गुरुवार, 30 जनवरी 2020

यूपी में 12 बच्चों के अपहरण का मामला

फर्रुखाबाद। यूपी के फर्रुखाबाद में गुरुवार को हैरान करने वाला एक मामला सामने आया है। यहां मोहम्मदाबाद कोतवाली क्षेत्र के कथरिया निवासी सुभाष बाथम की बेटी गौरी (5) का आज जन्म दिन है। सुभाष ने मोहल्ले के करीब 12 बच्चों को अपने घर बुलाया था। जन्मदिन मनाने के बाद उसने बच्चों को घर के भूमिगत कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद शराब के नशे में छत पर चढ़कर चीखने लगा कि अब उसे पुलिस पकड़ने आई तो नतीजा भुगतोगे। इससे मोहल्ले के लोग एकत्र हो गए।


सूचना पर कोतवाल फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने सुुभाष को बाहर निकलने के लिए कहा तो वह तमंचा लेकर छत पर चढ़ गया और पुलिस को ललकारते हुए फायरिंग करने लगा। उसने चार-पांच फायर करने के बाद एक हथगोला फेंक दिया। इससे वहां दहशत फैल गई। हथगोले से निकली गिट्टी कोतवाल राकेश कुमार के हाथ में लगी। इससे वह चुटहिल हो गए। पुलिस मकान की छत पर पहुंच गई है। सुभाष को निकालने का प्रयास कर रही है। सुभाष पर गांव के मेघनाथ की 2001 में हत्या करने का आरोप है। इस मामले में वह जमानत पर चल रहा है। करीब चार माह पूर्व स्वाट टीम उसे चोरी के मामले में पकड़कर ले गई थी। तभी से वह मोहल्ले के लोगों से रंजिश मानता है। उसका कहना है कि मोहल्ले के लोगों ने ही उसे पकड़वाया था। मौके पर कई थानों की फोर्स पहुंच गई है।


 


धूमधाम से मनाया गया 'बसंत-पंचमी'

गोल्डन फ्लावर स्कूल में धूमधाम से मनाया गया बसन्त पंचमी का त्योहार


डीपी मिश्रा/अमनदीप सिंह



पलियाकलां-खीरी। नगर के गोल्डन फ्लावर स्कूल में बसंत पंचमी का पावन पर्व बड़े हर्ष एवं उल्लास के साथ मनाया गया। सभी बच्चों ने पूरी लगन एवं परिश्रम के साथ कार्यक्रम में भाग लिया।
कक्षा Pnc से कक्षा 5 तक के बच्चे पीले वस्त्र पहनकर विद्यालय में आए और कक्षा 6 से कक्षा 12 तक के बच्चों ने हाथों में पीले रंग का रिबन बांध कर व मां सरस्वती के जन्म उत्सव में शामिल हुए , इसी क्रम में विद्यालय में एक विशेष कार्यकम का आयोजन किया गया, जिसमें विद्यालय के प्रबंधक जसमेल सिंह मागट , उप प्रबंधक अमनप्रीत सिंह मागट, विद्यालय की प्रबंधिका महोदय श्रीमती हरदीप कौर मागट, प्रधानाचार्य श्री आलोक नाथ तिवारी, उप प्रधानाचार्य संजीव कुशवाहा, अनुशासन अधीक्षक श्री श्याम महेंद्रु सहित विद्यालय परिवार के सभी समस्त अध्यापक- अध्यापिका ने इस कार्यक्रम में बढ़-चढ़कर भाग लिया ।
कार्यक्रम का संचालन श्रीमती पारुल गुप्ता ने किया कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती माता की मूर्ति पर दीप प्रज्वलित करके तथा आरती पूजन पुष्प समर्पित करके किया गया ।दीप प्रज्वलित का कार्यक्रम विद्यालय की प्रबंधिका महोदय श्रीमती हरदीप कौर मागट, प्रधानाचार्य श्री आलोक नाथ तिवारी द्वारा किया गया ।बच्चों के द्वारा मधुर संगीत गायन किया गया वहीं माही, हरकीरत तथा शिवांग पांडे के द्वारा बसंत पंचमी पर हिंदी व अंग्रेजी में भाषण किए गए ।मां सरस्वती के सम्मान में मधुरता कविता पढ़कर सुनाई तथा इसी श्रेणी में अध्यापिका नीलम मिश्रा के द्वारा मां सरस्वती के प्रगतउत्सव पर भाषण दिया गया, जिसमें उन्होंने बताया कि मां सरस्वती ब्रह्मा जी के मानस पुत्री के रूप में आज ही प्रकट हुई थी और उन्होंने संपूर्ण संसार को ध्वनि प्रदान की ।
जीव मात्र के लिए ही नहीं बसंत पंचमी का यह त्यौहार सम्पूर्ण मानव जाति के लिए इसका विशेष महत्व है।पठन-पाठन में मां सरस्वती की उपयोगता बताते हुए उन्होंने वाणी को विराम दिया।कार्यक्रम में कक्षा 6 से 8 तक के बच्चों ने पतंग बनाई और अपने हर्ष एवं उन्नति को दर्शाया ।
कार्यक्रम का समापन बच्चों में प्रसाद वितरण किया गया।


न्यायालय परिसर में युवा अधिवक्ता का शव

वाराणसी। न्‍यायालय परिसर के भवन में एक युवा अधिवक्‍ता का शव मिलने से गुुरुवार को सनसनी फैल गई। दरअसल नवनिर्मित न्यायालय परिसर के भवन से कूदकर युवा अधिवक्ता ने किन्‍हीं कारणों से अपनी जान दे दी। इसकी जानकारी होते ही  एसएसपी और एसपी सिटी ने हादसे की जानकारी लेने के साथ ही मृतक की शिनाख्‍त शुरू की। जेब में मिले आधार कार्ड के आधार पर मृतक की पहचान होने के बाद परिजनों को सूचित कर पुलिस आवश्‍यक कार्रवाई में जुट गई। आधार कार्ड से हुई पहचान के अनुसार मृतक का नाम प्रशांत कुमार सिंह पुत्र चंद्रभाल सिंह, निवासी सिकरौल, भाेजूबीर है। सुबह ही न्‍यायालय परिसर में युवा अधिवक्‍ता द्वारा आत्‍महत्‍या किए जाने को लेकर काफी देर तक गहमागहमी बनी रही।  वहीं परिजनों को सूचना देने के बाद शव को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।


मां सरस्वती की 'पूजा-अर्चना' की गई

कुशीनगर। कुशीनगर के नेबुआ रायगंज स्थित लघुमाध्यमिक विद्यालय के प्रबंधक मनोज पाण्डेय ने माँ सरस्वती का पूजा अर्चन किया गया। बता दें कि बर्षो पूर्व इस बिद्यालय को अपनी जमीन दे कर मनोज पाण्डेय की माता स्वर्गीय कमलावती देवी ने इसका उदघाटन किया था। और बेटेे ने आज उसी प्रांगण में मां सरस्वती का पूजन कर अपने आपको गौरवान्वित महसूस किया।इस अवसर पर विद्यालय के छात्रों के साथ शिक्षक अमला गोड़, प्रधानाचार्य कपिलदेव कुशवाहा, बृजेश मिश्रा उर्फ़ बबलू, भोला यादव आदि उपस्थित रहे।


शहर का गोपनीय सर्वेक्षण कर गई टीम

शहर का गोपनीय सर्वेक्षण कर चली गई दिल्ली की 20 सदस्यीय टीम, अधिकारियों को भी नहीं लगने दी भनक


अंबिकापुर। स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए केंद्र सरकार की टीम द्वारा इस बार काफी गोपनीय तरीके से शहर का सर्वेक्षण पूर्ण कर लिया गया, इसकी भनक भी अधिकारियों को नहीं हुई। केंद्रीय टीम ने सर्वेक्षण कार्य पूर्ण करने के बाद इसकी जानकारी निगम आयुक्त को मोबाइल पर दी। आने वाले दिन में अब पता चलेगा कि अंबिकापुर को स्वच्छता रैंकिंग में कौन सा स्थान मिलता है। स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के लिए केन्द्र सरकार की नगरीय निकाय मंत्रालय की टीम ने जनवरी के प्रथम सप्ताह से सर्वे कार्य पूरे देश में शुरू कर दिया था। अंबिकापुर नगर निगम के स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए 25 जनवरी को शहर में केन्द्र सरकार की 20 सदस्यीय टीम शहर में पहुंची और काफी गोपनीय तरीके से सर्वे कार्य शुरू किया। पहली बार टीम के सदस्यों ने सर्वे की जानकारी तक निगम के अधिकारियों को नहीं होने दी। बाजार, सामुदायिक शौचालय, एसआरएलएम सेंटर में टीम के सदस्यों ने पहुंचकर वहां के लोगों से ऑनलाइन फीडबैक लिया और दिल्ली में बैठी टीम को यहां से इसकी जानकारी देते रहे। मिल रहे लोकेशन पर फीडबैक लेने पहुंच रही थी टीम 
टीम के सभी सदस्यों को अंबिकापुर पहुंचने से पूर्व कहां जाना है, इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई थी। दिल्ली की टीम द्वारा ऑनलाइन शहर के विभिन्न जगहों का लोकेशन लेकर उन्हें फीडबैक लेने को कहा जा रहा था। सडक़ से गुजर रहे नागरिकों से स्वच्छता के संबंध ली गई जानकारी ऑनलाइन दिल्ली में बैठी टीम द्वारा ली जा रही थी। शौचालय में पहुंचे यूजर्स बनकर
सामुदायिक शौचालय में टीम के सदस्य यूजर्स बनकर पहुंचे। इस दौरान वहां बैठे कर्मचारियों से भी उन्होंने कोई सवाल नहीं किया। सीधे शौचालय की फोटो लेकर उसे ऑनलाइन भेज दिया। भीड़-भाड़ वाली जगहों के साथ ही स्लम एरिया में भी सदस्यों ने पहुंचकर लोगों से बातचीत की। तीन टीम बनाकर किया सर्वे
टीम में 20 सदस्य शामिल थे। इस दौरान सदस्यों ने तीन अलग-अलग टीम बनाकर सर्वे कार्य शुरू किया। २५ जनवरी से शुरू हुआ सर्वे 27 जनवरी तक चली। इस दौरान वाटर ट्रीटमेंट, स्वच्छता अभियान और अपशिष्ट प्रबंधन पर विशेष ध्यान रखा। टीम ने 27 जनवरी के बाद निगम आयुक्त हरेश मंडावी को मोबाइल के माध्यम से यह सूचना दी कि शहर का सर्वेक्षण पूर्ण हो गया है। उन्होंने दस्तावेज की जांच हेतु पहले कहा, फिर मेल के माध्यम से दस्तावेज मंगाने की बात कही। इस बार भी मिलेगी अच्छी रैंकिंग
सदस्यीय टीम ने जो फीडबैक दिया है, उससे वे काफी संतुष्ट हैं। उम्मीद है कि इस बार भी शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण में अच्छी रैंकिंग मिलेगी।


