सोमवार, 18 अप्रैल 2022

गाजियाबाद में 10 जून तक धारा-144 लागू

गाजियाबाद में 10 जून तक धारा-144 लागू      

अश्वनी उपाध्याय              
गाजियाबाद। जिले के डीएम राकेश कुमार सिंह ने जिले में 10 जून तक धारा-144 लागू कर दी है। डीएम राकेश कुमार सिंह ने ईद उल फितर, ईस्टर एवं विभिन्न जयंती के चलते यह आदेश जारी किया है। उन्होंने कहा कि बिना लिखित इजाजत के कोई जुलूस या आम सभा आयोजित नहीं की जा सकेगी।
इसके साथ ही सार्वजनिक जगहों पर मास्क लगाना भी अनिवार्य कर दिया गया है। उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि कोई भी व्यक्ति सार्वजनिक स्थानों पर बिना फेस कवर/मास्क के भ्रमण नहीं करेगा और न ही वह सार्वजनिक स्थान पर थूकेगा। हालांकि आदेशों में मास्क नहीं पहनने पर जुर्माने जैसी कोई बात अभी नहीं की गई है।
गौरतलब है कि मुल्क भर में कोरोना के मामलों में इज़ाफे के साथ-साथ यूपी में बढ़ोतरी हुई है। यूपी में फिलहाल, कोरोना को मामलों की तादाद 695 है।

एनसीआर: सार्वजनिक स्थलोंं पर 'मास्क' अनिवार्य

एनसीआर: सार्वजनिक स्थलोंं पर 'मास्क' अनिवार्य   

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। दिल्ली सहित अन्य सीमावर्ती कुछ राज्यों में कोविड के मामले बढ़ने के कारण राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के सभी जिलों में भी सार्वजनिक स्थलों पर मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है।
टीकाकरण से छूटे लोगों को चिन्हित कर इन्हें टीका लगाया जाये। साथ ही जनसमाधान प्रणाली (पब्लिक एड्रस सिस्टम) का प्रभावी ढंग से इस्तेमाल किया जाये और कारोना के लक्षणयुक्त लोगों की टेस्टिंग कराई जाये।

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 2,183 मामलें

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 2,183 मामलें    

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। देश में कोरोना एक बार फिर से डराने लगा है। संक्रमित मरीजों और मृतकों की संख्या में भारी बढ़ोतरी हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी सोमवार के आंकड़े के अनुसार, बीते 24 घंटों में कोरोना के 2,183 मामलें सामने आए हैं। इस दौरान 214 लोगों की मौत हो गई। जो कि देश के लोगों के लिए चिंता का विषय है। हालांकि, 1,985 लोग डिस्चार्ज भी हुए। देश में सक्रिय मरीज की संख्या की बात करें तो यह 11, 542 हो गई है। महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक कुल 5,21,965 लोगों की मौत हुई है। वहीं इस दौरान कुल  4,25,10,773 लोग स्वस्थ भी हुए।
राजधानी में कोरोना लगातार पैर पसार रहा है। इस कड़ी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 517 नए मामले मिले हैं। 
इससे पहले 24 फरवरी को 556 नए मरीज व तीन फरवरी को संक्रमण दर 4.3 फीसदी रही थी। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, बीते 24 घंटों में कोरोना के 12,270 टेस्ट किए गए हैं, वहीं 261 मरीजों ने कोरोना को हराया है। होम आइसोलेशन में 964 मरीज, अस्पतालों में 66, आईसीयू में नौ, ऑक्सीजन सपोर्ट पर 10 व वेंटिलेटर पर शून्य मरीज हैं। 
बीते 24 घंटे में 37,244 लोगों ने कोरोना से बचने के लिए टीके को अपनाया है। इसमें से 8,331 लोगों ने पहली व 17,550 लोगों ने दूसरी खुराक ली है।

जश्न की महफिल में मोक़ामी शायरों का जमावड़ा

जश्न की महफिल में मोक़ामी शायरों का जमावड़ा   

बृजेश केसरवानी          
प्रयागराज। अन्जुमन खुद्दामे मोजिज़नुमा की ओर से दरियाबाद स्थित इमामबाड़ा जद्दन मीर साहब मे हज़रत इमाम हसन की यौमे विलादत के मौक़े पर सजी जश्न की महफिल में मोक़ामी व गैर मोक़ामी शायरों का जमावड़ा लगा। नजीब इलाहाबादी की निज़ामत मे हुई महफिल का आग़ाज़ मौलाना अख्तर हसन नजफी के तेलावते कलाम पाक से हुआ। मदरसा जमीयतुल अब्बास के फाउण्डर व मशहूर आलिमेदीन मौलाना सैय्यद कल्बे अब्बास रिज़वी की सदारत मे हुए आल इण्डिया जश्ने शब्बर मे शोअरा ने पैग़म्बरे इसलाम हज़रत मोहम्मदे मुस्तफा के नवासे हज़रत अली के बड़े फरज़न्द हसन ए मुजतबा की विलादत पर एक से बढ़कर एक अशआर  सुना कर वाह वाही लूटी।
मौलाना डॉ. रिज़वान हैदर रिज़वी ने इमाम हसन की विलादत पर तक़रीर मे इमाम के मोजज़ात और उनके हुस्ने ऐखलाक़ के बारे मे तफसील से बताया। महफिल आयोजक रज़ा हसनैन ने आए हुए शोअरा ओलमा व तमाम मोमनीन का शुक्रिया अदा किया। वहीं, शायरों ओलमाओं के साथ कोरोना काल व अन्य मौक़ो पर उल्लेखनीय कार्य करने वाले दो दर्जन से अधिक योद्धाओं को शाल प्रशस्तिपत्र व मोमेन्टो दे कर सम्मानित भी किया गया।
मौलाना व इमाम ए जुमा हसन रज़ा ज़ैदी ,मौलाना सैय्यद जव्वादुल हैदर रिज़वी ,मौलाना सैय्यद रज़ी हैदर,मौलाना अम्मार ज़ैदी ,मौलाना इन्तेज़ार आब्दी,मौलाना आमिरुर रिज़वी ,मौलाना सैय्मद जाबिर अब्बास ,सैय्यद अज़ादार हुसैन ,हमूद रिज़वी ,गौहर काज़मी ,शाहीन काज़मी ,सै०ज़फर अब्बास रिज़वी,महताब हुसैन नक़वी ,ताहिर मलिक ,हसन नक़वी,असरार नियाज़ी ,शफक़त अब्बास पाशा,फसाहत हुसैन ,वक़ार हुसैन रिज़वी ,शारिब ,अरशद ज़ैदी ,ग़ुलाम अब्बास ,ज़ुल्करनैन आब्दी ,सै.मो. अस्करी,ज़ामिन हसन,औन ज़ैदी ,ताबिश सरदार ,जौन ज़ैदी समेत अन्य लोग शामिल रहे। 

एम.एम. नरवणे की जगह लेंगे जनरल पांडे

एम.एम. नरवणे की जगह लेंगे जनरल पांडे 

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे अगले सेना प्रमुख होंगे। पांडे सेना के वर्तमान उप-प्रमुख हैं और वह जनरल एम.एम. नरवणे की जगह लेंगे, जो इस महीने के अंत तक सेवानिवृत्त होने वाले हैं। ले. जनरल पांडे सेना प्रमुख बनने वाले कोर ऑफ इंजीनियर्स के पहले अधिकारी होंगे।
सरकारी सूत्रों के मुताबिक, अगला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) कौन होगा, इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। पिछले सीडीएस जनरल बिपिन रावत की पिछले साल दिसंबर में एक हेलिकॉप्टर दुर्घटना में मृत्यु हो जाने के बाद से यह पद खाली पड़ा है।
पांडे सेना प्रमुख बनने वाले कोर ऑफ इंजीनियर्स के पहले अधिकारी होंगे। इस पद पर अब तक इन्फैंट्री, आर्मर्ड और आर्टिलरी अधिकारियों का कब्जा रहा है। सूत्रों ने कहा कि लेफ्टिनेंट जनरल पांडे, जो पूर्वी सेना कमांडर रहे हैं और वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ प्रौद्योगिकी के अधिक एकीकरण के प्रमुख समर्थकों में से एक हैं। 
वह अपने साथ सेना प्रमुख की कुर्सी पर ऑपरेशनल और रसद दोनों अनुभव लाएंगे। सूत्रों ने कहा कि जनरल नरवणे सीडीएस बनने के लिए स्वाभाविक पसंद हैं। जनरल रावत की मिसाल को देखते हुए उन्हें यह पद मिल सकता है जिन्होंने सेना प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने के बाद शीर्ष पद संभाला था। लेकिन उनके नाम को अभी तक अंतिम रूप नहीं दिया गया है। क्योंकि सरकार अभी भी कुछ विकल्पों पर विचार कर रही है।

