होंने कहा कि इटली में एक वर्ष पहले कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप के चलते पहली बार देशभर में लॉकडाउन लगाया था। एक बार फिर संक्रमण के तेजी से प्रसार को रोकने का प्रयास किया जा रहा है। इस बीमारी के कारण देश में एक लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

ममता की चोट पर खुलासा, चुनाव आयोग असंतुष्ट

 
कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चुनावी सरगर्मी दिनों-दिन बढ़ती ही जा रही है। जिस दिन से ममता को चोट लगी है। सियासी पारा और भी तेजी से बढ़ रहा है। एक और तृणमूल कांग्रेस भाजपा पर हमले का आरोप लगा रही है। तो वहीं दूसरी ओर भाजपा इस पूरे प्रकरण को नाटक करार दे रही है। खैर यह तो जांच का विषय है। कि ममता को चोट लगी है या फिर उनके ऊपर हमला हुआ है। इसकी जांच जारी है। मगर बंगाल सरकार की ओर से चुनाव आयोग को भेजी गई रिपोर्ट से आयोग पूर्णता असंतुष्ट नजर आ रहा है। आयोग ने मुख्य सचिव और भी विस्तृत जानकारी मांगी है। बंगाल राज्य के मुख्य सचिव अलापन बंदोपाध्याय द्वारा चुनाव आयोग को दी गई रिपोर्ट से आयोग पूर्णतया असंतुष्ट है। चुनाव आयोग ने मुख्य सचिव से और भी विस्तृत रूप से जानकारी मांगी है। आगामी रिपोर्ट मुख्य सचिव को शनिवार की शाम 5 बजे तक हर हाल चुनाव आयोग के समक्ष देनी होगी। हालांकि पर्यवेक्षक विवेक दुबे और विशेष पर्यवेक्षक अजय नायक ने अभी तक आयोग को इस मामले में रिपोर्ट नहीं सौंपी है। पुलिस की यह रिपोर्ट जल्दी आयोग को सौंपी जानी है। जिसकी अभी विस्तृत जांच चल रही है।

अभिनेता अमिताभ की 'चेहरे' फिल्म होगी रिलीज

मनोज सिंह ठाकुर 
मुंबई। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और इमरान हाशमी की फिल्म चेहरे 09 अप्रैल को रिलीज होगी। रूमी जाफरी निर्देशित आनंद पंडित की बहुप्रतीक्षित मिस्ट्री थ्रिलर फिल्म चेहेरे में अमिताभ बच्चन और इमरान हाशमी ने मुख्य भूमिकायें निभायी है। यह फिल्म 09 अप्रैल को रिलीज होगी। फिल्म पहले 30 अप्रैल को रिलीज की जानी थी। लेकिन प्रशंसकों के प्यार को देखते हुए फिल्म निर्माताओं ने इसे लगभग एक महीने पहले रिलीज करने का फैसला लिया है। नई तारीख की घोषणा करते हुए, निर्माताओं ने फिल्म का टीजऱ भी जारी किया है जो शक्तिशाली संवादों से भरा है।यह पहली बार होगा जब दर्शक अमिताभ और इमरान हाशमी को स्क्रीन-स्पेस साझा करते हुए देखेंगे। फिल्म 'चेहरे' में अन्नू कपूर और रघुबीर यादव की भी अहम भूमिका है। फिल्म का निर्माण आनंद पंडित मोशन पिक्चर्स और सरस्वती एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड ने किया है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   

1. अंक-209 (साल-02)
2. रविवार, मार्च 14, 2021
3. शक-1983, फाल्गुन, शुक्ल-पक्ष, तिथि- प्रतिपदा, विक्रमी सवंत

4. सूर्योदय प्रातः 06:35, सूर्यास्त 06:33।

5. न्‍यूनतम तापमान -11 डी.सै., अधिकतम-30+ डी.सै.। 

6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110

http://www.universalexpress.page/

email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...