हरेश मंडावी


धर्म के आधार पर 'बांटने वाला कानून'

लखनऊ। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) देश को धर्म के आधार पर बांटने वाला है और उनकी पार्टी इसका हर स्तर पर विरोध करेगी। प्रसपा प्रमुख ने अपने 65वें जन्मदिन के मौके पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुये कहा कि देश गंभीर आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है। देश गंभीर संकट के दौर से गुजर रहा है। किसानों के साथ अन्याय हो रहा है। नौजवानों की उपेक्षा हो रही है और उन्हें रोजगार नहीं मिल रहा है। पार्टी कार्यकर्ताओं को लोगों के बीच जाकर उनकी समस्याएं उठानी चाहिए जिससे पार्टी जनता से सही मायनों में जुड़ सके। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के संबंध में उन्होंने कहा कि वह लोगों को बांटने वाले ऐसे किसी भी कानून के साथ नहीं हैं। यह एक कठिन समय है। संसदीय मर्यादा और लोकतांत्रिक मूल्यों पर चौतरफा हमले हो रहे हैं। हाल ही में देश ने सरकार के अलोकतांत्रिक रवैये के विरुद्ध एक बड़ा प्रतिरोध देखा है। सड़क से लेकर विश्वविद्यालय परिसर के भीतर से हिंसा और मारपीट की दुखद खबरें आ रहीं हैं। देश में एक भय का माहौल बनाया जा रहा है। पार्टी पदाधिकारियों से उन्होंने कहा कि वे समाज के निम्न वर्ग के बीच जाकर फल एवं जरूरी चीजें वितरित करें, जिससे जनमानस में यह संदेश जाये कि इंसानियत से बड़ी कोई सेवा नहीं होती है। लखनऊ में प्रसपा प्रमुख ने गांधी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। साथ ही परिवर्तन चौक स्थित शनि मंदिर पर पूजा अर्चना की, इसी क्रम में दादा मिया की मजार पर जाकर चादरपोशी भी की। इसके उपरांत शिवपाल यादव ने अपने बड़े भाई और समाजवादी पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव के आवास पहुंचे और उनसे आशीर्वाद लिया।


योगी ने संगम घाट पर गंगा में लगाई डुबकी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बसंत पंचमी के मौके पर प्रयागराज पहुंचे। योगी ने संगम घाट पर गंगा में डुबकी लगाई। इस दौरान उनके साथ राज्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और अन्य लोग भी मौजूद रहे।इससे पहले बुधवार रात को प्रयागराज में ही सीएम योगी ने संगम तट पर आरती की। आरती के बाद सीएम योगी ने ट्वीट भी किया। सीएम योगी ने ट्वीट कर कहा, ‘प्रयागराज की पावन धरती पर संगम तट पर आरती करने का सौभाग्य प्राप्त होने से मन को अनिर्वचनीय एवं दिव्य अनुभूति हुई। मां गंगा से प्रार्थना है, कि वे सभी को अपने वात्सल्य एवं आशीर्वाद से सिंचित कर समृद्धि प्रदान करें। जय गंगा मइया।’ आज लाखों श्रद्धालु घाट पर स्नान करेंगे।


पतित-पावन 'उपन्यास'

पतित-पावन     'उपन्यास' 
'बसंत-ऋतु' थी चारों दिशाओं में सुहानी हवाओं के मंद-मंद झौंको में, जैसे खुशियां बरस रही थी। फागुन के आगमन की खुशियों में बसंत ने कोई कमी नहीं छोड़ रखी थी। बसंत जैसे रंगों में नहा-धोकर खुशनुमा माहौल बनाए हुए था। होली के रंगों के साथ मिट्टी की सौंधि-सौधि खुशबू वातावरण में घुल मिल गई थी। रह, रह कर गांव में मंद-मधुर मादक-शीतल समीर बह रही थी। सभी वृक्ष, पेड़-पौधों पर हास्यता छाई हुई थी। कहीं अधखिली कली कहीं रंग-बिरंगे फूल, सभी स्वयं में एक अद्भुत कथा का वर्णन करते नजर आ रहे थे। एक मस्त बहने वाला झोंका जैसे गांव के भीतर प्रविष्ट हुआ। गांव की सबसे ऊंची हवेली ही सबसे पहले दिखाई पड़ती थी। वह झौंका मानो उस कोठी की आभा में ही समाहित हो गया। छोटी इंटो से बनी यह हवेली संपूर्ण गांव में अनुपम तथा निराली थी। छोटी-छोटी ईटों से सजी यह भावपूर्ण हवेली, स्वयं में एक सुंदर कहानी थी। सुंदरता की प्रतीक गुलाबी वर्णों से सुशोभित यह हवेली लगभग 2000 वर्ग गज में फैली थी। इसकी तीन बड़ी छतें थी, लगभग 30 बड़े कमरे भी थे। जिनके बीच में एक दलान था, इसी हवेली का ऊपरी हिस्सा इस हवेली को दूसरी हवेली से जोड़ कर रखता था। यहां भी 22 कमरे बड़े बड़े थे। बड़ा-सा बरामदा और आंगन में ढेर लंबी घास की मांद साथ ही दुधारू भैंस, चार हीरे-मोती से बैल, दो यमराज की सवारी से भैंसे और तीन सुंदर-सी गाय थी। उन्हीं के मध्य में उनके बच्चे भी मस्त आनंद में थे। बरामदे में लगभग 15 कढ़ी हुई चारपाई मय तकियों- बिस्तर के पड़ी थी। 4-4 चारइयों के अंतराल में पीतल का हुक्का रखा था। गांव के कई श्रमिक श्रेणियां आव-भगत में लगी रहती थी। रसोई घर से हलवे की मादक सुगंध हवा में उड़ कर अन्य जीव-जंतुओं को भी आमंत्रित कर रही थी। खीर की महक ने मानो पित्र देवो को भी मुग्ध कर दिया था। पूरी और बासमती चावल भी कुछ तो साम्राज्य स्थापित कर ही रहे थे। देसी घी के शुद्ध पकवानों के विषय में और कुछ नहीं कहिएगा कहीं मुंह से लार न टपक जाए। कितना प्रभावमय व्यंजन निर्मित हो रहा था। एक सेवक ने रंग में भंग डाल ही दिया।
सेवक- नंबरदार, हुक्का भरूं। नंबरदार ने मुछें पहनी कर कहा- ताजा भी कर ला, पता नहीं कैंक दिन का पानी सड़गा है। अरे भाई, रोटी टुकड़े का भी कुछ अता-पता है अक नहीं। सेवक ने दास्तां पूर्ण कहा-थोड़ी देर लगेगी।
 सेवक अपने कार्य में लिप्त हो गया। नंबरदार ने एक अन्य सेवक को आवाज दी, बुलाकर कहा- इन आदमियों को कुछ पानी-पात भी दे दो। नाई ने शांत भाव से कहा-पूछ रहा हूं, दे भी रहा। नंबरदार की भाषा जोशीली थी। जिसके कारण सभी कर्मियों में भय सा कांप गया था। एक अन्य सेवक तेज कदमों से आकर बोला- नंबरदार पानी तो पिया दिया, रोटी तैयार है। सभी मेहमानों ने भोजन कर लिया था। शाम का अंधेरा बढ़ रहा था। घुड़चढ़ी की तैयारियां जोर-शोर पर थी। परंपरागत तौर से घुड़चढ़ी गांव में अपने ग्रामीण देवता को पूजने के माध्यम से आज भी उत्तर भारत में की जाती है। मुख्यतः यह कार्य रात्रि के समय में ही किया जाता है। आधुनिक काल में इसका अत्याधिक महत्व न रहकर भी कहीं न कहीं इसका परिचालन स्थित है। घोड़ी पर कसीदो से सजी चादर पड़ी थी। लाल लगाम और रंगीन दूल्हा भी घोड़ी पर बैठकर यह प्रतिपादित कर रहा था की घोड़ी अवश्य ही प्रकृति की अमोल देन है। उस पर छबीला जवान फलारा मारकर बैठा था। टेरिकोट का कुर्ता, नेपाली धोती बांधकर, ऊपर जवाहर कट इतनी खिल रही थी। सिर पर लुधियानवी पगड़ी, लाहोरी जूती क्या लालिमा छाई थी कैसी गरीमा बनी थी। दूल्हा तो रंगीला बना था। लालसा भी रंगों मे व्यग्र हो चली थी। दूल्हा कभी दारूण और कभी विडंब बन रहा था। उसकी मुद्रा आपत्तियों में सिमट रही थी। निराला बांकपन, अद्भुत अनुभव हो रहा था। कभी आंखों में लज्जा होती थी। जब पलके मूंदकर चादर सी ओड लेता था। मानो वह दिख ही नहीं रहा है। क्योंकि बनाव सिंगार की यह निराली परिभाषा थी। इससे पूर्व किसी अन्य का कभी भी ऐसा बनाव न हुआ था। सबसे खास बात तो यह थी कि लालटेन टीम टीमा कर रात को चाट रही थी।
 आधुनिक डिजिटल प्रगति और समसामयिक स्थानांतरण के कारण आज का युवा वर्ग संभवतः ही इस प्रकार का अनुभव करें। समय के साथ-साथ परिवर्तन भी अपनी गति से आगे बढ़ता रहता है। प्रभात में बारात चली गई थी। विवाह का अनुपम लाल जोड़ा पहने माधुरी भी स्वयं में एक निराली कहानी थी। लज्जा में तो उसके समान अकस्मात ही प्रस्तुत रहती थी कि छू दे, तो मिट्टी में मिल जाए। 'कभी भोजन घने, कभी मुट्ठी भर चने' सदा एक जैसे दिन तो रहते नहीं है। कुछ दिन पश्चात ही घर का एक वृद्ध मृत्यु को प्राप्त हो गया और खुशी कुछ दिनों के लिए ठहर सी गई। नंबरदार का प्यादा रानी नामक मौत ने नेस्तनाबूद कर दिया था। खुशियां बिखर अवश्य ही गई थी, परंतु कुछ दिनों के लिए। पृथ्वी पर स्वेच्छा से मृत्यु प्राप्त होना एक वरदान है और शारीरिक कष्ट, भौतिक कष्ट और दैविक कष्ट सहन करने के पश्चात मृत्यु को प्राप्त होना, किसी अभिशाप से कम नहीं है। हालांकि यह बात ज्यादातर लोग आराम से समझ सकते हैं। 'बुढ़ा मरेगा लड्डू तो बनेंगे', कोई बड़ी बात तो थी नहीं।