हिंसा: वीएचपी व बजरंग दल के सदस्यों पर केस

हिंसा: वीएचपी व बजरंग दल के सदस्यों पर केस    

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा मामले में पुलिस ने विश्व हिंदू परिषद (VHP) और बजरंग दल के सदस्यों पर भी केस दर्ज किया है। उन पर बिना परमिशन के शोभायात्रा निकालने का आरोप है। पुलिस ने VHP के जिला सेवा प्रमुख प्रेम शर्मा को भी गिरफ्तार किया है। इधर, हनुमान जयंती दंगों के मुख्य आरोपी अंसार और असलम सहित 14 लोगों को दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने असलम और अंसार की दो दिन की पुलिस रिमांड बढ़ा दी है। बाकी 12 आरोपियों को जुडिशियल कस्टडी में भेजा है।
दिल्ली के जहांगीरपुरी में सोमवार को एक बार फिर पथराव की घटना हुई है। दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम वीडियो फुटेज के आधार पर सोनू चिकना की पत्नी को हिरासत में लेने के लिए जहांगीरपुरी के सी ब्लॉक स्थित मकान में गई थी। उसी दौरान कुछ लोगों ने घरों से पुलिस पर पत्थरबाजी कर दी।
सोनू चिकना वही शख्स है। जिसने 16 अप्रैल को हनुमान जन्मोत्सव के दिन हिंसा के दौरान फायरिंग की थी। हालांकि, पुलिस ने बताया कि यह एक छोटी सी घटना थी, आरोपियों पर कानूनी कार्रवाई की जा रही है। घटना स्थल पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है।
इधर, दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने कहा कि सोशल मीडिया पर हमारी नजर हैं। कुछ लोग ऐसे हैं जो चाहते हैं कि माहौल न सुधरे। सोशल मीडिया पर ऐसी गलत जानकारी और माहौल बिगाड़ने वाली पोस्ट करने वालों पर एक्शन लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि शनिवार को दिल्ली के जहांगीरपुरी में हुई हिंसा मामले में अब तक 21 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। 2 नाबालिगों को हिरासत में लिया गया है। हमारी अपील है कि अफवाहों पर ध्यान न दें। अगर कोई फैक्ट वैरिफाई करना है, तो आप सीधे पुलिस से बात करिए।
हिंसा में 8 पुलिसकर्मियों और एक नागरिक सहित 9 लोग घायल हुए हैं। अब तक इस हिंसा से जुड़े करीब 100 वीडियो सामने आ चुके हैं। इनके आधार पर पुलिस आरोपियों की पहचान कर रही है। दिल्ली पुलिस के सब इंस्पेक्टर मेदालाल मीणा हिंसा के दौरान वहां सुरक्षा में तैनात थे। उनके हाथ में गोली लगी है। उन्होंने बताया कि पुलिस दोनों पक्षों को अलग कर रही थी, लेकिन देखते ही देखते दोनों पक्षों में पथराव शुरू हो गया।
इसी बीच किसी ने भीड़ में 7-8 राउंड गोलियां भी चलाईं। मेदालाल मीणा कहते हैं कि मैं देख नहीं सका कि गोलियां किसने चलाईं और भीड़ की वजह से यह भी नहीं देख सका कि लड़ाई किसने शुरू की। रविवार दोपहर पुलिस ने हिंसा के 14 आरोपियों को रोहिणी कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने 2 मुख्य आरोपियों अंसार और असलम को पुलिस रिमांड में और 12 आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।
हिंसा की जांच अब दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के हवाले कर दी गई है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ साजिश रचने और हत्या के प्रयास करने जैसे आरोपों में मुकदमा दर्ज किया है। जांच के दौरान फायरिंग वाली जगह से गोली का खोखा बरामद हुआ है। पुलिस की 10 टीमें हिंसा की जांच कर रही हैं।

राजकीय विद्यालय में कराए गए कार्यों का लोकार्पण

राजकीय विद्यालय में कराए गए कार्यों का लोकार्पण 

पंकज कपूर       
काशीपुर। प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सोमवार को काशीपुर पहुंचे। जहां उन्होंने बांसखेड़ा इंटर कॉलेज में पहुंचकर एक पेपर मिल्स के द्वारा काशीपुर के आधा दर्जन से अधिक राजकीय विद्यालय में कराए गए कार्यों का लोकार्पण किया। दरअसल काशीपुर में आज प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आज काशीपुर पंहुँचे। काशीपुर में अलीगंज रोड स्थित एक स्कूल के बने हैलीपैड पर उतरे जिसके बाद वह ग्राम बाँसखेड़ा स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय में बहल पेपर्स मिल्स लि० काशीपुर के संस्थापक नरेश कुमार झांजी द्वारा गोद लिये गये 7 सरकारी स्कूलों के कायाकल्प का उद्घाटन किया। इस दौरान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने स्कूल में बने कक्षाओं का भी निरीक्षण किया तथा फीता भी काटा। इस दौरान मंच से अपने संबोधन में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सरकार बनने के बाद जनता से किए गए वादों के मुताबिक सरकार के द्वारा किये गए कार्य का उल्लेख किया।
तो वहीं उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में सभी सुविधाएं इंग्लिश मीडियम स्कूलों की भांति ही उपलब्ध है तथा शिक्षा के क्षेत्र में बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए बहुत ही बड़ा बदलाव है। स्कूलों में सभी सुविधायें इंग्लिश मीडियम स्कूलों की भांति ही उपलब्ध हैं तथा शिक्षा के क्षेत्र में बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए बहुत ही बड़ा बदलाव है। मैं नरेश कुमार झांजी, निदेशक बहल पेपर मिल्स लिमिटेड, काशीपुर माननीय मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी जी एवं माननीय सभी विधायकों तथा अतिथिगणों का आभार व्यक्त करता हूँ। इस दौरान मीडिया से रूबरू होते हुए।
उन्होंने कहा कि प्रशासन तथा बहल पेपर मिल के द्वारा एक साथ मिलकर सात स्कूलों के रूपांतरण का कार्यक्रम आयोजित किया गया है ऐसे 500 विद्यालयों का रूपांतरण किया जा रहा है। यह एक अच्छी पहल और अच्छी शुरुआत है। उन्होंने कहा कि हम अच्छे काम के लिए आगे आने वाले सभी लोगों का धन्यवाद देते हैं, जो कि समाज हित में आगे आ रहे हैं और जो भी लोग समाज हित में आ जाएंगे हम उनका स्वागत करेंगे। उन्होंने चंपावत विधानसभा सीट पर चुनाव लड़ने के बाबत सस्पेंस खत्म होने के सवाल पर कहा कि सस्पेंस अभी बाकी है, आप इंतजार कीजिए।

गेहूं का बाजार भाव 2,175 रुपये प्रति क्विंटल रहा

गेहूं का बाजार भाव 2,175 रुपये प्रति क्विंटल रहा  

संदीप मिश्र       
पीलीभीत। जनपद में इस बार गेहूं का बाजार भाव नित नए रिकार्ड तोड़ रहा है। सोमवार को गेहूं का बाजार भाव 2175 रुपये प्रति क्विंटल रहा। जोकि, न्यूनतम समर्थन मूल्य से 160 रुपए अधिक रहा। गेहूं का बढ़ता बाजार भाव सरकारी खरीद पर भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। ऐसे में अब जनपद के किसान सरकारी क्रय केंद्रों से दूरी बनाते जा रहे हैं।
उपज का बाजिव मूल्य और नकद भुगतान मिलने से किसान भी खुश हैं। मगर, इससे सरकारी खरीद में जुटे अफसरों के पसीने छूट रहे हैं। सरकार द्वारा इस बार गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2015 रुपए प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है। जनपद में गेहूं की खरीद के लिए 137 क्रय केंद्र खोले गए हैं।
गेहूं की खरीद शुरू हुए पखवाड़ा भर से अधिक का समय बीत चुका है, लेकिन अभी तक 50 फीसदी क्रय केंद्रों पर एक दाना भी नहीं खरीदा जा सका है। शासन द्वारा जनपद को इस बार 2.31 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद का लक्ष्य दिया गया है, लेकिन जनपद में गेहूं खरीद को लेकर शासन की मंशा पर पानी फिरता नजर आ रहा है। इसकी वजह यह है कि इस बार विदेशों से आ रही डिमांड के बाद देश से बड़े पैमाने पर गेहूं का निर्यात किया जा रहा है। इसका सीधा असर गेहूं के बाजार भाव पर पड़ता दिखाई दे रहा है।