राधेश्याम 'निर्भय-पुत्र'


'उपनयन संस्कार' कार्यक्रम का आयोजन

रायपुर। श्री महामाया देवी मंदिर ट्रस्ट के द्वारा बसंतपंचमी के दिन नि:शुल्क उपनयन संस्कार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मंदिर परिसर में आयोजित कार्यक्रम में ब्राह्मण समाज के 100 से अधिक बटुकों का उपनयन संस्कार हुआ। इस दौरान सभी बटुकों ने भिक्षा मांगी। गुरु के आदर्शों और नियमों का पालन करने का संकल्प लिया। ट्रस्ट की ओर से परिजनों के लिए विशेष व्यवस्था की गयी। बटुक संस्कार में इस्तेमाल की जाने वाली सभी तरह की पूजन सामग्री ट्रस्ट द्वारा उपलब्ध कराई गई। आचार्य ने उपनयन संस्कार के बारे में बताते हुए ब्रह्मचर्य का महत्व बताया और गायत्री मंत्र के साथ ही दीक्षा दी। आचार्य पं रितेशानंद ने बताया कि सभी संस्कारों से उपनयन संस्कार सबसे महत्वपूर्ण होता है। इससे जीवन में अनुशासन आता है और धर्म की शिक्षा भी मिलती है। जनेऊ धारण करना व इसके नियमों पर चलना प्रत्येक ब्राह्यण का नैतिक कर्तव्य है। उपनयन संस्कार के दौरान बटुकों की तेल-हल्दी की रस्म के साथ ही मंडप पूजन की विधि की गई।  


यामिनी दुबे


पदाधिकारी की बैठक का किया आयोजन

गाजियाबाद। कारवाँ बैंकट हाल पावी पुसता लोनी विधान सभा में विशेष जन जागरण को लेकर भारतीय जनता पार्टी द्वारा जिला गाजियाबाद के सभी सम्मानित मंडलों के पदाधिकारी व जिला पदाधिकारी कि एक बैठक का आयोजन किया गया जिसमें मुख्यतिथि के रूप में पश्चिम उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष आदरणीय अशवनी त्यागी ने कहा धर्म के आधार पर हमारे देश का विभाजन हुआ
 हमारे पूर्व में देश के गृह मंत्री लाल कृष्ण आडवानी जी ने राज्य सभा में आवाज उठाई थी और कहा था कि भारतीय जनता पार्टी संकल्पित है पाकिस्तान, बंगला देश, अफगानिस्तान नागरिकता कानून समाधान 
परंतु गांधी परिवार व इंद्रा गांधी ने  सवाल उठाने तक सीमित रहे परंतु कोई समाधान नही हुआ 2014 मे मोदी सरकार द्वारा जनता, गरीब जो उपेक्षित रहा सबसे पहले देश को विकास के सभी कार्य किए
 देश में हमारी मुस्लिम बहनो का उत्पीडन बंद करके दिखाया ओर और विश्वास दिलाया की मुस्लिम बहनो के लिए हमारी सरकार मदद के लिए तत्पर रहेगी
तीन तलाक, राम मंदिर, धारा 370 ऐसे देश हित को मजबूत करने के लिए एक के बाद एक कानून लागू होने लगे देश संकल्प से सिद्धि की और चलने लगा तो सीएए कानून को लेकर देश की राजनीतिक पार्टियों को पसीना आने लगा इनकी परेशानी बडने लगी विपक्षीयो ने राजनीतिकरण करना शुरू कर दिया देश में धरना पदर्शन आग-जनी देश को धर्मो की राजनीति शुरू कर दी 
परंतु भारतीय जनता पार्टी द्वारा देश को धर्मो में बटने नही दिया जायेगा भारतीय जनता पार्टी द्वारा हमारा भारत देश पुनः विश्व की, सबसे बड़ी शक्ति बने इस लिए भाजपा कार्यकर्ता 1 फरवरी से 10 फरवरी तक जनजागरण अभियान चलाऐंगे और घर घर जाकर-तीन तलाक, राम मंदिर निर्माण, धारा 370, सीएए कानून के विषय में सभी प्रकार की जानकारी दी जायेगी 
भारतीय जनता पार्टी का संकल्प  एकात्म मानववाद हैं
देश की जनता ने दुबारा विश्वास किया और पहले से अधिक लोकसभा में सीट देकर प्रचंड बहुमत दिया इस प्रचंड बहुमत को पूर्ण रूप से समर्पित होकर विरोधियों को मुंह तोड जवाब देना हमारा  परम कर्तव्य हैं 
विपक्षी दलों ने एकत्रित होकर भारत बंद करने का आव्हान किया परंतु भारत की जनता ने मोदी सरकार को विश्वास दिला कर भारत बंद फिलोप कर दिखाया सपा बसपा कांग्रेस आम आदमी पार्टी जैसी अनेकों पार्टियों को देश की जनता ने मुंह तोड़ जवाब दिया उन्होंने कहा पहले की तरह हम जात पात धर्म में बैठने वाले नहीं हैं
जिला बैठक की अध्यक्षता नवनिर्वाचित जिला अध्यक्ष दिनेश सिंघल ने की ओर जिले के समस्त पदाधिकारी व मंडलों के अध्यक्ष द्वारा ३१जनवरी में जिला गाजियाबाद के सभी 11मंडलो में  प्रवासी नयुक्ति की और सभी का व्रत लिया 
विशेष बैठक में उपस्थित 
क्षेत्रीय उपाध्यक्ष डा प्रमेंद जांगडा क्षेत्रीय विधायक नंद किशोर गुर्जर जिला पंचायत अध्यक्षता लक्ष्मी मावी लोनी नगर पालिका अध्यक्षता रंजिता धामा मोदी नगर पालिका अध्यक्ष अशोक महेश्वरी मोदी नगर प्रमुख किशन चौधरी  जिला महामंत्री व संचालक अनुप बैसला राजेंदर वाल्मीकि अमित चौधरी डा विनोद बंसल पीछडा  मोर्चा प्रदेश मंत्री जिला मीडिया प्रभारी हिमांँशु शर्मा सह मीडिया प्रभारी नितिन मित्तल 
मंडल अध्यक्ष राहुल गुजजर आदि भारतीय जनता पार्टी के जिला पदाधिकारी व मोरचो व मंडलों के अध्यक्ष सभी सभासद गण आदि भारतीय जनता पार्टी के सम्मानित कार्यकर्ता उपस्थित रहें।


महाविद्यालय में बसंत-पंचमी का उत्सव मनाया

गाजियाबाद। 30 जनवरी को अशोक नगर स्थित वी एन भातखंडे संगीत महाविद्यालय गाजियाबाद में बसंत पंचमी उत्सव मनाया गया।
महाविद्यालय के निदेशक पंडित हरिदत्त शर्मा जी ने मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। सर्वप्रथम अनुश्री ने राग भैरवी में वंदना प्रस्तुत की। तत्पश्चात् सभी छात्र छत्राओं ने अपने गायन के माध्यम से मा शारदे को अपने श्रृद्धा सुमन अर्पित किए । वरिष्ठ कलाकार कृष्णा विश्व नाथ द्वारा प्रस्तुत राग आभोगी कान्हड़ा तथा पंकज शर्मा द्वारा गाया गया राग गौड़ मल्हार कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण रहे। ज्योति शर्मा हारमोनियम पर और प्रीति त्रिगुणायत व आयुष तबले पर संगतकार के रूप में कार्यरत थे। महाविद्यालय के निदेशक पंडित जी ने सभी श्रोताओं को बसंत पंचमी पर्व का महत्व एवं मा सरस्वती के प्राकट्य की कथा से अवगत कराया। निदेशक प्राचार्य व शिक्षकों सहित महाविद्यालय के सभी छात्र कार्यक्रम के प्रतिभागी बने।