द लोनी फाइल्स, अत्याचार आज भी बरकरार

द लोनी फाइल्स, अत्याचार आज भी बरकरार   

अश्वनी उपाध्याय 
गाजियाबाद। बहुचर्चित हिंदी फीचर फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' में निर्देशक के द्वारा 1990 के दशक में हिंदुओं पर कश्मीर राज्य में किए गए अत्याचार को प्रदर्शित करने की बेहतर कोशिश की गई है। लेकिन यह बीता हुआ कल है। जिसके चित्रण या अभिनय पर दोष सिद्धि के आरोप लगाए जा सकते हैं। परंतु आज केंद्र और  उत्तर प्रदेश में भाजपा दल सत्तारूढ़ है। जो सनातन सभ्यता और संस्कृति का आधुनिकरण करने का प्रयास कर रहा है। यदि ऐसी स्थिति में किसी हिंदू परिवार पर उत्तर प्रदेश में अत्याचार किया जाता है तो यह हिंदुत्व विचारधारा के लिए शर्म की बात है। जानकारी के अनुसार गाजियाबाद की तहसील लोनी स्थित बुध नगर निवासी बुजुर्ग दंपत्ति श्रीमती कृष्णा देवी व पति पोशाकी घर के पास हनुमान मंदिर में साफ-सफाई आदि का कार्य करते हैं। 11 अक्टूबर 2017 में बुजुर्ग दंपत्ति ने अपने जीवन भर की जमा पूंजी से वर्ग 33.44 मीटर जमीन खरीदी थी। 
उपरोक्त अंकित तिथि में ही 6 लाख रुपए का भुगतान भी कर दिया गया था। भूस्वामी जुबेदा बेगम पति असर मोहम्मद ने सन 2017 से आज तक बुजुर्ग दंपत्ति को न जमीन पर कब्जा दिया और ना ही उसके रुपए लौटाए हैं। श्रीमती कृष्णा देवी के द्वारा इस संबंध में उप जिला अधिकारी तहसील लोनी से कई बार लिखित शिकायत की है। लेकिन कोई संतोषजनक कार्रवाई नहीं हुई है। जुबेदा दबंग प्रवृत्ति की महिला है। जिसने किसी भी प्रकार की कानूनी कार्रवाई करने पर श्रीमती कृष्णा को जान से मारने की धमकी भी दी है। एक हिंदू बुजुर्ग दंपत्ति पर अत्याचार किया जा रहा है, जिसके विरोध में कोई दल-संगठन सामने नहीं आया है। पीड़ित बुजुर्ग महिला ने बताया कि पति की बीमारी के चलते किसी बड़े अधिकारी तक जाना संभव नहीं होता है। स्थानीय विधायक नंदकिशोर गुर्जर के किसी सहयोगी के द्वारा शिकायत की गई थी। लेकिन हिंदू विचारधारा के समर्थक विधायक के द्वारा भी अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। प्रकरण में पुनः 6 अप्रैल को उप जिला अधिकारी को सहायता के लिए पत्र लिखा गया है। हिंदुत्व का दम भरने वाले, हिंदुत्व को लेकर धरना-प्रदर्शन करने वाले, चीखने-चिल्लाने वाले सभी लोग गलत नहीं है। आज भी हिंदुओं पर अत्याचार बरकरार है। यदि हम बारीकी से अध्ययन करते हैं तो प्रमाणीकरण करना अधिक कठिन नहीं है कि योगी सरकार में हिंदुओं का शोषण और हनन बदस्तूर जारी है।

2 साल बाद फिर से एक्टिंग करती दिखेंगी अभिनेत्री

2 साल बाद फिर से एक्टिंग करती दिखेंगी अभिनेत्री 

कविता गर्ग         
मुंबई। बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री करिश्मा कपूर एक बार फिर से दर्शकों को अपनी एक्टिंग का दम दिखाने वाली हैं। उन्होंने अपने नए प्रोजेक्ट की घोषणा की है। करिश्मा कपूर दो साल बाद फिर से एक्टिंग करती दिखाई देंगी। करिश्मा कपूर को आखिरी बार ऑल्ट बालाजी की वेब सीरीज मेंटलहुड में एक्टिंग करते हुए देखा गया है। हालांकि उनकी यह वेब सीरीज ज्यादा चर्चा में नहीं रही थी।
अब एक बार फिर से करिश्मा कपूर ने एक्टिंग करने का फैसला किया है। उनके नए प्रोजेक्ट का नाम ब्राउन है। इस बात की जानकारी करिश्मा कपूर ने सोशल मीडिया के जरिए दी है। करिश्मा कपूर सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहने रहती हैं। अपने फैंस से जुड़े रहने के लिए वह अक्सर खास तस्वीरें और वीडियो भी शेयर करती करती रहती हैं। करिश्मा कपूर ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम अकाउंट पर अपनी लेटेस्ट तस्वीर शेयर की है।
इस तस्वीर में एक क्लप बोर्ड दिखाई दे रहा है। वहीं क्लप बोर्ड की पीछे करिश्मा कपूर की आंखे नजर आ रहे हैं। बोर्ड पर प्रोजेक्ट का नाम ब्राउन लिखा है। हालांकि ब्राउन उनकी फिल्म है या वेब सीरीज अभी इसका खुलासा नहीं हो पाया है। इस तस्वीर को शेयर करते हुए करिश्मा कपूर ने खास कैप्शन भी लिखा है। उन्होंने कैप्शन में लिखा, ‘नई शुरुआत।’ सोशल मीडिया पर करिश्मा कपूर की यह तस्वीर वायरल हो रही है।
अभिनेत्री के फैंस उनकी तस्वीर को खूब पसंद कर रहे हैं। 
साथ ही कमेंट कर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। वहीं करिश्मा कपूर की बहन करीना कपूर खान ने भी अपने इंस्टाग्राम अकाउंट की स्टोरी पर बहन के नए प्रोजेक्ट की तस्वीर शेयर की है। आपको बता दें कि ब्राउन का निर्देशन फिल्म डेली बेली, फोर्स 2 और ब्लैकमेल जैसी फिल्मों का निर्देशन कर चुके अभिनय देव कर रहे हैं।
ब्राउन एक थ्रिलर क्राइम ड्रामा होगी। इसमें करिश्मा कपूर के साथ अभिनेता सूर्य शर्मा मुख्य भूमिका में होंगे। सूर्य शर्मा वेब सीरीज अनदेखी से काफी सुर्खियां बटोर चुके हैं। इस वेब सीरीज में उन्होंने रिंकू पाजी का किरदार निभाया था, जिसे दर्शकों ने खूब पसंद किया था। करिश्मा कपूर और सूर्य शर्मा के फैंस उन्हें एक साथ एक्टिंग करते हुए देखने के लिए काफी उत्साहित हैं।

शेट्टी ने राहुल को बड़े रोमांटिक अंदाज में विश किया

शेट्टी ने राहुल को बड़े रोमांटिक अंदाज में विश किया  

कविता गर्ग          
मुंबई। सुनील शेट्टी की बेटी अथिया शेट्टी ने अपने बॉयफ्रेंड केएल राहुल को बर्थडे पर बड़े रोमांटिक अंदाज में विश किया। उन्होंने सोशल मीडिया पर एक कोजी सी फोटो शेयर कर प्यारा सा मेसेज भी शेयर किया। इस तरह अथिया ने इंस्टाग्राम पर मोनोक्रोम तस्वीरें पोस्ट कर राहुल का 30वां बर्थडे और खुशनुमा बना दिया।
पहली तस्वीर में, अथिया केएल राहुल को हग हुए दिखाई दे रही हैं, क्योंकि वो कई बिल्डिंग के बगल में सड़क पर कैमरे के लिए पोज दे रहे हैं। जहां अथिया ने टॉप, क्रॉप्ड डेनिम जैकेट और पैंट पहनी हुई है, वहीं केएल राहुल ने टी-शर्ट के साथ शर्ट और पैंट अपने कैजुअल लुक को कंप्लीट करते हुए कैप लगाई हुई है।
वहीं अगली तस्वीर में दोनों को हाथ पकड़े जंगल में घूमते हुए दिखाई दे रहे हैं। आखिरी तस्वीर में, ये कपल एक बस के अंदर हग कर रहे हैं। जहां उन्होंने काले रंग की जैकेट पहनी थी, वहीं अथिया ने सफेद स्वेटशर्ट पहनी थी। अथिया ने अपनी पोस्ट को कैप्शन दिया, “आपके साथ कहीं भी, जन्मदिन मुबारक हो इसके साथ ही उन्होंने तीन हार्ट इमोजी के साथ एक स्माइली भी शेयर किया।
पोस्ट पर रिएक्शन देते हुए केएल राहुल ने कमेंट किया, ‘लव यू’ इसके साथ ही ब्लैक हार्ट इमोजी भी पोस्ट किया।’ आकांक्षा रंजन कपूर ने कमेंट सेक्शन में लिखा, ‘एक और बबल के इंतजार में।’ ईशा गुप्ता, अनुष्का रंजन, अनुषा दांडेकर और एमी जैक्सन ने रेड हार्ट वाले इमोजी पोस्ट किए।
अथिया के भाई, एक्टर अहान शेट्टी ने भी इंस्टाग्राम स्टोरीज पर अपनी और केएल राहुल की एक तस्वीर शेयर की। दोनों व्हाइट और ब्लैक आउटफिट में ट्विन हुए। अहान ने लिखा, “हैप्पी बर्थडे।
बता दें कि लंबे समय तक अपने रिश्ते पर चुप्पी साधने के बाद राहुल और अथिया ने अहान की पहली बॉलीवुड फिल्म, ‘तड़प’ स्क्रीनिंग पर अपने रिश्ते को एक्सेप्ट किया था। बताया जाता है कि राहुल और अथिया की मुलाकात एक कॉमन फ्रेंड के जरिए हुई थी।