'निशुल्क स्वास्थ्य' जांच कैंप का आयोजन

गाजियाबाद। रोटरी क्लब गाजियाबाद साउथ एंड व सर्वोदय अस्पताल कवि नगर के तत्वाधान में निशुल्क स्वास्थ्य जांच कैंप का आयोजन डॉक्टर नीरज गर्ग के क्लीनिक सूर्या मेडिकल सेंटर ऐफ 9 एचआईजी सेक्टर 23 संजय नगर पर हुआ इसका शुभारंभ रोटेरियन डिस्ट्रिक्ट गवर्नर दीपक गुप्ता परमार्थ समिति के चेयरमैन वीके अग्रवाल हनुमान मंगलमय परिवार ट्रस्ट के संस्थापक बी के शर्मा हनुमान ने किया शिविर में 200 से ज्यादा रजिस्ट्रेशन विभिन्न जांच के लिए हुए जिसके मुख्य निशुल्क ईसीजी ब्लड शुगर फेफड़ों की जांच हड्डियों की जांच कान की जांच ओराई दो बच्चों की गर्भवती महिलाओं की जांच तथा उन्हें आयरन कैल्शियम की दवाई वितरित की गई बच्चों को कीड़े मारने की दवा निशुल्क वितरित की गई शिविर में जाने-माने फि फिजीशियन चिकित्सक डॉ चंद्रशेखर बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर मनोज सिंह ई एन टी विशेषज्ञ अंशुल गर्ग सूर्या मेडिकल सेंटर की महिला चिकित्सक डॉ मंजू गर्ग फिजिशियन डॉक्टर नीरज गर्ग सीएमओ सर्वोदय अस्पताल व शशिकांत कविता मदन धर्मवीर वीणा का योगदान रहा शिविर को सफल करने में रोटरी क्लब अध्यक्ष सुमित गर्ग क्लब सचिव रोटेरियन अरुण अग्रवाल क्लब कोषाध्यक्ष रोटेरियन प्रवीण अग्रवाल ट्रेनर रोटेरियन सुमित गर्ग परमार्थ समिति के चेयरमैन वीके अग्रवाल मंगलमय हनुमान परिवार ट्रस्ट के संयोजक बीके शर्मा हनुमान रोटरी क्लब साउथ एंड से रोटेरियन पंकज गोयल रोटेरियन अनुज मित्तल आदि उपस्थित थे।


प्रदर्शनों के दौरान 'हिंसा की जांच'

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में हुए प्रदर्शनों के दौरान हिंसा की जांच रफ्तार पकड़ती जा रही है। हिंसा और पथराव की जांच के लिए गठित दिल्ली पुलिस अपराध शाखा की एसआईटी ने इस बाबत आम-आदमी से भी सहयोग की अपील की है। एसआईटी प्रमुख डीसीपी क्राइम ब्रांच राजेश देव ने लोगों से अपील की है कि उनके पास पथराव से संबंधित जो भी जानकारी या सबूत हों, वे एसआईटी को सौंप दें, ताकि जांच को अंजाम तक पहुंचाया जा सके। डीसीपी राजेश देव के मुताबिक, “बीते दिसंबर महीने में दिल्ली में जहां कहीं भी हिंसा-पथराव की घटनाएं हुई हों, एसआईटी विशेष कर उनकी जांच के लिए ही बनाई गई है। इसके लिए जन-सहयोग बेहद जरूरी है। इसीलिए एसआईटी ने जनता के पास मौजूद हिंसा की घटनाओं से संबंधित सबूत मांगे हैं। सबूत के तौर पर वीडियो क्लिप्स (फुटेज) और तस्वीरें एसआईटी को आरोपियों तक पहुंचाने में बेहद मददगार साबित हो सकती हैं।” डीसीपी ने आगे कहा, “जो भी सबूत किसी के पास मौजूद हों, वो इन्हें दिल्ली के पुरानी कोतवाली थाना परिसर में बने एसआईटी मुख्यालय में जमा करवा सकता है। अगर कोई इन दंगों में मदद के लिए गवाही देना चाहे तो इसी कार्यालय में पहुंचकर अपना बयान भी दर्ज कराने के लिए वो स्वतंत्र है।


1 महिला ने जीता 'ग्रैंडमा अर्थ'

बेंगलुरु। टेक्नो हब कहलाने वाले शहर की 62 वर्षीय एक महिला ने हाल ही में बुल्गारिया में आयोजित ग्रैंडमा यूनिवर्स सौंदर्य प्रतियोगिता में ‘ग्रैंडमा अर्थ’ का खिताब अपने नाम किया है। ग्रैंडमा अर्थ, 2020 की विजेता का नाम आरती चटलानी है। विजेता बनने के बाद 25 जनवरी को फेसबुक पर उनकी तस्वीर अपलोड की गई। सोफिया आधारित ऑर्गनाइजर ने अपने वेबसाइट पर कहा, “ग्रैंडमा यूनिवर्स/क्लासिक यूनिवर्स दुनिया में एकमात्र ऐसी सौंदर्य प्रतियोगिता है, जो हर दादी द्वारा निभाए गए खूबसूरत जिम्मेदारियों का जश्न मनाने के साथ प्रोत्साहित करता है।” कार्यक्रम में दुनियाभर की दादियों ने प्रतिभाग लिया था, उनकी प्रतिभा का प्रदर्शन करने के लिए इसका आयोजन 19 जनवरी से 23 जनवरी के बीच आयोजित किया गया था।साल 2019 में ग्रैंडमा यूनिवर्स की खिताब की विजेता स्पेन की इजाबेल हेरेरो डालमाउ थीं। वह तीन बच्चों की मां होने के साथ ही पेशे से वकील और एक रियल स्टेट और मॉडलिंग एजेंसी की मालकिन भी थीं।


महात्मा गांधी की 72 वी पुण्यतिथि मनाई

गाजियाबाद। साहिबाबाद विधानसभा की पप्पू कॉलोनी में सचिव मज्जू चौधरी के आवास पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 72 वी पुण्यतिथि मनाई गई।
मुख्य अतिथि सपा नेता पंडित मनमोहन झा गामा जब्बार मलिक मीडिया प्रभारी रहे
सपा नेता पंडित मनमोहन झा गामा ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या आज के ही दिन दिल्ली के बिरला हाउस में नाथूराम गोडसे के द्वारा तीन गोलियां मारकर की गई राष्ट्रपिता महात्मा गांधी अहिंसा के पुजारी थे इन्होंने सर्वप्रथम साउथ अफ्रीका को गोरे काले जैसे सीएबी कानून का विरोध कर साउथ अफ्रीका में भाईचारा और एकता कायम करवाने का कार्य किए उसके बाद उन्होंने अंग्रेज भारत छोड़ो सत्याग्रह आंदोलन के द्वारा देश की आजादी में अहम भूमिका निभाया ऐसे महान पुरुष के चित्रों पर हम समाजवादी लोग श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं और वर्तमान सरकार से अनुरोध है की धरने पर बैठे हमारे हिंदुस्तानी भाइयों के दर्द को समझे चाहे वह शाहिनबाग हो लखनऊ का घंटाघर हो बिहार का गया हो पटना हो पूर्णिया हो या महाराष्ट्र हो केरला हो संपूर्ण हिंदुस्तान में आज नौजवान आंदोलित है बहू बेटियां सड़कों पर है सरकार को चाहिए इन आंदोलनकारियों को संतुष्ट करें ताकि मजबूत हिंदुस्तान का निर्माण हो सकें।
श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालों में जब्बार मलिक मीडिया प्रभारी मुज्जू चौधरी आदिल सिद्दीकी मईनू जावेद मुन्ना गुलाम रसूल भूरा शकील भाई सुरेंद्र सिंह विपिन मिश्रा चंदन त्रिपाठी आदि लोग मौजूद रहे। उक्त जानकारी जब्बार मलिक मीडिया प्रभारी साहिबाबाद विधान सभा समाजवादी पार्टी गाजियाबाद द्वारा दी गयी।


ससुरालियो ने दामाद को जिंदा जलाया

अंबिकापुर। कोरबा जिले से दिल दहला देने वाली खबर सामने आ रही है। यह खबर बेहद दर्दनीय असहनशील है, जहां ससुराल वालों ने अपने ही दामाद को पेट्रोल डालकर जिंदा भूंज दिया है। आपको बता दें घायल दामाद को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। मिली जानकारी के अनुसार युवक ने अपने पत्नी को घर ले जाने के लिए ससुराल गया था। पति-पत्नी के बीच हुए विवाद के बाद कुछ महीनों से पत्नी मायके में थी। कहासुनी होने पर युवक पर पेट्रोल डालकर आग लगा दिये। जिसका आरोप पत्नी और साले पर लगा है।


ट्रक से कुचलकर, 2 युवकों की दर्दनाक मौत

ट्रक से कुचलकर दो युवकों की दर्दनाक मौत


फतेहपुर। उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के मलवां थाना क्षेत्र के ढकौली कटका बाईपास मोड़ पर बांदा-टांडा राजमार्ग पर बुधवार को ट्रक का पहिया बदल रहे दो युवकों की मौत विपरीत दिशा से आ रहे एक अन्य ट्रक से कुचलकर हो गयी।जानकारी देते हुए शाह पुलिस चौकी के प्रभारी उपनिरीक्षक मुकेश सिंह ने बताया कि, ‘बुधवार दोहपर बांदा-टांडा राजमार्ग में ढकौली कटका बाईपास मोड़ पर ट्रक का पंचर पहिया बदलते समय विपरीत दिशा से आ रहे एक अन्य ट्रक ने दो युवकों को कुचल दिया। जिससे एक युवक की मौत घटनास्थल पर ही हो गयी थी। जबकि दूसरे युवक ने इलाज के लिए कानपुर जाने के दौरान रास्ते में दम तोड़ दिया।’ उन्होंने बताया, ‘‘मृत युवकों की पहचान ट्रक खलासी जानी (22) और उसके सहयोगी रवि कुमार (20) निवासी लालगंज रायबरेली के रूप में की गयी है। दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है और हादसे में शामिल अज्ञात ट्रक एवं उसके चालक की तलाश की जा रही है।


आज ही बदले खतरनाक आदतें

फैमिली प्लानिंग करना, बच्चे की प्लानिंग करना, ये सारी बातें आसान नहीं होतीं। बहुत सी महिलाओं को आपने देखा होगा कि उन्हें कंसीव करने यानी गर्भधारण करने में किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं होती। वे बड़ी आसानी से प्रेग्नेंट हो जाती हैं। वहीं कुछ महिलाओं को कंसीव करने में काफी वक्त लगता है। आपको पता ही नहीं होता कि कब और किस महीने आपका प्रेग्नेंसी टेस्ट पॉजिटिव होगा। लेकिन परेशान होने की जरूरत नहीं। अगर आप प्रेग्नेंट होने की कोशिश कर रही हैं तो हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसी बुरी आदतों के बारे में जिन्हें आपको तुरंत बदल देना चाहिए…
स्मोकिंग और ड्रिंकिंग
स्मोकिंग सेहत के लिए कितना हानिकारक है ये जानते हुए वैसी महिलाएं जो स्मोकिंग करती हैं वे भी प्रेग्नेंट हो जाने के बाद सिगरेट पीना बंद कर देती हैं ताकि होने वाले बच्चे को किसी तरह का नुकसान ना हो। लेकिन अगर आप प्रेग्नेंट होने की कोशिश कर रही हैं तब भी बेहद जरूरी है कि आप सिगरेट और तंबाकू से दूर रहें। स्मोकिंग करने से मिसकैरिज का खतरा बढ़ जाता है, होने वाले बच्चे में जन्मजात दोष का भी खतरा रहता है। सिगरेट के साथ-साथ शराब पीना भी बंद कर दें। ऐल्कॉहॉल के सेवन से पीरियड्स अनियमित हो जाते हैं, ऑव्यूलेशन में कमी हो जाती है और हॉर्मोन्स का लेवल भी बिगड़ जाता है जिस वजह से गर्भधारण करने में दिक्कतें आती हैं।
कैफीन का सेवन
कैफीन में कमी करने का मतलब ये नहीं कि आपको चाय-कॉफी पीना पूरी तरह से बंद कर देना है। आपको बस इसकी क्वॉन्टिटी में कमी करनी है और कॉफी या कैफीन इनटेक को सीमित मात्रा में करना है। ज्यादा कैफीन के सेवन से ब्लड प्रेशर बढ़ता है और कई दूसरे तरह के नुकसान भी होते हैं। लिहाजा बच्चे की प्लानिंग कर रही हैं, प्रेग्नेंट होना चाहती हैं तो चाय-कॉफी का सेवन कम कर दें।
बहुत ज्यादा एक्सर्साइज या वर्कआउट
अगर आप भी फिटनेस फ्रीक हैं, आपको अपने वर्कआउट और एक्सर्साइज से बहुत ज्यादा प्यार है, ये सारी बातें अपनी जगह पर बिलकुल ठीक हैं। लेकिन अगर आप कंसीव करने की कोशिश कर रही हैं तो बेहद जरूरी है कि एक्सर्साइज, वर्कआउट सबकुछ लीमिट में रहकर करें। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि बहुत ज्यादा एक्सर्साइज करने वाली महिलाओं को गर्भधारण करने में बहुत वक्त लगता है। जो महिलाएं बहुत ज्यादा वर्कआउट करती हैं उनका मेन्स्ट्रुअल साइकल बिगड़ जाता है और इसका सीधा असर आपकी फर्टिलिटी पर पड़ता है।
डेंटल हेल्थ पर ध्यान न देना
अब आप सोच रही होंगी कि डेंटल हेल्थ का प्रेग्नेंसी से क्या लेना देना है? तो जवाब ये है कि अगर आप अपने ऑरल हाइजीन और डेंटल हेल्थ का ख्याल नहीं रखती हैं तो प्रेग्नेंसी के वक्त प्रीमच्योर डिलिवरी होने का खतरा बढ़ जाता है। मुंह की साफ-सफाई और डेंटल हेल्थ अगर बुरी है तो पुरुषों में स्पर्म काउंट पर इसका काफी असर पड़ता है जिस वजह सेफीमेल पार्टनर को प्रेग्नेंट होने में दिक्कतें आती हैं। लिहाजा प्रेग्नेंट होने से पहले ही डेंटिस्ट से अपना पूरा चेकअप करवाएं।
हरी सब्जियां न खाना
अगर आप प्रेग्नेंट होने की कोशिश कर रही हैं तो बेहद जरूरी है कि आप खुद को फिट और हेल्दी बनाए रखें और इसके लिए हेल्दी डायट का सेवन करना बेहद जरूरी है। ऐसे में जंक फूड और फास्ट फूड जैसी चीजों को छोड़कर हरी सब्जियों से दोस्ती करें। हरी पत्तेदार सब्जियों में फॉलिक ऐसिड और विटमिन बी होता है जो प्रेग्नेंट होने से पहले ही शरीर के लिए बेहद जरूरी है। ये दोनों न्यूट्रिएंट्स बच्चे में किसी भी तरह की दिक्कत होने से रोकते हैं। अगर प्रेग्नेंट होना चाहती हैं तो हरी सब्जियां खाना शुरू कर दें।


पेट-आंखों के लिए रामबाण गाजर

सर्दियों का मौसम यानि की सब्जियों का मौसम। सर्दियों में सब्जियों के हमारे पास कई सारे ऑप्शन होते हैं, लेकिन जब बात आती है अच्छी सेहत कि तो दिमाग में हमेशा खाने की ही चीजें चलती हैं। अब जरा सोचिए कि क्या सिर्फ खाने से ही सेहत अच्छी बनेगी ? जी नहीं खाने के साथ हमें अपनी लिक्विड डायट का भी पूरा ध्यान रखना होगा है तभी तो दिल, दिमाग, आंखें और सेहत सब कुछ एकदम फिट रहेगा।
इसलिए आज हम आपको बताने वाले हैं गाजर के जूस के हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में। गाजर एक ऐसी सब्जी है, जो सर्दियों के मौसम में बाजारों में खूब मिलती है। गाजर आंखों के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। साथ ही इसमें कैलोरी बहुत कम होती है, इसलिए जो लोग डायटिंग, वजन कम करने के बारे में सोच रहे हैं वो भी इसका सेवन बिना झिझक के कर सकते हैं। गाजर का जूस न सिर्फ सेहत के लिए बहुत अच्छा माना जाता है, बल्कि ये कई बीमारियों का रामबाण इलाज भी है। तो चलिए जानते हैं गाजर के जूस के फायदे।
आंखों और स्किन की समस्या को करेगा दूर
गाजर में प्रचूर मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है। रोजाना 1 गिलास गाजर का जूस पीने से स्किन और आंखों की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। हेल्थसाइट की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रोजाना 1 गिलास गाजर का जूस पीने से मेटाबॉलिज्म में सुधार आता है। साथ ही यह फाइन लाइन्स, स्किन एजिंग, झुर्रियों को भी कम करने में मददगार साबित होता है।
पित्त स्राव को बढ़ाने में मददगार
कुछ अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि गाजर का जूस पीने से पित्त स्राव बढ़ता है। पित्त फैट को खत्म करने के लिए जिम्मेदार माना जाता है।
स्ट्रेस को करता है कम
गाजर का जूस में बीटा कैरोटीन में भरपूर मात्रा होता है, एक अध्ययन ने यह साबित किया है, बीटा-कैरोटीन ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने में मददगार साबित होते हैं। साथ ही यह ग्लूटाथियोन मेटाबॉलिज्म में सुधार करता है।


कैबिनेट की बैठक में सीएए से एतराज

रायपुर। भूपेश कैबिनेट की बैठक खत्म हो गयी है। कैबिनेट की बैठक में CAA  पर ऐतराज जताया गया। वहीं बैठक में CAA का विरोध जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा। मुख्यमंत्री की तरफ से लिखे गये पत्र में CAA-2019 को अनुचित बताते हुए इस कानून को वापस लेने का अनुरोध किया गया। 29 जनवरी 63.50 मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है और किसानों को 11 हजार करोड़ रुपये जारी किया जा चुका है। राज्य सरकार को उम्मीद है कि लक्ष्य के मुताबिक 85 हजार मीट्रिक टन धान की खरीदी हो जायेगी।