यूपी: सार्वजनिक स्थानों पर 'मास्क' अनिवार्य, निर्देश

यूपी: सार्वजनिक स्थानों पर 'मास्क' अनिवार्य, निर्देश  

संदीप मिश्र      
लखनऊ। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच लोगों की स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने निर्देश दिए हैं कि गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, हापुड़, मेरठ, बुलंदशहर, बागपत और तथा लखनऊ में, सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाया जाना अनिवार्य किया जाए। इन जनपदों में टीकाकरण से छूटे लोगों को चिन्हित कर वैक्सीनेट किया जाए। पब्लिक एड्रेस सिस्टम का प्रभावी ढंग से इस्तेमाल किया जाए। लक्षणयुक्त लोगों की टेस्टिंग कराई जाए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज टीम -9 के अधिकारियों के साथ बैठक किया। उन्होंने निर्देश दिया है कि एनसीआर में कोविड पॉजिटिव पाए गए मरीजों के सैम्पल की जीनोम सिक्वेंसिंग के दौरान कोविड के ओमीक्रोन वैरिएंट की ही पुष्टि हुई है। विशेषज्ञों के अनुसार संभव है कि केस की संख्या में बढ़ोतरी हो लेकिन अस्पताल में भर्ती होने अथवा मरीज के अति गंभीर होने की स्थिति नहीं होगी। लोगों को कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन के लिए जागरूक किया जाए।
सीएम ने कहा कि प्रदेश की सीमा से लगे कुछ राज्यों में कोविड के केस में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। एनसीआर के जिलों में भी इसका प्रभाव है। बीते कुछ दिनों से यहां केस बढ़ रहे हैं। विगत 24 घंटे में गौतमबुद्ध नगर में 65, गाजियाबाद में 20 और लखनऊ में 10 नए पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है। इन क्षेत्रों में स्थिति पर सूक्ष्मता से नजर रखी जाए।

विधायक ने मीना बाजार मेले का उद्घाटन किया

विधायक ने मीना बाजार मेले का उद्घाटन किया     

अतुल त्यागी        
हापुड। जनपद के पिलखुवा के रामलीला मैदान में आयोजित किए गए मीना बाजार मेले का क्षेत्रीय विधायक ने विधिवत रूप से फीता काटकर उद्घाटन किया और कहा कि मेले हमारी भारतीय संस्कृति का महत्वपूर्ण हिस्सा है। सदियों से चली आ रही मेले की परंपरा के अंतर्गत हमें एक दूसरे की संस्कृतियों को जानने का मौका मिलता है। मेले हमारी आर्थिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने के साथ-साथ रोजाना के काम आने वाली अनेक वस्तुओं को एक ही स्थान पर उपलब्ध कराने का महत्वपूर्ण और सशक्त माध्यम है।
सोमवार को क्षेत्रीय विधायक धर्मेश तोमर ने पिलखुवा के रामलीला मैदान में आयोजित किए गए मीना बाजार मेले का विधिवत रूप से फीता काटकर शुभारंभ किया। इस मौके पर एमएलए धर्मेश तोमर ने कहा है कि मेला हमारी भारतीय संस्कृति का महत्वपूर्ण हिस्सा है और इसमें सर्व समाज की भागीदारी होती है। मेलों के माध्यम से हमें अपनी संस्कृति को भी नजदीक से जानने का मौका मिलता है। भारत में मेले प्रत्येक स्थान पर लगते हैं। दरगाह के साथ-साथ रामनवमी एवं अन्य धार्मिक पर्व के मौकों पर मेले लगाए जाते हैं। मेले हमारी साझा संस्कृति का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

गर्मी के मौसम में पीने के 'पानी' की भारी किल्लत

गर्मी के मौसम में पीने के 'पानी' की भारी किल्लत   

इकबाल अंसारी       
रांची। राज्य के संथाल परगना में गर्मी के मौसम में पीने के पानी की भारी किल्लत हो रही है। शहरी इलाकों में अबाधित जलापूर्ति से लोगों को पीने का पानी मयस्सर नहीं हो रहा है। वहीं, ग्रामीण इलाकों में भी सौर ऊर्जा आधारित बोरवेल सूखने से पीने का पानी लोगों को नहीं मिल रहा है। संथाल परगना इलाके में जल जीवन मिशन के तहत मार्स नामक एजेंसी को सलाहकार बनाया गया है। मार्स एजेंसी गोड्डा, देवघर के शहरी इलाकों में पीने का पानी पहुंचाने के लिए रिपोर्ट तैयार करने की जवाबदेही दी गयी है। देवघर जिले में पीरपैती डैम से पानी लाने की कोशिशें विफल हो रही हैं। पीरपैंती डैम में गंगा नदी का पानी लाकर भंडारन करने की भारी भरकम योजना बनायी गयी थी।
गोड्डा के शहरी इलाकों में सुंदर डैम से पानी की आपूर्ति करने की सरकार ने योजना बनायी थी। इसको लेकर पेयजल और स्वच्छता विभाग की तरफ से निविदा भी निकाली गयी। 600 करोड़ की योजना का काम एलएंडटी को दिया गया है। गोड्डा में भी पहले 60 किलोमीटर दूरी तक पानी लाने की योजना बनायी गयी थी। सुंदर डैम की स्थिति यह है कि इसमें अधिकतम 30 फीट तक ही पानी स्टोर हो पाता है। इस डैम में बारिश के दौरान पानी का भंडारन नहीं हो पाता है। इसलिए यहां गंगा नदी से पानी लाने की कवायद शुरू की गयी है। कमोबेश यही स्थिति साहेबगंज की है। वहां भी गंगा नदी से पानी लाने की योजना फाइलों में ही सीमित है।
पाकुड़ जिले की बात करें तो 55 करोड़ की योजना आठ वर्षों में भी पूरी नहीं हो पायी है। बाबानगरी देवघर और मधुपुर में भी शुद्ध पीने के पानी की कसरत अब तक नाकाफी साबित हो रही है। मधुपुर जलापूर्ति योजना 2012-13 में शुरू भी हुई, तो उससे लोगों को गरमी में पानी मिल ही नहीं पाता है। यहां पर फिलहाल अजय बराज से पानी लाया जा रहा है। मधुपुर जलापूर्ति योजना के अलावा जामताड़ा और कैरो इलाके को अजय बैराज से 35 क्यूबिक मीटर पानी की आपूर्ति हो रही है। पर अब भी बाबानगरी के मंदिर प्रांगण के आसपास के इलाकों में गरमी शुरू होते ही टैंकरों से जलापूर्ति की जा रही है। अब सरकार पुनासी डैम से भी पानी लाने की योजना बना रही है। उप राजधानी दुमका के कई इलाकों में सरकार द्वारा स्थापित सौर ऊर्जा आधारित ट्यूबवेल से लोगों को पानी नहीं मिल रहा है। दुमका, शिकारीपाड़ा और अन्य इलाकों में पीने के पानी को लेकर लोग दूर-दूर तक भटक रहे हैं। जानकारी के अनुसार हिरणपुर, मसलिया, बोरियो और अन्य जगहों में भी 30 से 40 फीसदी सरकारी ट्यूबवेल खराब हो चुके हैं। लोग अभी भी कुंए और चुंआ तथा अन्य जल स्त्रोतों पर अपनी न्यूनतम जरूरतों को पूरा कर रहे हैं।
दुमका जिले के ब्राह्मणी, मयूराक्षी, नुनबिल, धोबे, बासलोइ, टेपरा, मोतिहारा एवं कंजिया नदी से सटे इलाके में जलजीवन मिशन के तहत 39 वृहद स्तर की  ग्रामीण जलापूर्ति योजनाओं को धरातल पर उतारने की पहल हो रही है। दुमका के शिकारीपाड़ा और गोपीकांदर दो ऐसे प्रखंड हैं, जिन्हें ड्राई जोन के तौर पर जाना जाता है।
संथाल परगना की बड़ी आबादी अब भी शुद्ध पेयजल को तरस रही है। राष्ट्रीय स्तर पर जहां 31 फीसदी से अधिक ग्रामीण आबादी को शुद्ध जल नल के माध्यम से पहुंचाया जा रहा है, वहीं झारखंड के संताल परगना के पाकुड़ और जामताड़ा जैसे जिले ऐसे भी हैं, जहां ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले महज तीन से पांच फीसदी घरों तक ही नल से जल पहुंच पा रहा है। साहिबगंज जैसे जिले जो गंगा के किनारे बसे हुए हैं, वहां की भी स्थिति अच्छी नहीं है। वहां भी आठ फीसदी से कम परिवारों तक ही नल से जल पहुंच रहा है।