सहकारी सोसायटी एक्ट में संशोधन के निर्णय पर कैबिनेट नें मंजूरी दी है, सहकारी सोसायटी में निजी भागीदारी का भी निर्णय लिया गया है, हालांकि इसे लेकर सरकार से रजामंदी लेनी जरूरी होगी। छत्तीसगढ़ खेल प्राधिकरण की पहली बैठक आज हुई। मुख्यमंत्री को प्राधिकरण के सदस्य की नियुक्ति के लिए अधिकृत किया गया है। खेल अकादमी के लिए उद्योग व अन्य संगठनों का साथ लेकर पीपीपी मॉडल पर इसे डेवलप करने का निर्णय लिया गया। 
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज निवास कार्यालय में मंत्रिपरिषद की बैठक आयोजित हुई। बैठक में
 नागरिकता (संशोधन) अधिनियम 2019 (सी.ए.ए.) में किए गए संशोधन को आम जनता में देखे जा रहे विरोध के दृष्टिगत, वापस लिए जाने का अनुरोध भारत सरकार से करने का निर्णय लिया गया।


छत्तीसगढ़ सहकारी सोसायटी (संशोधन) अध्यादेश, 2020 के प्रारूप का अनुमोदन किया गया। जिसके तहत
‘‘कोई भी सोसायटी, किसी भी सरकार के उपक्रम सहकारी सोसायटी या राज्य सरकार द्वारा अनुमोदित किसी उपक्रम या निजी उपक्रम के साथ, किसी विशेष कारबार के लिए जिसमें औद्योगिक विनिधान, वित्तीय सहायता या विपणन और प्रबंधन विशेषज्ञता शामिल है, सहयोग कर सकेगी।
कोई भी सहकारी सोसाइटी साधारण सभा के उपस्थित तथा मतदान करने वाले सदस्यों के साधारण बहुमत से, उसके साधारण सम्मिलन में पारित संकल्प द्वारा ऐसा सहयोग कर सकेगी। सहकारी सोयाइटी को ऐसा सहयोग करने के पूर्व प्रत्येक मामले में राज्य सरकार की पूर्व अनुमति अनिवार्य है।


किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदे गए धान का 2500/-प्रति क्विंटल की दर से भुगतान सुनिश्चित करने के लिए अनुशंसा करने हेतु मंत्रिमण्डलीय उप-समिति के गठन का आदेश जारी किया गया है। जिसका बैठक में अनुसमर्थन किया गया।


राज्य में वर्तमान में वास्तविक सिंचाई क्षमता 10.38 लाख हेक्टेयर है, जोकि कुल कृषि योग्य भूमि का 18 प्रतिशत है। राज्य में सिंचाई के त्वरित विकास हेतु छत्तीसगढ़ अधोसंरचना विकास निगम को छत्तीसगढ़ सिंचाई विकास निगम में परिवर्तित किए जाने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। छत्तीसगढ़ अद्योसंरचना विकास निगम में कार्यरत अमले को जहां प्रतिनियुक्ति पर है, उन्हें वहीं पर यथावत रखने का निर्णय लिया गया। छत्तीसगढ़ सिंचाई विकास निगम का गठन अधिसूचना के दिनांक से प्रभावशील होगी।


एसटीएफ ने डॉ कपिल को किया गिरफ्तार

मुंबई। उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स ने गोरखपुर के डॉक्टर कफील खान को मुंबई से गिरफ्तार किया है। कफील खान पर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने का आरोप है। उन्होंने पिछले साल 12 दिसंबर को AMU में यह भाषण दिया था। 13 दिसंबर को उनके खिलाफ अलीगढ़ के सिविल लाइन्स पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 153-A के तहत केस दर्ज किया गया। जिसके बाद STF ने बुधवार को उन्हें मुंबई से गिरफ्तार कर लिया।
मिली जानकारी के अनुसार, डॉक्टर कफील खान के खिलाफ दर्ज की गई FIR में इस बात का जिक्र किया गया है कि उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में करीब 600 छात्रों को संबोधित किया था। इस दौरान उन्होंने CAA को लेकर भड़काऊ भाषण दिया। कफील खान गुरुवार को मुंबई स्थित 'मुंबई बाग' में हो रहे प्रदर्शन में शामिल होने के लिए वहां गए थे। 'मुंबई बाग' में CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहीं महिलाएं अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर हैं। कफील खान को आज (गुरुवार) 11 बजे प्रदर्शन स्थल पर जाना था लेकिन इससे पहले ही UPSTF ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। जानकारी के अनुसार, STF की टीम उन्हें लखनऊ लेकर आ चुकी है।


निर्मल गंगा अभियान के तहत शुभ-यात्रा

कौशांबी। जनपद कौशांबी के ककोढा ग्राम पंचायत में हाइवे रोड से गंगा-यात्रा व निर्मल गंगा अभियान के तहत शोभा यात्रा निकाली गई। ककोढा ग्राम प्रधान व जिले के अधिकारियों के व्यवस्था बनाने में निकले पसीने, प्रशासनिक अधिकारी भी जनता को संभालने में रहे हलाकान, अधिकारियों के काफी प्रयास से जनता भीड़ जुटाई गई। लेकिन नेताओं की शोभा यात्रा निकल जाने के बाद जनता वभीड़ में मायूसी दिखी, क्योंकि वह सरकार के नेताओं को अपनी बात न बता पाने पर मायूसी दिखी, क्योंकि वह जिस उद्देश्य से उपस्थित हुए थे। लोगों के अनुसार ग्राम वासियों को आज सबसे ज्यादा नुकसान छुटटा गौवॅश जानवरों के फसल खा जाने से हो रहा था। किसानों के सामने भूखो मरने की नौबत आ रही है।


पत्रकार विष्णु सोनी


टैंकर से टकराई दूल्हा-दुल्हन की कार

दुल्हन को बिदा करा कर जा रहे दूल्हे की कार टैंकर से टकराई


दूल्हा दुल्हन समेत कई रिश्तेदार हुए चोटहिल


कोखराज-कौशाम्बी। उन्नाव जनपद के नादिर पुर के रहने वाले सत्यनारायण प्रसाद द्विवेदी के बेटे संजीव कुमार द्विवेदी की बारात इलाहाबाद गयी थी। बेटे की शादी के बाद वह बेटे की दुल्हन को बिदा करा कर एक कार से दूल्हे और उसके रिश्तेदार के साथ उन्नाव जा रहे थे। जैसे ही कार सवार कोखराज थाना क्षेत्र के जायसवाल ढाबा के पास पहुँचे कि जायसवाल ढाबे में खड़ा एक टैंकर ने अचानक टैंकर को सड़क पर मोड़ दिया। अचानक टैंकर आ जाने से कार चालक कार को नियंत्रित नही कर सका, जिससे कार में टैंकर चालक ने टक्कर मार दिया।


कार की टक्कर के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई, आसपास के लोग घटना स्थल पर पहुँचे और घायलों को कार से बाहर निकाला। जिससे कार में सवार दूल्हा दुल्हन समेत कई रिश्तेदार चोटहिल हो गए है। सूचना पाकर मौके पर कोखराज पुलिस भी पहुँच गयी और घायल कार सवार दूल्हा दुल्हन रिश्तेदारों को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में पुलिस ने भेजा है। जहाँ प्राथमिक उपचार कराने के बाद घायल उन्नाव के लिए रवाना हो गए है। मौके पर कोखराज पुलिस ने पहुँच कर टैंकर को अपने कब्जे में ले लिया।


अजीत कुशवाहा


शिक्षकों को लेकर, बंगाल में बड़ा फैसला

बंगाल सरकार ने शिक्षकों के तबादले को लेकर लिया बड़ा फैसला
 
कविता गर्ग


कोलकाता। पश्‍च‍िम बंगाल सरकार ने शिक्षकों के तबादले को लेकर महत्‍वपूर्ण फैसला किया है। राज्‍य की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि सभी शिक्षकों को उनके घरेलू जिले में पोस्‍ट‍िंग दी जाएगी। उन्‍होंने कहा कि समाज और देश निर्माण में शिक्षकों की भूमिका, मुख्‍य अभिभावक की तरह है और उनके लिये उठाया गया यह कदम उनके प्रति आभार व्‍यक्‍त करने के लिये है।


मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि सरस्‍वती पूजा की पूर्व संध्‍या पर सभी शिक्षकों के प्रति आभार व्‍यक्‍त करते हुए, हमने सभी शिक्षकों की पोस्‍ट‍िंग उनके घरेलु जिले में करने का फैसला किया है। उन्‍होंने कहा कि यह फैसला ऐतिहासिक है और इससे शिक्षक अपने परिवार का ध्‍यान रखते हुए, मानसिक शांति के साथ काम कर सकेंगे। साल 2018 दिसंबर में स्‍कूल शिक्षा विभाग ने अगले आदेश तक सभी राज्‍य संचालित और राज्‍य पाषित स्‍कूलों के शिक्षकों के ट्रांसफर पर रोक लगा दिए थे। ममता बनर्जी के इस फैसले से शिक्षक खुश हैं।


बापू को पुण्यतिथि पर दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली। आज पूरे देश में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि मनाई जा रही है। 30 जनवरी 1948 को नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने राजघाट जाकर बापू को श्रद्धांजलि दी। इससे पहले ट्विटर के जरिए राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और रक्षा मंत्री ने राष्ट्रपिता को नमन किया था। जहां राष्ट्रपिता ने कहा कि बापू हमारे लिए बिना शर्त दूसरों से प्यार करने का मंत्र छोड़कर गए हैं। वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें नमन किया। 
राष्ट्रपति भवन ने ट्विटर पर लिखा, ‘शहीद दिवस पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। अपने अंतिम बलिदान में गांधीजी ने हमारे लिए एक अनुस्मारक छोड़ा: बिना शर्त प्यार, खासतौर से दूसरों के लिए। मुझे विश्वास है, हममें से कई लोग गांधीजी के सच्चे संदेश की खोज करेंगे।’


विधायक को बताया 'बेपेंदी का लोटा'

मुंबई। बीजेपी की फायर ब्रांड नेत्री और पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी के CAA विरोधी बयान पर तीखा हमला बोला है। उमा भारती ने उन्हें बेपेंदी का लोटा बता डाला। साथ ही कहा कि इस मामले में पार्टी के अध्यक्ष राकेश सिंह उनसे बात करेंगे। दरअसल, उमा भारती 29 जनवरी को सीहोर के प्राचीन सिद्धविनायक गणेश मंदिर पहुंची थीं, जहां उन्होंने यह बयान दिया। उमा भारती ने बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘वह एक विजातीय तत्व हैं, जो हमारे यहां आ गए हैं। वह बेपेंदी के लोटे हैं, जिनकी कोई विचारधारा नहीं हैं। जैसे सर में जूं काटने लगती है, वैसे ही बीच-बीच में यह लोग काटने लगते हैं।’


विधायक ने अपनी ही पार्टी पर बोला था हमला


गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के मैहर विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने 28 जनवरी को संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) का विरोध करते हुए कहा था कि सीएए से देश में गृहयुद्ध जैसी स्थितियां बन रही हैं, जो देश के लिए घातक है। उन्होंने अपनी ही पार्टी पर सीएए लागू कर देश को धर्म के आधार पर बांटने का आरोप लगाया था। उन्होंने तंज कसा कि बीजेपी को भीमराव अंबेडकर द्वारा लिखित संविधान को फाड़कर फेंक देना चाहिए और एक अलग से संविधान बनाकर उसके तहत देश को चलाना चाहिए।


‘धर्म के नाम पर नहीं हो सकता देश का बंटवारा’


नारायण त्रिपाठी ने कहा था, ‘सीएए तो आप (बीजेपी) ले आए। अब भीमराव अंबेडकर के संविधान को फाड़कर फिंकवा दो, फिर बीजेपी का अलग से संविधान बन जाए और उस संविधान के तहत देश को चलाएं। भीमराव अंबेडकर ने कहा है कि यहां सभी धर्म के लोग रहेंगे और हिन्‍दुस्‍तान चलेगा। संविधान में धर्म के नाम पर एवं नागरिकता के नाम पर देश का बंटवारा नहीं हो सकता।’


कांग्रेस का मिला समर्थन


भाजपा विधायक के बयान के बाद मध्‍य प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने त्रिपाठी का समर्थन करते हुए कहा कि देर आए दुरुस्‍त आए। वह विचारधारा से न सिर्फ कांग्रेस के सदस्य हैं, बल्कि वह विधायक भी रहे हैं। इससे पहले भी विधानसभा में एक मामला आया था तो उन्होंने सीएम कमलनाथ का सपोर्ट किया। यकीनन जो बात उनके दिल में है वो बाहर आ गई है। सच कहूं तो उन्‍होंने अपनी राजनीति में विधान के मूल मंत्र का पालन किया है। केवल नारायण त्रिपाठी नहीं, बल्कि उत्तर प्रदेश में भी एक विधायक ने सीएए का विरोध किया था। वहीं, त्रिपाठी को भोपाल से कांग्रेस विधायक आरिफ का भी भरपूर साथ मिला। कांग्रेस विधायक ने कहा कि नारायण त्रिपाठी का डीएनए कांग्रेसी है।


दोषी अक्षय की याचिका को खारिज किया

नीलमणि पाल


नई दिल्ली। निर्भया मामले में एक दोषी अक्षय ठाकुर कि क्यूरेटिव याचिका को जस्टिस एनवी रमन्ना की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय पीठ ने खारिज कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि याचिका विचार योग्य नहीं है। इसमें कोई नया आधार नहीं जो विचार करने लायक हो।


इसी मामले में फांसी की सजा पाए विनय शर्मा और मुकेश की क्‍यूरेटिव याचिकाएं भी 14 जनवरी को खारिज हो चुकी हैं। इसके बाद, इन्‍होंने राष्‍ट्रपति के पास दया याचिका लगाई। फांसी की सजा के बाद खुद को बचाने के लिए सिर्फ तीन ही रास्ते होते हैं- पुनर्विचार, क्यूरेटिव और मर्सी पिटीशन (राष्ट्रपति के पास दया याचिका)। इससे पहले दोषियों ने ट्रायल कोर्ट द्वारा दी गई मौत की सजा पर सवाल उठाते हुए याचिकाएं दायर की थी। ट्रायल कोर्ट द्वारा दी गई मौत की सजा को बाद में हाईकोर्ट और शीर्ष अदालत ने भी बरकरार रखा था।


16 दिसंबर, 2012 को दिल्ली के वसंत विहार में चलती बस में 23 वर्षीय निर्भया के साथ बेरहमी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया था, जिसके बाद उसकी मौत हो गई थी। इसमें छह लोग शामिल थे, जिसमें राम सिंह ने जेल में फांसी लगा ली थी, जबकि एक नाबालिग सजा पूरी कर चुका है। वहीं चार अन्य दोषियों को निचली अदालत, दिल्ली हाई कोर्ट के बाद सुप्रीम कोर्ट भी फांसी की सजा सुना चुका है।


वायरस ने तोड़ी शेयर बाजार की कमर

मुंबई। शेयर बाजार की शुरुआत गुरुवार को तेजी के साथ हुई लेकिन बिकवाली के दबाव में बाजार जल्द ही टूट गया। चीन में कोरोना वायरस का प्रकोप गहराने के कारण विदेशी संकेत कमजोर रहने से घरेलू शेयर बाजार में गिरावट आई। आज सेंसेक्स सुबह पिछले सत्र के मुकाबले 157.81 अंकों यानी 0.38 फीसदी की गिरावट के साथ 41,198.66 पर कारोबार कर रहा था। वहीं, निफ्टी 49.55 अंकों यानी 0.41 फीसदी की कमजोरी के साथ 12,079.95 पर कारोबार कर रहा था। इससे पहले बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 181.48 अंकों की तेजी के साथ 41,380.14 पर खुला लेकिन विकवाली के दबाव में टूटकर 41,023.13 पर आ गया।


नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी पिछले सत्र के मुकाबले बढ़त के साथ 12,147.75 पर खुला और 12,150.30 तक उछला, लेकिन जल्द ही फिसल कर 12,072.65 पर आ गया। पिछले सत्र में निफ्टी 12,129.50 पर बंद हुआ था। चीन में कोरोनावायरस का प्रकोप गहराने के कारण पैदा हुई आर्थिक चिंता के चलते एशियाई बाजारों में नरमी का रुख बना हुआ था। एशियन स्टॉक्स टूटकर करीब सात सप्ताह के निचले स्तर पर आ गया है। जानकार बताते हैं कि कोरोनावायरस के कहर से दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था की रफ्तार पर असर पड़ने के कारण शेयर बाजारों में मंदी का माहौल है।


महिलाओं को मस्जिद में प्रवेश की अनुमति

नई दिल्ली। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने उच्चतम न्यायालय में कहा कि मुस्लिम महिलाओं को पुरुषों की तरह ही नमाज के लिए मस्जिदों में प्रवेश की अनुमति होती है। पीठ अनेक धर्मों में व केरल के सबरीमला मंदिर समेत धर्मस्थलों पर महिलाओं के साथ भेदभाव से संबंधित कानूनी और संवैधानिक मुद्दों पर विचार कर रही है। सचिव मो.फजलुर्रहीम ने वकील एमआर शमशाद के माध्यम से दाखिल अपने हलफनामे में कहा कि धार्मिक पाठों, शिक्षाओं और इस्लाम के अनुयायियों की धार्मिक आस्थाओं पर विचार करते हुए यह बात कही जा रही है कि मस्जिद के भीतर नमाज अदा करने के लिए महिलाओं के मस्जिद में प्रवेश की अनुमति है, इसलिए कोई मुस्लिम महिला नमाज के लिए मस्जिद में प्रवेश के लिए स्वतंत्र है। इसमें कहा गया कि मुस्लिम महिलाओं को अलग स्थान दिया गया है क्योंकि इस्लाम की शिक्षाओं के अनुसार उन्हें मस्जिद या घर पर जहां चाहें वहां नमाज पढ़ने पर उतना ही धार्मिक पुण्य मिलेगा।


सीबीआई में इंटर्न के रूप में काम का मौका

नई दिल्ली। देश में पहली बार, ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट और रिसर्च असिस्टेंट की डिग्री लेने वाले उम्मीदवारों को सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टीगेशन (CBI) के साथ इंटर्न के रूप में काम करने का मौका मिल रहा है। दरअसल सीबीआई ने छह से आठ हफ्ते के एक प्रोग्राम शुरू किया है। जिसमें उम्मीदवार इंटर्न के रूप में काम कर सकते हैं। इंटर्नशिप में सीबीआई इंटर्न्सं को  ‘क्लेक्शन ऑफ डेटा’,  सूचना और इनवेस्टिगेशन टेक्नीक की ट्रेनिंग देगा। इस इंटर्नशिप के लिए वहीं उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं जो भारत का नागरिक हो और किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजु्एशन, पोस्ट- ग्रेजुएशन या रिसर्च स्टूडेंट हो। बता दें, कानून, डेटा विश्लेषण, फोरेंसिक साइंस, क्रिमिनोलॉजी मैनेजमेंट, इकोनॉमिक्स और कॉमर्स कोर्सेज में विशेषज्ञता रखने वाले उम्मीदवारों  को चयन प्रक्रिया के दौरान वरीयता दी जाएगी।