हनुमान चालीसा पाठ के बाद 'महंगाई डायन' की एंट्री

हनुमान चालीसा पाठ के बाद 'महंगाई डायन' की एंट्री 

संदीप मिश्र        

वाराणसी। मस्जिदों में लाउडस्पीकर पर होने वाली अजान के विरोध में हनुमान चालीसा पाठ के बाद अब महंगाई डायन की भी एंट्री हो गई है। समाजवादी पार्टी के एक नेता ने अपने मकान की छत पर लाउडस्पीकर लगाते हुए "सखी सैयां तो खूबई कमात हैं, महंगाई डायन खाय जात हैं, गाना बजाना शुरू कर दिया है।दरअसल सोशल मीडिया के ऊपर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव की ओर से एक वीडियो अपना कैप्शन देते हुए लोगों के साथ साझा किया गया है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की ओर से वायरल किए गए वीडियो को वाराणसी के समाजवादी नेता रविकांत विश्वकर्मा का बताया जा रहा है। 

जारी किए गए वीडियो के भीतर समाजवादी पार्टी के नेता कह रहे हैं कि आज देश में शिक्षा, स्वास्थ्य, बेरोजगारी और सुरक्षा जैसे अनेक ऐसे मुद्दे हैं जिन पर सरकार की ओर से काम करते हुए लोगों को इन समस्याओं से निजात दिलाने की जरूरत है। देश में लाउडस्पीकर पर होने वाली अजान और हनुमान चालीसा पाठ आदि कोई मुद्दे नहीं है, लेकिन कुछ लोग लाउडस्पीकर पर अजान और हनुमान चालीसा पाठ के नाम पर लोगों को शिक्षा, स्वास्थ्य, बेरोजगारी और सुरक्षा जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों से भटकाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन हम समाजवादी लोग उन्हें ऐसा नहीं करने देंगे।

तेज रफ्तार कार ने बाइक सवारों को मारीं टक्कर

तेज रफ्तार कार ने बाइक सवारों को मारीं टक्कर  

नरेश राघानी           
उदयपुर। सड़क पर फर्राटा भर रही तेज रफ्तार कार ने बाइक पर सवार होकर जा रहे परिवार के लोगों को टक्कर मार दी। इस हादसे में कार के बुरी तरह से परखच्चे उड़ गए और बाइक सवार चार लोग उछलकर सड़क से तकरीबन 20 फीट नीचे गिरे, जिससे चारों की मौके पर ही मौत हो गई है। सूचना पर दौड़ी पुलिस ने चारों के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिए हैं।
सोमवार को राजस्थान के उदयपुर के कुराबड में बाबूलाल अपनी पत्नी डाई देवी, मां प्रेमी बाई और 5 साल के बेटे छोटू के साथ बाइक पर सवार होकर जा रहा था। बाइक सवार चारों लोग जब बंबोरा की ओर जा रहे थे तो सड़क पर फर्राटा भर्ती हुई आ रही तेज रफ्तार कार ने उनकी बाइक में जोरदार टक्कर मार दी, जिससे बाइक पर बैठे चारों लोग बाइक से उछलकर करीब 20 फीट आसमान की तरफ उछले और जमीन पर जा गिरे। जिससे चारों की मौके पर ही मौत हो गई। जिस स्थान पर यह हादसा हुआ है वहां पर सुनसान इलाका होने की वजह से तकरीबन 1 घंटे तक किसी को भी इस हादसे की जानकारी नहीं हुई। तकरीबन 1 घंटे बाद जब लोग उक्त सड़क मार्ग से होकर गुजरे तो उन्होंने पुलिस को मामले की जानकारी दी। सूचना पाते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने चारों के शव कब्जे में लिये और पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिए हैं। हादसे में कार की हालत बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है।
कुरावड थाना प्रभारी अमित कुमार ने बताया है कि पुलिस ने चारों शव पोस्टमार्टम के लिए हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवा दिए हैं। पुलिस हादसे की जिम्मेदार कार के चालक की तलाश कर रही है।

आजम, एआईएमआईएम में शामिल होने का न्यौता

आजम, एआईएमआईएम में शामिल होने का न्यौता  

संदीप मिश्र          
सीतापुर। जेल में बंद समाजवादी पार्टी के विधायक आजम खान को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। आजम खान को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) में शामिल होने का न्यौता दिया गया है। पार्टी के प्रवक्ता मोहम्मद फरहान ने आजम खान को एक पत्र भी लिखा है। यह पत्र हैदराबाद से लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी की मंजूरी के बाद आजम खान को भेजा गया है।
एआईएमआईएम के प्रवक्ता मोहम्मद फरहान की तरफ से आजम खान को भेजे गए तीन पन्ने के पत्र में लिखा है, समाजवादी पार्टी मुसलमानों की हमदर्द नहीं है। वह उन्हें सिर्फ वोटबैंक समझती है। पिछले तीन सालो से आजम खान और उनके परिवार के लिए अखिलेश यादव व उनके सिपहसालारों ने कोई ठोस आवाज नहीं उठायी है।
एआईएमआईएम नेता ने आजम खान से जेल में मिलने का समय भी मांगा है। अगर आजम खान अपनी मंजूरी देते हैं तो एमआईएमआईएम के नेता उनसे मुलाकार कर पार्टी में शामिल होने का न्यौता देंगे। आजम खान को एआईएमआईएम की तरफ से भेजे गए पत्र को असदुद्दीन ओवैसी के द्वारा मुस्लिमों को साधने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है।
आजम खान का जेल में होना, रामपुर के चुनाव पर क्या असर डालेगा।
बताया जा रहा है कि आजम खान सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से नाराज चल रहे हैं। हाल ही में, उनके मीडिया प्रभारी फसाहत अली खां शानू ने अखिलेश यादव पर हमला बोला था। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि अखिलेश यादव नहीं चाहते कि आजम खान जेल से रिहा हों आजम खान ने अपनी जिंदगी सपा को दे दी, लेकिन सपा ने आजम खान के लिए कुछ नहीं किया। वह यहीं नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष को हमारे कपड़ों से बदबू आती है, उन्होंने मुस्लिम समुदाय का जिक्र करते हुए कहा कि क्या सारा ठेका अब्दुल ने ले लिया है।
वोट भी अब्दुल देगा और जेल भी अब्दुल जाएगा।

यूपीएससी का नया अध्यक्ष बनाने पर तीखा हमला

यूपीएससी का नया अध्यक्ष बनाने पर तीखा हमला    

अकांशु उपाध्याय      

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मनोज सोनी को संघ लोक सेवा आयोग, (यूपीएससी) का नया अध्यक्ष बनाने को लेकर सरकार पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट करके कहा कि एक-एक कर संवैधानिक संस्थाओं को बर्बाद किया जा रहा है। सोनी की नियुक्ति पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए राहुल ने यूपीएससी को नया नाम देते हुए इसे यूनियन प्रचारक संघ कमीशन करार दिया और कहा कि सरकार संस्थाओं को खत्म कर रही है। राहुल गांधी ने ट्विटर कर तंज करते हुए कहा कि यूनियन प्रचारक संघ आयोग। उन्होंने कहा कि एक-एक कर संस्थाओं को खत्म कर संविधान को ध्वस्त किया जा रहा है।

इसके साथ ही उन्होंने एक समाचार एजेंसी से जारी खबर भी पोस्ट की है, जिसमें लिखा है कि यूपीएससी का नया अध्यक्ष मनोज सोनी को बनाया गया है। सोनी भाजपा-आरएसएस के नजदीकी हैं।

हस्तरेखा शास्त्र, रेखाओं व पर्वतों को ज्यादा महत्व

हस्तरेखा शास्त्र, रेखाओं व पर्वतों को ज्यादा महत्व  


सरस्वती उपाध्याय          

हस्तरेखा शास्‍त्र में कुछ रेखाओं और पर्वतों को ज्‍यादा महत्‍व दिया गया है। क्‍योंकि ये जीवन के अहम पहलुओं को प्रभावित करते हैं। चंद्र क्षेत्र भी इनमें से एक है। चंद्रमा का संबंध मन से है और यदि यह अशुभ स्थिति में हो तो न केवल मन को, बल्कि पूरे शरीर और आर्थिक स्थिति पर भी बुरा असर डालता है। ऐसे लोगों का बीमारियों पर अच्‍छा-खासा पैसा खर्च होता है। वहीं शुभ चंद्रमा जिंदगी बना देता है।

हथेली में चंद्र की स्थिति और उसका प्रभाव
मस्तिष्‍क रेखा के नीचे का भाग चंद्र पर्वत होता है। यह मणिबंध तक जाता है।

यदि चंद्र पर्वत गोल हो और उस पर कोई तिल या धब्‍बा न हो तो यह शुभ होता है। वहीं, इसके उलट दबा हुआ चंद्र पर्वत व्‍यक्ति के जीवन में संघर्ष का कारण बनता है।

यदि चंद्र पर्वत से निकलकर कोई रेखा बुध पर्वत तक जाए तो उसे देव रेखा कहते है। ऐसे लोग भगवान की कृपा से खूब सफलता पाते हैं।

वहीं, देव रेखा होने के साथ-साथ भाग्य रेखा सूर्य और शनि पर्वत के बीच से जाती हो तो व्यक्ति अपने कर्मों के कारण असफलता पाता है। ऐसे लोग गलत संगति में पड़ कर अपना सबकुछ गंवा देते हैं‌‌।

चंद्र क्षेत्र से किसी रेखा का मंगल पर्वत तक जाना अपार धन-पद-प्रतिष्‍ठा दिलाता है। हालांकि, इन लोगों को जलाशयों से बचकर रहना चाहिए‌।

 यदि चंद्र पर्वत से कोई रेखा निकलकर सूर्य पर्वत तक जाए तो ऐसे लोग पर मां सरस्‍वती और मां लक्ष्‍मी दोनों की कृपा होती है। वे अपने ज्ञान से खूब नाम कमाते हैं और धनवान भी बनते हैं। इन लोगों में मदद की भावना होती है।

शुक्र पर्वत से किसी रेखा का निकलना और उसका जीवन रेखा को काटते हुए चंद्र पर्वत पर पहुंचना अच्‍छा नहीं होता है। ऐसे लोगों को न केवल जीवन में खूब संघर्ष करना पड़ता है, बल्कि वे धोखा भी खाते हैं।

अपने उच्चतम स्तर से ऊपर पहुंचीं सोने की कीमतेें

अपने उच्चतम स्तर से ऊपर पहुंचीं सोने की कीमतेें      

अकांशु उपाध्याय      

नई दिल्ली। 18 अप्रैल, (सोमवार) को एक बार फिर से इंटरनेशनल मार्केट में सोने की कीमतें अपने उच्चतम स्तर से ऊपर पहुंच गई। इसकी वजह है रूस और यूक्रेन के बीच चल रहा तनाव‌। इसी तनाव के चलते दुनियाभर के दिग्गज निवेशक निवेश के सुरक्षित ठिकानों की तरफ दौड़ रहे हैं। सोना निवेश करने के लिए सेफ हेवन माना जाता है।

स्पॉट गोल्ड सोमवार सुबह 0.5% की तेजी के साथ 1,984.58 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेड कर रहा था। सोमवार को इसने 14 मार्च वाला अपना हाई छू लिया और उससे ज़रा ऊपर ही निकल गया‌। US गोल्ड फ्यूचर्स 0.7 फीसदी की तेजी के साथ 1,987.70 डॉलर पर ट्रेड हो रहा था।

एमसीएक्स (मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज) पर वायदा कारोबार में 2:30 बजे तक सोना 1.03 फीसदी की बढ़त से साथ 53,540 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेड कर रहा था, जबकि चांदी में 1.36 फीसदी की बढ़त देखने को मिली और ये 69,954 प्रति किलो के भाव पर ट्रेड हो रहा था‌।

बैंकों की सुरक्षा के मद्देनजर चलाया चेकिंग अभियान

बैंकों की सुरक्षा के मद्देनजर चलाया चेकिंग अभियान  

भानु प्रताप उपाध्याय          

मुजफ्फरनगर। पुलिस द्वारा बैंकों की सुरक्षा के मद्देनजर चेकिंग अभियान चलाया गया। पुलिस द्वारा आसपास घूम रहे संदिग्ध लोगों से पूछताछ भी की गई, इसके अलावा बैंकों के सीसीटीवी कैमरों को भी गहनता के साथ चेक किया गया।

गौरतलब है कि अपराधियों की नजर बैंकों पर रहती हैं तथा वह बैंक में आने-जाने वाले लोगों पर नजर रखते हैं ताकि लूट जैसी घटनाओं को अंजाम दे सकें। गत दिनों सिविल लाइन थाना क्षेत्र के दो बैंकों में शातिरों ने दो अलग-अलग लोगों को अपना शिकार बना लिया था और पुलिस व गार्ड की निगाहों में धूल झोंककर आसानी से निकल गये थे। आरोपी आज तक पुलिस गिरफ्त में नहीं आ सकें हैं। सोमवार को बैंक खुले, तो लेनदेन के लिए लोग बैंकों में पहंच गये। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव के निर्देशन में जनपद के सभी थाना क्षेत्रों में बैंकों के आसपास चेकिंग अभियान चलाया गया। इस दौरान पुलिस ने बैंकों में पहुंचकर उनके सीसीटीवी कैमरे चेक किये तथा बैंकों के आसपास घूमने वाले संदिग्ध लोगों से भी पूछताछ की।

चेकिंग के दौरान बैंक व बैंक परिसर के आस-पास मौजूद लोगों से पूछताछ करते हुए तथा संदिग्ध व्यक्तिध्वाहनों की चेकिंग की जा रही है। बैंक परिसर में सुरक्षा के दृष्टि से लगे सीसीटीवी कैमरे, अग्निशमन यन्त्र, सायरन, आपातकाल में बैंक से निकलने के लिए पर्याप्त मार्ग आदि का निरीक्षण किया जा रहा है तथा बैंक कर्मचारियों तथा गार्ड को सुरक्षा सम्बन्धित आवश्यक दिशा-निर्देश भी दियें।

पवित्र ग्रंथ कुरान को जलाने की घटना, दंगा भड़का

पवित्र ग्रंथ कुरान को जलाने की घटना, दंगा भड़का   

अखिलेश पांडेय       
स्टॉकहोम। उत्तरी यूरोप के बाल्टिक सागर और बोथनिया की खाड़ी के पश्चिम में स्थित स्वीडन आम तौर पर शांत और सुकून पसंद देश है। लेकिन, यहां बीते चार दिनों से हिंसा भड़की हुई है। मुस्लिमों के पवित्र ग्रंथ कुरान को जलाने की कथित घटना के बाद स्वीडन के कई शहरों में दंगा भड़क उठा है। यहां स्थिति चिंताजनक बनी हुई है और पुलिस को हालात काबू में करने के लिए बल प्रयोग करना पड़ रहा है।
स्वीडन के ओरेब्रो शहर में एक दक्षिणपंथी और अप्रवासी विरोधी समूह ने कथित तौर पर कुरान को जला दिया था। इसके बाद हिंसा भड़क उठी। लगातार चौथे दिन कई शहरों से हिंसक झड़प की खबरें सामने आ रही हैं। 
पुलिस ने अब तक 17 लोगों को गिरफ्तार किया है। नोरकोपिंग में हालात को काबू में करने के लिए पुलिस को गोलीबारी करनी पड़ी, जिसमें तीन लोग घायल हो गए हैं।

एक बार फिर लाल निशान पर खुला शेयर बाजार

एक बार फिर लाल निशान पर खुला शेयर बाजार   

कविता गर्ग         
मुंबई। सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को शेयर बाजार कमजोर वैश्विक संकेतों के चलते एक बार फिर लाल निशान पर खुला। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स सूचकांक 1,130 अंक या 1.94 फीसदी फिसलकर 57,209 पर के स्तर पर खुला। जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी सूचकांक ने 299 अंक या 1.71 फीसदी टूटकर 17,176 के स्तर पर कारोबार शुरू किया। इस बीच बात करें निवेशकों को होने वाले नुकसान की तो, बाजार की शुरुआत के साथ ही निवेशकों को करीब तीन लाख करोड़ रुपये का नुकसान हो गया।