इस प्रोग्राम की जानकारी सीबीआई ने पिछले हफ्ते दी थी। वहीं इस तरह की इंटर्नशिप शुरू करने वाली वह देश की पहली एजेंसी बन गई है। अब तक, एफबीआई और सीआईए जैसी केवल अमेरिकी खुफिया एजेंसियां ​​इंटर्नशिप कार्यक्रम आयोजित करती रही हैं। आवेदनों के माध्यम से जाने वाली एक समिति द्वारा दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, हैदराबाद, बेंगलुरु, कोलकाता, लखनऊ और चंडीगढ़ में अलग-अलग सीबीआई शाखाओं के लिए कुल 30 उम्मीदवारों  को शॉर्टलिस्ट किया जाएगा। एक बार चुने जाने के बाद, सीबीआई अपने काम के लिए सभी आवश्यक सामग्री के साथ इंटर्न को प्रदान करेगी। आपको बता दें, इस दौरान इंटर्न को सैलरी नहीं दी जाएगी, लेकिन उनके ठहरने और यात्रा के लिए व्यवस्था करनी होगी.  बता दें, आवेदन करने के लिए किसी भी प्रकार का भुगतान नहीं करना होगा।


नोट: आधिकारिक नोटिफिकेशन देखने के लिए यहां क्लिक करें:- http://cbi.gov.in/employee/recruitments/vacancy_cbi.php


'ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी' की घोषणा

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन खतरनाक कोरोना वायरस को लेकर हरसंभव उठाने की चेतावनी दी है। चीन में घातक कोरोना वायरस का कहर इस कदर बढ़ता जा रहा है कि इससे 25 और लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है, जिसके साथ ही इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 132 हो गई है। करीब 6,000 लोगों के इसकी चपेट में आने की भी पुष्टि की गई है। ऐसे में डब्ल्यूएचओ ने गुरुवार को एक आपात बैठ बुलाई है। इस बैठक में यह तय किया जाएगा कि इस वायरल महामारी को ग्लोबल हेल्थ इमर्जेंसी घोषित करना चाहिए या नहीं। अगर बैठक में कोरोना वायरस को ग्लोबल हेल्थ इमर्जेंसी घोषित किया गया तो इससे निपटने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कदम उठाए जा सकेंगे। डब्ल्यूएचओ के प्रमुख तेद्रोस अधानोम घेब्रेयेसस ने कहा कि संगठन विदेशी नागरिकों को चीन के विषाणु संक्रमित प्रांत हुबेई से निकालने की अनुशंसा नहीं करता है। उन्होंने विश्व समुदाय से शांत रहने की भी अपील की। उनका बयान चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ बैठक के दौरान आया। भारत, अमेरिका और कई अन्य देश हुबेई प्रांत से अपने नागरिकों को बाहर निकालने की योजना बना रहे हैं।  हुबेई प्रांत में 250 से अधिक भारतीय हैं,जिनमें अधिकतर छात्र, रिसर्च स्कॉलर और पेशेवर हैं। इस प्रांत की राजधानी वुहान है जहां खतरनाक कोरोना वायरस फैला हुआ है। तेद्रोस ने बीजिंग को आश्वासन दिया कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में हरसंभव मदद करेंगे। उन्होंने विश्व समुदाय से कहा कि शांत रहें और महामारी के परिप्रेक्ष्य में ज्यादा प्रतिक्रिया नहीं दें जिससे चीन में सौ से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।


चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि वायरस संक्रमण के 5,974 मामलों की पुष्टि हुई है। तिब्बत को छोड़कर चीन के सभी प्रांतों में विषाणु के मामले सामने आए हैं जिससे स्वास्थ्य अधिकारियों के समक्ष इससे निपटने में बड़ी चुनौती पेश आ रही है। विदेशों में थाईलैंड में सात, जापान में तीन,दक्षिण कोरिया में तीन, अमेरिका में तीन, वियतनाम में दो, सिंगापुर में चार, मलेशिया में तीन, नेपाल में एक, फ्रांस में तीन, ऑस्ट्रेलिया में चार और श्रीलंका में एक नागरिक के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। संकट पर चीनी अधिकारियों से वार्ता के लिए घेब्रेयेसस बीजिंग के दौरे पर हैं। उन्होंने न्यूमोनिया को फैलने से रोकने में चीन के प्रयासों की सराहना की। सरकारी शिन्हुआ संवाद समिति ने खबर दी है कि विदेश मंत्री वांग यी के साथ बैठक में घेब्रेयेसस ने कहा कि डब्ल्यूएचओ और अंतरराष्ट्रीय समुदाय चीन सरकार के निर्णयात्मक कदमों की प्रशंसा करते हैं। उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएचओ नागरिकों को बाहर निकालने की अनुशंसा नहीं करता है और अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपील करता है कि शांत रहें और ज्यादा हाय तौबा न मचाएं। उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएचओ को महामारी को रोकने और नियंत्रित करने की चीन की क्षमता पर विश्वास है।


ईरानी कमांडर मारने वाले का प्लेन क्रैश

नई दिल्ली। अफगानिस्तान (Afghanistan) के गजनी प्रांत (Ghazni Province) में हुए विमान  घटना को लेकर ईरानी मीडिया ने दावा किया है कि प्लेन क्रैश ईराने टॉप कमांडर कासिम सुलेमानी की हत्या का योजना बनाने वाले अमेरिकी खुफिया एजेंसी के वरिष्ठ अधिकारी माइकल डी एंड्रिया की मौत हो गई है।  ईरानी मीडिया ने एक रशियन सूत्र के हवाले से कहा है कि प्लेन क्रैश में ईराक, ईरान और अफगानिस्तान में अमेरिकी इंटैलिजेंस का प्रमुख मारा गया। हालांकि रिपोर्ट में कहा गया कि ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है जिससे यह पता चल सकेत कि जासूसी विमान को दुश्मन हमले में मार गिराया गया. हादसे के कारणों का पता लगाने के लिए जांच जारी है।


बतादें अमेरिकी सेना (us Army) ने पूर्वी अफगानिस्तान (Afghanistan) में एक सैन्य विमान दुर्घटना स्थल से दो लोगों के अवशेष बरामद किए हैं।  अफगानिस्तान में अमेरिकी सैन्य मिशन ने एक विज्ञप्ति में बताया कि अमेरिकी विमान से उड़ान डेटा रिकॉर्डर या ‘ब्लैक बॉक्स’ गजनी प्रांत में दुर्घटनास्थल से बरामद किया गया है. अधिकारियों ने अपनी विज्ञप्ति में कहा कि शवों और ब्लैक बॉक्स की बरामदगी के बाद अमेरिकी बलों ने ई-11-ए इलेक्ट्रॉनिक्स निगरानी विमान के अवशेष को नष्ट कर दिया है।


समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, अधिकारियों ने कहा है कि दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है. इसके साथ ही उन्होंने दोहराया कि इस बात का कोई संकेत नहीं मिला है कि यह दुर्घटना दुश्मन के हमले से हुई है. दरअसल तालिबान द्वारा सोमवार को इस हमले की जिम्मेदारी ली गई थी।यह विमान सोमवार अपराह्न् लगभग 1:30 बजे जमीन पर गिरा था. गजनी गवर्नर के एक प्रवक्ता आरिफ नूरी ने सोमवार को एफे न्यूज को बताया था कि विमान दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद जल गया. इसमें सवार किसी भी व्यक्ति की जान नहीं बच सकी. स्थानीय निवासियों ने मलबे से दो पायलटों के शवों को निकाला था।


 


सोना-चांदी की कीमतों में भारी गिरावट

नई दिल्ली। सराफा बाजार में बुधवार को सोने और चांदी दोनों की कीमतों में भारी गिरावट दर्ज की गई है। सोने में बुधवार को 182 रुपए की कमी आई इस कमी के राजधानी दिल्ली में अब सोने की कीमत 41,019 रुपए प्रति 10 ग्राम पर आ गई है। एचडीएफसी सिक्युरिटीज के अनुसार, रुपए में मजबूती के चलते सोने की कीमत में यह गिरावट दर्ज की गई है। बतादें कि सोना मंगलवार को 41,201 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। सोने के साथ ही चांदी में बुधवार को भारी गिरावट दर्ज की गई है। चांदी में बुधवार को 1,083 रुपए की गिरावट दर्ज की गई है। इस गिरावट से अब चांदी का भाव 46,610 रुपए प्रति किलोग्राम पर आ गया है। चांदी मंगलवार को 47,693 रुपए प्रति किलोग्राम के रेट पर बंद हुई थी। औद्योगिक इकाइयों और सिक्का कारोबारियों की लिवाली कम होने के चलते चांदी में यह गिरावट देखी गई है।


एचडीएफसी सिक्युरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (कमोडिटी) तपन पटेल के अनुसार दिल्ली में 24 कैरेट सोने के दाम में भी बुधवार को 182 रुपए की गिरावट दर्ज की गई है। वैश्विक स्तर पर सोने की कीमतों में गिरावट और रुपये की मजबूती के चलते सोने में यह गिरावट दर्ज की गई है। साथ ही उन्होंने बताया कि भारतीय रुपए गुरुवार को एक डॉलर के मुकाबले 12 पैसे मजबूत होकर कारोबार कर रहा था।



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


जनवरी 31, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-174 (साल-01)
2. शुक्रवार, जनवरी 31, 2020
3. शक-1941, माघ - शुक्ल पक्ष, तिथि- षष्ठी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:10,सूर्यास्त 05:52
5. न्‍यूनतम तापमान 8+ डी.सै.,अधिकतम-21+ डी.सै., हल्की बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


11 आरोपियों के खिलाफ उम्रकैद की सजा सुनाईं

मनोज सिंह ठाकुर         भिण्ड। मध्यप्रदेश के भिण्ड जिले की एक अदालत ने एक युवक की गोली मारकर हत्या के मामले में ग्यारह आरोपियों के खिलाफ दोष...