बाजार खुलने के साथ ही लगभग 950 शेयरों में तेजी आई है। 1611 शेयरों में गिरावट आई है और 142 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। फिलहाल की बात करें तो बीएसई का सेंसेक्स 1240 अंक की गिरावट के साथ 57,099 के स्तर पर कारोबार कर रहा है, जबकि एनएसई का निफ्टी 329 अंक फिसलकर 17,147 के स्तर पर आ गया है।

अखबार में बॉक्स बनाकर लिख दीजिएगा: प्रसाद

अखबार में बॉक्स बनाकर लिख दीजिएगा: प्रसाद  

अविनाश श्रीवास्तव        
पटना। बिहार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें उनसे एक पत्रकार ने विद्यापति सर्किट से सुन्दरनाथधाम मंदिर को जोड़ने का सवाल पूछ लिया। इसपर वे भड़क गए और कहा कि हम आपके सवालों के जवाब नहीं दे सकते। आप चाहें तो मेरी बात को रिकॉर्ड कर लीजिए। ये गलत तरीका है आपका। अखबार में बॉक्स बनाकर लिख दीजिएगा, हमें कोई दिक्कत नहीं है।
इसके बाद गुस्से में डिप्टी सीएम कुर्सी से खड़े हो गए और कैमरे पर हाथ मारने लगे। दरअसल, डिप्टी सीएम रविवार को बीजेपी विधायक विजय मंडल के बेटे की शादी में शामिल होने के लिए अररिया आए थे। इस दौरान पत्रकारों ने उनसे पूछ दिया कि उन्होंने विद्यापति सर्किट से शिव मंदिर सुंदर नाथ धाम सुंदरी को जोड़ने की घोषणा की थी। उसपर क्या हुआ है। इसी पर वे गुस्सा हो गए।
डिप्टी सीएम को आप इस वीडियो में कहते सुन सकते हैं- ‘हम आपके सवाल का जवाब नहीं दे सकते। आप चाहें तो मेरी बात रिकॉर्ड कर लीजिए। यह गलत तरीका है। हम इस तरह से आना बंद कर देंगे। यही सब धंधा है आप लोगों का। लिख दीजिएगा ब्लॉग में, हमें कोई दिक्कत नहीं है। अखबार में बॉक्स बनाकर लिख दीजिएगा। इस तरह के बयान देने हम यहाँ तक नहीं आये हैं।’

वायरस: दिल्ली कैपिटल्स की पूरी टीम क्वारंटाइन की

वायरस: दिल्ली कैपिटल्स की पूरी टीम क्वारंटाइन की  

मोमीन मलिक                 

नई दिल्ली। विश्व क्रिकेट में महत्वपूर्ण स्थान हासिल कर चुकें आईपीएल पर अब एक बार फिर से कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा मंडराने लगा है। आईपीएल के 15 वें सीजन में टूर्नामेंट खेल रही दिल्ली कैपिटल्स टीम के फिजियो के बाद अब एक और खिलाड़ी की रिपोर्ट कोविड-19 पॉजिटिव आई है। आईपीएल प्रबंधन ने त्वरित कदम उठाते हुए दिल्ली कैपिटल्स की टीम को अब पुणे में जाने से रोक दिया गया है। पूरी टीम क्वारंटाइन कर दी गई है।

मौजूदा समय में चल रहे आईपीएल के 15 वें सीजन के ऊपर दिल्ली कैपिटल्स टीम के फिजियो के बाद एक खिलाड़ी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से कोविड-19 का खतरा मंडराने लगा है। दिल्ली कैपिटल टीम के फिजियो के बाद अब एक अन्य खिलाड़ी की भी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिस पर टूर्नामेंट आयोजकों में हड़कंप मच गया है। शुरुआती कदम उठाते हुए आयोजकों की ओर से दिल्ली कैपिटल्स की टीम को खेलने के लिए पुणे में जाने से रोक दिया गया है और पूरी टीम देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में ही क्वारंटाइन कर दी गई है। दिल्ली कैपिटल्स का अगला मुकाबला 20 अप्रैल को पंजाब सुपर किंग के खिलाफ पुणे में खेला जाना है।

उल्लेखनीय है कि पिछले साल भी कोविड-19 की वजह से आईपीएल को अधर में रोककर बाकी बचे मैच यूएई में पूरे कराने पड़े थे। इससे पहले भी पूरा एक सीजन कोरोना की भेंट चढ़ चुका है और उसे भी देश से बाहर आयोजित कराना पड़ा था। 25 फीसदी दर्शकों की मौजूदगी के साथ टूर्नामेंट की शुरूआत की गई थी। बाद में हालात सुधरने पर दर्शकों की संख्या पचास प्रतिशत कर दी गई थी।

लखीमपुर खीरी हिंसा, मुख्य आरोपी की जमानत रद्द

लखीमपुर खीरी हिंसा, मुख्य आरोपी की जमानत रद्द 

अकांशु उपाध्याय            

नई दिल्ली उच्चतम न्यायालय ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पुत्र एवं लखीमपुर खीरी हिंसा मामले के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा को इलाहाबाद उच्च न्यायालय से मिली जमानत सोमवार को रद्द करते हुए उसे (आशीष को) एक सप्ताह के भीतर आत्मसमर्पण करने का आदेश दिया। मुख्य न्यायाधीश एन. वी. रमन, न्यायमूर्ति सूर्य कांत और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की पीठ ने आशीष की जमानत रद्द करने तथा उसे आत्मसमर्पण करने का आदेश देने के साथ ही इलाहाबाद उच्च न्यायालय से कहा कि वह नये सिरे से विचार करे कि उसे (आशीष को) जमानत दी जानी चाहिए या नहीं।

पीठ ने जमानत रद्द करने का आदेश पारित करते हुए कहा कि उच्च न्यायालय ने कई अप्रासंगिक तथ्यों पर विचार किया और जल्दबाजी में अपना फैसला लिया। पीड़ितों को प्रथम दृष्टया आरोपी की जमानत याचिका का विरोध करने के लिए पर्याप्त समय दिए बिना ही अपना आदेश पारित कर दिया। पीठ ने संबंधित पक्षों की दलीलें सुनने के बाद चार अप्रैल को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के एक कार्यक्रम का विरोध करने के दौरान हिंसक घटनाएं हुई थी। इस हिंसा में केंद्र के तत्कालीन तीन कृषि कानूनों (अब रद्द कर दिए गए) के खिलाफ लंबे समय से आंदोलन कर रहे चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गयी थी। मामले के मुख्य आरोपी आशीष को इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने 10 फरवरी को जमानत दी थी। पुलिस ने आशीष को नौ अक्टूबर को गिरफ्तार किया था।

जमानत के खिलाफ मृतक किसानों के परिजनों एवं अन्य ने शीर्ष अदालत का दरवाजा खटखटाया था। जमानत रद्द करने की मांग वाली उन याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान पीठ ने जमानत के 'आधार' पर कई सवाल खड़े किए थे। शीर्ष अदालत द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने उत्तर प्रदेश सरकार को आशीष की जमानत के खिलाफ अपील करने की सिफारिश की थी, लेकिन सरकार ने उसे नजरअंदाज कर दिया था। एसआईटी ने 30 मार्च को उच्चतम न्यायालय को बताया कि उसने मुख्य आरोपी की जमानत के खिलाफ अपील दायर करने के संबंध में प्रदेश सरकार से सिफारिश की थी।

मुख्य आरोपी आशीष की जमानत का विरोध कर रहे याचिकाकर्ताओं ने गवाहों को धमकाने तथा सबूतों से छेड़छाड़ की आशंका के भी आरोप लगाए थे हालांकि, राज्य सरकार का पक्ष रख रहे वकील महेश जेठमलानी ने पीठ के समक्ष दलील देते हुए कहा था कि मामले से संबंधित गवाहों को पूरी सुरक्षा प्रदान की जा रही है। किसी को कोई खतरा नहीं है। उन्होंने शीर्ष अदालत को बताया था कि एसआईटी ने गवाहों पर खतरे की आशंका के कारण आशीष की जमानत के खिलाफ अपील दायर करने की सिफारिश की थी, लेकिन राज्य सरकार ने सभी गवाहों को पुलिस सुरक्षा प्रदान करने का दावा करते हुए एसआईटी के विचार से अपनी असहमति व्यक्त की थी।

जमानत का विरोध कर रहे कुछ याचिकाकर्ताओं की ओर से वरिष्ठ वकील दुष्यंत दवे ने गवाहों को धमकी दिए जाने के मुद्दे को जोरशोर से पीठ के समक्ष उठाया था। उन्होंने कहा कि एक गवाह को भारतीय जनता पार्टी के उत्तर प्रदेश में सत्ता में लौटने का जिक्र करते हुए धमकी दी गई थी। श्री दवे ने पीठ के समक्ष उक्त गवाह की शिकायत पढ़ते हुए कहा था,"अब बीजेपी सत्ता में है। देखना तेरा क्या हाल करता हूं।" उन्होंने सवाल किया कि क्या इस तरह की धमकी गंभीर मामला नहीं है?

किसानों के परिजनों से कुछ दिन पहले अधिवक्ता सी एस पांडा और शिव कुमार त्रिपाठी ने भी जमानत के खिलाफ सर्वोच्च अदालत में विशेष अनुमति याचिका दायर की थी। इन वकीलों की याचिका पर ही शीर्ष न्यायालय ने मामले की जांच के लिए पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश न्यायमूर्ति राकेश कुमार जैन के नेतृत्व में एसआईटी गठित की थी।
कथित रूप से कार से कुचलकर चारा किसानों की मृत्यु होने के बाद भड़की हिंसा में दो भाजपा कार्यकर्ताओं के अलावा एक अन्य कार चालक एवं एक पत्रकार की मृत्यु हो गई थी।

किसानों की ओर से दायर याचिका में आरोप लगाये गये हैं कि उत्तर प्रदेश में उसी पार्टी की सरकार है, जिस पार्टी की सरकार में आरोपी आशीष के पिता केंद्र में राज्य मंत्री हैं। शायद इसी वजह से प्रदेश सरकार ने जमानत के खिलाफ शीर्ष अदालत में याचिका दायर नहीं की थी।

केंद्रीय राज्य मंत्री के पुत्र आशीष की जमानत को चुनौती देने वाली याचिकाओं के जवाब में उत्तर प्रदेश सरकार ने उच्चतम न्यायालय में हलफनामा दाखिल कर कहा था कि जमानत का प्रभावी ढंग से विरोध नहीं करने के उस पर लगाए गए आरोप "पूरी तरह से गलत एवं असत्य हैं।" सरकार ने कहा था कि उच्च न्यायालय द्वारा आशीष को जमानत देने के आदेश को चुनौती देने का निर्णय संबंधित अधिकारियों के समक्ष विचाराधीन है।
गवाहों को सुरक्षा प्रदान करने के शीर्ष अदालत के आदेश पर सरकार ने कहा था कि उसने घटना से संबंधित 98 गवाहों को सुरक्षा प्रदान की जा रही है। सभी की सुरक्षा का जायजा नियमित रूप से लिया जाता है। टेलीफोन के माध्यम से पुलिस ने उनसे बातचीत की थी। गवाहों ने 20 मार्च को अपनी सुरक्षा पर संतोष व्यक्त किया था।

सबसे पुराना घड़ा, 2 हजार लीटर पानी का रिकॉर्ड

सबसे पुराना घड़ा, 2 हजार लीटर पानी का रिकॉर्ड   

संदीप मिश्र        

कन्नौज। क्या मिट्टी का घड़ा भी किसी टैंक के बराबर हो सकता है ? सुनकर हैरान न हों, यह सच है। दुनिया का सबसे बड़ा और पुराना घड़ा कन्नौज में रखा है। 'खुशबू' के लिए विख्यात इत्रनगरी के म्यूजियम में संरक्षित इस घड़े में दो हजार लीटर पानी आ सकता है। करीब दो हजार वर्ष पूर्व कुषाण वंश का यह घड़ा 40 साल पहले शहर के शेखपुरा मोहल्ले में खुदाई के दौरान मिला था। सम्राट हर्षवर्धन और राजा जयचंद का साम्राज्य रहे इस जिले का इतिहास काफी गौरवशाली रहा है। यहां समय-समय पर हुई खुदाई के दौरान कई ऐसी नायाब चीजें निकली हैं। पहली से तीसरी सदी के बीच के कुषाण वंश के दौरान का सबसे बड़ा यह घड़ा उनमें से ही एक है। नव निर्मित म्यूजियम में कांच के घेरे में सहेजे गए इस प्राचीन धरोहर घड़े को देख लोग दांतों तले उंगली दबा लेते हैं।

करीब दो हजार साल पहले कनिष्क के शासन के समय छोटे-बड़े 40 से ज्यादा बर्तन ही नहीं उसके पहले और बाद के गुप्त काल के दौर में इस्तेमाल होने वाले मिट्टी के बर्तन भी यहां खुदाई के दौरान मिले हैं। यहां कुषाण वंश से भी पहले यानी 1500 ईसा पूर्व के बर्तनों के अवशेष मिले हैं। पुरातात्विक खोजों से पता चलता है कि कन्नौज में पेंटेड ग्रे वेयर और नॉर्दर्न ब्लैक पॉलिश्ड वेयर कल्चर था। जिससे जाहिर है, यहां 3500 साल पूर्व भी मानव सभ्यता मौजूद थी। इतिहास के जानकार एवं राजकीय म्यूजियम के अध्यक्ष दीपक कुमार बताते हैं कि अब तक कहीं भी इससे बड़े और पुराने घड़े होने का सुबूत नहीं मिलता है। काफी शोध के बाद ही इसकी उम्र का आंकलन हो सका था। यह करीब दो हजार साल पहले कुषाण वंश के दौरान 78 ई. से 230 ई. के बीच का है। तब गंगा शहर के करीब गुजरती थीं। तब इसी तरह के घड़ों में पानी सहेजने की परंपरा थी।
कन्नौज में पिछले पांच दशक से भी ज्यादा समय से पुरातत्व विभाग की खुदाई में कई नायाब चीजें सामने आई हैं। फिर चाहे टेराकोटा की मूर्तियां हों या एक हजार वर्ष से भी ज्यादा पुरानी मुद्राएं। भगवान शिव की कई अलग-अलग मुद्राओं की प्राचीन मूर्तियां भी यहां से निकलती रही हैं। यहां अलग-अलग सदी के शिलालेख, मूर्तियां, सिक्के, बर्तन, पत्थर भी निकलते रहे हैं। हिन्दु, जैन और बौद्ध धर्म से जुड़ी कई विरासत यहां सहेज कर रखी गई हैं। सभी की उम्र का आकलन कार्बन डेटिंग और थर्मोल्यूमिनिसेंस विधि से किया जा चुका है।

लाउडस्पीकर का उपयोग, दिशा-निर्देश तैयार करेंगे

लाउडस्पीकर का उपयोग, दिशा-निर्देश तैयार करेंगे


कविता गर्ग 


मुंबई। महाराष्ट्र के गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने सोमवार को यहां कहा कि राज्य के पुलिस महानिदेशक और मुंबई पुलिस आयुक्त लाउडस्पीकर के उपयोग पर दिशा-निर्देश तैयार करेंगे, जिन्हें एक-दो दिन में जारी कर दिया जाएगा। मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) और भाजपा की मांग के बीच वलसे पाटिल का यह बयान आया है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, राज्य के पुलिस महानिदेशक (रजनीश सेठ) और मुंबई के पुलिस आयुक्त (संजय पांडे) बैठक करके (लाउडस्पीकर के उपयोग को लेकर) राज्य के लिए दिशानिर्देश तैयार करेंगे। ये दिशा-निर्देश एक-दो दिन में जारी कर दिए जाएंगे। सभी को इनका पालन करना होगा। मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने महाविकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार से तीन मई तक मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने की मांग की थी।

उन्होंने कहा था कि अन्य समुदायों के सदस्यों को न चाहते हुए भी तेज आवाज में अजान सुननी पड़ती है। ठाकरे ने तीन मई के बाद मस्जिदों के बाहर ऊंची आवाज में हनुमान चालीसा चलाने की धमकी दी थी। भाजपा ने राज ठाकरे की मांग का समर्थन किया है। वलसे पाटिल ने कहा कि गृह विभाग और पुलिस राज्य की मौजूदा स्थिति पर कड़ी नजर रखे हुए हैं। उन्होंने कहा, अगर कोई व्यक्ति या संगठन सांप्रदायिक विभाजन पैदा करने और माहौल खराब करने की कोशिश करता है तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-192, (वर्ष-05)
2. मंगलवार, अप्रैल 19, 2022
3. शक-1984, वैशाख, कृष्ण-पक्ष, तिथि-तीज, विक्रमी सवंत-2078‌। 
4. सूर्योदय प्रातः 07:04, सूर्यास्त: 06:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 24 डी.सै., अधिकतम-40+ डी सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...